एक्स एक्स एक्स मूवी बीएफ एचडी

छवि स्रोत,संगीत वाली सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

खून निकलने वाली बीएफ: एक्स एक्स एक्स मूवी बीएफ एचडी, मेरी ये कहानी मेरी उस गर्लफ्रेंड के साथ हुई पहली चुदाई के बारे में है … जिसका बदला हुआ नाम माया है.

अपाचे सेक्सी

दस मिनट तक प्यार से चोदते चोदते मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और पूरे कमरे में उसकी चुत का बाजा बजने की आवाजें गूंजने लगीं. सेक्सी वीडियो सेक्सी कैटरीनालंड को साफ़ किया, फिर बाहर एक तौलिया में आ गया।साक्षी- इधर आ जाओ।मैं आवाज की तरफ गया तो एक बेडरूम था। अन्दर से मीठी से खुशबू आ रही थी। साक्षी की आँखें नशीली थीं.

जैसे ही मैंने उसको हैलो किया तो वो बोली- मीता, तुम्हारा पति तो चूत को भोसड़ा बनाने वाला है. प्यार हो जाएगा सेक्सीहालांकि वो चुदी हुई थी, तब भी मुझे लगा कि इसके बताए अनुसार इसके पुराने ठोकू का लंड जल्दी झड़ने के साथ साथ शायद मुझसे छोटा भी हो, तो ये मेरे लंड से चिल्ला न दे.

उनके साथ इतना अधिक घरोबा सा है, मतलब सारे त्योहार साथ में मनाना, आए दिन एक दूसरे के घर के कार्यक्रमों में शामिल होना.एक्स एक्स एक्स मूवी बीएफ एचडी: इससे पहले कि मैं कुछ बोलता, मनीषा ने मेरा पूरा लंड अपने मुँह में ले लिया.

मधु भाभी ने जब ट्यूशन के पैसों की बात की तो हिमानी की मम्मी सुजाता कहने लगी- अरे जो राज कहेगा, दे देंगे.अब परिवार में भाई-बहन, पति-पत्नी, पिता-पुत्र, पिता-पुत्री, बहु-ससुर सबके बीच का सम्बन्ध बिल्कुल बदल चुका था.

जबरदस्ती सेक्सी सुहागरात - एक्स एक्स एक्स मूवी बीएफ एचडी

क्या है तुम्हारे पास?मैंने उन्हें उनकी वीडियो रेकॉर्डिंग की एक झलक दिखा दी, वो एकदम घबरा गईं और पूछने लगीं कि ये तुम्हारे पास कैसे आया?लेकिन मैंने उन्हें कुछ नहीं बताया.उनकी कामुक आवाज सुनकर मुझे बहुत बहुत मजा आ रहा था और मैं भी जोर जोर से उनकी चुदाई करने लगा था.

उसी दिन शाम की ट्रेन थी, मैंने खाना बनाया और सब खाना खाकर हम लोग निकल गए. एक्स एक्स एक्स मूवी बीएफ एचडी मेरे एक हाथ को लेकर अपनी पीठ पर रखा और दूसरे को डीके की पीठ पर रखा.

शायद डीके और मेरे साफ सुथरे रिश्ते की जिस्मानी रिश्ते में बदलने की यह शुरूआत थी.

एक्स एक्स एक्स मूवी बीएफ एचडी?

जैसे ही दिनेश ने मेरी चूत में अपनी जीभ को डाला, मुझे जाने कैसा सुरूर होने लगा कि मैं इतना उत्तेजित होने लगी कि बता नहीं सकती. एक दिन मैं क्लास में अपने मोबाइल पर गे सेक्स स्टोरी पढ़ रहा था, उस वक्त यही टीचर मुझे पढ़ा रहे थे. आंटी मेरा लंड कुल्फी की तरह चूसते हुए, गोटियों को हाथ से सहलाते लंड को अपने मुँह में अन्दर तक लेने लगी थीं.

धीरे धीरे में नीचे आने लगा और उसकी पैन्टी पे हाथ फेरा तो उसकी पैन्टी गीली हो चुकी थी. मिताली दीदी दिखने में एकदम माल हैं, उनका फिगर मुझे चुदाई के वक़्त पता चला था, जोकि 35-28-32 का था. मैंने डॉक्टर से पूछा कि इसका इलाज़ क्या है?डॉक्टर ने मुझे बताया कि जिसे यह याद करता है.

वो सही से चल नहीं पा रही थी, तो मैंने दरवाजा खोल के चाची को आवाज़ लगाई. मां और उसके दोनों बेटे आपस में चुदाई करने के बाद बाथरूम में गए और नहाने के बहाने फिर से कई बार अलग-अलग मुद्रा में चुदाई की. मुझे माफ़ कर दो… तुम रंडी नहीं हो… तुम तो मेरी लाड़ली हो… और तुम्हारा इस घर के लोगों के बारे में इतना सोचना मेरे हिसाब से काफी सराहनीय है.

हालाँकि मयूरी पहले से चुदी हुई थी पर फिर भी उसकी चूत बहुत ही टाइट थी और इस बात का अहसास अशोक को हो रहा था. उन दोनों की बातें सुनकर मेरा लंड जोश के मारे और ज्यादा सख्त हो गया.

दो मिनट बाद मैंने उन्हें बिस्तर पर लिटा कर उनकी चुत की फांकों पर अपना लंड रखा और एक झटका दे मारा.

जानते ही हो कि मैं बड़े दिनों से लंड लेना चाहती थी, लेकिन डरती थी कि कुछ गड़बड़ न हो जाए और ना ही मेरा कोई दोस्त था.

सीमा और रीना ने बहुत पूछने की कोशिश की कि बाबा किस संकट के बारे में बात कर रहे थे किंतु हमने उनको कुछ नहीं बताया।यहां सब हमने अपनी अपनी बीवियों के साथ हनीमून की तरह समय बिताया किंतु एक दूसरे की बीवी पर कोई बुरी नजर नहीं डाली अर्थात यह एक साधारण टूर था।अपनी अपनी बीवियों के साथ जिसमें चुदाई और उत्तेजना का समावेश था।हां श्लोक और मैं, हम दोनों एक दूसरे की बीवियों को देख कर आंखें तो सेक ही लेते थे. मेरी उम्र 21 साल की है और मैं बाकी लोगों की तरह झूठ नहीं बोलूंगा, पर मेरे लंड महाराज का साइज 9. चुत में से पानी और मेरे माल का मिक्स धार छोड़ता हुआ नीचे गिरने लगा, जिसे स्नेहा ने उंगलियां डाल के ऊपर अपने पेट पर रगड़ लिया.

मैं समझ गई कि इसे भी सब पता लग गया है तो मैंने उसे आँख मार कर चुप रहने का इशारा किया. भाभी हांफ़ने लगीं तो मैंने उन्हें सीधा करके एक पल के लिए चूत को हल्के से सहलाया और फिर भाभी की चिकनी चौड़ी जांघों को होंठों से काट काट कर चूमने लगा. वहां पर कुएं से पानी खींचना था, तो भाभी पानी खींच रही थीं और मैं बैलों को पिला रहा था.

अब मामी डर गईं और मुझसे पूछने लगीं कि तुम चाहते क्या हो?मैंने बिना डरे बोल दिया कि मैं आपको चोदना चाहता हूँ.

मैंने खूब बारीकी से चेक किया केबिन में कोई भी सीसीटीवी कैमरा नहीं था; केबिन का दरवाजा भी ठीक ठाक था; कहने का मतलब वहां पूरी प्राइवेसी थी. गर्मियों की छुट्टियां चल रही थीं और ज्यादातर घर की औरतें दोपहर में लंच करने के बाद सो जाती थीं. इसके कहानी के बाद भी, मैं आपके साथ कुछ और भी सच्चे अनुभव आपके साथ सांझा करूँगा.

फिर मैंने उसके होंठों को किस किया और वह भी मुझे पागलों की तरह किस करने लगी. मैंने सुबह में उसे एक दर्दनिवारक गोली और एक गर्भ निरोधक गोली लाकर दी. 11 बजे मैंने ज्योति को कोचिंग क्लास से बाइक पर बैठाया और खेत की तरफ निकल गए.

भाभी कहने लगी- वैसे मैं इसकी मम्मी से बात करुँगी, वे तुम्हें ट्यूशन के पैसे भी दे देंगी.

आया समझ में!”तो मैं क्या कर सकता हूँ।”करने को तो तू यह मनहूस राय भी दे सकता है कि मैं हेयर रिमूवर का इस्तेमाल कर के अंडरआर्म क्लीन कर लूं और खुद अपने हाथों से अपनी मसाज कर लूं. अगले दिन रविवार था, सारे दोस्तों ने क्रिकेट खेलने का प्लान बनाया था.

एक्स एक्स एक्स मूवी बीएफ एचडी फिर दो दिन बाद उसका कॉल आया, उसने अपना नाम ऋचा (बदला हुआ नाम) बताया. दोनों के माथे से पसीना बहने लगा था और दोनों के चेहरे पे अब शिकन दिखने लगी थी.

एक्स एक्स एक्स मूवी बीएफ एचडी ये बात पिछले साल अक्टूबर 2016 की है तब मैं अपनी ग्रेजुएशन के दूसरे साल में था. फिर मेरे लंड का सुपारा, जो चुत की पुत्तियों में फंसा हुआ था, उसको थोड़ा दबाते हुए जोर लगाया, तो लंड सरकता उसकी चूत से लोहा लेने लगा.

उसी शाम को मिताली दीदी ने कहा कि आज कोई नहीं है तो बाहर से खाना लाते हैं.

फुल सेक्सी एक्स वीडियो

हमें सुबह के 6 बज गए थे और फिर 10 बजे हमे चेकआउट करना था तो हमने थोड़ी देर सोना ही ठीक समझा और 10 बजे चेकआउट करके हम वहाँ से निकल गए. उन दोनों को सम्भोग करते देख कर तारा के चेहरे फिर से वासना भरी मुस्कान दिखी. ”इस बीच वो पूरा लंड अन्दर ले चुकी थी और मैं धीरे धीरे दीदी की चूत में धक्के लगा रहा था.

मेरा पूरा मेकअप करने के बाद उन्होंने मेरे साथ एक सेल्फी ली और बोले- चलो अब तुम बेड पर बैठ जाओ. उन्होंने खींच कर मुझे अपने ऊपर ले लिया और टांगें खोलकर मेरा लंड अपनी चूत पे लगाकर खुद ही हिलने लगीं. एक औरत का दूसरी औरत से मिलने में ज्यादा हिचकिचाहट नहीं होती, जैसा कि मर्दों से मिलने में होती है.

कुछ देर बाद मैं उसके गले को अपनी जीभ से चाट रहा था और लव बाईटस् भी दे रहा था.

कुछ देर बाद मैं उठी और बाथरूम में जा कर अपने आपको अच्छी तरह से साफ किया और कपड़े डाल कर वापिस घर आ गई. भाभी की हल्के से चीख निकल गयी तो बोलीं- आराम से करो डार्लिंग, अब मैं तेरी ही हूँ. मेरी गांड में बहुत सारा थूक लगा के मौसी ने मेरी गांड में उंगली डाल दी.

दोस्तो, ये मेरी ज़िंदगी के सबसे हसीन लम्हे थे, मेरी सेक्सी मौसी मेरी बांहों में थीं, वो मेरा लंड सहला रही थीं और मैं उनकी गर्म चूत को सहला रहा था. बस, अब तो हो गया, यह आखिरी दर्द था … बस थोड़ा सा और सह लो … फिर सब ठीक हो जाएगा. वे अभी थोड़े जवान हैं और गांव में रहने से उनकी कद काठी भी बहुत अच्छी बनी हुई थी.

फिर उसने एक लम्बा सा लिप किस किया हम दोनों यूँ ही नंगे लिपट कर सो गए. फिर उसने भी मुझे कसके पकड़ लिया और अपने होंठों को मेरे होंठों से मिला दिया.

उससे कम से कम तुम्हारे पति गांड मारने के लिए घर के बाहर नहीं जाएंगे. मुझे उसके लंड का स्पर्श मेरी चूत के अन्दर तक महसूस हो रहा था जो मुझे मजा दे रहा था. कम्मो मेरे मन में उठ रहे इन विचारों से अनजान सी बाहर के दृश्य देखने में मगन थी.

मैं भी हल्की हल्की सिस्कारियाँ लेने लगी और उसके बाद वो मेरी चूत में अपना जीभ डाल कर मेरी चूत को चाटने लगा.

कुछ देर बाद मेरी चुत की खुजली बढ़ गई तो मैंने उससे कहा कि अब चोद भी दे यार. थोड़ी औपचारिक बातों के बाद वे अदिति से बोले- अदिति, जरा चल के एक बार शादी के गहने, कपड़े और बाकी सामान चेक कर लो कहीं कोई कमी न रह जाय. आज उसने उसको डॉगी स्टाइल में चोदा और उसके पहले दोनों ने 69 भी किया था.

पर ऐसे पटाना ताकि उन्हें ये शक भी न हो कि कुछ सेक्स जैसा कोई रिलेशनशिप है. उसको दर्द के साथ साथ मजा भी आ रहा था, इसलिए वो दर्द को सहती हुई साथ देने लगी.

जब मैं उनके साथ रहूँ तो उनकी बीवी बनकर रहूँ और जब मैं कमरे पर रहूँ या कॉलेज में रहूँ तो विद्यार्थी बनकर रहूँ. वो थोड़ा सामान्य होती, इससे पहले ही माइक ने जोर जोर के 10-15 धक्के पूरी ताकत से मार दिए. इसी लिए जिस दिन से भैया की नौकरी लगी थी, उसी दिन से किसी और का तो पता नहीं, लेकिन मैं बड़ा खुश था कि भैया के साथ यूएसए जाने का मौका मिलेगा और चुदाई भी मिल सकती है.

भोजपुरी ओपन सेक्सी फोटो

पूरे 6 दिन हमारी चुदाई नहीं हुई थी, तो मेरी चुत में खुजली हो रही थी.

उसने आप एक छोटी सी स्कर्ट पहनी और ऊपर में एक काले रंग का टॉप जो बहुत ही ज्यादा ढीला था. एक मिनट तक मेरी गांड के फूल को सहलाने के बाद उन्होंने अपनी बीच वाली लम्बी उंगली मेरी गांड में घुसा दी. उसको कुछ समझ नहीं आया, उसने पूछा- पर इससे क्या होगा?मयूरी- बोला न… मुझे अच्छा लगेगा.

प्लीज आप भैया को कुछ नहीं बताना!चाची गुस्से में वहां से चली गयी और हम लोग भी बाहर आ गए।उस दिन चाची ने चाचा को कुछ नहीं बोला। दूसरे दिन मैं भी काम पर जल्दी चला गया और गौरी भी काम पर नहीं आई. प्रिया के बदन को सहलाते हुए मैं अपने हाथों को उसकी जांघों पर ले आया और उसकी चिकनी जांघों को हल्के हल्के मुट्ठी में भर कर दबाना शुरू कर दिया. इंग्लिश सेक्सी गपा गपरजत ने सोचा कि अगर ऐसा है तो वो उससे बात करेगा और इस बात को यही ख़त्म कर देगा.

और इस रंडी को नौकरी से निकलवा दूंगी।फिर मेरी और उसकी हवा टाइट हो गयी और मेरा लंड लटक गया। गौरी अलग हुई और चाची से माफी मांगने लगी और बोली- फिर कभी ऐसा नहीं होगा. मगर जब उसको पता लगा कि जो लड़की उससे शादी कर सकती थी, वो उसकी माँ बन गई है तो वो बाप से लड़ते हुए अगले दिन ही वापिस चला गया.

मैं अपना कड़क लंड उनकी चुत पर घिसते हुए, उनकी गदरायी जाँघों पर अपनी जांघें घिसते हुए और ज्यादा गरमी पैदा कर रहा था. कुछ देर में वो सो गया, लेकिन वो पिक्स देखने के बाद मुझे कहां नींद आने वाली थी. आप खुद बजरिये इस कहानी जान लेंगे तो लीजिये सुनिए:कॉलेज में उस दिन एक्स्ट्रा क्लास थी.

हमारी जांघें चिपचिपी हो गईं, जिसके कारण डीके के हर धक्के के साथ चपक चपक पचक पचक की आवाजें आने लगीं. तभी मैं उठकर बाहर के कमरे में जाकर लेट गया और वहां चाय पीने लग गया. पर उसमें रिस्क बहुत ज्यादा था क्यूँकि अगर यह बात किसी को पता चल गयी तो बहुत बदनामी होगी.

भाभी का ध्यान पड़ने से पहले मैंने पानी की बाल्टी फेंक दी थी और जैसे ही हमारी नजरें मिलीं, सेक्सी भाभी ने अपने आपको ढकने के लिए एकदम से तौलिया लपेट लिया.

हमें कुछ नहीं करवाना है आपसे न कुछ दिखाना है आपको, बस!” कम्मो अभी भी जिद पर अड़ी थी. इस घटना के बाद मैं थोड़ा डर गया था लेकिन मैंने हिम्मत नहीं हारी और मौसी को चोदने का कोई दूसरा प्लान सोचने लगा.

कुछ पल बाद प्रिया का दर्द कुछ कम हुआ और वो अपनी गांड को हिलाकर मेरा लंड अपनी चूत में लेने लगी और उसकी मादक सिसकारियां निकलने लगीं ‘ओह्ह हह … आहह … उहह हहहह …’कुछ ही देर में अब प्रिया अपनी गांड को जोर जोर से हिलाना शुरू कर दिया और मैंने भी अपनी चुदाई की स्पीड ओर तेज कर दी. मैं बड़ा हैरान था कि आज ये हो क्या रहा है, इसे इतनी आग कैसे लग गई है- दीदी आज क्या हुआ है. मैंने 2 दिन बाद का टिकट लिया रिजर्वेशन उसी पटना हटिया में और मैं रांची चला गया वहां जाकर मैं जब सुबह करीब आठ बजे रांची के प्लेटफार्म पर उतरा ही था कि उन्होंने मुझे फोन किया तो मैंने उसे कहा कि मैं स्टेशन पर उतर गया हूं.

तभी चाचा का मुँह और चाची का मुँह एक दूसरे से गुत्थमगुत्था करने लगा और जोर लगा कर चोदने और चुदवाने लगे. पापा का बिजनेस है और मम्मी हाउसवाइफ हैं, मैं और मेरा भाई एक ही कॉलेज में साथ साथ पढ़ाई करते हैं. उसी दिन लगभग 15 किलोमीटर आने के बाद बारिश शुरू हो गयी अचानक से हल्की सी … लेकिन हम दोनों ने ध्यान नहीं दिया क्योंकि हम तो बाइक पर बातो में मगन थे, वो मेरे पीछे चिपक कर बैठी हुई थी और मेरे सीने पर हाथ फेर रही थी.

एक्स एक्स एक्स मूवी बीएफ एचडी फिर मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और 20 मिनट की चुदाई के बाद मैंने अपना पानी उनकी फुद्दी में ही छोड़ दिया. कुछ देर धक्के लगाने के बाद मैं झड़ने वाला था, तो मैं बोला- बाबू… मैं आ रहा हूँ.

अर्पिता सेक्सी वीडियो

वो मेरे होंठ चूसने लगा और मेरे मुँह के अन्दर अपनी जीभ डाल कर अपनी जीभ से मेरे जीभ को चूसने और चाटने लगा. पहली बार कोई लड़की मेरा लौड़ा चूस रही थी और उसने मुझे पूरी तरह हिला कर रख दिया था. बस माइक ने फिर देर न करते हुए हाथ बाहर हटाया और मुनीर के कंधों को पकड़ एक जोरदार झटका दिया.

उसने मुझसे कहा कि इस कहानी को अन्तर्वासना को भेज कर प्रकाशित करवा दूँ, इसलिए मैं यहां उसके लिए ये कहानी लिख कर भेज रहा हूं और उम्मीद करता हूं कि अन्तर्वासना के सभी पाठक इस कहानी को जल्द से जल्द पढ़ कर मजा ले सकें. मयूरी की इस मनमोहक काया को देखर रजत अपनी नजरें मयूरी के इस कातिल बदन से हटा नहीं पा रहा था. कुत्ता और औरत का सेक्सी फिल्मजब उसने मुझे गोद में उठाया हुआ था तो उसके हाथ मेरे मम्मों पर लगे हुए थे.

आखिर आज जो अनोखा प्यार शीतल ने अपने बेटों पर बरसाया था, उसका असर तो था ही, साथ ही साथ मयूरी ने भी इनको अपनी माँ की चुदाई के लिए उकसाया हुआ था.

रशीद धीरे धीरे अन्दर पायल की चूत में अपनी जुबान डालने लगा और पायल की चूत के अन्दर उसकी यौनमणि को उसने अपने होंठों में पकड़ कर कसके होंठों से मींजते हुए खींचा तो वो मीठे दर्द से चिल्ला उठी. इसके जैसी चुदक्कड़ बहुत कम ही मिलती है लेकिन जिसे मिलती है उसके लंड का भाग्य बदल जाता है.

वो मेरे ऊपर चढ़कर मेरे दूध को मसलने लगे और मेरे गुलाबी कमसिन होंठों को काटने लगे. मैंने उसे उठते ही मिलने का प्लान बनाने को कहा तो बोली कि ठीक है शाम को देखती हूं. [emailprotected]आप हैंगआउट पर मुझसे वीडियो सेक्स चैट भी कर सकते हो.

इतने में पायल ने दो बार पानी छोड़ा और फिर मैंने भी अपना वीर्यदान पायल को कर दिया और हम दोनों थक कर गिर गए.

अब की बार मैं औंधी हो गई और चाचा ने मेरी गांड में अपना लंड घुसा दिया और लम्बे लम्बे धक्के लगाने लगे. जब उसका लंड सख्त नहीं हुआ तो वो मुझसे बोला- आज इसको मुँह में डाल कर चूसो. वह अपनी सुविधानुसार मेरा लण्ड चूसने लगी और मैं उसके दाने को अपने होंठों के बीच लेकर चूसने लगा.

सेक्सी राजस्थानी हिंदी वीडियोरह रह कर बातों ही बातों में अपनी शादी शुदा सहेली की चुदाई के पहले दर्द और उसके बाद के मजे बारे में बात करके वो उत्तेजित हो जाती, जिसको वह अपनी उंगलियों से शांत कर लिया करती थी. आज मेरा सपना पूरा होने वाला था दोस्तो … मैं उनके कपड़े ऊपर से निकालने लगा, तो उन्होंने मना कर दिया.

सेक्सी वीडियो नंगी चूत में लंड

उसके हाथ मेरे मम्मों को दबा रहे थे, जो पूरी तरह से नंगे किए हुए थे. तो वो बोली- देखते हैं आज तेरे केले का दम…यह कह कर वो मुझसे लिपट गई. मैं तो जे देख री थी की आप कैसे लट्टू हुए जा रहे हो उसे देख देख के!” कम्मो ने मुझे उलाहना सा दिया.

वैसे मुझे उन चारों से कोई रंज नहीं था, उन्होंने मुझे गांड चुदाई का एक नया अनुभव दिया था जिसका दर्द भरा आनन्द मैंने भी लिया था. देखो कितना जोर जोर से चूत में दो दो उंगलियां डाले अन्दर बाहर चला रहा है. उन दोनों की किसिंग अब इतनी चरम सीमा पर पहुँच गयी थी कि बार बार दोनों के गाल मेरे होंठों को अनायास ही छू रहे थे.

जिन चीजों को सिर्फ पॉर्न फिल्मों में होते हुए देखा था, आज वो चीजें मेरे सामने, मेरे बदन पर हो रही थीं. उस लड़के ने अपना आधा लंड मेरी चूत में डाला ही था कि मेरी चूत में दर्द होने लगा, मैं करीब दो महीने से चुदी नहीं थी तो मेरी चूत काफी कस गयी थी. चाचा भी नीचे से कमर चलाते हुए चाची की हिलती हुई चुचियों पर नजर टिकाए हुए थे.

रजत- पर क्यूँ दीदी… बड़ा मजा आएगा अगर हम चारों आपस में एक साथ चुदाई करेंगे. उसकी चूचियों को मस्ती से मसकता हुआ, मैं उसको दबा कर चोदे जा रहा था.

इसलिए मैं हमेशा पति से अपनी चुत कभी भी और कैसी भी स्थिति में चुदवा लेती हूँ.

वो दे दूँगा लेकिन मेरे से बात कर लिया कर क्योंकि दिल्ली से आने के बाद मेरा टाइम पास नहीं होता. बॉम्बे सेक्सी वीडियोमैंने तारा की बात को मजाक में लेते हुए जवाब दिया कि जब मर्ज़ी चली आना. ब्लू सेक्सी वीडियो पिक्चर हिंदी मेंतभी अचानक से समाली अंकल बोले- ओहहहह ऊंहहह वन्द्या … मेरा लौड़ा अब झड़ने वाला है. अशोक आश्चर्य से- क्या…????मयूरी- हाँ… मैंने पहली बार अपने दोनों भाइयों से ही चुदवाया था… वो भी एक साथ.

मैंने उसके होंठों को अपने होंठों की गिरफ़्त में लेकर चूसना शुरू किया और अपना हाथ उसके शरीर पर फिराना शुरू किया.

ये वासना से युक्त मेरी और मेरी कामवाली की सेक्स स्टोरी आपको कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल करें. मैंने रूमाल खोला तो उसमें तरह तरह के नोट बेतरतीब ढंग से उल्टे सीधे मुड़ेतुड़े हुए रखे थे; दस, बीस, पचास, सौ … सब तरह के नोट थे. अब ऊपर से मम्मे हिलाते हुए बोलीं- अब क्या बोलोगे?मैंने उनके उन भारी भारी बड़े बड़े मम्मों को देखा और उनकी जवानी पर एक अलग नजरिए से ध्यान दिया तो मेरा मूड एकदम बदल गया.

मैं किस करते हुए उसको चुचियों की तरफ आया और अपने मुँह में एक चूची को भरके चूसने लगा. उसने उसे उसी अवस्था में खुद को उसके ऊपर चढ़ा लिया और धक्के लगाता ही रहा. उससे मैंने कहा- तुम अभी चलो मेरे घर पर … सब कुछ तुम्हारे सामने ही बोलूंगी, तुम्हें पता लग जाएगा।उसने कहा- नहीं, कल चलूँगा आज नहीं.

नगर की सेक्सी

मगर जब उसको पता लगा कि जो लड़की उससे शादी कर सकती थी, वो उसकी माँ बन गई है तो वो बाप से लड़ते हुए अगले दिन ही वापिस चला गया. फिर मैंने भी देर ना करते हुए भाभी के सारे कपड़ों को उतार दिया और अब वो मेरे सामने बिल्कुल नंगी थीं. मुझे लड़कों के लंड देखने में बहुत रुचि थी, लेकिन कभी लंड देखने का चांस नहीं मिला था.

एक दिन फोन पे मैंने उससे किस माँगा तो उसने मस्ती से कहा- फोन पर क्या किस लेते हो राजा.

अब उसकी चूत का तिकोना खुल कर स्पष्ट रूप से मेरे सामने था; कम्मो ने एक बार फिर से अपनी चूत हाथों से ढकने की व्यर्थ सी कोशिश की पर मैंने उसके हाथ हटा दिए और चूत पर अपने हाथ रख दिए और उसे सहलाने लगा.

मैंने उसका एक बैंक में ख़ाता भी खुलवा दिया और हर महीने उसमें उसकी सॅलरी जमा करवा देती थी. उनकी पूरी सहमति जानते हुए मैंने अपना हाथ टी-शर्ट के अन्दर डालकर उनके बदन को सहलाना चालू किया, तो भाभी चुपचाप अपनी आँखें बंद किये खड़ी रहीं. बीपी वीडियो सेक्सी वीडियो गुजरातीमैं- मैडम आज एनल सेक्स ट्राई करें क्या?पूर्वी- सेकेंड राउंड में ट्राई करते हैं.

मेरे ऐसा बोलने पर सोनिया ने मुझे हल्का सा मुक्का मारा और हम सब हंसने लगे. चलो कम्मो अब खाना खा लेते हैं, बताओ क्या खाओगी?”अंकल जी, मैंने कहा था न अभी आपसे कि मुझे तो डोसा इडली खाने का मन है. धीरे धीरे माइक और कमजोर से धक्के मारता गया और तारा की भी पकड़ ढीली पड़ती चली गयी.

अब उसने भी अपने पूरे कपड़े उतार लिए थे मगर उसका लंड खड़ा तो हुआ मगर इतना सख्त नहीं हो सका था कि वो किसी कुँवारी चूत को खोल सके. फिर मैंने उसे कपड़े पहनाये, इतने में चाची आ गईं और बोलीं- चलो दोनों नाश्ता कर लो.

अन्दर वाले रूम में दो बेड एकदम चिपक कर लगे हुए थे, एक थोड़ा छोटा और एक बहुत बड़ा बेड था.

इससे पहले कि मैं कुछ करता, डोर बेल की आवाज़ ने हम दोनों की मशगूलता में जैसे पूरी तरह खलल डाल दी. मेरी छाती में उभार आ चुके थे, शुरू शुरू मैं इन उभारों पर ध्यान नहीं देती थी, पर कुछ दिनों बाद मुझे लगने लगा कि अंकल मेरे उभारों को कुछ ज्यादा ही दबाने लगे. फिर एक दिन शर्मा जी को आँफिस के किसी जरूरी काम से 2 दिन के लिए पुणे जाना पड़ा तो मुझे शौर्य के साथ रात को ठहरने के लिए कहा.

कुंवारी सेक्सी हिंदी और ऐसा कहते हुए उसने अपने चूचियों को अपने हाथों से जोर जोर से दबाना शुरू कर दिया और अपने गीले लाल-लाल होंठों की अपने सफ़ेद दांतों से बड़े ही कामुक अंदाज़ में काटने लगी. थोड़ी देर तक दोनों एक दूसरे के होंठ और जबान को चाटते रहे कि अचानक घर के दरवाजे की घंटी बजी.

चूंकि हमारा ही घर था, तो चाचा के पास कुछ सप्ताह रुकने के बारे में सोचा. अब तक इस हॉट गर्ल सेक्स कहानीवो बरसात की हसीन शाम-1में आपने जाना कि मेरे मोहल्ले की शादीशुदा हॉट गर्ल पायल को हम तीन दोस्तों ने चुदाई के लिए राजी कर लिया था. तो मैंने भी बोल दिया कि हाँ मैंने तो गांव भी नहीं देखा, प्लीज चलते हैं.

सेक्सी व्हिडिओ डीजे व्हिडिओ

मेरी ज्योति नाम की गर्लफ्रैंड थी, वो बहुत ही खूबसूरत और क्यूट थी, उसका वक्ष 28″ का था, बाद में मैंने 32 तक कर दिया था. यही सब देखते हुए मैंने तारा से पूछा कि मुनीर नहीं आई है क्या?तारा ने तुरंत जवाब दिया- माइक और मुनीर कभी अलग नहीं रह सकते. हम दोनों पानी में भीग रहे थे, दोनों के बदन आग की तरह गर्म हो रहे थे.

अरे, तो ये कोई छोटू मोटू थोड़े ही है …ये तो मेरा लंड है लंड!” मैंने कहा और लंड को उसकी जांघों पर टकराने लगा. मैंने बड़ी तसल्ली से उसकी चूत में धीरे धीरे करके थोड़ा लंड घुसा कर एक जोरदार धक्का मारा.

कुछ देर बाद वो लड़का दुबारा मेरी चूत को चाटने लगा और मैं भी अपनी चूत उसके मुंह में दे रही थी और वो बोल रहा था- भाभी, आपकी चूत चाटने में मुझे बहुत मजा आ रहा है.

दोनों के माथे से पसीना बहने लगा था और दोनों के चेहरे पे अब शिकन दिखने लगी थी. वैसे भी इंसान एक लंड और एक चूत से ज्यादा और है भी क्या। सगे रिश्ते तक मर्यादा तो फिर ठीक है लेकिन जहां शादी जायज है वहां चोदने में क्या परेशानी. शाम को शीतल के जागने के बाद मयूरी उससे मिली और शीतल ने पूरे विस्तार से उसे अपने दोनों बेटों से चुदने की गाथा बताई और दोनों माँ बेटी बहुत खुश हुई क्योंकि दोनों ने अपनी जंग जीत ली थी.

छोरियों की ये कमसिन उमर होती ही ऐसी है न इन्हें उठते चैन न बैठते चैन और इनके बूब्स में हल्का हल्का मीठा मीठा दर्द हमेशा बना रहता है जिसे किसी मर्द के हाथ ही दूर कर सकते हैं और इनकी चूत का दाना पैंटी से रगड़ रगड़ कर चूत में खुजली किये रहता है और इन्हें चैन नहीं लेने देता. अगर पसंद आए तो ज़रूर मेल कीजिए, जिससे नई कहानी लिखने का दिल में उत्साह बढ़ता है. तू तो प्यारी प्यारी गुड़िया है न मेरी!” मैंने प्यार से उसके सिर पर हाथ फेरा और वो मेरे कंधे से आ लगी और अपने हाथ से मेरी छाती सहलाने लगी.

तुम भी अपना शौक पूरा कर लो!मैं फटी-फटी आँखों से अपनी पत्नि के दीमा के भयंकर लंड द्वारा ठसाठस भरी गांड को देखता रह गया जब मेरी प्यारी, गुड़िया जैसी नाजुक पत्नी ने अपनी गांड चलाना शुरू कर दीमा के लंड को अन्दर लेना भी शुरू कर दिया था.

एक्स एक्स एक्स मूवी बीएफ एचडी: इस बार वो इतना ज़ोर से लंड को कस रही थीं कि उनकी कसी हुई चुत की गर्मी से उनके साथ ही लंड को भी पानी छोड़ने पर मजबूर कर दिया. लेकिन जैसे तैसे मैंने सबको मनाया और मुझे भैया के साथ भेजने के लिए तैयार किया.

मुझे दो तीन महीने पहले एक बार लाल जी ने बताया था कि अंकित का लंड बहुत मोटा और बड़ा है. दीदी की मस्‍त सिसकारी के साथ मैं अपनी दीदी की प्यारी चुत को चाट रहा था।तभी दीदी ने मेरे सर को अपनी चुत पर दबोच के अपना पानी छोड़ दिया।मैं भी दीदी का पानी पी गया पूरा का पूरा और दीदी को अपने ऊपर लाकर कर अपने लंड को दीदी के चुत पर सेट किया और अंदर घुसाने लगा तो मुझे हल्का हल्का सा दर्द होने लगा. मैंने कहा- तो दूसरा राउंड स्टार्ट करें?मुस्कान बोली- अभी नहीं बेबी.

दिखने में वो मेरी तरह नार्मल ही हैं, लेकिन उनका फ़िगर बहुत ही जबरदस्त है.

उसकी उम्र लगभग 35 वर्ष, रंग गेंहुआ और अच्छी तरह मेन्टेन किया हुआ फिगर था. फिर 5 दिन बाद उसी नंबर से फोन आया और दूसरी ओर से कविता बोल रही थी- सर आपने फोन नहीं किया. मैंने अपने लंड पर भी थूक लगा लिया और फिर से उसकी गांड में अपना लंड डाल कर मुस्कान की गांड मारना चालू कर दिया.