बीएफ भोजपुरी मे

छवि स्रोत,पंजाबी ब्लू सेक्सी फिल्म वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी सेक्सी वीडियो देखो: बीएफ भोजपुरी मे, उस लड़की के मन की सबसे बड़ी बात उसकी जवानी की दहलीज पर कदम रखने के बाद आए दिन उसके गुप्तांगों में उठ रही चुल्ल को शान्त करने से जुड़े होते हैं.

जंगल में मंगल देसी वीडियो

मुखिया- अच्छा अच्छा ठीक है … ज़्यादा ज्ञान मत दे … और वैसे भी आज मैं उसको नहीं छोड़ने वाला. ஆன்ட்டி செக்ஸ் மூவி தமிழ்तभी मुझे कॉलेज छोड़ना पड़ गया तो …सभी दोस्तों को मेरा नमस्कार। मेरा नाम सुमित है और यह मेरी पहली कहानी है.

तो मैंने चाची की एक चुची को इतना जोर से दबा दिया कि चाची की चीख निकल गई. सनी लियॉन पोर्न वीडियोमैं फ़ोन सेक्स कर रही थी, तो मैं राज से कुछ नहीं बोल सकती थी … वरना राहुल सुन लेता.

उसको मैंने भी मेरे लिये चूत दिलवाने के लिए कहा तो वो मुझे सबसे ऊपर के फ्लोर पर ले गया जहां पर चार लड़कियां थीं.बीएफ भोजपुरी मे: उन्होंने आह आह करते हुए अपनी वासना बिखेरना शुरू कर दिया और इन आहों के साथ चाची सिर्फ हवा ही अपने मुँह से निकाल रही थीं.

उसने पहले ही प्रहार में बड़ी ही निर्दयता से पूजा की चूत में ऐसा धक्का मारा कि उसका 6 इंच का लंड एक ही बार में पूजा की चूत को फाड़ कर अंदर चला गया.पारिज़ा मदहोश होकर सीत्कार कर रही थी और मैं उन दोनों की चुदाई देख रहा था.

हिंदी बीएफ भोजपुरी बीएफ - बीएफ भोजपुरी मे

उस फ्लोर पर अंकल आंटी का एक कमरा था और उन तीनों बहनों का एक अलग कमरा था.वो मुझे हमेशा छेड़ती रहती थी और हर समय सेक्स की ही बातें करना पसंद करती थी.

जैसे ही मैं स्टेशन पहुंचा, तो मैंने फोन किया और बोला कि मैं स्टेशन पर आ गया हूं. बीएफ भोजपुरी मे क्योंकि आज के बाद तुम्हारी यह बेटी हमेशा हमेशा के लिए पराई हो जाएगी.

लगभग 20 मिनट तक धक्के लगाने के बाद उन्होंने अपना वीर्य मेरे अंदर ही छोड़ दिया और अलग हट गये.

बीएफ भोजपुरी मे?

दीदी- अच्छा सिर्फ कपड़े देख रहा है या कपड़े के अन्दर भी कुछ और देख रहा है. फिर दस मिनट तक वैसे ही लेटे रहने के बाद मैं उठा, तो उसकी गांड से वीर्य और खून निकलता हुआ दिखा. उसके बाद उसके होंठ मेरे पेट से होते हुए नाभि से होकर नीचे मेरी चड्डी तक जा पहुंचे.

मैं समझ गयी थी कि वो चुदाई की बात कर रहा है लेकिन मैंने अन्जान बनकर कहा- मैं समझी नहीं?उसने मेरी कमर को सहलाते हुए कहा- जो मुझे चाहिए वो आप मुझे दे दो और जो आपको चाहिए वो मैं आपको दे दूंगा. फिर मैंने रागिनी को पीठ के बल लिटा दिया और मिशनरी पोजीशन में घपाघप धक्के मारने लगा. मैंने चाची की गांड से लंड निकाला और एक बार फिर से चूत में डालकर चुदाई में लग गया.

फिर मैंने उन्हें कहा कि गलती उनकी भी तो नहीं है, कोई जानबूझ कर उन्होंने मेरा बलात्कार तो किया नहीं, बस वे मुझे गलती से अपनी पत्नी समझ बैठे और अंधेरे में ये अनहोनी घट गयी. इस इंडियन चुत सेक्स चुदाई कहानी के पिछले भागसाठ साल की लेडी की वासना- 1में अब तक आपने पढ़ा कि मुझे एक 60 साल की औरत ने एक महीने तक चुदाई के लिए बुलाया था. मैंने देखा कि उसकी चूत पूरी गीली हो चुकी थी और उसका रस चूत पर पूरा फैल गया था.

एक दो मिनट तक उसकी गांड में उंगली चलाने के बाद अंदर तक क्रीम चली गयी. तभी दूसरा आदमी मुझसे बोला- क्यों रे? तेरी बाइक का नम्बर हमारे पास है.

यदि आकाश उसके साथ चुदाई के पूरे मजे ले रहा होता तो वो अभ्यस्त हो चुकी होती.

मैं अपने घर से गर्लफ्रेंड के घर मिलने के लिए जाने वाला था और मैंने उसकी कैसी गंदी चुदाई की और बहुत हार्ड चुत चोदी, जिसकी आप कल्पना भी नहीं कर सकते.

थोड़ी देर बाद मुझे उनका कॉल आया और उन्होंने मुझे बताया कि वो मुझे एक महीने के लिए बुक करना चाहती हैं. मैंने उससे कहा कि मुझे बड़ी ख़ुशी होगी, यदि आप वो मुझे ड्रेस अभी ही पहन कर दिखाएं. हम दोनों की सहमति के बाद दोनों परिवारों ने खुश होते हुए एक दूसरे को लड्डू देकर मुँह मीठा कराया.

दोस्तों उसके बाद जब भी ज्योति मैडम नेपाल से हिसार आती हैं, तो मुझे चुदवाई के लिए जरूर बुलाती हैं. मैंने उनके मोटे मोटे ओर मांसल बोबों को हाथों में भर लिया और बेरहमी से दबाने लगा. वो मेरी गर्लफ्रेंड के बारे में पूछने लगी तो मैंने उनको मना कर दिया.

रघु- बाबूजी शुरू के दो दिन तो मैंने कुछ नहीं किया, फिर असल बात ये है मुझे कुछ आता भी नहीं था.

इस पर मां ने कहा- तो आपको मजा नहीं आता क्या जब मैं आपके लंड पर मूतती हूं?वो बोले- आता है जान … तुम्हारा गर्म गर्म मूत लंड पर गिरता है तो बहुत मजा देता है. मालिनी तो जैसे सालों की प्यासी लग रही थी और इस बार जैसे ही मैंने कुछ देर उसकी चूत में जोर जोर से झटके लगाये वो फिर से झड़ने की कगार पर पहुंच गई. मेरा हाथ धीरे धीरे उसके पेट पर होते हुए ऊपर जाने लगा तो उसने मेरे हाथ को पकड़ लिया.

मेरी ननद मेरे ब्लाउज के दो हुक खोल कर मेरी ब्रा के अन्दर अपनी हथेली घुसा कर मेरे मम्मे दबा रही थी और रंग भी साफ़ कर रही थी. जल्दी ही मैं आपके लिए कहानी को आगे बढ़ाऊंगा जिसमें मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने उस कॉल गर्ल की गांड चुदाई भी की. उनके मुँह से मादक आवाजें निकल रही थीं, जो मुझे और जोश दिला रही थीं.

रोहित के मुंह से अब सिसकारियां निकल रही थीं और वो मेरे मुंह में धक्के लगाता हुआ मेरे मुंह को चोद रहा था.

थोड़ी देर बाद उसने अपना परिचय मुझे दिया और अपने बारे में सब बोल दी कि मेरा नाम तूलिजा है, मेरी उम्र 19 साल की है और मैं बांग्लादेश के ढाका शहर में रहती हूँ. आई लव यू चचाजान!मैं बोला- हां, मैं भी तुमसे मिलने के लिए बहुत बेताब था मेरी बच्ची। आई लव यू टू!फिर वो मेरे लिये पानी लेकर आई.

बीएफ भोजपुरी मे उनके मुँह मेरे होंठों की वजह से बंद था तो जब भी मैं उनकी गांड में उंगली करता, उनकी सिसकी मेरे मुँह में ही घुट कर रह जाती. उसकी बहुत ही कामुक सिसकारी निकल गई- आअहह अहह अहह वाह मुखिया जी … मज़ा आ गया … उफ्फ आह.

बीएफ भोजपुरी मे मैंने उनके मोटे मोटे ओर मांसल बोबों को हाथों में भर लिया और बेरहमी से दबाने लगा. सामान में फूलमाला, कुछ दूल्हा का लिबास और दुल्हन के श्रृंगार का सामान.

… क्या हुआ … पसन्द नहीं आई क्या!मैं- तुमने न तो किस की … न बूब्स को छुआ … डायरेक्ट चुत में लंड अन्दर कर दिया … तुम इस खेल के नए खिलाड़ी लगे.

खून निकालने वाली सेक्सी वीडियो

मैं अपने मुंह को उसके लंड पर दबाते हुए होंठों को उसके टट्टों तक ले जाती थी और उनको किस करके वापस आती थी. वो मेरे लंड को मुंह में लेकर चूसने लगी और मैं उसकी चूत में जीभ देकर चोदने लगा. जैसे तुम मेरी जरूरत पूरी करती हो, वैसे ही तुम्हारे अब्बू को तुम्हारी मदद चाहिए.

फिर मैंने उठकर उसकी टांगों को फैलाकर चूत को देखा और अगले ही पल उसकी टांगों को अपने कंधे पर रख लिया. मैंने पूछा- मुझे ही बताया है या किसी और को भी?नहीं, बस आपको ही बताया है. उसी समय काम करते हुए मेरी नजर पारिज़ा की मस्त गांड पर पड़ गई और मेरे अन्दर का शैतान जाग उठा.

आप मेरी कहानी ऐसी ही दूसरी कई सेक्स कहानी अन्तर्वासना पर पढ़ सकते हैं.

एक कुंवारी लड़की की चूत को छूकर पकड़ने का मजा ही कुछ और था दोस्तो।तभी मेरे ऑफिस से किसी के बाहर निकलने की आहट हुई तो मैं जल्दी से ऑफिस की तरफ भागा और वो अपने रूम में घुस गई।उस दिन के बाद ये मेरा रोज का काम हो गया. तो मैंने उन्हें एक लंबा चुम्मा किया और फिर से हॉट चाची के ऊपर चढ़ गया. मुझे थोड़ा सा दर्द हुआ, पर सुनयना भाभी के मुँह से एक जोर से चीख निकली- आइइइइइ मर गई!उनकी आंखों से आंसू निकलने लगे और बोलने लगीं- आह मार ही दोगे क्या, थोड़ा धीरे धीरे करो ना.

मैंने कहा- मां, ये इतनी गीली कैसे हो गयी?मां बोली- मर्द के लंड को हाथ में लेने से इसमें खुजली होने लगती है. चाची जागीं, तो उन्होंने थोड़ी देर मेरे हाथ पर अपना हाथ रखा हुआ था … फिर प्यार से मेरा हाथ हटाकर वो चली गईं. माहौल की मांग पर वर के कुछ सम्बन्धी वर की सुहागरात के लिये कुछ व्यंग्य और कुछ मजाक करते रहे जिससे मनोज के शरीर में सिरहन सी दौड़ रही थी.

और मेरे चेहरे पर मुहांसे उगने लगे जो मुझे बहुत ही भद्दे लगते थे; वो मुहांसे दूर करने के तमाम उपाय किये बहुत सी दवाइयां, लोशन, क्रीम सब की सब आजमा लीं पर कोई लाभ नहीं हुआ. मैंने कहा- मैं तेरा बॉयफ्रेंड जो हूँ … कच्चा खा जाऊं तो क्या नहीं खाने दोगी?इतना कहकर मैंने डॉली को अपनी बांहों में कस कर जकड़ लिया और उसकी आंखों में झाँकने लगा.

वो बोली- हमारी इस मुलाकात के बारे में रिया और अजय दोनों में से किसी को पता नहीं लगना चाहिए. नंगी लड़की के पोस्टर से ही अकेलापन दूर करते आये हो या … ??वो- क्या मतलब!मैं- मतलब कुछ नहीं!पता नहीं क्यों, आज मेरी पैंटी में मेरी मुनिया कुछ ज्यादा ही फुदक रही थी. इतनी तेज बारिश में कैसे घर जाएंगे?मैंने सुषमा मैडम से पूछा- आपने कहां जाना है?सुषमा मैडम कहने लगीं कि मुझे तो इधर पास में ही जाना है.

दूसरे दिन सुरेखा का फोन आया- घर में कोई नहीं है, तुम आ सकते हो क्या?मैं बहुत खुश हो गया और मैंने आने की हां बोल दी.

पारिज़ा ने भी शर्मा के अपने बदन पर चादर रख ली क्योंकि वो पहली बार अपने अब्बू के सामने नंगी हालत में लेटी थी. अनवरी चाची मुझसे कह रही थीं- अहह ज़ाकिर बहुत मज़ा आ रहा है … ओह आअहह उम्म्म्म उहह तुमने मुझे आज जन्नत दिखा दी … तेरे दानिश के अब्बू ने भी कभी ऐसे प्यार नहीं किया मुझे … अब से मैं तुम्हारी हूँ. मैंने आंटी को कहा कि आप बेफिक्र होकर जाइये, मैं दीदी का अच्छे से ख्याल रखूँगा.

क्या बोलूं बेटा, मुझसे तो घोर पाप हो गया आज; मैंने जीवन भर किसी परस्त्री को कभी बुरी नज़र तक से नहीं देखा और आज मैंने अपनी ही बिटिया का शील भंग कर डाला, पता नहीं मेरा किस जनम का पाप कर्म आज उदय हो गया! हे भगवान् मुझे इस क्षण मौत देदे. पर श्वेता की हिम्मत को मानना पड़ेगा कि लंड लेने के लिए वो दर्द कैसे झेल रही थी.

लेकिन मुझे मालूम था कि मेरे सहयोग से ये सब कुछ ही दिनों में फिर से सामान्य हो जाएगा. पता नहीं जाति बीच में क्यों आ जाती हैं?मैं और रिया आपस में बातें कर ही रहे थे कि मेरे मम्मी पापा आ गये. इसी बीच राहुल का हाथ मुझे मेरी कमर से होता हुआ मेरी गांड पर फिरता महसूस हुआ.

सेक्सी रंगीला

मैंने उसके मोटू शौहर से नजरें बचाते हुए और उस नाजनीन भाबी को दिखाते हुए अपना लंड सहला दिया.

मॉम अब और जोर से सिसकारने लगी- आह्ह … ऊईई … याह … और तेज … आह्ह … और जोर से … चूस राजेश।अब मुझसे भी रुका नहीं जा रहा था और मैंने उनके पैर उठा कर अपने कंधों पर रखवा लिये और जांघों के बीच में जाकर अपने लंड को उसकी चूत पर टिका दिया. मगर मुझे अपनीबीवी से सेक्स सुखवैसा नहीं मिला था, जिसका मैं शैदाई था. तो उसने मुझसे फोन करके पूछा- अगर तुम मेरे साथ ही घर तक चलो, तो तुम्हें इजी रहेगा.

बड़ा ही नमकीन स्वाद था अंगिका की चूत के पानी का।मेरे लगातार चाटने से अंगिका अपना आपा खोये जा रही थी और मैं अब चाटता हुआ उसकी चूत पर पहुंच गया. वो बोली- क्या तरीका है? अच्छे से बताओ न जान!मैंने कहा- यहां फोन पर नहीं. बीएफ सेक्सी फिल्म हिंदी देहातीमैंने उसकी गांड को खूब पेला और फिर 10 मिनट के बाद उसकी गांड में ही झड़ गया.

तो सीनियर ने कहा- तुम्हें प्रमोशन चाहिए कि नहीं?ये बोले- हां चाहिए है सर. मैंने अपनी पकड़ बनाए रखी और थोड़ा जोर लगा कर पूरा लंड उसकी गांड में डाल दिया.

दो मिनट के बाद मैंने पूछा- कैसी लगी जान अपनी सुहागरात?वो बोली- अच्छी लगी, लेकिन दर्द बहुत हुआ. मैंने उनकी चूत में उंगली डाली और चूत के पानी को लेकर उनकी गांड पर फिराने लगा. मुझे भी बहुत समय हो गया था सेक्स किये हुए तो मैंने सोचा कि जब चूत घर में ही उपलब्ध है तो फिर क्यों न मैं भी चुदाई का थोड़ा मजा ले लूं.

ऊपर को उठे हुए, सुडौल और गोलाकार, जिनके निप्पल्स भूरे और काले रंग की तरफ से हटकर हल्के से हो चले थे. उसके नर्म कोमल हाथ में मेरा तपता हुआ लौड़ा गया तो मेरे बदन में हवस की आग भभक उठी. चुत के पानी से पैंटी पूरी गीली हो गयी थी और वहां से गर्म भाप निकल रही थी.

सुरेश ने उसको अन्दर जाकर लेटने को कहा और खुद जल्दी से उठा लंड को अन्दर किया.

उनसे मेरी बात कभी नहीं हुई थी तो मैंने खेल के बारे में उनसे बात करने की कोशिश की और कहा कि सर मुझे भी खेलना है. वो- हां मैं तेरी रंडी हूँ कुतिया हूँ … जब चाहे तब लंड डाल कर चोद लेना मुझे … आह … चोद!कुछ ही पलों में चुदाई का मजा आना शुरू हो गया.

मैंने पानी का गिलास नीचे रखा और उनके कंधे पर सहलाते हुए उनको तसल्ली देने की कोशिश करने लगा. मैंने थोड़ी देर उसकी चूचियों को सहलाया और उसके मुंह पर हाथ लगाकर एक जोरदार झटका मारा. मैं जब से आपकी सेवा में आया हूं, तब से लगभग 4 बार तो आपको चोद चुका हूं.

आज हमारे पास काफ़ी टाइम था, तो मैंने कहा- चलो सीमू … कहीं घूमने चलते हैं. मैं मॉम की गांड की दरार में हाथ से मसाज करता हुआ हॉट सेक्सी मॉम के चूतड़ों को साफ कर रहा था और मेरा लौड़ा फटने को हो रहा था. अब मैं अपना दायाँ हाथ उसकी सुराही जैसी गर्दन पर लपेट कर किस कर रहा था। कभी उसका नीचे का होंठ तो कभी ऊपर वाला होंठ चूस रहा था.

बीएफ भोजपुरी मे वहाँ मैं टॉयेलट सीट पर बैठा और फिर उसे अपनी गोद में बिठा कर नीचे से धक्के देने लगा। अब तक हमारी चुदाई को 1 घंटा हो गया था मगर मेरा अभी नहीं हो रहा था। मेरे पेट की नसें खिंचने लगी थीं. पूछने पर डॉक्टर ने कहा कि उनकी रिपोर्ट्स अगले दिन सुबह तक ही मिल पायेंगी.

सेक्सी फिल्म नंगी ओपन

अंकल आप यह सोचिए कि इस समय आपके लिए एक सुंदर सेक्सी औरत बेड पर लेटी हुई है. रिया बोली- आपको शर्म नहीं आई?मैंने कहा- किस बात के लिए?रिया- आप ज्यादा बनिये मत, रात को सब पता है मुझे कि आप क्या कर रहे थे. अब मैं अपना दायाँ हाथ उसकी सुराही जैसी गर्दन पर लपेट कर किस कर रहा था। कभी उसका नीचे का होंठ तो कभी ऊपर वाला होंठ चूस रहा था.

इसलिए जैसे ही मैं खड़ा हुआ और चलने लगा, तो मेरा पैर फिसल गया और मैं उसकी बांहों में जा गिरा. थोड़ी देर बाद मुझे उनका कॉल आया और उन्होंने मुझे बताया कि वो मुझे एक महीने के लिए बुक करना चाहती हैं. तेलुगु सेक्सी बीएफ व्हिडीओइससे तुम्हें कमजोरी नहीं आएगी और तुम एक महीने तक मेरी अच्छी चुदाई करते रहोगे.

फिर वो हांफते हुए बोली- अब तुम मेरी गांड में लंड पेल कर मुझे चोदो … और जितने गंदे तरीके से तुम मेरी गांड मार सकते हो मारो.

वो अपनी चुदास की चरम सीमा पर आ गई थी और अपनी गांड उठा उठा कर चुत में लंड लेने के लिए आतुर थी. मैंने अपनी जीभ को धीरे धीरे उसकी चुत के अन्दर डालना शुरू किया और फिर अन्दर बाहर करने लगा.

बिल्कुल गुलाब की पंखुड़ियों जैसी दिखने वाली फांकें।मैंने देर न करते हुए अपना मुंह देशी न्यूड गर्ल की चूत पर रख दिया और उसकी चूत को तेजी से चूसने लगा. उसके मुँह से ‘ईई ईई ईई आई मां मर गई …’ निकला और वो मेरे निपल्स पर काटने लगी. फिर मैं उसके घुटनों में बैठ गया और उसकी चूत पर मुंह रख दिया और जोर-जोर से चूसने लगा.

मैं समझ गयी और बोली- 10000 लूंगी और मुझे सुबह यहीं लाकर छोड़ना पड़ेगा.

शादी की रात जब सुमन की सील टूटी थी, तब लंड क्या होता है, उसको पता चला. अब तक उनको उंगली से होने वाला दर्द खत्म हो गया था और वो भी मजा लेने लगी थीं. जल्दी ही मैं आपके लिए कहानी को आगे बढ़ाऊंगा जिसमें मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने उस कॉल गर्ल की गांड चुदाई भी की.

दूध निकलने वाला बीएफलेकिन चाकू से और कुछ तो नहीं करोगे न?उसकी आंखों में एक चमक थी शायद. मुझसे बिल्कुल ही रहा नहीं गया और मैंने विभा भाभी की चूत के ऊपर अपने होंठ रख दिए.

अनुष्का शेट्टी नंगी फोटो

मैंने हल्की आवाज़ में पूछा- भाई??वो आहिस्ता से बोली- बाथरूम में है!ये सुनते ही मैंने जल्दी से उसकी चूची पकड़ी और हल्के से मसल दी. मैं उसके गुलाबी पंखुड़ियों जैसे होंठ चूमे जा रहा था और उसके बालों को पकड़ कर उसे अपनी तरफ खींच रहा था. बहुत सारा थूक मैंने फिर से उनकी गांड पर थूका और जोर लगाकर लौड़े से एक दमदार धक्का दे मारा.

मैंने पूछा- क्या हुआ डार्लिंग … फट गई क्या!तब चाची बोलीं- अरे फटी को क्या फाड़ेगा … मुझे कुछ नहीं हुआ है. मैंने अपनी जीभ को धीरे धीरे उसकी चुत के अन्दर डालना शुरू किया और फिर अन्दर बाहर करने लगा. इस बात पर मैंने अंगिका को अपनी गोदी में उठा लिया और उसे लेकर बेड पर जाने लगा.

शायद वो अभी झड़ी नहीं थी इसलिए उसकी चूत की आग उसको चैन से नहीं बैठने दे रही थी. मैंने तेल लगा कर उसकी बुर में हल्की सी उंगली दे दी तो वो एकदम से चिहुंक गयी. एक दिन मैंने उससे पूछा- तुम्हें कितना गंदा सेक्स पसंद है?उसने बोला- मुझे सेक्स करना बहुत ज्यादा पसंद है … फिर ये गंदा क्या होता है.

पापा आज तीन महीने हो गए, मैं हर रात इस मादरचोद के आगे नंगी होकर सोती हूँ … मगर इस हिजड़े का लंड तो एक बार भी खड़ा नहीं हुआ. गीता ने हाथ के इशारे से समझाया कि कितना बड़ा था मगर अब सुरेश के अन्दर का इंसान खत्म और वासना जाग चुकी थी.

मैंने आज जानबूझकर पीले रंग की साड़ी पहनी जिसका ब्लाउज बहुत छोटा था.

सन्नो- ओहो … मैं तुझे खेत में काम करने को नहीं बोल रही … आज से तू मेरे साथ मुखिया जी की कोठी पर चल, वहां मेरा हाथ बंटा, तो दो पैसे ज़्यादा घर आएंगे. एक्स एक्स एक्स हॉट सेक्सी फिल्मउसकी सांसों से आ रही वो शराब की महक मुझे अच्छी नहीं लग रही थी मगर फिर धीरे धीरे जैसे मुझे भी उसका नशा सा होने लगा. चोदा चोदी बीएफ दीजिएवैसे उसको तस्वीर से तो देखा था, मगर वीडियो कॉल पर पहली बार देखा था. इस हिंदी Sexxy Story में पढ़ें कि मैंने अपना सेक्सी ब्लाउज सिलवाने के लिए अपनी सहेली को पूछा तो उसने मुझे एक टेलर की दूकान बतायी.

करीब पन्द्रह मिनट की चुदाई के बाद हम दोनों एक साथ स्खलित हो गए और उसने झड़ने के समय मुझे गर्दन पर जोर से काट दिया, जिसका गहरा निशान पड़ गया.

मैंने खिड़की से देखा कि पापा मम्मी को जबरदस्ती चोदने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन मम्मी उन्हें मना कर रही थीं. वो सिसकारते हुए बोली- आह्ह … क्या कर रहे हो नाहिद? मुझे कुछ हो रहा है. फिर एक रात तुली ने मुझे बताया कि पापा अब आज की रात हमारी आखिरी रात है.

गर्लफ्रेंड की चुदाई हिन्दी में पढ़ें कि कैसे मेरे पुराने यार ने मुझे अपने लंड के लिए तरसाया, तड़पाया. पापा बोले- अनीता इतना डर कर क्यों कर रही हो? मेरे लॉलीपॉप का टेस्ट तो ले लो. चलिए आज मैं आप लोगों को अपनी हॉट चूत की सील टूटने की सेक्स कहानी सुनाती हूं.

फिल्म सेक्सी वीडियो हिंदी में

मैंने उसकी टांगों को फैलाया और उसकी चूत में जीभ देकर जोर जोर से अंदर तक चाटने लगा. मैंने रिमोट से टीवी बंद कर दिया, जिससे अब चुदाई की फच फच फच आवाज़ साफ सुनाई देने लगी थी. इस कॉलेज गर्ल सेक्स स्टोरी पर आपकी प्रतिक्रियाओं के लिए मुझे आपके मेल की प्रतीक्षा है.

लोअर मैंने दिल्ली से ही पहनी हुई थी क्योंकि सफर में मुझे आरामदायक कपड़े ही पहनना अच्छा लगता था.

वो मुझे हर जगह चूमने लगी, उसने मेरे हाथ पकड़ लिए और मेरी गर्दन पर काटने लगी, किस करने लगी.

होली सेक्स की कहानी में पढ़ें कि हम अपने ससुराल वाले गाँव में होली मनाने आये थे. ये आवाज इतनी तेज थी कि हम दोनों ने बाहर जाकर देखा, तो एक आदमी अपनी बाइक से मेरे गार्डन के दरवाजे से टकरा कर गिर गया था. बीएफ सेक्स बताइएवो अंदर आई और चाबी ले जाकर दरवाजा खोल दिया। मैं झट से वहां से बाहर निकला और एक सौ रुपया जेब से निकाल कर उसे देने लगा.

तब भी उसने मुझसे एक बात मनवा ली कि वो मुझे किस करेगा और मेरे मम्मों को दबा कर मजा लेगा. उसने एक प्यार भारी आह्ह ली और लंड अंदर बाहर होना जैसे ही शुरू हुआ तो उसके मुंह से सिसकारियां निकलने लगीं- आह्ह … ओह्ह … आऊच … आह्ह … अम्म्म!वो कामुक आवाजें करनी लगी और मैं उसे चोदता रहा. ये कहते हुए मैं उसके पास हो गया और डरते हुए बोला- क्या तुम मेरी जीएफ बनोगी?वो मेरी बात सुनकर सहम गई और बोली- नहीं … ये ठीक नहीं है.

मैंने तुमको देखा है कि तुम किस तरह से मेरी गांड और मम्मों को देखते हो. सर ने मुझे मना कर दिया और बोले कि ट्रायल में जो 17 लड़के पास हुए हैं अब उन्हीं में से टीम का चयन किया जायेगा.

अब मैं आपको अपने परिवार के बाकी सदस्यों के बारे में भी बता देता हूं.

प्रशासन को पता चल गया तो इसको उठा ले जायेंगे और किसी सरकारी अस्पताल में भर्ती कर देंगे, आप भी नहीं मिल पायेंगे. कुछ ही देर के अंतराल के बाद वो भी अपने चूतड़ों को उठाकर चुदाई का मजा लेने लगी. वैसे नजरें तो अच्छे लड़कों पर जाती हैं लेकिन मैं उस ओर से मन मोड़ लेती हूं.

राजस्थानी भाभी के सेक्सी वीडियो उनके मुँह से मादक आवाजें निकल रही थीं, जो मुझे और जोश दिला रही थीं. प्रीति ने मुझे हिलाया तो मैं सपनों से जागा।ये देख कर हम तीनों मुस्कराने लगे।प्रीति ने मुझसे कहा- आपको दीदी इतनी अच्छी लगी क्या?ये बोलकर वो हंसने लगी।मैं कुछ नहीं बोला और जाने लगा तो कविता ने कहा- मैं समोसे बना रही हूं, आप खाकर जाना.

मैंने अपना लोअर नीचे खिसकाकर अपना लण्ड बाहर निकाल दिया और मनीषा को अपने सीने से सटा लिया. उस वक्त हुआ यह था कि मैं और मेरा दोस्त अमित एक घर में किराये पर रहते थे. पर वो कराहते हुए बोली- भैया रुको नहीं … इसी दर्द पर चोदो मुझे, रहम मत करना.

தெலுகு ஆண்ட்டி செஸ் வீடியோ

अब मैंने अपने हाथ से उनकी चूत जो कि गीली होकर टपक रही थी, उसको सहलाते हुए गांड को जोर जोर से चोद रहा था. मैंने मिनल के फोन से उसके पति का नम्बर निकाला और कॉल करके उससे मिलने का टाइम फिक्स किया. वो मजे से लंड चूसने लगी और शानदार चुसाई के बाद मैं उसके मुँह में झड़ गया.

मेरी क्सक्सक्स हिंदी स्टोरी के पिछले भागअंगिका: एक अन्तःवस्त्र- 2में आपने पढ़ा कि पहले दिन अंगिका और मैं दिन भर घूमते रहे. मैंने ब्रेक लगाया, लेकिन गाड़ी बहुत आगे निकल चुकी थी … तो मैं गाड़ी को रिवर्स लेकर आया और उस लड़की के पास रुक गया.

सर फिर से मेरे जिस्म की तारीफ करने लगे और बोले- मैंने कभी इतने गौर से तुम्हें देखा ही नहीं था.

कई बार मैंने भी रिया को फोन पर समझाने की कोशिश की लेकिन वो अजय को केवल अपना अच्छा दोस्त ही मानती थी. उसने मेरे सिर को पकड़ा और मेरे मुंह को खुलवाकर अपना लंड मेरे मुंह के बिल्कुल पास कर दिया. फिर उसे अच्छे से साफ करके उसको वापस सुखा दिया और नहा कर बाहर आ गया.

उसने पूछा- क्या हुआ था?मैंने उसे बताया कि मयंक ने तुझे देख लिया था. फिर वो भाभी भी एक हाथ से अपने बूब्स दबाने लगी और उनका एक हाथ साड़ी के ऊपर से ही उनकी चूत को सहला रहा था. पारिज़ा इस समय अपने अब्बू के सामने नंगी हालत में बेड पर चित लेटी हुई थी.

मैंने उनको वहीं सोफे पर लेटाया और उनकी दोनों टांग उठा कर अपने कंधों पर रख कर लंड को एक ही झटके में पूरा उनकी चूत के अन्दर डाल दिया.

बीएफ भोजपुरी मे: कई बार फोन पर बात करते हुए मुझे ये अहसास भी होता था कि कविता भी सेक्स के लिए तैयार है. मगर जब धीरे धीरे लंड ने अपना जादू चलाना शुरू किया तो मेरा दर्द मजे में बदल गया.

भाभी भी मस्ती में इतनी सराबोर हो गई कि वो मेरा सारा बीज पी गई और चाट चाट कर ही मेरा लंड साफ किया. मनीषा ने मेरी तरफ करवट ली और अपनी एक टाँग मेरी टाँग पर रखकर अपनी चूत मेरे लण्ड से सटा दी. उसने नगमा का हाथ पकड़ लिया और सहलाते हुए बोली- यार, इस उम्र में नहीं करेंगे तो कब करेंगे? तेरा भी तो मन करता होगा किसी ऐसे ही मर्द के साथ मजा लेने के लिए?नगमा ने कोई जवाब नहीं दिया.

एक दूसरे की गर्मी हमें अच्छी लग रही थी, पर इस गर्मी के कारण मेरे लंड में हरकत होने शुरू हो गयी.

लगभग एक महीने बीते थे कि श्वेता का फ़ोन आया कि पापा को हार्ट अटैक आया है. मैं तो सोचता ही रह गया कि ये ख्वाब है या हकीकत! प्रेरणा भाभी मुझे चढ़े दिन लाइन दे रही थी. तो दोस्तो, ये थी मेरी फर्स्ट नाईट सेक्स स्टोरी इन हिंदी! आपको मजा आया जिस तरह से मैंने भाभी की बहन को चोदा? आप मुझे अपने कमेंट्स के जरिये बतायें.