बीएफ चुदाई अमेरिका

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो चुदाई भोजपुरी में

तस्वीर का शीर्षक ,

रेप सेक्स: बीएफ चुदाई अमेरिका, कोई दो मिनट बाद ही वो अकड़ने लगी और मेरे बालों को पकड़ कर मेरा सर अपनी चूत में दबाने लगी.

सेक्सी दिखाइए चलते हुए

सीमा की टांगों को पीछे से पकड़ कर राहुल ने ऊपर साधा और सीमा ने वाल पकड़ कर पैर चलने शुरू किये. मारवाड़ी सेक्सी वीडियो सील तोड़ते हुएइतने में मेरी वाइफ दो गिलास ले आई और बोली- जानू, आज तो मेरा भी एक पैग बना दो … आज मैं अपनी माँ के साथ और पति के साथ मिल कर एंजाय करूँगी.

जैसे ही मैंने जीभ चुत में डाली, वो बहुत जोर जोर से उछलने लगी और बोलने लगी- आह रणबीर … मजा आ गया और चाटो. ससुर की बहू की सेक्सी वीडियोमैंने उससे पूछा- मजा आया?तो बोली- मजा तो बहुत आया लेकिन थोड़ा दर्द भी हो रहा है।मैंने कहा- थोड़ी देर होगा दर्द और फिर ठीक हो जाएगा।हमने आंटी जी के कमरे का दरवाजा खोल दिया और सोफे पर जाकर बैठ गए। उसे बैठने में थोड़ी तकलीफ़ हो रही थी।कुछ टाइम बाद आंटी जी आ गयी और सुलक्षणा फिर चाय बनाने रसोई में चली गयी.

थोड़ी ही देर में पंकज भी खलास हो गया और इस बीच में राहुल वाशरूम से अपने को फ्रेश करके कपड़े पहन चुका था.बीएफ चुदाई अमेरिका: वो ‘उई … मांम्म्म … जोर से करो … आह … बहुत मजा आ रहा है … आआहह … उईई.

मैंने मना किया तो उसने मुझे पैरों से जकड़ लिया और मेरा वीर्य उसकी चूत में ही गिर गया.तभी अचानक से वो मुझे रोकने लगे, लेकिन मैं नहीं रुका और उनके लंड का सारा पानी मेरे मुँह में निकल गया, जिसको मैं पी गया.

लडकी के साथ सेक्सी व्हिडिओ - बीएफ चुदाई अमेरिका

फिर उन्होंने तेल की बोतल निकाली और ढेर सारा तेल मेरी गांड पे लगा कर मालिश करने लगे.” समीर ने अपनी बहन को निहारते हुए कहा।बस अब आगे कुछ भी बोले तो मेरे मरा मुंह देखोगे.

बस अब क्या था … सभी ने एक दूसरे के कपड़े नोच डाले … सीमा और अनीता एक दूसरे के मम्मों को चूसने लगीं और रेखा ने अपनी जीभ रीमा की चूत में कर दी. बीएफ चुदाई अमेरिका मैंने अन्दर घुसते ही उन्हें कमर के बल से खींच लिया और अपनी गोद में उठा कर उनके होंठों पर अपने होंठों से मधुर प्रहार करना शुरू कर दिया.

मुझे बहुत गुस्सा आया कि मेरी जवानी में आग लगा कर मेरी जवानी से खेलने के बाद उन्होंने मुझसे मुँह मोड़ लिया.

बीएफ चुदाई अमेरिका?

दो मिनट तक मैंने खूब मस्ती से चाची के मुंह में लंड देकर चुसवाते हुए मजा लिया. मैंने उसको बताया कि लंड या लौड़ा उसे कहते हैं, जहां से हम मर्द लोग सुसु करते हैं और चूत मतलब जहां से तुम सुसु करती हो. शाम के छह बजे … मामा मामी सुन लें, ऐसे अर्पित ने मुझसे थोड़ा तेज स्वर में पूछा- आशना … एक मस्त फिल्म लगी है … देखने जाना है?ये सुनकर मामा ने ही सामने से कह दिया- हां क्यों नहीं … जाओ जाओ.

मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं किसी लड़की के साथ इस तरह से लेस्बियन वाला मजा लूंगी. मैं बोली- पागल हो गये हो क्या? यहां खुले में? कोई आ जायेगा तो?वो बोला- कोई नहीं आयेगा. फिर बोली- आप ये सब भी देखते हो? मैंने तो आपको बहुत ही शरीफ इन्सान समझा था.

मैंने उसे जोर से अपनी बांहों में भर लिया और उसे गोद में उठा कर अन्दर कमरे में ले आया. अब आगे पढ़ें कि बहू की चुदाई कैसे हुई:महेश का लंड अपनी बहू की चूत को छूने के ख्याल से ही इतना अकड़ गया था कि महेश को अपने लंड में दर्द होने लगा।बेटी अब मैं अपने लंड को तुम्हारी चूत का रस चखाने जा रहा हूँ तुम्हें कोई ऐतराज़ तो नहीं है?” महेश ने अपने लंड को अपने हाथ में पकड़ते हुए कहा।ओहहह पिता जी, जल्दी से जो करना है कर लो!” नीलम का उत्तेजना के मारे बुरा हाल था. वो पीछे हटने की कोशिश करने लगी तो मैंने अपने दूसरे हाथ को भी उसके कन्धे पर रख दिया.

मैंने उससे पूछा- कहां निकालूँ?तो उसने कहा- पहली बार मेरी चूत में ही छोड़ो … मैं इसे महसूस करना चाहती हूँ. मैंने भी जिगोलो बनने की सोची और बहुत जगह पैसे बर्बाद कर दिए, पर कुछ हासिल नहीं हुआ.

मोहिनी बोलीं- आप दोनों अपना इंतजाम बेडरूम में ही क्यों नहीं लगा लेते.

वे मुझे बेड पर ले जाकर लेट गईं और मेरे लंड को मसलते हुए मेरे ऊपर ही सो गईं.

पर यह संभव कैसे हो … बस उसका कोई आईडिया दिमाग में आ ही नहीं रहा था।इसका हल भी मेरी पत्नी ने ही निकाला. ये कहते हुए मैंने उन्हें चूमते चूमते उनकी साड़ी का पल्लू नीचे गिरा दिया. अगले शनिवार को हम दोनों थोड़ी पहले ही काम खत्म करके ऑफिस से जल्दी निकल गए.

प्रिय मित्रो, नमस्कार … मैं राकेश, ये अन्तर्वासना पर मेरी पहली सेक्स कहानी है. फिर उसने भी सूट को नीचे किया और गांड को उठाकर सलवार को फिर से बांधने लगी. अपनी चुत पर मेरी जीभ का स्पर्श पाते ही मोनाली के मुँह से मीठी सीत्कारें निकलने लगीं- आहहह.

मैं भी उनकी चूत में उंगली डाल कर बोला- क्या करूँ?इस पर वो एकदम बदहवास हो कर बोलीं- क्यूं तड़पा रहे हो, जल्दी करो न.

शायद तुम समझ रहे होगे कि मैं कोई बाजारू औरत की तरह व्यवहार कर रही हूँ. मुझे उसकी नज़र में कोई कमीनापन नज़र नहीं आ रहा था। मैं भी बिना कुछ सवाल किए अपना पर्स लेकर उसके साथ चल दी. इस बात को लेकर उन दोनों में अक्सर झगड़े होते है, उसका पति उसके साथ मारपीट करता है.

थोड़ा जोर देने पर वो बोली कि रात को सब सो जाएं, तब तुम मेरे पास आ जाना, मैं आपका लंड चूस कर आपको शान्त कर दूंगी. ‘आह वरुण … चोद दो मुझे … आज फाड़ दो मेरी चूत को … ओह वरुण … और जोर से आह आ आ आह ओह … यस कम ऑन वरुण … और जोर से. ये मेरी पहली कहानी है, तो कहानी से पहले थोड़ा अपने बारे में बता देना चाहता हूँ.

हम लोग नई दिल्ली एयरपोर्ट से तीन बजे के फ्लाइट से रवाना हुए और करीब करीब सत्ताइस घंटे के यात्रा के बाद मेक्सिको सिटी पहुंचे.

किसिंग करते हुए मैंने भाभी की साड़ी खींचते हुए उतार दी और उनके ब्लाउज के ऊपर से भाभी के तने हुए चुचों पे अपने दोनों हाथ टिका दिए. उसकी चूत की बारिश से मैं भी पिघल गया और मैंने अपना पूरा वीर्य उसकी चुत में ही छोड़ दिया.

बीएफ चुदाई अमेरिका भाई का तना हुआ लंड मेरे बूब्स के बीच में आ गया और उसने अपने लंड से मेरे बोबों को चोदना शुरू कर दिया. इसके साथ ही उन्होंने शादी के बाद कभी अपनी बहू को भी किसी बात के लिए नहीं टोका था.

बीएफ चुदाई अमेरिका तुम चाहो तो आज मैं वो काम कर दूँ?मैंने हां में इशारा किया, फिर उन्होंने कहा- सीमा ये समझो कि आज ही तुम्हारी फर्स्ट नाइट होगी. मैं भाभी को थोड़ा और तड़पाना चाहता था इसीलिए लंड को उनकी चुत पर रख के ऊपर नीचे फिराता रहा और कभी हल्का सा अंदर डाल के फिर बाहर दाने पर मार मार के चुत पर रगड़ने लगता। इससे भाभी के सब्र का बाँध टूट गया और उनकी आग भड़क उठी।जैसे ही मैंने दुबारा लंड का मुंह चुत के अंदर डाला, भाभी ने एकदम से मुझे पकड़ा और नीचे से जोर का झटका मारा। लंड एकदम से चुत को चीरता हुआ भाभी के अंदर घुस गया और बच्चादानी से जा टकराया.

दरअसल मुझे रूम सिर्फ किसी प्रायवेट हॉस्टल में चाहिए था जहां मुझे लंड की कमी न हो और 24 घंटे रूम देने वाला मकान मालिक भी मौजूद न हो.

बांग्लादेशी सेक्सी पिक्चर वीडियो

फिर मैंने उसके गुलाब की पंखुड़ियों जैसे आकार वाले और अंगूर से ज्यादा रस भरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए और चूसने लगा. फिर उन्होंने मुझे अपने बेड पे बिठाया और अपनी बांहों में भर कर मेरे होंठों को चूमने लगे. चेहरे पर काली घनी दाढ़ी थी जिसको उसने स्टाइल में मेंटेन किया हुआ था.

उसने दिन मैं ही इसकी बैटरी नयी मंगवा ली थी तो स्पीड भी बढ़िया आ गयी थी. ”जो मदद तुमने की है वही काफी है … अब और मदद नहीं चाहिए!”उसकी बातों से मुझे लग रहा था कि शायद वह गाड़ी से उतरने के बाद मेरी कंप्लेट कर सकता है। मुझे किसी भी कीमत पर उसे यह करने से रोकना था।तभी वह गली आयी जिस गली में मैं और मेरा बॉयफ्रेंड मस्ती करने आते थे, मैंने और मेरी सहेलियों ने इसी गली में जिंदगी के मजे लिए हुए थे। उस गली के पास आते ही मेरी पुरानी यादें ताजा हो गई. जब डॉक्टर मेरी बीबी की चूत को भरपूर चूस चुका तो बोला- बोला हो गई क्लीन तो!लेकिन मेरी वाइफ की चूत सुलग चुकी थी, वो बोली- ऐसे कैसे पता कि क्लीन हुई या नहीं?यह कहते हुए उसने अपनी चूत में उसके चेहरे को भींच लिया.

इससे पहले मैंने कभी मर्दों की तरफ इतना आकर्षण महसूस नहीं किया था जितना उन दिनों में कर रही थी मैं.

कई बार मन किया कि ट्रेन में ही कुछ चक्कर चलाऊं लेकिन हिम्मत नहीं पड़ रही थी और न ही कोई ऐसा मौका आया कि मुझे कुछ करने का अवसर मिल सके. बॉस ने मेरे चूतड़ों पर ज़ोर से थप्पड़ मारे और बोला- तुमको क्या लगता है, मैं तुम्हें ऐसे ही छोड़ दूंगा. वीर्य और रज से सने हुए लंड चूत को हम दोनों ने पास रखे नैपकिन पेपर से अपने आपको साफ किया और बाथरूम में आ गए.

लंड को तो हिला कर मैंने खुश कर दिया था लेकिन मन में एक अधूरापन सा था. जब भी कोई सेक्सी जवान खूबसूरत सी नंगी लड़की जूम करने के बाद फोन की स्क्रीन पर उभर कर आती थी तो अंदर से दबी हुई सी वासना भरी स्स्स … आह्ह … की सिसकारी निकल जाती थी. पंकज बहुत रिफाइंड टेस्ट वाला व्यक्ति था और सारिका ने भी अपना फ्लैट बहुत खूबसूरती से सजा रखा था.

फिर कब मैं सपनों की दुनिया में चला गया इसकी खबर नहीं लगी।नींद फिर सुबह ही खुली. अब मुश्ताक ने सीमा को नीचे पलटा और ऊपर चढ़ कर उसकी टांगें चौड़ी कीं और अपना लंड उसकी चूत में घुसेड़ दिया.

लंड चूत में घुसते ही वो मस्त होकर चुदने लगी थी और आहें भरने लगी थी. मैंने उसकी मांग भरी, फिर उसने मेरे पैर छुए और कहा- अब मेरी शादी कहीं भी हो, मुझे कोई चिंता नहीं. आआह्ह … माँ … स्स्स … आदित्य … डाल दो प्लीज …” पूजा के मुंह से सीत्कार फूटा और मैंने लंड को हाथ से उसकी चूत पर सेट करके स्लैब की तरफ अपना सारा भारा धकेल दिया.

वो बोली- सॉरी … पैर गीले थे इसलिए फर्श पर गीलेपन की वजह से मेरा पैर फिसल गया.

अब जैसे ही फोन वाइब्रेट होता, तो मैं फोन को आंटी के चूत पर रख देता, जिससे आंटी एकदम सिहर उठतीं. वो ‘ओह बेबी … उम्म्ह… अहह… हय… याह… कम ऑन फक मी हार्ड … फक मी हार्ड. सभी जोरों से हंस पड़ी और नीता के पीछे पड़ गयी कि वो अपना एक कपड़ा उतारे.

जिसको मैं सह नहीं सका इसलिए मैंने उसके ब्वॉयफ्रेंड से तेज तुमको चोदा. मैंने उससे कहा- श्रेया मैं निकलने वाला हूं … कहां निकालूं?तो वो बोली- जहां तेरी मर्ज़ी हो, निकाल ले अपना पानी.

साली आंटी ने पहली बार में ही पूरा का पूरा लंड मुँह के अन्दर ले लिया. वो मुझसे बोली- अपनी दुल्हन से सुहागरात की सेज पर ही मिलना … दुल्हन की मुँह दिखाई भी लूंगी. इस बात का कुछ असर हुआ और सागर ने चड्डी छोड़ कर सारे कपड़े उतार दिए.

सेक्सी छोडा छोड़ी फिल्म

इससे उसका पिछवाड़ा खुल गया और फिर लंड चूत से बाहर निकाल कर गांड के अन्दर डालने लगा.

थोड़ी देर में मैंने उसके मम्मों को सहलाया और चूसा तो उसको राहत मिली. लेकिन लंड तो उसकी गांड में घुसता चला गया था, इसका एक कारण ये भी था कि उसकी चूत से टपकने वाला रस उसकी गांड को चिकना करता जा रहा था. रात को जब मैं पानी पीने के लिए उठा तो मैंने देखा कि चाची की साड़ी उनके घुटनों के ऊपर तक खिसक गयी थी.

फिर उन्होंने उठकर अपनी पैंट के अंदर से ही अपना तना हुआ लंड मेरी गांड पर सटा दिया और मेरी गर्दन को चूमने लगे. अब रात के तीन बज चुके थे और मेरी पत्नी की दवाई का असर भी खत्म होने वाला था. टीचर स्टूडेंट की सेक्सी मूवीवो शर्मा कर भागने लगी तो रेखा ने उसे लपेट लिया … आखिर उसे अपना टॉप उतारना पड़ा.

पर इतनी देर हम दोनों क्या करते … मैंने सुझाव दिया- चलो मार्किट हो के आते हैं. मैं उसका सर अपनी चूत में दबाने लगी और वो मेरी चूत को कुत्ते की तरह चाट रहा था.

इस तरह से तीनों ही पूरी मस्ती के साथ समलैंगिक सेक्स का आनंद लूट रही थीं. मेरे हाथों के ऊपर हाथ रखकर वो अपनी उत्तेजना को नियांत्रित करने की नाकाम कोशिश में लगी हुई थी।बैठे बैठे ही मैंने उनकी गाउन कमर तक खिसका दी थी। पीठ गले और गालों पे किस करने के बाद हमारे होंठ आपस में मिल गए, वो अपना चेहरा पीछे मोड़ कर और मैं उनके चेहरे पर झुक कर न जाने कितनी देर तक किस करते रहे. मैंने यही बात मनु को बताई, तो उसने कहा कि वो तुमसे दोस्ती करना चाहता होगा और कुछ नहीं.

पहले तो मुझे गुदगुदी होती रही लेकिन फिर धीरे धीरे लंड में दोबारा से तनाव आना शुरू हो गया. बाद में अमित मेरे पास आया और मुझे किस करते हुए बोला- थैंक्स भाभीजी … ऐसा अनुभव हमने पहले कभी लिया था … यू आर रियली सो सेक्सी…युवराज भी मेरे पास आ गया और मुझे किस किया।तभी दरवाजे की घंटी बजी और हम तीनों होश में आ गए, दरवाजा खोल कर देखा तो नितिन आया हुआ था।मैंने उससे कुछ बात नहीं की और सीधा बेडरूम में जाकर सो गई. जब उसकी बेटी को अपने पिता की नियत का पता चला तो …मेरी नॉनवेज स्टोरी के पिछले भाग में अपने पीया महेश के साथ अपनी पत्नी को नंगी लेटे हुए देख कर समीर सोच में पड़ गया.

मैंने दरवाज़ा अन्दर से डबल लॉक कर दिया कि कहीं कोई गलती से दूसरी चाबी से खोल न ले.

मैंने उसके पीछे आकर अपने लंड को पकड़ कर पीछे से उसकी चूत में डाल दिया. दो दिन तक सब लोगों के साथ खूब हंसी मजाक चला और फिर साले ने अपनी पत्नी अनीता (मेरी सलहज) को खुशी-खुशी मेरे साथ भेज दिया।शादी के समय वाली अनीता अब काफी बदल गई थी.

फिर उसकी पैन्टी के ऊपर से उसकी चूत को सहलाने लगा, जिससे वो और भी गर्म होने लगी थी. अब तो वो भी मजे लेकर चुदने लगी- आह राहुल, मरर गयी मैं!मैंने कहा- सब ऐसे ही मरते हैं. पति को इशारा करते ही उन्होंने उन्होंने आधा लंड मेरी चूत में उतार दिया.

मुझे लगा कि अब तो मैं इतनी दूर जा रहा हूँ तो सब कुछ ख़त्म!किन्तु उसी समय मेरे सिलेक्शन एक बड़े सरकारी अफसर के पद पर हो गया और किस्मत ऐसी कि पोस्टिंग भी उसी के शहर में मिल गयी।अब मैं उस जिले में सरकारी आवास में रहने लगा। मेरे आवास से उसका घर लगभग साठ किलोमीटर की दूरी पर था। ऐसे ही एक साल और बीत गया. तभी मैंने अपना एक हाथ उनके मम्मों के ऊपर उनके कुर्ते के ऊपर से ही रख दिया और मम्मे को सहलाने लगा. फिर उसकी पैन्टी के ऊपर से उसकी चूत को सहलाने लगा, जिससे वो और भी गर्म होने लगी थी.

बीएफ चुदाई अमेरिका मेरी मॉम को उनका असली मर्द मिल गया था और मुझे मेरी मॉम का पति मिल गया था. मैं मम्मी पापा को बोल दूँगा कि हम दोनों फिल्म देखने जाने वाले हैं और रात को आने में थोड़ी देर भी हो सकती है.

सेक्सी वीडियो चालू करके दो

मैंने उसकी ब्रा और पैंटी को उतार फेंका और फिर उसने भी मेरी टी-शर्ट और जींस को निकाल दिया. मैंने भाभी के कूल्हों को पकड़ कर लंड अन्दर धीरे धीरे डालना चालू किया. मां और पापा के जाने के बाद विनय को फोन करके मैंने अपने घर पर बुला लिया.

जोड़ी कैसे बनीं? यह जानिये …मुश्ताक को मिली नायरा;धीरज को मिली शबनम;राजीव को मिली पिंकीऔर राहुल को मिली सीमा. फिर रूम में आकर समय देखा, तो हमें ये सब करते हुए 2 घंटे हो चुके थे. किन्नर वाली सेक्सी पिक्चरपिंकी बोली- क्यों?सीमा बोली- यार मस्ती करनी है, जरा रगड़ेंगे, मजा आएगा.

जब मैं बिल्कुल रुक गया तो दो मिनट तक नेहा के ऊपर लेटे रहने के बाद उठने लगा तो आंटी बोली- बस कर, अब मेरी तरफ भी देख ले.

तो मैं अपनी पत्नी से बोला- तुम चिंता मत करो … मैं उन्हें कहीं बाहर घुमा कर लाता हूँ, जिससे उनका मन बहल जाएगा. मेरी चूत पानी छोड़ छोड़ कर पूरी गीली हो गई थी जिससे विवानभैया का लंडआसानी से मेरी चूत में अन्दर बाहर हो रहा था.

दोस्तो, अन्तर्वासना पर यह मेरी पहली सेक्स कहानी है और सत्य घटना पर आधारित है. पर इस चक्कर में उसके जोर लगाने से उसका खड़ा मस्त लंड मेरी गांड के छेद पर बार बार हल्के हल्के धक्के भी दे जाता था तो मुझे मजा आ जाता था. दो दिन तक सब लोगों के साथ खूब हंसी मजाक चला और फिर साले ने अपनी पत्नी अनीता (मेरी सलहज) को खुशी-खुशी मेरे साथ भेज दिया।शादी के समय वाली अनीता अब काफी बदल गई थी.

उसने ऐसे ही चुदते हुए अपने मम्मों को मेरे मुँह में दे दिए और मैं उनको बारी बारी से चूसने लगा.

मैंने उससे कहा- मुझे ठीक से पकड़ लो, अन्यथा तुम्हारे गिरने की सम्भावना हो सकती है. मेरे लंड को पहली बार चाची के बदन का स्पर्श मिला था इसलिए मैं हर काम जल्दी ही जल्दी में कर लेना चाहता था. उसके बाद मुझे घर आना पड़ा क्योंकि मेरे कॉलेज की छुट्टियां खत्म हो गई थींघर आने के बाद भी मैं प्रशांत और सुमन से फोन पर सेक्सी बातें करते हुए अपनी चूत में उंगली करती रहती थी.

नंगी औरतों का सेक्सी वीडियोउसकी घुटी हुई चीखें अभी भी मेरे कानों में पड़ रही थीं लेकिन मैंने अपने लंड को ज्यों का त्यों ही फंसाए रखा और उसके गोरे गोरे चूतड़ सहलाने लगा. अब आगे:मामी ‘बद्तमीज कहीं का …’ बोल कर गुस्से में वहाँ से चली गई और मैं अपना मुँह बाये उन्हें देखता रहा।मैं सीधा ऊपर वाले फ्लैट में आ गया और इस बारे में सोचने लगा कि ये मामी को क्या हो गया? अभी तक तो मजे ले रही थी और अब?जितना मैं सोच रहा था, उतना मेरा गुस्सा बढ़ रहा था।साली … ये मामी अपने आप को क्या समझती है? पहले इस्तेमाल किया फिर फेंक दिया.

घोड़ा हाथी की सेक्सी

मेरे हर धक्के के बाद उनकी आह आहह उम्म्ह… अहह… हय… याह… आआअह्ह … ह्हह … ऊऊऊ … ऊईई … ईईइ … मर गई माँ. इससे पहले भी जब मैंने अपने पति से गांड चुदवाई थी तो उन्होंने मेरी गांड को खोल कर रख दिया था. उसने बोला- दीदी, मेरे बाथरूम में पानी नहीं आ रहा … मैं तुम्हारे बाथरूम में नहा लूं, मुझे कॉलेज के लिए लेट हो रहा है.

उसकी चूत पर हुए एक गौर मर्द के इस हमले से सारिका पूरी गर्म हो गयी, उसकी गर्म आहों ने कमरे को और गर्म कर दिया था. हमारी चुप्पी तब टूटी जब मेरी धुएँ की डंडी ने मेरी उंगली जलायी, तब मैंने अपने आप को सामान्य किया और उससे पूछा- जी बताइये?वो कुछ समझ नहीं पायी और वहीं खड़ी रही. तभी महेश ने एक झटका मारा और नीलम की चूत में पूरा लंड समा गया क्योंकि नीलम की चूत एकदम गीली थी इसलिए लंड फच्च से अंदर चला गया.

और समीर का भी क्या क़सूर … तुम हो ही इतनी ख़ूबसूरत कि तुम्हें देखकर किसी भी आदमी का खड़ा हो जाए!” महेश ने इस बार अपने हाथ को अपनी बेटी की पेंटी तक लाकर उसे सहलाते हुए कहा।पिता जी आप यह क्या कह रहे हैं? मैं आपकी बेटी हूँ. उन्होंने मुझे देख के ‘प्लीज’ कहा तो मैंने उनका हाथ छोड़ दिया और वो बाहर निकल गयी।[emailprotected]. फिर उसने धीरे से मेरे अंडरवियर की इलास्टिक को अपने हाथों से नीचे कर दिया और इलास्टिक के नीचे जाते ही मेरा फनफनाता हुआ लंड उसके होंठों से टकरा गया.

पार्टी उसके दोस्त के किसी फार्महाउस पर थी, वहां पर सिर्फ उसके दोस्त और उनकी गर्ल फ्रेंड्स थीं. उसको लगने लगा कि शायद आज वह वो पाने में सफल होगी, जिसकी उसको इतने दिनों से इच्छा हो रही थी.

मैंने जैसे ही भाभी की गांड में तेल डाला, उनके मुँह से ‘उफ्फ्फ …’ की आवाज निकल आई.

जबकि मैंने उनसे कहा भी था कि आप लोगों को मैं हर महीने घर खर्चे के लिए पैसे दिया करूँगी. फिल्म सेक्सी वीडियो दिखाओमैं कसरत करता हूं … हल्की कसरत, सुबह दौड़ना, कुछ योगासन! इसलिए छरहरे बदन का हूं. बेस्ट हिंदी सेक्सी वीडियोउसके बाद लगभग एक महीने के बाद मेरा जन्मदिन था तो हम लोगों ने मेरे जन्म दिन की पार्टी रखने का प्लान किया. पीछे से जीजा भी मेरे कान में आकर बोले- हां, तुम अपने यार से ऐसे ही बात करती रहो, उसे भी सुनने दो तुम्हारी तड़प.

मुझे इस पोज में बहुत ज्यादा मजा आता था इसलिए अब मेरा झड़ना पक्का था.

तभी मेरे बॉस ने अपनी स्पीड को तेज़ कर दिया और पचक पचक की आवाजें आने लग गईं. अब मुझे लगता है कि मुझे भी यहां कहानियां पोस्ट करनी चाहिए।मैं आपको अपना परिचय देता हूँ। मेरा नाम रघु पाठक उर्फ गांडू गरिमा है। गांडू गरिमा इसलिए क्योंकि मुझे पता नहीं कैसे गांड देने का शौक लग गया. फिर उसने अपने लंड के टोपे पर भी थूक लगा दिया और मेरी गांड में लंड को रख कर घुसाने लगे.

उपिंदर ने पैंट और सफेद अंडरवियर उतार दिया और दीवार पे दोनों हाथ रख के खड़ा हो गया। शैली उसके पीछे बैठी, चूतड़ों को चूमा- हाय कितने दिनों बाद ये जवां मर्दाने चूतड़ और गांड मिल रही है प्यार करने को!फिर उसने चूतड़ फैलाये और उसके होंठ और जीभ शुरू हो गए। कभी चाटती, कभी चूमती, कभी चूसती।अंशु बोली- साली दीवानी हो गयी है. हैलो फ्रेंड्स, मेरा नाम राहुल है और मैं यूपी से हूं। मैं 5 फुट 8 इंच लम्बा-चौड़ा कद काठी और 21 साल का हूं। मैं रोज योग करता हूँ. मेरा खुद को दोनों पैरों पे संभालना मुश्किल हो गया, तो मैंने बाइक का सहारा ले लिया.

देहाती चुदाई सेक्सी एचडी

मैं उसको उत्तेजित करने के लिए दर्द से रो रही थी, पर अन्दर से बड़े लंड से मज़े ले रही थी. मुझे बहुत जलन हो रही थी … पर सर थोड़ी देर बाद अपना लंड मेरी गांड के अन्दर हिलाने लगे. वो कभी कभी मेरी चूत में उंगली भी करते थे और मैं भी उनका लंड अपने हाथ में लेकर हिलाती थी.

जब मैं मामा के घर गई हुई थी तो उसने मुझे ये भी बता दिया था कि उसके बॉयफ्रेंड के साथ उसका अभी अभी ब्रेक अप हुआ था.

मैंने भी अपना ध्यान कहीं और लगा कर उसे तेजी से चोदना चालू कर दिया था ताकि मेरा रस जल्दी ना निकले.

लंड के अंदर घुसते ही मैं जोर से चीखी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’और उन्होंने अपने होंठों को मेरे होंठों पर रख दिया. वो अभी भी लेटी हुई थी और मेरी तरफ बड़ी ही प्यार भरी नज़रों से देख रही थी. गांव वाली भाभी की चुदाई सेक्सीकभी होटल में सेक्स करते हैं और कभी कहीं सुनसान इलाके में खुले में चुदाई कर लेते हैं.

हमारी सांसों के साथ साथ खिलखिलाने और मीठी सिसकारियों की आवाजें आने लगीं. इस तरह से मैंने अपने कॉलेज के दोस्त का लंड लेकर अपनी पहली चुदाई करवाई. उन्होंने उठके मुझे चूम लिया और वहीं घोड़ी बनके मेरा लंड मुँह में ले लिया.

तभी उन्होंने एक लम्बी सांस ली और मेरे हाथ को अपने हाथों से भींच लिया. वो झट से अपने फुद्दी पे हाथ से चैक करते हुए बोलीं- तुम्हारा नाम लगेगा अगर ये चूत फट गई तो.

मैंने उसकी कमर पर हाथ फेरते हुए उसे इतने जोर से पकड़ लिया, जैसे मैं उसे अपने अन्दर समा लेना चाहता हूँ.

दीदी भी अपने पैर मेरी कमर के पीछे लॉक करके हर धक्के का आनंद ले रही थी। इसी पोजीशन में मैंने लगभग काफी देर तक दीदी को चोदा। हम दोनों पसीने से भीग गये थे।मेरे धक्के तेज हो गये और हम दोनों का शरीर अब अकड़ने लगा था. अभी भी वो वहीं खड़ी थी, तो मैंने उसे कहा- जा अब कॉलेज नहीं जाना?तब जाकर वो बाथरूम में घुसी. मैंने भी नाटक शुरू किया और कहा कि ये कैसे मुमकिन है … और मुझे आपका आधा घरवाला बनने के लिए क्या करना होगा?भाभी बोलीं- कुछ नहीं पगले, तुझे तो मुझे खुश करना है.

भोजपुरी सेक्सी वीडियो बताएं मैंने उससे हर समय साथ निभाने का वादा किया, मैंने कहा- तुमको कभी भी … कहीं भी मेरी जरूरत हो, बस याद कर लेना. मैंने भी देर करना सही नहीं समझा और उससे चादर के ऊपर चित लिटा कर उसके दोनों पैर खोल दिए.

परवीन- मेरी सांस रुक गयी … इतनी भी देर कोई लिप टू लिप करता है … आआह. लेकिन मैंने चूत तक हाथ पहुंचने से पहले ही अपने हाथ को बीच में ही रोक दिया. अलमारी से एक साफ फ्रेंची निकाली और जांघों से फंसाते हुए लिंग को छिपा लिया.

देसी माल की सेक्सी

उसके बाद उन्होंने अपना लंड के सुपारे को मेरी गांड के छेद पर रख कर उसे रगड़ने लगे. जस्ट चिल्ड यार!और मैंने रॉकी के लन्ड को दबा दिया।रॉकी समझ गया और मेरे चुचों से खेलने लगा।मैंने उसे रोका- अब यह सब रात को आराम से करेंगे। अब मुझे भूख लग रही है।रॉकी ने मोबाइल में टाइम देखा तो रात के 8. मैंने फिर से एक और झटका मारा, तो मेरा पूरा का पूरा लंड आंटी की चूत में चला गया.

इस बात पर मैंने कहा- अगर मुझे पहले पता होता कि आपकी चूत चाटने से काम हो जाएगा, तो मैं पहली बार में ही होंठों की जगह चूत पर ही हमला करता. हम दोनों की नजरें मिलीं, फिर मैं वहां से भाग कर अपने रूम में चला गया.

अब दो नग्न जोड़े अदला बदली के साथ एक ही बिस्तर पर संभोग क्रिया का आनंद ले रहे थे.

मैंने उसकी टी-शर्ट को ऊपर उठाया, तो वो हल्की सी हिली, जिससे मैंने उसकी टी-शर्ट को ऊपर तक कर दिया. चूचियां रगड़ते रगड़ते उसने अपना हाथ मेरे लोअर में डाल दिया और मेरा लण्ड मसलने लगी. एक हाथ से मैं बहन की चूत को सहला रहा था।थोड़ी देर मम्मे सहलाने के बाद मैंने खड़ा होकर अपनी पैंट निकाल ली.

कुछ देर मस्ती से लंड चुसवाने के बाद मुझे लगने लगा कि मैं झड़ने वाला हो गया हूँ, मैंने रीना की चूची दबाते हुए उससे कहा- अब रूक जा मेरी जान …वो ये सुनकर रूक गई और मैंने लंड उसके मुँह से निकाल दिया. तभी पंकज आ गया और सारिका से बोला- तुम कॉफ़ी लाओ … हम लोग बेड पर बैठे हैं. खाने की टेबल पर जाकर मैंने रुचि की तरफ देखा तो उसने हाफ पैंट पहनी हुई थी.

मगर एक दिक्कत ये थी कि जिस होटल को हमने बुक किया हुआ था, उसमें चेक-इन सुबह के दस बजे का था.

बीएफ चुदाई अमेरिका: मैंने जैसे ही दबाव बढ़ाया, तो सासू माँ बोली- दामाद जी, धीरे से डालना कई सालों से चुत में लंड नहीं गया, तो दर्द होगा. सलहज की चूत और गांड के बारे में सोच कर लंड काफी देर पहले से ही तना हुआ था इसलिए उसने अंडरवियर में ही टोपे को चिकना कर रखा था.

आंटी मस्ती से भर गई थी और अपनी गांड को उछाल कर मेरे लंड को पूरा अपनी चूत में ले रही थी. मैंने अन्तर्वासना की एक कहानी में पढ़ा था कि नाभि में जब मर्द उंगली डालता है, तो उसका इशारा चुदाई का होता है. मैंने अपना लंड धीरे से थोड़ा सा बाहर निकाल कर एक जोरदार धक्का मार दिया.

फिर उन्होंने मेरा पैंट भी निकाल दिया और चड्डी के ऊपर से ही मेरा लंड सहलाने लगीं.

खाना खाने के बाद मॉम अपने रूम में गईं और मैं भी पीछे पीछे उनके रूम में आ गया. मैंने रीतिका से प्रीति का नम्बर लिया और प्रीति को पटाने की शुरूआत कर दी. परवीन- कहां जा रही है? कब आएगी? मुझे बुला कर अब अकेली छोड़कर जा रही है.