औरत की सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,फुल मूवी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

नानी जी की सेक्सी वीडियो: औरत की सेक्सी बीएफ, चूंकि मैं शर्मीला था तो शुरू में उसके साथ डांस करने के लिए नानुकर करने लगा.

हिंदी आवाज में हिंदी सेक्सी बीएफ

वहां मैंने देखा कि पिताजी के मुँह से खून निकल रहा था और वो ज़मीन पर गिरे बेहोश पड़े थे. मौसी की चुदाई देसीमेरे ब्लाउज के बटन खुलने के कारण मैं सिर्फ ब्रा में उसके सामने आ गई.

उधर भीड़ बहुत थी लेकिन मैंने टिकट ली और हम सब महिलाएं सीढ़ी से ऊपर चढ़ने लगे. बीएफ गुजरातीबाथरूम में जाकर सबसे पहले मैंने उसकी चूत के बाल साफ़ किए, फिर मैंने अपने बाल भी साफ़ कर लिए.

वो अपने दोनों हाथों से पूरे लंड और अंडकोषों को सहलाकर मलहम लगाती रही और मैं उसकी चूत रगड़ता रहा.औरत की सेक्सी बीएफ: थोड़ी देर बाद हमनेचूत चुदाई का एक राउंडऔर खेला और कपड़े ठीक करके सो गए.

मेरी आंखें पूरी लाल हो गई थी और चेहरे पर सांस ना आप आने के कारण आंखों से भी पानी निकल रहा था.मैंने उसके एक बूब को अपने मुँह में ले लिया, पर वो पूरा मेरे मुँह में नहीं आया.

ब्लू फिल्म सेक्सी पिक्चर सेक्सी - औरत की सेक्सी बीएफ

मैंने घुटनों के बल बैठकर तुरन्त एक साथ दोनों हाथों से दोनों के टॉवल को निकालकर एक तरफ फेंक दिया, दोनों के लण्ड आधे कड़क थे मैं उन्हें मुंह में लेकर चूसने लगी।एक बार केविन के लण्ड को मुंह में लेकर चूस रही थी और एक बार लांस के लण्ड को।5 मिनट में दोनों के लण्ड एकदम कड़क और खम्भे की तरह खड़े हो चुके थे.मैंने हंस कर कहा- अरे वाह … तुमने तो उसके साथ गंगा जी में डुबकी भी लगा ली?वो भी हंस दी- नहीं यार!फिर मैं बोला कि अगर मैं कभी तुम्हारे गांव आया, तो मेरे साथ घूमने चलोगी?शिल्पा बोली- हां चलूंगी … पर ये सब बातें दीदी को मत बताना ओके.

सौम्या ने पापा के ड्रावर में से एक जोड़ी कपड़े निकाल दिए और बोली- ट्राई कर लो, अगर नहीं आएंगे तो दूसरे ट्राई कर लेना. औरत की सेक्सी बीएफ हाय … मैं तो शर्म से मर जाऊंगी आज!”उन्होंने मेरी पीठ पर किस किया और फिर कमर पर!फिर हाथ आगे करके मेरे बूब्स को पीछे से पकड़ लिया.

मैंने पूछा कि बनारस में किधर मिलोगी?वो बोली- घर ही आ जाना, मेरे पति तो ऑफिस चले जाते हैं.

औरत की सेक्सी बीएफ?

एकदम से चाची के मुँह से चीख निकल गयी और उन्होंने मुझे अपनी बांहों में जकड़ लिया. मैंने बातों बातों में यह भी महसूस किया था कि वह अपने पति से खुश नहीं है. मैंने शिल्पा को नीचे घुटने के बल बैठा दिया और उसके मुँह में लंड डाल दिया.

मेरी बीवी को मेरी चुदाई बहुत पसंद है, क्योंकि मैं उसे वो जब कहे, तब उसकी चुदाई करता हूं और देर तक चुदाई करता रहता हूं. कुछ महीने से पढ़ाई की वजह से मैं कहीं गया भी नहीं था तो मैंने सोचा कि जब तक रिज़ल्ट आए, तब तक क्यों ना कहीं घूम आता हूँ. जैसे ही सरिता नीचे झुकी, तो मैं उसके पीछे जाकर उसकी गांड से सटकर खड़ा हो गया.

कुछ देर बाद मैंने उसकी गर्दन के पीछे से सिर पकड़कर उसके होंठों पर पहला चुम्बन किया. मैंने पास्ट वाले अंकित से पूछा- तुम्हारी मम्मा कहां है?पास्ट वाला अंकित थोड़ा तुनककर बोला- तुझे क्या काम है?मैं समझ सकता था क्योंकि मुझे अपनी मम्मा सौम्या से शुरू से ही इतना प्यार था कि मैं मेरी मम्मा के लिए बहुत ही ज्यादा पजेसिव था. फिर मैंने उसके सूट को उतार कर उसकी ब्रा ऊपर उठा दी और उसके दोनों निप्पलों को एक एक करके चूसा.

अब आगे ओरल Xxx स्टोरी हिंदी:मैं चूमते हुए फ़लक के और नीचे को आ गया और एक हाथ उसकी कमर के नीचे डालकर उसे हल्का सा ऊपर कर लिया. यहां पर हमने घर भी ले लिया और बिज़नेस भी ज्यादा अच्छे से सैट हो गया है.

उधर विलियम ने भी दुबारा से मेरी चूत को अपने हाथों से चौड़ा करके जीभ दोबारा से मेरी चूत में दे दी.

ऐसे ही फ्री फैमिली सेक्स करके एक महीना कब निकल गया, मुझे पता ही नहीं चला.

लेकिन विलियम को कोई जल्दबाजी नहीं थी, उसने दोबारा से अपने दोनों हाथों से मेरी चूत को चौड़ा किया और अपनी जीभ फिर से चूत में घुसा दी. हैलो मेरे कामुक मित्रो, मेरा नाम शाहबाज़ है और मैं पुणे महाराष्ट्र से हूँ. इसका अंदाजा मुझे इस बात से लगा कि जब मैंने उसको सीधा लेटने के लिए बोला तो उसकी चूत की तरफ मुझे कुछ भीगा हुआ लगा.

इस बीस मिनट चुदाई के बाद आखिर वो पल आ ही गया जब हम दोनों अपनी चरम सीमा पर पहुंचने वाले थे. मैंने भाभी को चूमा और बिस्तर पर पटक दिया, फिर अपनी टी-शर्ट जैसे ही उतारी. मैं हंस दिया और बोला- अरे चाची मैं तो कबसे आपकी बिल्ली की खून करने को मरा जा रहा था … आज आपकी बिल्ली की खाट खड़ी कर दूंगा.

अब रीता मुझे अपने ऊपर खींचने लगी और कहने लगी- जानू अब और मत तड़पाओ, जल्दी सेमेरी चूत की खुजलीमिटा दो!मैंने पूछ लिया- क्या तुम्हारी चूत की खुजली पति नहीं मिटाता?रीता बोली- मिटाता है, पर 2 महीने में एकाध बार!मैंने उसे सोफे पर कुतिया बनाया और अपने लंड के टोपे से ऱीता की चूत को रगड़ा.

फिर उन्होंने मुझे रिपोर्ट लाकर दिखाई और बोलीं- इसी कारण मैं उनसे लड़ रही थी, पर मैंने तुम्हारे भैया को इसके बारे में अब तक नहीं बताया है. अब पुलकित बोला- ये क्या कर रहा है सैंडी!मैं बोला- वही, जो तुम डांस फ्लोर पर नहीं कर सके थे. अगले ही पल मेरा लंड भाभी की उठी हुई चूचियों और भरी हुई गांड याद करके तन्ना गया.

मैंने कहा- अच्छा ये बात है तो मैं आगे का काम चालू करूं!वो बोलीं- साले लंड अन्दर पेल दिया और अब कह रहा है कि आगे करूं. अगले दिन जब बच्चों को छोड़ने जाना था तो मैंने घर से निकलते ही उससे गुड मॉर्निंग लिखा. नीचे मेरा लंड सरिता की चूत पर ठोकर मार रहा था तो सरिता मदहोश होने लगी थी.

तभी पापा वहां आए और बोले- बेटा, इन लोगों को खाना खिला दिया?मैंने हां में सर हिलाया.

मैंने पांच-छह तगड़े शॉट मारे और अपना पूरा माल उसकी चुत में डाल दिया. उस व्यक्ति ने बोला- ये सब क्या चल रहा है … मैं अभी तुम सबको बताता हूँ.

औरत की सेक्सी बीएफ फिर मैंने पूछा- आपके कितने बच्चे हैं?वो मुझसे बोलीं- आप ये सब क्यों पूछ रहे हो?मैंने बोला- बस ऐसे ही. इससे मेरी बहन की आंखों में से आंसू भी आ रहे थे, वो बोल रही थी- भाई थोड़ा धीरे करो!पर मैं कहां मानने वाला था!इस दौरान मेरी बहन एक बार झड़ चुकी थी और कहे जा रही थी- भाई, मुझे और चोदो … और चोदो … फाड़ डालो मुझे … और चोदो और चोदो!अब मैंने कहा- मुझे तुम्हारी गांड मारनी है.

औरत की सेक्सी बीएफ तुम नाराज मत होना, शीना अब मेरे भी घर की इज्जत है। हम रुक नहीं पाये पर मैं अपनी ज़िम्मेदारी समझता हूँ।पारुल भी नॉर्मल हो गयी. उसने बेडशीट निकालकर दूसरी डाली और मुझसे बोली- हर्षद अब तुम थोड़ी देर सो जाओ.

चाची मादक सिसकारियां लेने लगीं और मैं उनकी चूचियों को मसलने में मस्त होने लगा.

मोटी गर्ल सेक्सी

लगभग 20 मिनट बाद मैंने सौम्या को गोद से नीचे उतारा और सौम्या को बेड पर पीठ के बल लिटा दिया. वो भी मजे में पागल हो रही थी, अपने मम्मों को मेरे मुँह में देती हुई मुझे अपने मम्मों का रस पिला रही थीं. और साथ ही उससे मजाक में टच करने की भी कोशिश करता था ये देखने के लिए कि उसके मन में क्या है.

दरअसल मुझे भैया ने बताया था कि उन्होंने मम्मी को भी चोद लिया है और मम्मी को भी ये मालूम हो गया था कि मेरा भाई मुझे चोद चुका है. मैंने उनसे व्हाट्सएप नंबर मांगा तो उन्होंने मुझे फेसबुक पर एड कर लिया और बोलीं- यदि अच्छा लगा तो व्हाट्सएप नंबर भी दे दूंगी. उसकी चुत से हल्का सा खून भी आया हुआ था क्योंकि उसकी सील नहीं खुली थी, वो पहली बार चुद रही थी.

मैंने चाची को एक दो बार मना किया कि ये सब गलत है, लेकिन मैं इसके आगे कुछ नहीं बोल पाया.

अब रात को मैं सौम्या डार्लिंग के कमरे के बाहर गया और सौम्या को भूत बनकर डराने लगा. एकदम से चाची के मुँह से चीख निकल गयी और उन्होंने मुझे अपनी बांहों में जकड़ लिया. वो … तुम्हारे भैया का छोटा है और पतला है … इस वजह से हमें कोई बच्चा नहीं है.

उस दिन रीता एक अधिकारी के रूम से जैसे ही बाहर निकली कि उसका पैर अचानक मुड़ गया और उसमें मोच आ गई. कुछ समय तक ऐसे ही चुदने के बाद हार्दिक ने उसको नीचे बैठाया और लंड शनाया के मुँह में दे कर चुसवाने लगा. उसका लुल्ल पति साथ था तब भी मैंने उसके साथ ट्रेन में हल्की फुल्की मस्ती करके उसे चोद दिया.

मम्मी मेरी तरफ पीठ करके सोई थीं, पर मेरी कुछ करने की हिम्मत नहीं हो रही थी. देखने में वह बहुत सुंदर है, उसके होंठ रसीले हैं।उसके स्तन गोल गोल उसकी कमीज से बाहर को निकलते रहते थे। मेरा मन उनको देखकर लालायित होता था कि साली को पकड़ कर अपने नीचे लेकर उसकी चूचियां मसल कर चूस लूं।एक रात मैं साली की बेटी नेहा की चूत की चुदाई की कल्पना करके मुठ मार रहा था.

सरिता ने मुझे देखा तो हँसती हुई बोली-हर्षद ऐसे घूरके क्या देख रहे हो? पूरी रात हम दोनों नंगे ही साथ में ही थे ना, तो अभी तक दिल नहीं भरा क्या?हम दोनों चाय पीते हुए बातें कर रहे थे. फिर पत्नी ने मेरे मुँह से निप्पल छुड़ाकर अपने होंठ मेरे होंठों में दे दिए. मगर मैं देख रहा था कि उनकी नज़र किचन में कम … और मेरे कमरे में ज़्यादा थी कि यहां पर क्या क्या हुआ है.

उन्होंने कहा- अभी तक किसे किसे चोदा?मैंने कहा- आज मेरे लंड का उद्घाटन समारोह है.

जब भी मैं अपनी बुआ के घर जाता, तो उनके पड़ोस में ही मेरा मन लगा रहता था क्यूंकि पड़ोस में रहने वाले की बेटी सोनल मुझे बड़ी भाती थी. मैंने कहा- अरे वाह ऐसा लगता है कि तुम मुझे प्योर चीज ही देना पसंद करती हो. मैंने कहा- अरे यार पूछ रहा था कि उसने तुम्हें बताया नहीं कि किस तरह से लेना चाहिए ताकि दर्द कम हो.

तो शादी के शुरूआती समय में तो उन्होंने मेरी बात मानकर डॉक्टर को दिखाया, पर उन्होंने दवा का कोर्स पूरा ही नहीं किया और अपनी इन आदतों के गुलाम बनते गए. उन्होंने 69 में होकर राहुल के मुँह पर अपनी रसभरी चूत रख दी और राहुल के लंड को अपने मुँह में लेकर किसी भूखी कुतिया की तरह लंड चूसने लगीं.

वो बोली- कैसी चाहिए?मैंने कहा- आपको क्या लगता है कि मुझे कैसी की लेनी चाहिए?वो बोलीं- मतलब?मैंने कहा- मतलब कैसे लेनी चाहिए?वो मेरी इस बात को समझ रही थीं और मुस्कुरा रही थीं. वो मेरे होंठों को चूसकर बोली- हर्षद अब पूरा चला गया ना अन्दर … चूत में बहुत दर्द हो रहा है. मेरे लंड का धागा अभी जुड़ा हुआ था, जो चुदाई में थोड़ी बाधा डाल सकता था.

सेक्सी वीडियो कांड में

पहले उसने मेरे लंड पर तेल लगाया और फिर अपनी गांड पर … जिससे उसकी पूरी गांड भीग गयी और बेड पर भी तेल गिर गया.

मैं अपने अलग कमरे में सोता था तो मुझे तो आने में कोई दिक्कत नहीं थी. ‘अअह हहह …’ करती हुए उसका पानी निकल गया और वो शान्त होकर लंड अपनी चूत में लेकर बैठ गई. ये सब मैं उससे कहता, तो वो तब तक मुझे वीडियो कॉल पर नंगी होकर रिझाती, जब तक मेरा पानी निकल नहीं जाता.

वो सिहर गई लेकिन कुछ ही देर में लंड ने चुत को मजा देना शुरू कर दिया था. हालांकि सभी लोग फेसबुक पर फ्रेंड थे जिससे एक दूसरे को जानते जरूर थे।हमारे लास्ट सेमेस्टर के एग्जाम खत्म होने को थे, उस वक्त सारा दिन पढ़ाई में ही बीता करता था. भाई बहन बीएफ सेक्स वीडियोइसके बाद चाची ने अपने हाथों को आगे बढ़ाया और मेरी कमर से होते हुए आगे बांध लिए.

मैंने अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिए और थोड़ी देर वैसे ही पड़ा रहा. पत्नी की चुत से मेरा वीर्य बाहर बह रहा था लेकिन मेरी प्यारी Xxx वाइफ ने उसे साफ नहीं किया, वो वैसे ही मेरी बांहों में पड़ी रही.

मेरी बहन मादक सिसकारियां निकालने लगी- आआह उम्मम्म आआह और जोर से … आआह उफ्फ!करीब 15 मिनट में हम दोनों झड़ गए. मैं- उसकी मम्मी को गर्व होगा कि उसके बेटे ने अपनी वर्जिनिटी एक ऐसी औरत के साथ तोड़ी है जो उसकी मम्मी से बिल्कुल अलग है।तो दोस्तो, ये था सुपरमार्केट में मेरा सेक्स एडवेंचर!आपको इस इंडियन सेक्सी गर्ल नंगी चुदाई की कहानी में मजा आया होगा. हॉट भाबी Xxx कहानी में पढ़ें कि मेट्रो में एक अमीर भाभी से मेरी दोस्ती हुई.

एक जवान कच्चे जिस्म की गर्माहट पाकर मेरे कालू उस्ताद फिर से जगने लगे. रियल फॅमिली सेक्स कहानी आपको कैसी लग रही है? आप मुझे मेल करना न भूलें. मैं एक बार फिर से सरिता की दोनों चूचियां अपने दोनों हाथों से रगड़ने लगा.

ये सेक्स कहानी मेरे और मेरी एक शादीशुदा भाभी की है जो मेरी सैटिंग बन गई थी.

जब वो मटक मटक कर चलती है तो ये तय मानिए कि किसी की भी नीयत उस पर खराब हो सकती है. हमारे होंठ इतने पास थे कि उसकी सांसें मेरे होंठों से भी टकरा रही थीं.

चूंकि मेरे मम्मी पापा अक्सर आते जाते थे इसलिए रूम आसानी से मिल गया था. मेरे मुंह की आवाजें उईई … उईई … उईई … माँ … उफ्फ उफ्फ की जगह यस … ओ या … फक … फक … फक … फक … या या बेबी … ओ गॉड या या या … मैं बदलती जा रही थी. एक दिन मेरे सामने खाला बाथरूम से निकलीं, तब वो सिर्फ तौलिया लपेटे थीं.

तुमने मुझे अपना सर्वस्व अर्पण किया है और ढेर सारी खुशियां दी हैं, जो मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था. मौसी कसमसाने लगीं- आह अरुण, ये क्या कर रहा है … भला चूत भी कोई चाटता है क्या?मैं- मौसी आपने कभी चूत नहीं चटवाई क्या?मौसी- भला इतनी गंदी चीज़ को भी कोई चाटता है?मैं- मौसी बस आप आराम से लेटी रहो, मुझे अपना काम करने दो. मेरे लंड का साइज़ भी करीबन 7 इंच है, जो किसी भी प्यासी औरत को अच्छी तरह से संतुष्ट करने के लिए काफ़ी है.

औरत की सेक्सी बीएफ फ्रेंड्स, मैं हर्षद आपको अपनी गरम सेक्स कहानी में एक बार फिर से मजा देने के लिए हाजिर हूँ. जब वो नीचे झुकती, तो उसकी गोरी और गोल मटोल चूचियां साफ़ दिखती थीं लेकिन मैं नजरअंदाज कर देता था.

देसी मैडम सेक्सी

उसकी चूत में लंड ने मस्ती करना शुरू कर दी तो वो जोर जोर से उछलने लगी. खाला ने कहा- मेरा तुम्हारे जैसा शरीर होता, तो 10-15 बॉयफ्रेंड रखती. इसलिए उस वक़्त तक वासना को लेकर मेरी जितनी भी कल्पनाएं थीं, मैंने सबको एक एक करके आजमाया और उसने अपना चमत्कार भी दिखाया.

चाय खत्म होते ही सोनाली ने उठकर दरवाजा अन्दर से बंद कर दिया और हम दोनों ऊपर बेडरूम में आ गए. शिल्पा के साथ पहली बार उसके होंठों को चूमने का अलग ही मजा आ रहा था. देहाती ब्लू फिल्म देहातीमैं दोबारा से उन्हें किस करने लगा और इस बार मैं उनके चूतड़ों को अपने दोनों हाथों में लेकर मसलने लगा.

मैंने पीछे से शिल्पा को अपनी बांहों में कस लिया और हाथ को आगे कर लिया.

मैं अच्छा लिखता हूँ, अच्छा बोलता हूँ, डांस, गाना, खेल, लीडरशिप या यूं कहिये कि दिखने के अलावा सब कुछ है. मेरी जॉब की बात सुनकर मम्मी खुश तो बहुत हुईं, पर फिर कहने लगीं- मैं तो यहां अकेली रह जाऊंगी.

थोड़ी देर में खाला बाथरूम से निकलीं, तब भी वो सिर्फ तौलिया लपेटे हुई थीं. मुझे लगा कि टीना की गांड और नव्या भाभी की चूत दोनों हाथ से निकल गईं. मेरी उम्र उस वक़्त 20 साल की थी और लंड ने चुत की तलाश में फन उठाना शुरू कर दिया था.

उसने बताया कि उसके बाद से उसने आज तक किसी से नहीं चुदवाया था।यह सुनकर मुझे दुःख हुआ और थोड़ी देर तक मैं उसके ऊपर लेटा रहा और किस करता रहा ताकि उसका ध्यान भटक जाए।फिर धीरे धीरे मैं उसे चोदने लगा।थोड़ी देर बाद वो नीचे से अपनी गांड उठा कर मेरा साथ दे रही थी।मैंने उसे तेजी से चोदना शुरू किया.

वैसे तो मैं खुद ही चाची की चूत मारना चाह रहा था लेकिन उनके ब्लाउज खोलने की बात कहने पर न जाने क्यों मेरे हाथ कांपने लगे. वो मुझसे कहने लगीं- बस अरुण, अब और मत तड़पा … अपनी प्यारी मौसी को चोद दे … जल्दी से डाल दे अपने लंड को मेरी चूत में. लेकिन जब मैं चंडीगढ़ पहुंचा तो पहले मैं उसके होटल में उससे मिलने गया.

हिंदी ओपन बीपी सेक्सीमेरी नजरें भी मुकेश को यहां वहां देखने लगी लेकिन वो कहीं नहीं दिखा. दोस्तो, ये बात मेरे एक मित्र की भाभी के बारे में है जो कि दिखने में एक अप्सरा जैसी लगती हैं.

इंडियन का सेक्सी पिक्चर

भाभी- है तो, पर वो मानेगा क्या?मैं थोड़ा दुःखी होते हुए बोला- कौन है वो भाग्यशाली!भाभी- तुम. वो जैसे ही पूरी हुयी, मैंने देखा मेरे भाई ने मेरे लोअर को उतार दिया. हालांकि दूसरे कमरों में घर के अन्य लोगों की मौजूदगी होती थी इसलिए हमेशा किसी के आने का डर तो बना ही रहता था.

फिर उसने मेरा लंड अपने गले तक अन्दर उतारा और पूरा लंड मुँह में लेकर रुक गई. ज्यों ही मुझे सांस आई, मुझे जोरदार से ऊबकाई आई और थोड़ा वीर्य मेरे मुंह से नीचे जमीन पर गिर गया. कॉल उठाते ही आंटी बोलने लगीं- आय एम सॉरी गौरव … पर मैं भी क्या कर सकती हूं, ये लोग अचानक आ गए.

सच कहूँ दोस्त, उस पल तो मन किया कि उसको वापस खींच कर गाड़ी में बैठा कर कस कर चूम लूं. हमारी गोल्ड क्लास की सबसे ऊपर कार्नर वाली सीट थी तो हमें किसी के देखने का भी डर नहीं था. कुछ ही देर में उसकी नींद खुलने लगी और उसके मुँह से सिसकारियां निकलने लगीं.

मैंने खुद को रिया के ऊपर से उठाया और कुछ ज़ोर लगाकर बाक़ी का बचा हुआ लंड भी चुत के अन्दर पहुंचा दिया. मैंने दोनों हाथों से उसके नंगे चूचों को पकड़ किया और जैसे ही उनको दबाना शुरू किया, शिल्पा की ‘आह मर गई यश …’ की मादक सिसकारियां निकलने लगीं,फिर मैंने एक हाथ उसकी पैंटी में डाला और चूत के दाने को सहलाना शुरू किया तो शिल्पा की गांड पीछे होने लगी और उसकी आवाजें और भी मीठी होने लगीं.

उस दिन घूमना फिरना, फिल्म देखना, खाना पीना, मतलब पूरा दिन एक साथ रहते थे.

अपनी चुत में लंड घुसवाते ही वो थोड़ा चिल्लाई मगर मैंने उसकी आवाज को अनसुना करते हुए धक्के मारने शुरू कर दिए. बीपी पिक्चर ब्लू हिंदी मेंउसके हाथों में मेहंदी होने के कारण इस चुदाई का पूरा नियंत्रण मेरे हाथों में था. ससुर बहू की बीएफ फिल्म हिंदीमैं- भाभी फिर से बोलना, कुछ सुनाई सा नहीं दिया?भाभी हंस कर बोलीं- हां तुम. उसने धीरे से मुझे सीधा कर दिया और मेरी ब्रा उतार कर मेरी चूचियों से खेलने लगा.

आज मैं अपनी हॉट लड़की की देशी सेक्स कहानी बताने जा रहा हूं जो मेरे साथ आज से 7 साल पहले हुई थी.

वह हंसने लगा- जब देखो, तब बताना, पर यह बात मेरी बीवी से मत कहना, कई लोग कह चुके हैं. वो जोर जोर से चुदवाने के लिए चिल्लाने लगी- आह साले पेल दे … मजा आ रहा है … और चोद साले भड़वे चोद दे आज मुझे. उस साली के काले निप्पल वाले चूचे कितना मस्त सॉफ्ट मोटे थे … मजा आ गया.

थोड़ी देर चूचे मसलने के बाद मैंने मौसी की ब्रा को निकाल दिया और उनक़ी बड़ी और मुलायम चुचियों को दबाने चूसने लगा. [emailprotected]नई भाभी की चुदाई कहानी का अगला भाग:भाभी की प्यासी चूत और बच्चे की ख्वाहिश- 5. मैंने शहर से बाहर के एक होटल में एक कमरे की बात की, वो ओयो होटल था.

आदिवासी फिल्म सेक्सी पिक्चर

उसका फिगर 32-28-32 था।उसके साथ मैं सेक्स चैट करने लगा।बातों ही बातों में मैंने कह दिया कि अगर मैं तुम्हारे पास होता तो कस कर चोदता।इस पर उसने जवाब दिया कि अगर तुम्हारा मन है तो आ जाओ. फिर थोड़ी बाद मैंने उससे कहा- लखनऊ में तुझे मैं अपने लंड के नीचे लेटाकर तेरी चुत और गांड दोनों मारूंगा. गीली चूत में लंड अन्दर बाहर करने से पच पचा पच की आवाजें गूंज रही थीं.

हम दोनों ही काफ़ी थक गए थे तो मैंने रूम पर इधर उधर देखा कि कुछ खाने को है.

मैं अपने कमरे में जाकर पढ़ने लगा पर मेरा मन नहीं लग रहा था, मुझे बार बार वही याद आ रहा था.

इससे उनको भी मजा आने लगा और वो मेरे 8-9 झटकों में ही झड़ने को हो गईं. मैंने चुटकी लेते हुए कहा- ओके तो वो होते हैं, तो इतना बिजी रखते हैं कि टाइम नहीं मिलता होगा. झवा झवी फोटोवह मेरे मम्मों पर भी आ चुका था और मेरे मम्मों को जोर जोर से चूसने लगा.

मैंने झट से मोबाइल से एक ओयो रूम बुक किया और कुछ ही देर में होटल के कमरे में आ गए. जब मैंने ध्यान दिया, तो मेरी तो गांड फट गई कि ये क्या हो गया, कहीं रीता मुझ पर भड़क ना जाए. मैंने निशा से कहा- आप पेट के बल लेट जाओ, मैं आपके पैरों की मालिश कर देता हूं.

[emailprotected]कहानी का अगला भाग:बस स्टॉप पर एक भाभी से दोस्ती और प्यार- 3. पर उन सबमें से एक, जिसका नाम स्वीटी (बदला हुआ नाम) था, मुझे हमेशा अपनी ओर आकर्षित करती थी.

मैं- क्या तुम मुझसे प्यार नहीं करती?रुचिता- करती हूँ, पर समझा करो न यार!मैं- पर क्या? अगर तुम मुझसे प्यार करती हो तो मना क्यों कर रही हो?वो कब तक मना करती, उसके मन में भी तो चुदने की ललक थी ही, आखिरकार थोड़ा बहुत नाटक करके वह मेरे दोस्त के कमरे पर आने को राजी हो ही गयी.

हमने एक दूसरे को आई लव यू बोल दिया और हम दोनों की रेलगाड़ी पटरी पर दौड़ चली. मैं उठकर सरिता के बाजू में लेट गया सरिता उठकर बैठ गयी और वो अपनी चूत की तरफ देखकर बोली- हर्षद, देखो ना कितना सारा रस बह गया है. पम्मी आंटी मेरे लंड को किसी आइस्क्रीम की तरह खूब मज़े से चूस रही थीं.

सेक्सी नंगी ब्लू फिल्में फिर मैंने भाभी को सीधा लिटा लिया और उनकी दोनों टांगों को अपने कन्धे पर रख लिया; अपने लंड को उनकी चुत पर रगड़ने लगा. अगर कोई भरोसे वाला आदमी या आपका दोस्त हो, तो वो ट्राई करके देख सकती हो.

अब धीरू ने मुझे उठा कर अपने ऊपर बिठा दिया और बोले- सन्नो मुझे पता है … तू रोज़ मेरे लंड को चूमती है. सब सुनने के बाद, मोहन बोला- विशाल सर तेरी गांड एक बार और मारना चाहते हैं, क्या करूं?रवि चुप था. मैंने भी जागने का नाटक करके विलास से कहा- यार विलास ये क्या कर रहा है … सोने दे न मुझे!वो बोला- हर्षद यार तेरा लंड कितना लंबा और मोटा है.

मारवाड़ी सेक्सी पिक्चर चोदा

मैंने कहा- अब क्यों तड़फा रहे हो धीरू … जल्दी से अन्दर घुसा दो ना!धीरू बोले- नहीं पहले तेरी गांड को तड़पाऊंगा, फिर तोड़ूंगा. मैंने तपाक से कह दिया कि पीरियड्स हुए हैं क्या?उसका कोई जवाब नहीं आया, मुझे लगा मैंने जवाब देने में कुछ जल्दी की, पर भाई मुझे तो जल्दी ही थी ना. पोर्न भाभी की कहानी के पहले भागअनजान भाभी की अन्तर्वासनामें अब तक आपने पढ़ा था कि रीटा मेरे साथ सेक्स करना चाहती थी मगर मैं हिचकिचा रहा था.

ये देख कर मुझे भी सौम्या डार्लिंग को किस करने और प्यार करने का मन करने लगा. मम्मी ने अपने कपड़े बदल लिए थे और इस वक्त वो थॉंग्ज़ और उसके ऊपर सिर्फ़ एक छोटा सा टॉप पहनी थीं.

दोस्तो, डॉक्टर रेखा जैसी मदमस्त हसीना मेरे लंड से चुदने के लिए एकदम गर्म हो चुकी थी.

फिर मैंने करवट बदली तो पाया उसने अपनी पैंटी निकाल दी थी जिसकी वजह से मेरा लंड ठीक उसकी चुत पर टच हो गया था. मैं मौसी की चूत का सारा पानी पी गया और चाट कर उनकी चूत एकदम साफ कर दी. मैंने अपनी जीभ भाभी की चूत पर रखी, तो वो बोलने लगीं- यार ये सब मुझे पसंद नहीं है … प्लीज़ ऐसा मत करो.

मोबाइल में से चुदाई की आवाजें आ रही थीं और उसी वजह से मेरे आने की आहट मेरी बहन को नहीं मिल सकी थी. टीना कितने बजे घर गई थी?अब मैं उनको कैसे बोलता कि मैंने तो पार्टी मस्त मना ली और टीना को चोद दिया. उसने बहुत कोशिश की, पर आखिर उसके बदन ने बता ही दिया कि कुछ तो गड़बड़ है.

उसके होंठों और मम्मों को चूस कर मैंने उसे फिर से दर्द से निजात दिलाई.

औरत की सेक्सी बीएफ: समय कम था तो कुछ बातों के बाद चुम्मा चाटी और कपड़े निकालना भी शुरू हो ही गया. तभी मेरी मम्मी बोलीं- हां चलो सरिता, मैं भी तुम्हें मदद करने आती हूँ.

अब वो भी कमर हिलाकर मेरा जोश बढ़ा रही थी- और चोदो … भाई … आज फाड़ दो अपनी प्यारी बहन की चूत … ये बहुत दिन से आपसे चुदना चाहती थी ये … आज इसकी सारी गर्मी निकाल दो … चोद-चोद कर भोसड़ा कर दो. मैंने भी उन्हें गुड मॉर्निंग बोला और बाइक चालू करके दादी की दवाई लेने पहुंच गया. आज जो यंग गर्ल सेक्स कहानी मैं आप लोगों को बताना चाहता हूँ, वो हमारे घर में काम करने आने वाली लड़की को चोदने की है.

तो वह घबरा गई- क्या भाई? नहीं पीछे नहीं!मैंने कहा- मेरी जान, बहुत हीप्यार से मारूंगा तेरी गांडमैं!तो वह थोड़ी ना नुकुर के बाद मान गई.

मुझे अभी मजा आना शुरू हुआ ही था कि चाचा निढाल हो गए और चाची चाचा को कोसते हुए गाउन पहनने लगीं. सौम्या को मजा आने लगा तो मैंने अपने हाथों से उसकी टाईट चूचियों को मसलना भी शुरू कर दिया. और यही मौका था मेरे पास अपनी बहन को चोदने का!तो फिर मैं पूरा नंगा बाथरूम में से बाहर आ गया.