देसी में सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,गांव की बीपी

तस्वीर का शीर्षक ,

उजाला बीएफ: देसी में सेक्सी बीएफ, हम दोनों अब भाई-बहन से ज्यादा बॉयफ्रेंड गर्लफ्रेंड की तरह रहने लगे थे.

सनी लिओन सेक्सी विडिओ

मुझे मिले ईमेल में बहुत लोगों ने पूछा कि मेरी ये सेक्स स्टोरी रियल है या यूं ही काल्पनिक है. चोदा चोदी करने वाला सेक्सी वीडियोउस दिन जब मैं बीच में ही चुपके से वापस आया तो वैसे ही पहले की तरह घर के सभी खिड़की और दरवाजे बंद थे.

फिर दूसरे उरोज को भी मुँह में लेकर उसकी चौंच को जुबान से सहलाने लगा. गंदी वीडियोउसकी गर्दन को चूमा, उसकी चूचियों के उठे हुए उभारों को चूमते हुए मैंने नीचे उसकी बेबीडॉल की डोरी को खोल दिया.

अब मैंने अपना लंड निकाल लिया और रानी को बैड के किनारे लिटा के उसकी टाँगें फैला दी और खुद नीचे खड़े होके उसकी चुदाई करने लगा.देसी में सेक्सी बीएफ: मेरे हाथ की एक उंगली उसकी चुत में घुस कर उसकी चुत का जायजा ले रही थी.

हनी के होंठ चूसते चूसते मैंने लण्ड का दबाव बढ़ाया तो मेरे लण्ड का सुपारा हनी की चूत के अन्दर हो गया.जब हम थोड़ी दूर चले गए, तब मैं जानबूझकर फिसल गई और पैर में मोच आने की नाटक करने लगी.

किसने क्या नारा दिया - देसी में सेक्सी बीएफ

मैं बोला- हेलो!वह बोली- मुझे बहुत डर लग रहा है … मैं आज तक कभी अकेले नहीं सोई।मैंने उसको बोला- मेरे रूम में आ जाओ.उसके बाद चिन्ना द्वारा ली गई हर परीक्षा को अव्वल नंबरों से पास किया और खुद भी एक पारंगत सेक्स गुरु बन गई, जो अब किसी भी जवान होते लड़के को कोई भी पाठ अच्छे से पढ़ा और समझा सकती थी।[emailprotected].

मेरे होंठ लगते ही उसने अपनी जिस्म को एक बहुत तेज सिहरन से थरथरा दिया. देसी में सेक्सी बीएफ वो तो अच्छा रहा कि मैं इससे पहले बहुत बार तुम्हारे लंड से चुद चुकी हूं इसलिए मुझे कोई दिक्कत नहीं हुई.

उसके गोरे गोरे चूतड़ों के बीच में छोटी सी भूरे रंग का प्यारी सी गांड का मुहाना दिखा, तो मैं अपने आपको रोक नहीं पाया और अपनी बीच की उंगली से मुहाने को सहला दिया, जिससे वो एक बार फिर चिहुंक उठी.

देसी में सेक्सी बीएफ?

उसके मुंह को चोदने में जो मजा मिल रहा था उससे सुखद अहसास उस वक्त कोई भी नहीं था. मैंने बाकी का आधा लौड़ा मैंने धीरे से रचना की चूत में डाल दिया और धीरे धीरे उसे चोदने लगा. वो मेरे पापा की गांड पर हाथ से दबाते हुए उनको अपनी चूत की ओर खींच रही थी.

उसके साथ मैंने किस तरह से मस्ती की और उसकी गांड चुदाई करने का मेरा अनुभव कैसा रहा वो मैं आपको अपनी अगली कहानियों में बताऊंगा. उनकी गांड के नीचे तकिया लगा दिया और उनकी टांगों को चौड़ी करके अपने हाथों में थाम लिया. मैंने उसकी पैंटी निकाली और देखा कि क्या मस्त उजला स्वर्ग सा नजारा था.

मैं भी दीपिका की चूत को चोद कर मजा लेने लगा और दीपिका भी अपनी चूत में मेरे लंड का आनंद लेने लगी. चोपड़ा ने मुझे किस किया और कहा- माल कहां है?मैं- जी अन्दर रूम में है. इस पोजीशन के अंदर तो विशु का पूरा का पूरा लंड ही मां की चूत में समा जा रहा था.

जैसे ही सुपारा उसकी गांड के छेद में घुसने लगा तो वो दर्द से तड़पने लगी. इधर चिन्ना भी जब भी अपने हाथों को कन्धों से नीचे छाती की तरफ लाता तो उन्हें करोना की चूचियों पर थोड़ा और आगे की तरफ बढ़ा देता.

उसकी बातें सुनकर मेरा लंड ऐंठ जाता था और मुझे अंत में मुठ मारनी पड़ती थी.

मगर उसकी एकदम से चीख निकल गयी और मैंने उसके होंठों को चूसना शुरू कर दिया.

फिर मैंने अपना लंड उसके हाथ में दे दिया और उसके दूध चूसना चालू कर दिए. अब मैं उसके होंठों को चूस रहा था और एक हाथ से उसके निप्पल को मसल रहा था. ट्रेन अपने टाइम से आई और दस मिनट के अन्दर ट्रेन में इतनी अधिक भीड़ हो गयी जैसे बाकी की सारी ट्रेन कैंसिल हो गयी हों.

पहले तो मुझे बहुत बुरा लगा, पर थोड़ी देर बाद उसके कोमल अहसास से मेरा लंड तन गया. सारिका की कमर पकड़ कर लण्ड को अन्दर धक्का मारा तो लण्ड का सुपारा सारिका की चूत में चला गया, दूसरा धक्का मारा तो सारिका की चूत की झिल्ली फाड़ते हुए मेरा लण्ड उसकी नाभि तक जा पहुंचा. अपनी दुकान और मकान बेच दिया और हम लोग कानपुर से सैकड़ों किलोमीटर दूर भुवनेश्वर में आकर बस गये, जहां हमें कोई नहीं जानता था.

हनी की कमर पकड़कर लण्ड को अन्दर बाहर करते करते एक बार मैंने जोर से धक्का मारा तो पूरा लण्ड हनी की चूत के अन्दर हो गया.

वह मुझे बुलाती है तो मैं महीने में दो-तीन बार उनके पास जाता रहता हूं. मामी ने मुट्ठी बना कर अपने हाथ से दिखाते हुए कहा कि इस तरह से अपने लंड को मुट्ठी में भर लो. इसके बाद मैंने उसे काफी समझाया, पर उसकी मासूमियत से मैं हार गया और चुपचाप वैसे ही सो गया.

काफी देर से ये काम-क्रीड़ा चल रही थी इसलिए उत्तेजना कुछ ज्यादा ही थी. मैं गया तो क्या हुआ?हैलो, कहाँ पहुंचे हो?”आपकी मार्केट में पहुंचने वाला हूँ, भाई को भेज दीजिये।”ठीक है तुम्हारे बोलने से पहले ही मैंने उसे भेज दिया है जल्दी से आ जाओ. बस में मीनू को खिड़की वाली सीट मिली थी इसलिए वह खुश थी। मीनू को बैठने में तकलीफ हो रही थी क्योंकि उसने जीन्स की पैंट पहन रखी थी, शायद उसकी फिटिंग सही नहीं थी इसलिए उसको कुछ मुश्किल हो रही थी.

इस तरह से करीब दो चम्मच तेल सारिका की गांड पी गई थी और मसाज करने से गांड के चुन्नट चमकने लगे थे.

मैक्सी को मैं अब उसके कमर के ऊपर तक ले आया और उसकी चूत नीचे से नंगी हो गयी थी. दीदी- बता साले वरना …दीदी बात खत्म करती, उससे पहले मैंने कहा- हां पता है … मम्मी को बता देगी न … उनमें सब कुछ स्पेशल है.

देसी में सेक्सी बीएफ ” मेरी वाली ने कहा।काफी देर तक इधर उधर की बातें करने के बाद मेरे वाली भाभी ने कहा- आपको तो तैरना आता है, मुझे भी सिखा दीजिये। वरना हम ऐसे ही किनारे पर डर डर कर नहाते रहेंगे।भाभी के मुँह से ऐसी बातें सुनकर मैं तुरंत बोला- इसमें क्या है, मैं आपको अभी सिखा देता हूँ।ऐसा बोलकर मैं तुरंत भाभी के पास गया और उनको बताने लगा. अब जैसा मैंने पहले भी बताया था कि मुझे सेक्स से बहुत डर लगता है, तो मेरी सिसकारियां डर में बदल गई.

देसी में सेक्सी बीएफ मेरी चूत से बहुत कम पानी आ रहा था, इसलिए लंड फंस कर अन्दर जा पा रहा था. अब तो मुझे दूसरे लौड़ों से चुदने में इतना अधिक मजा आने लगा है कि मुझे अपने पति से किसी तरह की चुदाई की चाहत भी नहीं बची है.

अगर मुझे पहले इस दर्द का पता होता तो मैं आपसे कभी अपनी चूत नहीं मरवाती.

ससुर बहु हॉट सेक्सी वीडियो

परन्तु चिन्ना ने फिर चाल खेली, वह चूत पर लण्ड के सुपारे के चार-पांच घस्से मार कर उसे पीछे हटा लेता था. उसने मुझे अन्दर बुलाया और वहीं ड्राइंगरूम में सोफे पर बिठाकर खुद भी मेरे सामने बैठ गई. घर आकर मैंने थोड़ी देर के लिए टीवी देखा और फिर मैं सोने के लिए चला गया.

और मैंने उसकी नंगी पीठ पर हाथ फेरना शुरू कर दिया … वो मेरे इरादे समझ गयी थी।पर इससे पहले मैं कुछ और करता वो बोली- मुझे लगता है कि पहले हमें बात कर लेनी चाहिए थोड़ी. चूंकि मैं उनको ऐसी ड्रेस में अक्सर देखता रहता था, इसलिए मुझे कोई ताज्जुब नहीं हुआ. मैंने टिश्यू-पेपर से अपना वीर्य साफ़ किया।फिर हम गले लग कर 2 मिनट लेट गए।मैं- फिर से अच्छा वाला अहसास चाहिए?शिल्पा- हाँ.

उस दिन मज़ाक में मेरे हाथ प्रीति के दूध में जा लगे और मैंने उसे गलती से पकड़ लिया और उसी समय उसका दूध दब भी गया.

मगर मेरे अभी कम हैं क्योंकि मैंने एक सप्ताह के पहले ही शेव किये थे. वो झड़ गयी और उसका बदन अब धीरे धीरे शिथिल पड़ने लगा … पर मेरा अभी कहां हुआ था. मैं काफी उत्तेजित हो गया था, मेरे लिंग से प्रीकम की दो चार बूंदें निकल चुकी थी.

मैंने जैसे ही दरवाज़ा खोला, सामने वो भाभी ही खड़ी थी और वो अभी भी मुझे ही घूर रही थी. मैंने अपनी स्पीड तेज कर दी और मुझे बहुत ज्यादा मजा भी आ रहा था।राज आज बहुत मजा आ रहा है … हां रे …!” नीचे लेटे लेटे आंखें बंद करते हुए सिसकारियां लेते वो बोली।मेरे अंदर भी कुछ होने लगा था. उसके बाद मैंने रानी की सलवार खोली और उसे निकालने लगा तो रानी बोली- बाबू जी, आज पूरा मत निकालो.

मैंने कहा- बहू, सिर्फ सर के बाल सफ़ेद हुए हैं, जवानी अभी भी लड़कों वाली है. उसके बाद पापा ने भाभी की चूत से लंड निकाल कर मां के मुंह में लंड दे दिया.

मैंने दूध मसलते हुए पूछा- तो मामी, अब तो आप मुझे अपना दूध रोज पिलाओगी?मामी मेरे मुँह में एक चूचुक देते हुए बोलीं- हां बेटा … ले चूस ले … ये तेरे ही हैं … तुम रोज चूस चूस कर इनको पीना. जब मैंने प्रीति के हाथों में अपना लंड दे दिया, तो वो बेहिचक मेरे लंड से खेलने लगी. उसका गोरा सा और पनीर सा मुलायम सपाट पेट … और उसकी नाभि के पास काला तिल बड़ा ही मोहक लग रहा था.

करीब 10 मिनट चूसने के बाद उसने फिर से मुझे उठाया और बेड पर पटक दिया.

उस रात हमने एक बार और चुदाई की।फिर सुबह होते ही मैंने अपनी दादी को कहा- चलो दादी, अब हम चलते हैं. मेरी बहू बोली- कैसे लग रही हूँ डैडी जी?मैंने कहा- बहू, ऐसी कपड़े मैंने कभी नहीं देखा किसी को पहने!बहू बोली- ये आपके बेटे के लिए थे, उनका अगले महीने जन्मदिन है इसलिए. जब हम थोड़ी दूर चले गए, तब मैं जानबूझकर फिसल गई और पैर में मोच आने की नाटक करने लगी.

एक दिन उसने मेरा नम्बर मांगा … और मैंने उसको अपना मोबाइल नंबर दे दिया. मैंने फुसफुसाते हुए कहा- 40 मिनट है स्टेशन के लिए, तीनों का नहीं निकाल सकती.

आह दोस्तों लंड के चुत में घुसते ही कितना मस्त मज़ा आया … इसे शब्दों में बयान नहीं किया जा सकता है. मैं बोला- अगर मैं आपसे प्यार करना चाहूँ … तो क्या आप मुझसे प्यार करोगी?वो बिंदास बोलीं- हां करूंगी न … लेकिन किसी को बताना मत. मैं आपकी पूसी को सक् करूंगा आपकी ऐस को लिक् करूंगा और आपको बिल्कुल खा जाऊंगा.

ट्रिपल सेक्सी व्हिडिओ दिखाओ

कुछ देर बाद अपनी चुत चटवाने का मजा लेकर मैंने नसरीन की चार नंगी फोटो खींची और उसको जाने का कह दिया.

जिस दिन मैं यहाँ आया था, उसी दिन मैंने बहू को ब्रा और निक्कर में देखा था. फिर मैंने अपनी बहन की बुर में ताबड़तोड़ 7-8 शॉट जोर जोर से मारे और लावा बुर में निकालने लगा. नीचे से मैं उसकी बीवी की चूत चुदाई कर रहा था और ऊपर से वह अपने बीवी के मुंह में लंड देकर उसके मुंह को चोद रहा था.

चढ़ती जवानी में सनी ने नग्नता की दुनिया में पेंटहाऊस नाम की एक एडल्ट मैगज़ीन के लिये वस्त्रहीन नंगी फ़ोटो खिंचवा कर कदम रखा और अति शीघ्र पोर्न की चोटी पर पहुंच गई।कुछ वर्ष पूर्व सनी लियोनी ने भारत में आकर बिग बॉस नामक टीवी शो में भाग लिया और उसके बाद सनी भारत में ही रहा गयी. पापा भी बूंद-बूंद करके मेरी कमर पर डाल रहे थे, तो थोड़ा तेल मेरे पेट पर आ रहा था. सेक्सी वीडियो चोदने वालीमेरी यह सेक्स स्टोरी आपको कैसी लगी मुझे इसके बारे में मेल जरूर करें.

फिर मैं उठ गया और उससे पानी की बोतल लेकर गेट के पास लगे वाशबेसिन पर कुल्ला किया, मुँह धोया फिर वापिस जाकर उसको बोतल वापिस कर दी. मुझे अब बाहर के गैर मर्दों के लौड़ों से ही चुदने में मज़ा मिल जाता है.

मैंने अपना लंड भाभी के चूतड़ों पर फिराया और फिर उनकी चूत में धकेल दिया. वो नेहा को डांटते हुए बोली- मैं तेरा घर में इंतजार कर रही हूं और तू सीधा यहां चली आई? पता है मैं कितनी परेशान हो रही थी?उसकी मां की बातों का भी उस पर कोई असर नहीं हो रहा था. गोसानी परिवार के पास बहुत ज्यादा पैसे हो गए थे और अब वे यही करते थे कि अपना पैसा वह दूसरे लोगों को ब्याज पर देते थे.

मैं अपनी ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी कर चुका हूं और अब मास्टर्स कर रहा हूं. मैं बाहर गया तो वो किचन में ब्रा और पैंटी में ही नाश्ता बना रही थी. मैं बाथरूम में शावर चला के नहा रहा था मगर आज मैंने दरवाजा लॉक नहीं किया क्योंकि मैं जानता था मेरी बहू जरूर आएगी.

अब मैं कविता को धीरे धीरे भूल ही गया था क्योंकि वो अपने ससुराल में थी और कभी दिखाई ही नहीं देती थी गांव में भी.

चोपड़ा- हम्म … इस नाम से तो लगता है कि *** माल है … वो तो सुन्दर होती हैं … ठीक है तू पिक्चर भेज दे. उस रात हम दोनों भाई बहन ने जमकर चुदाई की मैंने उसकी गांड को तीन बार बजाया.

फिर मैंने उससे अपना लंड मुँह में लेने को कहा, तो वो राज़ी नहीं हुई. मुझे बहुत तेज दर्द हुआ, मैं अचानक ऊपर को हो गई और उसका लंड बाहर निकल गया. उसकी चूत का रस निकल कर मेरे मुंह में जाने लगा और उसकी जांघों से बहने लगा.

मुझे सनसनी होने लगी और मैं जानबूझ कर झुक झुक रेडी होने लगी, जिससे पीछे से मेरी पूरी नंगी गांड दिख रही थी. बहू अपने रूम में चली गयी और रानी मुझे किस करने लगी और मेरा लंड लोअर के ऊपर से ही दबा दिया जो थोड़ा हार्ड हो चुका था. नितिन में मेरी जींस और पैंटी दोनों उतार दीं और मेरी चूत को ऊपर ऊपर चाटने लगा.

देसी में सेक्सी बीएफ क्या मस्त अहसास था मुलायम बुर का … वो भी अपनी छोटी बहन की बुर का अहसास मुझे अन्दर तक मजा दे रहा था. मैंने पूछा- बहू, इसका असर और कितने टाइम रहेगा?बहू बोली- 1 घंटे रहता है.

म्यूजिक वाला सेक्सी वीडियो

थोड़ी देर लंड चूसने के बाद मेरे बेटे ने बहू को किस करते हुए उसकी नाइटी निकल दी. मेरी माँ ने मास्टर की बेटी तनु को भी बहाने से हमारे घर बुला लिया था. मैंने कहा- बहू, आज 10 बज गए हैं मगर रानी नहीं आयी?बहू बोली- मैंने उसे 2 दिन की छुट्टी दे दी है.

मैंने कहा- अरे बेटू इसे सुसु नहीं बुर कहते हैं … सुसु तो छोटे बच्चों की होती है … अब तो ये बड़ी हो गयी है. आंटी ने मेरी तरफ देखा तो बॉक्सर के अन्दर से मेरे तने हुए लण्ड पर उनकी नजर पड़ गई. धंधा करने वाली लड़कियों का नंबरअब मैंने रानी से कहा- मेन गेट खुला रखना और मेरे कमरे में चल, वहां मैं भी अपना गेट खुला रखूँगा जिससे बहू आसानी से सब देख ले.

हो … इंतजार हो रहा था मेरा!मैं- नहीं … तो बस मुझे घर जाना है, जिसने मेरा एक्सीडेंट किया है, उसे ही मुझे घर ड्राप करना होगा ना! साथ जाते हुए कॉफी भी पी ही सकते हैं.

मेरे दोस्त कीबीवी की चुदाईसे उसको मेरे बड़ा लंड का चस्का लग गया था और मैं ज्यादा समय तक भी चोदता हूँ. फिर वो मेरे पेट को चूमने लगी तो इतने में ही मैंने उसकी टीशर्ट को पकड़ कर उतार दिया.

मैंने आगे कहा- एक बात बता क्या तुझे अपने भाई का लंड चूसकर मज़ा नहीं आया … बता ना निधि बता ना. पहली चूची पर मेरे मुंह की लार लगी हुई थी इसलिए पहली चूची का निप्पल एकदम से चिकना हो गया था. वो बोली- ऐसे आज तक मुझे किसी ने नहीं चोदा … तुमने आज मेरी प्यास बुझा दी है साहेब … अब मैं तुम्हारी हो गई हूँ … जब चाहो मुझे चोद लेना.

उसने पहले बाथरूम में जाकर मेरी बोतल में थोड़ी बची दारू देखी और बोटल उठा ली.

ऐसा करने से तुम्हारी बात भी रह जाएगी और मेरे कपड़ों में तेल भी नहीं लगेगा. तभी मैंने थोड़ा थूक लेकर उसकी गांड में डाल दिया और थोड़ा लन्ड पर लगा दिया और टोपे को उसकी गांड के छेद पर रख दिया। वो भी जैसे पूरी कमर कस चुकी थी मेरे लंड से अपनी गांड चुदाई का उद्घाटन करवाने के लिए. मैंने फिर से उसकी चूत को सहलाना शुरू किया और अपने लंड को उसके हाथ में पकड़ा दिया वह भी धीरे-धीरे मेरे लंड को सहलाने लगी।हम दोनों सिसकारियां ले रहे थे.

नहाते हुएधीरे धीरे मैं आकांक्षा की चूची को सहलाते हुए अपना एक हाथ नीचे चुत पर ले गया और उसकी चुत को सहलाने लगा. जैसे ही वो मेरे कमरे में सफाई करने आई, मैंने पीछे से उसे पकड़ लिया.

लता भाभी सेक्सी वीडियो

कमल की शादी के करीब 15 दिन बाद ससुर जी का फोन आया कि कमल और नीलम का शिरडी जाने का प्रोग्राम बन रहा है, अच्छा हो कि तुम और सुधा भी दर्शन कर आओ. घर में कोई दूसरा तो था नहीं इसलिए मैं कुछ देर चाचा के पास ही बैठ गया. अपनी गांड को थोड़ा और आगे बढ़ाते ही चिन्ना के अनुभवी लण्ड को करोना बेटी के कुंवारी चूत की झिल्ली महसूस हुई और झिल्ली पर कड़क लण्ड का प्रेशर पड़ते ही अब तक हवस में मस्तायी करोना के माथे पर पसीना सा आ गया.

यह बात करीब चौदह साल पहले की है, जब मैं 26 साल का था और वह 28 साल की थी. मैंने उसके एक स्तन को अपने हाथ से जोर से दबाया, तो उसके मुँह से तेज ‘आह … आउच … ऐसे मत करो ना जानू … मुझे दर्द होता है. लेकिन सेजल अब समझ गई थी कि अब गैर मर्द अगर घर पर आएंगे और लड़कियां बड़ी हो रही है तो उन पर एक गलत प्रभाव जाएगा.

मुझमें मस्ती भरी पड़ी थी, मुझे तो सनसनी हो ही रही थी, मैंने झट से उसका लंड चूसना शुरू कर दिया. बोलो हनी, कब से देख रही हो?”इस बार हनी ने नजरें नीचे किये हुए धीरे से कहा- 15-20 दिन से. फिर रिंग बजी तो मैंने रिसीव किया।मैं- हेलो?कॉलर- हेलो मेरी जान।मैं- कौन है भाई?!!कॉलर- दरवाजा तो खोलो.

फिर उसने भाभी को बैड पर लिटा दिया और कपड़े उतार के भाभी के ऊपर आ गया. उधर तनु की सिसकारियां भी कुछ ऐसा ही इशारा कर रही थीं कि वो झड़ने वाली है.

देखने में भी इतनी सुंदर हो, फिर तुम्हारे भी बहुत सारे बॉयफ्रेंड होने चाहिएं न?ये बोल कर मैंने उसको आंख मार दी.

जैसे-जैसे पापा मेरे करीब आ रहे थे, मेरी चूत उतना ही पानी छोड़ रही थी और उतनी ही मचल रही थी. ठाकुर साहब वॉलपेपर डाउनलोडउसने पूछा- कैसा लहंगा चोली सिलवाना है?मैंने कहा- बैक लैस चोली डोरी के साथ और लहंगा कूल्हों से टाइट और नीचे घेरा वाला सिलवाना है. यूट्यूबdownlodeउसने भी कहा- हां भैया, पहले तो मुझे अच्छा नहीं लगा था, पर आपके लंड से जब कुछ खट्टा चिपचिपा सा मेरे मुँह में आया, तो मुझे भी अजीब सा नशा चढ़ गया है अब तो मुझे भी आपका लंड चूसना अच्छा लगने लगा है. शाम को मेरे हज़्बेंड का कॉल आया कि वो अपने ड्राइवर को भेज रहे हैं, वो मुझे स्टेशन तक छोड़ देगा.

आपने मेरी पिछली काल्पनिक कहानीदिशा पटानी के साथ हसीन रातपढ़ी एयर पसंद की.

मैं मस्ती से अपनी गांड को खोले हुए उसके लंड के सुपारे का मजा ले रही थी. फिर कुछ देर रुक कर मैंने आहिस्ता से उसकी चूत में लंड को अंदर बाहर करना शुरू कर दिया. अक्सर वो रास्ते में मुझसे बात करते हुए बताती कि उस लड़की चक्कर, उस लड़के से है, उसका उससे है।वो अक्सर मुझसे भी पूछती थी- तुम भी किसी को पसन्द करते हो तो बताओ?तब मैं उसे हर बार मना कर देता था।वो मुझसे कहती- अगर किसी को पसन्द करते हो तो कहो; मैं उससे बात कर लूं?मैं तब भी उसे मना कर देता।कभी कभी वो मुझसे कहती कि अगर किसी को पसन्द करते हो तो उसे कह दो.

जब मुझ से बर्दाश्त नहीं हुआ तो मैंने रचना भाभी को कहा- चलो अब यहां से!भाभी ने गांड पर लौड़ा सटाने की अनुमति दे दी, चूत देने में देर नहीं करेगी, ये मैं समझ गया था. चूंकि मेरी बर्थ ऊपर की थी, मैं सोच रहा था कि थोड़ी देर नीचे बैठूंगा और बाद में रात को ऊपर अपनी बर्थ पर चला जाऊंगा. लेकिन तब तक मैंने तेज धक्कों के साथ अपने लंड का सारा पानी उसकी बुर में छोड़ दिया था.

सेक्सी दिखाव चुदाई

आनन्द का उन्माद इतने चरम पर था कि पता ही नहीं चला कि कब मैंने उनका टॉप उतार दिया और सिम्मी की पिंक ब्रा के ऊपर से उनके स्तन दबाने लगा।सिम्मी के स्तन एकदम कड़े हो गए थे, ऐसा महसूस हो रहा था कि स्तन नहीं बल्कि कोई टेनिस की गेंद को दबा रहा हूँ। मैं उसके गले पर किस करते हुए उसके पीछे चला गया और उसकी ब्रा की स्ट्रिप पर किस करने लगा. मैंने हां कर दी और लंड को गांड पर सैट करके बोला- अब तुम गांड ढीली करो और धीरे धीरे पीछे को जोर लगाओ. मैंने इस पर ध्यान न देते हुए एक और जोरदार झटका मारा, जिससे मेरा लंड आधे से ज्यादा उसकी चुत को फाड़ता हुआ अन्दर घुस गया.

दीदी- जनाब झूठ मुझसे मत बोलो आपके जाने के बाद चाची आयी थीं … और चाची के जाने बाद मैंने तेरा फ़ोन देखा था.

बस में मीनू को खिड़की वाली सीट मिली थी इसलिए वह खुश थी। मीनू को बैठने में तकलीफ हो रही थी क्योंकि उसने जीन्स की पैंट पहन रखी थी, शायद उसकी फिटिंग सही नहीं थी इसलिए उसको कुछ मुश्किल हो रही थी.

वैसे पापा ने तुम्हें कुछ नहीं कहा?बहू बोली- नहीं, उन्होंने मुझे कुछ नहीं कहा. मेरी यह तमन्ना पूरी हुई या नहीं?नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम निहाल सिंघानिया है. कपड़े उतारेवो रविवार का दिन था नसरीन आंगन में लगे पानी के नल पर पूरी तरह निवस्त्र होकर नहा रही थी.

लेकिन मैंने उसकी एक न सुनी और उसको टेबल पर फिर से झुका कर थोड़ा और जोर लगा अपना एक इंच लंड और अन्दर डाल दिया. मुझे समझते देर नहीं लगी कि अम्मी हमारी कामवाली को भी मेरे लंड से चुदवाना चाहती है. वहीं दूसरी ओर पुरूष कलाकार के समकक्ष आप तभी सहज हो सकती हैं जब आप मानसिक रूप से पहले से ही तैयार हों.

दीदी को पता था कि मैं क्या चाहता हूं … लेकिन दीदी को यह गलत लग रहा था. कल की सारी बातें मुझे वापस सपने की तरह बार बार दिखाई दे रही थीं और मुझे वापस कल्पना की चुदाई करने का मन होने लगा.

चाचा की तबियत काफी दिनों से खराब चल रही थी और वो बीमार होने से पहले भी चाची को अच्छे से नहीं चोद पाते थे.

यहाँ तक कि जब तक चुनाव प्रचार का काम चलेगा, मैं आपकी पर्सनल रंडी बन कर रहूँगी. कुछ देर तक कान के छेद मैं जीभ फिरने के बाद बोला- बेटी ये क्या हैं?करोना ने शर्म के मारे कोई जवाब नहीं दिया. उफ … क्या मस्त चिकनी चूत थी … एकदम गोरी … उसकी चूत पर हल्के सुनहरे बाल थे.

डायरेक्ट चोदा चोदी जब मैं उनका लंड चूस रही थी तो उन्होंने मुझसे कहा- सोनाली, मुझे तुम्हारी गांड मारनी है. वो बोली- क्या देख रहे हैं आप घूर घूर के?न जाने मैंने किस झौंक में उसके चुचों की तरफ इशारा करते हुए कह दिया- इनको देख रहा हूँ.

सुप्रिया- ले ठूंस ले … मम्मी पापा कहीं बाहर गए हैं … जल्दी से खाले … वरना आज तो तुझे खाने को कुछ मिलता ही नहीं. लंड का सुपारा घुसवाते ही उसे हल्का दर्द हुआ, मैंने घी टपकाते हुए गांड की चिकनाई बढ़ा दी. मैं उसके पेट पर अपने हाथ फेरते हुए सोच रहा था कि जब बहन से बहन मजे ले सकती है, तो भाई को भी शक्ति प्रदर्शन का हक़ है.

भाभी का सेक्सी वीडियो में

अब पूरी चुदाई का किस्सा नहीं बताऊँगा क्योंकि अभी दो लड़कियों के बारे में भी बताना है. मुझे वह होंठ मिलने वाले थे चूसने के लिए।फिर भाभी ने हमारे लिए ड्रिंक बनाए अपने लिए भी और मेरे लिए भी!हमने दो दो पैग लगाए. अब मैंने उसके दोनों चूतड़ों को अपने हाथों से पकड़ा और उसकी गांड के छेद पर जीभ रख दी.

ये मेरी बहन की चुत चुदाई की सच्ची कहानी है, जो मैंने आपके सामने बिना किसी लाग-लपेट के पेश की. मुझे समझ आ गया था कि अब ये झड़ने वाली है तो मैंने दाने को रगड़ना छोड़ कर अपने झटके तेज़ कर दिए.

उसके मस्त बूब्स को मैं बारी बारी से चूसने लगा। कभी उसके निप्पल को जीभ से गोल गोल करता तो कभी होंठों से पकड़ कर हल्के से खींचता।वो मदहोश हो रही थी बस … उसके मुँह से सिर्फ ‘आहहह … आहह’ के अलावा कुछ नहीं निकल रहा था। अब वो अपना एक हाथ मेरे सर पर रख कर हल्का सा दबाने लगी। मैं समझ गया कि अब वो बहुत ही गर्म हो चुकी है।शिल्पा- मेरे नीचे कुछ कुछ हो रहा है.

फिर हम दोनों उठे और चाची खुद को साफ करने के लिए बाथरूम में चली गयी. वे मुझ पर दिल खोलकर खर्च करते हैं और मेरे घर वालों के प्रति उसका रवैया बहुत अच्छा है. मैंने कहा- क्या हुआ बहू? हंस क्यों रही हो?तो वो बोली- कुछ नहीं डैडी जी!उसके बाद बहू ने शावर लिया और मैं सोफे पर बैठकर टीवी देख रहा था.

मेरी गांड फट गई … एक साथ दोनों छेदों में लंड लेने का ये मेरा पहला अवसर था. पैंटी और स्लेक्स उतरते ही करोना की नाजुक कुंवारी चूत की मस्त महक कमरे में फैलकर चिन्ना सांड के नथुनों से टकराई. ‘आंह मारोगे क्या … ये नाजुक जगह होती है … धीरे करो न…’मैंने उसे चूमते हुए कहा- नाजुक तो कहीं नहीं होती है … लम्बा और मोटा लंड ले लेती है और नौ महीने बाद फुट भर से ज्यादा का बच्चा निकाल देती है.

मेरा 6 इंच का लंड देख कर वह डर गई और बोली- इतना बड़ा और मोटा मुँह में कैसे जायेगा?पहले उसने मना किया पर मेरे ज्यादा कहने पर वो मान गई और मेरा लंड चूसने लगी.

देसी में सेक्सी बीएफ: मैं उसके पास जाकर बैठ गया और माया को देखने लगा और धीरे धीरे उसके होंठों की तरफ अपने होंठों को बढ़ाने लगा. इसी के साथ मैंने उसको कस कर पकड़ा और उसके चूतड़ों को उठा कर अपनी कमर के पास ले आया.

मैंने उसके चूची को अपने दांतों से हल्का काटा … तो कल्पना के मुँह से आह … आहा … निकल गयी. आपने मेरी पिछली काल्पनिक कहानीदिशा पटानी के साथ हसीन रातपढ़ी एयर पसंद की. शायद आप ये कह सकते हो कि कल्पना के बूब्स बहुत बड़े थे और उस छोटी सी ब्रा में फंसे से कैद थे.

कुछ दिन बाद उसने बताया कि वो लव लेटर किसी ने नहीं दिया था बल्कि मुझे फंसाने के लिये उसने खुद लिखा था।मैंने उसे कहा- तू बहुत बड़ी कमीनी निकली.

अब मुझसे भी रुका नहीं जा रहा था इसलिए मैंने चाची के बूब्स की ओर हाथ बढ़ा दिया. एक बात जो मैं नोटिस कर रहा था वो ये कि मेरे पापा और मेरी बहन का आपसी व्यवहार अब कुछ बदल गया था. मैंने अपनी बिल्डिंग में दो बहनों को चोद डाला था। एक दिन एक भाभी ने मुझे मुझे छोटी बहन की चुदाई करते देख लिया.