बीएफ सेक्सी हिंदी मूवी एचडी

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो भेजो सेक्सी में

तस्वीर का शीर्षक ,

सनी लियोन का पिक्चर: बीएफ सेक्सी हिंदी मूवी एचडी, मैं- वैसे आप अहमदाबाद में कहां रहती हैं?सुगंधा भाभी- देख, कल रात जो हुआ … वो हम दोनों की मर्जी से हुआ.

पलंग तोड़ सेक्सी मूवी

अब हम आराम से चुदाई का मजा ले सकते थे क्योंकि चारों को एक दूसरे का पता चल गया था. তেলুগু ভিডিও সেক্সइसी दौरान मैंने मॉम से कहा- सॉरी मॉम, ये मेरा पहली बार था इसलिए जल्दी हो गया, आगे आपको शिकायत का मौका नहीं मिलेगा.

मेरी आंखें बंद हो गई थीं और मेरे मुँह से कामुक सिसकारियां निकल रही थीं. ইন্ডিয়া ভার্সেসवो मेरे लंड से चुदने के लिए मचल उठी थी, तो मैंने उसे अपने कमरे पर आने के लिए राजी कर लिया था.

मैं बोली- और लूसी के साथ तुम्हारा क्या चल रहा है, वो भी बता देना?वो बोला- क्या बक रही है!?इतने में मैंने विवेक को फोन कर दिया.बीएफ सेक्सी हिंदी मूवी एचडी: मैंने उनकी आंखों में देखा, तो मुझे एक अजब सी संतुष्टि का भाव दिख रहा था.

ख़ास बात ये कि मुझको इस वक्त जैसा चाहिए था, इधर वैसा ही मुझे मिलने लगा.उसके बाद उसने मुझे धक्का देकर बिस्तर पर गिरा दिया और मेरे पैरों में फंसी मेरी जींस को खींच कर मुझे केवल चड्डी में छोड़ दिया.

பெங்களூர் ஆன்ட்டி செக்ஸ் - बीएफ सेक्सी हिंदी मूवी एचडी

वो लड़की थोड़ा सा आगे हुई ही थी कि उसकी साड़ी का पल्लू बस की सीट से एक कील सी निकली हुई थी, उसमें फंस गया.मेरे जानकार ने एक बोतल अलग से लेकर मुझे दे दी और बोला कि यह आप लोगों का कल तक का काम चला देगी.

मैं भी उसके पजामे में हाथ डाल कर उसके चूतड़ छूने की कोशिश कर रहा था. बीएफ सेक्सी हिंदी मूवी एचडी वो बोली- उस साले कुत्ते मेरे बीएफ ने मुझे इतनी देर कभी नहीं चोदा और मुझे इतना मज़ा भी कभी नहीं आया था.

थोड़ी देर उसी तरह रगड़ने के बाद मैंने अपने शरीर को नीचे किया और अपना मुंह दीदी की टांगों के बीच लेकर चला गया.

बीएफ सेक्सी हिंदी मूवी एचडी?

अंकल मॉम की चूत को चाटे जा रहे थे और मॉम पागलों की तरह बोले जा रही थीं- हां मेरे राजा … खा जाओ भोसड़ी के मेरी चूत … आह डाल दो अपनी जीभ पूरी अन्दर … और तेज कर मान के लौड़े आह और तेज … आह आह आह. जैसे ही लंड अपनी जगह पूरे तरह से बनाई और मॉम भी धक्के के मज़े लेने लगीं, अंकल ने स्पीड तेज कर दी. जानबूझ कर मैं उनकी तरफ ही गया उनके पीछे। फिर उनके एकदम करीब पहुंच गया.

कुछ ही देर बाद वो फिर से मेरा साथ देने लगी और करीब 20 मिनट बाद मैंने भी अपना पानी उसकी चूत में छोड़ दिया. मैंने वापस चलते वक्त उससे पूछा- तुमको मेरे कैसा लगा?तो उसने कहा- बार बार आने को मन करेगा, ऐसा लगा. इस घटना को पहले प्रकाशित करना के बजाए मैं आपको पिछली सेक्स कहानी के भाग भेजने के बाद ही कोविड वार्ड में हार्डकोर सेक्स चुदाई की कहानी को लिख कर भेजूंगा.

वो अपनी चुत में उंगली करने लगती और उंगली से ही रस निकाल कर शांत हो जाती. खाना खाने का मन तो था नहीं … मैं तो बस रंगोली से बात करने का मौका देख रहा था. उसने बताया कि उसके हस्बैंड नहीं हैं, यही कोई आठ साल पहले उनकी डेथ हो गयी थी.

फिर अचानक से अंकल ने मॉम की ब्रा को खींच कर उतार दिया और अलग फेंक दिया. मूतने के बाद नीरू ने खुद ही टॉयलेट पेपर से अपनी चूत और जांघों को साफ किया.

थोड़ी देर पहले दादी की चूत से निकला लण्ड पोती की चूत में जाने को तैयार था.

मैं रंगोली को आईने में देख रहा था कि चुदाई देखते देखते उसका चेहरा लाल होने लगा था.

मैं आगे से कुछ नहीं कहूंगी मगर ऐसे नाराज मत हो।मैं बोला- ठीक है, मैं तुम्हें किस करने की भी नहीं कहूंगा. चांदनी रात छत के ऊपर चाची का बदन तेल में चमक रहा था और मेरा लंड भी चमक रहा था. फिर धीरे धीरे उसकी कमर पर हाथ चलाने लगा, जिसमें वो भी मेरा साथ देने लगी.

फिर जब वो मेरी चूत में लंड को अंदर डालने वाला था तो तभी मेरे भाई का फोन आ गया. दरअसल ये भी मेरी एक फंतासी थी कि जब कोई दूसरा आदमी मेरी बीवी को चोदकर अपना माल उसकी चूत में गिराकर हटे … तब उसी वीर्य से भरी चूत में अपना लंड घुसा कर मैं भी अपनी बीवी की चुदाई करूं. विकी ने मुझे तुरंत अपने बांहों में भर लिया और कहा- तुम बहुत अच्छी हो, मैं तुमसे प्यार करने लगा हूँ.

आप इस कहानी को संयोग समझ सकते हैं जो मेरी पहली कहानीचुलबुली चुदासी भाभी से वीडियो सेक्स चैट और चुदाईसे ही थोड़ा मिलती जुलती है लेकिन घटना एकदम अलग है। मेरी जिंदगी में अब तक तीन बार चुदाई वाली घटना घटित हुई है।मेरे साथ हुई घटनाएं एकदम सच हैं.

यह बात सुनकर संजना थोड़ी मुस्कुराई और उसने फिर से मुझे अपने दूध पिलाने शुरू कर दिए. मेरा हाथ उसके घुटनों के बीच से होते हुए उसकी जांघों के जोड़ तक चला गया. वो समझ चुकी थी कि अभी चिड़िया के पर लगे हुए हैं और यह उड़ना जानती है.

मेरे बहुत समझने पर वो मानी, तब तक उसकी चुत का दर्द भी थोड़ा कम हो गया था. मामा ने मुझसे कहा- इधर का जो भी काम हो, तुम देख लेना … और अपने मामी की मदद कर देना. वह लंड पेलता हुआ बोला- बस सर जी, ऐसी ही ढीली किए रहें और कॉपरेट करें.

आज मैं आपको अपनी और अपनी मामी की चुदाई के बारे में बताने जा रहा हूँ कि कैसे मैंने अपने लंड से मामी की गांड और चूत को फाड़ दिया.

गर्लफ्रेंड ने मेरे बाल पकड़े और मेरे होंठों को आगे करके एक लिपलॉक किस कर दिया. मैंने पीछे हटते हुए बोला- प्लीज़ … मैं अब नहीं कर पाऊंगी, रहम करो प्लीज़.

बीएफ सेक्सी हिंदी मूवी एचडी आ ह उम्म्म!उसने अपने हाथ से मेरा मुंह बंद कर दिया।सूरज- अब पता चलेगा साली को … रण्डी की गान्ड कैसी होती है।मैंने गान्ड के पास हाथ लगाया तो देखा कि खून था।वो बिना कुछ सुने मेरी गान्ड को बेरहमी से चोदने लगा था।थोड़ी देर में मुझे गान्ड चुदाई में मज़ा आने लगा. उसने बड़ी अदा से सिगरेट का कश खींचा और धुंआ के छल्ले उड़ाते हुए कहने लगी- आज कई साल बाद बियर पी रही हूँ … पहले बार हस्बैंड ने पिलाई थी … उनके साथ ही पी लेती थी.

बीएफ सेक्सी हिंदी मूवी एचडी हालांकि कुछ भी हो सकता था तो मैंने भाभी से दोस्ती करने से शुरुआत करने का तय कर लिया था. न्यू सेक्सी स्टोरी में पढ़ें कि मकानमालिक की बेटी की चुदाई करते समय उसकी बड़ी बहन ने देख लिया.

हालांकि मुझे रोज रोज ऐसा करना कभी भी अच्छा नहीं लगा था और इस वजह से हमारे बीच कई बार झगड़े भी हुए.

सेक्सी वीडियो बीएफ चोदा वाला

कमलेश जोर जोर से चोदने लगा- ले मादरचोदी रंडी ले … ले छिनाल लंड ले …उसने चुदाई की स्पीड और तेज कर दी. मामी सारा पानी पी गईं और अपने दोनों हाथों से मेरा लंड पकड़कर चूसते हुए बोलीं- मेरे राजा मैं आज तक इस तरह से नहीं चुदी. रूम पर पहुंच कर वो मुझे डराते हुए बोला- यार वो बहुत गुस्सा हो रही थी.

तभी मैंने इशारे से संजना को मेरे ऊपर आने को कहा और शीना को मेरे लौड़े का स्वाद चखने को कहा. मेरा ऐसा जोश देख कर तेरी दीदी भी सोच में पड़ जाती है कि ऐसा कारनामा तो मैंने सुहागरात के दिन भी नहीं किया था. मुझे पता था कि आज तक किसी औरत या लड़की ये उनसे ऐसे बेबाकी से बीयर कभी मांगी ही नहीं होगी.

पर मेरा मन नहीं मान रहा था … लंड इतनी जोर से खड़ा था कि अब उसका बिना पानी निकाले बैठना मुश्किल था.

मैं झट से उसके गले लग कर बोली- भला तुमको कैसे भूल सकती हूँ मनोज … मुझे लड़की से औरत तो तुमने ही बनाया था. एक दिन अचानक वो कहने लगी- भैया मुझे नकली लगाकर देखना है कि कैसा लगता है?मैंने उसकी तरफ हैरानी से देखा. वो दो मिनट बाद दीवार के पास आयी और बोली- मरवावगा कती! (मरवाएगा तू तो बिल्कुल)धीरे से मैंने कहा- नहीं, तू मर गई तो मेरा क्या होगा … बस एक किस दे दे और फिर मैं चला जाऊंगा.

शायद वो इस तरह से लंड को चूस नहीं पा रही थी … या लंड पूरा हलक के अन्दर तक जा रहा था. उसमें जैसे जान नहीं बची थी लेकिन फिर भी उसने मेरे बूब्स को अच्छे से चूसा. वो भी कुछ देर बाद मूवी से ध्यान हटा कर मुझसे अच्छे से बात करने लगी.

लेकिन हम अभी चलती हुई बस में थे … तो मुझे थोड़ा संभाल कर उन्हें चोदना होगा. मैं पास पड़ी कुर्सी पर शीशे के सामने बैठ गयी और अपनी टांगें फैला कर सामने की ओर करके चूत के मुँह को फैला दिया.

अब हमें बिल्कुल भी होश नहीं था कि हम ऐसे खुले खेत में चुदाई का खेल मजा लेकर खेल रहे हैं. मैंने भाबी से कहा- हां भाबी मैं अब तक कुंवारा ही हूँ … आपकी कृपा रही तो पूरा मर्द बन जाऊंगा. मैं अपनी झांटों में से चूत को फैला कर देखने लगी।तब मैंने बाल सफा क्रीम ली और शावर के नीचे आ कर भीगने लगी।मैं अपनी झांटों से खेलने लगी.

मुझे घर पहुंचने से ज्यादा दूसरे दिन का इंतजार रहता ताकि मैं डॉक्टर से मिल सकूं.

उसकी चूत को मसलते हुए ऐसा मन कर रहा था कि आज इसे इतनी चोदूंगा कि इसकी चूत को खोलकर रख दूंगा. मगर जैसे ही मैंने उन्हें पकड़ा स्वाति भाभी ने तुरन्त अपना एक हाथ मेरे हाथ पर रख दिया. चाची- आह मेरी गांड फट गई … हरामी … छोड़ दे सुअर के चोदे … ऊह … आआआह.

अनिल का एक हाथ धीरे धीरे सरकता हुआ पिंकी की जांघों तक पहुंच गया था. भाभी ने मेरे लंड के उभार को देखते हुए कहा- क्या हुआ राहुल … आओ अन्दर, ऐसे क्या देख रहे हो.

वहां पर मेरे परिवार में मेरे ससुर के छोटे भाई के बेटे यानि मेरे एक देवर की शादी थी. मैंने उनको बताया कि मैं अपना रिजर्वेशन करवा कर आपको सूचित करता हूँ. मैं इतनी पढ़ी लिखी नहीं हूँ कि इस तरह के कोड वर्ड्स का मतलब भी समझ सकूँ.

भाई बहन के बीएफ भाई बहन के बीएफ

पेशे से मैं फिजियोथेरेपिस्ट हूँ और पिछले 5 वर्ष से सिर्फ महिलाओं के शरीर की मसाज करके उनको खुश करता हूँ.

अब मैंने अपने सारे कपड़े उतार दिए और उसके भी।अब हम दोनों सिर्फ चड्डी में थे।उसके चूचों को दबाते हुए मैं उसके निप्पलों को मुंह में लेकर चूसने लगा और वो सिसकारने लगी- आह् … सनी … मुझे कुछ हो रहा है … आह्ह … आईई … उम्म!ऐसे करते हुए वो मेरे बालों में हाथ फिरा रही थी. मेरे जानकार ने एक बोतल अलग से लेकर मुझे दे दी और बोला कि यह आप लोगों का कल तक का काम चला देगी. प्रियंका- वो तो तुझे जैसे खा ही जाएंगे … जो मेरे से चिपक कर खा रही है!बहरहाल हम लोग खाना खाने लगे और खाना खत्म कर दिया.

उस गांव में मैंने अपनी ख्वाहिश कैसे पूरी की?दोस्तो, मैं सिमरन हूं, मुझे पता है कि आपको मेरी कहानियाँ बहुत पसंद आती हैं. मैंने राकेश को रकम देते हुए पूछा- कितना चाहिए?राकेश बोला- जो चाहे दे दें. அம்மா குண்டிजब मेरे लंड ने सरनी की फुद्दी को टच किया, तो वो फिर से खड़ा होने लगा.

पिता जी अपना ‘वो’ डाल दो ना!” ज्योति ने फिर से तड़पते हुए कहा।वो क्या बेटी? मुझे तो कुछ समझ में नहीं आ रहा है?” महेश ने फिर से अपनी बेटी की चूत पर अपना लंड घिसते हुए कहा। ज्योति अपने पिता के मोटे लंड को अपनी चूत में लेने के तप रही थी और महेश उसको तड़पाने में लगा था. अच्छा चलो अब बहुत देर हो गई है, तुम भी सो जाओ और मैं भी अपने रूम में जाती हूँ.

मगर मुझे जब इस तरह अपनी नंगी चुत पर झुके देखा, तो वो शर्मा गयी और चुपचाप वापस आंखें बन्द‌ करके लेट गयी. कुछ देर सर ने मेरे चूचों को चोदा, फिर उन्होंने मुझे उल्टा कर मुझे डॉगी बनने को बोला. फिर राज बोला- अच्छा बोल … मैं रंडी हूं और जब हम बोलेंगे, तब तू हमसे चुदवाने आ जाओगी.

मैं- भाभी, अभी कुछ सोचा नहीं है … लेकिन हां मेरा मन है कि उसके साथ शादी जरूर करूंगा. ”अपनी हथेली में बची हुई सारी शहद मैंने अपने लण्ड पर चुपड़ दी और लण्ड का सुपारा रेखा की गांड के गुलाबी चुन्नटों पर रख दिया. मुझे विश्वास नहीं हो रहा है कि राहुल शिल्पा की गांड भी मारने वाला है.

उसने चाट चाट कर मेरी चूत का पानी निकाल दिया और मैं आनंद में खो गयी.

कुछ दिन बाद मेरा बेटा भी अपनी पढ़ाई के लिए बैंगलोर चला गया और घर पर मैं, सुधा और मां ही रह गए. मेरी कूल्हे आपस में सट गए और लंड को लपकने के लिए मेरी चूत ने अपना मुँह खोल दिया.

मुझको भी सच में काफी थकान हो रही थी, तो मैं मान गया और हम सब सो गए. तो मैं बाहर आ कर सोफ़े पर बैठ गया और बिन्नी को किचन में नंगी इधर उधर घूमते हुए देखता रहा. इसी तरह कुछ देर मुझे प्रिंसिपल ऑफिस में ठोकने के बाद अभिषेक ने मुझे खिड़की से बाहर किया और खुद भी बाहर आ गया.

फिर एक चूची को उसने मुंह में भर लिया और दूसरी चूची को हाथ में भर कर बच्चों की तरह दूध निकालने की कोशिश करने लगा. प्रियंका- वो तो तुझे जैसे खा ही जाएंगे … जो मेरे से चिपक कर खा रही है!बहरहाल हम लोग खाना खाने लगे और खाना खत्म कर दिया. दोस्तो, ये मेरी फैमिली पोर्न स्टोरी थी, आपको मेरी कहानी कैसी लगी, प्लीज कमेंट बॉक्स में जरूर बताइएगा.

बीएफ सेक्सी हिंदी मूवी एचडी फिर मैंने सोचा कि रोहित के साथ उसकी मामा की लड़की भी है तो वह क्या कर लेगा।वहाँ पर मेरे साथ उसके मामा की लड़की भी होगी इसलिए वह कुछ नहीं कर पायेगा. सच में उसकी हर ठोकर से क्या मस्त मजा आ रहा था … मैं उस मजे को जितना भी चाहूँ, लिख ही नहीं सकती.

सेक्सी बीएफ फिल्में बीएफ

अगर उसको मैडम कहूं तो ज्यादा सही रहेगा क्योंकि इस उम्र में तो वो मैडम ही कहलायेगी. मीरा की साड़ी पेटीकोट ऊपर उठाकर उसकी गांड के चुन्नटों पर मैंने तेल टपकाया और अपने लण्ड का सुपारा ठोक दिया. उससे बड़ी चाची भड़क गयी और बोल रही थी- तुम्हारे लंड में अब दम नहीं रहा, मुझे शांत किये बिना ही झड़ जाते हो।फिर बड़े चाचा कपड़े पहनकर बाहर चले गये.

थोड़ी देर चुदाई होने के बाद मैंने पूरा लंड जोर लगाकर धकेल दिया और उसकी चूत ने मेरा पूरा लंड ले लिया. पहले तो कुछ देर मैं रोती रही … चिल्लाती रही लेकिन 6 से 7 मिनट बाद मेरा दर्द गायब हो गया. वीडियो में सेक्सी चुदाई वालीमैं अपना हाथ धुलाई कर ही रहा था कि तब तक वो‌ लड़कियां भी टंकी के पास ही आ गईं और मेरी रगड़ाई शुरू हो गई.

वो मद्धिम आवाज में बोली- भैया उठो ना!मैं उसकी आवाज सुन कर झट से उठा और कुछ कहने को हुआ ही था कि तभी उसने मेरे मुँह पर हाथ रख दिया.

लेकिन नाइटी उतरने से मुझे मालूम हो गया कि उन्होंने नीचे से कुछ नहीं पहना था. होंठ सुर्ख लाल, सुंदर चेहरा, गदराया हुआ जिस्म देख कर बस लार ही टपक पड़े.

उन्होंने बिस्तर पर अपनी टांगों को और फैला दिया और लगभग अपनी पीठ के बल लेट गयी. मैंने तो उसके अच्छे के लिए ये किया था मगर स्थिति अब उलट गयी थी, क्योंकि मेरा उसकी साड़ी को कील से निकालना हुआ और उसका पीछे मुड़कर देखना हुआ. उसकी आग देख कर लग रहा था कि ये लंड को लीलने के लिए हद से ज्यादा बेताब है.

शायरा नंगी थी इसलिए मुझसे शर्मा रही थी क्योंकि उसको तो मैंने पूरी नंगी कर दिया था.

उसने अपने मोटे लंड को मेरी गांड के छेद पर लगा कर अन्दर डालने का प्रयास किया और साथ में तेल की बोतल से तेल भी गिराने लगा. वो थक कर फर्श पर बिछे कालीन पर ही लेट गई और मैं भी उसके बाजू में लेट गया. लेकिन उसके लिए प्रशिक्षित मसाजर से मेडिकल मसाज लेना या सीखना ज़रूरी है.

मा बेटे की चुदाई कहानीमगर मैंने उसे कह दिया कि बाद में करेंगे रात को!अब मैं चुदाई वाली कहानी को रोककर कुछ और बातें आपको बताना चाह रही हूं. सास दामाद Xxx कहानी में मैंने अपनी ससुराल में अपनी सास को ब्लू फिल्म देखकर चूत में उंगली करते देखा.

बीएफ वीडियो भोजपुरी देहाती

मैं भी अपनी उंगली को तेजी से अंदर बाहर करने लगा।मीना मज़े में अपनी चूची दबा रही थी और उसकी आंखें बंद थीं. अब तक आपने इस हॉट भाभी डबल चुदाई कहानी के पहले भागनशीली भाभी की डबल चुदाई की चाहमें पढ़ा था कि बिस्तर पर चित लेटी हुई न्यासा अपने दोनों हाथों में हम दोनों के मोटे लंड पकड़ कर सहलाते हुए एक मस्तानी रांड सी दिख रही थी. शादी के बाद प्रारंभ में तो हमारी सेक्स लाइफ अच्छी चली किंतु बच्चे होने के बाद धीरे धीरे नीरसता आने लगी.

भाभी को मैंने पहली बार साड़ी में देखा था, तो मैं इतना नहीं समझ सका था कि भाभी जी इतनी बिंदास होंगी. इसके बाद अनु उर्फ अनिता ने अपने घर में ही अपने नामर्द पति कमल के सामने मुझसे अपनी चुत चुदवाई. इस पर सुनील ने मुस्कुराते हुए अपना पेग उसकी ओर बढ़ाया तो दीपा ने एक सिप उसमें से ले लिया.

अब मकान मालकिन की उम्र में तो महीना आने से रहा, बाकी रही शायरा? वो पैड जरूर शायद उसका ही इस्तेमाल किया हुआ हो सकता था. हमारी बेटी ही थी, जिसकी वजह से हम दोनों एक दूसरे का साथ निभा रहे थे. डेली सेक्स की कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी जवान पार्टनर लड़की को चोद चुका था.

कुछ देर सर ने मेरे चूचों को चोदा, फिर उन्होंने मुझे उल्टा कर मुझे डॉगी बनने को बोला. चाय के साथ साथ मकान मालकिन अन्दर से एक पर्स भी लेकर आई थीं उन्होंने वो मुझे दिखाते हुए कहा.

वर्षों से मैं अन्तर्वासना मंच से जुड़ा हूँ, अंतरवासना मंच में मेरी कहानियों को आप सब पाठकों तक पहुंचाया।मेरी पिछली कहानी थीअस्पताल में मिली शादीशुदा लड़कीयह कहानी टीचर एंड स्टूडेंट सेक्स स्टोरी है.

फिर मेरी चूत में लंड को पेलते हुए वो बोला- भाभी, आपको एक सरप्राइज़ दूं?मैं कुछ होश में आकर बोली- क्या सरप्राइज़?तभी उसने मेरे पति का आवाज लगाई. सेक्सी पहाड़ी वीडियोन जाने कैसे उसने मुझे देख लिया और वो एकदम से घबरा कर अपने बदन को ढकने लगी. करिश्मा कपूर की सेक्सी ब्लूमैंने उससे कहा- वैसे अगर तुम्हारे पास थोड़ा सा टाइम और हो … तो मैं एक बार और चुदाई करना चाहूंगा. कुछ लड़के तो ऐसे भी होते हैं कि लड़की पटाई, उसे चोदा और फिर किसी दूसरी की तलाश शुरू।और फिर लड़कियाँ भी कम नहीं होती हैं.

वे दोनों हंसने लगे और बोले- इतनी आसानी से नहीं चोदेंगे तुझे … तूने हमें बहुत तड़पाया है.

मैं उसके कान की लौ को चूमते हुए बोला- बेबी, आज तुमको बहुत मजा आने वाला है. मेरी पिछली सेक्स कहानीपंजाबी लंड से शहर में जिस्म की आग बुझाईमें आप लोगों ने पढ़ा होगा कि कैसे मैंने अपने पति के मैनेजर के साथ अपने जिस्म की प्यास बुझाई, उसके दोस्त के साथ किस तरह ग्रुप में चुदाई की।दोस्तो, अगर आपने मेरी पिछली सेक्स कहानी अच्छे से पढ़ी होगी तो आपको पता होगा कि मैंने और सुखविन्दर ने किस तरह चुदाई का पूरा मजा लिया. मेरे दिमाग में उनके चूचे इस कदर घुस चुके थे कि उनको सोच सोच कर मैंने कई बार मुठ मार चुका था.

और तभी संजना ने मेरे एक हाथ पकड़ कर अपने दूध पर रख दिया और अपने हाथों से मेरे हाथ दबाया और अपने दूध मिंजने लगी. मेरी पिछली कहानी थी:भाभी और ननद की हिंदी सेक्स स्टोरीआज मैं आपके सामने एक फ्री इंडियन Xxx कहानी प्रस्तुत कर रहा हूं. मैंने उससे खास बात नहीं की क्योंकि मेरे मन में अभी भी उसकी बातों के घाव थे.

सेक्सी बीएफ हिन्दी

मगर मेरा तो अभी आधा ही काम हुआ था, तो मैं अपना हाथ उसकी चूत के पास लेकर गया. हम दोनों की नजरें आपस में एक‌ बार तो टकराईं … मगर फिर अगले ही पल उसने अपनी नजरें वापस टीवी की ओर घुमा लीं और मूवी देखने लगी. मेरा भतीजा रोज़ रात मेरे कमरे में आता और मेरे हाथ पैर दबाता और मालिश करता.

जब वो दोनों हाथ उठा कर कुत्ते की तरह मुझे देखता, तो मैं उसे सहला देती और उसके लंड को भी.

’ की मधुर ध्वनि के साथ लंड को अपने अन्दर समाहित करने का प्रयत्न किया.

उसी दौरान प्रियंका की लम्बी टी-शर्ट भी ऊपर को उठ गई थी, जिससे मुझे उन दोनों की गांड के दर्शन हो गए थे. इतनी ठंड में मैंने बाइक से कॉलेज जाना सही नहीं समझा और घर वापस आने का मन बना लिया. मलयालम सेक्सी पिक्चरचड्डी उतारते ही उसका काला-काला, तना हुआ लंड मेरी नजरों के सामने लहराने लगा था.

यह मेरी लाइफ का पहला किश था मेरे सारे शरीर पर झुरझुरी होने लगी … वो अहसास मुझे आज तक याद है. राहुल ने बिना देर किए धक्का लगा दिया … और फच करते हुए लंड गांड में घुस गया. उसके बाद उसने मुझे धक्का देकर बिस्तर पर गिरा दिया और मेरे पैरों में फंसी मेरी जींस को खींच कर मुझे केवल चड्डी में छोड़ दिया.

मगर बाहर बहुत गर्मी थी … इसलिए कुछ देर बाद वो भी दुकान में ही आ गयी. डॉक्टर मेरे मुँह के पास आकर लंड को होंठों के ऊपर रगड़ने लगा, मेरी जीभ बाहर आ गयी और उसके सुपारे पर चलने लगी.

चुदाई देखते हुए मुझे भी लण्ड चुसवाने में मजा आने लगा था। थोड़े देर लंड चुसवाने और मुँह की चुदाई की बाद मैंने कुछ नया करने का सोचा।मैंने सौरभ के मुँह से लंड निकाला और मालविका के पास चला गया। मैं मालविका के पीठ पर किस करने लगा.

आएगी तो नंगी ही!ये कह कर प्रियंका ने उसकी तौलिया को अपने दीवान के गद्दे के नीचे रख दिया. उसके रंग रूप में मैं इतना खो गया था कि कुछ देर तो बस उसे देखता ही रह गया, पर मेरे ऐसे देखने से शायरा शर्मा गयी और अपने हाथ पैरों को सिकोड़कर उसने अपने बदन को छुपा लिया. इसलिए तो मैंने कमल से ले लिया … ताकि तुम दोनों भी इसका मजा लेकर देखो.

वाटर सेक्सी वीडियो मैं छू कर देखना चाह रही थी, पर डॉक्टर ने मेरा हाथ पकड़ लिया और एक बार फिर लंड को चूत के अन्दर उतनी ही बेरहमी से घुसेड़ दिया. वो मेरा फूला हुआ लंड देख कर बोली- हाआ … इतना बड़ा … ये तो फिल्म जितना ही है.

दिव्या की बात सुन कर भाई ने मुझे एक पेड़ से सटा दिया और मुझे जोर से चोदने लगे. मैंने मुँह से तो कुछ नहीं कहा … मगर अपना बायां हाथ उठाकर सीधा शायरा‌ के बाएं कंधे पर रख दिया. हम दोनों ने ही अब पूरी जी-जान लगा कर चुदाई करना शुरू कर दी थी, जिससे मेरी और शायरा की सांसें अब फूल गयी थीं.

बढ़िया बढ़िया सेक्सी बीएफ

बदले में मैं भी उन्हें अपनी चूचियों और चूत की फोटो, उंगली करते हुए वीडियो भी भेजती।एक रात मैं एक लड़के से चैट कर रही थी मुझे पता चला कि वो इंडियन है।वो मेरे बेटे के जैसे था. क्योंकि ज्यादातर लड़के तो उस भँवरे की तरह होते है जो फूल पर बैठकर रस चूसा और उड़ गये किसी दूसरे फूल की तलाश में!हाँ तो दोस्तो … रोहित धक्के पर धक्के लगा रहा था. सोनाली की चीख और आँसू एक साथ निकल रहे थे।सौरभ बेरहमी से गांड चुदाई कर रहा था, उसे बहुत मजा आ रहा था। मैं और मालविका चुदाई देख रहे थे.

हम एक दूसरे के रस को चाट चाटकर पी गए।फिर थोड़ी देर बाद हम दोनों ने एक दूसरे को फिर से तैयार किया. एक दिन मेरा एक दोस्त कमरे में चुदाई वाली डीवीडी लेकर आया और देखने के बाद हम दोनों ने खूब लंड हिला कर मुठ मारी.

फिर सर ने मेरे मम्मों को दबाते हुए अपना लंड मेरी चूचियों की घाटी में फंसा दिया.

उसने अब हकलाते हुए बड़ी ही मुश्किल से कहा और मैं शायरा की हलात देखकर मुस्कुराता रहा. चुदाई देखते हुए मुझे भी लण्ड चुसवाने में मजा आने लगा था। थोड़े देर लंड चुसवाने और मुँह की चुदाई की बाद मैंने कुछ नया करने का सोचा।मैंने सौरभ के मुँह से लंड निकाला और मालविका के पास चला गया। मैं मालविका के पीठ पर किस करने लगा. मेरा मन कर रहा था कि अभी जाकर अपने मुँह में मामी की गांड को भर लूं और सुबह तक चाटता रहूं.

प्लीज़ जल्दी करो!ये दारू का नशा था जो पूजा स्खलित होने के लिये लालायित थी. मैंने उसका शुक्रिया अदा करते हुए कहा- बहुत सालों बाद मैं इतनी चुदी हूँ. फिर शायद अभिषेक को ये जगह पसंद नहीं आई, तो वो मुझे और क्रीम लेकर बाहर आ गया और दूसरे कमरे देखने लगा.

” कह के अंजू ने मेरे होंठ चूस लिए।शराब शुरू हो गयी। एक पेग खत्म हुआ तो मम्मी ने उपिन्दर की पैंट उतार दी।मालिनी, जब पर्दा खोला है तो अंडरवियर पे एक चुम्मी तो बनती है.

बीएफ सेक्सी हिंदी मूवी एचडी: रेखा की गर्दन पर मैंने चुम्बन किया तो कसमसा कर बोली- छोड़ो विजय कोई आ जायेगा. अब लंड और जल्दी जल्दी अंदर बाहर होने लगा।उसकी चूत से निकले पानी ने मेरा लंड और मेरी जांघें तक भिगा दीं.

फिर जब मेरा थोड़ा दर्द कम हुआ, तो उसने मेरे होंठों को छोड़ा, जो कि कट गए थे और उसमें से हल्का खून भी बहने लगा था. धीरे धीरे मेरे लौड़े ने हरकत शुरू कर दी थी।वो मेरे लंड की ओर देख रही थी. पहले तो कुछ देर मैं रोती रही … चिल्लाती रही लेकिन 6 से 7 मिनट बाद मेरा दर्द गायब हो गया.

वो नीचे आकर सीधे मेरी चिकनी कामरस से भीगी चुत को सीधे खाने का प्रयास करने लगा.

आप इस डिल्डो Xxx कहानी के बारे में क्या विचार रखते हैं? क्या किसी पुरूष मित्र को भी मेरे जैसा अनुभव है जिसने कभी किसी लड़की से गांड चुदवाई हो? यदि है तो मुझे जरूर बतायें. उसकी सिसकियों की कामुक आवाज सुन सुन कर मैं अपने बेड से उठकर उनके दरवाजे पर ऐसा खिंचा चला आया मानो कोई नाग सपेरे की धुन को सुन कर आपने बिल से निकल कर सपेरे के पास जा खड़ा होता है!उधर अमित पूजा के जिस्म से एक एक कपड़ा उतार रहा था इधर मैं पूजा को नंगी होती देख देख कर खुद ब खुद नंगा होता जा रहा था. कुछ ही देर में ज़ारा- जा … न … मैं … आ … रही हूं!कहते कहते झड़ गयी और नीचे होने लगी.