इंग्लिश में सेक्सी बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,ভাই বোনের চুদাচুদি ভিডিও

तस्वीर का शीर्षक ,

राजस्थानीसेक्सी वीडियो: इंग्लिश में सेक्सी बीएफ वीडियो, अचानक मैं रात को जगा तो देखा दीदी गहरी नींद में सो रही थीं और उनकी मैक्सी घुटनों से ऊपर आ गई थी.

सौतेली मां का सेक्सी वीडियो

पर मुझे तो उनके बदन पर हाथ लगाने का नशा हो गया था, मैं फिर उनसे चिपक कर उनके मम्मों पर हाथ लगाने लगा. क्सक्सक्स हॉट मूवीहम दोनों चुदाई करने लगे और मैं चिल्ला रही थी कुछ दर्द से तो कुछ आनन्द से!हमने बहुत देर तक चुदाई की और फिर झड़ गए.

जब मैंने दरवाजा खोलने की कोशिश की तो पता चला कि दरवाजा अन्दर से लॉक है. एक्स वीडियो बिहारीलेकिन मैं आज आपको थैंक्यू कहने आई हूँ, क्योंकि आपने मेरी चूत फाड़ दी और आज मुझे अपनी मटर की लुल्ली दिख रही है.

मेरी इस सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा था कि मेरा बॉयफ्रेंड अवी मुझे अपनी बांहों में भरे हुए था और मुझे बेतहाशा चूम रहा था.इंग्लिश में सेक्सी बीएफ वीडियो: कुछ मिनट के बाद साफ सफाई करके मैंने अपने कपड़े पहने और घर जाने के लिये तैयार हो गया.

मोना देखकर हैरान रह गई और पूछने लगी- इसका क्या करोगे जानू?आनन्द कुछ बोले बिना ही जैम को मोना के स्तनों पर लगाने लगा.मैंने कहा कि मैंने तो आपको नहाते हुए देखा है, फिर क्यों शर्मा रही हो?दीदी बोलीं- उस दिन मैंने पेंटी तो पहन रखी थी.

मोटी चूत चुदाई - इंग्लिश में सेक्सी बीएफ वीडियो

मुझे लगा जैसे मेरी वीडियो बना रहे हैं या फोटो खींच रहे हैं।तभी भाभी के पापा ने अपने दोस्त को बोला- राजेंद्र देख, आरती की हेल्प कर, क्या चाहिए उसे।वो दौड़ कर आये और बोले- आरती, मैं राजेंद्र मिश्रा, मैं तुम्हारी भाभी के पापा का भाई भी हूँ दोस्त भी तुम बुरा मत मानना, एक बात बोलूं तुम बहुत खूबसूरत हो! मैंने आज तक इतनी सुन्दर लड़की नहीं देखी है।मैंने कहा- थैंक्स अंकल!और थोड़ा मुस्कुरा दी.मैं पूरा का पूरा उसे पी गया, मुझे एक अजीब सी मदहोशी आने लगी और मेरा लंड और तन गया.

उन्होंने देखा कि मयूरी ने उनके पिता को पूरी तरह से अपने काबू में कर लिया है. इंग्लिश में सेक्सी बीएफ वीडियो बाद में मैंने अलग हुआ तो हल्का सा खून भी था, मैंने उसे प्यार से चूम लिया.

उन दोनों में चुदाई बहुत दिन बीत जाने के बाद भी नहीं के बराबर होती थी.

इंग्लिश में सेक्सी बीएफ वीडियो?

मैंने कुछ ग़लत कह दिया?मैं उसे नाराज़ नहीं करना चाहती थी तो मैं उसे मनाने लगी।वो- चाची प्लीज़ मुझे आपके साथ करना है. अगले ही दिन मैंने एक बहुत नामी कम्प्यूटर इंस्टिट्यूट के मालिक से बात पक्की की जिसने एक-आध दिन पहले ही सुबह 10 से 2 टाइमिंग का नया बैच शुरू किया था और उसी शाम को थोड़ा अँधेरा हुये मैं अपनी कार पर प्रिया को लेने प्रिया के घर जा पहुंचा. मैंने भी अपने कपड़े उतार दिए और मैं भी वर्षा की प्यास बुझाने में लग गई.

वैसे एक बात बता तू आजकल मेरे घर क्यों नहीं आता? और न ही मेरा फोन उठाता है. भाभी ने पूछा- और किसने ये सीडी देखी है और क्या चाहते हो? ब्लैक मेल करना चाह रहे हो?मैंने कहा- भाभी, आप इस सोसाइटी की सबसे नेक औरत हो, किसी की तकलीफ में सबसे पहले आप आती हैं, इसलिए उसे तो आप अपने दिमाग से निकाल लें. कुछ देर ऐसे ही चुदाई करते करते हम दोनों एक साथ झड़ गए और निढाल होकर लेट गए.

वो दिल्ली में बड़ी पुलिस अफसर थी पर विक्रांत को बहुत साल पहले से चाहती थी. या अदिति बेटा… यू आर आल्सो ए रियल जेम… सच ए नाईस टाइट कंट यू हैव इन बिटवीन योर थाइस!” मैं भी मस्ती में था. अंधेरे का फ़ायदा लेते हुए मेरी बहन उस लड़के के लंड के साथ खेलने लगीं.

शादी में जाने के कारण उसने लिपस्टिक, बिंदी, काजल और न जाने क्या क्या मेकअप किया हुआ था. मोना- ये क्या कर रहे हो आप? अभी तो मेरी लेग की कुछ एक्सरसाइज बाकी है.

मैंने उसे मना किया- तुम ये क्या कर रहे हो?पर मैंने ज्यादा विरोध नहीं किया, बस उसको यूं ही मना करती रही.

पर जब तक वो जिन्दा थे, उसको चुदाई का मजा सबसे ज्यादा तभी आता था, जब उसके पिता और पति दोनों एक साथ उसको जोर जोर से चोदते थे.

ये सोच कर मैंने अवी से कहा- देखो आस पास कोई बाहर तो नहीं और अपनी कार का दरवाजा खोल दो, जहाँ मुझे बैठना हो और ये लो ताला और मेरे निकलने पर बंद कर देना. पीछे से उसकी गांड इतनी मोटी थी कि क्रिकेट के बल्ले का निचला सिरा भी डाल दें तो उसकी गांड जस की तस रहे. फिर थोड़ी देर बाद मैंने अपने रूम में जाकर पहली बार भाभी को याद करके मुठ मारी.

यहां मैं बताना चाहता हूं कि मुझे मेरी बीवी के बारे में पता पहले चला था कि उसका जो ये साथी है, वह उससे काफी खुल चुकी है. मेरा अंदाजा गलत निकला था कि उसकी डील डौल के हिसाब से उसे तकलीफ कम होगी. करोगी?मैं- हां कर दूंगी बताओ क्या काम है?अमित- यार तुम्हारे घर के पास एक होटल है.

आकर खा लीजिये।”मधु ने फिर मेरी तरफ देखा और बोली- तुम माँ जी को खिला दो। हम बाद में खाएंगे.

निवेदन है कि सभी पाठक गण अपनी अपनी प्रतिक्रिया, सुझाव इत्यादि नीचे लिखी मेरी ई मेल आई डी पर जरूर भेजें. ये उन्होंने मुझे बाद में बताया ताकि चाची मुझसे पूछें तो मैं उनको यही बता सकूँ. उन्होंने मुझसे पूछा- तुम ये क्या कर रहे हो?मेरी तो बोलती बंद हो गई.

मजाल क्या थी साहब जो किसी भौजाई को टच कर सकूं लेकिन भौजाइयां होती ही ऐसी हैं, जिनके एक एक शब्दों से लंड खड़ा होकर, गोटियों से 135 डिग्री का कोण बना लेता था. मैं भाभी के ऊपर जाकर लेट गया और उनकी चुचियां मसलते हुए उनको किस करने लगा. ”सभी हैरान थे क्योंकि गोलू का लंड केवल चूसने पर ही खड़ा होता था और हर 2 मिनट में उस जरा जरा सी सु सु आती थी और फिर से ढीला हो जाता था.

इस बार उसने मुझे अपने ऊपर लेकर चोदा और शाम चार बजे तक संजय ने मुझे 3 बार बेड पर चोदा.

अगले दिन मैंने रुबीना की मम्मी से पर्मिशन ली और शॉपिंग का कहकर रुबीना को अपने साथ ले लिया. फिर कुछ देर मैंने उसे ऐसे ही चोदा, वो अब तक दो बार झड़ गई थी, पर मेरा रस निकलने का नाम ही नहीं ले रहा था.

इंग्लिश में सेक्सी बीएफ वीडियो मेरे हाथ उसके नितम्बों पर जा पहुंचे, उसके गोल गोल गुदाज नितम्बों को मुट्ठी में भर भर के मसलने दबाने का मजा ही अलग आया. मैंने एक ज़ोर का झटका दिया और मेरा लंड पूरी तरह उसकी बुर में घुस गया.

इंग्लिश में सेक्सी बीएफ वीडियो बातचीत जान पहचान के बाद मुझे पता चला कि भैया की फैमिली एक महीने बाद आने वाली है. मुझे शीशे में उसके चेहरे के भाव और उसके हिलते हुए मम्मे नज़र आ रहे थे.

मतलब घर का कोई कोना ऐसा नहीं छूटा, जहां संजय ने मेरी चुदाई ना की हो.

कान के दर्द की दवा

भाभी ये देख कर बोलीं- रवि ये कैसी मूवी लगा दी है तुमने?मैंने भाभी के नजदीक जाकर कहा- भाभी मैं जानता हूँ कि आप भी इस भाभी जैसे प्यार की प्यासी हो. वैसे तो गांव की देसी लड़कियां मेकअप नहीं करतीं मगर कुदरत का करिश्मा होती हैं. तो मैं क्या करूँ?वो- दीदी मुझे आपको नंगी देखना है प्लीज़ एक बार।मैंने सोचा शायद इस लौंडे को मुझ पर प्यार आ गया है। मेरी भी जवानी मुझे कुछ हरामीपन करने को खींचने लगी।मैं- ओके, ठीक है।मैंने झट से अपने कपड़े उतार दिए.

मैं- दीदी आपकी खुशी की और मेरे ये सब कुछ करने की एक ही वजह है, करण, उसी ने मुझे आपके और अमित के बारे में बताया था, वो तो अमित को जान से मारने वाला था लेकिन मैंने उसको समझाया और आपको एक बार अमित से शादी की बात करने को बोला और फिर आपसे कुछ दिन का टाइम माँगा ताकि हम अमित की पोल खोल सके आपके सामने. कुछ देर में भाभी अपने देवर की कमर पकड़ कर अपनी चूत पर और तेज धक्का देने में मदद करने लगीं, साथ ही उनकी देह अकड़ने लगी, तो मैं समझ गई कि वो अब निकलने वाली हैं. मैं जब भी कॉलेज जाता था तो वो पीछे के दरवाजे से मुझे स्माइल देती थी और मैं उसे देख कर चला जाता.

अब भाभी के तड़पने की बारी थी, भाभी बोलीं- प्लीज़ अब डाल दो ना अन्दर और मत तड़पाओ.

वो बुरी तरह से चीख पातीं कि उससे पहले मैंने अपने हाथों से भाभी का मुँह बंद कर दिया, मेरा आधा लंड भाभी की गांड में घुस गया. ईईई…”ममता जी बुदबाते हुए मुझे पकड़ने की कोशिश करने लगी मगर मैं थोड़ी सी जबरदस्ती करके उनकी रजाई में घुस गया और उनके मखमली नंगे बदन से चिपक गया…मेरे नंगे बदन का अपने नंगे बदन से स्पर्श होते ही ममता जी सिहर सी गयी… न. उसके बाद बहुत प्यार से उसको फँसाना, तब आएगी दिव्या रानी हमारे लंड के नीचे.

दीदी तीन दिन हुए अब भी कभी कभी मेरी चूत में मस्त मस्त ठंडी ठंडी लहरें उठ रही हैं, जो मुझे इतनी ठंडक देती हैं कि मैं बता नहीं सकती. थोड़ी देर वहाँ पर मालिश करने के बाद चाची ने कहा कि थोड़ा और ऊपर लगाओ, वहाँ ज्यादा हो रहा है. वो बोले- अब मेरा लंड रस निकलने वाला है!और बड़े जोश में मेरे कंधे को पकड़ कर बोले- आरती, ले अब!और जम के धक्के मेरी गांड में लगाते हुए अपना गरम वीर्य मेरी गांड में भर दिये.

वह बोला- अबे यार, मैं भी तेरे पर मरता हूं, पर अभी तेरी नहीं मारूंगा. मैं पुणे में रहता हूँ और अभी सेकेंड ईयर में हूँ, उसी के साथ मसाज पार्लर में भी जॉब किया था, ताकि पढ़ाई के लिए थोड़े पैसे मिल जाएं.

जैसे ही मैं अपने घर पहुंचा उसका मैसेज आया- अच्छा हुआ तू चला गया क्योंकि तेरे जाते ही मम्मी आ गई थीं!फिर कुछ दिन ऐसे ही निकल गए. सुबह कॉलेज की ओर निकलते टाइम मैंने उससे कहा कि सोनी मैं आज 2 बजे तुझे कॉलेज से लेने आऊंगा, अगर तू नहीं आई तो सबके सामने से आकर तुझे ले जाऊंगा. इसका लिंक भी भेज रहा हूँ, जिन्होंने नहीं पढ़ी हो, वे प्लीज़ एक बार इस कहानी का मजा जरूर लें.

माया ने अंकित का लंड अपने मुँह से बाहर निकाला और अंकित के टट्टों को अपने मुँह में भर लिया.

मेरी उम्र 21 साल की है, मेरा नाम आसिफ़ ख़ान है और मुझे प्यार से सब चीकू बोलते हैं. अदिति बेटा, तू इतनी बदल कैसे गयी, पहचान में ही नहीं आ रही आज तो?”अच्छा, ऐसा क्या दिख रहा है मुझमें जो पहले नहीं दिखाई दिया आपको?” बहूरानी जरा इठला कर बोली. वो मेरे लण्ड को धीरे धीरे सहलाने लगी। फिर मैंने उसको मेरा लण्ड को मुँह में लेने को कहा.

मंजरी की भी हालत बहुत खराब हो रही थी, वो भी आँखें बंद किए बस ‘आह, आ… स्स… उफ़्फ़…’ ही बोल पा रही थी. हां बेटा?”जब ट्रेन किसी छोटे स्टेशन पर पटरियाँ चेंज करती है तो कितनी मस्त आवाजें आती हैं न…” बहूरानी जी अपनी चूत मेरे लंड पर धीरे से घिसते हुए बोली.

फिर बहूरानी जी मेरा लंड यूं अपनी चूत में घुसाये हुए मेरे ऊपर शांत लेट गयी. तभी मानवी भाभी बोली- आपने मेरी हेल्प की इसलिए आज से हम दोनों दोस्त हैं. और जोर से चोदने की मांग करते हुए मेरी पीठ में अपने नाखून चुभाने लगी.

डॉगी और लड़की का सेक्स

तभी उसने बोला- यार चीकू मेरे से शादी करेगा?मैं एकदम से चौंक गया और मुझे ऐसा लगा जैसे बिना माँगे सब कुछ मिल गया हो.

उनकी कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई तो मैं उनकी नाइटी को धीरे धीरे ऊपर उठाने लगा और जो भी जगह दिखती जाती, वहाँ चूमने लगा. ”तुम खुद क्यों नहीं खाते अपना चॉकलेट?”ये तुम्हारे लिए बना है, मेरे लिए तो तुम्हारी चूत पर परोसा जाएगा. पर इस बार उसकी चूत हल्की चिपचिपा रही थी, मैं उसकी चूत में अपनी एक उंगली डाल कर अंदर बाहर करने लगा और कविता की सीत्कारें आ…ह आह आह… आवाज तेज हो गयी.

मैं भाभी के मुँह से चुदाई शब्द सुन कर घबड़ा गया, पर देखा कि भाभी पूरी तन्मयता से अपनी कहानी कह रही थीं- सुनिधि भाभी जवान थीं. शायद उन्हें भी पता था कि मेरा ध्यान उन्हीं पर है, इसलिए वो जानबूझ कर ऐसी हरकतें करती थीं, जिससे मेरा ध्यान उन पर जाए. सेक्सी वीडियो मां बेटे की चुदाईउन्होंने बताया कि वो और उनकी पत्नी साथ में ही अन्तर्वासना साइट पर कहानियाँ पढ़ते हैं.

वह बोली- क्या देख रहे हो?मेरे मुंह से निकल पड़ा- एकदम पटाखा माल देख रहा हूँ!वह बोली- अच्छा!मैं- हां जी, क्या माल लग रही हो! क्या किया इतने दिन में!वह- कुछ खास नहीं!फिर मैंने उसे डांटना शुरू कर दिया- कितने टाइम से रुक कर इन्तजार कर रहा हूँ. मैं निराश मन से बाइक स्टार्ट करके जाने की सोच ही रहा था कि उतने में सोनी अपनी एक फ्रेंड के साथ आई.

तब तक उसने मेरा लंड ऊपर से ही सहलाया, फिर उसने मेरी पैंट निकाल दी और उसके बाद मेरी शर्ट निकाली।जैसे ही उसने मेरा कच्छा निकाला, उसने झट से मेरा लंड मुँह में भर लिया और पागलों की तरह चूसने लगी. उनका हंसना मुझे समझ नहीं आया, मैंने कहा- अगर ऐसी कोई बात है तो मुझे भी बताओ, मैं भी हंसूँ?तब उन्होंने हिचकते हुए कहा कि वो हमेशा मेरे सर की बाम से मालिश कर देते हैं. अवी ने बताया था कि कम से कम 25 से 30 लोग आएंगे, तब मैं और स्वाति दूसरे रूम में चली गईं, ताकि ड्रेस बदल सकें.

अपनी चूत पर भी थूक लगाया और लंड पर धीरे धीरे बैठने लगींमुझे बहुत दर्द हो रहा था. तब तक के आपसे विदा चाहती हूँ। मुझसे अपने विचारों को साझा करने के लिए ईमेल कीजिएगा. उसने मेरी तरफ देखा भी नहीं, वो मम्मी से बोली- मम्मी, हम फ़िल्म देखने जा रहे हैं, दोपहर का खाना भी रेस्टोरेंट में खायेंगे.

सबने मेरी तारीफ की फिर मैं प्रिया के पास जा कर बैठ गया, तो उसने मुझसे बोला- तुम सच में डांस अच्छा करते हो.

इतने में वो उठ गईं और बोल पड़ीं- यह क्या कर रहा है तू?मेरे तो जैसे होश उड़ गए. तभी पहले दोस्त ने पदमा की गांड को हाथों से उठा कर थोड़ा थूक उंगली से लेकर गांड के अन्दर डालकर लगा दिया और उसके न न करने पर भी उसकी गांड को जोर की झापड़ लगा दिया.

फोन पर ही उन्होंने मुझसे ये सब बताते हुए पूछा- आपको चुनने का एक कारण और ये भी है कि हम अगले हफ्ते आपके शहर सूरत में एक शादी में सम्मलित होने आ रहे हैं तो आपकी क्या राय है?मैंने उनसे कहा- मैं आपकी बात समझता हूँ पर पहले मैं आपकी बीवी से पूछना चाहता हूँ कि वो भी ऐसा ही चाहती है. फिर मैं नीचे चली आयी और सो गई।इसी तरह अब तक भी वो मौक़ा मिलते ही मुझे चोदते हैं। पर अब इतना टाइम नहीं मिलता उनसे चुदवाने का।आप लोगों को मेरी यह पोर्न स्टोरी कैसी लगी, मुझे अपने विचार मेल करें![emailprotected]. उसके कदम और तेज़ हो गए, लेकिन उस्मान एकदम से भाग कर उसके सामने आ गया.

क्योंकि जो हुआ, उतना प्यार और प्रेमरस का पान जिंदगी में कभी किसी को नहीं मिला होगा. जब मुझको लगा कि उसका दर्द कुछ कम हुआ है, तो मैंने बहुत धीरे धीरे अपना लंड हिलाना शुरू किया ताकि उसकी चूत मेरा लंड खाने लायक चौड़ी हो जाए. और माल लग रही है, मेरा मन कर रहा है कुछ करने का तेरे साथ!वह पूछने लगी- क्या करने का मन कर रहा है!मैं बोला- वही… होंठों से लेके नीचे तक का सफर!वह बोली- पागल हो गए हो तुम शायद?मैं- फ़्लर्ट करने लग गया हूँ तेरे प्यार में!वह- अच्छा तो चलो कहीं लेकर!फिर मैंने जल्दी से अपने दोस्त को कॉल किया, बोला- भाई रूम का जुगाड़ जमा!उसने दस मिनट में रूम दिलवा दिया.

इंग्लिश में सेक्सी बीएफ वीडियो ऐसे करते करते कोई पांच छः मिनट ही बीते होंगे, मैं अपनी फुल मस्ती में था, कि कोठरी का दरवाजा धीरे से खुला और कोई साया भीतर घुसा और उसने किवाड़ बंद कर के मेरे पास बैठ गया. उसने मेरा हाथ अपने लंड पर अचानक से रखवा दिया और मैंने तुरंत ही अपना हाथ हटा लिया.

प्ले भाग लक्ष्मी डॉट कॉम लॉटरी

मेरी दीदी बहुत अच्छा शतरंज खेलती हैं सो मैं हार गया, मैंने सोचा कि ये मौका भी हाथ से गया. फ़िर मैंने उनके बाजू में रखी क्रीम की शीशी उठाई और अपने लंड के साथ साथ उनकी चूत पे भी क्रीम लगा दी. अब उसकी आवाज बाहर ना जाए इसलिए मैंने अपने होंठ छाया के होंठों पर रख दिए और फिर जोर से धक्का मारा.

उसने मुझसे पूछा कि साइज़ कितना है? मुझे थोड़ा अजीब सा फील हुआ, तभी भाबी ने अपना साइज़ 36 बताया. लगभग आधे घंटे यूं ही रोने में और एक दूसरे को संभालने में निकल गये, फिर मैंने उनका ध्यान भटकाने के लिए पूछा बाथरूम किधर है. बंगाली रेसिपीअह्ह्ह… ह्ह्ह्ह… उह्ह्ह्ह… ओह…’ उसके मुँह से मादक आवाजें निकलने लगीं.

तो चाचा को मैं फ़ोन करके बोली- आज मेरे घर कोई नहीं है!और वो मेरे घर आ गए, वो एक कोल्ड ड्रिंक लेकर आये थे.

मैंने अपना सर उठाया और उसकी आँखों में देखते हुए पूछा- तो भाभी चूत चुदवाओगी अब?वो बोली कि नहीं. कार को दीदी का बॉस दयाल ड्राइव कर रहा था और पीछे की सीट पर दीदी के ऑफिस के दो बड़े ऑफिसर राकेश और सतीश बैठे हुए थे.

क्या मस्त सीन था, ऐसा आज तक मैंने सिर्फ कंडोम के एड में ही लड़की को लंड के लिए इस तरह तड़पते हुए देखा था. मैंने उससे कहा- मैं झड़ने वाला हूँ, बोलो कहाँ निकालूँ?वो बोली- अन्दर ही डाल दो प्लीज!कुछ ही देर बाद मैं उसकी इंडियन चुत में ही झड़ गया और उसके ऊपर ही गिर गया. कुछ देर में उसने चूसना शुरू कर दिया और दाँतों से हल्के से दबा कर मेरे होंठों को चूस रहा था.

चुत पर हल्के हल्के बाल थे जो जीरो वाट के बल्ब में भूरे भूरे से दिख रहे थे.

मैं भी इसका फ़ायदा उठा कर बाइक को बार बार ब्रेक लगा रहा था, तो भाभी ने भी फटाक से पूछ लिया- आज ज्यादा मजे आ रहे हैं क्या. ये सुमित के मुँह से सुनते ही माया के होश उड़ गए सुमित तुम भी?”माया बस इतना ही बोल पाई. मैंने कहा- अच्छा मेरी जान ये बात है, तो अभी बताता हूँ कि तड़पना क्या होता है.

सेक्सी चूत वीडियो मेंवो बात ये है कि राहुल (उनका 5 साल का बेटा) स्कूल चला जाता है और तेरे चाचा अपने ऑफिस चले जाते हैं और शाम को वापस आते है, तो मैं दिन भर घर में अकेली बोर हो जाती हूँ और मेरा अकेले मन नहीं लग रहा था इसलिए तुझे बुला लिया. मैंने भी उसके बाल पकड़े और जोर का झटका लगाया तो मेरा लंड उसके गले तक उतर गया.

ब्लीच कैसे करते हैं

मैं- लेकिन मुझे ये ठीक नहीं लग रहा है, किसी गैर मज़हबी का हमारे साथ रहना, मेरा मतलब है कि क्या वो सैट हो पाएगा?शहजाद- अरे कोई नहीं, वैसे भी पंजाबी लोगों की लाइफ स्टाइल बिल्कुल हमारे जैसी ही होती है. मैंने एक पल की भी देर नहीं की और अपना मूसल लंड दीदी की चूत में पेल दिया. कैमरामैन हर तरफ से हम माँ बेटी की घूम घूम कर ब्लू फिल्म बना रहे थे.

मैं- लेकिन मुझे ये ठीक नहीं लग रहा है, किसी गैर मज़हबी का हमारे साथ रहना, मेरा मतलब है कि क्या वो सैट हो पाएगा?शहजाद- अरे कोई नहीं, वैसे भी पंजाबी लोगों की लाइफ स्टाइल बिल्कुल हमारे जैसी ही होती है. हर धक्के पे मोना के चेहरे पर प्यास और बढ़ रही थी और थोड़ी सन्तुष्टि का भाव भी दिख रहा था. लेकिन अगले ही पल ये ख्याल आया कि अगर मैंने कुछ कहा तो वो मेरी आवाज से मुझे पहचान लेगी फिर लज्जावश वो जिंदगी भर मेरे सामने नहीं आ पाएगी या कोई आत्मघाती कदम उठा ले जिसका मुझे जीवन भर पछतावा रहे… नहीं… चुप रहना ही उचित है.

फिर मैंने लंड की नोक को चूत के छेद पर सैट किया और जोर से धक्का दे दिया. फिर भाभी की चुत पर उंगली रख कर चूत सहलाई, भाभी को जैसे झटका लगा हो वैसे ही एकदम से उनकी सीत्कार निकल गई- उह्ह. ”अच्छा तुम अपनी चुन्नी, सलवार, कमीज़, ब्रा, पेंटी सभी कुछ उतार कर चेयर पर रख दो और गोलू तुम्हारी साइज़ की नाप लेके बताएगा कि तुम कितना सच बोल रही हो.

शीतल दीदी की मौसी और मौसा मौसी सुनीता 44 साल और मौसा पुनीत 46 साल के हैं. कुछ ही देर में दीदी की सिसकारियाँ फिर शुरू हो गई और जो हाथ मेरे बालों को कस के खींच रहा था, उसने मेरे सर को सहलाना शुरू कर दिया था और दूसरे हाथ ने मेरे हाथ को पकड़ कर तेज़ी से चूत में आगे पीछे करना शुरू कर दिया था, दीदी फिर से मस्ती में आ चुकी थी.

एक दिन दोपहर को टीवी देख रहा था और मानवी खुद नीचे आ गई और मुझसे कहने लगी- भैया, प्लीज़ आप मेरे साथ ऊपर चलेंगे?मैं- क्या हुआ भाभी?मानवी- सफाई करते वक़्त मेरे से टीवी का रिमोट बेड के नीचे गिर गया है और अब मुझसे निकल नहीं रहा.

मैं- क्या कमी है?अमित- जो क्रीम मैंने दो बार तुम्हें लगा कर मालिश की थी, अपने मम्मों पर यही हफ्ते में 2-3 बार लगाओ और अपने चूतड़ों पर लगाओ. सेक्स ब्लू हॉटभाभी ने झूठ मूठ का नाटक करते हुए कहा- यह क्या कर रहा है?भाभी ने मुझे धक्का दिया और खुद बेड से खड़ी होकर कोने में चली गई- हरामी बताती हूँ तेरी माँ को रुक. पंजाबी भाभी की चुदाई वीडियोअगले दिन उसका कॉल आया और मैंने उसका कॉल नहीं उठाया क्योंकि मैं उससे बहुत गुस्सा था. मैं भी नीचे से उनकी कमर पकड़ कर शॉट लगाने में जुट गया और उनके उछल रहे मम्मों को हाथ से पकड़ कर मसलने लगा.

मैं भी उसके गले लग गई क्योंकि मैं जान गई थी कि इस तरह मुझे देख के कंट्रोल करना आसान नहीं है.

जान बूझ कर कभी मैं अपनी चूचियों का सिनेमा दिखा देती, तो कभी चूत की एक झलक दे देती. फिर उन लड़कों से मेरी हाथापाई वाली लड़ाई हो गई और मेरे हाथ में से भी खून आने लगा था. मैंने दरवाजा खोला तो अवी ही खड़ा था!अब मैं क्या करूँ, कुछ समझ में ना आया.

चाची तड़फ कर लंड बाहर निकालने की क़ोशिश करने लगीं, लेकिन मैंने उनको जकड़ किया और उनके होंठों से होंठ चिपका कर उनकी चूचियों को मसलने लगा. हाय राम… क्या निप्पल थे यार… तनु, छोटी और फिर उसकी माँ सबके निप्पल और घेराव एक जैसे, हल्के भूरे रंग का घेराव और गुलाबी आभा लिए हुए चूचुक… वाह… क्या बात थी आंटी में!मेरी एडल्ट कहानी जारी रहेगी. दीदी बड़े ध्यान से मेरी बातें सुन रही थी- अच्छा, सच में तू मुझे इतना लाइक करता है?मैं- हाँ दीदी, बहुत लाइक करता हूँ, कब से सोचता था कि कब आपकी चूत मारने के मौक़ा मिलेगा, कब आपके साथ मस्ती कर सकूँगा, और आज मौक़ा मिल गया.

நியூ செஸ் வீடியோ

थोड़ी देर बाद गेट को किसी ने बजाया तो मेरे रूम पार्ट्नर ने दरवाज़ा खोला. मैंने उसे हटाने की बहुत कोशिश की लेकिन उसकी पकड़ से मैं आज़ाद नहीं हो पाया. फिर मेरे बार बार कहने पर वो बोली कि पहले आप सच बोलो, उस दिन आप जो लड़की खोज रहे थे वो अपने दोस्त के लिए नहीं बल्कि अपने लिए खोज रहे थे.

पर मैं अभी तक कुंवारी हूँ और शादी के बाद ही अपने पति के साथ सेक्स करना चाहती हूँ।मन ही मन मैं भी उसकी बहुत इज्जत करने लगा था इसलिए मैंने उसको कहा- जब तुम कहोगी.

उस समय मम्मी सीढ़ियों से गिर गयी थी तो उनकी पीठ में फ्रॅक्चर हो गया और दो महीने के लिए बेड-रेस्ट के लिए बोला गया इसलिए पापा ने दीदी को बुला लिया.

तो मैंने भी जिद नहीं की लेकिन उसे कहा- यार तू मेरा लंड चूस कर ही इसे शांत कर दे. वे दोनों आठ बजे से पहले ही स्कूटर ले कर निकल गए और पहले तो उन दोनों वे उसी तरह किसी निर्जन सड़क पर जाकर खूब चूमा चाटी की और तय कर लिया कि आज वो सब कुछ कर ही डालेंगे. एसएक्स वीडियोमैं बहुत खुश हो गयी थी क्योंकि हम गोवा जाने वाले थे… वो भी हनीमून के लिये।फिर रोहण ने हमारी 2 दिन बाद की गोवा की टिकट बुक करा दी थी और एक फाइव स्टार होटल में हनीमून स्वीट भी बुक करवा लिया था।रात में रोहण और मैंने खूब चुदाई की और अगले दिन शॉपिंग की, मेरे लिये साड़ी खरीदी और रोहण के लिये भी हमने कपड़े लिये.

अब मैं थोड़ा जोर से सिसकारियाँ ले रही थी क्योंकि चाचा अब मेरी चूची को बड़ी बेदर्दी मसल रहे थे तो मुझे दर्द हो रहा था और मुझे मजा भी आ रहा था. उसने आगे जारी रखते हुए कहा- अगर ये बात घर में पता चल जाए ना, तो मम्मी पापा तुझे मार मार के घर से निकाल देंगे. मैं भी देख लूंगा, आपको ये लौंडा मैंने दिलाया है, जिसकी गांड का आपने मजा लिया.

मैंने अपना लंड पूरा बाहर निकाला और उसके हाथ में दे कर उसको चूसने को बोला तो वो मना करना लगी. मैं- मैं तैयार हूँ चलो!सैम- अरे शालू ये बैग तो रख दो और रूम देख लो.

मैंने बोला- क्या हुआ?उसने बोला- पता नहीं, क्या मैं तुम्हारे गले लग सकती हूँ?मैंने बाँहें फैला कर बोला- ज़रूर…उन्होंने मुझे हग कर लिया.

मैंने एक शॉप से एक सेक्सी सी ड्रेस ली और सेक्सी सी ब्रा पेंटी का जोड़ा लिया. आज मैं अन्तर्वासना के माध्यम से अपना पहला अनुभव आप दोस्तों के सामने रख रहा हूँ. मैं उनकी फैमिली के साथ हिल मिल गया था, इस कारण मुझे भी अब अकेला महसूस नहीं होता था.

वीडियो ब्लू फिल्म दिखाइए उसके बाद एक दिन उसके घर वालों को कहीं बाहर जाना था, वो कोई बहाना बना कर रुक गई और उसने मुझे फ़ोन करके ये बात बताई तो मेरी तो खुशी का कोई ठिकाना ही नहीं रहा. मैंने फिर धक्का दिया, तो उन्होंने अपने नाख़ून मेरी पीठ में गड़ा दिए और होंठों को चूसने लगीं.

अब मैंने उन्हें उठाया और खड़ा करके उसके पैर को मेरी कमर से लगा कर मेरे लंड को उनकी चूत में दे मारा. पीछे से मेरा छोटा भाई भी आया और बोला- चलो भैया, उस दूसरे वाले झूले पर चलते हैं. बाँए हाथ से मेरी खुली पीठ पर बांई तरफ कंधे के पास रखा और मुझे अपनी तरफ खींच कर अपने सीने से लगा लिया.

शादीशुदा औरत को पटाने के तरीके

नाभि को चूमने से दीदी फिर से गरम हो गईं और उन्होंने मेरा लंड चूसना शुरू कर दिया, जिससे हम दोनों दुबारा चुदाई के लिए तैयार हो गए. मैं कई बार मोना को फैंटसी की बारे में बात करना चाहता, पर वो हर बार मना कर देती ओर कहती कि तुम पागल हो गए हो. जो कुछ हो रहा था, उसे बहुत अच्छा लग रहा था, सुमित का उसकी टांगों पर स्पर्श उसे उत्तेजित भी कर रहा था.

पहले पहल तो मुझे अजीब सा लगा, परन्तु फिर भी मैं उसे लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी। काफी देर चूसने के बाद यश का लण्ड थोड़ा टाईट होने लगा। मैं उसे लगातार चूसती रही। यश मेरे सिर को पकड़कर आगे पीछे कर रहे थे और ‘आहें. फिर हम दोनों 69 की अवस्था में आ गए, मैं उनकी चूत को चूस रहा था और भाभी के मुंह में लंड था मेरा वो मेरे लंड को चचोर रही थीं.

” वो बड़ी मुश्किल से खुद को रोक पा रही थी।क्या न रगड़ूँ? बहू पहलियाँ मत बुझाओ, साफ साफ बोलो कहीं देर न हो जायेऍ” उसने आरुषि की चूत को लन्ड से थपथपाते हुए पूछा।पापा लिंग को मत रगड़ो.

तुम्हारे चाचा ने आज तक मुझे संतुष्ट नहीं किया, वो तो ढंग से चुदाई कर भी नहीं पाते और बहुत जल्दी थक जाते हैं. फिर वो साले मेरी बीवी के हाथ में रूपए देते हुए अपने कपड़े पहनने लगे. मेरा मोटा लंड एकदम से भाभी की चूत में घुसा तो उनकी चीख निकल गई- अहह.

बहुत लम्बे अरसे के बाद मुझे बहूरानी के कामुक जिस्म की कामुक गंध मिली थी, मैं तो मदहोश ही हो गया था जवानी की गंध पाकर!पापा, अब बताओ भी क्या कह रहे थे आप?” बहूरानी ने मेरी ठोड़ी के नीचे हाथ रखकर मेरा चेहरा ऊपर उठा कर मेरी आँखों में झांकते हुए पूछा. दो दिनों के बाद रुबीना मुझे एक मॉल में दिखी, वो अपनी कुछ सहेलियों के साथ थी. किस करते करते धीरे धीरे मैं अपना एक हाथ उसकी पेंटी के ऊपर ले गया और पेंटी के ऊपर से ही उसकी इंडियन चुत को सहलाने लगा.

ये कह कर अवी अन्दर चला गया और थोड़ी देर बाद आया और साउंड सिस्टम में रोमांटिक गाने की टोन बजा दिया.

इंग्लिश में सेक्सी बीएफ वीडियो: जिससे कई बार मेरा हाथ संजय के हाथ से टच हो जाता या कई बार वो जानबूझ कर मेरे हाथ से अपने हाथ को टच कर देता था. आधा वीर्य उनकी चुत में और आधा उनके पेट पर निकाल कर मैं उनके बाजू में लेट गया.

अब मुझे लगने लगा था कि शायद मैं जो अपनी बहन से चाहता हूँ, वो मुझे जल्दी ही मिलने वाला है. भयंकर धक्के लगाने की वजह से किड थोड़ी देर में थक कर निढाल हो सोफे पर जा बैठा जबकि उसकी जगह फ़ौरन ओमार ने ले ली. मैंने जमीं पर बैठ कर उनके बारी बारी से लंड चूसना चालू किया। रिया के नशे में लुढ़क जाने के बाद काफी देर बाद उन्हें मैं हासिल हुई थी तो सब जोश में थे.

अब उसे निश्चित ही इस बात की चिंता हो रही होगी कि चोदने वाला तो उसे पहचान गया कि वो इस घर की बहूरानी अदिति हैं पर उसे कौन चोद रहा था यह उसे अभी तक नहीं पता.

मैं- क्या कमी है?अमित- जो क्रीम मैंने दो बार तुम्हें लगा कर मालिश की थी, अपने मम्मों पर यही हफ्ते में 2-3 बार लगाओ और अपने चूतड़ों पर लगाओ. मैंने फिर अपना लण्ड पूरी ताकत के साथ उसकी कुंवारी बुर में डाल दिया, वो बहुत ही जोर से चीखी लेकिन मैंने इसकी परवाह न करते हुए कई धक्के लगा दिए। उस बुर की सील टूट गयी थी, वो लगभग अधमरी से हो गयी थी, कुतिया वाली पोजीशन की वजह से हर धक्के के बाद वो आगे की तरफ गिर जाती. चाची अपने रूम में चली गईं और जब वापस आईं तो एक बार देख कर तो मेरा लंड खड़ा हो गया.