बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर हिंदी में

छवि स्रोत,ललिता भाभी की सेक्सी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

चोदा चोदी ना वीडियो: बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर हिंदी में, रेवती के मुँह से ‘स्ससस उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ की सिसकारी तेज होती जा रही थी.

बीएफ एक्स एक्स एक्स एक्स एक्स वीडियो

तभी मुझे मालूम हुआ कि मकान मालिक भैया को दो दिन के लिए शहर से बाहर जाना था, तो इसी वजह से आज वो जल्दी आ गए थे. बीएफ सेक्सी बीएफ सेक्सी ब्लूतू आज सुबह स्कूल में क्या घूर रहा था और तेरे लंड पर भी सुबह में जानबूझ कर ही अपना हाथ मारा था.

सही‌‌ में, उस समय मैं उसकी बात का मतलब नहीं समझ पाया था … जो मुझे बाद में समझ आया. बीएफ हिंदी में बीएफ इंडियनअब्दुल उधर से जो भी बोले हों, सुनील ने उत्तर में बोला- अरे फोटो भेजने की जरूरत नहीं अब्दुल भाई … आज तक अपन ने जितने भी आइटम बुलवाए हैं … उनमें से सबसे टॉप की है.

मैं उनके मम्मों को चूसने लगा, मुझे बहुत मजा आ रहा था, जिन मम्मों को मैंने उनके बेटे को चूसते हुए देखा था उनको आज मैं चूस रहा था.बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर हिंदी में: मैंने उत्तेजना में आकर हाथ उसकी कमर से हटा कर उसके चूतड़ों को सहलाने में लगा दिया.

अचानक मेरी नज़र उस खुली जिप पर पड़ी, तो मैंने आवाज़ लगा कर उनको रोका.नीरू ने हमें बताया कि पायल को यह शक भी है कि मैं जीजू से चुदवा रही हूं.

गर्भवती महिला बीएफ - बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर हिंदी में

मैं उस वक्त फुल जोश में थी, सो मैंने बोल दिया- हां आ जाना … करवा लूंगी … बहुत मस्त चोदते हो … तुमसे जरूर करवाऊंगी.वो खुद को अलग करना चाहता था, पर मैंने अपनी पहाड़ियों को उसके चौड़े सीने से चिपका दिया.

पर इनके मित्र जगत जी ये कह रहे हैं कि जो वादा राज जी 15-20 साल से कर रहे हैं … इस बार पूरा कर देंगे … और दिल खोलकर खर्च करेंगे या नहीं करेंगे तो ये खुद गारंटी ले रहे हैं कि ये करेंगे. बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर हिंदी में तब अंकित ने बोला- अंकल, उसे देख लोगे तो पागल हो जाओगे तुम, बहुत दिनों से बोल रहे थे.

तो दोस्तो, आपको मेरी स्टोरी कैसी लगी, मुझे जरूर बताना ईमेल करके … और कुछ गलती हो गयी हो तो वो भी बताना ताकि आगे कभी कोई स्टोरी होगी तो ध्यान रख सकूँ!धन्यवाद.

बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर हिंदी में?

माइक का लिंग बीच में थोड़ा और मोटा था और जैसे ही वो हिस्सा मेरी योनि की छेद तक पहुंचा, मैं फिर से कराह उठी और पूरी ताकत से उसे रोक लिया. मेरा मन और मस्तिष्क आपस में ही लड़ रहे थे कि मुझे अच्छा लग रहा या नहीं. वो उन दोनों का लंड पकड़कर टीवी के पास से चलकर सोफे तक ले आई और दोनों भाइयों को सोफे पर बैठाया पर खुद खड़ी रही.

मैं भी किस करते करते उसकी चुचियों को ऊपर से दबा रहा था, उसकी आंखें बंद थीं. मैंने करके दिखाया, उसे फिर भी नहीं आया तो वो बोली- आप मेरा हाथ पकड़ो और करके दिखाओ. तब राज अंकल बोले- सोनू, तुझे अब जन्नत का मज़ा लेना है तो बोल?मैं बोली- राज, अब तू कुछ भी यार.

सुलेखा भाभी का विरोध भी अब कम होता जा रहा था और वो भी शायद बस वो दिखावे के लिए ही कर रही थीं. फिर वो बोली- बहुत समय हो गया है, तुम्हें भूख लग रही होगी, चलो अपना गिलास खाली करते हैं और खाना खा लेते हैं. मैंने उसे सम्भाला और बोला- तुम बैठो, मैं खाना यहीं ले कर आता हूँ और हम यहीं साथ में बैठ कर खाएंगे.

जीजू ने मुझे चोदने के बाद अपना लंड मेरी चूत से बाहर निकाला और सारा माल मेरी कमर पर गिरा कर उसे लंड से से मेरे चूतड़ों पर मलने लगे. फिर उसी शाम को मेरी बीवी अपने मायके से वापस आ गयी, तो उस रात मैंने अपनी बीवी को नूर समझ कर चार बार चोदा.

मैंने कहा- रहने दे यार … तुझे फिर दर्द होगा और मैं तेरा दर्द नहीं देख पाऊंगा और सारा मूड खराब हो जाएगा.

लंड के अन्दर घुसते ही वो छटपटा उठीं और मुझसे अलग होने की कोशिश करने लगीं.

मेरी पत्नी ने मुझसे कहा- इसकी चूत बहुत छोटी है और बिल्कुल बंद है, इसमें रास्ता बनाना पड़ेगा. वो कुछ कहे, उससे पहले मैंने उसे अपनी तरफ खींचकर बांहों में भर लिया. मैं उनकी ऊपर चढ़ कर उनकी चुत में ताबड़तोड़ लंड पेलने लगा, जिससे पूरा बेड हिलने लगा.

ऐसा बोला तो मुझे कुछ भरोसा हुआ, मैं बोली- ठीक है अंकल, मैं आपके भरोसे चल रही हूं. इस बार उसने मेरे दोनों होंठों को अपने मुँह में भर लिया और उन्हें जोरों से चूसते हुए काटने लगी. फिर मैंने पूजा की बांहों से ब्रा के दोनों स्ट्रेप को धीरे धीरे उतार दिया और ब्रा पूजा की बांहों से फिसल कर ज़मीन पे जा गिरी.

किस करने के बाद उसने मेरी पूरी छाती को किस किया, दांतों से मेरी छाती की घुंडियों को काटा.

मेरी प्यारी बीवी मुझे चोदने के लिये कभी मना नहीं करती, क्योंकि उसे मालूम है, मैं जब भी उसको चोदता हूँ, तो उसे और उसकी चुत को बहुत खुश करता हूँ. लेकिन जिस तरह से सोनल सीख रही थी मुझे ऐसे लग रहा था कि ये क्लास तो लंबी चलेगी. वो कहानी सारी उसने मुझको दूसरे दिन बताई, जो मैं आपको अगली बार बताऊंगा.

मैंने उनके सुपारे को ज़ुबान से चाटते हुए कहा- हाँ जीजा जी, खा जाऊँगी आपका ये हब्शी लौड़ा …यह कह कर मैंने जीजू का लंड अपने मुँह में भर कर चूसना चालू किया, तो जीजा जी आंखें मूंद कर लंड चुसाई का मजा लेने लगे. तब राज अंकल बोले- फोन लगा शायद बात बन जाए, उनको भी क्या है, जब 65 साल के हैं. मैं बहुत असमंजस में थी और स्वयं निर्णय नहीं कर पा रही थी कि जो मेरे साथ हो रहा, उसे रोकूं या होने दूँ.

सोनू ने पहले एक होटल में एक कमरा लिया, फिर नाश्ता कर के करीब 10 बजे हम मार्किट गए और वहां जाकर मैंने एक लहंगा लिया.

लगभग दस मिनट चलने वाली इस चुदाई से अब मैं और रेवती दोनों ही अपने चरम पर पहुंचने वाले थे. मुनीर लगातार लिंग चूसती रही और कुछ मिनट में माइक का लिंग तन कर फनफनाने लगा.

बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर हिंदी में पूरे 20 मिनट चुदाई के बाद भाभी की चुत में अपना पानी निकाल कर उनको किस करने लगा और एक फुक्क की आवाज के साथ अपना लंड उनकी चुत से बाहर निकाला और भाभी के बगल में सो गया. और दूसरा वाला ड्राइवर वो था, जो मानिकपुर में स्टोर से बंगले तक लेकर आया था.

बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर हिंदी में बोल क्या बोलती है?मैं बोली- पक्का … चल बन गई तुम लोगों की पन्द्रह दिन की रखैल. आपको जब कल से पता था, तो आपने कल ही भैया को क्यों नहीं बता दिया, कल तो वो घर पर ही थे? मगर कल तो आप भी खिड़की से हमें देख देख कर मजा ले रही थीं.

फिर वो शर्मा कर मेरे कान में बोली- राजा, तुम्हारी चुदाई से आज मैं पहली बार एक साथ तीन तीन बार लगातार झड़ी.

साड़ी वाली औरतों की बीएफ

शाम को मीतू दी का मैसेज आया- गजल कैसी लगी?मैं- गजल तो अच्छी थी पर…मीतू- पर क्या?मैं- गजल से ज्यादा तो आपके फोन में वीडियो मस्त थीं. सविता बोली- हां नीरू हां … मुझे मजा आ रहा है, जीजू मुझे मज़ा दो!अब मैं सविता की चूत चाट रहा था और नीरू उसके बूब्स को अपने मुंह में लेकर चूस रही थी. नाजुक लड़की तड़फड़ा कर रह गई और उसकी आँखें बाहर को उबल आईं, उसके मुंह से मेरे लंड की बगल से उसकी लार बह चली और वो मुश्किल से इस आक्रमण को संभाल सकी.

नीरू ने अंडरवियर के ऊपर से ही मेरे लंड को सहलाया और पायल को दिखाते हुए बोली- देख पायल, मस्त है ना! अभी तुझे इसके दर्शन करवाती हूं. बस तेरी उम्र कम है, पर इतनी कम उम्र में इतनी गर्मी इतनी चुदासी है तू. सोच कर भी अजीब लगता है कि तुम जिस जगह हो, वहां शादी न होने की सूरत में अब तक तीन सौ मर्तबा सेक्स कर चुका होना चाहिये था तुम्हें और किया है सिर्फ तीन बार।”मेरी बुरी किस्मत!” उसने जैसे आह भरी।यह जो योनि होती है न… खाती पीती रहे तो शरीर भी स्वस्थ रखती है और मन भी, लेकिन सूखी रह गयी तो शरीर भी सुखा देती है।”अंतर्वासना पढ़ पढ़ के इन ढके छुपे शालीन शब्दों की आदत नहीं रही.

मैंने तारा के कान में धीरे से कहा- माइक का लिंग बहुत बड़ा है, मैं बर्दाश्त नहीं कर पाऊंगी.

मेरी मौसी का लड़का चिराग अपनी पढ़ाई के चलते हमारे ही घर में रहने आ गया था. मैं बोली- अंकल, तेरी उम्र से मुझे कोई दिक्कत नहीं है और किसी लड़की को उम्र से कोई प्राब्लम नहीं होती. इस सेक्स स्टोरी में अब तक आपने जाना कि मैं पूजा को तीसरी बार कुतिया बना कर चोदने में लगा हुआ था.

बातों के दौरान ही कभी उसने बताया था कि उसको ओरल सेक्स यानि चूत चटवाना और लण्ड चूसना बहुत पसंद है।मैंने उसको कहा- ये तो मुझे भी पसंद है।फिर कई दिन इंतज़ार के बाद वो दिन आ ही गया जिसका इन्तजार मैं काफी बेसब्री से कर रहा था और शायद उसे भी इस दिन की प्रतीक्षा होगी. वो बोली- रुको केशव, दरवाज़ा तो बंद कर लो! अब 5-6 दिन मैं तुम्हारी ही हूँ, दिन और रात अब सब तुम्हारे हैं. दो तीन ठेकेदार और सेठ तो मानिकपुर से तक आके तेरी मम्मी की ले चुके हैं.

”अच्छा बताओ कि क्या काम था?”उसकी बात सुनकर मैं हड़बड़ा गया।तभी फिर वो बोली- घबराओ नहीं, लेकिन मैं ऐसा कुछ भी नहीं करूँगी जो मुझे पसंद नहीं है।मैंने उसके होंठ को चूमा और बोला- मैं तुमसे ऐसा कुछ कहूँगा नहीं जो तुम्हें पसंद नहीं है. इधर मैं तो हमेशा की तरह हाथ से लंड हिलाने में खोया हुआ था, मुझे पता ही नहीं चला कि कब वो अन्दर आ गई.

चाची ने कभी मना नहीं किया!दोस्तो, और भी कई किस्से हैं मेरे और मेरी चाची के साथ। वैसे चाची का नाम सुनीता है।उम्मीद है लड़कियों की चूत गीली हो गयी होगी और लड़कों का लंड पूरा तैयार होगा चुदाई के लिए!आप सभी के ईमेल का मुझे इंतजार रहेगा।[emailprotected]. मैंने बोला- वहां पर क्यों?तो दीदी बोलीं- यहां रूम कम हैं … तो अंकल ने कहा कि बेबी मेरे घर में जाकर रह सकती है … इसलिए ये वहां पर रेस्ट कर लेगी, तुम बस इसका सामान उधर रखवा दो. निढाल हो चुकी विश्वसुन्दरी ने सारा द्रव अपने मुंह में ले लिया, और सटक लिया! वो मेरे वीर्य से सनी अपनी गुलाबी जीभ को बाहर निकाल-निकाल कर दिखाने लगी, जिसे देख कर दीमा भी झड़ने की कगार पर पहुँच गया और तेज आवाज के साथ हुंकारता हुआ, तेज गति के साथ मुठ मारता हुआ मेरी पत्नि की चूत के ऊपर झड़ने लगा.

वो हँसने लगी और बोली- शायद मैं आने वाले शनिवार को घर पे फिर से अकेली हूँ, आ जाना.

मैंने उन्हें लिख कर संदेश दिया कि मैं खाना कर आऊँगी, तब तक वो भी थोड़ा सुस्ता लें. मेरी सांसें तेज तेज चलने लगीं और सोचने लगी कि अब क्या होने वाला है. बुर को गीला कर देने के लिये।”दिख तो रही नहीं थी लेकिन मैंने उंगली लगा कर देखा तो वाकई वह बहने लगी थी।अगर रेजर के इस्तेमाल से परहेज न हो तो कहो यह मलबा हटा दूं।”हटा दो.

मैंने उससे पूछा- क्या हुआ जग तुम मुझसे बात क्यों नहीं कर रहे हो?उसने कहा- मुझे माफ़ कर दीजिए सुबह के लिए. भाभी इन बातों को लेकर मुझे कुरेदने लगीं- क्या हुआ है, मुझसे ठीक से बातें क्यों नहीं कर रहे हो.

एक कुर्ता पजामा में थे, उन्होंने अपना नाम सुनील सिंह बताया और जो सफारी सूट में थे, उन्होंने अपना नाम महेश गुप्ता बताया. उधर से- तब ठीक है, कब लाओगी?सुमन- मैं तो अभी ला सकती हूँ, बोलो?उधर से- ठीक है, उसे मेरे आफिस में ले लाओ. आपको जब कल से पता था, तो आपने कल ही भैया को क्यों नहीं बता दिया, कल तो वो घर पर ही थे? मगर कल तो आप भी खिड़की से हमें देख देख कर मजा ले रही थीं.

भाभी की मालिश

मगर मैं वहां ज्यादा देर रुकी नहीं और नीचे आ गई और जग के उठने का इंतजार करने लगी.

मैंने एक मिनट इंतज़ार करने के बाद जब वो नार्मल हुईं तो मैंने एक जोर से धक्का मारा. पाठकों से आग्रह है कि आपको ये कहानी कैसी लगी, आप अपनी राय मुझे मेरे ईमेल आईडी पर जरूर दें ताकि मैं इसकी दूसरी कड़ी भी लिख पाऊँ. कार खड़ी होते ही राज अंकल और जगत अंकल दोनों ही कार से उतर गए और उनको बोले कि ठाकुर साहब आप दोनों बैठिए.

पर उसने पहली बार किसी हिंदुस्तानी लड़की के साथ संभोग किया और उसे बहुत फर्क लगा. मैंने मेरी दोनों टाँगें उसकी जांघों पर कस दी और मेरी बांहें उसकी पीठ को सहलाने लगी. बीएफ हिंदी वीडियो भेजेंशगुन की धीमी धीमी सिसकारियां निकल रही थी लेकिन वो अभी भी सोयी हुई का नाटक कर रही थी.

उसने अपने हाथों से लंड साफ किया और बोली- उठो अब तुम्हें घर जाना है. उसने अपनी उत्तेजना और प्रक्रिया दोनों को ही बहुत ही नियंत्रण में रखा, न उसने कोई जल्दबाज़ी दिखाई, न ही कोई घबराहट.

जब गले तक लंड लेती थी तो ऐसा लगता मानो उसके लंड चूसने से मुझे जन्नत मिल गयी हो. मैंने चरम पर आते हुए मयूरी भाभी से पूछा- बोल साली, कहां लेगी मेरा माल?तभी एकता भाभी ने कहा- इसकी चुत और दूध पर डाल दे, हम तेरा माल साफ़ कर देंगी. मैंने मन ही मन निश्चय किया कि मुनीर जो चाहे मेरे साथ कर ले मगर माइक को मैं कुछ नहीं करने दूंगी.

मैंने स्टीव से मम्मों को चूसने को कहा और खुद भी एक चूची को चूसने लग गया. कोई कितना ही काबू करे, पर इस माहौल में दोनों तरफ से आने वाले मजे में लालच आ ही जाता है. पूजा अबकी बार बहुत जोर जोर से मेरे लंड को अपनी चूत में लेकर उछल रही थी.

दर्द के मारे वो छूटने की पूरी कोशिश कर रहीं थीं लेकिन मेरी पकड़ से कहाँ छूटने वाली थी.

फिर सुबह उसकी मेड के आने का टाइम हो गया था, तो मैं वहां से निकल गया. चाची- आप जैसा मर्द जिस औरत को मिले … भला उसकी चूत कैसे आग नहीं उगलेगी.

माइक समझ गया कि मेरा लक्ष्य आ गया और उसने भी मुझे पूरी ताकत से पकड़ लिया और दोगुनी तेज़ी से धक्के मारने शुरू किए. मैंने मेरी दोनों टाँगें उसकी जांघों पर कस दी और मेरी बांहें उसकी पीठ को सहलाने लगी. सब अपनी अपनी बुक निकालो और बताओ कि आज कौन सा चैप्टर पढ़ना है?मनीषा मेरे पास तीसरा चैप्टर ले कर आ गई और बोली- पंकज, आज आपको ये पढ़ाना है.

उधर थोड़ा दो-चार मिनट बात करके परिचय ले कर, वे मुझसे बोले कि तुम्हें मिलने से पहले देखना चाहते थे, तो देख लिया है. जब गले तक लंड लेती थी तो ऐसा लगता मानो उसके लंड चूसने से मुझे जन्नत मिल गयी हो. इसलिए मैं भी पूरे जोश में भर कर उनकी चूचियों को अपने मुँह में लेकर जोर से चूसने लगा.

बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर हिंदी में मैं अंकित की बातें सुनकर हैरान थी, उस हाल में मैं तीन बुड्ढे, दो अंकल और एक अंकित जो 22 साल का था करीब, ऐसे 6 मर्दों के बीच मैं अकेली लड़की थी. अगर कोई मुझे चोदने के पैसे दे देता है तो वो तो सोने पे सुहागा हो जाता है.

इंग्लिश बीएफ फुल एचडी

मेरे इसी विश्वास की वजह से ही मैंने अब आनन्द लेना शुरू कर दिया और उसका साथ भी खुल कर देना शुरू कर दिया. अब आगे:मदमस्त हो चुकी पत्नि के दिल से निकलती आवाज़ को सुनते हुए मैंने अपने लंड के टोपे को दीमा के लंड से भरी हुई गांड के छेद से भिड़ा कर हौले-हौले अन्दर घुसेड़ना शुरू कर दिया और जल्द ही करीब आधा लंड अब तक की चुदाई से काफी खुल चुकी गांड के अन्दर पहुंचा दिया. इतना ही मेरे लिए बहुत था। मेरा लण्ड खड़ा हो गया था। धीरे से हिम्मत करके मैंने उसका एक मम्मे को दबाया.

कुछ समय बाद पंडित जी आए और पहले वर को यानि सोनू को बिठाया फिर थोड़ी देर बाद वधू को पुकारा, तो मैं जाकर सोनू के बगल में बैठ गयी. इडली, मसाला डोसा, सांभर, नारियल की चटनी, वड़ा सब कुछ सामने मेज पर सजा था और साथ में छुरी और कांटे भी. हिंदी बीएफ सेक्सी फिल्म हिंदीपर मेरी बैचैनी खत्म नहीं हो रही थी और मेरा हाथ स्वयं ही योनि पे चली गया.

मैं घुटने के बल बैठ कर अपना लंड अपने हाथों से पकड़ कर अपने सुपारे को चाची की चूत की फांकों में रगड़ने लगा.

अब मैंने उसे सीधा लिटाकर उसके नीचे तकिया लगा दिया और अपना लंड उसकी चूत पर रगड़ने लगा. फिर मैंने उनके पैरों की उंगलियों को चूमना शुरू किया तो वो सिसकारियां लेने लगीं- आहह उम्म्म्म ममम ऊऊहह बेटा.

इतने में सतीश मेरी गांड में तेज तेज से धक्का मारने लगा और बोला- वन्द्या, तू बहुत बड़ी माल है. इसके कारण कमलेश हल्का सा हिला और मैंन उसी वक्त उसकी पैंट को नीचे कर दिया. उन्होंने खुद उतर कर गेट खोल कर कार अन्दर कर ली, फिर से गेट लॉक किया.

आँख से हल्का इशारा हुआ और मैंने हॉर्न बजाने का इशारा किया तो दी ने हंस कर सर हिला दिया.

बस 1,2,3 बोलते ही मैंने एक ही धक्के में अपना पूरा का पूरा लंड उसकी चुत में घुसा दिया. मैं कुछ देर रुका रहा और उसकी चीखों को अनसुना करके अपने लंड पर चूत की गर्मी का मजा लेता रहा. पहले पसलियां चाटता रहा, फिर पेट की साइड वाली जगह यानि कमर के पास जीभ फिराई.

सेक्सी बीएफ एक्स एक्स एक्स चुदाईमैं हमेशा ख्वाब में किरण चाची को चोदा करता हूँ … और जब भी चाची के यहां आता हूँ … तो छुप छुप कर चाचा चाची की चुदाई देख कर मुठ्ठ मार लेता हूँ. चौंकते हुए मेरे मुँह से निकल‌ गया- क्क्क …क्या?हांआआ … क्या तुम्हें नहीं पता है?” प्रिया ने कहा.

नंगी पिक्चर गंदी

उसका गेट स्टोर वाले ने खोला और अंकित को बोला कि पहले तुम अन्दर जाकर पीछे बैठ जाओ. फिर मेरी पत्नी कमरे के बाहर चली गई और मैंने और नीरू ने एक बार फिर चुदाई का मजा लिया. सुबह उठ कर ख़ुशी की चुदाई की, हिमिका के साथ नहाया और उसे बाथरूम में चोदा.

हिमांशु मेरे दूध पकड़ के बोला- साली झूठ बोलती है … कोई मम्मी कैसे अपनी लड़की को चुदवाने बुकिंग में लेकर आएगी?तो मैं बोली- नहीं ऐसा नहीं है … मम्मी को कुछ नहीं पता, उनके साथ जो बैठे हैं न वे मम्मी की बहन के नंदोई हैं. मैं समझ गई कि ये झड़ने वाला है, मैंने भी अपनी टांगों को और चौड़ा कर लिया और कुछ ही टाइम में उसने मेरी चूत को अपने माल से भर दिया. उसे धक्के मारते हुए काफी देर हो चुकी थी और अब मेरा दर्द भी कम होने लगा था.

मैं अब धीरे से खिसक कर उसके नजदीक हो गया और उसके दोनों कंधों को पकड़ कर धीरे से उसे बिस्तर पर धकेलने लगा. नीरू ने हमें बताया कि पायल को यह शक भी है कि मैं जीजू से चुदवा रही हूं. उसकी बहन केवल पढ़ाई पर ज्यादा ध्यान देती थी क्योंकि अब उसके लिए लंड का इंतजाम हो चुका था.

शाम को घर में कोई नहीं था, मौका देख कर मैंने उसको फ़ोन किया और ऐसे हम रोज़ बात करने लगे. एक दिन मैंने उससे पूछा- तू शादी क्यों नहीं करती है?तो उसने कहा- मुझे शादी की क्या जरूरत है.

रात को श्यामा का फोन आया और बोली- तुम्हारे लिए लंड का पक्का अरेंज्मेंट हो चुका है.

लेकिन वो बहुत ही सुंदर और सेक्सी है।हम दोनों भाई बहन आपस में बहुत क्लोज हैं एक दूसरे के और बहुत बातें किया करते हैं! उसके सीने पर बड़े-बड़े बूब्स हैं, फिगर उसका इतना मस्त कि क्या बताऊँ दोस्तो! उसे देखकर मेरा लण्ड हमशा खड़ा हो जाता था. एक्स एक्स एक्स बीएफ पिक्चर हिंदी मेंमैंने उसे कुछ लिखने के लिए बोला तो मेरे सामने तिपाई के बाजू में कुर्सी लेकर बैठ गयी और झुककर लिखने लगी. बीएफ बिहार के सेक्सीकुछ देर बाद वो भी फिर से मुझे किस करने लगी और चुदाई के मज़े ले लेने लगी ‘आहह हह आसीई ईईइ प्लीज और ज़ोर से चोदो मेरी चूत को … आअहह फाड़ दो …’मैं लगातार ज़ोर ज़ोर से धक्के देने लगा, जिसकी वजह से उसके चूचे ज़ोर ज़ोर से हिलने लगे. मैंने कहा- मैं यहाँ का मालिक हूँ और दरवाजा खोल! अगर तूने अब दरवाजा नहीं खोला तो मैं दरवाजा तोड़ दूँगा.

एक औरत कामवासना के वशीभूत हो क्या क्या कर गुजरती है, मेरी इस कहानी में पढ़ें!दोस्तो, मेरा नाम रूपा राठौर है, मैं 39 साल की एक शादीशुदा औरत हूँ.

फिर वे अपने हाथ से मेरी चूत को सहलाने लगे, मेरी चूत बहुत चिपचिपा रही थी. पर मैंने इस तरह से मम्मी को कभी देखा नहीं था, उनके बारे में सुना जरूर था. मैंने रेखा को और ज़ोर से किस किया और उसको ज्यादा जोश के साथ अपनी बाजुओं में कसने लगा.

मैं बिल्कुल पागल हो गई और तूने अंकल मुझे बहुत दर्द भी दिया, बहुत रुलाया तेरा लौड़ा बहुत कड़क है. गोरी चिट्टी तो वो बचपन से ही थी … जवान होते होते उसके बदन ने जो आकार लिया, तो लोग बस देख कर अपना लंड मसलते ही रह जाते थे. फिर एक नीग्रो ने बेड में आकर मेरी तरफ देख कर स्माइल किया और मेरे चेहरे को पकड़कर मेरे होंठों को किस कर दिया.

বোনের সাথে সেক্স

भाभी की टांगों को पूरी तरह फैला कर लंड को चुत के मुँह पर रख के भाभी से बोला- आज से तुम मेरी भाभी नहीं. अरे नीरू, तू इसे कैसे बर्दाश्त कर रही है, बता तो सही? तेरे जीजू का इतना मोटा लंड है कि मुझसे भी बर्दाश्त नहीं होता, बच्चेदानी में टकराता है और मुझे भी दर्द देता है. मैंने उसको बोला कि मैं हफ्ते में तीन दिन क्लास रहेगी, जो मैं आपके घर पे आकर सिखाऊंगा.

मुझे भी अपनी चूत और गांड में किसी विदेशी नीग्रो के लंड को लेने की तलब मचने लगी थी.

भाभी की टांगों को पूरी तरह फैला कर लंड को चुत के मुँह पर रख के भाभी से बोला- आज से तुम मेरी भाभी नहीं.

शीतल- तो कहाँ?विक्रम- कमरे में चलते हैं… वह आराम से करेंगे… मैं चाहता हूँ कि जब मैं माँ की चूत की चुदाई करूँ तो मेरे पास पूरी जगह हो. देन फ़क इट हार्ड! वैरी हार्ड!! आइ वांट टू बी फक्ड इन माय आस बाय बोथ ऑफ़ यू!!! ओओओ. एचडी में हिंदी बीएफ सेक्सीमैंने उसका नाम पूछा तो बोली- जी मेरा नाम नीता है और मैं आपके पास वाली फैक्ट्री में ही जॉब करती हूँ.

मैंने उन्हें मना किया, तो उन्होंने कहा-आपको मेरी दोस्ती अच्छी नहीं लगी शायद?मैंने कहा- ऐसी कोई बात नहीं है, मैं आ जाऊंगा. श्रीमती जी के चेहरे को मोनिका एक ठंडे टावल से ढक कर नीचे की तरफ आ गई. एकता भाभी ने कहा- रिया यार, ये तेरा गांडू तो बड़ा क्यूट है और इसका तम्बू भी एकदम टाइट हो चुका है.

दो तरफ के धक्के से वो जैसे घायल होने लगी थी ‘आहह हह हहहाआ…’ की आवाज हर वक्त उसके मुँह से निकल रही थी।थोड़े धक्कों के बाद वो भी हमारा साथ देने लगी. राज अंकल बोले- बस 5 मिनट में तुम्हारा पूरा दर्द ठीक हो जाएगा और राज अंकल मेरी टांगों की तरफ आए और जो अंकल मेरी चूत चाट रहे थे, उन्हें बोले- आप थोड़ी देर के लिए एक बगल हो जाओ, मैं वन्द्या का पूरा का पूरा दर्द अभी ठीक कर देता हूं.

रीना ने मेरी तरफ हंस कर कहा- उतार दे आज अपनी शर्म का लबादा और कर दे अपना भोसड़ा सबके आगे.

मैंने कहा- तुम माफ़ी क्यों मांग रहे हो? जो भी हुआ हम दोनों की मर्ज़ी से हुआ है और मैं तो इससे खुश हूँ. कहानी का पहला भाग:विशाल लंड से चुदाई का नया अनुभव-2अब तक आपने पढ़ा था कि मुनीर ने मेरी योनि को गर्म करना शुरू कर दिया था. मैं बोला- कोई बात नहीं … अब मैं तुमको कभी अकेला महसूस नहीं होने दूँगा.

बीएफ सेक्स नंगी फिल्म और हल यह निकला कि पहले वाले ने मेरा सर पकड़ा और मेरा मुँह अपने कण्ट्रोल में लेकर, किसी लड़की की चूत की तरह उसे चोदने लग गया! मुझे सच में बहुत दर्द हो रहा था, पर मुँह से आवाज़ नहीं निकल पा रही थी!धीरे धीरे पीछे वाला मेरे चूतड़ों को काटना छोड़ कर अपनी जुबान से मेरे बिना बालों वाले गांड छेद को कुरेदने लग गया था. अब नीरू ने मुझको उसके पीछे आने का इशारा किया और नीरू खुद भी उसके पीछे की तरफ पहुंच गई.

फिर मॉम ने जोर डालते हुए मुझसे पूछा- सच बोल … क्या कर रहा था तू? वरना तेरे डैड से कह दूंगी. अशोक- हाँ बिल्कुल… मैं भी यही चाहता हूँ… पूरा परिवार आराम से सबकी चुदाई करे और खुश रहे… शीतल, तुम्हें डरने की कोई जरूरत नहीं है… अपने बेटों से जितना चुदना चाहो, चुदो… मुझे को दिक्कत नहीं है. मैंने देरी ना करते हुए उसको अपने दोनों पैरों के बीच में ले लिया और उसके होंठों पर लंड टच करने लगा.

ننگا ڈانس

फिर मैंने अपना लंड उसकी गांड के भूरे छेद पर रख के जोर का झटका दिया, मेरा लंड एक ही झटके में मानसी की गांड में आधा घुस गया।मानसी जोर जोर से रोने चिल्लाने लगी. इसी बीच मेरी पत्नी ने भी अपने सारे कपड़े उतार दिए और वह भी बिल्कुल नंगी हो गई और वह मुझ पर टूट पड़ी. वो मस्ती में आंखें बंद करे हुए अपनी जांघें जोर से दबाए हुए और अपने दोनों हाथों से मेरे हाथ पकड़ते हुए बैठ गई थी.

मैंने मनीषा के बारे में ऐसा पहले कभी नहीं सोचा नहीं था, लेकिन ना जाने क्यों उस दिन के बाद मैं हर समय मनीषा के बारे में सोचने लगा. लेकिन वो बहुत जोर दे रही थीं, तब मैंने उनसे बोल ही दिया कि आप गुस्सा तो नहीं होंगी ना?भाभी ने प्रॉमिस किया, तो मैंने उनका हाथ पकड़ कर घुटने पे बैठे कर उनको आई लव यू बोल दिया.

वो लगभग बेहोश हो गयी थी और बेहोशी में ही गालियां बोलने लगी- साले तुमने मेरी चूत की माँ चोद दी.

उनमें कोई सख्ती नहीं थी और वे आसानी से फैल गये। बड़ी आसानी से गुदा का गुलाबी छेद बाहर उभर आया।इसने भी टेस्ट किया क्या लंड का?” मैंने छेद पर उंगली फिराते हुए कहा।एक बार।”फिर वह सीधी हो गयी. थोड़ी देर के बाद पूजा मेरे ऊपर झुक गयी और मेरे होंठों को चूमते हुए और मेरे सीने से अपनी भारी भारी चूचियों को दबाते हुए मुझे हल्के हल्के धक्के के साथ चोदने लगी. फिर मैं पूजा को धीरे धीरे बिस्तर के करीब ले आया और मैं खुद बिस्तर पर पीठ के बल लेट गया और मैंने अपने चूतड़ों के नीचे दो तकिया भी लगा लिए.

मम्मी मेरी तरफ हैरानी से देख रही थी फिर कुछ सोचकर बोली कि इस बात का पता किसी को नहीं चलना चाहिए. इस सेटिंग से कम्मो बहुत खुश हुई कि उसकी मर्जी के बिना कोई उसका फोन देख नहीं सकता था; इसके बाद मैंने कम्मो को और जरूरी बातें भी समझा दीं और अपने सामने फोन खोलना बंद करना सब सिखा दिया. मैंने अपना लौड़ा हिना भाभी के शरीर से रगड़ना शुरू कर दिया और हाथ उनकी गांड पर चलाने लगा.

मैं तो पूरी गर्म होने ही वाली थी लेकिन उसने बीच में ही सारा मज़ा खराब कर दिया.

बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर हिंदी में: मयूरी- बात तो एकदम पते की है माँ… क्या सोच है आपकी…और दोनों नंगी माँ-बेटी जोर से खिलखिला कर हंसने लगी. उसमें कपल ही ज्यादा थे, मैंने उसका हाथ पकड़ा तो उसने अपना सर मेरे सीने पर रख दिया.

मतलब उसने पिंक सलवार सूट पहना हुआ था जिसमें में वो एक मस्त माल लग रही थी. सिर्फ और उस बेड के आगे की तरफ एक करीब एक से डेढ़ फीट का मोटा सा होल है. मैंने उसे थामते हुए पूछा- कौन से बेडरूम में तुझे लेकर जाऊं?उसने उंगली से इशारा किया तो मैंने उसको अपनी गोद में उठाया और बेडरूम में लेके गया.

मुझे मज़ा आता देख उन्होंने मेरी ब्रा उतार दी और मेरे एक निप्पल को मुँह में लेकर चूसा.

वो बोली- मेरा घर पास में ही है, आप होटल में जाओ, मैं दवाई लेकर आती हूँ. इधर रिया भाभी ने भी सेक्सी गाउन पहना हुआ था, जिसमें उनका फिगर पूरा दिख रहा था. वे लड़के मुझसे मौसी के यहां की शादी में आने की बात कर रहे थे, जिसमें वे अपने साथ एक या दो नीग्रो को लाने के लिए भी कह रहे थे.