बीएफ मशीन वाली

छवि स्रोत,हिंदी सेक्स भोजपुरी

तस्वीर का शीर्षक ,

सुहागरात chudai: बीएफ मशीन वाली, जब उनसे मैंने पूछा, तो वो बोलीं- मैंने पहले दिन ही तेरा तना हुआ लंड देख लिया था.

डॉग एंड गर्ल्स सेक्स

आज मैं देसी चाची की चुदाई कहानी में आप लोगों को बताने जा रहा हूँ कि कैसे मैंने एक विधवा महिला को चोदा. सेक्सी वीडियो फुल मजेदारआंटी ने पिंक कलर का गाउन पहना था जिसमें से उनकी मैरून पैन्टी और गोरी गोरी मांसल जांघें झलक रही थीं.

मैंने भाभी के गुलाबी होंठों को चूमते हुए उनकी स्टाइलिश टी-शर्ट निकाल दी. राजस्थानी मारवाड़ी सेक्सी वीडियो पिक्चरमैं मजे से भाभी के मम्मों को सहला रहा था … लेकिन भाभी मुझे रोककर घूम गईं.

मैं सोच रहा था कि इसकी जांघें इतनी चिकनी हैं तो चूत कितनी मस्त होगी.बीएफ मशीन वाली: मैं अभी तक घुटनों के बल ही बैठा हुआ था, लेकिन मेरा लंड उसके मुँह में जाते ही मैं अपने आपको संभाल ही नहीं पाया और पीछे की ओर पीठ के बल गिरने लगा.

मेरा मन भाई साहब के लंड को देखने का करने लगा और मैं नंगी ही उनके कमरे के पास चली गयी.मेरे मोटे लंड से पूजा को अपनी गांड में दर्द हो रहा था लेकिन मैं उसकी गांड में झटके पर झटके देते जा रहा था.

গুজরাটি সেক্সি গুজরাটি সেক্সি - बीएफ मशीन वाली

मैंने कहा- क्या कहा?उसने कहा- मुझे बड़ा वाला केला पसंद है … लेकिन अभी तक बड़ा केला मिला ही नहीं.जेठ जी ने मुझे दीवार से लगा दिया उनके दोनों हाथ मेरे मम्मों को मसल रहे थे और भाई साहब मेरी पीठ पर गिरते शॉवर के पानी को पी रहे थे.

उनका नाम रीता है, उनका रंग सांवला है … लेकिन वो दिखने में गजब की माल लगती हैं. बीएफ मशीन वाली वो मेरी तरफ देख कर मुस्कुराने लगी तो मैंने पूछा- के हुआ भाभी?वो बोली- मुझे लगा … तुम्हारा दूध निकल गया, इसलिए तो कहा था कि मेरी साड़ी खराब मत कर देना.

दरोगा बड़बड़ाया- कौन मां चुदवाने आ गया भोसड़ी का … अब कौन है क्या हुआ.

बीएफ मशीन वाली?

फिर एक दिन जब मैं बाहर से लौटा तो आंटी अपने गेट पर खड़ी थी और मुस्करा रही थी. वो बोली- बहुत टाइम कहां है, 2 बजे तो मेरे बच्चे स्कूल से आ जाते हैं. कालू ने सुमन की प्रणय प्रार्थना सुन ली और अपने गर्म होंठ चुत पर रख कर चुत चूसने लगा.

चल जल्दी से लंड को चूस कर इसको चिकना कर दे … ताकि तेरी चुत में आराम से चला जाए. इतने में ज्योति उठी और बोली- यार मुझे तो नींद आ रही है, मैं सोने जा रही हूं. वो हंस कर बोली- तू ही पिला दे मुझे, तेरे हाथों से पीना अच्छा लगता है.

मेरे सामने ये सब होता रहा था, पर मैंने कभी पाप की इस बात को नोटिस ही नहीं किया. वो लंड को अपनी चुत की फांकों में रगड़ने लगी और मैं अपने हाथों से उसके चुचे दबाने लगा. उसने कहा- क्या हुआ स्वीटी, तुम क्यों रो रही हो?मैंने मनु से कहा- कुछ नहीं यार … बस ऐसे ही हम लोग कुछ खेल रहे थे.

वो बहुत ज्यादा गर्म हो चुकी थीं, जो उनकी तेज़ चलती सांसों से पता चल रहा था. ये सुनते ही वो लैट्रिन करने वाली महिला उठ गई और मुझे उसके पूरे चूतड़ों के दर्शन हुए.

फिर मैंने उससे उसकी फ़ेवरिट पोजीशन पूछी, तो उसने मुझे कहा कि वो घुड़सवारी करते हुए चुदना चाहती है.

कभी छत पर तो कभी गली में, कभी उसके घर बहाने से चला जाता था तो उसको छूने की कोशिश करता था.

सुबह रोज की तरह मीता क्लिनिक आ गई थी … और उसकी बहन गीता रात की चुदाई की वजह से बहुत थक गई थी. मेरे लंड का सामने का भाग ही अभी अन्दर गया था कि उसके चेहरे पर उभरता हुआ दर्द मैं साफ देख पा रही थी. दो-तीन मिनट के बाद मुझे महसूस हुआ कि मेरे लंड पर काफी सारा गर्म पानी आ गया.

तो तुझे समझ आ गया कि मैं किस बारे में बात कर रहा हूँ?”हां बिल्कुल, बस मैं तेरा ही इंतज़ार कर रही थी कि तू कब पूछेगा, पर तूने पूछने में बहुत टाइम लगा दिया. मैंने आंटी को नमस्ते बोला और अपना डिब्बा आगे करते हुए कहा- आंटी दूध चाहिए था. बुआ सेक्स की हिंदी कहनी में पढ़ें कि मैं मेरी विधवा बुआ के घर गया तो उन्होंने कैसे मुझे अपने जिस्म की झलक दिखलाकर मेरी कामवासना जगायी.

हॉट लड़की की चुदाई स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मेरे पड़ोस की लड़की ने अकेले घर में मेरे साथ बीयर का मजा लिया.

मैंने उनके मुँह में ही धक्के लगाते हुए मेरा सारा माल भाभी के मुँह में ही डाल दिया और वो बड़े चाव से सारा लंड रस पी गईं. एक साल मैं न जाने कितनी बार छिप छिप कर उन सबकी चुदाई को देख कर गर्म हो चुका था. जब मैं बाथरूम से बाहर आया तो देखा कि मालकिन की साड़ी उसके घुटनों तक ऊपर उठी हुई थी.

एकदम वासना से तप्त नशीली आंखों को देखकर एक बार तो मैं भी हैरान रह गया. मेरी बुर के लब खोलकर सर ने अपने लण्ड का सुपारा रगड़ना शुरू किया तो मेरी बुर मतवाली होकर लण्ड मांगने लगी. स्कूल मैम सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मुझे सेक्स विडियो देख कर सेक्स के बारे में पता चला.

अब चाची बातें करने लगीं कि आजकल क्या कर रहा है … कैसे टाइम पास करता है वगैरह वगैरह.

शुरू शुरू में जब भाभी आयी थीं, तो भाभी ने मुझसे वाशिंग मशीन लगाने के लिए मदद मांगी. काफी देर तक ऐसे ही तेज लगातार चोदते रहने के बाद हम दोनों साथ में झड़ गए.

बीएफ मशीन वाली ’ शब्द सुनकर फिल्म साफ़ होने लगी और उन्होंने हंसते हुए मेरी तरफ देख कर कहा- तुम्हें देख कर ऐसा लगता तो नहीं कि तुम किसी को चोद चुके होगे. मेरे पूरे बदन में सेक्स की चिंगारी और भी अधिक उठने लगती थी।लंड का आकार बढ़ने से वह उसकी हथेलियों से बाहर जाने लगा.

बीएफ मशीन वाली बिना झांटों वाली छोटी सी फाँक को देख कर रणजीत के लंड ने एक ऐसी अंगड़ाई ली … जैसे उसकी बरसों की प्यास पूरी होने वाली हो. मेरी बुर को तहस-नहस कर दिये हैं आप!मैं बोल पड़ा- मगर तुम्हें मजा आया कि नहीं?वह कॉलेज की लड़की झट से खुश होकर बोली- मजे में तो कोई कमी नहीं रही.

मैंने इतनी लम्बी कहानी सुना दी और तुम्हारा लण्ड मुझे चोद चोदकर थका नहीं.

बांग्ला वाला बीएफ

उसको दर्द हुआ तो उसने मुंह पर हाथ रख लिया और धीरे धीरे मैंने पूरा लंड उसकी गांड में उतार दिया. वो लंड सहलाने लगा तो अम्मी ने उसे देख कर अपने होंठ दबा कर आंख मार दी. तो उन्होंने कहा- मेरी जान, जितना दर्द होना था हो चुका, अब सिर्फ मज़ा मिलेगा.

अन्तर्वासना की सेक्स स्टोरी पढ़ने वाले मेरे प्यारे दोस्तो, आप सभी को मेरा नमस्कार. मैंने फिर से एक जोर का झटका लगाया और इस बार मेरा आधा लंड चुत में घुस गया. लंड की भरपूर खुराक न मिल पाने के कारण आंटी हमेशा गर्म ही बनी रहती होंगी.

अम्मी अब अपने हिसाब से अपनी गांड से झटके मार सकती थीं … क्योंकि अब पूरा नियंत्रण अम्मी के हाथ में आ गया था.

हमारे चुम्बन से हम दोनों की शारीरिक भूख जाग गई थी और अब हम दोनों सेक्स के लिए पागल हुए जा रहे थे. Xxx देसी चूत कहानी में पढ़ें कि मैं खेत में अपने भाई को एक औरत की चुदाई करते देख रहा था. करीब 11 बजे जब साड़ी ब्लाउज पहने अम्मी किचन में खाना बना रही थीं, तो मैंने अम्मी से पूछा कि अम्मी क्या मैं एक दोस्त के यहां स्टडी के लिए चला जाऊं … मैं एक घंटे में आ जाऊंगा.

मैंने पहले अपने आंड उसके मुँह में डाल दिए और कहा- लो मेरे अखरोट चूसो … ये तो लंड से छोटे हैं, इन्हें तो चूस ही सकती हो. पिछली रात हम कितनी बार झड़े हमें खुद नहीं पता था लेकिन ये ज़रूर पता था कि मैंने चुत चोदने की सारी सीमाएं पार कर दी थीं. अब कोमल के दोनों हाथों में एक-एक लंड, एक मुंह में, एक चूत में और एक गांड में था.

बेडरूम में घुसते ही आंटी ने घड़ी की तरफ ऊंगली करते हुए समय देखने का इशारा किया. उसी दिन शाम को किचन में भी कुछ रखना था, तो उन्होंने फिर से मुझे बुलाया.

अब मैं भाभी की गांड से बिल्कुल चिपक कर बैठ गया था और उसके हाथ पकड़ कर दूध निकालने लगा. लगता है इस बात के लिए मुझको इसकी चुदाई की रिकॉर्डिंग की जरूरत ही नहीं थी. मैंने सुबह आशी से फोन पर कहा- प्रजनन वाला टॉपिक समझना है, तो आज घर पर आ जाना … प्रेक्टिकल करके समझा दूंगा.

वो कहने लगीं- मुझे बहुत मन करता है चूत चटवाने का … लेकिन तेरे माना चाटते ही नहीं हैं.

जब वो मेरे लिए पानी और चाय लेकर आयी, तो मैंने उससे उसके घर की तारीफ की. आंटी ने डिब्बा उठाया और एक पल ठहर कर मुझे देखते हुए अपना पल्लू ऊपर कर लिया. उन्होंने मेरी तरफ लाइटर उछाला और बिस्तर पर बैठते हुए मुझसे इशारे से सिगरेट जलाने की कहने लगीं.

”कुछ सोच कर वो बोली- अच्छा ये बताओ, निगार कैसी लगी तुम्हें?निगार काफी अच्छी है. अभी सेमेस्टर खत्म होने को आया … बस हमारा प्रोजेक्ट दिखाना ही बाकी रह गया था.

मगर मैंने उनसे जिद की तो वो बोलीं- चलो तुम अपनी बाइक पर नूपुर के साथ आ जाओ … हम लोग ऑटो से पहुंचते हैं. मुझे पसंद आ गई और मैंने तेरा माल चाट लिया, मस्त था यार … गरम गरम और गाढ़ा भी. फिर मैंने उसकी पैंटी को हल्का सा साइड किया और उंगली अंदर पैंटी में दे दी.

मेरे को बीएफ देखना है

लंड के जबरदस्त प्रहारों के बाद जब अम्मी स्खलित होती थीं, तब वो और तेज शोर मचाते हुए बोलती थीं- हाय असगर के अब्बू हाय रे … ओफ्फो सच में बहुत मज़ा आ रहा है.

यह सुन कर आंटी बोल पड़ीं- बेटा यह तो बहुत अच्छी बात है, तुम्हारी खाना बनाने की दिक्कत दूर हो गई और हमारी भी. अपने हाथों से हनी की चूचियां मसलते हुए मैंने उससे कहा- तुम 28 नम्बर की ब्रा पहनती हो, तीन महीने में तुम्हारी ब्रा का साइज 32 होने वाला हैबस उतना ही चाहिए भी, उससे ज्यादा मुझे चाहिए भी नहीं. होटल में पावस और सारिका का कमरा छठवें वें फ्लोर पर था और मेरा कमरा 7वें फ्लोर पर.

मैंने राहुल से कहा- राहुल अब बड़ा लंड मेरी चुत में डाल दो … ओर मेरी चुत को फाड़ दो. मूवी की लास्ट 5 मिनट में संगीता ने अपना मुँह मेरी छाती में छुपा लिया था. पुराने कपड़े किस दिन दान करेंइससे वो बिलबिला गई और गाली बकने लगी- साले लौड़ा क्यों निकाला मादरचोद.

तब मैंने आजू बाजू वालों की फिक्र ना करते हुए भाभी को कसके पकड़ लिया और उन्होंने भी मुझे अपनी बांहों में कस लिया. साहिल भी मुझे पूरे जोश के साथ चोद रहा था।कुछ देर बाद साहिल ने मेरी चूत मारी.

औरत की वासना क्या क्या करवा लेती है उससे!मैंने उनसे साफ़ शब्दों में कहना उचित समझा और कह भी दिया- मामी जी क्या आपको मालूम नहीं है कि मामा जी की तबियत खराब है और वो अस्पताल में भर्ती हैं. भानू ने नीचे हाथ ले जाकर उसकी साड़ी को उठाते हुए उसके पेटीकोट में डाल दिया. सुरेश- उस दिन तूने कहा था कि मजबूरी थी … आज फिर तू कांड करके आई ना! ठहर … आज मैं ये सब तेरी मां को बताता हूँ.

डॉक्टर ने बोला- सोनू जी, मुझे ऑपरेशन के पैसे नहीं दिए हैं और बोला है कि पैसे के बदले इसकी चूत और गांड मारनी है. कभी मैंगो फ्लेवर तो कभी एप्पल, चेरी तो कभी दूसरे फ्लेवर का कंडॉम लगाकर।उस लड़की की ओर देखते हुए मैंने कहा- और चूसो … बस चूसते रहो … आंनद मेहता तुम्हें भी अपने लन्ड से आंनद देगा … उफ़ … आह … अह!मैंने उसके गोरे मुंह को झुक कर पकड़ लिया और फिर लड़की को खड़ी कर उसके लाल-लाल होंठों को जोर से चूसने लगा. मीता से थोड़ी देर बात करने के बाद सुरेश ने उसको समझा दिया कि आज कैसे क्या करना होगा.

तभी नकली लंड की रगड़ से खुद मधु झड़ गई और अब हम तीनों जबरदस्त चुदाई के बाद थक कर लेट गए.

उसके बाद प्रिंस कुछ नहीं बोला और दोनों हाथों से फोन पकड़ कर वीडियो देखने लगा. जो लड़की अभी-अभी काले केले का भोग लगाकर आ रही थी उससे अब क्या छुपाना?मैंने नाम पूछा तो उसने सोनाली बताया.

वह जैसे-जैसे नजदीक आ रही थी, मेरे अंदर थोड़ी घबराहट जागने लगी। वह मेरे तौलिए के ऊपर के उभार को ही देखे जा रही थी. पांच मिनट ही मैंने उसकी गांड मारी … क्योंकि उसको बहुत ज्यादा दर्द हो रहा था. तभी उसका ध्यान मेरी तरफ पड़ गया और वो झटके से खड़ी होकर अपनी सलवार बांधने लगी.

तब चौधरी बोला- मालिश कर! और इसे अपने हाथ में ले ले!मैं एक हाथ से चौधरी की छाती पर मालिश कर रही थी और एक हाथ से मैं चौधरी का हथियार हिला रही थी. अब हम दोनों ने सिगरेट का मजा लिया और साथ में बची हुई बियर को भी अपने गले से नीचे उतारी. मेरी जींस में से मेरे लंड का उभार साफ दिख रहा था, जिसे चाची ने भी देख लिया था.

बीएफ मशीन वाली आगे की यंग टीन सेक्स स्टोरी भाभी के शब्दों में ही है:मेरा नाम शईमा है, उम्र उन्नीस साल, रंग गोरा, पतली कमर चौबीस इंच, छरहरी काया, लम्बाई पांच फुट दो इंच थी. मेरी चूत में भरा हुआ दो बार का दीपक का रस और मेरा भी रस मिल कर मलाई बन चुका था.

सेक्सी वीडियो बीएफ एक्सएक्सएक्स

फिर मैंने पूछा- कल शादी में जाना है, क्या प्लान है तुम्हारा?वो बोली- मैं नहीं जा रही. फिर तुरंत कप को टेबल पर रखा और मेरी जांघ पर हाथ से चाय की बूंदों को हटाते हुए बोली- जल तो नहीं रहा है अंकल?”इतने में ही मेरा लंड खड़ा हो चुका था. दीपक उसी हालत में दो और झटके मारे और निढाल होकर मेरे ऊपर गिर गया।वह झड़ चुका था.

भाई साहब मुझे किचन में, बाथरूम में, सीढ़ियों पर … कहीं भी चोदने लग जाते. इस समय मामी मेरे लंड पर थम गई थीं और मैं नीचे से उनकी चुत में लंड चला रहा था. हॉट मॉडल फोटोमेरे अन्दर आते ही मामी ने कमरे के दरवाजे बंद कर दिए और लाइट ऑफ करके बेड पर आ गईं.

मैं जिसको रोज याद करके मुठ मारता था, आज उसी ने मुझे सामने से प्रपोज़ कर दिया.

वो कमरे से निकल कर सीधी बाथरूम में चली गयी और भानू ने अपने कमरे के दरवाजे को अंदर से बंद कर लिया और फिर आराम से सो गया. संगीता का रज निकल कर मेरी जांघों पर बहने लगा था और उसने अपने हिलने की स्पीड कम कर दी थी.

मेरा रस गिरने वाला था, तो मैंने पूजा की गांड में थप्पड़ मारना चालू कर दिए. मगर थूक से गीला होकर वो मेरे हस्बैंड से ज्यादा टाइट और विकराल लग रहा था. मधु थोड़ी हरामी टाइप की थी, उसने जो नकली लंड लगाया था, वो 4 इंच मोटा और 8 इंच लम्बा था, जिससे पूजा की गांड की हालत खराब हो गई थी.

संगीता- नहीं नहीं आदित्य, तुम अगर मेरे पास बैठोगे, तो मैं देख सकूंगी.

उसको मजा आ रहा था तो अब वो खुद ही गांड को आगे पीछे करने लगी और गांड चुदवाने का मजा लेने लगी. मैंने उससे कहा- मेरा फोन बंद हो गया है, मुझे उसको चार्ज पर लगाना है ताकि घर पर फोन करके बता सकूं कि मुझे आने में देरी हो जाएगी. भाभी ने मेरे पूरे बदन को चूम कर गीला कर दिया था, जैसा मैंने किया था.

वॉशिंग मशीन की कीमततब मैं चरम पर पहुंच चुका था।उसके हिलते हुए मम्मे और गर्म गुलाबी चूत मेरे लंड को बुला रहे थे।उसे अपनी बांहों में लेकर मैं उसके ऊपर आ गया. मैंने पेंटी के ऊपर से लंड उसकी गांड की दरार में सेट किया और 2 झटके मारे.

मोटा लेडीस का बीएफ

मैं भाई साहब के सामने नंगी खड़ी होकर अपनी चूत मसल रही थी और उनका लंड निहार रही थी. वो दरअसल हुआ यूं कि मेरी लाइफ में घटी सबसे अलग और विशिष्ट अंदाज की घटना थी … जिसकी मैं तो कभी कल्पना नहीं कर सकता था. चाची दर्द से छटपटाने लगीं और लंड को बाहर निकालने की कोशिश करने लगीं.

अम्मी बेकाबू होकर बोलने लगीं- हाय चिंटू के अब्बू … अब लंड डाल के झटके दो, नहीं तो मैं बिना लंड का मज़ा लिए झड़ जाऊँगी. मैं उसकी गांड में पूरा लंड अन्दर डाल कर तेजी से चोदने लगा और हाथों से उसके चूतड़ों पर चमाट मारता जा रहा था. फिर मैंने मैडम से कहा- मैडम आपका वजन कितना है?मैडम बोलीं- याद नहीं … शायद 90 केजी होगा.

उसके मुँह से गाली निकली- उई माँ भैन के लौड़े … चूसना है मादरचोद … काटना नहीं है गांडू साले. अब्बू बोले- सच बोलूं, तो कल रात तक इन्तज़ार कर लो क्योंकि अभी मैं इतने अच्छे से कर नहीं पाऊंगा. मैंने भी मौके का फायदा उठाया और मैं जहां जहां उसे नहलाता जाता, वहां वहां अपने मुँह से चाट कर साफ करता जाता.

कुछ पलों बाद स्यू मामी बोलीं- बेबी, अब और नहीं रहा जाता … डाल दो और देर न करो. उसके बेटे की रोज़ कोचिंग क्लास रहती थी और शनिवार के दिन उसकी कोचिंग का टाइम 4 घंटे का होता था.

रवि- मीता, तू डॉक्टर का लंड चूस, मैं तेरी चूत चाट कर इसको चुदने लायक बनाता हूँ.

वो कमरे से निकल कर सीधी बाथरूम में चली गयी और भानू ने अपने कमरे के दरवाजे को अंदर से बंद कर लिया और फिर आराम से सो गया. क्या गुनिया एक एंगल मापी यंत्र हैकई बार मैं जानबूझकर उसकी चूचियों पर कोहनी से छूने की कोशिश किया करता था. नर्स की सेक्सी वीडियोवो भी मेरे होंठों को चूसने लगा और फोन को साइड में रख कर अपने हाथ से कभी मेरे गांड को सहलाता, तो कभी मेरे निप्पलों को दबाता. चाची की नींद गहरी लगी हुई थी, जिस वजह से उनकी तरफ से कोई भी प्रतिक्रिया नहीं हो रही थी.

उन्होंने कहा- नहीं यहां नहीं … ये भी कोई मुँह लगाने की जगह है!मैंने कहा- स्स्स्स्स … आप बस चुप रहो और बस इस पल को एन्जॉय करो.

उसके चेहरे से लग रहा था कि वो जाग तो रही है लेकिन सोने का नाटक कर रही है. मामी की आंखों से बहते आंसू देख कर मुझे उन पर प्यार आने लगा और मैंने उनके आंसू पौंछे. देसी चाची की चुदाई कहानी में पढ़ें कि पड़ोस की विधवा चाची जवान नज़र आती थी.

फिर अपने पैर से सहलाते हुए नीचे को आई और धीरे धीरे मेरे लंड को पैरों से जकड़ने लगी. वो तो मेरे लंड के लिये तड़प रही थी, पर मुझे उसको तड़पाने में बहुत मजा आ रहा था. संगीता ने अपने दोनों हाथों को पीछे की तरफ मोड़ कर अपनी ब्रा के हुक खोल दिए, लेकिन ब्रा को अपने स्तनों पर लटकने दी.

बीएफ 12 साल की लड़की का

सारा दिन राज और मैं मम्मी पापा की चुदाई शुरू होने का इन्तजार करे जा रहे थे. ” मेरी बीवी पंडित की बड़ाई करते हुए बोली।यह पंडित हमारी गली में ही रहता था। इस पंडित की उम्र लगभग पचपन-छप्पन की होगी. आप लोग सोच रहे होंगे कि एक झटके में पूरा लंड घुसते ही वो चिल्लाई होंगी, लेकिन नहीं … बस हल्की सी सिसकारी ली और लंड को गड़प कर गईं.

वो किचन से निकल कर मेन गेट के पास गईं और उसे अन्दर से बंद करके ऊपर अपने रूम में अब्बू के पास चली गईं.

उसकी नजरों से नजरें मिलते ही मैं थोड़ा तनाव में आ गया और बिना कुछ बोले गन्ने के खेत से बाहर आ गया.

नेहा ने और हमने साथ में बैठ कर चाय पानी किया और उसने हम दोनों से ऊपर की मंजिल वाले कमरे में जाने के लिए इशारा कर दिया. ”फिर हम दोनों हंसने लगे और बाकी के दोस्तों के आने तक ऐसी ही बातें चलती रहीं. सेक्सी पिक्चर हिंदी देहातीवो अम्मी को चोदते हुए कहने लगा कि मुझे सबसे ज्यादा मजा अस्मा को चोद कर आया.

फिर एक आदमी ने उसके हाथ पकड़े और दूसरे ने पैर, उसको उठा कर टेबल पर बिठा दिया. मैं बाहर आ गया- विनी का कॉल आ रहा है मामी, हां विनी बोल ना!ये कहते हुए मैं फिर से मामी के पास आ गया और वो मेरे लंड को चूसने लगीं. जिसे देख कर मैं समझ गया था कि मैडम के पास अपनी चुत चुदाई का पूरा इंतजाम रहता है.

पापा ने मेरे मुँह में अपने लंड का रस टपका दिया और राज ने अपनी सास के मुँह में पानी छोड़ दिया. मैंने चूत के मुँह पर लंड रख कर थोड़ी सा अन्दर किया, तो लंड अन्दर जाने को तैयार ही नहीं था.

अब आगे की अन्तर्वासना मस्तराम कहानी:मेरी मामी ने जब मुझे अपनी सहेली के लिए बताया, तो मैंने उससे पूछा कि वो फिलहाल उधर ही रहती है या कहीं और शिफ्ट हो गई है.

मेरा तो मन कर रहा था कि आपको हटा कर खुद नीचे लेट जाऊं कि आओ भाई … अब आप मेरी चूत को भी चोद कर इसे शांत कर दो. दो-तीन मिनट के बाद मुझे महसूस हुआ कि मेरे लंड पर काफी सारा गर्म पानी आ गया. जैसे जैसे मूवी आगे बढ़ने लगी, वैसे वैसे संगीता मेरे हाथ को पकड़ मेरे नजदीक आने लगी.

मौखिक संचार का क्या जब मैं कॉलेज में गया, तो मुझे एक से बढ़कर एक लड़कियां दिखने को मिलीं. मैं ये सब डिलीट कर दूंगा फोन में से।आंटी- डरो नहीं, कुछ नहीं कहूंगी तेरी मम्मी को, ये बताओ कि गर्लफ्रेंड है क्या तुम्हारी?मैं- नहीं आंटी, अभी तक तो कोई नहीं है, आप मोबाइल दे दो मेरा!मोबाइल मेरे हाथ में देते हुए वो बोली- फोन में लॉक लगाकर रखा करो.

लेकिन उसके लिए मेरा लंड पहला नहीं था, इसलिए उसने ज्यादा कुछ चिल्लपौं नहीं की. इसी के साथ साथ किस तरीके से चुदने का मन है, अम्मी ये सब खूब बोलती रहती थीं. मौसी अपने घर में अकेली रहती थीं और अपने मकान का एक हिस्सा किराए से देती थीं.

हीरोइन के बीएफ एचडी

मगर ये अनुभव मैंने कई बार लिया था, तो मरियल जेनिल से ज्यादा कुछ नहीं हो सका. इतने मैं मैंने नारियल के तेल को हल्का सा गर्म कर लिया।मैं बैठा बैठा उसका इंतज़ार कर ही रहा था कि वो आ गई।आकर बोली- चलो कर दो मालिश. इससे पहले कि मैं जोर से चिल्लाता, अंकल ने मेरे मुंह पर हाथ रख दिया और मेरे ऊपर झुक गये.

अब विदा लेता हूँ दोस्तो, ये हिंदी चुत सेक्स कहानी आपको कैसी लगी, मुझे मेल करके जरूर बताना. जब मधु आई तो वो बोली- अरे सबके सब ऐसे ही क्यों बैठे हो यार … अब तक फिल्म शुरू ही नहीं की.

अब उन्होंने धीरे धीरे अपना लंड मेरी गांड में अंदर बाहर करना शुरू किया.

फिर एकदम से मेरे बरमूदे में हाथ डाल दिया और मेरे लंड को हिलाने लगी. मैडम की ये हरकत देख कर मुझे कुछ समझ ही नहीं आया कि ये सब क्या हो रहा है. सन्नो- अरे पतिदेव ये समस्या नहीं है … बस एक कली है … जो अपनी जवानी की आग में तड़प रही है.

मैं अच्छा ख़ासा मर्दाना जिस्म का मालिक हूँ और मेरे लंड का साइज़ आठ इंच है. जब मैं बाहर आयी, तो मेरा बेटा बाहर खेल रहा था और मेरी बेटी सोफे पर रो रही थी. पांच मिनट बाद में उसके ऊपर से हटा, तो उसकी चूत से उसका खून और मेरे लंड का अमृत एक साथ निकल रहे थे.

वो चिल्लाने, कराहने लगी लेकिन मैंने पूरा जोर लगाकर उसकी गांड में लौड़ा घुसा दिया.

बीएफ मशीन वाली: क्रॉसड्रेसर बॉय स्टोरी में पढ़ें कि मुझे लड़कियों की तरह रहने का शौक है. जहां मुझे काम था, उन लोगों को हिंदी समझ आने का तो सवाल ही नहीं था, वे लोग अंग्रेजी भी नहीं समझ पाते थे.

यह देख कर मैंने समझ लिया था कि चाचा के बाहर रहने से चाची की चूत में भी खुजली होती है, तभी तो इतनी सारी फिल्म्स उनके फ़ोन में हैं. अपने हाथों से हनी की चूचियां मसलते हुए मैंने उससे कहा- तुम 28 नम्बर की ब्रा पहनती हो, तीन महीने में तुम्हारी ब्रा का साइज 32 होने वाला हैबस उतना ही चाहिए भी, उससे ज्यादा मुझे चाहिए भी नहीं. मैं राज की बात सुनकर बेहद उत्तेजित हो गई थी और बिना सोचे ही बोल पड़ी- हां राज, कुछ करो यार.

अपनी जींस की बेल्ट और चेन खोलकर जींस और जॉकी को नीचे खिसका दिया तो मेरा लण्ड फुदक कर टनटनाने लगा.

फिल्म एक्ट्रेस सेक्स स्टोरी आपको कैसी लगी? आपके मेल मुझे प्रोत्साहित करेंगे. वरना मैं तुम्हारे घर वालों को जमीन नहीं दूंगा खेती के लिए!सेक्सी लड़की की आवाज में यह कहानी सुनें. सुरेश- ये हुई ना बात … तो चलो मीता तुम लेट जाओ … रवि को जो करना है, उसे करने दो.