इंडियन लड़की की चुदाई बीएफ

छवि स्रोत,ब्लू पिक्चर हिंदी सेक्सी बीपी

तस्वीर का शीर्षक ,

विडिओ बीफ: इंडियन लड़की की चुदाई बीएफ, बहू बोली- अरे डैडी जी, अपने कोट के साथ टाई नहीं पहनी है? आप यहाँ खड़े हो जाइये, मैं टाई बांध देती हूँ.

गुवाहाटी सेक्सी मूवी

वो भाभी मुझे ऊपर चढ़ते देख कर बोलीं- ये आपकी बर्थ है?मैंने हां में उत्तर दिया. स्मार्ट लड़की का सेक्सीऔर चिन्ना करोना की ओर हवस भरी मुस्कराहट से देखता हुआ अपने बैडरूम में चला गया।करोना वहीं रुक कर उस मालिश वाली लड़की को देखना चाहती थी.

मैंने कहा- सुबह तो भैया घर पर ही होते हैं, भैया के साथ अस्पताल चली जाना. सेक्सी डाउनलोड बीपीमैं सच बताऊं, तो मुझे अपने दोनों छेदों में लंड लेकर बहुत मज़ा आ रहा था.

करीब बीस दिन निकले होंगे, पापा को किसी की डेथ पर आउट ऑफ़ स्टेशन जाना पड़ा.इंडियन लड़की की चुदाई बीएफ: हमारी मां उस समय गुजर गई थीं, जब श्वेता 3 साल की थी और मैं छह साल का था.

मैं- ऐसे नहीं … ऊपर वाला भाग को पूरा मुँह में ले कर किस करो … जैसे लॉलीपॉप खाते हो वैसे.थोड़ी देर बाद उसने अपना लंड बाहर निकाला जो पूरा मेरी मम्मी के थूक में सन गया था.

मां बेटा सेक्सी वीडियो जबरदस्ती - इंडियन लड़की की चुदाई बीएफ

मेरे से रहा नहीं गया और मैंने उसके चूचों में अपना चेहरा चूसा दिया था.बाप के लगाए पेड़ का यह फल बहुत मीठा है … और मैं चाहती हूँ कि नसरीन के रूप में ये मीठा फल तू ही खाए.

अब कल्पना ने भी मेरी शर्ट उतार कर बेड पर फेंक दी और मुझे जोर से गले लगा कर मेरे बालों में हाथ फेरने लगी. इंडियन लड़की की चुदाई बीएफ थोड़ी देर बाद जब भाभी नॉर्मल हुईं … तो मैंने लंड थोड़ा सा बाहर निकाल कर एक और झटका मारा.

उसने कैसे मेरी लंड पर चढ़ कर ज़न्नत की सैर की?दोस्तो, मैं मनीष शर्मा अन्तर्वासना का एक नियमित पाठक हूँ और कोटा से हूं.

इंडियन लड़की की चुदाई बीएफ?

मैंने देर ना करते हुए अपने होंठों उसकी चूत पर लगाया और किस और सक करने लगा. कुछ ही देर में मैंने नोटिस किया कि सिस्टर की चूचियां मेरी कुहनी के साथ में टच हो रही हैं. बहू और मैं एक दूसरे के सामने खड़े थे मगर पता नहीं क्यों मैं हिम्मत नहीं कर पा रहा था.

मैंने उससे बातचीत से समझ लिया कि वो एक तन्हा औरत थी और उसका पति विदेश में काम करता था. अम्मी उसकी चूचियों के साथ खेलने लगी और मैं उसकी चूत पर लंड लगा कर रगड़ने लगा. इत्तफ़ाक़ से कुछ ही दिन बाद नसरीन भी मासिक पीरियड से निवृत होने वाली थी.

वो गुस्सा तो नहीं हुई लेकिन वो हम दोनों के इस रिश्ते को दोस्ती से ज्यादा नहीं समझती थी. लण्ड अभी भी चूत के अन्दर था और शिलाजीत के असर से अभी भी ढीला नहीं हुआ था. कुछ देर तक लंड चुसवाने के बाद मैंने तनु की चूत में लंड को पेल दिया.

जल्दी से शादी में पहुंचकर मैंने सौम्या को कॉल किया तो उसने कहा- मैं थोड़ी देर में फोन करती हूं. एक दिन मैं अंजू के घर गया, अंजू, मेरा दामाद नरेश, सारिका व मेरे समधी समधन सब घर थे.

जब मैं सुबह उठा तो देखा कि मेरे लंड ने तो नींद में पानी छोड़ दिया है.

दोस्तो, मैं आपको एक बात बोलना चाहता हूँ कि अगर लाइफ में कभी आप पहली बार चुदाई करोगे न … तब आपके मन में भी बार बार चुदाई का ख्याल आएगा.

वह दूसरी तरफ मुंह करके लेट गई उसकी गांड देखकर तो मेरी खराब हालत खराब हो गई।चूतें तो मैं वैसे भी बहुत मार चुका था तो मैंने सोचा कि इस साली की पहले आज गांड ही मारूंगा. ’कह कर मुझसे कहा- ठीक है ले जाओ … और सुनो कल शाम को तुम्हें मुझे जिम पर पिक करने आना है. मुझे भी कॉलेज तक तो जाना ही था, तो मैंने उसे बताया कि मैं भी एग्जाम देने के लिए कॉलेज जा रहा हूँ, तुम मुझे कॉलेज तक लिफ्ट दे दो.

मैं 15 मिनट तक उसकी चूत चूसता रहा … और इधर मेरा लंड फिर से खड़ा हो चुका था … जो कि उसके हाथों की गर्मी महसूस कर रहा था. वो मुझसे आराम से पुश्त से टिकते हुए बोले- मुझे नॉनवेज ज्यादा पसंद आता है. दूसरे दिन सुबह में बहुत खुश था और जो कल हुआ था, उससे आगे बढ़ने को तैयार था.

मैंने माया को पार्थिव को बुलाने के लिए बोला तो बोली- आप मुझे काम बता दीजिए, मैं उन्हें बोल दूंगी.

बस फिर क्या था … मैं धीरे धीरे उसके दूध को सहलाने लगा और अपना पैर उसकी जांघ पर रगड़ने लगा. लेकिन मैं कहां रुकने वाला था, मैं उसके ऊपर लेट गया और दो-तीन मिनट इंतजार किया जिससे उसकी चूत थोड़ी सी और ढीली हो जाए. मैं पहले से ही उत्तेजित हो चुका था और उसके द्वारा इस तरह से लंड चूसने के कारण मैं ज्यादा देर टिक नहीं पाया.

ये सुनकर वो झट से उठकर बैठ गयी और मेरे लंड पर हाथ रखने की कोशिश करने लगी. चार बार लंड अन्दर बाहर करने के बाद मैंने धक्के लगाने शुरू किए और उसने साथ देना. करीब आठ दस मिनट में मेरे लंड ने हिम्मत छोड़ दी और वो झड़ने को हो गया.

फिर उसने मेरे लंड पर ऊपर नीचे ऊपर नीचे कूदना शुरू किया, तो मैंने उसके चुचों को अपने हाथ में थाम लिया, जो हर एक झटके के साथ ऊपर नीचे ऊपर नीचे झूल रहे थे.

यह एक पॉलिसी होती है जिसमें कम्पनी को डिफेक्टिव सामान वापस कर दिया जाता है. और यदि मेरा यह आर्टिकल पाठक पाठिकाओं को पसंद आएगा तो मैं आगे कुछ और यौन समस्याएं भी आपके साथ शेयर करूंगा.

इंडियन लड़की की चुदाई बीएफ पूरा कमरा हमारी कामुक सिसकारियों से और फच फच की आवाज़ों से गूंजने लगा. इस कारण वो मुझे कस कर हग करने लगी। मैं भी उसकी पीठ सहलाते हुए उसको गले से लगाए रखा। फिर हाथ पीठ को सहलाते सहलाते उसकी गांड पर ले गया और फेरने लगा.

इंडियन लड़की की चुदाई बीएफ इसके बाद कपड़े पहनने के लिए अपनी ब्रा पैंटी उठाई, तो उसने कहा- अपनी ब्रा और कच्छी मुझको दे दे और भाग जा. 1 घंटे टहलने के बाद में घर गया तो बेटे की दी हुई चाबी से गेट खोला और अंदर आके सोफ़े पर बैठ गया.

उसके होंठों पर अभी भी मेरा वीर्य लगा हुआ था, जो उसने अपनी जुबान से चाट कर साफ कर लिया था.

सेक्सी वीडियो एचडी फिल्म

फिर भाभी अंगड़ाई लेकर बोलीं- अच्छा जी … और क्या क्या अच्छा लगता है मुझमें. मैंने अन्तर्वासना पर मां-बेटे की चुदाई की कहानियों को कई बार पढ़ा था. मैं सीधी होने लगी, तो मोहन ने मेरे निप्पल को दांत में दबा लिया और इतना सख्ती से पकड़ा कि अगर मैं सीधी होती तो निप्पल टूट कर मोहन के मुँह में ही रह जाता.

मैंने पूछा- आपके वहां भी नीचे ऐसे ही बाल हैं क्या?मामी ने कहा- हां, सबके ही होते हैं. उपर्युक्त किसी भी तरह के प्रयोग के लिए आपके पास कलाकार के रूप में दो प्रकार के विकल्प हो सकते हैं-1. पहले इस भट्टी की आग को अपने हैंडपंप के पानी से बुझा दो।लेकिन मैं तो अपनी ही धुन में उसकी चूचियों को और चूतड़ों को सहला रहा था वो और भी तेज आवाजें निकालने लगी.

सुहागरात की बात सुनकर मेरे अंदर भी शादी की पहली रात जैसा जोश भर गया जैसे.

क्योंकि मैं ये सोचता था कि माया मेरे दोस्त की पत्नी है … किंतु वो मेरे बारे में क्या सोचती थी, मुझे इसकी जानकारी बिल्कुल नहीं थी. मुझे अब एहसास हुआ कि मेरा लंड उसकी गांड के छेद के पास चुभ रहा है पर अब मैं उसके साथ थोड़ा खेलने के मूड में आ गया था।मैं- ऐसे किधर चुभ रहा है?शिल्पा- जैसे कि तुम्हें पता नहीं है. वे सब हल्की आवाज में हंसने लगीं और इसी तरह की बातों के कुछ देर बाद वे तीनों सो गईं.

तो मैंने देखा कि बहू के बैड पर एक औरत कुतिया बनी हुई है और एक जवान लड़का उसे पीछे से चोद रहा है. मैंने कहा- ठीक है भाभी … कोई बात नहीं तुम बुला लो … मैं उसे संतुष्ट कर दूंगा. बस में मीनू को खिड़की वाली सीट मिली थी इसलिए वह खुश थी। मीनू को बैठने में तकलीफ हो रही थी क्योंकि उसने जीन्स की पैंट पहन रखी थी, शायद उसकी फिटिंग सही नहीं थी इसलिए उसको कुछ मुश्किल हो रही थी.

पहले एक चूची को मुंह में भरा और फिर दूसरी चूची को हाथ से मसलने लगा. मजे में सिसकारते हुए उसने कहा- आह्ह … चोद दो यार आज … अब तक ये चूत कुंवारी थी और मैं भी कुंवारी थी.

मैंने भाभी से कहा- भाभी, क्या आप अपनी चूत पर मेरे लंड के नाम की मुहर लगवाने के लिए तैयार हो?भाभी ने नशीली आँखों से मुझे देखा और कहा- हां मेरे राजा, मैं तो कब से चुदने के लिए तैयार हूँ. करीब 2 मिनट के बाद वो झड़ गयी और उसका रस अपने लंड पर महसूस करके मैं भी झड़ने लगा. उसने मेरे लंड को मुंह में ले लिया और एक दो बार चूसा था कि मेरे लंड से वीर्य की पिचकारी छूटने लगी.

फिर भी आप मुझे सलाह दीजिये कि मुझे क्या करना चाहिए क्योंकि मेरे पति की तरफ से तो कोई आपत्ति नहीं है.

हनी चुपचाप उठी और कपड़े पहनने के लिये सोफे के पास जाने लगी तो मैंने उसका हाथ पकड़कर कहा- कुछ नहीं करते, बस एक बार मेरा लण्ड चूस लो. मुझे सिरहन सी हो रही थी और मेरा शरीर कांप रहा था … क्योंकि मेरे पापा मुझे पहली बार हाथ लगाने वाले थे. मेरी बात सुनकर तनु बोली- जब तुम इतनी सारी चूत चोद चुके हो तो तुमने मेरी बेचारी बुर क्यों चोदी?मैंने कहा- जब मैंने तुम्हें पहली बार देखा तो तभी मेरा मन तुम्हें चोदने के लिए कर गया था.

मैं उससे चुदाई करवाने की सोचने लगी पर मुझे चुदाई से बहुत डर लगता था. अब मेरे दोनों छेद में दो लंड घुस गए थे और मैं भी खूब उचक उचक कर चुदवा रही थी.

कुछ टाइम बाद उन्होंने मेरा हाथ दबाया और अपने पैरों को मेरे लंड पर दबाया. मैंने उसको जगा कर जाने का बोला तो वो बोली- कल भी आओगे न?मैंने उसको हां बोला और वापस अपने घर आ गया. जिंदगी में यह सुनहरी मौका एक ही बार आता है।चिन्ना अब अपनी पर आ चुका था.

साड़ी डोर मेट

फिर मैंने उसे सीधा लिटाया और उसके ऊपर आ गया और उसकी चूत को हल्का हल्का चूमने लगा.

एक दिन उसने मेरे फोन में ब्लू फिल्म देख ली और मेरी मम्मी को बता दिया. हनी धीरे धीरे मेरा लण्ड चूसने लगी तो मैंने उसकी चूचियां सहलाना शुरू कर दिया. उसे मैंने अपनी बहन को दिखाया- देखो, बस ऐसे ही तुम्हारी बुर में भी होता है.

करीब पांच मिनट बाद करोना- अंकल आप मेरी चूत का बैंड कब तक बजाओगे?चिन्ना- आअह बस हो गया मेरी प्यारी बेटीईईईई!करोना की चूत में चिन्ना का लण्ड थोक में झड़ने लगता है और करोना उसकी पिचकारियों को महसूस करती है. मैंने पूछा- चूत को चुसवाना पसंद है तुमको?वो बोली- हां इसमें बहुत मजा आता है. सेक्सी व्हिडीओ दिखाइए इंग्लिशउसने अपनी और अपनी नाजुक चूत की किस्मत का फैसला अब चिन्ना और उसके बमपिलाट लण्ड के हवाले करने का फैसला कर लिया था.

फिर मैंने रचना को किस करना शुरू कर दिया और उसकी चूचियों को दबाने लगा. उनके पहनावे के कारण मैं यह जान गया था कि आंटी नीचे से पैन्टी नहीं पहनती हैं.

बहू और मैं एक दूसरे के सामने खड़े थे मगर पता नहीं क्यों मैं हिम्मत नहीं कर पा रहा था. सबसे पहले तो उसके मन में डर था कि होटलों में ब्ल्यू फिल्म बन जाती है. लेकिन वाह री क़िस्मत, जिस चीज़ के लिए मैं उस दिन तरस रहा था … आज हालात ऐसे बन गए कि वो खुद ब खुद मुझे हासिल होने वाली थी.

उसने कहा- प्लीज बोलो?तो मैंने कहा- कल मेरा लहंगा चोली मेरी ब्रा और कच्छी पैक करके अपने लड़के के हाथ भेज देना दोपहर तक … नहीं तो तुझे लेने पुलिस आएगी. अब तो मैं आ ही गया। तुम्हारी इस चूत का पूरा रस निचोड़ लूंगा उसकी चिंता मत करो। पहले थोड़ा सा गर्म तो होने दो।मैंने उसे अपने पास सटा कर बैठाया और उसे अपनी बांहों में भरकर उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए. उसने कहा- गुड … अब तू लेट जा … मैं तेरे मुँह पर बैठकर अपनी चुत चटवाने आऊंगी.

और वो भी सिमटी जा रही थी और मेरे से अपने को बचाने का झूठ मूठ का ड्रामा भी कर रही थी.

और वह चली गई।शाम को जब वह मुझसे मिली तो उसने फिर कहा- उसे मुझसे कुछ बात करनी है. [emailprotected]आगे की कहानी:मेरे लंड की दीवानी गाँव की देसी बुर-2.

थोड़ी देर बाद मैंने अपना हाथ उसकी सलवार के अंदर डालना शुरू कर दिया. मां ने दीदी से कहा- आओ बेटी, अपने पापा को अपनी जवानी का पूरा रस दे दो आज. अब नताशा मुझे जोश की वजह से मेरी पीठ को अपने नाखूनों से नोंच रही थी और मेरे बाल खींच रही थी.

उसने मुझे नीचे लेटने को बोला और अपनी गुलाबी चूत मेरे मुँह पर रख कर बैठ गई और झुक कर मेरे लंड को हाथ में लेकर सुपारे को जीभ से चाटने लगी. जब वो बियर लेकर आई, तो मैंने उसे कहा- ये यहां रखो और अपनी आंखें बंद करो … तुम्हारे लिए एक गिफ्ट है. ’करोना हड़बड़ी में लण्ड को अपनी चूत के गुलाबी छेद की सीध में लाकर- नेताजी, मेरी नाजुक कुंवारी चूत का अपने मोठे काले लण्ड से उद्घाटन कर दो प्लीज.

इंडियन लड़की की चुदाई बीएफ फिर मैंने उसकी बुर के बालों को कैंची से काटना शुरू किया और पूरा ध्यान उसकी बुर पर ही रखा. मुझे अफ़सोस इस बात का था कि कुछ कर नहीं पाया … क्योंकि भैया भाभी भी कमरे में थे.

मेरी दादी पर 10 लाइन

बात 1942 के आसपास की है। हम 15 लड़कों ने अंग्रेजों के एक काफिले को लूटा. थोड़ी देर बाद मम्मी बाथरूम से निकलीं और कमरे की लाइट बंद करके बेड पर आ गईं. जब वह सेब खा रही थी, तो मेरा माल उसके थूक के साथ चिपक कर उसके मुँह में चला गया.

सभी लड़के अपने लंड को पकड़ लें और लड़कियां अपनी चूत में उंगली अन्दर कर लें क्योंकि यह कहानी इतनी मजेदार है कि आपके छेद से पानी निकल जाएगा. मैं- मुझे पता है … पर मन नहीं कर रहा … क्योंकि मुझे पता है कि आज के बाद हम ये सब पर बात भी नहीं करेंगे. वीडियो ओपन सेक्सी इंडियनमेरे सामने वही वेटर खड़ा था, जो अपने मोबाइल से मेरी वीडियो रेकॉर्डिंग कर रहा था.

मेरे मुंह से एक चीख निकल गई तो वह जोर से हंस पड़ी।हम दोनों काफी देर एक दूसरे से चिपके रहे और फिर मैं उसके ऊपर से उतर गया.

वो जैसे ही चाय देने के लिए झुकी, तो मेरी नज़र उनके ब्लाउज के अन्दर उनकी चूचियों पर चली गयी, लेकिन मैंने जल्दी से वहां से अपनी नज़रें हटा लीं. उसने मुझे अन्दर बुलाया और वहीं ड्राइंगरूम में सोफे पर बिठाकर खुद भी मेरे सामने बैठ गई.

कई दिन मैंने ऐसे ही चुदाई देखने की उम्मीद में कई रातें बर्बाद कर दीं. मैंने फिर से पहल की और उसकी उंगलियों की तारीफ करते हुए कहा- आप बड़ी खूबसूरत हो. ऐसा लग रहा था जैसे पोर्न सेक्स फिल्मों की कोई आर्टिस्ट अपनी चूत को खोल कर बैठी हुई है.

मैं समझ गया था कि ये मेरे लिए आखरी मौका है क्योंकि अगले 2 दिन में मुझे निकलना था.

नीचे आकर मैं उनके पैरों को किस करने लगा और पैंटी को उतार के फेंक दिया. इस बीच मैंने पूछा- सिम्मी तुम इतनी खूबसूरत हो, तुम्हारा कोई बॉयफ्रेंड नहीं था क्या?सिम्मी ने कहा- नहीं।मैंने पूछा- ये तो हो ही नहीं सकता. लगभग 20 मिनट में तीनों ने लगभग एक साथ पिचकारी छोडी़ और उठ कर कपडे़ पहनने लगे.

सेक्सी वीडियो हिंदी भाभी चुदाईउसने पूछा- कैसा लहंगा चोली सिलवाना है?मैंने कहा- बैक लैस चोली डोरी के साथ और लहंगा कूल्हों से टाइट और नीचे घेरा वाला सिलवाना है. एक रात मेरी आंख खुली तो देखा कि अंधेरे में मेरी मां पापा का लंड चूस रही थी.

गुजराती सेक्सी व्हिडिओ

उसने भाभी से कहा- यही कुत्ता है तेरा?मैंने कहा- भाभी, तुमने इसे क्या बता दिया?उसने हंस कर बोला- यही कि तू मेरा कुत्ता है. मेरे प्रिय मित्रो,अन्तर्वासना के सभी दोस्तों को मेरा यानि अरुण का नमस्कार!मेरा पिछला लेखमुझे सेक्स की लत कैसे लगीआप सबने पढ़ा ही होगा. उसने मुझे इस तरह उठाया था जिससे उसका लन्ड मेरी गान्ड को टच कर रहा था.

मुझे देख के उसका लन्ड आकार लेने लगा जिसे वो छुपाने की कोशिश कर रहा था. फिर कुछ देर की उठा पटक के बाद उस लड़की की जोरदार चीख सुनाई दी, उसके बाद उस लड़की के घुटी घुटी सी आवाजें आने लगी।अब बस कल ही की भांति जोर जोर से झटके लेने लगी थी। करीब 10 मिनट के बाद लड़की घुटी घुटी चीखें जोरदार सिसकारियों में बदल चुकी थी. उसने भी पहले हाथ से, फिर मुँह में लंड लेकर एक बार फिर से मेरे लंड को खड़ा कर दिया.

पकड़ो मेरा लण्ड और लगाओ अपनी चूत पर! और बोलो ‘नेताजी मेरी नाजुक कुंवारी चूत का अपने मोटे काले लण्ड से उद्घाटन कर दो. फिर उस दिन उसको मैंने छोड़ दिया और बोला- आगे से ऐसा न हो … ध्यान रखना मरना अबकी बार तेरी गांड मार दूँगा. जब मैंने देखा कि उसकी चूत से सोमरस की धार बह रही थी तो मैंने भी मौका सही समझा.

मैं उसे किस करने के लिहाज से उसके ऊपर झुका और एकदम से नीचे से अपना कड़ा लंड उसकी चूत में पेल दिया. मैंने कहा- नताशा बियर खोलो यार … नशा होगा, तो चुदाई का मज़ा डबल हो जाएगा.

हमारे परिवार पर ईश्वर की बड़ी कृपा थी, सब कुछ अच्छा चल रहा था कि तभी एक दुर्घटना में पापा चल बसे.

अब उसने मां के बालों को पकड़ा और अपनी ओर खींचा और अपने लंड को सटासट मां की चूत के अंदर घुसाता चला गया. सेक्सी ब्लू हिंदी पिक्चर ब्लूबाप रे बाप उसके मुँह से चुत रगड़वाने की बात सुनकर मुझे बहुत अच्छा लगा. बॉलीवुड की हीरोइन सेक्सी वीडियोमैंने जीभ को निकाला और उसकी जगह पर अपने लंड को गुलाबी सुपारा उसकी चूत के मुंह पर रगड़ने लगा. क्योंकि उसका ससुर उसके बदन को किसी आटे की तरह गूंथ रहा था, इतने ताकतवर मर्दाना हाथ से अपने बदन को मसलवाते हुए सेजल को बहुत मजा आ रहा था.

मुझे भी आंटी के साथ चुदाई का पूरा मजा मिला और इस तरह से मैं औरतों को खुश करना सीख गया.

कभी मैं उनके होंठों को चूस रहा था तो कभी उनके बूब्स को दबा कर उनको किस कर देता था. रचना भाभी ने कहा- मेरे भी पसंदीदा हैं, पहले मैं भी दही भल्ले ही खाऊंगी. थोड़ी देर तक तो वो मुझसे छूटने नाटक करने लगा … फिर खुद मेरा साथ देने लगा.

चिन्ना- फिर से बोलो, क्या होती हैं?करोना- चूचिया अंकल!चिन्ना अब सिर्फ निप्पल्स पर प्रेशर डालते हुए- ये क्या होते हैं?करोना हल्के से- निप्पल।चिन्ना निप्पलों को जोर से दबाते हुए- जोर से बोलो क्या?करोना खुमारी भरी कम्पकपाती आवाज में- निप्पल्स।चिन्ना- शाबाश मेरी अच्छी बेटी।अब चिन्ना ने अगला कदम बढ़ाया और करोना को सहारा देते हुए खड़ा कर दिया. जैसे ही मैंने अपना हाथ उसके दूध पर रखा, उसने तुरंत मेरे होंठ अपने मुँह में ले लिए और हम दोनों ऐसे ही बहुत देर तक एक दूसरे के होंठ चूमते रहे. उसकी आंखों से आंसू निकल रहे थे।थोड़ी देर रुकने के बाद मैंने लड को आगे पीछे करना शुरू किया.

फुल मूवी गंगूबाई काठियावाड़ी

वो सिक्योरिटी गार्ड बोला- देखो ऐेसे इधर जाना मना है, यह गवर्नमेंट कॉलोनी है. मैंने पूछा- ये क्या?रचना भाभी ने कहा- सवाल मत करो, जो कर रहे हो, बस चुपचाप करते रहो. उसके बाद भाभी ने क्या किया? मुझे भाभी ने कैसे अपनी चूत दी?दोस्तो नमस्कार.

शरीर से मेरा बेटा विशाल वैसे दुबला पतला है लेकिन उसकी हाइट 6 फिट 2 इंच है.

इस बीच वो 4 बार झड़ चुकी थी और मेरा लंड अभी भी जोरदार चुदाई में लगा हुआ था.

मैंने दीपिका के सिर को पकड़ लिया और उसके मुंह को मैंने अपने लंड पर दबाना शुरू कर दिया. ऐसे ही करते करते पूरे 8 लोग उस दिन मेरे ऊपर एक एक करके चढ़ते रहे और मेरी चुत का भोसड़ा बनाते रहे. एलियन की सेक्सी वीडियोवह भी चुदाई का भरपूर मज़ा ले रही थी और मदहोश हो रही थी।मैंने उसके सिर पर हाथ फेरते हुये कहा- जानू तुम्हें अच्छा तो लग रहा है ना?बहुत ज्यादा अच्छा लग रहा है.

अभी हम अपनी अधूरी चुदाई पूरी कर लेते हैं, देखो कैसे मेरा शोना मेरी चूत में जाने के लिए तैयार है. उसने कहा था कि पहले पैसे दो और फिर काम कराओ।फिर भी मैंने किसी तरह पैसों का इंतजाम किया और उनसे अपना काम कराया. फिर उन्होंने मुझे सीधी लिटा लिया और मेरे ऊपर आकर मुझे चूमने लगे, मेरे जिस्म का चाटने लगे, काटने लगे, चूसने लगे.

मैं जब भी किसी लड़की के साथ कुछ करता हूं तो मुझे उसके चेहरे को देखने में बहुत मजा आता है. वो बोली- भैया आप बुरा न माने, तो एक बात कहूँ?मैंने कहा- मैंने तेरी कोई बात का कभी बुरा माना है?वो बोली- भैया, मेरी सहेलियां स्कूल में ऐसे ही सेक्स को लेकर उल्टी सीधी बात करती थीं.

कोई 20 मिनट की जोरदार चुदाई के बाद मामी झड़ चुकी थीं … और मैं भी झड़ने वाला था.

उसके बाद मैंने उससे दारू के लिए पूछा, तो उसने गिलास उठा कर एक ही झटके में पूरा खींच लिया और मेरे हाथ से सिगरेट लेकर मुँह का स्वाद ठीक करने लगी. मैं टांगें फैला दीं, तो उन्होंने मेरी पैंटी के अन्दर हाथ डाला और चुत में दो उंगलियां डाल कर मेरी चुत के दाने को मसलने लगे. बहू का शरीर अकड़ने लगा वो कभी मुझे किस करती तो कभी मेरे छाती पर काटती तो कभी मेरे गले पर काटती.

हिंदी सेक्सी ब्लू फिल्म खुल्लम-खुल्ला टी टी ने कहा- क्यों, तू क्या करेगी इसका?मैंने मुस्कुराते हुए कहा- मैंने आप जैसा मर्द नहीं देखा है, मुझे भी याद रहेगा. फोन को रखते हुए वो बोली- आज इतनी जल्दी घर वापसी क्यों?मैंने कहा- बस ऐसे ही.

उनका फिगर 34-30-34 का है, ये बात मैंने उन्हें चोदते समय उनसे ही पूछा था. अपने लंड को उसकी गांड के छेद पर सैट करके मैंने धक्का दिया, पर लंड फिसल कर ऊपर निकल गया. सारिका बाथरूम चली गई, वापस लौटकर सारिका ने अपने सारे कपड़े उतारे और बेड पर आ गई.

आदिवासी सेक्सी वीडियो चाहिए

मैं- तुम्हें तो हमेशा ही मज़ा आ रहा है … मेरे मज़े का क्या?शिल्पा- तो तुम्हें मज़ा नहीं आ रहा क्या?मैं- वो अंदर डालने से तो मज़ा आता ही है, पर और भी चीज़ें हैं जिनसे मज़ा आता है. और मुझे साफ पता लगता है कि उन्हें इन सब चीजों में असीमानंद मिल रहा है. एक जगह थोड़ी सी जगह खाली थी वहीं पर मैंने निधि को रोक कर उसके सामने घुटनों के बल बैठ कर उसका हाथ पकड़ कर उसे आई लव यू बोला।जवाब में निधि ने भी मुझे आई लव यू बोला.

पापा बोले- बेटी, तुम ठीक हो न … कहीं चोट तो नहीं आई?मुझे उस टाइम कमर में दर्द हो रहा था … तो मैंने कहा कि पापा मेरी कमर में बहुत दर्द हो रहा है, मुझसे हिला भी नहीं जा रहा है … ये मेरी डिलीवरी का टाइम भी नजदीक है, मैं क्या करूं?पापा बोले- तुम घबराओ मत … मैं हूं ना … मेरे पास एक तेल है, जो बहुत ही असरदार है. गुलाबी रंग के गाऊन में मम्मी का गदराया बदन मेरी आँखों में नशा भरने लगा.

उसके मुंह में तो उसके पति का लंड था लेकिन उसकी चूत को छेड़ने की वजह से उसकी सिसकारी बाहर नहीं आ रही थी.

वो बड़ी नाराज हुई। लेकिन मैंने उसको मना लिया और अगले संडे के दिन आने का वायदा किया।फिर आखिरकार वो दिन आ ही गया. 4 से 5 घण्टे लगेंगे आने में!मैं बोला- मैं अपने फ्रेंड के घर जाऊंगा, लेट आऊंगा मैं भी!तो उन्होंने कहा- ठीक है, ताला लगा देना. कुछ देर के बाद जब वो नॉर्मल हो गयी तो मैंने एक जोर का झटका उसकी चूत में मारा और उसकी चूत की सील को तोड़ता हुआ मेरा लंड उसकी बुर में जा घुसा.

उनकी चूचियां इतनी बड़ी हैं कि यूं समझो दो बड़े साइज़ के टाईट खरबूजे लगे हों. और ऐसा ही चलता रहा तो चिन्ना की लुंगी भी गीली हो जाएगी।इससे पहले उसका ये डर सच साबित होता, चिन्ना बोला- बेटी, पीठ की मालिश बहुत हो गई अब मैं पलटता हूँ मेरी छाती की मालिश भी कर दो।करोना यह सोच कर खुश थी और वह ऊपर से उठ कर बैड के नीचे आ गई. उसने तौलिये से मेरी हेल्प की और मैंने भी इसी बीच अपना लंड कई बार उसके टच किया.

मुस्कुराने की एक्टिंग करते हुए करोना धड़कते दिल के साथ बैठ गई और इधर उधर की बातें करने लगी.

इंडियन लड़की की चुदाई बीएफ: किचन से निकल कर जब मैं बेडरूम की ओर आया तो मेरा लंड मेरी जांघों के बीच में दायें बायें डोल रहा था. हम शादी से लौटे तो मुझे लगा कि मेरे पापा और मेरी बहन का व्यवहार आपस में बदल गया है.

अब आज कल्पना के चुदाई की कहानी में क्या मजा आया, वो मैं अगले भाग में लिखूंगा. मैंने उससे कहा- तो दीदी, ओह्ह लवली डार्लिंग कैसा लगा? आज मुझसे चुद कर मजा आया या नहीं? या बॉयफ्रेंड की याद आ गई?अरे बहुत मजा आया! तुमने मेरे बॉयफ्रेंड को चुदाई के मामले बहुत पीछे छोड़ दिया। मेरी चूत तो अभी भी हल्का हल्का दर्द कर रही है।”तो डार्लिंग एक राउंड और हो जाये फिर तो?” मैंने उसकी चूची को सहलाते हुए कहा।अब नहीं. हम लोग कई बार तो ऑफिस में होते हैं तो भी सेक्स कर लेते हैं, वो मेरा लंड चूस लेती है या मैं मैम की चूत चाट लेता हूँ.

नेहा की छोटी सी कुंवारी चूत को भेदते हुए लंड का सुपारा अंदर जा घुसा.

मैंने कहा- चाचा को पता नहीं चल जायेगा?वो बोली- चाचा की बात को तुम मेरे ऊपर छोड़ दो. इतनी देर तक मां मेरे पापा के लंड को चूसती रही लेकिन उनका लंड वैसा का वैसा रहा. दीदी- मन तो कर रहा है कि तुझे एक तमाचा जड़ दूँ … लेकिन मार भी नहीं सकती.