राजस्थानी नंगी बीएफ

छवि स्रोत,पोर्न मूव

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी हिंदी में बोलकर: राजस्थानी नंगी बीएफ, अम्मी बोलीं- अरे यार चूत में मज़ा आने लगा था … फिर जब तक गनद में लेने का मन बनाया तब तक तुम झड़ भी गए थे और मैं भी बहुत थक गई थी.

चूत की चूत

चूंकि पूजा की शादी सैट हो चुकी थी, तो मधु बोली- मैं तेरी ससुराल में भी सब को बोल दूंगी कि तुम एक नम्बर की रंडी हो. कॉलेज वाली लड़की का सेक्सी वीडियोसेक्स डॉल की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरे भतीजे की बीवी सच में एक गुड़िया है सेक्स की.

जब से पूजा ने अपनी सहेली रेखा को मेरे सामने वीडियो कॉल में पूरी तरह नंगी करके उसके गोरे और मालदार शरीर को भोग कर मुझे भी चक्षु चोदन का मजा करवाया था. নেপালি বিএফ ভিডিওवो खुद मेरे लंड से मचल मचल कर चुदती हैं और मैं भी चाची को खूब मस्ती से चोदता हूँ.

मैं कामना करती हूँ कि अब आपको इस कहानी के अंत तक का मनोरंजन अनवरत मिलता रहेगा.राजस्थानी नंगी बीएफ: उधर मम्मी के ऊपर राज चढ़ा हुआ था वो मेरे मम्मों को दबा दबा कर मजा ले रहा था.

उसके मुँह से वो निकलती हुई गर्म सांसों को में महसूस कर रहा था और उसके छोटे छोटे दूध मेरे सीने से सटे हुए थे.उसका रंग सांवला था और नाक नक्श बहुत सुंदर थे।पर मुझे आज तक मौका नहीं मिला उस से बात करने का क्योंकि वो चुप चाप अपना काम करती है और अपनी माँ के साथ ही रहती है।मैंने अब सोचा कि ये सब तो अपने काम में लगे हैं क्यों ना सोनम की जवानी का रस पिया जाए।मैं धीरे धीरे से उसके नजदीक चला गया.

एचडी एक्सएक्सएक्स - राजस्थानी नंगी बीएफ

भाभी ने सिर्फ एक ही गिलास में पैग बनाया और मेरे होंठों से गिलास लगा दिया.फिर एक दिन रौनकी सेठ का एक्सीडेंट हो गया और इलाज के समय रौनकी की मौत हो गयी.

मेरी जींस में से मेरे लंड का उभार साफ दिख रहा था, जिसे चाची ने भी देख लिया था. राजस्थानी नंगी बीएफ मैंने देखा तो वो सुरेश था जिसके खेत पर काम करते थे माँ बापूजी!और चौधरी बोला- सुरेश तू यहाँ?तब सुरेश बोला- चौधरी जी, आप ने इसे माफ किया.

ऐेसे ही कुछ मिनट बहन की गांड मारने के बाद मैंने स्पीड बढ़ा दी और बहन से पूछा- अब बताओ … कहां पानी छोडूँ?बहन बोली- अन्दर ही निकाल दे, यहां कोई खतरा नहीं है.

राजस्थानी नंगी बीएफ?

शायद मेरे लंड के छूने के आनंद में उसकी चूत ने भी पानी छोड़ना शुरू कर दिया था. उसका रंग सांवला था और नाक नक्श बहुत सुंदर थे।पर मुझे आज तक मौका नहीं मिला उस से बात करने का क्योंकि वो चुप चाप अपना काम करती है और अपनी माँ के साथ ही रहती है।मैंने अब सोचा कि ये सब तो अपने काम में लगे हैं क्यों ना सोनम की जवानी का रस पिया जाए।मैं धीरे धीरे से उसके नजदीक चला गया. लगता है इसने हम दोनों को चुदाई करते देख लिया होगा … और आपका लंड इसको भा गया होगा.

वह बहुत ही उत्सुक निगाहों से मेरे चेहरे के भावों को देख रही थी। मैं तो सिर्फ अपना लन्ड हिलाते हुए आह … उह … करने में व्यस्त था. तो दोस्तो, फिलहाल मैं हूं तो एक छात्र ही लेकिन मन के भंवर में सपने हमारे भी आते हैं, ये उम्र का पड़ाव ही ऐसा है. मैं पूजा की गांड में तेल लगाने लगा, तो मधु समझ गई कि अब पूजा की गांड फटने की बारी आ गई है.

दोस्तो, मैं राज फिर से अपनी सेक्स कहानी में भाभी हॉट चीटिंग सेक्स स्टोरी को आगे बढ़ा रहा हूँ, आप मजा लीजिए. मैंने उसी कम्बल को अपने ऊपर ले लिया और मामी को अपनी तरफ करके उनके होंठों पर अपने होंठ रख दिए. ऐसे ही करीब आधे घंटे बाद कासिब ने अपना मनी अस्मा की चूत में छोड़ दिया.

एक तरफ नंगी फिल्मी हीरोइन थी और दूसरी तरफ मैं भी पूरा नंगा होकर टब में उसके साथ बैठा था. उसकी चिकनी टांगों के बीच फूली हुई गीली बुर बड़ी ही मनमोहक लग रही थी.

भाभी जी मुझे चाय पिलाने के लिए रोक लेती थीं तो मैं भी उनके घर में टीवी देखते हुए चाय पीता रहता था.

वो बोली- वो तो तेरा भाई है … तू उससे कैसे कह सकती है?पूजा बोली- भाई है तो उससे क्या होता है.

तो भाई ने थोड़ी ही देर में अनीता की तरफ इशारा किया और भाई वहाँ से ट्यूबवेल की तरफ चल दिया और अनीता गन्ने के खेत में आ गई।भाई भी घूम कर वहीं आ गया तो अनीता बोली- संजय, आज तो मौका मिल ही गया. इतना कहकर मैंने बात को पलट दिया और उसको वहीं पर दीवार से सटाकर किस करने लगा. बस ये बताओ कि आपको मज़ा आया या नहीं … और उसका रस आपको कैसा लगा!रणजीत- मज़े की तो तू ही पूछ मत … साली ऐसी कुंवारी बुर का रस कहां किसी को आसानी से नसीब होता है.

जवान बहन सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी बहन का रिश्ता होने के बाद उसका होने वाला पति हमारे घर आया और मेरी कुंवारी सेक्सी बहन को शादी से पहले चोद गया. अभी भाभी कुछ बोल पातीं कि उससे पहले मैंने धीमे से धक्का लगा दिया और लंड अन्दर सरक गया. उसकी बॉडी में सिर्फ़ और सिर्फ़ उसके चूचे ही थे, जिसने मुझे अपनी तरफ आकर्षित किया था.

मैंने अपने पैरों का थोड़ा सा और फैला दिया ताकि दीपक को चूत में लंड घुसेड़ने में दिक्कत न हो.

अम्मी ने आंखें खोलीं और चेहरा उठा कर अब्बू को देखकर हल्के से मुस्कुरा दीं. फिर हांफते हुए बोली- सब्र कर ले ना कुत्ते, आराम से करने दे मुझे!मैं बोला- सॉरी. मैं बेटी को लेकर भाई साहब के कमरे में आ गयी, तो भाई साहब बाथरूम के दरवाजे के पास खड़े थे.

जल्दी ही मैं आपके लिए एक और कहानी लाऊंगा जिसमें मैंने पीछे से हॉट चाची को चोदा यानि चाची की गांड चुदाई की. मैं उसकी गांड और चूत को अच्छी तरह से चोद चुका था … लेकिन मेरा लंड अभी उसके चुचे मुँह और हाथ से झड़ना चाह रहा था. हम दोनों भी अपने अपने पार्टनर के साथ खुश हैं … मगर हमारा प्यार एक दूसरे के लिए अभी भी वही है.

मगर सामने सनी लियोनी का गाना चल रहा था तो लंड मानने को तैयार नहीं था.

ब्रा पर 28 इंच का टैग जरूर था लेकिन हनी की चूचियां नीबू के आकार की थीं. मैंने उसको गोद में उठा लिया और वो हैरानी से मेरे चेहरे को देखने लगी.

राजस्थानी नंगी बीएफ दोनों निढाल होकर गिर पड़े और अपनी उखड़ी हुई सांसों को संभालने की कोशिश करने लगे. इसके बाद मैंने कुलजीत को कॉल किया कि मैं आठ बजे व्हिस्की लेकर आऊंगा, पार्टी करेंगे.

राजस्थानी नंगी बीएफ वो अपनी चूत को उचका उचका कर जीजू के लंड को अपनी चूत पर रगड़वा रही थी. मैं इशिका की चुत में धीरे धीरे उंगली करते हुए उसे होंठों पर किस करने लगा.

संगीता- तुम सच में अच्छे इंसान हो आदित्य, तुम्हारी बीवी सच में खुशनसीब है.

बीएफ फिल्म दिखा दो

मैं ऐसे ही धीरे-धीरे करके करता रहा और साथ साथ उसके होंठों को चूमता रहा. मैंने चूत पर लंड टिका दिया और जैसे ही घुसाया तो चाची के मुंह से आह्ह … करके आवाज निकली. हीरोइन ने मुझसे पूछा- क्यों लंड के राजा, तेरा क्या इरादा है … क्योंकि अब तू मेरी चुत तभी ले सकेगा, जब इसकी चुत फाड़ देगा.

मौसी के जाने के बाद से इन पांच दिनों तक हम दोनों ने एक दूसरे की बांहों में कैसे गुजार दिए, कुछ पता ही नहीं चला. हीरोइन ने अपनी चुत मेरे मुँह पर लगा रखी थी और मेरे लंड की गोलियां उसके मुँह में थीं. अब चाची बोले जा रही थीं- आह इसमें इतना मजा आएगा … मैंने कभी सोचा ही न था … आह और जोर से पेल आह और जोर से चोद … आज फाड़ दो मेरी गांड.

उसने मुझसे कहा कि मैं तुम्हारे सोने का बंदोबस्त यहां हमारे पास वाले कमरे में कर देती हूँ.

ये बात शुरू तब हुई थी, जब मैं एक्ट्रेस की शिफ्ट से छुट्टी के बाद उसके रूम में उसे चोदने गया. उसके दोनों हाथों को अपने गले में डाल कर उसकी टांगें फैलाकर हवा में उठा लिया और उसे फ्रेंच किस करने लगा. तभी भाई साहब ने मेरे बेटे को आवाज लगायी, मैं तुरंत दबे पांव कुर्सी के पीछे छिप गयी.

पहले चूत में लंड डाला और थोड़ी देर चोदने के बाद फिर उसकी गांड में लंड को रगड़ने लगा. हैलो फ्रेंड्स, मैं हरीश एक बार फिर से अपनी मौसी की किराएदार शीला भाभी की हिंदी चुत सेक्स कहानी को आगे सुनाने आपके सामने हाजिर हूँ. वो अपने हाथों से मीता के जिस्म को छूने लगा, उसके मम्मों को दबाने लगा.

मुझे इधर के रास्ते मालूम नहीं हैं तो मैंने आपको कार में चारबाग़ की कह कर बिठा लिया है. आज मेरी उसके साथ आखिरी रात थी, तो मैंने उससे पूछा- डियर एक बात बताओ … इससे पहले तुमने कितनी बार किसी के साथ इतना सेक्स किया है?उसने कहा- मैंने सेक्स तो किया है मगर ऐसे इतना हवस भरा और काम से भरा हुआ मजा मैंने कभी नहीं लिया.

इसलिए मैं उस दिन को मिलने का तय किया और हम लोग मिलने के लिए चले गए. रणजीत- ये मेरी बहन है सन्नो … इसके साथ क्या ये सब सही होगा?सन्नो- अरे मेरे भोले नाथ इसकी तड़प देखो … तुम नहीं तो ये किसी और के पास चली जाएगी. जब मेरा लंड पूरा अन्दर जाता, तो वो तड़प उठती … लेकिन बगैर कुछ कहे हीरोइन वैसे चुदी जा रही थी.

जैसे कि अधिकांशत लोग जानते होंगे थाईलैंड में गर्म गोश्त, जवानी की कमी नहीं है, और मैं भी कई बार इसका मजा ले चुका था।हम सब दोस्त बैंकॉक के सुवर्णभूमि हवाई अड्डे पर शाम को उतरे.

तो क्या अब्बू ने मेरी अम्मी की गांड मारी?नमस्कार दोस्तो, मैं असगर फिर से आपके सामने अपनी अम्मी की चुदाई की कहानी लेकर हाजिर हूँ. बर्फ के बाद वो मेरे जिस्म के हर उस अंग को चूसने लगी, जहां जहां उसे शहद टपकाया था. सुबह से जो सोच रहा था, वो अब हो सकता था, मुझे पहली नज़र में बहुत पसंद आ गया था.

थोड़ी देर बाद पापा ने कहा- चलो, अब मुझे तुम्हारी चुत का रस पीने दो. नयी बहू की चुदाई कहानी में पढ़ें कि ससुर एक बार बहू की चुदाई करने के बाद दोबारा से उसकी जवानी को भोगना चाहता था.

फिर अगले ही पल उसने करवट ली और मेरे हाथ को अपनी चूचियों पर ही दबाये हुए सीधी होकर पीठ के बल लेट गयी. ”कैसे खुश करियेगा?”सर, जैसे आप कहें?”हम कुछ नहीं कहेंगे, आप जैसे कर पायें … करिये. मैं अपने बारे में बताता हूं आपको कि मेरा नाम राकेश है और मैं दिल्ली से हूं.

इंडियन बीएफ हिंदी आवाज

इस पर मम्मी ने बोला- तू नहीं जाएगा तो तेरे खाने का क्या रहेगा?मैंने बोला- मैं ऑनलाइन मंगवा लिया करूंगा.

तभी एक नई कहानी आयी थी अन्तर्वासना साइट पर जिसको मैंने थोड़ा सा ही पढ़ा!लेकिन अब मेरे अंदर की गर्मी मेरे बस के बाहर हो गयी थी. बुआ गट गट करके सारी मलाई पी गई और मेरे लंड को चूस कर साफ़ कर दिया।मैं साइड में लेट गया और उन दोनों की चुदाई देखने लगा।सुनील ने बुआ को बिस्तर पर लिटा दिया और उसकी टांगों को चौड़ा कर के लंड को अंदर तक घुसा दिया।मेरा दोस्त मेरी बुआ को चोद रहा था और बोला- मैंने पहले दिन से आपको चोदने का मन बना लिया था. सुरेश बोला- जवान हो गयी मादरचोद! चल अब मेरा लंड ले!मेरी टांगें फैला कर उसने अपना लन्ड मेरी चूत में घुसेड़ दिया.

अबकी बार उसने अपनी लंड की पिचकारी मेरी गांड में ही खाली की।अब हम दोनों थक कर लेट गए।मैंने टाइम देखा तो अभी रात के दो बजे थे. साथ ही मीता के लिए उसकी मां से कह दिया कि इसे आज जल्दी भेज देना … आज दोपहर को यहां बहुत काम है. सेक्सी फिल्म ब्लू वालीभाई साहब बच्चे की तरह मेरा बचा हुआ दूध पी रहे थे और नीचे से तेज तेज धक्के लगा रहे थे.

अब तो उसको भी सेक्स में मज़ा आता था इसलिए वो होटल रूम में जाने लगी थीदो महीने बाद मुझे मेरी प्रिंसिपल मैडम ने दफ्तर में बुलाया और बोलीं- हरजिंदर तुम्हारी एब्सेंट बहुत ज्यादा है, क्या चक्कर है?मैंने मैडम से बोला- मैडम घर पर काम पड़ जाता है. अस्मा ने कासिब का चुम्बन लेते हुए कहा- फिर क्या हुआ भाई?कासिब- फिर उस दिन मैंने गुलचीन की तीन बार चुदाई की … और हर बार अपना मनी गुलचीन की चूत में और मुँह में छोड़ा.

उसने लंड को अपनी चूत के मुंह पर रखवा लिया और धीरे से अपना वजन ढीला छोड़ते हुए मेरे लंड पर बैठती चली गयी. मैंने एक ज़ोरदार आह के साथ अपना वीर्य उसके पेट पर छोड़ दिया और मैं उसके होंठ चूसते हुए उसके बगल में गिर गया. मेरे मुँह से फिर आह की आवाज निकली और इससे भाई साहब का जोश और ज्यादा बढ़ गया.

फिर मैंने जब अपना हाथ चाची की चुत पर रखा, तो देखा कि चाची ने तो पैंटी पहनी ही नहीं थी. जब मैं एक पोजीशन से थकता तो कभी उसे उठा कर कभी घोड़ी बनाकर चोदने लगता या उस समय जो भी पोजीशन सही लगती, उसी पोजीशन में उसकी चूत का भर्ता बना रहा था. रवि के स्पर्श से उसके लंड का क्या हुआ, साथ ही मीता की कुंवारी जवानी से मस्त उसकी सीलपैक चुत की चुदाई की कहानी को मैं अगली बार पेश करूंगी.

मैंने एक औपचारिकता निभाने के लिए उनसे पूछा कि आपकी उम्र क्या है!तो उन्होंने कहा- मेरी उम्र तुम अंदाजा लगाओ?तो मैं बोल दिया- मुझे तो आप 30 से 32 साल की लग रही हैं.

कैसे?हैलो दोस्तो, भाभियो, भाभियों की बहनो, और मेरे यारो!नमस्ते, आदाब!आपका प्यारा रियांश सिंह एक बार फिर से आपके लिए एक नयी कहानी लेकर आया है. मां बोली- ठीक है, तू सीख ले … ये तो सारे ही कहीं ना कहीं लगे ही रहवें.

पत्नी बोलती रही कि रुक जाइये, साड़ी खोल लेते हैं लेकिन मैं नहीं रुका. मेरा हाथ भाई साहब के सर पर चला गया और मैंने उनका सर चूत पर दबा दिया. मस्त महक पाकर मैं चुत पर एक आनन्द भरा चुंबन धर दिया और उसे चूस लिया.

नमस्कार दोस्तो, मैं विक्रांत कपूर आप सभी को अपनी मामी स्याली के साथ अपने सेक्स सम्बन्धों को लेकर Xxxsax कहानी सुना रहा था. इस अन्तेरवासना गेसेक्स स्टोरी में आगे क्या हुआ और मुझे उससे प्यार कैसे हुआ, ये जानने के लिए आप मेरी सेक्स कहानी के अगले भाग को पढ़ना न भूलें. किस तरह से मेरे बॉस ने मेरी चुत चुदाई की, उसका पूरा विवरण मैं इस सेक्स कहानी के अगले भाग में लिखूंगी.

राजस्थानी नंगी बीएफ अगर तू किसी दिन कहीं चला गया, तो कौन निकालेगा!मैं बोला- भाभी, दो मिनट रुक … जब थोड़ा सा रह जावेगा, तब निकाल लेना. कुछ देर तक हम वहीं खड़े होकर एक दूसरे के होंठों की प्यास बुझाते रहे.

ગુજરાતી ચોદાઈ

मैंने उनकी फोटोज को एडिट किया और जब उनको दीं, तो उन्हें विश्वास ही नहीं हुआ कि ये उनकी ही फोटो हैं. मैंने कहा- चलिए, ईश्वर की कृपा से ऐसा ही हो … लेकिन अगर आप मुझे दोस्त मानती हैं, तो प्लीज़ मुझे हर बात बताइएगा. मैंने अनजाने डर की वजह से संगीता के बेडरूम की ओर देखा, जहां मेरा भतीजा रवि सो रहा था.

उसके बाद राहुल ने अपने लंड को मॉम की गांड के छेद पर टिका दिया और अंदर धकेल दिया. और उस दिन से उसे चूत भी नहीं दी। पर तू तो आराम से कर रहा है।मैंने और थोड़ा अंदर किया तो वो फिर भी शांत थी. क्सक्सक्स देसी वीडियोअब चाचा अपने दोनों हाथों से मेरे दोनों कंधों को दबाकर वैसे ही रुक गये और मुझसे बोला- शईमा, तुम तैयार हो।मैंने आँखें खोलकर उसे एक मौन स्वीकृति दी.

उसकी यह आवाज को दबाने के लिए मैंने फिर से उसे किस करना शुरू कर दिया.

वो गर्म हो जाती तब ही उसकी चुत की सील को मैं लंड से तोड़ने का मजा लेता. उन्होंने मेरे बाल पीछे से पकड़ कर कुछ जोर से खींचे और धक्के लगाने लगे.

अपनी चूचियां मसलते हुए हनी शायद मुझे इशारा कर रही थी कि इन्हें रगड़ो. हां, अगर आप एक घंटे के बाद सीसीडी में मिलें तो मैं आपसे खुलकर बात कर सकता हूं. संगीता अपने दोनों हाथों से धीरे धीरे मेरा लंड सहलाने लगी और अपनी जीभ को अपने होंठों पर घिसने लगी.

मुझे क्या दिक्कत होगी!उन दोनों की बात सुनकर हम दोनों बाहर हक्के-बक्के रह गए.

आज मेरा बड़ा मन हो रहा था कि दारू के साथ किसी चुत को चोदने का मौक़ा मिल जाए तो संडे का मजा आ जाए. भाभी की चुत चूसते हुए मैंने अपने एक हाथ से अपने लंड को सहलाना शुरू कर दिया. तब तक संडे को अम्मी की गांड मारने वाली ब्लू-फिल्म भी देखने को मिल जाएगी.

और भाभी की सेक्सी पिक्चरमैं इंग्लिश बोल लेता था क्योंकि मैंने इंजीनियरिंग की पढ़ाई की हुई है. फिर एक दिन रौनकी सेठ का एक्सीडेंट हो गया और इलाज के समय रौनकी की मौत हो गयी.

বাবামেয়েচুদাচুদি ভিডিও

उधर हीरोइन ये देखकर कि मैं और जेनिल सो गए हैं, तो उसे मुझ पर गुस्सा आने लगा था. उसने मीता को बोलकर भेजा था कि आने के टाइम पर डॉक्टर बाबू से मेरे लिए दवा लेकर आना. उसके बाद भी उन्होंने पच्चीस तीस धक्के और लगाकर मेरे ऊपर निढाल होकर लेट गया।कुछ देर बाद वो मेरे ऊपर से उठे और मेरी बुर को साफ किया.

मामी ने इसका भी कोई विरोध नहीं किया तो मैं और जोर जोर से मामी की चूचियों को दबाने लगा. मगर रात में एक बार फिर से नींद खुली और मैंने फिर से पुष्पा को चोद दिया. तुझे कैसे पता चला कि मैं किस बारे में बात कर रहा हूँ?”जब तू मेरी चूत का भोसड़ा बनते देख रहा था और अपना लंड हिला रहा था, तभी मुझे पता चल गया था कि अंधेरे में से कोई हमें देख रहा है.

वह मुझे मेरे होंठों पर किस करने लगी और अपना हाथ नीचे ले जाकर मेरे लन्ड पर फेरने लगी. Xxxx हॉट सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि जब मैंने मामी की चुदाई का मन बना लिया तो मामी की वासना का असली रूप मेरे सामने आया. मेरे सिर को वो अपनी चूत पर दबाते हुए तड़पने लगी और बोली- कुछ करो … आह्ह … नहीं रुका जा रहा … ऊईई मां … हाय … स्स … मेरी चूत को लंड चाहिए … आह्ह … प्लीज मुझे चोद दो.

तभी स्वरा ने हीरोइन से पूछा- मैम आपके गार्ड कहां हैं?हीरोइन ने कहा- उन्हें कल तक की छुट्टी दी है. और उसने मीता को ये भी अच्छे से समझा भी दिया था कि उसके साथ क्या इलाज करना है.

थोड़ी देर बाद जब मेरी नींद टूटी, तो मैंने देखा कि मामी का एक हाथ मेरे सीने पर था और उनका एक पैर मेरे पैर के ऊपर चढ़ा हुआ था.

फिर उसने मेरी पैंट खोल कर मुझे भी नंगा कर दिया और मेरा लंड देख कर बोली- ओ माय गॉड इतना बड़ा … ये तो मेरी चुत की धज्जियां उड़ा देगा. भाई बहन की सेक्सी पिक्चरअब उसके पके आम मेरे हाथ में थे।उसका हाथ पकड़ कर मैंने अपने लौड़े पर रख दिया और मैं बूब्स दबाने लगा।वो भी नींद में लंड को सहलाने लगी।मैं धीरे से उठा और बैग से सेक्स बढ़ाने वाली एक गोली खा ली। सेक्स की गोली मैं हमेशा अपने पास रखता हूँ. भोजपुरी सेक्सी ब्लू पिक्चररेखा की चूचियां कम से कम 36+ की रही होंगी और उसकी गांड देख कर तो ऐसे लग रहा था कि साली को अभी पटक कर उसकी गांड चोद लूं. फिर जो उन्होंने जो मेरी चूत चाटी … आह क्या बताऊं भाबी मज़ा ही आ गया.

”अगले दिन श्यामली को चोदने के दौरान मैंने उससे कहा- यार, मेरा एक फास्ट फ्रेंड है कुलजीत.

अब पूजा का दर्द खत्म हो गया था और उसको अपनी गांड मराने में मज़ा आने लगा था. थोड़ी ही देर के बाद उसने मेरे सिर को अपने हाथों से चूत पर दबाया और उसकी चूत का झरना मेरे मुंह में छूट पड़ा. अब ये तो वो कहेंगी नहीं कि हम दोनों पिछले डेढ़ घंटे से चुदाई कर रहे थे.

”इतना कहकर प्रिंसिपल साहब उठे, उन्होंने दरवाजा बंद किया ओर मुझे लेकर अपने बेडरूम में आ गये. पहले चूत में लंड डाला और थोड़ी देर चोदने के बाद फिर उसकी गांड में लंड को रगड़ने लगा. आधा घंटा इन्तजार करने के बाद प्रिन्सिपल साहब ने बुलाया, मेरी बात सुनी.

जानवर वाला बीएफ वीडियो

मैं वहीं खड़ी होकर उन्हें मुठ मारते हुए देख रही थी और अपनी चूत सहला रही थी. पापा की बात को बीच में काटते हुए मम्मी बोलीं- हां, दामाद जी का लंड भी बड़ा मस्त है. एक बेटा 3 साल का है और बेटी 2 साल की है जो अभी भी मेरा दूध पीती है.

पिछले भागगांव की चुत चुदाई की दुनिया- 16में अब तक आपने पढ़ा था कि मीता रवि और डॉक्टर सुरेश क्लीनिक के अन्दर वाले केबिन में सेक्स को अंजाम दे रहे थे.

अब तक कहां था रे तू … आह्ह … स्स्स … आह्ह … और कर।मैंने उसकी गांड में उंगली घुसा दी और तेजी से उसको चलाने लगा.

मैं- तो ऐसे शब्द सेक्स करते वक़्त बोलूं, तो तुम बुरा नहीं मानोगे ना!राहुल- नहीं मानूंगा बेबी. मैं अपने साथ एक गर्भ निरोधक टेबलेट भी ले गई थी क्योंकि बॉस यदि कंडोम लगा कर मेरी चुदाई करने से मना कर देता, तो मुझे अपनी सुरक्षा के लिए ये गोली काम में आने वाली थी. हिंदी में ब्लू सेक्सी पिक्चरइसलिए डर गया था … सॉरी नूपुर, सच्ची मैंने जल्दबाजी में ऐसा किया था.

भाभी बोलीं- अब बस भी करो … मुझे मेरा लंड चूसने दो … अब और मत तरसाओ, कब से इसे हाथ में लेकर चूमना चाहती थी. मेरा गाउन खुला हुआ था, तो लंड उसकी स्कर्ट के ऊपर गांड की दरार को छू रहा था. बीच बीच में वो स्पीड कम कर देता; फिर एकदम तेज!और फिर कुछ देर बाद एकदम से उसने अपना लन्ड मेरी फटी चूत से बाहर निकाला.

उनकी चुत गीली और बड़ी होने की वजह से मेरी उंगली बड़ी आसानी से अन्दर बाहर होने लगी थी. अब उसकी जांघें मेरे सामने फैली थीं और उसने मेरे हाथ को अपने बूब्स पर दबा कर खुद ही अपने हाथ से प्रेस करना शुरू कर दिया था.

प्रिंसिपल साहब ने मेरी एक चूची अपने मुँह में ले ली और दूसरी के निप्पल वो मसलने लगे.

इसकी फिजिक्स कमजोर है … घर पर इसे कुछ अधिक पढ़ा कर होशियार कर दूंगी. मैंने शावर बंद करने की बजाय उसकी कमर को पकड़ उसे अपने पास खींच लिया. वो अपने बापू के साथ घर चली गयी … मगर चुदाई के कारण उसकी चाल बदल गई थी.

क्सक्सक्स हँड विडिओ इंडियन सेक्सी आंटी कहानी में पढ़ें कि मेरी नजर दोस्त की मम्मी के सेक्सी जिस्म पर थी. मैंने झटका दिया तो वह सिसकारते हुए बोली- अंकल! आपका काफी मोटा है, थोड़ा धीरे-धीरे घुसाइए … हमको दर्द होता है।मैं उसकी बातों को सुनकर रह गया और धीरे-धीरे अन्दर-बाहर करने लगा.

थोड़ी देर बाद अम्मी की गांड में तरन्नुम आ गई और वो उठकर कपड़े पहनने लगीं. मैंने उसके चेहरे की ठोड़ी को मुँह से काटा, फिर मैं गले को चूमते हुए उसके छोटे चूचों को काटते हुए उन पर प्यार की छाप छोड़ दी. चूत को हाथ से सहलाते हुए मैंने पूछा- आपको इसमें लंड लिये हुए बहुत दिन हो गये होंगे?वो बोली- अरे दिन नहीं, साल बोल!मैंने कहा- आपका मन नहीं करता क्या?वो बोली- करता है लेकिन क्या करूँ, तेरा जीजा शराब पीकर आता है वो पलंग पर आकर सो जाता है.

सेक्सी ब्लू फिल्म भेज दो

वो सोफे पर बैठ गए और मुझे अपने पैरों के बीच में बिठा कर अपने लंड को मेरे मुँह के सामने रख दिया. वो एक अदा से बोली- बस हाथ ही मुलायम हैं क्या?मैं भी समझ गया कि आंटी भी पूरे मूड में है. इधर मैं उसकी चूत पर कभी जीभ फिराता, तो कभी चूत के अन्दर डाल देता- आहा ऊउंह ऊम्मंह आहाआ ऊउन्न्ह ऊम्म्ह!उसकी चूत बहुत पानी छोड़ रही थी.

उसकी ये मासूमों वाली बात सुन कर मैंने उससे कहा- नूपुर, ये पूरी आज ही नहीं पीना है, अभी दो तीन दिन की पार्टी चलानी है कि नहीं!मेरे ऐसा बोलते ही वो भी जोर से हंस पड़ी. कई सालों से आंटी चुदी नहीं थी शायद।फिर वो खुद ही बोली- बहुत समय हो गया है लंड लिये हुए.

अब तक भाभी की शर्म काफी कम हो गई थी और वो मुझे अपनी बांहों में भरने के लिए बेताब होने लगी थीं.

बताओ तुमको क्या चाहिए!मैंने कहा- मैं जो मागूंगा, तो पक्का दोगी … पहले वादा करो. मामी जी विषाद भरे स्वर में बोलीं- तो इससे तुम्हारी मर्दानगी पर कोई असर पड़ गया क्या?मैंने कहा- आप बार बार मुझसे ये बात क्यों कर रही हैं. उसका रंग सांवला था और नाक नक्श बहुत सुंदर थे।पर मुझे आज तक मौका नहीं मिला उस से बात करने का क्योंकि वो चुप चाप अपना काम करती है और अपनी माँ के साथ ही रहती है।मैंने अब सोचा कि ये सब तो अपने काम में लगे हैं क्यों ना सोनम की जवानी का रस पिया जाए।मैं धीरे धीरे से उसके नजदीक चला गया.

पहले तो उसने मेरा किस करने में साथ नहीं दिया, फिर कुछ मिनट बाद वो भी मेरा साथ देने लगी. मैंने देखा कि अम्मी अब्बू दोनों बेड पर करवट केवल एक चादर लपेटे एक दूसरे से लिपट कर सो रहे थे. पिछली जबरदस्त चुदाई कहानीबहन की सहेली और उसकी बहन संग मजा- 2में बताया था कि कैसे मैंने पूजा को वीडियो कॉल करके सेक्स करने को मना लिया था.

मैं बोला- तो कहिये, पहले कुछ चाय-पानी लेंगी या काम की बात करें?वो बोली- चाय हो जाये, काम तो चलता ही रहता है.

राजस्थानी नंगी बीएफ: ”फिर हमने एक दूसरे की तरफ शरारत भरी नजरों से देखा और स्माइल करने लगे. मामी जी विषाद भरे स्वर में बोलीं- तो इससे तुम्हारी मर्दानगी पर कोई असर पड़ गया क्या?मैंने कहा- आप बार बार मुझसे ये बात क्यों कर रही हैं.

जैसे जैसे सायली लंड को सहला रही थी, उसका प्री-कम और भी बाहर आने लगा था. वो बोली- तेरे सामने वो हमें चोदेगा क्या?मैं बोली- तू पहले अंदर कमरे में जाकर देख! और मैं इधर वाले कमरे में चली आऊंगी. टीचर सेक्स की स्टोरी में पढ़ें कि कैसे एक हरामी प्रिंसिपल ने एक छात्रा को अपनी चाल में लेकर उसे चूत चुदाई के लिए मनाया.

मेरी नजरों के सामने चाची के गहरे गले के ब्लाउज में उनकी चूचियां बहुत ही मस्त लग रही थीं.

मैंने उन दोनों को मूवी शुरू होने से पहले ही बोला कि मुझे हॉरर मूवी देखने में डर लगता है. अब मैंने भी बिना देरी किए उसे उल्टा कर दिया और 69 में होकर उसकी चूत को अपने जीभ से सहलाने लगा. फिर मैंने धीरे से लंड को बाहर निकाल लिया और उसकी साइड में जाकर लेट गया.