एचडी में बीएफ भेजिए

छवि स्रोत,चोदा चोदी भोजपुरी सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

கேரளா செக் வீடியோ: एचडी में बीएफ भेजिए, फिर एक दिन हिम्मत करके मैंने उसे रास्ते में रोका और पूछा- क्या मुझसे दोस्ती करोगी?वो एकदम से बोली- मैं तो पता नहीं कब से इसी इंतजार में थी.

देहाती गर्ल्स सेक्सी वीडियो

मेरे सामने ही मेरी पत्नी एक अधेड़ आदमी के नीचे दबी हुई चुदाई करवा रही थी. देसी जीजा साली का सेक्सी वीडियोमैं वहां 6 दिन रुका और तब तक उसके कमरे की ये हालत हो गई थी कि फर्श पर जहां तहां मेरे लंड का वीर्य पड़ा हुआ सूख गया था.

मेरे इतना कहते ही उसने झट से अपने कपड़े उतार फेंके और अपना लंड सीधे मेरे मुँह में घुसा दिया. खेत में चोदने वाला सेक्सी वीडियोबाद में चूत चुदाई में मजा आता है कि नहीं … इसी तरह से अब आपको हमेशा अपनी गांड मरवाने में भी मजा आएगा.

पाटिल जी- आज तो आपने हमें अपनाकर हमारा जीवन खुशियों से भर दिया रेशमा जी … और मुझे यकीन है कि आपको इस फैसले से कभी पछताना नहीं पड़ेगा.एचडी में बीएफ भेजिए: बीच बीच में बॉस मेघना के चूतड़ों पर ज़ोर से थप्पड़ मारते जा रहा था.

मगर कुछ दिन बाद जस्सी मेरे बाजू में बैठने लगी और हमारी बातें होने लगीं.भैया ने तुरंत मुझे चुदाई की पोजीशन में लिटाया और मेरी चिकनी गुलाबी बुर में अपना मोटा काला लंड पेल दिया.

गंदे सेक्सी चुटकुले - एचडी में बीएफ भेजिए

उसके अनुसार उसके पति आर्मी में हैं और साल में एक या दो बार ही घर आ पाते हैं.मैंने किरण से पूछा- किरण यह सच में किस करते होंगे या ऐसे ही बना है?मैंने अनजान बनते हुए पूछा था.

मुझे देखकर वो हड़बड़ा के उठी तो उनकी साड़ी कंधे से नीचे सरक गई और उनका पूरा ऊपर का शरीर बिना कपड़ों के हो गया. एचडी में बीएफ भेजिए मैं पिछली रात को अपनी ज़िंदगी की सबसे हसीन रात मान कर हमेशा अपने जहां में एक अच्छी याद की तरह रखना चाहती हूँ, उम्मीद है तुम समझ रहे होगे कि मैं ये क्यूँ कह रही हूँ.

मैंने कहा- हां तो ठीक है, मैं मामा जी से कह दूँगा कि रात को हम दोनों यहीं रुकेंगे.

एचडी में बीएफ भेजिए?

उसकी बातें सुनकर मैं मदहोश हो गया और पूरी ताकत लगाकर जोर जोर से धक्के मारकर चूत चोदने लगा. हम दोनों के बीच आज से एक नए रिश्ते की शुरूआत हो गई थी लेकिन इस रिश्ते को हम दोनों ही किसी के सामने नहीं ला सकते थे. मैं अपने हाथ पीछे मौसी की गांड पर ले गया और मौसी की गांड में पर उंगली चलाने लगा.

मैं आंटी की दोनों चूचियों को सहलाने लगा, दबाने लगा और गर्दन को चूमने लगा. मैम ने हमारे बैच का एक ग्रुप बनाया था और उसकी वजह से मेरे पास उनका नंबर आ गया था. गर्मी की छुट्टी चल रही थी तो कल्लू के मामा के बच्चे सौरभ और सुचित्रा आए हुए थे.

घर वालों ने शादी का शुभ दिन निकलवाने के लिए पंडित को बुलवाया और शादी अगले महीने की 19 तारीख को तय हुई. पूरा बदन बिल्कुल पीला नजर आ रहा था, इतनी गोरी थी वो!उसकी चड्डी के ऊपर से ही उसकी फूली हुई चूत झलक रही थी. मैंने उनके सामने डांस करते हुए भैया से अपने खूब सारे वीडियो बनवाए, जिसमें मैंने शॉर्ट्स और टी-शर्ट ही पहन कर बनवाया था.

ऐसे ही आसिफ मुझे कुछ देर चोदता रहा और बीच बीच में मेरे होंठों को भी चूमता रहा. वो बोला- ओह मनीष यार, बहुत मन था तुमसे मिलने का, मुझे तुम्हें बाहों में लेकर मज़ा आ रहा है.

आपको मेरी एक्स एक्स एक्स सिस्टर हॉट कहानी कैसे लगी, प्लीज़ मेल करें.

अञ्जलि भी नीचे से अपनी गांड चला कर मेरे लंड को अन्दर तक लेने लगी थी.

रूपा चिल्लाने लगी- आआहह आआह्ह मम्मीईई आआह … मत करिए प्लीज अंकल मत करिए. मैंने सुची से पूछा- इनके इतने बड़े कैसे हो गए हैं?वो बोली- हर देश के अलग अलग साइज़ के होते हैं. उसने वाइट कलर का टॉप पहना हुआ था, जिसमें से उसकी लाल ब्रा साफ़ दिख रही थी और बड़े-बड़े चुचे भी साफ दिख रहे थे.

आपको मेरी फार्म हाउस विलेज़ सेक्स कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मेल जरूर करें. तो वो चुदी कैसे?नमस्कार दोस्तो, मैं आपका दोस्त ललित आप सबके सामने अपनी सेक्सी हॉट गर्ल फर्स्ट सेक्स स्टोरी प्रस्तुत कर रहा हूँ. जैसे ही मैंने नाइटी को उतारा, उसका संगमरमर की मूर्ति सा बदन मेरी आंखों के सामने खुल गया था.

मैं सिर्फ एक बार देखना चाहता हूँ बस!सोनी ने फिर से मना कर दिया और मैं उसे मनाता रहा.

ज़रा सा भी हिलने पर धारा को ऐसा लग रहा था जैसे गांड फट कर चिथड़े-चिथड़े हो जाएगी. आखिरकार मुझे मौका तब मिला जब वो जाने के टाइम सर से कुछ नोट्स मांगने लगी. पूरी रात में लैंप की हल्की रोशनी से मैं चाचा के शरीर को निहारता रहा.

मैंने एक हाथ से देविका की साड़ी कमर तक उठा दी और उसकी गद्देदार जांघें सहलाने लगा. ऊऊह …’कुछ देर में मॉम ने मेरी उंगलियों से अपनी में मजा लेना शुरू कर दिया. फिर मैंने मॉम की न्यूड वाली वीडियो उन्हें भेज दी और थोड़ी देर के लिए अपना मोबाइल ऑफ कर दिया.

धीरे धीरे उसने मुझे मारना बंद कर दिया और थोड़ी देर बाद वो शांत हो गई.

अपने भाई के हाथ से मिल रहे मजे ने साबिरा की चूत में तरंगें पैदा करना शुरू कर दी. उस दिन के बाद अगले दिन जब मैं घर पर अकेली हुई तो समीर भैया को उनके घर से बुला लायी.

एचडी में बीएफ भेजिए फिर मैंने भाभी की पैंटी उतार दी और उनकी दोनों टांगों के बीच में आकर उनकी चूत पर जीभ लगा कर चाटने लगा. मैंने उससे ये वादा भी कर लिया कि चाहे कुछ भी हो जाए, मैं तेरी और तेरे घर की इज्जत को बचाने के लिए कुछ भी कर सकता हूँ.

एचडी में बीएफ भेजिए फिर मैं उसकी नाइटी को ऊपर उठाते हुए उसके पेट, नाभि चाटते हुए उसके दूधों की तरफ बढ़ने लगा. चूंकि मैंने अब तक कभी किसी को चोदा नहीं था तो मुझे बड़ा अजीब लग रहा था.

वो बोला- जी हां, मतलब तुम जानो कि अपना भाई घर से बाहर क्या कर रहा है.

कुत्ता लेडीस का सेक्सी वीडियो

किरण ने भी फुर्ती दिखाते हुए अपनी जीभ बाहर निकाली और मेरी गांड का छेद कुरदने लगी. उसकी बातें सुनकर मैं मदहोश हो गया और पूरी ताकत लगाकर जोर जोर से धक्के मारकर चूत चोदने लगा. उसकी चीखों को नजरअंदाज करते हुए मैंने एक हाथ से उसकी पीठ पर दबाव बनाया और दूसरे हाथ से उसके बिखरे हुए बाल अपनी मुट्ठी में भर लिए.

वो सीट तो 4 के बैठने के लिए सही थी लेकिन वो दो आदमी कुछ ज़्यादा हैवी थे जिससे जगह कुछ बची ही नहीं. उन्होंने भाभी को लिटा दिया और अपने लंड को चुदाई की पोजीशन में सैट कर दिया. मिहिरा- क्यों तुम्हारे साथ नहीं देख सकती क्या?मैं- नहीं, अडल्ट सीरीस है.

मैं नीचे उतर कर उसको देखती हुई उसे दिखाने के लिए अपने पति से बोली- हम लोग कब तक वापसी करेंगे?तो मेरे पति बोले- बस एक घंटे बाद.

मैंने अपने भाई को बहुत मुश्किल से चुप कराया और हम दोनों भाई बहन आपस में बात करने लगे. मेरा पूरा लंड उसकी चूत के अन्दर आसानी से समा गया और उसकी बच्चेदानी में जाकर लड़ गया. वाह क्या नजारा था!वो जल्दी से अपने साड़ी के पल्लू को कंधे पे ले गई और बोली- क्या हुआ, कुछ चाहिए क्या?मैंने कहा- भूख लगी थी, भाभी खाना दे दीजिए।भाभी मुझको खाना देने के लिए उठी, हाथ धुलकर वो मुझे खाना दिया और मैं खाने लग गया.

चुदाई की वजह से बेड चरमराने लगा और वैसे ही साबिरा की सिसकारियां भी बढ़ने लगीं. मॉम उत्तेजना से कमर को ऊपर उठा देतीं और मेरे लौड़े की मार से फिर नीचे हो जातीं. [emailprotected]चुत गांड Xxx सैंडविच सेक्स कहानी का अगला भाग:प्राइवेट सेक्रेटरी की अदला बदली करके चुदाई- 4.

देविका इस धक्के को सह ना सकी और जोर से चिल्लाने को हुई तभी मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए. कुछ देर बाद अञ्जलि ने पैकेट से कंडोम निकाल कर लंड पर चढ़ा दिया औऱ पलंग पर लेट गईं.

मुझे पता था कि जिंदगी को बंद कमरों में जीने वाली रेशमा के लिए मेरा ये तोहफा जरूर पसंद आएगा. उसकी चूत पर हल्के हल्के बाल थे पर मुझे उससे घंटा फर्क नहीं पड़ने वाला था. भाभी ने भी मुस्कान देते हुए अपनी नजरें झुका लीं और धीमे से बोलीं- मी टू.

जैसे ही पाटिल साहब ने रेशमा को देखा तो मुझे उनकी आंखों में भी वासना की झलक दिखाई दी.

इस बार भाभी का गोरा बदन और गोरी गोरी चूचियां देख कर रहा नहीं गया और मैंने ताऊ जी के यहां पर ऊपर जाकर भाभी को देखते हुए मुठ मार दी. मैं- आअहहह मादरचोद रंडी … पी जा मेरा पानी साली कुतिया आआह चूस मेरा लौड़ा … रंडी की जनी. साबिरा- अब मुँह नीचे करके ही खड़ा रहेगा या अपने जीजा की कुछ मदद भी करेगा कुत्ते? चल आ जा यहां पर … और नीचे बैठ.

वो पूरी तरह तड़प रही थी और बोल रही थी- प्रेम जल्दी से अपना अंदर डाल दो, अब नहीं रहा जा रहा!मैंने उसको बेड पे अड्जस्ट किया और धीरे धीरे अपना लंड उसकी चूत में डालने लगा. मैंने भी देर न करते हुए उनकी दोनों टांगों को खोला और उनकी चूत के मुहाने पर अपना लंड टिका दिया.

मैं उसे बेडरूम में चलने को बोलने लगी … क्योंकि मुझसे खड़ा नहीं हुआ जा रहा था. आप मुझे मेल करना न भूलें कि आपको Xxx गांड का मजा मिला या नहीं?[emailprotected]आगे की कहानी:. पर भाई को जब कोई आसपास नहीं दिखता तो उसका हाथ सीधे मेरी सलवार में होता था और वो मेरी चूत मसलता रहता था.

आंध्रा का सेक्सी वीडियो

ये कह कर वो और जोर लगाने लगा और उसका लौड़ा मेरी चिकनी गांड के छेद में समाने लगा.

वो बोल रही थीं- हिम, तुम बहुत अच्छे हो … हिम तुम बहुत अच्छे हो मेरी जान आज से तुम मेरे हो. सभी पाठकों से निवेदन है कि मेल करके बताएं कि मेरी आल पोर्न गर्ल सेक्स कहानी आपको कैसी लगी और पढ़ कर कितना मजा आया. मैं अपनी कंपनी के काम से 5 दिनों के लिए दूसरे शहर जाने के लिए निकल गया.

पर फ़ोन पर बातचीत के दौरान सोनी जिस तरह मेरा ख्याल रखती थी या जैसे मेरी परवाह करती थी, मैं कोई भी ऐसी वैसी हरकत करके उसे खोना नहीं चाहता था. मैं बस थोड़ा गिड़गिड़ाते हुए सा कहने लगा- प्लीज आसिफ भाई, जाने दे मुझे. सेक्सी बनानेदेविका ने नीचे हाथ डालकर मेरे लंड को टटोलकर देखा, तो बोली- सचमुच दो इंच बाकी है हर्षद.

सीट पर पहले एक औरत बैठी थी, फिर एक 18-19 साल का एक मस्त लौंडा बैठा था. थोड़ी देर में मेरा लंड पूरे तनाव में आ गया तो ऐसा लगा कि बाक्सर फाड़कर बाहर आ जाएगा.

आज तक कभी उन्होंने चूत को छुआ तक नहीं है, तो चूसना तो दूर की बात है. अब आगे फक़ फक़ स्टोरी:मैं जल्दी से नहाने चली गयी और आज मैंने नहा कर मिनी स्कर्ट बिना पैंटी के पहन ली. यह कहते हुए उसका ध्यान मेरे खड़े हुए लंड पर ही लगा था और वो लंड को ही देख रही थी.

सोनी- क्या आप मुझे नोट्स दे सकते हैं?मैं- हां जरूर, पर मेरे पास अभी मौजूद नहीं हैं, अगर आप चाहो तो मैं आपको मेल कर सकता हूँ. मेरा गीला लंड फच्च फच्च करके अन्दर बाहर आने जाने लगा और मैं आंटी की चूचियों को दबाने लगा. पर मैं पत्थर दिल, उसके किसी पत्र का जवाब नहीं देती थी।ऐसे में कुछ समय बाद, उसने थक हारकर हार मान ली।वो अपनी चिट्ठियों में मुझसे बेहद प्यार करने के दावे करता और मुझे मनाने का हर संभव प्रयास करता।उसकी शादी की बात मुझसे शुरू से मालूम थी और उसने भी साफ तौर पर कहा था कि हम एक नहीं हो सकते.

देर से दाखिला लेने की वजह से वो पाठ्यक्रम में मुझसे थोड़ा पीछे थी, इस हिसाब से मैं उसका सीनियर हुआ.

लिफ्ट जैसे ही चलना शुरू हुई लोगों का भार और बढ़ा और मेरी छाती उसकी छाती से टकरा गई. मैं अपने भाई को बताने की कोशिश कर रही थी कि मैं आपकी बहन हूं लेकिन मेरे भाई ने शराब के नशे में मुझे जकड़ा हुआ था और वो कुछ भी सुनने के मूड में नहीं थे.

उसके मुँह से जैसे ही मैंने सुना कि वो अभी दुधारू माल है … मेरा लंड टनटन करने लगा. दोस्तो, मुझे लगता है कि यदि मोहन बाबू मुझे नहीं चोदते तो जीवन के एक सुख से मैं अनजान ही रहती. मुझे जस्सी के न आने से थोड़ा बुरा लगा कि जो मेरी बेस्ट फ्रेंड है, वही नहीं आयी.

मुझे कोई ऐसा चाहिए था जो मेरी चूत में उंगली करे!इसके लिए मैंने योनि मसाज के बारे में सोचा और एक दो मर्दों से नग्न मसाज भी ली. फिर मैं गांड के छेद में एक उंगली पेल कर धीरे धीरे उनकी गांड को ढीला करने लगा. एक मस्त मीठी सी खुशबू, जिसको सूंघने के बाद माया मॉम की चूत में सनसनी फैल गयी.

एचडी में बीएफ भेजिए मन तो कर रहा था कि साली को अभी पटक कर चोद दूँ, पर मैंने अपने जज्बातों को काबू में रखा. उसी समय उस रास्ते से यशवंत भैया ने मुझे जाते हुए देखा तो देखते ही उन्होंने मुझे आवाज लगा कर टोका.

निरहुआ हिन्दुस्तानी 2

धारा की गांड का छेद शेखर के आधे लंड का रास्ता खोल चुका था, अब बस एक-दो ज़ोरदार झटके की ज़रूरत थी और पूरा क़िला फ़तह हो जाता. इससे वह उत्तेजित होने लगी और आहउच … आहउच… आहउच … जैसी आवाज निकालने लगी।मौके का फायदा देखकर मैं उनके कान के पास गया और उनसे बोला- मैडम, आपका नाम क्या है?तो मैडम ने अपना नाम निधि बताया. जैसे जैसे मेरा लंड अन्दर जा रहा था, उसकी बुर की चमड़ी फैलती जा रही थी.

जब पेपर खत्म हुआ तो मैं जल्दी से रूम से बाहर सा गया ताकि भाभी से दुबारा मिल सकूं. अपनी सगी बड़ी बहन के सामने छोटी से लुल्ली लेकर गर्दन झुकाकर वो मेरे लौड़े को घूर रहा था. चोदने का वीडियो सेक्सीवो हमेशा गहरे गले का ब्लाउज पहनती है जिससे सामने आंचल से उसके दूध की लाइन झलकती रहती है और पीछे उसकी गोरी चिकनी भरी हुई पीठ देख कर लोगों का मन डोल जाता है.

अब मॉम ने मुझे अपनी दोनों टांगों में दबा लिया और एकदम से मेरा सारा माल उनकी चूत में निकल गया.

मैंने अपना लंड उसकी चूत पर टिकाया और एक ही बार में पूरा लौड़ा चूत में डाल दिया. कभी हाथों से, तो कभी अपने मुँह से … जी भरके मैंने सोनी के चूचों से कपड़ों के ऊपर से ही खेला.

ऐसा बोलते हुए सरिता ने अपने दोनों हाथों में मेरा लंड पकड़ लिया और सहलाने लगी. प्रिया ने मुझे इशारा करा और मैं जाकर चुपचाप कुर्सी पर बैठ गया। प्रिया लन्ड चूसने में फिर से व्यस्त हो गई. अगर चुदायी के पहले इतना मादक खेल ना खेला गया होता तो शायद धारा अपनी गांड मरवाने को तैयार ना होती.

इतना टाइम बाद मैं खुलकर खेल रही हूं।अब तो प्रिया को रोज नए-नए लन्ड की जरूरत पड़ने लगी.

मैंने भी देर नहीं की और उसके ऊपर आकर अपने लंड को उसके मुँह पर लगा दिया. फिर वो खड़ा हुआ और उसने मेरा गाउन निकाल कर फैक दिया और अपना लंड मेरी चूत में घुसा दिया. उन्होंने मुझे बुरी तरह से जकड़ लिया और अपनी पूरी ताकत से मुझे चोदने में लगे थे.

चोदा चोदी का सेक्सी वीडियो दिखाइएभाभी मेरे लंड का पानी पी गयी और उसने मेरा लंड चूस चूस कर साफ कर दिया. उस दिन उसने लन्ड खूब जोर से चूसा और जैसे ही पानी निकला उसने सारा का सारा पी डाला।प्रिया– अरे वाह मजा आ गया। क्या टेस्टी रस रहता है ये तो! अच्छा हुआ आज मेरी सहेली का फोन आया और उसने मुझे सीमेन पीने की सलाह दी.

मोटे चित्र

उसे पता नहीं क्या सूझा, उसने मेरा लंड अपने गिलास में डुबोया और उसे चूसने लगी. उसके चेहरे पर जिस तरह का एक मजा दिखाई दे रहा था, वो मजा मैंने उसे कभी भी नहीं दिया था. तो वो बोलीं- अब और इंतजार नहीं होता मेरी जान … चोद दो मुझे!मैंने उनका गाउन निकाला और झटके से उनको नंगी करके ब्रा पैंटी में कर दिया.

उसकी ऐसी बातें सुनकर तो एक बार मन में आया कि सोनी को किसी ऐसी जगह पर चलने को मना ही कर देता हूं. शेखर की प्यास बुझाने के लिए धारा ने अपने दोनों हाथों की उँगलियों से अपनी चूत को जहां तक सम्भव था खोल दिया और शेखर को अछी तरह चूत चाटने और चूसने का मौक़ा दिया. शेखर थोड़ी देर तक धारा के हिलने या फिर यूँ कहें कि उसके खुद से अपनी गांड मरवाने का इंतज़ार करत रहा.

उधर शिराज ने रोता हुआ मुँह लेकर मेरे और अपनी बहन के तलवे चाटना चालू कर दिया. गीता ने सिहर कर अपने दोनों हाथों से मेरी गांड सहलाते हुए कहा- हर्षद, बहुत गुदगुदी हो रही है वहां … लेकिन बहुत मजा आ रहा है. वो सर से बात करने में बिजी थी, पर बीच बीच में मेरी और उसकी नजरें मिल ही जाती थीं.

मैं मन में सोच रहा था कि मेरे लौड़े को आज शायद किरण की चूत मिल ही जाएगी. भाभी मना करने लगीं लेकिन मैंने जबरन भाभी की मांग में सिंदूर भर दिया.

मैं एक निप्पल को चूस रहा था और दूसरे को उंगली और अंगूठे की मदद से मसल रहा था.

शहर में मैं अपनी पत्नी मेघना के साथ अकेला रहता हूं और मेरी बाकी की फैमिली के सदस्य गांव में रहते हैं. साड़ी वाली औरत की चुदाई सेक्सीमैं साथ देने लगी तो भैया ने मेरे होंठों को छोड़ दिया और मेरे दूध चूसने मसलने लगे. सूजी के फायदेतभी मैं अकड़ गया और मेरी माया मॉम को अपने मुँह में जैली आती सी महसूस हुई. मैंने पूछा- कुंवारी का मतलब शादीशुदा नहीं है या कुछ और बात है?उसने कहा- नहीं, वो बिल्कुल सीलपैक माल है.

धारा के नितम्बों के दबाव को झेल पाना शेखर के लिए गवारा नहीं हो रहा था, उसका लंड दर्द झेल रहा था.

शेखर बार-बार अपने होठों पे अपनी जीभ फिराकर अपनी प्यास बुझाने की नाकाम कोशिश कर रहा था. अब मैंने आंटी के पैरों को मोड़कर चोदना शुरू कर दिया, इससे आंटी दर्द से ‘आहहह उईई …’ करके चिल्लाने लगीं. मैंने पूछा- क्या हुआ जान, दर्द हो रहा हो तो निकाल लूं?वो बोलीं- नहीं मेरे राजा, मुझे बहुत मजा आ रहा है, आज से तुझे मेरी गांड भी मारनी पड़ेगी.

पिछली सेक्स कहानीमेरी मौसी मेरे सामने नंगी हो गईमें आपने पढ़ा था कि कैसे तन्मय बचपन से मॉम डैड की चुदाई देखकर बड़ा हुआ और अपनी रवीना मौसी को चोदने लगा. तब उसने मेरे को अपने बॉयफ्रेंड और उसके साथ सभी रिश्तों के बारे में बताया, जो मैं आपको फिर कभी और बताऊंगी. मैंने देखा कि मेरी जैसी माल लौंडिया देख कर उसकी आंखों में एक चमक सी आ गयी थी.

सेक्सी फुल वीडियो पंजाबी

मैं बस आशा कर रहा था कि ये ड्रेस उसको बिल्कुल सही तरीके से फिट हो जाए … और सच मानिए हुआ भी वैसे ही. भाभी अपने दोनों हाथ मेरी कमर पर फेरती हुई मेरे पिछवाड़े पर फेरने लगी और मेरे पिछवाड़े को पकड़कर अपनी तरफ को खींच कर मेरा लंड अपनी चूत में लेने लगी. ये सुन कर दिल को तसल्ली हुई कि चलो कल भी इस खूबसूरत हसीना का दीदार करने का मौका मिलेगा.

मैंने साबिरा को थोड़ा शांत करते हुए कहा- रुक जा मेरी बेगम जान, देख तो ले पहले तेरे भाई की लुल्ली, फिर पता चलेगा इस हिजड़े की औकात?मेरे इशारे पर उसने शिराज का मुँह मेरे लौड़े पर दबाते हुए दूसरे हाथ से उसकी पैंट नीचे खींच दी.

वीडियो में लड़का अपनी मॉम को चोद रहा था और उसकी मॉम ‘फक मी सन फक मी …’ चिल्ला चिल्ला कर चुदवा रही थी.

मैंने कहा- और रात को यहीं सो भी जाऊं न?भाभी ने आंख दबाई और कहा- सोने के लिए नहीं बुला रही हूँ. मेरे पूछने पर उन्होंने कहा तुम्हारे लिए मैं एक तोहफा भी लायी हूँ, वो तो देख लो. पुराना मोबाइल 4gजैसे ही उसने छेद में सुपारा अन्दर लिया, झटके से अपना सर ऊपर की ओर कर लिया.

सबसे पहले मैं आपको अपने बारे में कुछ बातें बताना चाहता हूं, जिससे आप लोग खुद अंदाजा लगा सकते हैं कि मैंने सही किया या गलत. कोमल- अच्छा आप ये मेरा कार्ड ले लीजिए … और 1-2 दिन में मैसेज कीजिए. बॉस मेघना को अपने सीने से चिपकाए हुए था और उसकी पीठ को जोर जोर से सहला रहा था.

धारा अब बिल्कुल पास आ चुकी थी … शेखर के पैरों की तरफ़ धारा ने अपनी एक टांग उठाकर बिस्तर पे रखा और शेखर की ओर देखते हुए मुस्कुराते हुए अपने हाथों में पड़े हंटर की नोक को शेखर के पैरों की उँगलियों पे धीरे-धीरे फिराना शुरू किया. भाभी ‘अअह आह …’ की आवाज निकालती हुई झड़ गईं और उन्होंने लंबी सांस भर कर सारा वीर्य अपनी चूत में खींच लिया.

मैंने उसके सिर को पकड़ कर आठ दस धक्के मार कर उसका मुँह चोदा, फिर उसको उठा कर वाशबेसिन की स्लिप पर बैठा दिया.

कुछ देर के बाद भैया ने भाभी की पैंटी उतार दी और उनकी सुर्ख लाल चूत मेरे एकदम सामने नंगी दिखने लगी थी. अब मैंने उसकी पैंटी उतार दी और उसकी चूत को देखा, तो लगा जैसे एक फूली हुई पावरोटी हो. मैंने हामी भर दी और अपने कपड़े पहनने के बाद मास्टर की चुम्मी लेकर वहां से घर चली आयी.

ડોગ એન્ડ ગર્લ સેક્સ वो बोली कि बहुत टेस्टी रहता है और लन्ड रस पीने के फायदे भी बहुत रहते हैं। कितने दिनों से मैं यह रस बेकार ही जाने दे रही थी. वह ऐसा दिखावा कर रही थी जैसे कि उसको पता ही न हो कि मैं उसे देख रहा हूँ.

मैं- क्या आप कानपुर से अकेली आई हैं?भाभी- हां, क्यों?मैं- नहीं, बस ऐसे ही पूछ रहा हूं. मैंने चाची की चूत के अन्दर माल डाल दिया और हम दोनों वैसे ही नंगे चिपक कर सो गए. तभी मैं उनके दोनों पैर फैला कर उनके ऊपर लेट गया और उनको अपनी बांहों में पकड़ कर किस करने लगा.

विकाश कुमार

मैंने उनको अपना सम्पर्क नंबर दे दिया और पेमेंट लेकर वहाँ से चला आया. उनका मेरे चेहरे की तरफ ध्यान नहीं था, वो सिर्फ मेरे लंड को निहार रही थीं. अगले दिन शादी थी तो तैयारियां बहुत जोरों से चल रही थीं, किसी के पास टाइम नहीं था.

मैं जानता था कि उसे काफी तकलीफ होगी इसलिए मैंने उसे पूरी तरह से जकड़ लिया था ताकि वो हिल ना सके. मैं- आअहह साली मादरचोद रंडी, चाट मेरी गांड ऐसे कुतिया … आज तुझे बाजार की सबसे सस्ती रंडी बनाकर चोदूंगा मादरचोद.

उसके बाद ही हम मसाज कर सकते हैं।मैंने कहा- जब इतनी प्रॉब्लम है तो होटल बुक कर लो।उन्होंने मना कर दिया, बोले- होटल में हम इतने सिक्योर फील नहीं कर पाते.

अब पढ़ाई के बाद पिता जी ने मेरी शादी एक सभ्य घर में एक लड़के से करा दी, जिसका बाकी का परिवार जिसमें उसके माता, पिता गांव में रहते थे. अब जैसे हम बाहर निकले तो मैंने देखा वही लड़का, जिसने ऑटो में मेरे मज़े लिए थे, वो शॉर्ट्स और टी-शर्ट में खड़ा था. ऑटो में झटके लग रहे थे तो वो हर झटके में अपना हाथ थोड़ा नीचे सरकाता जा रहा था.

मेरा लंड उसके गले तक उतर रहा था जिसमें उसे तकलीफ भी हो रही थी उसकी आंखों से आंसू निकल गए. लेकिन मैं नहीं मानी, मेरे दिमाग में पति के लंड से एक बार चुद कर अपने भाई के बीज को जायज ठहराना था. साबिरा ने भी अपने भाई की आंखों में आंखें डालते हुए मेरे लौड़े पर जुबान घुमाई.

फिर मैंने अपनी जीभ गीली करके उसकी नोक गीता की नाभि में डाल दी और घुमाने लगा.

एचडी में बीएफ भेजिए: वो हंस कर बोलीं- और मेरे जैसे माल को देख कर तुमने आगे क्या सोचा?मैंने कहा- क्या सोचा … बस शुरू हो गया था. पर किरण कहीं दिखाई नहीं दे रही है वो कहीं गई है क्या?आंटी बोलीं- हां वह बाथरूम में नहाने गई है.

दस मिनट तक मैं चूत में ठोकर मारता रहा ओर सुनीता के नितंबों से मेरी जांघें टकराने की आवाज सुनाई देती रही. मैं चरम पर आने लगा था, आंटी की चूचियों को मसलने लगा था और आहहह आह करके तेजी से लंड अन्दर बाहर अन्दर बाहर करने लगा था. ये एक्स एक्स एक्स सिस्टर हॉट कहानी तब की है, जब मेरी बहन को शिमला घूमने जाना था.

एक दिन मैं कंपनी से अपने रूम आ रहा था तो मेरे पड़ोस में रहने वाली एक आंटी मुझे देखकर मुस्कुराने लगीं.

भाभी सॉरी बोलीं और उन्होंने मुझसे एकदम से कहा- मुझको अपनी जीएफ बनाओगे क्या?मैं- भाभी मज़ाक मत करो. इतना सुनकर वो मना करने लगी, पर मैंने उससे ज्यादा जोर देकर कहा और वो मान गई. मैंने दरवाजा खोला तो सामने एक नाइट ड्रेस में खड़ी थी और बड़ी ही कामुक लग रही थी.