नेपाली के बीएफ

छवि स्रोत,बीपी सेक्सी पिक्चर व्हिडिओ

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी गांड सेक्सी वीडियो: नेपाली के बीएफ, मेरी बात सुनकर वो थोड़ी गर्म हो गई और पूछने लगी- उसके बाद फिर तुमने क्या किया?मैंने कहा- मैं क्या करता, मैंने तो कुछ नहीं किया.

चूत की चुदाई बताओ

मगर मेरे गांव में कोरोना के कुछ ज्यादा केस आ गए थे, इस वजह से मुझे सूरत में ही रुकना पड़ गया था. हिंदी सेक्सी फिल्म नंगीमैं बोली- आशीष मैं तुम्हारी कसम खाती हूं … अपनी कसम भी खाती हूं कि तुम पहले मर्द हो, जिसने मुझे प्यार से छुआ है, जिसने मुझे प्यार किया है और जिसने मेरे साथ सेक्स किया है.

थोड़ी देर बाद आंटी जी चाय बना कर ले आई और बोलीं- निशा, मैं पड़ोस में जा रही हूँ थोड़ी देर बाद आ जाउंगी, कुछ चाहिए तो फ़ोन कर देना. साड़ी वाली बीपी सेक्सीऔर पारो को भी थैंक यू कहा और कहा- पारो तुमने मुझे जो चूत दिलवाई है वह मस्त है.

फिर मैंने पाण्डे जी से बोला कि उससे किसी तरह से सेटिंग कराओ क्योंकि वो मुझे बहुत अच्छी लगती है.नेपाली के बीएफ: मेरी यह बात सुनकर पहले तो वह कुछ ना-नुकर करने लगी मगर उसके बाद फिर मान गई.

प्रिया- आआह … आआहह … और तेज भैया … और तेजज … और कस के भैया … और कसके चोदिए … बहुत मज़ा आ रहा है.फिर उसने साड़ी पेट तक उठा कर अपनी नाभि और सपाट पेट को दिखाया और कमर को लचकाते हुए मटकाया.

सेक्सी आंटी फोटो - नेपाली के बीएफ

मैंने ओके कहा और उनकी गांड की तरफ से लंड को चुत की फांकों में रगड़ना चालू कर दिया.वह लड़की कम कॉलेज आती थी, तो ज्यादातर प्रेक्टिकल्स मैं और निकोलस ही किया करते थे.

अब सीन ये था कि मेरी सहेली अपने ब्वॉयफ्रेंड से चुदवाने के लिए होटल में गयी थी और इधर मैं उसके भाई से चुदवाने के लिए उसके घर आ गयी थी. नेपाली के बीएफ मेरी बात सुन कर शायद उसे ख़ुशी हुई और उसे भी अपनी मर्दानगी पर गर्व हुआ, वो बोल पड़ा- मजा गया सारिका जी, आप जैसी कामुक औरत मैंने आज तक नहीं देखी, काश प्रीति भी आप जैसी होती!उसने कुछ देर अपने लिंग को मेरी योनि में टिकाए हुए हल्के हल्के हिलाता रहा और फिर धीरे धीरे उसने धक्के मारने शुरू किए.

उन्होंने मेरे लंड को बहुत देर तक मज़े लेकर चूसा और जब मैं झड़ा तो चाची मेरा सारा वीर्य भी पी गईं.

नेपाली के बीएफ?

राधिका घुटने के बल बैठकर मेरे लंड को पकड़ कर मुँह में लेते हुए चूसने लगी. अब मेरा एक हाथ उसके मम्मों पर जम चुका था और दूसरा उसकी चुत को रगड़ रहा था. मैंने अपना एक हाथ धीरे से उसकी चुत तक ले गया और उसे बड़े ही प्यार से सहलाने लगा.

उफ्फ … भाभी का वह चेहरा अब मुझे याद आता है तो मेरी चूत में कुलबुली मच जाती है. वह बेड पर खड़ी हो गयी और अपने मम्मों पर हाथ फेरने लगी और कंधे हिलाने लगी. उधर मेरे हिप्स भी कड़े होकर दबाव दे रहे थे और लिंग अन्दर जा चुका था.

जब उसके द्वारा बताए गए पते पर पहुंचा तो मैंने वहाँ पहुंच कर दरवाजे की बेल बजाई और एक 21-22 साल की लड़की ने दरवाजा खोला. मैं- नहीं देना तो कोई बात नहीं, आपने मेरी मर्जी गिफ्ट देने को कहा था, तो मांग लिया. लेकिन लंड चुसाई में जो मजा आता है, उसके आगे सब मजे फीके लगने लगे थे मुझे.

फिर कुछ देर में मैं अपने लंड को हिलाने लगा और ट्रेन की तरह अपनी स्पीड को बढ़ाने लगा. कल्पना- ह्म्म्म, बाकी का तो पता नहीं, पर तुमने मुझे पूरी तरह से खुश कर दिया.

क्योंकि हमारे घर गांव में हैं और गांव की परम्परा के चलते यहां की महिलाएं आड़-पर्दा ज्यादा करती हैं.

रिया- आह हआआ … उहह अन्दर करो रोहन … जल्दी से अन्दर करो अहआ आआआ!मैंने लंड को चूत में सैट किया औऱ सुपारे को जोर जोर से उसकी चूत पर घिसने लगा.

तभी मैं झड़ने वाला था तो उसने कहा- जीजू, प्लीज मुंह में छोड़ना!मैंने सारा माल उसके मुंह में छोड़ दिया, वो बहुत खुश हो गयी. ऊपर से हाथों से कस्सी चलाने के कारण हाथ की पकड़ भी लंड का दम घोंट रही थी. वो किचन से काफी बना कर लाईं और हम दोनों साथ में कॉफ़ी पीते हुए बात करने लगे.

मैंने उसे अपनी बांहों उठा लिया तो रिया ने हंसते हुए कहा- चांस मार रहे हो क्या?मुझे गुस्सा आ गया. जब मैंने आंगन में आकर पता किया, तो पता चला कि वो मेरे रिश्ते में भाभी लगती है. बुर के दाने को मसलना, अपनी एक उंगली सिर्फ वहां तक डालना, जहां तक दर्द न हो, ये सब वो उस वक्त करती रही थीं, जब कभी भी उन्हें मौका मिल जाता था.

उसके बाद मैंने सुषी की पीठ के पीछे से अपने हाथ ले जाकर उसकी ब्रा के हुक को टटोलना शुरू कर दिया.

मैं बोली- आशीष क्या देख रहे हो … मैं तो अभी भी बहुत चुदासी और प्यासी तड़पती पड़ी हुई हूं. फिर मैंने उससे पूछा- तुम मेरे लिए क्या लायी हो?उसने मुझे परफ्यूम दिया और काफी सारी चॉकलेट्स भी. मेरी ये हॉट एंड सेक्सी देसी चूत चुदाई की कहानी पर आपके मेल का स्वागत है.

वैसे मैं जानता था कि मेरे सफल होने के चान्स ज्यादा हैं फिर भी मन में एक डर तो बना ही हुआ था. वो मुझे बहुत किस कर रहे थे और मैं भी उन्हें किस पे किस करे जा रहा था. जब दोनों के झूले पूरे कस गए तो हम दोनों बिस्तर से ऊपर हो हवा में लटक गए.

अब यह क्रम रोज ही चलने लगा, ये अंकल जी मुझे भा चुके थे और मन ही मन मैंने तय कर लिया था कि मैं अपनी चूत की सील तो इन्हीं अंकल जी से तुड़वाकर चैन की सांस लूंगी.

मैंने नोटिस किया कि इस तरह से देखने से उसके हाफ पैंट में तंबू बन गया था. माँ बेटी दोनों नंगी नंगी जब एक ही लण्ड मिलकर चाटती हैं तो उसका मज़ा कुछ और ही होता है।अम्मी बड़े सेक्सी मूड में थीं तो बोली- बुर चोदी रेहाना, तेरी माँ का भोसड़ा … आज मुझे तेरे साथ लण्ड चाटने में बड़ा मज़ा आ रहा है। मुझे लगता है कि मेरी जवानी लौट आयी है।मैंने कहा- हाय मेरी हरामजादी रुखसार … तू तो अभी मुझसे ज्यादा जवान है.

नेपाली के बीएफ अल्लाह! क्या उजला शरीर था जूली का … उम्म्ह … अह्ह … हाय … याह …! मैं टकटकी लगा कर उसके रोशन बदन को देखता ही रह गया! क्या चूचियाँ थीं! चूचियों पर पर काले रंग की छोटी सी निप्पल थीं।मैंने उसे प्यार से उठाया और साड़ी उठा कर ओढ़ा दी. उसके बाद जीजू ने मेरी चूत की फांकें अपने दोनों हाथों से फैला दी और अपनी जीभ से मेरी चूत को चाटने लगे.

नेपाली के बीएफ न तो मुझे कोई अदाएं या इशारे करना आते थे और न ही कुछ और अगर थोड़ा बहुत कुछ पता भी था तो वो सब करना मेरे लिए असम्भव सा था. फिर मैंने कहा- बताइए पम्मी आंटी, आपको मुझसे क्या काम था?उन्होंने कहा- तुम 10 मिनट बैठो, मैं झाड़ू लगाना खत्म कर लेती हूं.

पांच मिनट बाद मैं उसके ऊपर से उतरा तो देखा कि मेरा लंड उसके खून में सन चुका था.

रात वाली सेक्सी बीएफ

हैलो फ्रेंड्स, मैं अंकित, मैं अन्तर्वासना का एक नियमित पाठक हूं और इधर मैं सेक्स से भरी कहानियां पढ़ना बहुत ही ज्यादा पसंद करता हूं. जिस तरह दूध में उफान आकर वह पतीले से बाहर आ जाता है वैसे ही वीर्य निकलने के बाद धीरे-धीरे शरीर की ऊर्जा कम होने लगती है. उत्तेजना-वश वसुन्धरा की दसों उँगलियों के तीखे नाख़ून मेरी पीठ में गड़े जा रहे थे लेकिन अब मुझे इसकी क़तई कोई परवाह नहीं थी.

थोड़ी देर बाद उसने भी मुझे सॉरी बोला और बोली- मैं घर जाना चाहती हूँ. मैं पेशे से एक कम्प्यूटर इंजीनियर हूँ और एक कंपनी में जॉब करता हूं. मेरा लंड उसकी चूत के अंदर पूरा समा जाता था तो दोनों की आह निकलती थी.

भैया ने आशा के भाभी के बालों को पकड़ा और अपने लंड की गोलाई पर भाभी के होंठों को फिराने लगे.

मैं झटके से उठकर बैठ गई, अंकल के हाथ पर एक चपत लगाकर उनको बोली- अंकल बस हो गया … अब मैं जा रही हूँ. फिर रोहन और जॉन भी बेड पर आ गये और मेरे मुंह में दोनों ने फिर से एक साथ लंड डाल दिये. दोस्तो, मैं हर्षद एक बार पुन: अपने दोस्त और उसकी बीवी के साथ वाली इस सेक्स कहानी में आपका स्वागत करता हूँ.

सुबह जब भाभी के घर पहुंचा तो उन्होंने दरवाजा खोला और देखते ही मेरा लंड सनक गया. झाड़ी के पीछे जो शादी के रात हुआ और मवेशियों की सार में जो सोनम के मामा ने किया, वहां भी किसी ने मेरे होंठों को नहीं चूमा था. ” सर ने हमारे रूम का बंडल खोलते हुए कहा।पिंकी ने मेरी ओर देखा और मुस्करा दी और फिर सर को अच्छी नज़रों से देखते हुए बोली- थैंक्स सर …हम दोनों ने अपने अपने रोल नंबर सर को बताए और उन्होंने हमारी शीट निकाल कर हम दोनों को पकड़ा दी.

हम दोनों ने चुदाई के अपने अपने कपड़े पहने और पढ़ने का नाटक करने लगे. मैंने कहा- आपको मेरी गर्लफ्रेंड की बड़ी जानकारी है भाभी … वैसे मैं बता दूँ कि अभी तक कोई लड़की मेरी गर्लफ्रेंड बनी ही नहीं है.

भाई बहन या मां बेटे जा रिश्ता सिर्फ सामाजिक रिश्ते होते हैं, जो सबके सामने दिखाने पड़ते हैं. सामने से उसकी क्लीवेज दिख रही थी और दूध जैसे गोरे रंग के उरोज़ों की थोड़ी झलक भी मिल रही थी. वह चिल्ला पड़ी- आआ आआआ … आहहहह …जैसे तैसे करके मैंने अपने होंठों को सुषी के होंठों पर रख दिया ताकि उसकी आवाज मुंह से बाहर न निकल सके.

फिर मैंने उसके कान के नीचे से आते हुए अपने होंठों से उस भाग को चूमने लगा.

कुछ ही देर में उसने मेरे लंड को झड़ने पर मजबूर कर दिया और पूरा वीर्य पी लिया. चूंकि हल्की चांदनी रोशनी थी और इस छत से आस पास किसी को कुछ दिखता नहीं था. चूंकि मुझे रोहन के दोस्तों के लंड से चूत चुदवानी थी तो थोड़ी वैक्सिंग भी करवानी थी, इसलिए रोहन ने भी बोल दिया कि मसाज ब्वॉय को बुला कर मैं अपनी बॉडी की मसाज और वैक्सिंग करवा लूँ.

उधर फोल्डिंग वाली चारपाई रखी रहती थी और ऊंची छत होने के कारण चारपाई पर कौन लेटा है, ये आसानी से नहीं दिखता था. इसके लिए मैं उसकी चुदाई करते करते सोच रहा था कि इसकी गांड मारने के लिए इसको कैसे पटाया जाये.

मैं अपने मुंह से अपनी तारीफ बिल्कुल नहीं करना चाहता मगर जो भी सच है वही बता रहा हूँ. मेरे नंगे नितम्ब अब ‘सर’ की आँखों के सामने थे और योनि ‘पिंकी’ के सामने. भाभी का विरोध काम होता देख, मैंने उनके हाथ छोड़ दिए और दोनों हाथ से उनके बड़े बड़े तरबूजों को मसलने लगा, उनके होंठों को अपने होठों में लेकर चूसने लगा.

जाति वाली बीएफ

रोहन के दोनों ही दोस्त मुझे आँखें फाड़ कर देख रहे थे और उनकी आँखों में एक अलग ही हवस भरी हुई थी.

दिखने में गोरी, किसी फिल्म की हीरोइन को भी फेल करने वाला लुक्स थे उसके।आते ही कुछ लड़कों ने उस पर लाइन मारना चालू भी कर दिया, पर सुषी ऐसी नहीं थी. माया आँख मारते हुए बोली- इतनी भी क्या जल्दी है, पहले दरवाजा तो बंद कर लो. तीन-चार बार भी घंटी बजाने के बाद किसी ने दरवाजा नहीं खोला तो मैं मायूस सा हो गया.

मैं और विलियम बहुत ज्यादा डर गए कि अचानक बस क्यों रुक गई और लाइट ऑन क्यों हुई. मैंने सरिता से पूछा- विलास सो गया क्या? अगर वो जाग गया तो बहुत मुसीबत हो जाएगी. एक्स एक्स एक्स व्हिडीओ हिंदीवो बोल पड़ी कि आह रितेश अब मेरे अन्दर आ जाओ, अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

मैंने अपना चेहरा ठीक उनके चेहरे के सामने करके और अपना हाथ उनके मम्मे से हटा कर उनकी चूत पर रखते हुए कहा. उसी पल अमर ने एक ही झटके में पिंकी भाभी की चुत में लंड जड़ तक ठांस दिया.

मैंने धीरे से उसकी चूत के पास जाकर किस किया तो उसकी खुशबू मेरी नाक में आने लगी. सोनू ने बताया कि उसके पापा बेड से नीचे खड़े होकर उसकी मम्मी को पीछे से चोदते हैं और कभी-कभी तो अपना एक पाँव बेड के ऊपर रखकर चुदाई करते हैं. मुझे बांहों में पकड़कर उन्होंने मेरे चेहरे पर किस की बारिश शुरू कर दी.

दोस्तो, मैं संजू आर्यन कुमार एक बार फिर से आप लोगों के लिए एक नई और सच्ची कहानी के साथ हाजिर हूँ. फिर मैंने उसकी चूत की दोनों पंखुड़ियों को दोनों तरफ खींचकर उसकी गुलाबी पानीदार चूत में अपनी जीभ अन्दर गहराई तक डाल दी. जानबूझकर मैं इस तरह एक्टिंग कर रहा था जैसे मेरा साली की तरफ ध्यान ही नहीं है.

मैंने बताया- हां, वहीं पर मेरे दोस्त का घर है, उसी में हम चार दोस्त रहते हैं.

तब मेरी नींद खुली तो मैंने देखा कि चादर एकदम लाल हो गई थी और रूपा की बुर पर भी खून की पपड़ी जम चुकी थी. थोड़ी देर तक वैसे ही पड़े रहने के बाद मैं भी मौसी के पीठ की तरफ मुँह कर लिया.

मैंने नोट किया कि वसुन्धरा अपनी योनि के भगनासा पर मेरा लिंग-मुंड सख्ती से गोल-गोल रगड़ रही थी, यकीनन इस में उसे ज्यादा मज़ा आ रहा था. इसलिए चुदाई के पहले राउंड के बाद पूजा दीदी की चूत के साथ मेरे लंड की मौज-मस्ती कई घंटों तक चलना लाजमी था. मैंने झट से उसके हाथ हटा के उसके होंठों को अपने होंठों में जकड़ लिया और चूसने लगा.

फिर उसने मुझे बताया कि उसके शौहर और वो दोनों शादीशुदा ज़िंदगी में खुश नहीं हैं. एक दिन भाभी को मार्केट से कुछ सामान लेना था तो उन्होंने मुझसे साथ चलने को बोला. इससे आगे की कहानी मैं बाद में बताऊँगा कि कैसे शुभी के बॉयफ्रेंड ने मेरी गर्लफ्रेंड श्वेता की चुदाई की.

नेपाली के बीएफ मोनू- तुम्हारा भाई कहां है … उसे वो पिल्स दे दी न?कोमल- हां वो दोनों पिल्स दे दीं. उसकी शादी के बाद, ना उसने मुझको याद किया, ना मैंने उसकी शादीशुदा जिंदगी में आग लगाने की सोची.

हिंदी पिक्चर सेक्सी बीएफ बीएफ

आशीष बोला- तू तो पागल है रे … तेरे जैसी चुद्दक्कड़ चुदासी लड़की का मैंने सुना भी नहीं है … मैं कितना लकी हूं कि तू मेरी बीवी बनने वाली है, पर लगता नहीं कि पहली बार तू चुदवा रही है. उसने लाइट ब्लू कलर की झीनी सी साड़ी और स्लीबलैस मैचिंग का ब्लाउज पहना था. मैं तो वसुन्धरा के ऊपर से क्या उठता पर इस ज़ोर-आज़माईश में मेरे होंठों की पकड़ से वसुन्धरा के दोनों होंठ छूट गए.

अब उसने मलहम लगाना बंद कर दिया और लंड को हाथ में पकड़कर बोली- हर्षद तुम्हारा ये कितना बड़ा है. औरत को एक ही बार में कई ओरगाज़्म आ जाते हैं, जबकि आदमी का जब छूटता है तो उसको एक ही आता है और लंड से वीर्य छूटने के बाद उसे कुछ देर के लिए वक्त लगता है. सेक्सी दिखा दीजिएकल्पना- आहहह … आहहह … ऐसे ही करते रहो, अच्छा लग रहा है … इस्सस कितना अच्छा लग रहा है … रुकना मत प्लीज, करते रहो.

फिर बातें करते-करते दोनों नीचे चली गईं और मुझे (बाथरूम में कमोड पर बैठे हुए) वहाँ से मुक्ति मिल गई.

आज मंगलवार है ना … तो तीन दिन इसी टाइम पर मलहम लगवाने क्लीनिक आ जाना … आओगे ना?मैंने कहा- हां डाक्टर. मौसी की हाइट 5 फुट 5 इंच है, गदराया बदन है, न ज्यादा मोटी हैं, न पतली हैं.

मुझे पता था कि एक बार अगर किसी औरत के बदन में आग लग जाए, तो लंड लिए बिना नहीं बुझती. पर मैंने उसको मना कर दिया कि तुमसे कैसे बात करूँ यार … तुम तो मेरे फ्रेंड की बहन हो. निशा- आअह ऊओह्ह ह्हह ऊओ ह्ह आआ ह्ह्ह और जोर से चाटो … आह जोर जोर से चाटो आहह!मैं जोर जोर से उसकी चूत के दाने को चाटने लगा.

मैंने पहली बार किसी लड़की के मुंह में लंड को दिया था और मैं सातवें आसमान पर पहुंच गया था.

क्योंकि हम दोनों लोग जब भी अकेले में मिलते थे, तो वो मुझे अपने गले से लगा लेता था और मुझसे बात करते करते अपना हाथ मेरी गांड पर फेरने लगता था. रानी ने मेरा सर पकड़ के चूत के पास मेरा मुंह लगा दिया और मुंह खोलने को बोला. प्रिया ने मेरी तरफ देखा और हंसती हुई बोली- क्या चाहते हैं आप मुझसे?मैं- वो जो तुम्हारी पैंटी में है.

एक्स वीडियो इंग्लिश सेक्सीअगर दुनिया में कोई मजा है तो वह मेरी इस बहन की चुदाई करने में ही है. मैं आकर नया नाड़ा और आपका लहंगा उठा कर ले जाऊंगा, बच्चों के कमरे में जा कर लहंगे पर सुइंग मशीन से दो सीधी सलाईयां मार कर, नया नाड़ा लहंगे में पिरो कर, लँहगा बैडरूम में रख कर कर वापिस बाहर चला जाऊंगा.

बीएफ अंग्रेजी फुल एचडी

मैंने सरिता से पूछा- विलास सो गया क्या? अगर वो जाग गया तो बहुत मुसीबत हो जाएगी. मेरे मुँह से चूत और बुर शब्द सुनते ही वो शरमा गईं और अपना चेहरा मेरे सीने से छुपा लिया. वो सिसकी भरके बोली- प्लीज रमित … अभी नहीं, सुरभि घर पे है और राहुल भी है, कोई भी आ जाएगा.

और बंध्या तुम तो पसीने में भीगी हो?मैं घबरा कर झट से बोली- हां चाची अभी दौड़ के आई हूं, साइकिल भी चला रही थी, इसलिए. कुछ देर इसी पोज में चुदाई करने के बाद वह बोली कि अब दूसरी पोज में करेंगे. उसने हाथों से मेरे चूतड़ पकड़ कर हवा में उछालना शुरू कर दिया और प्रीति को गाली देता हुआ बोला- बहनचोद प्रीति … तू क्यों नहीं चुदाती ऐसे.

मैं दोपहर होने का इंतजार करने लगा क्योंकि गर्मियों में लोग अक्सर दोपहर के समय में सो जाते हैं. इसका असर हमेशा हमारे मंथली बजट पर पड़ता, इसलिए नितिन हमेशा कमाई बढ़ाने के लिए प्रयास करता रहता था. अगर हम अपने सामने वाले की पसंद को पहचान जाते हैं तो उसको संतुष्ट करने में सफल हो पाते हैं.

रवि मेरा अच्छा दोस्त बन गया। रवि की बहन का नाम सुषी था और वो 22 साल की थी। सुषी के बारे में आप को बताऊं तो सुषी का फिगर शायद 32-28-34 का होगा। उसकी हाइट 5 फीट 5 इंच की थी. मैंने कहा- ओह … अंकल कैसे?तो अंकल ने कहा- बहुत लम्बी कहानी है बेटा … तुमको बताने बैठ गया, तो बहुत समय लग जाएगा और तुमको इतना समय नहीं होगा.

अगली सुबह हम दोनों मिले और बाइक से चालीस किलोमीटर दूर एक पार्क में आ गए.

फिर जब डॉक्टर ने उसकी जांच करने को कहा, तो रिया ने मुझसे कहा- तुम साथ आ जाओ. सेक्सी नंगी नंगी वीडियोमैं थोड़ी ओट में थी तो उन दोनों ने ध्यान नहीं दिया और मैं पूरी फिल्म देखने लगी. सेक्सी ताजामेरी साली दौड़कर किचन में गयी और अपनी दीदी से बोली- दीदी जीजू नहाने को खड़े हैं. नाईटी ट्रांसपेरेंट थी और उसमें से मेरी ब्रा-पैंटी सब कुछ साफ दिख रहा था.

थोड़ी देर बाद माया भाभी रुक गयी, तो मैंने उसकी तरफ देखा तो वो आंखों ही आंखों में जैसे ये बोल रही थी कि यूँ ही देखते ही रहोगे या धक्के लगाकर चुदाई भी करोगे.

फिर कुछ पल बाद मैंने सोचा कि ये मेरे दोस्त की बहन है … इसके साथ मुझे ऐसा भाव नहीं लाना चाहिए. दूसरे हाथ से मैं उनके बोबे दबाने लगा, जिससे उनके तन बदन में आग लग गई. यह नजारा तो बहुत ही अलग था, अब मेरे सामने चुत भी मुँह खोलकर लंड मांग रही थी और गांड भी मेरा लंड अन्दर लेने के लिये तैयार थी.

सुरेश अंकल मेरी भावनाओं, तमन्नाओं, मेरी प्यास से अनजान प्रातःकाल पर निकलते और मुझे बिना देखे अपनी ही धुन में निकल जाते; वो घूम कर वापिस करीब सात बजे लौटते थे पर लौटने में भी उनका यही क्रम रहता था कि बिना किसी की तरफ देखे मजबूत कदमों से फुर्ती से चलते हुए लौट जाते. मैं उसे समझाने की हर संभव कोशिश करने लगा कि सब अन्जाने में हुआ है और सीमा समझकर मैंने उसकी बीवी वीणा के साथ मदहोशी में ये कांड कर दिया. लेकिन मेरे अन्दर भी सिर्फ आजीविका के बारे में सोचना जैसी सोच से अलग है, ये मुझे बाद में पता चला.

अक्षरा की बीएफ

शायद उसे नहीं पता था कि मैं भी छत पर ही हूं और इस नजारे को देख रहा हूं. कुछ देर में ही हम दोनों का एक साथ हो गया औऱ मैंने सारा माल उसकी चूत में भर दिया. नमस्कार दोस्तो, आप सभी ने अन्तर्वासना पर प्रकाशित मेरी पहली कहानीप्यासी बंगालन की चूत चुदाईको पढ़ा.

कुछ पल के लिए मेरी पलकें झपकना ही भूल गईं और मैं कभी उनके चेहरे को देखता, तो कभी उनके बुर को देखता.

मगर उस समय मैं अंजलि को नहीं चोद सकता था क्योंकि उसकी बहन शायद इस बात से बुरा मान सकती थी.

इतने में ही वो वह मुझे धकेलने लगी, उसे मेरे मोटे लंड का अहसास नहीं था. हमारी चुचियां मसलना, चूसना, होंठ चूसना, जांघें और चूतड़ दबाना, लंड चुसवाना सब साथ साथ चला. ब्लू फिल्म सेक्सी वीडियो देखने वालीउसके सेक्सी कपड़ों को देख कर मुझे बड़ी आग लग जाती थी लेकिन मैं कसमसा कर रह जाता था.

जिन लोगों ने इस आसन में चुदाई की है उनको पता है कि इस आसन में चुदाई करने का अपना अलग ही मजा होता है. आगे जो कुछ भी हुआ उसे पूरी सच्चाई के साथ आप पाठकों के सामने लाऊंगी, यह मेरा आपसे वादा है. अमर ने पूछा- मतलब?पिंकी बोली- दीदी ने मुझे बताती थीं कि आप उनको काफी देर देर तक चोदते हो.

जब भी वो बहुत चुदासी होती है, उसकी चुत में जब ज्यादा खुजली होती है, तो वो मेरा लंड ऐसे ही जोर जोर से चूसती है. पता नहीं कितनी देर राशि गांड हिला-हिला कर मज़े लेती रही और मैं उसको चोदता रहा, पर जब हम दोनों झड़े तब हम दोनों पसीने से तर-ब-तर थे और राशि की आँखों में मदहोशी थी.

मैं रिम्पी के साथ जब भी उसके घर जाती थी, तो वो मेरे सामने बहुत बार आता था.

[emailprotected]NRI भाभी X हिंदी स्टोरी का अगला भाग:मेरी सेक्स कहानी से मिली मुझे एक मस्त आइटम- 2. अंदर पहुँचा तो देखा भाभी की बहुत ही करीबी फ्रेंड रश्मि साथ में बैठी हुई थी. अब मेरी मम्मी वासना से चिल्ला रही थीं- प्लीज़ मुझे चोद दो, अब बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

सनी लियोन की चुदाई वीडियो आप मेरी इस स्टेप मॉम सेक्स स्टोरी पर अपने विचार भेजने के लिए मुझे मेल करें. मुझे पता था मोनी खुद तो कुछ करेगी नहीं इसलिये अब मैंने ही उसके दोनों पैरों को उठा कर अपने पैरों पर रखवा लिया ताकि मेरे साथ साथ उसको नीचे से धक्के लगाने में आसानी हो जाये.

इस तरह पति और देवरानी के सामने खुलकर तुम्हारे लंड को गांडउठा उठाकर नहीं ले पाऊंगी।वीणा- सच कहा भाभी. मैंने कहा- तुमने भी भूल कर अपनी चूत खोल दी थी तो मैंने चूत में पेल दिया. उन दिनों मैं छुट्टी में घर आया था तो मैं अपने घर की छत पर धूप में बैठा था.

वीडियो चुदाई बीएफ वीडियो

उन्होंने जल्दी से अपनी चैन खोली और अपना गोरा मोटा लंड बाहर निकाल लिया. इतने में वो बोला- यार थोड़ा इसको गर्म कर … तब तो यह चुदवाएगी … नहीं तो यह किसी को बता देगी, तो सब गड़बड़ हो जाएगा. आज तक मेरी गांड में लंड नहीं गया था, मेरी गांड अभी तक कुंवारी ही थी इसलिए मेरा दर्द और ज्यादा हो गया.

वह मेरे अंडकोष को पहले चूमने लगी और फिर उसने मेरे टोपे को अपने होंठों से लगा लिया. फिर मैंने अपना हाथ हटाया तो वो गुस्से में बोली- करना है तो ठीक से कर … साले ऐसे नहीं.

शीतल भाभी ने झट से मेरे पूरे कपड़े खोल कर मेरा 7 इंच का लंड बाहर निकाल दिया.

मैं सरिता की गांड को सहलाते हुए उसकी गांड के छेद में उंगली डालता तो सरिता सीत्कारने लगती थी. फिर जब कभी उसका कोई ब्वॉयफ्रेंड उसके घर आ जाता, तो रिम्पी मेरे सामने ही अपने उस ब्वॉयफ्रेंड को किस कर लेती थी. मैं डर गया कि मम्मी को कुछ हो ना जाए इसलिए कुछ टाइम तक वैसे ही रुक गया.

लेकिन फिर भी अपने लिंग को वसुन्धरा की योनि से बाहर खींच कर दोबारा अंदर घुसाने में वसुन्धरा की योनि की उत्कृष्ट संकीर्णता आड़े आ रही थी और अपने लिंग को दोबारा योनि-प्रवेश करवाने के लिए मुझे बल प्रयोग करना पड़ रहा था. मेरे सामने वाले फ्लैट में एक परिवार शिफ्ट हो रहा था और उसी की आवाजें आ रही थीं. मम्मी बार बार अपने पल्लू को ऐसे सही कर रही थीं कि वो जल्द ही फिर गिर जाए.

अब तो ऐसा मन कर रहा था कि चाहे जो हो जाए, आज तो इसकी चूत को चोद ही दूँ.

नेपाली के बीएफ: पहले मैंने एक ही हाथ लगाया, लेकिन जब मुझसे रहा नहीं गया तो दूसरा हाथ भी लगा दिया. हम दोनों बातें करने लगे, तो भाभी अपने रिलेशनशिप को ले के काफी मायूस लगी.

मैंने अपने मुँह में भरा उसकी चुत का रस उसके मुँह में भर दिया और उसे किस करने लगा. आखिरकार तुम मेरी साली जो हो! लेकिन आज बिना चोदे नहीं छोड़ सकता, तुम समझ सकती हो मेरी मजबूरी!मैं- सॉरी जीजू, यह सब मैं नहीं कर सकती, चाहे आपको बुरा लगे तो लगे!मेरी यह बात सुनकर जीजू समझ गए कि शिवांगी चोदने नहीं देगी और जबरदस्ती करने पर प्रॉब्लम हो सकती है. मैंने कहा- मेरा घर यहाँ से बस केवल 10 मिनट की दूरी पर है, मैं आपको वापस कार से छोड़ दूँगा.

इन्हें अपने पास रखूँगी और वो डर के रहेगा और मुझ से वापिस माँगता रहेगा.

फिर उन लौड़े के ऊपर आकर मैंने अपने हाथ से उनके लंड को अपनी गांड में सैट कर लिया. उसकी आंखों से पानी निकल आया … वो रोने लगी पर मैंने उसको चोदना नहीं छोड़ा. मगर पहली बार पूजा की चूत में लंड गया था इसलिए न चाहते हुए ध्यान को यहाँ-वहाँ भटकाने की कोशिश करने लगा ताकि ज्यादा से ज्यादा देर तक उसकी चूत को निचोड़ने का समय मिले.