अमरपाली के बीएफ

छवि स्रोत,हिंदी सेक्सी वीडियो एनिमल्स

तस्वीर का शीर्षक ,

यूपी की बीएफ सेक्सी: अमरपाली के बीएफ, चुदाई के बाद मैंने सिगरेट जलाई और उससे पूछा- हां अब बता … वो बुड्डे से तेरा क्या मामला था?उसकी बातों से मुझको पता चला कि वो अपने पति की दूसरी पत्नी है और वो उस आदमी की नामर्दी से दुखी होकर अलग रहती थी.

गांव की छोरी को सेक्सी वीडियो

तो मैंने ज्योति को चूतड़ों से पकड़ा और अपने लंड से उठा कर रोहित के लंड पर बिठा दिया. हिंदी बोल सेक्सी वीडियोमैंने आंटी से पूछ लिया तो आंटी ने मुझे बताया कि सभी रिश्तेदार व मेहमान धर्मशाला में ही ठहरे हुए हैं क्योंकि पूरी शादी के सभी कार्यक्रम धर्मशाला में ही होने हैं.

दोस्तो, मेरा नाम अखिल है और मैं दिल्ली का रहने वाला हूँ।कहानी मेरी और मेरी सबसे प्रिय मित्र की है यानि मेरी बेस्ट फ्रेंड जिसका नाम दिव्यांशी है।उसके बारे में बताऊँ तो वह एक काफी गोरी और सुंदर चेहरे वाली लड़की है. सेक्सी चूत वाला सेक्सी”ये तुझे कैसे मालूम था?”मैंने एक दिन हितेश को नंगा देखा था वो वीडियो कॉल पर नैना से बात कर रहा था.

मैंने जल्दी से अपनी सहेली को उठाया और हम दोनों वहां से वापस घर की तरफ चल दिए.अमरपाली के बीएफ: अब वो जोर जोर से सिसकने लगीं- उह उह आह विकास … आज मुझे पूरी तरह से चुदाई का मज़ा दे दो.

मैंने कहा- हां पर मेरी सहेलियां बताती हैं कि बॉयफ्रेंड बनने के बाद लड़के अजीब-अजीब हरकतें करते हैं.अब मैंने वह थोड़ा सा तेल लिया और चाची की गांड के छेद पर लगा कर अन्दर तक उंगली घुसा दी.

सेक्सी हिंदी में वीडियो हिंदी में - अमरपाली के बीएफ

जैसे ही मेरे लंड ने उसकी चूत के अन्दर जाना शुरू किया, प्रिया की आंखें फटने लगीं और मुँह खुल गया.इतने लंबी चुदाई के दौर के बाद थककर हम दोनों एक दूसरे की बांहों में नंगे ही सो गए.

हमने बीयर पीते हुए आराम से खाना खाया और फिर रात को 11 बजे से लेकर सुबह 3 बजे तक हमने फिर सेअलग-अलग पोजमें चुदाई की. अमरपाली के बीएफ पर मेरे लन्ड का उभार आंटी ने देख लिया था।वो मुस्कुरा रही थीं।हम दोनों लोग काम करते करते पसीने से भीग गए थे.

उधर रवि ने भी देर न करते हुए मुझे अपनी तरफ खींच लिया और लिपकिस करना चालू कर दिया.

अमरपाली के बीएफ?

मेरी भाभी क्या मस्त माल लग रही थीं; उनका पूरा शरीर एकदम रबर की तरह मुलायम व लचीला था. खैर … दिन भर कार्यक्रम चलते रहे और शाम को लेडीज संगीत की तैयारी होने लगी. इंडियन चूत गांड चुदाई कहानी में मैंने पड़ोस की एक कुंवारी लड़की से दोस्ती करके उसके साथ फोन सेक्स किया.

भाबी ने मेरे लौड़े को चूस चूस कर और बड़ा कर दिया था और कह रही थीं- यार, बड़ा मस्त लंड है तुम्हारा. मैंने उसका 8 इंच का मोटा लंबा लंड अपने मुँह में ले लिया और चूसने लगी. फिर मैंने अपने लंड को चाची की चूत पर रगड़ा, जिससे उनकी वासना और बढ़ती जा रही थी.

दोस्तो, मैं आपको अपनी गर्लफ्रेंड रिया की चूत चुदाई की कहानी सुना रहा था. फिर उन्होंने बात को बदल दिया और मेरे बारे में पूछने लगीं कि मेरी कोई गर्लफ्रेंड है कि नहीं. तो मैंने उसके कंधे पर हाथ रखा तो एकदम से सॉरी बोलकर रोने लगी- मुझे ऐसा नहीं करना चाहिए था.

फिर हम दोनों इतना गर्म हो गए कि पता ही नहीं चला कब हम दोनों ने एक दूसरे के सारे कपड़े उतार दिये और वो मेरे पूरे बदन को हर जगह से पागलों की तरह चूमे जा रहा था. उस वक्त मेरी चूत की तड़प इतनी भयंकर हो रही थी कि मैंने सुकेश को अपने ऊपर खींच लिया.

हम दोनों हंसने लगे और मैं भी थोड़े मुरझाए लंड को चुत में डालने की कोशिश करने लगा.

मैं उनको समझाने और उनकी उदासी को दूर करने के लिए उनके साथ हंसी मज़ाक करके उनकी उदासी दूर करने की कोशिश करता रहता था.

मेरी फैमिली मुझ पर बहुत ध्यान रखती है, जिस वजह से मैं ऐसा कुछ गलत नहीं कर सकती. पैंटी के ऊपर से काफी देर तक चूमने के बाद अचानक उन्होंने मेरी पैंटी भी मेरे जिस्म से अलग कर दी. मैंने लंड चूत की फांकों में लगा कर दबा दी तो वो बोली- चूतिया नंदन गलत छेद टारगेट कर रहे हो.

तभी दीपक ने उसे बिस्तर पर पटक दिया और उसकी टांगें खोल उस पर चढ़ गए, उन्होंने निरोध नहीं लगाया।रोशनी बोली- सर, आपका गर्म मोटा लंड जब मेरी चूत की दीवारें चीरता है, तो मन करता है कि … आआह्ह!वो आगे कुछ बोलती, उससे पहले दीपक ने ज़ोर से धक्का मारा और उसे चोदने लगे. जैसे ही मैंने चोली उतारी, चोली के अन्दर से काली ब्रा में मेरे उत्कृष्ट मम्मे ट्यूबलाइट की तरह चमकने लगे. मेरी गांड भी एकदम चौड़ी और उठी हुई थी जबकि मैंने कभी अपनी गांड नहीं मराई थी.

मुझे लगा कि आज दर्द से गांड फट जाएगी लेकिन फिर मुझे दर्द से ज़्यादा मजा आने लगा.

उसे किस करते करते मैंने उसकी टी-शर्ट को खोल दिया और चुचे सहलाने लगा. ये सब जानकारी लेकर मैं उनको बोल देता था कि अभी तो पापा घर में नहीं हैं, उनसे समझ कर आपके पास मैं फोन करूंगा और आपको बताऊंगा. कुछ देर बाद राजेश उछल कर हौद की दीवार पर बैठ गया और मुझे लंड चूसने का इशारा किया.

मैं उनकी गर्दन पर किस करने लगा तो सलोनी भाभी धीमे से बोलीं- किस सही से करो न!अचानक से भाभी के मुँह से ये बात सुन कर मैं खुशी से पागल हो गया. कुछ देर बाद मैंने कोमल को हटाया और उसको बेड के नीचे घुटनों के बल बिठा दिया. उसने बोला- आपका हुक्म सर आंखों पर बताइए मेरे आका … मुझे क्या करना है!मैंने कहा- पैर फैलाओ और अपनी कमर के नीचे तकिया रख लो, जिससे तुम्हारी चूत निकल कर सामने आ जाएगी.

मेरे ऊपर आते ही उसने मेरी जांघों की तरफ से मुझे चूमना शुरू कर दिया.

मेरे मामाजी का घर 2 मंजिल का है, जिसमें 3 कमरे नीचे और 2 कमरे ऊपर बने थे. फिर जैसे ही मैंने अपने हाथ उसके फ्रॉक के अन्दर करना शुरू किया, वो थोड़ा शर्मा गई और उसने मुस्कान के साथ अपनी नजरें नीचे कर लीं.

अमरपाली के बीएफ मेरा मन किया कि अभी जाकर उनकी गांड में लंड पेल दूँ और भाबी को घोड़ी बनाकर शॉट लगाने लगूं, बाद में अपना लंड उनके मुँह में डाल दूँ. लेकिन जब उसने सावी को बिस्तर पर बुलाना चाहा तो उसे पता चला कि सविता सुबह जल्दी अपनी बीमार मां को मिलने के लिए शहर से बाहर गई है।अब अशोक घर में अकेला रह गया.

अमरपाली के बीएफ उसने मैनेजर से कहा कि एक ऐसा कमरा चाहिए, जहां शोर कम हो और वो कमरा कुछ अलग को हो क्योंकि उसकी एक सहेली की तबियत खराब हो रही है वो कुछ देर वहां आराम करना चाहती है. वे कहती थी- आपके बिना मुझे कुछ भी अच्छा नहीं लग रहा है, जल्दी घर आ जाओ न … मैं आपको बहुत ज्यादा याद कर रही हूँ.

मैंने चुपके से उसके कान में बोल दिया- आज रात को तुम मेरे बगल में सोना.

सेल्फी राज सेक्सी वीडियो

दोस्तो, आप सभी को मेरा नमस्कार!मेरा नाम पूनम है, मैं राजस्थान के एक छोटे से शहर से हूँ. इसमें ग्राहक मालिक बनकर, लड़के/ लड़कियों को गुलाम बनाकर, उन्हें बांधकर तरह तरह का खेल खेलते हैं. सुकेश बोला- मैं नहीं मानता ये सब … उम्र कुछ नहीं होती और मैं कैसे समझाऊँ कि मैं छोटा नहीं हूँ.

उन वेटर्स के चारों तरफ से हो रहे हमलों से मुझे मजा तो आ रहा था, पर कहीं ना कहीं दर्द भी महसूस हो रहा था. मैंने नीचे फर्श पर लेट गया और भाभी चालू हो गयी, उन्होंने मेरे मुँह में चूत लगा कर सुसु कर दी. उसको मैंने कुछ और पैसे अपनी तरफ़ से दे दिए कि मेरे लिए प्रोटिन सप्लीमेंट भी लेकर आना.

मैं उन्हें गर्दन से चाटने लगा, नीचे को आया तो मैम ने अपनी बांहें ऊपर उठा दीं.

दीदी ने कहा- मैं जैसे रोज अपने कमरे में सोती हूँ वैसे ही रहूँगी, उससे तुझे कोई दिक्कत नहीं होगी … पक्का न!मैंने कहा- हां पक्का. मैंने कुछ नहीं कहा तो भाभी ने फिर से लंड मुँह में ले लिया और चूसने लगीं. मैं हैरान थी कि अंकल ने सारे कपड़े निकाल रखे थे और वो सिर्फ अंडरवियर में थे।मैंने एक दो बार हाथ हटाया लेकिन अंकल आज मुझे कहाँ छोड़ने वाले थे.

मगर अब तो मेरी भूख जैसे मर ही गई थी क्योंकि अब मेरे अन्दर चुदाई की भूख जाग उठी थी. भले ही उनकी उमर बढ़ गयी है, पर चूत आज भी लपक के देती हैं।अब मेरा लन्ड 6 इंच का हो गया है मोटा भी हो गया है. दोस्तो, मैं शशांक हूँ, मेरी उम्र 22 साल है और मैं झांसी में रहता हूं।मेरा रंग गोरा है मेरे लौड़े का साइज 7 इंच है.

Xxx पंजाबी लड़की सिमरन भी पूरी चुदक्कड़ थी … या कहूँ चुदाई का पूरा मजा लेने वाली लड़की थी. अलग होते ही भाभी ने कहा- आज के बाद आप मुझको कभी भी भाभी नहीं बोलोगे.

मेरी ड्रिंक खत्म होते ही में बाहर जाने लगा तो भाभी मुझे रोकने लगी- रुको, मुझे तुमसे कुछ बात करनी है. मॉम ने हल्की सी आंह भरी और मेरे ब्वॉयफ्रेंड की उंगली अपनी गांड में ले ली. फिर आंटी ने आंखों से इशारा किया, हम दोनों मुस्कुरा दिए।आंटी ने ड्राइवर से किसी होटल ले चलने को कहा.

किशोर ने आगे की तरफ ताला लगा दिया और पीछे के दरवाजे से अन्दर आ गया.

करीब आठ मिनट बाद मैं झड़ गया और फिर से मैम की चूत चाटना शुरू कर दी. मैं अन्दर आई तो मैंने देखा कि मेरा भाई शानू मेरे कामुक बदन को निहार रहा था. जल्दी ही हमारा रस निकल गया और हम दोनों निढाल होकर लम्बी लम्बी सांसें लेने लगे.

मैंने पजामा उसके चूतड़ों से नीचे किया और गांड में हाथ डाला तो उसकी गांड का छेद मुझे बड़ा ही नर्म लगा. शिखा- यार, तू कह तो सही रही है, काश मैं भी इनमें से किसी का लंड ले पाती, चल … कोई बात नहीं, मैं कभी किसी और दिन तेरे साथ किसी और के लंड का मजा ले लूंगी.

रात के खाने के बाद मेकअप, तरह तरह के कपड़े पहनना, शर्माने का नाटक करना, चलना आदि सिखाया. एक दो बार उसने तिरछी नजर से मुझे उसके आम देखते हुए पकड़ भी लिया मगर कुछ कहा नहीं और पल्लू भी ठीक नहीं किया. इसलिए मैंने धक्कों की स्पीड बढ़ा दी और आगे आकर चाची के चूचे भी दबाने लगा.

പൂറ്റില് നക്കി

सब लोगों ने मुझे इतना उत्तेजित कर दिया कि मेरा विरोध भी कम होने लगा, मैं भी हल्के हल्के से उनका साथ देने लगी थी.

मेरी चूत के गर्म लावा से मेरा भाई भी पिघलने को हो गया और उसने भी लंड चूत से खींच कर मेरे मम्मों पर अपना सारा माल निकाल दिया. मैंने भी बता दिया कि मेरा प्रवीण कुमार है और मैं एक विद्यार्थी हूँ. तो मैंने पूछा- फिर आप कहां सोओगी?वो बोलीं- मैं भी बेड पर ही सोऊंगी.

मैंने उसकी तरफ मुस्कुरा कर देखा और अपना हाथ छुड़ाती हुई बोली- कल नदी के पास मिलना, तब मैं अपना जवाब बताऊंगी. मैंने उसकी फ्रॉक के अन्दर आहिस्ते आहिस्ते अपना हाथ डाला और उसकी चिकनी जांघों पर चलाने लगा. फुल एचडी फुल एचडी सेक्सी वीडियोजब मैंने इन लम्बे तगड़े वेटरों को देखा तो मेरी चूत भी कुलाचें भरने लगी.

जी ठीक है!” कहकर मैं अपना सामान लेकर कमरा ढूंढने निकल पड़ी।क्योंकि वो एक रिसॉर्ट था, कई एकड़ की जमीन में फैला था।वहां कॉटेज थे और सारे कमरे अलग अलग विंग में बंटे थे।विंग 1, 2, 3 और 4. मुझे शर्म सी आयी और गुस्से में मैंने उसकी चूची के दाने को पकड़ कर मरोड़ दिया.

जब सुप्रिया ने इतना खुल कर मेरे साथ चुदाई की इच्छा जताई तो मैंने भी कह दिया- हां सुप्पी, मैं भी तुम्हारी चुत चोदने के लिया पागल था. मैं हंसकर शिखा से बोली- क्यों हरामजादी जलन हो रही है क्या?शिखा- नहीं यार, तू मजे ले. मित्रो, मैं आप सबका परिमल पटेल अपनी चाची को होटल में ले जाकर चोदने की कहानी सुना रहा था.

आप मुझे मेल करके जरूर बताएं कि मेरी सेक्सी मामी Xxx कहानी कैसी लगी. हॉट गर्ल लस्ट स्टोरी हिंदी में पढ़ें कि मेरे दोस्त की गर्लफ्रेंड मेरे पड़ोस में रहती थी. वो भी झट से राजी हो गयी और बोली- मैं नहीं, तुम दोपहर के बाद मेरे कमरे में आ जाना.

जेनीका ने मुँह खोला, तो मॉम ने अपनी जीभ आंटी के मुँह में डाल थी और हलक तक अन्दर घुसा दी.

उसकी चूचियों का साइज़ देख कर पता लग रहा था कि उसकी ब्रा 38 नम्बर की होगी. मैंने महसूस किया कि मेरे पीछे के आदमी का लंड मेरे चूतड़ों की दरार में टच कर रहा है.

तब मैंने उसे इन्टरनेट पर एक लेखगाण्ड मारने की विधिइसके बारे में पढ़वाया. ये देख कर गुरबचन जी हंस कर बोले- पूरी प्रशिक्षित हो गई है रांड … साली कोठे पर बैठने लायक हो गई है. नमस्कार दोस्तो, मैं राज शर्मा!आपका हिन्दी सैक्स कहानी पर स्वागत है।दोस्तो, जैसा कि आप मेरी कहानीविधवा बुआ को चोदा उसी के घर मेंजान चुके हो कि मैं अपनी बुआ को चोदता हूं।यह नई बर्थडे सेक्स कहानी भी मेरी उसी बुआ की चुदाई की एक सच्ची कहानी है।इनका नाम बबली है.

अब प्रिया भाभी कहने लगीं- पैरी, अब मुझे चोद दो, लंड अन्दर डाल दो, बहुत दिन हो गए चुदे हुए. पायल ने साड़ी नाभि से करीब पांच इंच नीचे पहनी हुई थी जिससे उसकी नाभि साफ साफ दिख रही थी. छत पर सामान रखने के बाद दीदी ने कहा- राज, अब जल्दी से सामान रेडी करो.

अमरपाली के बीएफ फिर मैं क्रिकेट खेलकर घर गया तो मेरे घर के पीछे रहने वाले एक दोस्त का कॉल आया. करीब एक मिनट बाद मैंने दूसरा झटका लगा दिया, इस बार मेरा 7 इंच लंबा और 3 मोटा लंड मेरी बहन की चूत में पूरा समा गया.

क्सक्सक्सक वीडियो

वहां पर भी हम दोनों एक साथ एक दूसरे के जिस्मों को टच करने लगे और उत्तेजित होने के बाद हमने बाथरूम सेक्स किया. उसमें मैंने आपको बताया कि कैसे मैंने अपने ही पड़ोस के शर्मा अंकल से अपनी चूत की सील तुड़वाई और दिन में तीन-तीन बार अलग-अलग आसनों में चुद कर कुछ ही दिनों में एक शानदार चुदक्कड़ रांड बन गई थी. इतना सुनते ही मैं खड़ी हुई और अपनी कैप्री पर हाथ सा फेरकर बुर को दिलासा दी कि लंड आ गया है, अब तू फटने के लिए रेडी हो जा.

दस मिनट बाद मेरा रस निकलने वाला था तो उसने उठ कर मुझे खड़ा किया और जोर जोर से मुँह में लंड लेकर हिलाने लगी. यंग पुसी सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैंने अपनी पुत्रवधू की छोटी बहन जो बेहद खूबसूरत और सेक्सी है, उसे अपने फार्म हाउस में लेजाकर इत्मिनान से कैसे चोदा. इंडियन सेक्सी देहाती फिल्मफ्री भाभी सेक्स के बाद उनको हमेशा एक बात का डर रहता है कि कहीं वो गर्भवती ना हो जाएं.

उसकी इस बात से मुझे पता चल गया कि ये साली वर्जिन नहीं है, इसे चोदने में कोई दिक्कत नहीं होगी.

सभी वेटरों की ड्रेस एक सी लग रही थी और उस काले रंग की ड्रेस में सभी वेटर सेक्सी लग रहे थे. मैंने उसके ऊपर चढ़ कर लंड चूत की फांकों में सैट किया और उसके होंठों पर अपने होंठ जमा दिए.

आंटी ने भी कहा- आज तो मुझे भी बहुत दिनों में शानदार राइड मिली जिसको मैं कभी भूल ही नहीं सकती. अब वंदना को थोड़ी राहत मिल रही थी और वो मुझे अपनी बांहों में जकड़ कर मजा लेने लगी थी. ये ब्लाइंड फोल्ड वो पट्टी होती है जो हवाई सफ़र में सोते समय इस्तेमाल होती है.

मेरी दोनों सहेलियां उस दिन स्कूल नहीं गईं और मैं अकेली ही स्कूल गई थी.

कुछ देर बाद पापा बेड के नीचे खड़े हो गए और मम्मी को बेड के किनारे करके खींच कर उनकी दोनों टांगों को अपने कंधों पर रखकर ताबड़तोड़ चुदाई करने लगे. मैं समझ तो पहले ही गया था कि अब संगीता भाभी चुदने की मूड में हैं, तो चुदाई कर ही देता हूँ. उसके बाद सलोनी भाभी मेरी तरफ घूम गई और बोलीं- मैं जब तुम्हारे घर आई थीं, तब मैंने तुम्हें मेरा नाम लेते हुए मुठ मारते हुए देख लिया था.

अनारा गुप्ता का सेक्सी वीडियोमैं डर के मारे भागी और अपने बेड पर उल्टी होकर सोने का नाटक करने लगी. मेरी नजर उसके गांड पर ही अटकी हुई थी और मैं उसे जाते हुए देख रहा था.

सेक्स करते हुए ब्लू फिल्म दिखाएं

मैं उनके मम्मों को डबाते हुए धीरे धीरे अपने लंड को आगे पीछे कर रहा था. उस महिला ने सर को बताया कि वो 18 साल से शेयर बाजार में काम कर रही है और अच्छा मुनाफा कमा रही है. दीदी- तो धीमे धीमे क्यों पेल रहा है भोसड़ी के … शताब्दी एक्सप्रेस चला!ये सुनकर मैंने और तेजी धक्के देना शुरू कर दिए.

मैंने पूछा- भाबी, लंड चूसने में मजा आ रहा है?भाबी ने कहा- हां यार, मुझे लंड चूसना बहुत पसंद है. दोस्तो, कैसे हो आप सब!आज मैं आपको अपनी लाइफ की सच्ची सेक्स कहानी बता रहा हूँ. उसने मैनेजर से कहा कि एक ऐसा कमरा चाहिए, जहां शोर कम हो और वो कमरा कुछ अलग को हो क्योंकि उसकी एक सहेली की तबियत खराब हो रही है वो कुछ देर वहां आराम करना चाहती है.

फिर हम दोनों ने वहीं पूरी देसी ब्लू फिल्म देखी और मैच खत्म होने के बाद करीब दो घंटे तक हम चार लोगों ने बहुत सारी देसी ब्लू फिल्में देख डालीं. फिर चाची बोलीं- एक चीज करके दिखाऊं … गुस्सा नहीं करोगे तुम?मैंने कहा- नहीं … मैं गुस्सा नहीं करूंगा. मैं बार बार चूची की नोक को अपने मुँह में दबाने की कोशिश करता मगर वो मछली सी फिसल कर अपनी चूची हटा देती.

कहानी के पहले भागभाई के लंड से प्यास बुझाने की तमन्नामें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं उसके साथ फेसबुक के मैसेंजर पर चैट कर रही थी और वीडियोकॉल पर उसे अपने दूध दिखा चुकी थी. उसने एकदम मेरी सलवार में हाथ डाला और मेरी कच्छी के ऊपर हाथ रख दिया.

उसने भी जैसे ही मुझे देखा, अपने न्यूड बूब्ज़ को हाथों से ढकने की नाकाम कोशिश की.

हमारे बंगालियों में अक्सर लड़कों kई शादी बड़ी उम्र में ही होती है और लड़कियां ज्यादातर कम उम्र की होती हैं. सेक्सी कॉलेज वालामैंने एक जोरदार धक्का लगाया और चाची के चूत के अन्दर ही झड़ गया, चूत के अन्दर ही लंड ने पिचकारी मार दी थी. मोनालिसा की हॉट सेक्सीशाम को भी मेरा आंटी के घर जाने का दिल नहीं कर रहा था, मुझे बेहद डर लग रहा था. लंड अन्दर चला गया, तो मुझे मीठे दर्द के कारण अपने जिस्म में हल्की सी सिहरन महसूस हुई.

मैंने कमरे का दरवाजा बंद किया और उनके पास जाकर उनके होंठों पर होंठ रख दिए.

मैं किसी कुत्ते की मानिंद अपनी जीभ से उसकी चूत का रस पिए जा रहा था. बाथरूम में शॉवर चालू करके मैंने भाभी को आईने के सामने वाशबेसिन से टिका दिया. आंटी ने मुझे बुलाया, मेरे आगे ही खड़ी रहीं और मैं उनके पीछे खड़ा होकर अलमीरा खोलने लगा.

मैंने बोला- किसी को खरीदकर ही चूत चुदवानी है, तो आपके मोहल्ले में बहुत से लड़के होंगे, उनमें से ही किसी को खरीद लो और उससे ही अपनी चुदाई करा लो. मैंने उसके मुँह से अपने होंठों को हटाया तो उसकी आवाज बाहर निकलने लगी- उफ़ आंह विकु आह …धीरे धीर पेलो … आह मजा आ रहा है. अब तो जैसे चाची की चूत को मेरे लंड की आदत पड़ गई थी … और चाची जैसे मेरी पत्नी हों, ऐसे मैं चाची के साथ बिना झिझक और शर्म के उनकी चूत में अपना लंड फचाक से उतार देता था.

सेक्सी चुदाई मां बेटे की

उसके कहने पर राजेंद्र नीचे से हटा और प्रकाश ने मेरी चूत में लंड दे दिया. फिर मैंने उसको बोला- मुझे अभी वीडियो कॉल पर तुम्हारे बूब्स देखने हैं. मैं ही एक ऐसा मादरचोद इंसान था जिसने घर में सबकी जवानी का रस पिया था.

मैंने कहा- ऐसा क्या!वो बोलीं- हां, आज तुमको अपने प्यार की गहराई दिखाऊंगी.

मैंने इधर उधर देखा तो गुरबचन जी मुस्कुरा कर आंख के इशारे से नीचे दिखाने लगे.

जब वो चाबी उठाकर उठी, तब उसके पेट से साड़ी हट गई और मैंने उसकी नाभि को देख लिया. इससे पहले बहुत ही ज्यादा पसंद की गई मेरी दो कहानियांपड़ोसी भाभी ने बनाया प्ले ब्वॉयऔरसोनिया भाभी को चोदकर मां बनायाको आपका बहुत प्यार मिला. सेक्सी नंगी लड़की का डांसकरीब 15 मिनट बाद मेरा शरीर अकड़ने लगा और लंड से जोरदार पिचकारी निकली.

रोहित बोल रहा था- रवि, आज हर तरह से नए से नए तरीके के साथ चोदेंगे साली को!मैं भी कह रहा था- बिल्कुल, आज हमारी हिरोइन का हम हर सपना पूरा करेंगे. राजेश भी पागलों की तरह मेरी चूत के दाने को होंठों से खींच खींच कर चूस रहा था. माचिस तो होगी?”है … लेकिन मिल नहीं रही है!”चलिए मैं आपके साथ चलता हूँ.

तब दोनों मिलकर मुझे सताने के लिए एक दूसरे से मज़ाक करती हुई कहने लगी थीं. अब मैं पूरी तरह से समझ गया कि दीदी मेरी लंड की सवारी जरूर करने को रेडी हैं.

मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा दीदी … देखो न मेरा ये लंड दर्द कर रहा है सॉरी सॉरी.

मैंने भी धक्के लगाना बंद कर दिए और खुद ही चाची के धक्कों की वजह से चूत में लंड डाले अपने आप ही हवा में उछलने लगा. मैंने कहा- चल ठीक है, किसी लड़के वाले का फोन आएगा तो मैं आपको बता दूँगा. तभी आंटी के हाथ ने मेरा हाथ पकड़ा और वो मुझे खींचती हुई बोलीं- तुमको एक शर्त पर माफ करूंगी, अगर आज अपने अंकल का काम तुम करो.

सेक्सी फुल वीडियो ओपन [emailprotected]Xxx फैमिली सेक्स कहानी का अगला भाग:चुदासी चाची के साथ मस्ती से भरी रंगरेलियां- 2. उसके बहुत कहने पर मैंने बता दिया कि मैं तुम्हारे सीने को देख रहा था.

फिर मैं सोनल के पास चला गया और हितेश भी नैना के पास जाने के लिए तैयार था. गुरबचन जी के साथ खड़े दोनों आदमियों में से एक ने तुरंत अरुणिमा की चूत पर अपनी हथेली रखी और उसकी चूत में एक उंगली घुसा दी. सलवार अपने आप नीचे गिर गई।फिर मैंने उनकी चड्डी में लन्ड डाल कर गांड पर रगड़ना शुरू कर दिया.

सेक्सी चुदाई फुल एचडी

फिर उन्होंने मुझे नंगा किया और चाची ने मेरा लंड देखा तो हैरान रह गईं. उसके बाद मैं दो दिन तक अपनी दादी के यहां रहा और भाभी फक़ का मजा लेता रहा. मैंने भाभी के गांड के छेद पर थूका और गीला कर दिया, अपने लंड को आराम से डालने लगा.

मैंने भाभी को भी उठा दिया और एक बार फिर भाभी की चुदाई करना चालू कर दी. मैंने कहा- तो अब मैं क्या करूं?जोगी सर बोले- मेरा एक फ्रेंड तुम्हारी मदद कर सकता है, अगर बोलो तो उससे बात करूं!मैं बोली- आप जो चाहे करो, लेकिन करो.

आंह क्या खुशबू थी उसकी चूत की … सच में याद करके ही लंड फिर से खड़ा हो गया है.

मैं राजीव, एक बड़े शहर में एक जिम में काम करता था अपने गांव से दूर. मैं जिस फैक्ट्री में काम करता था, वो लॉकडाउन के चलते बंद करनी पड़ी. पांच मिनट तक इसी तरह जोर-जोर से झटके मारने के बाद राजेश हौद से बाहर निकल गया और मुझे भी हौद से बाहर निकलने को कहा.

आप उसी की जुबान में सुनिए:भैया क्या बताऊं, उसका लंड छोटा और पतला है. मैं अपने लंड के सुपारे को भाभी की बहती चूत की फांकों में रगड़ने लगा. आंटी की समझदारी देखो, बस उन्होंने इशारे से कहा- जाओ!मेरी फुन्नी खड़ी हो गई।ऐसे करते करते देखते देखते मैं जवान होता गया.

कसम से दोस्तो, इतना मजा आ रहा था, जिसके बारे में मैंने न कभी सोचा था और न ही उस अनुभव को मैं शब्दों में बयान कर सकती हूं.

अमरपाली के बीएफ: चूत में एक अजीब दर्द महसूस हो रहा था जो मन में एक खुशी और आंखों ने आंसू ला रहा था. अब मेरी गांड की ठुकाई हो रही थी और मैं मस्ती से अपनी गांड मरा रही थी.

मैं उसके अन्दर का डर, झिझक और शर्म को पूरी तरह से निकाल देना चाहता था, तभी वो मुझे अपना असली मजा देती. [emailprotected]पोर्न मॉम सेक्स कहानी का अगला भाग:मेरे ब्वॉयफ्रेंड ने मेरी मॉम को चोद दिया- 2. अब मेरी गांड की ठुकाई हो रही थी और मैं मस्ती से अपनी गांड मरा रही थी.

मुझे मालूम है कि झड़ते समय मर्द को लंड ज्यादा से ज्यादा अन्दर घुसेड़ने की इच्छा होती है, इसी लिए वो मेरी गांड को फुल स्पीड में चोद रहा था.

सुपारा गांड के छल्ले में फंसते ही उसने एक धक्का मारा, जिसके कारण करीब दो इंच लंड मेरी गांड के अन्दर घुस गया. सुहागरात के दिन पति अपने दूध के गिलास से आधा दूध अपनी पत्नी को पिलाता है, ये मैंने अपनी सहेलियों से जाना था. साथ ही मैं एक राष्ट्रीय स्तर का खिलाड़ी भी हूँ और इस वजह से बहुत चुस्त और फिट हूँ.