रोमांटिक सेक्सी वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,ಲೆಂಗಿಕ ಕ್ರಿಯೆ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बिहारी का: रोमांटिक सेक्सी वीडियो बीएफ, मैंने नजरअंदाज़ कर दिया और साइड में खड़े होकर अपने मौसा जी के आने का इंतजार करने लगा क्यूंकि वो मुझे लेने आने वाले थे.

बीएफ सेक्सी भाभी और देवर की

मैं मौका मिलते ही चाची पर चढ़ जाता था और चाची का बुरा हाल करके ही उतरता था. बीएफ हिंदी बिहारमैंने अपनी गांड का छेद टाइट कर लिया, जिससे मोहित को लंड गांड में डालने में परेशानी होने लगी.

मैंने लंड को चूत से बाहर निकाला और चाची की चूत के माल से सने लंड को फिर से उनकी गांड के छेद में डाल दिया. इंडियन सेक्सी बीएफ चाहिएउसके गोरे चिकने बदन को छूते ही मानो मेरे अन्दर आग सी लग गई और मैं मदहोश हो गया.

जब घर में कोई नहीं रहता था, तब मैं आइने के सामने नंगा होकर लड़कियों की तरह नाचता था.रोमांटिक सेक्सी वीडियो बीएफ: जब भी वह मुझे भोजन के साथ भोजन परोसने के लिए झुकती थी, वह मुझे अपने मदमस्त स्तनों का एक दृश्य भी परोस दे रही थी.

मैंने उससे कहा- चूसो इसे!वो बोली- नहीं, इससे पहले मैंने कभी नहीं चूसा.फिर बुआ बोलने लगीं- राज, मेरी सहेली ने मुझसे बच्चों को संभालने के बदले तुमसे चुदवाने की शर्त रखी है.

carey बीएफ प्राइस - रोमांटिक सेक्सी वीडियो बीएफ

अचानक ही मेरे बदन में ऊँची ऊँची लहरें उठने लगीं, मेरा बदन अकड़ने लगा.मैंने सोचा कि जब इसका कुछ हो जाएगा, तो इसको देख कर अपना भी कुछ हो जाएगा.

फिर क्या था … रोहित ने मंजू की चूची पकड़ कर अपना लंड घचाक से चूत में डाल दिया. रोमांटिक सेक्सी वीडियो बीएफ पहले मैंने मीनू की फुद्दी में लौड़ा डाला, मेरा लौड़ा उसकी फुद्दी में ना जा कर उसकी गांड में चला गया, जिसके लिए मीनू रेडी नहीं थी.

और थोड़ी देर में मैडम भी क्लास में आ गयी।जहाँ उन्होंने मम्मी को मेरे नंबर बता दिए.

रोमांटिक सेक्सी वीडियो बीएफ?

फिर जैसे उसके पेटीकोट का नाड़ा खुला, उसका पेटीकोट उसकी कमर से नीचे गिर गया. ये डर तो मुझे भी होना चाहिए था लेकिन मुझे अपने बनाए ड्रिंक पर यकीन था कि उसकी भतीजी भी नशे में चूर हो चुकी होगी. अब उसके दोनों हाथ पीछे हो गए और उसके बूब्स को मैं अब अपने हाथों से दबाने लगा.

फिर आपा ने जीजू का लंड अपने मुंह में लिया और लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी. उसकी चूचियों और गांड को सोच कर ऑफिस के बाथरूम में जाकर अपने लंड का लावा निकाल कर उसे ठंडा करने लगता. डैड तुरंत से बाहर जाने लगे और वो जाते जाते मुझसे बोले- बेटा गेट बंद कर लो और अपनी मॉम का अच्छे से ख्याल रखना, शायद मुझे आने में सुबह हो जाएगी.

शाम को मैं कोमल को लेकर बाजार चला गया और तीन गोली और लेकर वापिस आ गया. वेश्या ने कपड़े उतारे, थोड़ी देर चूचे दबाने दिए, फिर पलंग पर पैर फैलाकर लेट गयी और बोली ‘बैठ’ (उनकी भाषा में चोद) का. मैंने अपने हाथों से चाची के सर को थोड़ा ऊपर उठाया और अपना लंड चाची के मुँह में डाल कर ज़ोर ज़ोर से धक्के लगाने लगा.

देसी लड़की की चूत चोदने का मजा मैंने अपने गाँव में घर के सामने रहने वाली काफ़ी सुंदर लड़की के साथ सेक्स करके लिया. फिर सीधा मैं शाम को ऑफिस में रिपोर्टिंग करने जैसे ऑफिस के बाहर अपनी बाइक से उतरा.

मैंने भैया के सिर पर हाथ रखकर जोर से उसके मुँह को खींचकर अपने दोनों चुचों के बीच में दबा लिया.

जिन्दगी में पहली बार गांड में लंड लिया था तो मेरी आंखों में आंसू आ गए.

तो मैंने भी उसके लंड पर उछालना शुरू कर दिया।अमन के दोनों हाथ मेरे बूब्स पर थे और मेरे दोनों हाथ उसके सीने पर थे. इस तरह से करने से शबाना को दर्द में कुछ राहत मिली और लंड के चूत में घर्षण होने पर उसे थोड़ा मजा आने लगा. दो पल तक मुझे टकटकी लगाकर देखते रहने के बाद उनको होश आया तो बोले- सुभानल्ला, ये हुस्न किसी आदमी की जात का नहीं हो सकता, तुम तो सच में कोई हूर परी हो.

मैं इंडियन डिफेंस के एक अंग में कार्यरत हूं, इससे ज्यादा जानकारी प्रोटोकॉल के कारण आपसे साझा नहीं कर सकता हूँ. उसके बाद उसने बताया कि उसकी ग्रेजुएशन अभी कंप्लीट हुई है और वो अभी कंप्यूटर और टैली सीख रही है. डिंपी- अब भी आप आप करते रहोगे क्या?मैं धीरे धीरे उसकी जांघ को सहलाने लगा, उसने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी.

शादी के बाद तू अपने हबी से भी पीछे से करवाएगी क्या?वो बोली- मेरा हबी तू ही बनेगा.

जॉब लगने के बाद हर शनिवार मैं घर आता था तो यार दोस्तों के साथ बीयर पीता था. Xxx चाची की चूत चुदाई का मजा लिया! मैंने शुरुआत कुछ ऐसी हुई कि मैं उस समय अपनी जवान चाची को छेड़ने की कोशिश करता था. मैंने बिना कुछ सोचे समझे उनकी चूत पर अपना लंड सेट किया और एक जोरदार झटका मारा.

मैंने मम्मी को पलटाकर घोड़ी बना दिया और उनके पीछे आकर चूत का मुँह फैला कर अपने लंड का सुपारा रख दिया. उसका घर मेरे घर से ज्यादा दूर नहीं है, 2 मिनट की दूरी पर है, हम एक ही परिवार के हैं, सिर्फ घर अलग अलग है. उन्होंने मेरे लंड को अपने हाथ में पकड़ा और धीरे धीरे टोपे को सहलाने लगीं.

फिर तीसरे दिन सुबह जल्दी रेडी होकर मैं साक्षी के कॉल का इन्तजार करने लगा.

जिस लड़की को मैं बहन की नजर से देखता था, उसे अब हवस की नजरों से देखने लगा था. हमने देखा कि सब लड़कों के लंड चड्डी के अन्दर खड़े होने शुरू हो चुके थे यानि सबके लंड अब सलामी दे रहे थे.

रोमांटिक सेक्सी वीडियो बीएफ मुझे पता था कि दोनों की कोल्ड ड्रिंक में व्हिस्की पहले से ज्यादा है, तो इन दोनों को नशा होने में बिल्कुल भी टाइम नहीं लगेगा. शायद वो भी इस बात को जानती थी कि जब भी शॉप के बाहर झाड़ू लगाने या रंगोली बनाने के लिए झुकती है, तो आजू-बाजू की दुकान वाले और बहुत सारे लोग उसकी मोटी गांड देख कर अपनी आंखें सेंक रहे हैं.

रोमांटिक सेक्सी वीडियो बीएफ इतना कहकर मैंने मम्मी की चूचियां छोड़ दीं, मम्मी की टांगें अपने कंधों पर रख लीं और अपना लंड मम्मी की चूत में अन्दर बाहर करना शुरू किया. मगर तब भी मैंने उससे पूछा- आप कौन बात कर रही हैं?तो उसने कहा- अरे मेरा नंबर सेव नहीं किया क्या? मैं बोल रही हूँ.

पहले उन्होंने मेरी चूत पर लंड को रगड़ा और एक झटका लगाया पर उनका लंड अन्दर गया ही नहीं … और मुझे दर्द भी हुआ.

ब्रेस्ट मिल्क

दो चुत दो गांड की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैंने कैसे माली की घरवाली और उसकी ननद को अपने घर पर बुला कर चोदा और पांच दिनों तक मजा लिया. देसी आंटी की चुदाई का मजा मुझे दिया मेरे भाई की सास ने! मैं उनके साथ स्लीपर बस में था. मैंने उसकी टी-शर्ट उतार दी और उसने मेरी!जब मैंने उसकी ब्रा को खोला, तो उसके मम्मे एकदम से उछल कर बाहर आ गए.

जीजू थोड़ा सीरियस होते हुए बोले- देखो सकीना, कल जो तुमने देखा वो सब कुछ नहीं था, इसके अलावा भी बहुत कुछ होता है जो तुमने कल नहीं देखा. मेरा बदन बिस्तर पर उछलने लगा, मेरे निम्बू कड़क होकर तम्बू की तरह आसमान की तरफ तन गए और मेरी गुच्छी किसी कटी मुर्गी की तरह फड़फड़ाने लगी. बाद में ध्यान से देखने पर पता चला कि वो लड़का रवि भैया है मेरे दोस्त का भाई.

फिर सबने एक दूसरे की तरफ देखकर इशारा किया और डिल्डो का टोपा लड़कों की गांड में पेल दिया जिससे सभी लड़कों की एक साथ चीख निकल गयी.

अब उसकी नजर मेरे लुंगी पर बने तंबू पर पड़ी जिसे देखकर उसके चेहरे पर मुस्कान आ गई और वो चेहरा दूसरी तरफ करके मुस्कुराती हुई मालिश करने लगी. उसको अपनी गांड चटवाने में बहुत मज़ा आ रहा था और वो कह रही थी कि आज तक मेरे हज़्बेंड ने भी कभी ऐसा नहीं किया. मैं डर गयी और भैया को मना करने लगी पर वो बोले- आज नहीं चुदेगी तो शादी के बाद तो चुदाई करेगी ही, तो आज ही क्यों नहीं.

डिंपी- तुम कितने कमीने हो, मेरी चूत फाड़ कर रख दी, बहुत दर्द हो रहा है. छेद पर लंड सैट होते ही मैंने हल्का सा ज़ोर लगाया मगर उसका छेद बहुत छोटा सा था. जब से तुम्हें शादी में देखा है, तबसे मैं तुम्हें अपने दिल की बात कहना चाहता था.

थोड़ी देर आह आह करने के बाद वो भी मज़ा लेने लगी और मैं धीरे धीरे चुदाई की स्पीड बढ़ाने लगा. ऐसे ही मैं अपने बिस्तर पर लेटे लेटे माधुरी के कामुक बदन के बारे में सोचने लगा कि साली क्या दिखती है.

उस तेज बारिश में न जाने कैसे मेरा फोन खराब हो गया और स्विच ऑफ हो गया. मैं नहीं समझा कि आप क्या कह रही हैं?’‘जैसे तुम मुझे देख रहे थे अभी वो … वैसे किसी मर्द का किसी औरत को देखना नैचुरल है. तो मैंने नेहा को कहा- यार, ये कैसा नियम हैं अगर किसी का मन नहीं है तो?फिर नेहा ने कहा- मेरी जान, जिसका मन नहीं होता वो भी कल के माहौल देखकर चुदाई करवाने से पीछे नहीं हटता.

तो मैंने भी उसके लंड पर उछालना शुरू कर दिया।अमन के दोनों हाथ मेरे बूब्स पर थे और मेरे दोनों हाथ उसके सीने पर थे.

चाचा के जाते ही मैंने एक स्टोर पर जाकर सेक्स पॉवर बढ़ाने की दो गोलियां ख़रीद कर खा लीं और एक छोटी तेल की शीशी ले ली क्योंकि मुझे पूरा यकीन था कि आज मुझे चाची की गांड मारने पक्का मिल जाएगी. मुझे लग रहा था कि पता नहीं वो मेरे बारे में क्या सोचेगी लेकिन मुझे ऐसा लगा कि उसे भी मेरे लंड का अहसास अच्छा लग रहा था. आपने जैसे मेरे लिए ड्रिंक बनाया था, वैसा ही एक ड्रिंक मेरी भतीजी के लिए भी बना दो.

मैंने जैसे ही उसको क्रॉस किया, मेरा लंड उसकी चूत पर लग गया और एक सेकंड के लिए मुझे ऐसा महसूस हुआ कि में जन्नत में हूँ. साली की शादी के बाद उसने जीजा से कैसे सेक्स का मजा लिया?नमस्कार दोस्तो, ये सेक्स कहानी जीजा और साली के बीच प्रेम और संभोग की है.

दिल्ली की सर्दियों में दिसम्बर के महीने में मैं अपने फ्रेंड की शादी में गया हुआ हूँ. मैंने कुछ देर पहले ही पेशाब किया था तो मेरी चूत में अभी भी पेशाब की खुशबू आ रही थी. उसके बाद मैंने मॉम के पेटीकोट का नाड़ा खोल कर उनका पेटीकोट भी उतार दिया.

गाड़ी वाला गेम लोड

जलालुद्दीन ने कहा- इसको यूँ बर्बाद ना करो, वापस मुंह में डाल लो!तो मैंने उंगली से सारा वीर्य फिर से चाट लिया.

मैं भी आंखें मूंदे चाची को चोदता जा रहा था, तो चाची दो बार झड़ गई थीं. माधुरी ने कहा- नहीं, ऐसे दोस्त नहीं चाहिए मुझे … जो मेरे बारे में ऐसा सोचते हों. तो चाची बोलीं- अब कैसे खड़ा होगा ये?मैंने कहा- मेरे लोवर की जेब में एक तेल की शीशी है.

जब भी चाची नीचे खाना बना रही होतीं, तो मैं ऊपर जाता और उनकी पैंटी और ब्रा उठाकर बाथरूम में आ जाता था और लंड से लगाकर मुठ मार लेता था और मजा ले लेता. आंटी ने मुझसे पूछा कि आज बात क्यों नहीं कर रहे हो?मैंने बताया कि आज थोड़ी तबियत खराब है, सर्दी लग रही है. रवीना टंडन की बीएफ फिल्ममैं भी तुनकते हुए बोली- यह क्या जीजू, कितना मजा आ रहा था लंड चूसने में.

देसी सेक्सी गर्ल हिंदी कहानी लाहौर की एक ताजी खिली लड़की की है जिसे अभी माहवारी शुरू हुई थी. इतने में मेरी अम्मी ने आवाज लगाईं तो हम सब अपने अपने काम में लग गए.

दूसरा हुक थोड़ा मुश्किल से खुला था लेकिन एक बार उसे हटा देने के बाद बाकी को हटाना आसान था. मैं भी एकदम से सकपका गया था और मैंने उसकी तरफ से अपनी नजरें हटा लीं. मैं अपनी चूत में कभी खीरा डाल लेती हूं तो कभी नकली लंड डाल लेती हूँ.

मैं अपने फ़ोन में मॉम की फोटो लेने लगा, सच मेरी मॉम उस छोटी सी कच्छी में किसी पोर्न फिल्म की हीरोइन की तरह लग रही थीं. फिर मैंने जैसे ही चूत को चूमा, आंटी की आह निकल गयी और वो मुझसे रिक्वेस्ट करती हुई बोलीं- विन्नी प्लीज़, अभी ज्यादा न सताओ … जल्दी से अन्दर डाल दो. मैं धीरे धीरे से तुम्हारी गांड में लंड अन्दर बाहर करता हूँ, तो तुम्हें भी बहुत मज़ा आएगा.

मेरे भाई ने अपनी गर्लफ्रेंड का नंबर मुझसे मोबाइल में सेव करने को कहा.

मुझे गाली देते देते वो बोले- तू भी तो कुछ बोल!मैं भी शुरू हो गई, हर धक्के के साथ हम दोनों चिल्लाते थे- ये ले रंडी, चोद मादरचोद जोर से चोद. कुछ शराब की मस्ती और कुछ मेरे होंठों की हरकतों ने उसे ऐसा मस्त किया कि वो मेरा लंड मांगने लगी- बस करो ना, अब तो बस सिर्फ़ लंड ही चाहिए.

छुट्टी से पहले मैंने स्कूटी स्टैंड पर जाकर उसकी स्कूटी से हवा निकाल दी और अलग खड़ा हो गया. फिर जलालुद्दीन ने मुझे मुंह बंद करने को कहा और अपना लण्ड मेरे मुंह में अंदर बाहर करने लगे. बापू ने बिना एक पल की देरी किए बिना अपना मुँह बुधिया काकी के एक मम्मे के काले जामुन से चूचुक पर लगा दिया.

जब भी वो मेरे सामने आती तो मुस्कुरा देती थी। एक दिन वो घर में अकेली थी. फिर उन्होंने अपने कपड़े भी एक एक करके उतार दिए और मेरे सामने नंगे हो गए. मैंने उनकी गांड पर थूक लगाकर झटके से पूरा लौड़ा घुसाया और ताबड़तोड़ चुदाई शुरू कर दी.

रोमांटिक सेक्सी वीडियो बीएफ जीजू का लंड मेरे होंठों से टकराया तो मुझे लगा कि लंड का स्वाद इतना भी खराब नहीं है. रात में मैंने लाल रंग की साड़ी पहनी हुई थी और अन्दर काले रंग की ब्रा और पैंटी.

सेक्स ओरिजनल

जलालुद्दीन बोले- मेरा पानी निकलने वाला है जान, चूत में लोगी या मुंह में?मैंने कहा- अभी तो मुंह में ही लेना चाहती हूँ. सुरेंद्र सिंह मेरे अंकल की उम्र के हैं, उनकी उम्र 56 साल की है और वो काफी हट्टे-कट्टे बदन वाले मर्द हैं. तो उसने हंस कर कहा- अरे यार, होली पर हम सब लोग ऐसे ही मस्ती करते हैं.

मैंने बबली बुआ से कहा- एक रास्ता है … अगर आप अपनी सहेली रश्मि भाभी से बात करो तो काम बन सकता है. वो मेरे पास आयी और उसने कहा- क्या तुम्हारे पास मोबाइल का चार्जर है … मेरे मोबाइल की बैटरी खत्म हो गयी है. सोई हुई बहन की चुदाईलेकिन मस्ती से झड़ते लंड को चूत से बाहर निकालना इतना आसान भी तो नहीं था, तो पूरा झड़ने तक रूका ही नहीं.

तो मैंने भी उसके लंड पर उछालना शुरू कर दिया।अमन के दोनों हाथ मेरे बूब्स पर थे और मेरे दोनों हाथ उसके सीने पर थे.

फिर मैंने भी झटके देना स्टार्ट कर दिया और उसको पूरे जोश में चोदने लगा।उसके मुँह से आह आह आह आह की आवाजें निकलने लगी. सुबह सुबह मैंने जीजा जी को फ़ोन किया कि आज मैं जयपुर के लिए निकलूंगा.

इसी डर से मैं ऑफिस के बाहर आया, तो सामने से उसी वक़्त माधुरी भी झाड़ू लगाने बाहर निकली. किस से अलग होकर मैं उसके कंधे पर चूमने लगा और वहां से चूमते हुए नीचे स्तनों तक आ गया. शेखर ने अपना लंड आगे पीछे करना शुरू किया और मेरी चीखें निकाल डालीं.

जांघों पर हाथ फेरते फेरते शेखर का हाथ मेरी चूत तक आ गया और वो सलवार के ऊपर से ही मेरी चूत सहलाने लगा.

लंड चूसते हुए भाभी ने कहा- क्या जादू है तेरे लौड़े में … मैंने आज तक अपने पति का लंड अपने मुँह में नहीं लिया था. चम्मच डालने से मॉम की चूत से खून भी आने लगा था और वो चीख भी रही थीं. दोस्तो,मेरी कहानी के पिछले भागमुझे आलिम साहब से मुहब्बत हो गयीमें अपने पढ़ा कि आलिम ने मुझे दुल्हन की तरह सजवाया.

पिवळी साडीहॉट वर्जिन सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैंने अपने कोचिंग सेंटर में एक खूबसूरत रिसेप्शनिस्ट रखी. जल्द ही कविता ने अपनी उंगली अपनी चूत में डाल दी और उंगली से ही अपनी चूत की चुदाई करने लगी.

नीलकमल मटका

इसलिए मैंने हारून के बारे पहले तुम्हें इसलिए नहीं बताया था कि कहीं तुम आने से मना ही न कर दो. मन में ये आ रहा था कि यार आंटी‌ मुझसे बहुत बड़ी हैं और मेरी मम्मी की सहेली हैं, इनके बारे में मुझे ये सब नहीं सोचना चाहिए. वो खड़ा लंड देखकर मुस्कुरा दीं और कहने लगीं- ये तो बहुत बड़ा है, तेरे चाचा से तीन गुना बड़ा है.

मैं कोमल के शरीर के हर हिस्से को अपने होंठों से टच करता हुआ और उसके पैरों की उंगलियों को चूमने के बाद मैं ऊपर बढ़ने लगा. मुझे उसके लंड से तेज बदबू आई तो घिन के मारे मैंने अपना मुंह दूसरी तरफ फेर लिया. उन्हें बेड के किनारे लाकर मैं खुद फर्श पर खड़ा हो गया और भाभी की एक टांग उठा कर उनकी चूत के निशाने पर लंड रख दिया.

जिसे मैं 15 मिनट पहले जानता भी नहीं था, उसकी बात मानकर उसके घर जा रहा था. मैं कोमल के होंठों से को अपने होंठों से स्मूच करते हुए एक पल को अलग हुआ और अगले ही पल मैंने उसके कान में अपनी जीभ को डाल दिया. साथ ही मैंने अपना एक हाथ उसकी चूत पर रखा और एक उंगली को अन्दर डाल दिया.

काकी के उठे हुए दूध और तनी हुई गांड का ध्यान तो मेरी निगाह में आज ही घूमा था. मेरी नज़रें आंटी की गोल मोटी चूचियों और तने हुए निप्पल्स की तरफ हो गईं.

मैंने कहा- क्या खाला आप भी ना!तो वो बोलीं- वैसे तेरे हाथ काफ़ी सॉफ्ट हैं और उन्होंने मेरा एक हाथ अपने हाथों में ले लिया और उसे सहलाने लगीं.

माधुरी भी बिना देरी किए मेरा लंड चूसने में लग गयी और मैं उसकी चूत में उंगली डाल कर जोर जोर से अन्दर बाहर करने लगा. हिंदी सेक्सी बिहारी बीएफअब जलालुद्दीन साहब अपना पूरा लण्ड बाहर निकालते और एक जोरदार धक्का मारकर अपना पूरा का पूरा मूसल मेरी चूत में पेल देते. हिंदी बीएफ वीडियो एचडी हिंदी बीएफमुझे छत पर टहलना पसंद है, जब वे अपने कपड़े सुखाने आती थी, तब मैं उनके जाने के बाद उनकी ब्रा और पेंटी को सूंघा करता था. मैंने उसकी ताकीद को अपने लिए मुफीद समझा और फिर से उंगली की- आपने जवाब नहीं दिया?कोमल भाभी- कुछ सवालों का जवाब नहीं होता.

निखिल मेरी चूचियाँ पीछे से पकड़ कर जोर जोर से मसलने लगा; मेरे कान की लौ पर चूम लेता तो कभी चूचियों को सहला देता.

मैंने अपना चिकना 7 इंच लंबा और 3 इंच मोटा लंड चाची की चूत पर रखा और मसलने लगा. अर्चना की आंखें बहुत सुंदर है, लंबे बाल हैं वह स्लिम है और उसके दूध बहुत ही जबरदस्त हैं जो हमेशा उसके ब्लाउज में से बाहर आने को तड़प रहे होते हैं. भैया ने अपने एक हाथ को मेरे कंधे पर रखा और दूसरे हाथ को मेरी चुची पर जमा दिया.

क्यूंकि मैंने दोनों हाथ से मोहित की गांड को पकड़कर फैला रखा था इसलिए मैंने रिया को इशारा किया और अपने पास बुलाया. मैं- हमम्म अह …वो- उन्ह आह …अब हमारी चुदाई की समाप्ति का वक़्त आ गया था. पर वो शांत रही, बस इतना ही बोली- मैंने इस बारे में कभी सोचा ही नहीं था.

इंग्लिश सेक्सी वीडियो पंजाबी

इस पर बीवी ने मजाक में कहा था कि कभी रवि से मिली तो उससे गांड मरवाने की कला सीख लूंगी. न्यूड आंटी के जो गोल-गोल बड़े-बड़े मुलायम चूचे लटक रहे थे … मन कर रहा था कि जाकर आंटी की चूचियों को चूस लूं सारा दूध पी जाऊं।आंटी को बहुत शर्म आ रही थी. मैंने हैरानी से कॉल उठाई क्योंकि मुझे इसकी उम्मीद बिल्कुल भी नहीं थी.

‘आह बेबी मत करो … मैं मर जाऊंगी …’मगर न तो मुझे रुकना था और न ही कोमल को इस जंग से अपने कदम पीछे खींचने थे.

फिर मैं नाइटी के ऊपर से अपने दोनों हाथों से उनकी कमर की गलियां नापने लगा.

तो मैंने पूछा कि आंटी ऐसा क्या हो गया कि अंकल ने आपको छोड़ दिया?उन्होंने कहा कि मेरी सास मेरे पति को भड़काती थी कि मेरा किसी दूसरे मर्द के साथ चक्कर है. उसी समय उसने अपने लंड को दोनों हाथों से मुट्ठी में जकड़ा और उसका लंड भी फट पड़ा. हिंदी बीएफ सेक्सी भाई बहन कीमैं अपने एक हाथ से उनके मम्मों को दबा रहा था और दूसरे हाथ से उनकी चूत में उंगली करने लगा था.

देसी पोर्न नजारा और चाची की चूत देखकर मेरा लंड एकदम से खड़ा हो गया. और फिर अपने बचे हुए लंड को अंदर करने के लिए उसने ज़ोर से एक झटके के साथ अपनी कमर को हिला दिया।अब दीदी ओह्ह हआ हहऊ आह हो की आवाजें निकालने लगी. मैंने सोचा कि क्यों न अपनी सेक्सी सिस्टर की सेक्स कहानी भी आपको बता ही दूँ.

जीजू बोले- अरे लंडखोर, अभी तो तुझे इससे भी ज्यादा मजा देना है, यह तो बस शुरुआत है. मैंने कहा- अरे चाची ऐसी बात नहीं है, बस ऐसे ही मैं थोड़ा झिझक रहा हूं.

शेखर को निकले पंद्रह मिनट हो गए तो ड्राइवर मेरे पास आकर बोला- मैडम, आपके चिल्लाने की आवाजें दूर दूर तक आ रही थीं.

चाची की चूत खुली हुई बहुत ही सुन्दर दिख रही थी, चूत पर हल्के हल्के बाल थे. वैसे तो मैं उसे हर रोज देखता ही हूं, पर आज मेरा मन तो किया कि उसे वहीं बिस्तर पर गिरा लूं, लेकिन कहीं वो गुस्सा न हो जाए, ये सोचकर खुद को संभाल लिया. मैंने हाफ में बची हुई दारू देखी और सीधे मुँह से ही बोतल लगा कर दो बड़े घूंट खींच लिए.

बीएफ पिक्चर दाखवा इस बात से मुझे ये कॉन्फिडेंस आया कि मैं किसी भी औरत को भरपूर शारीरिक सुख दे सकता हूँ और उसकी प्यास बुझा सकता हूँ. मैंने आपकी पैंटी ब्रा से बहुत बार मुठ मारी है आप मुझे बहुत अच्छी लगती हो.

उधर से छुट्टी मिलते ही चाची गांड उचका कर मेरे पीछे बाईक पर बैठ गईं. मैंने दस मिनट तक मामी की चूत को चाटा और उनकी ब्रा उतार दी, उनके बूब्स को चूसने लगा. मैंने उनकी दोनों टांगों को फैलाया और उनकी चूत की फांकों को खोलने लगा.

राजस्थान की सेक्सी मूवी

उसके बाद उन्होंने मुझे सीधा लिटाया और मेरी चूत पर अपना लंड सैट करने लगे. थोड़ी देर तक हम दोनों गार्डन में बैठे रहे अब पढ़ाई का मूड उखड़ गया था. फिर ये कहकर मैंने उसके हाथ खोल दिए तो वो भाग कर बाथरूम में घुस गया.

कुछ देर बाद मैंने और नीचे आकर उसकी पैंट और पैंटी दोनों ही निकाल दी. लेकिन दिक्कत एक बात की थी कि वो लड़की उस तरह की नहीं थी, मतलब चालू किस्म की नहीं थी.

हमारी लगभग रोज ही बात होने लगी, थोड़ी देर के लिए ही सही पर रोज बात होती थी.

उसके बाद मैंने मॉम के पेटीकोट का नाड़ा खोल कर उनका पेटीकोट भी उतार दिया. तापोश आगे बोला- मेरी बीवी को विश्वास नहीं हो रहा कि कोई कैसे गांड मरवाने का मजा ले सकता है. रात को मैं उनके कमरे में टीवी देखने के बहाने चला जाता और उनकी ही रज़ाई में बैठ कर देखता रहता.

वे काफी जोश में थी, वे अपनी चूचियों को जोर जोर से दबाने भी लगी।कुछ देर में हम दोनों 69 पोजीशन में आ गए. एक दिन बाजार में मेरा एक्स बॉयफ्रेंड मिला जिससे मैं पहले भी चुद चुकी थी. क्या जबरदस्त मस्ती भरा अहसास हो रहा था चूत में!और एक जोर के झटके के साथ सब कुछ शांत हो गया.

लड़कियां भी पूरे मज़े लेने के मूड में थी इसलिए कोई भी विरोध नहीं कर रही थी.

रोमांटिक सेक्सी वीडियो बीएफ: मैंने देखा कि आयेशा भी मज़े ले रही थी क्यूंकि आयेशा के हाथ भी अमन की कमर पर थे और वो इन सब चीजों का मज़ा ले रही थी. मैंने अपने लंड को उसकी चूत पर रखा और धीरे धीरे अपना लंड उसकी चूत में पेलने लगा.

उन्होंने मेरे लंड को अपने हाथ में पकड़ा और धीरे धीरे टोपे को सहलाने लगीं. मन तो कर रहा था कि उसको अभी खा जाऊं!लेकिन अपने आप पर संयम रखा और दूध को चाटने व चूसने लगा. जलालुद्दीन ने भी अपने शेरवानी उतार दी और मुझे अपने सीने से लगा लिया.

गरिमा बोली- तो छोड़ उसे … तुझे तो बहुत मिल जाएंगी, तू है ही इतना हैंडसम!मैं हंसने लगा और वो भी!फिर उसने बताया- यार मेरा ब्वॉयफ्रेंड आ रहा है.

मैंने पीछे मुड़ कर देखा तो जलालुद्दीन साहब पास में रखी तेल की शीशी उठा रहे थे. जलालुद्दीन आलिम ने मेरी नब्ज टटोली और बताया कि इस लड़की की ख़ूबसूरती देखकर किसी पुराने जिन्न ने इस पर कब्ज़ा कर लिया है. खाते समय मैंने महसूस किया कि उस समय में शबाना और भाभीजी का अंदाज बदल चुका था.