सनी लियोन के बीएफ वीडियो बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,मालिश करते समय सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

एक्स एक्स एक्स स्टूडेंट: सनी लियोन के बीएफ वीडियो बीएफ वीडियो, उसकी सिसकारियाँ मुझे और पागल कर रही थी और कभी कभी मैं उसके निप्पल चबा देता तो उससे उसके शरीर में सिहरन दौड़ जाती थी.

जानवरों के साथ सेक्सी दिखाएं

आगे की कहानी पढ़ने के लिए अन्तर्वासना3 डॉट कॉम हर रोज देखते रहें!मुझे सभी के मेल का इंतज़ार रहेगा![emailprotected][emailprotected]. मारी दुल्हन सेक्सी वीडियोतभी मुझे उस रात की याद आई जब घर पर मेरे और भाभी के अलावा कोई नहीं फिर भी मुझे भाभी के कमरे से भाभी और उनके साथ किसी मर्द की आवाज आई थी.

मुकेश ने मुझे बैग तो दिया लेकिन इस तरीके से कि जब तक में बैग संभालूं वो मेरे दोनों बोबों को पकड़ चुका था. और सेक्सी पिक्चर’गोमती ने उसका हाथ थामा और दरवाजे की तरफ़ ले चली और धीरे से बोली- भैया जी, रात को शरीर पर तेल की मालिश करके आना, भाभी को मैं पटा लूंगी, और तुम्हारे इन तीनों दोस्तों को भी ले आना!’वो विस्मित सा गोमती को देखता रह गया.

मेरा टोपा अंदर था और फिर मैंने लंड को बाहर निकाला और एक झटके में पूरा उसकी चूत में डाल दिया। शाजिया की हल्की चीख निकल गई, मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए।अब मेरा लंड और उसकी चूत आपस में एक दूसरे के साथ चुदाई का खेल खेल रहे थे। उसकी चूत कसी हुई थी क्योंकि उसने काफी दिनों या सालों से किसी के साथ कुछ किया नहीं था.सनी लियोन के बीएफ वीडियो बीएफ वीडियो: वो मस्त होने लगी थी, बोली- और चूसो ! और जोर से चूसो !और उसने अपने हाथो में मेरा लंड मेरे पजामे के ऊपर से ही पकड़ लिया और मसलने लगी।मैंने उसकी ब्रा उतार दी.

कमसिन है… यह मेरा रेशम जैसा बदन जो दिखने में रेशम जैसा चमकदार लेकिन छूने में मखमल जैसा नर्म और मुलायम…कल ही मेरी डेट्स खत्म हुई हैं, मैं अपने अंदर एक नई ताज़गी और सेक्स के लिए एक नई उमंग महसूस कर रही हूँ.रीटा के गोरे-गोरे बदन पर राजू के चुम्बनों की मुहरें, दांतों के नीले नीले कचौके, हाथों के ठप्पे, ऊँगलियों की धसावट, घुटनों और कोहनियों पर कारपेट की रगड़ के लाल निशान गीली जांघें बहुत ही लुभावनी लग रही थी.

वीडियो की ब्लू पिक्चर सेक्सी - सनी लियोन के बीएफ वीडियो बीएफ वीडियो

कुछ कहानियाँ तो अच्छी होती हैं पर कुछ तो बिल्कुल ही बकवास होती हैं जिन्हें सिर्फ और सिर्फ समय की बर्बादी ही कहा जा सकता है.भाभी की तरफ से कोई जवाब नहीं आया मगर उन्होंने इस बात पर कोई नाराज़गी भी नहीं दिखाई.

पूरी तैयारी में थी मुझसे चुदवाने की क्या…फ़िर मैंने कहा तुझसे नहीं मेरे बॉस आ रहे है ना ! तो… फ़िर बिना कुछ कहे मैं उसका लण्ड चूसने लगी. सनी लियोन के बीएफ वीडियो बीएफ वीडियो अगली रात को मैंने उससे कहा- चल कुछ सेक्स हो जाये!तो वो बोली- नहीं!मैं- क्यों? तू तो मुझसे प्यार करती है फिर क्यों नहीं?शालू- मैं गन्दा काम नहीं कर सकती.

”मैंने कहा,”पारुल जान, मैं जा रहा हूँ !”तभी उन्होंने कहा,” चल तुझे दिखाती हूँ कि छोटा छिद्र क्या होता है।”और उतर कर घोड़ी बन गई।बाप रे ! मैंने गौर से देखा, इतनी बड़ी गांड….

सनी लियोन के बीएफ वीडियो बीएफ वीडियो?

उस वक्त उनको देख कर मेरा लण्ड फिर से खड़ा हो गया और जब चाची बाल सुखा कर आई वो भी मेरे लण्ड को देख कर मेरे पास आकर मेरे गले लग गई और बड़े प्यार से बोली- बताओ ना ? क्या करूँ मैं तुम्हारे लिए ?मैंने कहा- ठीक है, बताता हूँ !चाची से मैंने कहा- जाओ जाकर पहले काले रंग की ब्रा और पैंटी पहन कर आ जाओ और अच्छा वाला परफ्यूम भी लगा लो. उसकी बात सुन कर मुझे भी हंसी आ गई और फिर उसका विचार भी सही था इसलिए मैंने तुरंत हाँ कर दी।मैं भी इस फिराक में था कि लड़कियों के साथ रात में शायद कोई नज़ारा देखने को मिल जाए या फिर कोई जुगाड़ ही हो जाये. मैं ???”अबे क्या मैं मैं बकरी की तरह मिमिया रहा है साफ़ बोल ना ?”मेरा मतलब था क्या कभी गांड भी मरवाई है ?”ओह्हो ….

पर अन्त तो इसका होना ही था ना… एक दिन दीदी को पता चल ही गया… और दीदी ने कोशिश करके जीजू का स्थानान्तरण जयपुर करवा लिया. मेरे हाथ तो उसके ब्लाउज के बटन खोल रहे थे। उसका हाथ मेरे हाथ पर था। लेकिन कोई हरकत नहीं थी. भाभी बोली- आज तुझे हम तीनों को चोदना है…मैं बोला- फिर तो आज बहुत मजा आएगा !श्रुति बोली- यार विशाखा ! रोहित तो बहुत मस्त है ! लगता है कि बहुत मजा आने वाला है …मैं बोला- क्यों नहीं जानेमन ! बहुत मजा आएगा.

‘आप सो जाईये अब… बहुत हो गया!’‘अरे मेरी चिकनी भाभी, मेरा लण्ड तो देख, यह देख… तेरे साथ, तुझे नीचे दबा कर सो जाऊँ मेरी जान!’वो बेशर्म सा होकर, अपनी सुध-बुध खोकर अपना पजामा नीचे सरका कर लण्ड को अपने हाथ में ले कर हिलाने लगा. और अगली बार मैं कोशिश करूंगी कि मैं तुम्हें ना देखूं !”तो तुमने कल रात को मुझे देखा?”हाँ, लेकिन अचानक ! जानबूझ कर नहीं !” उसने बताया,”उस समय मैं कमरे से बाहर पानी लेने के लिए आ रही थी और तुम वहाँ …. अपना लंबा सा लण्ड मेरी चूत में डाले और मैं तस्वीरों वाली लड़कियों की तरह मज़े से उनसे चुदवाऊँ.

मैंने देर ना करते हुए भाभी का हाथ पकड़ लिया और कहा- जो उस दिन नहीं हो पाया उसे आज पूरा कर लेते हैं. फिर माँ ने मेरे लंड पर हाथ रखा और पैंट के ऊपर से ही सहलाने लगी, उन के स्पर्श से मेरे पूरे शरीर में मानो एक करन्ट सा लगा, किसी ने पहली बार मेरे लंड को छुआ था और मैंने उन के स्तनों को पूरे जोर से निचोड़ दिया जिस से उन की चीख निकल पड़ी- अ आअ आह.

मैंने मौका देखा और बिना किसी हिचक चाची की भारी चूचियाँ पकड़ ली और दबाने लगा- चाची, आप जो हो ना, प्लीज मेरा कंवारापन तोड़ दो!वो मेरा हाथ अपनी चूचियों से हटाने लगी.

मुझे महसूस होने लगा कि मेरा जादू उस पर सही असर कर रहा है। फिर मैंने भी उससे गाने की जिद की तो दोस्तों पता है उसने क्या गाया?ज़रा ज़रा बहकता है, दहकता है आज तो मेरा तन बदन…मैं प्यासी हूँ… मुझको भर लो अपनी बाँहों में.

वो दर्द से पागल हो गई, बोली- निकालो ! बाहर करो ! मैं नहीं सह पाऊँगी !पर अब मैं कहाँ मानने वाला था, मैंने कविता की कमर से पकड़ कर पूरे जोर से एक धक्का मारा और लंड उसकी चूत की गहराइयों को छू गया……वो दर्द से रोने लगी पर मैं धीरे धक्के लगाने लगा। थोड़ी देर में कविता को भी मजा आने लगा, उसके मुँह से आवाज निकलने लगी थी- चोदो…. झुरमुट कहीं का…!!!मुझे उन दिनों नाम बिगाड़ने और नए बनाने की बड़ी गन्दी आदत लग गई थी जो आज तक नहीं छूटी…. मैं अन्तर्वासना का दैनिक पाठक हूँ, यह एक ऐसी जगह है जहाँ लोग अपने दिलों की अनकही इच्छाएँ व बातें लिख सकते हैं।मैं 25 साल का जवान युवक हूँ, मेरी लम्बाई 5.

” दुल्हन किसी बेशर्म वेश्या की तरह गन्दी-गन्दी बातें बके जा रही थी।झंडे ने और भी जोरदार धक्के मारने शुरू कर दिए, बोला,”ले धक्के गिन मेरी जान, पूरे-पूरे सौ धक्के मारूंगा। …. मैं उसके रस का एक एक कतरा चाट चाट कर पी गई और मुझे लगा कि जैसे किसी डिनर पार्टी के बाद मैंने कोई मिठाई खाई हो. पहली बार आयशा को देख कर मेरे दिल में कुछ अजीब सा हुआ क्योंकि जिस आयशा को मैं अब तक बच्ची समझता था उसका शरीर भी अपनी उम्र के हिसाब से बड़ा था.

!!!मैं कमरे के भीतर से- नहीं यहाँ कोई नहीं आया, तुम जाओ हम कुछ देर विश्राम करना चाहते हैं.

आह !इस बार लंड का सुपारा थोडा अन्दर गया तो उसके मुह से एक आःह्ह्ह निकली……फिर थोड़ा जोर लगाया तो दो इंच लंड घुस गया लेकिन उसको दर्द होने लगा…जैसे ही थोड़ा और धक्का लगाया तो वो पैर पटकने लगी, उसकी आँखों से आँसू बहने लगे और कहने लगी- प्लीज़ बाहर निकालो ! मैं मर जाउंगी…. भाभी के साथ एक बार सेक्स करने के बाद मैंने बहुत कोशिश की मगर भाभी के साथ सेक्स करने का मौका ही नहीं मिला इसलिए मैं अगले शनिवार का बेसब्री से इंतज़ार करने लगा लेकिन भाभी किसी काम से बुधवार को ही अपने मायके चली गई, मैं भी अपना मन मसोस कर रह गया और कुछ नहीं कर पाया. मेरा जोश पूरे यौवन में आ गया था ……………फिर से वो झड़ गई पर मुझमें अभी भी जोश बचा था……… आप लोग सोच रहे होंगे कि अब तक जोश क्यों बचा कर रखा था ?अब मैंने यह जोश उसकी गाण्ड मारने में लगाया …….

मम्मी जोर जोर से चिल्ला रही थी- मुझे छोड़ दो! मुझे छोड़ दो! पर अंकल अपनी गति पर धक्का लग़ाते जा रहे थे. ? तो तू क्या है? रण्डियो की रानी? जब सिपाही तुझे मसल कुचल रहे थे, तब कहाँ था तेरा सतीत्व. अन्तर्वासना के पाठकों को मेरा नमस्कार और ढेर सारा प्यार! कहानी के बारे में जानने के लिए कहानी के पिछले भाग जरूर पढ़िए, मैं उम्मीद करता हूँ कि आप मित्रों और लड़कियों को मेरी कहानी जरूर पसंद आएगी.

मैंने कभी बेड पर लिटा कर चोदा तो कभी उसे घोड़ी बनाकर पहले उसकी चूत में अपना बड़ा लंड डाला फिर उसकी गांड में अपना लंड डाला। उसने आज से पहले कभी गांड नहीं मरवाई थी इसलिए उसकी गांड टाइट थी। मैंने पहले तो थोड़ा धक्का मारा जिससे मेरा आधा लंड उसकी गांड के अन्दर चला गया। फिर मैंने अपनी गति बढ़नी शुरू की जिससे उसकी गांड का छेद खुलता गया.

और मैं अपने डबल बेड में फिर लेट गया…वहाँ से चाँदनी खिड़की में खड़ी साफ दिख रही थी, उसकी फ्रॉक घुटने के ऊपर तक की होने की वजह से उसकी सुडौल जांघें और थोड़ी सी चड्डी भी दिख जा रही थी तो मेरा लंड खड़ा होने लगा. जैसे ही हम अलग आये तो सोनम ने मुझे एक लाल गुलाब पकड़ाया और मुझे ‘आई लव यू ‘ बोलकर मेरे गले लग गई.

सनी लियोन के बीएफ वीडियो बीएफ वीडियो उस दिन अमित ने मुझे तीन बार चोदा और उसके बाद सैकड़ों बार!आज मैं छब्बीस साल की हो चुकी हूँ, अमित से चुदते-चुदते छः साल हो चुके हैं और शायद बाकी ज़िन्दगी भी अमित से ही चुदवाना पड़े क्योंकि कंजूस प्रवृति के मेरे पापा शायद मेरी शादी कभी नहीं कर पायेंगे. फिर मैं उसको पकड़े-पकड़े ही पीछे की तरफ चलने लगा और धम्म्म्म से सोफे पर बैठ गया और वो मेरी गोद में आ गिरी.

सनी लियोन के बीएफ वीडियो बीएफ वीडियो ऊपर का सुपाड़ा तो ढका हुआ था लेकिन उसके आगे के आधा इंच भाग के ऊपर मांस नहीं था और उनका मूत्र और रस निकलने का छिद्र बिल्कुल साफ नज़र आ रहा था. मैं भी हैरान था क्योंकि अगर उसे कुछ काम था तो वो मेरे मोबाइल पर कॉल कर सकता था मगर फिर भी उसने घर पर फोन किया.

भाभी और मैं लगभग एक साथ झड़ गए।फिर थोड़ी देर रुकने के बाद रक्षिता बोली- जान, अब मेरी चूत की प्यास भी बुझा दो!मैं बोला- मैं अपनी जान को चोदे बिना थोड़े ही छोड़ूंगा!फिर मैंने रक्षिता की चूत में अपना बड़ा सा लंड डाला और उसकी तेज़ स्पीड में चुदाई शुरू कर दी।वो आह ओह्ह आह ओह्ह की आवाजें निकालने लगी.

सेक्सी पिक्चर बप वीडियो

उसने अब तक मेरे हाथ पकड़े हुए थे… अब मुझे उनका भी होश नहीं था…उसकी आँखों से आँसू गिरने लगे, वो बोलता गया… मुझे कुछ भी… अच्छा नहीं लगता… ना खाना… सोना भी… बस आप… ही आप… मैं आज के बाद आपको कुछ नहीं कहूँगा…देखूँगा भी नहीं… चाहे तो आप मुझे मार सकती हैं…यह कह कर उसने मुझे अपनी बाहों में ले लिया…अब मुझे होश आया. ‘नहीं रे… तेरी गाण्ड तो ठीक है बिल्कुल… बस छेद में थोड़ी लाली है या सूजन है… ‘‘अन्दर जलन सी लग रही है…’ मैं कुछ कुछ बेचैन सी हो गई थी. पता नहीं नेहा ने यग जादू कहां सीखा था। उस दिन मुझे पता चला कि मेरा (और शायद सभी मर्दों का) सबसे सेन्सिटिव स्पॉट कहां होता….

‘बाबूजी … बहुत दुःख रहा हैं … थोड़ा धीरे दबाओ ना!’ रीना ने कहा।मैंने अपना एक हाथ उसकी कमीज के अन्दर डाल दिया और उसके चुचूक का दाना पकड़ कर मसल दिया. ‘मैंने पूछा- कभी किया है गाण्ड में?उसने कहा- हाँ मेरे पति ने एक बार किया था, लेकिन बहुत दर्द की वजह से हमने फ़िर नहीं किया. मैं बस गेट खोल कर उसको देखता रहा तो वो मुस्कुरा गई और बोली- आज आप अंदर आने दोगे या बाहर से वापस भेजने का इरादा है?तो मैं शरमा गया- नहीं.

अब हम दोनों एकदम नंगे थे, मैंने अपना मुँह उसकी चूत पर लगाया और अपनी जीभ से उसकी चूत को चाटने लगा.

पीछे से मैंने देखा कि उसकी चूत का पानी छूट गया था …भाइयो और भाभियो !अगर आपका भी स्राव हुआ हैयह कहानी पढ़कर तोमुझे ज़रूर लिखें. इसे प्यार से चोदो”तो मैंने अपनी रफ्तार थोडी धीमी कर दी और उसको और गरम करने के लिए उसके चूचियों को जोर जोर से दबाने लगा और उसके लबों को चूसने लगा. नमस्कार दोस्तों,सबसे पहले तो मैं आप सबका धन्यवाद करता हूँ कि आप सभी को मेरी पिछली कहानीमैं और मेरी प्यारी शिष्याकाफी पसंद आई।साथ ही आपसे क्षमा चाहता हूँ कि मेरी अगली कहानी में इतना विलम्ब हुआ। दरअसल बीच में ज़िन्दगी कुछ ज्यादा ही व्यस्त हो गई थी, पहले तो यू एस ए का दौरा और फिर मेरा तबादला नई दिल्ली में.

उस दिन जीजू घर आए और हमें बोले- चलो आज घूम कर आते हैं, वहीं से खाना पैक करवा लेंगे!दीदी बोली- नहीं अखिलेश! मैं रिस्क नहीं लेना चाहती! बहुत नाजुक समय है. मैंने उसकी पेंटी नीचे की तो चिंकी की चूत देखते ही मैं मस्त हो गया, मैंने उसकी चूत पर हाथ फिराना शुरू किया. उसने मुझे अपनी छाती से लगाते हुए कहा- तुमने आज मुझे इतना आनन्द दिया कि मैं तुम्हारा एहसान कभी नहीं भूल सकती, अब मैं तुम्हारी हो चुकी हूँ.

मैंने कई फिल्में देखी थी इस लिये थ्योरी तो पूरी आती थी आज प्रेक्टिकल करना था सो पूरा मजा ले रहा था. हो चुका था, मैंने गाँव में स्कूल ज्वाइन कर लिया, टीचर बन गई वहाँ भी और टीचर मुझ पर लाईन मारते, पर मैंने किसी को घास नहीं डाली।फिर मेरे पति को वापिस चेन्नई बुला लिया तो चले गए तो मैंने भी स्कूल छोड़ दिया और पीहर आ गई !पर मेरी असली कहानी तो बाकी है।[emailprotected].

उसकी आहें निकलने लगी- आह ओह्ह आह!फिर मैंने कहा- अब तुम मुझे इन कपड़ों से आजाद करो!तो वो बोली- अभी लो मेरी जान, तुझे अभी नंगा कर देती हूँ. मैंने अपना मुँह उनकी गुलाबी चूत पर रख दिया और कभी उसको चाटता तो कभी अपनी जीभ उनकी चूत में डाल देता. ‘दीदी, वो चले गये!’‘अरे चले गये, साले कमीने हैं, एक दो बार और चोद जाते तो भला क्या जाता उनका?’‘अरे आप तो उनकी दीवानी हो गई हो.

कितने दिनों के बाद मिली तू!दोनों सहेलियाँ एक दूसरे से बात करती रही और मैं रागिनी को देख रहा था.

ओ।।। माई।। । डार्लिंग”।कोई आधे घंटे बाद मिक्की नाश्ता लेकर आई। उसकी नज़रें अभी भी झुकी हुई थी। ऊपर से वो सामान्य बनने की कोशिश कर रही थी।मैंने उसे पूछा,”क्या बात है ?”तो वो बोली कुछ नहीं आआन्न…. उनकी चूत से पानी निकल रहा था, मैंने अपनी जीभ से चूत को साफ़ किया और जीभ से चोदने लगा. देवर ने मेरी मैक्सी निकाल कर मुझे नंगी कर बेड से उतार कर बेड की साइड में रखे एक बड़े से लोहे के बक्से के सहारे आधा झुका कर खड़ा किया, मेरा एक पैर उठा कर बेड पर रखा और अपने बदन पर पहनी एक मात्र बनियान निकाल कर मेरे पीछे से आकर मुझे बेड के कोने में रखे ड्रेसिंग टेबल के शीशे में देखते रहने को कहा.

हम दोनों बस एक दूसरे को दूर से ही देख कर संतुष्ट हो लिया करते थे…!!!अगली क्लास में मेरे पास एक कॉपी आई उसमें लिखा था- अभी इसी वक़्त हॉल में आकर मिलो. अब वो पूरी तरह से नंगी पड़ी थी अब्बास के सामने और उसके दोनों हाथों को अब्बास अभी भी जकड़े हुए था….

’मेरे इस तरह नाराज होने से वो लोग डर गए और मुझे मनाते हुए राजू ने कहा ‘ नहीं मैडम ऐसा नहीं है अगर आप नहीं चाहोगी तो कुछ भी नहीं करेंगे. पर मैं समझ सकता था कि सबके सेक्स करने का तरीका अलग अलग होता है इसलिए मैंने ज्यादा जोर नहीं दिया. उसकी पैंट में कैद उसका लौड़ा उछलने लगा।दोनों कुछ देर तक एक दूसरे के आगोश में चूमते रहे, फिर राहुल ने कपड़ों के ऊपर से ही निखिल के उंगली करनी शुरू कर दी।पैंट उतार…!” राहुल ने हवस भरी आवाज़ में कहा। यह कहानी आप अन्तर्वासना.

चाइनीस सेक्सी फुल एचडी वीडियो

दोस्तो, यह थी मेरी आपबीती मोना क़ी दीदी क़ी चुदाई!आपको कैसी लगी, कृपया मुझको जरूर बताएँ ताकि मैं आपको अपनी और बातें बता सकूँ.

!मैं यंत्रचालित सा उनके चूत की ओर झुकता चला गया। पहली बार चूत की मादक खुशबू मुझे मदहोश कर दे रही थी।मैं कस कर उनकी चूत को चूसते हुए उनकी गाण्ड को सहलाने लगा और जाने कब मेरा हाथ उनकी गांड के बीच की घाटी में घुस गया।वो सिसकने लगी और मुझ पर झुकती हुई मेरे गांड को सहलाने लगी। उनके हाथ लगाने से मेरी हिम्मत बढ़ गई। मैंने एक उंगली उनकी गांड के छेद में घुसा दी और अन्दर बाहर करने लगा।वो सी. मर्द के खुरदरे हाथों के स्पर्श मात्र से ही रीटा की चूत फड़फड़ा उठी और झट से पनीया गई. मैं नहीं जानती थी कि मैं भी कभी किसी कहानी का किरदार हूँगी, एक दिन लोग मेरी भी कहानी पढ़ेंगे! मैं तो आप ही की तरह इंटरनेट पर, अन्तर्वासना पर सेक्स कल्पनाएँ और कहानियाँ पढ़ने की शौक़ीन हुआ करती थी…मुझे याद है हमारे घर नया नया कंप्यूटर आया.

फिर हमने कपड़े पहने, उसने बिस्तर की चादर बदली, मैंने उसे चूमा और बाहर आकर अपने कमरे में सो गया. ” सोनिया मस्ती में चीख रही थी।मैं भी मस्ती में जोर जोर से धक्के लगा कर सोनिया की कुंवारी चूत का भुर्ता बना रहा था।ओह्ह. कुंवारी लड़कियों की नंगी सेक्सी वीडियोतो बोली- इसको तो देखो!वो नीग्रो उस गोरी लड़की की गान्ड बड़ी बेरहमी से चोद रहा था और चाँदनी अब यह भी करवाना चाह रही थी, मैंने उसको कहा- कल जब शाम को खेलने निकलो तो याद रखना कि अब तुम बच्चों वाला नहीं वयस्कों वाला खेल खेलोगी, जिसके लिए आने के पहले चूत और गाण्ड अच्छे से धो लेना.

मेरा जोश पूरे यौवन में आ गया था ……………फिर से वो झड़ गई पर मुझमें अभी भी जोश बचा था……… आप लोग सोच रहे होंगे कि अब तक जोश क्यों बचा कर रखा था ?अब मैंने यह जोश उसकी गाण्ड मारने में लगाया ……. मैंने उसे धीरे से आंख मारी।महिमा हंस पड़ी और पूछने लगी- मैम ! मैं भी कल पढ़ने आऊं?’0451.

आपनी प्यास बुझा लो आज !”मैं लगातार धक्के पर धक्का लगाये जा रहा था और मेरा लण्ड उनकी बच्चेदानी से टकरा रहा था और आंटी के मुख से अजीब अजीब आवाजें आ रही थी। उनकी सीत्कारों से पूरा कमरा भर गया था,”आई लव यू मेरे राजा…… आज मैंने खुद को तुम्हारे हवाले कर दिया है…… फाड़ डाल मेरी चूत को……कीमा बना दे इसका…… बहुत सालों से इसकी प्यास नहीं बुझी……आज बुझा इसकी प्यास…. !और मैं खिलखिला कर हंसने लगी…वेदांत : बड़ी हंसी आ रही? अभी बताएँगे ना जब अंकल आंटी तब पता लगेगा…!!! चल अब. करीब दो इंच लंड अन्दर चला गया मगर जैसे ही मैंने बाकी 5 इंच लंड अन्दर करने के लिये धक्का मारा, शिखा चीख पड़ी.

और उनका ज्यादा सख्त नहीं था इसलिए अन्दर भी नहीं गया।मैंने उससे कहा- मैं भी कोशिश करता हूँ. हेलो दोस्तो, आपको श्रेया का नमस्कार… फिर से आपके सामने पेश है एक लण्ड कठोरी फ़ुद्दी पिपासु कहानी!यह कथा है मेरी सहेली जूली की …. ‘भोंसड़ी की, झड़ गई साली… मेरा तो निकला ही नहीं…!’ उसकी बात को समझ कर मैंने गाण्ड मराने के उसे धकेल दिया और उल्टी हो कर लेट गई.

आंटी ने कहा- सागर अब रहा नहीं जा रहा है, तुम मुझे चोद दो!मैंने कहा- ठीक है आंटी!आंटी की दोनों टांगों को मैंने अपने कंधों पर रखा और लंड को उसकी चूत पर रखा और एक धक्का मारा.

जब आवाजें आना बंद हो गई तो उसके कुछ देर बाद मैंने दरवाजा खटकाया तो एक आदमी ने दरवाजा खोला जिसने कपड़ों के नाम पर एक बरमूडा पहना हुआ था. अब मैंने अपना लंड फिर उसकी चूत के मुँह पर लगाया और एक ही धक्के में पूरा लौड़ा उसकी चूत में उतार दिया.

अगले दिन प्रिया भाभी सुबह ही अपने मायके से वापिस आ गई क्योंकि रविवार था, प्रिया भाभी कि छुट्टी थी. बहादुर के दाँत रीटा की चूच्चे में धंसे तो मदहोश रीटा को लगा जैसे वह बिना चुदे ही झड़ जायेगी. उस दिन मेरे मन में अपार संतुष्टि थी…!!!कुछ पलों के लिए इस प्रेम कथा को द्वितीय विराम देते हैं !आपको क्या लगता है.

अब शायद उन्हें आजाद करने का समय आ गया था। मैंने उनकी ब्रा का हुक खोल कर उन्हें भी आजाद कर दिया. वो पेड़ के पीछे जा कर बोली… ऐसे भी कोई ?!?तो फिर बैठी रहो रात भर यहाँ ! या ऐसे ही कपड़े पहन लो… मैं चला !मैं मुड़ा ही था कि वो बोल पड़ी- अरे सुनो तो…. कहानी का पहला भाग:बेटा और देवर-1अब आगे-देवर ने मेरी चूत के दाने (भग्नासा) को मुँह में लेकर कुल्फ़ी की तरह चूसा…स्सीईईईई हाआआ देवर जी स्सीईईई ईईईई बस करो स्स्सीईईई देवर जी ब्ब्ब्स्स करो!” मैं बुदबुदाई.

सनी लियोन के बीएफ वीडियो बीएफ वीडियो बीच-बीच में वो बुदबुदा भी रही थी- फाड़ दे अपनी बहन की चूत को! उड़ेल दे अपना सारा वीर्य! और बना दे मुझे अपने बच्चों की माँ!मैंने कहा- चिंता मत कर मेरी रानी!मैंने अपने लंड को जैसे ही चिंकी की चूत में डाला, वो चीखने लगी- बाहर निकालो भैया! मेरी जान निकली जा रही है. मैं समझ गई कि आज फिर से मेरी चूत का बाजा बजने वाला है लेकिन बाजा यह मुकेश बजाएगा, यह बात मेरे गले नहीं उतर रही थी.

ब्लू फिल्म सेक्सी नंगी नंगी

मुझे समझते देर न लगी और मैंने खिड़की से झाँका तो मैंने जो सोचा था उससे ज्यादा देखने को मिला. उसके बाद मैंने अपने कपड़े पहने और सोचने लगा- क्या सच में मैंने उसे चोदा है? मुझे अब भी विश्वास नहीं हो रहा था कि मैंने प्रीति को चोदा है. मुझे दिखाओ क्या है इसमें…वो बोला- भाभी, इससे पेशाब करते है… आपने भैया का देखा होगा…मैंने फिर कहा- मुझे तुम्हारा भी देखना है…और उसको अपने हाथ में पकड़ लिया… हाथ में लेते ही मुझे उसकी गर्मी का एहसास हो गया।विकास अपना लौड़ा छुड़ाने की कोशिश करने लगा मगर मेरे आगे उसकी एक ना चली…फिर वो बोला- भाभी अगर किसी को पता चल गया कि मैंने आपको यह दिखाया है तो मुझे बहुत मार पड़ेगी।मैंने कहा-.

फिर अचानक ही हम दोनों एक साथ झड़ गए, वो मेरे से लिपटी हुई, सीत्कार भरते हुए झड़ी जा रही थी तो इधर मैं भी उसकी चूत में पिचकारियाँ छोड़े जा रहा था. राजा का फरमान”कई भागों में समाप्त …[emailprotected]इन्स्टाग्राम : Vrinda_venusकहानी का अगला भाग:राजा का फ़रमान-3. किन्नर व्हिडिओ सेक्सीमुझे विश्वास नहीं हो रहा था कि जिसके बारे में सिर्फ सपने में सोचता था वो अचानक मेरी होने वाली थी.

मैंने चुपचाप अपने कदम लड़कियों वाले बाथरूम की तरफ बढ़ाये, बाथरूम में से हमारे स्कूल की एक मैडम की आवाज आई.

पापा मार दो गाण्ड… जरा जोर से मारना… मेरी गाण्ड भी बहुत प्यासी है…अह्ह्ह्ह्ह”मैंने लण्ड खींच के निकाला और दबा कर अन्दर तक घुसा डाला… कोमल ने अपने होंठ भींच लिये… उसे दर्द हुआ था…हाय राम… मर गई… जरा नरमाई से ना…”ना अब यह जोश में आ गया है… मत रोको इसे… मरवा लो ठीक से अब!”दूसरा झटका और तेज था. प्रेषक : आसज़सम्पादक : प्रेमगुरूकरेन थोड़ी आगे चली गई तो वैल ने कहा,”तो क्या तुम मेरे से शर्मिन्दा हो?”ओह….

अब शायद उन्हें आजाद करने का समय आ गया था। मैंने उनकी ब्रा का हुक खोल कर उन्हें भी आजाद कर दिया. मेरी मस्त साली शिखा 19 साल की है पर चूची 34, कमर 30 और गांड 36 तो कुल मिलाकर चोदने के लिये मस्त चूत थी. टीवी देखते-देखते मैंने कहा- आंटी, मैं तो सोने जा रहा हूँ, कहो तो टीवी बंद कर दूँ?आंटी ने कहा- हाँ, कर दो! मैंने तो सोचा कि तू देखेगा इसलिए बंद नहीं किया था.

फिर एक मिनट के बाद वो बोली- क्या हुआ रा…जा? यह तो बस शुरुआत है!अब तक मैं भी अपने होश में वापस आ चुका था.

जब मैंने बुआ की एक लड़की शालू को अपने मन की बात बताई कि मैं अमिता को प्यार करने लगा हूँ, तो शालू ने तभी अपने प्यार की बात बताई कि वो मन ही मन मुझे प्यार करने लगी थी और मुझे चूम लिया. वो दर्द से चिल्ला रही थी-…मार डाला… आह्हा दर्द हो रहा है! निक्काअल प्ल्लज्ज्ज़ मईई रीएआ…तुरंत मैंने अपने हाथ से उसका मुँह बंद किया और धीरे-धीरे मैं अपना लण्ड आगे पीछे करता रहा. अमित ने एक एक करके मेरे सारे कपड़े उतार दिए, संतरे के आकार के मेरे मम्मे देखकर उनकी आँखों में चमक आ गई और मेरी चूत के दर्शन करते ही वो पागल से हो गए और अपने होंठ मेरी चूत पर रखकर चूमने-चाटने लगे.

सेक्सी फिल्म एचडी पर दो[emailprotected]और मेरी जान राज को भी जरूर बताना की यह कहानी आप सभी को कैसी लगी[emailprotected]1815. मैं सोनम के और करीब गया और उसे कस कर बाहों में जकड़ लिया क्योंकि हम दोनों ही एक-दूसरे से शादी के लिए राजी थे तो सोनम ने इसका कोई भी विरोध नहीं किया.

हिंदी सेक्सी चाची की

” चोट तो नहीं लगी…? पागल है क्या तू… ज्यादा सुपरमैन बनने का शौक चढ़ा है… जा छत से भी कूद ले. सुर्ख लाल पकौड़े जैसी चूत एक दम गुलाबी रंग की थी। ऊपर अनार दाना, उसके नीचे मूत्र-छिद्र माचिस की तीली की नोक जितना बड़ा। आईला… और उसका फिंच… स्स्स्सी… का सिस्कारा तो कमाल का होगा। एक बार मूतते हुए ज़रूर चुम्मा लूँगा. और यह स्कर्ट पहनने की भी क्या जरूरत है उतार दो इसे भी…”बस अब आँखों में आँसू आ चुके थे…पर वो बिना साँस लिए मुझ पर चिल्लाये जा रहा था…और क्या सोचती हो.

डॉक्टर ने पापा को चेक किया और कहा की उनके रीढ़ की हड्डी में कुछ परेशानी है और उन्हें ऑपरेशन की जरूरत है. आरती को होश आता है और वो मोना को बुलाने को कहती है।मोना कमरे में आती है।आरती- भाभी, देखो मेरे साथ क्या हो गया !!मोना आरती के आंसू पौंछते हुए कहती है- तू रो मत आरती. अब क्रिस्टीना ने भी शाल निकाली और ओढ़ कर बैठ गई और मुझसे बोली- अब नींद आ रही है, मैं थोड़ी देर झपकी लूंगी।मैंने जी.

बोली- चाटो आआआअ ह्ह्ह्ह ह्हह्ह्ह और ज़ोर से आआ अह्ह्ह्ह ह्ह्ह चाटो…मैं चाटता रहा, फिर वो झड गई…मेरी हालत ख़राब हो रही थी, अभी मेरा नहीं निकला था. । मेरी मैना तुम भी तो यही चाहती थी ना ?’‘वो कहने की और बात होती है। भला ऐसे भी कोई करता है ? तुमने तो मुझे मार ही डाला था ?’‘ओह. ओह छोड़ ना, तू मुझे बिल्कुल मत छूना, वर्ना पिट जायेगा!उनकी धमकी से मैं डर गया और उनसे छिटक गया.

जीजू ने सावधानी से इधर उधर देखा और इत्मिनान से पहले तो मेरे गालों के पास अपने होंठ लाये फिर झट से मेरे होंठो को चूम लिया. !नहीं मेरा तो निकालने वाला है तुम भी अपनी स्पीड बढ़ाओ ना !क्या तुमने अपनी गांड में अंगुली डाल रखी है ?हाँ मैं तुम्हारी तरह ….

”जी मैम… मुझे जरूरत तो है…पर आपका घर का पता नहीं मालूम है…”रोहित तुम कहाँ रहते हो?…” उसने अपने घर का पता बताया.

उसकी पीठ पर हाथ फ़ेर कर उसे उत्तेजित करने का प्रयत्न करता था। उसके जिस्म की कंपकंपाहट मुझे भी महसूस होती थी। पर उसने कभी भी इसका विरोध नहीं किया। एक बार सर्वांग आसन कराते समय मैंने उसके चूतड़ों को भी सहलाया और दबाया भी। उसके चूत का गीलापन भी मुझे दिखाई दे जाता था…. हनीप्रीत की सेक्सीखैर मैं स्टेशन पहुँचा, कुछ ही देर में ट्रेन आई, मेघा ने मुझे मोबाइल पर कोच नंबर दिया. रंडी का सेक्सी वीडियो हिंदी मेंअंकल, भचीड़ लगाओ ना… मेरी मां को चोद दो ना!’‘अच्छी तरह से देख ले गौरी! अपनी मां को चुदते हुये, है ना मस्त चूत तेरी मां की!’मैंने राधा को चोदना आरम्भ कर दिया था. मैंने फिर एक जोरदार झटका मारा और अपना 7 इंच का लौड़ा अपनी प्यारी बहन की चूत में डाल दिया.

अगले एक सप्ताह मैं उसके ऑफिस के सामने से काफी रुक रुक कर निकलता था कि शायद मुझे वो दिख जाए पर शायद मेरी किस्मत काफी खराब थी.

फिर दोनों ने बीयर पी, पहली बार पीने से मुझे नशा हो गया, मैं बेशर्म बन गई और खुद ही अपनी ब्रा पेंटी उतार दी. ’‘अभी मत होना… सोनू… मैं भी आया… अरे हाय… ओह्ह्ह्ह’हम दोनों के ही जिस्म तड़प उठे और जोर से खींच कर एक दूसरे को कस लिया. मेरे लंड का टोपा पूरी तरह गुलाबी होकर फूलने लगा, मेरे मुँह से निकला- हाय मादरचोद! कहाँ से सीखा ये जादू?मेरे मुँह से गाली सुन कर मेरी गोलियों को मुट्ठी में भर कर बोली- अरे जानू! तुम्हारा हथियार देख कर रहा नहीं गया और खुद ही कर डाला मैंने! अब तो मेरी मारो न…!?!पिंकी के स्वर में एक नशीली बात थी कि मैं उसके ऊपर लेट गया और उसके होठों को अपने होठों से मसलने लगा.

सारी तैयारी करने के बाद मैं अपनी सीट पर लेट गई और मैगज़ीन पढ़ते हुए टीटी का इंतजार करने लगी. बिल्कुल नहीं… अंकल मम्मी की फ़ुद्दी में लण्ड घुसा दो ना!” गौरी बेशर्म हो कर मम्मी की चुदाई देखना चाहती थी. ?हाँ डार्लिंग !फिर आगे बढ़ कर सपना के होठ चूसने लगा, वो भी ऐसा ही कर रही थी।फिर मैंने अपनी जीभ उसकी चूत में लगाई तो वो तड़प उठी- सर, प्लीज छोड़ दो , अह्ह्ह्ह्…….

सेक्सी पिक्चर काजल

!!सिपाही- महारानी जी, क्षमा करें, महाराज का आदेश है…!!!तब तक मैंने महारानी के वस्त्र पहन लिए थे और खिड़की की तरफ मुँह करके खड़ी हो गई और थोड़ा सा घूँघट भी निकाल लिया. जब मैंने उसको सहलाया, तब 1-2 मिनट बाद बोली- आज के बाद मैं तुम्हारा चेहरा भी नहीं देखना चाहती…मैंने उसको बताया- जान, पहली बार में तो दर्द होता ही है… देखो पूरा चला गया है अब दर्द नहीं, बस मज़ा है…. रास्ते में आते हुए मैंने कुछ बैंगन भी ले लिए छोटे छोटे क्यूंकि मेरी गाण्ड बहुत ही कसी है.

भयंकर ऐतिहासिक चुदाई के बाद रीटा की प्यासी जवानी तरोतर हो उठी और वह कली फूल बन गई.

जीजू के चेहरे पर कुटिल मुस्कान आ गई, वो बोले- ठीक है! मैं भी यह थोड़े ही चाहता हूँ कि मेरी साली को तकलीफ हो! तुझे अगर लौड़ा नहीं घुसवाना है तो मत घुसवा! तू इसे अपने मुँह में ले ले और इसे गन्ने की तरह चूस!मरती मैं क्या नहीं करती! मैंने जीजू का लौड़ा मुँह में भर लिया और उसे चूसने लगी.

चल जल्दी से बता!”तुम पहले वादा करो कि तुम किसी को भी नहीं बताओगी!”अरे बाबा, मुझ पर भरोसा रखो, मैं किसी को भी नहीं बताऊँगी. मैं बस गेट खोल कर उसको देखता रहा तो वो मुस्कुरा गई और बोली- आज आप अंदर आने दोगे या बाहर से वापस भेजने का इरादा है?तो मैं शरमा गया- नहीं. बॉलीवुड की हीरोइन की सेक्सी फोटोतब से उसके एक स्कूल के टीचर के साथ उसकी अफ़वाहें उड़ने लगी थी… मैंने भी उन्हें होटल में, सिनेमा में, गार्डन में कितनी ही बार देखा था.

और वोह सिसकारने लगी- डाल दे बेटा अपनी आंटी की चूत में अपना लंड !अभी लो आंटी ! यह कह कर मैंने अपना लंड घुसा दिया और घुच घुच करके चोदने लगा।और जोर से चोद. मैं अपनी बहन के बारे में बता दूँ!मेरी बहन का नाम शैली है और वो मुझसे तीन साल छोटी है, दिखने में बहुत सुंदर है, उसके मम्मे 32 इन्च के हैं और गांड के बारे में क्या बताऊँ! कोई भी लौड़ा खड़ा हो जाये उसकी मारने के लिए. अनिल मेरे होंठों को जोर जोर से चूस रहा था, मैंने हाथ उसकी कमर पर ढीले से छोड़ रखे थे.

वैसे तो यह आम सी बात है और बहुतों की जिंदगी आपसी समझ की कमी से कुछ इसी तरह की हो जाती है और अलगाव बढ़ जाता है. मैंने कहा- ठीक है, मैं बाहर इन्तज़ार कर लेता हूँ!तो वो बोली- बाहर क्यों, यहीं बैठ जाओ, मैं तुम्हारे लिए पानी लाती हूँ!मैं तो यही चाह रहा था ताकि उसको ज्यादा देर तक देख सकूँ तो वहीं सोफे पर बैठ गया.

लेकिन उस सख्ती में एक मुलामियत का अहसास था… मैंने उन्हें दबाते हुए मेरी जीभ उसकी नाभि पर गोलाई में घुमाना शुरू किया.

फिर अचानक मेरा हाथ उसके उरोजों पर चला गया, मैं उनको दबाने लगा, वो सिसकारियाँ लेने लगी. शर्तिया किसी लड़की का था। ऊपर आकर फिर वही शोर-शराबा और इतने चेहरे कि समझ में न आये कि ये हरकत है किसकी। मैं बहुत अच्छा तैराक या गोताखोर नहीं हूँ इसलिये ज़्यादा देर तक साँस रोक नहीं सकता फिर भी मैंने सोचा इस बार तो जान कर ही रहूँगा कि उस्ताद के साथ उस्तादी कर कौन रहा है।मैंने फेफ़ड़ों में हवा भरा…गोता लगाया…और आँखे पानी के अंदर भी खोल के रखा…एक लहराते बालों वाला साया मेरे पास आया…. हुम्म… आह!फिर मैंने उन्हें सोफे पर ही लिटा दिया और उनके पूरे शरीर को दबोचने लगा। चाची भी पूरे जोश में थी और मेरे बालों में तो कभी मेरे हाथों को सहलाती। अब चाची चुदने के लिये बिल्कुल तैयार हो चुकी थी, वो ऐसे तड़प रही थी जैसे सालों से भूखी हों।मैं उनकी नाईटी खोलने लगा कि अचानक दरवाज़े पर घण्टी बजी, घण्टी की आवाज़ सुनते ही हम दोनों घबरा गये और रुक गये। तभी हमरी नज़र सामने लगी घड़ी पर पड़ी, शाम के 5.

सेक्सी रंडियों का वीडियो मैं उसके ऊपर झुक कर उसके हाथों को हटाते हुए चूमने लगा और एक हाथ से उसकी चूत को सहलाने लगा। उसका बदन ऐंठने लगा। उस दिन उसने अपनी झांटें साफ़ कर रखी थी, उसकी बिना बालों की गुलाबी चूत बहुत सुंदर लग रही थी।मैंने पूछा- इसके पहले तो हमेशा नीचे बाल रहते थे? आज तो बहुत चिकनी लग रही हो ?उसने कहा- आज सुबह साफ़ की है सिर्फ तुम्हारे लिए !मैंने कहा- जान क्या बात है…. लेकिन हर बार ना-उम्मीद होकर खुद ही ठंडी पड़ जाती, किसी को ना पाकर खुद ही सर्द हो जाती। चुचूक गुलाबी थे, छाती पर दो तिल थे, मेरे गले में एक सोने की जंजीर पड़ी रहती थी जिसका एक सिरा मेरी दोनों छातियों के बीच में रहता और कपड़े उतार कर ऐसा लगता जैसे सोने की वो चैन मेरी दोनों छातियों के बीच एक गहरी और पतली सी दरार में फँस कर बहुत खुश हो.

उसके बाद जब हम केबिन में कपड़े ठीक करने गए तो सब कपड़े निकाल कर मेरे ही सोफे पर बैठ कर मुझसे अपने घोड़े की सैर करवाई … रात भर हुई चुदाई के बाद हम दोनों को इसका चस्का लग गया।अब तो हर देर रात हमारी दिवाली थी. मेरा लंड अब पूरी तरह तना हुआ उसके चुत के छोटे से छेद से घुसने को बेसब्र हो रहा था. शाम को जब मैं अपनी गाड़ी से घर वापस जा रहा था तो मैंने देखा कि नहर किनारे एक लड़की पेशाब कर रही थी और गाड़ी की रोशनी उसके चूत पर पड़ गई थी जिससे मुझे मूत निकलती चूत के दर्शन हो गए।यह देख अचानक ही मेरा लौड़ा पैंट में खड़ा हो गया और मुझे लगा कि अगर मैंने आज चूत नहीं मारी तो शायद मेरा लंड फूल कर फट जायेगा।बस मैंने योजना बनाई और गाड़ी रोक कर लड़की के पास चला गया।मुझे वहाँ खड़ा देखकर वो शर्मा गई.

सेक्सी ब्लू करने वाली

नीचे मेरा लण्ड उसकी चूत का बाजा बजाने में लगा हुआ था। मैंने अपनी कमर उठा उठा कर पूरा लंड बाहर निकालते हुए धक्के मारना चालू कर दिया। वो कसमसाने लगी- उओं. मैंने थोड़ी आँख खोल कर देखा तो यह तो मोना आंटी का हाथ था हो मेरे पजामे के ऊपर से मेरे लण्ड को छू रही थी और मसल रही थी. सारे नजारे एक एक कर मेरी आँखों के सामने घूमकर खत्म होते ही मेरी नजर बबलू पर पड़ी उसकी निगाह मेरे ब्लाउज के ऊपर अटकी थी.

उस चीज के लगते ही उसके मुँह से एक जोर की सिसकारी- ईईईईईईए आआआआआम्मं स्स्स्सीईईई निकल गई. मैं बहुत शर्मीला था मगर मेरे चरित्र में बदलाव किस तरह हुआ वो मैं बताने जा रहा हूँ.

मैंने कहा- ज्योति तो सो रही है और वो सात बजे से पहले नहीं उठेगी!तो आयशा मान गई और मैं योगी के पापा के कमरे में गया और वहाँ से दो कंडोम उठा कर ले आया ताकि आयशा को चोदने के बाद मुझे अपना लण्ड जल्दी में बाहर ना निकलना पड़े.

मैंने भाभी से पूछा- मम्मी-पापा कहाँ हैं?तो उन्होंने कहा- वो कल रात को दस बजे ही तुम्हारी लक्ष्मी नगर वाली बुआ के यहाँ चले गए क्योंकि तुम्हारी बुआ की तबीयत ठीक नहीं है. जब भी मौका मिलता, मैं उन के गुप्त अंगों को देखने की कोशिश करता और मस्ती मस्ती में उन्हें छू भी लेता था. जैसे ही मनीषा ने मुझे देखा तो उसने अपना एक हाथ अपने वक्ष और दूसरा हाथ अपनी चूत पर रख लिया.

और यह जलाने को बेक़रार और इस मुक़ाबले में चूत हार जाती है, ठंडी पड़ जाती है मर्द की मनी से भीग कर उसकी प्यास यूँ बुझ जाती है जैसे रेगिस्तान की प्यासी ज़मीन पर बारिश के क़तरे पड़ते हैं… लेकिन मर्द भी कहाँ यह दावा कर सकता है कि वो जीत गया. !!!मैं अपनी ही धुन में अपने कमरे में चली गई, शाम को पापा मेरे घुटने वाली चोट पर डॉक्टर से पट्टी करवा लाए. मैंने कहा- हाँ, यह ठीक रहेगा !फिर हम काफी देर तक एक दूसरे की गर्दन में बाहें डालकर चिपककर बैठे रहे। तब तक 5 बज चुके थे.

अब जीजू ने मुझे उल्टा किया और वो मेरी गांड को थपथपाने लगे, फिर उन्होंने अपनी एक अंगुली मेरी गांड के छेद में घुसा दी.

सनी लियोन के बीएफ वीडियो बीएफ वीडियो: अरे… ये क्या हुआ?… उनका प्यारा लण्ड मेरे मुख श्री में!!! इतना मुलायम सा… मैंने उसे अपने मुख में कस लिया और उसे चूसने लगी. बाद में जब सब अपने पलंग पर चले गये तो मैंने उससे कहा- ये क्या छोटे छोटे सेब खिला रही हो!तो वो बोली- अगर बड़े सेब खाने हैं तो घर आना पड़ेगा! फिर तुम्हें असली मुलायम और बड़े सेब खिलाऊँगी.

मुझे समझते देर नहीं लगी कि भाभी ने यहाँ जयपुर में आकर अपना वही काम शुरू कर दिया है. एक सिपाही दो लट्ठ लेकर आया, मोटे-मोटे लट्ठ, जो लंड से कई गुना बड़े और मोटे थे।एक मेरी चूत में और दूसरा मेरी गाण्ड में घुसा दिया गया. छोटा भाई यानि देवर जी जिसे हम बॉबी कहते थे उसका काम अपनी जमीन जायदाद की देखरेख करना था.

आराम से राज… तुम्हारा बहुत मोटा है…!” लण्ड की तारीफ़ सुन कर मैं मुस्कुराया और एक जोरदार धक्के के साथ ही पूरा लण्ड उसकी चूत में जड़ तक गाड़ दिया। लण्ड सीधा उसकी बच्चादानी से जाकर टकराया और वो उछल पड़ी। मैंने बिना देर किये धक्के लगाने शुरू कर दिये। हर धक्के के साथ शर्मीला के मुँह से आह्ह्ह… ओह्ह्ह… उफ्फ्फ्फ्फ़.

फिर मैंने उसकी छाती पर अपना हाथ रखा और उसे दबाने लगा, उसने भी वही करने की कोशिश की मगर उसे कुछ मिला ही नहीं, फिर उसके हाथ अपने आप नीचे को चले गए और जाकर मेरे लंड पर अटक गए. एकदम गोरी-गोरी टाँगें, (एक पर बाल बचे थे पर मेरे ज्यादा बाल नहीं थे, लेकिन दूसरी टांग तो एकदम लड़कियों जैसी लग रही थी. और वापस उसका लंड हाथ में पकड़ कर हिलाते हुए चूसने लगी। मैं जमीन पे घुटनों के बल झुकी थी और बॉस का लंड चूस रही थी…इतने में राहुल ने मेरी चूत मसलनी शुरू की…हम सब चुपचाप अपने अपने काम में मस्त थे… फ़िर वो झुक कर मेरी चूत चाटने लगा….