सील तोड़ने का बीएफ

छवि स्रोत,खून फेकने वाला सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ सील तोड़ना: सील तोड़ने का बीएफ, मैं भी उसका साथ देने लगी और अपनी गांड उठा उठाकर उसका लंड अपनी चूत में लेने लगी.

वीडियो बीपी सेक्सी बीपी वीडियो

वो दर्द से बिलख पड़ीं ‘उम्म्ह … अहह … हय … ओह …’पूरा लंड पेलने के बाद मैंने उनको कुछ देर तक ऐसे ही जकड़े रखा. मारवाड़ी देसी सेक्सी देसीउसकी ब्रा को निकाल कर मैंने अपनी जेब में ठूंस लिया और फिर उसके टी-शर्ट को ऊपर करके उसके चूचों को पीने लगा.

मैंने बोला- साले राकेश … अगर वो वेटर नहीं आया होता, तो अभी तक तेरी बीवी मेरे नीचे लेट कर चूत चुदवा रही होती. काजल अग्रवाल की सेक्सी वीडियो पिक्चरकरीब 5 मिनट हो गए थे और मेरी सम्भोग की खुमारी सातवें आसमान को छूने को थी.

मैं उठा तो भाभी ने मेरी लोअर में तना हुआ मेरा लंड देख लिया और फिर टीवी की तरफ देखने लगी.सील तोड़ने का बीएफ: भाई ने देखा कि मैं जाग चुकी हूं तो अपने हाथ को हटाने लगा लेकिन मैंने उसका हाथ पकड़ लिया और अपनी चूत पर रखवा लिया.

आह्ह् … स्स्स … उम्म… मैं भी अपना लंड उसकी चूत पर लगा रहा था तो मुझे बड़ा मजा आ रहा था.काव्या ने पूछा- निहाल, तुम दिखने में तो बहुत अच्छे हो, तुमने तो बहुत गर्लफ्रेंड पटाई होंगी ना?मैंने बोला- नहीं यार … मैंने आज तक किसी लड़की को प्रपोज़ तक नहीं किया.

घोड़े कुत्ते वाली सेक्सी वीडियो - सील तोड़ने का बीएफ

मन तो गंदी अन्तर्वासना से लिप्त था ही, सो लगे हाथ में उस दिन बुधवार पेठ भी चला गया.मैंने आंटी को देख कर पूछा- आंटी दीदी कहां हैं?आंटी बोलीं- अन्दर हैं बेटा … क्यों क्या बात है?मैंने कहा- आंटी, मुझे दीदी से अपनी पढ़ाई को लेकर कुछ पूछना है.

मुझे नहीं पता था कि वो मेरा लंड लेने के लिए इतनी बेचैन है और इतने लंबे समय से इसके लिए तड़प रही है. सील तोड़ने का बीएफ मैंने दस मिनट तक इसी पोज में उसकी चुदाई की और फिर मेरे लंड का माल मैंने प्रिया की चूत में ही गिरा दिया.

उसने हाथ पीछे करते हुए मेरे गाल पर चिकोटी काटते हुए कहा- चलो हम बाथरूम में चलते हैं … वहां करेंगे.

सील तोड़ने का बीएफ?

मेरी नाभि के अन्दर जीभ डाल कर चूसने लगा, फिर और आगे बढ़ते हुए उसने अपनी जुबान मेरी चूत के ऊपर लगा दी और चूत चाटने लगा. मुझे डर लगने लगा कि कमरे की साफ सफाई के लिए जो भी आएगा, वो समझ जाएगा. मैं बोला- अम्मा मैं तुझे अपनी चुत में उंगली डाल के सोते हुए देखता था.

कमलनाथ दनादन धक्के मारे जा रहा था और कविता वहीं कराह कराह कर अपने चूतड़ों को उठाने का प्रयास कर रही थी. वो बिना किसी रुकावट के बाबा की ओर बढ़ी और झटके से पूरा लंड मुँह में ले लिया. मैंने उससे मुँह खोलने के लिए कहा, तो बोली- नहीं … मुझे अच्छा नहीं लगता.

मैं उसके ऊपर अपनी दोनों जांघें फैला कर चढ़ी हुई थी और मुझे उसका सख्त लिंग मेरी योनि पर जांघिये के भीतर से चुभ रहा था. फिर मैंने फुल स्पीड में धक्के मारते हुए उससे कहा- मेरा पानी निकलने वाला है. जब मानव ने मेरी नाभि में अपनी जुबान डाली तो मैं खुशी के मारे चिल्ला उठी लेकिन मानव ने मुझे चूमने का सिलसिला जारी रखा.

15 मिनट तक मैंने गांड की चुदाई की और फिर दोबारा से लंड को निकाल कर चूत में पेल दिया. कुछ देर तक दोनों ने भाभी के नंगे जिस्म को खूब चूसा चाटा और अपना लंड भी चुसवाया.

कांतिलाल ने अपना संतुलन बनाया और सही स्थिति में आकर एक ही ठोकर में अपना समूचा लिंग कविता की योनि में उतार दिया.

उन्होंने ढेर सारे कामरस की नदी बहा दी और थोड़ी देर के लिए शांत पड़ गयी थीं.

लगभग 5 मिनट के बाद उसने मुझे एक बहुत ही जोर का धक्का मारा और मैं चीख पड़ी- ओह्ह … म म. उसकी काली ब्रा में उसका रंग गोरा लग रहा था और ब्रा उसके चूचों में ऐसे फिट हो रखी थी जैसे इस ब्रा को सिर्फ इन्हीं चूचों के लिए बनाया गया हो. निर्मला ने वहां रखी खाली बियर की बोतलों में पानी भर दिया और फिर उसे रस्सी से बांध दिया.

दोस्तो और सहेलियो, मैं आपसे सच कहूँ तो मैंने अन्तर्वासना सेक्सी कहानियां पर बहुत सी सेक्स कहानी पढ़ी हैं, ये सब मुझे बहुत पसंद आती थीं. दूसरी बात ये कि निर्मला राजशेखर का संभोग में परस्पर साथ नहीं दे पाती थी. कॉलेज की लड़की की पहली चुदाई कथा में पढ़ें कि मैंने पढ़ाई के लिए कमरा लिया तो कैसे मुझे एक गर्म लड़की मिली, उससे दोस्ती हुई और मैंने उसकी अनचुदी बुर को चोदा.

ऑफिस में एक लड़की जिसका नाम मौलीश्री है, मेरी सहेली बन गयी और हम दोनों एक दूसरे से घुलमिल गयी.

तभी राजेश्वरी ने बोला- अरे सारिका कल जो तुमने रंडी का रोल किया था, वो हमें भी दिखाओ यार. सोनी शांत रह कर चुपचाप मजे लेने में विश्वास रखती है। मेरी बीवी को बहुत ही जल्दी पटाया जा सकता है क्योंकि मुझे याद है कि जब हमारी नई नई शादी हुई थी तो मेरे एक दोस्त बंटी ने सिर्फ उससे इतना ही कहा था कि भाभी आप मस्त और सेक्सी हो. वह बुरी तरह मेरे पीछे चिपका था, उसने हाथ मेरे अंडरवीयर में डाल दिया.

राकेश बोला- उफफ्फ़ … तेरी इन्हीं रसीली बातों ने तो मुझे और मेरी बीवी को तेरा गुलाम बना दिया है. जैसे ही लंड बाबा, चूत बेबी से टच हुआ, मेरी जानू ने अपने हाथ से पकड़ कर उसे रास्ता दिखा दिया. फिर सनी ने बॉक्सर की चैन से अपना लंड निकाल दिया, जो कि पूरी तरह तैयार था.

मैं उनको अपने कंधों के सहारे उठाता हुआ उनके रूम तक लाया और उन्हें बिस्तर पर लेटा दिया.

मैंने करीब आकर भाभी को अपनी गोद में उठा लिया और ले जाकर बिस्तर पर पटक दिया. थोड़ी देर बाद उन्होंने बचा हुआ पानी मेरे मुँह में डाल दिया और मेरे होंठ चूसने लगीं.

सील तोड़ने का बीएफ मेरी आंखें फटी की फटी रह गईं, इतने नुकीले चूचे मैंने जिंदगी में कभी नहीं देखे थे. जैसे ही मैं उसकी जांघ तक पहुंचा, उसने आंख खोल कर बोला- भाई, मेरे को बहुत गुदगुदी हो रही हैं.

सील तोड़ने का बीएफ आज मैं अपनी अम्मा, मेरी सासु माँ और मेरी उनकी बेटी, जो मेरी पत्नी है, उसे खूब चोदता हूँ. शांत होने के बाद मैंने उससे पूछा- तुम पहले भी कर चुकी हो ना?वो बोली- हां स्कूल के एक बॉयफ्रेंड के साथ मेरा हो चुका था.

वहां से जब वो वापिस आई तो उसने एक सेक्सी सा लाल रंग का गाउन पहना हुआ था।मेरी ममेरी बहन मेरे पास लेट गई तो मैंने कहा- आज तो हमारी सुहागरात है.

अमरपाली का सेक्सी फिल्म

अब आगे की पब्लिक बीच सेक्स स्टोरी:मुझे चोदने के बाद विवेक अल्पना की दूसरी साइड जाकर बैठ गया. लेकिन आपने सुना ही होगा कि अगर किसी चीज को दिल से चाहो, तो सारी कायनात उसे तुमसे मिलाने की कोशिश में लग जाती है और यह सिर्फ डायलॉग नहीं है, हकीकत भी है. कुछ देर के बाद मैंने अपनी चूत में अपने भाई के लंड को और अंदर लेने के लिए अपनी टांगों को उसकी कमर पर लपेट लिया.

मैंने उसकी दोनों टांगों को हाथ से पकड़ कर और ज्यादा फैला दिया और उसकी बुर में अपने लंड को घुसेड़ दिया. हम सब उसके दिशा निर्देश अनुसार पेशाब करने लगी और 2-3 मिनट में सब उठकर फिर अपनी अपनी पैंटी पहन सोफे पे आ गई. हाय … क्या मधुर आवाज थी चाची की। उसकी आवाज सुन कर ही मेरा लंड पैंट में तन गया था.

वो दर्द की अधिकता से मुझसे दूर होने लगीं, पर मैंने अपना जोर उन पर बनाए रखा और उनकी चुचियों को दबाता रहा.

मैंने उसकी बुर को हाथ से रगड़ा और अपना लंड उसकी बुर के मुंह पर लगा दिया और उसके ऊपर लेट गया. मुझे अभी शायद 5 से 7 मिनट हुए होंगे झड़े हुए कि मैं फिर से झड़ने को तैयार हो गई थी. मैंने जब अपने नीचे देखा, तो उस वस्त्र के कटे हुए हिस्से की वजह से मेरी एक टांग बिल्कुल नंगी दिख रही थी और एक तरफ से मेरी योनि के बाल भी दिख रहे थे.

कमलनाथ ने झट से राजेश्वरी को रोका और उसे पीठ के बल चित्त लिटा दिया. फिर मैंने मैडम को गोदी में उठाया और उनके बेडरूम में जाकर उनके बेड पर पटक दिया. इस कामुक सेक्स कहानी के तीसरे भागखेल वही भूमिका नयी-3में अब तक आपने पढ़ा कि मैं अब तक नेता और कमलनाथ के अलावा रवि से सम्भोग करके बहुत ज्यादा थक चुकी थी.

मैं फिर भी नहीं मान रही थी … मगर उसने जबरदस्ती मुझे अपने ऊपर चढ़ा लिया और मेरी टांगें दोनों तरफ फैला कर अपना लिंग मेरी योनि में प्रवेश कराते हुए मुझे सीधा होने को बोला. हम दोनों ने होटल रूम में ही कुछ देर तक बैठ कर बातें की और उसके बाद हम होटल रूम से बाहर आ गए.

फिर मैंने हल्की सी हलचल की और उसके निचले होंठ को हल्का सा अपने होंठों में दबा लिया. दोनों ने एक दूसरे का पानी पिया और अलग हो गये।मैंने उसे कहा- कोई आ सकता है इसलिए बाकी काम रात में करेंगे।तो वो मान गई और हम दोनों ने अपना मुँह धोकर कपड़े पहन लिए।दिन में जब वो किचन में खाना बना रही थी तो मैंने उसके गांड पे अपना लंड लगा दिया. मुझे तो अंदर जाकर काफी शर्म आ रही थी लेकिन मैं मां के साथ ही रहना चाह रहा था इसलिए मेरे पास कोई चारा नहीं था.

मैं फिर भी नहीं मान रही थी … मगर उसने जबरदस्ती मुझे अपने ऊपर चढ़ा लिया और मेरी टांगें दोनों तरफ फैला कर अपना लिंग मेरी योनि में प्रवेश कराते हुए मुझे सीधा होने को बोला.

जब उसकी तरफ से कोई विरोध नहीं हुआ, तो मैं अब उसकी गांड भी कभी कभी छू देता था. मैंने कहा- अम्मा तूने इतने सालों से सेक्स नहीं किया? सच बता और किसी से भी चुदवाया है?अम्मा ने कहा- नहीं बेटे मैंने किसी से चुदाई नहीं की … तेरे मोटे जवान लंड और मेरी प्यासी चुत की कसम खाकर कहती हूँ … मैंने कभी किसी से नहीं चुदवाया. उसकी बातें मेरे कानों में पड़ते ही मेरी रफ्तार और मस्ती दोनों पर रोक लग गई.

मैं उसके लिंग के सुपारे को खोल चूसने लगी और एक हाथ से उसके अण्डकोषों को दबाने ओर सहलाने लगी. उसके इस बार के धक्के इतनी ताकत और तेज़ी से थे कि मेरी सिसकारियां कराहों में बदल गईं.

कुछ पलों के धक्कों में मैं फिर से गर्म होने लगी और मेरी कमर अपने आप चलते हुए लिंग पर योनि धकेलनी लगी. फिर उन्होंने हल्के से टी-शर्ट को ऊपर करके अपनी चुत दिखायी और टी-शर्ट को अपने मम्मों के ऊपर कर लिया. जिस तरह के कपड़े उसने मुझे दिलाए थे, वैसे कपड़े मैं पहनती नहीं थी और न कभी पहले पहना था.

सेक्सी पिक्चर चूत में

एक बार मैंने उसे मिलने के लिए बोला तो कहा- मैं शादीशुदा औरत हूँ और हमें ये बात शोभा नहीं देती।पर बार-बार जिद करने पर वो मेरी बात मान गई और रात को 8 बजे घर पर आने के लिए कहा।मैंने घर वालों को बहाना बनाया कि मैं एक दोस्त के साथ बाहर जा रहा हूं और रात को देरी से आऊँगा।फिर उसी दिन करीब आठ बजे मैं उसके घर पहुंच गया और विजय भाई से बातचीत करने लग गया.

लेकिन मैंने जैसे ही उसकी चूत में हल्का सा लंड अंदर किया तो मैं झड़ गया।उसने कहा- क्या हुआ?मैंने कहा- लगता है कल की कमज़ोरी है. अपने पति और अपनी बेटी के घर पर न होने की स्थिति में वो मुझे अपने पास बुला लेती है और मैं और आंटी इसी तरह मजे लेते हैं. मैंने मौसी के चूचों में मुंह दे दिया और मौसी की चूत में धक्के देने लगा.

फिर मैंने डॉली की चूत की तरफ अपना हाथ बढ़ाया और उसकी चूत पर अपना हाथ रख दिया. अब हम गीले हो चुके थे, जिससे मेरे चूचे पूरी तरह से दिख रहे थे … शायद मेरे मम्मों को देखकर उसका लंड भी खड़ा हो गया था, जो उसके चड्डा में से अलग ही दिखने लगा था. सेक्सी समर ड्रेस्सेसएक दिन मैं कॉलेज में दोस्तों के साथ मस्ती कर रहा था, तो मेरा दोस्त रोहण भारद्वाज, मुझसे बात करने लगा.

इन्हीं बातों के बीच में मैंने धीरे से युक्ता का मोबाइल नंबर लेकर अपने मोबाइल में सेव कर लिया और शोभा को धीरे से आंख मार दी. उसके पैरों को देखकर मेरा लंड कड़क होने लगा था, पर मैं अभी कुछ कर भी नहीं सकता था.

भाभी की माँ चुद गई … उनके मुँह से दर्द भरी आह निकल गई ‘उम्म्ह … अहह … हय … ओह …’ भाभी की आंखें फ़ैल गईं और उनकी मुट्ठियों ने बिस्तर की चादर को भींच लिया. मेरी मां की जवानी देख कर मेरा लंड उछलने लगा लेकिन मां को अपनी गार्मेंट के ध्यान में मेरे लंड का तनाव दिखाई नहीं दिया. वो चाह रही थी कि एक बार कांतिलाल और राजशेखर भी मेरे साथ संभोग कर लें.

अभी तक की पब्लिक बीच सेक्स स्टोरी आपको कैसी लगी? आप मुझे मेल करते रहिएगा. फिर मैंने दोबारा से लंड को उसकी चूत पर लगाया और दोबारा से लंड का जोर उसकी चूत के मुंह पर देकर मारा तो लंड का सुपारा उसकी चूत में चला गया. उसने मेरा लंड अपने मुंह से निकाला और मुझे सीधा लेटा कर मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत पर सेट किया और एक ही झटके में बैठ गयी जिससे हुआ ये कि मेरा लंड सीधा उसकी बच्चेदानी से जा लगा।अब मैं सोनू के नीचे था और वो मेरे ऊपर बैठ कर मुझे चोद रही थी लेकिन उसकी चुदाई ज्यादा देर तक नहीं चली और वह थक कर नीचे आ गयी.

उन्होंने कचरे के चार बड़े बैग एक-एक करके लिफ्ट में रखना शुरू कर दिया.

दिन प्रतिदिन मेरा आकर्षण हॉट श्रेया आंटी की तरफ बढ़ता ही जा रहा था. फिर दीदी ने खुद ही अपने हाथ से मेरा लंड अपने हाथ में पकड़ लिया और अपनी चूत पर लगवा दिया.

हॉट गर्ल अनल सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि सेक्स के लिए उतावली जवान लड़की ने अपनी चूत चुदवाने के बाद अपनी गांड कैसे मुझसे पहली बार मरवायी. मेरा लंड बहुत मस्त है, इसकी तारीफ़ मैं नहीं इसका शिकार हुई लौंडियों और भाभियों ने की है. उसके शौक की क्या बात करूं, जैसा उसका जांघिया था, वैसा तो आजकल के नौजवान भी नहीं पहनते.

मेरे गले से रोने जैसी आवाजें निकलने लगी थीं, पर उन लोगों में से किसी ने दया जैसी चीज नहीं दिखाई. मैंने जवाब दिया- आपने मुझे पुकारा?वो बोली- हां, मेरे पास सामान काफी ज्यादा है तो आप प्लीज मेरी थोड़ी मदद कर दीजिये सामान सेट करवाने में. उसकी इस छोटी फ्रॉक से उसके घुटने से नीचे तक हिस्सा पूरा दिख रहा था.

सील तोड़ने का बीएफ आगे से अमन ने मेरी बीवी का मुँह पकड़ा हुआ था और वो श्रुति के मुँह में लंड पेलने में लगा था. बेटा मुझे आने में कुछ देर हो जाएगी, तुझे समय हो, तो तू मेरे घर पर रुक जाना.

रागिनी सेक्सी वीडियो

उसने रमा का हाथ पकड़ उसे बिस्तर के बगल नीचे जमीन पर बिठा दिया और अपनी पैंट उतार रमा के मुँह में अपना लिंग डाल दिया. मैं पिछले चार सालों से अन्तर्वासना का पाठक हूँ और आज मैं पहली बार अपने अन्तर्वासना के दोस्तों को अपनी जीवन की पहली चुदाई की कहानी बताने जा रहा हूँ. मैं उनकी तरफ देखकर मुस्कराते हुए बोली- अब कैसे करेंगे आप?वो बोले- अब मैं नहीं, अब तू करेगी.

वो उठकर बाथरूम में चली गई और नहा धोकर बाहर आई और मुझसे बोली- आप भी नहा कर फ्रेश हो जाओ, तब तक मैं दुल्हन की तरह तैयार होती हूँ. हम लोगों की बात आगे बढ़ी और मैं अगले दिन नार्थ ईस्ट के लिए निकल गया. सेक्सी स्टोरी बोलने वालीमुझे पहले की भांति इस बार का लिंग कुछ अलग सा लगा, इससे मैं समझ गई ये राजशेखर नहीं है.

जब वो पानी लेने गयी थीं तो मैंने देखा था कि उनका पिछवाड़ा बहुत ही मादक लग रहा था.

अब वो कांफ्रेंस काल पर अपनी बहन रितिका से भी मेरी बात करवा देती थी और अपनी सहलियों से भी मेरी वीडियो कॉल पर बात करवाती थी. उसी वक्त उसने अपनी मम्मी को कॉल लगाया और कहा कि मॉम मैं थोड़ी देर से आऊंगी.

मेरे मन में डर भी था कि कहीं ये कुछ घर पर जा कर बता ना दे तो मेरी भी गांड फट रही थी।उसके बाद मैं घर पर आ गया और मोनिका के साथ हुई उस घटना को याद कर करके मैंने दो बार मुठ मार डाली. कविता ने पिछले खेल का तर्क देते हुए कहा कि यदि उसकी योनि सबसे ज्यादा कसी हुई है, तो उसी मर्द का लिंग भी इसमें आज की रात सबसे पहले जाएगा, जो चारों में से ज्यादा ताकतवर होगा. उनकी टांगें फैली हुई थीं और लंड वैसे ही एक साइड में अगल से दिखाई दे रहा था.

उसकी चूत में उंगली करते समय मुझे मालूम पड़ा कि उसकी चूत में से पानी बह रहा है.

मैंने पूछा- आंटी आप कह रही थीं कि कुछ काम है?मेरा इतना कहना था कि वो मेरे पास आईं और मेरे गाल पर किस करके बोलीं- रुको तो सही मेरी जान … काम ही काम है तुमसेबस इतने में ही मेरा डर एकदम से खत्म हो गया. उसके घर जाते हुए मुझे एक महीना हो चुका था, तो जाहिर सी बात है कि हम दोनों में अच्छी जान पहचान हो चुकी थी. फिर मैंने टीवी ऑन कर लिया और कुछ सेक्सी सामग्री वाले प्रोग्राम खोजने लगा.

कॉलेज की लड़की की फुल सेक्सी वीडियोउन दोनों ने मेरी बीवी को दरवाज़े की तरफ मुँह करके घोड़ी बना दिया और उसकी गांड के छेद पर थूकने लगा. मैंने अपना सामान रूम में सैट कर दिया और भाभी के साथ बातें करता रहा.

स्थानी सेक्सी मूवी

जीत की खुशी में मैंने उसे किस करते हुए बोल दिया- डार्लिंग, थोड़ा और खेलने दो ना!मुझे डर इसलिए नहीं लग रहा था कि मैं सनी को हमेशा से प्यार करती थी और अभी मैं नशे में भी थी, जिससे कोई शक नहीं कर सकता था कि इनके बीच कुछ चल रहा है. मैं उनकी चूत की अपने हाथ से रगड़ रहा था और जोर जोर से एक बोबे की घुंडी को चूस रहा था. मैं पैसे देकर ये सब काम नहीं कर सकता हूं और न ही मेरे पास इतने पैसे हैं देने के लिए।वो बोले- मैं जानता हूं समीर और पहले ये सब न बताने के लिए मैं तुमसे सॉरी कहता हूं.

जैसे तैसे मैंने कंट्रोल किया और उनको चोदने की ठान ली।ऐसे ही समय बीत गया जुगत लगाते लगाते … पर ना मौका मिल पा रहा था, ना मैं उनसे अपने दिल की बात उनसे कह पा रहा था. मैं शुरू में तो थोड़ा शरमाई, पर बाकी औरतों के कहने पर मैंने हां बोल दिया. हालांकि मैंने कई लड़कियों के साथ सेक्स किया लेकिन उस जैसी आज तक नहीं मिली।मेरी लंबाई 6 फुट है और रंग सांवला है।उस समय मेरी उम्र 24 की थी गर्मियां चल रही थी जब मैंने उसे पहली बार मम्मी के स्कूल में देखा था.

थोड़ी देर में कांतिलाल मेरे ऊपर से उठकर बिस्तर पर लेट गया और मैं वैसी ही पड़ी रही. वो गर्म होते हुए मेरे लंड पर तेजी से हाथ चलाते हुए उसके टोपे को ऊपर नीचे कर रही थी. अगर आज मामी गर्म हो जाती तो आज तो बाथरूम में ही मामी की चूत की चुदाई कर देनी थी मैंने।मामी गेट बंद करके वापस चली गई रसोई में और मैं वापस आकर सोफे पर बैठ गया.

वो मेरी टांगों को चूमता हुआ चूतड़ तक पहुंच गया और किसी भूखे भेड़िये की तरह चूमता हुआ मेरी पीठ और पीठ से दोबारा चूतड़ों तक चूमता रहा. वो वैसे ही मेरे जांघों के बीच अपने घुटनों पर खड़े होकर लिंग हाथ से हिलाता हुआ इंतजार करने लगा.

वो मेरी योनि में उंगली डाल चाट रहा था और मैं एक हाथ से उसका लिंग हिला रही थी, दूसरे हाथ से उसके आंडों को सहला रही थी.

फिर उसने खुद ही मेरे कच्छे में हाथ दे दिया और मेरे लंड को मुट्ठी में भर लिया. नौकरानी सेक्सी वीडियो नौकरानीमगर हम दोनों ही इस बात के इंतजार में रहते थे कि कब हमें चुदाई करने का मौका मिलेगा. एक्स एक्स एक्स सेक्सी कैटरीना कैफपांच साल मैं बाहर विदेश में भी काम कर चुका हूं जिस वजह से मेरी इंग्लिश बहुत अच्छी है. फिर मैंने उसे उसके दोनों मम्मों वाली तरफ से पकड़ लिया और उसने पुशअप लगाने स्टार्ट कर दिए.

फिर उन लोगों के जाने के बाद हम दोनों ने समुद्र किनारे बैठकर एक बियर मंगवाई.

लौंडिया हंसी तो फंसी, मेरे दिमाग में तुरंत ये कहावत गूँज गई और मैं समझ गया कि अपूर्वा भाभी भी चुदने को मचल रही हैं. फिर वो बोली- तो तुमने यहां पर छिप कर क्या क्या देखा?मैंने कहा- तुम्हारी जांघों के बीच का घोंसला. मैं उससे काफी देर तक विनती करती रही, मगर वो कुछ सुनने के मूड में नहीं था.

मुझे ऐसा लग रहा था मानो ये कुछ ही पलों में झड़ जाएगा … पर मेरा अंदाज गलत था. कभी मैं उनके घर जाकर चुदवा लेती थी तो कभी अंकल मेरे घर आकर मौका पाकर मुझे चोद देते थे और चले जाते थे. मुझे खुद भी शादीशुदा औरतों के साथ सेक्स करना बहुत अच्छा लगता है … मुझे शादीशुदा औरतें बहुत ज़्यादा पसंद हैं.

काजल हीरोइन की सेक्सी वीडियो

लेकिन उन्होंने अपनी आवाज को होंठों से बाहर न आने दिया और अंदर ही दबा लिया. उस कामवाली की सहेली की चूत चुदाई की कहानी मैं आपको अगली कड़ी में बताऊंगा. विशाखा कहने लगी- मैं आपको अपने शादी के टाइम से लाइक कर रही थी, पर बोलने में डर लगता था.

लेकिन मुझे पॉर्न देखने का बहुत शौक है और मेरी यह आदत अब बढ़ती ही जा रही है.

पहला आदमी रवि था, जो दिल्ली से था, दूसरा राजशेखर, जो गुजरात से और तीसरा कमलनाथ, जो मुम्बई से आया था.

वो खुद ही मेरी जीभ को अपने मुँह में लेकर चूसतीं, कभी मेरे होंठों पर अपनी जीभ फेरतीं … और मेरे लंड को अपने हाथ से सहलाने लगतीं. यह मेरी रियल स्टोरी आपको कैसी लगी मुझे जरूर बताना। मैंने अपनी मेल आईडी नीचे दी हुई है. सेक्सी शॉर्ट फिल्म्समैं उसकी चूत को चूसने लगा और वो मेरे लंड को मुंह में भर कर चूसने लगी.

मैंने सोचा ‘भाभी आप तो आज रेडी हो, मगर मैं तो कबसे आपको चोदने के लिए रेडी हूँ. मैंने मेल आई-डी नीचे दी हुई है जिस पर आप मुझे मैसेज भी कर सकते हैं. मुझे जगा देख कर भाभी बोली- राज, मेरे पति का वीर्य कमजोर है और वो बच्चा पैदा नहीं कर सकते हैं.

कहानी बन चुकी थी और सबको अपने अपने किरदार के बारे में समझा दिया गया था. इस वक्त मैं नीचे से नंगा था, इसलिए मेरा लंड उसकी गांड पर टकरा रहा था.

जब भी मैं वहां जिम के पास से जाता था, उसे देखने का मौका नहीं छोड़ता था.

कुछ देर बाद मेरा भी दर्द कम हो गया और मैं भी सेक्स का आनन्द लेने लगी. दो बार मॉम की चुदाई करने के बाद मैं सोने के लिए अपने कमरे में जाने लगा. कुछ देर तक मेरे लंड से खेलने के बाद वो बोली- चलो, अब मैंने तुम्हें माफ कर दिया.

सेक्सी महिला सेक्सी फोटो मेरी बगल में राजेश्वरी बड़बड़ाने लगी थी- अब बस … मुझसे नहीं होगा मेरी जांघों में दर्द होने लगा है. वो बोली- यहां नहीं, पहली बार है तो मैं दर्द सहन नहीं कर पाऊँगी और सब खून से खराब भी हो जाएगा.

जैसे ही मैं उसके पास गया तो उसने मेरे सिर के बालों को पकड़ लिया और अपनी साड़ी ऊपर कर दी. बुआ भी नीचे से चूतड़ उठा उठा के मेरा साथ दे रही थी।फिर मैंने बुआ को नीचे खड़ी करके चारपाई पर हाथ रखवा कर घोड़ी बना लिया और पीछे से लंड बुआ की चूत में घुसेड़ दिया।अब मैं जोर जोर से बुआ की चूत की चुदाई करने लगा. उसको मैंने अपनी बातों में फंसाने की कोशिश करते हुए कहा कि अगर तुम मेरी शिकायत करोगी तो मैं भी मकान मालिक से तुम्हारी शिकायत कर दूंगा कि तुम घर में क्या क्या करती हो.

सेक्सी वीडियो अंग्रेजों की फुल एचडी

मेरी बीवी ने उसकी अच्छी सेवा की अपनी बेटी की तरह, मगर उसे ये नहीं पता था कि उसका पति और दिव्या का नकली बाप ही उसकी इस हालात का जिम्मेदार है।[emailprotected]. कुछ देर उसके मम्मों को चूसने के बाद मैंने अपना एक हाथ उसकी सलवार में सरका दिया और उसकी चूत पर रखा, तो मैंने महसूस किया कि उसकी चूत बिल्कुल भीगी हुई थी. क्योंकि शुरू में मैं बहुत शरमाता था … जिसके चलते मैं उनके साथ कुछ कर ही नहीं पाया.

उसके मोटे चूचे दबाते हुए मैं उसकी चूत में धीरे-धीरे लंड को घिसता रहा. वो लहंगा उठा कर मेरी जांघों पर बैठ गयी और झुककर फिर से लंड को चूसने लगी.

मेरी सगी मम्मी लापता हो गयी थी तो मेरे पापा ने अपने से 12 साल छोटी लड़की जो गरीब घर की थी, से शादी कर ली थी.

पांच मिनट के बाद वो एकदम से उठी और मेरे शरीर से लिपटती हुई मुझे बांहों में भरने लगी. भाई और तुम्हारी बातों को सुन कर मुझे तुम पर भरोसा था इसलिए मैं तुम्हारे साथ ये सब करने के लिए तैयार हो गई. उसने अपना लंड मेरी चूत में डाल दिया और जोर से धक्का मेरी चूत में मारा था तो मैं चीख उठी और कुछ देर में मैं सीत्कारें भरने लगी- आह उई उई आह!और वो अपना लंड मेरी चूत में डाल कर मेरी चूत को चोदने लगा.

मैंने लगभग 15 मिनट तक उसकी चूत को चोदा और फिर जब किसी भी तरह से खुद पर नियंत्रण करना मुश्किल हो गया तो मेरे लंड ने भी मेरा साथ छोड़ दिया. 5 इंच मोटे लंड को पकड़ कर अपने मुंह के हवाले कर दिया जिससे मेरा लंड लोहे की रॉड जैसा तन गया।लेकिन मुझे मजा नहीं आ रहा था. मैंने भी समय की नजाकत को समझते हुए कहा- ओके … जान बस थोड़ा दर्द और होगा … फिर तो मज़ा ही मज़ा आएगा.

उन्होंने एक बार मेरी तरफ देखा और फिर ऐसे रिएक्ट किया जैसे वो मेरी इस हरकत पर गुस्सा हो गई हो; वो चाय को रख कर वापस चली गई.

सील तोड़ने का बीएफ: मेरी सहेली के बताये होटल में जाने का हम दोनों ने एक दिन तय कर लिया. अब उसका खड़ा मस्त लंड मेरी खुली गांड से टकरा रहा था और मुझे करवट दिलाने की कोशिश में उसके लंड का सुपारा बार बार मेरी गांड के छेद से टकरा रहा था.

मैं उनके पास गया, तो आंटी ने बताया- गुड़िया को तुमसे कुछ काम है और तुमको कुछ देर के लिए अपने साथ ले जाना चाहती हैं. चुदाई के बाद टेबल के मेजपोश से लंड पौंछ कर बोला- तुम निबटोगे?मैंने मना कर दिया।वह बड़ा थैंकफुल था- अरे यार मजा आ गया! तुमने बड़ी मदद की. फिर उन्होंने कहा- कुछ दवाइयां आपको आज ही मिल जाएंगी और बाक़ी दवाइयां आपको दो दिन बाद उपलब्ध हो पायेंगी।मैंने उनसे कहा- लेकिन आप जरूर यह दवाई मंगवा दीजिए।मैं अपने घर आ गया और घर पर मैंने वह दवाई अपनी मम्मी को दे दी। मैंने अपनी मम्मी को सारा कुछ समझा दिया था.

मेरी इस हरकत से राजशेखर ने झटके मारने बंद कर दिए और उसकी जगह एक गति से तेजी के साथ धक्का मारना शुरू कर दिया.

मैंने आंटी को अपना लंड मुंह में लेने के लिए कहा तो वो कहने लगी कि मुझसे लंड मुंह में नहीं लिया जायेगा. जैसे ही मैं उसकी जांघ तक पहुंचा, उसने आंख खोल कर बोला- भाई, मेरे को बहुत गुदगुदी हो रही हैं. ठीक मेरी तरह ही राजशेखर मुझे तब तक झटके मारता रहा, जब तक उसने अपने वीर्य की थैली की आखिरी बूंद मेरी योनि की गहरायी में न छोड़ दी.