बीएफ ब्लू फिल्म नंगी चुदाई वाली

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो कॉलिंग बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

ગુજરાતી સેક્સ કોમ: बीएफ ब्लू फिल्म नंगी चुदाई वाली, इस वाकिये के बाद मेरी लड़कियों में कोई दिलचस्पी नहीं रही … क्योंकि चुदाई का मज़ा … जो एक भाभी या आंटी दे सकती है, वो मजा लड़की नहीं दे सकती.

हिंदी में बीएफ वीडियो बीएफ

जब तक विशाल नहीं आया, तब तक मैं अपने मम्मों को सहलाते हुए दबाती रही और अपनी चुत पर हाथ फेरती रही. जीजा साली की चुदाई वाली बीएफलंड ने चुत में डुबकी मारी, तो समझ आ गया कि उसकी चूत के अन्दर समंदर जितना गीलापन था.

जब वह रसोई में जा रही थी, तो मैंने देखा कि स्मिता एकदम स्लिम और सेक्सी लड़की थी. हिंदी देसी सेक्सी बीएफ वीडियोऐसे लग रहे थे कि मानो दूध से भरे हों … और उस दूध को आज तक किसी ने चखा ही न हो.

जिस चुत के लिए मैं न जाने कितने दिनों से तड़प रहा था … आज वो मेरे होंठों पर अपना स्वाद चढ़ा रही थी.बीएफ ब्लू फिल्म नंगी चुदाई वाली: तो मैं भी उठ गया।रात में मेरी मम्मी का फ़ोन आया कि आज वे लोग नहीं आएंगे।घर में मैं चाची और पापा ही थे.

जब मैं उनको टच करता, तो वो मुझसे जानबूझ कर कहतीं कि तू दूल्हा बन गया है … तू ये सब अब अपनी घरवाली से साथ करना.वह मना करने लगी- अभी नहीं, बाद में आती हूं … आज दिन में मुझे बहुत काम है.

सेक्सी बीएफ फुल एचडी में हिंदी - बीएफ ब्लू फिल्म नंगी चुदाई वाली

माँ ने मेरी सासु से पूछा- क्या आपको मेरा लड़का पसंद है?सासु कोई जबाव देतीं, तब तक मैंने कह दिया कि माँ मैंने अब तक अपनी बीवियों को छोड़ कर, अपनी सासु और दोनों सालियों की चुदाई का मजा ले लिया है.चाची की बातों से लग रहा था कि अब वो भी तैयार हो चुकी है अपनी चूत को चुदवाने के लिए.

तब भाभी बोलीं- तुम इस बात की बिल्कुल चिंता मत करो, हम दोनों दूसरे कमरे में चलते हैं. बीएफ ब्लू फिल्म नंगी चुदाई वाली अब मैंने आशी को बिस्तर पर लिटा कर उसकी स्कर्ट का हुक खोल कर उसे पूरा उतार दिया.

मेरी जीन्स को मेरी टांगों से अलग करवा दिया और मैं अब सिर्फ ब्रा और पैन्टी में थी.

बीएफ ब्लू फिल्म नंगी चुदाई वाली?

Chhoti Chuchiमैंने पहली बार उसके नंगी चूत और अनावृत मम्मों को देखा. आज मैं तुमको प्यार से सिखाते हुए चोद रहा हूँ … कल को हो सकता है कि तुम किसी नासमझ लौंडे से चुदने का मन बना लो, तो तुम्हारी चुत के तो चिथड़े उड़ जाएंगे. मेरी अम्मी ने मुझसे कहा- नियाज, तू भी अपनी बाजी के पास यहीं रुक जा.

मेरे लंड से निकल रहा वीर्य का प्रेम रस उसकी चूत से बह कर बाहर आने लगा. मुझे बहुत मजा आ रहा था और मैं उसकी गांड के पीछे हाथ ले जाकर उसका पूरा लंड अपनी चूत में घुसवा रही थी. मैं उसे फ्रेंच किस करने लगा और उसकी पैंटी में हाथ डालकर चूत में उंगली करने लगा.

वो मेरे लंड को बाहर निकालना चाहती थी, मगर अभी मैं सेक्सी भाभी से सेक्स ना करके उसे तड़पाना चाह रहा था. मैं फिर से दर्द से चीख उठी- आह मर गई … प्लीज़ प्लीज़ … अब रहने दो … बहुत दर्द हो रहा है … आ … अया … अया. मुझे शरारत सूझी ओर मैंने माँ के पैर ऊपर उठा कर लंड को गांड पर सैट किया और जोर से धक्का दे मारा.

सहमे से स्वर में मैंने उससे पूछा- कंडोम कहां गया?वो बोली- क्यों रे, इतना क्यों परेशान हो रहा है. निशा ने अपना हाथ मेरे शर्ट के अन्दर डाल कर मेरे सीने में फेरना शुरू किया.

जब मैं उनको टच करता, तो वो मुझसे जानबूझ कर कहतीं कि तू दूल्हा बन गया है … तू ये सब अब अपनी घरवाली से साथ करना.

वो हमेशा दूसरी लड़कियों के मम्मों दिखा कर बोलता है कि काश तुम्हारे भी ऐसे होते.

जब भोर मेरी नींद खुली, तो देखा कि हेमा चाची की साड़ी घुटने से ऊपर थी. उसमें लिखा था- तो मेरी प्यारी सरदारनी ने क्या सोचा है?मुझे कुछ समझ में नहीं आ रहा था, मैंने जवाब लिख दिया- अभी कुछ नहीं सोचा है. मैं मन में सोच रही थी कि इस तरह मैं जीजा जी के बच्चे की माँ बन जाऊंगी.

मैंने देखना चाहा कि अन्दर क्या हो रहा है, तो मैं पास में रखी एक टेबल पर चढ़ गई और दरवाजे के ऊपर की खिड़की से झांक कर देखा. फिर एक हाथ से मैं उसकी चुत सहला रहा था और एक हाथ से चूची दबा रहा था. उसने मेरे होंठों पर अपने होंठ रखे और किस करते हुए अपने मुँह में भरी हुई बियर मेरे मुँह में डाल दी.

मैंने लंड को उसकी चूत में ही रखा और दो मिनट के बाद दोबारा से उठ कर उसके होंठों को पीने लगा.

मैं अपने कमरे में गया, और बिस्तर पर लेटे हुए मैं सोचने लगा कि मुझे तो पता ही नहीं लगा कब मेरी छोटी सी बहन आशिमा एक जवान लड़की बन गयी है और आज दूसरे मर्दों से चुदने भी लग गयी है. कुछ कहानी हकीकत में सही लगती हैं और कुछ कल्पनाओं से भरी होती हैं, लेकिन सभी में मजा बहुत ज्यादा आता है. मेरा मन कर रहा था कि जाकर प्यार का इजहार कर दूं, पर हिम्मत नहीं हुई.

मॉम बोलीं- तुम एक काम करना, अबकी बार तुम अपने सारे पेमेंट के कागज मेरे पास रख देना. कोई 10 मिनट तक मेरी चूचियां चूसने के बाद उसने अपना लंड मेरे मुँह में डाल दिया. जैसे ही अब्बू ने एक टांग उठाई तो गीला होने की वजह से उनका पैर फर्श पर फिसल गया और वो नीचे गिर गये.

एक बार मेरे भाई ने मुझे बाथरूम में नंगी देख लिया और उस दिन से वो मेरे सेक्सी जिस्म को भोगना चाहते थे.

वो हंसने लगी और बोली- अब क्या बचा?मैंने बोला- तुम्हारी गांड बहुत सेक्सी है … उसको भी खोलूंगा. कभी वो मुझे अपनी गोद में बैठा कर चोदते थे, कभी अपने ऊपर लेटा कर मेरी ज़ोरदार चुदाई करते.

बीएफ ब्लू फिल्म नंगी चुदाई वाली अन्तर्वासना के सभी पाठकों से मैं कहना चाहता हूं कि आप भी मेरी तरह सेक्स के चक्कर में वेश्यालय का रुख करें तो ऐसा करने से पहले सौ बार सोचें. उसके बाद चाची ने मेरी टीशर्ट को भी उतरवा दिया और मुझे पूरा नंगा कर दिया.

बीएफ ब्लू फिल्म नंगी चुदाई वाली फिर मैंने उसकी चूत के मुंह पर लंड को रखा और एक जोरदार धक्का दे मारा. वो खुद भी एक बड़ी पियक्कड़ और चुदक्कड़ हो गई थी, खुद मेरे लंड को चूस कर खड़ा कर देती और लंड पर बैठ कर अपनी चुत रगड़वाने लगती.

धीरे धीरे हमारी दोस्ती इतनी आगे बढ़ गयी थी कि हम रात 3 बजे 4 बजे तक भी बात करने लग गए.

योनि कितने प्रकार की होती है

वो ठीक से नहीं चल पा रही थी, तो मैं सहारा दे कर उसे उसकी बर्थ तक छोड़ने गया. मैं उसके होंठों को भी साथ में ही चूस रहा था इसलिए ज्यादा देर तक वीर्य के वेग को रोक पाना मुश्किल लग रहा था. मेरी ये पहली बार के सेक्स की कहानी आपको कैसी लगी … मुझे मेल करके ज़रूर बताएं.

बहुत से लोग आपको जानते भी होंगे, लोकेशन मैं बता दूंगा, अगर पांच दिन में आप उन सभी लोकेशन में नौ महीने के एडवांस रेंट पर मुझे आर्डर दिलवाते हैं. दीदी एक पल के लिए मेरी आंखों में देखती रहीं और धीरे से बोलीं- प्लीज ये बात किसी को बताना मत. मैं धीरे धीरे नीचे को होता गया और बुआ की चूत की दरार पर किस कर दिया.

मेरी और मेरे दोस्त या यूं कहूँ कि मेरे एक्स ब्वॉयफ्रेंड अर्णव की कहानी है.

मुझे बहुत दिनों के बाद लंड नसीब हुआ था, इसलिए मैं भी पूरी तबियत के साथ उनके लंड पर मुंह चला रही थीं. रात की बातें सोचते ही मेरा हाथ अपने आप मेरे लंड पर जाने लगा और लंड सहलाने लगा. कुछ देर बाद अनिल एकता के ऊपर आ गया और उसने अपना लंड उसकी चूत पर टिका दिया.

दीदी चिल्लाने लगी- छोड़ो उम्म्ह… अहह… हय… याह… छोड़ो …लेकिन वो नहीं रुका उसने पूरा लौड़ा अन्दर करके ही दम लिया. उसके बाद मैंने मौके का फायदा उठा कर उसके मुंह में अपना मूसल लंड दे दिया और वो मेरे लंड को मजे से चूसने लगी. दोस्तो, मैंने आप लोगों को शिखा के जिस्म की बनावट के बारे में नहीं बताया था.

जब उसकी बेटी को नींद आ गयी तो फिर हमने भी भाभी जी से कहा कि हमें भी नींद आ रही है. मैं तुमको समझना चाहता हूँ कि तुमको क्या पसंद है और तुम मुझमें क्या देखना पसंद करोगी.

मैं धीरे-धीरे उसकी चूचियां दबाता रहा और साथ ही साथ उसके होंठों को भी चूसता रहा जिससे उसे कुछ राहत महसूस हुई. मैं वहीं बेड के पास अपने लगभग पूरे तन चुके लौड़े के साथ खड़ा हुआ था. इसी बीच मैंने धीरे से अपनी एक उंगली उसके चूत में घुसा दी, उसे बहुत दर्द हुआ.

और फिर एकदम से अपना लंड मेरी फुद्दी से निकाला और अपने हाथ से हिलाता मेरे मुँह के पास लाया.

पैन्ट में मेरा खड़ा लंड भी दिखाई देने लगा यहां देख कर बरखा ने मुझे आंख मारी और अपने बड़े बड़े बूब्स को हिलाने लगी जिससे उसका एक बूब्स लगभग ब्लाउज से बाहर निकल ही आया था यह देख कर मेरा लंड भी पूरे जोश में खड़ा हो गयाफिर मैं पंखे की प्लेट को ठीक करने लगा जिससे पंखे में आवाज आ रही थी. फिर मैंने जोर से धक्का देकर बुआ के कमरे का दरवाजा खोला, मैं बुआ के रूम में गया और कहा- बुआ, तेल चाहिए था. मेघा की उछलती हुई चूचियां देख कर मेरा मन भी नंगी होने के लिए करने लगा.

जब अर्पणा ने बड़बड़ाना बन्द किया, तो मैं उसकी जांघों पर हाथ फेरने लगा. मैंने जोश में आकर भाभी के बाल पकड़ कर लंड का एक जोर से धक्का मार दिया और अपना पूरा लंड उनके मुँह में उतार दिया.

वैसे मुझे भी ऐसी दर्द वाली चुदाई पसंद है, जिसमें कोई मुझे गालियां दे, मारे और रंडी की तरह चोदे. उसने जोर देकर कहा कि कोल्ड ड्रिंक सफेद रंग वाली नहीं बल्कि काले रंग की होनी चाहिेए यानि कि उसका इशारा कोला की तरफ था. दोनों को काफी खुशी हो रही थी कि इतने दिनों के बाद हमें इस तरह से साथ में वक्त बिताने का मौका मिला है.

पंजाबी देहाती सेक्सी वीडियो

जब वह मेरे पास वापस आया, तो चुपके से उसकी मम्मी की फोटो खींचकर लाया था.

जैसे ही लंड अन्दर घुसा, मॉम की एक हल्की सी आह निकली और उन्होंने पापा के लंड को अपनी चुत में गायब कर लिया. वो भी चुदाई में गांड ऊपर कर करके पूरा साथ दे रही थी … और बीच बीच में उसकी आवाजें ‘मुझे चोद दो … आह … मुझे रंडी बना दो … अब मैं सिर्फ तुम्हारी हूँ. मैंने उसके सूट का कुर्ता जैसे ही उतारना शुरू किया, तो उसने हाथ ऊपर उठाकर मेरी हेल्प की.

लोहा गर्म हो चुका था, उसके चूतड़ उठाकर मैंने एक तकिया रख दिया और एक धक्के में लण्ड का सुपारा उसकी बुर के अन्दर कर दिया. उसकी पानी छोड़ रही चूत में जाकर मेरा लंड पूरा चिकना हो चुका था और ऐसा लग रहा था कि मैं किसी चिकनी सुराही में लंड को फंसा रहा हूं. बीएफ मोबाइलयदि हम दोनों उनकी चुदाई करें, तो तुमको कोई ऐतराज तो नहीं होगा?पहले तो मिष्टी चुप रही, फिर बोली- मुझे कोई दिक्कत नहीं है बल्कि मैं खुद तुम दोनों की इस काम में मदद करूंगी.

इसलिए तेरे पापा कुछ विदेशी टॉयज़ देकर गये हैं जिनसे तुम्हारी मॉम सेक्स करके अपने आप को संतुष्ट कर सकती है. आज जवाब मिल गया ना? इनसे मिलकर वो मिलता है जिसे पाने के लिये अच्छी खासी पढ़ी लिखी लड़की कुतिया बनकर खड़ी हो जाती है.

प्रीति बोली- ओह, तो ये मैसेज देख रही थी तू?उसने आरिफ़ा को उसी का फोन उसके चेहरे के सामने करके चुदाई की नंगी फोटो दिखाते हुए कहा. अनिल ने तभी उसकी ब्रा का हुक खोलकर ब्रा भी निकाल दी और उसके चूचों को बारी बारी से चूसने लगा. मुझे ऐसा लगा कि जैसे कोई मेरे चूचों पर हाथ रख कर उनको छेड़ने की कोशिश कर रहा है.

वो मुझसे अलग हुयी और बोली- साले रुक तो जा … गेट तो बंद करने दे … कोई आ जाएगा … या कोई देख लेगा … तो लोग क्या बोलेंगे. वो बोली- मैं घर पर अकेली थी और बोर हो रही थी इसलिए तुमको फोन कर दिया. मुझे पता था कि चाचा मेरी चाची की चूत चुदाई जमकर करते होंगे, तभी तो चाची ने इतनी कम उम्र में चार बच्चे पैदा कर डाले.

वैसे तो उसकी चूत काफी गीली हो गई थी, तो लंड का सुपारा आराम से ही अन्दर चला गया.

मैंने कहा- अगर तुम्हारा पति आ गया तो?वो बोली- उसको ये भी नहीं पता कि वो कहां पड़ा हुआ है. एक बात मैं आपको बता देती हूं कि मेरी सील सुहागरात वाले दिन मेरे पति ने ही तोड़ी थी, उसके पहले मैंने कभी नहीं चुदवाया था.

उसका लंड सो चुका था मगर सोया हुआ लंड भी 6 इंच का लम्बा और 3 इंच का मोटा लग रहा था. आप सभी को मेरी दीदी की फोन सेक्स चैट और चुदाई कहानी पर क्या कहना है … कमेंट्स करके जरूर बताना. करीब पांच मिनट तक उसने मेरे लंड को चूसा और जब थक गई तो हांफते हुए उसने मेरे लंड को बाहर निकाल दिया.

मैं ब्लू-फिल्म में जिस तरह से सेक्स होता देखता था, मेरा उसी के जैसे सेक्स करने का मन करता था. पर मुझे आज धक्का देने में मजा नहीं आ रहा था तो मैं बिस्तर पर लेट गया और मैंने उसे कहा कि वह मेरे ऊपर आ जाए. मेरी बहुत सारी महिला मित्र रही हैं पर मैं किसी के साथ संबंध बनाने में थोड़ा धैर्य रखता हूं.

बीएफ ब्लू फिल्म नंगी चुदाई वाली आह्ह … और मत तड़पाओ मुझे!मगर उसको मुझे तड़पाने में जैसे मजा आ रहा था. कोई बात नहीं … आखिरकार मेहनत रंग लाई।अब मॉम ने मुझसे अपने आप को अलग किया और बोली- बेटा टैबलेट खा ले.

लोकल देहाती सेक्सी

मैंने कहा- इतनी भी जल्दी क्या है मैडम? थोड़ा तो मजे लेने दो!तो वो कहने लगी- विकी, प्लीज तुम मुझे मैडम मत बुलाया करो. इसके बाद हम दोनों ने एक लंबा लिप लॉक किया और दूसरे को प्यार से गुडनाईट बोल कर अपने अपने कमरे में सोने चले गए।आपको मेरा टीचर के साथ सेक्स का पहला अनुभव कैसा लगा जरूर बताएं।आप के विचारों और सुझावों का स्वागत है।[emailprotected]पर सम्पर्क करें।. वैसे तो हम दोनों में काफी अच्छी दोस्ती थी मगर मुलाक़ात नहीं होती थी.

उनका लंड चूसने का स्टाइल बड़ा मस्त था, मेरे मुँह से भी कामुक आवाजें आने लगीं. इधर मेरी गर्लफ्रेंड की चूत उसकी नौकरानी के जवान जिस्म को छूकर पानी-पानी हो जाती थी. एक्स एक्स एक्स हिंदी वीडियो सेक्सी बीएफमुझे पता है कि तू कितनी चुदक्कड़ है और तूने कितने लंड लिये हैं अब तक अपनी चूत में.

आराम से कर!इतना सुन के मुझे जोश आ गया और मैं बोला- साली, अब तू मेरी रंडी है … मैं जैसे चाहे चोद सकता हूँ तुझे … ले और ले मेरा लंड!और मैंने अपना पूरा लंड मामी की कसी चूत में पेल दिया.

उस समय मेरे मन में उसको लेकर ऐसा कोई विचार नहीं था कि कभी इसे चोद सकूंगा. वो बोली- इसीलिये तुम अपने पापा और मुझे रात को सेक्स करते हुए देखते हो?मैंने कहा- मम्मी, प्लीज आप पापा को इस बारे में कुछ मत कहना.

मेरी इस भेड़िये सी भूखी नजर को उसने भी तीन से चार बार नोटिस कर लिया था लेकिन वो चुप थी. तभी बाकी के साथी लोग भी बाइक के पास ग्रुप में तस्वीर लेने के लिए आ गए. आशिमा अपने कमरे में गयी, अपना बैकपैक रखा, अपने बैग से अपना सिप्पर निकाला पानी पीया और वाशबेसिन के सामने जाकर मुंह धोने लगी.

और जो स्वर्गिक सुख गर्म चूत के आखिर तक घुस कर पिचकारी छोड़ने का है, वह मुठ में कहाँ.

वो चाहते थे कि मेरे स्तनों में दूध आ जाए क्योंकि उनको औरतों के स्तन का दूध बहुत अच्छा लगता है।इस तरह से मॉम सेक्स स्टोरी सुनाने लगी मुझे. इस प्रेम यात्रा में हम दोनों ने एक दूसरे को कई बार तृप्त किया और इस प्यार का परिणाम एक जोड़े के रूप में बन जाना अभी प्रतीक्षित है. उसने इसका अहसास होते ही मुझसे बोला- क्यों घूर रहे हो मुझे? कभी कोई लड़की नहीं देखी क्या लेटी हुई?मैंने कहा- लेटी हुई तो बहुत देखी हैं लेकिन रात में इतनी खूबसूरत और हसीन … वह भी अकेले में इतने पास से आज तक ना देखी, ना छुई!इतना सुनते ही जैसे उसने अपने यौवन पर इतराते हुए मेरी तरफ को अंगड़ाई ली.

बीएफ ब्लू फिल्म हिंदी में दिखाइएइसमें ख़ास बात ये थी कि अंकल का लंड इतना जबरदस्त होने के बावजूद भी मेरे भाई अनिल ने आंटी को पटा कर चोद दिया था. हम दोनों रात भर एक-दूसरे के जीवन के विषय में जानकारी का आपस आदान प्रदान करते रहे और हम दोनों ने कई सेल्फी भी लीं.

क्लासिक मिशनरी का अर्थ

वास्तव में उसमें मैंने नींद की एक विशेष दवाई की हल्की डोज़ थी … ताकि शीनू मस्त होने के साथ सो भी जाए. एक तो मेरे क्लाइंट रवि जी का था, उनसे मैंने बात की और 12 बजे का टाइम फिक्स कर लिया. मैंने अपने लंड को अपने हाथ में रख कर उसके योनि के मुंह पर सटा कर धीरे धीरे अंदर करना शुरू किया.

इतने में मैंने आशी के पापा को नंगा कर दिया और उनका लंड हाथ में लेकर सहलाने लगी. कभी मेरी चूचियों को दबा रहा था तो कभी मेरी चूत में उंगली से चोद रहा था. मैं चुत में लंड से धक्का लगाने लगा, तो उसने कहा- आराम से कर … जल्दी क्या है?मैंने कहा- ठीक है … ले साली मजा ले.

आपको मेरी इस पारिवारिक चुदाई की कहानी में आगे और भी मजा आने वाला है. मैंने तुरंत लंड बाहर निकाल लिया और उसके छेद को देखा, तो वो तेज़ी से सिकुड़ रहा था और फैल रहा था. आराम से कर!इतना सुन के मुझे जोश आ गया और मैं बोला- साली, अब तू मेरी रंडी है … मैं जैसे चाहे चोद सकता हूँ तुझे … ले और ले मेरा लंड!और मैंने अपना पूरा लंड मामी की कसी चूत में पेल दिया.

खैर, अब लड़के का पूरा ध्यान आशिमा कि चूत पर था, उसने नीचे की और हाथ करके उसकी चूत में उंगलियाँ जल्दी-जल्दी अन्दर बाहर करनी शुरू कर दीं. मेरा लंड उनके हाथों की दबोच में आ चुका था, जिसे वो भूखी शेरनी सी मसल रही थीं.

दीदी की गोरी गोरी जाँघों के बीच फंसी उनकी ब्लैक कलर की पैंटी क्या मस्त भीगी हुई अपनी महक छोड़ रही थी.

मुझे अब हर हाल में सेक्स चाहिए था, मुझे अपना लोड़ा या तो किसी के मुंह में ठूँसना था या फिर चूत या गांड में घुसाना था, जो भी हो हर हाल में मुझे अपना कामरस निकालना था. मराठी सेक्सी बीएफ हिंदी मेंये सोच कर मुझे थोड़ी राहत मिली कि मौसी ने मेरी बात किसी को नहीं बताई. बीएफ ब्लडअपनी चिकनी उंगलियों को मैंने उसकी गांड में डाल दिया ताकि लंड को अंदर गांड में देने से पहले उसकी गांड के छेद को चिकनाई प्राप्त हो जाये और उसको लंड लेने में ज्यादा तकलीफ न हो. फिर चाची मेरे साथ राशन की दुकान पर सामान लेने के लिए गयी थी तो मैंने उनसे शिकायत की.

मैंने और दीदी ने भी कपड़े पहन लिये और घर वालों के आने से पहले हमने सारे घर को साफ कर दिया.

उनके स्तन सामान्य हैं पर थोड़े लटके हुए रहते हैं उनकी गांड का साइज बड़ा है लगभग 44″ होगा। उनके पेट पर प्रेग्नेंसी के स्ट्रेच मार्क हैं। वे दिखने में सामान्य हैं गोरी … हाउस वाइफ हैं।मैं छोटे से बड़ा उन्हीं के घर में हुआ था, सब अच्छे से जानते थे।बात नवंबर के दिनों की है. मैंने उसे अपनी बांहों में खींचते हुए चूमा और कहा- जान बस थोड़ी देर रुको. पूरा लण्ड उसकी बुर में पेलकर मैं उसके होंठ चूसने लगा तो वो साथ देने लगी जिससे मेरा जोश बढ़ गया.

तभी पापा बोले- मेरी जान … एक राउंड और हो जाये?तब चाची बोली- नहीं!और जाने लगी. उन्होंने दूध दबाते हुए देखा तो बोलीं- अच्छा … इसीलिए रोमांटिक मूवी देखनी थी. मैं घर में चैन से सो रहा था कि अचानक ही सुबह के 9 बजे के करीब आंटी का फोन आ गया.

जुग जुग जिया तू ललनवा

मनपसंद चूत और मेरे प्यासे लंड के बीच में कुछ ही मिनटों का फासला रह गया था. उसके लंड के पानी इतना ज्यादा निकला था कि मेरी पूरी चूत भर गई थी और रस बाहर निकलने लगा था. वो बोली- तुम मुझे अपनी गर्लफ्रेंड क्यों नहीं बना लेते?मैंने कहा- मगर आप तो पहले से ही शादीशुदा हो.

मैं लगातार उसके पैरों को हवा में उठाए हुए पकड़े था और उसको अपने होंठों से ही चूम और चूस रहा था.

कोई पांच मिनट तक मेरी गांड में उंगली करने के बाद उसने अपने लंड और मेरी गांड में जैली को मल लिया.

मामी पूछने लगी- क्या तरीका है? पूरा बताओ ना?मैं- मामी जी, मैं कैसे बोलूं … कहते हुए आप से डर लगता है. इसलिए हम दोनों काफी समय तक साथ रहते हुए पढ़ते और बातें करते रहते थे. एचडी बीएफ सेक्सी मराठीजोर जोर से मैं उसकी चूत में लंड को धकेल रहा था और वो भी पूरा लंड अपनी गर्म चूत में आसानी के साथ ले रही थी.

मैं भी उसे चोदना चाहता था, लेकिन मेरा मन था कि उसे कम से कम दर्द हो और उसका पहला अनुभव अच्छा हो. वो बोली- फिर तो लगता है कि मेरी भाभी की चूत की चुदाई सही तरीके से नहीं हुई है. फ़िर मैंने धीरे से अपना लंड उसकी चूत के मुँह पर रखा और झटके से एक धक्का दे मारा.

मैंने उसको हंसते हुए सुना, तो मैं समझ गया कि जिया इस वक्त अच्छे मूड में है. मेरी अम्मी ने मुझसे कहा- नियाज, तू भी अपनी बाजी के पास यहीं रुक जा.

पहले तो दीदी नानकुर कर रही थीं, लेकिन बाद में वो मेरा साथ देने लगीं.

शायद हम इस मुकाम तक पहले भी आ सकते थे, लेकिन मेरा प्यार किसी प्रकार की जल्दबाजी और मौकापरस्ती से दूर रहना चाहता था. वो कह रही थी कि जानू आज तो मसल दो इन्हें … इनका साराह रस निचोड़ दो … आज मैं तुम्हारी हूँ. मैं भी चुदाई की जन्नत की सैर का मजा लेने लगी- आह चोद दे साले कमीने … आ … आह … ऐसे … ही … पेल पूरा … हां … ऐसे चोद मादरचोद मुझे … फाड़ दे मेरी चुत को!कोई 20 मिनट की ताबड़तोड़ चुदाई के बाद वो मेरे अन्दर ही झड़ गया और ढेर हो गया.

सनी लियोन की सेक्सी बीएफ सनी लियोन की हम दोनों एक दूसरे से बात करने लगे और इस वक्त हम दोनों खुल कर बात न करने की जगह हिचक हिचक कर बात कर रहे थे. मॉम मेरे गाल पर और होंठ पर चुम्मा करके बोली- मेरे प्यारा बेटा, तू बहुत अच्छा है, तुझे अपनी मॉम को बहुत चिंता रहती है.

मेरी पत्नी ने अपनी मम्मी से बात की और मेरी साले की पत्नी को मेरे यहां बुलवा लिया. उसके हाथों को बांध कर मैंने उसको नीचे झुका कर पीछे से उसकी चूत में लंड को डाल दिया. मॉम की हाइट मेरे जितनी ही थी इसलिए खड़े खड़े बूब्स चूसने और दबाने में मुझे तकलीफ़ होती तो मैंने मॉम को पलंग पर पालथी मार के बैठने को बोला.

डॉग की सेक्सी पिक्चर

अब आगे:मेरे मामा और मामी अपनी सुहागरात मना रहे थे तो मैंने मामी की नंगी चूत देख ली थी. अब मैं नीचे लेट गया और अपने ऊपर निशा को लेटा कर उसकी चूत में लंड डाल दिया. अब उसके मुंह से कामुक आवाजें आने लगीं और पूरे कमरे में फक-फक की ध्वनि गूंजने लगी.

मैंने पूछा- क्या हुआ?वो मुँह बनाते हुए बोली- इतने सीधे मत बनो … आपने पूरा रस अन्दर ही डाल दिया था. जब मुझे लगा कि ये हाथ किसी और का है, तो मैंने तुरंत हाथ छोड़कर पीछे पलट कर देखा.

मैंने अपनी गर्लफ्रेंड के होंठों को किस करने के लिए उसको अपने पास खींचा मगर वो कहने लगी कि पहले खाना खा लेते हैं.

भाभी के चूतड़ बहुत ही मुलायम थे, मेरा तो उन पर से हाथ हटाने का मैंने ही नहीं हो रहा था. मॉम ने मुझसे कहा- आराम से … अपनी चाची को आराम से चोदो … आज तुम इसे बहुत समय तक चोद सकोगे. मैंने कहा- आप जा रही हो?मोसी ने मेरी तरफ देखा और बच्चों को बाहर भेज दिया.

उनके चूतड़ों का आकार बड़ा होने की कारण मेरी जांघों की थाप आवाज करने लगी. मैंने पहले चुत को सूंघा और तुरंत अपने सारे कपड़े उतार कर उनके साथ बिस्तर पर आ गया. फिर क्या था अपनी तो जैसे लॉटरी लग गई!सुबह मैं जल्दी ही उठ कर नहा धो कर तैयार होकर मामा के घर पहुँच गया.

यह सुनकर मैं दिल ही दिल खुश तो बहुत हो रहा था पर मैं गुस्सा होने का नाटक भी कर रहा था.

बीएफ ब्लू फिल्म नंगी चुदाई वाली: मैं घर की सारी पोजिशन समझ कर अपने रूम में चला आया और सोचने लगा कि अनुजा को कैसे चोदा जाए. जो भी जवान मर्द हैं वे समझते होंगे कि कई बार आदमी ऐसे स्थिति में पहुँच जाता है जहाँ ठरक से वह पागल हो चुका होता.

जैसे ही लंड अन्दर घुसा, मॉम की एक हल्की सी आह निकली और उन्होंने पापा के लंड को अपनी चुत में गायब कर लिया. फिर मैंने वैसलीन की डिब्बी से काफी सारी वैसलीन निकाली और उसकी गांड पर मलने लगा. मैंने जिग्नेश को फोन किया और उससे मज़ाक मज़ाक में रीना और उसकी प्रेम लीला की कोई फोटो या वीडियो क्लिप मांग ली.

उसकी लंबाई ज्यादा नहीं है, पर स्तन बड़े बड़े हैं और बाहर से ही साफ़ नुमाया होते हैं.

मैंने एक हाथ छोड़ कर लंड को हाथ से सैट किया और जोर से धक्का दे मारा. मैं बोला- मॉम, आप क्या ये कपड़े अभी पहनने वाली हो क्या?मॉम बोली- हां बेटा, अभी चेंज करके थोड़ी देर नींद ले लेती हूं. मैंने कारण पूछा, तो वह बोली- एक तो दीदी की टेंशन होती है … दूसरा बहुत दर्द हो रहा है.