किन्नर की बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,हिंदी बीपी चोदा चोदी

तस्वीर का शीर्षक ,

पंजाबी मराठी सेक्सी: किन्नर की बीएफ सेक्सी, फिर मैं भाभी को लेकर बिस्तर पर आ गया और बुआ वहीं रूक कर खाना बनाने लगीं.

सेक्सी फिल्म बीएफ ब्लू

बाद में विनी का मैसेज आया ‘भाई मैं गांव से वापस जा रही हूँ तो वहां आओगे क्या?’मैंने कहा- जरूर मेरी जान. बीएफ गांव की लड़कियों कीहम दोनों को चुदाई करते हुए टाइम का पता ही नहीं चला, मस्ती से लगे थे.

मैं उसके मुँह में लंड पेल कर उसका मुँह चोद रहा था और उसकी चूत को भी चाट रहा था. हिंदी बीएफ नई नईहालांकि ये उसकी पहली चुदाई नहीं थी क्योंकि पहले भी वो एक बार अपने दोस्त से चुद चुकी थी लेकिन वो लड़का कोई अनुभवहीन ही था जो प्रिया की चूत तक नहीं खोल पाया था या फिर उसके लंड में इतना दम ही नहीं रहा होगा.

मैं- अरे भाभी, मैं इतना जालिम थोड़ी हूँ, जो अपनी प्यारी भाभी को कष्ट दूंगा.किन्नर की बीएफ सेक्सी: कहानी के पिछले भागपार्टनर बदल बदल कर चुदाईअब तक आपने पढ़ा था कि लड़कों ने ये तय किया था कि वो हम चारों लड़कियों की आँख पर पट्टी बांध कर कुछ करेंगे.

एक तरीके से पहली बार अरुणिमा ने मुझे ताना मारा था और सही भी था, मेरी कायरता के कारण ये स्थिति बद से बदतर हो गई थी.मैं गाड़ी चलाते चलाते चोदने की कोशिश करूंगा क्योंकि इस रास्ते में गांव वाले आते जाते रहते हैं, रुकी गाड़ी में ये सब करना ठीक नहीं होगा.

सुहागरात में क्या करें - किन्नर की बीएफ सेक्सी

मम्मी पापा और चाचा चाची सब ऑफिस निकल जाते थे और हम दोनों स्कूल चले जाते थे, तो घर पर कोई नहीं होता था.मैं उसके मुँह में लंड पेल कर उसका मुँह चोद रहा था और उसकी चूत को भी चाट रहा था.

शुरुआत में तो मुझे डबल सेक्स से काफी तकलीफ हुई मगर कुछ समय बाद मुझे भी पूरा मजा आने लगा. किन्नर की बीएफ सेक्सी थोड़ा आराम करने के बाद सुनील मुझे प्यार करने लगे, मेरी चूची दबाने लगे.

उन्होंने हाथ बढ़ाया कि मुझे रोकें, लेकिन आधे रास्ते में ही अपने हाथ को रोक लिया.

किन्नर की बीएफ सेक्सी?

मैंने भी शरारत करते हुए पूछा- क्या दोगी … बताओ तो चाची?उन्होंने आंख मारते हुए कहा- अगर सिम लाकर दोगे, तो मैं तुम्हें बहुत मजा दे सकती हूं. आंगन में उसको लिटा कर मैंने नाभि में अपनी उंगली डाल दी और उसकी चूत के पास जाकर अपनी जीभ फेरने लगा. आसपास क्या हो रहा है, सब कुछ भूल कर बलवीर अंकल का घोड़े जैसा लौड़ा मुँह में भरकर, वो जी लगाकर चूसने में लगी थी.

आयेशा ने उसे धक्का देकर अपने से दूर कर दिया और कहा- भोसड़ी के, आज हम नहीं, तुम मरवाओगे. अब तक मेरी पेशाब संजना की चूत से होते हुए बहने लगी और मूत की गर्माहट से उसको भी अद्भुत सुख मिलने लगा. सुबह 9 बजे तक शादी की सभी रस्में पूरी हो गईं और अब विदाई का समय आ गया.

मैं समझ गया था कि मीनू को अंकल पसंद आ गए हैं इसलिए मैं उन दोनों से थोड़ा हट कर चलने लगा था. दोस्तो, मेरी गर्लफ्रेंड की कुंवारी चुत का शीलभंग हो गया था मगर चुदाई का आलम अभी जारी था. मेरी नजर आसिफा की अम्मी पर पड़ी, पहले तो मेरी गांड फट गई … लेकिन मैं इस बार उनको नजर अंदाज करके और तेजी से आसिफा को चोदने लगा.

मैं- नाश्ते की अब कोई जरूरत नहीं है जान, तुमने मुझे वो दे दिया है कि अब किसी चीज की जरूरत नहीं है. वो अपनी जीभ से सुपाड़े से लेकर लंड की जड़ तक ऊपर से चाटती, फिर उसके बाद सुपारे पर आकर पूरे सुपारे को मुँह में लेकर जड़ तक लंड को मुँह में लेने की कोशिश करती.

आप सभी जानते हैं कि मैं और आयेशा कितनी बार लेस्बियन सेक्स कर चुके हैं.

गाउन उसके बदन पर से फिसलता हुआ उसके पैरों पर गिर गया और वो पूरी तरह से नंगी हो गई.

तब अम्मी बोलीं- कहां पर जाना होगा?धीरज ने एरिया का नाम बता दिया और अम्मी से चुदाई करके चला गया. वो आईटीआई बड़ी रांड हो गई थीं कि एक ही बार में पूरा लंड मुँह में गले तक अन्दर लेकर निकाल रही थीं. मैंने उसकी एक टांग को उठाया, उसको अपने कंधे पर टिकाया और दूसरी टांग को बेड पर फैला दिया.

एक तो स्कार्पियो की गति बाइक की तुलना में ज्यादा ही होती है और दूसरा मुझे निकलते भी बीस मिनट से ऊपर हो गया था. वो बोली- तुम बिल्कुल चूतिया हो क्या … साले अपने लौड़े का साइज़ नहीं देख रहे हो. मैंने भी बीवी की बात सुनकर फेसबुक पर एक फेक आईडी बना ली और अपने लिए माल की तलाश करने लगा.

वो लोग लड़की की जगह लड़कों की तरफ आकर्षित होते हैं और गांड मरवाना पसंद करते हैं.

मैंने पहले तो उल्टा लिटाया और उसके चूतड़ों को हाथों से पकड़ कर मजे लिए. नेहा के लिए विकास का इतना सब नाकाफी था; वह चाहती थी कि विकास खुलकर पहल करे. अब ये तुम्हारी जिम्मेदारी है … तुम इस मोटी भाभी की टाइट चुत की चुदाई करके इसका भोसड़ा बना दो.

मदन जी ने भी नहाकर, नया कुर्ता पाजामा पहना और वो अपनी शादी के लिए दूल्हा बन गए. रात को खाना खाने के बाद मैं उसके रूम में गई और मैंने सीधे सीधे भैया से पूछा कि वो लड़की कौन है?नमन भैया ने थोड़ा झिझक कर कहा- फ्रेंड है. मगर अचानक मुझे लेटे लेटे एक आईडिया आया तो मैं आयेशा के पीछे बाथरूम में चली गयी.

अब उसे बेडरूम में लाकर खड़ा कर दिया और उसकी पीठ की तरफ से उससे लिपट गया.

मैं तुरंत उठा और जल्दी से अपने कपड़े पहन कर अपने रूम में जाकर मोबाइल देखा. मैं कभी नीचे होकर उसकी नाभि को चूम रहा था तो कभी ऊपर आ कर उसकी गर्दन को.

किन्नर की बीएफ सेक्सी मेरी अम्मी अभी भी बाबा नाजिर से सेक्स करती हैं और अम्मी को जो भी काम हो, वो बाबा नाजिर से पूछ कर ही करती हैं. वो भी मस्ती में बोली- हां चोद दे साले प्रदीप … और तेज चोद अपनी इस भैन की लौड़ी को … आज इसको अपनी रांड बना ले और मेरी चूत का भोसड़ा बना दे.

किन्नर की बीएफ सेक्सी मेरी पिछली सेक्स कहानीफेसबुक गर्लफ्रेंड के साथ सुहागरातआपको कैसा लगी? प्लीज़ मेल जरूर करें और आपसे निवेदन है कि मुझसे किसी तरह की पर्सनल जानकारी या नंबर बिल्कुल भी न मांगे. चाची की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई तो मैं अपने तने लंड को उनकी गांड पर रगड़ने लगा.

मैं गले में पट्टा, जिस पर रस्सी बंधी होती, पहनकर, सिर्फ ब्रा पैंटी में आंख पर पट्टी बांधकर, घुटने के बल एक तकिये पर खड़ी चौधरी जी के आने का इंतजार करती.

बीएफ सेक्स वाला सेक्स

इस वक्त सेक्स की चाहत में मुझे पता ही नहीं चला कि लंड जो मेरी चूत में घुस गया है, वो ज्यादा मोटा भी था. अब आगे बिग डिल्डो सेक्स कहानी:आयेशा अन्दर चली गई थी और वापस आते टाइम 2 डिल्डो ले आई. मॉम ने मुझे नकली गुस्से से देखा, लेकिन अभी तक उन्होंने अपनी सलवार सही नहीं की थी.

हमें मजे करने के लिए कहीं दूसरी जगह जाने की भी जरूरत नहीं पड़ेगी और लोगों को शक भी नहीं होगा. गे गांड फाड़ स्टोरी में पढ़ें कि मैं चिकना लड़का हूँ, लड़की बन कर 5 पतियों से शादी की, सबसे गांड मरवाई. यह सेक्स कहानी आपको काफी अच्छी लगी होगी, बहुत लोगों ने मुझे ईमेल भी भेजे.

सेकंड वाइफ सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैंने अपनी दोस्त को सुहागरात का मजा देने का सोचा.

आंटी भी मुझे जोर से गले से लगा लेतीं, मैं बिल्कुल से उनके चूचों से सट जाता. वो भी चुदाई का आनन्द लेने लगीं और बोलने लगीं- सच में बहुत मजा आ रहा है. फिर 10 बजे मैंने अपने मोबाइल में एक पांच मिनट बाद का आटो कॉल लगा दिया.

मैं राजी नहीं हुई क्योंकि 6 लोगों के एक साथ चुदाई से मुझे डर लगता था और चौधरी जी का इतना बड़ा और मोटा लंड देखकर बाक़ी पांच पतियों को कुंठा भी हो सकती थी. हम दोनों रोहित के आने का इंतज़ार करने लगीं और उसी के साथ में खाने का भी. आयेशा ने कहा- वो प्रोग्राम तो रात का है न तो बहनचोद अभी क्यूं उठा दिया.

और मैं करूं भी क्यों ना … जब माल खुद मुझे रोज चुदाई के लिए मिलने की बात कह रही थी. घर में अन्दर पहुंच कर उसने मुझे बिठाया और खुद अन्दर कमरे में जाकर अपनी नाइटी पहनी और मुझे भी एक कुर्ता पाजामा पहनने के लिए दे दिया.

मैंने उससे पूछा कि क्या हुआ?उसने कहा कि कल मोहित ने अपना पानी मेरी चूत में डाल दिया और मैं प्रेग्नेंट नहीं होना चाहती. कहानी के पिछले भागपार्टनर बदल बदल कर चुदाईअब तक आपने पढ़ा था कि लड़कों ने ये तय किया था कि वो हम चारों लड़कियों की आँख पर पट्टी बांध कर कुछ करेंगे. कुछ देर में हम दोनों थक गए थे और अब शायद हमारा रस भी मिल जाने को आतुर था.

मैंने पूछा- बोल भाभी … तेरी सुहागरात कैसे मनी?वो बोली- उस दिन पीरियड चल रहा था.

मेरी ये Xxx अंकल चुदाई कहानी आपको कैसी लगी, आप अपनी राय नीचे कमेंट में जरूर दीजिए और मुझे मेल भी कीजिए. मैंने जल्दी से अपने फोन से एक ओयो रूम बुक किया और उसके बाद हम रूम की तरफ चल दिए. मुझे इस बैड सेक्स रिलेशन का बिल्कुल भी अफ़सोस नहीं था उस पल!एकाएक मंजू ने फिर से रोहित को धक्का दे दिया और उसका पूरा लंड मेरी चूत में चला गया.

एक वक्त पे मेरी चोली में करीब आठ नौ हाथ थे।हाथ निकले तो चोली भी साथ ही निकल गई. मैं ज्यादा सब्र नहीं कर पाई और रोहित से बोली कि अपना लंड मेरी चूत में डाल दो.

मुझे उन दोनों से चुदने के लिए हिम्मत चाहिए थी जो दारू से मिल सकती थी. वो अपनी सहेलियों के सामने बनावटी अंदाज में नाराज होने लगी- ये सब बातें मत करो प्लीज … मुझे ये सब अच्छा नहीं लगता. ये सुनकर आंटी मुस्कुरा दीं और उन्होंने मुझसे अपना सर दबाने के लिए हां कह दी.

बीएफ ब्लू मूवी फिल्म

मैंने कहा- यार सब लोग घर पर होंगे, फिर कैसे खिलाओगी?वो बोली- भाई मामा के घर गया है और मम्मी पापा, किसी की डेथ हो गई थी, तो वहां गए हैं.

नेहा की चूत का दर्द थोड़ी देर बाद कम हुआ, तो विकास ने फिर से हल्की-हल्की चोट मारनी चालू कर दी. कभी दो लोग एक साथ अरुणिमा की चूत गांड मार रहे थे तो कभी कोई अकेला उसकी चूत या गांड मार रहा होता. अगर आपके पास वक्त है तो एक बार हम कैसुअल मीटिंग कर लें?मैंने उन्हें आने के लिए बोल दिया.

आंटी बोलीं- देखा, मेरी चूत तुम्हारा लंड लेने के लिए कितनी व्याकुल है. दोनों इतनी आक्रामक चुदाई कर रहे थे कि एक बार तो अरुणिमा की भी गांड फट गई, पर जैसे तैसे उसने खुद को संभाला और प्रोफेशनल रंडी की तरह पोज़ दे दे कर चुदवाती रही. एक्स मास्टर लाइव ऐपमैंने भी उसकी सलवार का नाड़ा खोल दिया और उसकी पैंटी के अन्दर हाथ डाल कर उसकी चूत को सहलाने लगी.

चारों ने मुझसे पूछा कि आज रात एक एक करके तुम हम सबके साथ सुहागरात मनाना चाहती हो या अलग चार रातों में अलग पति के साथ?मैंने सर झुकाकर शर्मा कर कहा- आप लोग मेरे पति हैं, आप लोग जैसे बोलें. मुझे एक के बाद एक झड़ने का अनुभव होने लगा।धीरज और दीपक की पेला पेली में मैं तीन बार झड़ चुकी थी.

मैंने उसके पास जाकर पूछा- हाई सिमरन … किसका इंतजार कर रही हो?वो मुझे देख कर मुस्कुराई और बोली- अरे आप … मैं बस का इंतजार कर रही हूँ. उसके आंसू, मुस्कान में बदल गए और वो मेरे सीने से लगकर बोली- समीर, आज मैं बहुत खुश हूँ और मैं ये भी जानती हूँ कि तुम्हें मुझसे शादी नहीं करनी है, लेकिन तुम्हारे इस शानदार गिफ्ट से में तुम्हारी उम्र भर के लिए रंडी, रखैल, बीवी या जो कुछ भी तुम कहना चाहो, बन गयी हूँ. फिर उसने कहा- ये डिल्डो तुम दोनों आपस में यूज़ करती हो क्या?मैंने कहा- हां.

आसिफा एक जवान लौंडिया थी और उसकी जवानी पर किसी का भी दिल आ सकता था. मदन जी को याद आया कि जब वह मेरे बनाये खाने की तारीफ करते हैं और मुझको अपनी बीवी कहते हैं तो मैं किसी लौंडिया की तरह शर्मा जाता हूँ. अभी मैंने ठीक से महसूस भी नहीं किया था कि उन्होंने फिर से निकलना शुरू कर दिया.

मैंने अपनी हवस को तो जगा लिया था लेकिन मयंक नाम के उस लड़के की हवस को जगाना अभी बाक़ी था.

वो बिस्तर पर झुकी हुई थी और उसने अपनी हथेलियां बिस्तर पर रखी हुई थीं. पापा, मम्मी की गर्दन में किस करते करते थोड़ा पीछे होकर अपने दोनों हाथों से मम्मी की गांड को दबाने सहलाने लगे.

वह भी नयी नवेली दुल्हन की तरह शर्माने लगी और होंठों को चूसने में पूरा सहयोग करने लगी. मेरी बहन मस्ती से चीख रही थी ‘आआह … उईई … आआह … मर गयी आआह … कितना अन्दर तक ठांस रहे हो … आआह … धीमे पेलो …’लेकिन दोनों अपनी मौज में गांड ठोक रहे थे. आज मैं भी तो देखूं कि तुम मेरी प्यास कैसे बुझाते हो?भाभी- हां क्यों नहीं, लल्ला और इसकी जोड़ी तो किसी को भी जन्नत की सैर करा देगी.

[emailprotected]ऑनलाइन सेक्स एंटरटेनमेंट स्टोरी का अगला भाग:हिमाचल की हसीना की थ्रीसम चुदाई- 2. करीब आधा घंटा बाद उसका लंड झटके देकर झड़ना शुरू हुआ और मैं उससे चिपट गई. लेकिन अभी तो मैंने उसे नार्मल ही चोदा था, अभी तो मेरी असली चुदाई बाकी थी.

किन्नर की बीएफ सेक्सी उसकी आवाजें इतनी तेज आ रही थीं जिससे साफ समझ आ रहा था कि भाभी घर में अकेली है. विकास ने खुशी से कहा- क्या सही में तुम्हें इस बात से कोई आपत्ति नहीं है? क्या तुम मुझे खुलकर स्वीकार करोगी.

बीएफ सेक्सी इंडियंस

अब उसी चूत को राखी के दिन कैसे चोदा, उस हॉट कजिन सेक्स कहानी को पढ़ें!पिछली चुदाई के कुछ दिन बाद ही मेरा लंड फिर से विनी से मिलने की जिद करने लगा. मोहित ने कहा- अच्छा, ये तो बता किसने क्या कहा था जो तेरी झांट में आग लग गयी थी?मैंने कहा- किसी चूतिया ने ये कहा था कि हम लकड़ियां तो होती ही गांड में लंड लेने के लिए हैं. गांव में विवाहितों को सलवार सूट पहनना उधर के रीति रिवाज के खिलाफ है.

वो मेरे एकदम से नज़दीक आ गया और उसने मेरे लंड को अपने हाथों में पकड़ लिया. उसे देख कर मेरी इंद्रियां काम करना बंद कर गयी, मैं एकटक उसे देखता रह गया. सेक्स बीएफ भोजपुरी वीडियोमैं- अगर आप मुझे अपना अच्छा दोस्त मानती हो, तो मुझे बताओ कि आप उदास क्यों रहती हो?इस बात पर उन्होंने भी शब्दों का बाण चलाते हुए कहा- मैं तो तुम्हें बहुत कुछ मानती हूं.

हम दोनों कपल स्वैपिंग भी कर चुके हैं और वो मुझे साफ़ बता देती है कि उसे फलां मर्द पसंद आ गया है और उसे उससे चुदवाने का मन है.

मैं सोचता था कि ये तो चुदक्कड़ हैं ही, मेरी रजामंदी जान ही गयी हैं और खुद ही बोल कर एक न एक दिन अपनी दे ही देंगी. मंजू मस्ती से बोली कि देखो बुआ तुमको देख कर लंड महाराज भी सर उठा रहे हैं.

कुछ देर गेम में यूँ ही गुथे रहने के बाद फिर मैंने उसकी एक गोटी काट दी, जो भागने की फिराक में थी. नेहा के लिए विकास का इतना सब नाकाफी था; वह चाहती थी कि विकास खुलकर पहल करे. मुझे शुरू में कुछ नहीं लगा, लेकिन जब मुन्ना 10 दिन का रहा होगा, तब मेरे राइट वाले ब्रेस्ट में दर्द होने लगा.

लेकिन वो मुझे फ़ोन नहीं देना चाहती थी इसलिए वो और आगे होती जा रही थी.

अब हंस पड़!वो हंस दी और बोली- ऐसे कैसे एक?मैंने कहा- फिर कैसे एक होंगे?वो हंस दी और बोली- एकदम बुद्धू हो क्या?मैंने भी समझ लिया कि जब चूत में लंड घुसेगा तभी एकता होगी. कुछ टाइम बाद उसकी मम्मी ने रिंकी को शहर में पढ़ने के लिए एडमिशन दिला दिया. मैंने कहा- क्यों चाचा के औजार से मन नहीं भरता है क्या?चाची बोलीं- तेरे चाचा के औजार में दम होता तो आज मैं दो चार बच्चों की मम्मी न बन गई होती.

कामसू त्र के चित्रअब मुझसे बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं हो रहा था क्योंकि मुझे चुदाई किए जमाना हो गया था और मेरा दिल कविता को देख देखकर पागल हो रहा था. अरुणिमा को अपनी गोद में बिठा कर उसन मम्मों और निप्पल्स से खेलना दोबारा चालू कर दिया.

बीएफ एकस एकस एकस

साफ़ लग रहा था कि ब्रेकअप के बाद से लौड़े से चुदाई न होने के कारण उसकी चूत बहुत चुदासी हो गयी थी. उस रात साक्षी ने मेरे को उसकी सब फैंटेसी बता दी, मतलब उसे कौन सी पोजीशन ज्यादा पसंद है, उसे फोर-प्ले में ज्यादा इंटरेस्ट है, उसे लंड चूसना बहुत पसंद है. एक बार ले ले उसका लौड़ा अपनी बुर में … फिर तुम्हारी हर रात रंगीन होगी.

मैं भी रूम में पहुंच गया तो भाभी ने मुस्करा कर अपना पूरा ब्लाउज खोल दिया. उसके बाद उसने अरुणिमा को चोदना शुरू किया और साथ में वीडियो रिकॉर्डिंग चलती रही. संजना घुटनों के बल बैठ के मेरे लंड को अपने मुँह में भरके चूसने लगी.

थोड़ी देर तक वो ऐसे ही लेटी हुई मेरी चूत का रस अपने बॉयफ्रेंड के लंड को पिलाती रही. मैंने कहा- क्यों चाचा के औजार से मन नहीं भरता है क्या?चाची बोलीं- तेरे चाचा के औजार में दम होता तो आज मैं दो चार बच्चों की मम्मी न बन गई होती. चाची ने हंस कर कहा- हां रवि, मेरे भाई के घर में शादी है न … तो आज साड़ी पहन कर देख रही थी कि कौन कौन सी साड़ी ले जाना ठीक रहेगा.

कभी उसके स्तनों को मुट्ठी में भर कर खींचता तो कभी दोनों स्तनों को हाथों के बीच में रख आपस में रगड़ देता. उसने एक मंजी हुए खिलाड़िन की तरह मेरे लंड के सुपारे को गप्प से मुँह में लपक लिया.

उसे देख कर मेरी इंद्रियां काम करना बंद कर गयी, मैं एकटक उसे देखता रह गया.

मैं उसको ले आया लेकिन उसकी तबियत खराब थी, तो कुछ बात ज्यादा नहीं हुई. देहाती बीएफ सेक्सी भोजपुरीये सब बात हम छत पर कर रहे थे कि तभी उनकी सास की आवाज आई- कहां हो, किसी का फोन आ रहा है. डॉक्टर ने की सेक्सी मूवीउसके चहरे को देख कर लगता था कि ये शहर जाकर बहुत बड़ी चुदक्कड़ लौंडिया बन गई है. जैसा कि आपने मेरी चुदाई कहानीचुदासी विधवा की प्यास बुझायीमें पढ़ा था कि कैसे मैंने अपनी विधवा महिला मकान मालकिन की चुदाई की और साथ ही उसकी गांड भी मारी.

मैंने उसकी बात को अनसुना कर एक बार फिर से लंड को उसकी चूत में डाला और धक्के लगाना आरम्भ कर दिया.

ध्यान रहे कि ये सब बातें मैं और ज्योति फोन पर कर रहे थे और उधर असलियत में रोहित ज्योति को चोद रहा था या नंगी करके चोदने वाला था. अब मैं उसको चोद रहा था, वो भी नीचे से कमर उठाकर मेरा साथ दे रही थी. फिर कुछ दिन बाद अम्मी ने बाबा नाजिर को फोन किया और सब बोलीं- बाबा, मुझे ऐसा लगता है कि नींद में कोई साया आता है.

उसने घुटनों के बल बैठ कर लंड चूसना चालू किया तो ऐसा लगा मानो वो न जाने कब से लंड चूसने के लिए मरी जा रही थी. मैंने फ़ोन अपने कब्जे में ले लिया और दोबारा गेम जहां था, वहीं से शुरू कर दिया. ढीला पोला माल है, या कुछ मजेदार भी है?अम्मी ने ऊपर से जरा सी अपनी कुर्ती के बटन खोले और उन दोनों को अपने मम्मे ऐसे दिखाए, जैसे वो एक पेशेवर रंडी हो.

माधुरी दीक्षित हीरोइन का बीएफ

उसके मुँह से कामुक आवाजें निकल रही थीं- आह आह आह … साला लंड मिल जाता चूत को … तो मजा आ जाता … आह उह. उसने लंड के सुपारे को चमड़ी से बाहर निकाल लिया और अपने अंगूठे को सुपारे पर चलाने लगी. मैंने पूछा कि अब अगर ट्रीटमेंट पूरी हो गई है, तो अब मैं क्या करूं?नर्स ने कहा कि उसको अन्दर फिर से वही दिक्कत शुरू हो गई है.

अन्दर घुसते ही उसने किधर भी नहीं देखा और बस मुझे जोर जोर से किस करने लगी.

मैंने उसे मीडियम पर ही कर दिया और भाभी को डॉगी स्टाइल में खूब चोदा.

चार वीडियो देखने के बाद हम सबने तय कर लिया कि चुदाई में क्या क्या करना है और क्या क्या नहीं करना है. वो खुश हो गए थे और उन्होंने आंटी से कहा- मुझे कंपनी वापस जाना पड़ेगा. सेक्सी मूवी सेक्स सेक्सनेहा इस हमले के लिए तैयार थी भी … और नहीं भी … क्योंकि उसे उम्मीद नहीं था कि इतनी तेजी से विकास उसकी बुर पर टूट पड़ेगा.

वो इसी तरह से मेरे हाथ हटा कर वहां से उठ गई और एक पल के लिए भी नहीं रुकी. मम्मी मुझसे बोलीं- जया फुआ की परीक्षा होने में अब केवल दो महीने बचे हैं, इसलिए ये रात को थोड़ा ज्यादा देर तक पढ़ेगी. अब हम दोनों बहुत थक गए थे और सुबह जल्दी निकलना भी था तो अब ऐसे ही एक दूसरे को हग करके सो गए.

अब मेरी चिकनी चूत देखकर उससे रहा न गया तो उसने अपने रंग लगे चेहरे को मेरी चूत में घुसा दिया और मेरी चूत चाटने लगा. मैं भी उसकी चूत में अपनी जीभ को अन्दर तक डाल डाल कर चूस रहा था, जिससे उसे बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था.

उंगलियां चुत के अन्दर जाते ही उसकी चीख निकल गयी, पर होंठ बंद होने से वो सिर्फ ‘ऊंह … ऊंह … ऊंह …’ की ही आवाज कर पा रही थी.

उसके निप्पल को छूते ही वो कराह उठती ‘हम्म अम्म्म …’बीच बीच में मैं उसके निप्पल पर होंठों को लगा उन्हें चूस देता ओर हल्के दांतों से काट लेता, जिससे वो सिहर जाती. इससे हैरी को और जोश आने लगा और उसने मेरे दोनों हाथ पकड़ कर एक बाजू कर दिए. मैं कभी उसकी नाक पर किस करता तो कभी गाल पर, कभी माथे पर चूम लेता तो कभी होंठ और कभी आंखों पर.

ढोल सेक्स भाभी अपना दूध पिलाती हुई फिर से शुरू हो गईं:तो मैं उसे उंगली के साथ साथ चाटने भी लगी, उसे बहुत अच्छा लगा. मैं रोशनी के नीचे थी, मेरी टांगें दीपक की तरफ और चेहरा धीरज की तरफ था।रोशनी की गांड धीरज की तरफ और चेहरा दीपक की तरफ था।मैं रोशनी की चूत बड़े प्यार से चूस रही थी.

चुदाई का यह हनीमून तीन दिन तक चला जिसमें पहले दिन छोड़कर बाकी सभी दिन और रात हमने अपने कमरे पर ही बिताईं. मॉम- कैसी लग रही है मेरी मुँह की सेवा?मैं- तेरी मुँह की सेवा बेस्ट है यार. हमें ऐसे बाँडेज सेक्स करते हुए सुबह से 4 बज गए थे और अब सबको नींद भी आने लगी थी तो सब सो चुके थे.

बीएफ सेक्सी कॉलेज वाली लड़की

थोड़ी दूर जाने के बाद स्कार्पियो फिर से सड़क छोड़ कर मैदान में उतरी और एक सुनसान पेड़ के नीचे खड़ी हो गई. क्या तुम चारों सजनी शादी करने के लिए राजी हो? उसके बाद हम सब एक साथ बड़े परिवार के समान रह सकते हैं. हम दोनों के हाथ उसकी चूत के ऊपर हलचल कर रहे थे जो शायद ज्योति की चूत के अंदर तक महसूस हो रही थी.

मैं डर कर अपना ढीला और मुर्दा हाथ वापस ले रहा था और उनका हाथ मेरे हाथ को कुछ ऐसा पकड़े हुए था, जैसे खिंचने से रोक रहा हो. मोहित ने रिया की तरफ देखकर कहा- साली रंडी किस करने को नहीं कह सकती थी.

मैंने मुन्ना को पिंकी भाभी की गांड में डालने से मना कर दिया क्योंकि वो इस पोजिशन में दिक्कत कर रहा था.

उनकी तो जैसे सिसकारियां निकलने लगीं लेकिन मेरे होंठ उनके होंठों पर जमे हुए थे तो उनकी सिसकारियां दब गईं. वो मेरे सामने थी और मैं पीछे थोड़ा हटकर बैठा था ताकि आगे का खेल सकूं,उस तरफ से पहली बार मैंने उनके स्तनों का फुलाव देखा, जिसे आज तक मैं नहीं देख पाया था. इसका मतलब है कि वो अब अपने आपको मुझे सौंप चुकी थी और उसे इस खेल में मजा आ रहा था.

चौधरी मामा बोले- अरे बीवी नहीं है, तो क्या हुआ … क्या लंड भी नहीं है. तो क्या तुम मुझे शारीरिक खुशी दोगे? बदले में मैं तब तक तुम्हारी ही रहूंगी, जब तक तुम यहां पर हो. ऐसा करने से फहीमा के शरीर में मादक लहरें उठने लगी और इसी तरह से मैं धीरे धीरे उसकी चूचियों पर आ पहुंचा.

हम सब लड़कियों की टांगें हवा में उठी थीं और सबकी चुदाई एक लयबद्ध तरीके से हो रही थी.

किन्नर की बीएफ सेक्सी: मैं कुछ कर भी नहीं सकता था, तो बस रात होने का इंतजार किया और सो गया. अंकुश ने तुरंत अपना लौड़ा मेरी चूत से निकाला और मेरे हाथ में दे दिया.

मैंने रूम में आने के बाद वेटर को टिप दिया और डू नॉट डिस्टर्ब का बोर्ड लगाने के लिए बोल दिया. मैं अपनी उंगली भी डाल डाल कर मॉम की चूत का सारा पानी पी रहा था और वो सिसकारियाँ लेकर मचल रही थीं. मैंने उठ कर कम्बल हटाया और उनकी सलवार का नाड़ा खोल कर उनकी सलवार को नीचे करके उनकी गांड देखने लगा.

मैंने पूछा- तू उसके साथ कितनी बार कर चुकी है?वो बोली- अभी सिर्फ एक ही बार अन्दर लिया है.

चौधरी मामा को शक हुआ, शायद वो समझ गए थे कि ये लोग बारी बारी मेरी गांड मारते हैं. आगे से भाभी बुआ की चूत में जीभ डाल कर अन्दर बाहर करने लगी थीं और मैं भाभी की गांड को गपागप चोदने में लगा था. तभी आसिफा की अम्मी मुझसे कमरे में चलने को कहने लगीं लेकिन मैंने मना कर दिया; उनको वहीं पर चोदने का मन बना लिया.