देहाती सेक्सी बीएफ वीडियो चुदाई

छवि स्रोत,एक्स एक्स एक्स भोजपुरी एचडी

तस्वीर का शीर्षक ,

पंजाब बीएफ वीडियो: देहाती सेक्सी बीएफ वीडियो चुदाई, अनन्या- प्यार भी करते हो?अब मैंने खुद को रोक नहीं सका और अनन्या को गले से लगा लिया.

बाप बेटी की सेक्सी हिंदी

मैंने बोला- ठीक है, कुक्कू तुम घबरा तो नहीं रही हो? मैं तुम्हें तब तक कुछ नहीं करूंगा, जब तक तुम नहीं चाहोगी. एक्स एक्स एक्स सेक्स वीडियोउसने तुरंत मेरी जीभ को अपने मुँह में भर लिया और मुझे पूरा ग्रीन सिग्नल मिल गया.

भाभी बोलीं- चलिए मेरे पतिदेव, अब हम दोनों पति पत्नी सुहागरात मनाते हैं. தமிழ் ஆன்ட்டிகளின் செக்ஸ் வீடியோअब तो मैं जब जब गोवा आता हूँ, तब तब खूब जम कर वाइफ स्वैपिंग करता हूँ.

शायद हमारे मोहल्ले का ट्रांसफॉर्मर जल गया था तो बिजली देर के लिए चली गई थी.देहाती सेक्सी बीएफ वीडियो चुदाई: वह बोली- जी मुझे सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता के लिए अपना फॉर्म भरना है.

इसके बाद चाचा अपना लंबा, मोटा और सख्त लंड मम्मी की चुत की तरफ ले गए.फिर मैंने उसकी चूत में अपना लन्ड डाला; आधा लन्ड ही अंदर गया था कि उसे थोड़ी मुश्किल होने लगी, क्योंकि मेरे लन्ड की लंबाई तो सामान्य है लेकिन उसकी मोटाई बहुत ज्यादा है तो उसकी वजह से उसे दर्द हुआ.

देवर भौजाई की सेक्सी - देहाती सेक्सी बीएफ वीडियो चुदाई

मैंने नैना की नजरों से नजर मिलाकर कहा- मेरी जान नैना … कुश्ती लड़ने के लिए तैयार हो जाओ.मैं उसकी दोनों टांगों को खोल कर बीच में आ गया और लंड को चूत पर रगड़ने लगा.

वो मेरा हाथ पकड़ने लगी लेकिन आखिर जीत मेरी हुई और उसकी पैंटी उसके दोनों पैरों से होती हुई आजाद हो गई. देहाती सेक्सी बीएफ वीडियो चुदाई वो चोरी चोरी मुझे देख रहा था।मैंने बैग में रखी लाल जालीदार ब्रा उठाई और पहन ली और जालीदार पैंटी पहनकर दूसरे रूम चली गई.

रास्ते में ढाबे में खाना खाने रुक गए थे, इस वजह से आने में कुछ देरी हो गई.

देहाती सेक्सी बीएफ वीडियो चुदाई?

अब वो फिर से मेरा लौड़ा हिला कर खड़ा करने लगी और कुछ ही मिनट में लंड खड़ा हो गया. ये ब्यूटीफुल गर्लफ्रेंड Xxx चुदाई कहानी उस वक्त की है, जब मैं अपने कॉलेज के ब्वॉयफ्रेंड से पहली बार चुद गई थी. अब मैं उसके गाल और गर्दन पर धीरे धीरे किस करता गया और उसके एक कान को अपनी जीभ से चाटने लगा.

कुछ ही देर में मुझको लगने लगा था कि विशु आज मेरी चूत को पूरी तरह से घिस डालेगा. भाभी जी ने कहा- क्या आप मुझे अभी मेरे घर छोड़ सकते हो?मैंने कहा- बिल्कुल छोड़े देंगे जी. मैं- हां मेरी सकीना जान … आज से मैं तेरा शौहर हूं … आज से मैं तुझे रोज रंडियों की तरह चोदूंगा.

मैं बाबा जी की चुदाई को याद करके चूत रगड़ने लगी और कुछ देर बाद झड़ कर सो गई. उसी पल मैंने फटाक से अपना साढ़े छह इंच का कड़क लंड उसके मुँह में घुसेड़ दिया. मुझे बहुत अजीब लग रहा था, पता नहीं निकिता मेरे बारे में क्या सोच रही होगी.

मैडम- वो कल कई सालों के बाद मन हुआ कि थोड़ा कर लूं और उसके साथ बाथरूम में भी गई, पर मेरी पैंटी उतारने के बाद वो तो फिंगर से टच करने लगा. मैंने बोला- ठीक है, कुक्कू तुम घबरा तो नहीं रही हो? मैं तुम्हें तब तक कुछ नहीं करूंगा, जब तक तुम नहीं चाहोगी.

चुदने के बाद मैं घूम गई और बाबा जी के लंड को मैंने चाट चाट कर साफ़ कर दिया.

दिल में खराब खराब ख्याल आए, तो मैंने मोबाइल पर सेड सॉन्ग सुनने शुरू कर दिए.

वो उचकते हुए बोली- भोसड़ी वाले चाचा, माने नहीं न … बदला निकाल ही लिया।फिर हम दोनों हंसते हुए वापिस कमरे में आ गये।एक बार फिर हमारे चिपके हुए जिस्म बिस्तर पर थे और दोनों के हाथ चले जा रहे थे।कमरे में थोड़ी सी खामोशी सी थी. इंडियन रंडी हॉट कहानी में पढ़ें कि मैं काल गर्ल बनकर सेक्स के लिए रूम में गयी तो वहां दो दोस्त थे. पहले भागमेरी विधवा मम्मी की चाचा से शादीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मम्मी की सुहागरात का खेल शुरू होने वाला था.

वो बोली- मुझे कुछ सामान लेने मार्केट जाना है … तो आप मुझे कल ऑफिस जाने से पहले कुछ पैसे दे देना. मैंने उसके दोनों मम्मों को पूरा चूस चूस कर और काट कर लाल कर दिया था. मैं तो भूखे बच्चे की तरह उन पर टूट पड़ा और उनके चूचे को एक एक कर के चूसा.

वो जरा तड़फी मगर लंड झेल गई- आआआह मर गई … आह फाड़ दी साले ने आआह … आगे ही कर ले मेरे बाप … आआह गांड में बहुत दर्द हो रहा है आआह!वह अपनी गांड ठुकवाए जा रही थी और चिल्ला भी रही थी.

हमारे समाज में अभी तक यह बात मानी नहीं है कि कोई भाई बहन आपस में चुदाई करें. मैं- दीदी आंटी कहां हैं?कोमल- मम्मी पापा तो बुआ के यहां गए हैं … शायद कल आएंगे. भाभी बहुत खुश थीं और मेरी पीठ को सहलाती हुई बोल रही थीं- मुझे नहीं पता था कि चुदाई में इतना सुख और संतुष्टि मिलती है.

मैंने कहा- आप बस उसको बोल दो कि काम पक्का चाहिए तो उसे मुझसे चुदवाना पड़ेगा. मेरे सोने के बाद मम्मी कितनी चतुराई से महेश सर को घर में बुलाकर अपनी चुत की आग को मिटा रही थीं. हमारे पड़ोस में एक फैमिली रहने आई थी, उसमें एक आंटी, उनका बेटा और उनकी बेटी थी.

थोड़ी देर चोदने के बाद सुनील मेरी चूत पर आ गया और नीरज मुंह में आ गया और फिर से मेरी चुदाई शुरू कर दी.

एक तो मैंने काफी दिनों से लंड लिया नहीं था और मेरे देवर का लंड भी काफी मोटा था. फिर मैंने पूछा- मुझसे आप क्या चाहती हो भाभी?तो भाभी ने कहा- बहुत सारी ख़ुशी.

देहाती सेक्सी बीएफ वीडियो चुदाई वो कह रही थी- अब तुम आते क्यों नहीं हो?मैंने उससे कहा- आजकल मकान का काम ज्यादा होने से टाइम नहीं मिल पाता है. फिर मेरा लंड भी पौंछा और मुझे एक किस करके अपने घर चली गईं।इसके बाद जब भी हमें अवसर मिलता, हम अपनीचुदाई लीलाकर लेते.

देहाती सेक्सी बीएफ वीडियो चुदाई आनन्द ने जाने से पहले मुझसे कहा- सर जी, आप भोजन हमारे घर ही करेंगे, मैं नैना से बोलकर जाता हूँ और कोई भी कुछ भी समस्या हो तो आप मुझसे बात कर लेना. उनकी स्पीड भी तेज़ हो गई और वो मेरे ऊपर बैठ कर मेरी चूत चाटने लगीं.

मोनिका बाइक पर बैठ गई और बोली- शिव कोमल दीदी की शादी हो गई है, ये वाली बात याद है न!उसके कहने से मुझे कोमल दीदी की शादी की सारी बातें आ गईं, एक बार आपको मैं फिर से वो सब दुहरा देता हूँ.

मिर्जा सेक्सी वीडियो

यह हॉट बेब सेक्स कहानी मेरी ज़िन्दगी की सच्ची घटना है और मैं वैसे ही बिना मिर्च मसाला के लिखूंगा, जैसे यह घटी. थोड़ी देर बाद भाभी की आवाज आई- इतनी हिम्मत है?मैंने कहा- अभी तुमने मेरी हिम्मत देखी कहां है. विशु ने पूछा- दीदी आज सभी कहां गए हैं?मैंने उसे बताया- मेरे लिए लड़का देखने गए हैं.

मैं बाबा जी की चुदाई को याद करके चूत रगड़ने लगी और कुछ देर बाद झड़ कर सो गई. मैं- तो फिर रात को वापस से पार्टी करें?मीना- क्यों नहीं जीजू … मैं जल्दी से कुछ खाना बना लेती हूँ. उसने भी लंड पेलने में देर न की और मुझे घोड़ी बना कर मेरी सवारी गांठने लगा.

मेरी मॉम ने एक झटके में पैग पी लिया और राहुल के होंठों को चूस कर अपना स्वाद ठीक कर लिया.

फिर हम दोनों अलग हुए तो मेरा पूरा मुँह उसकी लिपस्टिक से लाल हो गया था. वो अपनी चूत पर मेरी जीभ का अहसास करते ही एकदम से सिहर उठीं और बोलीं- आह मेरी जान … ऐसे ही करो प्लीज़ … मैंने अभी तक ये सुख पाया ही नहीं है. फ्रेंड्स, मैं आज आपको सच्ची हॉट लेस्बियन सेक्स की कहानी सुना रही हूँ.

इंडियन देसी गर्ल Xxx कहानी में पढ़ें कि ननिहाल में पड़ोस की एक लड़की मेरी बहन जैसी थी. मैंने बाबा जी और उस्ताद जी को अपना नंबर दिया और कहा- अब जल्दी से नया फोन ले लो, हमारा मिलना जुलना लगा रहेगा. इसलिए देख ले … आज देख ले इस हीरोइन को! जिसके साथ सेक्स करने का हिंदुस्तान का लगभग हर मर्द सपने देखते हैं, वो आज मेरे लन्ड से खेल रही थी।दाइशा जी ने अपने दोनों हाथों को मेरे कमर में चारों ओर कस लिया और खुद ही अपने चेहरे को मेरे लन्ड पर घिसने लगी.

उनके स्तनों की बनावट उनके शरीर को बहुत अच्छा लुक देती है क्योंकि मम्मी के स्तन आज भी एकदम गोल और सख्त हैं, जोकि हर मर्द को लाजवाब लगते हैं. वो मेरे मुँह में जीभ डाल कर आधा रस मुझे पिला कर बाकी का रस खुद पी गई ‘वाह मेरी चूत का रस कितना मीठा है.

मैंने भी रश्मि के हाथ पर अपना हाथ रख कर हल्की आवाज में उससे ‘थैंक्स …’ कहा. वो उस समय सलवार कुर्ते में थीं और कुर्ता थोड़ा टाइट था इसलिए उनका फिगर साफ समझ आ रहा था. उसे जोर का दर्द तो होना ही था, दर्द के मारे वो जोर जोर से रोने लगी.

कुछ देर बाद मैं जोर जोर से अम्मी की चुदाई करने में लग गया और वो भी गांड उछाल उछाल कर मेरा लंड लेने लगीं.

मैं बाइक की स्पीड बढ़ाए जा रहा था पर मुझे न जाने क्यों ऐसा लग रहा था कि मेरी बाइक की गति कम पड़ गई है. बहुत मुलायम है तुम्हारी बुर!मीना- जीजू, अब मुझे मेरी बुर में आपका लंड चुभ रहा है. मैंने कहा- कुछ रेस्ट करना है?उसने कहा- आज पूरी रात रुकना नहीं भैया … सिर्फ चुदाई करना हो.

मुझे थोड़ी शर्म सी आ रही थी लेकिन चूत में तो आग लगी पड़ी थी जो बिना लौड़े के शांत नहीं होने वाली थी।फिर भैया ने मेरी चूत में अपने उंगली डालना शुरू कर दिया और साथ ही मेरे लबों का चुंबन कर रहे थे।भाई मेरे बूब्स को अपने हाथों से मसल रहे थे. इस बात को लेकर मेरी ससुराल से सासू जी का फ़ोन आया कि आप हमारी बेटी को कुछ दिनों के लिए हमारे घर छोड़ दीजिए जिससे वो आराम कर लेगी और डिलीवरी भी यहीं करवा लेंगे.

थामस ने कहा- यार अंकित, मैं यहां गोवा में साल में 2-3 बार जरूर आता हूँ मैं जब तक यहां रहता हूँ, तब तक हर रोज़ रात में वाइफ स्वैपिंग करता हूँ. मैंने कपड़े पहने और उस चादर को एक थैली में रख दिया और बाहर जाकर फैंक आया. मैं उसे भी नहीं छोड़ सकता क्योंकि मैं अपनी बीवी के साथ बुरा नहीं करना चाहता.

न्यू सैड सॉन्ग

उसने मेरे बालों को जोर से पकड़ा और कमर को आगे पीछे करके मेरे मुँह को जितना अन्दर तक हो सकता था, चोदना शुरू कर दिया.

देसी सिस्टर सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं दीदी के ससुराल में रहने गया. ”अब मैंने उनकी दोनों टांगों को चौड़ा कर दिया और लंड को चूत की गहराई तक पेलने लगा. आनन्द- ठीक है अनुराग सर, आप इस फैक्ट्री को देखो, मैं वहां चला जाता हूँ.

पहले तो वह काफी देर नखरे करती रही, मना करती रही पर थोड़ा जोर देने पर वह मान गई. चूंकि ये बात गर्मी की है और उस समय गर्मी भी कुछ ज्यादा पड़ने लगी थी. ब्लू फिल्म डायरेक्टतभी दीदी ने बोला- राहुल मेरे पैर दबा दो!आपको बता दूं कि मैं दीदी के पैर अक्सर दबाता हूँ.

मेरी मॉम ने कुछ सोचा और मेरी तरफ देख कर बोलीं- तेरी वजह से आज मैं इन दोनों के साथ राजी हो रही हूँ. मेरा लंड हल्के हल्के से साड़ी के ऊपर से हीभाभी की गांड की दरारमें सैट हो रहा था.

हेमा रोज रात को सात सवा सात बजे तक आ जाती है लेकिन उस दिन वो साढ़े नौ बजे घर आई. जैसे तैसे मैंने अपने हाथ से उसे नीचे किया, पर नैना का ध्यान भी मेरे लंड पर चला गया और मेरी गतिविधियों को देखकर वो मुस्कुराने लगी. फिर महेश ने मम्मी का ब्लाउज के बटनों को एक एक करके खोल दिया और उसे हटा दिया.

मैंने उनसे कहा- वो सरप्राइज क्या है जान?भाभी बोलीं- वो तो रात को ही मिलेगा और अभी रात होने में काफी देर है. यंग गे बॉय सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरे घर एक 20 साल का लड़का दूध देने आता है. वह घूम कर मेरी तरफ देखते हुए बोली- ये क्या हरामीपना है? मजे की मां क्यों चोद रहे हो?अपने लंड को हिलाते हुए मैं बोला- जानेमन, लंड कह रहा है कि उसे अंजलि की चुसाई चाहिए।अंजलि मेरी तरफ उसी घोड़ी पोजिशन में घूमी और लंड को मुंह में भरकर लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी.

मगर किस्मत को शायद कुछ और ही मंज़ूर था, एक दिन एक हादसे में मेरे पति मुझे और मेरी बेटी को हमेशा के लिए छोड़ कर चले गए.

[emailprotected]अलोन वाइफ वांट सेक्स कहानी का अगला भाग:देवर भाभी की चुदाई बनी हकीकत- 3. दीप्ति के कहने पर मैं बालकनी में जाकर बैठ गया, जहां से उस इलाके का शानदार नजारा दिख रहा था.

वो लंबी लंबी सांसें ले रही थी और अपने सीधे हाथ से मेरा लंड तेज तेज दबा रही थी. पापा- साली काहे का बड़ा … तूने मेरा मोटा लंड लील लिया और घप घप ले रही है. उसने एक तेज धक्का दिया और पूरा लंड चूत में अन्दर डाल कर अन्दर बाहर करने लगा.

और यश तुम भी नेहा को लंच पर बुला लो। ये लोग नेहा से भी मिल लेंगे। अगले हफ्ते हम नेहा को यहां लंच के लिये बुला लेंगे. मीना- जीजू मेरी एक ब्रा भी ले आना … मुझे लग रहा है कि वो भी अन्दर से गीली हो गई है. मैंने प्रियंका की चूत साफ करके जीभ लगाई मगर प्रियंका ने मेरी चूत अपनी जीभ से ही साफ कर दी और अपने होंठों को मेरी चूत में लगा कर मेरी चूत खाने लगी.

देहाती सेक्सी बीएफ वीडियो चुदाई मैं इस मौके को छोड़ना नहीं चाहता था और आज की रात दीप्ति की यादगार रात बनाना चाहता था. बीच बीच में आकाश मेरी चूचियों को इतनी जोर से मसल देता, जिससे मुझे होने लगता.

टोरी ब्लैक

यू कहें कि शादी लायक लंड हुआ, उसी को फंसा कर उसे शादी की पहली रात का मजा जाटनी दे देती. मैंने उसकी स्थिति को देखते हुए कहा- नैना जी, वास्तव में आप बहुत खूबसूरत हैं. मैंने भी बिना समय गंवाए दबाव डाल दिया और मेरा लंड सरकते हुए भाभी की चूत में जाने लगा.

उनके ऐसा करने पर मुझे चुत के अन्दर का गुलाबी भाग दिख रहा था, जो वाकयी लाजवाब था. जब उसकी रात की ड्यूटी होती थी, तो हम दोपहर में जुगाड़ करके चुदाई का कार्यक्रम शुरू कर देते थे. सेक्स फॉर्ममेरी बीवी अनिता भी बड़ी मस्ती से सारी दुनियां भूल कर थामस के लंड में तल्लीन हो गयी थी.

आते समय मैं अपनी बीवी को छेड़ रहा था कि तुम्हारी चुत तो रस निकालने लगी थी.

आप ऐसे समझ लीजिए कि मेरी बुआ इतनी मस्त हो गयी थीं कि जब वो घर में भी रहती थी, तो सलवार कुर्ता के ऊपर दो दुप्पटे डाल कर रखती थीं. मैंने पूछा- कब करते हो?दीप बोला- रेगुलर करते है, मुझे झांट पसंद नहीं, इसलिए हर दूसरे तीसरे दिन हम शेव कर लेते हैं.

मैंने पूरी शिद्दत से साहिल का लंड सहलाया और उसके लंड को हाथ में लेकर अपनी जान को खुश करने की कोशिश करने लगा. दोस्तो, मुट्ठी मारने से पहले इस देहाती सेक्स की कहानी की प्रतिक्रिया मेल पर जरूर देना. मैंने उसको पीछे वाली सीट पर बैठने को बोला और कार के सभी विंडो को अखबार से कवर कर दिया.

फिर महेश ने मम्मी का ब्लाउज के बटनों को एक एक करके खोल दिया और उसे हटा दिया.

लंड कड़क होते देख कर मीना अपनी कुर्सी मेरी ओर खिसकाती हुई करीब आ गई. फिर मैंने एक जोरदार धक्का लगा दिया और भाभी की चूत में पूरा लंड पेल दिया. ‘जब से तुमको देखा है सनम, क्या कहें कितने हैं बेचैन,जब से तुमको चाहा है सनम, क्या कहें कितने है बेचैन.

এক্স এক্স সানিदेसी हॉट चूत की कहानी में पढ़ें कि मेरी चाची घर में ब्यूटीशियन का काम करती थी. कुछ पल बाद मम्मी महेश की तरफ घूम गईं और महेश सर के होंठों में अपने होंठ लगाकर किस करने लगीं.

चोदी चोदा वाला पिक्चर

उस दिन मैंने ऋतु को 2 बार चोदा और हम दोनों एक दूसरे से नंगे ही चिपक कर लेट गए. कुछ देर बाद बाबा जी ने भी मुझे ऐसे ही चोदा और मैं उनका भी सारा पानी पी गयी. अब मैंने उसे किस करना शुरू कर दिया और वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थी.

वो समझ गई और कसमसा कर बोली- भाईजान ये क्या कर रहे हो?मैंने बोला- कुछ नहीं … तुमको मजा दे रहा हूँ. मम्मी गहरी गहरी सांसें ले रही थीं जिसकी वजह से उनके दूध तेजी से ऊपर नीचे हो रहे थे. अंकल ने मेरी पैंटी को भी नीचे कर दिया और मेरे ऊपर चढ़ कर अपना लंड मेरी चूत में पेल दिया.

वो कुछ पल बाद थोड़ा सामने हो गई और टिश्यू पेपर से अपनी चूत को साफ करने लगी. इसी से आगे की घटना है इस नई प्यासी भाभी पोर्न स्टोरी में!अभी तक की कहानी में आपने पढ़ा था कि मैं एक कम्पनी में काम करता था, जिसका एक ऑफिस देहरादून में भी था. रात भर हम दोनों यूं ही नंगे जिस्म एक दूसरे के ऊपर नीचे होते रहे और सुबह होने के पहले भाभी ने अगली रात को घोड़ी बनकर चुदने का प्रस्ताव रख कर मुझे एक जोरदार चुम्बन लिया.

अनिल ने कहा- आज मैं देखना चाहता हूँ कि किसमें कितनी जान है?हम दोनों दोस्त कुर्सी पर बैठ गए. मुझे थोड़ी शर्म सी आ रही थी लेकिन चूत में तो आग लगी पड़ी थी जो बिना लौड़े के शांत नहीं होने वाली थी।फिर भैया ने मेरी चूत में अपने उंगली डालना शुरू कर दिया और साथ ही मेरे लबों का चुंबन कर रहे थे।भाई मेरे बूब्स को अपने हाथों से मसल रहे थे.

लगभग बीस मिनट की चूत चुदाई के बाद मेरा दूसरी बार पानी निकलने वाला था.

मैं भाभी के गाउन के ऊपर से ही भाभी के दोनों स्तनों को बड़ी बेरहमी से दबा रहा था. हिंदी ब्लू फिल्म चाहिएउसने फिर से अपना लौड़ा मेरी चूत में पेल दिया और बीस मिनट तक मुझे हचक कर चोदा. चोदा चोदी की सेक्सी पिक्चरठण्ड लग रही है ना, तुम ऊपर बेड पर आ जाओ!” सौम्या मेरे कंधे से हटते हुए पलंग के सिरहाने की तरफ जाते हुए मुझे आदेश कर रही थी या रिक्वेस्ट, पता नहीं चला. मैं भी अम्मी के बालों को पकड़ कर जोर जोर से उनसे अपना लंड चुसवा रहा था.

मैंने प्रसाद के मुँह में एक स्तन दे दिया फिर भी वो मेरा दूध नहीं पी रहा था.

उसकी ये हरकत देख कर मैं बहुत जोश में आ गया था और उसे बहुत ज़ोर से चोदने लगा था. भाभी बुरी तरह फड़फड़ा गईं और बोलीं- आह यह क्या कर रहे हो!लेकिन मैं नहीं माना, मैं अपनी जुबान अन्दर बाहर करता रहा. फिर हम दोनों खाना खाकर टीवी देख रहे थे उसी बीच टीवी पर न्यूज़ आयी कि आज रात 8 बजे से पूरे देश में लॉकडाउन लग जाएगा.

मैंने उसको पीछे वाली सीट पर बैठने को बोला और कार के सभी विंडो को अखबार से कवर कर दिया. इस बार मेरा प्रहार इतना तेज था कि एक बार मैं ही मैंने अपना पूरा लंड उसकी चुत में घुसा दिया था. मैं भी चाहती थी मगर पति अभी इस बात के लिए राज़ी नहीं थे, वो वो इस बात का पूरा ख्याल रखते के मैं कही फिर से उनसे प्रेग्नेंट न हो जाऊं.

सुंदर लड़की की चुदाई

फिर मैंने उसको आवाज देकर पूछा- क्या हुआ, सो गई या नहीं?दीदी ने कहा- सोई नहीं हूं लेकिन अभी नींद आ जाएगी. इस बीच में भी नहाने गया तो मैंने बाथरूम में डस्टबिन में देखा कि हेमा की झांटों के बाल पड़े थे और वीट क्रीम की डिब्बी भी गीली थी. मैंने पूरी शिद्दत से साहिल का लंड सहलाया और उसके लंड को हाथ में लेकर अपनी जान को खुश करने की कोशिश करने लगा.

रूम में जाते ही मेम में कहा- आमिर तुम मेरी मदद करोगे?मैंने कहा- आप बताओ न!मैडम ने कहा- मैं बहुत अकेली महसूस करती हूँ.

कुछ मिनट तक वह मेरे नीचे लेट कर अपने होंठों ओर चूचों को लाल करवाती रही.

मम्मी बोली- देखा है तो फिर आकर पकड़ा क्यों नहीं मेरे सामने लण्ड? अगर तू पकड़ लेती तो मैं तेरी चूत में भी घुसा देती लण्ड! अब तो तेरी चूत मेरी चूत के बराबर हो गई है बुर चोदी वर्तिका।वह बोली- ओ माय गॉड … ऐसा हो सकता है क्या?मम्मी बोली- हां बिल्कुल हो सकता है। कहो तो आज ही पकड़ा दूँ तुझे कोई लण्ड?वह बोली- हाय मेरी मम्मी, अगर पकड़ा दो तो मज़ा आ जाये. मैंने कहा- दिखाओ!तो वो बोली- पहले तुम थोड़ी देर के लिए बाथरूम में जाओ. ट्रिपल एक्स व्हिडीओ इंडियाफिर एकाएक मैंने अपने हाथ से उसकी टी-शर्ट उतार दी और अगले ही पल उसकी शॉर्ट्स भी उतार दी.

पर लगभग 1 बजे के आस पास मेरी नींद खुली।मुझे प्यास लगी थी। मैं किचन की तरफ गया और पानी साथ लेकर दोबारा बिस्तर की तरफ गया. इसलिए मैंने इंटरनेट पर सर्च किया फीमेल फॉर सेक्स इन कोटा तो उसमे कई दलालों के फोन नंबर आए. मैं उसकी पीठ रगड़ती हुई बोली- क्यों राहुल, रोज चड्डी पहनकर ही नहाते हो क्या?राहुल- नहीं … लेकिन आज आपके सामने कैसे नंगा हो सकता हूँ?मैं- क्यों क्या हुआ, शर्माता क्यों है मुझसे.

उस समय मेरी आयु कुछ 20 साल की रही होगी, पढ़ाई के बाद नौकरी कर रहा था. जीभ चूसने से हम दोनों की वासना भड़क उठी और उसी पल मैंने उसके मम्मों पर अपना हाथ डाल दिया.

कुछ ही देर में जोरदार चुदाई से दीप्ति की तरह मेरी सांसें भी तेज हो गई थीं.

इस नौकरी से मैंने काफी अनुभव प्राप्त कर लिया था और 4 साल नौकरी करने के बाद मुझे लगा कि यह धंधा करने के लायक है, लेकिन पैसा नहीं था. मैंने जाते-जाते उससे कहा कि कुछ काम हो तो फोन करना या फिर आवाज लगा देना. पहले तो नॉर्मल बातें ही हुईं लेकिन बाद में वो किसी ना किसी काम के बहाने पैसे मांगने लगी.

सेक्स सेक्स दिखाइए सेक्स थोड़ी देर बाद ममता कुक्कू को लेकर आयी तो मैं उसे देख कर दंग रह गया देखकर. मैं समझ गया कि ये दोनों मेरी मॉम को चोदना चाहते हैं और मॉम मेरे सामने उनसे खुल नहीं पा रही थी.

अब वो ब्लाऊज़ पर हाथ रखे थी और दूसरा हाथ पेंटी के ऊपर से चूत पर!मैंने पेट पर तेल डाला और मलने लगा।पेट को मलते मलते उनके बूब्स तक हाथ ले गया और उनका हाथ हटा दिया. मैं- हे!साहिल- ?मैं- मुँह में लेगा?साहिल- अबे तू लौंडा है या लौंडिया?मैं- लड़का हूँ. मैं मानो जन्नत में था।वो अब दूसरी बार झड़ने वाली थी पर मेरा अभी बाकी था.

द एक्सएक्स

मैं- तुम्हें उससे कोई फर्क नहीं पड़ता?वो हंसती हुई बोली- जीजू आप तो पार्टी की तैयारी करो, मैं खाना बनाती हूँ. फिर पापा दीदी के बगल में जाकर लेट गए और फिर से उनकी चुचियों से खेलने लगे. फिर मैंने अपना एक हाथ नीचे ले जाकर उसके पेट पर फेरा और नीचे उसके पेटीकोट के अन्दर हाथ डाल दिया.

उसने कहा- तुझे कैसे पता चला बे भोसड़ी वाले?उनके बीच अब मामला बिंदास हो चला था. [emailprotected]हनीमून नाईट एन आर आई सेक्स कहानी का अगला भाग:देवर भाभी की चुदाई बनी हकीकत- 2.

चाची ने निकिता को कहा- यार, मेरे पैरों के ऊपर खुजली हो रही है, जरा खुजला दे.

उसने मुझे बेड के कोने पर बिठा दिया और घुटने पर बैठ कर मेरा लंड चूसने लगी. बुआ अपने मम्मों को हिला कर बोलीं- कैसे हैं?मैंने उनकी आंखों में झांका, तो बुआ के चेहरे पर वासना झलक रही थी. दीदी की छोटी छोटी चुचियां जोर जोर से हिल रही थीं और उनकी मादक आवाज आ रही थी- आह आह उई उइ उइ मम्मी रे … आंह पापा बड़ा मज़ा आ रहा है … और जोर से चोदो अपनी बेटी को … फाड़ दो मेरी चूत … साले बेटीचोद और जोर जोर से पेल हरामी.

इसके बाद वो अपने दो हाथों को मम्मी के पेट पर ले जाकर उसे भी मसलने लगे. स्टोरी ऑफ़ सेक्स आफ्टर मैरिज में पढ़ें कि मेरी टीचर शादी के एक साल बाद जब मायके आयी तो मैंने उनको फिर से चोद कर मजा लिया. मेरा मन हुआ कि मैं उसकी दोनों चूचियां पकड़ कर मसल डालूं और मम्मों के अन्दर अपना लौड़ा घुसेड़ दूँ.

मदन ने मुझको बताया कि यदि बवासीर होती है, तो कोई लड़का कॉल ब्वॉय नहीं बन सकता.

देहाती सेक्सी बीएफ वीडियो चुदाई: उधर अनिल ने भी मेरी मॉम को अपने ऊपर लिटा लिया था और वो मेरी मॉम की चौड़ी गांड को सहला रहा था. कभी मैं उसके एक चुचे को चूसता, तो दूसरे को दबाता, कभी उसके निप्पल को उंगली के बीच में लेकर दबाता और उमेठ देता.

इस तरह मैंने शादी के बाद पहली बार पत्नी के अलावा दूसरी चूत चोदी थी जो कि मेरी चचेरी बहन की थी. मेरी मम्मी की इस बात का मतलब तो आप अच्छी तरह से समझ गए होंगे कि मम्मी चाचा को संभोग करने के लिए खुला निमन्त्रण दे रही थीं. मुझे ऐसा लग रहा था जैसे मैं शेर हूँ और भाभी मेरा शिकार हैं, जिसे मैं बस नौंच नौंच कर खाना चाहता हूँ.

वहां पहुंचकर भाभी अपने सहेलियों के साथ घुल-मिल गईं और मैं और भैया उनके दोस्तों के साथ खड़े रहकर बातचीत करने लगे.

उसने कहा- तुझे कैसे पता चला बे भोसड़ी वाले?उनके बीच अब मामला बिंदास हो चला था. अब वो मेरी तरफ देखने लगा, मानो कह रहा हो कि दूसरा स्तन भी मुँह में दे दीजिए. मैं भी बीच-बीच में पूछता जा रहा था कि दीदी मजा आ रहा है?दीदी हां बोल कर सर हिला देती और मैं उसके बदन की मालिश करने में लगा रहता.