बीएफ इंडियन सेक्सी वीडियो

छवि स्रोत,नंगी पिक्चर बता दो

तस्वीर का शीर्षक ,

फुल सेक्सी रोमांस वीडियो: बीएफ इंडियन सेक्सी वीडियो, वह है कि इस समस्या को लेकर पुरुष अक्सर शर्मिंदगी महसूस करते हैं और समस्या के बारे में खुल कर किसी अच्छे सलाहकार से सलाह या परामर्श लेने से कतराते हैं.

जबरदस्त रेप

मतलब उसकी चुत चाट कर और थोड़ी चूत की चुदाई भी करके पहले उसको झड़ने दो. f से मुस्लिम लड़कियों के नाम अरबी मेंमैं बोला- इन्तजार करो, वो दिन भी आयेगा जब हमारे तुम्हारे शरीर का मिलन होगा.

रोनित ने अपने लंड माल उसकी चूचियों पर गिरा दिया और रचना के मुँह में लंड डाल कर वीर्य साफ़ करवा दिया. मटकीची मिसळतो उसने कहा- आज इरादा क्या है?मैंने- कुछ नहीं … बस लग रहा है कि तुम्हें ऐसे ही देखता रहूँ.

मैं उसकी प्यारी सी मुनिया को अपने हरामी शैतान से अच्छे से पेलना चाहता था.बीएफ इंडियन सेक्सी वीडियो: कभी कभी ड्राइवर न होने पर बॉस का ख़ास आदमी दीदी को ऑफिस से घर भी छोड़ने आता और मेरे सामने ही दीदी के दूध निकाल कर पीने लगता.

वो जोर से अपने हाथों की पूरी ताकत लगाते हुए मेरे दूधों को दबाने लग गया.आप असहज महसूस कर रही हैं?सोनिया- असहज नहीं रोहन … बस …रोहन- ठीक है, अगर आपको इस बारे में बात करना पसंद नहीं तो मैं ज़ोर नहीं दूंगा.

नंगी पिक्चर फिल्म वीडियो - बीएफ इंडियन सेक्सी वीडियो

उसके ऊपर से आप मुझे सरप्राइज़ और देना चाहते हैं! आखिर कौन है वहा जोड़ा… प्लीज बताइए न!मैं- श्लोक इस याराना में मैंने सभी चरित्रों के लिए सरप्राइज़ रखा है और उनमें तुम भी शामिल हो.मैंने लंड चुसाते हुए वेरोनिका से कहा- आज मैं तुम्हारी गांड मारना चाहता हूँ.

मैंने उसे पीठ के बल लेटा दिया और उसकी गांड के नीचे तकिया रख दिया जिससे उसकी चूत ऊपर की ओर हो गयी. बीएफ इंडियन सेक्सी वीडियो आलिया- अब मैं तुम्हारी गलफ्रेंड हूँ, इसलिए आप के बदले तुम कहकर बुला सकते हो.

मगर उनके प्रति कुछ गलत मेरे मन में नहीं था, वो मुझसे काफी बड़े उम्र के भी थे.

बीएफ इंडियन सेक्सी वीडियो?

मसाज वाली ने मम्मी से पूछा- आप चुदाई से मन नहीं भरता क्या?मम्मी ने बोला- मेरे पति मुझे संतुष्ट नहीं कर पाते हैं, वे बहुत पहले झड़ जाते हैं. मेरा मन नहीं कर रहा था साथ जाने का, लेकिन अक्षय बहुत ज़िद कर रहा था. उसके बाद थोड़ी देर बाद उसने आकर मुझसे पूछा- तुम्हें आज कोई और काम है?मैं- ऐसा खास काम तो कोई नहीं है.

मेरी बीवी ने अपनी माँ के चेहरे पर किस करना शुरू कर दिया और उनकी पीठ पर अपने हाथ फिराने लगी. भाभीजी इस बीच में अपनी से इतना पानी छोड़ चुकी थीं कि हमारे नीचे का बिस्तर पूरा गीला हो चुका था. हम लोग अंदर गए तो वहां विस्की, बीयर, चिप्स, सलाद, चिकन बहुत कुछ था.

मैंने वैसा ही किया और उसकी गांड के छेद पर कुछ ज्यादा सा तेल मल दिया. मेरे दिल में बहुत धक धक हो रही थी क्योंकि मैं उसे फोन करने वाली थी. वो चुपके से बाथरूम में आ जाता और चूमा-चाटी करने के बाद फिर से एक मैसेज पर्ची पर लिख कर छोड़ जाता था.

अब कमलेश ने उसका टॉप उतार दिया और ब्रा के ऊपर से उसके चूचे ही दबाने लगा. मैंने एना की दोनों टांगें अपने कंधों पर रख लीं और जोर जोर से झटके मारने लगा.

” कह कर गौरी जोर जोर से हँसने लगी।अब मैं क्या बोलता? गौरी ने बेडशीट बदली और अपने कपड़े और तौलिया उठाकर सोने के लिए स्टडी रूम में चली गई।दोस्त आप सभी सोच रहे होंगे वाह … प्रेम माथुर तुम्हारे तो मजे हो गए। एक कुंवारी अक्षत यौवना ने सहर्ष अपना कौमार्य तुम्हें इतना आसानी से सौम्प दिया।हाँ मित्रो … आपका सोचना अपनी जगह सही है पर एक बात बार-बार मेरे दिमाग में दस्तक दिए जा रही है.

फिर ब्रेक फास्ट पर चलेंगे तब तक।वे- रोज दो तीन घंटे करते हो?मैं- जी हां, जब तक फ्री रहता हूं।मामा जी- अच्छी आदत है।वे फिर मेरे पास आ गए- तभी तो तुम्हारी इतनी पतली कमर है।मेरे पेट पर हाथ फेरते बोले- बिल्कुल सपाट रखा है … उस पर ऐसे मस्त कूल्हे!वे फिर मेरे चूतड़ों पर हाथ फेरने लगे, बोले- जिनकी कमर पतली होती है, उनके कूल्हे भी पिचके होते हैं और जिनके कूल्हे बड़े होते हैं उनकी कमर भी मेरी जैसी होती है.

मैंने महसूस किया कि रचना के चेहरे से साफ़ लग रहा था कि वो मेरी गैरहाजिरी की बात सुन ख़ुश हो गयी है. मैंने लिखा है कि ये कहानी मेरी बुआ जी के छोटे लड़के की है, उनका एक बड़ा बेटा भी था … जो अब इस दुनिया में नहीं है. औय्य … क्या है चल हट …” कहते हुए वो अब सीधा नीचे भाग गयी।कहानी जारी रहेगी.

वो उचक उचक कर मज़े में चिल्ला रही थीं- आअहह दामाद जी … आआओ और अन्दर आओ अपनी सास के … अया ऐसा दामाद भगवान सबको दे … ऊऊहहूओ हमम्म उम्म्म्म … जमाई बाबू आ जाओ और ज़ोर से चोदो अपनी सास को!ये कहते हुए वो अपनी चुत को अपने हाथों से मसलने लगीं और एक उंगली अपनी चुत में पूरी अन्दर तक डाल दी. आलिया के चिल्लाने से मैंने उसके मुँह पर हाथ रख दिया और लगातार बिना रुके आलिया को चोदने लगा. बिक्कू फोन को उठाने के लिए चला तो मैंने उसके लंड को हाथ में पकड़ लिया.

वो चुदास भरी आवाज में बोल रही थी- जल्दी करो डार्लिंग … मेरे को नंगी कर दो प्लीज़.

हमारे घर के पास ही भाई का एक बेस्ट फ्रेंड रहता था, जिसका नाम तो कुछ और है … मगर मैं प्यार से उसे भोसड़ी के बुलाती थी. ई …” की आवाज के साथ उसने मेरे सिर को छोड़कर तुरन्त ही दोनों हाथों से अपनी चूचियों को छुपा लिया. मुझे यक़ीन नहीं हो रहा था कि आप मुझे क्या करने के लिए बोल कर गयी हैं.

हेक्टर वेरोनिका को कुतिया बना कर चोदने लगा था और इधर एना मेरे लंड को चूस चूस कर कड़क कर रही थी. इस चूमाचाटी के चलते मैंने अपने एक हाथ को फिर से उसके कुर्ते में घुसा दिया था. वे समझ तो गए पर मुस्कुरा कर रह गए।बाहर यूरिनल में पेशाब करके लंड धोकर आए व सो गए.

जाने से पहले वो मुझसे बोला- पूनम जी, अगर आप बुरा ना मानें, तो एक बात कहूँ.

बबलू ने पिंकी को बांहों में भरते हुए कहा- कैसी हो पिंकी रानी?पिंकी बेशार्मों की तरह उसके गले में बांहें डालते हुए बोली- मस्त हूँ मेरे राजा …पिंकी का ये अंदाज़ देख कर मैं हैरान थी. आंटी की चीख इतनी तेज थी कि क्या बोलूँ … यूं समझो कि कोई औरत बच्चे को जन्म देने के वक़्त चीखती है … वैसी चीख निकली थी.

बीएफ इंडियन सेक्सी वीडियो शाम को उन्होंने मुझे रुकने का कह दिया क्योंकि एक कस्टमर के साथ मीटिंग थी. वो एक बहुत बड़ी चुदक्कड़ थी और उसने मुझे भी अपनी जैसी रंडी बना दिया था।पूरी रात वासना का यह खेल चला.

बीएफ इंडियन सेक्सी वीडियो मैं समझ गई कि वो अपना लंड ज्यादा से ज्यादा मेरे मुँह में अन्दर देना चाहता है. उस वक्त मैं 22 साल की थी।करीब 40 मिनट बाद उन दोनों ने शराब ख़त्म कर ली तो मैंने खाना लगाया.

बाथरूम में जाते ही मैंने मेरे सारे कपड़े खोल दिए और नल चालू कर दिया.

भाई बहन की नंगी फिल्म

उस दिन तू फार्म हाउस के लिए जो बुला रहा था, उसी दिन मुझे सब पता चल गया था. अंकित शबनम के स्तनों के साथ इस तरह से खेल रहा था जैसे की एक बच्चा बॉल के साथ खेलता हो. मगर उसकी दाल नहीं गली तो वो मारे गुस्से के उसके पति से हमारे बारे में सब बता दिया और बोला- मेरे पास सभी सबूत हैं.

उसने उसी पल एक ज़ोर से धक्का मारा और अपना लंड चूत में अन्दर तक पेल दिया. मैंने उन्हें वापस पलंग पर गिरा लिया और कहा- देखूँ तो ज़रा … कितने ज़ोरों की आई है. वो मुझे जब भी हवस भरी नजरों से देखते थे, तो मुझे बहुत अजीब लगता था.

मेरे ख्याल से अगर आपको नींद ना आ रही हो, तो कोई किताब पढ़ देनी चाहिए.

मैंने पहले ज्यादा नहीं पूछा, पर फिर ज्यादा चुप देखकर बोला- क्या हुआ तुमको?वो उठी मेरी अलमारी के ऊपर से बैग उतार कर बोली- क्या है यह सब … इसमें किसकी ब्रा और पैंटी हैं?मेरे रंग उड़ गए. अपने ऊपर बैठा कर उस दिन उसने बहुत देर तक मुझे ऐसे ही चोदा था और ऐसे ही हम दोनों एक दूसरे की कोली भरकर झड़ गए थे. ”आपते लिए नाश्ता बना दूं?”नहीं रहने दो गौरी! अब भूख नहीं है। मैं ऑफिस में ही कुछ खा लूँगा.

तभी उसने अपनी उंगलियों को मेरे सीने की घुंडियों पर फेरना शुरू कर दीं. मेरी समस्या सुलझ गयी।मैं चाहती तो अपने पति से मांग सकती थी पर मुझे उनसे पैसे नहीं चाहिए थे क्योंकि ये पैसे मैं अपनी एक सखी को देने वाली थी और उनसे कितनी बार ले चुकी थी. मैडम ने गुस्सा होकर कहा- हां देखा है मैंने तुम्हारा टहलना … संतोष के साथ.

वहीं दूसरी ओर चाहता भी था कि उन्हें पता चल जाये ताकि कुछ आगे बढ़ा जा सके।जी हाँ दोस्तो … ये हैं मेरा इकलौता प्यार … मेरी सरोज मामी, उम्र 38 साल, हाइट 5’4”, यहीं गुडगाँव में रहती हैं। मैं इनसे पिछले 3 साल से प्यार करता हूँ, इनको पाना चाहता हूँ. प्रीति ने भी अपने हाथ की वरमाला मेरे गले में डाल दी और फिर मेरे पैर छुए.

मेरी मॉम निशा घूमने की शौकीन हैं, तो में और वो कुछ देर तक बातचीत करने के बाद जाने को राजी हो गए. कभी कभी उसकी चुत को भी सहला रहा था।तब मैंने उसकी टीशर्ट निकाल दी तथा सलवार के नाड़े तोड़ दिया जिससे उसकी सलवार नीचे गिर गयी. मामा जी- बड़े किस्मत वाले थे वे जिन्हें तुम जैसे नमकीन की मारने को मिली.

थोड़ी देर वैसे ही घिसाई करने के बाद वह सामने को जाने लगीं, तो मैं उनकी मस्त नंगी गांड पहली बार देख रहा था.

यह कहते हुए उसने मेरे लंड के टोपे पे अपने अंगूठे को फिराया और मेरे लंड की जड़ में एक किस कर दिया. फिर जब हम लोगों की चुदाई हो गयी तब उन्होंने अपने पति को फोन किया और मेरा नाम लेकर बोली- वो आये हैं आपसे मिलने! जल्दी आओ, वो कल मुम्बई चले जायेंगे. ’ऐसे ही वो कुछ भी ऊटपटांग बोले जा रही थी और इधर मैं नीचे से अपनी गांड उठा उठा कर धक्के लगा रहा था.

मैंने किस करते हुए पूजा की चुत को जींस के ऊपर से ही मसलना शुरू कर दिया. आप यह बात पहले तो अच्छी तरह जान लीजिए कि जब तक समस्या आपके मन में ही दबी रहेगी तब तक आप उस समस्या का समाधान नहीं निकाल सकते हैं.

थोड़ा सा ही मेकअप किया ताकि वो ये ना कहे कि दीदी सज धज के चुत चुसवाने आयी है. मैं आलिया को चोदने में इतना पागल हो गया था कि मुझे इस बात का अहसास ही नहीं हो रहा था. अब दादा जी मेरे पीछे से डालने लगे और मैंने अपनी टांगें चिपका लीं, ताकि उन्हें लगे कि लंड चुत में जा रहा है और वैसा ही हुआ.

బంగ్లాదేశ్ సెక్స్ వీడియో

लो अंकल जी, आप तो मुझे से सिखा पढ़ा कर भेजना ससुराल!” वो बोली और उसने अपनी बुर के होंठों को अपने हाथों से खूब अच्छे से खोल के चूत परोस दी मेरे फनफनाते लंड के सामने.

सोचो कि तुम सुमन की गीली गर्म चूत में अपना लंड अन्दर बाहर कर रहे हो. भाभी ने शालू से पूछा- इतना क्यों चिल्ला रही थी?वो रोते हुए भाभी से कहने लगी- ये अपना औजार मेरे छेद में घुसा रहे थे … इसलिए मुझे बहुत दर्द हो रहा था. धीरे धीरे तो ऐसा होने लगा कि हम दोनों सिर्फ चुत और लंड की ही बातें करने लगे थे.

उसने पानी पीया और भाई व बिक्कू बाइक लेकर दोनों ही कहीं बाहर चले गये. मैं- मैं हर हफ्ते आ जाऊँगा तुम्हें चोदने … अब अभी के मज़े तो ले लो मेरी चाची जान. शेयर चैट वीडियो मजेदारकुछ देर तक मोहन भैया मेरी चूत को चाटने के बाद अपना लंड मेरी चूत में रगड़ने लगे.

उसने तुरंत ऐसा ही किया, मैंने हल्का सा धक्का दे दिया लेकिन मेरा लंड अंदर नहीं गया क्योंकि स्मृति की चूत अब तक एक बार भी नहीं चुदी थी. मगर वह जानती थी कि एक बार उसके पिता ने उसकी चूत को चोद दिया तो फिर वो रोज उसके पास ही पड़े रहेंगे.

मेरी चूत को चोदो ना जानू!कबीर ने मेरी चूत पर लंड को रखा और एक धक्का दे दिया. मैंने उसको रिप्लाई किया कि मुझे अपने से ज्यादा बड़ी उम्र की लड़कियों में रूचि है. आगे क्या हुआ वो अगले भाग में!आप लोगों को मेरी सेक्स कहानी कैसी लग रही है? मुझे बताइयेगा.

कल तेरी शादी हो जायेगी और तू पराये घर चली जायेगी इसलिए सब सीख ले पहले ताकि तेरा पति खुश रहे तेरे से!” मैंने कहा तो मेरी बात सुनकर कम्मो की हंसी छूट गयी. मैं दीदी के पैरों से ऊपर जाते वक़्त उनकी चूत के रास्ते से होकर गया, जिस वजह से दीदी और भी गर्म हो गई थीं. लेकिन शबनम की बातें उसको और ज्यादा उत्तेजित कर रही थी और जैसे उसका लंड शबनम की बातों से चूत के अन्दर ही बढ़ रहा था.

अगले ही पल आंटी ने उठ कर अपना पर्स टटोला और उसमें से डॉटेड कॉन्डोम निकाल कर मेरे लंड पर पहना दिया.

न ही राज मेरे करीब आने की कोशिश करता था और न मैं ही उसके साथ कुछ करने के ख्याल मन में लाती थी. और ‘हो हो’ कर हंसने लगे- तुम्हारे गाल भी मेरे जैसे नहीं!वे मेरे गालों पर भी इस बहाने हाथ फेरने लगे।मैंने कहा- मामा जी, आप थके हुए हैं, रात में ठीक से सो नहीं पाए.

वाउ … आज उनकी चूत क्लीन शेव्ड थी जबकि रात को तो मौसी की चूत पे झांटें थी. मेरा लंड आजाद होकर हवा में लहराया और उसने कम्मो को दो बार जम्प लगा कर सलाम ठोंका. ”हुम्म …”भेनचोद ये किस्मत भी लगता है भगवान् ने अपने लौड़े से ही लिखी है। मंजिल जैसे ही पास आती है नाव हिचकोले खाकर डूबने लगती है।थोड़ी देर में गौरी कपड़े बदलकर आ गई।दीदी ता फोन था त्या? त्या बोला दीदी ने?”वो … वो तुम्हारी मदर की तबियत थोड़ी खराब है तो तुम्हें घर बुलाया है.

मैं पिछले काफी समय से इंडियन सेक्स की सबसे बड़ी साईट अन्तर्वासना की सेक्स स्टोरीज पढ़ रहा हूँ. उसने अपना हाथ उसके पूरे लंड पर फिराते हुए धीरे से अपने मुंह के अन्दर ले लिया. आह प्लीज़ रुको … थोड़ी देर मेरी गांड में अपने लंड को फंसा कर यूं ही रखो.

बीएफ इंडियन सेक्सी वीडियो मित्रो, आप सबको मेरी भाई बहन की सेक्स स्टोरी अच्छी लग रही है? ईमेल करके मुझे बतायें. अब मैं और वो आमने सामने एक दूसरे की जाँघों को क्रॉस करके एक दूसरे की कमर में अपने पैर लपेट कर बैठे थे.

ब्लू फिल्म सेक्सी हिंदी में ब्लू फिल्म

रोहन- तुमसे बात करने के बाद मेरे पेट में मीठा-मीठा सा दर्द हो रहा था. इतने में हनी रीमा के पास अपना लंड हिलाते हुए गया और उसे गाली देते बोला- ले रंडी मेरा लंड भी चूस ले. उसके शरीर से पसीने और लेडीज परफ्यूम की महक आ रही थी, जो मुझे मदहोश कर रही थी.

मैंने अपने साथ आंखों पर बांधने वाली पट्टी और छोटी चाबुक भी ले ली थी जिससे मैं संजना के साथ बी डी एस एम करना चाहता था. वैसे, मुझे लगता है कि हमें मिलना चाहिए ताकि आप यह पता लगा सकें कि मैं चंपू हूं या नहीं. सेक्सी वीडियो धकाधकउसका दबाव इतना तेज था कि मेरी चूचियों से सच में ही दूध निकलने को हो गया था.

कुछ ही देर में आंटी एकदम चीखती हुई झड़ गईं और मैंने उनके नमकीन अमृत रस को पूरा पी लिया.

थोड़ी ही देर में फिर से कमरे में मादक सिसकारियां फैलने लगीं, जो थोड़ी ही देर में चीखों में बदल गईं. कुछ पल बाद वो उठी और मुझे अपने गले से लगा कर मुझे बेहताशा चूमने लगी.

अब भाबी ने मुझसे पूछा- अब बताओ तुमको मुझमें क्या अच्छा लगा?मैंने भाबी की चूची चूसते हुए कहा- पहले तो ये आम अच्छे लगते थे, मगर अब आपकी चूत पसंद आ गई है. मैंने देखा कि ये सुनकर उनके चेहरे पर एकदम से खुशी छा गयी थी और मेरे अन्दर भी थोड़ी सी हलचल मचने लगी थी. मैंने देर ना करते हुए तुरन्त उसके होंठों को अपने मुँह में भर लिया और उन्हें धीरे धीरे चूसना शुरू कर दिया.

”और बाकी चीजें?”किच्च… नहीं मिली?”ओह…?” मैंने एक लम्बी सांस छोड़ते हुए कहा।गौरी ये लेप वाला भी झमेले का काम है। एक काम तो हो सकता है पर …” मैंने अपनी बात जानबूझ कर अधूरी छोड़ दी।पल… त्या?” गौरी ने कातर दृष्टि से मेरी ओर ताका।तुम से नहीं हो पायेगा.

उसने मुझे धक्का देकर और अपने ऊपर से हटाने की बहुत बार कोशिश की लेकिन मैंने उसको नहीं छोड़ा और मैं उसको बहुत कसकर पकड़े रहा और उसे धीरे धीरे चोदता रहा. मैं रुक गया।और फिर असली प्लान शुरू हुआ। दो हाथों ने मेरे चूतड़ फैलाये और उपिन्दर का मस्ताना लण्ड मेरी गांड में घुस गया।उपिन्दर बोला- कामिनी मेरी रानी, प्रोग्राम तो तेरी गांड चोदने का ही था, ये आईडिया अंशु और शैली का था. मैं- चल आज तेरी ही तमन्ना पूरी करता हूँ … और कुछ चाहिए तुमको?ऊषा- हां बाबू अपनी गर्लफ्रेन्ड को तुम चोदते कैसे हो … वो देखना चाहती हूँ.

ब्लू फिल्म वीडियो इंग्लिशउसकी चूत से एक खट्टा मगर बड़ा स्वादिष्ट सा रस निकल रहा था, जिसे मैं बिल्कुल भी व्यर्थ नहीं करना चाह रहा था. मैं अपने भाई बहनों में सबसे छोटा था और मेरे पिताजी भी बुआजी से छोटे थे, तो मेरे और दीदी की उम्र में काफी अंतर था.

निशा भाभी की चुदाई

बबलू का माल जो पिंकी के मुंह में भरा हुआ था अब मुझे भी अपने मुंह में उसका स्वाद आने लगा. अब मैं एक हाथ से उसके मम्मे मसल रहा था और दूसरे हाथ से उसकी सलवार के अन्दर उसकी फुद्दी का दाना मसल रहा था. मैं अपने कमरे में जाकर ऐसी ऑन करके और एक चादर ले के लेट गया और जो भी हुआ उसके बारे में सोचने लगा।शादी की नहीं, मामी के कपड़े लाने वाली बात पे!तो वो थी जो ऊपर कपड़े लेकर आयी थी.

मेरी बात समझ कर वो झट से किसी चौपाये की तरह औंधी होकर अपने हाथ पैरों के सहारे खड़ी हो गयी. मैंने उसके पैर पकड़े कि कोई दूसरा रास्ता नहीं है?तब बॉस बोला- यहाँ इज़्ज़त का कोई मोल नहीं है, ये इंडिया नहीं है … लन्दन है. मैंने कहा- नहीं …मैं उसकी कमर में हाथ डालकर उसे अपनी तरफ घुमाकर दीवार पर सटाकर फिर से उसे चूमने लगा.

परसों जब चार्ली का फोन मुझे आया था तभी मैंने एक प्लान बनाया कि मैं तुम दोनों के बीच में चाहे जो भी हो उसको जानकर ही रहूंगी. एक कातिलाना मुस्कान मैंने दी … जिसका जवाब मुझे उसकी कातिलाना मुस्कान से मिला और वो अपने होंठों को दबाने लगी। उसे अपनी ओर खींचते हुए मैंने उसके स्तनों को कस के पकड़ा और उसके गले पर अपने होंठों की मुहर लगा दी. फिर वो सब लोग सिर्फ अंडरवियर और बनियान में आराम से बैठ गए।विकी मेरे करीब आया और मुझे बांहों में भर कर मेरा टॉप उतारता हुआ मेरे होंठों को चूसने लगा। मैं भी नशे के सुरूर में थी.

उसका मोटा लंड मेरी चूत को चुदाई के लिए और भी ज्यादा उत्तेजित कर रहा था. ये औजार क्या होता है?मैंने कहा- तुमने आदमियों को पेशाब करते समय कभी उनकी छुन्नी देखी है?उसने कहा- हां, गांव में तो सारे मर्द कभी भी कहीं भी पेशाब करने लगते हैं.

मैंने अपना सिर नीचे कर लिया क्योंकि मैं तो खुद ही चाहता था कि वो मेरी बीवी को मेरी ही आंखों के सामने चोद दें.

मैं जानता था कि वो मजे लेने के लिए आई हुई है इसलिए मैं तो पहले से ही पूरी तैयारी करके बैठा हुआ था. चूत चोदा चोदीपरीशा की कुँवारी चूत की फाँकें मुकुल राय के लंड के सुपारे के चारो तरफ फैलते हुए कस गई।अपनी चूत के छेद पर अपने पापा के लंड का गर्म सुपारा महसूस करते ही परीशा के बदन में मानो हज़ारो वॉट की बिजली कौंध गई हो, परीशा का पूरा बदन थरथरा गया. वॉलपेपर भेजोशॉवर की गिरती बूंदों के बीच मुझे उसका साथ बड़ा ही मस्त अहसास दे रहा था. इस धक्कमपेल से हम दोनों की सांसें अब फूल गयी थीं और बदन पसीने से भीगकर बिल्कुल तर हो गए थे.

मुकुल राय ने अपने दोनों हाथों से परीशा के चेहरे को अपनी तरफ घुमाया.

कहानी के पिछले भाग में नीलम ने अपने पति को अपने जिस्म के करीब नहीं आने दिया और वह अपनी बहन के पास जाकर आंसू गिराने लगा. फिर मैंने कहा- मैं तुम्हें फ्लैट के बाहर लेने के लिए आ जाऊंगा और तुम मेरे साथ रहोगी तो किसी को शक नहीं होगा. कल तेरी शादी हो जायेगी और तू पराये घर चली जायेगी इसलिए सब सीख ले पहले ताकि तेरा पति खुश रहे तेरे से!” मैंने कहा तो मेरी बात सुनकर कम्मो की हंसी छूट गयी.

मैं बोला- आई लव यू बेबी!फिर तो उसके बाद हम लोग फोन में घंटों बात करते रहते. लेकिन कॉन्डम के साथ भी उसकी चूत की गर्मी मुझे अपने लंड पर अलग से ही महसूस हो रही थी. उस भाभी ने अपनी मेक्सी की डोरी खोल दी और मुझे उसकी ब्रा में कैद चूचियां दिखने लगीं.

हिंदी देसी क्सक्सक्स

बिक्कू फोन को उठाने के लिए चला तो मैंने उसके लंड को हाथ में पकड़ लिया. उस औरत ने आदमी से सिगरेट ले ली, उसने भी धुंआ उड़ाया और उस आदमी से मस्ती करने लगी. ” उसने मरियल सी आवाज़ में जवाब दिया। उसकी मुंडी झुकी हुई थी और एक हाथ से वह अपनी छाती को सहला रही थी।ग … गौरी … प्लीज … मुझे माफ करना … मुझसे अनजाने में गलती लग गयी प्लीज, आई अम सॉरी.

धीरे धीरे हम इसी पोजीशन में चरम आनन्द पर पहुंचने लगे और हम तीनों एक साथ झड़ने लगे.

क्योंकि मैंने कभी किसी के सामने उसकी बीवी से सेक्स के बारे में कभी सोचा भी नहीं था.

जो लोग अन्तर्वासना को बहुत पहले से पढ़ रहे हैं, वो सभी मुझे सनी गांडू के नाम से जानते हैं. वो पहले से चुदाई कर चुकी थी इसलिए उसने और अच्छे से मुझे सब बात समझाया. ब्लू पिक्चर सेक्सी वीडियो गानाइसमें करीब पौन घण्टा तो कम से कम मैंने लन्ड उसकी चूत में रखा ही होगा। ये भी पता चला कि जब जब वो पूरे जोश में मुझे पकड़ कर अपने चूतड़ हिला रही थी, तब-तब वो झड़ रही थी.

भाभी इस बार अपने कंट्रोल पर कंट्रोल नहीं कर पाईं और जोर से चिल्ला उठीं- उम्म्ह… अहह… हय… याह… मार डाला रे दीपक … अहह अहह मर गई … निकालो इसे बाहर!सच में दोस्तो, भाभी की चुत इतनी टाइट थी कि मेरे लंड का सुपारा भी छिल गया था और मुझे भी जलन महसूस होने लगी थी. दोस्तो, मेरा परिचय तो आप पिछली कहानी में जान ही चुके हैं और जो अन्तर्वासना के नए पाठक हैं वो मेरी पिछली कहानी जरूर पढ़ें. उसके लंड के स्पर्श ने मेरी चूत में वो आग लगाई कि मैं खुद ही अपनी चूत को उसके लंड की तरफ धकेलने लगी.

दूसरा कारण ये था कि मेरे लंड का टोपा भी बहुत मोटा था इसलिए लंड जरा भी नहीं सरक पा रहा था. मैडम ने संतोष से कहा- बस बहुत हुआ अब जल्दी से अपना लंड पेल दो … अब और नहीं रहा जाता.

मैंने उससे कहा कि तू जल्दी जल्दी ये पैग खत्म कर … तो फिर फ्री होकर बैठते हैं.

अपना नाम बता दीजिए?”तो उसने कहा- नहीं, यह मेरा नंबर व्हाट्सएप पर है, आप अपना लेटेस्ट इमेज भेजिए. फिर स्नेहा ब्रेकफास्ट करके स्कूल चली गई और जसवीर तो कल से अपने बुआ के घर ही था. मैंने भी कपड़े पहन लिए थे मैंने भी जाते हुए उसकी चुचियों को मसला और नीचे हॉल में आकर बैठ गया.

गुजराती भाषा सीखें देखना चाह रही थी कि देवर भाभी जो कभी प्रेमी-प्रेमिका वाले आकर्षण से गुजरे हों अगर उनको एक मौका दिया जाये तो वो किस हद तक चुदाई का मजा ले पाते हैं. भाभी जी ने बताया- अरे नहीं सर, वो पहले ऐसे नहीं थे, अभी एक साल से ऐसे हो गए हैं.

बॉस ने मुझे गोद से उतार दिया और मेरा गाऊन निकाल दिया, जिससे मैं उनके सामने बिल्कुल नंगी हो गयी. उसने अपना लंड रीमा की गांड में पेल दिया और उसकी गांड मारते हुए वो मेरे पास तक आ गया. मैंने देखा एक नई और आकर्षित करने वाली नई-नकोर कोरी चूत मेरे लंड का इंतज़ार कर रही थी.

सनी लियोन की पिक्चर वीडियो

उसकी चुत के शहद को चूसते हुए मैंने रितिका की चुदाई शुरू की ही थी कि उषा ने पलटी मारी और अपनी गांड मेरे मुँह के सामने कर दी. रचना रोनित के मुँह से लंड गांड सुनकर हंस दी और अपने जलवे दिखाने लगी. वो मेरे मुंह में, गालों में, होंठों में अपने लौड़े को रगड़ने लगा तो मैंने एक बार अपने आप ही अपना मुंह खोल लिया और उसके लंड को अपने मुंह में ले लिया.

मैंने उसके पैर पकड़े कि कोई दूसरा रास्ता नहीं है?तब बॉस बोला- यहाँ इज़्ज़त का कोई मोल नहीं है, ये इंडिया नहीं है … लन्दन है. फिर धीरे से वो मेरे करीब आया और मेरे बालों में अपना हाथ फिराने लगा.

जैसे ही लंड चुत में घुसा, भाभी जी ने एक आह निकालते हुए कहा- आह मर गई.

मैं, मेरे हस्बैंड और हमारा एक छोटा सा बेबी पिछले 3 सालों से यहां रह रहे हैं. मुझे और मेरी बीवी को ये मालूम था कि मेरी सास को अपने पति से चुदाई का सुख नहीं मिल पाता है. मामा जी- बड़े किस्मत वाले थे वे जिन्हें तुम जैसे नमकीन की मारने को मिली.

रचना जोर से आवाजें निकाल रही थी- आह आह्ह आह्ह मार डाला आआउउन्न … मजा आ गया डार्लिंग!फिर समय खराब न करते हुए रोनित ने रचना की कुंवारी चूत पर अपना लंड रख दिया. उसने अपना लंड रीमा की गांड में पेल दिया और उसकी गांड मारते हुए वो मेरे पास तक आ गया. उसे तो काटो तो खून नहीं … अभी अगर वो दरवाजा खोल देती तो!?खैर उसने फटाफट कपड़े पहन कर सामान लिया.

”ओह … देखो आपने फिल मुझे बातों में फंसा लिया ना?”यार इसमें फ़साने वाली कौन सी बात है भला?”फिल भी आपते सामने शल्म तो आएगी ना?”ठीक है भई! कोई बात नहीं। एक तरफ अपना भी कहती हो और मेरी तो क्या अपनी प्रिय दीदी की भी बात नहीं मानती। ठीक है भई अपनी तो किस्मत ही खराब है.

बीएफ इंडियन सेक्सी वीडियो: उपिन्दर ने मेरी माँ की चुचियाँ मसलीं- वापस घर पे आके तो तेरी लूंगा ही, वहां अंधेरे में प्रोग्राम शुरू करेंगे, मज़ा आएगा. मैंने बॉस को बोलकर अपना ट्रांसफर एक महीने के लिए रुकवा लिया और जरीना को कॉल करके बता दिया.

फिर वो बोला- मैंने तो ऐसा भी सुना है कि तेरी मां तुझसे धंधा करवाती है. मैंने कहा- क्या मतलब?मेरी फ्रेंड ने कहा- मतलब कुछ प्यार व्यार बस!मैं मुस्कुराने लगी क्योंकि मनोज का मेरी हेल्प करना, मुझे हंसाना, मुझसे सेक्सी बातें करना … शायद कहीं ना कहीं मैं उसकी तरफ आकर्षित होने लगी थी. दीदी ने अपनी बाँहें फैला कर मुझे अपने आगोश में भर लिया और मेरे प्यार को अपने प्यार से रंगने लगीं.

उन्होंने भी मेरे प्यार को प्यार से स्वीकार करते हुए ‘आई लव यू टू दीपक …’ बोल दिया.

फिर शालिनी ने मुझे कड़े शब्दों में कहा कि जल्दी करो नहीं तो बच्चे आ जायेंगे।मैं उसकी बात को नजरअंदाज करता रहा और काफी देर उसे ऐसे ही चोदता रहा. बाहर तो स्पा की सर्विस देने का ही वादा किया जा रहा था लेकिन फिर काम की बात करने पर वो लोग बाकी सर्विस भी देने के लिए तैयार हो जाते थे. उनकी चुदास देख कर मैंने अपने दोनों हाथों से उनकी चूत फैला दी और उसमें अपनी जीभ डाल दी.