होली के सेक्सी बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,गुजराती एक्स एक्स एक्स

तस्वीर का शीर्षक ,

सनी लियोन बाथरूम सेक्स: होली के सेक्सी बीएफ वीडियो, उस दिन मैंने घर कमरा अच्छे से साफ किया, खुद भी खूब अच्छे से शेव आदि करके जल्दी ही नहा लिया.

एक्स एक्स एक्स फिल्म वीडियो में

यही हाल मेरा भी था … और क्या बताऊँ … जब बिस्तर का हाल देखा, तो मैं दंग रह गयी. एमपी सेक्सउसने पूछा- दर्द कर रहा है क्या मेरा लंड?मैंने कराहते हुए कहा- हां, बहुत दर्द हो रहा है.

मैंने अपना हाथ सीधे उसकी पैंटी में पहुँचा दिया और उसकी चुत का मुआयना करने लगा. ట్రిపుల్ ఎక్స్ పాత్రలుजैसे जैसे उसका लिंग मेरी योनि में अन्दर जाता, वैसे वैसे उसके लिंग का थोड़ा थोड़ा हिस्सा गीला होता जाता और अंत में उसका समूचा लिंग मेरी योनि में समा गया.

उन्होंने बताया कि अंकल के शरीर से जो गंध आती है, वो मुझे पसन्द नहीं है.होली के सेक्सी बीएफ वीडियो: चूत का रस साफ़ करने के बाद मैंने उसे पलट दिया और उसकी दोनों टांगें अपने कंधे पर रख लीं.

मैंने पूछा- अरे रेनू क्या हुआ?उसने बताया कि यार एक मोटा चूहा मेरे ऊपर कूद गया … तो मैं भागी और दरवाजे से मेरे पैर में चोट लग गयी.मैंने एक पल उसकी ब्रा में कैद उसकी चुचियों को निहारा और अगले ही पल उसकी पूरी बॉडी पर किस करने लगा.

मराठी नंगा वीडियो - होली के सेक्सी बीएफ वीडियो

पूजा हंस पड़ी और उसने कहा- मैंने भी गलत किया था … चलो आज तुम्हारे इस ख्वाब को पूरा कर देती हूं.पर तुरंत झड़ने के बाद जल्दी लंड खड़ा होता नहीं है, इसलिए मुझे वहां से बाहर जाना पड़ा.

झटका देते ही मेरे मूसल लंड का सुपारा मामी की चूत में घुस गया और मामी के मुंह से चीख निकल गई. होली के सेक्सी बीएफ वीडियो मेरी आंखों के सामने जो नजारा था उसे देख कर मेरी आंखें फटी की फटी रह गयी.

वैसे मेरी सहेली ने भी मुझे स्कूटी चलाना सिखाई थी लेकिन विभोर से मैंने अच्छे से स्कूटी चलानी सीख ली थी.

होली के सेक्सी बीएफ वीडियो?

मैं बिलकुल चुप था … ज्योति को मेरी खामोशी बिल्कुल भी भा नहीं रही थी. मेरी शादी से पहले भी मेरे कई ब्वॉयफ्रेंड थे इसलिए मैं रोज किसी ना किसी के साथ सेक्स कर लेती थी. विदाई के दूसरे दिन जब हम सब सबसे ऊपर वाली छत पर लेटने गए, तो हम 4 लोगों के अलावा कोई बड़ा सदस्य हमारे साथ छत पर नहीं था.

मेरे लंड में पहले से ही कामरस निकल आया था इसलिए मुठ मारने अलग ही आनंद आ रहा था. दस मिनट तक उसकी चूत को चोदा और फिर जब मेरा वीर्य निकलने को हुआ तो मैंने एकदम से लंड को बाहर खींच लिया. साहब ने मेरे ऊपर चोरी का इल्जाम लगाया तो मैं वहीं खड़ी-खड़ी कांपने लगी.

मम्मी बोलीं- इसको सहलाते ही रहोगे या यह लंड कुछ काम भी करेगा?कल्लू बोला- रानी, यह लंड ही तेरी चूत की आग को शांत करेगा. मैंने भी उसको गाली देते हुए कहा- हां रंडी, आज मैं तेरी बुर को चोद कर इसका भोसड़ा बना दूंगा. भाभी के दोनों बच्चे स्कूल से आने के बाद हमारे ही घर में रहने आ जाते थे.

मैंने ऊषा के कान में कहा- बहू, माफ कर देना, हालात ही ऐसे हैं कि ये सब हो रहा है. वो मचलने लगी- उफ्फ्फ … उम्म्ह … अहह … हय … ओह …मैंने उसकी एक टांग को अपने कंधे पर रखा और लगातार झटके देने लगा.

खाना अभी तैयार नहीं हुआ था, तो वो बाहर बैठ गया और फ़ोन पर किसी से बात करने लगा.

मैंने छोटी बहन को चोदा … कैसे? पढ़ें इस कहानी में! हम भाई बहन अकेले थे घर में … हम मजाक में एक दूसरे के सामने नंगे हो चुके थे.

पूजा बहुत गर्म हो चुकी थी और बोल रही थी- अमित अब कुछ करो, आह रहा नहीं जा रहा … उईईई ओह उईईई मम्मम सीईईईई अमित अब आगे बढ़ो प्लीज़!अब मुझसे भी रहा नहीं जा रहा था. आप ये बताओ कि आप मेरे यहां पर क्यों नहीं आते हैं? कभी मुझसे बात भी नहीं करते हैं. मेरे हाथ उसके स्तनों को दबाते हुए उनका दूध निचोड़ने की कोशिश कर रहे थे.

सुरेश थक कर हांफ रहा था और मैं दर्द से तड़फ रही थी, मगर चिंता केवल चरम सुख की थी. मैंने कहा- कुछ देर और रुक जा मेरी जान … सिस्टम को रिफ्रेश तो कर लेने दे पगली. अब मैं कोई बच्चा तो था नहीं, मैंने अपनी होम ट्यूशन वाली भाभी को चोदा था … तो मैं समझ गया कि ये मेरे ऊपर फिदा है.

आंटी बोलीं- आप किस ट्रेन से जाओगे?मैंने कहा- देखता हूं … जो भी मिल जाए.

वो होटल ज्यादा अच्छा तो नहीं था मगर इस तरह के कामों के लिए बहुत उपयुक्त था. उसने क्या खाया और दिन भर क्या किया, किसने उसके साथ क्या-क्या छेड़छाड़ की और किस तरह से उसके शरीर को छुआ. तभी पीछे से आंटी आ गई और कहने लगी- अरे सोनू, ये लोग नये किरायेदार हैं, इनको आने दो.

इसके बाद उसने मुझे कई बार चोदा और हर बार उसने मुझे चोद कर मस्त कर दिया. इस तरह से वो दोनों गंदी गंदी बातें करते हुए एक दूसरे के साथ चुदाई का पूरा मजा ले रहे थे. चाचा भतीजी की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैंने अपनी भतीजी की चुदाई कैसे की? मेरी भतीजी पूरी जवान और दिखने में बड़ी मस्त माल है.

अब पूरा लंड गीला हो चुका था और चुदाई में पच-पच की आवाज होने लगी थी.

शायद मेरा शरीर उस वक्त तैयार नहीं था, इसलिए डिलीवरी के वक्त बहुत दिक्कतें हो गईं और उसकी वजह से मैं बाद में कभी गर्भ धारण नहीं कर पाई थी. जब मैं मॉम की पीठ पर तेल लगा रहा था, तब उनके मम्मों तक हाथ ले जाता था.

होली के सेक्सी बीएफ वीडियो फिर वो मेरे कान के पास आकर झिझकते हुए धीरे से बोले- डॉक्टर साहब, मेरे उधर सूजन है. मैंने कहा- अंकल तो रोज़ चोदते होंगे आपका फिगर इतना मस्त है, कितने किस्मत वाले हैं अंकल.

होली के सेक्सी बीएफ वीडियो संजय ने मुझे चुदाई की मुद्रा में लिटाया और अपना लंड मेरी चूत में डालने लगा. मेरे छोटे साले की लड़की इंशा सामने एक दीवार के साथ पीठ टिका कर बैठी थी, साथ में उसकी सहेली थी.

थोड़ी देर किसी तरह उसने जैसे तैसे धक्के लगाए और मुझे घुमा कर अपने तरह मुहाने कर बिस्तर पर लिटा दिया.

लैंड का फोटो

ये सब सोच कर मुझे लगा कि सुरेश बचपन का साथी है और वर्तमान दौर में वो पत्नी के न रहने से सेक्स का भूखा भी है. तुम तो एकदम से बदल गए हो यार!उसको देख कर मैं हैरत में था कि वो सीधा सा दिखने वाला लड़का इतना ख़ूबसूरत और इतना गबरू जवान हो जाएगा कि जिसकी मैं कभी कल्पना भी नहीं कर सकता था. दोस्तों जैसा कि मैंने अपना नाम रसूल खान बताया … मैं बिहार में रहता हूँ और शादीशुदा हूँ.

मुझे तो उसकी नाज़ुक सी छोटे से छेद वाली चुत को मुँह में भरके चूसने का बहुत मन कर रहा था. मैंने देखा, तो वहां ज्योति की फ्रेंड को समझ आ गया कि मैं क्यों आया हूँ. वो जोर से चिल्ला दी और मुझे पीछे धकेलने लगी, लेकिन मैंने और जोर से अपना लंड फिर से अन्दर डाला.

इतना कह कर अनिरूद्ध ने मेरी बहन के सामने ही अपने कपड़े उतारने शुरू कर दिये.

इस बार हमारी चुदाई का राउंड 35 मिनट तक चला और मैंने उसकी चूत को रगड़ दिया. वे बड़ी देर तक मेरे ऊपर लेटे रहे, पर जब उनका लंड सिकुड़ गया, एकदम ठंडा पड़ गया, तब बाहर निकले. उसकी और मेरी लम्बाई में तीन-चार इंच का ही अंतर था इसलिए दोनों की सांसों का आदान-प्रदान एक दूसरे की नासिका के द्वारा होने लगा था.

जैसे ही मेरी बहन ने कहा कि वो बीच में नहीं सो सकती तो जैसे मेरी लॉटरी ही लग गई. आपको ‘भाई ने बहन की चुत मारी’ रिश्तों में चुदाई की कहानी में मजा आया होगा … इस पर अपनी प्रतिक्रिया दें और अपने मैसेज के जरिये भी अपनी राय देना न भूलें. ”बहुत देर हम वैसे ही खड़े रहे, उसके हाथ मेरी पीठ पर घूम रहे थे और मेरे हाथ उसके चौड़े सीने पर.

मुझे पता था कि आज इसकी जम कर चुदाई करनी है, पर मैं सब्र रखे हुए था कि जब ये खुद चुदने के लिए मेरे साथ आई है, तो इसे पूरा गर्म करके ही आगे बढ़ना चाहिए. उसके चूचों को खींचते और जोर से दबाते हुए उसकी चूत में पूरी गहराई तक लंड को उतारने लगा.

मैं उतरा और उसके पास गया, अपना गेट बंद किया और उसको कसके कमर से पकड़ कर बांहों में भर लिया और उसके होंठों को चूमने लगा. मेरी भाभी की चुदाई की एक गंदी कहानी पहले आ चुकी है, जिसका शीर्षकछत पर देवर भाभी सेक्स स्टोरीथा. नहाते वक्त बाथरूम के दरवाजे से देखा कि मामी अपने कमरे के बाहर झाड़ू लगा रही थी.

करीब दस मिनट की ताबड़तोड़ चुदाई के के बाद मैं उसकी चुत के अन्दर ही निकल गया, पर कंडोम होने के वजह से उसकी चुत में वीर्य नहीं गया.

वो हंसी और बोली- तो अभी ये बात कहने का क्या मतलब है?मैंने उसकी चूची मसली और कहा कि मेरा मतलब ये था कि तुम पूरी नंगी होने पर और भी खूबसूरत लग रही हो. उसने मेरी तरफ देख कर मुस्कुराते हुए पूछा- क्या सच में मैं खूबसूरत हूँ. नितिन का बाइक चलाते समय एक्सीडेंट हो गया और उसकी रीढ़ की हड्डी को चोट लग गयी.

मैंने पूछा- क्या हुआ भाभी … आप इतनी उदास क्यों हो?भाभी बोलीं- कुछ नहीं … बस ऐसे ही. क्या तुम मुझसे दोस्ती करोगी?पायल ने कोई जवाब नहीं दिया और वहां से बाहर चली गई.

भाभी ने मस्त होते हुए कहा- आह … मेरे कुत्ते को कुतिया की गांड बहुत अच्छी लग रही है … आह क्या मस्त चाटता है. उनके चुचे इतने बड़े और रसीले थे, कमर सेक्सी और गांड तो महा सेक्सी थी. पेशाब करने के बाद कजरी एक उंगली चुत के अन्दर डाल कर चुत को ठंडा करने लगी.

सास की गाड मारी

थोड़ी देर ऐसे ही करने के बाद मैंने उसकी जीन्स भी उतार दी और उसकी ब्रा भी उतार दी.

वो मेरे साथ बिस्तर में आ गया और मुझे अपनी बांहों में भर कर मुझे किस करने लगा. मैंने साहब को मां से कहते हुए सुना- आपकी बेटी तो बहुत अच्छा काम करती है. वो बोली- मैंने तो उस दिन तुम्हारे कच्छे में तने हुए औजार को देख कर ही मन बना लिया था कि यही मेरी प्यास बुझा सकता है.

मगर इस 90% के चक्कर में 10% वाली बात सच हुई, तो फिर मेरी बुरी छवि उसके सामने आ जाएगी. दस्तूर अपना आपा खोती जा रही थी और उसकी आंखों से लगातार आंसू आ रहे थे. ससुर और बहू की चुदाईउसकी चूचियां सच में गज़ब तरह की गोल हैं, क्योंकि जब मैं उससे मिला, तब भी वो अन्दर ब्रा नहीं पहने थी … बल्कि समीज-सलवार, अन्दर बनियान और लंबी वाली पैंटी पहने थी.

यूँ ही चलते चलते मैडम ने पूछा- साहिल, तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है?मैंने कहा- अभी कोई नहीं है. मैंने उसे अपने पास खींच लिया और कसके उसके होंठों को अपने होंठों में दबा लिया.

एक दिन मैं अपने लेपटॉप की करेप्ट हो चुकी हार्ड डिस्क से हिडन हुईं अश्लील फोटो को निकालने की कोशिश कर रहा था. मैंने सेक्सी आंटी का सर पकड़ा और अपने लंड को उनके मुँह की गहराई में उतारने लगा. अब आगे:चुत चुसाई के बाद भाभी ने मुझे गले से लगा लिया और मेरे होंठों को चूमने लगी.

मैडम को इस बात का अहसास हुआ कि मैं भी उनको देख रहा हूं तो उसने अपनी नजर मेरे लंड से हटा ली. उसका रुझान ज्यादातर सरस्वती पर ही रहता, इस वजह से विमला मुझसे कहा करती कि इन दोनों का चक्कर है. उसके चूचे पकड़ कर दबाते हुए मैंने उसके होंठों को एक बार फिर से पीना शुरू कर दिया.

ऊपर से पूरा खुला हुआ बदन, सिर्फ आधे मम्मों को ही ढक पा रहा था और नीचे से भी सिर्फ थोड़ी सी चूत को ही ढक पा रहा था.

मैंने पूछा- क्या हुआ?पूर्वी बोली- मेरे बदन में हल्की सी गुदगुदी हो रही है. कैमरा सैट करके मैंने चुपके से दीवार फांदी और और उनके पीछे जा कर खड़ा हो गया, थोड़े फासले पर.

मैंने उसको वहीं सोफ़े पर लेटा दिया और उसके होंठों को अपने होंठों में दबा लिया. राजशेखर अपने लिंग को हिलाते हुए निर्मला से अपना लिंग चूसने को कहने लगा. एक दो बार मैंने उसके चूचों को दबा कर देखा और फिर उनको जोर से मसलने लगा.

फिर मैंने उसे सीधा किया और उसकी टांगों के बीच में आकर अपने लंड पर कंडोम चढ़ाया और उसकी देसी बुर पर रगड़ने लगा. उसके मुँह से चीख भी निकल गई= उम्म्ह … अहह … हय … ओह …पर वाह री चुड़क्कड़ … बोलती क्या है कि तुम परवाह मत करो … अब बस मेरे मरने तक मुझे चोदते रहो. मेरी इस बात पर मामी ने कहा- देख लो भान्जे, तुम थक जाओगे करते-करते अगर मैंने दे दिया तो.

होली के सेक्सी बीएफ वीडियो इस पोजीशन में कई मिनट चोदने के बाद मेरा पानी निकलने वाला था, तो मैंने उससे पूछा- कहां निकालूं?उसने कहा- मेरे मुँह में निकालना. मैंने और जानकारी की, तो मालूम हुआ कि उन्होंने कई बार दीदी को वियाग्रा भी दे कर चोदा था.

पोर्न कार्टून

हम दोनों एक दूसरे से चिपक गई और एक दूसरे को बहुत देर तक किस करते रहे. अब उनका लंड मेरे पेट में बुरी तरह गड़ रहा था, तो मैंने लंड पकड़ कर ऊंचा किया व जोर से सहला दिया. जब उसकी तरफ विरोध होना बंद हो गया तो मैंने उसके होंठों को किस करते हुए एक और धक्का लगाया और पूरा लंड जड़ तक उसकी चूत में घुसा दिया.

पूजा आगे बोली- अब मेरा अरमान है कि मैं 5 दिन के लिए तुम्हारे साथ छुट्टी पर किसी बड़े शहर में जाऊं और जमकर अपनी जिंदगी जी लूं. दस मिनट तक घनघोर चुदाई के बाद मैंने दस्तूर को कुतिया स्टाइल में आने को बोला, जो कि मेरा सबसे ज्यादा पसंदीदा आसन है. எக்ஸ் வீடியோ இந்தியாउसने कहा- कोई बात नहीं … आप कर दीजिए … कपड़े की कोई चिंता नहीं!मैंने मसाज क्रीम लेकर उसके टीशर्ट में हाथ डाला और धीरे धीरे उसकी पीठ पर हाथ फिराने लगा.

मैंने उससे कहा कि चोदने अलावा जो कुछ करना है … कर लो … लेकिन चोदना नहीं है.

मैंने पूछा- क्या हुआ?पूर्वी बोली- मेरे बदन में हल्की सी गुदगुदी हो रही है. उसका नाम मंजीत कौर (बदला हुआ) है और उसका एक बेटा भी है।बातें करने के पश्चात् हमने मिलने का प्रोग्राम भी बना लिया.

आपने अब तक मेरी इस सेक्स कहानी के पिछले भागपुराने साथी के साथ सेक्स-4में पढ़ा कि सुरेश में मुझे इतना अधिक चोदा था कि मैं खुद को निष्प्राण समझने लगी थी. मैं भी जमकर चोद रहा था और कमरा तरह तरह की सिसकारियों से धीरे धीरे गुंजायमान था. अब मैंने सौम्या को देख लिया था, तो आपको सौम्या के बारे में बता देता हूं.

थोड़ी देर बाद मेरा जैसे ही पानी निकालने को हुआ, तो वो बोली- भाई, अंदर मत डालना प्लीज़!फिर मैंने भी लंड को चूत से बाहर निकाल कर उसे सीधी करके उसके पेट बूब्स पर मेरा सारा माल गिरा दिया.

मैं नहीं जानती कि वो सच कह रहा था या झूठ … पर मुझे उस वक़्त ऐसा लगता था कि दोनों का चक्कर है. मिहिर ने उसकी पैंटी को पकड़ कर नीचे खींचा और पैंटी के हटते ही रेशमी बालों में छिपी मेरी बीवी की चूत को देख कर उसके मुंह से पानी टपकने लगा. अब ये औरतों वाली दिक्कत क्या होती है, मेरे भेजे में कुछ समझ में ही नहीं आया.

ब्लू पिक्चर सेक्सी चोदा चोदीजब उसकी थैली पूरी खाली हो गयी, तो वो मेरे ऊपर से लुढ़क कर नीचे गिर गया. मेरी बॉडी तो अच्छी थी ही और ऊपर से गीले बदन के कारण मेरी बॉडी और भी सेक्सी लग रही थी.

ಬಿಪಿ ವಿಡಿಯೋ

उनके साथ की गई सारी हरकतों को मैं विस्तार से अपनी अगली कहानी में बता दूंगा. एक दिन जब मैं उनके साथ रात का खाना खा रहा था तो आंटी कहने लगी- हमारी सोनू पढ़ाई में काफी कमजोर है. कुछ ही पलों में मेरी हालत अब इतनी बुरी हो गई थी कि मैंने राजशेखर के बांहों को जोर से पकड़ रखा था और बीच बीच में खुद से अपने चूतड़ों को उठा कर उसे चोदने का न्यौता दे रही थी.

मेरी इस प्यासी टीचर चूत चुदाई के पिछले भागटीचर ने ओरल सेक्स करके मुझे चुदक्कड़ बनाया-2में आपने पढ़ा था कि मेरी टीचर वंदना ने मुझे अपने जाल में फंसा कर सेक्स करना सिखाना चालू कर दिया था. जब मेरा वीर्य निकलने को हुआ तो मैंने उसकी चूत में ही वीर्य छोड़ दिया. अब मास्टर साहब उंगलियां गांड में से निकाल कर मेरे चूतड़ों को थपथपाने लगे, फिर चूतड़ मसकने लगे.

मुझे ये सब देख कर गुस्सा तो बहुत आ रहा था मगर किया भी क्या जा सकता था. फिर मैंने पूछ लिया कि मेम अभी आपने भी तो मुझे सेक्सी कहा, तो इसका क्या मतलब है?उसने कहा- तुमने भी तो मुझे सेक्सी कहा, तो इसका मतलब समझा. मैं हंसने लगा और बोला- जाओ कह दो भौजी … मैंने भी तुमको पेशाब करते हुए और चुत में उंगली करते समय का वीडियो बना लिया है.

भाभी बोलीं- अबे चूतिये … साले गंडफट … तेरी भाभी तो कब से तेरी रंडी बनने को तैयार थी … तू ही चूतिया था … इतने दिन लगा दिए अपनी भाभी को रंडी बनाने में … आह अब जरा धीरे चोद … मेरी चूत चोदना है … फाड़ना नहीं है. शादी है, बहुत से लड़के आए होंगे, किसी को भी लाइन दो … साला एक मिनट में लंड अकड़ा कर आ जाएगा.

कुछ देर बाद आंटी ने बोला- इससे पहले ऐसा अनुभव मैंने कभी नहीं किया … मेरी गांड में आज तक किसी ने भी इस तरह कभी नहीं किया.

इसलिए हम दोनों रोज रात को फोन पर गन्दी बातें करते हुए एक दूसरे को मजा देते थे. सेक्सी चूत मारीउसके पैर काँप रहे थे, तो मैंने उसे सहारा दिया और उसे चूमते हुए दीवार से चिपका दिया और उसकी पीठ पर किस करने लगा. मराठीxnxxवो रूखे मन से चला तो गया, पर मुझे कुछ अलग सा महसूस हुआ कि आखिर उसने बेमतलब पुरानी बात क्यों की, जबकि हम जब साथ थे, उस वक्त न करके आज इतने सालों बाद की. उसके बाद उसने मेरी बहन की चूत में जीभ डाल दी और जोर से उसकी चूत को अपनी जीभ से ही चोदने लगा.

सरस्वती- अरे तो उस समय वैसा मौका नहीं था और आज तो फुरसत में हो सीख लो.

उसके बाद मैंने भाभी की साड़ी निकाल कर उन्हें सिर्फ ब्लाउज और पेटीकोट में कर दिया. लेकिन मुझे क्या पता था कि सच में ही दीदी सेक्स की दीवानी और चुदक्कड़ निकलेगी. थोड़ी देर किस करने के बाद मैंने उसे बेड पर लिटा दिया और उसके ऊपर आकर उसे किस करने लगा.

बस 3-4 मिनट में ही मैं कंपकंपाती हुई झड़ने लगी और सुरेश को पकड़ कर उसके होंठों को चूमने लगी. ज्योति लंड शब्द सुनकर शर्माते हुए आश्चर्य भरी निगाहों से मेरी तरफ देखा. मोनिषा आंटी एकदम दुल्हन की तरह सजी संवरी थीं, जिसे देख संजय पागल हो गया.

डाउनलोड्स खोलो

उसके अलावा और किसी के कोई प्रॉब्लम्स नहीं पूछने रह गए थे, तो बाकी लड़कियां भी क्लास से बाहर चली गईं. मुझे उसके लिंग की फूली हुई नसें ऐसी महसूस हुईं मानो वे मेरी योनि की नसों से ताल मेल बिठा रही हों. उसके 34 साइज के बूब्स, 26 की कमर और 36 के चूतड़ देख कर मेरा लन्ड तन कर खड़ा हो गया था.

क्या मस्त फीलिंग थी … हम दोनों की आंखें दस मिनट तक खुद ब खुद बंद थीं और मेरी जीभ से उसकी जीभ खेल रही थी.

मैंने अपनी बीबी की सहेली कीचूत चाटनाजारी रखा, थोड़ी देर में वो फिर गर्म हो गई.

मगर उसके लिए मुझे मामी को यह बताना होगा कि मैं उसकी चूत को चोदना चाहता हूं. उसे देख कर मुझे पूजा याद आ गई, लेकिन ये कमसिन उससे भी ज्यादा खूबसूरत थी. नंगी पिक्चर वीडियोउसने धड़ाधड़ अपनी साड़ी उतार फेंकी पेटीकोट फिर ब्लाउज और कुछ ही देर में वह सबके बीच में पेंटी और ब्रा में मौजूद थी.

आशा करता हूं कि आप लोगों को मेरे साथ हुई ये कजिन सेक्स कहानी पढ़ने में मजा आयेगा. मैंने अपना हाथ छुड़वाया और उसे अपनी जीन्स की जिप खोल कर लंड निकाल कर पकड़ा दिया. मम्मी का विद्यालय हमारे घर से 70 किलोमीटर दूर था, इसीलिए मैं अपनी कार से जाता था.

मैंने स्माइल करते हुए उसके गालों पर चूम लिया और उसको लेकर बेड की तरफ बढ़ने लगा. मैं उसकी बुर चूसने लगा, तो उसे तो जैसे करंट लग गया हो … वह जोर से सिसकारियां लेने लगी.

मोनिषा आंटी की चूत को दस मिनट के भीतर ही मोनिषा आंटी जोर जोर से आहें लेने लगीं.

फिर कुछ मिनट के बाद साड़ी के अन्दर हाथ डाला, तो देखा कि मॉम ने पेंटी नहीं पहनी थी. जब मैं हमारी कॉलोनी के नजदीक पहुंचा, तो मैंने जानबूझ कर बाइक को अपने फ्लैट की ओर ले लिया. फिर मैं उनकी गांड के छेद में अपनी लंबी जीभ पूरी घुसा घुसा कर चाटने लगा.

मोटी गांड की सेक्सी वीडियो तन्वी की चीख निकली- मम्माह उम्म्ह … अहह … हय … ओह … मर गई!मेरी कजिन बहन की सील पैक बुर में लंड गया तो मजा आ गया. … बना ले रंडी मुझे … तू जहां कहेगा, वहां चुदने आ जाऊंगी … आह … चोद ज़ोर से … फक मी हार्ड … इआह …मुझे भी अब मज़ा आने लगा.

इसलिए मैंने अपना लैपटॉप निकाला, उसकी स्क्रीन का वालपेपर बदल कर मैंने वहाँ एक नंगी लड़की का फोटो लगाया. उसके सीने का पसीना मेरे सीने के पसीने से मिलने लगा था और अंडकोषों से पसीना मेरी योनि के पानी जांघों के किनारों के पसीने से मिल कर मेरे चूतड़ों की घाटी से होता हुआ फर्श पर गिरने लगा. यह घटना तब की है जब एक बार मेरी छोटी बहू को मायके से लाने के लिए जाना था.

अमेरिकन चुदाई वीडियो

इसलिए आप कहानी को पढ़ते समय इस बात का ध्यान रखें कि यह गंदी कहानी मेरी नहीं है बल्कि मेरे दोस्त की है और उसी की जुबानी मैं इस घटना को बयां कर रहा हूं. इसी बीच मेरे होंठ उसकी गर्दन और कान के आस पास चलने लगे, पर थोड़ी ही देर में मैंने उसे छोड़ दिया और कहा- पहले खाना के खा लेते हैं … फिर बाजार चलेंगे. मैंने पूछा- कब आएंगे?उन्होंने बताया- वह बच्चों को लेकर दादा दादी के यहां पर गए हैं, परसों आएंगे.

बातें चाहे जितनी भी हुईं, पर मेरे दिमाग में और उसके दिमाग में एक ही बात चल रही थी वो थी संभोग की. जॉयश ने बताया कि यह मंगल यहीं पर मौजूद रहेगा और टाइम यही नोट करेगा.

मैंने एक रूम के लिए रिसेप्शन पर कहा, तो तुरंत एक रूम की चाभी मुझे मिल गई.

इसलिए मेरी कहानी में तो ऐसा ही होता है … हां तो मैं लिखा था कि जोर से हंसते हुए ज्योति का हाथ मेरे लंड पर चला गया था. सरस्वती- अरे तुम लोग करो न मैं मना थोड़े कर रही, बस फ़ोन कहीं ऐसी जगह रख दो कि मैं तुम दोनों को देखती रहूं. मुझे उसके लिंग की फूली हुई नसें ऐसी महसूस हुईं मानो वे मेरी योनि की नसों से ताल मेल बिठा रही हों.

वो फटाक से बोली कि ओ मास्टर … अभी क्या बोले तुम?मैं बोला- सही तो बोल रहा हूँ. वो मेरे चूतड़ों पर थपड़ मारने और स्तनों को मसलते हुए धक्का मार रहा था. दिन में जो घटना हुई थी उससे लग रहा था कि अन्नु भी वही चाहती है जो मैं चाहता हूं.

अगले दिन जब मैं दुकान पर गया, तो मैंने सबसे पहले उसको कॉल किया और बताया कि मैं दुकान पर आ गया हूं और आप अपने रूम से बाहर आओ.

होली के सेक्सी बीएफ वीडियो: उस दिन के बाद तो रोज हम दोनों के बीच में फोन पर सेक्सी बातें होने लगीं. मैं उतरा और उसके पास गया, अपना गेट बंद किया और उसको कसके कमर से पकड़ कर बांहों में भर लिया और उसके होंठों को चूमने लगा.

हम लोगों को जब भी मौका मिलता, हम चुदाई कर लेते थे। एक महीने तक मैंने उस गर्म भाभी रोज़ चोदा, उसे ब्लू फिल्म दिखा कर सब सिखा दिया। जब तक मैं दीदी के घर पे था शिवानी ने ब्रा और पैंटी पहना नहीं था जिससे चुदाई जल्दी हो जाती थी, साड़ी उठा के चुत की चुदाई हो जाती थी. उसके जाने के बाद मैंने अपनी बहन से बात की तो उसने बताया कि वो उसके कॉलेज की सहेली है और उनके एग्जाम आने वाले हैं. मैं अंदर से एकदम खुश हो गई और हमारी मीटिंग फिक्स हो गई और संडे का इन्तजार करने लगी.

काफी देर तक मैं सुलु भाभी की चूत में उंगली करता रहा और उसकी चूत ने एकदम से पानी छोड़ दिया और मेरा पूरा हाथ भाभी की चूत के रस में भीग गया.

मैंने भी मौक़ा देख कर उनकी चूचियों के किनारों तक अपने हाथों की पहुंच बनाना शुरू कर दी थी. मैंने बात का मर्म समझते हुए कहा- ठीक है … पर आप भी किसी को कुछ नहीं बताना. एक बात और आपको बता दूं कि मैं घर पर भी कपड़ों के अंदर से ब्रा या अन्य प्रकार का कोई कपड़ा नहीं पहनती थी.