बीएफ सुहागरात हिंदी

छवि स्रोत,सेक्सी इंग्लिश पिक्चर दाखवा

तस्वीर का शीर्षक ,

बाप बेटी एक्स: बीएफ सुहागरात हिंदी, दोस्तो, मैं एक 22 साल का लड़का हूँ और मुझे अपनी उम्र से बड़ी लड़कियों और महिलाओं को चोद कर उन्हें खुश करने में बहुत मजा आता है.

सेक्सी पिक्चर भेज दे वीडियो

मैंने उसकी टांगें सीधी कर दीं और खुद उनके ऊपर बैठ कर उसके हाथों को साइड में करके पकड़ लिया ताकि वो ज्यादा छटपटा ना सके. हिंदी सेक्सी फिल्म सुहागरात कीमैंने राजशेखर जी की तरफ घूम कर कहा- चूत मारने में मजा आ रहा है ना सर?राजशेखर जी मुस्कुरा कर कहा- स्वप्निल भाई, मज़ा तो आ रहा है, पर जांघों को पकड़े पकड़े हाथ दुख गए मेरे, तुम आ कर अपनी रंडी वाइफ का पैर पकड़ लेते तो मैं आराम से चूत चोद लेता.

मैं धड़कते दिल के साथ ये सोचते हुए अन्दर घुसा कि अरुणिमा किस हालत में मिलेगी. सेक्सी सेक्सी सेक्सी पिकमैं उसकी ओर कामुक निगाहों से देखती हुई धीरे से उसके कान में बोली- आज तुम चारों को मेरे जिस्म का आनन्द लेना है.

ये देख कर मैं भी खुद को रोक नहीं पाई और अपने चूत को कपड़ों के ऊपर से ही सहलाने लगी.बीएफ सुहागरात हिंदी: मैं संभाल सकता हूँ, आप लोग प्रोग्राम चालू रखो और मैं फटाफट मामला निपटा कर आता हूँ.

फिर उन्होंने दोबारा से अपने लंड को मेरी चूत के मुँह पर रखा और अब की बार धीरे धीरे अपना अपना लंड मेरी चूत में उतार दिया.मैंने कहा- बाथरूम में क्या कर रही हो?वो बोली- बाथरूम में क्या किया जाता है?मैंने कहा- हां मुझे मालूम है कि बाथरूम में क्या क्या किया जाता है मगर तुम बाथरूम से वीडियो कॉल कर रही हो तो मुझे मालूम होना चाहिए कि तुम मुझे क्या दिखाने वाली हो.

लड़की की सेक्सी वीडियो पिक्चर - बीएफ सुहागरात हिंदी

Xxx क्रेजी गर्ल सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि अंकल ने मुझे चोदने के बाद अपने साले और उसके तीन दोस्तों से मेरी चूत और गांड कैसे मरवायी.तब तक नीचे मेरी कच्छी में मेरी छोटी सी बुर ने हल्का हल्का पानी भी छोड़ दिया था.

मुझे लग रहा था कि इसी वक्त मैं अपने भाई के कमरे में चली जाऊं … पर मुझे उसके रूम में जाने की हिम्मत नहीं हुई. बीएफ सुहागरात हिंदी फिर वो खुद ही मुझे मनाने के लिए मेरे पास आईं और प्यार से बातें करने लगीं.

जल्द ही मैंने अपना मुँह चूत के ऊपर रख दिया और चाची की चूत पर अपनी जीभ फिराने लगा.

बीएफ सुहागरात हिंदी?

मैं उसकी आवाज सुनकर हैरान हो गया कि इसको कैसे पता चल गया कि मैं दरवाजे पर खड़ा होकर उसे देख रहा हूँ. मुझे आया देख कर चाचा बोले कि यहां खाना खा लेना और रात में भी यहीं पर सो जाना. फिर मैंने अपने लंड को चाची की चूत पर रगड़ा, जिससे उनकी वासना और बढ़ती जा रही थी.

फिर मैंने चाची को पीठ के बल लिटा दिया और प्रियंका भाभी की तरह चाची की गांड के नीचे भी तकिया रख दिया. डांस करते वक़्त उसके हाथ की हलचल से मैंने उसके हाथ पर अपने लंड का पानी छोड़ दिया, जिसका उसे भी अहसास हुआ क्योंकि वो मुस्कुरा रही थी. रुक रुक कर मेरी चूत से धार निकलती रही और किशोर उस सारे पानी को चाटता गया.

आज शादी के बाद तो वो कुछ मोटी हो गई है, फिर भी ऐसी खूबसूरती है कि लंड हिचकोले मारने लगता है. अब मैं रोज रात को ब्लू फिल्म देखकर मुठ मारने लगा था, जिससे कि मेरा लंड बढ़कर लम्बा मोटा भी हो गया. उनकी बेताबी देख कर मुझे ऐसा लगा, जैसे चाची आज पहली बार सेक्स कर रही हों.

पर मेरे लन्ड का उभार आंटी ने देख लिया था।वो मुस्कुरा रही थीं।हम दोनों लोग काम करते करते पसीने से भीग गए थे. विश्वेश्वर जी बोले- बहुत बढ़िया लंड चूसती है रंडी तू, इतना बढ़िया लंड आज तक मेरा किसी रंडी ने नहीं चूसा.

वंदना- अच्छा लगता है तो क्या बात है, मेरा जवाब क्यों नहीं दे रहे हो?मैंने कहा- ओके मैं बाद में आपको जवाब देता हूँ.

खाना खत्म करने के बाद आंटी ने कहा- रोनित, मेरे साथ बर्तन उठाकर किचन ले चलो.

चाची- ओके, तुम अपने होने वाले पति के साथ बात कर रही थी, इसलिए छोड़ रही हूँ. फिर उसके बाद चूत का झरझरा कर बहना … और उस लसलसे जूस से उंगलियों से खेलना. फिर मैंने गांड तक की ताकत लगाते हुए ज़ोरदार धक्का मारा और एक बार में लंड अंदर डाल दिया.

चाची को गले से लगाया और जोरदार तरीके से आपस में एक दूसरे से लिपट गए. उस रात मैंने उसकी और चुदाई नहीं की क्योंकि अभी मेरे पास काफी दिन थे और अगले दिन से उसकी तरीके से चुदाई शुरू करने वाला था. वो पागल हुए जा रही थी- आह … उफ्फ चाट … मेरी चूत खा जा … बहनचोद कुत्ते आह!ऐसे बोलते हुए पाँच मिनट में ही मेरे मुहँ में झर गयी.

उसकी बात सुन कर मैं अचंभित हो गया और मैंने उससे पूछा- तुम गे तो नहीं हो ना!तो किशन बोला- नहीं भैया, मैं गे नहीं हूँ … लेकिन ब्लूफिल्म देख देख कर ये सब सीख गया हूँ.

थोड़ी देर पोजीशन बदल बदल कर चोदने के बाद मैंने आंटी से कहा- आंटी अब गांड मार लूं?आंटी बोलीं- हां चल शुरू कर दे. मैंने दीदी को थैंक्यू बोला और एक डेरी मिल्क चॉकलेट देने का प्रोमिस किया. मैंने उसके लाल रसीले होंठों पर एक क्यूब रखी और उसे अपने होंठों में दबा कर उसकी गर्दन से होते हुए उसकी नाभि पर ले आया और धीरे धीरे से रगड़ने लगा.

मैं एक बच्चा ही दिखता हूँ, जिससे कम उम्र की लड़कियां मुझसे बहुत जल्दी आकर्षित हो जाती हैं. मेरे बार-बार वंदना के घर जाने से वंदना के मोहल्ले के लड़कों को हम दोनों के ऊपर शक होने लगा था क्योंकि मैं जब भी वंदना के घर जाता था, तो उसके मोहल्ले के लड़के मुझे बेहद शक की नजरों से देखने लगे थे कि वंदना और मेरे बीच में क्या रिश्ता है. ट्रेनर- चुदाई की मशीन से तुम लोगों की गांड, चूत के छेद बिना दर्द हुए, बड़ा लंड या डिल्डो लेने लायक बनाया जाएगा.

उसने मुझसे कहा- मुझे आराम करना है।तो मैंने भी उसे कह दिया- अब तुम सो जाओ।रात के करीब 1 बज चुका था।हम सबको लेटते ही नींद आ गई हमें पता ही नहीं चला।सुबह के करीब 5:00 बजे होंगे मुझे हिमेश ने उठाया और मुझसे कहा- प्लीज भाई, मुझे एक बार और करना है.

जैसे ही मैं उनकी कुर्ती को उतारने जा रहा था कि उनका बेटा उठ गया और चाची को आवाज देने लगा. मेरे पति ने मेरी ब्रा खोल दी और मैंने शर्मा कर अपने मम्मों पर हाथ रख दिया.

बीएफ सुहागरात हिंदी वो मेरे मोटे लंड को अपनी चूत में लेने के लिए पूरी तरह से पागल सी हो गई थी. मैंने पूछा- एसी क्यों नहीं चलाया?मॉम ने कहा- गर्म तेल की मालिश में एसी चलाने से नुकसान होता है, ऐसा विक्रम ने कहा.

बीएफ सुहागरात हिंदी जैसा मैं सोचकर आया था ठीक वैसा ही हुआ भी!अब बारी थी उसे चोदने की, अपनी हसरत पूरी करने की, जिसके लिए मैं उसे यहां लाया था. वो लंड से चुदने की खुशी के साथ मुझसे कहे जा रही थीं- आंह अच्छा लग रहा है प्रवीण … ऐसे ही मेरी चुदाई करते रहो … आंह मुझे बहुत अच्छा लग रहा है.

ट्रेनर- चुदाई की मशीन से तुम लोगों की गांड, चूत के छेद बिना दर्द हुए, बड़ा लंड या डिल्डो लेने लायक बनाया जाएगा.

दुल्हन वाला सेक्सी बीएफ

वो अब मदहोश होना शुरू हो गई थी, हल्की हल्की सिसकारी उसके मुँह से निकलने लगी. मैं मैडम की चूत में धक्के लगा रहा था और मैडम गांड उठा उठा कर लंड का स्वागत कर रही थी. मैं- तो भाभी अपनी गांड को खोलो, मैं आपकी अनचुदी गांड को अपना बनाना चाहता हूँ.

आंटी बोली- हाय बेबी मेरी जान … तेरी चूत तो गीली हो गयी ओर बहुत गर्म भी है. मैं सोच रहा था कि अगर यह मेरे दोस्त की मम्मी न होती, तो अभी यहीं पटक कर चोद देता. वो अब गांड को पीछे करके धक्के लगाने लगी, मस्ताने लगी, आहें भरने लगी और बड़बड़ाने लगी- ओह समीर, चोदो … आज गांड मरवाने का पूरा मजा दो, अच्छा हुआ गांड का उद्घाटन तुम्हारे मोटे लौड़े से हुआ.

मैंने कहा- ऐसा कर … तू शुक्रवार को शाम सात बजे ही आ जा!वो उस दिन सात बजे मेरे कमरे में आ गई.

मैंने भाई से भाभी के बारे में पूछ लिया, तो उन्होंने बताया कि वो अभी कुछ दिन पहले ही अपने मायके से आई है. मैंने एक बार फिर से जोर के झटके से पेला और अपना पूरा लंड उनकी चूत में घुसेड़ दिया. एक तो पहले से ही ठंड बहुत लग रही थी और अब पानी से भीगने से और ज्यादा सर्दी लगने लगी थी.

फिर 5 मिनट के बाद चाची की सांसें थोड़ी शांत हुई और वो सामान्य हो गईं. उसने मेरे हाथों की हरकत को देखा और होंठ दबाती हुई बोली- आप तो मेरे जीजू हैं … आपका तो मुझ पर पूरा अधिकार है …. अब मैं भी निकलने वाला था, तो मैंने अपना लंड वंदना की चूत से बाहर निकाल लिया और उसकी चूत के पास ही अपना सारा माल निकाल दिया.

दोस्तो, आपकी प्रतिक्रिया का मैं इंतजार करूंगी आपको यह गैंग बैंग Xxx स्टोरी कैसी लगी, आप अन्नू के मेल पर अवश्य बताइएगा. मैं तुम्हारे चाचा को राजी कर लूंगी और बाहर जाने के लिए उन्हें मना लूंगी.

लंड पकड़ कर मैंने चूत पर रख दिया और मुट्ठी से बांध कर पीछे का हिस्सा पकड़ लिया ताकि वो एकदम से पूरा न डाल दे. मेरी बहन की गांड देख कर मेरा मन करता था कि मैं उसकी में मुँह लगा कर उसका रस पी जाऊं; अपनी जीभ गांड के छेद में अन्दर तक पेल दूँ और उसका मजा ले लूं. बहुत से पाठकों को शिकायत रहती है कि मैं ईमेल का रिप्लाई नहीं करती हूँ, तो दोस्तो नाराज मत हों, मैं जब से पोर्न इंडस्ट्री में आयी हूँ, बहुत बिजी रहने लगी हूँ.

कामिनी- तुम बहुत कमीने हो, तुम हमेशा मेरे मम्मों में झांकते थे, तभी मुझे पता चल गया था कि तुम मुझे चोदना चाहते हो.

और अगले दिन हम दोनों होटल पहुंचे जो पहले से ही सुकेश ने बुक कर लिया था. हॉट हॉर्नी सेक्स कहानी मेरी होने वाली बीवी की चाची की चूत चुदाई की है. तो अब ये पक्का समझूँ कि गुंजन के लिए हमारी बात आगे नहीं हो सकती?मैंने कहा- अरे बात करने में क्या दिक्कत है.

मैंने तुझे और उस रंडी डॉक्टरनी को कितनी बार चुदाई करते देख चुकी हूँ. मैंने हल्के से अंदर देखा तो चाची अपनी साड़ी निकाल रही थी और फिर उन्होंने अपने बाकी के कपड़े भी निकाल दिए और अब वो सिर्फ़ पेटीकोट में थी.

वो बिन पानी की मछली की तरह मचलने लगी और खुद ही मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत में डालने की कोशिश करने लगी. मैं जानती थी कि चूत की जितनी औकात होगी, उतना लौड़ा एक बार में ले लेगी. अभी दो मिनट भी नहीं हुए थे कि शमशुद्दीन जी और राजशेखर जी अन्दर आ गए.

देसी वाली बीएफ वीडियो

मैंने कहा- पायल मेरी जान, चुदाई शुरू करें?पायल ने भी मादक आवाज से कहा- हां मेरे निखिल राजा, आओ चोदो मुझे … मेरी इस चूत को फाड़ दो.

उस रात हम सबने एक साथ ड्रिंक एन्जॉय की और मैं वरुण को कुछ ज्यादा पिला दी. दोस्तो, मेरा नाम अखिल है और मैं दिल्ली का रहने वाला हूँ।कहानी मेरी और मेरी सबसे प्रिय मित्र की है यानि मेरी बेस्ट फ्रेंड जिसका नाम दिव्यांशी है।उसके बारे में बताऊँ तो वह एक काफी गोरी और सुंदर चेहरे वाली लड़की है. दो दिन बाद मामा का फोन आया और वो मेरी मां से बोले- मैंने 3 दिन के लिए बाहर जाना है, तो घर पर सुमन अकेली है.

मुझे शर्म सी आयी और गुस्से में मैंने उसकी चूची के दाने को पकड़ कर मरोड़ दिया. मुझे मालूम था कि आंटी को समझ आ रहा है कि मैं कौन से दूध पीने की बात कर रहा हूं. ब्लू सेक्सी चुदाई वालामैंने लौड़े को वहीं रोक दिया और उंगली से उसकी चूत की क्लिट को रगड़ने लगा.

हम लोग पैदल ही स्कूल जाते थे और गांव के बाद जब खेत का इलाका खत्म होता था, तो थोड़ा सा जंगल पड़ता था. मामी हंस दीं और बोलीं- क्या तुम मुझे उठा सकते हो?मुझे तो मौका ही चाहिए था, मैं बोला- हां क्यों नहीं.

मैंने एक जोरदार धक्का लगाया और चाची के चूत के अन्दर ही झड़ गया, चूत के अन्दर ही लंड ने पिचकारी मार दी थी. अब मेरी बहन नीतू का शरीर भी सुंदर लगने लगा था और वो बहुत ही सेक्सी बन गई थी. मुझे अंदेशा था कि टाईट होने के कारण अन्दर जाने में घर्षण होगा, लेकिन अन्दर नदी बह रही थी.

मॉम बोलीं- मां की लौड़ी, तू च्यूंटी भरे तो ठीक … और मैं काटूं तो चिल्लाने लगी. [emailprotected]डॉक्टर सेक्स कहानी का अगला भाग:डॉक्टरनी और नर्स की चूत चुदाई का मजा- 2. उसने मुझसे पूछा- ड्रिंक करते हो आप?मैंने उसे बोला- हाँ! कभी कभी!तो बात करते करते वो उठ कर चली गयी और फ्रीज में से 2 महँगी बीयर की बोतल निकाल कर ले आयी.

मन तो पिंकी का भी बहुत था पर उस पर पारिवारिक दबाव के कारण वो अपने मंगेतर से सेक्स करने से पीछे हटाती रही.

भाभी ने बताया- आप मुझे बहुत प्रिय हो, साथ ही साथ आप मुझको बहुत अच्छी तरह से समझते हो और मुझे कभी भी उदास देखना आपको पसंद नहीं है. अब आप परिमल के लंड से नहीं, बल्कि आज आप नौ इंच लम्बे घोड़े जैसे लंड से चुदोगी.

मेरी वासना मेरे दिमाग का दही कर रही थी पर मुझे लंड नहीं मिल रहा था. फ्रेंड्स, मैं शबनम आपको अपनी मॉम की लेस्बियन सेक्स कहानी सुना रही थी. गांड मारने के बाद उसने एक बार फिर से अपने लंड का सारा पानी मेरी गांड में छोड़ दिया.

फिर मैंने मॉम को धक्का देकर नीचे लिटा दिया और उनके मुँह पर अपनी चूत खोलकर बैठ गई. मैंने बिना कुछ सोचे अपनी जीभ उसकी गांड के छेद पर लगा दी और उसे भी चाटने लगा. मैंने पूछा- क्यों बंदूक चलती नहीं है क्या?भाभी बोलीं- बंदूक घर में रहे, तब तो चले ना.

बीएफ सुहागरात हिंदी एक दिन चाचा फिर से कहीं बाहर गये तो उस दिन रात को में चाची के घर में था. मेरी पहली बार ऐसी चुदाई हो रही थी और मैं बस सिसकारियां लिए जा रही थी.

बीएफ हिंदी वॉलपेपर

तो वो मना करने लगी कि पहली बार में कोई ये सब करता है क्या!मैंने कहा- अभी तो लंड टटोल रही थी अब क्या हुआ?चूत चुदाई की तलब तो उसके अन्दर भी थी तभी तो वो मेरे साथ ऐसे एकदम होटल के रूम में आयी थी. फिर नीरज ने रीना को डिल्डो दिया और बोला- रीना, तू अंजलि को इस नकली लंड से चोदेगी. कुछ दिनों में ही पता नहीं कैसे जोगी सर को लगा कि मैं किसी दिक्कत में हूँ तो उन्होंने पूछा- क्या बात है टीना.

मैं बाहर आया और पलट कर देखा, तो गुरबचन जी अरुणिमा को लेकर अन्दर बेडरूम के तरफ जा रहे थे. दस मिनट बाद अरुणिमा ड्राइंग रूम में आई तो विश्वेश्वर जी उससे बोले- आ जा, मेरी गोद में आकर बैठ जा. सेक्सी दे सेक्सी वीडियो सेक्सीआप चाहो तो अपनी सहेली को यहां आराम करने के लिए बोल दो, यहां शान्ति है और यहां कोई आता जाता भी नहीं है.

तब भी मैंने जब तक एम्बुलेंस की ड्यूटी की, तब तक रोज चुदाई करता और ड्रिंक भी खूब करता ताकि नींद आए, वरना सबके चेहरे आंखों में आते रहते थे.

उनकी आंखें बंद थीं और वो मेरी बीवी की टाइट चूत का पूरा मज़ा ले रहे थे. मैंने सोचा कि साला जब शिकार खुद ही शेर के पंजों में फंसना चाहता है, तो मुझे क्या पड़ी.

मैं प्रिया को अपने दिल की बात बोलता जा रहा था- प्रिया, मुझे तुम पहली नजर में ही इतनी पसंद आ गई थी कि मैं तुम्हारा दीवाना हो गया था, तुमको बार बार देखने के लिए मैं तुम्हारे आसपास रहने का बहाना ढूंढता था. उस बायोडाटा को मैंने व्हाट्सएप संदेश के रूप में ग्रुप में भेज दिया. सोम बोला- जो गांड मार रहा है, उसे टॉप कहते हैं और जो गांड मरवा रहा है, उसे बॉटम कहते हैं.

अब पापा ने अपना लंड फिर से मम्मी के मुँह में दे दिया और मम्मी ने लंड को चाट चाट कर पूरी तरह से हथियार बना दिया.

मैं भी चाची को सुनाने के लिए और जोर से धक्के लगाता और बोलता- साली रंडी क्या कमी थी मेरे में … जो मेरे प्यार को ठुकरा दिया. जिससे भाभी की कसमसाहट वाली आवाज निकल गई मानो भाभी अपनी आवाज को दबा रही हों।फिर मैंने एक हल्का सा धक्का लगा कर भाभी की चूत में अपना लन्ड दिया और मेरे लंड का टोपा भाभी की चूत में घुस गया. बस बीच बीच में वो कपड़े सुखाने उतारने के बहाने छत पर चली जाती थी।ताकि पड़ोसियों को कोई शक ना हो।और इन दो दिनों में हमने कम से कम 12 बार चुदाई की.

इंडियन सेक्सी टीचरवो पागल हुए जा रही थी- आह … उफ्फ चाट … मेरी चूत खा जा … बहनचोद कुत्ते आह!ऐसे बोलते हुए पाँच मिनट में ही मेरे मुहँ में झर गयी. कहानी के पिछले भागकॉलबॉय कॉलगर्ल बनने के लिए क्या कियामें अब तक आपने पढ़ा कि मैं आंटी के ट्रेनिंग सेंटर में आ गया था.

सुहागरात बीएफ बीएफ बीएफ

मैंने उसके मुंह में से लंड निकाला तो वो बहुत तेज़ सांस लेने लगी और हाम्फने लगी. थोड़ी ही देर में मेरा दर्द खत्म हो गया और मुझे अपनी गांड उसका मूसल मजा देने लगा. आप यूं भी कह सकते हैं अलग-अलग लंड खाने की आस में मैंने अपने आपको काफी मेंटेन कर रखा है.

आप सब लोगों के मेल मेरे हौसले को बढ़ाते हैं, आप सब लोगों के मेल मुझे आगे की कहानी लिखने के लिए प्रेरित करेंगे, इसलिए मुझे बताते रहें कि आपको मेरी सच्ची Xxx क्रेजी गर्ल सेक्स स्टोरी कैसी लगी. फिर मैंने उससे आज दोपहर के बारे में पूछा तो उसने बताया कि उसके दोनों बूब्स दर्द कर रहे हैं. भाबी ने मुझसे प्रॉमिस लिया कि ये एक ही बार होगा और किसी को पता नहीं चलना चाहिए.

मैंने जैसे ही गेट बंद किया, उसने मुझे अपनी ओर खींचा और मुझे दीवार से लगा कर मेरे होंठों को बुरी तरह चूसने लगा. हम दोनों पसीने से सराबोर हो गए थे लेकिन कोई रुकने का नाम नहीं ले रहा था. फर्स्ट टाइम मास्टरबेशन का मजा मैंने मोबाइल में देसी ब्लू फिल्म देख कर लिया था.

मैंने महसूस किया कि मेरे पीछे के आदमी का लंड मेरे चूतड़ों की दरार में टच कर रहा है. अब वंदना को थोड़ी राहत मिल रही थी और वो मुझे अपनी बांहों में जकड़ कर मजा लेने लगी थी.

फिर मैंने मेडिकल स्टोर पर से वियाग्रा यानि लंबे समय तक चुदाई करने वाली गोलियां ले लीं.

सोम रणवीर से बोला- मेरे दोस्त मेरी गांड अभी कुंवारी है, ज़रा प्यार से शुरू करना. सेक्सी वीडियो गर्ल ब्वॉयजिस दिन हमें जाना था, उस दिन अचानक से हुसैना भाभी ने जाने से मना कर दिया क्योंकि उनको एमसी आई थी. मराठी झवाझवी सेक्सी विडिओमैंने इस बार उनकी जांघों में थोड़ी तेज़ से च्यूंटी काटी, जिससे उनकी हल्की सी आह निकल गई. वो मेरा लंड देखकर बोली- तेरी बीवी तुझसे बहुत खुश रहेगी!मैं उस वक़्त बहुत गर्म था तो मैंने उसको बात पूरी नहीं करने दी और अपने लन्ड से उसके गाल में तमाचा मारा और उसके बाल खीन्च कर उसके मुंह में लन्ड दे दिया.

विक्रम ने मॉम के पैर फैला दिए और जांघ के अन्दर का हिस्सा दबाया, तो मॉम ने कहा- हां यहां भी है.

मेरी बीवी की चुदास काफी बढ़ने लगी थी और मैं उसे अपनी गलत सोच के कारण चोद नहीं पाया था. मुझे लग रहा था कि इसी वक्त मैं अपने भाई के कमरे में चली जाऊं … पर मुझे उसके रूम में जाने की हिम्मत नहीं हुई. मैं इस नई स्टाइल में चाची को पहली बार चोद रहा था, ये बहुत अच्छा स्टाइल था.

नहाने के बाद में कपड़े पहनने लगा तो उसने मुझे नंगे ही बेड पर आने को कहा. कैगल कसरत के बाद सबको गांड चूत में 6 इंच लंबी पेन्सिल को 2 इंच अन्दर डालकर खड़ा रखा जाता. सच सच बोलो, तुम्हें मेरे ये चूचे पसन्द हैं?मैं- नहीं नहीं, ऐसा नहीं है भाभी.

सेक्सी बीएफ गाने वाली हिंदी

पर चाचा ने आगे कहा- थोड़ी देर में मिल कर घर वापस आना हो, तो मैं साथ चला चलूँगा, वर्ना मैं नहीं जाऊंगा. इसका मतलब था कि वो भी पूरी तैयारी से आई थी, तभी उसने बाल साफ किए थे. फाइल देख ली हो, तो कल निगम जाकर जरूरी दस्तावेज जमा कर देना और काम तुझे आबंटित हो जाएगा.

उनकी तेज आंह निकलने को हुई, मैंने पहले से ही अपना हाथ उनके मुँह पर लगा दिया था.

तेरे चाचा तो हफ्ते दो हफ्ते में ही चोदते हैं और उसमें भी मुझे मजा नहीं दे पाते हैं.

वहां मैंने अपने आपको कंट्रोल किया और अपने बाथरूम में जाकर सीन को याद करके अपनी चूत में उंगली करने लगी. उन्होंने मेरी टी-शर्ट के अन्दर हाथ डाल दिया और मेरी ब्रा के ऊपर से मेरी चूचियों को दबाने लगे. सेक्सी वीडियो इंडियन कीबात आज से एक महीने पहले की उस वक्त की है जब मैं अपनी मामी के घर गया हुआ था.

आंटी ने मुस्करा कर देखा, तो मैंने उनकी चूचियों को पकड़ कर जोर से झटका दे दिया. शायद हम दोनों समझ चुकी थीं कि सेक्स में गाली से कितनी उत्तेजना बढ़ती है और मेरी मॉम की चूत में आग लग चुकी थी. और आपके मेरे बीच जो कुछ भी होगा, वो सबके लिए एक राज ही रहेगा आपकी और मेरी दोनों की समाज के सामने इज्जत के लिए!इतना सुन कर वो खुश हो गयी और बोली- मैं एक अच्छे और अमीर घर से ताल्लुक से रखती हूँ.

फिर मैंने लंड को थोड़ा हिलाया और आगे पीछे किया जिससे फिर से मेरा लंड कड़क हो गया. कभी वे मेरे मम्मे दबाते, कभी मैं उनका लंड सहलाती, वह मेरे मम्मे चूस लेते, मेरी चूत में उंगली कर देते, कभी मैं मौका पाकर उनका लंड चूस लेती.

मैं उस वेटर से बोली- क्या नाम है तुम्हारा?वो बोला- मनीष, मैडम मेरा नाम मनीष है.

गर्म चूत का चूत चुदाई का मजा मुझे मिला जब मैं सर्वे किया करता था और नयी-नयी जगह आना-जाना होता था। एक जगह एक आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मुझसे चुद गयी. इसके बाद विक्रम ने अपना लौड़ा मॉम की चूत पर रखा और एक ही झटके में पूरा अन्दर डाल दिया. अगर मैं किसी रोज किसी काम के लिए बाहर चला जाता था तो भाभी मेरे पास हर आधे-आधे घंटे में कॉल करके पूछती रहती थीं कि कितने समय तक घर आ जाओगे.

हिंदी में सेक्सी पिक्चर चलने वाली मेरी पहली सेक्स कहानी आपको कैसी लगी, आप मॉम लेस्बो सेक्स कहानी पर कमेंट ज़रूर करना. मैंने कहा- बच्चे कब तक सोएंगे?दीदी बोली- सो जाएंगे अभी!मैंने कहा- आज आप कराहने वाली हैं.

एक बार मैंने फिर से अपने कंडोम चढ़े लंड को सोनल के मुँह में दिया और उस पर कुछ ज्यादा सा थूक लगवा लिया. लड़कियां कहीं आराम से बैठकर अपनी चूत की मालिश शुरू कर दें, वो अपनी उंगलियों से चूत को रगड़ें. मैं- क्या बात?वो- मैं तुम्हें पसंद करता हूँ, बस यही बताने के लिए तुम्हें रोका है.

वूमेन बीएफ

वो अपनी गांड को मेरे लंड पर रगड़ने लगी, मुझे किस करने लगी और मेरी छाती पर हाथ फेरने लगी. उसके बाद आंटी से सीखे हुए एक लड़की और एक लड़के ने कामक्रीड़ा मतलब फ़ोरप्ले करके दिखाया. आंटी ने कहा- तो फिर देर किस बात की?मैं झट से आंटी को शॉवर में ही किस करने लगा.

चूत का खट्टा कसैला स्वाद और लड़की का अपने पैरों से मेरे सर को दबाना. नीचे मैं लन्ड रगड़ रहा था, ऊपर चूची दबा रहा था और पीठ, गर्दन कंधा चूम रहा था।आंटी बस स्स … इस्स … आह उम्म … कर रहीं थीं।मैं उनको अपनी तरफ मुंह करने को कह रहा था पर नहीं कर रहीं थीं.

जब मैं 12वीं क्लास में था तो मेरा ध्यान उन पर कुछ ज़्यादा ही जाने लगा.

तो ज्योति ने भी अपने मुख से एक आह भरी और साथ ही रोहित ने भी ज्योति के दोनों मम्मों को पकड़ कर उसके एक मम्मे को अपने मुंह में ले लिया।मैंने अपने लंड को पकड़े हुए ही एक बार ज्योति की आँखों में देखा, ज्योति खुद वासना में लिप्त थी तो मैंने लंड का दूसरा झटका दिया. उसने बाहर से खाना ऑर्डर करके घर पर ही मँगवा लिया और वो फिर से फ्रीज से ठंडी बीयर की बोतल निकाल लायी. नीलिमा बिल्कुल पागल हो चुकी थी और मेरे बाल खींच रही थी, साथ ही वो बहुत जोर से किस भी कर रही थी.

एक दिन मेरा चचेरा भाई आया तो मैंने सोचा कि आज इसी का लंड अपनी चूत में लेती हूँ. चाची ने अपने दोनों हाथ मेरी पीठ के पीछे बांध दिए और बहुत जोर से मुझे अपने सीने से जकड़ लिया. मैं उसके हाउस कोट में हाथ डालकर मम्मों को मसलने लगा और एक निप्पल मुँह में लेकर चूसने लगा.

उनके स्तन इतने कठोर थे कि मैं उन्हें ब्लाउज से बाहर नहीं निकाल पा रहा था.

बीएफ सुहागरात हिंदी: Xxx अंकल नीस हॉट स्टोरी में पढ़ें कि मेरे भाई भाभी और मेरी पत्नी एक हादसे में हमें छोड़ गये. अब भाभी मुझे अपने कमरे में लेकर चली गईं और कमरे का दरवाजा बंद कर दिया.

अब पापा ने मम्मी की पैंटी को भी निकाल दिया और वो मम्मी की चूत को हाथ से सहलाने लगे. मैं 22 साल का जवान लड़का हूं, दिखने में एकदम गोरा हूँ और मेरे बाल बहुत ही सिल्की हैं. फिर मैं धीरे से बाथरूम के पास गया तो बाथरूम का दरवाजा थोड़ा खुला हुआ था.

मैंने चाची के दोनों मम्मों को करीब दस मिनट तक चूसा और चूस चूस कर दूध लाल कर दिए.

जैसे जैसे वो मेरी चूत चाटता जा रहा था मेरी गांड अपने आप उछलने लगी थी. इसके अलावा भी मैंने किन किन लोगों के साथ बिस्तर पर चुदाई के मजे किए, ये सब कहानी के आने वाले भाग में आप पढ़ेंगे. मैं उसको बांहों में लेकर अपने जिस्म से उसके जिस्म को सटा कर लेट गया.