सेक्सी बीएफ भेजिए सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी जोक्स वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

लड़की का दूध पीना: सेक्सी बीएफ भेजिए सेक्सी बीएफ, उसके कमरे के पास जाकर मैंने दरवाजा खटखटाया और उसने जल्दी ही दरवाजा खोल दिया.

डैनी डी सेक्सी

चोद दूं क्या इसको?वो बोली- हां जल्दी …मैंने उसकी चूत में धक्का लगाया और वो उचक कर मुझसे लिपट गई. हिंदी गर्भवती सेक्सी वीडियोकरीब दस मिनट बाद मेरे और उसके कपड़े उतर ही गए और हम सिर्फ एक एक कपड़े में रह गए थे.

मैंने भी अपना ध्यान कहीं और लगा कर उसे तेजी से चोदना चालू कर दिया था ताकि मेरा रस जल्दी ना निकले. मराठी सेक्सी वीडियो बताओआह्ह … ओह्ह … हाय … उसकी चूत में मेरे लंड की आवाज गच्च-गच्च हो रही थी.

पर मेरा ध्यान तो कहीं और ही था, जैसे तैसे मैं उनसे बात करता रहा। यह डिनर पार्टी केवल अपने कुछ क्लोज फैमिलीज़ के लिए ही दी थी तो मैं सबको पहचानता ही था।मेरे दोस्तों में से मैंने केवल अखिल और प्रिया को ही बुलाया था और वो दोनों अब तक नहीं पहुंचे थे।सभी लोग अपनी अपनी गप्पों में लगे हुए थे कि मेरी नजर कमरे से निकलती हुई मामी पर पड़ी.सेक्सी बीएफ भेजिए सेक्सी बीएफ: हम दोनों नंगे होकर एक दूसरे से जोर से लिपट गए और एक दूसरे की पीठ को सहलाते हुए एक दूसरे को जोर जोर से चूमने लगे.

करीब एक घंटे बाद उठी, फ्रेश हुई, नहाई और खाना खाकर फिर से आराम करने अपने कमरे में चली गयी.मेरी उम्र जवान हो चुकी थी, इसलिए मेरी सेक्स की लालसा भी शुरू हो गई थी, लेकिन कोई लड़की पट नहीं पा रही थी.

अंग्रेजी पिक्चर सेक्सी वाली - सेक्सी बीएफ भेजिए सेक्सी बीएफ

अब मैंने उसके गोल गोल दूधों को पकड़ कर लंड को आगे पीछे करना शुरू कर दिया.हम लोग अब रोजाना सेक्स और लंड चूत की बात करने लगे थे, पर अब भी हम दोनों ने फोन पर कभी बात नहीं की थी.

” मैंने बात को टालते हुए कहा।मेरी छठी इन्द्री कभी मुझसे झूठ नहीं बोलती, देख लेना … तुम भी यहीं हो और मैं भी!” सुमिना ने अपनी बात की गारंटी भरते हुए जवाब दिया. सेक्सी बीएफ भेजिए सेक्सी बीएफ और तभी मुझे एक आईडिया आया, मैं नीतिन को वह दे सकती थी जिसके लिए हर मर्द तरसता है और तब शायद नितिन मेरी कंप्लेंट ना करे।आर यू श्योर नितिन … मैं तुम्हारे लिए कुछ भी कर सकती हूं.

आते ही सोनू ने मुझे पकड़ लिया और मेरे होंठों को चूम कर मेरी गर्दन पर किस करने लगा.

सेक्सी बीएफ भेजिए सेक्सी बीएफ?

रीना मेरी कमर पर दबाव बना रही थी और पूरा लंड अन्दर लेने की कोशिश कर रही थी. मैंने अंकल को उठाने के लिए अपने होंठों से उनके लंड को किस की, फिर धीरे से लंड को मुँह में ले लिया. मेरी चड्डी में मेरे गुर्राते हुए शेर को देख कर उसने झट से मेरे अंडरवियर के अन्दर हाथ डाल दिया.

रजनी को उन्मुक्त इसलिए कहा कि बावजूद इसके कि वो राहुल से पहली बार मिल रही थी उसने बड़ी गर्मजोशी से राहुल से हाथ मिलाया. दोस्तों के साथ बाहर घूमने में तो इस तरह की संभावनाएं और भी ज्यादा हो जाती हैं. मैं बहन के सामने बीयर नहीं पीना चाहता था और न ही उसको पीने देना चाहता था लेकिन वो नहीं मानी.

सारिका राहुल के बिल्कुल सामने बैठी बस मुस्कुरा रही थी पर उसने एक पल के लिए भी अपनी निगाहें राहुल के चेहरे से नहीं हटाई थीं. काफी देर उनकी गांड को ऊपर ऊपर से मथने के बाद मैंने असली ट्रीटमेन्ट की शुरुआत की. राहुल ने उनको कहा कि वो लोग अगर अच्छी स्वीमिंग करना चाहते हैं तो स्विम सूट में आयें न कि सलवार सूट में.

अब तक किये गये खेल से मेरा लंड बिल्कुल टाइट हो गया था जो कि संजना की चूत के पास ही था. यह सुनकर मैं एकदम से हैरान हो गई … और अर्पित से बोली कि मुझे विश्वास नहीं हो रहा कि सर मेरे बारे में ऐसा सोचते हैं.

करीब एक घंटे बाद सबके सो जाने के बाद मैं अपनी बीवी के पास सोने चला गया.

साथ ही साथ चारू भी अपनी गांड में उठे दर्द की वजह से एकदम से रो पड़ी.

फिर बोली- आप ये सब भी देखते हो? मैंने तो आपको बहुत ही शरीफ इन्सान समझा था. उसने फिर मुझे मेरी जॉब का प्रोफाइल पूछा, तो मैंने बताया कि मैं कंपनी में मैनेजर के तौर पर हूँ और ये बहुत टेंशन वाला जॉब होता है. मैंने तेजी से उसकी चूत के मुंह पर अपना हाथ चलाना जारी रखा और बार-बार थूक लेकर उसकी चूत पर रगड़ता रहा.

तभी उसकी कमर में हरकत हुई और मैं समझ गया कि मेरी माल अब चुदने के लिए तैयार है। अब देरी ना करते हुए मैंने धीरे धीरे अपने लंड को गति दी, मैं उसे पहले बहुत धीरे धीरे चोद रहा था. तो उसने मुझे बांहों में भरकर एक छोटी से बच्ची की तरह ऊपर उठा लिया और मेरे होंठों को चूसने लगा. आपको पता है … ये सब क्यों करते हैं?चाची- नहीं … क्यों?मैं- औरत ज़्यादा देर तक झड़ती नहीं है.

अब मैंने पूछा- और कहां चलना है?इस पर उसने कहा- किसी पार्क में चलते हैं.

लेकिन वहां से आने के बाद मैंने कभी दोबारा से चचेरी बहन को चोदा नहीं! मैंने अपनी गर्लफ्रेंड के साथ ही चुदाई की. कुछ पलों बाद मैंने उसकी शर्ट उतार दी और ब्रा के ऊपर से ही उसके चुचों को बारी बारी से किस करने लगा. आंटी ने नीचे हाथ ले जाकर मेरे लंड को पकड़ लिया और मेरे लंड को खुद ही अपने हाथ के सहारे से अपनी चूत के मुंह पर लगा कर मुझे अपने ऊपर जोर से खींच लिया.

फिर जैसे ही मैंने उसका तौलिया हटाया, तो एक सांप एकदम से फनफनाता हुआ बाहर निकल आया. हमारे बेडरूम में से ही अन्दर वाले कमरे का दरवाजा बना हुआ था जिसमें अनीता सोती थी. हम दोनों स्कूल छूटने के बाद उनसे मिलने स्टाफ रूम में गई … वो अपना काम कर रहे थे.

मेरे सामने उसके दो प्यारे प्यारे मध्यम आकार के चूज़े मेरी तरफ पानी चोंच निकाले देख रहे थे और जैसे मुझसे प्रेम प्रार्थना कर रहे थे.

यह बात उस समय की है जब मेरी बीवी ने कहा कि मेरी भाभी को शहर से बुला कर ले आओ। अभी उसके स्कूल की छुट्टियां भी हैं चल रही हैं और वो इस बहाने हमारे यहां पर आकर कुछ दिन घूम जायेगी।मेरी बीवी ने कहा कि उसने अपनी माँ से बात कर रखी है इस बारे में. एक मेरी वाली लगभग नंगी पड़ी थी सेक्स के लिए तैयार!डॉक्टर ने कहा- तो फिर सेक्स तो सेक्स के तरीके से ही होगा मैडम!और यह बोलते हुए उसने अपनी वाइफ को इशारा किया और उसकी वाइफ ने मेरी वाइफ की नाइटी पूरी की पूरी उतार कर उसे पूर्णतया नग्न कर दिया और फिर मुझे बोला- मैडम को बेडरूम में ले चलते हैं.

सेक्सी बीएफ भेजिए सेक्सी बीएफ रूम में ले जाकर मैंने उसको बेड पे लुढ़का दिया और खुद भी मैं उसके ऊपर चढ़ गया. किरण आंटी फिर से गर्म होने लगीं और कहने लगीं- अब और मत तड़पाओ … जल्दी से डाल तो अन्दर.

सेक्सी बीएफ भेजिए सेक्सी बीएफ उसकी काले रंग की काबुली चने जैसी घुंडियों को अपनी उंगलियों में दबा कर मसला. उसके बाद मैंने रजू के चूचों को जोर से दबाते हुए उसकी चूत में उंगली करना शुरू कर दिया.

कुछ देर बाद मेरा फिर से हो गया और मेरी चुत में भी दर्द होने लगा था.

हॉट सेक्सी गर्ल वीडियोस

अंकित का लगातार उसके घर में रहना उसकी कल्पनाओं को और बढ़ावा दे रहा था. झड़ने के बाद मुझे होश आया, तो मैंने देखा मॉम खिड़की से मुझे देख रही थीं. आप लोगों ने मेरी पहली सेक्स स्टोरीममेरे भाई ने मेरी कुंवारी चूत की चुदाई कीपढ़ी होगी, जिसमें मैंने अपने मामा के बेटे यानि अपने भाई के साथ ही चुदवाया था.

मैंने कहा- आपकी चूचियां तो बहुत बड़ी और भारी हैं … इसे कैसे छोटे पिंजरे में बंद करके रखती हो. जैसे ही मेरी जीभ उसकी चूत पर लगी, तो उसके मुँह से ‘इ … स्सस …’ की आवाज निकल गई. इसी दौरान उसके छोटे भाई का मेरे पास सेंटर पर आना शुरू हो गया था और मैं उन सबको जानने भी लग गया था.

लगभग दस मिनट तक पति के मोटे लौड़े को चूसने के बाद उनके लंड में तनाव बहुत ज्यादा ही बढ़ गया मुझे लगने लगा था कि अब उनके लंड का वीर्य निकलने वाला है.

जैसे जैसे मेरे हाथ उसके बदन पर मालिश कर रहे थे वैसे वैसे ही उसके शरीर के रोंगटे अब खड़े होने लगे थे. मैं भी उनके पीछे चल रहा था और ज्योति को चलते हुए देखकर जैसे आहें भर रहा था. उसने पता नहीं क्या इशारा किया कि सभी लड़कियां बोलीं ‘ओके गीता … सुबह मिलेंगे.

”और फिर गौरी ने मेरी आँखों और चहरे पर पानी के थोड़े छींटे और डाले।मेरा मन तो कर रहा था काश! गौरी मेरे चहरे पर इसी तरह अपनी नाजुक हथेली और अँगुलियों को फिराती रहे और मैं अभिभूत हुआ इसी तरह उसकी नाजुकी को महसूस करता रहूँ।लाओ आपते हाथ भी धो देती हूँ. कुछ देर तक उसके बूब्स को दबाने के बाद मैंने उसके चूचों में हाथ डाल दिया. बार-बार अपनी सलहज की कातिल जवानी को देख कर मेरे दिल पर जैसे कटार चल रही थी.

आप सभी को मालूम ही होगा कि आमतौर पर परीक्षा से पहले स्कूल में इंटरनल मार्क्स दिए जाते हैं … जो हमारे बोर्ड परीक्षा में भी गिने जाते हैं. ये सब बातें सुन कर मैं धीरे-धीरे उनसे और चिपक गया, जिस कारण उनके चुचे मेरे सीने से टच होने लगे.

पवन एक कम्पनी में काम करता था इसलिए वो अधिकतर मौकों पर मुझे घर से बाहर ही मिलता था. पूल से बाहर आकर पंकज कभी राहुल को जबरदस्ती क्लब में ले जाकर कॉफ़ी या शेक ऑफर कर देता. जीजा को लंड हिलाते हुए देख कर मुझे उन पर तरस आ गया और मैंने उनको अपने पास आने का इशारा किया.

फिर मेरी तरफ़ पीठ करके बेड को पकड़ कर झुक गईं और मुझे लंड उसकी फुद्दी के अन्दर डालने के लिए लंड को सैट करके उकसाने लगीं.

पति को इशारा करते ही उन्होंने उन्होंने आधा लंड मेरी चूत में उतार दिया. मैंने भाभी को अपनी बांहों में भर लिया और उनको फिर से गर्म करने लगा. और उधर घर पर उन दोनों की बीवियों को साथ खाना खिला कर ही सोते थे बाकी लोग.

तो मेरे प्यारे दोस्तो, यदि आप लोगों के पास भी ऐसा ही कोई वाकया हो तो मुझे जरूर मेल करना और इस उत्तेजक किस्से पर अपनी राय से मुझे अवगत कराना. शायद ये बात लड़कियों को मालूम थी पहले से क्योंकि आज सभी ने डीप नैक फ्रॉक पहने थी और आज मर्दों ने ड्रिंक्स भी नहीं ली थी.

तो वो दोनों भी संभले और अपने अपने कपड़े ठीक करके वो भी ड्रिंक्स टेबल की ओर चल दिये. मेरे हर धक्के का जवाब भी उतनी ही तेज़ दे रही थी जितनी तेज़ मेरे धक्के थे।मेरे अंदर का तूफान आ चुका था, मैंने उससे पूछा- कहाँ निकालूं?उसने कहा- अब मैं तुम्हारी हूँ, जहां मन करे, निकाल दो!और इतना कहते ही मैं और वो एक ही साथ झड़ने लगे. मैंने कहा- ड्राइवर की कोई जरूरत नहीं है, मैं खुद अपने काम से जोधपुर जा रहा हूँ.

हिंदी ब्लू फिल्म सेक्सी नई

उसने मेरे वापस आते ही मुझे चाय पिलाई और मेरे पास बैठ कर काफी देर तक बातें करती रही और उनके पति के बारे में बात करते हुए रोई भी.

अभी-अभी तो नेहा की चूत में निकाला है।आंटी बोली- तू उठ जा, तेरे लंड को उठाना मेरा काम है. वह एकदम बैठ गई और गिरेबान से उसे पकड़ कर अपनी तरफ खींचती हुई बोली- तो फिर करो ना डॉक्टर बाबू; ऐसे अधूरा इलाज मुझे पसंद नहीं है. उसका सात इंच का लंड मेरी चूत पर लग रहा था तो मैं एकदम से उछल जाती थी.

बस थोड़ा सा मलाल ये रह गया था कि मैं उसकी चूत में वीर्य को नहीं निकाल सका. उसके होंठ लगते मेरा बदन कांप सा गया, जिस्म में हलचल सी होने लगी, मुँह से मीठी सीत्कार निकल गई. रक्षाबंधन का सेक्सी वीडियोमुझे आप सभी के बहुत सारे ईमेल मिले और इन सभी ईमेल में सबका एक ही सवाल था कि ‘मेल एस्कॉर्ट कैसे बना जाए.

उसकी गीली सी चूत पर मैंने किस किया तो उसने मेरे सिर को पकड़ कर अपनी जांघों के बीच में दबा लिया. उसके गर्म होंठ ऐसे लग रहे थे मानो जन्मों से किसी सुलगते हुए ज्वालामुखी का ऊपर बारिश हुई हो.

इन 18 घंटों में मैं यही सोचता रहा कि अनीता की चुदाई का काम बने तो बने कैसे. मैंने भी देर न करते हुए अनिता भाभी की लाल पेंटी को जाली वाली जगह से पूरा फाड़ कर अलग कर दिया. उसने मुझे झटके में पलटा और में भी चुदास कुतिया की तरह गांड उसके सामने करके घोड़ी बन गई.

पार्क में एक लाइब्रेरी भी थी, जहां लोग अखबार या अन्य मैगजीन आदि पढ़ कर मूड फ्रेश करने के लिए जाते थे. ” कहकर मैंने उसके गर्म लंड को मेरी मुठ में पकड़ा और उसे ऊपर नीचे करने लगी।तो मेरा पहला सवाल … लंड की मोटाई और लंबाई कैसे नापते है?”आह … टेप से … ओह …” नितिन मुश्किल से बोला।गलत जवाब!” मैं उसके बॉल्स को दबाते हुए बोली।आह … सॉरी …” वह दर्द से चिल्लाया।कहानी अगले भाग में जारी रहेगी. मैंने चाची की गांड कैसे मारी … और उनकी बहनों को कैसे चोदा, ये सब अगले भाग में जानिए.

मैंने कहा- मॉम आप अपनी बुर को साफ नहीं करती हो क्या?तो मॉम ने कहा- हां करती हूं, पर अभी कुछ दिनों से नहीं की है.

बात तीन साल पहले की है जब मैं 18 साल का था और दीदी 22 साल की थी। उन दिनों मैं 12वीं की पढ़ाई खत्म करके कामाचलाऊ नौकरी ढूंढ रहा था। रोज काम की तलाश में जाता था और घर वापस आ जाता था. मेरी सेक्सी कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि अपनी सलहज अनीता की मटकती गांड को देख कर रात में ही मेरे मन में उसकी चूत चुदाई के ख्याल आने लगे थे.

मैंने देखा मॉम राजनाथ की बांहों में थीं और राजनाथ मेरी मॉम को चूम रहा था. राहुल ने एक झटके में सारिका के ऊपर वजन बढ़ाते हुए उसे नीचे पेट के बल लिटा दिया और उसके ऊपर लेटते हुए सारा माल उसकी चूत और गांड के ऊपर डाल दिया. सारिका जल्दी ही कॉफ़ी लेकर आ गयी, बोली- क्या बेकार की चीज दिखा रहे हो राहुल को … ये सीधा सादा बंदा है.

उसने लंड हाथ में पकड़ा और उसमें अपनी चूत फंसा कर लंड के ऊपर बैठ गयी. अब मुझे लगता है कि मुझे भी यहां कहानियां पोस्ट करनी चाहिए।मैं आपको अपना परिचय देता हूँ। मेरा नाम रघु पाठक उर्फ गांडू गरिमा है। गांडू गरिमा इसलिए क्योंकि मुझे पता नहीं कैसे गांड देने का शौक लग गया. अब उसको दर्द होने लगा था लेकिन मेरे लंड के आनंद में वो दर्द को अनदेखा कर रही थी.

सेक्सी बीएफ भेजिए सेक्सी बीएफ मैंने उसकी गर्दन को चूसा, उसकी गांड को अपने हाथ से दबाया और फिर उसकी कमर के पास नीचे बैठ कर उसकी मैक्सी को उठा दिया. कई बार ऐसा होता है कि हम जान नहीं पाते हैं कि लड़कियों के मन में क्या चल रहा होता है.

सेक्सी व्हिडिओ भारतातील

उसने दोबारा से आंखें बंद कीं और फिर मेरे और अनिल के एक-एक हाथ को अपनी चूची पर रखवा लिया. मैं लंड की लगातार ठोकर देता हुआ उनके कभी होंठ चूसता, कभी मम्मों को दबाता हुआ चुदाई करता रहा. उसकी हाईट 5 फुट 7 इंच की थी और दिखने में तो वो किसी मॉडल से भी अच्छी दिख रही थी.

मैं डिनर के लिए होटल गयी और मैंने महसूस किया कि मेरा बॉस मुझे काम भरी निगाहों से देख रहा था. जब मैंने अंडरवियर उतारने के लिए अपने हाथ लंड की तरफ बढ़ाये तो अनीता ने मुझे रोक दिया. मारवाड़ी सेक्सी वीडियो खेतों कीमेरा लंड तनना शुरू हो गया था और मेरी लोअर में एक तरफ आकर उसने आकार ले लिया था.

मैंने कहा- अरे जिस काम के लिए हम ये सब कर रहे हैं वो किया कि नहीं?वो बोला- अभी तीसरा पैग शुरू होने दो, तुम्हारी बीवी गर्म हो जायेगी.

सारी साइट दिखाने के बाद आखरी फ्लैट के बेडरूम में उसको लेकर गया और उससे पूछा कि लंड दिखाऊं क्या?वो शरमाते हुए ना बोलते हुए निकल गयी. मैंने उससे कहा- अब बातें करना छोड़ो वरना मुझे मामा मामी देख लेंगे … और ऐसे कपड़ों में मुझे तुम्हारे साथ आने ही नहीं देंगे.

” नीलम ने ज़ोर से तड़पते हुए कहा।क्या घुसाऊं बेटी?” महेश ने अपनी बहू से मज़े लेते हुए कहा।ओहहहह पिता जी वह… अपना लंड घुसाओ ना!” नीलम ने भी अपनी शर्म छोड़ते हुए कहा।क्या बेटी, तुम्हें मेरा लंड चाहिए, कहाँ पर, किधर घुसाऊं मैं अपना लंड?” महेश ने इस बार अपनी बहू की चूत के दाने पर अपना लंड घिसकर उसे छेड़ते हुए कहा।पिता जी, मेरी चूत में घुसाओ अपना लंड. मैंने भी कुछ नहीं सोचा और सीधे उसके होंठों के ऊपर अपने होंठों को रख दिया. मैंने पीछे का दरवाजा खोला, लेकिन ज्योति आगे का दरवाजा खोलकर बैठ गई.

आपको मेरी ये कहानी कैसी लगी, कमेंट करके बतायें या फिर मेरी मेल-आई डी पर अपने मैसेज भेज कर प्रोत्साहित करें.

यह बात उस समय की है जब मेरी बीवी ने कहा कि मेरी भाभी को शहर से बुला कर ले आओ। अभी उसके स्कूल की छुट्टियां भी हैं चल रही हैं और वो इस बहाने हमारे यहां पर आकर कुछ दिन घूम जायेगी।मेरी बीवी ने कहा कि उसने अपनी माँ से बात कर रखी है इस बारे में. मैं उन्हें चूसने लगा, तो भाभी ने रुकने का इशारा करके मुझे पास सोफ़े पे बिठाया और ख़ुद नीचे बैठके मेरा लंड चूसने लगीं. लेकिन भाभी ने ऐसा नहीं किया।भाभी को यह भी पता है कि मेरा देवर मुझे गंदी नज़रों से देखता है और मुझे चोदना चाहता है।वो मुझसे बात भी करती थी और बातों बातों में भाभी ने कई बार चुदवाने के लिए हाँ भी कर दी थी कि मैं चोदवा लूंगी बस मौक़ा मिलने दे.

सेक्सी वीडियो चोदा चोदी करे वालामैं जानबूझकर दीदी के सामने बार-बार अपने खड़े हुए लंड को हाथ लगा रहा था. हर्ष ने भी मेरे बालों को पीछे से जोर से पकड़ लिया और मेरे मुँह को चोदने लगा.

सेक्सी चूत चुदाई लंड

मैंने कहा- हम दोनों एक ही बिस्तर पर एक साथ कैसे सो सकते हैं?वेरोनिका ने मुझे देखा और मुस्कुरा कर बोली- ओह डार्लिंग … ये कमरा और इसकी सारी सुविधाएं हम दोनों को एक साथ बांटने के लिए ही मिली हैं. सच तो ये था कि अब कुछ मिनट और इसे ही होता तो धीरज का लंड सीमा की चूत में घुस जाता … घुस क्या जाता सीमा ही घुसा लेती!दोनों संभले और वो भी ड्रिंक्स टेबल के पास जाकर खड़े हो गए और अपने अपने लिए ड्रिंक बना लिया. उसने मेरी बात पर शर्माते हुए मेरे हाथ पर चुटकी से काट लिया और हम दोनों साथ में हंसने लगे.

उन्होंने जीजा से मेरे बारे में पूछा तो जीजा ने कुछ नहीं बताया और मुझे वहां से चलने के लिए कहने लगे. मैं थोड़ा मजाकिया टाइप का हूँ, इसलिए जब मैंने भाभी को अपना परिचय दिया, तो मैंने भाभी को मजाक में उनके कान में यह कह दिया कि भाभी आप बहुत ही सुंदर हो, मेरा बस चले तो, मैं ही आपके साथ सुहागरात मना लूँ. इस वक्त चारू अपनी आंखें बंद किये हुए मेरे पानी को जैसे तैसे निगलने की कोशिश कर रही थी और उसकी सांसें भी तेज तेज चल रही थीं.

उसकी जीभ अन्दर बाहर हो रहे लंड के सुपारे को रगड़ती तो उसके होंठ सुपारे से लेकर लंड के मध्य भाग तक लंड को दबाते, लंड अन्दर जाते ही उसके गाल फूल जाते और बाहर आते ही वो पिचकने लगते।जल्द ही मुकुल राय को अपने अंडकोष में दवाब सा बनता महसूस होने लगा, उसे अहसास हो गया वो झड़ने के करीब है. मैंने एक दो कश लगाये और फिर संतोष जी ने मुझे अपने पास खींच लिया और मेरे होंठों को चूसने लगे. ये महसूस करते ही वो बोली- यार, तुम तो बहुत जल्दी मन की बात समझ लेते हो.

उसने कहा- हां मोंटू, तू तो इतना स्मार्ट है ही कि इधर कोई भी बंदी सैट हो जाएगी. ” नीलम के दिल ने जवाब दिया मगर अगले पल ही जो आवाज़ नीलम को सुनायी दी.

दीदी बोली- डर मत, मैं सब जानती हूं कि तेरा और जैस्मिन का क्या चक्कर चल रहा है.

उसके चूतड़ों पर थप्पड़ मारता हुआ मैं उसकी चूत में नीचे से ठोकर देने लगा. यूक्रेन सेक्सी मूवीपंद्रह बीस मिनट तक एक दूसरी की चूत और मम्मे लाल करने के बाद सब लड़कियां निढाल होकर पड़ गयीं. डॉट कॉम सेक्सी कहानियांमैं अपने लंड के सुपारे को उनके होंठों तक ले जाता और जैसे ही भाभी सुपारे को चूसने के लिए होतीं, मैं झट से लंड वापिस पीछे की ओर खींच लेता. दीदी ने उस लंड वाले खिलौने को मेरी चूत पर लगा कर रगड़ना शुरू कर दिया.

अब मेरे मुँह से मादक आवाजें निकलने लगी थीं- उम्म्ह… अहह… हय… याह… मर गई … आहह …इसके बाद मेरे बॉस ने मुझे छोड़ दिया और मुझे घोड़ी बना दिया.

मेरी इस बात पर उसने अन्जान बनते हुए पूछा- मोबाइल में ऐसा क्या देख लेते हो जो संतुष्ट हो जाते हो?अब मैंने भी शर्म छोड़ते हुए अपना मोबाइल फोन निकाला और पॉर्न वीडियो चला कर उसके सामने कर दिया. अंजू बोली- अब अपना लंड मेरी चूत में डालो यार … अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है. फिर मैंने भी उसकी जीन्स को उतार दिया और उसे फिर वहीं पर लेटा दिया और उसकी पेंटी भी उतार कर उसे नंगी कर दिया.

मेरा लन्ड मेरी पैन्ट में तन गया था और उसकी साड़ी के ऊपर उसकी जांघों के बीच में टकरा रहा था. ” यह कहते हुए वह उसकी ओर बढ़ी और उसका चेहरा अपने हाथों में पकड़ लिया. पूरे गर्म होने के बाद हम मिशनरी पोजिशन में आ गए और मैंने अपना लन्ड तैयार कर लिया.

न्यू फनी सेक्सी वीडियो

मैंने पैंट को खोल दिया और अंडवियर को देखा तो अंडवियर के बीच वाला पूरा हिस्सा मेरे लंड के कामरस से भीग चुका था. उन्होंने मेरे अन्दर घुसते दरवाज़ा बंद किया और प्यार से पूछा- सामान किधर है? किसी ने देखा तो नहीं?मैंने मना किया, अपना बैग साइड पे रखके उन्हें अपने आग़ोश में ले लिया. मैंने उससे लंड को अच्छी तरह पकड़ने को कहा तो उसने मेरा लंड पकड़ लिया और फिर उसको मेरे कच्छे के ऊपर से ही दबाने लगी.

उनके बारे मैंने आपको पहले ही बता दिया था कि वो तो मानो कामवासना की देवी थीं.

जब उसका दर्द कम हुआ, तो मैंने उसकी चूत में धक्का मारना शुरू कर दिया.

वो उछल पड़ी और बोली- आउच … आराम से यार!वो बोली- इतनी भी क्या जल्दी है. आपको कहानी पसंद आई हो तो अपना प्यार देना, अगर नहीं पसंद आई हो तो भी बता देना. इंडिया सेक्सी वालामैंने आंटी की मैक्सी को उतार दिया और फिर उसकी चूत को चाटने के लिए नीचे झुका तो आंटी ने मेरे लंड को अपने हाथ में पकड़ लिया.

उधर सागर के घरवालों ने तो यह कह दिया- जो चाहो करो, हम यही समझेंगे कि हमारा कोई बेटा नहीं था, जिसका नाम सागर था. मुझे दर्द भी बहुत हुआ था लेकिन उसके पति को इसका कोई अहसास तक नहीं हुआ. अब जैसे ही स्वाति भाभी उस पटरे पर खड़ी हुई मेरा लण्ड सीधा ही नीचे उसकी चुत पर लग गया.

उसके बाद हमने कुछ देर एक दूसरे से बात की और उसके बाद हम दोनों बहुत बार होटल में मिले. करीब 10 मिनट बाद ज्योति ने मुझे धक्का देकर दूर किया और कार का दरवाजा खोलकर बैठ गई.

इस बार मेरा पूरा लंड उसकी चूत में चला गया था और वो एक बार फिर दर्द से बिलबिला उठी थी.

सीमा, रीमा, रजनी और सारिका में ये फर्क था कि वो तीनों बिंदास थी पर सारिका को हाथ लगाने की हिम्मत राहुल में नहीं थी. मुकुल राय- हां बेटी … पूरा ले लिया है तूने … ऐसे ही बेकार में डर रही थी. मैंने प्रिया को फोन किया और उससे कहा कि मैं यहां पर बोर हो रहा हूँ.

एचडी सेक्सी फिल्म हिंदी में उसने मेरी छाती के दोनों तरफ अपने पैरों को रखा और अपनी चूत को मेरे मुंह के सामने रखती हुई मेरी छाती पर बैठ गई. मैं दुबारा से उसके मम्मों को चूसने लगा और एक हाथ उसकी पैंटी में डाल कर उसकी चूत पर रख दिया.

अभी आंटी को मेरी जरूरत थी इसलिए मैं भी आंटी के पास ही रुकना चाह रहा था. दोस्तो, किसी की इच्छा पूरी करने के बाद ऐसा थोड़े ही होता है कि बाद में उसके साथ सेक्स का ही रिश्ता रखो. मैं अब कुछ नहीं कर सकती थी, उसके दांतों के निशान मुझे अपने शरीर पर महसूस होने लगे थे.

सेक्सी वीडियो छोटी बहन

जब उसने कहा तो ऐसे अंदाज में कहा कि मेरे लंड में ठरक सी पैदा हो गई. ” सरिता ने महेश को अपने ऊपर से हटाते हुए कहा।क्या हुआ जानेमन?” महेश ने सरिता के ऊपर से हटते हुए कहा।कुछ तो अपनी उम्र की शर्म करो, मुझसे अब यह सब नहीं होता. इतनी हॉट भाभी को बांहों में लेने के ख्याल से ही मेरा लंड खड़ा हो कर भाभी के प्रस्ताव को स्वीकृति दे रहा था.

लंड के टोपे पर कामरस की चिकनाई भी भरपूर थी इसलिए जब लंड की त्वचा टोपे पर आगे पीछे हो रही थी तो गुदगुदी के साथ एक खुजली सी लंड के तनाव को और कड़ा करती जा रही थी. पति की जीभ मेरी चूत में घुस गई और मैंने उनका सिर पकड़ कर अपनी चूत में दबा दिया.

उसका लंड देखकर मैं समझ गया कि अब मेरी मॉम की ताबड़तोड़ चुदाई होने वाली है.

उसने जैसे ही लंड लिया तो वो चिल्ला पड़ी क्योंकि अब वो कई बार झड़ चुकी थी. मैंने उससे कहा- पहले कुछ ड्रिंक चलेगी?वो बोली- ओह्ह श्योर!मैंने बैग से व्हिस्की की बोतल निकाली और दो डिस्पोजेबल गिलास में व्हिस्की डाल कर ठंडा पानी डाला और उसको गिलास उठाने का इशारा किया. पर इस बार मेरे दिमाग में उसकी चूत नहीं, उसकी गांड मारने का प्रोग्राम चल रहा था.

”हओ”थोड़ी देर बाद गौरी ट्रे में ब्रेड, प्याज, हरि मिर्च, धनिया, उबले आलू आदि लेकर हॉल में आ गई। उसने सामान टेबल पर रख दिया और स्टूल पर बैठ गई। मुझे लगा गौरी कुछ गंभीर सी लग रही है। मैं चाहता था वो सामान्य हो जाए। इसके लिए उसके साथ कुछ सामान्य बातें करना जरुरी था।मैंने बातों का सिलसिला शुरू किया- गौरी एक काम कर?हओ?”मैं प्याज, टमाटर, हरी मिर्च और धनिया काट देता हूँ और तुम जल्दी से आलू छील लो. थोड़ी देर इसी पोजीशन में रुकने के बाद चाची ने नीचे से धक्के लगाना चालू कर दिया तो मैं भी जोश में आकर धक्के लगाने लगा. यही सोचते सोचते कब आंख लग गई, पता ही नहीं चला और मैं गहरी नींद में सो गया.

ये कहते हुए मैंने उन्हें चूमते चूमते उनकी साड़ी का पल्लू नीचे गिरा दिया.

सेक्सी बीएफ भेजिए सेक्सी बीएफ: परवीन- ये सब गलत है … तुम जाओ … मुझसे दूर जाओ, नहीं तो तुम्हारी चाची को बोलूंगी. काफी जद्दोजहद के बाद नीता इस शर्त पर तैयार हुई कि इसके बाद वो नहीं उतारेगी.

एक दिन वो पतली सी कमीज़ डाल कर सागर के ऑफिस गई और उस समय बरसात हो रही थी. रंग का गोरा था लेकिन मुझसे थोड़ा कम। हमारी दोस्ती काफी समय पहले से थी लेकिन उस वक्त मैंने उस पर कभी ध्यान नहीं दिया था. मैंने पहले भी कई सरदारनियों की चुदाई की है, पर जो स्वाद एक कुंवारी सरदारनी की चुदाई में मुझे आया, वो उन चुदी-पिटी फुद्दियों में नहीं आया था.

उसके जाते ही मैंने अपने सिस्टम में सनी लियोन की पॉर्न मूवी चालू कर दी.

महेश ने अपने हाथ को थोड़ा ज़ोर देकर अपनी बहू की ब्रा को नीचे सरका दिया। महेश अपनी बहू की चूचियों को देखकर लार टपकाने लगा, नीलम की चूचियाँ बहुत ज्यादा सुंदर थीं। उसकी चूचियां गोल गोल दूध की तरह सफेद थीं और उसके ऊपर गुलाबी दाने उसकी चूचियों को ज्यादा आकर्षक बना रहे थे।आह्ह्ह्ह कितनी नर्म हैं आह्ह …” महेश ने जैसे ही अपना हाथ अपनी बहू की एक चूची पर रखा उसके मुंह से ऐसे ही शब्द निकले. आंटी ने अपनी दोनों टांगें फैलायीं और मेरे दोनों तरफ करके मेरी जांघों पर बैठ गई. जीजा ने मरी पैंटी और लोअर को निकाल दिया, फिर मेरी टांगों को फैला कर एक बार मेरी फूली हुई चूत को देखा और जीभ लगा कर उसको चाटने लगे.