हिंदी बीएफ एडल्ट वीडियो

छवि स्रोत,सेक्सी चुदाई हिंदी वाली

तस्वीर का शीर्षक ,

चूत का सेक्सी बीएफ: हिंदी बीएफ एडल्ट वीडियो, फिर मैं पीठ के बल लेट गया और टांगें फैला कर अपने हाथों से अपनी गांड को थोड़ा फैला लिया.

செக் விடி

वो चाय बना रही थी; बोली- तुम भी लोगे?मैंने कहा- आप दोगी तो जरूर ले लेंगे. बिहारी सेक्सी पोर्न वीडियोवो भी हद से ज्यादा गर्म ही गई थी और खुद ही अपनी सलवार का नाड़ा खोलने लगी.

पता चला कि ये कॉल उसकी मम्मी का था और वो उसको सरप्राइज देना चाहती थीं कि वो दिल्ली आ गई हैं. काजल अग्रवाल हीरोइन की सेक्सी वीडियोकभी कभी तो मैं थकने का बहाना करके उसके बगल में लेट जाती और उससे चिपक कर अपने आपको गर्म कर लेती.

इस कारण से उसके बॉल्स हवा में झूलते हुए हर स्ट्रोक पर मेरी गांड के छेद के नीचे पट पट मार कर आवाज कर रहे थे.हिंदी बीएफ एडल्ट वीडियो: जब लड़के को चोदने में इतना मजा आता है, तो लड़की में कितना मजा आएगा.

फिर उसने दूसरा हाथ कम्बल के अन्दर से ही मेरी शर्ट में डाल दिया और मेरे सीने के दानों को मसलने लगी.मैं भी उसकी गांड की चुदाई पूरी मस्ती से कर रहा था मगर मैं अभी झड़ना नहीं चाहता था इसलिए मैंने गांड से लौड़ा निकाल कर उसकी टपक रही चूत में डाल दिया और ऐसे छेद बदल बदल कर उसे चोदने लगा.

सेक्सी पिक्चर देखना है इंग्लिश - हिंदी बीएफ एडल्ट वीडियो

पता चला कि ये कॉल उसकी मम्मी का था और वो उसको सरप्राइज देना चाहती थीं कि वो दिल्ली आ गई हैं.मैं यहां कुछ लम्बी चौड़ी नहीं फेंकूंगा कि मेरा लंड बारह इंच का है या दस इंच का है.

मेरे घर पर मेरे माता-पिता, मेरा बड़ा भाई, मेरी भाभी और मैं रहा करते थे. हिंदी बीएफ एडल्ट वीडियो मैं उनकी मलाईदार चूत चूस रहा था और वो आआ आआ ओह जमाई राजा ओह ओह आह …’ कर रही थीं.

चूंकि इस वक्त किसी के भी आने का खतरा था तो मैंने जल्दी से उनकी कुर्ती को ऊपर उठाया और उनके दूध पीने लगा.

हिंदी बीएफ एडल्ट वीडियो?

उनकी दुकान पर रोज़ जाने की वजह से भाभी से मेरी काफी बातें होने लगी थीं. मुझे आपसे कोई भी तेल नहीं लगवाना है। आप पैरों की जगह कहीं और तेल लगा देंगे।मैंने कहा- क्या हुआ भाभी?तो भाभी ने बिना कुछ जवाब दिए वहां से निकल जाना ही उचित समझा. आंटी ने अब धीरे से मॉम की पैंटी के अन्दर हाथ घुसा दिया और सीधे चूत पर उंगली फेरने लगी.

उसने मेरे होंठों को चूमना शुरू कर दिया और दोनों हाथों से मेरी गांड फैला कर अपनी एक उंगली से मेरी गांड के छेद को रगड़ने लगा. रात भर मैं अपने कमरे में लेटे-लेटे सोच रही थी कि जो वह कह रहे हैं, क्या वह सही है. चाची बोलीं- बदमाश पहले नहीं बोल सकता था क्या?मैंने 5 मिनट तक धक्के लगाए.

फिर से गांड मरवाने की मेरी इच्छा तो हो रही थी पर दर्द होने का भी डर लग रहा था. अब हर रोज रात को सोने से पहले लंड की पहले खूब एक्सरसाइज करता और वह तेल लगाकर खूब मालिश करता और सो जाता. ऐसा कहती हुई वो सर से खुद के बारे में पूछने लगी और कुछ देर बाद चली गई.

उसने अपने दोनों हाथ आगे करते हुए मेरे दोनों मम्मों को अपने हाथों में भर लिए और जोर से दबाते हुए मेरी जोरदार चुदाई करने लगा. बुआ- नीलिमा, आज तो एकदम चुदने के लिए तैयार लग रही हो!नीलिमा- हां यार, जब से तेरे इस ठोकू को देखा है, तब से इसके लंड के बारे में सोच रही हूँ.

मेरा वीर्य चूत में गिरते ही भाभी एकदम से डर गईं और बोलने लगीं- तुम झड़ने वाले थे, तो तुमने अपना लंड मेरी चूत से बाहर क्यों नहीं निकाला? अगर मैं तुम्हारे बच्चे की मां बन गई तो लोग मुझे क्या कहेंगे?मैंने भाभी को शांत करते हुए कहा- कुछ नहीं होगा, डरो मत नम्रता, मैं सदैव तुम्हारे साथ हूँ.

भाभी ने एकदम से पूछा- तुम इतनी देर से क्या देख रहे हो?मैं सकपका गया कि अब तो पकड़ा गया.

मैंने मौका हाथ से जाने नहीं दिया और धीरे-धीरे भाभी से सेक्स को लेकर बात करने की कोशिश करने लगा. आप इस तरह से उदास रहोगी, तो आप अपने घर को कैसे सम्भाल पाओगी?मेरी इस बात पर भाभी ने कहा- लगता है इस मोहल्ले में सिर्फ आपको छोड़कर कोई भी इंसान है ही नहीं. साला जानबूझकर उसी समय तेज तेज चोदने लगता था और मुझे दर्द दिया करता था.

एक तरफ मैं उदास भी थी कि मैंने भाई को नाराज कर दिया, दूसरी तरफ से मुझे कैसे ना कैसे करके उसके साथ सेक्स भी करना था. वो बोली- क्या क्या सेवा कर लेता है?मैंने कहा- आपकी चूत चुदाई और गांड मारने का काम तो करता ही हूँ … बाकी आप जिसकी भी लेने की कहोगी, उसकी भी चोद दूँगा. मैं खड़ा हो गया, उसने मेरा लंड हाथ में लिया और अपने मुँह में डाल कर चूसने लगी.

बहुत मनाने के बाद वो मान गई और मैंने धीरे धीरे से अपने लंड को उसकी गांड में घुसाना शुरू कर दिया.

दोस्तो, आगे की सेक्स कहानी में मैं एक ऐसा किस्सा लाऊंगा, जिसमें मैं और वरूण कॉलेज की छुट्टियों में मुंबई गए और आंटी को चोद कर मजा लिया. इतने भाभी ने पूछ लिया- तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है क्या?मैंने बोला- नहीं भाभी, पहले थी मगर अब नहीं है. फिर विक्रम ने अपना लंड भी मॉम के मुँह में दे दिया और लंड चुसवा कर साफ़ कराया.

विलेज देसी सेक्स की कहानी में गाँव की एक लड़की की है जिस पर अपने भाई भाभी की सेक्स की आवाजें सुनकर चुदाई का मजा लेने का भूत सवार हो गया. अब मैं तेज़ तेज़ धक्के लगाने लगा और वो मुझे तब रोते हुए आँखें जोर से बंद करके चूम रही थी. इस पर उसने इठला कर पूछा- कैसे हैं?मैं समझ गया कि लड़की कुछ ज्यादा ही बोल्ड है और हरी झंडी दे रही है.

गांव में जब मैं निकलती, तो चाहे मेरी उम्र के लड़के हों या शादीशुदा अधेड़ उम्र के आदमी हों, सभी की निगाह मेरे तने हुए बड़े बड़े चूचों पर … और मेरी उभरी हुई गांड पर टिक जाती थी.

वाओ … मैं जब लंड हिला रही थी तो उसके लंड से तरल पदार्थ निकलने लगा, जो कि पानी जैसा था. मैंने फिर से थोड़ा लंड बाहर निकला और फिर से एक धक्का लगाया, तो पूरा लंड अन्दर चला गया.

हिंदी बीएफ एडल्ट वीडियो फिर मैंने उससे कहा- वैसे तूने अब तक लंड तो अपनी चूत में लिया है न!बहन हंस कर बोली- तुझे क्या लगता है?मैंने कहा- मुझे तो लगता है कि तूने अपनी गांड में लंड पक्का लिया है. कुतिया देखना … तेरी चूत के चिथड़े उड़ा देंगे आज तेरी चुत इतनी फाड़ेंगे साली कि तू दो दिन तक ठीक से चल भी नहीं पाएगी.

हिंदी बीएफ एडल्ट वीडियो वो मस्त गांड मार रहा था मगर उसके दवा खाकर गांड मारने से उसने मेरी सुजा दी. इसके बाद ट्रेनर ने आगे बताया कि स्ट्रॅप ऑन पहनकर लड़कियां दूसरी लड़की की चूत चोदती हैं.

दोस्तो, अब विलेज देसी सेक्स की कहानी के अगले भाग में आप मेरी पहली चुदाई पढ़ेंगे.

अक्षरा सिंह की सेक्सी वीडियो भोजपुरी

तभी उसने अचानक से अपना फ़ोन जल्दी से बंद किया और उसे स्टैंड से हटा कर बाजू में रख लिया व स्टैंड को नीचे रख दिया. आज मैं अपनी चूत में अपने भाई का मोटा लम्बा लंड बड़ी आसानी से ले रही थी. भाभी के बिस्तर पर पहले से उनका 5 माह का बच्चा सोया हुआ था तो मैंने उनके बच्चे को चुपचाप उठाकर झूले में ले जाकर सुला दिया.

फिर भी सब आस-पास ही रहते थे और सबका एक दूसरे के यहाँ आना जाना भी था. विश्वेश्वर जी बोले- पूरी रंडियों वाली प्रकृति है इस अरुणिमा की … लेकिन ताज़ा बदन है … तो चोदने में मज़ा बहुत आया. वो अपने हाथों से मुझे ऊपर उठाने लगीं और कराहने लगीं- आअअअ … एईई यार निकालो … मुझे दर्द हो रहा है आह अअह, तुम्हारा बहुत अन्दर तक जा रहा है.

लगभग आधा घंटा तक मैंने सुरभि की चूत चोदी ओर अपना पानी सुरभि की चूत में छोड़ दिया.

Xxx क्रेजी गर्ल सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि अंकल ने मुझे चोदने के बाद अपने साले और उसके तीन दोस्तों से मेरी चूत और गांड कैसे मरवायी. पिताजी के शादी भी नहीं जाने के कारण मैं और शर्मा अंकल बहुत खुश थे क्योंकि हमें लग रहा था हम वहां पर आजादी से एक दूसरे के साथ सेक्स कर पाएंगे और इन चार दिनों की हमने प्लानिंग भी कर रखी थी. गगन मेरे पास आया और बोला- मैडम, तुम तो यार मस्त माल हो, हमारे लंड तो हमेशा ही तुम्हारे जैसे मस्त माल के लिए तैयार रहते हैं.

इसके साथ ही उन्होंने अपना शॉर्ट्स उतारा और अपना मूसल सा लंड बाहर निकाल लिया. नीरज ने हम दोनों को हमारे पैसों के बैग दिए और मैं व रीना होटल से चली गईं. इसी बीच मैंने चालाकी से अपना लंड उनकी चूत से बाहर निकाला और उनकी गांड पर रखकर धक्का दे दिया जिससे एक चौथाईलौड़ा गांड मेंचला गया.

मैंने चाची का हाथ पकड़ कर अपनी गोद में बैठाया और कहा- आप चिंता मत करो, मैं कोई ना कोई उपाय जरूर सोच लूंगा. तीनों दोस्त जोर-जोर से हंसते हुए कह रहे थे- देखो, रांड का पानी छूट रहा है.

भाभी ने मुझसे कहा- ओम … जरा मेरी पीठ को रगड़ दो … मेरा हाथ पीठ तक नहीं पहुंच रहा है. साथ ही कहानी लिखने के लिए मज़ेदार सेक्स की घटना भी हो गयी।यह हॉट गर्ल लस्ट स्टोरी हिंदी लॉकडाउन में मेरे दोस्त की एक गर्लफ्रैंड के साथ किये गए सेक्स और मौज मस्ती की कहानी है जिसमें मैंने अपनी कामवासना को दोस्त की गर्लफ्रैंड को चोद के शान्त किया. मैंने फिर उसकी लोअर उतारकर पेंटी उतार दी और जब मैंने वोगुलाबी बुर देखी.

मैं न जाने कितनों की मेल का तो रिप्लाई भी नहीं दे पाया, जिसके लिए मैं आप सबसे माफी चाहता हूं.

ट्रेनर ने सभी को 5 बार बेल्ट से पीटा, दर्द से सबने चीखने की कोशिश की, पर गॅग के कारण आवाज़ कम निकली. विश्वेश्वर जी अरुणिमा की गांड थपथपा कर बोले- जा, जाकर नहा ले और फ्रेश हो कर नंगी ड्राइंग रूम में आ जा. तभी अंकल मेरे पास आए और उन्होंने मुझसे कहा कि शाम 7:00 बजे लेडीज संगीत शुरू हो जाएगा और रात को 1:00 बजे तक चलेगा.

उसने कहा- तुम अन्दर ही माल छोड़ दो, मैं तुम्हें महसूस करना चाहती हूं. मुझको पता नहीं क्या सूझा, मैंने अपना मोबाइल नम्बर लिख कर उस लड़की की तरफ फेंक दिया.

मैंने उनके मर्दाना सीने को देखा तो न जाने मुझे क्या हुआ, मैं उनके सीने से लिपट गई. वो चुदासी रांड की तरह मेरे लंड के ऊपर चढ़ गई और एकदम से उत्तेजित हो गई. हम लोग खाना खा लेंगे और तुम्हारी दीदी को नींद की दवा देकर जल्दी सुला देंगे.

नंगी सेक्सी पिक्चर भेज दो

उसने कुछ देर के बाद बाथरूम से बाहर आकर अपने कमरे का दरवाजा बंद किया और वापस बाथरूम में आ गई.

कुछ मिनट बाद हम दोनों लोग एक ही साथ ठंडे हो गए, मतलब लंड चूत का पानी निकल गया. मैंने शेयर बाजार में नया नया काम शुरू किया था मगर नासमझी के कारण मुझे उसमें नुकसान होने लगा, मेरी जमापूँजी खत्म होने लगी, जिससे मैं बहुत ही ज्यादा अवसाद में आ गयाइसके बाद मैं एक मनोवैज्ञानिक सर के यहां अपने आपको इस अवसाद की स्थिति से बाहर निकलने के लिए जाने लगा. उनकी चूत में ही लंड रस टपकाने के कारण अभी भाभी प्रेग्नेंट हैं इसलिए वो अपने मायके गई हैं.

फिर मैंने उससे पूछा कि आप लोग दूसरे बच्चे के बारे में नहीं सोचते क्या?उसने कहा- नहीं, क्योंकि मेरे पति के अंग में थोड़ा कमजोरी है. मैंने उंगलियों से कमसिन चूत को ढीला किया और उसके चुचे अपने मुँह में लेकर चूसता रहा. एक्स एक्स एक्स सपना चौधरीउसने एक पैग और बनाया और मेरे लंड पर डाल कर शराब के साथ लंड चूसने की तैयारी करने लगी.

भाबी ने मुझसे प्रॉमिस लिया कि ये एक ही बार होगा और किसी को पता नहीं चलना चाहिए. फिर कोमल ने कैमरा सैट करके मोबाइल को एक सही जगह पर रख दिया, जिससे पूरी फिल्म की रिकॉर्डिंग अच्छे से हो.

किशन ने मुझे किस करके थैंक्यू कहा और बोला- आपके लिए मुझे जो भी करना पड़ेगा, मैं करूंगा. मैं जब तक कुछ समझ पाता, उसने खुद ही मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत पर सैट कर लिया. उस वक्त कुछ ऐसा मौक़ा मिला जिसमें मैंने अपनी एक पड़ोसन रोशनी आंटी का मूत पिया और उनकी जमकर चुदाई की.

कुछ देर के बाद फिर मैंने उसको घोड़ी बनाकर उसकी चूत में लंड डालना चाहा।मुझे अहसास हुआ कि उसकी चूत एकदम से कोरी थी।मौसी की लड़की की कुंवारी चूत में लंड की रगड़ से ही जलन होने लगी थी।मैंने उसे समझाया कि लंड जब अंदर जाएगा तो दर्द होगा. कुछ देर बाद हमने उनको उल्टा घुमा लिया और जकूजी के पानी में ही उनको घोड़ी बना दिया. मेरा माल पीने और मेरा लंड चाट कर साफ़ करने के बाद वो टेबल से बाहर निकली.

इस बार मुझे उसका लंड और बड़ा लग रहा था और उसके हर झटके को मैं दर्द से सहन कर रही थी.

वाइफ हार्ड सेक्स से उसके पूरे बदन पर खरोंचें दिख रही थीं और चूत पूरी लाल हो गई थी. तब मैं उनको व्हाट्सअप चैट पर किस के फोटो और वीडियो भेजने लगा, किन्तु उन पर कोई असर नहीं हुआ.

मेरा लंड पूरा 6 इंच है मगर तब भी मुझे गांड मारने की इच्छा ही नहीं होती, सिर्फ लेने की इच्छा होती है. सब लोग उसे देखने आते पर मेरी बहन को नापसंद करके चले जाते क्योंकि वो दिखने में जवान नहीं लगती थी. इसका मतलब ये होता है कि सभी के मन में कुछ कपोल कल्पना या कुछ इच्छा होती है.

मैंने कहा- क्या मतलब?जोगी सर- मतलब यह कि आप अपना एकाउंट नंबर मुझे दे देना और जो खर्च घर वाले उठाते थे, वो मैं कर दिया करूंगा. मैं मॉम से क्या बोलता?’फिर कुछ दिन बाद वो मालिश वाले तेल की भी डिलीवरी हो गई और मैं वह तेल मेरे फ्रेंड के घर से ले आया. मैंने उसके साथ बहुत बार चुदाई की थी पर उससे भी कभी अपनी गांड नहीं मरवाई.

हिंदी बीएफ एडल्ट वीडियो मैं आप सबको मेल का जवाब लिखूंगा, नीचे मेरी मेल आईडी है, तो प्लीज़ आप मेल करके जरूर बताएं कि यह हॉट हॉर्नी सेक्स कहानी कैसी लगी?[emailprotected]. मेरी भाभी क्या मस्त माल लग रही थीं; उनका पूरा शरीर एकदम रबर की तरह मुलायम व लचीला था.

सेक्सी वीडियो हिंदी हिंदी में

भाभी के फुटबॉल जैसे दो बड़े बड़े चुचों को बारी बारी से चूसने और चूमने लगा. कसम से दोस्तो, इतना मजा आ रहा था, जिसके बारे में मैंने न कभी सोचा था और न ही उस अनुभव को मैं शब्दों में बयान कर सकती हूं. आंटी की बलखाती कमर से ड्रेस बिल्कुल चिपकी हुई थी जो मुझे उत्तेजित कर रही थी.

कम से कम यहां पर कम खर्च और किसी भी परेशानी से दूर खुल कर चुदाई तो कर सकते हैं. फिर राजेश चिल्लाया- जीजाजी, आपको शर्म नहीं आती यह सब करते हुए? मैं अभी जाकर दीदी को सब कुछ बताता हूं. सेक्सी वीडियो डाउनलोडरमैंने पजामा उसके चूतड़ों से नीचे किया और गांड में हाथ डाला तो उसकी गांड का छेद मुझे बड़ा ही नर्म लगा.

” दीपक अपने बिछाए जाल से फिसलती मछली नहीं देख सकते थे।तभी मुझे सहारा दिए लड़कों में से एक बोला- सर, क्या इसे अंधेरे में अकेले बिठाना ठीक होगा, इस वक्त सभी टुन्न हैं, कोई ऊंच नीच हो गई तो?दीपक झेंप के बोले- मुझे तुम दोनों पर गर्व है, लड़कियों की सुरक्षा के बारे में सोचना, बहुत अच्छा ख्याल है.

फिर सर ने मेरी तरफ देखकर कहा- इस बेचारे लड़के ने शेयर बाजार में बहुत नुकसान किया है. उसने मुझे अन्दर बुलाया और सोफे में बैठने का बोलकर खुद भी मेरे बगल में बैठ गयी.

मैंने उसकी तरफ मुस्कुरा कर देखा और अपना हाथ छुड़ाती हुई बोली- कल नदी के पास मिलना, तब मैं अपना जवाब बताऊंगी. मेरी रांड बहन मुझे बरगलाने लगी- वो क्या है न भइया कि किसी ने आज तक मुझे चोदा नहीं है, इसलिए मेरी चूचियां अभी छोटी हैं. दिन ऐसे ही गुजर रहे थे और करीब एक महीने बाद मेरी दोनों सहेलियों ने कुछ दिन के लिए स्कूल से छुट्टी ले ली.

आह … क्या स्वाद था यार उसका … क्या ही बोलूँ!वो मुझे देख कर मुस्कराने लगी.

तब आंटी ने मॉम को बेड पर घोड़ी बना दिया और खुद नीचे बैठकर मॉम की चूत चाटने लगी. अबचाची मेरा लंड चूसने लगींको लॉलीपॉप की तरहको लॉलीपॉप की तरह … और अपने दोनों हाथों से जोर-जोर से आगे पीछे करने लगीं. कुछ देर बाद मैंने दीदी को बेड पर लिटा दिया और उसकी टांगों को फैलाकर अपना लंड चूत में एक जोरदार धक्का दे मारा.

கேரளா செக்ஸ் வீடியோ கேரளாकहानी के पहले भागबीवी की बहन की जवानी का मजामें अब तक आपने पढ़ा था कि मेरी साली सुप्रिया मेरे सामने अपनी नाइटी का सामना खोल कर नंगी हो गई थी और मैं अपनी साली के कयामत बरपाने वाले हुस्न को, उसके तने हुए मम्मों को देख रहा था. गगन मेरे पास आया और बोला- मैडम, तुम तो यार मस्त माल हो, हमारे लंड तो हमेशा ही तुम्हारे जैसे मस्त माल के लिए तैयार रहते हैं.

काजल अग्रवाल की नंगी फोटो

तभी उसके सारे दोस्त एक साथ चिल्लाए- हिप हिप हुर्रे … हिप हिप हुर्रे!यह सुन कर राजेश का जोश दोगुना हो गया. मां ने मेरी चुदास समझ ली और उन्होंने तत्काल झुक कर अपनी साड़ी ऊपर कर दी. तो ज्योति ने भी अपने मुख से एक आह भरी और साथ ही रोहित ने भी ज्योति के दोनों मम्मों को पकड़ कर उसके एक मम्मे को अपने मुंह में ले लिया।मैंने अपने लंड को पकड़े हुए ही एक बार ज्योति की आँखों में देखा, ज्योति खुद वासना में लिप्त थी तो मैंने लंड का दूसरा झटका दिया.

अब मम्मी पापा के ऊपर आ गईं और उनके चड्डे और चड्डी दोनों को एक साथ निकाल दिया. गर्लफ्रेंड सेक्स का मजा लेती हुई, सी सी करती हुई मेरे चेहरे पर लगे पसीने को पौंछ रही थी और मेरे बिखरे बालों को सही कर रही थी. दरवाजे पर शमशुद्दीन जी खड़े थे, उन्होंने मुझे चार फाइलें दीं और चैक करने का कहा.

सुकेश बोला- मैं नहीं मानता ये सब … उम्र कुछ नहीं होती और मैं कैसे समझाऊँ कि मैं छोटा नहीं हूँ. बस ऐसे ही कई दिनों तक हम दोनों में बातचीत होती रही और हम दोनों कॉलेज में मिलने लगे. राजेश भी पागलों की तरह मेरी चूत के दाने को होंठों से खींच खींच कर चूस रहा था.

फौजिया को मेरे घर आते हुए इतना समय बीत चुका था तो फौजी चाचा भी बेफिक्र रहा करते थे. इसे मुँह से चूस कर प्यार करो न!भाभी- मैंने कभी भी अपने पति का लंड नहीं चूसा था.

उसको मैंने कुछ और पैसे अपनी तरफ़ से दे दिए कि मेरे लिए प्रोटिन सप्लीमेंट भी लेकर आना.

भाभी की इस बात ने मुझे असमंजस में डाल दिया कि भाभी क्या कहना चाहती हैं. 𝒕𝒆𝒍𝒖𝒈𝒖 𝒔𝒆𝒙धीरे धीरे हम दोनों बातें करने लगे और कुछ ही दिनों में हम एक दूसरे के दोस्त बन गए. बुर्का सेक्सी वीडियोतो मैम ने कहा- मैं तुम्हें सिखा तो दूंगी, लेकिन तुम्हें क्या आता है? तुम बदले में फीस भी नहीं दोगे. इससे वो बहुत गर्म होने लग गयी थी और मादक आवाज़ें निकालने लग गयी थी.

जब उसकी सांसें मेरे लंड को छू रही थीं तो लंड में एक अजीब सी कसक उठ रही थी.

उसकी चूत देखकर मुझे इतना पता था कि आज प्रिया की बहुत बुरी हालत होने वाली है क्योंकि मेरे फौलादी लंड को झेल पाना उसकी छोटी सी नाजुक चूत के बस की बात नहीं थी. ‘वाह चाची आपने अच्छा किया, वर्ना आज सुबह मॉम मुझे ऐसे ही पकड़ लेतीं. उन्होंने मेरे लंड के सुपारे को अपनी चूत के मुँह के पास सैट किया और फचाक से मेरे लंड के ऊपर बैठ गईं जिससे मेरा पूरा लंड चूत को चीरता हुआ अन्दर चला गया.

यह चीटिंग वाइफ पोर्न स्टोरी आपको कैसी लग रही है? आप मुझे मेल करना न भूलें. मामी को सांस लेने में काफी दिक्कत आ रही थी, वो गों गों करने लगी थीं. मैं बियर के अलावा कुछ नहीं पीता था तो मेरे लिए बियर मंगवाई गई और महफ़िल जम गई.

www.com मारवाड़ी सेक्सी वीडियो

एक तो इस रंडी को कल दो दो बार चोद ही चुके थे और रात में फिर एक एक बार चोद चुके हो. क्योंकि अगर भाभी ज्यादा तेज आवाज निकालतीं तो भाई जाग सकते थे और हम दोनों पकड़े जाते. मैं भी अकेला माहौल पाकर चाची को खूब परेशान करता … और उनके साथ खूब मस्ती करता.

अबकी बार जो मेरा लंड तेरी चूत अन्दर घुसा, तो तेरी चूत का भोसड़ा बनाकर ही बाहर आएगा.

मेरा एक हाथ उनके एक स्तन को मसल रहा था, दूसरे हाथ से मैं उनके ब्लाउज को खोलने की कोशिश कर रहा था.

मैं भी चाची को अपनी बांहों में भर कर ऐसे ही करीब आधा घंटा तक पड़ा रहा. मैं कुछ सोच और समझ पाती कि तभी इमरान ने पानी के अन्दर एक डुबकी लगाई और मेरी पैंटी खींच कर उतार दी. ರಮ್ಯ ಸೆಕ್ಸ್हम दोनों एक दूसरे से चिपक कर ऐसे ही पड़े रहे और शाम को सात बजे सोकर उठे और फ़्रेश हुए.

जब उसकी सांसें मेरे लंड को छू रही थीं तो लंड में एक अजीब सी कसक उठ रही थी. हमें अब आगे नहीं बढ़ना चाहिए अगर वैशाली को पता चला कि मैं तुमसे ये बातें करती हूं, तो मैं कहीं मुँह दिखाने लायक नहीं रहूँगी. भाबी भी इतने में काफी गर्म हो गयी थी उनके मुँह से ‘आह … आह …’ की कामुक आवाज निकल रही थी.

मैं उस दिन शाम को ऑफिस से जल्दी घर आ गया था और बाहर बालकनी में बैठकर थोड़ा आराम कर रहा था. अब सुकेश मेरी कमर पकड़ते हुए बहुत हार्ड हार्ड और स्पीड में चोदे जा रहा था.

अचानक मेरी आवाज कुछ ज्यादा बाहर निकली और फोन पर सासु मां ने सुन ली.

उसने अपनी दोनों टांगें दिनों तरफ डाल ली थीं और मुझसे चिपक कर बैठ गई थी. अगर तुम्हारी हां है, तो ठीक … नहीं तो तुम कमरे में जा सकती हो, मुझे बुरा नहीं लगेगा. पल्लवी भाबी के कपड़े बहुत टाइट थे, उनके चूचे और चूत का आकार एकदम साफ़ झलक रहा था.

सेक्सी हिंदी में डाउनलोड ये सब आप मेरी कहानीलॉकडाउन में मिला शानदार चुदाई का मजामें पढ़ चुके हैं. इससे उसे थोड़ी दिक्कत तो हुई थी।लेकिन मेरे कुछ झटकों के बाद बाद उसे भी मज़ा आने लगा था।मैं भी आज अपनी काफी दिनों की चुदाई की कसर पूरी कर रहा था।हम दोनों सेक्स का भरपूर मज़ा ले रहे थे।मैं उसे अलग अलग पोज़ में चोद रहा था।सोनी मेरी चुदाई से खुश हो गयी थी।मैंने उसे पूर्ण संतुष्ट कर दिया था। वो पूरा मजा लेकर झड़ी.

उसने भी मेरे लंड को जिस तरह से अपने हाथ में लिया था, उससे उसकी वासना साफ़ दिखने लगी थी. मैंने कहा- चूसना और खाना जानती भी हो?वो बोली- हां साले, मैं सब जानती हूँ. उसके मम्मी पापा के आने से पहले रात को मैं वहां से निकल गया और वापस आ गया।पर उसके बाद भी मैंने उसकी देहरादून में चुदाई की वो कहानी फिर कभी!पहली बार कहानी लिखी हैं इसलिये त्रुटियों के लिए क्षमा चाहता हूँ।तब तक आप ईमेल के माध्यम से बताएं कि आपको मेरी ये सच्ची देसी गर्ल सील तोड़ सेक्स कहानी कैसी लगी।[emailprotected].

सेक्सी फोटो गैलरी देखिए

मैं बोला- मेरे सिवाय उसका अपना कौन है … और मैं तो उसे चोद नहीं सकता!कोमल बोली- क्यों तुम में क्या खराबी है, तुम ही चोद दो, बदनामी भी नहीं होगी और काम भी हो जाएगा. भाभी जोर से कराह उठीं- आह आह आह … मर गई मैं … हाय मेरी चूत फाड़ दी. मेरी एक तेज आवाज निकली- आह … साली क्या कर रही है!वो मेरे कान में कहने लगी- अब बताओ मेरी जान … मेरी चूत मारोगे या हितेश को बुलाऊं?मैंने उससे कहा- उसको बुलाने की जरूरत नहीं है.

जब मैंने भाभी को डॉगी स्टाइल में होने को बोला तो भाभी झट से कुतिया बन गयी. मुझे ऐसा अच्छा लग रहा था, इसी लिए मैंने लंड को बाहर नहीं निकाला और ऐसे ही अन्दर पेले रखा.

वो बोली- हां यार मन तो बहुत दिनों से था मगर तेरे जैसा मर्द नहीं मिल रहा था.

मैंने अपने दोनों चूतड़ों को अपने दोनों हाथों से पकड़ा और दोनों तरफ फैला लिया. अब वो भी मेरे बालों को सहलाने लगी थीं इससे साफ हो गया था कि चाची ने लंड लील लिया था और उनका दर्द खत्म हो गया था. मैं उनकी गर्दन पर किस करने लगा तो सलोनी भाभी धीमे से बोलीं- किस सही से करो न!अचानक से भाभी के मुँह से ये बात सुन कर मैं खुशी से पागल हो गया.

स्कूल मास्टर सेक्स कहानी में पढ़ें कि चढ़ती जवानी में मैंने अपने बड़े बड़े मम्मे उछाल कर अपने स्कूल के एक मास्टर को कैसे गर्म किया, फिर उसके लंड का मजा लिया. मॉम ने अपनी दोनों चूची पकड़ीं और विक्रम मेरी मॉम की दोनों चूचियों के बीच में अपना लंड रखकर चूचों को चोदने लगा. इस तरह से 20 मिनट की चुदाई के बाद वंदना निढाल सी होने लगी और एकदम से शांत से हो गई.

बेडरूम में आते ही बुआ ने नीलिमा को बेड पर धक्का दे दिया, जिससे वो बेड पर जा गिरी.

हिंदी बीएफ एडल्ट वीडियो: मैं चौंक कर बोला- क्या … मेरे सालों ने तुमको चोदा था!कोमल मुस्कुरा कर बोली- हां. मैं उनकी चाहत को समझ कर आगे बढ़ने लगा, उनके पूरे बदन पर किस करने लगा.

करीब दस मिनट के लगातार धक्के पे धक्का लगाने के बाद वो मुझे जोर से दबाने लगीं. चूमते चूमते वह मेरे मम्मों से पेट पर … और पेट से मेरी चूत तक पहुंच गए. मैं समझ गया था कि अब ये पूरी तरह से गर्म हो चुकी है और अब इसे लंड की जरूरत है.

वो हांफती हुई बोली- भैया सॉरी, मैंने आपको गाली दी और आपसे अपनी गांड चूत चुदवायी.

कभी वो मुझे लेटा कर मेरी एक टांग को ऊपर उठा कर पीछे से अपना लंड मेरी चूत में डाल कर चोदने लगते तो कभी मेरी दोनों टांगों को फैला कर मेरी चूत का बाजा बजाने लगते. अगर मुझे लगता कि मेरा निकलने वाला है, तो मैं रुक जाता और थोड़ी देर बाद फिर से धक्के लगाना चालू कर देता. अब तो मैं उनको अपने लन्ड पे बैठा लेता हूं, खूब हॉर्स राइडिंग करवाता हूं.