गाना पर के बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो लंड चूत की चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

आज की जोड़ी बताएं: गाना पर के बीएफ, पल्लवी के मुंह से सिसकारी निकलने लगी थी, लेकिन वो सिसकारी इतनी धीमी थी कि केवल मेरे कान को ही सुनाई दे रही थी।इधर पल्लवी ने भी मेरी कैपरी के अन्दर जांघों की जगह से हाथ को डालकर अंडे को पकड़ कर दबा दिया, जितना तेज मैं उसके मम्मे को दबाता, उतना ही तेज वो मेरे अंडकोष को दबा देती। अंडकोष दबने से दर्द तो होता लेकिन मजा भी आ रहा था.

ভিডিও সেক্সের ভিডিও

दोस्तो, मेरी सेक्सी कहानी के पिछले भागबीमारी ने दिलायी प्यासी भाभी की चूत-1में आपने पढ़ा था कि मैं काम के सिलसिले में हैदराबाद गया था, वहां एक रात अचानक मेरी तबीयत खराब हो गयी. xxxx सेक्स वीडियोआठ बजे ट्रेन पहुंच गयी, चूँकि मैंने पिछले 2 सालों से मालिनी को सिर्फ तस्वीरों में देखा था, इसलिए मैं भी काफी उत्साहित था.

मेरी नौकरी इंस्पेक्टर की थी, जिसका काम था कि हर एक प्रपोजल की पूरी तरह से छानबीन करके अपनी रिपोर्ट देना, जिसके लिए मुझे बाहर भी जाना पड़ता था. मामी भांजे का सेक्सपर मेरा मन नहीं था जाने का … क्योंकि मुझे तो मनीषा की गांड दिख रही थी.

तो जगत अंकल बोले- अरे उठते समय वन्द्या का सर कार की छत से लग गया था.गाना पर के बीएफ: उसकी टी-शर्ट का गला तो काफी खुला था ही, उसने ब्रा भी नहीं पहनी हुई थी ऊपर से उसने आगे झुक कर ऐसी अदा के साथ कहा कि मुझे उसकी चूचियों की गहराई अन्दर तक दिखाई दे गयी.

उसने अपने होंठों को मेरी गर्दन पर रखा और मेरी एक चूची को दबा दिया जिससे मैं और ज्यादा मदहोश होने लगी.उसके बाद वे खड़े हुए और मेरे पास आकर बोले- अरे वाह अन्नु … रेशमा ने तुझे कैसे तैयार किया है मेरे लिए.

देवर ने भाभी को चोदा साड़ी में - गाना पर के बीएफ

दोस्तों आज पहली बार में उसकी चूत की चमड़ी को अपने लंड की चमड़ी पर रगड़ते हुए देख रहा था और मैं आपको बता नहीं सकता कि मुझे उस समय कितना मज़ा आ रहा था.अब वो परेशान हो गयी क्योंकि करीब 10-15 मिनट के बाद उसकी ट्रेन मिस हो जाती। उसकी परेशानी को देखते हुए मैंने आगे बढ़ते हुए उसे स्टेशन तक ड्रॉप कर दिया। बस इस घटना के बाद वो मुझसे हँस कर हाय-हैलो करने लगी और इसी बात का मजाक बनाकर मेरे कलीग उसका नाम लेकर मुझे टॉन्ट मारने लगे। जबकि हकीकत यह थी कि मैंने उस एक मात्र घटना के बाद पल्ल्वी से दूरी भी बना ली थी.

कुछ देर के बाद मेरे जेठ ने अपना हाथ मेरे सीने पर रखा, कुछ देर मेरे ब्लाउज के ऊपर से मेरे मम्मे मसलने के बाद उन्होंने मेरे ब्लाउज के हुक खोलना शुरू कर दिए. गाना पर के बीएफ उसकी सासू माँ ने भी कहा- हां, तेरी दीदी सही बोल रही है, तू हमारे साथ आ जा.

नैना भी अपने चूतड़ ऊपर उठा कर अपना लोअर निकालने में मेरी मदद करने लगी.

गाना पर के बीएफ?

परन्तु जगत अंकल ने मेरा हाथ हटा दिया और धीरे से बोले- कुछ नहीं होगा, चुपचाप बैठी रहो. लगभग 5 मिनट तक हम ऐसे ही दोनों किस करते रहे और भाभी की कामुकता बढ़ने लगी. करण पाल मेरी बीवी को बांहों में लेकर कमरे में ले गया और उसने गेट भी बंद कर लिया.

मैडम काफ़ी सुंदर हैं … एकदम गोरी चिट्टी … मानो दूध से नहा कर निकली हो. मैंने इस डर से कि कहीं खाला मना न कर दें, मैंने उन्हें दबोच लिया और उनके रसीले होंठों को किस करने लगा. मेरा नाम विक्रम है, लोग प्यार से विक्की बुलाते हैं, मैं आगरा का रहने वाला हूँ, मैंने अब तक बहुत सारी कहानियों को पढ़कर उनके मज़े लिए हैं जो मुझे बहुत मजेदार लगी और आज मैं अपना भी एक सच्चा सेक्स अनुभव आप सभी को सुनाने के लिए यहाँ पर आया हूँ.

उसने अपना लंड मेरी गांड के छेद में लंड टिकाया और जोर का धक्का मारा. अब तो अनिल उसकी चुत को फाड़ देने वाले झटके देने लगा और उसने मीनाक्षी की गांड पर जोर जोर से थप्पड़ मारने स्टार्ट कर दिए. मैं सोच रहा था कि मैं उसको फोन कर लेता हूँ लेकिन वो एक लड़की थी, मैंने सोचा कि कहीं उसको बुरा न लग जाए.

इट्स ओके डियर … होता है कभी कभी … मैंने तुम्हें कुछ बोला क्या? तुम क्यों शर्मिंदा हो रही हो?” यह कहकर उसने मेरे स्तनों को जोर से भींच लिया और अपने स्तनों को मेरी पीठ पर दबा दिया. उसने मुझे इतने जोर से पकड़ा था कि उसके नाख़ून मेरे पीठ में चुभ गए थे.

मैंने उसे यह बात बड़ी मुश्किल से समझाई कि ये सब इत्तेफ़ाक़ से हो गये.

अब मुझसे भी नहीं रहा गया तो मैंने भी उसके कपड़े निकालने शुरू कर दिए ताकि मैं भी उसके दूध पी सकूं.

मगर जैसे ही मेरा हाथ उसकी मुनिया के करीब पहुंचा, उसने मेरे होंठों पर अपने दांतों से काट लिया और तुरन्त जांघों को भींच कर अपनी मुनिया को छुपा लिया. मम्मी ने मेरे सर पर हाथ रखा और बोली- जोर से लगा क्या?मैं बोली- हां मम्मी, दर्द है. उसके बाद उसने अपना हाथ नीचे ले जाते हुए अपने अंडरवियर को निकाल दिया और फिर उसने मेरा एक हाथ अपने लंड पर रखवा लिया और मैं भी उसका लंड आगे-पीछे करने लगी और वो मेरी चूत में उंगली करने लगा.

मेरे पति का देवर मुझसे हमेशा गन्दी हरकत करता था लेकिन मैं ये बात अपने पति को नहीं बताती थी क्योंकि मैं नहीं चाहती थी कि मेरी वजह से मेरे पति और मेरे देवर के बीच में झगड़ा हो जाए. मैंने कहा- आप अंकल के बिना कैसे रह लेती हो?आंटी बोलीं- रहना तो है ही यार. मैं हर समय बहुत ख़ुशी और उत्तेजित महसूस करती हूँ और कुछ न कुछ बदमाशी सूझती रहती है.

तभी वो बोली- पता है मुझे … मैंने ही पापा को बोला था तुम्हें मेरे साथ भेजने के लिए!मैं तो जवाब सुनकर हैरान रह गया.

बोली- यह मेरी चूत के अंदर कैसे जाएगा, यह तो मेरी चूत को फाड़ ही देगा. मैंने एक झटके में लंड उसकी चूत में दे मारा, वो दर्द से चिल्लाने लगी. फिर मैंने तुम्हारे मम्मों की घुंडियों को दोनों उंगलियों से दबाते हुए तुम्हारी सलवार के ऊपर से ही तुम्हारी चुत की पखुड़ियों पर उंगली फिराना शुरू किया.

‘आअहह … उम्म्ह… अहह… हय… याह…’वो पल जब वो मेरे निप्पल चूस रही थी, आह्ह्ह … उसे अभी भी याद करके चुत में झुनझुनाहट हो रही है. फिर मैं ऊपर जा कर चाय और सिगरेट पीने लगा और सोच रहा था कि अगर ये ऊपर आ जाती है, तो इसकी चुत का मज़ा लूंगा और अगर नहीं आती है, तो फिर इसे भूल जाऊंगा. तुमने कहा था हाय राम, तुम्हारा तो बहुत बड़ा है, ये तो मेरी छोटी सी मुनिया को फाड़ देगा?मैंने कहा था कि पहली बार तुम्हें दर्द होगा तो जरूर … लेकिन उसके बाद शायद तुम स्वर्ग की सैर करोगी.

मैंने सन्नी को घुमा कर पूरा लौड़ा उसकी मस्त गांड में पेल दिया और झटके मारने लगा.

फायनली मैंने हां बोलते हुए कहा- ठीक है … तुम लोग जाओ, मैं पीछे से सामान आदि लेकर आता हूँ. मैं अब ऊपर से नेहा की चूची को चूस रहा था, तो नीचे से मेरी उंगलियां भी उसकी मुनिया को मसल‌ रही थीं.

गाना पर के बीएफ मैं बोली- सुनील जोर से चोद मुझे … मैं पागल हो रही हूं, आज मेरी चूत को फाड़ दे. कुछ ही देर में लंड ने चूत से चिकनाई निकाल ली थी और सटासट अन्दर बाहर होते हुए भाभी को रगड़ाई चालू हो गई.

गाना पर के बीएफ कुछ पल बाद मैंने अपने पेट पर गर्म पानी जैसा महसूस किया थोड़ा उठ कर देखा तो वो उनकी चूत के ऊपर वाले छेद से पेशाब निकल रहा था. जब वह मेरी गांड को पीछे से दबा रहा था तो मेरे दिल में आ रहा था कि अभी इसके लंड को पकड़ लूं.

वास्तव में प्रशांत के गदहलंड की धक्कमपेल से बेचारी नीना की चूत का भुर्ता बन गया था.

डॉट कॉम डॉट कॉम सेक्सी

वो कुछ ही देर बाद बुरी तरह गांड पीछे करके अनिल का लंड ले रही थी और मेरा भी लंड पूरी मस्ती से चूसने लगी थी. ये सब मुझे शुरू में नहीं पता था कि लंड चूत की चुसाई में भी मजा आता है. एक रात वो पीने बैठे थे, तो उन्होंने थोड़ी अधिक पी ली और इस वजह मुझसे और दिनों की अपेक्षा अधिक बातें करने लगे.

रूपा ने अपने पति के हाथ से कंडोम लिया और मेरे लंड को पकड़ कर उसकी चमड़ी को पीछे खींच कर कंडोम चढ़ा दिया. उसके पवित्र रस से भरे होंठों को अपनी गिरफ्त में ले लिया मैंने और जी भर के रस पीने लगा. मैंने धीरे से अपने दोनों घुटने पास लाने शुरू कर दिये, उससे उनके स्तन मेरे घुटनों में दब गए.

अब फच्च … फच्चच् …” की आवाज के‌ साथ साथ तेज पट्ट … पट्ट्ट …” की आवाजें भी आना शुरू हो गईं.

उन्होंने मेरे हाथ से कॉफ़ी लेकर टेबल पर रख दी और मेरा हाथ पकड़ कर अपने पास बैठाया और कहा- अभय, तुम मुझे वो सुख दोगे जो मैं चाहती हूँ. मैंने उसका हाथ पकड़ कर अपनी पैंट पर रखवा लिया और उसने खुद ही मेरे तने हुए लंड को ढूंढ लिया. अब आगे:सलोनी- सचकहूंतोआपकीमुस्कराहटपरपहलीनज़रमेंहीआपमुझेभीअच्छेलगेथे, शायदइसीलिए बिना कुछ सोचेसमझेमैं आपकेसाथचली आई.

मुझसे रहा नहीं गया इसलिए मैंने अपने दोनों हाथों से उनकी‌ गर्दन‌ को‌ पकड़कर उनके होंठों को अपने मुँह में भर लिया और उन्हें जोरों से चूसने लगा. उसके दो तीन बॉयफ्रेंड जरूर थे, पर वह सिर्फ फोन पर ही उनसे बात करती रहती थी. उनके बदन के स्पर्श से मेरे अंदर बिजली सी दौड़ गयी और मेरा लंड जो 3 इंच मोटा है पूरा कड़क हो गया और अंडरवीयर से बाहर से दिखाई देने लगा.

तभी मेरे मुँह से उनका मुँह एक पल के लिए छूटा कि वो बोल उठीं- आह … आज फाड़ ही डाल मेरी चूत को … वो तुम्हारे जैसा ही लंड मांगती है. अगर वह बाहर से पूरी नहीं हो रही हो तो घर में ही पूरी कर लेनी चाहिए.

मैं उसे लेकर अपने कमरे मैं घुसा, तो देखा कि मेरा बेड सुहागरात के लिए सजा हुआ है. मैंने सोनू के टॉप में से उसके चूचों पर हाथ रखा तो पता लगा सोनू ने ब्रा पहन रखी थी. मगर जैसे ही मेरा हाथ उसकी मुनिया के करीब पहुंचा, उसने मेरे होंठों पर अपने दांतों से काट लिया और तुरन्त जांघों को भींच कर अपनी मुनिया को छुपा लिया.

लंड पर साबुन लगाकर मैं स्टूल पर खड़ा होकर सुनीता को देखकर मुठ मारने लगा.

मैं कामुक सिसकारियां ले रही थी- अअअअह आहह … बेटा ऊफ़्फ़ … नहीं बेटा यहां नहीं करो!किन्तु यह कहते हुए मैं भी अन्दर से जल रही थी और मेरा कन्ट्रोल करना मुश्किल हो रहा था. मैंने उनको उठाया और कमरे में ले गया वहाँ जाते ही उन्होंने अपने सारे कपड़े उतार दिए और मेरे कपड़े उतार कर चूमने लगी. उस वक्त तक मेरी कई सहेलियों के बॉयफ्रेंड थे और वो बहुत मज़े लेती थीं.

वहां का माहौल बिल्कुल किसी पोर्न फ़िल्म के दृश्य जैसा था, जिसमें चुदाई के चक्कर में दो जिस्मों ने किसी सुनसान रात में कोई अस्त व्यस्त सा फार्म हाउस ढूंढ लिया हो और हल्की रोशनी में मानो भारी चुदाई होने की तैयारी हो. उस हिसाब से थोड़ा मैंने आने के लिए हां कहा था, पर पता नहीं राज अंकल ने इन लोगों को क्या बोला था.

मैं उसको देखता ही रहा।मैंने भाभी को बताया कि ज्योति तो मेरे ही रूम में मेरे बेड पर सो गई है. जेठ जी ने फिर से अपने लंड को मेरी चुत के अन्दर डाल दिया और जोश से धक्के देने लगे. मैंने अपने लंड का सारा पानी उसकी प्यारी सी चुत में छोड़ दिया और उसके ऊपर ही सो गया.

फौजी शायरी फोटो

मैंने भी मौका देख कर अपनी पैंट की चेन खोल दी और उसका हाथ पैंट में डाल दिया।वह अपने हाथ से मेरे लण्ड को मसलने लगी.

यह देखकर उन्होंने अनुप्रिया के बूब्स पकड़ लिये और चूसने लगी और उसी अवस्था में बेड पर आकर गिर गयी दोनों!मैं उठी और मैंने दरवाजे को बन्द किया. सोनल को सामने देख उन्हें आश्चर्य हुआ, पर उनके नींद से जगने पर सोनल को कुछ भी फर्क नहीं पड़ा. सोनल का हाथ अपने लंड पर देखकर उन्होंने अपनी आंखें बड़ी की, पर उन्होंने उसके हाथ को अपने लंड से हटाया नहीं.

उन्होंने मेरे पल्लू को मेरे सीने पर से हटाया और मेरे ब्लाउज के हुक्स खोलने लगे. और मैं उंगली जोर जोर से उसकी चूत में घुसाने लगा उसके कपड़ों के ऊपर से. सेक्सी दुल्हन की चुदाईमैं समझ गया था कि मुझे जो कुछ मिल रहा है वह औरतों की ईर्ष्या की वजह से मिल रहा है.

मैंने उसके लंड को हाथ से छूकर देखा तो मेरे बदन में बिजली सी दौड़ गई और राहुल ने मुझे फिर से अपनी बांहों में भर लिया. अब इधर उधर की बात करते करते मैंने बोला- आप भी बहुत सेक्सी दिख रही थीं.

फिर उसने मेरे लंड पर हल्के से जीभ फिराना शुरू कर दिया तो मेरे लंड में दोगुना तनाव आ गया. फिर दूसरे दिन मैं और मेरी नयी दुल्हन हम दोनों अपना सारा सामान ले कर अपने शहर निकल गये. कुछ लोगों की शिकायत थी कि कहीं मेरी कुछ सेक्स स्टोरी शायद उन्हें काल्पनिक लगीं, तो मैं केवल इतना ही कह सकता हूँ स्टोरी, स्टोरी है.

मैंने अपनी बांहों में रवि को जकड़ लिया और उनकी पीठ में नाखून से नोंचने लगी. मेरा हर शनिवार रविवार नाके पे जाना दीदी को दूर से देखना और उसका शॉपिंग के लिए जाना मुझे कुछ इशारा देने लगा था. क्योंकि जो डिल्डो आपकी मीता की चूत में पूरा फँसा हुआ था, वो काफ़ी मोटा था और इसलिए जब मालती ने उसको निकाला तो चूत का मुँह पूरी तरह से खुल चुका था.

रमेश उठा और ‘जी मालिक …’ बोलते हुए अपनी जवान पत्नी को मालिक के लिए नंगा करने लगा.

भाबी अपने मम्मों को दबवाते हुए पागल हो रही थी और मेरे लंड को और जोर से चूस रही थी. उसकी योजना थी कि हम कहीं होटल या घर की जगह ऐसी जगह मिलें, जहां कोई आता जाता न हो.

अब मेरी अनु से भी कम बात होती थी और उसके साथ काफी दिनों से चुदाई का कार्यक्रम भी नहीं हुआ था. वो रोते हुए कहने लगी- इसको बाहर निकालो, बहुत दर्द हो रहा है … जान मान जाओ!फिर ज़बरदस्ती मैंने एक और धक्का मार दिया तो वो दर्द से चिल्ला उठी- भाई साब, फाड़ दी आपने मेरी गांड!और ज़ोर ज़ोर से रोने लगी. तभी मामी ने मेरे लिए एक पीली साड़ी निकाली और मुझसे बोली- आज ये पहन लो.

उससे वो गुस्सा तो थी, मगर उसने मेरा और नेहा खेल भी देखा था, उससे वो जोरों से उत्तेजित भी हो गयी थी. मैंने देवी को बेड पे लिटा दिया और उससे लिपट कर उसके रसीले होंठों का रसपान करने लगा. ‌ अब तक प्रिया ने अपनी ब्रा को उतारकर अपने दोनों सफेद कबूतरों को आजाद कर लिया था और उनकी तीखी चोंच को मेरे सीने में चुभोने लगी थी.

गाना पर के बीएफ उसका लंड एकदम लोहे की रॉड के जैसा है जो ढीली हो चुकी चूत से भी 5 मिनट में ही पानी निकलवाने औकात रखता है. आपको याद करके मैं रोज़ मुठ मारता था, पर कभी भी झड़ने में वो मज़ा नहीं आया, जो आज आया है.

आदिवासियों का सेक्सी वीडियो

वो पूरा लौड़ा मुँह में गले तक लेती और धक्के मारती हुई अन्दर तक लंड ले लेती. मैं आज अपनी पहली सेक्स स्टोरी आप लोगों को बताने जा रहा हूँ कि कैसे मैंने अपने दोस्त की शादी में स्वीटी को पटाया और उसके साथ सेक्स किया. इस धक्कमपेल से हम दोनों की ही सांसें अब फूल गयी थीं और बदन पसीने से भीगकर तर हो गए थे.

उसने मेरे ऊपर आकर मेरे हाथ इतनी सख्ती से पकड़े कि मैं छुड़ा भी नहीं पाई. उस दिन हमने कोई मेक-अप नहीं किया था क्योंकि हमें पता था कि पानी के अंदर तो सारा मेक-अप धुल ही जाना है. बीएफ सेक्सी वीडियो में बीएफहम दोनों वहां के सरकारी क्वार्टर में रहने लगे, उस एक ब्लॉक में 8 र्क्वाटर थे.

मैं थोड़ी देर तक तो कैंटीन में बैठा रहा, जब बर्दाश्त नहीं हुआ तो अभिषेक का रूम नंबर पता करके नीचे गया और रूम नंबर 2 के पास जा कर उसके गेट के पास खड़ा हो गया.

मैंने उसके चेहरे की तरफ देखा, तो वो आंखें बंद करके मेरे लंड की रगड़ को महसूस कर रही थी. यह कहते हुए वह तुरंत नंगा हो गया और उसने मेरी नाइटी भी उतार कर फेंक दी.

फिर मैंने कायदे से अपना पूरा हाथ उसके दूध पर रखा, तो उसके मुँह से हल्की सी आह निकली. उस समय मैं कुंवारा था और मेरे दो बड़े भाई शादीशुदा थे जो घर से सुबह जाते, शाम को आते. एक फेस बुक अकाउंट भी बना लिया गया, जिस पर हम दोनों के अलावा और कोई फ्रेंड नहीं था.

उसकी लाल साड़ी और ब्लैक ब्लाउज में वह बिल्कुल श्रीदेवी की तरह लग रही थी.

खाला बोलीं- आमिर, आज सारा भी वापिस आ जाएगी और शाम को तुम्हारा उसका निकाह हो जाएगा. मैंने कहा- नहीं यार, हमारी ऐसी किस्मत कहां और ऐसी कोई बहन भी तो नहीं जिसे जरूरत हो. उनमें से एक बंदा अपना मुँह मेरी चुत में रख कर मेरी चुत को अपनी जीभ से चाटने लगा.

कुंवारी लड़कियों की चूत की चुदाईतभी राज अंकल अपनी आगे वाली सीट से पीछे आ गए और अपना पेंट पूरा नीचे खिसका कर मेरे पैरों को जो रवि के कंधे में थे, उन्हें चाटने लगे. मैंने उसके आई कार्ड वाली बात उसे बताई, तो उसने मुझे फोन पर अपने रूम का पता बताया और मुझे अपने घर आने को इन्वाइट भी किया.

सेक्सी वीडियो छोटे बच्चे

तभी हम दोनों को मस्ती सूझी कि आज मम्मी और पापा को सेक्स करते हुये देखेंगे. दोस्तो, किसी शादीशुदा औरत को देखकर मुठ मारने में भी बहुत आनन्द आता है. वो मेरी रसोई में चला गया और उधर जाकर उसने मुझसे पूछा कि लिक्विड चॉकलेट कहाँ रखी है?मैं समझ गई कि ये क्या करने वाला है.

सच बोलूं तो उनका रसीला लंड देख कर मेरे मुँह में और मेरी चुत में पानी आने लगा था. अगर उनके फिगर की बात करूँ तो उनकी हाइट 5 फीट 4 इंच की है और उनका साइज़ 40-34-42 है. मैं चिल्लाई- वहीं रुक जाइये जेठ जी … मैं भी यह बात मैं आपके सामने कबूल करना चाहती हूं कि आपके इस जबरदस्त सेक्स में मुझे अलग ही मजा मिला.

मैंने उसका पता ले लिया और फिर व्हाट्सएप पर मैंने उसकी फोटो भी मांग ली. मैं अपना लंड उनकी चूत में पूरा बाहर निकालकर झटके से अन्दर डालता और दोबारा बाहर निकालकर फिर झटका दे मारता, जिससे वो गाली पर गाली बके जा रही थीं. उसने मुझे अपनी ओर खींच कर मेरे मुलायम होंठों पर अपने होंठ रखे और मैं कुछ भी रोकने की स्थिति में नहीं थी.

दस मिनट के लंबे चुम्बन और अधर रसपान के बाद मैंने अपनी टी-शर्ट उतारी और लोवर भी निकाल दिया. मैंने देवी को बेड पे लिटा दिया और उससे लिपट कर उसके रसीले होंठों का रसपान करने लगा.

सरिता मान गई और दो दिन बाद मैं सुबह की फ्लाईट से 10 बजे दिल्ली एअरपोर्ट जा पहुंचा.

उसके बाद मैंने नीरू और अपनी तो बीवी दोनों को बेड पर डॉगी स्टाइल में चुदाई शुरू की. एक्स एक्स एक्स एक्स एक्स एक्स मराठीसुबह जब मैं उठा तो उसके प्यारे से चेहरे पर अलग ही चमक थी और वो मेरी बांहों में किसी अप्सरा से कम नहीं लग रही थी. देसी सेक्सी चूत चुदाईसुलेखा भाभी का ये साथ पाते ही मैंने भी बहुत जोर से धक्के लगाने शुरू कर दिए, जिससे उनकी सिसकारियां और भी तेज हो गईं. मैंने उससे पूछा- क्या तुम तैयार हो?वो कुछ पल के लिए सोच में पड़ गया.

क्या आप रॉकी बात कर रहे हैं?जब उसने मेरा नाम लिया तो मैं थोड़ा घबरा-सा गया.

मैंने उठ कर फोन स्विच ऑफ़ किया और धीरे धीरे आगे वाले बाथरूम की छत पर उतरा. अब मैं और देर नहीं करना चाहता था, मेरा लंड बहुत सख्त हो गया था, इसलिए मैं देर न कऱते हुए गुड़िया की पैंटी निकालने लगा. सोनू ने शर्ट पहनी तो शर्ट के आगे से खुले भाग में से उसकी चूत दिखाई दे रही थी और शर्ट का दोनों साइड का कट उसके सुडौल पटों पर बहुत सेक्सी लग रहा था.

मैं और जब उसको भी मज़ा आने लगा, तो वो अपनी गांड उठा उठा कर धक्के मारने लगी. जब मैं वापसी अपने घर पहुंचा तो मैंने घर से बाहर ही वियाग्रा की गोली कर अपने मुँह में रख ली और घर में घुसने के बाद पानी पीकर खा ली. जगत अंकल पेंटी के ऊपर से ही जहां मेरी चूत की रेखा थी, वहां उंगली चलाने लगे.

भाभी वीडियो सेक्स

मैंने धीरे से रूम को अन्दर से लॉक किया और बिना किसी आहट के पीछे जाकर रूपा को अपनी बांहों में भर लिया. मुझे ऐसा महसूस हो रहा था, जैसे मेरी योनि की पूरी मांसपेशियां सिकुड़ कर उसके लिंग को भींच रही थी. मैं उसे रोकते हुए बोली- नहीं यहां नहीं, केवल रूम में करना … और ऐसे नहीं करना.

मेरे देवर ने मेरी चूची को बहुत देर तक चूसा और मेरे निप्पलों को भी वो अपने दांतों से हल्का हल्का काट रहा था.

मेरे दोनों चूतड़ों पर हाथ टिका कर उनको दबा-दबा कर राजीव मेरी चूत चाटने लगे.

जब तू यहां से जाएगी, तो हम दोनों भाई दबा दबा के तेरे दूध बहुत मस्त कर देंगे. मैंने कहा- यह कैसे हो सकता है? वह तो मुझसे बड़ी हैं और शादीशुदा हैं. ক্সক্স সানি লিওন ভিডিওमैंने इस बीच उसका गाउन उतारा और उसकी गदराई हुई जवानी को देख देख कर मस्त होने लगा.

वो कभी कभी तो मेरी गांड को भी छूता है और मैं उसको कुछ बोल भी नहीं पाती हूँ. चूंकि मैंने पहली बार सपना की चूत मारी थी तो ज्यादा देर तक मैं भी रुक नहीं पाया. एकता हंस कर बोली- क्यों भाभी बोला था ना … बहुत मस्त घोड़ा है … इसका एक बार ले लोगी, तो सभी को भूल जाओगी.

मैं अन्दर बाथरूम में जाकर अपनी चूत और गांड अच्छे से साफ करके फिर टॉप और स्कर्ट पहन के सो गई. उन्होंने मेरी चीख को नजरअंदाज किया और वे मुझे इसी पोज में दस मिनट तक चोदते रहे.

हमारी पहली मुलाकात मतलब मेरी और उस लड़की की मुलाक़ात, जो इस कहानी की नायिका है.

हम्म …”फिर मैंने पूछा कि आप लड़की वालों की तरफ से हैं या लड़के वालों की तरफ से?वह बोली- लड़की वालों की तरफ से हूँ और आप?मैंने बताया. चाची के विशाल चूतड़ों को दोनों हाथों से मसलते हुए मैं शान्ति चाची को धकापेल चोदने लगा. मैं कई बार ढीली हो चुकी थी और हर बार मैं जब पानी छोड़ती थी तो मेरे हाथ पैर ढीले हो जाते थे.

एचडी बीएफ चाहिए इससे मेरा लंड उसकी मुनिया की संकरी दीवारों को घिसते हुए अन्दर बाहर होने लगा. उसने बोला- किस टाइप की रंडी?मैंने बताया- जो सेक्स की भूखी हो और किसी का भी लंड ले ले और सब पोजीशन में चुदाई के मजे करे.

नेहा की तड़प बता रही थी कि वो अब पूरी तरह से उत्तेजित हो गयी‌ है और उसकी चुत अब कुछ मांग रही है. जिससे प्रिया और भी जोरों से झुंझला उठी और गुस्से में उसने नाड़े को अपने दोनों हाथों से पकड़कर इतनी जोरों से खींच‌ दिया कि टक् …” की आवाज के साथ नाड़ा ही टूट गया. इसके बाद हम दोनों ने दो दो नीट पैग और खींचे, फिर चुदाई का खेल शुरू हो गया.

ka सेक्स वीडियो

मैंने उसे उत्तर दिया कि इतना सब करने का समय नहीं है, जल्दी से करके यहां से निकलते हैं. चाची मेरा लंड लेने के बाद पागल हुई जा रही थी, मेरे होठों को चूस रही थी, मेरी कमर को नोच रही थी. कसम से दोस्तों, मैंने बहुत सी लड़कियों व औरतें से सम्बन्ध बनाये हैं … मगर आज तक प्रिया के जैसी कोई नहीं मिली थी.

अब मैं इसको निकाल कर दूसरा लंड अपनी चूत के साथ बाँधती हूँ जिसे स्ट्रॅप ऑन कहा जाता है. अब क्या तू मेरे लंड को लाल नीला करेगी?”नेहा ने मुझे पीछे धक्का दे कर नंगा ही कुर्सी पर बैठा दिया.

आंटी जी के हाथ में एक पोलीथिन थी, उसमें से उन्होंने एक साड़ी निकाली और बोलीं कि ये मालिनी के लिए है.

मेरी वैसे इच्छा हुई कि कुछ देर खेलूँ उसके साथ, फिर सोचा कि आज इसे पहले तड़पाती हूँ, फिर बाद में कभी खेल लूंगी. मैंने मेरी बीवी को एक दिन बहुत धमकाते हुए कहा- तुम उस करण पाल से रोज क्या बातें करती हो … और मुझे ये सब अच्छा नहीं लगता. वो एक कुर्सी लेकर मेरे पास बैठ गयी और मैं उसे गेम सिखाने लगा। बीच बीच में मौका पाकर मैं अपनी कोहनी से उसके चूचे हल्के से दबा देता था.

वो मुझे चूमते हुए बोलीं- आज दो साल बाद मुझे शान्ति हुई … सच में मज़ा आ गया. उसके बाद नीरू और मेरी पत्नी ने उसकी दोनों टांगें फैला दी और मैंने अपना पूरा लंड पायल की चूत में डाल कर धक्के लगाने शुरू कर दिए. कमरे की लाईट आफ थी नाईट लैंप की थोड़ी रोशनी में हम मम्मी पापा की चुदाई का खेल देख रही थी.

इस पर वे मुझे छेड़ते हुए बोली- अगर वो सांड कलूटे बड़े लंड वाले चोदू फिल्म में से बाहर आ जाते तो पक्का चुदाई करवा लेती.

गाना पर के बीएफ: इस पर अरुणा बोली- कोई बात नहीं अंकल गलती मेरी है, मुझे दरवाजा बन्द रखना चाहिए था और राज तो अभी नहीं आया है. इस तरह प्रशांत की लपलपाती हुई जीभ मेरी चुदैल बीवी की चूत में अपना करामात दिखाने लगी और थोड़ी ही देर में नीना पर मदहोशी का गहरा असर हो गया.

मैं उसकी टांगों के बीच में से निकल कर साइड में आया, तो उसने मेरे जॉकी में से मेरा लंड पकड़ लिया और उसको मसलने लगी. अब मैंने अपना अंगूठा उसके मुँह से बाहर निकाल लिया, उसने मेरा हाथ पकड़ा और अपने दूसरे स्तन पर रख लिया. फिर मैं डर के कारण जल्दी से उठ कर अपने बेड पर आकर रज़ाई में घुस गया.

आपको बता दूं कि कहानी कि हर एक भाग में महज शब्द ही मेरे हैं, जबकि घटना का लेखाजोखा बताने वाली तो मेरी चुदक्कड़ वाइफ नीना खुद ही है.

मैंने कई बार कोशिश भी की कि उसको अपना लंड चुसा दूँ लेकिन वह हमेशा मुझसे यह कहकर मना कर देती थी कि उसको लंड मुंह में लेना पसंद नहीं है. पार्लर काफी चल निकला और फिर लड़की रख ली। मायके जाती तो पिंकी से मिलकर चूत चटवाती। मेरी एक पुरानी कस्टमर बन चुकी थी जिसका नाम शिखा था. इसके बाद से मैं अपने देवर से खुल गई थी और अब तो मेरे पति मुझे चोदें या नहीं चोदें, मेरा देवर मुझे अपने मोटे लंड से बड़ी तसल्ली से चोदता है और मेरी चूत की आग को शांत करता है.