ससुराल बहू की सेक्सी वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,देसी गर्ल सेक्स

तस्वीर का शीर्षक ,

देवर भाभी एक्स वीडियो: ससुराल बहू की सेक्सी वीडियो बीएफ, मैंने बैठ कर फ्रूट सलाद, आइस्क्रीम, ड्रिंक्स और कुछ कुछ खा पीकर टाइम गुजारा.

नेचर पिक्स

मगर जब आस पास नजर दौड़ाई तो देखा कि हर दूसरे मरीज के साथ उनके घर का सदस्य हाजिर था. सेक्स वीडियो फिल्म दिखाइएकॉर्नर की होने की वजह से कोठी में मेरा आने जाने के लिए अलग से पीछे वाला दरवाज़ा था.

आप सबको मैं थोड़ा सा अपने बारे में बता देती हूँ ताकि कहानी पढ़ते वक़्त आप सब अपने विचारों या ख्यालों में मेरे हुस्न की कल्पना कर सकें. मनीपुर चाटतो सुबह मैंने देख लिया वरना पता ही नहीं लगता कि क्या बैंड बजा था रात को मेरी गांड का.

मैं कभी उनको देखती तो कभी अपनी आंखें बंद कर लेती।फिर धीरे-धीरे करके उन्होंने पूरा लंड मेरी चूत में डाल दिया।लंड को चूत में घुसाकर उन्होंने मेरे पूरे जिस्म को अपने आगोश में ले लिया।वे मेरे पूरे जिस्म पर अपने दोनों हाथ फिराने लगे। कभी मेरे बूब्स को दबाते तो कभी मेरी जांघों को।वो कभी मेरे होंठों को अपने होंठों में लेकर चूसते और लंड को चूत में घुमाने लगते.ससुराल बहू की सेक्सी वीडियो बीएफ: गीतिका के पीछे था मैं … उसने अपने दोनों हाथ पीछे करके मेरे दोनों हाथों को पकड़ा और आगे से अपने पेट के ऊपर रख लिया.

पर कविता ने झट से अपनी स्थिति बदली और अपनी एक टांग से मेरी एक टांग को फंसा लिया.शायरा ने पहले तो अपने बदन को कड़ा करके मेरे किस से बचने का प्रयास किया, मगर जब मैं उसके घुटनों को चूमते हुए ऊपर उसकी जांघों की तरफ बढ़ने‌ लगा, तो उसने अपने आप ही पैरों को सीधा कर लिया.

इंडियन फुल सेक्स - ससुराल बहू की सेक्सी वीडियो बीएफ

मैं मन में बहुत खुश हो रही थी कि आज रात को मेरी फुद्दी पेलने वाला कोई ना कोई लंड मुझे मिल ही जाएगा.फिर एक दिन मैंने और सूरज ने फिर कोशिश की सेक्स की … और जैसा मुझे डर था, वही हुआ.

एक दिन मेरी फ्रेंड मुझसे बोलने लगी कि अभिषेक ने एक जगह शाम में इंग्लिश की कोचिंग ज्वाइन की है, क्यों ना हम लोग भी उसी कोचिंग को ज्वाइन कर लें. ससुराल बहू की सेक्सी वीडियो बीएफ थॉमस मुझसे बोला- अंजलि, तुम वहां रोहन के पास क्या कर रही हो, अब तुम कुछ दिनों के लिए मेरी पार्टनर हो.

उधर हम जहां ऊपर एक दूसरे के बदन से खेल रहे थे, वहीं नीचे हम एक दूसरे की योनि को आपस में लड़ाने का प्रयास भी कर रहे थे.

ससुराल बहू की सेक्सी वीडियो बीएफ?

कुकोल्ड सेक्स हॉट कहानी में पढ़ें कि मेरे साले की बेटी की अन्तर्वासना इतनी ज्यादा थी कि उसने अपने पति को बता कर अपने फूफा से यानि मुझसे चुदवा लिया. मेरा लंड उनकी चिकनी चूत में गचक … करके से सरक गया जो जाकर सीधा उनकी बच्चेदानी में लगा. किसी भी सूरत में रंजू जैसे अनाड़ी लड़की के लिए इतना मोटा लंड झेलना नामुमकिन था.

फिर मैं साइड में हुआ, तो नैना मुझसे लिपट गयी और मेरे होंठों पर किस करने लगी. इतनी सेक्सी भाभी की चुदाई करने के लिए अब मैं बिल्कुल मरा जा रहा था. हम दोनों 3-4 बार कोशिश कर चुके हैं … पर हर बार यही हो रहा है और फिर दुबारा खड़ा भी नहीं होता.

मगर जैसे ही मैंने अपना‌ हाथ उसकी पैंटी में घुसाया, शायरा ने तुरन्त अपनी जांघों को भींच लिया. अचानक पिंकी रानी ने चुदास से भर्रायी आवाज़ में पूछा- याद है न तू मुझे कैसे पुकारेगा राजे? बता तो ज़रा. प्रकृति ने लड़कियों को चूचे दिए ही इसलिए हैं कि उनके प्रेमी चूस सकें.

थोड़ी देर बाद वो मसाज बॉय भी आ गया और मैंने उसे अपने रूम में बुला कर उससे अपनी मसाज और पूरी बॉडी की वैक्स भी करवाई. भाभी की गांड, चूत और चूतड़ों के आस पास की जगह हम दोनों के चुदाई के पानी से तर हो गई थी.

तू बोले तो आगे करूं, नहीं तो बाहर निकाल लूं?अनु गुस्से से हांफते हुए बोली- भड़वे साले इतना दर्द देने के बाद अब लंड बाहर निकाला, तो साले मैं तेरी मां चोद दूंगी.

सरोज की मम्मी ने पूछा- सरोज सोने का कैसे अरेंजमेंट किया है?भाभी कहने लगी- मम्मी, मैं तो अपने बेडरूम में ही सोऊंगी.

फिर उसने बीच वाली बड़ी उँगली चूत में डाली तो मैं ऊपर को हो गई।दोस्तो, मैंने आज तक खुद अपनी चूत में अपनी उंगली भी नहीं डाली थी क्योंकि दर्द होता था और डर भी लगता था. बात तकरीबन 3 वर्ष पुरानी है, जब मैंने अपनी एक सेक्स स्टोरीचूत चुदाई चांदनी रात में जंगल मेंआपके साथ साझा की थी. मामी मुझे देख बोलीं- राहुल इतने उतावले क्यों हो रहे हो … क्या मैं कहीं भागी जा रही हूँ!मैंने कुछ नहीं सुना और उन्हें उठा कर अपने कमरे में ले आया.

जैक ने मुझे लंड चूसने का इशारा किया, तो मैंने जैक का लंड मुँह में ले लिया और चूसने लगी. दीदी ने पहली बार इतना मोटा लौड़ा देखा था जो उसने खुद अपने मुंह से कहा।मैं स्पीड बढ़ाकर जोर जोर से लोड़े को अन्दर बाहर करने लगा दीदी के मुंह में. सुमन की फूली हुई गोरी चूत चिकनी और साफ थी, जो इस मुलाकात की तैयारी का बखान कर रही थी.

अब आगे की हिंदी सेक्ससी कहानी:उसके बाद जैसे ही हम दोनों घर में घुसे … वो तो मानो जैसे बेसब्र हो गई थीं.

मगर 2017 में उनके ही एक बेटे को मैंने जन्म दिया।हमारा मिलना आज भी जारी है और हम दोनों एक दूसरे से काफी खुश हैं।उम्मीद है आपको मेरी जिंदगी का ये अहम हिस्सा पसंद आया होगा। हिन्दी फुल सेक्सी कहानी पर अपने विचार जरूर बताएं. मेघा भी धीरे धीरे डिल्डो पर बैठने लगी और उसने अपनी बालों वाली चूत में उस लंड को पूरा अंदर ले लिया. भाभी ने एकदम अपने पांव पीछे किये और मेरे ऊपर लण्ड अंदर लिए लिए लेट गई.

उस रात मेरे ब्वॉयफ्रेंड अनु ने पहली बार मेरी गांड मारी थी, मुझे काफी दर्द हुआ था. अन्नू और डॉली अभी कुछ देर पहले ही चुदवाकर आईं थी इसलिए उनका अब और चुदवाने का मन नहीं हो रहा था. ये कहते हुए उसने अपने नीचे के कपड़े पहने और लैपटॉप को बन्द करके बिस्तर पर लेट गयी.

मेरी पहली कहानीएक चुत में दो लंडउस कहानी को आप लोगों ने बहुत पसंद किया और काफी लोगों ने मेल भेजे व सेक्स स्टोरी पर कमेंट्स किए.

मैंने उसकी चूत का पानी निकाल कर ही छोड़ा।धौंकती सांसों को संयत करके रीना बोली- मम्मी दोनों को पूछ रही हैं कि अभी तक घूम कर नहीं आए क्या? दोनों जा कर मिल लो. गीत संजय की बात का जवाब देती हुई उसकी छाती पर अपने मम्मों को दबा कर बोली- फिर गांडू रांड को गांडू बना कर ही चोद साले…।तभी मैंने उसकी गांड से संजय का लंड निकाल दिया और नेहा की चूत से भी उँगलियाँ निकाल दीं और मैं संजय के बराबर लेट गया.

ससुराल बहू की सेक्सी वीडियो बीएफ मैं उसके पास गई तो उसने दोनों हाथों को मेरी टांगों के नीचे से लेकर खुद खड़े खड़े मुझे अपनी गोदी में उठा लिया. मेरी भतीजी की गांड चुदाई की कुकोल्ड सेक्स हॉट कहानी का रस आपको अगले भाग में कामोत्तेजित कर देगा, ये मेरी गारंटी है.

ससुराल बहू की सेक्सी वीडियो बीएफ अगले रोज दोपहर को दीपिका का फोन आया- राज जी, आप आज दफ़्तर से जल्दी आ जाना, शाम को आपको डिनर पर बुलाने घोष बाबू को भेजूंगी, मना मत कीजिएगा. उसके जाने के बाद मैंने लाइट जला कर देखा तो बैंच की गद्दी पर हमारा वीर्य गिरा हुआ था और वीर्य से भरा पड़ा था.

मैं- तो क्या हुआ? शादीशुदा के क्या कोई दोस्त नहीं होते? शादी के बाद क्या आपकी कोई लड़की दोस्त नहीं रही?वो- हां वो तो है.

दिल्ली का बीएफ चाहिए

फिर उसने भी मुझे बैंच पर लेटने के लिए कहा और खुद मेरी टाँगों के बीच में आ गया. जब ये दोनों मेरा मेकअप कर रहे थे … उस टाइम मेरी गांड की खुजली और मेरे अन्दर की औरत की वासना दोनों ही काबू से बाहर हो रही थी. इसलिए मैं एक एक कर उसके ब्लाउज के बटन अब खोलता गया और शायरा उन्हें बस खुलते देखती रही.

जल्दी ही मेरे लंड से गरम लावा निकलकर भाभी के मुँह में भर गया जिसे भाभी बड़े मजे के साथ पी गईं. मैंने भी जिया की चुत का पूरा पानी पी लिया और उसकी चुत झड़ने के बाद भी उसे चाटता रहा. वो अब खुले आम पीने लगी थी क्योंकि उसने देख लिया था कि इस समय कोई नहीं जाग रहा है.

शाम के 6 बजे हमारे घर की बेल बजी और रोहन और मैं ऊपर से नीचे लिविंग एरिया में आ गए.

मेरी योनि से रस छूटने लगी और मैं अपने चूतड़ झटक-झटक … उठा-उठा कर उसे अपनी योनि से रसपान कराने लगी. जिस दिन घर में कोई नहीं होगा उस दिन मैं तुम्हारी चूत का उद्घाटन करूँगा. [emailprotected]फीमेल फीमेल सेक्स कहानी का अगला भाग:मेरा प्रथम समलैंगिक सेक्स- 4.

पीछे से चूतड़ों का आधा हिस्सा दिखाई दे रहा था और नाइटी उठी होने से चूत सारी दिखाई दे रही थी. हम अपना पीछे का दरवाजा हमेशा बन्द रखेंगे और यदि मेरी वाइफ उधर आये तो आप मुझसे शिकायत कर देना, मैं इसकी टांगें तोड़ दूंगा. इस कहानी पर अपनी राय कमेंट्स में लिखें या फिर मेरी ईमेल पर अपने विचार भेजें.

हम दोनों के होंठ आपस में मिल गये और दोनों एक दूसरे के होंठों को पीने लगे. उसकी मोटी चूचियों को देखते हुए मैं खिड़की के सामने ही अपने मूसल जैसे लन्ड को हिलाने लगा.

सो किसी अजनबी से बात करके टाइम पास भी हो जाएगा और हर बात के लिए हर तरह से बची भी रहूँगी. जिसमें मैं अपने गांव में अपनीफुफेरी बहन की चूत और गांड चुदाईमें उनके भाई के साथ शामिल था. इस पर मैंने उनसे पूछ लिया- आप लोग कितने दिनों के अंतर पर सेक्स करते हैं.

लेकिन मैं मामी की कमर को जोर से पकड़े रहा और धीरे धीरे लंड का दबाव मामी की गांड पर बनाने लगा.

फिलहाल मेरे एग्जाम चल रहे थे और इन तीन दिनों में हमारी बिल्कुल बात नहीं हुई थी. भाभी- हाईईईई संजय … तुम तो पागल कर दोगे यार … कितना मस्त सेक्स करते हो … रजत ने तो कभी इतना मज़ा नहीं दिया मुझे … आह. संजय ने मुंह बनाते हुए अपने ऊपर के कपड़े पहने और धीरे से थोड़ा सा दरवाजा खोल कर वेटर से चाय की कैटल पकड़ ली और उसे वापस जाने को बोल दिया.

ये सब इसलिए हो रहा था क्योंकि अक्सर मैं छुट्टे पैसे देते हुए उनके कोमल हाथ को छू लेता था. उनकी ऐसी चुदाई अपने सामने देख कर और दूसरी तरफ गीत की चुसाई से बौखला कर मेरा लौड़ा बुरी तरह से कड़क होता हुआ गीत के मुंह में फूलने लगा.

दोनों चाचा बोले- बेटा काफी वक्त हो गया है … तू घर चला जा, हम चले जाएंगे. जानते हो रमित, जिस दिन हम सब कुछ भूल कर एक दूसरे में समा गए थे … पता नहीं और ना जाने क्यों, उस दिन मैं सिर्फ तन से नहीं, मन से भी तुम्हारी हो गयी थी. साली जी, देखो हम यूं प्यार करते करते अब इतनी दूर आ चुके हैं कि अब वापिस लौटना असंभव है.

हिंदी वाला बीएफ दीजिए

इसलिए मैंने सोचा कि क्यों न अपनी आपबीती भी आप लोगों के साथ बाँटूं?मैं पहली बार कोई कहानी लिखने जा रहा हूं.

[emailprotected]हॉट सेक्सी भाबी की चुदाई कहानी का अगला भाग:पड़ोसन भाभी को ब्लू फिल्म दिखा कर चोदा- 2. डॉक्टर ने उसे इंजेक्शन लगाया और कुछ दवाई दी जिसे लेने के बाद हम लोग घर चले आए. उसकी पैंटी भी खिंच गई थी, जिसे मैंने पूरी तरह से उतार दी और उसकी चूत पर अपनी जीभ चलाने लगा.

मैंने कहा- चलो ठीक है और बताओ?वो- क्या बताऊं?मैं- कुछ भी … जैसे अभी क्या कर रही हो?वो- कुछ नहीं … बस लेटी हूँ … और तुम!मैं- मैं भी लेटा ही हूँ. शाहीन जी, अगर आपको ऐतराज न हो तो मैं अभी आपके साथ सेक्स करना चाहता हूँ. देवासी का सेक्सी वीडियोमेरी चुत की चुदाई की नॉन वेज कहानी मेरे जीजू के लंड से होने वाली है, ये सोच कर मेरे मन में गुदगुदी होने लगी थी.

मैं अन्य किसी को भी उस फ्लैट को उस फ्लैट के मालिक द्वारा बताए गए किराये पर चढ़ा देता था. उस रात आँटी ने डिनर के बाद मुझे नीचे ही सुला लिया और हम सारी रात चुदाई करते रहे.

गीत मेरी बात सुन कर बोली- अरे मुझे नहीं चाहिए दो दो, अब थोड़ी देर पहले कौन सा एक लिया था, नेहा को चाहिएं दो दो, इसे ही दे दो। मेरा तो अंग अंग फट गया है. मैंने उसको आगे भेज कर एक बार सभी को गौर से देखा, सब बेसुध सो रहे थे. उसकी गर्दन चाटते ही उसके मुख से निकल पड़ा- अमन प्लीज़ यार … अंदर डालो! तड़पाओ मत!लेकिन मैं कठोर बन उसकी गर्दन, उसके कंधे चाट रहा था.

ये कहावत कैसे बनी, आइए मेरे साथ इस कुंवारी Xxx चुत कहानी में जानते हैं. उन्होंने एकदम लण्ड को अपनी चूत में घुसेड़ा और मेरे ऊपर जम्प करने लगी. मेरी…आह्हह्ह।संजय पीछे से गीत की गांड में झटके लगाता हुआ और उसके चूतडो़ं को संभालता हुआ बोल रहा था- उफ्फ.

भाभी भैया को नशे में टल्ली देख कर मेरे पास आईं और बड़बड़ाने लगीं- बस इनको तो दारू के नशे में मजा आता है.

उसकी सांसों की खुशबू मेरे फेफड़ों में जाने से मुझे अजीब सा एक सुखद अहसास होने लगा. उस अलमारी से उसने अपना बैग निकाल कर साथ लिया और हम दोनों वापिस नर्स वाले कमरे में आए.

मस्त चूचियां थी उसकी … रस से भरी हुई।वो लंड में बैठकर ऐसे उछल रही थी जैसे घोड़े पर सवार हो।अब मैंने फिर से उसे नीचे किया और ऊपर आ के चोदने लगा। गपागप गपागप लंड को अंदर-बाहर करने लगा. अब मैं झड़ने वाला था, तो मैं रूक गया क्योंकि मैं उसके अन्दर नहीं झड़ना चाहता था. मैंने भी वादा किया- मेरी वजह से तुम्हारे जीवन में तुमको कोई तकलीफ नहीं होगी.

साले का फोन आया- आपका टेस्ट हुआ था और डॉक्टर ने बताया है कि आपको कोरोना हुआ है. जब मैंने उनके चूचों को मुँह में लेना चालू किया, तो उनकी सिसकारियां फूट पड़ीं. बस… ऊईईई… स्सस्… आह्हह सालों… मार डालो मुझे… आह्ह।इतना कहते ही गीत की चूत से एक जोरदार धार निकल कर संजय के लंड पर गिर गयी.

ससुराल बहू की सेक्सी वीडियो बीएफ नैना बोली- ओह शिट … मैंने दरवाज़ा खुला ही छोड़ दिया था और अपने फ्लैट को भी लॉक नहीं करके आयी. इससे पहले की मेरी इंडियन सेक्सी चुदाई स्टोरीगर्लफ्रेंड की कुंवारी चूत उसी के घर में फाड़ीप्रकाशित हो चुकी हैं, जिन्हें आप सबने पढ़ा और सराहा.

इंडियन बीएफ चाहिए बीएफ

वो बोली- क्या है ये? ये सब तू मेरे साथ कर रहा है? तुझे मैं अच्छी लगती हूँ?पता नहीं मुझे क्या हुआ. मैं बोली- हां मैं जानती हूँ … मैं भी सोच रही हूँ उनके साथ चली जाऊं. आधा घंटे बाद भैया वापस आए और मुझसे बोले- तुमको रात को खाना मेरे घर पर खाना है.

इस पर वो मादक आवाज में बोलीं- साले, मुझे आंटी मत बोल … मुझे अपनी सविता रखैल बोल … क्योंकि मुझे भी बहुत मज़ा आ रहा है तेरे लंड से चुदने में … आह मैं अब हमेशा ही तुम्ह़ारे लंड से चुदना चाहती हूँ. उन्होंने मेरी नजरों को पढ़ते हुए मुस्कुराते हुए कहा- मैंने खाना लगा दिया है, चलो साथ में खा लेते हैं. इंडियन हॉट सेक्स वीडियोसमैंने उनसे पूछा- क्यों, चाचा में क्या कमी है?चाची एकदम से झल्लाने लगीं- तुम समझते नहीं हो.

मैं उनके लंड पर आगे पीछे हिलने लगी और वो मेरी चूचियों को मसलने लगे.

मुझे बहुत मजा आ रहा था; मैं भी उन्हें गालियां दे देकर उनका जोश चढ़ा रही थी. मैं- हां … आप भी कभी मौका दो तो‌ बताएं!मेरी इस बात पर वो लड़की भी झेंप गयी और उसकी आगे कुछ बोलने‌‌ की हिम्मत ही नहीं हुई.

मैंने दोनों हाथों से अपने चूतड़ों को फैला दिया।अब उन्होंने अपने मुँह से अपना थूक निकाल कर मेरी गांड के छेद पर लगा दिया।मैंने तुरंत कहा- आज वहाँ मत करो, फिर किसी दिन कर लेना।मगर वो बोले- आज हो या कल … करना तो है ही! कुछ नहीं होगा. उन दोनों के चले जाने के बाद मरीज की मां ने अपना स्टूल मेरे बेड के पास खींच कर रख दिया. मैं आपको शुरूआत से सब बताना चाहूँगा, तो आपको इस देसी हिंदी सेक्स कहानी के क्लाईमेक्स तक जाने में थोड़ा समय लगेगा.

क्योंकि शायरा की चुत देखने में ही इतनी तंग लग रही थी कि मानो बस एक लाईन भर में ही उसने अपना सारा अनमोल खजाना छुपा रखा हो.

अच्छा भाभी यह बताओ कि भैया का लंड कितना बड़ा है?”भाभी कहने लगी- बस इस खीरे जितना ही है. लेकिन मैं विजय की बांहों से निकलकर बाथरूम में गई और बैठकर पेशाब करने लगी, पेशाब की धार की आवाज बता रही थी कि चूत पूरी खुल चुकी है. आप भी कृपया मेरे गांव का नाम मत पूछा करो क्योंकि गोपनीयता मेरे लिए पहले है … अपनी भी और मेरी जो फ्रेंड्स हैं, उनकी भी.

प्रेगनेंसी में पेट दर्द इन हिंदीइधर मैं अपने लंड से भाभी के मुँह को चोदने लगा और उधर भाभी अपनी चूत का दबाव मेरे मुँह पर बना रही थीं. मुझे बैठे हुए ये सब करने में काफी परेशानी हो रही थी और उनका दूध पूरा बाहर भी नहीं आ रहा था.

कल की बीएफ

कुछ ही देर चूसा था कि ज़ारा ‘आह जान … मैं आ रही … हूं …’ इतना कहते-कहते वो झड़ गयी और मेरे पूरे चेहरे पर उसका पानी फैल गया. मैंने फिर से हामी भर दी … और भाभी के बाथरूम में शॉवर के नीचे खड़ा हो गया. उसने जबरदस्त अच्छे तरीके से बहुत ही नीची अर्थात् नाभि से काफी नीची साड़ी पहन रखी थी.

मैं चाहती हूँ आप सभी देसी गर्म चुत सेक्स स्टोरी पढ़ते वक़्त अपना अपना माल मेरा नाम लेकर निकालें. मैंने खुद की आंखों से देखा था कि उसने अपने ब्वॉयफ्रेंड के कहने भर से ही अपना मूत खुद ही पी लिया था. फिर प्रमिला ने एकता से पूछा- मैं ऊपर चढ़ूं या तुम चढ़ोगी?एकता ने इशारे से प्रमिला को कहा कि तुम करो स्टार्ट.

ममता जी को छोड़कर मैं वापस आया ही था कि मुझे दरवाजे पर एक कोरियर वाला खड़ा मिल गया. तब तक तू रत्न को फ़ोन कर दे। बाय।रवि- बाय।रिया चुपके से रमेश की सारी बातें सुन रही थी. मैंने सारा ध्यान चुदाई पर लगा कर ताबड़ तोड़ 15- 20 शॉट लगाए और भाभी की चूत को अपने वीर्य की गर्म पिचकारियों से भरने लगा.

मैं भी तो यही चाह रही थी कि जीजू अपने मोटे लंड से मुझे ढंग से फाड़ कर रख दें. वो आंख बंद करे टांगें फैलाए पड़ी थी उसका एक हाथ मेरे सर पर था और वो हल्के हल्के स्वर में कराह रही थी.

एक बार तो गीत ने नेहा की चूची को अपने मुंह में भी ले लिया और फिर नेहा के मुंह में भी अपनी चूची को दे दिया.

जीजू, आगे कुछ और कहा न तो फिर देख लेना आप पिटोगे मेरे हाथ से आज!” वो बोलीं और उसने मेरे सिर के बाल पकड़ कर मेरा सिर अपनी चूत पर जोर से दबा दिया साथ ही उसके मुंह से ‘आआअ ह्हह्हह जीजूऊ ऊऊऊ … ये क्या कर दिया मुझे. बेबी डॉल इमेजहमें देख कर नीचे से संजय ने गीत की चूत में अपने लंड का एक जोर का झटका लगया और बोला- ले चुद साली, निकाल अपना रस मेरे लौड़े पर… ले… उफफ्फ…।मैंने अंदाजा लगया कि संजय ज्यादा उतेजित हो गया है तो मैंने थोड़ा रोकने के लिए संजय को कहा- अब मैं साली को नीचे से चोदता हूँ. सेक्स वीडियो भोजपुरी देहातीमेरी मम्मी की चूचियां भी बहुत मस्त थीं जिन्हें पापा अपने दोनों हाथों से पकड़ मम्मी को लगभग कुतिया सी चोद रहे थे. मेघा- ओह्ह सर … इस चुदक्कड़ बीवी की चुदाई कर डालो, उसको एक अ्च्छा सबक सिखाओ ताकि ये अपने हस्बैंड के साथ चीट न करे.

तभी सुमित बोला- क्या करूं जानेमन, तेरी चूत देखकर मेरा लौड़ा फड़कने लगता है.

अब मुझे अपनी सेक्स की इच्छा को पूरी करने की मुझे एक उम्मीद दिखने लगी. मेरा ईमेल है[emailprotected]इंडियन सेक्सी भाभी का सेक्स कहानी जारी रहेगी. मैं उसके पास गई तो उसने दोनों हाथों को मेरी टांगों के नीचे से लेकर खुद खड़े खड़े मुझे अपनी गोदी में उठा लिया.

सेक्स की हिंदी कहानी में पढ़ें कि मैं पार्क में घूम रहा था कि कुछ लोग एक प्रेमी जोड़े को डांट रहे थे. मुझे भी लगा कि जैसे कोई ड्राइंग रूम में आया हो … पर फिर मैंने इसे अपना वहम समझ कर सर झटक दिया. वो इतना कह कर मुस्कुराने लगीं और बोलीं- कैफे वाली बात किसी को नहीं बताओगे, तो मैं तुम्हें एक गिफ़्ट दूंगी.

ऊंट का बीएफ

वैसे भी आजकल जमाना इतना आगे निकल गया है कि जो काम लोग 25-26 साल की उम्र तक जा कर करते थे, आजकल वही सब करने की कोशिश जवानी की शुरुआत में ही शुरू हो जाती है. थोड़ी देर तक भाभी ने कुछ नहीं कहा, तो फिर मैंने हिम्मत करके फिर से वही बात कही. मुझे किसी पाठिका ने अन्तर्वासना की साइट पर मेरी मादक कहानियां पढ़ कर मुझे मेल की थी.

सनी बोला- मासी, आप कॉल पर ही रहना और सुनना दीदी क्या क्या करती हैं.

ये मेरी कलम का गुण या दोष है कि मैं सेक्स को गंदे तरीके से नहीं लिख पाता हूँ.

प्रिया भाभी से जिधर मिलने की बात तय हुई थी, उधर जाकर मैंने भाभी को गाड़ी में बिठा लिया और आगे बढ़ गया. लेकिन भाभी?”” लेकिन क्या?” भाभी ने हैरानी से पूछा।मैंने धीरे से कहा- कोई सुंदर सी चूत मिलेगी तो … मैं मार लूँगा और उस बारे मैं आपके विश्वास पर पूरा नहीं उतरूंगा. अंग्रेजी सेक्सी वीडियो नईवे बहुत जोर जोर से मेरी चूत में झटके मार रहे थे; मुझे बहुत मजा आ रहा था.

उसी की अगले दिन की घटना जिसमें मैंने पड़ोसन को चोदा, को लेकर फिर से हाजिर हूँ. तो मैंने फिर कहा- डाक्टर साहब प्लीज हो सके तो देख लीजिये।तभी डाक्टर बोला- चलो अच्छा अब आ ही गयी हो तो ठीक है. भाभी बड़ी गौर से ब्लू-फिल्म में सनी लियोनी को लंड चूसते हुए देख रही थीं.

शादी के बाद मुझे पता लगा कि लंड का स्वाद क्या होता है?लेकिन मेरा पति एक सीधा सा इंसान था और उसको सेक्स का कोई बहुत ज्यादा चाव नहीं था. गीतिका उठकर बेड पर बैठ गई और अपनी टांगें चौड़ी करके चूत की तरफ देखने लगी.

निष्ठा मेरी जान, अभी तो खेल शुरू हुआ है, आज मेरी साली पूरी घरवाली बनेगी.

इसके बाद हम सबने मिलकर नाश्ता किया और बातचीत करते करते न जाने समय कैसे बीत गया. मैंने तुरंत भाभी को धक्का देकर बेड पर गिराया और उनकी टांगों को चौड़ा कर के पूरा लण्ड एक ही झटके में चूत की गहराई में पेल दिया. और हम लोग दीपक के आने का इंतजार कर रहे थे।दीपक के आते ही रंजु खाना खिलाने की तैयारी में जुट गई.

कामुक कथाएँ तब तक तू रत्न को फ़ोन कर दे। बाय।रवि- बाय।रिया चुपके से रमेश की सारी बातें सुन रही थी. जिस भी भाभी की चुदाई मैंने आज तक की है वो ही मुझसे खुश होकर गयी है और आज तक भी मुझे याद करती रहती है.

आंटी ने भी मेरी कमर में बांहें डाल ली और अपनी चूचियां मेरी जांघों में रगड़ने लगी. और वो तब सम्भव होगा जब आप उसे इतना उत्तेजित कर देंगे कि वो मजबूरन ही सही, वो सब बोल दे जो आप उस से बुलवाना चाहते हो. अब जैसे ही संजय के लंड ने अपना स्खलन ख़त्म किया तो नेहा ने संजय का लंड अपने मुंह में लेकर चूसना शुरू कर दिया.

स्क्रीन की बीएफ

उसने वैसे ही मेरी गांड में लंड डाले मुझे अपनी गोद में उठा लिया और बाथरूम में ले गया. गुड्डी को मैंने बेड पर लिटा दिया और खुद भी अपने सारे कपड़े उतार दिए. मैं तुम्हें आज यह इजाजत देती हूँ कि ये जो नीचे चार लड़कियां बैठी हैं इन्हें कभी भी बाहर मुंह मारने की जरूरत न पड़े.

मैंने कुछ देर तक डेज़ी की चुत चाटी और उसके बाद उसे हटा कर मैं बैठ गया. उसने अपने दोनों हाथ मेरे नितम्बों पर फेरते हुए अपने दोनों पैरों से मेरे दोनों पैरों को जकड़ लिया.

दोस्तो, ये एक ऐसा पल होता है जो किसी भी प्रकार की घृणा से मुक्त होता है.

ममता जी की जांघों पर खून देखा, तो मेरा ध्यान खुद की तरफ भी चला गया. मॉम की ये बात सुनकर मेरी हंसी निकल गयी और मैंने सोची कि कितनी भोली हो मॉम. जब पानी की बूंदें डेज़ी के मम्मों के ऊपर से गिर रही थीं तो मैंने इस लम्हे को पूरा इस्तेमाल करना चाहा.

उसे देख कर रिया ने रमेश से कहा- इसमें तो बहुत सारी गंदी गंदी शर्तें लिखी हुई हैं।रमेश- देख साली रंडी, तू एक रांड है. उसको ढांढस बंधाते हुए मैंने चुप कराया और दो चार औपचारिक बातें की कि सब कुछ ठीक हो जाएगा. जब मम्मी को पता चला तो मम्मी ने मुझे बुलाया और पूछने लगी तो मैंने सारी बात बता दी लेकिन मुझे बहुत शर्म आ रही थी।मम्मी ने कहा- कोई बात नहीं … कल अस्पताल चलकर दवाई ले लेना.

वो भी कह रही थी कि मैंने बहुत से इंडियन बॉय से चुदाई करवाई है लेकिन अरमान की तरह किसी ने नहीं चोदा.

ससुराल बहू की सेक्सी वीडियो बीएफ: आज मैं कोचिंग में भी एक बिल्कुल फिटिंग की जींस और फिटिंग का वाइट टॉप डाल कर गयी और थोड़ा मेकअप भी कर लिया था. वो- दोपहर तक तो मैं भी आ ही गयी थी?उसके मुँह से ये बात सुनते ही मैं भी थोड़ा घबरा सा गया.

नई-नई शादी हुई है, तो बीवी को खुश करने के लिए और अपने बिजनेस के काम से अक्सर मुझे ससुराल के शहर में चक्कर लगाना पड़ता है. मैंने भाभी से दुबारा पूछा तो बोली- कुछ नहीं, कोई पुरानी बात याद आ गई थी. आप इन्हें भी इसी सोसाइटी में फ्लैट दिलवा दो, क्या आप ये सामने वाला ट्राई नहीं कर सकते?मैंने कहा- इसका मालिक तो विदेश में रहता है.

मैंने दीपिका से उसका कोल्डड्रिंक का गिलास लिया और उसमें आधा पेग 30 एम.

मुझे पता नहीं क्यों, ऐसा लगा कि सुरभि हमारे बारे में अब जान चुकी है और वो अनजान बने रहने का नाटक कर रही है. पर तू ना इतनी जोर से करता है कि बस … और फिर बोलने से रुकता भी तो नहीं है. मैंने कहा- मेरे लंड पर कब से नजर लगाए बैठी थी?वो बोली- जीजू जान मैं तो आज दोपहर को ही आपके लौड़े से चुदने के लिए राजी थी.