बीएफ एचडी वीडियो अंग्रेजी

छवि स्रोत,चूत चाटने वाला सेक्स

तस्वीर का शीर्षक ,

देसी भाभी के सेक्सी फोटो: बीएफ एचडी वीडियो अंग्रेजी, मैंने पूछा- भाभी भी जा रही हैं क्या?भैया ने क़हा- मैं अपने दोस्तों के साथ जा रहा हूं.

चूत लंड की चूत

मैं आयशा के ऊपर ही ढेर हो गया और वो मेरी पीठ को सहलाती हुई मुझे चूमने लगी. ब्लू फिल्म दे देमैं धीरे धीरे चूचियों से नीचे को जाने लगा, उसकी नाभि में जीभ चलाने लगा.

मैं धीरे धीरे स्कर्ट उपर करने लगा लेकिन स्कर्ट बहुत सॉफ्ट लग रही थी. चूत चोदने वाली वीडियोवो भी अपने मम्मों को चुसवाने का मजा लेने लगी और मेरे लौड़े पर हाथ फेरने लगी.

इसी दौरान उसने पापा से साड़ी की जगह सलवार सूट पहनने की परमीशन ले ली थी.बीएफ एचडी वीडियो अंग्रेजी: एक दिन मेरा ऑफ़िस भी बंद था, मैं अपने घर में अकेला था तो उस दिन मैं बहुत बोर हो रहा था.

दोनों छेदों में लंड होने के कारण … और पहली बार दो लंड एक साथ लेने के कारण मेरी चूत से नदी बह गई और मैं थ्रीसम का आनन्द पहली बार लेकर एकदम निढाल हो गई.मैं कंट्रोल नहीं कर पाया मैं दूसरे रूम में जाकर दीदी के बगल में सो कर स्कर्ट उठा कर फिर से दीदी को चोदने लगा.

हिंदी चुदाई दिखाओ - बीएफ एचडी वीडियो अंग्रेजी

सब तो जानती हो तुम … जब से तुम्हारी सास गई है, मैं अकेला हो गया हूँ.अब वो पीछे से लंड पेल कर भाभी की चूत में तूफानी गति से धक्के मारने लगा.

वो अपनी जीभ बाहर निकालने लगी और मैं उसकी जीभ को अपने मुँह में भर कर चूसने लगा. बीएफ एचडी वीडियो अंग्रेजी आज तुमने मेरी मार कर तबियत मस्त कर दी, सच में क्या रगड़ी है, लाल कर दी.

अब मैं खड़ा होने लगा और आहिस्ता से अपना लंड चूत से बाहर निकालने लगा.

बीएफ एचडी वीडियो अंग्रेजी?

मैंने धीरे धीरे करके पूरा गिलास उसकी चूत में खाली कर दिया और चूत चाट कर साफ़ कर दी. उसने कुछ पल बाद अपनी गांड को मेरी तरफ धक्का दिया, जिससे मेरा लंड उछाल मारने लगा. उसका छेद अपने आप सिकुड़ और फैल रहा था और मैं बिंदास तरीके से उसे चाट रहा था.

मैंने तुरंत अपना मुँह उसके मुँह में दे दिया, जिससे उसका चिल्लाना बाहर नहीं निकल सका. डांस जब अपनी पूरी रफ़्तार पर था तो किसी को भी अपने तन बदन का होश नहीं था. उन्होंने मेरे मम्मों पर हमला बोल दिया और अपने दांतों से मेरे निप्पलों और स्तनों को बारी बारी से काटने लगे.

मैं अपनी जीभ को चुत के अन्दर डाल कर अन्दर जो चॉकलेट लगी थी, उसे चाट कर खाने की कोशिश करने लगा था. मैंने पूछा कि तुम आज अकेली आई हो?उसने बताया कि हां मेरा भाई थोड़ी देर के बाद आएगा. मैं- भाभी अगर आप बुरा न माने तो क्या मैं लगा दूँ?मैंने डरते हुए कहा.

मैंने उसे अपने सीने से चिपका लिया और सविता ने भी मुझे कस कर जकड़ लिया. पीछे मेरी गांड फट रही थी, बलदेव का मजबूत लंड मेरी गांड की सिकाई कर रहा था.

हम दोनों बड़ी बेताबी से एक-दूसरे को चूमने लगे और जमाने भर की सुधबुध खोकर संभोग में लीन हो गए.

मैं उससे खुलकर बोला- मैं कभी किसी के बारे में किसी से कुछ नहीं बोलता.

पहले दिन जब मैं विद्यालय में ज्वाइनिंग लेने गया तो वहां एक महिला प्रिंसीपल मैडम थीं. उसने फ्रीज़ के साथ दीवार पर लगे हुए की-हैंगर से एक चाभी उतारी और मुझे देने के लिए पलटी. फिर उसने मुझे अपने पति के बारे में भी बताया- वो साल भर से यहां नहीं आए थे और मैं यहां किसी से दोस्ती भी नहीं करना चाहती क्योंकि हमारे खानदान के बारे में यहां सब लोग जानते हैं.

सुबह जब मेरी नींद खुली तो देखा मौसी नाश्ता बना रही थीं और उनके बेटे कोचिंग चले गए थे. वो मेरे होंठों से होंठ मिला कर मुझे चूमने लगीं और हम दोनों ने लिपकिस करना चालू कर दिया. मैं मस्त होकर आवाज निकालने लगी- उफ मादरचोद … और मार थप्पड़ … आज मैं तेरे लिए एक रंडी हूँ … उफ साले मार!बलदेव- ले मेरी कुतिया, साली रंडी भैन की लवड़ी.

देवर भाभी का रिश्ता भी मजाक का होता है जिससे किसी को शक भी नहीं होता था.

मैंने जैसे ही अपनी एक उंगली भाभी की चूत में डाली, भाभी की मादक आवाज़ निकलने लगी- ओहह … आआहह उच्च … ओह राहुल और करो … आंह और करो आह!फिर मैंने भाभी को बेड पर लिटा दिया और उनकी पैंटी को अलग कर दिया. उसने मेरे पूरे शरीर को चूमते हुए मुझे अपना लंड चुसाया और मुझे घोड़ी बना कर सुबह की शुरूआत चुदाई से कर दी. सात साल से लंड नहीं लेने से ललिता भाभी की चूत नई लड़की की जैसी टाइट हो चुकी थी.

पहले मुझे उसके बारे में नहीं मालूम था कि वो भी इसी कॉलेज में है, पर जब वो मुझे दिखाई दिया, तो मुझे जानकारी हुई थी. माँ मुखिया जी का इन सब में साथ तो नहीं दे रही थी पर इसका विरोध भी नहीं कर रही थी. उसके हस्बैंड से उसकी बनती नहीं है और पिछले बीस साल से वो अपने पति से अलग रह रही है.

हिंदी कॉलेज सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरे पड़ोस का एक लड़का मेरा दोस्त था.

नमस्कार दोस्तो, उम्मीद है आप सभी ठीक होंगे और अपने अपने तरीक़े से इस सर्दी का मज़ा ले रहे होंगे. बोल रही है इस बार तुम दोस्तों के साथ घूम आओ अगली बार हम दोनों चलेंगे.

बीएफ एचडी वीडियो अंग्रेजी फिर वो मुस्कुरा कर बोलीं- एक बात बताओ, आप मुझे रोज रोज छत पर क्यों देखते हो?मैंने कहा- नहीं, ऐसा तो कुछ नहीं है. यहां आकर जब मैंने पूना से अपनी बड़ी बेटी को बुलाया और धीरे से समझाया.

बीएफ एचडी वीडियो अंग्रेजी वह मुस्कराया- साले ने पूरा लंड पेल दिया और पूछ रहा है कि परेशानी तो नहीं हो रही है. तो मैं समझ गई कि मुझे ही कुछ करना पड़ेगा, अपने बाप से चुदने के लिए मुझे अपना रंडीपना दिखाना ही पड़ेगा.

उसने कहा- मेरे पति का तो तुम्हारे लंड से आधा ही लंबा और आधा ही मोटा है.

नागपुर सेक्सी हिंदी

मेरी चूत में उसके लंड का पूरा सुपारा घुस चुका था और मेरा एक चूचुक उसके मुँह में था. फिर आखिर में मेरे टाईट छेदों के सामने उनका लंड भी जवाब दे गया और दोनों ने एक साथ पानी छोड़ दिया. कालू अंकल अपनी आंखें बंद करके कहने लगा- आह सुम्मी चूसो और अच्छे से चूसो.

वो बोली- क्या मतलब?मैंने कहा- बेबी, जब पापा को ये बात पता चल जाएगी कि मुझे सब पता है और मेरा ही प्लान है, तो उसके बाद में पापा से तुम्हारी निछावर लेकर तुम दोनों को रूम में भेजूँगा. मेरी बीवी की सिसकारियां बढ़ती चली गईं और मेरे चाटने की रफ्तार भी बढ़ती चली गई. फिर कुछ देर बाद जब मुझसे रहा नहीं गया तो मैं अनजान बनने का नाटक करते हुए सीधा बाथरूम में घुस गया.

दोस्तो, मैं हर्षद एक बार फिर से आपका अपने सेक्स कहानी में स्वागत करता हूँ.

बच्चे पैदा होने के बाद पति को, बीवी ना तो सुंदर लगती है और ना उसमें कोई नजाकत दिखती है. काफ़ी देर लंड चूसने के बाद मेरा मन हुआ कि अब बहुत हुआ लंड चुसवाना, अब उसकी कच्ची चूत चूसने का मजा भी ले लिया जाए. मैं बोला- तुम नहीं चाहती स्नेहा कि मैं तुम्हें ऐसा स्नेह दूँ?उसने बस आंखें खोलीं और शर्म से लाल होती हुई झुका लीं.

फिर मास्टर ने भाभी के दोनों पांव अपने दोनों कंधे पर रखे और वो भाभी को चोदने लगा. मैंने चूत की फांकों में लंड का सुपारा घिसा और एक जोरदार धक्का दे मारा; मेरा आधा लंड उसकी चूत में घुसता चला गया. उनकी रसभरी चूत में मेरा लंड आराम से अन्दर चला गया और भाभी ‘आह … आहह …’ करके उछलने लगीं.

मैंने उससे कहा- मैं तुम्हारे हाथ बांध देता हूँ, चलेगा न तुझे!वो बोली- तू जैसे बोलेगा, वैसे मैं करूंगी. मैंने उसकी चुचियों की रगड़ को महसूस करते हुए कहा- नहीं नहीं जान … ऐसा कुछ नहीं है.

एक बार मेरे हस्बैंड ने दिल्ली के एक होटल में एन्जॉय करने की सोची तो उन्होंने एक होटल में कमरा बुक किया. मैंने कहा- भाभी नीचे की तो कोई चीज नहीं दिखी मगर ऊपर आपके वो दोनों बहुत मस्त थे. थोड़ी ही देर में सरिता भाभी अपनी दीदी सोनाली और मेरी मम्मी के साथ तैयार होकर आ गयी.

उन दोनों बाबाओं ने काफी आसनों में सुबह से दोपहर एक बजे तक ने मुझे खूब ज़बरदस्त चोदा.

कुछ फोटो देखने के बाद तो मैंने बेशर्म होकर बोल दिया- इन्हें पाने के लिए तो मैं कुछ भी कर जाऊं. कुछ देर तक मेरे दोनों दूध पीने के बाद उसने मेरी पजामी को नीचे सरका कर पैरों के ऊपर तक ला दिया. लौड़े से बाहर आने को तड़पने वाला मेरा वीर्य मुझे कैसे भी करके जल्दी ही रेशमा की बंजर बच्चेदानी पर गिराकर उसे हरी भरी करना था.

मैंने टेबिल से क्रीम की शीशी लेकर अपने लंड पर पोती, कुछ क्रीम उंगली पर लगाई और उसे बांह पकड़ कर उठाया. मैंने जोश में आकर अपनी बीच वाली उंगली अदिति की चूत में डाल दी और अन्दर बाहर करने लगा.

रेखा- आंह अंकल, मुझे आपका लंड का पानी मेरी इस कुंवारी चूत में चाहिए, जो कि अब आपने फाड़ दी है. शॉवर बन्द करके उसकी गर्दन से शुरू करते हुए, उसकी पीठ को स्क्रबर से मलते हुए शम्पू से भरपूर झाग बना लिए. तभी मेरी मौसी मेरे पास आकर बोलीं- क्यों अजय क्या हुआ … बड़ी जल्दी सो रहा है?मैंने कहा- नहीं मौसी, अभी तो मैं जाग ही रहा हूँ.

मजेदार सेक्सी वीडियो में

उसने मुझे घुमा कर मेरी गांड भी प्यार से सहलाई और मेरी मोटी मोटी जांघों पर खूब जम कर प्यार किया.

मेरी माँ के अलावा मेरे दादाजी और दादीजी भी है घर में!माँ की शादी कम उम्र में ही हो गयी थी और उसके एक साल बाद मेरा जन्म हो गया था. उसकी जांघों को जूम करके देखता रहता था, जिसमें 2 तिल भी मस्त दिखते थे. मास्टर ने चुदाई और तेज कर दी और भाभी का शरीर हिचकोले लेता हुआ झड़ने लगा.

दूध वाले ने भी उसके मुँह में लंड डाल दिया और उसके बाल पकड़ कर मुँह चोदने लगा. दिल धक धक करने लगा था मगर साथ ही उत्तेजना से मुँह में और चूत में पानी आने लगा. नगे चित्रलंड चूत में लेने के बाद मैं अपनी गांड उचका उचका कर दूसरे बाबा जी से चुदवाने लगी.

उसके बाद मैंने चाची की पैंटी को घुटनों तक उतार दिया और चाची की गांड देखने लगा. मेरी गर्लफ्रेंड मेरे बड़े लंड के कारण मेरे लंड की बहुत बड़ी दीवानी और फैन थी.

मैंने उसकी चूची दबाई और कहा- हां तुमने लंड को रगड़ा था तो मुझे भी मजा आ गया था. मैंने विलास की गांड को दोनों हाथों से पकड़ कर अपने लंड पर दबाव बनाए रखा था. क्या तुम मेरी गांड को अभी चोदोगे?चाचा ने कहा- हां बिल्कुल स्वाति रंडी, सच है मैंने बहुत दिनों से तुम्हारी गांड नहीं मारी है.

ससुर सेक्स की हिंदी कहानी में पढ़ें कि मेरे पति के दूर रहने के कारण मेरी चुदाई की जरूरत पूरी नहीं हो पा रही थी. ऐसे ही पापा पोजीशन बदल बदल कर बहू चोदते रहे और आखिरी में सोनम को नीचे लिटा कर चुदाई करने लगे. मैंने उठ कर शॉवर बन्द कर दिया और उसको एक झटके से नीचे उल्टी रखी बाल्टी पर बैठा दिया और अपने लंड की पूरी खाल पीछे करके लाल टोपा उसके मुँह में दे दिया.

इस पर सना जोर जोर से हंसने लगी और बोली कि जितना मेरा फिगर है, उस से ज्यादा शहद तो आप अपनी बातों से मुझे लगा चुके हैं.

मैंने घर आकर सब कुछ याद करके उंगली करके अपनी चूत की आग शांत कर सकी थी, पर जो आग लंड से बुझती है, उंगलियों में वो दम कहां. सना ने खुश होकर मुझसे कहा- आज रात डिनर पर आइए, खूबसूरती और महंगी दारू से आपकी खिदमत की जाएगी.

तभी मैं उठी और उसे तीसरे वाले बोली- ये चाभी पकड़ो … कार की डिग्गी खोलना. दोस्तो, स्नेहा दिखने में कुछ खास नहीं है इसलिए मेरा मन कभी उसकी तरफ आकर्षित नहीं हुआ. Xxx गांड चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरे पापा के दोस्त मुझे चोदना चाहते थे.

हम दोनों ने 12 वीं तक एक साथ पढ़ाई की थी और उसके बाद दोनों का साथ छूट गया था. मैंने अपनी जीभ बाहर निकाल दी और अपने होंठ उसकी चूत के मुँह पर लगाकर उसका योनिरस पीने लगा. मैंने उसको घर छोड़ते हुए पूछा- जानेमन, अबचूत की सवारीकब कराओगी?जवाब में वो बोलीं- बहुत जल्द ही मेरे राजा.

बीएफ एचडी वीडियो अंग्रेजी मैंने भाभी से पूछा- अब आपको दर्द नहीं हो रहा है?भाभी- हां अब दर्द खत्म हो गया है और मजा आ रहा है. जीजा ने अपना फनफनाता लंड आरजू के मुँह में दे दिया और रस के फुव्वारे से आरजू का मुँह भर दिया.

सेक्सी पिक्चर गपा गप

उसने दो गिलास में दूध भरकर एक मुझे पकड़ा दिया और दूसरा खुद ने ले लिया. मैंने चाची से पूछा- अन्दर ही निकल जाऊं या बाहर ही निकलूं?चाची बोलीं- अब तू मेरे मुँह में आ जा. नीता ने अपना सर मेरे कंधे पर रखकर कहा- मुझे बहुत डर लग रहा है हर्षद.

जीजा ने देर ना करते हुए एक ही झटके से लंड अन्दर डालने की कोशिश की पर लंड फिसल गया … आरजू की टाईट चूत में अन्दर नहीं जा सका. छोटी कमर और गदरायी हुई बाहर को निकली हुई गोल मटोल छत्तीस इंच की गांड देखकर मेरा लंड तनाव में आने लगा था. बिहार सेक्सीउसकी नशीली आंखें किसी भी मर्द को उसकी ओर आकर्षित करने के लिए काफी थीं.

नीता बोली- यहां से थोड़ी दूरी पर एक बड़ा होटल है हर्षद, हम वहीं जाएंगे.

उसने झट से दरवाज़ा बंद किया और मेरे पास आकर मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए. उसने भी हल्के से मेरे होंठों को चुम्बन कर दिया और अपने दोनों पांव ऊपर लेकर मेरे ऊपर लेट गयी.

जैसे ही गाड़ी से उतरने का नंबर आया तो मैंने श्रेया की दोनों चूचियों को अपने हाथों से पकड़ा और चूम लिया. मैंने नीचे झुककर उसके एक चुचे को मुँह में भर लिया और उसे और तेज़ चोदने लगा. उसने अपने भारी भरकम शरीर से मुझे मुझे अपने नीचे दबा लिया और मेरी कलाइयों को उसने जोर से पकड़ लिया.

मैं उस तक पहुंचने का या यूं कहें उससे बात करने का तरीका खोजने लगा था.

एक बार रायपुर के ही पास एक छोटे मजार पर फकीर आया हुआ था और उसी के कहने पर मेरी बीवी उस जलसे में शामिल होने गई थी. तो दादाजी बोले- बहू, मैं मुखिया जी से बात करके देखता हूँ शायद वो हमें कुछ समय दे।तो माँ बोली- नहीं ससुर जी, मुझे पता है वो नहीं मानने वाला है. उसमें से एक महिला से भी कभी किसी काम के सिलसिले में एक दो बार बात हुई होगी, उसको भी मेरे बदले हुए नम्बर का मैसेज चला गया.

हिंदी में चुदाई सेक्स वीडियोतब मैंने प्रियांशु के लिंग पर हाथ फिराया तो उसने अपनी पैंट को खोल दिया और अंडरवियर को भी उतार दिया. उसने उसके बाद मुझसे सीमा को हमेशा सुख देने के लिए कहा और अपने सामने ही फिर से हमारी चुदवाई शुरू करवायी.

चुत की सेक्सी वीडियो

आह … जैसे ही उसने मेरा लंड चूसना शुरू किया … क्या बताऊं … वो बड़ी मस्ती से लंड चूस रही थी. उसके बाद मैंने चाची की पैंटी को घुटनों तक उतार दिया और चाची की गांड देखने लगा. अगर तुम सहमत हो तो तुम मेरी रानी बनोगी और विलासितापूर्ण जीवन जियोगी.

मैंने पहले उनके चूतड़ों को अच्छे से चूमा और पीछे से उनकी चूत में लंड पेल दिया. मैं दरवाजे के बाहर खड़ा था और अन्दर झांक कर देखने की कोशिश करने लगा. घर में किसी चीज की कमी नहीं है, बस मम्मी नहीं हैं … जिससे आपकी खुशियां खत्म सी हो गई हैं और आपके बेटे की वजह से मेरी …इतना कह कर सोनम ने मुँह बंद कर लिया.

उसकी 34 साइज़ की चूचियां थीं और बदन ऐसा कि एक बार कोई देख भर ले, तो उसे रात दिन बस चोदने के सपने आने लगें. उसने भी हल्के से आंखें खोल कर मुझे देखा और अपना थका हुआ शरीर उठाते हुए उसने मुझे बिस्तर पर धकेल दिया. दोस्तो, मेरा नाम राहुल (बदला हुआ) है और ये मेरी पड़ोसन भाभी की चूत चुदाई की कहानी है.

शुरुआत में हम दोनों बस एक दूसरे को प्यासी नजरों से देखते रहते थे, बस चुदाई की बात नहीं कर रहे थे. मैंने उसके मुलायम मम्मे हाथ में आए हुए महसूस किए तो अपने आप ही मेरे हाथों ने उसके मम्मों को भींच दिया.

जब मैं घर से ऑफिस के लिए निकलता, या जब भी फ्री होता … सोनी को कॉल कर लेता.

उन्हें पता नहीं कि मैं गांडू हूं, मेरी गांड लंड लेने को तड़पती है पर कोई मारने वाला नहीं मिलता. सेक्स एक्स एक्स एक्स सेक्समैंने बार-बार उसे कहा कि दर्द हो रहा है मगर वह मुझे चोदने की कोशिश करता रहा. सेक्सी व्हिडिओस हिंदीफिर वो बोली- प्रकाश मजा आ गया यार तूने तो सेक्स करते करते पहली बार मेरा पेशाब निकाल दिया … और साले तूने मेरे मुँह पर मेरा ही पेशाब फेंका. उसका लौड़ा सुबह के समय किसी खम्बे की तरह एकदम टाइट था जिसको मैं अपने हाथों में लेकर हिलाने लगी.

और ये जानकर कि मुझको सुहागरात पर मिलने वाला गिफ्ट भी तुम लेकर आए हो.

फिर मैंने उसकी चूत पर दो उंगलियों से फांकों को जरा फैला दिया और अपना लंड का सुपारा घुसा कर ठेल दिया. मैं भी जोश में जोर जोर से उनके धक्कों का अपने अंदाज में रिप्लाई कर रही थी. चुदाई के बाद हम तीनों को खूब जोरों की भूख लगी थी तो एक बाबा ने हम सबके लिए खाना बनाया.

मैं धीरे से बिना हिले ऐसे ही अपने लंड को छोड़कर सोने का नाटक करने लगा. कुछ लड़कियां मेरी दुकान पर मोबाईल ठीक करवाने या रिचार्ज करवाने आ जाती थीं. आप लोग मेरे साथ अन्तर्वासना से जुड़े रहें और याद करें कि किस किसकी जिंदगी में ऐसे इत्तेफाक हुए हैं.

सेक्सी इंडियन नंगी फिल्म

मेरी पहले की कहानियों को पढ़ने के लिए आप लेखक सूची में आशिक़ राहुल के नाम से सर्च कर सकते हैं. वो मेरे हाथ को उठा कर अपने पेट पर ले आई, तो मैं उसके पेट पर उंगलियां घुमाने लगा. मैं ठहरा पक्का हरामी … बस बात शुरू होते ही मैं उसे चोदने की सोचने लगा.

अचानक से उसने एक झटके में उसने मेरी पैंटी फाड़ दी और मेरी बिना बालों वाली गुलाबी चूत उसके सामने आ गयी.

उस कमरे में एक आलीशान पलंग बिछा हुआ था और उसमें एक महंगा मोटा सा गद्दा बिछा था.

इसके बाद उसने अपना हाथ हटा लिया और अपने दोनों हाथों से मेरे हाथ पकड़ लिए, मेरे एक दूध को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा. इसके बाद सोनम ने सिर पर दुपट्टा डाल कर हम दोनों के लिए मेज पर खाना लगाया. सेक्सी नंगी वीडियो दिखाओजैसे ही मैंने अपनी जीभ को उसके गुलाबी निप्पल पर फेरना शुरू किया, वो एकदम से उत्तेजित हो गई.

कुछ ही पलों में मेरा समूचा लंड चाची की चूत में खो गया और चाची अपनी चूचियां मेरे सीने पर झुलाने लगीं. रुचि ने मेरे गालों पर दांत से काट खाया और बोली- आज की रात तुम्हारे पास काफी समय है. आप मुझे इस वर्जिन गर्ल देसी Xxx कहानी पर अपने विचार प्रकट करना न भूलें.

मतलब मैं हॉट गर्ल वांट थ्रीसम सेक्स!मैं समझती हूं कि लड़का और लड़की दोनों को ही सेक्स की बराबर की इच्छा होती है और सेक्स सबके जीवन का वो अभिन्न हिस्सा होता है, जिसके बिना जीवन अधूरा है. मैं अब फ्री होने वाला था कि उसने मुझे लंड चूसने की याद दिलाते हुए अपने ऊपर से हटाया और मुझे खड़ा करके मेरे लौड़े को मुँह में लेकर चूसने लगी.

मेरे झड़ जाने के लगभग 5 मिनट के बाद उसने दुबारा से लंड चूसना शुरू कर दिया.

मेरे लंड को भाभी ने ज्यादा देर नहीं चूसा; उन्होंने कहा- अब चोद दो मुझे … बहुत आग लग रही है चूत में. छोटी से छोटी जानकारी भी उसने मुझे दी, जिसके आधार पर मैंने आप लोगो के लिए ये कहानी लिखी है. आपको अब तक की कहानी पढ़ कर कितना मजा आया? मुझे मेल और कमेंट्स में बताएं.

ब्लू पिक्चर सेक्सी वाली मैंने भी उसके मन की बात समझ ली और बोला- गांड अभी नहीं मारूंगा जान, वो तो मुंबई में जाकर ही फटेगी. फिर जैसे ही मुखिया जी ने माँ का सिर छोड़ा … माँ ने मुखिया जी का लन्ड अपने मुँह से निकाल ओर उनका सारा माल थूक दिया.

मैं अपने हाथों में उसके दोनों स्तनों को लेकर सहलाने लगा तो देविका सिहर उठी. चांदनी रात में खुले आसमान के नीचे मैं पूरी ताकत से सुनीता कीचूत का भोसड़ाबनाने पर तुला हुआ था. पूरी तसल्ली करने के बाद मैंने धीरे से वाशरूम का दरवाजा खोला और दबे पांव अन्दर जाने लगा.

सेक्सी एचडी वीडियो सेक्स एचडी वीडियो

पतली कमर, कमर पर दाएं और बाएं दो बड़े डिम्पल, उस पर बंधी हुई बड़े बड़े मोर के प्रिंट की गुलाबी साड़ी. उधर फकीर जिस कमरे में रुका हुआ था, उसने अपने उसी रूम में मेरी बीवी को बुलाया. हम गांव के ग्राउंड के पास मिले, उसने नीले रंग की टीशर्ट पहनी था और नीचे काले रंग का ढीला लोअर था.

’मैंने भी मजा लेने की सोची- सर कुछ नहीं … बस अपने बॉयफ्रेंड से चुद रही हूँ. मेरी उसको इतने प्यार से देखने की लालसा को देखकर उसने कहा- एक काम करते हैं, कहीं रुक कर थोड़ी देर बैठते हैं.

कुछ देर तक बहन की चूत रगड़ने के बाद मैं उसकी चूत के अन्दर ही झड़ गया.

मैंने कुछ देर ऐसे ही झटके दिए और फिर उसे, उसकी गर्दन के सहारे पकड़ कर एक और जोरदार झटका दिया. अचानक से उसने एक झटके में उसने मेरी पैंटी फाड़ दी और मेरी बिना बालों वाली गुलाबी चूत उसके सामने आ गयी. दोस्तो, आपको मेरी यह Xxx एनल सेक्स कहानी कैसी लगी, मेल से ज़रूर बताएं.

आपको मेरी नेक्स्ट डोर गर्ल सेक्स कहानी पढ़ कर कैसा लगा, अपने अनुभव मुझे मेल करना न भूलें. काफी देर तक मुझे चोदने के बाद उन दोनों ने ज़ोरदार पिचकारियों के साथ मेरे दोनों छेदों में अपना लावा निकाल दिया. बहुत मजा आया हर्षद … आज पहली बार मेरी चूत को तुमने चूसकर इसका पानी निकाला है.

मां बोली- मैं शिवम को लेकर तुम्हारे मामा के घर जाने का बहाना बनाऊंगी.

बीएफ एचडी वीडियो अंग्रेजी: अञ्जलि की आंखें कुछ देर पहले तक विकराल हो रहे नत्थूलाल पर जम गईं, जोकि मूर्छित होने होने के बाद भी कड़क अवस्था में थे. उनकी एक बड़ी बेटी सोनाली 19 साल की थी और दूसरी बेटी छोटी मुनमुन थी.

तभी मैंने उससे कहा- यार सॉरी मुझे लगा नहीं था कि तुम्हें इतना ज्यादा नशा हो जाएगा. मुझे अन्दर से हंसी आ गई मगर मैंने उससे आने के लिए हामी भरते हुए ओके बोल दिया. फ़लक ने मेरे लंड को मुँह से बाहर निकाल दिया और वो उत्तेजना अमे बड़बड़ाती हुई बोलने लगी थी ‘आह अगम मैं आ रही हूँ … आंह मर गई … आह …’फिर जैसे ही उसने झड़ना शुरू किया तो उसने तेजी से पूरे लंड को मुँह में भर लिया और इतनी तेजी से चूसने लगी कि मुझको लगा, जैसे ये मेरे लंड को ही उखाड़ कर अलग कर देगी.

वो मेरे हाथ पकड़ कर अपने बेडरूम में ले गई और वहां जाकर उसने अपनी ब्रा उतार कर मुझे अपने बड़े बड़े चूचों के दीदार करवा दिए.

उसने सब्जी का काम बंद किया तो मैंने उसे अपने घर के काम के लिए रख लिया. ब्रा पैंटी में उनके सामने से मटकती हुई मैं गई और ग्लास उठा कर पैग डालने लगी. वो मज़े ठीक से ठंडा भी नहीं करता … ख़ाली अपना लंड अन्दर डालते ही दो चार झटकों में झड़ जाता है और मुझे प्यासा रख कर सो जाता है.