का चोपड़ा के बीएफ

छवि स्रोत,ट्रिपल सेक्सी बीएफ इंग्लिश

तस्वीर का शीर्षक ,

गांव का हिंदी सेक्स: का चोपड़ा के बीएफ, उसकी चूत में लंड को पूरा उतार कर मैंने उसकी चूत को तेजी के साथ चोदना शुरू कर दिया.

बीएफ मूवी लाइव

शाम हुई तो मैंने फोन से मैसेज कर दिया कि मैं अपने कमरे में ही आपसे मिलूंगी. बीएफ सेक्सी पंजाब काउसके हाथों से थोड़ी ही देर में मुझे आराम मिल गया और मैं पैर फैला कर लेट गई.

वो कह रही थी कि जानू आज तो मसल दो इन्हें … इनका साराह रस निचोड़ दो … आज मैं तुम्हारी हूँ. वीडियो देखने वाला बीएफमैंने उसको बिस्तर से खींच कर फर्श पर घुटनों के बल बैठाया और उसके मुँह में वीर्य से भरा अपना भारी लंड डाल दिया.

उसने बोला- ठीक है और आज कैब में साथ में बैठना।मैं जब वापस गई तो मेरी टीशर्ट से निप्पल शो हो रहे थे.का चोपड़ा के बीएफ: मैंने अपने स्वेटर, शर्ट, पेंट और अंडरवियर आदि सब जल्दी से उतार दिए.

इन सभी पहलुओं पर गंभीरता पूवर्क विचार करने के उपरान्त ही आप किसी निर्णय पर पहुंचे.मैं खिड़की के पास गया और मैंने अंदर देखा तो बाजी मेरे अब्बू के लंड पर बैठ कर उछल रही थी.

बीएफ सेक्स वीडियो खचाखच - का चोपड़ा के बीएफ

जब मुझसे बर्दाश्त नहीं हुआ तो मैं उसके रूम पर गया ताकि सब कुछ बात करके उसको क्लियर कर सकूं.इस प्रेम यात्रा में हम दोनों ने एक दूसरे को कई बार तृप्त किया और इस प्यार का परिणाम एक जोड़े के रूप में बन जाना अभी प्रतीक्षित है.

मैं दिखने में बहुत ही आकर्षक हूँये कहानी एकदम सच्ची घटना पर आधारित है. का चोपड़ा के बीएफ मैंने कहा- आप बतायें?उन्होंने बताया कि सुरजीत (उनका बेटा) का तलाक इस वजह से हुआ था कि वो पिता बनने लायक नहीं है.

मैं उसके एक दूध को अपने हथेली में भर कर मसल रहा था और उसके निप्पल को निचोड़ रहा था.

का चोपड़ा के बीएफ?

भाभी ने तुरंत मेरा लंड मुँह से निकाल कर अपनी चूचियों के बीच में रख कर मेरा माल निकलवाया. तेरे पापा अपनी उंगली से ही मेरी चूत को खुश कर देते थे, उंगली से ही खुदाई कर देते थे. मुझे ऐसा लगा कि जैसे कोई मेरे चूचों पर हाथ रख कर उनको छेड़ने की कोशिश कर रहा है.

मैं धीरे-धीरे उसके मम्मों को सहलाता रहा, जिससे वह गर्म हो गई और चोदने के लिए कहने लगी. मैंने अब हल्के से दबाव बनाते हुए पूरा लंड चाची की चूत में उतार दिया. तो चलो कमरे में!यह कहते हुए उन्होंने मुझे उठा लिया और अंदर मुझे बेड पर लिटा दिया.

वाशिंग मशीन के पास लांड्री बास्केट पड़ी थी, हमारी मेड दो-तीन दिन बाद जब कुछ कपड़े हो जाते थे, मशीन में धो देती थी. यह सुन कर मुझे थोड़ा अजीब लगा, पर अच्छा भी लगा था कि कोई मुझे पसंद करता है. ये सीन देख कर मैं समझ गया कि इस भैन के लंड को इसी उम्र में ही गांड की जरूरत हो गई है.

जब मैं कॉलेज के द्वितीय वर्ष में था तो उसी समय से मेरे अंदर इस तरह की इच्छाएं प्रबल होना शुरू हो गई थीं. पर शायद जैसे उसके साथ रहती वैसे नहीं।प्यार तो करते हैं हम एक दूसरे को हस्बैंड वाइफ … लेकिन कुछ वैसा प्यार नहीं है जैसा उसके साथ था।‘मैं शादी कर रही हूं.

हम स्कूल बस से स्टेशन की ओर निकले और उधर से हमारी ट्रेन 6:30 बजे की थी.

फिर 2 दिन बाद भाभी का फोन आया- क्या तुम आज रात मेरे घर रुकने आ सकते हो? पास में मय्यत हो गई है तो मुझे बहुत डर लग रहा है.

पूरे कमरे में हम दोनों की चुदाई की जोर जोर की आवाजें आने लगीं ‘फच … फच!मैं भाभी के चूतड़ों को मसलने लगा. आरिफ़ा ने एकदम से प्रीति का मुंह अपनी चूत में दबा लिया और आरिफ़ा की चूत का पानी निकल गया. मैंने तुरंत उसकी चूत में लड सैट किया और बोला- तैयार हो जा … आज तुझे जन्नत का मजा देता हूँ.

मैंने फिर सोचा कि मुझे किस बात का डर है, जब उसकी मां ही मुझसे चुद चुकी है. मुझे जिस प्रोग्राम में जाना था, वहां पर मैं बहाना बनाकर जल्दी से निकला. वो मुझ से पूछने लगे- तुम तैयार हो अपनी चूत की चुदाई के लिये?मैंने कहा- इतनी दूर तुम्हारे साथ आयी हूँ.

मैं उनके पास गया और उन्हें हैप्पी होली बोल कर मैंने उनके गालों पर रंग लगा दिया.

जब मैं उसको किस कर रहा था उसी वक्त मेरे हाथ उसकी मोटी गांड पर पहुंच गये थे. तो मैं बुआ का बैग अपने कमरे के साथ वाले कमरे में रखकर आ गया। फिर मेरी बुआ रूम में जाकर नहा धोकर आराम करने लगी. मेरे अब्बू का लंड देखने में करीब 7 इंच लम्बा और 3 इंच मोटा लग रहा था.

तो मैंने बुआ को कैसे चोदा?नमस्कार मित्रो, मैं रोमी एक बार फिर से आपके बीच एक और गर्म कहानी लेकर हाजिर हूँ कि मैंने अपनी बुआ को चोदा. मैंने उसे बड़ी गर्मजोशी से विश किया और कहा- मुझे नहीं पता था … वरना मैं गिफ्ट लेकर आता. मेरा एक बड़ा भाई जिसका नाम हेमराज है लोग प्यार से उन्हें हेमू कहते हैं … काफी स्मार्ट और हट्टे-कट्टे!एक बार जब भाई गाँव आए हुए थे तो मैं बाथरूम में नहाने गयी और कुण्डी लगाना भूल गयी.

जिससे मेरा 3 इंच लंड उसकी चूत में समा गया और अर्पणा के मुँह से मादक आह निकल गई.

मैंने आंटी के घर पर पहुंच कर दरवाजे की बेल बजाई और फिर कुछ ही सेकेंड के अंदर आंटी ने दरवाजा खोल दिया. छोटी बोली- वही तो कह तो रही थी कि अपने पिता के नक्शे कदम पर गया है.

का चोपड़ा के बीएफ वो अब पूरे जोश के साथ थीं, उनके मुँह से कामुक आवाजें कमरे के माहौल को और भी मस्त कर रही थीं- अह्ह्ह्ह … इसस्स … इश्स … चोद दे मुझे … और ज़ोर से चोद मेरी चूत का भोसड़ा बना दे … आज जैसी चुदाई मिली इस चूत को … मानो ऐसा लग रहा था जैसे पहले कभी चुदाई नहीं हुई हो. थोड़ी देर के बाद दोनों उठ गए और बाथरूम में जाकर एक दूसरे की सफाई करने लगे.

का चोपड़ा के बीएफ यहां मैं एक तरफ अकेले में खड़ा हो गया और कजिन के आने का इंतजार करने लगा. उसी वक़्त मुझे रूम के बाहर से मेरी मॉम की उहह आहह की आवाज़ आने लगी.

मैंने पूछा- मैंने सुना है कि किटी पार्टी सैक्स गेम भी होते हैं?मॉम बोली- हां होते हैं.

हम भारत के भरत खेलते

ऐसे करते-करते करीब 5 मिनट बाद माल निकल गया और वे उसे जोर जोर से चूसने लगी. मैंने मामी को किस करते हुए बेड पर लिटा दिया और खुद भी उनके बाजू में लेट कर उनकी चूचियों को मसलने लगा. दोस्तो, यह थी मेरी सलहज काव्या के साथ पहली मस्त चुदाई की सत्य कहानी!आशा करता हूं आपको मेरी रिश्तों में चुदाई की ट्रू सेक्स स्टोरी पसंद आई होगी.

मैंने उसको समझाने की कोशिश करते हुए कहा कि किसी भी चीज की अति अच्छी बात नहीं होती है. मैंने कुछ नहीं सोचा और उनके ऊपर जाकर लंड अन्दर डाल कर जोर जोर से धक्के मारने लगा. मैंने जल्दी से रूपाली को बाथरूम में घुसा दिया और मैं भी अन्दर आ गया.

लेकिन उनकी तरफ देख कर मेरी सासु, बीवी और दोनों सालियां एक बार के लिए सकते में आ गईं.

उधर मैं उसकी योनि में उंगली किए जा रहा था जिससे जोश में आकर अब वह मेरे लंड को आइसक्रीम की तरह चूसने लगी थी. मैंने पूछा- गेंदें मतलब?वो लंड सहला कर मुझसे बोला- भाभी जी गेंदें नहीं समझती हो. दोस्तो, मेरा नाम दिलशाद खान है, मेरी उम्र 22 साल है और मेरी लंबाई 6 फुट 7 इंच है.

उसके जिस्म से चिपके हुए कपड़ों में से झलकता छोटा सा निप्पल याद आ गया. उनकी चूत से निकलने वाले कामरस में भीग कर मेरा लंड एकदम से चिकना हो गया. गर्लफ्रेंड से लंड चुसाई करवाते हुए मैं अपनी गर्लफ्रेंड की चूत में उंगली भी तेजी के साथ कर रहा था.

Bhabhi Ki Chut Chudai Ki Kahaniइस मर्तबा मेरा पूरा लंड उसकी चुत में समा गया. मासूमियत से अनजान बनते हुए मैंने कहा- मैं भी बड़ा हूं।मेरी इस बात पर प्रीति मैम हंसने लगी और उन्होंने मेरा गाल खींच लिया।ये पहली बार था जब अपने से उम्र में इतनी बड़ी किसी औरत से इस तरह बात रहा था.

अभी सुपारा ही घुसा था कि भाभी की कराह निकल गयी- उई माँ आदि … मेरी फट गई … उम्म्ह… अहह… हय… याह… मुझे दर्द हो रहा है आदि … आह धीरे करो प्लीज. फिर अंकल ने मम्मी की गांड में थूक कर एक ही बार में अपना मोटा लंड पेल दिया. मैंने होंठों को छुड़ाते हुए कहा- विनिता डार्लिंग, तुम्हारी गांड की चुदाई तो रह ही गई.

वह मस्त हो गई और बोलने लगी- कुछ करो यार … अब बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

मैंने अपनी तरफ से बड़ी कोशिश की थी कि भाभी के मन में मेरी इस बात को लेकर कोई बात घर न कर जाए, या वे मेरी बात का बुरा न मान जाएं, मगर ये भी सच था कि भाभी मेरे अन्दर की बात को जान गई थीं. आह्ह आंटी के गर्म मुंह में लंड गया तो मुझे ऐसा मजा आया कि मैं उसको शब्दों में नहीं बता सकता यहां. मैंने उसे अलग किया और अलग करने के साथ ही अपने आपको भी कपड़ों की बेड़ियों से मुक्त कर दिया.

पूरे एक महीने बाद मेरी शिफ्ट चेंज हुई और मैं आफ्टरनून शिफ्ट पर आ गया. मैंने अब मामी को किस करना शुरु किया और दोनों हाथों से उनके मम्मे दबाने लगा.

वहां पर मेरा टाइम पास नहीं हो रहा था इसलिए मैं भैया के साथ ही खेत में चली गई थी. मैंने दीदी से बोला- दीदी, ये आपके लिए ठीक नहीं हैं, आप इंडियन के ही लो … ये आपको मसल कर रख देंगे. उन्होंने मुझे किस किया और कहने लगीं- तुमने बड़ा मस्त अपनी चाची को चोदा है … इतना मजा तो मुझे कभी नहीं आया.

सेक्सी व्हिडीओ गर्ल

वे मेरे घर आती थीं और उनके आने जाने से किसी को कोई शक भी नहीं होने वाला था.

जब तक विशाल नहीं आया, तब तक मैं अपने मम्मों को सहलाते हुए दबाती रही और अपनी चुत पर हाथ फेरती रही. वो बिल्कुल पागलों की तरह मचल रही थी और ‘आह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह …’ करने लगी थी. 22 अप्रैल 2018 को उसने एक बेटे को जन्म दिया, जिसका पिता मैं ही हूँ.

जब मेरा वीर्य निकलने को हो गया तो मैंने उसका पूरा आनंद उठाने के लिए अपनी आंखें बंद कर ली और पूरी तरह उस वेश्या के नंगे बदन से चिपक कर उसकी चूत में लंड को पेलते हुए उसको चोदने लगा. तभी मेरे कमरे में राजेश अंकल आ गए, वो बोले- क्या कर रही है हमारी सरदारनी?अंकल मुझे सरदारनी कहते थे क्योंकि मैं अपने फेसबुक और व्हाट्सप्प पर जब भी फोटो डालती थी तब साथ में सरदारनी लिख देती थी. राजपूती बीएफवहाँ क्या हुआ?अब तक आपने मेरी इस सेक्स कहानी के पहले भागपांच महिलाओं के साथ सेक्स कहानी-2में पढ़ा कि मैंने अपनी होने वाली सासु माँ को भी लंड की मजबूती चैक कराने के बहाने चोद दिया था.

उसकी मौत के बाद उसकी बीवी, जिसका नाम मैं नहीं लिखूंगा क्योंकि मैं नहीं चाहूँगा कि उसका नाम आए, और मेरे बीच की है. मैं बोला- नहीं मॉम, ऐसा कुछ भी नहीं है।मॉम बोली- एक काम कर … तू अपनी हाफ पैंट उतार!मैं बोला- क्यों?वो बोली- मैं तेरी मॉम हूँ ना … मेरा कहना नहीं मानेगा?मैंने कहा- ठीक है मॉम!और मैंने अपनी हाफ पैंट उतार दी.

उसने पूरा जोर लगा कर आरिफ़ा के मुंह को अपनी चूत पर दबा दिया एकाएक प्रीति की चूत से पानी छूटने लगा. उसकी हल्की सी सिसकारी भी निकल गई थी, लेकिन उसने मेरे हाथ को एन्जॉय किया था. वो बोली- बस 5 मिनट मेरी पिकी को चाटो … मैं तुम्हारा खेल कब से देख रही हूँ … अब मुझसे भी रहा नहीं जा रहा … जल्दी करो.

दोस्तो, आपको ये मेरी दीदी की चुदाई की कहानी कैसी लगी, आप मुझे मेल कर सकते हो. वो सर झुका कर चुपचाप मेरी बात सुन रही थी … मेरे शब्दों के चक्रव्यूह में वो उलझती जा रही थी. मैंने उसकी बात को बीच में रोकते हुए कहा- तुम तो अभी 21 साल की हुई हो.

22 अप्रैल 2018 को उसने एक बेटे को जन्म दिया, जिसका पिता मैं ही हूँ.

मैं बीच में ही बोला- क्यों आप दोनों एक मासूम से बच्चे की जान लेने पर तुली हुई हैं?छोटी हंस कर बोली- आपकी पत्नी को मैंने दीदी बोला है … तो हम दोनों आपके क्या हुए? साली हुए न … तो इतना घबरा क्यों रहे हैं. फिर मैंने पूछा- कैसे लोगी से … तुम्हारा क्या मतलब है भैया?वो बोला- मतलब कुछ डलिया वगैरह में लोगी.

अब भाभी भी जोश में आ गईं और बोलने लगीं- ओफ्फो … थोड़ा और जोर से दबाओ … मसल डालो इन्हें … इनमें से सारा दूध निकाल दो. एक पल बाद मैंने अपना मुँह उसकी बुर के पास ले जाकर उधर की महक सूंघने लगा. निम्मी के मुँह से जोरदार चीख निकली जिसे मैंने उसके होंठों को अपने होंठों में लेकर दबा दिया.

मैंने शीनू को बांहों में भर लिया और उसे चूमते हुए बोला- मुझे मालूम था … तुम ज़रूर आओगी. मॉम बोली- तेरे पापा तो मेरी चूत को बहुत चौड़ी कर लेते हैं, फिर अपना मुंह डालकर बहुत काटते हैं दर्द बहुत होता तो मज़ा भी आता है. उन्होंने मेरा हाथ पकड़ लिया और बोले- अब हम इस आग के साथ सात फेरे लेंगे.

का चोपड़ा के बीएफ !!मैंने कहा- हां … क्यों क्या कभी डिस्क नहीं गई हो क्या?तो दोनों ने एक साथ कहा- नहीं, कभी नहीं. तभी एक एग्जाम के लिए फॉर्म निकला हुआ था तो हम दोनों ने ही उस एग्जाम के लिए फॉर्म भरा.

जापानी एचडी सेक्स

हम दोनों प्यार में इतने डूबे थे।फिर उसने मुझे बेड पर सीधा लेटा दिया. वो मेरी निगाहों से समझ गया और उसने कहा- मैंने एक बार तुझे ब्रा और पैंटी उतारते हुए देखा था. मैंने उसकी बात का जवाब देते हुए कहा- अगर मैं नॉक करके आता तो क्या तुम मुझे वैसे ही अंदर आने देती?उसने मेरी बात का कोई जवाब नहीं दिया.

कुछ देर तक तो मामी कुछ नहीं बोलीं … बस लंड पर उछलते हुए आहें भरती रहीं. अब जोर जोर के कुछ झटके मारने के बाद मैंने पूरा माल उसकी चूत में भर दिया और उसने मुझे बहुत चूमा. एक्स एक्स एक्स वीडियो वीडियो बीएफपहले तो मैंने मना किया लेकिन उसने जबरदस्ती अपना लंड मेरे मुँह में डाल दिया.

जैसे ही मैंने उसके लंड पर हाथ रखा तो उसने मेरे हाथ को अपने लंड पर दबा लिया और अपने लंड को मेरे हाथे रगड़ने लगा.

गर्लफ्रेंड से लंड चुसाई करवाते हुए मैं अपनी गर्लफ्रेंड की चूत में उंगली भी तेजी के साथ कर रहा था. इसी बीच मैंने धीरे से अपनी एक उंगली उसके चूत में घुसा दी, उसे बहुत दर्द हुआ.

उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं था, उसकी चूत बहुत मस्त और एकदम गुलाबी थी. मैं बोला- थैंक्स मॉम, अब क्या हल्का सा बूब्स टच कर सकता हूं?मॉम बोली- हां कर ले बेटा … सिर्फ टच करना … दबाना मत!फिर मैंने मॉम के दोनों बूब्स को हल्के से टच किए. इसी बीच भाई ने मुझे पूरी तरह से नंगी कर दिया था और वो नीचे होकर मेरी चुत चाट रहा था.

इधर सुरेखा और मुझे भी मस्ती चढ़ने लगी और हमने भी एक दूसरे की चूचियों को पकड़ कर उनसे खेलना शुरू कर दिया.

फिर उसने पास पड़ी अपनी पैन्ट की जेब से एक जैली का ट्यूब निकाला और मेरी गांड में लगा कर दबाते हुए भर दिया. लेकिन उस दिन से संजय जीजा जी से चुदाई करवाके मुझको लगा था कि जैसे उस दिन ही मेरी असली सील टूटी थी. डीएनए टेस्ट के आधार पर आप अपनी पत्नी का चरित्र परिभाषित नहीं कर सकते हैं और न ही यह आपकी पत्नी के चरित्र का प्रमाण पत्र हो सकता है.

इंडियन बीएफ पिक्चर बीएफहां, मेरी एक दो सहेली जरूर बन गयी थी मगर वहां पर और सर्विस के बारे में मुझे इतना ज्यादा पता नहीं था. मैंने उसके लंड को गीला किया थूक से और लंड के ऊपर जीभ को घुमाया और ऊपर नीचे लंड को चाटा अच्छे से.

सेक्सी मूवी कम

दीदी ने हंस कर मुझसे जाने को कहा और वे कमरा बंद करके अपने कपड़े आदि बदलने लगीं. उसने अपनी जुबान एकता की चूत पर फेरी, जिससे एकता की मदभरी सिसकारी निकल गयी. वो हड़बड़ा उठी … और बोली- सर … ये क्या कर रहे हो आप?मैंने कहा- प्यार करना चाहता हूं.

वो नीचे से गांड उठा कर बोले जा रही थी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… आआहह … ऊऊफ्फ … चोदो और चोदो … फाड़ दो मेरी चुत यार … साली बहुत तंग करती है ये … आह चोदो और तेज़ … और तेज़!मैं भी उसे गपागप चोदे जा रहा था. मगर कुछ ही दिनों के बाद उसने मेरे खिलाफ झूठा केस कर दिया जिसमें उसने कहा कि उसके साथ बलात्कार किया गया है. वैसे भी उसने मेरा शॉर्ट्स और अंडरवियर नीचे कर दिया था, तो मेरा लंड सीधा उसके चेहरे के सामने था.

यह बोल कर हमने भाभी की चूत पर लंड को एक दो बार रगड़ा और फिर उसकी चूत में लंड को घुसा दिया. उसके बाद उसने भी मुझे केक लगाया और बाक़ी सभी को भी केक खाने के लिए दिया. मैंने उनसे बोला- झूठ मत बोलो … नहीं तो फोन करके नहीं बुलाना पड़ता, खुद ही चले आते.

मैंने उसको अपने सीने से लगा लिया और होंठों पर किस करते हुए बोला- जान आज अपनी गांड दो न. दरअसल हुआ यूं था कि एक बार मैंने रात को मेरे मॉम पापा को सेक्स करते हुए देखा था.

क्या तुम अपने मम्मे मुझ से चुसवाओगी?अगर मैं उनके सवाल का जवाब ना देती तो दोबारा फिर से वही सवाल पूछते थे.

साथ ही मेरा दिमाग काम करने लगा था कि कैसे भी करके इसे फंसाना ही है. हरियाणा के बीएफ हिंदी मेंमां मेरी पैंट में तने हुए लौड़े को देखने लगी और बोली- अरे तुम्हारा लंड भी खड़ा हुआ है!मां ने मेरे लंड को पकड़ लिया. लड़कियों की बीएफ बीएफसरिता चाची अपनी चूची के निप्पल को ठीक से दबा कर दूध पिलाते हुए कहने लगीं- तो ठीक है … आज उस औरत से बात करना पड़ेगी, जिसके पास गदहा है. bhai-bahan-sex-storyकुछ देर के दर्द के बाद वो भी लंड के मजे लेने लगी.

अब मेरा मन भी करने लगा था कि मैं चाची कीचूत की प्यासका फायदा उठाऊं.

उसकी चूत ज्यादा टाइट नहीं थी लेकिन लंड का साइज बड़ा होने के कारण वो लंड को बर्दाश्त करने की पुरजोर कोशिश कर रही थी. जैसे ही शर्ट को हटाया, तो उसके यौवन का दृश्य देखकर मेरी आंखें खिल उठीं. जबकि कानून यह कहता है कि आरोपी को अपने बचाव में दलीलें देने और सफाई पेश करने का मौका दिया जाना चाहिए.

कुछ देर बाद उसने पूछा- मैं कैसी लग रही हूँ?मैंने कहा- सच कहूँ तो बहुत ही हॉट एंड सेक्सी. मन में वहम हो गया कि कहीं एचआईवी संक्रमण न हो गया हो?बहुत दिनों तक मन को समझाता रहा कि मैं व्यर्थ ही चिंता कर रहा हूं. इत्र भी शायद उत्तेजित करने वाला था, उसकी महक से निशा मदहोश होने लगी थी.

दिसावर किंग गली

मैं बोला- इसका मतलब तुम्हें इन सब चीज़ों के बारे में पता है?वो बोली- नहीं … पर मेरी सहेली ने बोला है कि ये करने से लड़की के पेट में बच्चा आ जाता है. अब उन्होंने मेरे लंड को नीचे हाथ ले जाकर पकड़ लिया और उसको जोर से दबाने लगी. वो दारू पीते पीते एक की गोद में बैठ गई … उसके होंठों से अपने होंठों को लगा कर चूमाचाटी शुरू कर दी.

जैसे-जैसे मेरी जीभ चाची की चूत में जा रही थी, उसके साथ ही उसके मुंह से सीत्कार और ज्यादा तेज हो रहे थे.

उसने मुझे कहा- तुमने गलती की है, चुदाई तो तुम्हारी अंकल ने करनी ही है.

आप भी मजा लें मेरी बुआ की चुदाई कहानी का!दोस्तो, अन्तर्वासना पर ये मेरी पहली सेक्स कहानी है बुआ की चुदाई की, इसलिए हो सकता है कि मुझसे कोई गलती हो जाए, प्लीज़ आप गलती को नजरअंदाज कर देना. मैंने अपनी तरफ से बड़ी कोशिश की थी कि भाभी के मन में मेरी इस बात को लेकर कोई बात घर न कर जाए, या वे मेरी बात का बुरा न मान जाएं, मगर ये भी सच था कि भाभी मेरे अन्दर की बात को जान गई थीं. गांव की देसी बीएफ सेक्सी वीडियोपापा ने एक छोटा सा डीडीए फ्लैट गुरूग्राम के पास ही दिल्ली में ले रखा था.

मेरी बात सुनकर वो कुछ नहीं बोली और मुझसे ओके कह कर टीवी देखने जाने की कहते हुए मिंकी के कमरे में चली गई. वो बोला- अभी तो हमारे पास ट्रेनर है, पर तुम आकर जिम करो … जब पोस्ट खाली होगी, तब ज्वाइन कर लेना. जैसा कि मैंने बताया कि मेरा नाम रोहित है और मैं गुजरात के प्रसिद्ध शहर सूरत का रहने वाला हूं.

मैंने जोर से उसकी चूचियों को दबाते हुए उसकी चूत को चोदना शुरू कर दिया. कुछ समय बाद मैंने अनुजा को कहा कि अब तुम आराम करो और शाम को शादी में भी जाना होगा.

आधे-एक घन्टे बाद मैंने शीनू को जगाया … तो वो जाग गई … मैं उसके सामने ही बैठा था.

पर अगर आप मुझसे मिलना चाहते हैं तो मेरे घर आ सकते हैं!मैंने कहा- ठीक है, मैं आपके घर आऊंगा आपसे मिलने! पर मेरी एक शर्त है! आपको मेरे लिए खाने के लिए कुछ खास बनाना पड़ेगा. भाभी ने हंसते हुए अपने आपको साफ किया और कपड़े ठीक करके सोफे पर बैठ गईं. एक बार मैंने उसकी तारीफ की और बोला- तुम बहुत खूबसूरत हो और मुझे लंबी लड़कियां पसंद हैं.

बीएफ सेक्स अंग्रेज इधर मोसी भी अब जोर से सिसकारियां भर रही थी और मेरे मुंह को अपनी चूचियों में दबा रहा थी. तब मॉम बोली- अजू बेटा थैंक्स, आज अपनी बिल्डिंग सोसायटी की औरतों की किट्टी पार्टी थी.

अब तक मैंने आठ चुत का स्वाद लिया है और वे आठों मुझसे आज भी चुदवाती हैं, लेकिन मेरे लंड से चुदने के बाद कमोवेश उन सभी की हालत मरी हुई कुतिया सी हो जाती है. हम दोनों एक दूसरे की जीभों को चूसते हुए पागलों की तरह एक दूसरे के लंड और चूत को रगड़ रहे थे. रात हो गई है, तुझे सुबह कॉलेज भी जाना है, जाकर अपने कमरे में सो जाओ.

खेत वाली सेक्स वीडियो

सेक्स करने में कोई बुराई नहीं होती है बेटा … ये तो नेचुरल सी बात है … और आज नहीं तो कल तुमको भी सेक्स का मजा मिलेगा ही. मॉम के कंठ से कामुक आवाजें निकलने लगी थीं- आह … और तेज़ विक्की … और तेज … आहा … आआह आहम्म आह ओह … विक्की अम्मा … उहम्म … मेरे लाल चोद दे … यस …मैं मॉम के चूचे मसलता हुआ उनकी चुत का भोसड़ा बनाने में तुला हुआ था. मैं- आह … मॉम मेरा निकलने वाला है … कहां करूं आहाहा आआह …मॉम- आहाहा आआह … अन्दर ही कर दे … आह अन्दर ही कर दे बेटा … उइम … उहम …मैंने अपना सारा वीर्य उनकी चुत में डाल दिया और हांफते हांफते हम दोनों एक दूसरे से चिपक कर शिथिल हो गए.

मैंने चुत भंभोड़ते हुए एक पल के लिए अपना सर ऊपर उठाया और उसे मौक़ा मिल गया. उस समय हेमा चाची की उम्र 40 वर्ष थी, लेकिन 30 से ज्यादा की नहीं दिखती थीं.

इस घटना के एक महीने के अन्दर ही निम्मी की बेस्ट सहेली खुद मेरे टारगेट पर चढ़ गई.

वो भी बार बार अपने हाथ से मेरे लंड को मसल रही थी और मैं उसकी चूचियों को दबाने में लगा हुआ था. वो बोली- जो बात मैं कहना चाहती हूँ, उसमें लेडीज फर्स्ट का चलन नहीं है. दीदी चुत को उठाते हुए मेरे मुँह पर दबाते हुए कहने लगीं- आह … अब रहा नहीं जाता रोमी … प्लीज … फक मी.

मैंने शीनू को बांहों में भर लिया और उसे चूमते हुए बोला- मुझे मालूम था … तुम ज़रूर आओगी. मैं उनकी बात सुनकर समझ गया था कि मामा जी ने मेरी मम्मी से बात करके मालूम कर लिया है कि मैं उनके शहर में आ गया हूँ. वो बोली- कहां आ रही है बारिश … मौसम तो साफ़ है?मैंने देखा तो अब बूंदें नहीं आ रही थीं.

मैंने उसकी तरफ घूर कर देखा और मस्ती से बोला- रात में तुम ही आई थीं … तुमने मस्ती नहीं की थी क्या?मेरी इस बात से काव्या शर्मा गई.

का चोपड़ा के बीएफ: वह एकदम घबरा गया, उसने आशिमा को कुछ धीरे से बोला, लोड़ा पैन्ट में ठूसा और पैन्ट बंद करता हुआ नीचे की तरफ भागा. उनके स्तनों और निप्पलों को मैं किताबी चित्रों में भी इतनी वासना के साथ देखता था कि कई बार तो उनको देख कर ही मुठ मार लिया करता था.

ऑफिस में एक मोटी गांड वाली पंजाबन आंटी की चूचियाँ देख मेरा मन आंटी की चूत चुदाई को करता था. मॉम ने अगली बाजी के लिए पत्ते बांटे और इस बार वापस मॉम जीत गई और बोली- अच्छा बेटा, हमारी कोई भी आपस की बातें तू अपने पापा को कभी नहीं बोलेगा ना?मैं बोला- हां मॉम, आप जो बोलोगी, वैसा ही मैं करूंगा और आप भी पापा को मत बोलना. मुझे ऑफिस के बाहर अचानक एक ऐसी लड़की दिख गयी, जिसे देखने के बाद सब कुछ जैसे रुक सा गया.

इससे दीदी को मजा आने लगा और वो मस्ती से अपने दोनों छेदों में घुसे लंड का मजा लेने लगी.

20 मिनट के बाद मैंने दोनों बूब्स को जमकर चूस लिया था भींचा भी जबरदस्त था. अब बाकी रंडियां दूसरे ग्राहकों को फंसाने के लिए वही सब करने लगी जो मुझे देख कर कर रही थीं. उसकी मम्मी के कमरे के बाथरूम में नहाने के बाद मैंने पूरी बॉडी में बॉडीलोशन लगाया.