सेक्सी बीएफ आवाज में

छवि स्रोत,কলকাতার এক্স এক্স ভিডিও

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी बीएफ जबरदस्ती चोदा: सेक्सी बीएफ आवाज में, अब हमें यहां पर आए 7 दिन हो चुके थे, पर कोई वापिस नहीं जाना चाहता था.

एक्स एक्स एक्स सनी लियोन का

किस यानि चुम्बन के बारे में सोच सोच के दिल की धड़कनें बढ़ी हुई थीं. सेक्सी वीडियो मालिशलगभग 10 मिनट ऐसे मेरी चुदाई करने के बाद दोनों ने अपनी पोजीशन बदल ली.

तब मैंने उनसे कहा- मुझे जाना होगा!मेरा इतना कहना ही था कि सुनील ने अपनी जेब से ₹50000 की गड्डी निकाल कर मुझे दी और कहा- ये ले मेरी जान, तेरा आज का इनाम. xxx मारवाड़ी वीडियोमैंने पूछा- क्या हो गया मेरे बाबू को?उसने कहा- यार, अब मुझसे नहीं रहा जाता.

उम्मीद करता हूँ कि आप सबको मेरी इंडियन देसी गर्ल Xxx कहानी पसंद आई होगी.सेक्सी बीएफ आवाज में: गर्लफ्रेंड- तुम्हारी बुआ के पास तो तुम्हारी पसंद का हर आइटम है और तुम दोनों की अच्छी पटती भी है.

मैं रुखाई से बोला- हां बोलो, कैसे आना हुआ?ज्योति- सॉरी मैं सुबह नहीं आ पाई लेकिन क्या हम वो काम कर सकते हैं?मैंने ज्योति को खींच कर उसे किस करना आरम्भ कर दिया.मैं दो साल बाद कोमल दीदी को देख कर बड़ा असहज हो गया था और बेचैनी में ही मोनिका को कॉलेज से लेकर कोमल दीदी के घर आ गया.

गांव की लड़की की चूत चुदाई - सेक्सी बीएफ आवाज में

वाइफ चीटिंग Xxx कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरी पत्नी के बॉस ने मेरी पत्नी की वासना का फ़ायदा उठाकर उसे बिजनेस में इस्तेमाल किया, मुझे बच्चे का बाप बनाया.हम बस खाना खाकर रात को टहलने और थोड़ी बहुत मस्ती करने निकलते थे क्योंकि ऊपर के माले पर सुंदर सुंदर नर्स रुकी हुई थीं और हम सभी लौंडे नर्सों को देखने के लिए निकलते थे.

प्रीति भी गांड उठा कर चुदने लगी और मैं उसकी देसी चूत की चुदाई ताबड़तोड़ करने लगा. सेक्सी बीएफ आवाज में फिर उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया तो मैंने उसकी चूत का सारा पानी पी लिया.

मैंने उससे कहा- क्या मैं तुम्हारी कोई मदद कर सकता हूं?दीदी ने कहा- नो थैंक्स.

सेक्सी बीएफ आवाज में?

मम्मी डिनर के बाद बर्तन साफ करके उठीं और किचन की लाइट ऑफ करके अपने रूम में आ गईं. बाथरूम में जाकर खुद को शॉवर के नीचे खड़ा करके नहाया और एक नई ब्रा पैंटी पहन कर बाहर कमरे में आ गया. दीप्ति मुस्कुराई- अच्छा जी!फिर जैसे ही हम दोनों कमरे के अन्दर आए, मैंने दरवाज़ा बंद कर दिया और दीप्ति की अपनी ओर खींच लिया.

मैंने उनके बच्चों के बारे में पूछा, तो उन्होंने बताया कि उनका कोई बच्चा नहीं है. मैडम तब भी मेरे मुरझाए लंड के साथ लगी रहीं और गाली देती रहीं- मादरचोद, बस इतना ही था तेरे लंड में दम … झड़ गया हरामी. फिर हम दोनों घोड़ी की पोज़ में आईं और दोनों ने एक एक साइड से अपनी चूत में लंड डाल लिया.

बस जैसे ही व्यापारी ने रानी की कमर के पीछे हाथ डाला तो उसका मुँह रानी के करीब आ गया. ’सेक्स की बात करते हुए मैंने महसूस किया कि उसका लंड टाइट हो गया था. फाड़ दो आज मेरी बुर को और अपना लंड पूरा अन्दर कर दो जल्दी से!यह सुनकर मैंने अपना लंड उसकी बुर पर रख दिया और हल्का सा धक्का लगा दिया.

मैं सोच रहा था कि ऐसा क्या करूं, जिससे मेरे अंडकोषों में दर्द न हो. अब मिताली ने मेरे अंडवियर में हाथ डालकर मेरे लंड को अपनी मुट्ठी में भर कर जोर से दबा दिया.

दोस्तो, मैं बड़ी चुदक्कड़ लड़की हूं और 24 घंटे चूत चुदवाने के मूड में रहती हूं.

साथियो, मैं पिंटू एक बार फिर से आप सभी का अपनी कहानी में स्वागत करता हूँ.

एक पल हम सबको देखने के आंटी आगे बोली- सीख नम्बर एक … लोग होटल/ढाबे में खाना खाने जाते हैं, इस आशा से कि खाना घर के खाने से ज़्यादा स्वादिष्ट होगा. संजय- तुम्हारी लिपस्टिक और होंठों दोनों का ही टेस्ट काफ़ी मज़ेदार है. मुझे बहुत बैचैनी होती थी इसलिए बहुत सोच विचार के बाद इसे मैंने आप लोगो के साथ शेयर करना उचित समझा.

उसके बाद मैंने उससे खुद को छुड़ाकर अलग किया और उसका लोअर निकाल दिया. मैं उत्तेजना वश मैं जोर जोर से स्तन दबाने लगा और पहली बार अपनी पैंट में झड़ गया. भाभी नशीली आवाज में बोलीं- ऐसे क्या देख रहे हो जान … ये प्रिया अब ऊपर से नीचे तक तुम्हारी ही है.

मैं चाचा को चुत का पानी पीते देख कर एक बात तो समझ गया था कि वो बरसों से मम्मी के हुस्न के प्यासे थे.

चूंकि ये बात गर्मी की है और उस समय गर्मी भी कुछ ज्यादा पड़ने लगी थी. मम्मी पूरे लंड को चाटते, चूसते हुए सुपारे के चारों तरफ बनी लाइन पर अपनी जीभ फिराने लगीं. वो दोनों सोसाइटी के गेट पर चली गईं क्योंकि दोनों की ड्यूटी शुरू हो गई थी.

उसके जाने के बाद अपने मन में उसके लंड की कल्पना करके मैं अपनी गांड में कुछ न कुछ डाल कर मस्ती लेने लगता था. उसने कहा- मुझे पता नहीं भाभीजान, लेकिन जब आपने मुझे सहारा दिया तो मुझे लगा कि शायद आप ही वो शख्स हो, जो मेरी सच्ची दोस्त हो. थोड़ी देर बाद मैं लंड को चूत में रगड़ने लगा और धीरे से लंड को अन्दर पेल दिया.

उसके गुलाबी होंठ ऐसे लग रहे थे जैसे वोडका डालते ही उनकी चमक और बढ़ गयी हो.

कुछ देर बाद मैंने लंड चुत से निकाल लिया और बुआ को अलग करके प्रीति की चूत में लंड घुसा दिया. फिर हमने केक खोला और उसमें रखा प्लास्टिक का चाकू निकाल कर केक काटा और मैंने एक बाइट अनन्या को खिलाया.

सेक्सी बीएफ आवाज में और अब रिशू को भी मजा आने लगा, वो कहने लगी- भाई, आज अपनी बहन की बुर चोद दो खूब! अमन दूध भी दबा लो जितना मन हो!मैंने कहा- बहुत दिन से मैं तुम्हें छोड़ने की कोशिश कर रहा था … आज जाकर मिली हो मेरी जान!उस रात रिशू को कई बार चोदा. समझी मेरी जान? और बिस्तर पर अपनी बीवी को तड़पाने का हक तो मेरा है ही!यह सुनकर ज्योति मुस्कुराते हुए बोली- बीवी के साथ आपकी छोटी बहन भी हूं.

सेक्सी बीएफ आवाज में फिर भाई ने देरी ना करते हुए मेरी चूत में थोड़ा थूक लगाया और अपना लौड़ा मेरी चूत के छेद में रख दिया और फिर धक्का दिया. ये बोलती हुई उसने मेरा लंड अपनी बुर के मुँह पर रख लिया और बोली- जीजू मुझे चोद डालो … अब मेरे सब्र का बांध टूट गया है.

मुझे कुछ देर नींद नहीं आई, बाद में मैं कब सो गया, कुछ पता ही नहीं चला.

ट्रिपल एक्स सेक्सी डॉट कॉम

फिर जैसे ही मैं उनकी चूत पर अपनी जीभ को लगाया, भाभी ने चूत ढकते हुए मुझे मना कर दिया- ये नहीं करो. निकिता की चूत भी झड़ जाने के बाद भी मेरे लंड को छोड़ पकड़ रही थी मानो वो लंड की आखिरी बूँद को निचोड़ कर खाली कर देना चाहती हो. फोरसम सेक्स कहानी मेरी बड़ी बहन की है जो ऑफिस की मीटिंग में कलीग्स के साथ गयी थी.

कुछ देर तक भाभी के मम्मे घूरने के बाद मैंने कहा- भाभी, मुझे आपकी चूची भी पीना है. कुछ ही देर में मुझे एक नंबर से व्हाट्सप्प आया कि मुझे आपसे बात करनी है. लेकिन अब तक हमारा मूत का दबाव बन गया तो हम दोनों बस से उतर कर होटल के टॉयलेट में मूतने गए.

चाचा- तो भाभी इस बारे में आपकी क्या है?मम्मी- देखो नरेश, तुम मेरे देवर हो और मेरे बारे में सब जानते ही हो.

तभी मेरे दोस्त का कॉल आया- फ़्लैट पर कब आ रहा है?मैंने उससे कहा- आ रहा हूँ. फिर वो उसकी मिनी को नीचे करके उसको वापस रूम में ले आया; मीरा को बेड पेर लेटा दिया और वो सब बातें करने लगे. उस समय मेरी बुआ घर के पीछे बने बाथरूम में गयी थीं इसलिए मैं मोबाइल का स्पीकर खोल कर बात कर रहा था चूंकि मेरे हाथ कंप्यूटर सैट करने में बिजी थे.

वो ललचाई नजरों से चूत को देखने लगा और फिर जब उससे रहा न गया तो वो चूत चूसने लगा. मैंने 3-4 बार लंड रगड़ा और वो हर बार गांड उठा कर लंड चुत में लेने की कोशिश करती रही. दर्द के कारण उनकी आंखों में पानी आ गया और वो मादकता से सिसकने लगी थीं.

फिर एक दिन मैंने नीता से कहा कि मैं उसके पति दीप से बात करना चाहती हूँ. दीप्ति मायूस होकर बोली- सिर्फ आवाज … बिन्दास बोलो यार!दीप्ति एक मॉडर्न ख्यालत वाली महिला थी और ऊपर से शराब पीने से मेरी वासना की आग भी बढ़ गई थी.

मिहीन जो अब तक शांत था, वो अपने सारे कपड़े उतार कर मीरा के पास आ गया. मैंने तिरछी नजरों से देखा कि निधि ने एक वायर के साथ अटैच एक चमकती हुई गोली निकाली।निधि मेरी चूत के पास आई।मुझे लगा कि ये अब डिल्डो निकाल लेगी. इस वक्त मोनिका मुझे बिलकुल आशीर्वाद देने वाली देवी की तरह लगी तो मैंने झट से मोनिका को फोन किया और उससे मिलने के लिए बोला.

ये 2 साल पहले उस वक्त की घटना है, जब मैं पढ़ाई करने दिल्ली में नया नया आया था.

जब मैंने भाभी का दूध अपने मुँह में लिया तो वो मुझे इतना मुलायम लगा जैसे उनके दूध रूई के बने हों. दोस्तो, नैना के साथ हुई चुदाई की कहानी की दास्तान मैं आपको अगले भाग में लिखूंगा. फिर जैसे ही मैं सीढ़ियों की तरफ मुड़ा तो मैं सातवें आसामान पर था क्योंकि वो लड़की और कोई नहीं प्रिया थी और वो भी मुझे ऐसे देख कर मूर्तिवत हो गई थी.

मैंने पहली बार दो जिस्मों को संभोग का भरपूर आनन्द लेते हुए देखा था. इस सेक्स कहानी को पढ़ने वालों से मैं जानना चाहूँगा कि कितने लोग रिश्तों में चुदाई करते हैं और कितने करना चाहते हैं.

मैं- ज्योति तुम ठीक हो ना? तुम्हारे चेहरे का रंग उड़ा उड़ा क्यों लग रहा है?ज्योति- वो पता नहीं, कल से मेरे पूरे जिस्म में दर्द हो रहा है, दर्द की गोली भी ली … पर दर्द नहीं गया. दीदी ने अपनी बेटी को मोनिका की गोद में दिया तो मोनिका उसे अपने नंगे सीने से चिपका कर चुप कराने लगी. रानी झटके से उनसे छूट कर हट गई और बोली- अभी रुक जाओ … इतनी भी बेकरारी अच्छी नहीं है, सब्र करो सबको सो जाने दो.

सेक्सी पीने वाला

इसी कारण से अब्बू की मौत के बाद मेरी सोच मेरी अम्मी के लिए बदलने लगी.

कल आंटी सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं अपने अम्मी-अब्बू की चुदाई रोज छुपकर देखा करता था। एक दिन मैंने अपनी किरायेदार आंटी और अंकल की चुदाई देखी. जब मैंने उसकी चूत देखी तो वो ऐसीक्लीन शेव चूतथी जैसे आज ही साफ़ की हो. सच में दोस्तो, चाचा और मम्मी हम तीनों के मुँह से अपनी शादी के लिए हां सुनकर बहुत खुश हो गए थे.

फिर मैंने उनका नाम पूछा तो उन्होंने अपना नाम प्रिया बताया, जो कि बदला हुआ नाम है. लड़की की बुर चोद कर मजा लिया मैंने! 19 साल की जवान लड़की की अनचुदी बुर में लंड घुसाकर सील तोड़ने के आनन्द को शब्दों में ब्यान करना मुश्किल है. हिंदी chudai.comसमीर का लंड चूत के पानी से और तेज़ तेज़ अंदर तक जाने लगा। समीर का लंड अब तक पूरा टाइट था।उसने गीला लंड निकाल लिया और मुझे बिस्तर पर घोड़ी बना दिया, खुद पीछे आकर कमर पकड़कर चोदने लगा.

मैं थोड़ी देर ऐसे ही मालिश करने के बाद उनकी गांड के ऊपर बैठ कर दीदी की कमर की मालिश करने लगा. हैलो फ्रेंड्स, कैसे हैं आप लोग?उम्मीद करता हूँ कि आप सब ठीक ही होंगे.

फिर हम दोनों घोड़ी की पोज़ में आईं और दोनों ने एक एक साइड से अपनी चूत में लंड डाल लिया. मैं भी बड़ी चतुराई से मम्मी से रूम के पास वाली खिड़की के नजदीक आ गया. देवर- क्यों आप मुझे अपना नहीं समझती भाभी, मैं आपकी हर मदद कर दूंगा.

इंडियन X हिंदी कहानी में पढ़ें कि पुणे जाते वक्त मैंने सड़क के किनारे एक कार और लड़की को खड़े देखा. होली का इंतजार मैं पूरे साल सिर्फ तुमको छूने और अपनी बांहों में भरने के लिए ही करता था. मेरा मन उनके चूचे को खाने का मन कर रहा था तो मैं उन्हें अपने ऊपर लेकर पीछे लेट गया.

डॉक्टर बहुत देर तक मेरी पत्नी की चूत को उंगली से ऐसे चैक करता रहा, जैसे कि वो चुत चोद रहा हो.

मम्मी को कुछ काम था इसलिए मम्मी उनके साथ बाराबंकी नहीं जा सकती थीं. मेरे सीधे होते ही उसने मेरा लोअर नीचे कर दिया और मेरे खड़े लंड को निहारने लगी.

मैंने निकालने की कोशिश की लेकिन मेरा हाथ वहां तक नहीं पहुंच रहा था. अनिल बोल रहा था- आह शालिनी मेरी जान … कैसा लगा, बड़ी मस्त चुदती हो यार … मजा आ गया. जब उन्होंने अपनी चूत का पानी लगा मेरा मुँह देखा तो मेरी तरफ हाथ दिया.

जब मैं उन लोगों से मिल रही थी तो मैंने देखा नए वाले 4 लोग मुझे घूर घूर कर देख रह थे और मन ही मन मुस्कुरा रहे थे. उसके जाते ही मैं मुस्कुरा दी और अपनी नंगी चुत पर हाथ फेर कर सहलाने लगी. घर में आकर भाभी जी ने मुझे चाय के लिए पूछा तो मैंने काम का बहाना मार कर उस समय मना कर दिया और उनसे जाने की इजाजत मांगी.

सेक्सी बीएफ आवाज में मैं एकदम से जाग कर उसकी कुंवारी चूत की महक लेकर अपनी सुबह को सराहता और खूब मजे से उसकी चूत चाट लेता. मैंने ओके कहा, पर कई किलोमीटर तक कोई ऐसा शहर नहीं मिला, जहां कोई होटल या मॉल हो.

லேட்டஸ்ட் செக்ஸ் வீடியோ

मेरी बीवी अनिता भी बड़ी मस्ती से सारी दुनियां भूल कर थामस के लंड में तल्लीन हो गयी थी. मैंने देखा कि वो अकड़ उठी थी और उसकी चूत ने ढेर सारा पानी छोड़ दिया था. मैं उसकी बगल में लेटा तो देखा कि उसकी टी-शर्ट थोड़ी ऊंची सी हो रही है, जिसकी वजह से उसका पेट दिख रहा है.

मैंने समझ लिया था कि ये काम मेरे मामा का है मगर मेरी उससे बात करने में गांड फटती थी तो कैसे कहूँ, ये समझ ही नहीं आ रहा था. मैं समझ गया खाना नहीं पचा रही अपनी चुत में लंड महाराज को ले रही है. বৌদিদের গুদেরছবিहम दोनों एक दूसरे को किस करने लगे, मेरे हाथ उसके चुचों को ऊपर से दबाने लगे.

ऑफिस आकर सबसे पहले मैंने आनन्द को फोन मिलाया- आनन्द जी आप फैक्ट्री पहुंच गए?उधर से आनन्द की आवाज आई- हां सर, मैं इधर पहुंच गया हूँ.

फिर मैंने भाभी को बेड पर लिटाया और उनकी चूत पर ऐसे टूट पड़ा जैसे कोई भूखा भिखारी मलाई के दौने पर टूट पड़ता है. क्योंकि वो उस समय इतना मोटा और सख्त था कि बिल्कुल काला अजगर ही लग रहा था.

खैर … किसी तरह से फैसल का लंड मेरी चुत में चलने लगा और मैं उससे चुदने का मजा लेने लगी. लगभग 6-7 मिनट की लंड चुसाई और उंगली से गांड-चूत पिलाई से हम दोनों गर्म हो गए. दीप्ति किसी अप्सरा की तरह खूबसूरत और हॉट थी, ऊपर से मदमस्त जिस्म वाली औरत थी.

मैंने कुछ पल के लिए अपना लंड उसी पोजीशन में रोक दिया और उसके मुँह को अपने मुँह के पास लाकर जोर-जोर चुंबन देने लगा, उसके बालों को सहलाने लगा.

खैर … थोड़ी देर चूसने में बाद उन्होंने कहा- अब तो लंड मेरी चूत में डाल दो. फिर एक दिन शीना भाभी के फोन में कुछ हो गया, तो उन्होंने अपना फ़ोन अपने 5 साल के बच्चे के हाथ भेजा और कहा कि मेरे फोन में कुछ हो गया है, आप ठीक कर दोगे क्या?मैंने कहा- ठीक है. मैंने मां से जानबूझ कर पूछा- मम्मी मैं बाजार जा रहा हूँ … आप आम लाने के लिए कह रही थीं.

देहाती नंगी फिल्मेंऔर यहाँ कोई नहीं इसलिये कोई नहीं देखेगा।फिर मैं भाभी को पकड़ कर उनके रसीले होंठ को चूमने लगा. चाचा की इस क्रिया से मम्मी बहुत ज्यादा गर्मा गईं और कामुक सिसकारियां निकालने लगीं ‘आंह नरेश आह क…क्या कर दिया है … आह मर गई आंह उह …’फिर चाचा ने मम्मी के पेटीकोट को थोड़ा और ऊपर उठा दिया.

ब्लू सेक्स वीडियो ब्लू

क्या मैं मामा के घर चला जाऊँ?मम्मी- नहीं, तेरी बोर्ड की परीक्षायें हैं, तू यहीं रह कर पढ़ाई कर!मैं- मम्मी, मैं आकर कोर्स कवर कर लूँगा. उस समय मुझे जो आनन्द आ रहा था, उसे शब्दों में बयान करना मुश्किल है. चूंकि ये बात गर्मी की है और उस समय गर्मी भी कुछ ज्यादा पड़ने लगी थी.

दूसरे दिन चाचा का फोन आया- कितने बजे की बस है?मैंने कहा- शाम सात बजे ऑफिस पर पहुंच जाना. पूरी योनि एकदम सफाचट थी पाव रोटी की तरह फूली हुई जैसे अनचुदी लड़कियों की होती है. एकदम दूध जैसा सफेद, कटीले चूचे … मैं शब्दों में बयां नहीं कर सकता … इतना कामुक नजारा था मेरे सामने!अब वो मेरे कपड़े उतारने लगी तो मेरा नाग फनफनाता हुआ उसके चेहरे पर टकराया.

हमें ज्यादा प्रतियोगियों की जरूरत थी, हमें इस प्रतियोगिता के लिए करीब 1000 लोग चाहिए थे, जबकि अभी हमारे पास केवल 500 फार्म भरे गए थे. मैंने अपनी चड्डी के अन्दर से ही अपने खड़े लंड को बहुत ही आराम से सहलाना शुरू किया और एक एक इंच आगे बढ़ाते हुए बुआ की गांड की दरार में छुला दिया. जब वो आयी तो मैंने जल्दी से मोबाइल बंद किया और पूछा- क्या हुआ … कुछ चाहिए?वो बोली- जी, नींद नहीं आ रही है इसलिए बाहर आ गई.

मैंने भी कहा- अभी तक ऐसा गड्डा मिला ही नहीं भाभी जी, जिससे मुझे चोट लग सके. बल्कि ये करने से हमारे बीच प्यार और बढ़ेगा और वैसे भी हम सगे भाई बहन तो है नहीं.

मेरे मायके में सारे नौकर मालकिन को बीवी जी कहते हैं। मुझे बुरचोदी बीवी जी कहो, छिनार चुदक्कड़ बीवी जी कहो, मुझे अच्छा लगेगा।यह सुनकर मेरा लण्ड साला आप से बाहर हो गया।वह फिर बोली- अच्छा मुझे सच सच बताओ कभी किसी की बुर चोदी है तुमने?मैंने कहा- नहीं मेम साहेब, मैं गरीब आदमी हूँ.

कमरे में पहुंचते ही रश्मि ने मुझे आंख मारी और बोली- कैसा लगा मेरा आइडिया?तब मेरी समझ में आया कि रश्मि एक्टिंग कर रही थी वरना मैं तो मान रहा था कि सच में रश्मि की तबियत ख़राब है. हिंदी सेक्सी भाभी वीडियोयहां न कोई हमें देखेगा और न किसी को पता चलेगा कि हम लोगों ने क्या किया. xnxx भाभीघर में बहुत से रिश्तेदार आये थे मगर ससुराल से मेरा कोई बहुत नाता नहीं था. ”मैं चुप रहा और धीरे धीरे उनकी चूचियों को मसलने लगा, उन्हें चूमने लगा.

मैंने उसकी गर्दन के बाद गाल को, होंठों को चूमा और उसकी एक चूची पर अपना मुँह रख दिया.

थोड़ी देर बाद मैं उठा और अपना लंड उसके दोनों बूब्स के बीच में घुमाने लगा. अब तक रानी के मुँह में लंड पेले हुए दोनों लड़कों का लंड झड़ चुका था और रानी इस वक्त अपनी चूत चुदाई का मजा ले रही थी. रवीना- इआआ आआह और जोर से परम … ईईई ईईआ आआआ आआउउ ऊऊ ऊफ आआआ … मजा आ रहा है.

आपने तो मुझे दुनिया को वो सुख दिया है, जिसके लिए मैं न जाने कब से तरस रही थी. मगर मैंने देखा कि उसके घर का गेट खुला और वो स्कूटी लेकर बाहर निकल गई. मैंने 3-4 बार लंड रगड़ा और वो हर बार गांड उठा कर लंड चुत में लेने की कोशिश करती रही.

xxx+वीडियो

बाथरूम में जाकर खुद को शॉवर के नीचे खड़ा करके नहाया और एक नई ब्रा पैंटी पहन कर बाहर कमरे में आ गया. अब रनिवास में कोई भी काम होता, तो व्यापारी अपने छोटे लड़के अशोक को भेजता. रात के 12 बज चुके थे और गोवा में हम दोनों एक दूसरे की बीवी चोदने का आनन्द ले रहे थे.

फिर मैंने उनको सलवार निकालने का इशारा किया तो उन्होंने शर्मा कर दोनों हाथों से अपना मुँह छुपा लिया.

मैंने लौड़े को निकाल कर तुरंत उसके मुँह पर रख कर चूत का रस मुँह में भर दिया.

मेरी बहन इतनी बड़ी चुदक्कड़ है कि कभी कभी तो लगता है कि मैं भी उसके ऊपर चढ़ जाऊं. अब मैंने उसको अपने लंड की तरफ मुँह करके बिठाया और उसकी पैंटी नीचे खींच कर उसकी गोरी गांड में नाक घुसेड़ दी. डब्ल्यूडब्ल्यूई की सेक्सवह रोने लगी और हाथ जोड़कर बोलने लगी- अंकल मुझे छोड़ दो, ये सब मुझसे नहीं होगा.

मेरी पत्नी ने साड़ी को हटाया, जिससे ब्लाउज के ऊपर से उसके दोनों बूब्स दिखने लगे. मैं भी अब मजा ले रहा था और वो भी!कुछ ही देर में उनकी चूत ने पानी छोड़ दिया. इधर नौकर ने आज तक अपनी बीवी को भले ही भूखी रखा हो, मगर हवेली की सारी नौकरानियों की चूत चोद चुका था.

उसने लाइट पीली कलर की सलवार और वाइट कलर की लैंगिंग्स पहनी थी और उसपर सफ़ेद दुपट्टा लिया हुआ था. पर मैंने सोचा कि अब अगर लंड निकाल लूंगा तो ये वापस नहीं डालने देगी.

मैंने जानबूझ कर अपना दूसरा स्तन भी बाहर निकाल लिया और पहला वाला अपने बेटे के मुँह से निकाल कर उसे दूसरे मम्मे से लगा दिया.

गांड लंड की कहानी में पढ़ें कि मैं मेरे मनपसंद लड़के के साथ गे सेक्स करना चाहता था. लेकिन उसकी ये चीख मेरे होंठों से दबी रह गई, उसकी आंखों से आंसू आने लगे और वो मुझे पीछे को धकेलने लगी. जैसे ही मैं घर गया, मुझे पता चला कि मेरे मम्मी पापा 5 दिनों के लिए बाहर जा रहे हैं.

सेक्स बीफ विडिओ ना तो नौकर को पता था कि बहू उसके लंड से चुदना चाहती है … और ना ही बहू को पता था कि आज उसकी कोख नौकर के बीज से हरी होने वाली है. उसने चूड़ियां पहनी हुई थीं तो वो जितनी तेजी से लंड हिला रही थी, उतनी जोर से छन छन की आवाज आ रही थी.

आंटी ने अपनी पतली रसीली जीभ मॉम के मुँह में डाल दी और गोल गोल घुमाने लगी. यह हरियाणा सेक्स कहानी तब की है जब मैं अपना डिप्लोमा करके अपने गांव में 2 साल बाद वापिस आया था।मेरे पड़ोस में एक निकिता नाम की एक लड़की रहती है, वह दिखने में बहुत ही सैक्सी है।मैं कभी उस पर ध्यान नहीं देता था।वो भी कॉलेज में बी. मुझे दर्द हुआ पर मैं बंधा हुआ लेटा रहा और अपने साथ सब कुछ होने दिया.

देहाती लड़की के साथ सेक्स वीडियो

’नैना मुस्कुराती हुई बोली- अन्नू जी, आप भी ना … फिर तो मैं भाग्यशाली हूँ कि कोई तो है, जो मुझे चाहता है, मेरी खूबसरती की प्रशंसा करता है. मैंने कहा- हां बोलो क्या बात है?बुआ बोलीं- अरे आराम से बैठ, तू अभी तो आया है. ऐसे ही किस करते हुए मैंने उसे उसके बेड पर पटक दिया और उसकी कुर्ती को ऊपर कर दिया.

मैंने भी सर को घुमा कर प्यार से ‘आई लव यू टू बेबी …’ कह कर जवाब दिया. कुछ दिनों तक तो मैंने बहुत बार सोचा कि घर चले जाना चाहिए, पर तभी कुछ ऐसा हुआ … जिससे मेरा मन हॉस्टल में लग गया और मुझे घर की याद नहीं आई.

उस X गर्ल ने कहा- गाल पर कौन किस करता है, करना है तो होंठों पर करो पागल, अपनी गर्लफ्रेंड को किस करने में भी शर्माते हो क्या, वो भी रूम के अन्दर?तब हम दोनों ने पहली बार लिपकिस किया.

फिर उन्होंने कहा- देखो भाई, ये सब बातें हम दोनों के बीच ही रहनी चाहिए, किसी को हॉट सिस फक स्टोरी का पता चला तो बदनामी हो जाएगी. दिल में खराब खराब ख्याल आए, तो मैंने मोबाइल पर सेड सॉन्ग सुनने शुरू कर दिए. अब मैं जल्दी से खाना खाकर बाहर निकल आया और कुछ दूर चलने पर मुझे प्रिया की मटकती हुई गांड दिख गई.

मेरे ऊपर अपने हाथ रखकर उसने मुझे अपनी बांहों में जकड़ लिया और मेरे मम्मों को जोर से दबाने लगा. जब वो गर्म हो गई तो मैंने अपने लंड को उसकी चूत पर लगाया और धीरे धीरे जोर डालने लगा. रात होते ही उसने सब खाना टेबल पर रख दिया और बोली- जीजू शुरू करें?मैंने भी कहा- हां … लो पैग उठाओ.

उनसे वीडियो कॉल करने से पहले मैंने उनसे उनके पति के बारे में पूछा तो उन्होंने बताया कि वो दारू पीकर धुत्त पड़े हैं और उनका रोज का यही काम है.

सेक्सी बीएफ आवाज में: तभी अब्दुल ने पीछे से मेरी मॉम की खुल हुई गांड में अपना मूसल ठांस दिया. चाचा ने हम सभी को पूरी बात बताई और पूछा कि तुम लोगों को तो इस शादी से कोई ऐतराज़ नहीं?हम तीनों ने भी समझदारी के साथ उन्हें कह दिया कि हमको किसी तरह का कोई ऐतराज नहीं है.

प्रियंका- साली, देख पूरा शहर खाली है सड़क पर नंगी भी घूमेगी न … तो भी दो चार लोग से ज्यादा कोई नहीं देख पाएंगे तुझे … समझी. फिर डॉक्टर ने उससे ब्लाउज खोलने के लिए कहा तो मेरी पैंट में सनसनी होने लगी. कल्पेश ने मीरा की हेल्प की और उसे टॉयलेट में लगे कमोड पर बैठा दिया.

उसकी चिकनी चूत और भरे हुए नंगे मम्मे उन तीनों को उत्तेजना के शिखर पर ले आई थी.

वो नीचे से अपनी गांड उठा कर लंड गप्प करने में लगी थी और मैं उसकी चुत की फांकों में सुपारा रगड़ कर मजा ले रहा था. मैं रिशांत जांगड़ा एक बार पुन: आपको अपनी मम्मी की चाचा जी के साथ दूसरी शादी की सुहागरात और वासना से भरी सेक्स कहानी सुनाने के लिए हाजिर हूँ. दूसरा हाथ मैंने उसकी गर्दन में डाला और अपने लंड को उसकी चुत पर सैट करके जैसे ही झटका मारा, लंड फिसल गया.