ओपन बीएफ देसी

छवि स्रोत,बीएफ सेक्सी क्लीप

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ ब्लू फिल्में: ओपन बीएफ देसी, भले उसके मुँह में पूरा नहीं समा रहा था पर जितना भी जा रहा था सिम्मी उसे प्यार से चूस रही थी.

दिखाइए वीडियो बीएफ

मैं घुटनों के बल बैठा था और उसकी कमर और पैंटी के ऊपर किस कर रहा था. बुर चोदा चोदी सेक्सी बीएफचुत चाटने से इतनी गीली हो गई थी कि मेरा लंड सरसराता हुआ अन्दर तक पूरा चला गया और मैंने अपनी बीवी के मुख से एक बनावटी सिसकारी महसूस की, पर शायद ये मेरा वहम हो.

राजू ने एक नाइटी की तरफ इशारा किया और सेल्समैन से कहा- भैया उस तरह की नाइटी दिखाओ ना. एकस एकस एकस बीएफएक अधिकार तुम्हारे पास है, अपना शरीर उस व्यक्ति को सौंपने का जिसे तुम प्यार करती हो.

उसकी सलवार को मैंने नीचे करके उसकी जांघों से निकालते हुए उसकी टांगों से पूरी तरह से निकाल दिया.ओपन बीएफ देसी: ”मेरे पास ऐसा क्या है, जो मैं आपको गिफ्ट कर सकूं?”तुम 19 साल की हो गई हो, बालिग हो.

भाभी अपने दांतों के नीचे अपने होंठों को दबाते हुए उनको काटने लगी थी.उन्हें इस तरह से हिलते देख कर मुझे मस्ती आ गई और मेरा लंड खड़ा हो गया.

स्कूल के बीएफ हिंदी - ओपन बीएफ देसी

कुछ देर बाद मैडम मेरे लंड पर पूरी तरह से बैठ गईं और अब जो उन्होंने लंड पर कूदना शुरू किया तो मैडम ने तो समझो पूरा सोफ़ा ही हिला डाला.मुझे अन्तर्वासना सेक्स स्टोरी साईट के बारे में अपने कॉलेज टाइम से पता है.

सोनिया ने आकाश की जांघों के बीच में मुंह रख लिया और उसके लंड को सहलाने लगी. ओपन बीएफ देसी हमने एक बिकनी खरीदी और एक नेट का सॉल्डरलेस नेट का मिडी या कहो नाइट ड्रेस जो सिर्फ पहनना था लेकिन वो कुछ छुपा नहीं सकता था.

मगर उनकी थिरकती गांड के कारण ब्रा की स्ट्रिप को बड़े ही मुश्किल से छिप पा रही थी.

ओपन बीएफ देसी?

उन्हें नन्हीं सी आयु से सेनेटरी पैड की जकड़न से मुक्ति और बिना किसी संकोच के नग्न विचरण का लाभ मिलता होगा. किशोरावस्था से युवावस्था में कदम रखते हुए मैं भी अन्य बालकों की भांति कामवासना और सम्भोग के विषय में आधी अधूरी जानकारी रखने लगा था. वो जोर जोर से चिल्ला रही थी- आह सनम … चोदो मुझे … आह ऐसे ही … आह ओह्ह.

इस सब धक्का मुक्की में मेरे शिथिल लिंग को धरातल की रगड़ लगने से जलन होने लगी. मनुषा की चूचियां भी बहुत ही सेक्सी लग रही थीं जो सुराज के सीने से दब गयी थी. आपको 18+ गर्ल की पहली बार चुदाई की कहानी कैसी लगी? मुझे जरूर बताना.

इस बार भाभी को लंड लेने में बड़ा मजा आया और मैंने भी मिशनरी पोज में उनकी चुदाई करते हुए उनकी चुत में अपना बीज बो दिया. एक बात और, लड़की और भाभियों की लिस्ट बनाना नहीं तो आप भूल जाओगे कि आपने कितनी आइटम लड़कियों भाभियों को पटाया है. पिला दे आज इसको अपने लंड का पानी …मैं भाभी की चुदाई को चरम पर ले जाने के नजरिये से पिल पड़ा और सात आठ धक्के मारने के बाद मैं भी उनकी चूत में फ्री हो गया.

मुझे कुछ होने लगा और मैं फोन बंद करके उसकी ओर मुड़ गई और अपनी गोरी नंगी टांग उसकी लात पर रख के अपने लात से उसका लंड दबा दिया. दुनिया में लोग आए दिन अपनी और दूसरों की माँ, बहन, बेटी, भाभी को दिन-रात मज़े से चोदते रहते हैं और एक मैं हूँ जिसे कोई भी लड़की घास नहीं डालती.

और फिर उसने तुम्हें बेड की तरफ धक्का दे दिया और तुम्हारे बूब्स को पागलों की तरह चूमने चाटने और चूसने लगा.

अगले दिन 10 बजे मेरी गर्लफ्रेंड की अम्मी रिज़वाना का फोन आया और उसने मुझे अपने घर बुलाया.

मैंने उनसे कहा कि जब आप यहां पर आ ही गयी हो तो यहां के तौर तरीके से रहना भी सीख लो. यह सिंदूर अभी इसी वक्त मेरी मांग में भर दीजिये और मुझे अपना बना लीजिये. उसने वैसा ही किया।मैंने आव देखा ना ताव … वासना की गर्मी से वशीभूत एक ही बार में पूरा लन्ड भाभी की चूत में डाल दिया.

और अपना लन्ड भी चुसाया और आंटी कीचूत चाटने का मजाभी लिया।वो कहानी अगली बार लिखूंगा।[emailprotected]. तभी एक दिन रेखा ने बताया कि दिशा का ग्रेजुएशन हो गया है और आगे की पढ़ाई के लिए बंगलौर के क्राइस्ट कॉलेज से कॉल आई है. ”मैं आपका अहसान कैसे उतार सकती हूँ? आप आदेश करें?”कैसे उतारना है? पूरी रात पड़ी है, जैसे चाहो उतार लो.

अगर मैंने घर की इज्जत को घर में ही रखा तो मैंने क्या गलत किया?आप लोग मुझे इसके बारे में अपने विचार जरूर बतायें.

सपना की बात पर मां ने कहा- क्या सुबूत है तुम्हारे पास, मैंने किसके साथ क्या किया है, बताओ जरा मुझे भी?सपना- मामा के लड़के राकेश के साथ, और एक नहीं, तुम्हारे तो तीन-तीन आशिक हैं मां. इसके बाद मैंने अपने कपड़े उतारे और अपने लण्ड पर कोल्ड क्रीम लगाकर मनीषा की टांगों के बीच आ गया. देर न करते हुए मैंने मम्मी की चूत में अपने होंठों को रख दिया और किस करने लगा.

वो बोली- साले के लिए मैंने क्या नहीं किया … हरामी कुत्ते के साथ मैंने दो बार सेक्स किया … उस मादरचोद का लंड मुँह में लिया. मनुषा को भी सुराज का लंड अपनी गांड पर लगवाने में बहुत मजा आ रहा था. इसका एक कारण ये भी था कि मेरा लंड बिना किसी रुकावट के अन्दर बाहर हो रहा था.

हम लोगों के पास चुदाई के लिए तीन ठिकाने थे, स्मृति का घर, मेरा घर और हमारी कार.

मेरी बीवी देखने में इतनी अधिक सेक्सी और आकर्षक है कि उसे देख कर किसी भी मर्द का लंड खड़ा हो जाए. लवली मुझे पकड़ कर मेरी चूचियों को दबाने लगी और इसके पापा भी मेरी चूत को चाटने लगे.

ओपन बीएफ देसी किशोर ने पद्माकर का लंड मेरी गांड में डाला और पद्माकर मुझे उठा उठा कर चोदने लगा. वो बोला- अच्छा ठीक है, अब तुम कहो तो आज का प्रोग्राम शुरू करें?इतना कह कर शिवम ने अपना अंडरवियर उतार कर मेरी बहन के हाथ में अपना लंड थमा दिया और सपना रिंकू के लंड को सहलाने लगी.

ओपन बीएफ देसी मैं दी के ऊपर लेट गया और किस करने लगा। साथ ही नीचे जोर से झटके देने लगा. फिजा तुम्हें चोट तो नहीं लगी?वो बोली- नहीं भाईजान, मैं बिल्कुल ठीक हूं.

वो जैसे बचने का बहाना करते हुए बोली- आपके यहां पर कुछ कपड़े और होंगे शायद.

लखनऊ चारबाग स्टेशन

”मेरी बात सुनकर रिशा ने कोई रिएक्शन नहीं दिया तो मैंने रिशा का टॉप और ब्रा उतार दी. मैंने पूछा- फिर ये चूतड़ लाल क्यों हो गये हैं?मां बोली- उसने चूतड़ों पर खूब चपत लगाई. मेरे घर से जाने के तीन दिन बाद के बाद मुझे एक अलग से नंबर से व्हाट्सैप मैसेज आया.

हाँ लेकिन अल्पना को मत बोलना!मैं- मैं क्यों बोलूंगी? तुम मेरे भी तो दोस्त हो. थोड़ी देर बाद मोनिका बेड पर गिर गई और पलट कर बोली- बस शिव और ज्यादा नहीं … अब तुम कोमल दीदी की चूत में डाल दो … उनकी प्यास भी बुझा दो. उसी को याद करते हुए हम दिन में खेलते हुए वैसे ही एक दूसरे की सूसू को चूसते थे और मज़े करते थे.

मैंने उस औरत की चुदाई कैसे की?दोस्तो, मैं अपने जीवन की सत्य घटना को कहानी का रूप देते हुए आप लोगों के बीच में प्रस्तुत कर रहा हूं.

इस एकत्रित हुए वीर्य और थूक के मिश्रण ने आहत हुए मेरे लिंग पर किसी मरहम का काम किया और जलन में राहत अनुभव हुई. आकाश भी मेरे चेहरे के भावों को देख कर समझने की कोशिश कर रहा था कि मुझे कितना अच्छा लग रहा है उसके साथ ये करने में. रीना के मुंह से आह ओआह हाँआह आह की आवाजें आ रही थी।फिर डेविड ने अपना लंड रीना के मुंह में डाल दिया.

तभी अन्दर से सुमन की आवाज आई- साहब तेल लाऊं क्या?पद्माकर- नहीं रानी, अन्दर डिब्बे में घी है … वो ले आओ. मैं खाने की टेबल पर गया और उससे बोला- तुम भी खा लो … मैं अकेला इतना खाना नहीं खा पाऊँगा. उसी रात उसने मुझे फोन करके पूरी बात बताई कि ये दवाई काम कर रही है और उसकी खुशी का ठिकाना ना था।एक दिन आसिफा और मैं मिलने बाहर गए हुए थे.

मैंने फिर उसको गोद में उठा लिया और उसको ले जाकर बिस्तर पर लिटा दिया. मैं समझ गया कि मम्मी जब खेत में जाती थी तो मैं और पापा लवली को रगड़ रगड़ कर खूब चोदा करते थे.

उसने पहले चड्डी के ऊपर से ही मेरे लंड को छूकर देखा।उसके चेहरे पर एक बड़ी आश्चर्य वाली मुस्कान थी क्योंकि उससे प्रेम प्यार करते मेरा लंड भी पूरा अकड़ चुका था।मेरे तने हुये लंड को देख कर वो बोली- आप तो पूरे तैयार हुए फिरते हो।मैंने कहा- हाँ तैयार तो रहना पड़ता है. अगले दिन शाम को उसका कॉल आया- आज रात आप मेरे घर आ सकते हैं क्या?मैं- हां आ तो सकता हूँ, पर क्या करने का इरादा है तुम्हारा?वो- करना क्या है यार … दोनों गप्पें लड़ाएंगे. अब आगे:भाभी बिस्तर पर एकदम नग्न पड़ी हुई ‘आ … उह … ओह गॉड … उम्ह … आह … फक मी.

तो मैंने बोला- बाहर निकलना!उसने लण्ड चूत से निकल लिया और मेरे पेट पर आना माल निकाल दिया.

अब मामी के सीत्कार भी तेज हो गये- आह्ह चोद भोसड़ी के… चोद दे बुरी तरह मुझे, आह्ह फाड़ मेरी चूत को, आह्ह ऐसे ही फाड़… चोद… और तेजी से चोद।मैं पूरी स्पीड में चोदने लगा और कुछ ही पल के बाद मामी मुझसे लिपटने लगी. भाभी ने जैसे ही हथियार हिलाते रह जाओगे कहा, मेरी आंखें खुली की खुली रह गईं. आलिया ने जान बूझ कर अपनी ब्रा और पैंटी को बाथरूम में ही छोड़ दिया था.

उस दिन के बाद से मैंने कई सेक्सी लड़की और कामुक भाभियों को पटाया है. मैंने उसका हाथ पकड़ा और उसे अपनी ओर खींच कर अपनी बांहों में भर लिया.

और वो थोड़ा नीचे हो गया।मैंने जीभ उसके छेद में डाल दी और चूसने लगी।रिशु मुँह से आवाज निकालने लगा।फिर वो ऊपर से हटा और मुझे घुमाया और मेरी चूत में अपना लण्ड डाल दिया. मां बाप के लिए अभी भाई-बहन रहेंगे जब तक कि सब कुछ ठीक नहीं हो जाता है. दरअसल पहले तो मैं सोचता था कि मेरी बहन की चूची मेरी मां की चूची पर ही गयी हैं.

रानी मुखर्जी की सेक्सी मूवी

नायरा- आज मैंने उसको मना कर दिया था … क्योंकि आज मैं आराम करना चाहती हूं.

आप मेरी डर्टी स्टोरी पर अपने कमेंट्स जरूर दें ताकि आपका फीडबैक हमें मिलता रहे. मुझे अपने कमेंट्स के जरिये बताना न भूलना कि आपको मेरी यह इन्सेस्ट सेक्स स्टोरी कैसी लगी. लवली इतना उत्तेजित हो गई थी कि उसने मुझे अपने ऊपर खींच लिया लेकिन मैं फिर नीचे चूत पर मुंह लगा कर चाटने लगा.

अगले दिन जब वो आई, तो मैंने उसे रूम में आते ही दरवाज़े से टिका दिया और उसे किस करने लगा. मैं मैडम के ऊपर चढ़ गया और अपना लौड़ा मैडम की चुत के अन्दर डाल कर धक्के लगाने शुरू कर दिए. सेक्सी बीएफ एचडी एक्स एक्स एक्सफिर मैंने मां की टांगों को चौड़ी किया और अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया.

कैसे?आप सभी दोस्तों को मेरा नमस्कार, मैं विकास राणा, अम्बाला का रहने वाला हूँ और अन्तर्वासना का काफ़ी पुराना पाठक हूँ. उसके बाद मैंने सपना को पेट के बल लिटा दिया और बहन की गांड में उंगली करने लगा.

तभी मैंने देखा कि मेरी भोली भाली बहन और एक लड़की के साथ बाहर निकली और बाहर खड़ी एक कार में कुछ लड़कों के साथ उसी कार के अन्दर जाकर बैठ गई. रीना उसके लंड पर बैठ गई और चुदने लगी। डेविड उसको उठा उठा कर चोदने लगा।अब ये सब देख कर मुझे भी मजा आने लगा और मैंने भी अपनी पैंट उतार दी और नंगा हो गया. बात आगे कैसे बढ़ी और वो मेरे नीचे कैसे आयी?लेखक की पिछली कहानी:ससुराल में मस्तीमूलतः मैं गाँव का रहने वाला था.

वो बाकी दिनों में तो 8 बजे के बाद ही घर पहुंच पाता था लेकिन आज वो 7 बजे ही घर आ गया था. आह क्या गजब का रूम था उसका … उसके रूम की टेबल पर केक रखा था, जिस पर कैंडल लगे हुए थे. मैं उसकी चुत चुदाई में इतना मशगूल हो गया था कि यह भूल गया कि जेनिफर की आवाज़ जैक को भी सुनाई दे रही होगी.

और जब मर्द का गर्म गाढ़ा वीर्य औरत की चूत के अंदर उसकी बच्चेदानी पर गिरता है.

मैं- तुम्हें तो कोई भी लड़का मना नहीं कर सकता है यार!वो- पता नहीं, शायद देर हो गयी है … क्योंकि अब मेरी शादी भी तय हो चुकी है. तभी बाथरूम से कुछ बदली हुई आवाज आने लगी वो जोर जोर से आह उह हम्म मम्म आहह की आवाज़ कर रहा था.

अब उसके हाथों की पकड़ उसके बूब्स पर पहले से ज्यादा कसी हुई मालूम हो रही थी. मुझे लग रहा था कि कब रात हो और मैं भाभी को पकड़ कर चुदाई चालू कर दूँ. रोहित ने आलिया की कमर में हाथ डाल लिये और उसके होंठों पर अपने होंठों को रख दिया.

वो जोर की आवाज निकालते हुए 5 मिनट बाद स्खलित हो गई और निढाल हो गई।मैं भी उसके बगल में लेट गया।भाभी के चेहरे पर संतुष्टि के भाव साफ नजर आ रहे थे।फिर वो उठी और मुझे चूमते हुए धन्यवाद कहा और बोली- अब मेरी बारी है तुम्हें खुश करने की।वो मेरे कपड़े मेरे शरीर के अंगों पर चूमते हुए निकालने लगी. मम्मी का बदन मेरी बीवी से भी गोरा था और उनकी चूचियां तो लवली के बूब्स से दोगुना थी साइज में. मैं वापिस बेड पर आ गया, तो वो मेरे लंड को देखने लगीं और उसके ऊपर अपना हाथ फेरने लगीं.

ओपन बीएफ देसी मैं उनकी चूत में मस्ती से ही चूमे जा रहा था कि मेरी नाक उनकी चूत को जोर से रगड़ने लगी. वैसे भी सेक्स का मज़ा आराम से और बिना किसी चिंता के लेना चाहिए ना कि जल्दबाजी में डर डर कर!सभी चीज़ों का ध्यान मैंने रखा था ताकि लाइव सेक्स चैट करतें समय कोई दिक्कत ना हो.

औरत और कुत्ते की सेक्सी वीडियो

जब तेरा बाप ही किसी और की चूत को चाट रहा है तो फिर उसको भी पता चलना चाहिए कि मैं भी किसी और का लंड मुंह में लेकर चूसती हूं. उसकी बात सुनकर मैंने कहा- क्या मैडम मेरे साथ भी सेक्स करेंगी?वो हंस कर बोला- तू अभी नया है इसलिए तेरे ऊपर अभी मैडम की नजर नहीं गई. अब हाल में केवल मैं और रिज़वाना बचे थे बाकी बच्चे स्कूल और आसिफा के अब्बू नौकरी पर गए थे।रिज़वाना ने पूछा- ये सब कब से चल रहा है?मैंने पूछा- आप किसकी बात कर रही हैं?तो उन्होंने गुस्से में तेज आवाज में फिर दोहराया.

सपना दीदी के रिंकू के लंड को मुंह में लेकर अंदर बाहर करना शुरू कर दिया. मेरा भाई अपना लंड अपनी बड़ी बहन की चूत में धकेलने लगा।अब यह अंदर चला गया तो मैंने उससे कहा- अब पूरी तरह से अंदर धकेल दो।उसने उसे पूरी तरह से धकेल दिया।अब मैंने उससे कहा- इसे बाहर निकालो और फिर से धक्का दे दो।उसने ऐसा किया. बीएफ शॉर्ट वालामुझे समझ आ गया था कि जब शादी के बाद अपने पति के रहते हुए मेरी बीवी किसी और मर्द के लंड से चुदने के लिए इतनी बेताब हो रही है तो फिर शादी से पहले तो इसने न जाने कितनों ही मर्दों से अपनी चूत चुदवाई होगी.

बेड पूरी तरह हिल रहा था।थोड़ी देर बाद दी को घोड़ी बना कर मैंने पीछे से फिर जोर का झटका दिया.

फिर मुझे पहली बार अच्छे से सेक्स करने का अवसर तब मिला, जब कॉलेज में एक लड़की मेरी गर्लफ्रेंड बनी. दीदी ने कहा- क्या हुआ शिव … कुछ भूल गए हो क्या?मैंने कहा- दीदी … मम्मी ने बोला कि आपको डॉक्टर के पास ले जाऊं.

आसिफ की मर्दाना बांहों में उसे भी वही मीठी मीठी और मदहोश कर देने वाली फीलिंग आ रही थी. सनी को कॉलेज में अच्छी चलती थी तो सोना और सनी कॉलेज में ही रूम में मिलने लगे जिसमें मैं और अल्पना उनको बाहर से देखते कि कोई अंदर न जाये. वो हंस दी और कहने लगी- तुमने बहुत अच्छा चोदा है मुझे … जब भी मन हो बोल देना, लेकिन मैं जानती हूं तुम अभी भी नहीं बोल पाओगे.

आपको कहानी अच्छी लगी हो तो लाइक कर दीजिए और अगर बहुत अच्छी लगी तो ई-मेल पर धन्यवाद ज़रूर भेजिएगा.

मैंने दी की चूत के अंदर ही अपना सारा माल निकाल दिया।माल के अंदर जाते ही दी को जो सुकून मिला, वो उनके मुस्कान से समझ आ गया।थोड़ी देर दोनों एक दूसरे को बांहों में लपटे रहे. हर धक्के पर उसका लिंग मेरे गुदा द्वार से होकर मेरे नितम्बों के मध्य खाई से नितम्बों को जबरन पाटते हुए मेरी कमर से बाहर आकर अपने लिंग मुख को जब दिखाता उस समय उसके अंडकोष मेरे गुदा द्वार को हल्के हल्के थपेड़े मारते. मैंने वहां के वॉचमैन से पूछा- मुझे काम वाली चाहिए … कोई हो तो बताओ.

भोजपुरी फिल्म बीएफभाभी दर्द से मज़े में ‘आह्हह आह्ह ऊ उह उहआह उहहह हहह ऐऐऐहह हम्मम’ करके आवाजें निकाले जा रही थी।मैं भी ऐसी आवाजें सुनकर बस चोदते हुए खोए जा रहा था. कुछ देर बाद ऐसे ही उसके चूचे दबाते और मसलते हुए, जब वो ज़्यादा गर्म हो गयी … तो मैं उसकी टी-शर्ट उतारने लगा.

चोदा चौदी

खुद ही अपने हाथ पीछे ले जाते हुए भाभी ने अपनी ब्रा का हुक खोल दिया … और कबूतर के तरह उनके चूचे उछल कर बाहर आ गए. इस बार ये हुआ कि माइक्रोसॉफ्ट कंपनी ने आसिफ को तीन महीने के लिए ट्रेनिंग के लिए अमेरिका में भेज दिया. जैसे ही मेरी उंगली भाभी की चूत में गई … तो उनके मुँह से एक गर्म आह निकल गई.

उस खेल में किसी के साथ कोने में छिपना और एक दूसरे के शरीर पर हाथ रगड़ना. मैंने झट से कहा- और उनकी साइज़ फिट हुई है?वो बोली- किसकी?मैंने कहा- तुमने और भी कुछ लिया था ना. पर मैं बेखोफ थी क्योंकि मेरे पास 2 रातें और थी उससे चुदने के लिए और उसको तैयार करने के लिए!उसके बाद मनु बाहर आकर सो गया और अगले दिन सुबह मैं अपने घर आ गई.

यह पहली बार था जब मैंने किसी औरत की चूत को अपनी आंखों के सामने इस तरह से नंगी देखा था. मैंने अपनी पहली सेक्स कहानीदोस्त की बहन मुझसे लव करती हैलिखी थी जिसके बाद बहुत से लोगों का मेल आया था. अब हम दोनों के बीच में वो सब बातें होने लगी थीं जो एक नॉर्मल ब्वायफ्रेंड और गर्लफ्रेंड के बीच में होती है.

मैंने छत के करीब जाकर देखा, तो एक खूबसूरत बला कपड़े सूखने डाल रही थी … और वो कोई और नहीं भाभी ही थीं. मैंने देखा रबर की बॉल थी, फटी हुई थी उसमें एक कागज था।तो वो बॉल मैंने रोहित के सामने अपने पॉकेट में रख ली.

उस वक़्त भाभी थोड़ी शर्मा रही थीं और उनके शरीर में अजब सी कंपकंपाहट महसूस हो रही थी.

भारत में भले ही लड़कियां लंड चूसने में ऐतराज करती होंगी, लेकिन पाश्चात्य संस्कृति में लंड चूसना एक जरूरी फोरप्ले है. घोड़ा कुत्ता के बीएफयह सुन कर मैं डर गया कि कौन है, जिसने मुझे उसके घर जाते या निकलते हुए देख लिया. बीएफ फिल्म चालू वीडियोमैंने दरवाजा खोला, तो एक 45-50 साल की उम्र की महिला मेरे सामने खड़ी थी. लवली अपनी पापा की बांहों में बैठी हुई थी और इसके पापा इसको किस कर रहे थे.

राजीव बोला- ठीक है … सुल्ताना इब्राहिम के हवाले कर दे और शबनम मेरे साथ कर दे.

मां बोली- ये गलत है, मैं अपने बेटे के साथ कैसे करवा सकती हूं?सपना बोली- राकेश, अनिल और सुनील भी तुम्हारे बेटे के जैसे ही हैं. अब मैं आपके लिए एक कहानी लेकर आया हूं जिसमें कहानी का किरदार ऐसा है कि उस हॉट गर्ल ने अपने भाई के दोस्त से पूरी प्लानिंग के साथ चुदाई करवाई वो भी उसको बताये बिना. मैं सुबह 9 बजे अपने ऑफिस में चला जाता था और शाम को करीब 7 बजे वापस लौट कर आता था.

वो हंस कर बोली- आज ही सुंदर दिख रही हूँ या मैं सुंदर हूँ ही?मैंने कहा- अरे यार क्यों खिंचाई कर रही हो … तुम वाकयी बहुत खूबसूरत हो. उसको देख कर ऐसा लगता था कि पीछे जरूर कोई अच्छी खासी फैमिली रह रही होगी. वो मेरी इस भाषा से उत्तेजित हो गईं और उन्होंने लिखा- तो पहली चोदाई में आपका लंड इतनी देर तक कैसे चल गया.

गुजराती सेक्स वार्ता

मैंने एक और झटका दिया … इस बार मेरा पूरा लंड भाभी की चूत की गहराइयों में उतर गया. पुरस्कार के रूप में मेरे हाथ में बाकी सभी मित्रों से ज्यादा पुस्तकें थीं और आज ही पढ़कर लौटाने की एक विवशता भी. थोड़ी ही देर में मां बहुत ज्यादा चुदासी हो गयी और दस मिनट की चुदाई के बाद मां की चूत ने पानी छोड़ दिया.

मैं झट से उन पर लपक पड़ा।ज़ाहरा की चूत में मेरा लंड ऐसे लग रहा था जैसे किसी भट्टी में हो.

मुझे ये भी बताना कि मेरी बीवी की खुल्लम खुल्ला चुदाई की सेक्स स्टोरी को पढ़ कर किस किस ने मुठ मारी और कितनी भाभी और आंटियों ने अपनी चूत में उंगली की!मेरा ईमेल आईडी है[emailprotected]लेखक की पिछली कहानी:मेरी पत्नी सुहागरात को अक्षतयौवना थी या नहीं.

फिर उन्होंने मेरे सिर को अपनी गोद में रख लिया और मेरे बालों में हाथ फिराने लगी. उसकी चुत पर हल्के बाल थे और उसकी चुत एकदम गुलाब की पंखुड़ियों के जैसे पिंक थी. बीएफ वीडियो चलने वाला सेक्सीलंड और चूत ये दो ऐसे अंग हैं जो एक दूसरे की झलक भर भी पा लें तो तुरंत मचलने लगते हैं.

मैंने उसको किस किया और नीचे लंड पर इशारा करते हुए उसको लंड मुँह में लेने को कहा. हम तीनों इस छोटे से कमरे में कैसे सोयेंगे?आकाश बोला- मां, मैं ऊपर सो जाऊंगा और आप दोनों नीचे सो जाना. वो बोली- तुमने 20 साल बाद मुझे वो सुख दिया है, जो मैं न जाने कब से खोज रही थी.

वह मदद के बाद एक बार फिर सेजल के पास गया लेकिन सेजल ने उसको बहुत सुनाया और उसे बोला कि चुपचाप उसके पैसे वापस करें वरना बहुत बुरा हश्र होगा. मेरी गर्लफ्रैंड है पर हम चुम्मा चाटी के अलावा कुछ कर नहीं पाए। गाँव गया तो ताऊ की बहू यानि चचेरी भाभी से मेरी दोस्ती हो गयी.

बहन को मैंने पहले ही पीछे वाले कमरे में भेज दिया था जहां पर वो शिवम और रिंकू के साथ में चुदती थी.

10-15 मिनट तक उसने दीदी की गांड फाड़ी और फिर दीदी की गांड में ही झड़ गया. लंड जब उसकी चूत में अंदर तक घुस चुका तो उसकी चूत फैल गयी और मेरा लंड उसकी चूत में फंस गया. काफी बात करने के बाद उसका बच्चा पैदा करवाने के लिए हम लोग राजी हो गए और देखभाल की सब जिम्मेदारी पूजा पर आ गयी.

बीएफ वीडियो में देहाती बीएफ फिर वो लड़की जिसका नाम नाज़िमा था, मेरी टांगों पर बैठ कर मुझे किस करने लगी. उसकी टांगें फैली हुई थीं और वो मेरे सामने चूत खोल कर उसमें मेरी उंगली के अंदर बाहर होने का मजा ले रही थी.

भाभी के पास से आने के बाद मैं उनकी इन बातों को भूल गया और सामान्य जीवन बिताने लगा. मुझे अपने बचपन में घर के बड़ों द्वारा की गयी मालिश की अनुभूति होने लगी. वो किसी ना किसी तरह से मेरे जवान गर्म बदन को छूता रहता।10 दिन में मैं सीख गई।फिर उसने पूछा- अब प्रोफेशनल सीखना है या नहीं?मैंने कहा- हां क्यों नहीं!तो उसने कहा- कल प्रोफ़ेशनल सिखाऊँगा। पर कपड़े प्रोफ़ेशनल वाले पहनकर आने होंगे।मैंने पूछा- वो क्या होते हैं?उसने कहा- इंग्लिश मूवी नहीं देखती क्या?मैंने कहा- देखती हूं.

इंदौर शहर देखना है

चुत चाटने से इतनी गीली हो गई थी कि मेरा लंड सरसराता हुआ अन्दर तक पूरा चला गया और मैंने अपनी बीवी के मुख से एक बनावटी सिसकारी महसूस की, पर शायद ये मेरा वहम हो. बाप रे … क्या लड़की है।मैंने फिर से सिम्मी की चूत पर अपना लंड सेट किया और सिम्मी को जोर-जोर से चोदने लगा. सुधा, मेरी सासू मां ने मुझसे कहा- आशीष, तुम्हारी मां ये सब कुछ गुस्से में आकर कर रही है.

उसके बाद सुराज ने उसको अपनी मजबूत बाजुओं में उठाया और उसको बेड की ओर ले गया. मैंने कहा- दीदी वो सुबह आपके घर क्यों आ गई थी?दीदी बोलीं- मैंने सोचा आज तुम तो स्कूल जाओगे और इधर मेरी चूत में खुजली हो रही थी.

गुरी ने अपना काम शुरू किया लेकिन थोड़े वक्त बाद ही उसे वह काम बंद करना पड़ गया.

कुछ देर बाद विवेक ने एक कंडोम पैकेट निकल कर अपने लण्ड पर चढ़ाया और अपना की चूत पर घिसने लगा. तभी मोनिका वहीं बेड पर आ गई … तो मैंने उसको बांहों में खींच लिया और उसकी गर्दन पर चूमने लगा. मैंने कहा- आंटी आपको मेरी मां के सामने बात करने की क्या जरूरत थी?वो बोली- क्यों, मैंने क्या गलत किया?मैंने कहा- मुझे आपसे अकेले में बात करनी थी, घरवालों के सामने नहीं.

मुझे भी चुत लिए एक महीने से ज्यादा वक्त हो गया था, तो मैंने हां कर दिया. मेरे कई बार कहने पर भी उसने लंड को मुंह में लेने के लिए हामी नहीं भरी. मैंने पूछा- बताइये भैया, मुझे क्या करना होगा?विपिन भैया बोले- तुम्हें कुछ नहीं करना है.

मेरी शादी को एक साल हो चुका है। जब मेरी शादी हुई तो मेरे हस्बैंड ने मुझे सुहागरात वाले दिन 5 बार चोदा था। मुझे भी उस रात बहुत मजा आया था।मेरे हस्बैंड और मैं खूब सेक्स करने लगे.

ओपन बीएफ देसी: जिसे देखकर मुझे हँसी आई और मुझे लगने लगा था कि आज अल्पना से पहले शायद ये मेरी चूत में होगा. लेकिन शुभम पहले ही चाची को 3 बार कर चुका था तो उसने कहा- कल करेंगे!और मैं मान गयी।अगले दिन मैं सुबह ही शुभम के नहाते वक्त बाथरूम में घुस गई हमने वहाँ भी चुदाई की।तो यह रही मेरी इस बार की होली की चुदाई स्टोरी! आप लोग मेरी सेक्स कहानी पढ़ कर मुझे तारीफ़ भरे ईमेल करते हैं.

मैंने कहा- आज कोई ख़ास काम करवाना है क्या?भाभी बोली- जब तुम्हें सब मालूम है, तो क्यों पूछ रहे हो. इसलिए मैं भी इस नये समाज के साथ अपने आप को जोड़ने की कोशिश कर रही थी लेकिन कभी कभी अपने किये फैसले से परेशान हो जाती हूं. अंदर जाकर मैंने लंड को धोया और सोचने लगा कि मां के सामने कैसे जाऊं.

मैं अब सोच रहा था कि कैसे रिंकू सिंह और शिवम सिंह मेरी बहन के संगमरमर जैसे जिस्म के मजे इतने दिनों से लूट रहे थे.

कुछ दूर जाने के बाद मैंने गाड़ी को रोका, तो भाभी आगे वाली सीट पर आकर बैठ गई. मगर मैं नहीं जानता था कि उसकी मोटी चूची के साइज का राज उसके ये यार हैं. रात को 8 बजे मैं फिर से ड्यूटी पर गया, तो मुझे पता चला कि घर में कोई नहीं है.