बीएफ इंडियन हिंदी बीएफ

छवि स्रोत,बेल की सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

चोदते हुए वीडियो दिखाओ: बीएफ इंडियन हिंदी बीएफ, शर्ट काफी खुल गई थी जिससे मेरे काफी गहरी क्लीवेज साफ़ दिख रही थी और ब्रा न पहने होने की वजह से मेरे निप्पल्स एकदम खड़े और साफ दिख रहे थे.

ढोलकी सेक्सी व्हिडिओ

बस इतनी सी थी मेरी कहानी!मैं आज भी उस दिन को याद करता हूँ तो लंड उफान पर आ जाता है।ट्रेन Xxx कहानी पर अपने सुझाव जरूर दें. सेक्सी वीडियो 15 साल लड़कियों कीफिर उसके बाद मैंने निधि से कहा- मेरा होने वाला है!तो उन्होंने बोला- आप मेरी चूत में ही डाल दो!लगभग 15-20 झटकों के बाद मेरा छूट गया.

अब तक उनका नशा उतर चुका था तो जैसे ही मेरे भाई ने मुझे जाना, वो मेरे ऊपर से उतर गए. सेक्सी सेक्सी और सेक्सीसाफ़ समझ आ रहा था कि मेरे आने से कुछ पहले ही उन्होंने अपनी चूत को चिकनी चमेली बना कर साफ की होगी.

बड़ी देर तक हमने एक दूसरे को अच्छी चूसा, चबाया और आख़िरकार एक दूसरे का अपनी जवानी पिलाकर, नहा धोकर फिर से तैयार हो गए.बीएफ इंडियन हिंदी बीएफ: रेशमा- वो तो समय ही बताएगा कि आज कौन पछताता है और कौन नहीं पाटिल जी.

मेरी दाढ़ी भर के नहीं आती इसलिए क्लीन शेव करके बिल्कुल चिकना रहता हूँ.आंटी ने मेरा हाथ अपनी चूचियों पर रख दिया और बोलीं- राज, अब शुरू हो जाओ.

सेक्सी सेक्सी ब्लू फिल्म पिक्चर - बीएफ इंडियन हिंदी बीएफ

लगभग दस मिनट के बाद भाभी का शरीर ऐंठने लगा और वो भैया के मुँह में झड़ गईं.उस दिन के बाद आज भी जब भी हमें समय मिलता है, मैं जयपुर जाकर या वो यहां आकर मुझसे खूब जमकर चुदाई करवाती हैं और हम सब खूब मजे करते हैं.

ये सुनकर मैंने अपने दोनों हाथों से उसकी पीठ और गांड को सहलाते हुए कहा- अच्छा तो ये बात है नीता. बीएफ इंडियन हिंदी बीएफ [emailprotected]सपना भाभी हिंदी कहानी का अगला भाग:पड़ोसन भाभी ने मुझे पटाकर चूत मरवाई- 2.

मेघना ने बॉस का लंड अपने होंठों पर लगाया और सुपाड़े को बाहर निकाल कर जीभ से चाटने लगी.

बीएफ इंडियन हिंदी बीएफ?

बीच बीच में मैं उसके निप्पल को दांत से काट देता, तब वो ‘उइ माँ …’ बोल कर मेरे सर को सहला देती. मैंने अपना लंड उसकी चूत पर टिकाया और एक ही बार में पूरा लौड़ा चूत में डाल दिया. तो उन्होंने बोला- आप कल आकर अपना एग्जामिनेशन फॉर्म भर दो वरना आप एग्जाम में नहीं बैठ सकेंगी.

मैंने आगे पूछा- पर अचानक क्यों?वो बोलीं- यार, पूरा बदन पसीने से भीग गया है. हम दोनों ने अपनी रफ़्तार बढ़ा दी और थप थप की आवाज़ से लंड अन्दर बाहर अन्दर बाहर करने लगा. अब मैं नीचे आयी तो मम्मी बोलीं- क्या हुआ?मैंने उनसे झूठ कह दिया- सर बोल रहे हैं कि फॉर्म भरना आज ही ज़रूरी है.

जब मैं कुछ नहीं बोली तो उन्होंने मेरे हाथ पकड़े पकड़े अपने होंठ मेरे होठों पर रख दिए और किस करने लगे. रेशमा की पीठ पर अपना हाथ रख कर और मैंने पाटिल जी को रूकने का इशारा किया. मेरी भाभी का गेंहुआ रंग, बड़ी चूचियां यही कोई 34″ साइज की हैं वो खुद अपने ब्लाउज और बाकी कपड़े सिलती हैं।बड़ी गांड के साथ जब वो इधर उधर काम करती हैं तो उनका बदन देखकर कोई भी उन्हें चोदने का सपना देखने लगेगा.

पूनम आगे आकर घुटनों के बल बैठ गई और उसने मेरी पैंट को अंडरवियर के साथ ही उतार दिया. कुछ तो उसने मुँह से निकाल दिया लेकिन ज्यादातर पानी उसको पीना पड़ गया.

कुछ देर बाद मैंने ललिता भाभी को घोड़ी बनाया और पीछे से लौड़ा पेल कर उन्हें चोदने लगा.

मैंने चाचा के रूम का दरवाजा खटखटाया लेकिन उन्होंने दरवाजा नहीं खोला.

वैसे मैंने कहानियों में पढ़ा था कि भाई बहन के बीच में भी चुदाई होती है पर तब तक मेरे मन में ऐसा कोई ख्याल नहीं आया था. दोस्तो, मैं लंड खड़े कर देने वाली सेक्स कहानी सुनाकर लड़कियों और भाभियों को चूत टपकाने का काम करने वाला आपका अरुण, एक बार फिर से हाजिर हूँ. कुछ ही देर बाद वो झड़ गई लेकिन मेरा काम नहीं हुआ था इसलिए मैं लगा रहा.

आज के इस सीन से एक बात तो साफ़ हो गई थी कि डैड, मॉम की प्यास सही से नहीं बुझा पाते हैं. पहले मैंने उसके एक निप्पल को अपने मुँह में भर लिया और दूसरे निप्पल को चुटकी से मसलने लगा. उसकी मॉम का नाम शिल्पा है, उम्र 40 साल, एकदम गोरी, भरा हुआ जिस्म और 34-28-36 का मदमस्त फिगर है.

मजे की बात तो ये हुई कि हम दोनों अगल बगल में खड़े होकर बात कर रहे थे.

नमस्कार दोस्तो, मैं रवि किशन, सेक्स कहानी के तीसरे और अंतिम भाग में आप सभी का स्वागत करता हूं. सोनी ने अपनी सलवार उतार दी और पैंटी भी घुटनों तक उतार कर वो बेड पर हाथ रख कर घोड़ी बन गई. मुझे वापस से बुखार चढ़ गया था, कुछ कमजोरी भी लगने लगी थी मगर बदन हल्का हो गया था.

एक बार को तो मैं डर गया लेकिन सुबह की बात याद करके मैं वैसे ही पड़ा रहा. ललिता भाभी आज किसी पोर्नस्टार की तरह मस्ती में चुदाई का पूरा मज़ा ले रही थी. आपको मेरी ये दास्तान कैसी लग रही है आप मुझे अपने मेल और कमेंट्स से बताएं.

अब मैंने उसकी पैंटी उतार दी और उसकी चूत को देखा, तो लगा जैसे एक फूली हुई पावरोटी हो.

मैंने जोर लगा कर शॉट मारा तो वो आंटी कीरिसती हुई चूतके अन्दर उसे फाड़ता हुआ घुस गया. रेशमा की आंखों में देखते हुए मैंने कहा- तेरी मां का भोसड़ा चोदूं साली रांड, बड़ी आग है ना तेरे भोसड़े में कुतिया? आज देख, कैसे तेरी उस चूत और गांड का छेद बड़ा करके भेजूंगा तुझे तेरे उस नामर्द शौहर के पास … रंडी साली.

बीएफ इंडियन हिंदी बीएफ बड़ी बहन Xxx कहानी में पढ़ें कि मेरा आपा को जब पता लगा कि मेरी गर्लफ्रेंड से ब्रेकअप के बाद मुझे चूत नहीं मिल रही है तो उन्होंने मुझे अपनी चूत पेश कर दी. मैंने लंड बाहर निकाल लिया और ललिता भाभी को सीधा लिटा दिया, उनके ऊपर चढ़कर चोदने लगा और दोनों चूचियों को बारी बारी से चूसने लगा.

बीएफ इंडियन हिंदी बीएफ फिर एकाएक ससुर जी ने अपनी रफ्तार काफी तेज कर दी और मेरे अन्दर ही झड़ गए. आज तक मैंने जिसे भी चोदा है, वो पूरा मजा लेकर चरमसीमा पर अवश्य पहुंचती है.

कुल मिलाकर शेखर के होश उड़ाने के लिए धारा का ये रूप काफ़ी साबित हो रहा था.

भाई सेक्सी वीडियो

भाई का लंड काफी मोटा था जबकि मेरे पति का लंड भाई के मुकाबले आधा भी नहीं था. मुझे लगा शायद ये आज किसी रंडी को चोदने आया है, पर मुझे क्यों लाया है. अब मेरी आंखों सामने देसी गर्लफ्रेंड सोनी की गेहुआं रंग की पुष्ट जांघें थीं और जांघों के जोड़ पर छोटे छोटे काले बाल थे.

भाभी भी काफी मजाकिया थी, उन्हें मैं रोजाना बाजार से लाकर कुछ न कुछ खाने की चीज देता रहता था. मेरे अन्दर घुसते ही उसने अपना मुँह मेरे मुँह पर रख दिया और उसका हाथ सीधे मेरी चूत पर आ गया. देसी गर्ल सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे लड़की जवान हुई तो उसकी जवानी की उमंग में सेक्स करने की इच्छा भी बलवती होने लगी.

ऊपर से लॅपटॉप की गर्मी … मेरा खुद पे कंट्रोल करना मुश्किल हो रहा था.

उन्होंने मेरे हुस्न की तारीफ की और मैंने भी उनके मसल्स और दाढ़ी की तारीफ की. मैंने एक हाथ से देविका की साड़ी कमर तक उठा दी और उसकी गद्देदार जांघें सहलाने लगा. मैंने कहा- हां अब आई न लाइन पर!वो बोली- लाइन पर ले लिया तो सरपट दौड़ लगाओ न साब जी.

मैंने ललिता को उठाकर बिस्तर के किनारे लिटा दिया और उसकी एक टांग अपने कंधे पर रख कर चोदने लगा. मिहिरा से मैंने कहा- ठीक है, तुम भले ही मेरा लंड मत चूसो … पर मुझे तो तुम्हें जन्नत का मज़ा देने दो. कोमल- बताओ न यार!मैं- आपके दूध का निप्पल!कोमल- अच्छा उधर तक देख लिया.

उसी समय भाई ने फिर से ताकत लगाई और उनका लंड बहुत जोर से अन्दर घुसता चला गया. ’मैंने कहा- हां बेबी … मेरा भी होने वाला है आह रानी और अन्दर ले लो आह.

मैंने ब्लाउज और ब्रा को उतार दिया और भाभी की कमर पकड़ कर अपनी जीभ को दोनों चुचियों के बीच फेरता हुआ भाभी के पेट पर फेरने लगा. पूरा रूम जोर जोर की सिसकारियां से भर गया।कुछ ही देर की चुदाई में सोनम भी झड़ गई, मैं भी उत्तेजना में आ गया था।मैं अपना लंड फिर श्वेता की चूत में डाल कर चोदने लगा. अगर आप लोगों का प्यार मिलेगा तो मैं इसके और भी भाग लिखने चाहूंगा जिसमें इस सेक्स कल्चर की कल्पना को आपकी सोच की सीमाओं के पार ले जाऊंगा क्योंकि मैं चाहता हूँ कि इसमें मेरी शादीशुदा बहन को भी शामिल किया जाए.

कैब में भी रेशमा मुझे ऐसे चिपक कर बैठी थी, जैसे मैं सच में उसका पति हूँ और मैंने भी उसकी भावना का सम्मान करते हुए उसे अपना हाथ सौंप दिया.

इससे हमारे बीच आपसी घनिष्ठता बढ़ने लगी और हम दोनों का मन कुछ हल्का होना सा महसूस हुआ. फिर एक जोरदार धक्का दिया तो लंड चूत की दीवारों को चीरकर आधे से अधिक अन्दर घुस गया. रेशमा ने भी मेरी बात को समझते हुए अपनी आंखें बंद कर ली और चुपचाप बिस्तर पर अपना सर रख कर लेट गयी.

दूध पीने के बाद मैंने भाभी को अपने बाजू में लिटा लिया और अपना फोन उठा कर उसमें एक सेक्सी मूवी लगा दी. अब आगे न्यू गांड की चुदाई:हम दोनों नंगे होकर एक दूसरे के साथ बहुत प्यार कर रहे थे.

उन्होंने झट से अपना मुँह खोला और मेरा लंड अपने मुँह में लेकर चूसने लगीं. मैंने उनकी नाक दबाई और उनके मुँह में फूंक मारी तो भाभी छटपटाने लगीं और गाली देने लगीं. मैंने उसे बताया, तो वो चुपचाप जाकर तेल की शीशी उठा कर बिस्तर पर आ गई.

दर्प बॉस मटका कॉम

उसके बड़े बड़े दूध, बाल छोटे और गांड तो पूछो ही मत!पता नहीं कैसे उसकी पैंटी उसकी चूत को संभाल रही होगी.

पैंटी के ऊपर से चूत के भगनासे से खेलना थोड़ा मुश्किल हो रहा था इसलिए मैंने अपना हाथ सोनी के सलवार से निकाल कर उसके पेट पर रख दिया. इतने में मौसी ने मेरा लंड पकड़कर मेरी मॉम के सामने मुझे खड़ा कर दिया और बोलीं- एक बार चूसकर देख बहना, तेरे लड़के का लंड कितना रसीला है. उसने अपने हाथ मेरे गाउन में घुसा कर मेरे दूध पकड़ लिए और उन्हें बेदर्दी से मसलने लगा.

पता नहीं कितना स्टेमिना था उसक अन्दर!वो तो झटके मारे जा रहा था, कमरे में फच फच की आवाजें आ रही थीं. अभी तक हम दोनों ने कभी भी एक दूसरे को गलत इरादे से देखा ही नहीं था. हिंदी सेक्सी बीपी भोजपुरीमैं भी मॉम को किस करते करते उनकी चूचियों को मसलने लगा और मैंने जोश में आकर मॉम के होंठों को काट दिया.

कभी उसे दांतों से दबा लेती तो कभी उसके छेद में जीभ को नुकीला करके मनीष को तड़पा रही थी. मैंने उससे कहा- क्या हुआ रूपा, बड़ी खुश दिख रही है?वो मुझे चूमती रही और बताती रही कि इस बीच उसकी चार लोगों ने चोदा था, मगर उसे आपके प्यार से चोदने की अदा बेहद भा गई थी.

मैंने उससे साथ चलने के लिए पूछा और वो मान गई क्योंकि वो इस गांव में किसी को जानती भी नहीं थी. मिहिरा- क्यों, मुझे भगा रहे हो क्या?मैंने मिहिरा को टालने की बहुत कोशिश की पर उसको मेरे साथ ही देखनी थी. रेशमा ने अपना एक हाथ पाटिल जी के छाती पर ऱखा था और दूसरे हाथ से अपने बाल, जिनको मैं खींच रहा था, उनको छुड़ाने की कोशिश कर रही थी.

वो बोलीं- हरामी थोड़ी आराम से चोद ले साले मादरचोद … मैं कोई बाजारू रंडी नहीं हूं, तेरी सगी मां हूं. मेरा लंड अब अंदर ही हिलने लगा।भाभी बोली- ये तंबू क्यों लगा दिया?मैंने कहा- ये आपकी ही देन है।उन्होंने कहा- अच्छा!और हंस दी. लेकिन मैं जाकर क्या देखता हूं कि प्रिया कमरे में नंगी बैठी है, 5 लड़के वहां पर अपना लन्ड लेकर खड़े हुए हैं और प्रिया बारी-बारी से सबको चूसे जा रही है और शायद उसने वहां चुदने की तैयारी भी कर रखी थी क्योंकि उन लड़कों को देखकर ऐसा ही लगता था.

वहीं लेटे हुए मैंने गोपू को फोन लगाया और उसे शाम को आने के लिए मना कर दिया.

दोस्तो, मैं आप का अपना राहुल एक बार फिर से आप के सामने एक नई कहानी लेकर आया हूं। यह भाभी की फ्री पोर्न सेक्स कहानी 100% सही है।बात आज से 1 साल पहले की है। मैं घर पर बैठा बैठा बोर हो रहा था. साबिरा- ओफ़्फ़्फ़ो नामुराद कैसा कमीना है साला … देखो मानस जी, कुत्ते ने ये क्या पहन रखा है.

उसको अहसास हो गया कि मैं जग रही हूं पर वो कुछ नहीं बोला; जोर जोर से धक्के देता रहा और मुझे चोदता रहा. गीता अपने आपको रोक ना सकी और उसकी चूत ने ढेर सारा गर्म चुतरस छोड़ दिया था. उसकी चूत बहुत कसी हुई थी क्योंकि बेटी ऑपरेशन से हुई थी और बहुत महीनों से उसके पति ने भी उसे नहीं चोदा था.

पूनम ने मेरे लंड को पकड़ लिया और नीचे ज़मीन पर लगे हुए बिस्तर पर मुझे धकेल कर लिटा दिया. आज मैं इतना चीख रही थी, जितना मैं अपनी पिछली दस साल की शादीशुदा जिंदगी में नहीं चीखी थी. फिर मौसी बोलीं- क्या हुआ … आ जा मेरे ऊपर!मैंने धीरे से कहा- मॉम खड़ी हैं, वो हमें देख रही हैं.

बीएफ इंडियन हिंदी बीएफ मैं दोनों हाथों से उसके बड़े बड़े चूतड़ों को थाम कर उसे अपने लंड पर उछालने लगा. वो बोलीं- क्या मैं इतनी खूबसूरत हूँ?मैंने कहा- गांव में किसी से भी पूछ लो?भाभी हंस कर बोलीं- तो अब आगे का क्या विचार है मेरे देवर जी?मैंने कहा- विचार तो बहुत ही नेक हैं … पर आपका डर लग रहा है.

पेट में कीड़े

तभी मैंने उनके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और उनकी गर्म सांसों को महसूस करने लगा. मैंने भाभी को बेड पर लिटाया और उनकी बहन से अपनी चूत को भाभी के मुँह पर रखने को कहा. दूसरे आशिक से लड़ाई तीन महीने में ही हो गई थी। दूसरा आशिक मुझसे 3 साल छोटा था और उसे लगता था कि मैं उसकी गर्ल फ्रेंड हूं, उसकी जागीर।उसकी इस तंद्रा को मैंने जल्द ही छिन्न भिन्न कर दिया।अब जिस्म की प्यास बढ़ने लगी थी.

मैं उन्हें चूसते हुए साथ में अपने दांतों से हल्का सा काट भी देता था. उसने भी समय न लगाते हुए मेरी नाभि में उंगली कर दी, जिससे एकाएक मेरी हल्की सी कराह निकल गयी. मारवाड़ी सेक्सी चुदाई सेक्सी वीडियोअन्तर्वासना पर यह मेरी पहली सेक्स कहानी है इसलिए कुछ गलतियां हो जाना स्वाभाविक है, अत: पहले ही आपसे माफी की गुजारिश है.

लगभग एक पैग के बराबर शराब अपने लन्ड पर डाल दी थी जो निधि आराम से पी गई.

पर उस ख़ामोशी को तोड़ना भी जरूरी था क्यूंकि अब बात सिर्फ पैसों की नहीं थी बल्कि विश्वास की थी, जो रेशमा ने मुझ पर दिखाया था. फिर उन्होंने मुझे अपने ऊपर चढ़ने को बोला और मेरे लौड़े को अपनी चिकनी गर्म चूत पर रखकर बोलीं- तनु जोर से धक्का मारो.

दोस्तो, यह मेरी और मेरी सगी मां की एक सच्ची सेक्स कहानी है जिसे मैं अपने अन्तर्वासना के एक दोस्त के माध्यम से आपके पास पहुंचा रहा हूं. पैर पकड़कर और उसकी दोनों टांगों को अपने कंधे पर रखकर मैं उसकी चूत का रसपान करने लगा. उसके इस तरह से लंड चूसने से मेरा लंड पूरी तरह से खड़ा हो गया और चुदाई के लिए पूरी तरह से तैयार हो गया.

मैंने अपने भी कपड़े उतारे, मिहिरा अब मेरे निप्पल चूस रही थी मुझे गुदगुदी हो रही थी और मज़ा भी आ रहा था.

मैं सोच रहा था कि आज जो होना है, जल्दी हो जाए और मैं हॉस्टल निकलूं. जैसे ही उसको आभास हुआ कि मेरी आंख खुल गयी हैं तो उसने झट से मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए. साबिरा मेरी आंखों में देखती हुई बोली- उफ्फ मानस जी, इस गांडू से क्या पूछ रहे हो? कब से तड़प रही हूँ चुदने के लिए, घुसा दो ना अन्दर जल्दी!मैंने थोड़ा ऊपर होते हुए लौड़े को साबिरा की चूत से दूर किया और शिराज को पास बुलाया.

एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियो दिखलाइएआमतौर पर मैं कसरत करने जिम जाता था पर लॉकडाउन में घर में छत पर कसरत करने लगा था. उन्होंने मुझे घुटनों के बल बिठाया और अन्दर गले तक अपना लंड ठूंस दिया.

हिंदी ऑडियो सेक्सी वीडियो

उसकी दोनों चुचियां मसलने लगा तो देविका बोली- आंह हर्षद बहुत दर्द हो रहा है. पर पता नहीं कैसे मुझे गहरी नींद आ गई और जब उठा तो हमारे स्कूल की छुट्टी का टाइम हो चुका था. खाली डिब्बी जमीन पर फैंक कर अब मैंने अपना लंड गांड के छेद पर रखा और रेशमा को दर्द न हो, इस हिसाब से दबाव बढ़ाने लगा.

कुछ ही मिनट में ही उसको चरम सुख की प्राप्ति होने लगी और उसकी चूत से पानी बाहर बहने लगा. हम दोनों रात के अंधेरे में धीरे-धीरे बातें कर रहे थे और सिगरेट पी रहे थे. उसके बदन पर कसी ड्रेस देख कर राह चलते लोग भी उसकी गांड को देख कर उसकी जवानी आंखों से चोद रहे थे.

मतलब सोनिया का मेरे डैड प्रण से तलाक हो गया था और वो मेरे डैड से अलग रहने लगी थी. अजय ने मुझे बहुत प्यार से देखा और फिर मेरी छोटी सी लुल्ली और बॉल्स को पकड़ कर दबाने लगा. मैंने भाभी से पूछा- भाभी मैं अपना माल कहां निकालूं?भाभी बोलीं- मेरी चूत में ही निकाल दो … मेरी चूत काफी दिनों से प्यासी है.

7 है, मेरे लंड का आकार 7 इंच लंबा और 3 इंच मोटा है।मैं उत्तर प्रदेश के कौशाम्बी जनपद का रहने वाला हूं, मेरा नाम विराट है, मैं एलएलबी का स्टूडेंट हूं।आज मैं आप लोगों को अपनी इस 69 पोजीशन सेक्स कहानी में बताना चाहता हूं कि कैसे मैंने अपनी ही भाभी की प्यार से चुदाई की।मेरे भाई की शादी हुए 2 साल हो चुके थे. मुझे जस्सी के न आने से थोड़ा बुरा लगा कि जो मेरी बेस्ट फ्रेंड है, वही नहीं आयी.

अब मैं देविका के स्तन चूसने लगा और देविका अपने दोनों हाथों से मेरी पीठ, कमर और गांड को सहलाने लगी.

अगले भाग में आपको और ज्यादा मजा आने वाला है, जब एक भाई अपनी बहन के दूध दम से मसलेगा और उसके मुँह में अपना लंड भी पेलेगा. सेक्सी मां बेटे का सेक्सीअब मैं उसमें पैंटी उतारने लगी तो उसने कहा- पैंटी नहीं उतारो … तुम डर जाओगी. यूपी के सेक्सी ब्लू फिल्ममुरथल पहुंच कर हम दोनों ने सुखदेव ढाबे में खाना खाया और पार्किंग में लगी अपनी गाड़ी में बैठ कर बातें करने लगे. एक तेज कराह के साथ उसकी चूत में झड़ते हुए अञ्जलि के ऊपर ही निढाल होकर पसर गया.

मैंने अपना लोअर नीचे खींच कर लंड बाहर निकाला और सोनी की गांड के छेद में डालने लगा.

भाभी ने मेरे लंड से निकला पानी बड़ी मस्ती से पी लिया और मेरे थके हुए लंड को चूसती रहीं. मैं जब भी मेम से अपने डाउट पूछता, तो वो मुझे बड़े प्यार से समझाती थीं. वो हंसने लगीं और बोलीं- मॉम को दर्द होता है, तो डैड निकालते हैं क्या?मैंने कहा- नहीं, वो उन्हें किस करने लगते हैं और चूचियों को चूसते हैं.

बॉस ने मेघना का एक पैर उठाकर पलंग पर रखा और लंड उसकी चूत में डाल दिया. मेघना कुछ देर में बाथरूम से वापस आ गई और अब उसने एक टावेल लपेटी हुई थी. मैं बाथरूम में नंगा नहाने लगा और मैंने चाची को याद करने लंड सहलाना शुरू कर दिया.

वेस्ट इंडिया सेक्स वीडियो

चार पांच पैग मेरे लिए रोज की बात थे, मगर आज सामने सीलपैक माल बैठी थी तो शराब ने कुछ ज्यादा ही मस्त कर दिया था. बीच बीच में मैं उसकी गांड पर जोर से चपत लगा देता, जिससे उसके दोनों चूतड़ों में मेरी उंगलियों के निशान छप गए. फिर सर सोनी से मुखातिब हुए- सोनी, ये राजीव है, जो तुम्हारे पाठ्यक्रम में है, वही सब ये भी सीख रहा है.

मगर ये सीन देख कर मेरी आंखें खुली की खुली ही रह गईं और लंड ने अपना मादरचोदपन दिखाना शुरू कर दिया.

मैं दूसरे हाथ से बीच बीच में उनकी चूचियों को दबाने लगा, पीठ पर चूमने लगा और कूल्हे पर हाथ फेरने लगा.

उसका थूक भी मेरे मुँह में आ रहा था, पर पता नहीं क्यों … मुझे मजा आ रहा था. मैं समझ गया कि उसके पर्स में जरूर कोई ऐसी चीज होगी, जिससे गांड का छेद खोलने में मुझे आसानी हो. बंगाली साडी वाली सेक्सीआज मेरी लाइफ का ये फर्स्ट टाइम था जब मैं किसी की जुबान को चूस रही थी.

मैं अपने एक हाथ से उसके सर को थपथपाने लगा और दूसरे हाथ से उसकी पीठ सहलाने लगा. आगे का रास्ता भी कुछ दिखायी नहीं दे रहा था इसलिए मैंने बाईक को साईड में एक जगह रोक दिया. अभी भी हम दोनों एक दूसरे की प्यास बुझाते हैं और किसी को कुछ पता नहीं है.

लखनऊ पहुंच कर और लखनऊ की ट्रेन में क्या हुआ, वो मैं आपको अपनी चुदाई की कहानी के अगले भाग में लिखूँगी. मैंने मम्मी की लस्सी में नींद गोली मिला दी और वो कुछ देर बाद अपने रूम में जाकर सो गईं.

रूना ने इस बार मेरे लंड को हाथ में थाम लिया और आगे पीछे करते हुए फैंटने लगी.

उसके अनुसार वो जवानी का सुख भी चाहती थी और साथ ही किसी अनुभवी आदमी के साथ सेक्स की शुरूआत करना चाहती थी. मिहिरा- आप अपने दोस्त के लिए वक़्त भी नहीं निकल सकते?मैं- दोस्त … वो कब बने?मिहिरा- अरे आप उस दिन मेरे हाँ में हाँ मिला रहे थे ना … तो मुझे लगा हम दोस्त बन गये हैं. मैंने कहा- बिल्कुल यार, अब तो मुझे खुद को लड़की के रूप में देखना बहुत अच्छा लगने लगा है.

नितेश सेक्सी वीडियो मैं गया और पीछे से उनसे चिपक कर उस दिन के लिए सॉरी बोलने लगा क्योंकि उस दिन के बाद मॉम मुझसे बता नहीं कर रही थीं. चाचा के लंड का वीर्य पीने के बाद मैं खड़ा हुआ तो मैंने देखा कि चाचा जागे तो नहीं थे मगर बंद आंखों से हंस रहे थे.

आपने मेरी पिछली सेक्स कहानीऑनलाइन मिली भाभी की चूत और गांड चुदाईको पढ़कर काफी पसंद किया था और मुझे भारी संख्या में ईमेल मिले थे. मैंने कहा- अंकल के अलावा आपने और किसी से भी मजा लिया है?मेरे ये पूछने पर आंटी ने बताया- दो साल पहले दो लड़के मेरे रूम में किराए से रहते थे, तो उन दोनों ने मुझको चोदा था. लेकिन मुझे अहसास हो गया था कि शायद मेरे भाई को पता चल गया कि मैं उनकी बीवी नहीं बहन हूँ.

सेक्स सेक्स वीडियो फुल एचडी

मैंने भी अपनी दोनों टांगें फैलाईं और उनकी कमर में टांग डालकर उनके गले में अपनी बांहें डाल दीं. मेरा बॉस कभी कभी ही हमारे यहां खाने के लिए आया था या फिर जब हम किसी पार्टी में जाते थे, तब उसके साथ मेघना की मुलाकात होती थी. काफी लड़कों ने मुझे कागज में नंबर लिख कर फेंका लेकिन घर और अपने पिता जी के कारण मैंने कभी उसमें कुछ आगे नहीं कदम बढ़ाया.

उसने लंड के सुपारे को बाहर निकाला और सुपारे के छेद पर अपनी जीभ चलानी शुरू कर दी. मनीष भी अब हाथ जोड़कर माफी मांगने लगा- जीजी माफ कर दो, पता नहीं मुझे क्या हो गया था.

इसलिए दस मिनट बाद मॉम ने मौसी के मोबाइल पर कॉल कर दी और उनसे बोलीं- आर्यन से बात करा दो.

दर्द से आंखों में जमा हुआ पानी बहने लगा, सर गद्दे में धंसाती हुई वो खुद से अपनी गांड आगे पीछे करने लगी. आप इस देसी गर्लफ्रेंड रोमांटिक कहानी पर अपनी राय मुझे मेरे ईमेल आईडी पर बता सकते हैं. उसने लंड बाहर निकालना चाहा लेकिन मैंने उसका सर थाम लिया और पूरा पानी उसके मुँह में भर दिया.

आपको मेरी ये चाची Xxx अन्तर्वासना कहानी कैसी लगी, मेल और कमेंट जरूर करें. अपना लंड मैंने हाथ से पकड़ा और उसके मुँह में डाल कर उसकी जांघों को मोड़ कर अपनी बगल में फंसा लिया. सुमैत्री कीगांड मारने की इच्छाथी मेरी फिर से … मगर उसने मुझे उस रात अपनी गांड को दुबारा नहीं चोदने दिया.

कुछ देर के बाद बारिश कुछ हल्की हुई लेकिन अभी भी इतनी थी कि बारिश में जाने पर दो मिनट में भीग जाती.

बीएफ इंडियन हिंदी बीएफ: कुछ ही देर बाद वो झड़ गई लेकिन मेरा काम नहीं हुआ था इसलिए मैं लगा रहा. मगर सुमैत्री की चीख निकल गई और वो अपनी पोजीशन से हट कर बेड पर गिर गई.

अब धीरे धीरे जैसे जैसे चूत खुलने लगी, तो लंड तेज़ी से अन्दर बाहर अन्दर बाहर होने लगा. करीब दस मिनट तक हम दोनों के बीच चुम्बन चला, फिर हम दोनों अलग हुए और एक दूसरे को देखने लगे. उसके बाद निधि मेरे लन्ड को अपने मुंह में लेकर लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी.

मैंने भी उनकी चूत चाट कर उनके पैर फैला दिए और उनकी चूत पर अपना लंड घिसना चालू कर दिया.

दस मिनट बाद वो फिर से झड़ गई ‘आह मेरे राजा … आज से मैं तेरी रंडी … तू जैसे मर्जी चोद सकता है मुझको. मैंने उनकी गांड और अपने लौड़े पर थूक लगाया और गांड में लंड घुसा कर चोदने लगा. धारा ने अपने आप को थोड़ा हिला डुला कर इस तरह से पोजिशन बनायी कि वो घोड़ी की तरह चौपाया बन गयी और अपने भारी भरकम नितम्बों को शेखर के मुँह की तरफ़ कर दिया और अपना मुँह शेखर के पैरों की तरफ़ करके उसके लंड को अपनी जीभ से लपलपा कर चाटने लगी.