इंग्लिश सेक्सी बीएफ देहाती

छवि स्रोत,गंदा गाना

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी शॉट भेजो: इंग्लिश सेक्सी बीएफ देहाती, मैं बोली- अब मेरी पैंटी को उतार कर अपनी मालकिन की गांड को भी चाट।उसने मेरी काली पैंटी को अपने दांतों से पकड़ कर एक ही बार में नीचे कर दिया.

सील तोड़ने वाले वीडियो

उसकी चूत टाइट थी लेकिन गीली और चिकनी होने की वजह से लंड सरक सरक कर पूरा अंदर उतर गया. हमें सेक्स करना हैसर ने अपने लंड का पानी मेरे मुँह में ही खाली किया और मुझसे कपड़े पहन कर ऑफिस से जाने का कह दिया.

शायद वो मेरी इस हरकत से दर्द और तकलीफ में थी, जिसका अनुमान मुझे झड़ने के बाद उसकी आंखों में आंसू देखकर हुआ. एक्स एक्स टिक टॉकउम्र में भले ही मुझसे छोटा था मगर एक मस्त जवान लड़का था।उसने मुझे बेडरूम ले जाकर तुरंत ही मुझे नंगी कर दिया वो बहुत ही ज्यादा उतावला लग रहा था।मुझे बिस्तर पर लेटा कर मुझे हर जगह चूमने लगा उसके बर्ताव से ही लग रहा था कि वो इस खेल में अभी अनाड़ी था।उसने भी जल्दी से अपने कपड़े उतार दिए.

आप सब लोग जानते ही हैं कि कहानी पढ़ते समय हम सब बिल्कुल कहानी में खो जाते हैं और लंड चूत का क्या हाल होता है आपको पता ही है.इंग्लिश सेक्सी बीएफ देहाती: उस दिन से भाभी मुझसे खुलने लगी।अब मैं आपको थोड़ा भैया के बारे में बता दूं.

अच्छा मुझे एक बात सच सच बताओ?वो बोली- हां पूछो, आज मैं तुम्हें सब कुछ बता दूंगी.मैंने भाभी से कहा- भाभी मैं यह सामान अपने कमरे में रख दूँ?भाभी बोली- रख दो, लेकिन आज तो तुम यहाँ ड्राइंगरूम में दीवान पर ही सो जाना, कल सुबह कमरा तैयार करवा दूंगी, अभी तो बच्चों की बुक्स वगैरह होंगी.

जागरण की सेक्सी - इंग्लिश सेक्सी बीएफ देहाती

कल मार लेना मेरी गांड।उसके बाद 4 बजे सुबह जल्दी में अपने घर आ गया।अगले दिन संडे था तो पढ़ाई का बहाना बना कर जरीना के घर चला गया.अगले दिन सुबह मां के डिस्चार्ज हो जाने के बाद मुकेश भाभी और मां को लेकर जाने लगा, तो भाभी मुझे बहुत हसरत भरी नज़रों से देख रही थीं.

तभी दरवाज़े पर किसी ने खटखटाया, तो प्रिंसीपल सर ने मुझे दबाते हुए कहा- आ जाओ. इंग्लिश सेक्सी बीएफ देहाती बारी बारी से मेरे दोनों निप्पलों को चूसने के बाद उसने बिना कहे मेरा लंड सहलाते हुए अपने मुंह में ले लिया और अच्छे से चूसने लगी.

मैंने सर उठा कर पूछा- जान क्या लगाया है?उसने नशीली आंखों से मेरी तरफ देखा और बोली- अच्छा लगा?मैंने कहा- हां बड़ा मस्त स्वाद है … क्या लगाया है?उसने कहा- ये अल्कोहल मिक्स वाली लिक्विड जैली है, जो मैंने अपनी बड़ी बहन से ली थी.

इंग्लिश सेक्सी बीएफ देहाती?

शीला का काम घर की सफाई, कपड़ों की धुलाई और राजेश का नाश्ता-खाना बनाना होता है. और उस पर हल्का सा दबाव बनाया।जिस लड़की को मैंने गोद में खिलाया, जिसके साथ बचपन में खेला, आज मैं उसका नर्म मम्मा अपने हाथ में पकड़े मुट्ठ मार रहा था।मगर ज़्यादा दबा नहीं सकता था तो मैंने अपनी सारी हिम्मत इकट्ठी करी और आगे को झुक कर लवी का निप्पल अपने मुंह में ले लिया।निप्पल तो मुंह में ले लिया. थोड़ी देर बाद मैंने मनजीत से पूछा- अब दर्द तो नहीं हो रहा?नहीं, दर्द नहीं हो रहा लेकिन मेरी टांगें दुखने लगी हैं, थोड़ी देर सीधा लेट जाने दो.

जो उसकी 32-28-32 की अद्भुत देसी काया रचने में बड़ी मस्ती से उठे हए थे. चैट सेशन शुरू करने से पहले मैंने बेडरूम के पर्दे गिरा दिये और मेन गेट बंद कर दिया ताकि मेरे मजे में कोई खलल न पड़े और मैं अपने कामुक क्षणों का पूरा मजा ले सकूं और पकड़ा भी न जाऊं. सोचता रहता हूं कि प्रीति की हर कागज पर तारीफ करूँ, फिर ख्याल आया कि कहीं पढ़ने वाला भी उसका दीवाना न हो जाये.

मैंने मस्तक झुकाकर आदरपूर्वक अर्ज़ किया- मेमसाब चिंता ना करें … दास अपनी औक़ात समझ गया है … मेमसाब को शिकायत का मौका नहीं मिलेगा. मैंने कहा- अभी और चूत मरवाने का दिल कर रहा है?भाभी बोली- मेरा दिल करता है तुम्हारा लण्ड बस हमेशा मेरी चूत के अंदर ही रहे. धीरे-धीर हम एक दूसरे के करीब आने लगे। एक दिन उन्होंने अपनी एक इच्छा जताई.

फिर बोली- ओह रमित … मुझे पता नहीं क्या हो रहा है, रात को जब दिवेश मुझसे प्यार करने लगे, तो मुझे तुम्हारी बहुत याद आयी. अगर मैं दिन में ये ड्रेस पहन कर निकलती, तो लोग मुझे देख कर छोड़ते ही नहीं.

इतना कहते हुए भाभी कमरे से बाहर चलीं गयी।दोस्तो, एक बार मुझे ट्रेन से आना था तो शाम को भाभी ने फोन किया और बोली- देवर जी, कहाँ हो और कितने बजे तक घर आ जाओगे?तो मैंने कहा- भाभी, मैं दस बजे तक घर पहुँच जाऊँगा.

कभी मेरी गर्म ज़बान उसके होंठों पर मचल जाती, कभी मैं उसके दूध दबा देता तो कभी मैं उन्हें प्यार करता।फिर मेरी जबान उसके होंठों से होती हुई मुंह के अन्दर चली गई थी। हम दोनों लिपट गये और उसकी हल्की सी चीख निकल गई.

मैंने चूतड़ उचकाने शुरू कर दिए व अपने होंठ खुद से जबरदस्ती बंद कर लिए. भाभी बोलीं- इन बूंदों की कीमत आपको पता नहीं है … पर मैं इन्हें यूं ही व्यर्थ नहीं जाने दूंगी. उसने मुझे बड़ी बुरी तरह से काफी देर तक किसी सड़क छाप रंडी समझ कर मेरी जवानी की चुदाई की.

भाभी कुछ सोचने लगी, फिर बोली- राज, मुझे डर है कि कहीं रोहित कुछ पंगा न कर दे? मैं सोच रही थी कि क्यों न तुम आज से ही सोना शुरू कर दो, सामान कल शिफ्ट कर लेना. आंटी ने मुझसे एक दो बातें मेरे घर के बारे में पूछी और फिर बोली- देखो राज, मैंने बहुत दुनिया देखी है, मैं तुमसे अब जो बातें करने जा रही हूँ वे मैं अपने परिवार की इन लड़कियों को ध्यान में रखकर कर रही हूँ. मैंने कहा- सही सुना है और सुनो, तुम्हें चोदने से मेरे लण्ड को जो सुकून मिल रहा है ऐसा ही कुछ तुम्हारे साथ भी हो रहा होगा, खुलकर बोलो और मजा लो.

फिर वो बोली- ठीक है, जा रही हूं रूम में।मैंने कहा- अरे मेहमान जी, इतनी रात को कहां जाओगे, यहीं सो जाओ।वो बोली- अच्छा? यहां छोटा सा रूम है और सिंगल बेड है, ऐसे सुलाओगे क्या अपने मेहमान को? वैसे भी मुझे अकेले सोने की आदत है.

कुछ देर तो वो निश्चल लेटी रही फिर मुझे आभास हुआ कि वो बेचैनी से खुद को यहां वहां खुजला रही है और बार बार करवट बदल रही है. मेरी ये सेक्स कहानी मेरी सहेली के ब्वॉयफ्रेंड के साथ चलती कार में चुदाई मस्ती की है. इसी के साथ साथ मैं सरकारी नौकरी के लिए कम्प्टीशन की तैयारी भी कर रहा था.

उन्होंने मुझसे कहा भी- भैया … तुमने मुझे गांड मारना सिखा दी … मैं हमेशा याद रखूंगा. तो आकाश दो-तीन दिन नीचे उनके ड्राइंग रूम में सो जाया करे!तो आज रात को रवि ऊपर अकेला ही रहेगा. जैसे ही भैंसा ने भैंस की चूत में झटके मारने शुरू किए, भाभी ने मेरी चूत में अपनी उंगली तेजी से चलानी शुरू कर दी और जब तक भैंसा ने अपना काम खत्म किया, जिंदगी में पहली बार मैं भाभी की उंगली से स्खलित हो गई.

रवि इसी लफड़े से बचने के लिए तो इस शौक को छोड़ चुका था, आज फिर फंस गया.

पहले तो उसने ना में गर्दन हिलायी लेकिन मैंने उसके होंठों पर प्यार से किस करके कहा- प्लीज जान … एक बार कर दे ना!दोस्तो, हसीनाओं को छेड़ने के नियम में मैंने ये पढ़ा था कि लड़कियों को कैसे अपनी बात के लिए मनाया जाता है. अब पायल और प्रतिभा आपस में बात करने के लिए एक दूसरे की ओर झुकते थे, तो दोनों के चेहरे मेरे सामने आ जाते थे.

इंग्लिश सेक्सी बीएफ देहाती मुझे ऐसा लगा कि स्वरा भी यह आनन्द लेने के लिए खुद को तैयार कर चुकी थी. मैंने एक बार फिर से उसके होंठों को अपने होंठों में ले लिया और उनको जोर से चूस दिया.

इंग्लिश सेक्सी बीएफ देहाती सिर्फ टिकट के लिए नाम पता बता दो।मैंने कहा- तुमसे अब क्या डरना, मेरा असली नाम ही संदीप है. उसमें पट्टियों का इस्तेमाल नहीं किया गया था बल्कि एक मोटा लंड उसमें सीधा टांगों के मिलने वाले स्थान पर बीच में चिपका दिया गया था.

मैं ऊपर मुंह उठाये पिंकी रानी की आँखों में आंखें डाल कर उसको निहार रहा था.

ब्लू फिल्में वीडियो में

तो चलिए शुरू करते हैं।दोस्तो, मैंने भाभी की सुहागरात की चुदाई लाइव देखी थी. बिना देर किये मैंने अपने क्रेडिट कार्ड की डीटेल्स वहां पर डाल दीं ताकि जल्दी से जल्दी दिल्ली सेक्स चैट मॉडल अस्मि के साथ लाइव वीडियो सेक्स चैट सेशन शुरू हो सके. दूसरी तरफ राजीव मेरी अधनंगी चूचियों को मेरी मिडी के ऊपर से ही चाट रहा था … काट रहा था.

वरना आम तौर पर तो लोग सोचते हैं कि गश्ती की चुत एक बार मार ली, अगली बार किसी और गश्ती की लेंगे. उसकी आंखों के सामने रवि के चेहरे पर रिया को देख कर नाचती वो हवस बार बार सामने आ रही थी कि कैसे रवि उसकी बेटी की चूत और गांड को चोद रहा था. मैंने उसी पल एक धक्का दे दिया और मेरा लंड उसकी फुद्दी में एक इंच घुस गया.

मैं अब बेड पर लेट गया और उससे बोला- रीना मुझे अपना चुतामृत (चुत का पानी) पिलाओ.

जैसे जैसे नीरजा की बुर में लंड की जगह बन रही थी, मेरा लंड स्पीड बढ़ा रहा था. अनीता धीरे से बोली- फूफाजी अगर आप को बुरा नहीं लगे, तो मैं आपके फोन में व्हाट्सप्प को खोल देख लूं!मैंने उसे फोन दे दिया और उसके हाथ से केतली लेकर बाथरूम की ओर आ गया. मैंने हँसते हुए कहा- ठीक है जान … तुम हाथ भी बांध दो … मुझे कोई प्रॉब्लम नहीं है.

शारीरिक संबध के साथ-साथ अगर मेरी पार्टनर चाहती है … तो मैं उसके साथ लॉन्ग ड्राइव … मॉल … सिनेमा आदि जगहों पर चला जाता हूँ. तभी संजय बोला- उफ्फ्फ … अह्ह्ह … सी सी … साली छोड़ … अब तेरी जवानी का उद्घाटन करूँ डार्लिंग … अह्ह्ह … सी … सी … सी … उफ्फ्फ … चोद दूंगा तुझे साली रंडी, मेरे लंड को छोड़ दे अब।संजय की बात सुन कर गीत ने अपने मुंह से मेरा लंड बाहर निकाला और बोली- उफ्फ्फ … सालों पहली बरसात तो हमने अपने मुंह में ही लेनी है. जाते हुए मेरी नज़र अचानक पास की झाड़ियों के नजदीक खड़ी साइकिल पर पड़ी.

निशा ने, जिसका कि मैं एक एक अंग चूम चुका था, बड़ा सा घूंघट लेकर मुझे नमस्ते कह कर बाहर वाले कमरे में बैठने को कहा. नेहा ने एक हैंड टॉवल से अपनी चूत को साफ किया और अलमारी से पैंटी निकाल कर मुझे दिखाते हुए बोली- सर, इजाज़त हो तो पहन लूं?मैंने हँसते हुए कहा- अभी तो पहन लो, लेकिन जब चुदना हो तो उतार के रखना.

तो वो बोला- यार, मैं पहली बार में ही तुम्हें अपने रूम पर ले जाने की बात करूँगा तो तुम्हें बुरा लगेगा. मनजीत को खड़ी करके उसका एक पैर मैंने कमोड पर रखा और अपने लण्ड का सुपारा उसकी चूत के मुखद्वार पर टिका दिया. मगर मैं उसे पूरा मजा देना चाहता था, इसलिए मैं खुद को काबू में किये हुए था.

अगले दिन स्वरा काम पर आई तो मैंने उससे बातचीत की तो पता लगा कि वो आठ क्लास तक पढ़ी है और अब घर पर ही रहती है.

और मैं भी इस ताबड़तोड़ चुदाई से थोड़ी थकान महसूस कर रहा था। मैं भी किट्टू के ऊपर ही ढेर हो गया. हम दोनों इतने गोपनीय तरीके से मिलते थे या बात करते थे कि आज तक उसके किसी दोस्त को या मेरे परिवार को पता ही नहीं चला. दादी दरवाजे तक ही गई होगी कि भैंसा ने फिर जंप लभैंसा और भैंस को तेजी से चोदना शुरू किया.

मैंने चौंक कर पायल से कहा- अधेड़ लोगों से सेक्स … मतलब?पायल ने कहा- हमारे कॉलज के स्पोर्ट टीचर और साइंस टीचर … उनकी कहानी मैं आपको तब बताऊंगी, जब आप दुबारा मेरे लिए इंदौर आओगे. गोद में बिठा कर मैंने अपने दोनों हाथों से उसके स्तनों को मसलते हुए उसके गुलाबी गालों को किस किया.

देखो मेरे दिल में आपके लिए कितना प्यार भरा है?”प्रीति- नहीं, मुझे पता है आपका बहुत देर से खड़ा है. मैंने कहा- तू चिंता मत कर … तुझे अपनी भाभी की चुत न केवल देखने भी मिलेगी. उस लड़की ने कहा कि वो किसी और के साथ डेट पर चली गयी है और वो तुमसे ब्रेकअप कर रही है.

हिंदी वाली ब्लू पिक्चर दिखाओ

जब मैंने उसकी चिकनी और टाइट चुत को छुआ, तो उसकी चुत पूरी तरह से गीली हो गई थी.

आपने मेरी कहानियों को बहुत प्यार दिया, उसके लिए आपका शुक्रगुजार हूँ. कुछ देर टीवी देखने के बाद मुझे लगा कि शायद निष्ठा कोई अपना प्रिय सीरियल देखती हो इसलिए मैंने टीवी म्यूट कर दिया और उसे आवाज लगाई. चुदास की गर्मी थी और पहला मिलन था, तो कुछ ही पलों में उनकी चूत ने पानी छोड़ दिया.

और दूसरी अप्सरा फटी हुई डिजाइन की जींस और ढीली शर्ट में थी, उसने अपना नाम सुमन बताया. मेरी पिछली कहानी थीचालू अमीर लेडी की वासना पूरी कीइस बार कहानी मेरे खुद के अनुभव से जुड़ी हुई भतीजी सेक्स की कहानी है. सेक्सी डांस सेक्सी डांस सेक्सी डांसलेकिन क्या आप शॉर्ट ड्रेस पहन लोगी?मैं बोली- हाँ!तब उसने कहा- ठीक है.

उसने हल्की सी वासना भरी मुस्कान के साथ मादक स्वर में कहा- आई लव यू … अब करो यार … प्लीज।इतना बोलकर वो मेरे होंठों पर टूट पड़ी और मेरे लबों को जोर जोर से चूसते हुए काटने और खाने लगी. निष्ठा, तेरी दीदी यहां होती तो मैं उसके साथ सेक्स करके इसे बैठा लेता या वो मुझे बी.

फिर फोन लगाकर उसने किसी से कहा- हां सुधा, मैं सर को लंच करा रही हूँ, मुझे थोड़ा टाइम लगेगा. वे पहचान गए और बोले- अरे भैया बहुत दिनों बाद मिले हो … तो एकदम पहचान नहीं पाया … माफी चाहता हूं. मैंने सरोज के दोनों गालों को अपने हाथों में लिया और उसके मुंह की चुदाई करने लगा.

तो मैंने उसका कुर्ता थोड़ा सा ऊपर उठाकर उसकी सलवार का नाड़ा खोल दिया, एक झटके में उसकी सलवार नीचे गिर गई, मैंने उसकी सलवार खूंटी पर टांग दी और उसकी झांटों से भरी बुर निहारने लगा. सेक्स की सची कहानी में पढ़ें कि पहली एंकर ने मुझे अपने फ्लैट में बुलाया कहा कि वहां तीसरी वाली एंकर भी आयेगी. उसकी इस बात ने मेरे अन्दर जोश भर दिया और मैंने उसे बांहों में ऐसे कसा, जैसे मैं उसका रस निचोड़ना चाह रहा हूँ.

पम्मी ने मुझसे पूछा- राकेश, क्या सच में मैं तुम्हें अच्छी लगती हूं?मेरे मुँह से कुछ ना निकला.

मुझे लगता है कि उनका वह फैसला उनकी जिन्दगी दूसरा का सबसे अच्छा फैसला था. कोमल- अब राज … जिया तुम्हारी है, बस मेरी प्यारी ननद रानी को ज्यादा मत रुलाना, मैं दूसरे कमरे हूँ.

लड़की- और ये दूसरा सेठ दिखाई नहीं दे रहा?रवि- बाथरूम में गया हुआ है, बस आने ही वाला होगा बाहर। तुम बताओ क्या पिओगी? रम या वोदका?लडकी- नहीं सेठ, अपने को तो बीयर ही चलती है।रवि ने दो गिलास लगा दिये. वहां पहुंचकर मैंने देखा कि साला सब लोग जोड़ी बनाकर घूम रहे थे और मैं चूतिया की तरह अकेली घूम रही थी. साथ में लिखा- इनमें से कोई देख लेना।और तुरंत कॉल करके कहा- यार खुशी, बहुत ज्यादा रेट का है यार! बहुत लूट रहे हैं.

फिर मैं रूम में पहुंच गयी और मैंने वो कौड़ा निकाल लिया जो हमने रास्ते में खरीदा था. और मेरे लंड की तरफ इशारा करते हुए भाभी बोली- अरे देवर जी, आपका तो ये बहुत बड़ा है बिल्कुल आपके भैया के जितना बड़ा है. अब भाभी ने एकदम अपने हाथ मेरी कमर के चारों तरफ कस लिए और बोली- राजा, जोर जोर से करो, बहुत जोर से करो, चोद दो मेरी चूत को, मेरी प्यास बुझा दो, करो … जोर … जोर … से … मैं जोर जोर से लंड अंदर- बाहर करने लगा.

इंग्लिश सेक्सी बीएफ देहाती अगले ही पल भाभी ने मेरी लोअर में हाथ डाल दिया और मेरे लंड को हाथ में भरकर उसकी चमड़ी को आगे पीछे करने लगी. पर राजेश ने महसूस किया कि दूसरे कमरे से परदे के पीछे से वो मूवी ही देख रही थी.

इंडियन भाभी की सेक्स वीडियो

मैंने उसे टेबल के पास खड़ा करके उसके शरीर का अगला हिस्सा टेबल पर लिटा दिया और गांड के ऊपर वैसलीन से मालिश करने लगा. वो मुझे इतना चूस रहे थे कि मैं उनके बीच में मछली की तरह तड़प रही थी. ”फिर वह बेबी रानी और गुड्डी रानी से मुखातिब होकर बोली- अगर तुम दोनों को ऐतराज़ न हो तो … मैं राजे के साथ अकेले में कुछ बातचीत कर लूँ?बेबी रानी ने कहा- जा जा कर के अपनी तसल्ली … तब तक मैं और गुड्डी मज़े लेते हैं … अच्छे से ठोक बजा के देख लियो कि यह तेरे स्टैंडर्ड पर सही बैठता है कि नहीं … जब फ्री हो जाओ तो हमारे बेडरूम में आ जाना.

प्रीति को ठंड कुछ ज्यादा ही लग रही तो उसने मुझे जल्दी से 2 पेग बनाने के लिए बोला. मैंने इससे पहले न जाने कितनी बार अपने ऑफिस में मुठ मारी थी लेकिन कभी मेरे लंड में ऐसा तनाव नहीं रहा था जितना इस वेबकैम मॉडल को नंगी देख कर रहा. व्व्व क्ष वीडियो कॉमतो भाभी बोली- देवर जी, आप बहुत शरारती हो।एक बार की बात है, हमारी रिशतेदारी में एक शादी थी, उसमें घर के सभी लोग गये थे.

तो मैंने धीरे-धीरे से पैंटी के कपड़े को तान तान कर एक जोर के झटके के साथ उसे भी फाड़ दिया.

जैसे ही मेरा मुंह उसकी चूची पर लगा तो वो जोर से सिसकारी- आह्ह … संजय … चूस ले इनको … बहुत दिनों से इनको किसी ने नहीं पीया है … इनका दूध निचोड़ ले आज … आह्ह … जोर से पी।मैं भाभी की चूचियों को ऐसे पीने में लगा था जैसे कि उनमें से अमृत निकल रहा हो. मगर जब उनका पानी झड़ा, तो उसके पहले वो खूब तड़फीं, खूब चिल्लाईं … उन्होंने बिना किसी की परवाह किए खूब शोर मचाया.

मैंने अपनी पिछली जीजा साली सेक्स की कहानीबड़ी साली की दबी हुई अन्तर्वासनामें बताया था कि कैसे मैंने अपनी बड़ी साली की दबी हुई अन्तर्वासना को जगा कर उसके साथ सम्भोग का आनंद प्राप्त किया।उस रात सम्भोग करने के बाद मैं अपने कमरे में चला गया. मैं शर्म से उठकर जाने लगी तो भाभी ने मेरा हाथ पकड़कर वापिस बैठा लिया और बोली- देखती रहो … अभी फिर चढ़ेगा!उस वक्त मेरे मम्मों का साइज 36 था और मेरे पट और चूतड़ पूरे जवान हो चुके थे और मैं मन ही मन भैंस और भैंसा की चुदाई का आनंद ले रही थी. मैं उसे गोद में लेकर खड़ा हो गया और मैंने अपने दोनों हाथ उसकी जांघों के नीचे फंसा कर उसे ट्री पोजीशन में चोदना शुरू किया.

ननद ने बाहर जाते टाइम मुझे आंख मारी और बोली- रात में कुछ परेशानी हो तो बता देना … हम दोनों है न … आपकी हर परेशानी को दूर कर देंगी.

फिर दूसरे पैग पीते हुए एक ने आइडिया दिया- यार यूं ढके ढके से रह कर शराब पीने में कोई मज़ा नहीं है, क्यों न खुल्लम खुल्ला होकर शराब पी जाए. आज की मजेदार सेक्स सिनेमा हाल में कहानी उसी रजनी के साथ मेरी दूसरी मुलाक़ात की है।पहाड़ों में रजनी का कौमार्य भंग करने के बाद हम फ़ोन पर सेक्स चैट करने लगे। उससे बार बार मुलाक़ात होना पारिवारिक पाबंदियों के चलते मुनासिब नहीं था। मैं फिर से उसके यौवन का रस चखना चाह रहा था. इस गर्म सेक्स कहानी में आपको मजा आ रहा होगा? कहानी को अपना प्यार देना कतई न भूलें.

औरत की गांड मारीवो- आने दो, सब सह लूंगी … बस मुझे चोद दो जीजू।मैं- चिल्लाओगी तो नहीं?वो- नहीं, बिल्कुल नहीं, अब मुझे चोद दो प्लीज … जल्दी करो जीजू प्लीज।फिर मैंने अपना लंड उसकी बुर के छोटे से छेद पर सेट किया. वो मेरे लंड को हाथ में पकड़ कर बहुत सेक्सी अंदाज़ में लौड़ा चूसे जा रही थी.

सनी लियोन सेक्सी पिक्चर

जवानी आने के साथ ही मैं अपनी मां के साथ सेक्स करने के सपने भी देखने लगा था. इसलिए उसने अनिल से कहा कि वो अगर अब और ना पिए तो वो एक बहुत सेक्सी ड्रेस पहनेगी. इस बार मैंने बालकनी में फिर से देखा, तो बहुत सारे लोगों के बीच खुशी और आंचल को खड़ा पाया.

तो मैंने उसका कुर्ता थोड़ा सा ऊपर उठाकर उसकी सलवार का नाड़ा खोल दिया, एक झटके में उसकी सलवार नीचे गिर गई, मैंने उसकी सलवार खूंटी पर टांग दी और उसकी झांटों से भरी बुर निहारने लगा. मेरी गांड भी खूब भरी हुई और मोटी है।यह अन्तर्वासना हिंदी स्टोरी तब की है जब 2 साल ही पहले मेरे पति का देहांत हो गया था। मेरी कम उमर में शादी हुई थी।मेरे पति के जाने के बाद मुझे कितनी परेशानियों का सामना करना पड़ा; ये मेरी आपबीती में पढ़ें अब विस्तार से।दो साल पहले जब मेरे पति का देहांत हुआ तब मेरे पास कुछ भी नहीं था. पर मैं तो खूबसूरती निहारने के लिए स्वतंत्र था, सो मेरी आंखों ने प्रतिभा को चोदना शुरू कर दिया था.

पूरे घर में अंधेरा था उसके कमरे का दरवाजा हल्का सा खुला हुआ था।जैसे ही मैंने दरवाजा खोला तो उसने पूरा कमरा सुहागरात की तरह सजाया हुआ था। एकदम लाल साड़ी में दुल्हन की तरह पलंग पर बैठी हुई थीं।उसने जाते ही मुझे दूध का ग्लास दिया. जीजा साली का सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने बहाने से अपनी साली को मेरी मुठ मारने के लिए तैयार कर लिया. जिस किसी भी आदमी की प्रीति के हुस्न पर नजर पड़ती वो बिना पलकें झपकाए प्रीति के हुस्न का चक्षुचोदन (आखों से चुदाई) करने लग जाता.

कुछ ही पलों बाद सर ने भी अपनी टी-शर्ट को उतार दिया और लोअर निकाल कर फेंक दिया. सरोज भाभी एकदम उठी और उन्होंने ड्राइंग रूम की सारी लाइटें बंद कर दी.

निष्ठा तुम यहीं लेट जाओ और इसे अपने दोनों हाथों से पकड़ लो मैं तुम्हारे ऊपर आ के इसे अपनी कमर से हिलाता रहूंगा तो दो मिनट में इसका पानी छूट जाएगा.

वो बोली- कौन सी सॉफ्ट ड्रिंक? सीधे सीधे बताओ क्या है ये?मैंने उसे बताया कि ये वोडका है. सेक्स होनाचाचा ने हमारे जांघिये में हाथ डालकर हमारी चूत को छुआ तो हम पगला गये. भोसड़ी की चुदाई दिखाओहमने इसका बदला कैसे लिया?नमस्कार दोस्तो, मैं आपका अपना रवि अपनी कहानी का अगला भाग आपके लिए लेकर आया हूं. मगर अभी तक मैंने सिर्फ अपनी मां को केवल बाथरूम में नंगी नहाते हुए ही देखा था.

मैं आंखें बंद करके सोच रहा था कि इन दो दिनों में मां को कैसे कैसे चोदूं.

जावेद ने नाश्ता बनाने का कहा तो मैंने कहा- हम और तुम तो शादी से लौटे हैं … डिनर कर आए हैं … सलीम भाई भी होटल से बढ़िया बिरयानी खाकर आए होंगे. उसने अपनी बीवी की साड़ी के पल्लू को उसके बूब्स पर से हटा दिया और उसके सीने में मुंह देकर चूमने लगा. अब वानी ने एक मेल सेक्स डॉल चेयर पर रख दी जिस पर एक पट्टी के सहारे एक लंड लगा हुआ था.

मैं इस सुहाने पल में उस जलपरी के चिकने बदन के हर हिस्से को छूकर उसके मखमली अहसास को अपनी अंतरात्मा में बसा लेना चाहता था. वैसे तुमने काव्या का नाम लिया था, पर यहां तो लगता है, सब खुद ही तुम्हारे लिए मरी जा रही हैंवैसे तो मैं सबको एक साथ ही चोदना चाह रहा था, पर मेरे लिए तो और भी बेहतरीन चूतों का इंतजाम था, उनके लिए भी अपनी उर्जा बचाना सही समझते हुए मैंने अपनी राय रखी. सफेद पैंटी के अंदर उसकी चूत की फांकें जो एक लाइन से अलग होती हुई दिखाई दे रही थीं किसी ऊंट के पंजे जैसी शेप बना रही थी.

एक्स एक्स एक्स सनी लियोन

मैं सुन लूंगी अगर तू सुनाएगा तो।मैं- ठीक है, तो फिर सुन।वो बोलते हैं- देख … क्या मस्त गांड है इसकी! देख तो साली सेक्सी गर्ल क्या मटका रही है, इसके दूध तो देख कैसे लटक रहे हैं. इस पर गुड्डी रानी ने झल्ला कर कहा- हरामज़ादे क्या मुझे उछाल के टॉस करेगा या बेबी को?मैं हँसते हुए बोला- रानी तुम दोनों को तो मैं लौड़े पर उछालूंगा जान … सुन … मैं तुम दोनों की तरफ पीठ करके खड़ा हो जाता हूँ. इससे मेरी कोशिश थोड़ी ढीली पड़ने लगी और वो मेरे शरीर पर अपनी और ज़्यादा मज़बूत पकड़ बनाने लगे.

वो मुझे अपनी दोनों हाथों से अपनी बांहों में कसकर बोलीं- हर्षद, मैं झड़ने वाली हूँ.

उसने ढेर सारा थूक अपने लंड पर लगाया और फिर अपने लौड़े को बीवी की गांड पर सेट कर दिया.

अब भाभी मेरी टीशर्ट पर झपट पड़ी और मेरी टीशर्ट को निकाल कर मुझे भी पूरा नंगा कर लिया. मगर तेरे जैसी आज तक नहीं देखी।लड़की- देखने की क्या बात है सेठ? तू तो मुझे चोदेगा भी।रवि- तेरे जैसी रंडी को चोदना तो बहुत किस्मत की बात है और लगता है कि किस्मत आज मुझ पर काफी मेहरबान है. जींस कपड़ामैंने उसे देख कर कहा- हाय, मैं आदित्य।जवाब में वो बोली- हाय, मैं दिया।उसके बाद वहीं खड़े खड़े हम दोनों में कुछ नॉर्मल बातें हुईं जैसे कि कहां पढ़ते हो, कहां कोचिंग लेते हो वगैरह वगैरह.

बेबी रानी बोली- चल अब टॉस तो कर कमीने! मगर मेरे पास कोई सिक्का नहीं है. उठे हुए कंधे और कंधों पर बिखरे उसके केश … अन्दर घुसा पेट और बलखाती कमर, मांसल किंतु सुडौल जांघें, आकर्षक पिंडलियां … और सर से लेकर पांव तक सब कुछ उसके सौंदर्य का बखान कर रहा था. क्योंकि मैं जहाँ जा रहा था, वो बहुत ही ज्यादा अमीर घराना था और उनके कायदे कुछ अलग ही होते हैं।तभी मन में एक बात आई कि यार मैं तो मेहमान हूँ.

अच्छा जीजू बोलो खाना लाऊं? मैंने आलू के परांठें बनाये हैं साथ में टमाटर धनियां हरी मिर्च की चटपटी चटनी भी है, बोलो चलेगी?” साली जी कुछ इठला कर बोलीं. मैं- आखिरी कुछ दृश्यों में तुम्हें देख कर मैं खुद को रोक नहीं पाया.

उसकी ब्रा को उतारकर अलग कर दिया और नंगी चूचियां देखते ही मेरा लंड एकदम से खड़ा हो गया.

मैं फ्रेश होने के बाद बाहर निकला और नेहा से कहा- यार, मेरी पीठ खुजला रही है, मैं नहाना भी चाह रहा हूँ, अगर तुम्हें कोई ऐतराज़ ना हो तो क्या तुम मेरी पीठ रगड़ दोगी. वह अपनी गांड को गोल गोल झुलाने और हिलाने लगी और मुझे चिढ़ाते हुए जल्दी से स्खलन के लिए प्रेरित करने लगी. लंड से चुदते हुए उसके चेहरे पर आनंद के भावों के साथ एक तृप्ति के भाव वाली मुस्कान तैर रही थी.

कोरिया सेक्सी पिक्चर थोड़ी देर में भाभी की सिसकारियां और आवाजें बेतहाशा बढ़ गई- आई … आई … आ … आ … ईई … ओ … ईई. उसकी उम्र बयालीस साल की थी मगर वो पैंतीस साल से ज्यादा की नहीं लगती थी.

मैं उठने लगी तो अखिल भी जाग गया और बोला- गुड मॉर्निंग … कैसी हो?मैंने पूछा- कल रात को क्या हुआ था?तब उसने बोला- वही जो तुम चाहती थी. दोस्तो, कैसा रही लॉकडाउन में चरम सुख की प्राप्ति की होम सेक्स स्टोरी?अपने विचार मुझे लिखियेगा[emailprotected]पर. लंड का टोपा अन्दर जाते ही मामी की कसमसाहट भरी आवाज़ आने लगी और वे बोलीं- धीरे धीरे डालियो … एकदम से नहीं … बहुत दर्द हो रहा है.

लड़की चूत में लंड

फिर वो बोली- ठीक है, जा रही हूं रूम में।मैंने कहा- अरे मेहमान जी, इतनी रात को कहां जाओगे, यहीं सो जाओ।वो बोली- अच्छा? यहां छोटा सा रूम है और सिंगल बेड है, ऐसे सुलाओगे क्या अपने मेहमान को? वैसे भी मुझे अकेले सोने की आदत है. फिर मैंने अलमारी खोली और अपनी पसंदीदा ब्राज़ीलियन शॉर्ट पैंटी निकाली. मैं अब उसके सामने ब्रा और पैंटी में टांग खोल कर बैठी थी और वो मेरे जिस्म को निहार रहा था.

फिर मैंने उसे शांत करवाया और कुछ देर बाद हम तीनों होटल के कमरे में चले गए. उस दिन तो मैं अपने घर चली गई थी, लेकिन मुझे उनका लंड मिलना पक्का हो गया था.

मैंने अपनी बांहें फैला दीं और भाभी धीरे से मेरी बांहों में सिमट गईं.

सरोज- ठीक है आज इसे आराम करवाओ और कल ठीक से तेल की मालिश करके रखना. दोस्तो, जब मैंने प्रीति की पहली कहानीमेरी प्यासी चूत को कमसिन लंड मिल ही गयापढ़ी थी, मैं उसी दिन से उसका डाई हार्ड फैन हो गया था और कहानी पढ़कर उसे एक ईमेल किया था. इतना कहते ही भाभी घूम गयी और अपनी पीठ मेरी तरफ कर दी।भाभी मैं कैसे लगा सकता हूँ? मुझे शर्म आती है.

” कहकर मैंने एक बार तो नताशा को टाल दिया।मैं नताशा के प्रस्ताव के बारे में सोच रहा था।एक बार नताशा ने मुझे बताया कि उसकी कजिन के दो किशोरी लौंडियाँ भी हैं। जिस प्रकार नताशा ने उनकी खूबसूरती का वर्णन किया था मेरा मन तो करने लगा था इन दोनों मुजस्समों का भी दीदार करके आँखें सेक ली जाएँ।ओह … पर इसमें बहुत बड़ा रिस्क भी है।अगर किसी को पता लग गया तो मेरा तो कुछ नहीं बिगड़ेगा. मैं बोला- अभी दूसरा कोई रास्ता नहीं है अदिति … जो होता है, हो जाने दो. रिया- अच्छा, कैसे भला?रवि- क्योंकि रमेश को रंडियों की ब्रा और पैंटी कलेक्ट करने का शौक है.

उस दिन मैं अपनी मां के साथ अपनी बहन की ससुराल से लौट कर घर आ रहा था कि पिताजी का फोन आ गया और उन्होंने बता दिया कि वो किसी जरूरी काम से बाहर जा रहे हैं और दो दिन के बाद परसों शाम तक वापस घर आ जाएंगे.

इंग्लिश सेक्सी बीएफ देहाती: मैंने उसके होंठों को चूसते हुए दांत से काट लिए और बोला- इस बार हो ही जाएगा. उन्होंने टॉप के नीचे ब्रा नहीं पहनी थी जिससे उनके बड़े बड़े चूचों से उनका टॉप उनके पेट पर से उठा हुआ था.

जानती हो एक दिन जब तुम ऊपर आई थीं बेबी की मालिश करने … तब मैंने तुम्हारे चूतड़ों को बड़े ध्यान से देखा था … ये एकदम गोल गोल मस्त हैं. ताबड़तोड़ धक्के लगाता रहा और मैंने भी मीता को जोर से भींच कर वीर्य का फव्वारा छोड़ दिया. क्या तुम मेरा साथ देने के लिए तैयार हो?वो बोली- हां, लेकिन मुझे अब और दुख मत देना.

मैंने उसकी गर्दन को चूसते हुए बाइट के निशान दे दिए और लगातार पूरी गर्दन पर दांतों के निशान बना कर लाल कर दी.

रुमित मेरे सामने देखकर बोला- बस अब तुम सिर्फ़ आगे देखकर कार चलाओ … और हां कहीं पर भी कार खड़ी मत रखना … जब तक मैं ना कहूँ … ठीक है!तुषार बोला- ठीक है … भाई हम समझ गए. उस दिन मैं अपने मकान मालिक से मिला और मैंने उन्हें बताया कि मैं आज कमरा खाली कर रहा हूँ. रवि ने उसकी टांगों को चौड़ा करके धीरे से अपना लंड उसकी चूत में पेला.