बीएफ जापानी बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो पेला पेली देखने वाला

तस्वीर का शीर्षक ,

पिक्चर सेक्सी फिल्में: बीएफ जापानी बीएफ, वो बोली- टॉप की या बहुत ही घटिया किस्म की रंडी?मैं हंसते हुए बोला- हां, दूसरे वाली.

काली बाई का सेक्सी वीडियो

फिर उन्होंने कहा- पिछले एक साल से मेरे शौहर ने मुझे हाथ तक नहीं लगाया है. सनी लियोन सेक्सी फिल्म हिंदी मेंवो अपने घर के जीने से नीचे जाते हुए बोली- रात को 8 बजे के करीब मेरे घर आना … मुझे तुमसे थोड़ा सा काम है.

मैंने अपनी जीभ से उसकी पूरी चूत को चाटा … आह मजेदार सा नमकीन स्वाद आ गया. दर्द जुदाई सेक्सीमैं उसके ऊपर चढ़ गया और उसकी टांगों को खोल कर उसकी चूत को पेलने लगा.

15 मिनट तक विक्रांत ने मेरी चूत को इसी स्पीड से चोदा और फिर हम दोनों साथ में ही झड़ गये.बीएफ जापानी बीएफ: इससे पहले कि हम दोनों के बीच में उसकी चूत से पैंटी को नीचे उतारने को लेकर कोई समझौता होता.

मेरा लंड फूलने लगा था और मैं अपनी बुआ की नजरों को बचा कर लंड सहलाने लगा था.मैं उसके लंड को चूत में लेने के लिए बढ़ी तो वो बोला कि उसको गांड चुदाई करनी है.

इंडिया की सबसे सेक्सी लड़की - बीएफ जापानी बीएफ

वहीं मुठ गिरा कर मैं वहां से वापस आ गया और अपने कमरे में आकर लेट गया.नेल पॉलिश लगाते समय मैं बार-बार गीली तौलिया में उसके तने हुए मम्मों को देख रहा था.

मेरी बीवी लवली बहुत ही चुदक्कड़ किस्म की औरत है इसलिए उसके लिए लंड का जुगाड़ करना बहुत जरूरी हो गया था. बीएफ जापानी बीएफ फिर मैंने मम्मी से उनका फोन मांगा और अपने कमरे में जाकर कोमल दीदी को फोन लगा कर ये सब बताया.

जिससे वो ज़्यादा गर्म हो गयी और मेरी बेल्ट खोल कर पैंट उतारने की कोशिश करने लगी.

बीएफ जापानी बीएफ?

शादी के 2 साल गुजर चुके थे और अब मुझे अपनी पत्नी की चूत चुदाई करने में मजा नहीं आता था. अगर आप वो सब भी पढ़ना चाहते हैं, तो ये बस में चुदाई स्टोरी कैसी लगी, मेरी ईमेल पर जरूर बताइएगा. दीदी ने मेरे लंड को मसलते हुए कहा- करने से पहले कहने में क्या गांड फट रही है?मैं समझ गया कि आज दीदी मूड में हैं.

मैंने धीरे से उसकी चूत की पंखुड़ियों को खोल कर देखा और फिर फैला दिया. वो बोली- तुमने आज से पहले तो कभी ये नहीं लगाया, फिर आज क्यों लगा रहे हो?मैंने कहा- इसको लगाने से आपको दर्द कम होगा और मजा ज्यादा आयेगा. राज, हरि, विशाल ये तीनों दोस्त मेरी जवानी देख कर एकदम से हॉट हो गए.

राधिका और मोनिका दोनों की शर्ट में उनकी ब्रा को महसूस किया जा सकता था. मामी जोर जोर से सिसकारने लगी- आह्ह कमल, मर गयी … आईई … आह्ह … मैं बर्दाश्त नहीं कर पा रही हूं. अन्दर मैंने बुआ को बेड पर गिरा दिया और कमरे की अन्दर से कुंडी को लगा दिया.

मैंने उसके लंड को सहलाते हुए कहा- जानू मुझे चोदोगे नहीं?उसने कहा- इसीलिए तो खड़ा करवाया है. अलीज़ा की अब एएसआई के पद पर पोस्टिंग हो गई है … लेकिन अलीज़ा अब लंड के बिना नहीं रह पाती है.

जब पूरे होश में आयी तो उसके हाथ मेरी दोनों चूचियों को जोर जोर से भींच रहे थे.

ये बात आज से लगभग तीन वर्ष पहले की है जब मेरी उम्र थी 28 साल की थी.

इस तरह से हम दोनों एक बार फिर से गर्म हो गये और मैंने एक बार फिर से उसकी चूत चोद डाली. करीब दस मिनट के बाद आंटी चाय लेकर आईं, हम सभी ने बातचीत करते हुए चाय पी. उस समय उसने स्कर्ट और टाईट टॉप पहना हुआ था, जिसमें से उसके चुचियां उभरी हुई दिख रही थीं.

यदि मुझे जिया मेम की गांड चुदाई का मौका मिला तो सर के लिए भी रास्ता खुल जायेगा. बीच बीच में उसको उंगली भी कर रहा था और उसकी क्लिट भी रगड़ देता।अब वो जोश में चिल्ला रही थी और अपनी जांघों से मेरे कंधे पर जोर जोर से दबा रही थी।मेरे दिमाग में एक आइडिया आया. अब मैंने उसके ब्लाउज को उतार दिया, वो मेरे पसंदीदा लाल रंग की ब्रा में थी मैंने उसकी ब्रा के ऊपर ही उसके 36 साइज की मम्मों को अपने दोनों हाथों से पकड़ा और दबाने लगा.

उनका कभी सेक्स करने का मन करे तो सीधा मेरी साड़ी ऊपर करके मेरी चूत में लंड डाल देते थे.

पति ने भी लगभग 15 मिनट की पारी खेली और फिर मेरे जिस्म का भोग लगा कर प्रसाद के रूप में मेरी चूत में अपना वीर्य भर दिया. इसके बाद मेरे हाथों का नंबर आया।उन्होंने मेरी कोहनी के थोड़ा ऊपर तक मुझे अच्छी तरह से मेहंदी लगा दी. कुछ देर बाद मैंने लंड चुत से बाहर निकालकर फिर से एकदम से डाला, तो वो चिल्ला पड़ीं.

मैंने अपना मुँह उनकी चुत पर और हाथ उनके दूध से भरे मम्मों पर रख दिया. मैंने अपने हाथ उसके स्तनों से हटा लिये और उसकी जीन्स की बेल्ट पर रख लिये. फिर मैंने भी लंड बाहर झाड़ा, तो उन दोनों ने अपने मम्मों पर मेरे लंड रस को गिरवाया और लंड चूस कर साफ़ कर दिया.

उसने अपने पिता से भी अपनी चूत चुदवा ली और फिर लवली, उसकी मां और उसके पापा एक साथ तीनों मिल कर चुदाई का मजा लेने लगे.

मैं मुस्कुराते हुए चिल्लाने लगी- अंह उन्ह … आह … हहहह हह … चोदो मुझे … और जोर से चोद दो … आह बना दो आज मुझे रंडी … मेरी चूत और गांड दोनों फाड़ दो … आआहह ऊऊऊहह …मैं जोर जोर से चिल्लाकर सैंडविच चुदाई के मजे ले रही थी. मैं सुबह से दीदी को चोदने के लिए तड़प रहा था, लेकिन अभी हम दोनों भाई-बहन अलग-अलग कमरे में थे.

बीएफ जापानी बीएफ आज मैं आप लोगों के सामने सेक्सी लड़की की चुदाई कहानी प्रस्तुत करने जा रही हूं। यह मेरी पहली कहानी है तो कृपया करके मेरी गलतियों को माफ करें।कहानी शुरू करने से पहले मैं अपने बारे में आपको कुछ और जानकारी दे देती हूं. उस मकान के मकान मालिक एक दूसरे समुदाय से थे और उनका परिवार भी उसी मकान में रहता था.

बीएफ जापानी बीएफ काफी देर तक एक्सरसाइज करने के बाद मेरी चूचियां मेरी ब्रा से बाहर आने को हो गयी थीं. उन दोनों की बातें सुनकर मैं कोई हैरान नहीं था, लेकिन फिर भी मैंने कहा- यार शर्म करो … वो प्रिया जी मेरी सीनियर हैं.

इसके सुबूत के लिए मैंने विडियोग्राफ़ी के साथ फोटो खिंचवाने और एक स्टाम्प पेपर पर साइन करने तक सारे काम कर लिये.

बिहारी सेक्सी बढ़िया

वो नंगी ही बैठी हुई थी और उसके पैरों के बीच में से यूरिन गिरने लगा था, जिसके फर्श पर गिरने से अजीब सी आवाज आ रही थी. अब वापस लौटने का कोई रास्ता नहीं था सिवाय दर्द को बर्दाश्त कर जाने के अलावा. घुटनों के बल खड़े मामा ने कटोरी से तेल लेकर अपने लण्ड पर लगाया और मेरी चूत के लब खोलकर अपने लण्ड का सुपारा रखकर मेरी कमर पकड़ ली.

उनकी चूत में अपना लंड बहुत आराम से अंदर बाहर करने लगा।वो कहने लगी- कितना अच्छा चोदते हो आप, और जोर से करिए, मुझे बहुत अच्छा लग रहा है।फिर मैंने एक तकिया बगल से उठा लिया और उनकी गांड के नीचे रख दिया. आपको मेरी चूत और गांड की चुदाई कैसी लगी? मुझे नीचे दी गई ईमेल के द्वारा भी आप अपनी राय दे सकते हैं. अब वो फिर से मेरे पास आ गया।मैं बोली- क्या हुआ? ये आज यहां नहीं बैठेगा?लड़का- नहीं, आज इसकी ड्यूटी दूसरे रूम में है।अब मैं समझ गयी कि आज रात के लिए इसने उसको समझा दिया है।कुछ देर के बाद वो बोला- अगर आप यहीं पर बैठी हो तो मैं अपने कपड़े बदल कर आ जाऊं? बस पांच मिनट लगेंगे मुझे.

कुछ दिन बाद सोनम ने मुझे रीना के बारे में भी बता दिया था कि वो भी सैट हो जाएगी.

शायद उसको आखिरी बार का आखिरी स्वाद लेना था इसलिए उसने मेरी चूत को फाडऩे में कोई कसर नहीं छोड़ी. आग की तरह तपते रेखा के होंठों ने मेरे जिस्म में आग भर दी और मेरा लण्ड पैन्ट से बाहर आने के लिए फुफकारने लगा. एक ने मेरी चूचियों को मसलना शुरू कर दिया और दूसरा मेरी गांड को जोर जोर से दबाने लगा.

मेरी उफनती जवानी में परेशान कर रही चूत ने ठान लिया कि चूत का उद्घाटन होगा तो मौसा के लंड से ही. केवल उन्हीं की चूत को चोदना है क्या? मेरी चूत की सफाई कौन करेगा?मैं बोला- कोई बात नहीं, तुम भी आ जाओ. मैं उनके नंगे बदन से चिपक गया और उनके दूधों को मुंह में भर कर लेट गया.

वो लंड को पकड़े रही और फिर धीरे धीरे अपने हाथ से मेरे लंड को सहलाने लगी. उसकी जांघ का दबाव पड़ने से मेरे लंड का टोपा बार बार खिंचाव में आ रहा था और अब वो पूरा बाहर आने के लिए मचल सा गया था.

उस दिन और रात और उसके अगले आधे दिन हमने खूब चुदाई की। खास कर मैंने उसकी गांड खूब मारी क्योंकि मुझे लड़की को गांड चुदाई के बाद लंगड़ाते हुए चलते देखने में आनंद आता है. हमारी पहली चुदाई काफी देर तक चली जिसमें मैं अमन के लंड पर दो बार झड़ गयी. रोहित के साथ ये सब मेरे पति नहीं सोचेंगे।मैंने भी यूं ही कह दिया- हां, बुला लाओ.

कुछ देर तक वो पागलों की तरह मेरी चूत को चूसता और चाटता रहा और मुझे भी पागल करता रहा.

उसके बाद पहले मैं उसको मॉल में ले गया और वहां से उसको दो जीन्स और टॉप दिला दिये. मनीषा बुआ ने मुझे तुरंत पहचान लिया, वो बोलीं- अरे हितेश, तू कौन सी दुनिया में जी रहा है … कितने दिन बाद दिखा है. प्रिया की आवाज सुनकर प्रीति अचानक से हड़बड़ा गयी और वो मेरे ऊपर से हट गई.

15 मिनट तक विक्रांत ने मेरी चूत को इसी स्पीड से चोदा और फिर हम दोनों साथ में ही झड़ गये. खैर … तुमने उन्हें क्या बताया?इस पर उन्होंने कहा कि यही कि तुम्हारी तबियत ठीक नहीं है, इसलिए तुम होटल नहीं आए हो.

वो कभी मेरी गोटियों को छू रही थी तो कभी लंड के टोपे पर उंगली फिरा रही थी. बाथरूम में जाकर मैंने उन दोनों की चूत को धोया और उन्होंने मेरे लंड को धोया. पर कुछ दिनों बाद कोमल दीदी ने ट्यूशन पढ़ाते हुए बताया कि उनकी मम्मी किसी रिश्तेदार के घर शादी में जाने वाली हैं और कुछ दिनों तक वहीं रहेंगी.

कुत्ता कुत्ते की सेक्सी फोटो

मेरे चारों ओर के सारे लोग मेरे शरीर को अब बेतहाशा चूमने लगे। रोहन मेरी ब्रा से निकले हुए चूची के हिस्से को चूम रहा था.

उसके बाद उस आदमी ने अपनी पैंट उतार दी और माँ उसका लंड मुँह में लेकर चूसने लगी. कुल मिलाकर वो गर्म माल थीं, जो मेरे जैसे मस्त लंड वाले लौंडे के लिए अपनी चुत खोलने के लिए राजी थीं. अमेच्योर क्रॉसड्रेसर स्टोरी में पढ़ें कि मेरे नए आशिक ने मेरे साथ सुहागरात मनाने के लिए मुझे पार्लर में भेज कर मेरे जिस्म को चिकना करवाया.

तब से मेरी माँ बहुत अकेली रहने लगी।अब मैं आपको अपनी माँ के बारे में बताता हूँ. जब मैंने रिसेप्शन रूम की ओर देखा तो पाया कि उन दो लड़कों में से एक जाग रहा था और मुझे ही देख रहा था. सेक्सी चुदाई की कहानी ऑडियोइस अन्तर्वासना स्टोरी हिंदी में मजा लें कि मेरी गर्लफ्रेंड की चुदाई की तमन्ना अधूरी रह गयी.

पूजा आंटी- अभी तो 3 इंच ही गया है … चुप कर मादरचोद और एंजाय कर … अभी तो पूरी रात पड़ी है. ये बात मामी ने मुझे जब ये बताई, तो मैंने उनको चोदने का पक्का कर लिया.

मगर मैं अब बाहर नहीं जा सकता क्योंकि मेरे घरवाले बाहर ही बैठे हुए हैं. वो मुझे बहुत प्यार करती थी … लेकिन चुदाई का मजा नहीं करना चाहती थी. मेरी कहानी के पहले भागसेक्सी बहन को बीवी बनाया-1में आपको मैंने बताया था कि मेरी बहन मेरे पास ही रहने के लिए आ गयी थी.

फिर वो पल भी आ गया और अमन ने अपनी स्पीड तेज़ कर दी और 15-20 जोरदार झटकों के बाद अमन ने मेरी चूत में अपना गर्म गर्म माल छोड़ दिया और मैं पूरी अंदर तक जैसे भर सी गयी. मैंने उनका इशारा समझते हुए कहा- अच्छा … आप ही बता दो, कौन है?वो बोलीं- तेरी मामी. खैर ये कहानी मैं आपको अगली बार सुनाऊंगा।मेरी ये सेक्स कहानी अच्छी लगी होगी.

एक दिन ऐसे ही हम फ़ोन पर बातें कर रहे थे और उसने मुझे अपने रूम में आने को बोला जो कि मेरे रूम से ऊपर वाले फ्लोर पर था.

जीजा जी- इधर कब आने वाले हो?मैं- तीन दिन बाद जब कॉलेज पर छुट्टी होगी … तब आपके पास आने की सोच रहा था. मेरी मां की तबियत ज्यादा ठीक नहीं रहती है इसलिए घर का काम हम दोनों बहनें ही करती हैं.

पर कोमल दीदी की चूचियां तो ऐसे हिलते हुए दिख रही थीं, जैसे उन्होंने ब्रा ही ना पहनी हो. लगा कि जैसे उसे 1000 वाट का करंट लगा हो और वो सिसियाने लगी और मेरे सिर को हाथों से अपनी चूत की ओर धकेलने लगी. इससे पहले कि वो बाहर जाकर कहीं बंद हो जाती मैंने चिल्ला कर उससे कहा- मां! अच्छा, तो तू अब रघु से अपनी भोसड़ी ठण्डी करवा रही है?कहते हुए मैंने अब दरवाजे की चिटकनी बंद कर दी थी.

मेरा पूरा लंड अपनी चूत में निगलने के लिए उनकी गांड पूरी ऊपर तक उठ रही थी. उसके बाद उसने मुझे घोड़ी बना के चोदा।फिर उसने मुझे उल्टा लिटाया और मेरे नीचे तकिया रख दिया. अब मेरा हाथ निशा की कोमल जांघों से ऊपर होता हुआ उसकी चूत की ओर प्रस्थान कर गया था.

बीएफ जापानी बीएफ इसलिए मां और पापा की चुदाई की ये शाम हम लोगों के लिए काफी महत्वपूर्ण थी. मैं रूम में ही पर्दे के पीछे बैठा बैठा आंटी को देखता रहा कि आंटी क्या करती हैं.

सेक्सी ब्लू पिक्चर नंगी चुदाई वाली

तुम जो कहोगे मैं वो करने के लिए तैयार हूं लेकिन ये बात किसी को पता नहीं लगनी चाहिए, प्लीज।मैंने जेब में से लाइटर निकल कर जलाया तो मेरी नजर सरिता दीदी पर पड़ी. निगार आंटी आए दिन नजमा आंटी के घर मुझे मिलने के लिए बुलातीं और मेरे लिए हमेशा कुछ न कुछ गिफ्ट लेकर आतीं. हरि बोला- रंडी अब जब भी मौका मिलेगा … हम ऐसे ही xxx ग्रुप सेक्स करेंगे.

मैंने उनसे पूछा- माल कहां लोगी?तो उन्होंने कहा- मेरे अन्दर ही गिरा दो … आह … न जाने कब से मेरी चुत सूखी पड़ी है. और उसने मेरी दोनों दूध जैसी सफेद चूचियों को ज़ोर-ज़ोर से मसलना और चूसना शुरु कर दिया। वो एक चूची को हाथ में लेकर चूसते तो दूसरे को हाथ से मसलते और निप्पल को उंगली से कसकर निचोड़ते।3-4 मिनट के बाद मास्टर ने अपनी पैंट का बटन और जिप खोलकर पैंट को अपने घुटनों तक नीचे कर दिया. भोजपुरी फिल्म सेक्सी हिंदी मेंमेरे पूछने पर भाभी ने कहा- ये कहानी बाद में बताऊंगी मेरे चोदू राजा, अभी मेरी चुत चुदाई पर ध्यान दो.

अब तक आपने मेरी हिन्दी रियल सेक्स स्टोरी के पिछले भागदो आंटियों को चुदाई और औलाद का सुख दिया-3में पढ़ा था कि निगार आंटी की चुत चुदाई के बाद बोल उठी थी- यह है असली चुदाई! आंटी की चुत फूल कर पकौड़ा हो गई थी.

उसके बाद मैं उसके साथ उसके स्टॉप पर उतरा और …नमस्कार दोस्तो, आज मैं आपके सामने अपनी सच्ची घटना जिसमें मैंने ‘एक सेक्सी भाभी को चोदा’ लेकर आया हूं। कहानी बताने से पहले एक बार मेरे बारे में जान लें. उसने मुझे धन्यवाद कहा और लिखा- मैं इतनी भी सुन्दर नहीं हूँ जितनी आप तारीफ़ कर रहे हैं.

मैंने खुद को संभाला और मौके को थोड़ा हल्का अर्थात हंसी मजाक वाला बनाने के लिए उससे बात करनी शुरू की. अलीज़ा की अब एएसआई के पद पर पोस्टिंग हो गई है … लेकिन अलीज़ा अब लंड के बिना नहीं रह पाती है. दोस्तो … कैसे हो आप सब! आशा है आप सब अच्छे होंगे और मस्त चुदाई का मजा ले रहे होंगे.

इस अहसास का मजा लेते हुए मुझे मुश्किल से एक मिनट भी नहीं हुआ था कि मुझे आभास हुआ कि माँ अब मेरे ऊपर ही लेट जाने की कोशिश करने लगी है.

अलीज़ा बोली- तुम मुझसे बदला ले रही हो या मेरी मदद कर रही हो?मैंने कहा- तेरी मदद इसलिए कर रही हूँ कि तू मेरे धंधे में सरदर्द न बने बल्कि मेरी मदद करे. बार बार मन में उनके लंड का नजारा आ रहा था और सोच रहा था कि मैंने पापा का लंड भी देख लिया फिर भी उन्होंने कुछ नहीं कहा. ललिता तो चुदासी हो ही रही थी, मैं भी कुंवारी चूत चोदने को उत्सुक था इसलिए मैंने ललिता को गोद में उठाया और उसके बेडरूम में ले आया.

राजस्थानी सेक्सी कॉल रिकॉर्डिंगधक्के लगाते हुए मां मुझे फिर से चोदने लगी, या यूं कहें कि अपने आप ही चुदने लगी. मैंने बड़ी दीदी को दीवार से सटा दिया और उसके गले में पड़े मंगलसूत्र को निकाल दिया.

इंग्लिश सेक्सी गाने वीडियो

ये बात गर्मियों के दिनों की है, मेरे कॉलेज की छुट्टियां चल रही थीं, तो मैं बिल्कुल फ्री था. उस दिन के बाद से हम दोनों मां के सामने चुदाई करते रहते थे और मां देख कर चली जाती थी. अगर वो ब्रा और पैंटी से खेले तो इसका मतलब है कि वो भी आपके साथ मजे करना चाहता है.

क्योंकि घर वालों को मेरी आदतें मालूम थीं कि मैं काफी लड़कीबाज किस्म का हूं, इसलिए उन्होंने इस बात पर विशेष ध्यान दिया था. चूत और लंड के मिलन और दोनों के वीर्य के मिश्रण से नीचे का एरिया पूरा गीला हो गया. लंड को बहू की चूत के छेद पर सेट करके मैंने एक धक्का दिया तो आधा लंड अंदर चला गया.

जैसे ही पैंटी मिलती थी मैं मुठ मार लेता था और सारा माल पैंटी में ही गिरा देता था. काफी चुदने के बाद जब वो भी अकड़ गई और अकड़ कर जैसे ही वह झड़ कर फ्री हुई. मैंने उनके घर जाकर देखा, तो निगार आंटी एक झीनी सी मैक्सी में मेरा वेट कर रही थीं.

फिर मैं बोला- मुझे आपसे एक बात और कहनी है, जब मैं लवली को आपके सामने चोदा करता था. मगर मैं भी बेशर्म बन कर उसके सामने ही अपना तना हुआ लंड लेकर खड़ा रहा.

पर आज भी जब उसका कानपुर आना होता है तब हम मिलते हैं और चुदाई भी करते हैं।तो दोस्तो, यह थी मेरी सच्ची इंडियन हिंदी सेक्स स्टोरी।आपको कैसी लगी, ज़रूर बताइयेगा।[emailprotected].

इसी प्रकार जब उनकी तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई, तो मैंने एक हाथ उनके ब्लाउज में घुसा दिया और दूसरे हाथ से उनकी चुत को साड़ी के ऊपर से ही सहलाने लगा. पुलिस वाले का सेक्सी पिक्चरमैं एक हाउस वाइफ हूं। मैं पिछले काफी समय से अंतर्वासना पर हर तरह की सेक्स कहानियां और लेख पढ़ रही हूं।मुझे अंतर्वासना पर कहानी पढ़ना बहुत अच्छा लगता है। वहां पर मुझे लोगों के ख्यालों के बारे में पता लगता है। अपने यहां के लोगों की सोच के बारे में पता लगता है।खैर, आज मैं आप लोगों के सामने अपनी भी एक कहानी लेकर आई हूं. हिंदी सेक्सी वीडियो कुत्ता कीभाई बहन सेक्स स्टोरी पढ़ते पढ़ते मेरे मन में मेरी छोटी बहन के ख्याल आने लगे. मैंने उसे झटके से नीचे किया क्योंकि मैं भी झड़ने वाला था और माल उसके अन्दर छोड़ना चाह रहा था इसलिए मैं तेजी से उसे चोद रहा था.

हम दोनों कब एक दूसरे के जिस्मों को भी सहलाने लगे कुछ पता ही नहीं लग पाया.

उसका ये हमला में बर्दाश्त नहीं कर पाई और मेरे मुंह से एक आह्ह निकल गई. वो अपने सिर को जोर जोर से पटकने लगी लेकिन मैंने उसकी चूचियों को मुंह में लेकर चूसना काटना शुरू कर दिया. तब तक रात के सवा बारह बज चुके थे।मैंने पहल करते हुए कहा- अब ये सब छोड़ो और असली काम पर चलो।मनोहर ने मेरे मुँह से अपना लंड निकाल लिया.

ये सुनकर मैंने लंड निकाल लिया और उसी पल दीदी मेरे सामने घुटने के बल बैठ गईं. नानी का घर हमारे घर से इतनी दूरी पर था कि पहुंचने में 5-6 घंटे लग जाते थे. अब मैंने भी उसके कपड़े उतार कर उसका कड़क नाथ लन्ड मुंह में ले लिया और चूसने लगी.

सेक्सी फिल्म दे देना

वो बोली कि उसको चुदाई करने में बहुत मजा आता है और सेक्स करने का उसका बहुत मन करता है. मैं लगभग रोते हुए विनती करने लगा- सॉरी अंकल … मुझे माफ़ कर दो प्लीज़. पीछे से लंड लगाकर उसने धक्का मारा तो मेरी दर्द भरी आह्ह … निकल गयी.

इधर हसन मेरी करवट की ओर मुंह के पास आ गया और उसने फिर से घुटनों को मोड़ कर मेरे होंठ अपने लंड पर रखवा दिये और मेरे होंठों पर लंड को रगड़ने लगा.

तब तक आप थोड़ा इंतजार करें और गर्म गर्म सेक्स कहानियों का मजा लेते रहें.

मैंने कहा- बेटा जब मैंने पहली बार तेरी चूत की सील थोड़ी थी, तब भी तो दर्द हुआ था. उफ्फ़ … क्या चूचे थे उसके … एकदम दूध से सफ़ेद चूचे … और उस पर वो भूरे रंग के कड़क अंगूरी चूचुक …मुझसे रहा ही न गया और मैंने अपने मुँह में उसके एक चूचे को भर लिया. चोदी चोदा एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियोफिर उन्होंने मेरी बीवी के जिस्म से हर एक कपड़ा अलग करके उसको नंगी कर दिया और खुद भी नंगे हो गये.

मैंने उससे कहा कि मैं उसके घर चला जाता हूँ।प्रदीप ने थोड़ा रुक कर जाने को कहा ताकि वो अपनी माँ को बता सके।कुछ देर के बाद प्रदीप का फोन आया और उसने मुझे थोड़ी देर के बाद जाने के लिए कहा. एक वीक के बाद मां का फ़ोन आया कि उनकी तबियत ठीक नहीं है, तो मैं उन्हें अपने पास ले आया और यहां एक अच्छे डॉक्टर से दवा दिलवाई तो उनकी तबियत ठीक हो गयी. पर जब भी मेरे को मौका मिलता तो मैं उस फ्लर्ट जरूर करता।एक दिन मेरे घर में सब बाहर जा रहे थे और मैं घर में अकेला था.

मैं आशा करता हूँ कि आप सभी अन्तर्वासना की मस्त सेक्स कहानी मजा ले रहे होंगे. मगर मैं अब बाहर नहीं जा सकता क्योंकि मेरे घरवाले बाहर ही बैठे हुए हैं.

अपने चूतड़ चलाकर लण्ड को अपनी चूत में सेट करके बड़ी ही मादक आवाज में रेखा बोली- तुम अब तक कहाँ थे, विजय? मेरी शादी को 20 साल हो गये हैं लेकिन ऐसा लग रहा है, जैसे पहली बार चुद रही हूँ.

अचानक ही मेरी नींद में ही मुझे महसूस हुआ कि मुझे बहुत अच्छी फीलिंग आ रही है. मेरी बंद आंखों के सामने ताई जी की बालों वाली चूत के अलावा कुछ और दिखाई ही नहीं दे रहा था. फिर बात पलटते हुए मैंने पूछा- पहले ये बताओ, मेरे हाथों से बने स्केच कैसे लगे?सीमा- स्केच तो अच्छे हैं लेकिन ये सब तू मुझे क्यों भेज रहा है? साफ-साफ बता कहीं तू मुझसे प्यार तो नहीं करता है?मैं- अगर मैं कहूं कि हां करता हूं, फिर?वो बोली- देख यार, मेरे बहुत सपने हैं जो मुझे पूरे करने हैं, वैसे भी मैं अपने पेरेंट्स का भरोसा नहीं तोड़ सकती.

हॉट सेक्सी भाभी चुदाई वीडियो आज मैं वही सच्ची घटना आपको बताने जा रही हूं जो मेरे साथ पिछले दिसंबर में हुई थी. वो मुझे पीछे धकेलना चाह रही थी लेकिन मैंने उसे नहीं छोड़ा और हल्का पीछे होकर दूसरे झटके में लंड अंदर कर दिया.

अपनी यात्रा के लिए मैंने एक प्राइवेट बस में स्लीपर की नीचे वाली सीट बुक करवाई थी. ट्रेन चलने से दस मिनट पहले एक अच्छी खासी मस्त भाभी मेरे सामने वाली खिड़की के पास बैठ गईं. उसकी चूत तक तो पहुंच गया था अब उसकी चूत में लंड देने का काम बाकी रह गया था.

सेक्सी कहानियां विडियो

सोचो मेरा क्या हाल हुआ होगा।पहली बार जब उसे देखा था तो बस मेरा लंड लोहे की रॉड बन गया था उसकी तरफ देख के स्माइल की और सोने चला गया।धीरे धीरे मैंने उससे बात करना चालू किया. मैं भी मजा लेकर देख रहा था कि किस तरह मेरा बापू अपनी बहू की चूत को मजा लेकर चाट रहा है. आपको तो मालूम ही है कि मेरा पार्लर लड़कियों को मसाज के लिए ट्रेनिंग देता है.

मुझे ऐसा लग रहा था कि यदि मैं लड़का होती, तो मेरा लंड खड़ा हो जाता. करवाचौथ से लगभग तीन दिन पहले शुक्रवार को जब मैं शाम को घर आ रहा था, तो आंटी घर के गेट पर ही मिल गईं.

कुछ ही पलों में आरज़ू कुछ ज्यादा ही गर्म होने लगी और मुझे जगह जगह किस करने लगी.

मैंने बोला- पिंकी आज तो मेरी वाट लग गई … शाम को मेरी गर्लफ्रेंड को आना है और मैं उसके साथ कुछ नहीं कर पाऊंगा. दस मिनट तक आरज़ू मेरा लंड चूसती रही … तो मेरे लंड का माल गिरने वाला हो गया. ललिता के होंठों के रसपान से मेरा लण्ड काले नाग की तरह फुफकारने लगा.

कुछ देर तक उसके बूब्स को दबाने के बाद वो पलट गयी और उसने खुद ही मेरे हाथों को अपनी चूचियों पर दबाना शुरू कर दिया. मैं उनके सामने ही अपने लंड को पकड़ कर हिलाते हुए दुबारा खड़ा करने की कोशिश में लगा था. मौसी कसमसाई और मैंने उसके होंठों को जोर जोर से चूसना और काटना शुरू कर दिया.

तो मोसी छटपटाने लगी, बोली- ये क्या कर रहे हो?तो मैं बोला- जो भैंसा भैंस के साथ कर रहा था … वही।फिर मैं मोसी के ऊपर चढ़ गया और अपना लौड़ा उसके बूब्स के बीच में दे दिया.

बीएफ जापानी बीएफ: वो मुझसे विनती करने लगी- अब्बू पूरी ताकत से जोर जोर से चोदो … अपने धक्कों की स्पीड बढ़ा कर अपनी बेटी को मसल दो … आह अपनी बिटिया को चोद दो … अच्छी तरह से रगड़ दो आज मुझे. अब मुझे उसकी शर्ट का बटन खोलना था ताकि मैं उसके दूधों को हाथ में ले सकूं.

अब मेरी जांघें ऊपर से नंगी हो गयी थीं और मेरा लंड कच्छे के बाहर निकल आया था. तो मैं ही उसे छोड़कर दूर हट गया तथा सीढ़ियों पर रोशनी में आकर खड़ा हो गया।शायद मिनी को लग रहा था कि मैं वापस आकर अपना मिलन पूरा करूँगा. फिर मैं धीरे से अपने कपड़े समेट कर अपने रूम में आ गया और फिर नंगा ही लेट गया.

एक बार लंड का पानी निकल जाने पर तुरंत लंड चूसने लगती थी और जब तक लंड खड़ा नहीं हो जाता था, उसको चैन नहीं पड़ता था.

कुछ टाइम बाद एक छोटा लड़का आया तो वो मुझसे बोला- जीजा, आपको मम्मी बुला रही हैं. वो बोला- कहां जा रही हो मैडम?मैंने कहा- मेरा नाम मैडम नहीं सिमरन है. ये ट्रेन कोई स्पेशल ट्रेन थी, जो अभी ही चली थी और इसका किसी को मालूम ही नहीं था.