मधु के बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,बीएफ फिल्में चुदाई वाली

तस्वीर का शीर्षक ,

वॉलपेपर वाली: मधु के बीएफ वीडियो, ये ओरिजिनल नाप है … लड़कियां देखना चाहेंगी तो उन्हें दिखा भी सकता हूँ.

बीएफ सेक्स कॉलेज

माया- क्या हुआ?मैं- दीदी, मैं जीजा जी के पास अपना मोबाइल भूल गया था. हिंदी बीएफ चाची की चुदाईजिनल- अर्जुन जी अन्दर तो आइए … मेरा भी आपसे मिलने का बहुत मन कर रहा था.

इसी के साथ मैंने अपना एक हाथ आगे ले जाकर उसके मम्मे को पकड़ लिया और उसे मसलने लगा. अश्लील बीएफ वीडियोये कह खाला ने मुझे गले से लगा लिया, जिससे मेरा मुँह उनके मम्मों के नज़दीक पहुंच गया और मुझे आधे दूध दिखने लगे.

फिर मैंने उसे अपने दोनों हाथों से उठाकर चूम लिया और बेड पर लिटा दिया.मधु के बीएफ वीडियो: भाबी- तुम तो खिलौना हिला रहे हो, मेरा काम कैसे करोगे?मैंने कहा- भाबी, ये जो मैं हिला रहा हूँ न … ये आपकी चूत का भोसड़ा बना देगा.

ये सब काल्पनिक बातें होती हैं … हां भारत में लम्बे लंड होना एक अपवाद हो सकता है.साली कुतिया रंडी … तुझे तो मैं बहुत दिन से चोदना चाहता था … आज तो मैं तेरी चुत फाड़ कर रख दूँगा साली … ले लौड़ा ले मादरचोद.

बीएफ वीडियो सोंग - मधु के बीएफ वीडियो

उसने मुझसे कहा- क्या हुआ?मैंने कहा- कुछ नहीं, चीनी का डिब्बा तुम्हें मिल गया हो, तो थोड़ा पीछे हटो … मुझे नीचे से एक बर्तन निकालना है.जैसे जैसे वक़्त बीत रहा था, हमें सामने लगी घड़ी की सुई की आवाज़ और दिलों की धड़कनें साफ सुनाई दे रही थीं.

क्योंकि अभी काफी समय तक शादी वगैरह के चक्कर नहीं चाहता था और न ही कमिटमेंट के लिए तैयार था।वो कुछ नाराज़ हुई और हफ्तों तक मुझसे बात नहीं की. मधु के बीएफ वीडियो उसके बाद मैंने उसे खड़ा किया और झुड बैठ कर उसकी चूत पर अपना मुँह रख दिया.

Xxx गांड हिंदी स्टोरी में पढ़ें कि एक अमीर आदमी की बीवी उसे छोड़ गयी तो उसे लड़कों की गांड मारने की लत लग गयी.

मधु के बीएफ वीडियो?

रिया के मुँह से बस कामुक सिसकारियों की आवाज ही निकल रही थी और उसके हाथ लगातार मेरे बालों में चल रहे थे. धीरू ने कहा- सन्नो तू जिस तरह लंड चूस रही है, लग रहा है बहुत एक्सीरियंस्ड है. कुछ ही क्षण में भाभी का बदन ऐंठने लगा और उनकी चुत ने रोना शुरू कर दिया.

मेरा लंड जाकर अन्दर किसी चीज़ से टच हुआ, जिससे मॉम को बहुत दर्द हुआ. सरिता ने मुझे देखा तो हँसती हुई बोली-हर्षद ऐसे घूरके क्या देख रहे हो? पूरी रात हम दोनों नंगे ही साथ में ही थे ना, तो अभी तक दिल नहीं भरा क्या?हम दोनों चाय पीते हुए बातें कर रहे थे. तभी विलास उठकर बोला- यार हर्षद, चलो मैं तुम्हें हमारी खेती दिखाता हूँ.

मैंने ऊपर ऊपर से उसके साथ खेला और साड़ी उठा आकार उसकी चुत में लंड पेल दिया. काफी देर तक मैंने शिल्पा की चूत में उंगली भी की और उसकी चूत के रस को चाटता रहा. मिनी ने मुस्कुराते हुए मुझसे पूछा- मजा आया या और चूस दूं?मैंने उसे अपने पास खींच कर किस किया और बोला कि बहुत मजा आया.

मैंने भी रिया की बात का सम्मान करते हुए उसको लंड चूसने के लिए फ़ोर्स नहीं किया. थोड़ी देर में खाला आईं, उन्होंने कमरे का गेट लगा दिया और कूलर चालू कर दिया, जिससे चुदाई की आवाज़ें बाहर ना जा पाएं.

उसने अपनी दोनों टांगें मेरे दोनों बाजू कर दीं और अपने हाथों से लंड पकड़ कर अपनी चूत में अन्दर रख लिया.

फिर मैंने भाभी को सीधा लिटा लिया और उनकी दोनों टांगों को अपने कन्धे पर रख लिया; अपने लंड को उनकी चुत पर रगड़ने लगा.

मैं उनके मम्मों को चूमते चूमते नीचे आ गया और भाभी की कमर को चूमने लगा. जब मैंने ये किसी मददगार की मुस्कराहट के साथ कहा, तो वो पहले तो थोड़ा चुप रही. हमने मयंक का नम्बर लिया और उस सुनसान रास्ते पर बड़ी बड़ी मयंक को लिप किस किया।थोड़ी ही देर में हमारी बस आयी और हम मयंक को उधर छोड़ एक सुनहरी याद को फिर से संजोये हुए आगे निकल पड़ी।आपको हमारी न्यूड गर्ल फन स्टोरी कैसी लगी? प्रतिसाद जरूर भेजें।[emailprotected].

कुछ ही देर में मैंने अपने लंड का सारा माल चाची की पैंटी में निकाल दिया. फिर उसने अपनी कमर हिलाकर मेरा हाथ अपनी चूत पर अडजस्ट किया और मेरी कमर के नीचे तकिया रख दिया. वो बोले- वो कमी कैसे मैं पूरी कर सकता हूं? वो तो मेरे बस में नहीं है!मैं शर्मा गई और बोली- आप भी ना!जेठ जी ने थोड़ी देर बाद बोला- चलो रात हो गई बहुत …मैं उठ कर अपने कमरे में जा ही रही थी कि जेठ जी ने हाथ पकड़ लिया।तब मैं नजरें झुका कर खड़ी रही और वो बोले- तुम चाहो तो आज सारी कमी पूरी कर देता हूं।मैं और भी ज्यादा पानी पानी हो गई.

अगले दिन जब मैं गया तो वो रोज़ की तरह मुझसे पहले खड़ी थी और शायद आज बस की तरफ नहीं … बिल्डिंग की गली तरफ देख कर मेरे आने का ही इन्तज़ार कर रही थी.

अगली रात मैंने भाई की जगह ही लेट कर चादर ओढ़ ली और सोने का नाटक करने लगी. मैं पहले ऊपर चढ़ने लगा, वो मेरे पीछे मेरी गांड पर थप्पड़ मारता हुआ चढ़ने लगा. इतना सुनने के बाद वो बहुत खुश हो गयी और मेरे गले में अपना भार डाल कर अपने होंठों को मेरे होंठों से जोड़ दिया.

थोड़ी देर सहलाने के बाद उसने उस लंड को अपने मुँह भर लिया और लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी. उसकी सिंकाई करके मैंने उसे दवा दे दी और पट्टी करने के बाद मैंने उसकी कमर देखने की बात कही. लेडी डॉक्टर सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं एक लेडी डॉक्टर से लंड की खुजली का इलाज करवा रहा था.

जेबाँ मेरे लौड़े पर उछलने लगी और अम्मी चूत चटवाती हुई सिसकारियां भरने लगीं.

दोस्तो, चुदाई करते हुए समय का पता नहीं पड़ता, पर पहली चुदाई (अधूरी ही सही) के बाद आगे की होने वाली चुदाइयों का रास्ता साफ हो चुका था. जैसे ही एक झटके में उसने अपना लौड़ा मेरी चूत में पिरोया, मेरी जोरदार चीख निकल गई और उसने मुझे झट से अपनी बांहों में ले लिया और दोबारा से लण्ड आधे से ज्यादा बाहर निकाल कर फिर एक जोरदार झटका दिया.

मधु के बीएफ वीडियो उसने पूछा- खाना खाया?मैंने कहा- अभी तो आया हूँ यार, अभी कहां से … अब बनाऊंगा तब ना खाऊंगा. उसके ब्लाउज और साड़ी से ढकने के बाद उसकी सांवली पीठ पर उभरती पसीने की बूंदें मुझे पागल बना रही थी।पानी पीने के बाद मैंने एक गहरी सांस छोड़ी जो कि शायद उसकी पीठ पर टकराई.

मधु के बीएफ वीडियो मैंने भी ऊपर होते हुए विलियम को अपने ऊपर खींच लिया और उसने भी एक झटके में मेरे पैरों से मेरी पैंटी निकाल कर मुझे नंगी कर दिया. अगर रिस्पांस अच्छा रहा तो मैं इस कहानी का बाकी अगला भाग भी लिखूंगा कि उस लड़की की गांड चुदाई मैंने कैसे की।[emailprotected].

मुश्किल से मैंने चार पांच धक्के और लगाए और जैसे हवा में तैरने लगा।मेरे शरीर की पूरी नसें खिंच सी गईं थीं और लन्ड से जैसे वीर्य की धार बह चली हो।जब मैं सामान्य हुआ तो उसने अभी भी मुझे वैसे ही पकड़ा हुआ था.

व्हाट्सएप खोजें

मैं बेड पर बैठकर मोबाईल देख रहा था, तो मेरी प्यारी पत्नी ने मेरे पास आकर मेरे होंठों पर किस किया और मेरे होंठ अपने होंठों में लेकर चूसने लगी. माया- मेरा मोबाइल खराब हो गया है, तू उसको ठीक करवा देगा?मैं- हां ठीक है दीदी, आप मोबाइल दे दो. फिर उसकी ब्रा पर से उसके एक निप्पल पर काट लिया जिससे वो चिहुंक गयी और आह करके सीत्कार कर उठी.

10 मिनट तक ऐसे चुदाई करने के बाद मैंने उसको घोड़ी बना दिया और पीछे से लंड डाला और साथ में उसकी चूचियां पकड़ ली उसको पीछे से चोदना शुरू कर दिया।मैं बहुत तेज धक्के लगा रहा था जिस वजह से उसकी चीखें निकल रही थी. हम जब शादी से फ़्री होकर निकले, तो उस रास्ते में पता नहीं चाची ने या तो जानबूझ कर या डर की वजह से खुद को मेरे पीछे चिपका लिया था. जनकपुरी जाते वक़्त मैंने उसका हाथ पकड़ा था, मगर अब वो मुझे नहीं छोड़ रही थी.

दुल्हन सेक्स की प्यास से कभी लंड को हाथ से हिलाती हुई जोर जोर से चूसती, तो कभी टोपे पर जीभ से लिकलिक करके मजा देती.

आपको सेक्सी सिस्टर Xxx कहानी कैसी लगी, मुझे[emailprotected]पर मेल करके जरूर बताएं. चूंकि रेखा पहली बार ये सब अनुभव कर रही थी तो वो बेहद कामुक हो गई थी. शायद मेरे खड़े लंड का अहसास पाकर वो भी कुछ कर गुजरने के मूड में आ गई.

दोस्तो, मेरा रंग गोरा है और मैंने आयुर्वेदिक दवा खाकर अपने लंड का साइज काफी लम्बा और मोटा कर लिया है. फिर श्रेया मैडम बोली- प्लीज तुषार, ये बात किसी को मत बताना वरना मेरी बहुत बदनामी होगी. मैंने कहा- चलो कोई बात नहीं … पहले तुम मुझे समझना चाहती हो तो क्या मुझसे मिलना पसंद करोगी?वो बोली- नहीं पहले हम दोनों सिर्फ फोन पर ही बात करेंगे.

थोड़ी देर सोचने के बाद प्राची ने मुझसे अपने जन्मदिन की पार्टी की व्यस्था करने को बोला. थोड़ी देर बाद उन्होंने कहा- ठीक है, तुम पहले अपने विंग और मेरी विंग देख कर आओ कैसा माहौल है? फिर मैं आऊंगी.

किस करने के बाद वापिस गर्दन चूमते हुए क्लीवेज पर आकर चूमने लगे और जीभ फेरने लगे, मेरी टी-शर्ट खींचने लगे. अब मैंने अपने दोनों हाथ उसके दोनों मम्मों पर रख दिए और आहिस्ता आहिस्ता सहलाने लगा. मैं अपना लंड उसकी चूत में धीरे धीरे अंदर बाहर करने लगा।अब नेहा भी मेरे साथ ताल से ताल मिलाने लगी.

वो भी आवाज़ देते हुए आयी लेकिन अंधेरे में उसे कुछ दिख नहीं रहा था।मैं एक खाली जगह पे खड़े होकर अपने पैर पटकने लगा जैसे ऊपर चढ़ रहा हूँ।मुग्धा भी ‘दामाद जी’ कहती हुयी आयी.

ऐसे ही महीने बीतते गए और एक दिन विलास का सुबह फोन आया कि सरिता को लड़का हुआ है और दोनों ही ठीक हैं. मैंने फिर से पूछा कि क्या तुम्हारा कोई ब्वॉयफ्रेंड है?उसने कहा- नहीं. उसकी जीभ मेरी चुत पर चल रही थी और कभी चुत के अन्दर चली जा रही थी तो कभी चुत के दाने को चाटने काटने लगती थी.

इशारा पाकर उन चार लड़कों में से दो मेरा पास आ गए और दो लोग जो मेरे पास थे, वो दीदी के पास चले गए. आज मैंने सिर्फ पैंट ही पहनी थी, अन्दर से नंगा ही था और ऊपर एक टी-शर्ट पहन ली.

वो बोली- सच बताना मौसा … इतना मज़ा तो मौसी ने भी नहीं दिया होगा आपको … जितना मैंने दिया?उसकी ये बात एकदम सच थी।नेहा को मैंने कहा- मेरी जान, तेरे नाम के कितनी मुठ मारी है तुझे याद कर करके! आई लव यू यार!वो भी बोली- आई लव यू मौसा … मेरी जान! ये मेरी पहली चुदाई मुझे जिंदगी भर याद रहेगी. पता नहीं मुझे क्या सूझी कि मैंने दूध के ग्लास में नींद की दवाई मिला दी और जैसे ही पापा ने दूध पिया, तो वो बेहोश हो गए. फिर पत्नी ने मेरे मुँह से निप्पल छुड़ाकर अपने होंठ मेरे होंठों में दे दिए.

भारत की सेक्सी वीडियो हिंदी में

ऐसे ही बीस मिनट तक उसे गर्म करते करते मैंने पीछे से अपना पूरा मुँह उसकी चुत में डाल दिया और नाक से उसकी गांड को सूंघता रहा, अपने दोनों हाथों से उसके चुचे मसलने लगा.

काफी थके होने के कारण हमें जल्दी ही नींद भी आ गयी और हम दोनों सो गए. आई लव यू रेखा!ये कहते हुए मैंने अपने होंठ रेखा के मुलायम होंठों पर रख दिए. मौसी के नंगे बदन को देखकर मैं तो जैसे पागल सा हो गया था और पागलों की तरह मौसी की नंगी चूत को चाटने में लगा था.

फिर जैसे ही मैंने दीदी की बुर में अपना लंड डाला, मुझे बड़ा मजा आने लगा. मैं जीजा जी को अन्दर बिस्तर पर लिटा कर वापस जाने लगा तो माया दीदी को मुझ पर भी कुछ शक हुआ. किन्नरों के बीएफ वीडियोपूरा चूतरस पीने के बाद चूत के आसपास का भी चूतरस मैंने चाटकर साफ कर दिया.

फिर एक दो दिन बाद उसने अपने घुटनों के बल बैठ कर मेरा लंड अपने मुँह में भर लिया और उसे चूसने लगी. चुत रस भलभल करके रिसने लगा और भाभी ने अपने हाथों की मुट्ठियों से चादर को भींच लिया.

वो अपने दोनों हाथों से पूरे लंड और अंडकोषों को सहलाकर मलहम लगाती रही और मैं उसकी चूत रगड़ता रहा. साथियो, मैं हर्षद मोटे आपका एक बार पुन: अपनी गरम सेक्स कहानी में स्वागत करता हूँ. मैंने भी देर न की और जल्दी जल्दी लंड हिलाते हुए अपना सारा माल नीचे फर्श पर निकाल दिया और कमरे से निकल गया.

अब चाची बोलीं- तो ये कैसा प्यार है, तुम यहां मुझे चोद रहे हो और मुझे ये पता तक नहीं कि तुम नहीं हो राहुल. उसका लैटर पढ़ने के बाद तो मेरी खुशी का ठिकाना ही नहीं था और मुझे लग रहा था कि मेरी वर्षों की तमन्ना आज पूरी होने जा रही है. मैं परीक्षा देने के बाद जब घर आया तो मेरे भाई ने मुझे बताया कि उस लड़की ने एक लैटर भेजा है.

उसे पता था कि मैं कमरे में अकेले रहता हूँ, तो उसने पूछा कि और कौन आएगा?मैंने कहा- कोई नहीं, बस 1-2 फ्रेंड होंगे, सामने वाले भैया भाभी … और अगर तुम चाहो तो अपनी सहेली दिशा को भी ले आना.

वो मेरे होंठों को चूसकर बोली- हर्षद अब पूरा चला गया ना अन्दर … चूत में बहुत दर्द हो रहा है. मेरा लंड उनके घर में घुसते ही खड़ा होने लगा और दो ही मिनट में ही पूरा खड़ा हो गया.

तब भी मुकेश का लंड बहुत मोटा था और गांड मराने में दर्द होता ही है, ये गांड में लंड लेने वाले और वाली, सब जानते होंगे. क्या तुमने अभी तक कभी किसी को ऐसे नहीं देखा है?मैं- नहीं, आज तक मैंने ऐसा कुछ नहीं देखा है भाभी … तभी तो मेरा आपको देखते खड़ा हो गया था. [emailprotected]हॉट न्यूड गर्ल फक स्टोरी का अगला भाग:भाभी की चचेरी बहन की मस्त चूत चुदाई- 4.

उसका मुंह बंद था फिर भी घुघु घुघु घुघु की आवाज आ रही थी।रोमिल ने लंड को बाहर किया और जोर का धक्का लगाया लंड अंदर चला गया. कुछ ही देर ऐसे चुदाई करने के बाद मैंने शिल्पा को पेट के बल लेटा दिया. उसकी हल्की आवाज़- आई उऊउ … अअअआ … अअह अअ पेल दो मौसा … मेरी गांड में लंड पेल दो!अब मैं भी जोश में था, मैं लंड के जोर जोर के झटकों से उसकी गांड मार रहा था।वो बोली- उइ माँ … मेरी गांड फाड़ दी मौसा तूने … आआआ … मज़ा आ रहा है … और पेल दे … जोर से पेलो।मेरा वीर्य निकलने वाला था, मैंने उसी की गांड में अपना वीर्य झाड़ दिया.

मधु के बीएफ वीडियो उसी समय रेखा एक हाथ से मेरी जांघों को सहलाती हुई बोली- हर्षद जब से तुम्हें पहली बार देखा है, मैं तुम्हें चाहने लगी हूँ … और उससे भी आगे और एक बात है. हम दोनों ही चुत और लंड का मिलन करवाना चाहते थे लेकिन कोचिंग में यह मुमकिन नहीं था.

लड़की को पटाने का तरीका बताओ

मुझे बहुत मजा आ रहा था और मौसी के बदन पर हाथ फेरने के कारण मेरे लंड ने भी खड़ा होना शुरू कर दिया था. वो जोर से चिल्लाई- अअअई ईईई आआह … मेरी चूत में मूसल घुस गया … आउउच … आह!मैं हंस कर रुका और उसके मम्मों को दबाने लगा, फिर थोड़ा सा ज्यादा उठ कर उसे किस करने लगा. कुछ पल बाद उसने मुझे पानी पिलाया और बाथरूम में खुद को साफ करके आ गया.

वो बोले- नहीं सन्नो, मेरे दो दोस्त हैं, उनको भी तुम्हारे जैसे ही किसी का इंतज़ार है. फिर मैंने उसकी टी-शर्ट को ऊपर कर दिया और ब्रा में से उसकी चूचियां दबाने लगा।उसके हाथ मेरी गर्दन पर थे और मैंने उसकी ब्रा उतार कर उसकी बाई तरफ वाली वाली चुची को अपने मुंह में भर लिया और उसके निप्पल चूसने लगा और साथ में अपने हाथ से दाईं तरफ वाली चूची को दबाने लगा।उसके मुंह से सिसकारियां निकल रही थी- आह अआह!अभी तक हमें यह सब खड़े होकर कर रहे थे पर तब मैंने उसे बेड पर लिटा दिया और उसके ऊपर चढ़ गया. काम करने वाली बीएफवो बोलीं- मैंने मजा दे दिया … भला वो कैसे?मैंने कहा- आप इतनी अच्छी हो कि मुझसे इतना खुल कर बात कर लेती हो.

मैं जितना भी उनके साथ रोमांस करूं, उनको गर्म करूं, उन्हें चोदने के लिए उकसाऊं, फिर भी उनकी उत्तेजना में कमी रहती है.

दोस्तो, मैंने इससे पहले भी कई बार लड़कियां चोदी थीं, पर जो मज़ा माया दीदी के साथ सेक्स करने में आया था, वो कभी किसी के साथ नहीं आया था. हालांकि भाभी ज्यादातर साड़ी की जगह कोई ड्रेस ही पहनना पसंद करती थीं.

मैंने उसके दोनों मम्मों को अपने हाथों में ले लिया और उस पर लगभग सवार हो गया. फिर एकदम से मेरा लंड अपने हाथ में लेकर लंड को निहारते निहारती हुई बोलीं- आह … इतना लंबा लंड!मेरा लंड भयानक खड़ा हो रखा था, उस पर गोली का असर था. मैं उसकी गांड जोर जोर से दबाने लगा तो मेरा लंड उसकी चूत पर दस्तक देता हुआ उसकी चूत से रिसता पानी मेरे लंड को नहलाने लगा था.

फिर उसने आधा लंड मुँह में भर लिया और अन्दर बाहर करके ऐसे चूसने लगी, जैसे कोई आईसक्रीम चूस रही हो.

वैसे तो मैं दिल्ली में ही गोविंदपुरी में रहता था लेकिन उन दिनों पैसे के कमी की वजह से मुझे गोविन्दपुरी वाला कमरा खाली करना पड़ा. उसका फिगर 32-28-32 था।उसके साथ मैं सेक्स चैट करने लगा।बातों ही बातों में मैंने कह दिया कि अगर मैं तुम्हारे पास होता तो कस कर चोदता।इस पर उसने जवाब दिया कि अगर तुम्हारा मन है तो आ जाओ. पेशेंट डॉ पोर्न कहानी अपने पति से सेक्स में नाखुश एक लेडी डॉक्टर की है.

बीएफ सेक्सी व्हिडीओ एचडी व्हिडिओमैं चूत चाटने लगा और शिल्पा आवाज निकालने लगी ‘आअह्ह ऊओह ऊओह्ह आआह …’उसको अब और भी अच्छा लगने लगा था. मैक्सी में चाची के बड़े बड़े चूचे देख कर मेरा दिमाग खराब हो जाता था लेकिन लंड हिलाने के लिए मुझे बाथरूम में ही जाना पड़ता था.

मधुर मटका जीतो

इतने में उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया मैं सारा पानी पी गया और उसकी चूत को चाट कर साफ कर दिया. उस वक्त तो सच में मुझे कुछ समझ नहीं आया था पर अब जब मुझे वो बातें याद आती हैं तो सब समझ आता है. वो एक हाथ से अपनी चूत के दाने को मसल रही थीं और दूसरे हाथ से उन्होंने मेरे कंधे को थामा हुआ था.

इस गरम लेडी डॉक्टर Xxx स्टोरी के अगले भाग में मैं आपको चुदाई का पूरा मजा लिखूँगा. स्टेशन पहुंचकर पति ने मुझे जाने को कहा क्योंकि उनकी ट्रेन का टाइम हो रहा था. मेरी बहन को देख कर मैं वापस बाथरूम में चला गया और बाथरूम का दरवाजा आधा खोल कर अपनी बहन को देखने लगा.

भाबी जी ने मेरा लंड चूसना जारी रखा था और मैंने उनकी चूत में उंगली करना शुरू कर दिया था. मैंने भी देरी ना करते हुए उसे बिस्तर पर चुदाई की पोजीशन में लिटाया और अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया. वो मुझे यूं घूरती देख कर गुस्सा नहीं हुई और ना ही उसने मेरी आंखों को अपने मम्मों से हटने दिया बल्कि उसने अपना पल्लू और ढलका लिया था.

मुझे सुबह देखी हुई रानी की चूचियां और बालों से भरी चूत दिखाई देने लगी, जिससे मेरा लंड खड़ा होने लगा. फिर हम कभी कैसे, कभी कैसे बेड पर लेटे … पर हमें नींद नहीं आ रही थी.

अमित मेरी आंखों ही आंखों में यह सब कुछ देख चुका था तो उसने मुझसे कहा- भाभी देखिए न … आपको ये ड्रेस अच्छी लग रही है क्या?मैंने मुस्कुराकर कहा- हां, लेकिन मेरे पास पैसे नहीं है.

मैंने उससे पूछा- क्या हुआ?पहले तो वो कुछ नहीं बोली किन्तु मेरे जोर देने पर बोली कि मेरी सलवार का नाड़ा नहीं खुल रहा. देहाती लड़की के साथ बीएफक्योंकि मैं अक्सर ऐसे ही मेरी गली की कुतिया को उस वक्त हिलते देखा था, जब कुत्ता बीच में ही संभोग से हटा दिया जाता था. औरत वाली बीएफ सेक्सीमेरी प्यारी बहना कहने लगी- भाई, क्यों तड़पा रहे हो अपनी सेक्सी बहन को! लंड अंदर डालो ना!तो मैंने कहा- ठीक है ठीक है, डालता हूं लंड तेरी चूत के अंदर!मैंने थोड़ा धीरे से झटका दिया और मेरे लोड़े का टोपा आधा मेरी बहन की चूत के अंदर घुस गया था. पर अगले ही पल वो वापस मुड़ी और दूर से ही बाई करके हंसती हुई अन्दर चली गई.

मेरी मॉम मुझसे बोलीं- जो हुआ अच्छा नहीं हुआ, तुम घर थे, बात भी हुई पर तुमने ये प्लानिंग कैसे की?मैंने मॉम से बताया- मॉम तुम मुझे बहुत सुंदर लगती हो, आपका जिस्म बिल्कुल रशियन लौंडियों जैसा है.

[emailprotected]हॉट सिस्टर Xxx कहानी का अगला भाग:भाई से चूत की सील तुड़वा ली- 2. मैंने शिखा की टांगें खोलकर उसकीकुंवारी अनछुई बुरपर अपनी गर्म जीभ से स्पर्श किया. उस दिन ना मुझे कोई जल्दी थी ना रीटा को … क्योंकि दिन के 2 बजे से लेकर अगली सुबह 10 बजे तक हम दोनों कमरे में ही रुकने वाले थे.

मुझे वो कुछ अजीब सा लगा, पर मैं इस ख़ुशी में पी गयी कि रात में क्या क्या हो सकता है. उसके घर में जाने का सिर्फ एक ही रास्ता था कि मुझे दीवार कूदकर जाना होगा. मैंने धीरे से अपनी आंखें खोलीं और देखा कि अमित मेरी तरफ मुँह करके लेटा हुआ था और उसका एक हाथ मेरे पेट पर रखा था.

मराठी सेक्सी विडीयो

अम्मी, खाला और जेबाँ एक ही कमरे में उसी बेड पर सोती थीं जिस बेड पर मैंने खाला को चोदा था. वह मेरे एक दूध को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा और नीचे किस करते हुए मेरी चूत तक चला गया. मई का महीना होने के कारण गर्मी बहुत थी और जहां खुले में वो टैंट लगा रहे थे, वहां वैसे भी एक ही दरख़्त था, जिसकी छाँव बहुत कम थी.

इस बार मैं आपके लिए ये सेक्स कहानी अपने फ्रेंड की तरफ से लिख रहा हूँ.

उसने फिर से कहा- आह हरामजादे इसे चाट न … मेरी चूत खा जा!मैंने अब भी चुत नहीं चाटी.

शाम को जब भाई आया तो मैंने उससे कहा- मेरे बदन में दर्द है, तुम थोड़ी मालिश कर दो. उसका दायां पैर मेरे दोनों पैर के बीच में था और मेरा दायां पैर जमीन पर था. रंडियों की बीएफ पिक्चरमैंने बोला- निशा, कौन सा कौन सा पंखा खराब है?वो बोली- मेरे बेडरूम का पंखा है.

फिर जैसे ही वो झड़ने को होती तो मैं सिर्फ उसकी गांड में उंगली डालता और एक दो थप्पड़ गांड पर मार देता. उस पर कुछ दिन पहले ही साफ़ किये हुए बाल एक काली और मखमली चादर से चुत को सजाए हुए थे. उन्होंने मेरा सर अपनी चूत पर ऐसे दबाना चालू कर दिया मानो मेरा पूरा सर अपनी चूत में घुसाना चाहती हों.

कम्पनी मालिक ने सारी जिम्मेदारी मुझे दी हुई थी और वो महीने में एक बार कम्पनी में आते थे. फिर भी उसका जिस्म ऐसा कसा हुआ था कि अच्छे अच्छों के मुँह और लंड में पानी आ जाए.

तो भैया बोले- वो मैंने पहले ही पूछ लिया, उन्होंने कहा कि मैं शाम को प्रेम को बोल दूंगा.

फ्रेश होकर मैं रूम में जाकर बैठने वाला था, तभी मुझे उसके बाथरूम से मादक सिसकारियों की धीमी आवाजें सुनाई देने लगीं. मुझे आज उसकी गांड मारनी थी, चाहे कुछ भी हो जाए … और चाहे वो कुछ भी बोले. कुछ देर इसी तरह चोदने के बाद जब चूत पूरी गीली हो गई, तो उसे भी अब मज़ा आने लगा.

हिंदी सेक्सी फुल एचडी वीडियो बीएफ मैंने उसके होंठों से अपने होंठ नहीं हटाए थे, जिससे वो चिल्ला न सकी. भाभी- तत…तुम यहां सो रहे हो … तुम्हारे भईया सो रहे थे ना यहां तो?मैं बोला- नहीं भाभी, रात से ही सो रहा हूँ.

उसका एक हाथ मेरे घुटनों के थोड़ा ऊपर था और दूसरा हाथ मेरी पीठ पर था. इतना बड़ा लंड देखकर वो डर गयी मगर समझ तो गयी ही थी कि आज पक्का चुदेगी. दाईं तरफ मैं, बीच में चाची गाउन पहन कर लेटी थीं और बाईं तरफ रानी टॉप स्कर्ट पहनकर सोने लगी.

सेक्सी वीडियो हिंदी में आवाज में

सौम्या को 19 साल की कच्ची उम्र में बिना कपड़ों के, वो भी भीगे बदन को देखने में मज़ा ही आ गया. वो दर्द से कराहीं और ऊपर की तरफ सरक गईं, जिससे मेरा आधा लंड भी अन्दर नहीं जा पाया. सगे भाई बहन … हमें यह सब नहीं करना चाहिए!तो मैंने कहा- मादरचोद रंडी … तुम तुम्हारी प्यास बुझाने के लिए यह सब कर सकती हो.

ये Xxx गंदी सेक्स कहानी एकदम सच्ची है, जो मेरे साथ हुआ वो मैंने लिखा. यह घटना मई 2018 की है, जब मैं मेरी मौसी की बेटी से मिलने उसके घर के पास के शहर गया हुआ था.

मैं हाथ पैर हटा कर सोने का ड्रामा करने लगा ताकि उनको कुछ पता न चले.

उसे न जाने ऐसा क्यों लगता था कि हम दोनों उसके लिए कुछ सरप्राइज प्लान कर रहे हैं. सौम्या मेरी बातों में पहले तो इंटरेस्ट लेने में झिझक रही थी लेकिन बाद में वो मेरे साथ ऐसे खुल गई कि हम दोनों में से किसी को भी पता ही नहीं रहा कि 10:30 कब बज गए. बहुत भीड़ थी जिसके चलते मैंने उसका हाथ पकड़ लिया था … क्योंकि एक जगह उसका पैर फिसल भी गया था.

ज्यों ज्यों उसकी जीभ मेरी चूत में घूम रही थी, त्यों त्यों चुदाई का ख़ुमार पुनः चढ़ता जा रहा था मुझ पर!मैं भी अब विलियम के लण्ड को चूसने और चूमने के लिए मरी जा रही थी. हअअ ओह …’इसी बीच मैंने शिल्पा की चूत में एक उंगली करना चालू कर दी तो उसका मुँह सिसकारी लेते हुए खुल गया. धीरू का लंड मेरे मुँह को पूरा भर रही थी क्योंकि वह काफी मोटा लंड था.

चलो स्कूल के बाद बाहर करते हैं!तो उसने कहा- ठीक है! पर तुम मेरा लंड तो अभी चूस सकती हो!मैंने कहा- ठीक है.

मधु के बीएफ वीडियो: वो रोज की 5-6 सिगरेट भी पीते हैं और उनके मुँह से हमेशा सिगेरट की दुर्गन्ध आती रहती है. इससे पहले मैंनेसौतेली मॉम की चूत में कुंवारे बेटे का मूसल लंडमें आपको बताया था कि मैं जब अपनी स्टेप मॉम को होटल में चोद रहा था, मेरी पहचान जानने के बाद एकदम शांत हो गई थीं.

जिससे मैं थोड़ी आगे बढ़ गयी लेकिन उसका आधा लंड मेरी चूत में घुस गया था. एक दिन की बात है, मेरी कोचिंग के टीचर की तबियत खराब थी, तो पढ़ाई नहीं हुई और छुट्टी से दे दी गई. अब मैंने चाची से कहा- अब ऊपर से नहीं, मुझे नीचे से भी चोदना है।तो चाची अपनी टांगें फैला कर लेट गई और बोली- आ जा मेरे राजा … मैं तो तैयार हूं.

उसने मुझसे कहा- क्या हुआ?मैंने कहा- कुछ नहीं, चीनी का डिब्बा तुम्हें मिल गया हो, तो थोड़ा पीछे हटो … मुझे नीचे से एक बर्तन निकालना है.

मगर जब से मेरी नजरें चाची जी को लेकर बदलीं, तब से सीन ही बदल गया था. मैंने बोला- निशा, आपका दर्द अब कैसा है?उसने कहा- पैरों से लेकर कमर तक हो रहा है. मैं उन्हें चोदने के लिए बेचैन था, वो भी लंड की तलबगार थी पर डरती थी शायद!दोस्तो, मैं गौरव एक बार फिर से देसी आंटी सेक्स कहानी में आपका स्वागत करता हूँ.