बीएफ देहात वाली

छवि स्रोत,देसी हिंदी बीएफ ओपन

तस्वीर का शीर्षक ,

शेट्टी बीएफ: बीएफ देहात वाली, ”अरे मतलब मेरी लेगा न?”मतलब ये कि अभी आप नई नवेली दुल्हन की तरह सजेंगी, वो आएगा, आपको अपने घर ले जाएगा और फुल सुहागरात होगी.

सेक्सी बीएफ ट्रिपल एक्स व्हिडीओ

बोली- आह साहब, बहुत ही मस्त लन्ड है आपका!और मेरे लन्ड पर हाथ फेरने लगी. हिंदी आवाज में सेक्सी बीएफ वीडियोवो ज्यादातर बाहर ही रहता था, इस वजह से भी भाभी असंतुष्ट थी और अपने पति से परेशान रहती थी.

फिर मेरे शानदार उरोजों पर मुँह लगाते हुए हाथ पीछे ले जाकर मांसल उभरे नितंबों को सहलाने लगा. बीएफ पिक्चर सेक्सी गानापिछले भागसहेली के बॉयफ्रेंड की गोद में बैठीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मेरी सहेली का ब्वॉयफ्रेंड अभिषेक मुझे अपनी बांहों में लेकर चूमने लगा था और मैं भी उसका साथ देने लगी थी.

मैं मोमबती से अंजू की गांड चोद रहा था तो कुछ ही देर में अंजू आहें भरने लगी- उन्ह आह … उन्ह सी सी सी सी उई उई आह आह उई सी सी सी चुद गयी साले लौड़ा डाल मेरे यार … उई आह आह आह उई साले … मज़ा आ गया!अब तक मेरा भी लंड बड़ा हो चुका था। मैंने फिर से खड़ा लंड अंजू की गांड में डाल दिया और सपना को कहा- साली बहन की लौड़ी, तू उतनी देर तक अंशिका की गांड ढीली कर मादरचोद.बीएफ देहात वाली: मैं उसके ऊपर लेट गया और मैंने उसके होंठों को अपने होंठों से दबा लिया.

मैं इंटरनेट के इस युग को सराहने लगा कि अब ऑनलाइन छेद के लिए लंड खोजने की व्यवस्था कितनी आसान हो गई है.वो उठ कर जा ही रही थी कि मैं उसे रोक कर बोला- रहने दो यार, उसका जैसा मन है, वैसा करने दो ना.

हिंदी बीएफ एक्स एक्स हिंदी बीएफ - बीएफ देहात वाली

शराब और साकी का शौक रखने के साथ ही ठरकपन भी मेरे अंदर कूट-कूट कर भरा हुआ है.मुझे लिखने का ज्यादा शौक नहीं है इसलिए कहानी लिखते समय अगर कोई गलती हो जाये तो उस पर ध्यान न दें.

उनके कड़क मम्मे मेरे सीने से दब रहे थे, जिससे मुझे उनकी कसावट और सख्ती का आभास हो गया. बीएफ देहात वाली कुछ दिन बात करने के बाद मैंने आखिर हिम्मत करके उसे पूछ ही लिया कि क्या वो मेरी गर्लफ्रैंड बनेगी?वो कहने लगी कि उसको सोचने के लिए वक्त चाहिए.

जब कुछ देर बाद मैं थोड़ी शांत हुई तो अभिषेक ने पहले तो धीरे धीरे मेरी बुर में अपना लंड अन्दर बाहर करना शुरू किया और एकाएक अभिषेक ने चुदाई की स्पीड बढ़ा दी.

बीएफ देहात वाली?

अब पिंकी अनिल के ऊपर चढ़ गयी और उसका पूरा लंड अपनी चूत की गहराई तक लेकर घुड़सवारी करने लगी. मैं- इतनी शानदार चुदाई के बाद भी आप मूड में आ गईं चाची … कैसे?चाची- तुमने तो गांड मारी है … चुत कैसे ठंडी होगी … आग लगी है अन्दर. अपने सर से इश्क करने के पहले मुझे इस बात का अंदाजा ही नहीं था कि उनका लंड इतना लम्बा होगा.

रोज सुबह शाम दूध के साथ शिलाजीत कैप्सूल खाते हुए मैं इन्तजार करने लगा कि कब सीमा को निम्फोमेनिया का दौरा पड़े और मीरा मुझे बुलाये. करीब एक घंटे तक चले डिस्कशन के बाद डॉक्टर दीपाली ने सीमा को बाहर भेज दिया. वो नंगी हो गई तो मैं कभी उसके मम्मों को चूसता … कभी प्यासी चूत में उंगली करता … कभी नीचे आकर उसकी चूत चाटता और उसकी चूत का स्वाद उसके होंठों को चूस कर उसे भी दिलाता.

मुकेश- आआह धीरे कर कुतिया … किसी दिन मेरा लंड उखाड़ कर मानेगी तू … आआईईई … साली काट मत. चूंकि मैं हमेशा से ही शहर में रही हूं इसलिए मुझे कभी मौका ही नहीं मिला कि मैं खेत में काम करने वाले लड़कों के लंड का मजा ले सकूं. वो उसको जोर से काट रहा था और इसी उत्तेजना में मैं उस दूसरे वाले लड़के के लंड पर तेजी से मुंह चला रही थी.

आह, विजय, ये क्या कर रहे हो?”अंगूठा धीरे धीरे गांड के अन्दर बाहर करते हुए मैंने कहा- अपनी रानी की गांड को शहद चटा रहा हूँ. मेरा कमरा बस अब नाम के लिए मेरा कमरा रह गया था, नहीं तो मेरे दिन रात अब शायरा के साथ उसके घर पर ही बीतने लगे थे.

अब हमें बिल्कुल भी होश नहीं था कि हम ऐसे खुले खेत में चुदाई का खेल मजा लेकर खेल रहे हैं.

वैसे मुझे पूछना तो नहीं चाहिए, लेकिन मैं अपने मन में कोई बात रखना नहीं चाहता.

उस वक्त मेरा लंड पैंट में तना होता था और मैं जानबूझकर वो फोटो भेजा करता था ताकि उसको भी लंड देखने और उसको पकड़ने का मन करे. एक दिन रात में मुझे नींद नहीं आ रही थी और मेरे बेड पर ही मेरे साथ और भाई लोग भी लेटे थे. एक बार तो मन हुआ कि इनके खेल की पोल खोल दूं, लेकिन इनको मजे लेते देख कर मेरे मेरे लंड में भी हलचल होने लगी थी.

अब उसने मेरे लण्ड को अंडरवियर से बाहर निकाला, अपने हाथ में लिया और मेरे लण्ड के सुपारे पर किश करने लगी. वो खुद को चुदाई की मस्ती को जाहिर करने को कन्ट्रोल कर रही थीं … क्योंकि वो जोरों से कामुक आवाज निकाल नहीं पा रही थीं. मैंने भी उसके बदन पर कपड़ों के ऊपर से ही हर जगह हाथ फिराया और कसके उसके निप्पल मसल दिए.

वो झड़ने के बाद एक दो मिनट यूं ही बैठी रही; फिर उसने अपने बालों में तेल लगाया और एक तौलिया लपेट कर वहां से अपने कमरे में चली गई.

उस अंधेरे में मैं देख सकती थी कि गांव के जवान लड़के मुझे घूर रहे थे. मैंने ध्यान दिया भैया जब भी जोर का धक्का लगाते तो फिच्च की सी आवाज आती और उसके साथ ही भाभी की एक मीठी आह सी निकलती। थोड़ी देर इसी प्रकार धक्कमपेल करने के बाद भैया थोड़े से ऊपर उठ गए और अपने लंड को भाभी की चूत से बाहर निकालने लगे।क्या हुआ?” भाभी ने उनकी कमर पकड़ कर नितम्बों को अपने ओर दबाते हुए पूछा।एक मिनट रुक. इस समय भाभी को आराम करने की जरूरत थी और मैं उनको ज्यादा तंग करना नहीं चाहता था.

वो फॉर्मूला ये था कि जब भी कोई लड़की या औरत सामने हो, तो उससे जान पहचान बनाने के लिए सबसे पहले उसकी तारीफ करनी चाहिए, जिससे वो बात करने की पहल कर देगी. गले के अंतिम छोर तक लंड घुसेड़ कर मैंने रिचा का मुँह चोदना चालू कर दिया था. इस बार भाभी ने कोई एतराज नहीं जताया … तो मैं उनके मदमस्त मम्मों को सहलाने लगा.

लेकिन फिर उसने बोला- अब तो तुम्हारी दीदी ने भी हम दोनों की शादी कराने के लिए कह दिया है।इसी बात को देखते हुए मैंने भी हाँ कर दी और उसके ‘आई लव यू’ को स्वीकार कर लिया।मैं अपने घर वापस आ गयी थी.

वे दोनों हंसने लगे और बोले- इतनी आसानी से नहीं चोदेंगे तुझे … तूने हमें बहुत तड़पाया है. मीरा ने झट से सीमा की सलवार और पैन्टी उतार दी और फिर कुर्ता व ब्रा उसके शरीर से अलग करके उसे पूरी तरह से नंगी कर दिया.

बीएफ देहात वाली वह इतने सालों से मेरे लिए तड़प रहा है और आपको भी कई बार बोला मुझसे दोस्ती के लिए तो कुछ समय तो मुझे भी दीजिए उसे परखने के लिए!ऐसा तो हो नहीं सकता कि आज रात में मैं उसका लण्ड खाऊँ और कल मेरी गांड पर लात मार दे, मुझे मना कर के रण्डी घोषित कर दे. अब तक शायरा ने अपने हज़्बेंड से उम्मीद लगाई हुई थी … मगर वो उम्मीद पूरी नहीं हुई.

बीएफ देहात वाली पिंकी बोली- तुमने उसके अंदर हाथ डाला था क्या?तो धीरज हंस पड़ा- क्यों किसी ने शिकायत की क्या?पिंकी बोली- हाँ शबनम कह रही थी कि सिर्फ हाथ ही डाला लंड नहीं. एक बार सुपारे पर आ चुके मेरे प्रीकम को भाभी ने अपनी जीभ से चाटा और अगले ही झटके में मेरे लंड को अपने मुँह में ले लिया.

मैं काम से थका हुआ था … तो मैंने जाने से मना कर दिया और होटल में अपने कमरे में बैठकर पीने लगा.

वीडियो सेक्सी बंगाली

मैं गुस्से में बोला- ठीक है, अगर तुझे भरोसा नहीं है तो आज के बाद मत करना मुझे फोन. उसने अमित के बाल पकड़ कर ऊपर अपनी तरफ खींचा और उसे लन्ड डालने के लिए कहने लगी!अमित ने भी देर न करते हुए जोर के एक झटके से ही पूजा की चूत में अपना लन्ड घुसेड़ दिया. लेकिन लड़की का दिल्लीपना जाग गया था और मैं भी रुकने के मूड में कतई नहीं था।ना जाने कब मैंने उसका टॉप उतार दिया और उसने मेरा … आंख खुली तो कुछ देर के लिए उसे देखता रह गया.

उसने मेरे माथे पर किस किया और बोली- मैं तुम्हें कभी नहीं छोडूंगी। आई लव यू मेरे सनी।उस दिन से वो मेरी दीवानी है. तो बिना देरी किए हुए मैं अपनी सेक्स कहानी की नायिका अपनी सास के बारे में आप बता देता हूं. ” महेश ने अपने लंड को पूरा बाहर खींच कर एक ज़ोरदार धक्के के साथ उसे फिर से अपनी बेटी की चूत में जड़ तक घुसाते हुए कहा।उईई पिता जी … आपके लंड ने तो मेरी चूत को पूरी तरह फ़ैला रखा है.

मेरी शर्ट को खोलकर रिचा ने मेरे जिस्म से अलग कर दिया और मेरे सीने पर अपने होंठों से चूमने लगी.

सच बताओ भैया कितना परेशान करते हैं?मेरे लिए तो सेक्स का मतलब एक बार करना होता था और वो भी मुझे बोझ लगता था तो मैंने बता दिया कि बहुत परेशान करते हैं और अंदर से रोज़ गीला करते हैं।पहले तो वो खुश थी कि रोज़ सेक्स करते हैं. मैं महेश आपको बता रहा था दोस्तो कि शायरा मेरे प्रेम में रंग लगी थी. डेली सेक्स की कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी जवान पार्टनर लड़की को चोद चुका था.

रूकने की अपेक्षा भीगते हुए घर पहुंचना बेहतर समझकर मैंने बाइक की रफ्तार बढ़ाई तो रेखा ने अपने दोनों हाथों से मेरी कमर को घेर लिया. वह भी कहने लगी- यार आ जाओ ना! मैं भी तुमसे मिल लूंगी।जब उसने बहुत ज़िद की तो मैंने दीदी से बताया और कहा कि रोहित की मामा की लड़की मिलने के लिए बुला रही है. हालांकि उसने कपड़े पहने हुए थे लेकिन उसके बदन की कोमलता मुझे अपने बदन पर अलग से महसूस हो रही थी और उसके जिस्म की ये छुअन मुझे उसकी जवानी को निचोड़ देने के लिए उकसा रही थी.

मगर मुझे जब इस तरह अपनी नंगी चुत पर झुके देखा, तो वो शर्मा गयी और चुपचाप वापस आंखें बन्द‌ करके लेट गयी. आप लोगों को तो पता ही होगा कि रायपुर से थोड़ी दूरी पर ही गंगरेल डैम है.

बाहर जोरदार बारिश हो रही थी जिस कारण उसकी आवाज पड़ोसियों के घर तक नहीं पहुंची. इधर मनोज ने अपना सारा माल निकाल कर दीपा चूत भर दी तो उधर सुनील ने अपना सारा माल पेपर टिश्यू पर निकाल दिया. मगर मुझे पता था कि दर्द के बिना मजा कैसे मिल सकता है, इसलिए मैंने पायल के होंठों पर अपने होंठ फिर रख दिए और पूरी ताकत से धक्का दे मारा.

कभी संजू अपनी जीभ विक्रम के मुँह में डाल देती, जिसे विक्रम चूसने लगता.

अगर इस सेक्स कहानी पर कोई अपनी राय मुझे भेजना चाहता है, तो जरूर भेज सकता है. बड़ी चाची अपनी साड़ी और पेटीकोट को जांघ के ऊपर तक लाकर बांधकर काम करने लगी. स्टोरी ऑफ़ सेक्स इन फैमिली में पढ़ें कि कैसे मेरे भानजे के साथ मेरे सेक्स सम्बन्ध बने और मेरे भाई ने देख लिया.

इसके बाद अनु उर्फ अनिता ने अपने घर में ही अपने नामर्द पति कमल के सामने मुझसे अपनी चुत चुदवाई. मैंने उसके लंड को खूब रगड़ा और फिर उसके मुंह पर थूक कर फिर से लंड को चूत में ले लिया और कूदने लगी.

मैं उसके पास गया और उसके कान में बोला- मेरी साली साहिबा … मैं आपकी सब हरकत को देख चुका हूँ. तभी अंशिका बोली- जीजू, आप भी नंगे हो जाओ न!मैंने कहा- अरे मेरी रानियो, तुम किस लिए हो? कर देना मुझे नंगा बेबी!सभी हंसने लगे. विक्रम न आव देखा ना ताव, बस झट से उसकी चूत में अपना मुँह सटा दिया और उसकी चूत के नमकीन पानी को पीने लगा.

सेक्सी पिक्चर फिल्म का

अचानक संजना की नजर मुझ पर पड़ी, वो संतुष्टि के भाव से मुझे देखने लगी.

दरअसल जब मैं सुमन को पंकज से चुदवाने के लिए राज़ी कर रहा था उसी समय उसने कहा था कि मैं जिससे भी चुदवाऊँ लेकिन पहली बार किसी दूसरे का लंड मेरी चूत में आपको ही घुसाना पड़ेगा और मैंने हामी भर दी थी।मेरी प्यारी बीवी इस वक्त चाहे कितनी भी चुदासी क्यूँ न थी … लेकिन वो अपनी बात अभी भी नहीं भूली थी. मैं बोला- मेरी रानी डर मत कुछ नहीं होगा … थोड़ी देर में सब ठीक हो जाएगा. चुदाई देखते हुए मुझे भी लण्ड चुसवाने में मजा आने लगा था। थोड़े देर लंड चुसवाने और मुँह की चुदाई की बाद मैंने कुछ नया करने का सोचा।मैंने सौरभ के मुँह से लंड निकाला और मालविका के पास चला गया। मैं मालविका के पीठ पर किस करने लगा.

वो शादीशुदा थी मगर उसका पति मिडल ईस्ट में काम करता था, इसलिए वो उसके पास नहीं रहता था. अब आरिषा भाभी के टाइट 34 इंच के खुले हुए मम्मे रामू के सामने नंगे हो गए थे. तामिळ सेक्स बीएफदोस्तो, मेरी कहानी में मैंने जिन भी रिश्तों का जिक्र किया है वे सच हैं.

जब मुझे आराम मिला, तब मैं चूत को लंड में ऊपर नीचे करने लगी और आवाजें निकालते हुए मचल रही थी. आएगी तो नंगी ही!ये कह कर प्रियंका ने उसकी तौलिया को अपने दीवान के गद्दे के नीचे रख दिया.

उन दोनों की ताबड़तोड़ चुदाई देख कर मेरी हालत भी खराब होने लगी थी और मैं अपनी बीवी को चुदते देखते हुए लंड को सहला रहा था. थोड़ी देर बाद अनिल ने पिंकी से कहा कि वो उसका भी चूस दे … तो पिंकी रवि पर अहसान चढ़ाते हुए बोली- अनिल का नहीं, चूसूंगी तो केवल रवि का. दोस्तो, कैसे मैंने सील पैक चूत को चोदा ये चुदाई की आग की कहानी मैं अगले भाग में विस्तार से लिखूंगा.

[emailprotected]हरियाणा सेक्स कहानी का अगला भाग:ना-ना करते चुद गयी हरियाणवी छोकरी- 2. मैंने भी उसको अनसुना कर दिया और तेज़ी से अपना लन्ड उसकी चूत में पेलने लगा. अब मैं ब्रा में थी तो रोहित ब्रा के ऊपर से ही स्तन दबाता और किस करता।फिर रोहित ने मेरी सलवार का नाड़ा पकड़कर खींच दिया.

मैं कभी शायरा का … तो कभी उस सेल्सगर्ल का‌ मुँह ताकने लगा, जिसे देख अब शायरा को हंसने लगी.

उन्होंने मुझसे मेरा अकाउंट नंबर लिया और एक घंटे बाद मेरे मोबाइल पर मैसेज आया कि मेरे खाते में पांच हजार रूपए आ गए हैं. फिर मैं अपने घटनों पर बैठकर भाभी की चुत चूसने लगा, जिससे अचानक ही भाभी की आवाजें मदहोश हो गईं और वो मेरा सिर अपनी चुत पर दबाने लगीं.

बड़ी चाची अपनी साड़ी और पेटीकोट को जांघ के ऊपर तक लाकर बांधकर काम करने लगी. उसने अपना दूसरा हाथ मेरी चूत पर रख कर उसे भी अपनी मुठ्ठी में भर कर दबाने लगा. और छाया हंस रही थी। मैं तौलिया उठाने के लिए हाथ बढ़ाने लगी पर छाया ने मुझे पीछे धक्का दिया और अचानक बैठ कर मेरे सूसू में अपना मुंह लगा दिया।छी: दीदी … ये गंदी होती है आप क्या क…र …” मैं अपनी पूरी बात नहीं बोल पाई … पता नहीं वो क्या नशा कर रही थी, मेरी आँखें अपने आप बन्द हो गयी.

मैंने उसका कोई विरोध नहीं किया और उसने शर्ट के अन्दर से मेरे नंगे मम्मों को दबाना शुरू कर दिया. कमल को साथ लेना इसलिए जरूरी हो गया था क्योंकि एनर्जी ड्रिंक लाने वाला कमल ही था. दादी को दवा देकर सुलाने के बाद हम लोग लैपटॉप पर मूवी देखने बैठे, ठंड थी तो एक ही रजाई में हम दोनों मूवी देख रहे थे।तभी मैंने बातों ही बातों में उससे उसके कॉलेज लाइफ के बारे में जानना चाहा.

बीएफ देहात वाली चारों तरफ दीए जल रहें थे और सपना भाभी दुल्हन के जोड़े में ऐसे बैठी थी जैसे कोई नई दुल्हन सुहागरात की सेज पर बैठी हो. उस पहली वाली सेल्सगर्ल ने हंसकर मेरी तरफ देखते हुए कहा, मगर शायरा शर्म से दोहरी हो गयी.

स्कूल की लड़की की सेक्सी मूवी

मुझे चलने में थोड़ी दिक्कत होने लगी थी … क्योंकि मेरी आज ही गांड और चुत दोनों फटी थीं, तो अभिषेक ने मुझे रिक्शा करवा के घर भिजवाया. वहां मेरी मजबूरी थी लेकिन घर में मैं मां के रहते हुए किसी गैर मर्द से चुदाई नहीं करवा सकती. किसी भी महिला के पति या उसके ब्वॉयफ्रेंड से ज्यादा मस्ती से एक पेशेवर मर्द लड़की की चूत चूसना जानता है.

बस अपनी स्पीड में चल रही थी और हम तीनों केबिन में अपनी मस्ती में थे. उसी उत्तेजना में मैंने उससे ये भी पूछ लिया- मेरी पैंटी को सूंघते समय तुम क्या इमेजिन करते हो, तुम क्या फंतासी करते हो?उसने जवाब दिया- आपको जब छूकर जाता हूँ, फिर अकेले में आंख बन्द करके आपकी बॉडी के हर पार्ट को अपने मन में सहलाता हूँ, पोर्न देखता हूँ और अपने हाथ सूंघता हूँ. सनी लियोन के बीएफ वीडियो चुदाईवो मेरा लंड चूसने लगी और मैं उसकी चूत में जीभ डालने लगा साथ ही एक हाथ से उसकी क्लिट को रगड़ने लगा.

कुछ स्नैक्स वगैरह की कच्ची तैयारी कर ली, बियर फ्रिज में लगा दी और अपने को परफेक्ट कर लिया.

जब मेरी उससे बातचीत हुई, तो उसने मुझे बताया कि उसने उस व्यस्क साईट पर मेरा एड देखा था. हा … हा … वो बेचाली तो मल ही जायेगी?”अरे नहीं यह थोड़ी लम्बी होकर बिल्कुल तुम्हारी तरह बहुत ही खूबसूरत लगेगी.

लग रहा था … जैसे उसकी नजरें मेरी आंखों के पार देखना चाह रही थीं और मैं भी उसको देखे जा रहा था. वो बोली- हां बताओ, क्या शर्त है आपकी?मैंने कहा- मुझे तुम्हारी सहेलियों में से किसी एक के साथ एक रात चाहिए होगी. मुझे तो अब जैसे उसकी आदत सी हो गयी थी और शायरा तो अपने पति को ही भूल गयी.

इतना आगे की सोच रही है तो मैं भी विश्वास दिलाती हूं तुझे कि मेरा भाई तेरी हर परीक्षा पर खरा उतरेगा.

हम दोनों के बीच बातचीत बढ़ रही थी और साथ में हम दोनों अब खुलकर बात कर रहे थे. हमारे पास लेडीस कलेक्शन भी बहुत अच्छा है और काफी वैराईटी में भी है. वह अपने होंठों से मेरे होंठों का रसपान करने लगा और अपने दोनों हाथ मेरे चेहरे से हटाते हुए मेरे बूब्स की तरफ बढ़ाने लगा.

अंग्रेजन की बीएफ चुदाईमैंने उसका टॉवल खींच कर साइड में रख दिया और उसे नंगी को ही अपनी गोद में बिठा लिया और उसके चुचों को सहलाते हुए कहा- आशा, तुम्हारी चूत सच में ही बहुत लाजवाब है. मैं समझ गया था कि सुगंधा भाभी के साथ नजदीकियां बढ़ाने का अब ही सही समय आ गया था.

सेक्सी विडिओ अमेरिका

इस अचानक हमले से उसकी तेज चीख निकल गई- उई मां मर गई … आह फट गई मेरी!उसकी चीख बता रही थी कि अभी तक उसने छोटे लंड ही लिए होंगे या बहुत टाइम बाद चुद रही होगी. रामू रुक गया और आरिषा भाभी को किस करते हुए उसने एक और धक्का दे मारा. जिसे मैंने अपनी पैंटी में लेकर बहने से रोका।लेकिन रोहित के वीर्य से मेरी पेंटी पूरी सराबोर हो गई और अब इतनी गीली पैंटी पहनना मेरे लिए संभव नहीं था।अत: मैंने पैंटी को रुमाल में लपेट कर अपने पर्स में रख लिया।अब मैं और रोहित स्क्रीन पर चल रही पिक्चर को देखने लगे।चुदाई कैसी लगी डॉली?” रोहित मेरे कान में धीरे से पूछा।एक अलग किस्मत का मजा आया रोहित!” मैंने अपना सिर रोहित के कंधे पर रखते हुए कहा.

उनके घर को देखते हुए मेरे मन में लग रहा था कि पहले वाली लड़की ही ठीक रहेगी. जब मैं सामान लेकर आया मैंने डोर बेल बजाई जब दरवाजा खुला तो मेरा दिमाग घूम गया, मुझे अपनी आंखों पर विश्वास नहीं हो रहा था मेरा मुंह खुला का खुला रह गया. दीपा ने मेहनत तो की ही थी अपनी चूत से आज, और इसका अहसास मनोज को हो रहा था.

चल उठ देर हो रही … कॉलेज नहीं जाना क्या?स्नेहा एक मॉर्डन जमाने की वो लड़की है, जिसे इस सबसे कोई परहेज नहीं था. मैंने पूछ लिया कि अगर सच में तुम्हें मेरी चूत सहलाने को मिले तो?मेरे मुँह से चूत शब्द सुन कर वो हकबका गया. फिर बोली- क्या आप कोई ऐसा लड़का बता सकते हैं, जिस पर यकीन किया जा सके.

मैंने आशा से पूछा- तुमने मेरा वो क्या देखा?तो वो बोली- मुझे शर्म आती है. सुगंधा भाभी- अच्छा!मैं- तो अब क्या ख्याल है?सुगंधा भाभी- प्रोटेक्शन के बिना …मैं- मैं पूरा ख्याल रखूंगा.

तुम अपने मां बाप को मनाने की कोशिश क्यों नहीं करते?सागर- तुम कहती हो, तो मैं एक बार और कोशिश करके देखता हूँ.

उसकी चूत बिल्कुल क्लीन शेव थी बिल्कुल किसी काले मार्बल की तरह चमक रही थी. बीएफ फुल मुव्हीजवो बोली- हा हा हा …इसी के साथ बहुत सारे दिल वाले इमोजी भेजे और लिखा डरो मत … जोर से भी सहलाते, तो भी मैं कुछ नहीं कहती. अमरपाली सेक्सी वीडियो बीएफमैंने कहा- मामी अभी तो और तरीके से चोदूंगा आपको … अब आपकी प्यारी गांड को चोदूंगा. वो अपनी ड्रेस बदल कर बाथरूम में सिर्फ ब्रा पैंटी में जाती थी तो मैं उसे देखता रहता था.

गर्म और सेक्स से भरपूर मजा लेते हुए मैंने भी सोचा कि क्यों ना मैं भी अपनी एक वास्तविक घटना को सास दामाद Xxx कहानी का रूप देकर आप लोगों के साथ साझा करूं.

अगले ही मिनट मेरा माल उसके मुँह के पिचकारी मारते हुए निकलने लगा और मेरी पकड़ कमजोर होती चली गई. फिर पांच-सात मिनट के बाद जब उससे बर्दाश्त न हुआ तो उसने लंड को मुंह से निकाल कर कहा- जीजाजी, आपके साढ़ू ने चुदाई से दस साल पहले ही रिटायरमेंट ले लिया था. मगर मेरे पर्स में एक पर्ची थी, जिस पर मकान मालकिन का पता और उनके घर का फोन नम्बर लिखा हुआ था.

अगले भाग में चाची की बड़ी बहन परवीन आंटी को कैसे पटाया और कैसे चोदा … ये सब जानिए. अब मैं अपनी जीभ से उनके चूतड़ों को फैलाकर उनकी गांड को चाटने लगा था. फिर दोनों हथेलियों पर एवं घुटनों पर संतुलन साधकर अपनी कमर के ठीक नीचे से अपनी गाँड उचका कर हवा में ठीक लंड की सीध में स्थिर हो गयी, जिससे कि पंकज को अपना लंड स्पीड से पेलने में ज़्यादा मेहनत न लगे।मैं पीछे से मंत्रमुग्ध होकर अपनी बीवी की अब तक छिपी अंतर्वासना को आँखें फाड़ कर देख रहा था और सुमन की गाँड ऐसे फैली हुई थी जैसे कमल की पंखुडियाँ खिलकर अलग हो जाती हैं.

राजस्थानी सेक्सी वीडियो 2017

संजू को थोड़ी गुदगुदी लगी तो वो हंस दी और बोली- आह क्या कर रहे हो आप विक्रम!विक्रम मेरी बीवी की बात को अनसुनी करते हुए उसी तरह नाभि को चूसता रहा फिर एक पल के लिए मुँह हटा कर बोला- ऐसी वासना की मूरत और सौंदर्य की देवी, मदमस्त जवानी को मैंने आज तक नहीं भोगा है. फिर अपने हाथ से मुठ मारते हुए वे अपना माल मेरे ऊपर गिराने की तैयारी में थे. मेरी कूल्हे आपस में सट गए और लंड को लपकने के लिए मेरी चूत ने अपना मुँह खोल दिया.

फिर उसने मेरी हालत देखकर पीछे मेरी गर्दन पर एक हल्का सा प्यार भरा चुम्बन दे दिया.

अंशिका को मैंने एक मोमबती लाने को कहा।पहली बार गांड में लंड नहीं जा पाता इसलिए अगर आपके पास मोमबती हो तो सबसे अच्छा है।मैंने अंजू की गांड में मोमबती डाल दी और पहले धीरे धीरे मोमबती को आगे पीछे करता रहा और फिर मैं तेज तेज उसकी गांड में मोमबत्ती करने लगा।अंजू को मज़ा आने लगा था।फिर मैंने नीचे अपना लंड अंशिका को चूसने के लिए कहा तो अंशिका झट से मेरा लौड़ा चूसने लगी.

बस एक बात बताओ कि तुम इतनी प्यासी थी तो मुझे बुलाया क्यों नहीं?”कैसे बुलाती अंकल? मुझे क्या पता था कि आप इस उम्र में भी इतना दम रखते हैं. मुझे ऊपर तो मजा आ रहा था लेकिन नीचे चूत में ऐसा लग रहा था जैसे कोई छील रहा है. बीएफ सेक्सी वीडियो पेला पेलीभाभी इस हमले को सह नहीं पाई और वो एकदम से चीखने ही वाली थी कि मैंने अपने होंठों से उसकी आवाज को एकदम दबा दिया.

जितना मैं संजना को धक्के दे रहा था, उतनी ही तेज़ी से हाथ से शीना की चूत में उंगली कर रहा था. अगर भाभी लोग पढ़ रही होंगी, तो वो भी अपनी चूत का पानी निकाले बिना नहीं रह पाएंगी. वैसे तो शायरा दिल्ली की ही रहने वाली थी मगर उसकी शादी जयपुर में हुई थी.

आज मुझे भी इस बात की खुशी है कि मैं अपने पहले की सेक्स का एक मदमस्त अनुभव आप सभी के साथ शेयर कर रहा हूं. थोड़ी देर बाद मैं बोला- ज़ारा!ज़ारा- हम्म?मैं- चुदाई करें?ज़ारा- मेरा मन नहीं है जान!मैं- लेकिन मेरा है!ज़ारा- रहने दो ना जान!मैं- मान जाओ प्लीज!ज़ारा- ठीक है!अब मैंने उसकी टीशर्ट निकाली और उसे किस करने लगा.

वो दिखने में एकदम गोरी ऐसी मानो जैसे सफेद रंग की संगमरमर की मूरत हो.

मैंने उसी उधेड़बुन में उसे एक चपत लगाते हुए कहा- क्या हुआ … पागल की तरह क्यों हंस रहे हो? कमरे पर चलो वहीं बात करते हैं. वो- आप ही निकाल कर दिखा दो ना प्लीज!मैंने अपनी जींस का बटन और चैन खोल कर लंड बाहर निकाल दिया. फिर मैं भाभी की जांघ को सहलाते हुए उनकी साड़ी और पेटीकोट को ऊपर करके पेट पर कर दिया.

बीएफ सेक्सी भोजपुरी भोजपुरी मैंने लंड फुदी से सटाया और वो धीरे धीरे बैठने लगी।मेरे लंड का कुछ हिस्सा फुदी में गया था और वो ऊपर नीचे कर रही थी. कहां उसका लंड खड़ा नहीं होता था और अब कहां उसका वीर्य निकलने का नाम नहीं ले रहा था.

साथ ही अपना हाथ नीचे ले जाकर मेरे लंड को अपनी चुत पर सैट करने लगीं. फिर मैंने उसके लंड को हाथ से हिला कर पहले तो उसके लंड का टोपा अपने मुँह में लेकर चूसना शुरू किया. मुझे अभी शिल्पा को देखकर ऐसा लग रहा था कि मैं नहीं, राहुल शिल्पा का पति है.

బ్లూ ఫిలిం తెలుగు సెక్స్

अगली बार आएंगे … और आप चाहेंगे, तो कोई और कोई नया माल नमकीन लौंडा दिलवा देंगे. तभी अचानक अनामिका जोश में आ गई और उसने पूरा लंड गप्प से अन्दर कर लिया. जैसे ही दूकान खुली, मैंने बियर की पांच कैन खरीदीं और अगले पांच मिनट में ही रेखा के घर के पते पर पहुंच गया.

इतने में उसने अपना लौड़ा मेरे मुँह में घुसा दिया और बोला- माँ मुँह लंड चूसने के लिए होता है … बकचोदी करने के लिए नहीं … तुम बस लंड चूसो. फिर मैंने एक बार फिर से उसके लंड को बाहर खींचा और दोबारा से अंदर ले लिया.

मुझे मालूम था कि आप किस ट्रेन से आ रहे हैं, तो मैं आपकी ट्रेन की लोकेशन अपने मोबाइल से चैक कर रही थी.

अब तक मैं भी मुठ मार चुका था और मैंने अपना वीर्य बाथरूम के दरवाजे पर मार दिया था. मेरी शानदार मखमली अनुभवी चुत पाकर लंड भी बावला हो गया और इसी बावलेपन ने बवाल ही मचा दिया. भाभी बिना कंडोम के ही चुदाई के लिए बोलीं, तो मैंने मना कर दिया कि कंडोम के साथ चुदाई मेरा उसूल है.

दो पेग लगाने के बाद पूजा उठी और बोली- अमित मैं खाना लगाती हूँ!रोटी, दाल, चावल, पनीर, चखना, सलाद जब ढेर सारा खाना मुँह के आगे हो तो पेट देख कर ही भर जाता है. क्योंकि ज्यादातर लड़के तो उस भँवरे की तरह होते है जो फूल पर बैठकर रस चूसा और उड़ गये किसी दूसरे फूल की तलाश में!हाँ तो दोस्तो … रोहित धक्के पर धक्के लगा रहा था. अब उसी खिड़की से अभिषेक पहले खुद अन्दर गया और मुझे भी अन्दर खींच लिया.

शिल्पा- अह आहह ओह याह ओहह!राहुल- आर यू इंजॉइंग बेबी आह … तुम्हें पूरा मजा आ रहा है न?शिल्पा- यस … फक माय पुसी … जोर से चोदो मेरी जान.

बीएफ देहात वाली: बातों में पता चला कि उसका वहां एक बॉयफ्रेंड भी है, मुझे उस वक़्त लगा कि गई भैंस पानी में।पर मैंने सोचा प्रयास करने में क्या हर्ज है मुझे कौन सा प्रेम के पींगें बढ़ानी हैं इसके साथ … बातों बातों में मैंने पूछ लिया- क्या तुम अपने ब्वॉयफरेंड के साथ सब कर चुकी हो?तब वो चुप हो गई. मगर जब कंडक्टर ने मुझे टिकट और बाकी के पैसे वापस दिए … तो उनको अपने पर्स में रखने के लिए मैंने ऊपर जो बस का जो पाईप पकड़ा हुआ था, उसे छोड़ दिया और दोनों हाथों से पैसे व टिकट को अपने पर्स में रखने लगा.

मैंने सोचा कि अगर इसको दर्द होने के कारण मैंने लंड निकाल लिया, तो ये दोबारा नहीं डालने देगी. मैंने भी उसको कुछ नहीं कहा और उसको मुझे टच करने की परमिशन मिल गयी थी. मुझे सबसे पहले शायरा की चूत का ये डर ही ख़त्म करना था और इसके लिए पहले चूत से प्यार करना था, शायरा की चूत को खुश करना था, उसे अपना दीवाना बनाना था ताकि वो खुद ही मेरे लंड की सवारी करने को मचलने लगे.

पत्नी के गुजरने के पहले भी मैं होटलों में कॉलगर्ल्स के साथ मजे लिया करता था.

वो मेरे लोड़े को ऐसे चूस रही थी जैसे उसने आज तक कभी ऐसी चीज देखी भी ना हो … या फिर यूं समझ लो कि छोटे से बच्चे का पसंदीदा खिलौना हो जो उसको बचपन से आज तक मिला ही ना हो और अब मिल गया हो. उनके होंठ रस से भरे जैसे लग रहे थे … जैसे ये मेरे चूसने के लिए ही बने थे. मैंने बीच की दो उंगलियों को चूत में डाला और थोड़ा ऊपर करके उसके जी-स्पॉट पर प्रेशर दिया.