सेक्सी बीएफ बिहार के वीडियो

छवि स्रोत,सभी हीरोइन की सेक्सी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी चूची: सेक्सी बीएफ बिहार के वीडियो, फिर अपने लण्ड का दबाव बढ़ाया तो टप्प की आवाज हुई और मेरे लण्ड का सुपारा मालू की चूत के अन्दर हो गया.

बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी सॉन्ग

दूसरे दिन दोपहर को मैंने उसे बुलाया और उससे कहा- बेटा मेरे बदन में दर्द हो रहा है … क्या तुम मुझे मसाज दे दोगे?उसने कहा- ठीक है माँ. हिंदी बीएफ सेक्सी गर्ल वीडियोउसकी फोटो मैंने उसकी डीपी में देखी हुई थी, तो मैं उसे झट से पहचान गया.

मैंने उसकी चूत से लंड को निकाल लिया और उसके मुंह के सामने लंड को हिलाते हुए अपना वीर्य उसके मुंह पर छोड़ने लगा. अमेरिका की बीएफ पिक्चरज्यादातर समय मैं अपने दोस्त के साथ हॉस्टल में ही उसके कमरे में रहता था.

उसने मुझे बेड पर लिटा दिया और फिर मेरे शरीर से पूरी तरह से खेलना शुरू कर दिया.सेक्सी बीएफ बिहार के वीडियो: चार पांच धक्कों के बाद वो जोर से ‘आह आह ओह ओह साहब जी … मैं गयीईईई …’ बोल कर झड़ गयी.

इस ऑफिस गर्ल सेक्स स्टोरी में थ्री-सम सेक्स कहानी का मजा भी आया था, जिसे आपकी इच्छा पर मैं लिखूंगा.मैं तेजी से उसकी चूत में धक्के देने लगा और पांच मिनट के बाद मेरा वीर्य निकलने को हो गया.

बलात्कार वाली बीएफ - सेक्सी बीएफ बिहार के वीडियो

वो गुरुवार का दिन था, हमेशा की तरह हम दोनों अपनी अपनी बेटियों को स्कूल पहुंचाने आ गए.विक्रम ने आव देखा ना ताव और इसी अवस्था में संजू की पैंटी के ऊपर से ही उसकी चुत में अपना मुँह लगाकर चाटने लगा.

वो बोली- तो फिर तुम मसाज कर ही क्यों रहे हो जब तुम्हें करनी नहीं आती?मैंने कहा- मजबूरी में. सेक्सी बीएफ बिहार के वीडियो दर्द और जलन की वजह से मेरा हाल बुरा हो चुका था, आंख से आंसू आ गए थे.

उतने में सास जी मेरे पास आईं और बोलीं- नाश्ते में आप क्या खाएंगे?मैंने बोला- आपका जो मन करे, वो बना लीजिए.

सेक्सी बीएफ बिहार के वीडियो?

बातचीत चल ही रही थी कि लड़की के पिता ने चाय नाश्ते के लिए अन्दर आवाज लगाई. फिर भी मैंने कोशिश की, लेकिन जब मुझसे नहीं हुआ, तो सर मुझे समझाने लगे- पहले इसे सहलाओ. लेकिन अब जयपुर वापस आना था तो दिक्कत हो गई … जगह जगह पुलिस लगी हुई थी और मेरा परिवार गांव में फंस कर रह गया और मैं अकेली जयपुर में बच्चों के साथ रह गई.

मैंने उसकी पैन्टी को उसके पैर से निकाल करके अपने लंड के ऊपर अच्छे से मसल दी. इसका नतीजा यह हुआ कि मैं चुत के दाने पर अपना थूक लगा कर डिल्डो से रगड़ने लगी. आज मैं आपको अपनी और अपनी मामी की चुदाई के बारे में बताने जा रहा हूँ कि कैसे मैंने अपने लंड से मामी की गांड और चूत को फाड़ दिया.

कभी-कभी दोस्तों से मस्त चुदाई वाली मूवीज मिल जातीं, तो बस उसे देखकर बाथरूम में जाकर लंड को मुठ मार कर माल निकाल देता था. ये कंसल्टेंसी वाले साले चूतिया बनाते हैं और मेरे जैसे नये लड़के इनके चंगुल में फंस जाते हैं जिनको जॉब की सख्त जरूरत होती है. मैं वन पीस सिल्क बेबीडॉल नाइटी पहने हुई थी जो सामने से खुली रहती है और एक तरह से सुविधाजनक ही रहती है.

इसलिए मैं कभी टीवी पर चल रहे उस गर्मागर्म सीन को‌ तो कभी शायरा को देखने लगा. मेरे अपार्टमेंट के कुछ कदम पहले स्कूटी रोककर, मैंने उसे फोन किया और अपना फ्लैट नंबर बता दिया.

मुझे आशा है कि आपको ये फैमिली पोर्न स्टोरी पढ़ कर बहुत मजा आएगा और आप बिना मुट्ठी मारे नहीं रह पाओगे.

दोस्तो, कैसे हो आप सब … मैं शिवराज एक फिर से अपनी सच्ची कहानी लेकर हाजिर हूँ.

क़यामत चूचियां थी, बड़ी बड़ी और दूधिया।मैं उसके निप्पल को चूसने लगा … बारी बारी से फिर चूचियों को चूसा।धीरे धीरे मैं नीचे आ रहा था, उसके पेट को चूमा और फिर अपनी दो उँगलियाँ उसकी कमर के दोनों तरफ रखकर धीरे धीरे उसकी पैंटी नीचे करने लगा. वो अपनी आंख बन्द करके बोलने लगीं- आह आह … खा जाओ इन चूचों को मेरी जान … आह पी लो इनको अपने होंठों से. मेरी माशूका मेरे साथ सुहागरात मना कर मेरी बीवी होने का अहसास लेना चाहती थी.

बहुत ही कामुक नजारा चल रहा था वो … जिसे देख मेरे खाली हाथ को भी अब एक काम सूझ गया. वर्षों से मैं अन्तर्वासना मंच से जुड़ा हूँ, अंतरवासना मंच में मेरी कहानियों को आप सब पाठकों तक पहुंचाया।मेरी पिछली कहानी थीअस्पताल में मिली शादीशुदा लड़कीयह कहानी टीचर एंड स्टूडेंट सेक्स स्टोरी है. जैसे जैसे लण्ड की ठोकर पड़ती … मालू आह … आह … कहकर मेरा जोश बढ़ा देती.

हमें पता भी नहीं चला कि कब रजाई हमारे जिस्मों से सरक कर नीचे गिर गई.

थोड़ी देर पढ़ाई करने के बाद मेरा पैन टेबल से गिर गया था, तो मैं अपने पैन को उठाने के लिए नीचे झुकी. जब आई थी, तो उस समय तो मेरा मन हुआ कि दो चार धक्के मारके इसे वापस भेज दूँगा. जब मैंने मामी के मुँह से लंड बाहर निकाला, तभी वो राहत की सांस ले पाईं.

इस वज़ह से रोहित ने मेरी दीदी के यहाँ से कमरा खाली करके दूसरी जगह किराये पर कमरा ले लिया और दोनों भाई बहन साथ में रहने लगे. बाथरूम में मैं सीट पे बैठ गयी, वो सामने खड़ी थी लेकिन आज उसने चूत मेरे होंठों से नहीं जोड़ी। थोड़ा दूर से ही चमकती हुई धार शुरू हो गयी। मेरा चेहरा भीगने लगा और कुछ खुले होंठों से अंदर मेरे गले को तर करने लगा।उसके बाद हम सो गए।सुबह देर से उठे, आराम से नहा धो के नाश्ता किया। फिर सोचा पता करें कि वहां क्या हुआ।मैंने मम्मी को फोन किया, फोन उपिन्दर ने उठाया।मम्मी कहाँ है?”वो नहा रही है. थोड़ी देर अपने शरीर को उसी तरह रगड़ने और दीदी के स्तनों को चूसने और काटने के बाद मैंने अपने हाथों से उनकी साड़ी को कमर के ऊपर उठा दिया.

जैसे वह बताना चाहता है कि हम दोनों पति पत्नी हैं और अपने घर पर चल रहे हैं।यह कहानी मेरी सेक्सी आवाज में सुनें.

मैंने उससे ऐसे जवाब की उम्मीद नहीं की थी, लेकिन इतने में वो औरत बोली कि तू भी 500 रुपए देगा, तो मजे कर सकता है. मामी बोलीं- उससे क्या करोगे?मैंने कहा- आप लेकर आओ तो … मैं सब बताता हूँ कि क्या करूंगा.

सेक्सी बीएफ बिहार के वीडियो मैंने उंगली की रफ्तार बढ़ाई तो वो जोर जोर से आवाज करने लगी और मुझे किस करने लगी और मेरे बदन पर काटने लगी।फिर मैंने उसके और मेरे बचे हुए सारे कपड़े उतार फेंके और उसका हाथ पकड़कर मेरे पूरे तने हुए लंड पर रखवा दिया. कमर पतली, जो किसी को भी उत्तेजित करने के लिए काफी थी।समय गुजरता गया, जब वो बैठी कुछ लिखते रहती तो मुझे उसकी चूचियों के दीदार हो जाते।एक दिन मैं कोचिंग पहुंचा तो वो भी लिफ्ट के पास खड़ी मिली.

सेक्सी बीएफ बिहार के वीडियो चूंकि पूरी बस फुल थी और सिर्फ मेरे बाजू वाली बर्थ खाली थी, तो उस महिला को कोई दिक्कत नहीं थी. उसने फिर से मुझसे पूछा- उसके पीरियड (महीने) चल रहे हैं क्या?उसकी इस बात से मुझे भी झटका लगा क्योंकि ये तो मुझे पता ही नहीं था.

फिर मैंने अपने कपड़े पहन लिए।तभी दरवाजे पर खटखटाने की आवाज़ हुई रोहित ने जाकर दरवाजा खोला.

भोजपुरी में बीएफ वीडियो चाहिए

वो भी पानी छोड़ चुकी थी और दोनों की ही धड़कनें कमरे को जैसे सिर पर उठाने को हो रही थीं. अचानक मेरी आँखों के तारे से चमकने लगे और मुझे अपने लिंग में भारी तनाव और भारीपन सा महसूस होने लगा। जैसे एक लावे का सैलाब (गुबार) सा मेरे शरीर में उठने लगा है और फिर. मुकेश भी कम नहीं था, उसने संगीता की चूत की मलाई का एक कतरा भी व्यर्थ नहीं जाने दिया, कुछ माल बह कर संगीता की गांड तक गया था … उसको भी मुकेश ने अपनी लंबी जीभ निकाल कर चाट लिया तब ही उसने अपना मुँह हटाया.

के उनका भारी रकम का चालान काट दिया हो जिसकी भरपाई अब उनके लिए कतई संभव नहीं थी।थोड़ी देर बाद भाभी के मुंह से मरियल सी आवाज निकली- ठीक है. मैं भी मुस्कुराते हुए पीने लगी।टाइट ब्रा पैंटी की वजह से मैं गर्म हो रही थी।मैंने खाना खत्म किया और शराब पीते पीते कमरे में चली आयी। मैं बिस्तर पर बैठ गई. अभी कुछ दिन ही बीते थे कि रोहन की कम्पनी ने उसे इंडिया से बाहर तबादला कर दिया.

इसी बात का फायदा उठा कर मैं भैया की पीठ के साथ चिपक कर बैठी हुई थी.

अब मैं उठा और बेड से नीचे आ गया उसके दोनों पैरों को अपने कंधे पर रख कर लंड को उसकी बुर में सैट करके एक झटका लगाया. इतने में उस कमीन ने एक और झटका दे मारा और उसका पूरा लंड मेरी गांड में चला गया. मैं ब्लाउज के ऊपर से ही उनकी निप्पल को चूस रहा था और दूसरे निप्पल को चुटकी काट रहा था और सहला रहा था.

वो मेरे लंड को गप से मुँह में लेकर चुसकने लगी और मैं उसकी चुत को चाटने लगा. धीरे धीरे चूत की आग और ज्यादा बढ़ती चली गयी जो अब बर्दाश्त करना भी नामुमकिन सा लगने लगा. दोनों के कपड़े फिर उतर गए और आज बरसों बाद पिंकी ने रवि के साथ मन भर कर सेक्स किया.

हालांकि मैंने कभी वैसे मैसेज उसको नहीं भेजे, पर उसके भेजे ऐसे मैसेज को एंजॉय जरूर करने लगी थी. ’ की आवाज़ तो मेरा चूत मारने का मज़ा और भी बढ़ा रही थी, इसलिए मैं भी और जोरों से शायरा की चुत को बजाने लगा.

मैंने देखा कि विक्रम का लंड पैंट के बाहर से काफी बड़ा और पूरा फूला हुआ लग रहा था. उसने जल्दी से लंड बाहर निकाला और लंड का सारा माल शिल्पा की चुत के ऊपर मार दिया. वो मेरे लंड को गप से मुँह में लेकर चुसकने लगी और मैं उसकी चुत को चाटने लगा.

विक्रम ने वैसे ही फिर से उसके मुँह में मुँह डालकर उसे चुप किया और अब उसने धीरे धीरे संजू की चूत में लंड को गोल गोल घुमाना शुरू कर दिया.

बीवी का नाम सुनते ही मैंने एक ही झटके में पूरा लंड उसकी प्यासी चूत की गहराई में उतार दिया. उसके सामने आते ही मैंने पैंट की चेन खोल ली और लंड को बाहर निकाल लिया. मैंने भी प्यासी जवानी की सुनी और जिद करके पूछ ही लिया- मैं आपको अच्छी नहीं लगती क्या?सर बोले- हां तुम मुझे बहुत अच्छी लगती हो … पर …मैंने उनकी हिचक को दूर करते हुए हिम्मत दिखाई और तुरंत आगे बढ़ कर उनके होंठों को किस करना शुरू कर दिया.

मैंने पूछा- बोल खुश है ना!वो बोला- जी, आपने इसे पता नहीं क्या खिला दिया है. क्लिप मैंने वहां चिपकाईं थीं जहां पर मोमबत्ती का गर्म मोम टपका हुआ था.

सीमा ने फिर पूछा- क्या भविष्य में तुम इस राज को बताना चाहोगी?तो पिंकी बोली- अपना घर खराब करना हो तो जरूर बताना. अशोक ने मुझसे उनकी फैमिली के बारे में पूछा, जिससे उसे पता लगे कि उनकी जरूरत कितने बड़े घर की है. ओहहह बेटी … तुम अपने पिता के लंड से चुदना चाहती हो? तो कहो कि पिता जी अपना मोटा और लम्बा लंड मेरी चूत में घुसेड़ो और मेरी चूत को जमकर चोदो।”आह … पिता जी, आप क्यों मुझसे गन्दी बातें बुलवा रहे हो?” ज्योति ने फिर से मिन्नत करते हुए कहा.

बीएफ बीएफ फिल्म इंग्लिश

मॉम ये बोल ही रही थीं कि अंकल ने बचा हुआ लंड भी मॉम के चूत में पेल दिया.

रोशिता के मुंह से लन्ड शब्द सुनते ही मैंने उस डिल्डो को अपने मुंह में ले लिया और चूसना चालू कर दिया. मैं खाली हाथ जाना नहीं चाहता था, सो उसके घर के नजदीक वाली शॉप के पास वेट करने लगा. मगर दोस्ती के रिश्ते को अगर प्यार का नाम दे दिया जाये तो क्या बुराई है? और इन सब में उम्र नहीं देखी जाती।अगर तुम तैयार हो तो बोलो … नहीं तो हम दोस्त तो हैं ही।मैं कुछ भी बोल नहीं रही थी, मेरी साँसें तेज चल रही थी।उन्होंने मेरे चेहरे को अपने हाथों से ऊपर उठाया। मैं उनसे आँखें नहीं मिला रही थी.

हम दोनों ने मम्मी पापा के पैर छुए, फिर सारे लोग ऑटो में बैठ गए और वे लोग चले गए. मैंने भाभी के होंठों को अपने होंठों से चूमा, तो वो भी मेरा साथ देने लगी. चाची की चुदाई बीएफ फिल्मबेईज्जती होना तय हो गयी थी, इसलिए मुझे अब इससे‌ पीछा छुड़ाना ही सही‌ लग रहा था‌.

सच में उसकी हर ठोकर से क्या मस्त मजा आ रहा था … मैं उस मजे को जितना भी चाहूँ, लिख ही नहीं सकती. मैं बोला- नहीं मेरी रानी, यह तुम्हें पूरे मजे देगा … बस आज थोड़ा दर्द होगा, फिर तो तुम इसे छोड़ोगी नहीं.

वो दोनों बोले- हां, बीयर तो है लेकिन वो गांव से बाहर एक दुकान पर ही मिलती है. पर उसने पिंकी से पूछा- क्या तुम चुद गयीं उस रात? और अगर चुद भी गयीं तो मुझे कोई एतराज नहीं. जब भी पैसे की जरूरत रही है, मुझे बिना किसी रोक टोक के मिल जाते हैं.

मेरे दिमाग में उनके चूचे इस कदर घुस चुके थे कि उनको सोच सोच कर मैंने कई बार मुठ मार चुका था. हमें एक दूसरे से किसी बात ने बांधे रखा था, तो वो हमारी बेटी की चाहत ने. फिर उसके पैरों को ऊपर करके मैंने उसकी गांड के छेद को चाटना चूमना शुरू किया.

अगर तू रेडी है तो बता?मेरी हालत ऐसी थी कि मैं कुछ सोच नहीं पा रही थी.

मैंने फिर भी उससे कहा- ठीक है तुम बताओ, कौन सी दवा लेनी है?दोस्त की सिस्टर ने मुझसे बहुत रिक्वेस्ट करके बोला- मुझे बच्चा गिराने वाली मेडीसिन चाहिए. मैंने पैसे देकर चुदाई का मजा लिया था लेकिन कभी किसी लड़की को पटाकर नहीं चोदा था.

उसकी इस बात पर मुझे हंसी आने लगी तो मैंने अपना मुंह दूसरी तरफ कर लिया और हंसने लगी. डॉक्टर साहब ने पूछा- भाई साहब आजकल कहां हैं? इधर कब आए?डॉक्टर साहब ने मुझसे शिकायत की कि मिलते ही नहीं हो. अब तो मेरी भी समझ में आ गया था कि कॉलेज में सब‌ लड़के लड़कियां मेरे और शायरा के बारे में ही बातें क्यों करते हैं.

हैलो, मैं राजकुमार जयपुर से हूँ और आपको एक विवाहिता भाभी न्यासा की प्यासी जवानी की चुदाई की कहानी सुना रहा था. मगर शॉवर में जाने के बाद उसने मुझे फिर अन्दर बुला लिया और अपनी चूत चाटने के लिए बोलने लगी. मैंने सोचा कि इस मस्त देसी सेक्स कहानी को आप लोगों के साथ शेयर करूं.

सेक्सी बीएफ बिहार के वीडियो ऐसी कोई बात नहीं होती बेटा, अगर स्त्री और पुरुष दोनों संतुष्ट होते हैं … तो समय कोई मायने नहीं रखता. पर उसका जिस्म हवा में था और उसके हाथों और पैरों के सपोर्ट से टिका था.

बीएफ चलाएं बीएफ

उन्होंने अपने सर को पीछे धकेल कर मेरे चूमने के लिए जैसे और जगह बना दी हो. वो तिरछी नज़रों से मेरे लन्ड को देख कर मुस्कुराने लगी क्योंकि मेरा लन्ड उसकी गांड देख कर पूरी तरह तो नहीं पर खड़ा हुआ था. मैंने‌ भी अब एक‌ बार तो उनकी तरफ देखा, फिर चुपचाप अपने हाथ को धुलाई करके पास ही रखे गिलास को उठाकर पानी पीने‌ लग गया.

अब आगे पढ़ें कि कैसे मैंने मैरिड गर्लफ्रेंड की गांड मारी:मैं बोला- देखो जानम, थोड़ा तो दर्द होगा ही … और जब ये जैल तुम्हारी गांड में लगाऊंगा, तो तुम्हें उतना ही दर्द होगा … जितना पहली चुदाई में तुम्हारी चूत की सील टूटने में हुआ था. मुझे बहुत भूख लगी थी, तो मैंने खाना बनाया और फिर उन दोनों को उठाया. सेक्सी बीएफ साड़ी ब्लाउज वालीजांघों तक चूमा और फिर दूसरे पैर को भी वैसे ही जांघों तक चूमा।मैं उसके ऊपर लेट गया और अपना हाथ नीचे ले जाकर उसकी ब्रा का हुक खोल दिया.

विक्रम और संजू ने किसिंग के लगभग सारे पोज अपना लिए थे, पर अभी भी वो लोग चूमने में लगे हुए थे.

क … कुछ नहीं सर … आपको बहुत-बहुत बधाई हो सर!”थैंक यू प्रेम!”सर, यहाँ अब कौन आएगा?”यह तो पता नहीं … पर प्रेम मैंने तुम्हारे नाम की सिफारिश कर दी है। प्रमोशन के साथ इनक्रिमेंट भी मिलेगा। मुझे लगता है 2-3 दिन में कन्फर्मेशन का मेल आ जाएगा. मैं- ज़ारा भरोसा रखो! ऐसा कभी कुछ नहीं होगा!ज़ारा- आप मेरे साथ सुहागरात मनायेंगे?मैं- हां जान!ज़ारा- मेरा सपना …मैं- अब सच होने वाला है!ज़ारा- होने वाला है! मतलब आज नहीं?मैं- नहीं!ज़ारा- फिर कब?मैं- सुहागरात! तुम्हारे लिये बर्थडे गिफ्ट होगी!कहते हुए मैंने उसे वो नथ और मांग-टीका भी दिया.

उसके सिहरने का कारण था कि अनिल की उंगली उसकी चूत के अन्दर पहुंच चुकी थी. मैंने प्रियंका को इशारा किया कि वो फ्रिज से आइस क्यूब (बर्फ के टुकड़े) लाकर दे. ” महेश ने अपनी नाक को ठीक अपनी बेटी की चूत के क़रीब करते हुए कहा।आहहह पिता जी, आप यह क्या कर रहे हैं …” ज्योति भी अपने पिता के मुंह से निकलती हुई गर्म साँसों को अपनी चूत पर महसूस करके आराम सा पाने लगी।कुछ नहीं बेटी, मैं तुम्हारी चूत को अपनी जीभ से चाट कर साफ़ कर देता हूँ ताकि अगर कोई ज़ख़्म वगैरह हो तो वह ज्यादा न बढ़े.

मालू की चूत से रिस रहा पानी मेरा नशा बढ़ा रहा था और मालू को बेचैन कर रहा था.

सीमा की चूत पर हाथ फेरकर मैं उसकी चूची चूसने लगा और मीरा से कहा कि सीमा की चूत चाटकर गीली करे. इस कहानी के पात्रों में मेरा भाई शिवम और बड़े पापा (ताऊ जी) की बेटी का बेटा विवेक है. आप मेरे लिए कुछ देर लड़की नहीं बन सकते?मैं अब सच में हैरान था कि ये लड़की क्या बोले जा रही है.

बीएफ पिक्चर चूत में लंडमेरी बीवी के घोड़ी बनते ही राहुल ने पीछे से आकर उसके कूल्हे को चूमा और पीछे से ही लंड सैट करके अपनी चुदाई की पोजिशन ले ली. तब से वो मुख मैथुन का मज़ा भी लेने लगी और कुछ दिन में मेरा लिंग भी चूसने लगी.

बीएफ सेक्स खुला वीडियो

फिर मैंने तीनों को किस किया और उनके होंठ अपने होंठों में लेकर चूसे।तब तक हम चारों थक चुके थे. थोड़ी देर बाद अनामिका ने मेरे नेकर के नीचे साइड से ही हाथ डाला और मेरा लंड बाहर निकाल कर लंड मुँह में ले लिया. मैं उसको इतना गर्म कर देता था कि उसको बस अपने चुदने का इंतज़ार हो गया था.

उस दिन मैंने शाम के चार बजे मुंबई एयरपोर्ट पर से बंगलौर जाने के लिए फ्लाइट ले ली. उन्होंने निराशा में मुझे ऊपर खींचने की कोशिश करी लेकिन फिर जब मैंने उनको मौका नहीं दिया तो उन्होंने अपने शरीर को ऊपर खिसका कर मेरे होंठों को अपने स्तनों से अलग कर दिया. मगर उसके अगले दिन जब मैं कॉलेज जाने लगा तो वो मुझे अपने घर के बाहर ही खड़ी मिल गयी.

उसके बाद मैंने भी दो पैग लगाये और फिर फ्रिज से बर्गर निकाल कर ओवन में गर्म करने के लिए रख दिये. मैंने उन्हें चोदते हुए ही उनकी ब्रा को उतार दिया और उनके दोनों मम्मों को बारी से चूसने लगा. जल्दी ही उसका पानी निकल गया और लंड सुगमता से चुत में अन्दर बाहर होने लगा.

सर ने थोड़ी देर तक अपना लंड अन्दर पेलने से रोके रखा … ताकि मुझे दर्द कम हो. अगर मेरी पाद भी निकल जाती तो मुझे ख़ुश करने के लिए अपना मुँह नहीं हटाता था.

उसने भी बहुत दिनों से चुदाई नहीं कराई थी, तो वो भी बहुत उत्तेजित थी.

इसका नतीजा यह हुआ कि मैं चुत के दाने पर अपना थूक लगा कर डिल्डो से रगड़ने लगी. बिहार की चुदाई सेक्सी बीएफभाभी ने भी मेरा सर अपनी चूत में दबा दिया और कहने लगी- ह्म्म्म चाट … इसे चाट … ह्म्म्म्म मम्म … और जोर से … फाड़ दे आज … अपनी भाभी की चूत. बीएफ सेक्सी चोदनायह चीख दर्द भरी नहीं थी बल्कि आनंद से भरी थी। गौरी का शरीर कुछ अकड़ सा गया और उसने मेरी तरफ घुमते हुए मेरा सिर अपनी छाती से भींच लिया।उसके बेकाबू होती साँसें मेरे सिर पर महसूस होने लगी थी। अब मैंने उसके एक उरोज को अपने मुंह में भर लिया और एक जोर की चुस्की लगाईं- सल. स्पीड बढ़ाने पर उसने मेरा लंड छोड़ दिया और चूत वाले हाथ पर हाथ रख दिया.

” एक ही धक्के में अपने पिता का आधा लंड अपनी चूत में घुसते ही ज्योति ने ज़ोर से चिल्लाते हुए कहा।आह्ह्ह बेटी, कितनी गर्म चूत है तुम्हारी, बस थोड़ा दर्द ही होगा फिर तो मज़े ही मज़े होंगे.

उसके बाद क्या हुआ?दोस्तो, मैं रॉकी आपका दोस्त अपनी पिछली कहानीबारिश की बूंदें और वोसे आगे की कहानी लेकर आया हूँ. तो दोस्तो, मैं एक 24 साल का नौजवान हूं और दिखने में काफी हैंडसम भी हूं. कुछ देर करने के बाद मैं भी बेड पर आ गया और फिर लंड अन्दर बाहर करने लगा.

इसके बाद से जब भी मुझे मौका मिलता, तो मैं अपनी सास कोबाजारू रंडीबना कर चोद लेता हूं. कोई साढ़े दस बजे मेरी आँख खुली, मैं नहा कर तैयार हुआ तो आशा मेरे कमरे में चाय लेकर आई. मेरे धक्कों से भाभी को भंयकर दर्द होने लगा और वो अपना सिर इधर उधर पटकने लगीं.

वीडियो बीएफ वीडियो वीडियो

” भाभी ने सच में डरते हुए मिन्नत की।तेरे को बोला ना … अपुन इस मामले का एक्सपर्ट है … और आज तक कोई बी चूत और गांड मरवाने से नहीं मरा। में तेरे को प्रॉमिस देता आराम से करेगा बस …”वो … वो … क्रीम और तेल लगा लेना प्लीज …”फिकर नई करने का अपुन सब देख लेंगा … बस अब तू पलट जा. मेरा लंड उसकी चूत में कैसे घुसा?मेरा नाम रुद्र है और उस लड़की का नाम शालया (बदला) है, जिसकी Xxx नर्स सेक्स कहानी मैं लिख रहा हूँ. मुझे देखते ही उनके बीच कानाफूसी सी शुरू हो गयी थी, इसलिए मैं बस से जाने की बजाये सुबह की तरह ही वहां से पैदल‌ चलकर घर आ गया.

मेरा हाथ अब उनकी कमर और पेट के बजाये उनकी टांगों पर था और उनके घुटनों के ऊपर की त्वचा को सहला रहा था.

’ की आवाज़ तो मेरा चूत मारने का मज़ा और भी बढ़ा रही थी, इसलिए मैं भी और जोरों से शायरा की चुत को बजाने लगा.

जैसे ही उसने मेरी पत्नी के अर्धनग्न जिस्म को आगोश में लिया तो मेरी उत्तेजना चरम पर पहुंच गई. मैं उसके बूब्स को उसके टॉप के ऊपर से दबाने लगा।इससे सपना थोड़ी हॉट हो गयी. साड़ी वाली औरतों की सेक्सी बीएफअपनी एक उंगली पर मैंने लोशन लगाया और थोड़ा उसकी चूत पर लगा दिया और एक उंगली उसकी चूत में डाल दी.

ये सोच कर मैंने भाभी को अपनी तरफ खींच लिया और हम दोनों आपस में चिपक कर चूसा चूसी करने लगे. मेरे बहुत समझने पर वो मानी, तब तक उसकी चुत का दर्द भी थोड़ा कम हो गया था. डॉक्टर उसी तरह अपने जिस्म को हवा में लटकाए हुए था और मैं बार-बार अपनी कमर को उचकाकर लंड को छूने की कोशिश कर रही थी.

उसके ऊपर दोस्ती का जो सुरूर हमने नक्की लड़ा कर बनाया था यह असर उसका भी था कि वो दोनों ही अपने टीशर्ट को उतार कर अपने स्तनों का माप देने के लिए हमारे सामने ही तैयार हो गईं. देसी होली सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी एक सहेली और उसके पति हमारे घर होली खेलने आये.

इस धक्के से सर का मूसल लंड मेरी छोटी सी चुत को फाड़ता हुआ अन्दर चला गया.

उसके कुछ देर बाद अभिषेक ने मुझसे कहा- चलो छत पर चलते हैं भीगने में मजा आएगा. जब मालू ने अपने चूतड़ उचकाकर लण्ड को अपनी चूत में लेना चाहा तो मैंने कहा- मालू मेरी जान, अपना टॉप तो उतारो, अपने संतरों का रस पिलाओ, स्वीटी. इसलिए मैंने मकान मालकिन को‌ बाहर ही बुला लिया और उसे वो दवाई देकर चुपचाप अपने कमरे पर आकर सो गया.

बीएफ सेक्सी फोटो ओपन मेरी पिछली कहानियों को आपका इतना प्यार मिला, उसके लिए मैं आपका धन्यवाद करता हूँ और उम्मीद करता हूँ कि आगे भी मुझे ऐसे ही प्यार देते रहोगे और इमेल्स करते रहोगे. धीरे धीरे जब हमारी बातें होने लगेंगी, तो आपके मन की सारी दुविधाएं दूर हो जाएंगी.

मगर जैसे ही मैंने उन्हें पकड़ा स्वाति भाभी ने तुरन्त अपना एक हाथ मेरे हाथ पर रख दिया. उसके बाद उसने अपनी जीभ से चाट चाट कर मेरे लंड को पूरी तरह से साफ कर दिया. एक हफ्ते बाद मिले हो आप!और ये कहकर फिर से अपनी चूत में लंड घुसा लिया और होने लगी ऊपर-नीचे- आह … जान, आह आह!थोड़ी देर ऐसे ही करने के बाद ज़ारा उठी और घोड़ी बन गई, मैंने पीछे से लंड घुसाया!ज़ारा- आह! जान जल्दी-जल्दी करो चोद दो मुझे बुरी तरह आह … आह …थोड़ी देर बाद मैंने उसे नीचे किया और खुद ऊपर आ गया.

सेक्सी बीएफ देहाती दिखाएं

उनके बदन और लंड के आसपास बहुत सारे बाल थे और ये मुझे सबसे अधिक उत्तेजित कर रहा था. पापा दीदी से बोले- तुम लोगों के एग्जाम कब तक हैं?दीदी- दो दिन बाद हैं. वो आया और मेरे कपड़े उतार कर मेरे मम्मों को दबाने लगा और काटने लगा.

संडे के दिन वो थोड़ा देरी से नहाती थी और कमरे से बाहर भी दो-तीन बार आती थी. मेरे पति सुबह 10:00 बजे ऑफिस जाते थे और रात में 9:00 बजे वापस आते थे.

कुछ दोस्तों ने लिखा कि उस रांची वाली मैडम का नंबर दे दो, नाम बता दो … वगैरह वगैरह.

काफ़ी लोग उनके हुस्न के दीवाने हैं, पर वो किसी को भी ज़्यादा भाव नहीं देती हैं. वैसे तो मैं सबसे आखिर में उस बस में चढ़ा था इसलिए मैं ही सबसे पीछे था. देविका- क्यों … ऐसे क्यों बोल रहे हो?मैं- जाने दो … घर से निकलवा देने के बाद भी तुम मुझे कॉल कर रही हो.

मगर आप सभी जानते होंगे कि किसी भी लड़की या औरत के साथ संबंध बनाना उसके चाहने पर ही बनाना चाहिए, ऐसा मेरा मानना है. अनन्या- इलाज मतलब?मैंने कहा- मेरी भोली ननद, तू क्या मुझे बच्ची समझती है. कैसे?मेरी पिछली कहानीदोस्त की दादी की अन्तर्वासनामें आपने पढ़ा कि कैसे मैंने अपने जिगरी दोस्त की दादी की चुदाई करके उनकी अन्तर्वासना को शांत किया था.

मेरा मन मस्ती में झूम रहा था और बार बार अपने ख्यालों में मैं रिचा के रसीले होंठों को चूम रहा था.

सेक्सी बीएफ बिहार के वीडियो: चूंकि मालू की चूत काफी गीली हो चुकी थी और लण्ड पर क्रीम चुपड़ी हुई थी इसलिए करीब आधा लण्ड मालू की चूत में सरक गया. यह बोलकर रिचा ने मेरे लंड को मेरे पैंट के ऊपर से पकड़ लिया और उसे मसलने लगी.

एक क्लास में मैं नंगी होकर अपनी ही पक्की सहेली के ब्वॉयफ्रेंड का लंड अपने बुर में लेकर चुदवा रही थी. मैंने एक चॉकलेट का पैकेट फाड़ा, चॉकलेट को अपने मुँह में रखा और अपने मुँह को प्रीति के मुँह के पास लाया. मुझे इस उम्र में पहली बार किसी महिला के द्वारा होंठों पर चूमे जाने से एक अजीब सी सनसनी हुई.

कुछ देर बाद विक्रम ने संजू के ब्लाउज के पीछे से उसकी डोरियां ढीली कर दीं और ब्लाउज को खोल दिया.

इसमें एक नकली डंडे जैसा आइटम है … जो असली लंड का क्लोन है, इसे हाथ में लेकर अपनी चूत पर रख कर घिस. इतने में सास ने मेरे लोवर में अपना हाथ डाल दिया और मेरे लंड को जोर से दबाने लगी. मैं- वैसे आपको भाभी कहकर बुलाऊं, तो आपको कोई दिक्कत तो नहीं है न!सुगंधा भाभी- तुम चाहो तो मुझे मेरे नाम से भी बुला सकते हो.