बीएफ हिंदी इंग्लिश फिल्म

छवि स्रोत,सीआईडी की बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

न्यू आंटी सेक्स वीडियो: बीएफ हिंदी इंग्लिश फिल्म, उनसे मेरी दोस्ती कैसे हुई और मैंने कैसे भाभी को चोदा?उस शाम मैं छत पर खड़ा था, जब भाभी कपड़े समेटने आईं.

सेक्सी बीएफ अमेरिका का

[emailprotected]ओपन चुदाई कहानी का अगला भाग:मेरे चोदू यार का लंड घर में सभी के लिए- 5. देसी बीएफ हिंदी में देसी बीएफ हिंदी मेंवो उसकी बहन की चूत चाटने लगी और इधर में आरती की चूत में लंड डालने की कोशिश करने लगा.

मेरे शौहर ने नर्मी से कहा- अरेस्ट मत करवाओ, थोडे़ ज्यादा फाईन ले लेना, खर्चा पानी. भोजपुरी बीएफ ब्लू फिल्मअन्तर्वासना के समस्त प्रेमी जनों को नमस्कार,मैं प्रियम, पिछले लम्बे समय से अन्तर्वासना की समस्त साइट्स की कहानियां पढ़ता आ रहा हूं.

मैं आप लोगों को बता दूं कि मेरे पिता की मृत्यु हो चुकी है और मेरी मां एक टीचर है.बीएफ हिंदी इंग्लिश फिल्म: तो उसका रिप्लाई आया- सॉरी मत बोलो, मुझे सही में अकेले में नींद नहीं आती है, पति के साथ सोने कि आदत हो गई है ना.

इतना सुनते ही मैंने ज़ोहरा आपा की जांघें फैलायी और अपने लंड को ज़ोहरा की चुत के अंदर घुसा कर चुदाई शुरु कर दी.उसका ये तेज प्रहार मैं सह नहीं पाई और मेरे मुँह से जोरदार चीख निकल गई- उम्मम्म मांआआ मर गईईई … थोड़ा धीरे … अमन आह.

एक्स एक्स बीएफ 2020 का - बीएफ हिंदी इंग्लिश फिल्म

अगले ही शॉट में मैंने अपने लंड को बहुत ही जोर से झटका दिया और चुत में लंड अन्दर तक पेल कर भाभी को चोदने लगा.फिर उसने मेरे ऊपर बैठते हुए अपनी चूत मेरे होंठों पर रख दी और मेरे मुँह के ऊपर बैठ गयी।मैं तो पागल सा हो गया.

क्या देना चाहती हो और कैसे लूं? एक बार बताओ तो सही?” मैं उसकी आंखों में देखते हुए बोला. बीएफ हिंदी इंग्लिश फिल्म मैंने आरिया के मम्मों की कुछ मिनट रगड़ाई की और लंड का पानी आरिया के मुँह पर छोड़ दिया.

फिर मैंने कैसे भी करके हेमा चाची को उनकी गांड मारने लिए मना ही लिया.

बीएफ हिंदी इंग्लिश फिल्म?

फिर आगे बोली कि वो फ्लाइट से भोपाल आएगी क्योंकि उसे अपनी किसी खास सहेली से भोपाल में मिलना था. अब जब से ज़ोहरा आपा घर रहने आई तो तब से शनाज़ मेरे हत्थे नहीं चढ़ती थी. एक दिन खींचे गये फोटो अगले दिन लैपटॉप की स्क्रीन पर देखकर हनी बहुत खुश होती.

मॉम के सोने के बाद मैंने राखी दीदी को नंगी करके चोदने लगा और उनके कान में कहा- दीदी, आप गर्म आवाजें निकालो, जिससे मॉम गर्म हो जाएं. उस दिन मां ने जब उस आदमी को अपने पीछे आता देखा, तो वो कुछ सोचने लगीं कि कहीं ऐसा तो नहीं है कि आदमी मौका पाकर उनके साथ कुछ गलत कर दे. मैंने कहा- डाल दे अब प्लीज… चोद दे अपनी बहन को… प्लीज।उसने मेरी चूचियों को जोर से पीते हुए एक झटका मेरी चूत में मारा और उसका चिकना हो चुका लंड मेरी चूत में सट्ट से उतर गया.

अब वह मेरी चूचियों से खेलता, दोनों चूचियों को बारी-बारी मुंह में देकर चूसता, हाथों से दबाता. मेरी ईमेल आईडी है[emailprotected]देसी हिंदी Xxx कहानी का अगला भाग:ममेरी सास और उसकी नवविवाहिता पड़ोसन- 2. उसने अब और तेजी के साथ मेरी चूत में धक्के लगाना शुरू कर दिया और दो मिनट के बाद ही वो आह्ह … आह्हह … करता हुआ मेरी चूत में स्खलित हो गया.

कमरे में आते ही उसने दरवाज़ा लॉक कर दिया और मुझ पर भूखे शेर की तरह टूट पड़ा. निधि- तुम मुझे बहुत देर से घूर रहे हो … क्या चाहते हो?मैं- आप बहुत सुंदर हो, मैं बस इसी लिए आपको देख रहा था.

जैसे ही टी टी ने मेरे होंठों को छोडा़ और झटके लगाने को तैयार हुआ मैंने टी टी से गिड़गिडा़ते हुए कहा- साहब, आप जो चाहते हैं, मैं कर रही हूं, फिर मेरी विडियो क्यो बनवा रहे हैं?टी टी 90 डिग्री के कोण में उठा और उसका लण्ड अभी भी मेरे योनि में फंसा था और मेरी टांगें उसके कमर के इर्द गिर्द लिपटी थी.

उसके हाथ की कोमलता से मुझे बहुत मज़ा आ रहा था … क्योंकि ये सब करने का मेरा पहला मौका था.

लण्ड को अन्दर बाहर करने की स्पीड बढ़ाते हुए मैंने एक बार जोर से धक्का मारा तो मनमीत की बुर की झिल्ली फाड़ते हुए पूरा लण्ड मनमीत की बुर में समा गया. फुसा ने मेरी मम्मी की चुत को देख कर चोदने में एक मिनट की भी देरी नहीं की. देव अंकल- तुम दोनों बात करो … मैं बाजू वाले रूम में आराम करने जा रहा हूँ.

वो बोली- देख कर नहीं चलते हो?मैंने भी हिम्मत करके बोला- अंधेरे में आपको दिखाई देता होगा … मुझे तो नहीं दिखता. मुझे अपने कॉलेज के प्रिसींपल से एक काम निकलवाना है, उसके लिए तुम्हें अपनी चूत चुदवानी होगी. मां के बारे में कुछ कुछ बातें चलने लगीं लेकिन हम दोनों बहनों ने कभी इस बात पर ध्यान नहीं दिया.

प्रियंका मेरे मुंह पर बैठ कर अपनी चूत रखने के लिए उठी ही थी कि मैंने उसके बड़े बड़े चूचे पकड़ कर अपने मुंह में ले लिए।वो पूरे जोश में थी।वह अपने दोनों चूचों से मेरे मुंह की मालिश करने लगी.

वैसे तुम भी तो बहुत मजे से कहते हो कि तुम्हें उस बुर को चोदने में बहुत मजा आता है जिससे तुम खुद बाहर निकले हो. मैंने उससे पूछा- तेरे हस्बैंड का कितना है?सुमन बोली कि आपके लंड के आधे से थोड़ा ज्यादा होगा. लेकिन ऑनलाइन क्यों है? और तुरंत मेरी रिक्वेस्ट कैसे स्वीकार कर ली?मेरी चुल्ल बढ़ती जा रही थी तो मैंने तुरंत उस हॉट भाभी को एक मैसेज किया ‘हाय’मुझे भी तुरंत में उस बला की खूबसूरत माल का रिप्लाई आया.

वहां पर मैं, माता जी और पिता जी रहते थे।मैंने अपनी सारी पढ़ाई पंजाब में ही की थी. आरजू की फैमिली उसकी देखभाल के लिए उसी बंगले के पीछे के रूम में रहती है. वो अपने खड़े लंड से मेरी जांघों पर धक्का मार रहे थे, जिस कारण मैंने गर्मा कर अपनी जांघें खोल दीं.

एक दिन उसका फोन आया कि आज मेरी दीदी आ रही हैं और दीदी ने आपसे मिलने के लिए बोला है.

उस कैमरा को मैंने मां और पापा की लाइव चुदाई देखने के लिये लगाया था. जैसे ही आधा अन्दर गया, तो वो पैरों को फटकारने लगी … और आरती की पीठ पर नाख़ून लगाने लगी.

बीएफ हिंदी इंग्लिश फिल्म मैंने भोले स्वर में कहा- ओह शिफ़ा?वो बोली- हां, मेरे कपड़े कहीं गिर गये हैं. मैंने उससे पूछा- एक गिलास क्यों? तू नहीं पियेगी?वो कुछ नहीं बोली, तो मैंने गिलास में पैग बनाया और मन ही मन बोला कि आज साली तुझे पूरी रात चोदूंगा.

बीएफ हिंदी इंग्लिश फिल्म इस समय उन दोनों को मजा आ रहा था … तथा दोनों एक दूसरे से लिपट कर चुदाई करते हुए गालियों के साथ बातें करने लगे थे. पर उसकी ओर मैंने ध्यान ना देते हुए जोर जोर से अपनी कमर चलाकर अपना लंड सीमा की चुत में उतारने निकालने लगा.

अरमान भी मेरे घर वालों से इतना अधिक घुल-मिल गया था कि हम लोग उसे घर का सदस्य मानने लगे थे.

आदिवासी व्हिडिओ सेक्सी

मैंने मनजीत को आंख दबा कर इशारा करते बोला- तुम दूसरे कमरे में जाओ, मुझे सुमन से कुछ बात करनी है. उसने हंस कर जवाब दिया- हां वो तो है … मगर घरवालों के डर से मैं किसी को भी अपना बॉयफ्रेंड नहीं बनाती हूँ. फिर मैंने जोश में मैसेज कर दिया- लेकिन मैं आपको जानता हूँ डार्लिंग.

उस दिन उसका दोस्त किसी काम से बाहर गया हुआ था और वो शाम को आने वाला था. वह हर रोज नये और टाइट कपड़े पहनने लगी थीं और उनके मम्मे पहले से थोड़ा ज्यादा बड़े हो गए थे. वैसे मेरा मन उसके साथ कुछ करने के लिए नहीं कर रहा था लेकिन फिर भी मैं उसको उठा कर खेत के अंदर ले गया.

आखिर आधा घंटे की चुदायी के बाद ठाकुर ने अपने मूसल से पूरी चुत को भर दिया.

वो ब्रा पर टूट पड़ा और जोर से मॉम की चूची ब्रा के ऊपर से ही दबाने लगा. मैं वापिस आया तो चाची कहने लगी- अंकित तुमने मेरी चूत को बहुत पेल लिया है फिर भी मेरा मन नहीं भर रहा है. खैर … पहली चुदाई की कहानी की बात करूं तो ये बात तब की है, जब मैं केवल 19 साल की थी.

उनमें बात करते-करते कुछ कहासुनी हो गई, तो अनूप उन दोनों पर चिल्लाने लगे. आप सभी को मेरी सास दामाद की चुदाई कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल करें. उसका लंड अब मुझे चूत में बर्दाश्त नहीं हो रहा था और मैं दर्द से कराहने लगी थी.

मैंने भी उसको रोकने की कोशिश नहीं की क्योंकि मैं अब तक काफी गर्म हो चुकी थी. आरजू की फैमिली उसकी देखभाल के लिए उसी बंगले के पीछे के रूम में रहती है.

तो दोस्तो, कैसे लगी मेरी बहन के साथ सेक्स कहानी … अगर आप लोगों को पसंद आयी हो, तो मुझे मेल जरूर करें. मैंने भी उसे बांहों में बांध कर खूब प्यार किया और फिर शिवांश को चूम कर उसे आशीर्वाद देकर निकल लिया. फिर उसको नाराज होता देख मैंने सोचा कि इसका दिल तोड़ना ठीक नहीं है, पहली बार इसने कुछ करने को कहा है तो मैं भी कर देती हूं.

मैंने आगे हाथ ले जाकर तौलिया के ऊपर से उसकी चूचियों को पकड़ लिया और दबाते हुए उसकी गांड पर लंड लगाने लगा.

दीपू ने कह दिया कि हम लोग रास्ते में बारिश के कारण रुक गये और अब चल पड़े हैं. रात को मैं अकेले में खड़ा था तो मामी ने मेरा हाथ पकड़ लिया और बोली- दिन में तुम बाथरूम में क्या करके आये थे?उनके इस सवाल पर मैं अचंभित रह गया. [emailprotected]देसी चूत सेक्स कहानी का अगला भाग:जमींदार के लंड की ताकत- 3.

पिछली सेक्स कहानी में मैंने अपनी चाची को पटाकर खूब चुदाई की थी और आज तक चाची की चुदाई करता आ रहा हूँ. शनाज़ और मेरी सेक्स लाइफ काफी मजेदार थी, हम दोनों भाई बहन जो अब शौहर और बीवी हो चुके थे, ज़ोरदार चुदाई करते हैं.

उसे सहलाना चालू रखते हुए ठाकुर अपने होंठ मंजू की गर्दन के पास ले गया. उसने अपने ऊपर वाले होंठ को अपने दांतों में दबा रखा था ताकि मुँह से आवाज़ न निकले. इस पर बड़े पापा ने बड़ी मम्मी को नीचे लेटाया और उनकी चुत में लंड घुसेड़ कर उन्हें चोदना शुरू कर दिया.

40 चोरों की कहानी

दीपू के जिस्म को अपने हाथों में थाम कर मैं उसको तैरना सिखाने लगा जिसके दौरान मेरा लंड बार बार उसके बदन को छू रहा था.

अब आगे नंगी लड़की की चुदाई:उस दिन जब मैं काम से घर लौटा तो मां को मैंने बताया कि दोनों जीजा अब विदेश में काम करने जाने वाले हैं, उन्होंने आज अपने कागज बनवा लिए हैं।ये सुनकर सब लोग खुश हो गये. फिर रोहन ने रजक लाल से पूछा कि अब कब वापस अपना लंड चुसवा रहे हो?रजक लाल ने हंस कर कहा- बहुत जल्द ही. बाकी सबके लिए बाद में बहुत टाइम मिलेगा, सो मैंने आकांक्षा की तरफ देखा और आंखों ही आंखों में उससे इजाज़त मांगी … जो उसने दे दी.

वो बोली- क्या हुआ … मजा नहीं आया क्या? बार बार भाग रहे हो?मैंने कहा- आपकी बेटी बाहर रोकर चुप हो गयी है, उसको भी देख आओ एक बार!उसने एकदम से माथे पर हाथ मारा और कहा- अरे … मैं तो भूल ही गयी. मैंने बाजार से उसे एक गर्भनिरोधक गोली और एक बुखार और दर्द की गोली लाकर दी. हिंदी हीरोइन के बीएफ सेक्सीफिर 5-6 दिन ऐसे ही निकल गए, पर मैडम का फोन नहीं आया और मैं अपने तरफ से उनको कॉल नहीं कर पा रहा था … कहीं न कहीं थोड़ा डर अब भी मेरे दिल में था, पर नताशा मेम को याद कर करके में कई बार उसके नाम की मुठ मार चुका था.

उनसे इसी तरह की बातों में मेरे लंड में कड़कपन आने लगा और लंड का उभार लोवर के नीचे से साफ दिखने लगा था, जिसे भाभी ने भी देख लिया. अब वो रोने लगी और चिल्लाने लगी- उई माँ … आआ … आह्ह … ऊईई … नो हह्ह … मर गई.

फिर मैंने उससे पूछा- तुम्हारे बच्चे हैं या नहीं!एडरिया बोली- मेरी 19 साल की बेटी है उसके एक्जाम है … इसलिए 15 दिन बाद वो भी यहां आ जाएगी. मैंने सोचा कि दीदी को पता चले या न चले अब तो दीदी की चुदाई करनी ही है. रात के अंधेरे में कई बार मैं श्वेता के ऊपर अपनी टांग भी रख लेता था.

[emailprotected]जवान लड़की की Xxx स्टोरी का अगला भाग:पापा के दोस्त से पहली मस्त चुदाई- 3. वो मेरे स्तनों को मसल रहा था और बीच बीच में मेरे निप्पल को चूसने लगता. दीदी को बगल में लेटे हुए देख कर मैंने उसकी चूची दबाना शुरू कर दिया.

मेरी यही राय से सेक्स करते वक़्त आप सभी ये क्रिया जरूर आजमाएं कि जब भी लंड और चुत गीली हो जाएं, तो पहले उसे तौलिये से सूखा कीजिए … फिर चुदाई कीजिए.

वो अपनी जीभ को मेरे मुंह में ऐसे घुसा घुसा कर किस कर रही थी मानो वो कई दिन से इस रात का इन्तज़ार कर रही हो।हम दोनों किस करते करते कब दूसरे रूम तक पहुंच गए पता ही नहीं चला. मैंने बाजी की पैंटी नीचे खींच दी और घुटनों तक सरका दी।राबिया बोली- अरे उतार दे.

जब कुछ देर तक मैंने कोई भी हरकत नहीं की, तो अब उसने मेरे एक चुचे को हल्के हल्के से सहलाना शुरू कर दिया. फिर उसको नाराज होता देख मैंने सोचा कि इसका दिल तोड़ना ठीक नहीं है, पहली बार इसने कुछ करने को कहा है तो मैं भी कर देती हूं. मैं और डिम्पी एक ही सीट पर चिपक कर बैठे थे और मेरा हाथ डिम्पी की गांड को सहला रहा था और बच्चे दूसरी सीट पर बैठे थे.

उसके बाद एक दिन मेरा मनजीत को चोदने का मन हुआ तो मैं बिना बताए ही मनजीत के घर पहुंच गया. एक घंटे तक मसाज करने के बाद मैंने मनमीत से कपड़े पहनने को कहा और पूछा- कैसा लग रहा है?मनमीत ने कहा- फ्रेशनेस और चुस्ती फील कर रही हूँ. उस वक्त तो मुझे समझ नहीं आया लेकिन वो दिन मुझे अच्छी तरह याद है जब तीन महीने के अंदर ही घर का काम करते हुए मां ने एक टच स्क्रीन वाला फोन ले लिया था.

बीएफ हिंदी इंग्लिश फिल्म कुछ औपचारिक बातों और चाय पानी के बाद मामा जी को किसी का फोन आ गया, तो वो उठे और बाहर जाकर बात करने लगे. कुछ उसके मुंह में गया कुछ बालों में और कुछ उसके चेहरे और बूब्स पर जा गिरा जिसे उसने निगल कर बाकी साफ कर लिया.

सेक्सी भाभी का सेक्सी फोटो

मैं मेघा की गांड देख और तेजी से जीभ चलाने लगा और उंगली भी डाल दी।इधर अंजलि हल्की हल्की सिसकारियां ले रही थी और कह रही थी- आह्ह चोदो … यार … चोद लो अब … ओह्ह … मेरे राजा।मैं उठ कर अपने लौडे़ से अंजलि की नाभी को सहलाते हुए चूत के होंठों पर रगड़ने लगा. आप अपने स्टाफ से मुझे इंट्रोड्यूस करवओगी कि मैं आपके साथ कौन हूं?”सर जी, आप ही बताओ मैं सबसे क्या कहूं?”भईय्या, जेठ जी, शिवांश के पापा … अरे कुछ भी कह देना. मैं एक मसाज पार्लर में जॉब करता हूँ पार्लर में भाभी और लड़कियाँ आती है.

वो बोलीं- अब मुझे भी तुम्हारे प्यारे लंड के रस को पीना है, मैं बहुत ही प्यासी हूं. जब भी करता है … मुझे संतुष्ट ही नहीं कर पाता और मैं प्यासी रह जाती हूं. बीएफ देखने बीएफ बीएफ बीएफ बीएफमेरा लंड जो कि 7 इंच का था उसके सामने फन उठा उठा कर कोबरा के जैसे उछल रहा था.

तब मैं हंस कर बोला- तू जो करती … वो सब!जिया ने एडरिया को इशारा किया और एडरिया ने अपनी साड़ी का पल्लू हटा दिया.

एक पल बाद मेरे मोबाइल पर माया का फोन आया और उसने पूछा- आप किधर रह गए?मैंने उससे कह दिया- मुझे जरूरी काम आ गया है और मुझे आने ग्यारह बज सकते हैं. मामी ने मुझे देखा और हंस कर बोलीं- मामा को तो शक नहीं हुआ न?मैंने न बोल दिया.

इस तरह से बुआ की पैंटी में मुठ मारते और बुआ के मादक बदन को स्पर्श करते करते उनकी शादी का दिन भी आ गया था. मैं उम्मीद करता हूं कि आप लोगों को मेरी यह पहली सेक्स कहानी पसंद आयेगी. दोस्तो, कैसे हो आप सभी?उम्मीद करता हूँ आप सभी स्वस्थ होंगे और चुदाई का मज़ा ले रहे होंगे.

बुआ की पिंक चूत खून निकलने से और भी पिंक हो गई थी, जिसमें से मेरा माल गिर रहा था.

उसने मेरी पीठ पर अपनी बांहें लपेट दीं और चूमने में मेरा साथ देने लगी. सेठानी ने उसके सिर को अपनी चूत में दबा लिया और गांड को उठाकर अपनी चूत उसके मुंह में धकेलने लगी. वो आँखें बंद कर मेरा सर सहलाते हुए चूचियाँ चुसवाने का मज़ा ले रही थी।इसके बाद मैं उसके सामने घुटनों के बल बैठ गया और उसके पेट को चूमने और अपनी जीभ से उसकी ठोढ़ी के आसपास चाटने लगा।ज्योति अपनी आँखें बंद कर मेरे सर के बालों को सहला रही थी।उसके बाद मैंने बहन की लैग्गिंग्स उतार दी.

हिंदी सेक्सी बीएफ इंग्लिश वीडियोमंजू मेरे गाँव में शादी करके आई थी और मैंने उसको पटा लिया था।मैं उम्र में उसके पति से बड़ा था इसलिए वो मेरा घूंघट करती थी. मैं उस समय नई नई जवान हुई थी और जवानी की आग ने मुझे बेहद झुलसा दिया था.

கேரளா செஸ் விதேஒஸ்

चुत को फिर से थोड़ा प्यार से मसला और उनकी चूत में अपना मूसल फिट कर दिया. उसकी इस कामुक क्रिया से मैं इतनी अधिक उत्तेजित हो गई थी कि मेरी चुत ने पानी छोड़ दिया था. फिर उसने अपने गुलाब की पंखुड़ियों जैसे होंठ खोले और लंड का सुपारा अपने नर्म होंठों में लेकर चूसने लगी.

बड़े पापा ने उनके दोनों चुचे दबा रखे थे और नीचे से गांड उठा जार उन्हें दबादब चोद रहे थे. चूंकि भाई मेरे कॉलेज के सामने से ही गुजरता था तो वो भी उस लड़के की निगाहें पढ़ चुका था. मेरे हाथ उसके कोमल जिस्म पर ऐसे रेंग रहे थे जैसे रेत पर सांप रेंगता हो.

2 मिनट बाद वो मुझे अपने हाथों से मारने लगी और बोली- तुम्हें इतनी सी बात बोलने में 8 साल लग गए?शिकायती लहजे में उसने कहा- तुम्हें क्या लगा कि मेरी ओर से तुम्हारे लिए कुछ नहीं था? मैं भी तुमसे बचपन से ही प्यार करती हूं और तुमको पाना चाहती थी. और देखो तुम्हारी आवाज़ सुन कर मेरा लन्ड खड़ा हो गया।उस वक़्त सागर नंगा था और अपने हाथों से अपने मोटे लन्ड को, जो सोया था, मसल रहा था. तंग कुर्ती और तंग पजामी में उसकी फिगर उभर कर आ रही थी।वह आते ही मेरी बाइक पर बैठी और चलने को कहा.

वो अपने होंठ खोलकर सी … सी … कर रही थी; वो चुदाई की कुछ ज्यादा ही प्यासी लग रही थी. यह कह कर उसने मुझे अपने ऊपर खींच लिया।मैं किस करने लगा और अंजलि भी पूरी तरह साथ देने लगी.

मैंने कहा- मगर रूबी भाभी … आपकी बेटी?उसने मेरे पास आकर मेरे होंठों पर उंगली रख दी.

एक दिन मैं रात्रि ड्यूटी कर रूम पर वापस आया, तो भाभी सामने से बच्चे को स्कूल बस में बैठाकर मेन गेट बन्द कर वापस आ रही थीं. वीडियो बीएफ पेला पेलीलेकिन भाई, तेरा लंड मेरे मकान मालिक के लंड से काफी बड़ा है और कड़क भी है. बीएफ वीडियो सेक्सी गाना वालालेकिन मैंने बार बार जिद की तो हेमा चाची बोलीं- भास्कर पीछे से डालोगे … तो मुझे बहुत दर्द होगा. अब आगे:उसने जाते जाते पलट कर एक बात बोली- जानू सुनो सबकी, पर मानो दिल की!वो ये कह कर मुस्कुराते हुए बाहर निकल गयी.

फट फट की आवाज़ निकलने लगी जब सागर पीछे से मेरी गांड मारने लगा।कुछ देर बाद वो मुझे अपनी गोद में उठा कर बेडरूम में लेकर आया.

उससे लिपटे हुए सुबह के 4 बज गये थे लेकिन उसको छोड़ कर जाने का मन बिल्कुल नहीं कर रहा था. तब उसने लंड मुँह से निकाल दिया और बोली- हरजिंदर अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है … प्लीज अब मेरी चुत में लंड डाल दो और मेरी चुत की आग को ठंडा कर दो. अब बलविंदर ने फिर से उसके होंठों को जोर से चूसा और उसकी चूचियों को जोर से दबा दिया.

कुछ देर समझाने के बाद वो भी मान गया और मैं भी अब घर के कामों में बिज़ी रहने लगी. हनी के होठों के बाद मैंने उसकी चूचियां चूसना शुरू कर दिया और धीरे से उसकी पैन्टी उतार दी. इस तरह से दिन कट रहे थे और एक दिन अचानक रात के 10 बजे भाभी का फोन बजा कि उसका मन बहुत घबरा रहा है.

hande erçel porn

मंजू की चुत इतना अधिक रस छोड़ रही थी कि चुत से रस निकल कर उसकी जांघों से होकर पैरों पर आने लगा. जैसे ही मेरा फूला हुआ मोटा लंड हेमा चाची की गांड के अन्दर गया, तो हेमा चाची जोर से चीख पड़ीं और उन्होंने दर्द से कराहते हुए मुझसे अपना लंड गांड से बाहर निकालने के लिए कहा. ये कहानी तब शुरू हुई जब मैं गरिमा से मिलने कार में उसके घर जाने लगा.

एक बार संयोग से उसके मम्मी पापा को दफ्तर के काम के लिए 15 दिनों के लिए बाहर जाना पड़ा.

कभी उसके होंठों को चूसता तो कभी चूचियों को जोर से भींचते हुए चूसने लगता.

फिर हमने एक प्लान बनाया कि वो तीन दिन बाद शॉपिंग करने शहर आयेगी और मैं भी उसी दिन पहुंच जाऊंगा. फिर तो ये हाल हो गया था कि जब मौका मिलता, वो मुझे चोद देते और मैं भी उनकी और उनके लंड की दीवानी हो गई थी. वीडियो भाभी की बीएफकभी गांड मरवाई है?मेरा दिल जोर से धड़कने लगा, मैंने न में सर हिलाया.

मैंने भाभी की जांघों के नीचे से टांग बढ़ाते हुए उनकी गांड से नीचे पैर लगाने लगा. मैं अपने कमरे में आई और बढ़िया से तैयार होकर उसके साथ बहुत चुपके से घर से बाहर निकल कर आ गयी. अलीमा बलविंदर को रोकना चाहती थी लेकिन बलविंदर की मजबूत पकड़ से अलीमा उसे दूर ही नहीं कर पाई.

आयज़ा- और तुम्हारा पानी इतनी देर में क्यों निकलता है?मैं- वो तो मैं योगा करता हूं, इसलिए देर से निकलता है. मैंने उससे पूछा- तेरे हस्बैंड का कितना है?सुमन बोली कि आपके लंड के आधे से थोड़ा ज्यादा होगा.

साथ ही गांव की अन्य महिलाओं की चूत चुदाई भी ब्याज वसूलने के बहाने करता था.

फिर उसने अपने गुलाब की पंखुड़ियों जैसे होंठ खोले और लंड का सुपारा अपने नर्म होंठों में लेकर चूसने लगी. किरण का मायका भी लखनऊ में ही था लेकिन मायके के नाम पर किरण के भैया भाभी और उनके बच्चे ही थे, किरण के माता पिता अब इस दुनिया में नहीं थे. उन दोनों के बड़े पद पर रहने के कारण उनको अक्सर बाहर जाना पड़ता रहता था.

पाकिस्तान के बीएफ सेक्सी वीडियो अब मेरी बीवी मेरे दोस्त की गोदी में बैठ गयी और अपनी दोनों चुचियां बाहर निकाल कर उसे चूसने को दे दीं. दीदी ने बोला- आज रात को मूवी देखें?मैंने बोला- कल पेपर है दोनों का.

उसकी मोटी मोटी चूचियां उसकी ब्रा में ऐसे कैद थीं जैसे वो बाहर आने के लिए गुहार लगा रही हों. ठाकुर साब की नजरों में अपनी सास नीरजा देवी को भोगने की लालसा ने जन्म ले लिया. मैंने ज़रा भी समय नहीं गंवाया और समधी का लंड अपने मुँह में भर कर चूसने लगी.

सेक्सी चुदाई करते हुए दिखाएं

मैंने मुग्ध भाव से चूत को निहारा और उसके होंठों को बरबस ही चूम लिया. अब आहिस्ते आहिस्ते घर में सभी लोगों के मन में डर होने लगा कि कहीं हम दोनों भाई बहन के ऊपर कुछ ऐसा है कि हम बेऔलाद ही रहेंगे. अब वो नीचे से अपनी कमर उठाकर अपनी चूत में लंड को अंदर तक लेने की कोशिश कर रही थी.

इसका ये असर हुआ कि आकांक्षा का दर्द कम होने लगा और उसकी चुत भी अन्दर से गीली होने लगी थी. हम दोनों को एक ही कमरा मिला था क्योंकि वहां सबको यही पता था कि मैं संजय की बीवी हूँ.

[emailprotected]जवान लड़की की Xxx स्टोरी का अगला भाग:पापा के दोस्त से पहली मस्त चुदाई- 3.

अब वो मेरे मम्मों को चूसने लगा बिल्कुल एक छोटे बच्चे की तरह। बीच बीच में वो निप्पलों को काट भी लेता था।तब हम दोनों पूरे नंगे हो गए। मैं उसका लंड हाथ में लेकर हिलाने लगी।वो बोला- मुंह में नहीं लोगी मेरी जान … मुंह में ले लो ना … एक बार इसको अपने मुंह की गर्मी दे दो. मैंने धीरे-धीरे लंड उसकी चूत के अंदर डालना चालू किया और पूरा अंदर तक पेल दिया. मैंने कहा- कभी कोई लड़की फंसी है?वो बोला- हां, एक बार एक को चोदा भी था.

उसमें से वो आधा हिस्सा हम लोगों को अनाज और पैसे के रूप में दे जाते हैं. उनकी मुलायम मुलायम चूचियों के बीच में लंड रगड़ने में बहुत मज़ा आ रहा था. मैंने धीरे से टी टी के कान में कहा- आप तो कह रहे थे कि आप अपनी मन की करेंगे.

जब उसकी बीवी से रुका न गया तो वो सिसकारते हुए बोली- आह्ह … प्लीज अब और परेशान मत करो.

बीएफ हिंदी इंग्लिश फिल्म: चाची के मुंह चीख निकल गयी लेकिन मैं ताबड़तोड़ चाची की गांड को चोदने लगा. फिर उसकी टांगें मोड़कर लन्ड को उसकी चूत के द्वार पर रख कर एक ही धक्के में पूरा लन्ड हरप्रीत की चूत में उतार दिया।धर्मपाल आज पूरे जोश के साथ हरप्रीत को चोद रहा था।हरप्रीत हर झटके के साथ आह … आह … कर रही थी।उसको आज बहुत समय के बाद धर्मपाल के धक्कों से मज़ा आ रहा था।इधर धर्मपाल के दिमाग में हरदीप थी.

वो मेरे पूरे बदन पर हाथ फिरा रहा था और मैंने उसके शॉर्ट्स में हाथ डालकर उसके लंड को पकड़ लिया था. लगभग अब तक हमें काफी वक्त हो चुका था और अब मैं अपने चरम सुख की ओर बढ़ रहा था. शिवांश तो रास्ते में ही सो गया था और मेरे कंधे पर सिर रख कर सोया हुआ था.

उसके गुबाली होंठों पर मेरा सफेद वीर्य लगा हुआ चमक रहा था जिसे देखकर मुझे बहुत सुकून मिल रहा था.

अब मैं सोचने लगी थी कि अंकल अभी भी कामुक हैं और मेरी नंगी वीडियो बना कर अंकल न जाने क्या करने वाले हैं. मेरी चूत में डाल दो अब!अब मैंने भी टटोलते हुए लंड को उसकी चूत के छेद पर टिकाया और एक धक्का दे दिया. वो बोल रही थी- चीकू तुम्हारे प्यार और लंड के लिए मैं कितने सालों से तड़प रही थी.