सेक्सी वीडियो हिंदी में बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो नंगी लड़कियां

तस्वीर का शीर्षक ,

ઇન્ડિયા સેકસી: सेक्सी वीडियो हिंदी में बीएफ वीडियो, क्या मस्त मजा आ रहा था।करीब 10 मिनट तक मैंने उसको ऐसे ही चोदा।फिर मैं पीठ के बल लेट गया और सोनी को अपने ऊपर बैठा लिया और फिर सोनी ने मेरा लण्ड पकड़ कर अपनी चूत में डाला और फिर धीरे-धीरे ऊपर-नीचे होने लगी।मैं भी उसकी कमर पकड़ कर ऊपर-नीचे करने लगा।अब मैंने स्पीड थोड़ी बढ़ा दी और सोनी भी जोर-जोर से ऊपर-नीचे होने लगी, वो बोल रही थी- आह्ह.

सांसों में सेक्सी वीडियो

उसके बाद वो कहाँ गायब हुआ कुछ पता नहीं चला।धीरे धीरे शाम हुई और करीब 5 के करीब वो दोबारा मुझे घर में दिखा. वीडियो सेक्सी छोटी लड़कियों कीक्योंकि मैं पहले ही अपना पानी निकाल चुका था।साथ ही मैडम की चूत चूसने से गर्म हो गया था.

’ निकली और मैं अपने ही हाथों से अपने मम्मों को दबाने लगी। मेरे मुँह से सिसकारी ही सिसकारी निकल रही थीं ‘आह. छोटा लड़का लड़की की सेक्सीतो उन्होंने उनके साथ जो भी घटना घटी और जो भी बातें विस्तार में उन्होंने मुझे बताई.

उस पर हल्की-हल्की सी झांटें उगी हुई थीं।मेरे पूरे बदन में सनसनी होने लगी और मेरा लंड तन कर खड़ा हो गया।मॉम अपने सारे बदन को साबुन से मसल-मसल कर नहा रही थीं, नहाते-नहाते मॉम अपने दोनों चूचियों को हाथों से दबाने लगीं।इसी तरह दबाते-दबाते मॉम पर जवानी की मदहोशी छाने लगी, वे अपने हाथों से बुर भी मसल रही थीं।पहले तो बुर को हाथों से हल्के-हल्के सहलाती रहीं.सेक्सी वीडियो हिंदी में बीएफ वीडियो: तभी उसने एक झटके से मेरा लोवर नीचे सरका दिया। मैंने भी अपने पैरों से अपना पजामा निकाल दिया।अब मैं सिर्फ़ अंडरवियर में था। वो मेरे लण्ड के उभार को देखे जा रही थी.

तब जब रात में मेरे मामा जिन्हें घर में सब गब्बू मामा कह कर बुलाते थे.क्योंकि जल्दी-जल्दी में मैं सिर्फ टी-शर्ट ही पहन कर आ गया था। उन्हें होश में लाने के लिए मैं पानी लेने गया.

सेक्सी बदिया वाली - सेक्सी वीडियो हिंदी में बीएफ वीडियो

जिससे सपना को कुछ राहत मिली।तभी मैंने अपना लंड बाहर निकाले बिना पूरा खींचकर पूरी ताक़त के साथ दुबारा पेल दिया.अभी तुम्हें भी मज़ा आने लगेगा।फिर मैं अपना लण्ड थोड़ा-थोड़ा हिलाने लगा.

अब तो रोज हम घन्टों फोन पर बात करते और बालकनी से उसको मैं देखता।ऐसे ही और एक हफ़्ता निकल गया। अब हम दोनों के बीच में हर तरह की बातें होने लगीं. सेक्सी वीडियो हिंदी में बीएफ वीडियो दुनिया का सबसे कामुक अहसास है!इनका तग़ड़ा शरीर और जोशीला अंदाज़ इनको और भी सेक्सी बनाता है.

मुझे शाम तक जाना है।इतना सुनने की देर थी कि उन्होंने मुझे अपनी बाँहों में भर लिया और मेरे चेहरे को एक हाथ से ऊपर उठा के बोला- मुझे लगता है.

सेक्सी वीडियो हिंदी में बीएफ वीडियो?

छोड़ती और उन्हें पूरा सहयोग देने लगी।थोड़ी देर यूँ ही मुझे ऊपर से नीचे तक चूमने के बाद वो मुझे अलग होकर अपने कपड़े उतारने लगे।उन्होंने पूरे कपड़े उतार दिए बस चड्डी को रहने दिया।उनका बदन तो कुछ खास आकर्षक नहीं था. चूत भी लपलप करती हुई मेरे सुपारे को लीलने के लिए मानो एकदम तैयार थी।मैंने एक ही झटके में अपना लम्बा लण्ड उसकी चूत में घुसेड़ दिया. अब भी आता है।मैं गर्मियों के दिन में छुट्टी में अपने खेत के पास वाले तालाब पर दोपहर में नहाने जाता था। एक बार ऐसे ही छुट्टी के दिन में मैं अपने खेत पर गया था। गर्मी ज्यादा होने के कारण नहाने को दिल कर रहा था.

अगर उसे आपकी ये सब हरकतें पसंद न आएं तो कृपया करके ऐसा न करें।मुक्के मारते वक़्त मैंने उसे अपनी तरफ पीठ करके खड़ा कर दिया और पीछे से उससे बिल्कुल चिपक गया. मैंने काफ़ी देर तक उसके लण्ड को चूसा, अब उसने मेरे को खड़ा कर दिया, मेरे टॉप को ऊपर कर दिया और ब्रा को खींच कर हुक तोड़ दिया, इसके बाद बिजली की फुर्ती से मेरे मम्मों पर कुत्तों के जैसे टूट पड़ा।मैं भी काफ़ी उत्तेजित थी. वो झट से नीचे झुक कर मेरा लंड चूसने लगी।बस पांच मिनट बाद मेरा माल भी निकल गया।फिर मैंने उसको खड़ा कर दिया और उसके होंठों पर चूमने लगा।कुछ देर बाद मेरा फिर से खड़ा हो गया फिर मैंने देर ना करते हुआ उसका पैर वहीं कमोड पर रख दिया.

लेकिन डर के मारे कुछ कर नहीं पा रहा था।फिर मुझे एक आइडिया आया… मैंने अपने बैग से पैन निकाला और जान बूझकर उसे उसके पैरों की तरफ गिरा दिया. तो मुझे पता चला कि वो मेरे लगभग नंगे चूचों को देख रहे थे।मैंने जल्दी से घबरा कर अपना दुपट्टा उठाया. मैं उससे नॉर्मली बातें करने लगा, मैंने उसको यह अहसास नहीं होने दिया कि मैं गुस्सा हूँ।उसके साथ बातों ही बातों में मैंने उससे कहा- आज तो आपने का प्रॉमिस किया था.

बात अप्रैल 2013 की है जब मैं अपनी मौसी के लड़के आकाश की शादी में सोनीपत गया हुआ था. अपने पति के मुँह पर थूक रही हूँ और मार भी रही हूँ।लेकिन आख़िर मैंने अपने मन में आते ख़यालों को बाहर निकाला.

वैसे भी मुझे लड़कियों से बात करने की आदत नहीं थी।वो भी डर रही थी कि कैसे मिलें.

मैं उसके पीछे-पीछे अन्दर गया और उसने मुझे सोफे पर बैठने को बोला और वो पानी लाने को चली गई।मैं सोफे पर बैठ गया.

लेकिन कभी भी उसको यह एहसास नहीं होने दिया कि मैं फिर से उसको चोदना चाहता हूँ।अपने ईमेल जरूर भेजिएगा।[emailprotected]. दोनों बातें करते हुए मॉल पहुँच गए और सन्नी ने अर्जुन से कहा- अब चुप हो जाओ. पर उम्र में मुझसे छोटी है। उसने मुझ से कई बार मोनिका से दूर रहने को कहा.

।मैंने धीरे से फिर लंड को उसकी चूत पर सैट किया और धीरे से झटका दिया. बाहर आने को तरस रहे थे।मेरी नजर वहाँ से हट ही नहीं रही थी, मैं उन्हें ही देखता रहा।सविता भाभी की नजर भी मेरे ऊपर कब पड़ी. हम क्यों सोच कर अपना दिमाग़ खराब कर रहे हैं।वो दोनों बातें कर ही रहे थे.

अब की बार आधे से ज्यादा लौड़ा चूत में अन्दर चला गया।गौरी छटपटाने और रोने लगी और लन्ड निकालने के बोलने लगी.

और भी लड़कियों की चूत दिला दूँगी।मैं खुश हो गया और उसे फिर से किस करने लगा।एक बार फिर से हम दोनों का चुदाई का दौर चल निकला और मैं किरण को फिर से चोदने लगा।उस रात मैंने किरण को तीन बार चोदा फिर हम सो गए।अब मेरा जब भी मन करता था. ताकि अच्छे से सब समझ में आ जाए और कहानी का मज़ा भी वैसे का वैसा ही बना रहे।वैसे तो एनी को थोड़ी बहुत हिन्दी आती है. मैं समझ गया कि वो झड़ गई।अब मेरी बारी थी, मैंने अपने लन्ड के प्रहार और तेज कर दिए।पूजा समझ रही थी कि मैं भी झड़ने वाला हूँ, उसने मुझे कस कर पकड़ लिया.

मेरी इंग्लिश अच्छी है।ऋतु ने इस बारे में घर पर बात की जिससे उसके घरवाले भी मान गए. पढ़ाई तो कल से स्टार्ट होगी।उसके बाद हम दोनों उसके घर आ गए।उसके घर पर आते ही मेरे तो पसीने छूट गए. और लंड को चूत पर सैट करके लंड पर बैठ गईं।अब भाभी लंड पर बैठकर ऊपर-नीचे होने लगीं.

तू तो बहुत बड़ा हो गया है।मोनू का लंड करीब 7 इंच लंबा और मेरी कलाई जितना मोटा था, इसके सामने मेरे पति तो बच्चे हैं। उनसे करीब 3 इंच ज्यादा लम्बा और मोटा तो निश्चित रूप से दोगुणा था।मैंने हाथ में लेने की कोशिश की.

लण्ड का लाल वाला भाग मैडम की चूत में चला गया।मैडम की हल्की चीख निकल गई. और उसकी गाण्ड भी मार रहा था। कुछ ही देर में वो झड़ गई और उसकी चूत से पानी का झरना निकलने लगा।मैंने अपनी उंगली निकाल कर एक अपने मुँह में ले ली.

सेक्सी वीडियो हिंदी में बीएफ वीडियो उसमें लिखा था।1- हाय2- मैं आ गई!3- कहाँ हो आप?4- सॉरी थोड़ी देर हो गई. मैं तुम्हारे माल का पूरा मज़ा लेना चाहती हूँ… जोर-जोर से चोद कर डाल दे अपना सारा माल मेरी चूत में.

सेक्सी वीडियो हिंदी में बीएफ वीडियो जिसे काजल ऑलरेडी लॉक करके आई थी। फिर मैंने काजल के दोनों गालों पर अपने हाथ रखे और अपने होंठ काजल के होंठों के पास लेकर गया।काजल ने आँखें बंद कर दीं।मैंने अपने होंठों को काजल के होंठों पर रख दिया और काजल को पागलों की तरह किस करने लगा।मैंने अपनी जीभ उसके मुँह में डालकर उसकी जीभ को चूसना शुरू कर दिया. सो मेरे बारे में ईमेल करके सीधे मुझसे पूछ सकते हैं।मैं इस साइट पर कम आ पाता हूँ.

बाकी बातें शॉपिंग के बाद करेंगे।जैसे ही दोनों अन्दर गए अर्जुन की नज़र पायल पर गई उसकी क़ातिल जवानी देख कर अर्जुन का लौड़ा एकदम से तन कर खड़ा हो गया और उसके मुँह से आह निकल गई।सन्नी- क्या हुआ तुम्हें?अर्जुन- अब क्या बताऊँ यार.

हिंदी में खुल्ला सेक्सी वीडियो

’वो नीचे से अपनी गाण्ड को ज़ोर-ज़ोर से उछालने लगी। मैं उसके मम्मों को भी ज़ोर-ज़ोर से मसलने और कभी चूसने लगा और अपने लण्ड से धकाधक चोदने लगा।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !कुछ देर बाद हमने आसन बदला और मैंने उसे उल्टा कर दिया. तो सारी जिंदगी इसकी गुलामी कर लूँ।सन्नी को पायल की पीठ ही दिखाई दी तो वो उसको पहचान नहीं पाया।सन्नी- अरे अर्जुन आसामान से वापस ज़मीन पर आ जा मेरे दोस्त. तो वह हमारे घर आ जाया करती थी।एक दिन मैं घर पर अकेला था और कंप्यूटर पर पॉर्न साइट पर मस्ती कर रहा था, तभी अचानक बबली कमरे में आ गई।उसने गुलाबी और सफ़ेद रंग का सूट सलवार डाला हुआ था.

तो वह हमारे घर आ जाया करती थी।एक दिन मैं घर पर अकेला था और कंप्यूटर पर पॉर्न साइट पर मस्ती कर रहा था, तभी अचानक बबली कमरे में आ गई।उसने गुलाबी और सफ़ेद रंग का सूट सलवार डाला हुआ था. प्लीज मेरी प्यास बुझा दो।मैंने भी बिना टाइम लगाए उसकी चूत पर लंड रख दिया।उसने डरते हुए कहा- बाबू. वैसे ही भाभी ने सपना की एक चूची चूसनी शुरू कर दी और दूसरी चूची को हाथ से मसलना शुरू कर दिया.

मुझे डर नहीं है।यह किस्सा था प्रीत दि ग्रेट चुदक्कड़ पंजाबन माल का।दोस्तो, आपको अपनी दिल की बात बता दूँ कि मुझे पंजाबी भाभी को चोदने का बहुत मन होता है.

उस पर हल्की-हल्की सी झांटें उगी हुई थीं।मेरे पूरे बदन में सनसनी होने लगी और मेरा लंड तन कर खड़ा हो गया।मॉम अपने सारे बदन को साबुन से मसल-मसल कर नहा रही थीं, नहाते-नहाते मॉम अपने दोनों चूचियों को हाथों से दबाने लगीं।इसी तरह दबाते-दबाते मॉम पर जवानी की मदहोशी छाने लगी, वे अपने हाथों से बुर भी मसल रही थीं।पहले तो बुर को हाथों से हल्के-हल्के सहलाती रहीं. आखिर राखी का फ़र्ज़ निभाना है और बहन की हर इच्छा पूरी करनी है।यह सुन कर वो फिर हँस दी।मैंने अपना 8 इंच लंबा लण्ड उसकी चूत में घुसेड़ दिया. कोई मालिश कर देता तो कुछ राहत मिलती।’कुछ देर चुप रहने के बाद वह बोला- आप कहें तो मैं कर दूँ मालिश?’‘तुमको करना आता है.

इसलिए मैंने कंट्रोल करके काजल को कहा- जा अभी तो छोड़ देता हूँ।अगर मॉम नहीं होतीं. जैसा आप लोग जानते ही हो कि पहले राउंड में आदमी जल्दी झड़ जाता है। मैं भी 10 मिनट में उसके चूसते ही उसके मुँह में ही झड़ गया। वो सारा का सारा माल पी गई अब हम दोनों 69 की अवस्था में आ गए कुछ ही देर फिर से चुसाई करने के बाद हम दोनों बहुत गरम हो चुके थे।वो बोली- राज अब बस. तब तक यहीं रह!मैं भी यही सुनना चाह रहा था।धीरे धीरे दिन गुजरा और शाम हुई.

अब तो देखूँ तो कितना माल छुपा रखा सै तन्ने।पायल- मेरे पास कुछ नहीं है. और मैं तुम्हारे साथ इस दिन को मनाना चाहती हूँ।’मैं एकदम से हक्का-बक्का रह गया।मैंने कहा- तुम्हारा बॉयफ्रेंड तो है?तो वो बोली- बस एक बार मुझे तुमसे प्यार चाहिए.

उसके मम्मी-पापा भी छत पर ही सोते थे।वर्षा ने भी छत पर ही अपना बिस्तर लगा लिया।एक घंटे तक मेरे गाने का लोगों ने आनन्द लिया और हम सब सो गए।लगभग 2:30 बजे का समय होगा. तो उसकी लंड को देखकर एक हिचकी सी निकल गई, वो कहने लगी- ओह्ह बहुत बड़ा है. मेघा अपनी चूत आगे-पीछे करने लगी। मैंने उसकी टाँगों को थोड़ा और चौड़ा किया और अपनी दो उंगली मेघा की चूत में सरका दीं।आठ-दस बार उंगलियों को धीमें-धीमे अन्दर-बाहर करते ही मेघा का बुरा हाल हो गया।मैंने अपने हाथ की स्पीड बढ़ा दी.

मेरा आधा लण्ड अन्दर हो गया। फिर एक जोर का झटका मारा और पूरा लण्ड अन्दर कर दिया।वो तड़फ गई लेकिन मैं उसके होंठों और मम्मों को जोर-जोर से चूसने.

30 दरवाजे पर दस्तक की आवाज आई।मॉम ने दरवाजा खोला और सपन अन्दर आ गया।संगीता ने मुझे 2 बार आवाज़ लगाई. उन्होंने अपनी गीली चूत में अपनी उंगली घुसा ली और ‘आह’ भरते हुए हस्तमैथुन करने लगीं।अम्मी जल्दी ही झड़ गईं. मैं सोनीपत हरियाणा का रहने वाला हूँ।मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूँ। मैंने भी सोचा कि मैं भी अपनी कहानी दोस्तों के साथ शेयर करूँ.

दनादन’ चोदने लगा।मेरी चूत सूखी होने के कारण मुझे दर्द हो रहा था पर कुछ ही मिनट में वो झड़ गया।उसने अपना पानी मेरी चूत में ही डाल दिया।मैंने सोचा ये अब नहीं करेगा. मैं जमीन पर खड़ी हुई और तुरंत बाथरूम गई। वहाँ से खुद को साफ़ करके वापस आई.

तो उन्होंने अपने सारे कपड़े निकाल दिए और मेरे हाथ में अपना लंड दे दिया। मैंने आज से पहले इतना मोटा लंड नहीं देखा था. तो वो ज़्यादा मतलब नहीं रखता था। हम प्रिन्सिपल के रूम के साथ वाले कमरे में बैठते थे और रात को स्कूल में ही एक कमरे में रुकने का इंतजाम हो गया था।वहाँ 2 खाना पकाने वाली महिलाएं भी काम करती थीं, वो रोज हमारे लिए भी खाना बनाती थीं।उनमें से एक मस्त माल किस्म की लुगाई थी. कोई ना कोई सामान ढूँढने को लेकर मेरे कमरे में ज़रूर आ जाते थे।उसके बाद मैं नोटिस करती थी कि मेरी ब्रा-पैन्टी मेरे रखे हुए जगह पर नहीं मिलती थीं, वो थोड़ी बहुत इधर-उधर ज़रूर रखी मिलती थीं।मैं भी जानती थी कि ये भैया का काम है.

big tits हिंदी फोटो

ऐसे ही 2-3 दिन में हम बहुत अच्छे दोस्त बन गए।फिर उसने एक दिन पूछ लिया- कोई गर्लफ्रेण्ड है तुम्हारी?मैंने कहा- थी.

उस बदल सिंग की भी मुझे थाने जाकर क्लास लेनी है।अर्जुन के जाने के बाद पुनीत ने गुस्से में टोनी को देखा।टोनी- ये गर्मी संभाल के रख. ’ कर रही थीं।सच में मज़ा आ गया। मैंने मैम की गाण्ड मारने के बाद अपना सारा माल मैम के मुँह में डाल दिया। मैम भी मजे से पूरा माल पी गईं, मैम की चूत भी झड़ गई. लेकिन ज्यादा अन्दर तक नहीं किया। वो मेरी चूत और गाण्ड में उंगली डाल कर उसे अन्दर-बाहर करता.

’‘ठीक है पर ध्यान से टीवी बंद करके सो जाना… कभी पिछली बार की तरह टीवी खुला ही छोड़ कर सो जाओ!’‘आप चिंता ना करो. मैं तो कब से यहीं ही हूँ।तब उसने कहा- मुझे लगा कि कोई मेरे कमरे में आया था. महाराष्ट्र की सेक्सी फिल्मेंमुझे नहीं चुदाना।मैंने उसकी एक ना सुनी और एक ज़ोरदार धक्का मारा तो मेरा पूरा लण्ड उसकी चूत में घुस गया.

चूचों को ब्रा से खींचकर टाइट कर रखा था।मेरा लौड़ा तन्नाया हुआ था।मैं घर में ही जाते जीजाजी के कमरे में गया. मैं उसकी गर्म-गर्म साँसों को महसूस कर सकता था।मैंने उसके एक हाथ को अपनी जीन्स की ज़िप पर रख दिया और कहा- धीरे-धीरे सहलाओ।मैं उसको उसके चेहरे पर.

शायद उनसे बर्दाश्त नहीं हो रहा था।मैंने भाभी की कमर पकड़ी और लंड को अन्दर-बाहर करने लगा।भाभी ‘आहह. अब तेरी टांगों को मैंने अपने कंधों पर रख लिया और तेरी चूत पर किस करने वाल हूँ अभी साली. अभी तक चुदाई का मौका न मिल पाने से ये सपना पूरा नहीं हुआ है।पर वो मुझसे चुदेगी जरूर.

वो बला ही ऐसी थीं।एक दिन हम गली में क्रिकेट खेल रहे थे, उन्होंने मुझे आवाज़ दी. मैंने भी परिस्थिति को समझते हुए अपना लंड सपना की चूत पर रगड़ना शुरू कर दिया, सपना सिसकारियाँ भरने लगी।मैंने भी मौके की नज़ाकत को देखते हुए सपना की चूत के छेद पर लंड टिका कर एक करारा झटका लगा दिया. पर वो छुड़ा कर हँसती हुई भाग गई।रात को जब सो गए तो मैं चुपके से उसके बिस्तर के पास गया.

मैंने उसे नीचे सोफे पर लिटा दिया और उसकी चूत के ऊपर लण्ड को घिसने लगा.

तो डर के मारे मैंने उसको छोड़ दिया।वो वहीं बैठ कर मेरे सामने अपनी कमर में बाम लगाने लगी तो मेरे सीने में दिल हथौड़े की तरह धड़कने लगा था।मैं डर गया और रज़ाई ले कर सो गया।अगली सुबह मेरी जब आँख खुली तो मैं चौंक गया. तो मैंने देर न करते हुए उसके होंठों से अपने होंठ मिला दिए और इसी के साथ अपने हाथ को पैन्टी के साइड से अन्दर घुसाकर उसकी चूत सहलाने लगा।वो तो बस पागल हुए जा रही थी और मुझे अपने ऊपर लेने की कोशिश करने लगी थी।लेकिन मैं अभी कोई रिस्क नहीं लेना चाह रहा था तो मैंने बैठे-बैठे ही उसकी चूत में उंगली डाल दी और अन्दर-बाहर करने लगा।वो अपनी टाँगें पसारे हुए थी.

तो बुआ ने मुझे कपड़े दिए और नाश्ता भी दिया।अब बुआ मेरे सारे काम करने लगीं. सीधे जीन्स या फुल पैंट के अन्दर हाफ पैंट ही पहनता था।मैंने अपने दोनों हाथ काजल के पेट से सटा कर उसके बालों से अपने होंठों को सटा लिया और उसके केश चूमने लगा।फिर मैंने अपना हाथ ऊपर ले जा कर उसके चूचों पर रख दिया और उन्हें मसलने लगा।जब मैं अपना हाथ टॉप के अन्दर डालने लगा. मैंने योनि को सिकोड़ दिया और पानी छोड़ते हुए झड़ गई।इधर मैं अपनी साँसों को काबू करने में लगी थी.

’वो दोनों अन्दर कमरे में आई, प्रियंका बोली- चलो तुम दोनों दीवान पर बैठ जाओ. तो वो मुझसे बात करने लगती थी और मेरी लाइफ के बारे में पूछने लगती थी।मैं भी उसे खुल कर सब बताता था कि मैं सिर्फ हर लड़की को चुदाई की नज़र से देखता हूँ।धीरे-धीरे वो मेरे करीब आती गई और एक दिन उसने मुझसे पूछा- अभी आप की कोई गर्लफ्रेंड है?तो मैंने उसको ‘हाँ’ में जवाब दिया. मैं उससे चुप कराने के लिए उसके कंधे और हाथ पर हाथ रख सहलाने लगा। उसने कोई आपत्ति नहीं की तो मैं थोड़ा आगे खिसक कर उसकी गर्दन पर अपनी गर्म साँसें छोड़ने लगा।वो और ज़ोर-ज़ोर से सुबकने लगी और उठ कर जाने की कोशिश करने लगी.

सेक्सी वीडियो हिंदी में बीएफ वीडियो हम खाली सुन रहे हैं आप ना आते तो मैं भी इसको मारने ही वाला था।पीछे-पीछे मुनिया भी बाहर आ गई और पुनीत के चेहरे पर थूक दिया।मुनिया- कुत्ते पैसे के बहाने तूने मेरी इज़्ज़त लूट ली. तो उन्होंने मुँह में ही माल डालने को कहा।बस 3-4 पिचकारियों के साथ मैंने आंटी के मुँह में अपना सारा पानी गिरा दिया।आंटी ने सारा पानी पी लिया और बहुत खुश हो गईं, वो कहने लगीं- वीर मेरी जान.

सेक्सी बीएफ मोटी औरतों का

वो उन लोगों के बिल्कुल पास खड़े होकर चुदाई देख रही थी। लेकिन गोपाल और श्याम की हिम्मत नहीं पड़ रही थी कि मोहिनी के जिस्म को छू भर सकें।गोपाल और श्याम ने और तेज धक्के मारने शुरू कर दिए. ’ कोई कह रहा था कि ‘क्या कपल है!’एक मेरा लण्ड भी बैठने का नाम नहीं ले रहा था. जिससे वो थोड़ा एक्साइट हो गई।अब मैं साबुन रख कर उसके गोल चूचों पर साबुन मलने लगा।वो थोड़ा गरम हो गई.

उससे पूछा- ये कहाँ ले के जा रहे हो?उसने कहा- मैडम ये दूसरा रास्ता है और यहाँ से टोल नाका देने से बच सकते हैं. दूध जैसा रंग था जिस पर उसके भीगे हुए बाल देखकर लग रहा था जैसे अभी नहाकर आई है. हीरोइन की सेक्सी भेजेंजिस वजह से मेरी भाभी घर पर अकेली रह जाती थीं।भाभी हफ्ते में एक-दो बार हमारे घर पर जरूर आती थीं, देवर होने के नाते उनके साथ मेरा हँसी-मजाक चलता रहता था।मेरी भाभी काफी सेक्सी और खूबसूरत हैं। वैसे भी भाभी चाहे जैसी भी हो.

यही सोच कर वो तलाशी के लिए रेडी हो गई।बदल सिंग तो खुश हो गया। उसको ऐसी हुस्न परी के जिस्म को छूने का जो मौका मिल रहा था।बदल सिंग पायल के करीब आया और गले से हाथ को ले जाता हुआ उसके मम्मों पर जाकर रुक गया और धीरे-धीरे उनको दबाने लगा।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !पुनीत- हैलो.

आज फिर एक बार अपने एक अन्तर्वासना के मित्र की कहानी आपके सामने प्रस्तुत करने जा रहा हूँ. अब तू लगा ही रहेगा या मुझे भी मौका देगा?अर्जुन ने एक झटके से लौड़ा बाहर निकाल लिया और खड़ा हो गया।अर्जुन- ले भाई.

लेकिन मुझको कुछ शक सा हो गया था। दरअसल वो दिल से चाहती ही नहीं थी कि वो उस वीडियो को डिलीट करे।तो ऐसे ही कई दिन बीत गए. पर पहले आप भी मुझे मेल करके बताइए कि मेरी कहानी आप सभी को कैसी लगी।[emailprotected]. अब हम कुछ ज्यादा ही आगे बढ़ रहे हैं।तो मैंने उसे समझाते हुए कहा- क्या तुम्हारे मन मैं? ये सब करने की नहीं थी.

’यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !दूध वाला लण्ड मसलते हुए चला गया।जैसे ही वो गया.

ये खड़ा हो जाएगा।वैसे भी अबकी बार पायल के नाम से तेरी चुदाई करूँगा। इसको खड़ा करने के लिए उस कच्ची कली का तो नाम ही काफ़ी है. उसके जन्मदिन की पार्टी थी और उसने अपने बहुत सारे दोस्तों को बुलाया था।मैं बहुत अच्छा गाना गाता हूँ. जो कि बिल्कुल रियल है। प्लीज़ अपने विचार मुझे बताएं कि आप सभी को मेरी ये कहानी कैसी लगी। मैं आप सभी के मेल का इंतजार करूँगा।[emailprotected].

सेक्सी भोजपुरी सेक्सी भोजपुरी मेंवहाँ जाने के बाद सबसे पहले एक मैडम से मुलाकात हुई। वह मैडम दिखने में बहुत ही सेक्सी और खूबसूरत थी. इसलिए मुझे भी बहुत अच्छा फील हो रहा था।आंटी भी आवाज़ें निकाल रही थीं ‘आह्ह.

नंगी सेक्स वीडियो पिक्चर

वो बोले- क्या आप देहरादून जा रहे हैं?मेरे ‘हाँ’ कहने पर वो बोले- यह मेरी साली है. उसका नाम हिना था और वो एक स्पोर्ट की खिलाड़ी थी। हम दोनों अक्सर बातें करते रहते थे, मैं उसे चाहने लगा था. वहीं जा रही हूँ।मैंने कहा- कब तक आओगी?बोली- शाम 7 बजे तक आऊँगी।मैंने कहा- ओके, ठीक है।‘हम्म.

उसने एनी का सर पकड़ा और लौड़ा उसके मुँह में ठूंस दिया। वो बेचारी क्या करती. देखा तो लौड़े के आजू-बाजू में थोड़ी हरियाली थी और गाण्ड पर भी कुछ रोएं थे। बालों को निकालने के लिए बाथरूम में जाकर पहली बार उस दिन शेविंग फोम का इस्तेमाल किया।पूरी तरह से सब कुछ क्लीन होने के बाद में बेडरूम की खिड़की के पास आकर खड़ा हो गया। मैं सोच में डूब गया कि एक कुंवारी चूत को चाटने का आज मौका मिलेगा।मैं अपनी कल्पनाओं में पूरा सीन महसूस किए जा रहा था. आवाजें निकालने लगी।मैंने उसके स्तनों को ब्रा से आज़ाद कर दिया।क्या बताऊँ दोस्तो.

मैं हेडफोन लगा कर उस ब्लूफिल्म को देखने लगी।जब मैं वो देख रही थी तो मेरी चूत से पानी निकलने लगा।तभी मेरे ब्वॉय-फ्रेण्ड ने मुझे वो देखते हुए देख लिया।वो बोला- यह क्या हो रहा है बाबू. दोस्तो, क्या होंठ थे।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !धीरे-धीरे मैंने अपने हाथ उसके चूचों पर सटा दिए. जिसे देख कर एनी मुस्कुरा दी और अपने होंठ उस पर टिका दिए।वो बड़े प्यार से सुपारे को किस करने लग गई.

पहले तो सोनी चौंक गई। मगर बाद में वो बड़े ध्यान से देखने लगी। कुछ देर बाद. तो प्लीज़ लिखिए और हम सब अन्तर्वासना के परिवार से अपने अनमोल क्षण बाँटिए।मुझे मेरी कहानी अन्तर्वासना के साथ बांटने में बहुत खुशी हुई है।अन्तर्वासना मेरी फेवरेट साईट है.

वैसे भी आज तो मेरे घर पर कोई नहीं है और तुम भी मेरे घर पर ही रुक जाना.

आधे रास्ते जाने के बाद वो भीड़ से बाहर निकला और थोड़ा अलग सा जाकर फोन पर बात करने लगा. सेक्सी वीडियो हिंदी एचडी 2021उठी हुई गाण्ड और पहाड़ जैसी चूचियाँ मुझे पागल करने लगीं।मेरे शेर ने भी अब मेरी पैंट पर एक उभार सा तैयार कर दिया था. सेक्सी कमेंटअब मैंने उसके होंठों पर अपने होंठों को रख दिए और किस करने लगा। दस मिनट तक किस करने के बाद मैंने उसकी ब्रा का हुक खोल दिया और उसके चूचों को अपने हाथों से मसलने लगा और कुछ देर बाद एक चूचे को मुँह में लेकर पीने लगा।आह्ह. तो वो बहुत दुखी हो गई।ये सब बातें मैंने उससे चैटिंग के टाईम ही बोल दी थीं.

मुझे याद था कि आज शाम को डैड दो दिनों के लिए आउटस्टेशन जा रहे हैं।मैं बड़ी बेसब्री से शाम का इंतजार कर रहा था कि आज क्या होना लिखा है।उस दिन बहुत गर्मी थी.

जिसके ऊपर केक रखा हुआ था। उसने आते ही हमें इस हाल में देखा तो पहले तो हमारी तरफ थोड़ा घूर कर देखने लगी. ।एनी की बातों ने दोनों को जोश में ला दिया। अब सन्नी नीचे से स्पीड से धक्के देने लगा और अर्जुन एनी की कमर पकड़ कर गाण्ड की रेल बनाने में लग गया।एनी की चूत का रस बहने लगा. तो मैं उसके लंड को हाथ में लेकर हिलाने लगी।मेरा ब्वॉय-फ्रेण्ड मुझे चोद रहा था.

मैं फिर भी नहीं बोली। उसे लगा कि मैं सो गई हूँ।उसे पता था कि शादी में मुझे काफ़ी सर्दी लग रही थी। फिर भी उसने पंखा चला दिया और मेरे बिस्तर पर मेरे कंबल में आ कर लेट गया।मैं जाग रही थी लेकिन सोने का नाटक कर रही थी।उसने अपने पैर से हल्के से मेरे पैर को टच किया. पर उसके मोनिका जितने बड़े मम्मे नहीं थे और मुझे मोटे-मोटे मम्मे बहुत पसंद हैं। हालांकि नेहा के छोटे भी नहीं थे. झुका हुआ मैं फर्श पर पानी डालते हुए भैया के लटके गीले लंड को देखे जा रहा था और वो मेरे ऊपर ही नजर बनाए हुए थे।वो छाती के पानी को पौंछते हुए तौलिये को मेरी नजर और उनके लंड के बीच में नहीं आने दे रहे थे.

एचडी बीएफ नेपाली

फ़िर मैंने उसकी जींस और ब्रा दोनों निकाल दीं। अब पूजा मेरे सामने लाल रंग की पैन्टी में थी। उसकी पैन्टी के सामने का हिस्सा पूरा गीला हो चुका था, मैंने उसकी पैन्टी उतार दी।अब पूजा पूरी नंगी मेरे सामने थी और वो मेरी चड्डी उतारने लगी।हम दोनों नंगे एक-दूसरे को कुछ देर देखते रहे।पूजा मेरे लन्ड को पकड़ कर आगे-पीछे करने लगी।मैं- मुँह में ले लो जानू!वो- अपने जानू का लन्ड चुसवाओगे. पर अकेले में। इसलिए एक-दो किताबें हमेशा हमारे गद्दे के नीचे पड़ी रहती हैं। उस समय मैं कमरे में अकेला था. दोनों मज़े से खाने लगे। उसके बाद पुनीत ने जूस का गिलास उठाया उसमे लौड़ा डुबो कर पायल को दे दिया।पायल- भाई बहुत अजीब सा टेस्ट आ रहा है और ये लौड़ा गिलास में क्यों डाला आपने?पुनीत- अरे कुछ बूंदें बाकी थीं.

जोर-जोर से।सपन अपना लौड़ा जल्दी-जल्दी अन्दर-बाहर करने लगा।कुछ ही धक्कों के मॉम बोलीं- आईईई.

चूत कुंवारी थी। मैंने उसकी गाण्ड मारने की सोची। मैं बोरोप्लस अपने साथ लाया था.

मगर उसके बीच में आ जाने से हमारे बीच का ये खेल खत्म नहीं होना चाहिए।ये जवाब सुनकर तो मेरी आँखों के आगे अभी से ही दो-दो चूतें दिखाई देने लगी थीं।फिर मैं भाभी की चूत में कुछ इस तरह झड़ा कि मानो जैसे कोई नल खोल दिया हो।भाभी इस चुदाई से खुश होकर मेरे माथे को चूमकर अपने घर चली गईं।दो दिन बाद भाई आ गया था और 15 दिन तक उसने भी भाभी को खूब चोदा. और दूसरे चूचे को अपने हाथ से खूब ज़ोर से दबा देता। नीचे मेरा लण्ड अपने आप ही अपना काम कर रहा था। मैं धक्के मार रहा था और वो अपनी गाण्ड ऊपर-नीचे कर रही थी।मैंने झड़ते समय अपना सारा वीर्य उसके पेट पर फेंका. सेक्सी पिक्चर अछि वालीहम कारनामा ऐसा जो कर रहे थे।हम खूब एक-दूसरे के होंठों को चूस रहे थे.

फिर चूत की फांक को मसलने सी लगीं। फिर अम्मी ने अपना दाना उभार कर देखा और उसे मसलने लगीं. और सुरुर बढ़ते बढ़ते सबके अंदर किसी महापुरुष की आत्मा आकर बड़े बड़े डॉयलोग मारने लगती है. तो मेरा पूरा लण्ड उसकी चूत में घुसता चला गया।अब उसकी आँखों में आँसू भी थे और वो चिल्ला भी रही थी।‘छोड़ दो मुझको.

अब मैं नाइटी के ऊपर से ही उसकी कमर दबाने लगा और पीठ पर मालिश करने लगा।ऐसा करने में मुझे मज़ा नहीं आ रहा था. तब मैंने उसको ज़मीन से उठाया और बाँहों में भर लिया। फिर हम बिस्तर पर आ गए.

फिर पता चला कि वो मेरे घर के पास ही रहती है।धीरे-धीरे हम अच्छे दोस्त बन गए। पढ़ाई के लिए अब हम दोनों एक-दूसरे के घर भी जाने लगे।मगर मैं उसके घर ही जाकर पढ़ना चाहता था.

पर वो कमीना कहाँ मानने वाला था वो तो उसे चोदे ही जा रहा था। कुछ देर बाद उसका भी और साक्षी का दोनों का पानी निकल गया और वो साक्षी के ऊपर निढाल होकर गिर पड़ा।साक्षी की भी हालत उसने खराब कर दी थी।कुछ पलों बाद वो खड़ा हुआ और उसने पानी पिया. मैं ऐसे ही पकड़े-पकड़े धक्के लगाता रहा, भाभी छुड़ाने की कोशिश कम कर रही थीं. मैं बोला- आप भी कम जानदार नहीं हैं दीदी!थोड़ी देर दीदी ने नानुकुर के बाद ‘हाँ’ कर दी।मैं दीदी से बोला- मैं आपके घर अभी आ रहा हूँ।दीदी ने मना किया- कभी बाद में आना.

बेस्ट टीचर स्टेटस इन हिंदी video तो मैं उसके यहाँ रुक गई। वो मेरे दूर के मामा का लड़का था और भोपाल में रूम लेकर रहता था।जब मैं भोपाल पहुँची. मैं उसकी चूत में करीब 20 से 25 झटके मारने के बाद उसकी गाण्ड को तेजी से पेलने लगा।‘सपाक सपाक चटाक चटाक.

मैं आज इतनी खुश थी कि मैं बता नहीं सकती।मैं जल्दी ही थक गई और उनसे एक मस्त चुदाई की रिक्वेस्ट की। फिर वो मेरे ऊपर आ गए और उन्होंने मेरी इतनी मस्त और जबरदस्त चुदाई की. अगर मैं उसके साथ ऐसा संबंध रखूँ तो?वह चुप हो गई और मेरा कलेजा धड़कने लगा. वो अब भी कुछ नहीं बोली तो मैं समझ गया कि ये लड़की देने वाली है।फिर मैं उसकी समीज़ के ऊपर से ही उसकी चूचियों को दबाते हुए चूमने लगा.

पापा ने चाची को चोदा

वो बोला- आकाश तो मेरे साथ ही था।मेरी चोरी पकड़ी गई और मैंने बहाना बनाया- नहीं वो आपका कोई दोस्त पूछ रहा था।वो बोला- ठीक है मैं बात कर लूंगा. अब उसे मजा आने लगा।थोड़ी देर बाद वो बोली- राजा अब अपना पूरा लण्ड जल्दी से मेरी चूत के अन्दर करो. मगर तभी एकदम से शाज़िया ने मेरे लंड को पकड़ कर खुद ही अपने मुँह में भर लिया और चूसने लगी।मगर वो लंड चूसने में अभी अनाड़ी थी लेकिन मुझे बहुत मजा आ रहा था।कुछ देर बाद शाज़िया ने लंड चूसने की स्पीड को बड़ा दिया और अपना पानी छोड़ दिया.

तो मैं समझ गई कि आज मेरी सील टूट चुकी है।थोड़ी देर बाद हम दोनों बाथरूम में गए, हम दोनों फव्वारे के नीचे नहाए।फिर उन्होंने फव्वारे के नीचे ही मेरी गाण्ड खोलने की पेशकश की. वो ही मेरे को सीधा लिटा कर चोदते हैं। कभी मेरी टांगों को अपने कंधों पर रख कर.

मैं अपनी जीभ को नाभि में डाल कर आगे-पीछे करने लगा।मैडम को भी इसमें मजा आ रहा था।मैडम- आह्ह.

उधर मेरा लण्ड भी पूरा अकड़ गया।प्रियंका बोली- जीजू, अब तेरा लण्ड आयशा चूसेगी. ’ कर रही थी और मुझे चुदाई का पूरा मजा दे रही थी।मैं भी पूरे दम से उसे चोद रहा था।दस मिनट के बाद उसने कहा- तुम नीचे आओ. मैं भेजती हूँ।फिर उसके खुले मम्मों के फ़ोटो आए।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !मैं- आह्ह.

सुरभि खुद ही चाट गई।प्रियंका और मैंने उसको छोड़ कर कपड़े पहन लिए।मैंने बिना चड्डी के सिर्फ लोअर पहन लिया. बीच-बीच में उसे छेड़ने लगता।फिर एक दिन की बात थी मेरा तो कब से उसे चोदने का मूड था, आखिर मेरे इंतजार की घड़ियाँ समाप्त हो ही गईं।उसकी मम्मी को किसी रिलेटिव के यहाँ पूजा में जाना था. अपनी गाण्ड के छेद में सैट करते हुए जबरदस्ती अपनी गाण्ड को मेरे लंड पर दबाने लगी। वो मेरे लण्ड को अपनी गाण्ड में लेकर खुद धीरे-धीरे कूदने लगी.

अब मैं सिर्फ़ ब्रा और स्कर्ट में थी।शांति जी बोलीं- हाँ अब लग रही हो मेरे यहाँ की रंडी.

सेक्सी वीडियो हिंदी में बीएफ वीडियो: तो डिलिवरी बॉय था।डिलिवरी बॉय ने पूछा- किस फ्लोर पर लाना है?तो नेहा बोली- 4 th फ्लोर पर. उसका नमकीन प्रीकम बूंद बूंद करके बाहर आ रहा था जिसे मैं बार बार जीभ से चाट रहा था।वो चर्म पर पहुंचने वाला था और उसने फिर से सिर को लोड़े में घुसाया और दो झटकों में उसके वीर्य की गर्म गर्म पिचकारी मेरे गले में लगने लगी जिसे मैं प्यार से पी गया और उसका लौड़ा चाट चाट कर साफ किया।वो उठा.

उस दिन छुट्टी थी और उसने घर का पता दिया तो मैं उस पते पर उसके घर पहुँच गया।मैंने बेल बजाई. अभी और चोदूँगा।अब उसने साक्षी को डॉगी स्टाइल में आने को कहा और उसके पीछे से आकर साक्षी की चूत में अपना लंड पेल दिया और फ़िर से ‘दे. कुतिया देख तेरे मम्मों को चूस रहा हूँ और तेरी चूचियां मेरे मुँह में हैं.

गीली होने के बाद भी उंगली फंस के जा रही थी।मेघा का मस्ती के मारे बुरा हाल था.

वो दर्द के मारे रो रही थी।उसकी सील टूट गई थी और खून भी निकल रहा था।थोड़ी देर बाद मैंने धक्के मारने शुरू कर दिए। वो अब थोड़ा बेहतर महसूस कर रही थी और थोड़ी देर बाद वो साथ देने लगी। हल्के-हल्के धक्कों की तीव्रता बढ़ रही थी।वो अब पूरी तरह से मेरा साथ दे रही थी।कुछ देर बाद हमने पोजीशन बदल दी. दूर क्यों हो गई?मैंने बोला- यहाँ खुले में कोई देख लेगा। तो उसने बोला- चलो तो पास में मेरा खेत है. और खुश भी थी कि मम्मी को कितना मजा आता होगा।राकेश जी मुझे किस करने लगे और कहने लगे- अब कब चुदोगी?मैंने कहा- जब आपका मन करे.