फुल बीएफ सेक्स वीडियो

छवि स्रोत,बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी

तस्वीर का शीर्षक ,

ચૂદાઈ ચૂદાઈ: फुल बीएफ सेक्स वीडियो, किस करते समय दीदी ने मेरी टी-शर्ट निकाल दी और मैंने दीदी की शर्ट के बटन खोलकर उसे निकाल दिया.

भूटान का बीएफ

भाई बोला- मेरा लंड भी मेरी पैंट को फाड़ कर बाहर आने के लिए तड़प रहा है. सेक्सी बीएफ चुदाई वीडियो एचडीउसने ज्वाइन करते ही काम को पकड़ना शुरू किया और एक दूसरी लड़की रवीना को सपोर्ट देकर बिजनेस बढ़ाना शुरू किया.

मैंने कहा- क्या पका रहा हूँ?आंटी ने मेरी जांघ पर हाथ फेरते हुए कहा- अभी बताती हूँ चिकने. पुराना वाला बीएफविक्की ने जाते हुए अपने दोस्त से कहा कि यार मुझे जरूरी काम आ गया है.

मेरी प्यासी चूत की कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि छुट्टियों में मैं पुणे से मुंबई आ गई.फुल बीएफ सेक्स वीडियो: मैंने देर ना करते हुए अपना हाथ उसके गले में डाला और उसको अपनी तरफ खींचते हुए, उसके माथे पर एक पप्पी दे दी.

मैंने आंखें बंद कर लीं और अपने दोनों उरोजों को थाम कर पूरी ताकत से दबाने लगी.मेरी चूत को चाटते हुए वो बोला- मादरचोद साली, तेरी चुदाई तो मैं बहुत दिनों से करना चाह रहा था.

बिहारी सेक्सी बीएफ चाहिए - फुल बीएफ सेक्स वीडियो

मैंने दरवाजे के की-होल से देखने की कोशिश की, मगर मुझे कुछ दिखाई नहीं दिया.पैकिंग के बाद मैंने बाथरूम में जाकर शॉवर लिया और एक रेड कलर की ब्रा पैंटी पहन ली, जो कि बहुत ही छोटी थी.

वो समझ गया, उसने अपना लन्ड आजाद कर दिया।उसका लन्ड मस्त था, मैं पागलों की तरह उसे चूमने लगी। बड़े दिनों बाद लन्ड मिला था, लन्ड की महक ने मुझे पागल कर दिया था। मैं उसे खा जाना चाहती थी। मैंने जी भर कर उसका लन्ड चूसा पर चूत में भी तो आग लगी थी।मैं खड़े खड़े ही चूत पर लन्ड सेट करने लगी. फुल बीएफ सेक्स वीडियो तो शीला आकर बोली- बस दस मिनट में मैं मेज लगा दूँगी, मुझे सब मालूम है.

कुछ देर बाद मैंने उसे पीठ के बल लिटा दिया और उसकी टांगें चौड़ी करके धकापेल चोदने लगा.

फुल बीएफ सेक्स वीडियो?

बोट चलाने वाले लड़के ने अपना लंड मेरी गांड में लगा कर मुझे गर्म कर दिया. मनु ने बहुत सा कामरस रूपी प्रसाद मुँह में भर लिया और मेरे पास आकर मुँह मे किस करने लगी, जिससे मुझे भी प्रसाद प्राप्त हो गया. फिर मैंने बातों ही बातों में उससे कहा कि यार जब तुमने मुझे अपने बारे में इतना बता ही दिया है, तो अब थोड़ा खुल कर सब बता दो, तो फिर कहानी में मजा ही आ जाएगा.

जैसे मैंने अपने अंडरवियर को निकाला तो उसने मेरे लंड को अपने हाथ में पकड़ लिया. सुबह उठने पर पता चला कि चाचा किसी जमीन के सिलसिले में दूसरे गांव चले गए हैं और घर में उनके अलावा हम बाकी के लोग ही रह गए थे. परमीत ने वन पीस वाला शॉर्ट पहन रखा था, तो उसे कपड़े कमर तक चढ़ गए थे, जिससे संजय ने उसकी चूत में उंगली करना शुरू कर दिया था.

माई से झगड़े में भी शब्दों के चयन में बाबू का कोई सानी नहीं था, मगर आज बात कुछ अलग थी, सो मैं बस हंस दी. एकाएक संजू को बर्दाश्त नहीं हुआ और वो जंगली शेरनी की दहाड़ते हुए और चिल्लाते हुए झड़ने लगी. मेरा रंग एकदम गोरा है, शरीर पर हल्के बाल हैं और मेरा वजन 60 किलो है.

तब चाची की चूत मेरे लंड पर ही थी तो मुझे बहुत मजा आ रहा था।फिर मैंने उठ कर चाची की ब्रा के हुक खोले और उनके बूब्स को आजाद किया और चूसने लगा. शादी में थक हारकर सोयी हुई महिलाओं के चूचों को भी खूब छेड़ा और दबाया है.

वो मुस्कुरा दिया और बोला- मेम साहब आप … इधर?तब जीजू मुझसे बोले- ठीक है आप लोग दूध लेकर वापस चले जाना.

रूपाली की गांड को पकड़ कर मैंने दबा लिया और पूरा जोर लगा कर उसकी गांड में लौड़े को घुसा दिया.

मैं पहले से ही उत्तेजित थी और उसकी हरकतें मुझे मदहोशी की हालत में ले आयी. मगर दिमाग में कुछ नया विचार नहीं आ रहा था कि ज्यादा से ज्यादा मजा कैसे लिया जाये. फिर मैंने उसकी एक टांग मोड़ी और नीचे से उसकी साड़ी के अन्दर हाथ डाल कर उसकी टांगों को मसलता हुआ धीरे धीरे अपना हाथ उसकी जांघों पर फेरने लगा.

जब मेरे कपड़े बदन से जुदा हुए, तो एक तो कयामत, ऊपर से आफत वाली बात हो गई. मैंने दीदी को किस करते हुए लेटा दिया और फिर से अपने लंड को चुत पर सैट करके बिना देरी के घुसा दिया. वो चारों एक दूसरे तरफ फिर वो एक साथ मिलकर बोलने लगीं, जिसे सुनकर हमें मजा आने लगा.

हसन ने भी कसी हुई गांड के सुखद अहसास को एक कामुक आहहह साथ के पा लिया.

तो मैंने पूल में नहाना उचित नहीं समझा और मैं वहीं के वहीं रुक गया।मैं कमरे में लौट रहा था तभी उस केअर टेकर ने मुझे आवाज़ देकर बुलाया. मैं- यह भाई-बहन की स्वैपिंग का आईडिया किसका था?दीदी- वो एक्चुली मेरा आईडिया था, मैंने सोचा, थोड़ा प्यार अपने भाई को भी दे दूं. बड़े-बड़े दूध, चौड़ी छाती, बड़ी-गांड, गोरा बदन बेहद खूबसूरत लग रहा था.

वो भी बड़े मजे से चुसवा रही थी चूची अपनी … और बीच बीच में बोल रही थी- काटो मेरी चुचियों को मेरी जान! चूस डालो इनको!मैं भी मसल मसल के चूस रहा था चुचियाँ उसकी. मैंने आंटी को झुका कर उनके बूब्‍स को मुँह में ले लिया और खूब चूसने लगा ‘आहह’आंटी भी खूब सेक्सी आवाजें ‘आऊच ऊहह … मेरे राज़ा जी … चोदो खूब चोदो!’ करके चिल्ला रही थीं।पूरी शिद्दत के साथ मैं आंटी की चूत में अपना लण्ड पेल रहा था और अपना अधूरा ख्वाब मुकम्मल कर रहा था।पूरे रूम में सिर्फ चुदाई की आवाजें ही गूंज रही थीं. मेरा लिंग-मुंड जो अब तक वसुंधरा की योनि की बाहरी पंखुड़ियों में ही कुछ-कुछ अंदर-बाहर हो रहा था … अपने रास्ते में आने वाली हर रुकावट को छिन्न-भिन्न करता हुआ वसुंधरा की योनि के अंदर करीब तीन इंच उतर गया.

मुझे बिल्कुल उम्मीद नहीं थी कि वो मेरे लंड को मुंह में लेकर चूसेगी.

वहां गांव में हमारी दादी, चाचा और चाची के साथ चाचा जी का एक लड़का ही रहते हैं. उसकी चूत का पानी भलभला कर निकल रहा था … जो मुझे अपने लौड़े पर महसूस हो रहा था.

फुल बीएफ सेक्स वीडियो ‌शबनम- अच्छा मतलब तुम्हें पता है … क्या होता है शादी की पहली रात को?‌मैं- हां … क्यों तुम्हें नहीं पता है क्या … कहो तो बता देता हूं. उस दिन सुबह सुबह ही वो निकल गईं, जाते वक्त मुझसे मिल कर गईं और उन्होंने मुझसे कहा कि घर की तरफ थोड़ा ध्यान दिए रहना.

फुल बीएफ सेक्स वीडियो अंशी (मेरी गर्लफ्रेंड) की सहेली को हमारे बारे में सब पता था कि हम दोनों चुदाई करते हैं. मैंने गुस्से में कहा- तू मेरी ब्रा और पैंटी क्यों लेकर गया है? तुम्हें शर्म नहीं आती है क्या? मुझे मेरी ब्रा और पैंटी वापस करके जाना.

बोट चलाने वाले लड़के ने अपना लंड मेरी गांड में लगा कर मुझे गर्म कर दिया.

सेक्सी बीएफ औरतों की

मैंने हमेशा देखा है कि घर में जो छोटा बच्चा होता है, उसे सब छोटा ही समझते हैं चाहे वो कितना भी बड़ा क्यों न हो जाये. सिल्क बोली- उफ्फ … क्या करते हो? रुको अभी!पर मैं कहाँ रुकने वाला था … मेरा दूसरा हाथ उसके सिल्की से पेट से सरकता हुआ जन्नत के दरवाज़े तक पहुंच गया और चिकनी चमेली चूत … ये क्या … चूत तो गीली हुई पड़ी थी. वैसे भी मेरे घर पर आज कोई नहीं था और मुझे सेक्स किये हुए भी 2 महीने हो गए थे.

मुझे कुछ समझ नहीं आया तो मैंने शालिनी से पूछा तो वो बोली कि बाद में बताएगी. मैंने उससे पूछा- संजू ज्यादा दर्द हो रहा हो, तो क्या मैं निकाल लूं?वो बोली- नहीं. फिर चाची ने मेरी चड्डी उतारी तो मेरा छह इंच लंबा और दो इंच मोटा लंड उनके मुँह के सामने सलामी दे रहा था.

तभी मैंने जिया की ब्रा निकाल दी और मेरे पीछे जीजा जी ने भी नताशा की ब्रा निकाल दी.

मैंने उससे पूछा- क्या हुआ तुमने उसे मेरा फ्लैट नंबर तो नहीं लिखा दिया. ये तो संजू की कमजोरी थी, वो तुरंत गर्मा गई और सिसकारियां निकालने लगी. इसीलिए मैं अपनी सहेलियों को भी अपने घर किसी खास मौके पर ही बुला पाती थी.

तो उसने हल्की सी स्माइल दी और फिर आगे की तरफ अपना चेहरा कर लिया।लेकिन उसका चेहरा देख कर अंदाजा हो गया कि आंटी की उम्र 40 के आस पास होगी. मैं उसके अनुभव को देख कर उसकी चुदाई अनुभव को समझने का प्रयास कर रही थी. पर अगर ये डील हो गयी तो रवि को मीना को कंपनी से बेस्ट एजेंट का अवार्ड दिलाना होगा और उसे पचास हजार रूपये एक स्कीम के तहत दिलाने होंगे.

नमस्त दोस्तो, कैसे हो आप सभी … मैं आशा करती हूँ कि आप सब अच्छे होंगे. फिर कभी मेरे घर में कोई नहीं होगा, तो वहीं कर लेंगे … या तुझे ज्यादा खुजली हो रही हो तो तू जैसे चाहे कर सकती है.

उधर दीदी ने खड़े होकर टिश्यू पेपर से चुत से बहते रस को साफ किया और वापस सो गईं. वो उठी और नीरज के लंड को अपनी चूचियों के बीच में लेकर रगड़ने लगी, जिससे नीरज को असीम आनन्द की अनुभूति होने लगी. तुम वहां जाकर तुम टीवी में वीडियोगेम खेलना, मुझे उससे थोड़ी बात करनी है.

चूंकि मेरा अभी नहीं हुआ था, पर मैं भाई बहन को ज्यादा से ज्यादा चुदवाना चाहता था.

मैं- तो बस देखने में मज़ा आता है या करने का भी मन होता है?आदी- हां होता है. वह धीरे धीरे फिर मस्त होने लगी ‘आंह चोदो फूफा जी … और चोदो जी भर के चोदो. नीरज सोफा पर बैठा हुआ था और अपनी पीठ को सोफा की पुश्त से टिकाये हुआ था.

लेकिन ऐसे मैसेज रोज ही और बहुतों के आने लगे, मैं ऐसे हर मैसेज से उत्साहित भी होता और उचित जवाब भी देता था. चूंकि मैंने नीचे से पैंटी नहीं पहनी थी तो उसका लंड मुझे अपनी गांड की दरार में लगता हुआ महसूस हो रहा था.

उसने मेरी फ्रेंची में तने हुए लंड को अपने हाथ से दबाते हुए उसको मसलना शुरू कर दिया. जिन्होंने मेरी चुदाई की कहानी के पहले भाग नहीं पढ़े हैं, वो नीछे दिए लिंक पर जाकरमेरी गर्लफ्रेंड की पहली चुदाईमेरी और मेरी गर्लफ्रेंड की दूसरी चुदाईपहले जरूर पढ़ लें. यानि हम उस एप के जरिये दस फोल्डर बताएंगे और हर फोल्डर में उस पहेली का जवाब होगा.

देहाती सेक्स हिंदी बीएफ

उसका लंड संजू की गांड में इतना टाईट जा रहा था, जैसे दीवार में कोई कील अन्दर जाती हो.

लड़का- तुम्हारे पास लड़के को देने के लिए क्या है?लड़की- क्या है?लड़का- अभी कहां हो?लड़की- घर पर. उस दिन मौसम बहुत खराब था तो ऑफिस नहीं गया और जाना भी नहीं चाहता था. मैंने भी एक अच्छे दोस्त जैसे व्यवहार किया और उसकी नजरों में अपनी छवि एक अच्छे लड़के की बनानी शुरू कर दी.

मैं उनकी गांड बहुत दिनों से चोदना चाह रहा था, पर अब जा कर लंड को उनकी गांड मारना नसीब हुयी. … जीजा जी … आप कीजिए … मुझे बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा है … आह ऐसा मजा आज तक नहीं आया था. बीएफ बांग्ला बीएफ बीएफआशा करता हूं कि जिस तरह पिछली कहानीदोस्त की गर्लफ्रेंड को उसके घर पर चोदामें आपका प्यार मिला था, इस बार भी मिलेगा.

उसके बाद अपने सारे कपड़े उतार दिये, सिर्फ अण्डरवियर पहने रहा और कविता को बांहों में समेटकर लेट गया. साब का लंड तो मोटा था पर शराब के नशे में साब चुदाई का मजा नहीं दे पाता था.

मैंने कहा तो गुज्जु ने मेरे लंड पकड़ा और अपनी फुद्दी पर रखा और बोली- भाईजान, आराम से, आज तक फटी नहीं है, आराम से फाड़ना, अपनी छोटी बहन समझ कर फाड़ना. मैं आदी के रूम में ऐसी ही नंगी गई और उससे बोली- चलो तुम्हारा काम हो गया … जल्दी से अपने कपड़े उतारो. वैसे संजय का लंड भी कम ना था, पर उन लोगों के मुकाबले थोड़ा छोटा लग रहा था.

फिर सोचा कि आज तो इसे सारी रात ही चोदना है, तो मैंने उसकी नंगी गांड पर हाथ फेरते हुए नीतू को जगाया. तभी मैंने अपने होठों को उसके होठों से चिपका दिया जिससे कि वो चिल्ला नहीं पाए. लड़की- चुदाई कैसे होती है?लड़का- जब लड़का-लड़की नंगे हो कर, लड़की की बुर में लड़का लंड डालता है और आगे पीछे करता है, तो लड़का लड़की दोनों को बहुत मज़ा आता है.

मुस्कान भी अब तक पूरी खुल चुकी थी, वो बोली- हाँ, एक राउंड तो और होना चाहिए.

वो बस यही बोले जा रही थी- आह … शुभम … और तेज … फाड़ दो मेरी चुत को … फक मी हार्ड मेरी जान!मैंने उसे बहुत तेज चोदा. कुछ देर तक साइक्लिंग करने के बाद लड़की फर्श पर डिप्स की तैयारी करने लगी.

उधर फैजल ने मेरी बांह पकड़ ली और केशा शमीम को बात करने के बहाने मुझे से थोड़ी दूर ले गया. थोड़ी ही देर में हम दोनों चरम पे पहुंचने को थे कि मैंने उसको खींच के नीचे लिटा दिया और मिशनरी पोजीशन में उसकी चूत लण्ड उतार दिया. मैंने उसे देखा और थोड़ा कड़क आवाज में कहा- देखो ये मेरी एक फैंटेसी थी जिसे मैंने पूरा किया.

सुपारे पर अलौकिक चमक थी और चमड़ी की परत, जो सुपारे को ढकती है, वह लंड की जड़ पर कहीं खो गई थी. हुआ कुछ इस तरह कि मोना और डोली की चुदाई करते करते मुझे पूरा साल हो चुका था. वो एकदम चहक गयी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… आहह आआहाहाः मार डाला बहनचोद आज तो!उसके बाद मैं जोर जोर से आशना को चोदने लगा।वो ‘अहाहाः हहह आआहह कर के जोर जोर से सिसकारियां ले रही थी.

फुल बीएफ सेक्स वीडियो ये बात सबको मालूम थी, पर सरकारी नौकरी के लालच में शीला के घरवालों ने शीला की शादी उससे कर दी. मीना ने कुणाल से पूछा- सर डिनर यहीं लेंगे या नीचे रेस्तौराँ में चलें?कुणाल बोला- अब कहीं नहीं जायेंगे, यहीं मंगा लो.

लखनऊ का बीएफ वीडियो

मैं- मैं तुम्हें क्या सिखा सकता हूँ … तुम्हारी बात से लग रहा है कि तुम सीखी सिखाई हो. कहानी पर कमेंट करके भी बतायें कि आपको कहानी में मजा आ रहा है या नहीं. दीदी- कैसा प्रॉब्लम?मैं- आज सुबह मुझे डैड का कॉल आया था कि डैड के दोस्त राजीव अंकल अपनी बेटी का रिश्ता मेरे साथ करना चाहते हैं.

रवि ने मोटरसाइकिल निकाली, थोड़ी दूर ही गए होंगे कि अचानक तेज बारिश शुरू हो गयी. तो परमीत ने अपनी दीदी से मेरे भैया के पास फोन लगवाया कि वो अकेली है और आज परमीत का बर्थडे भी है, तो भैया हम दोनों को दीदी के यहां छोड़ दें. सनी लियोन की बीएफ नईकुछ देर बाद मैं खड़ा होकर बाथरूम जा रहा था, तभी बाथरूम से जिया बाहर निकली.

मन मार कर मैं भी अपने कमरे में घुस गया और बिस्तर पर लेट कर सोने लगा.

आमिना को मेरे बारे में नहीं पता था लेकिन मैंने आमिना को देखा हुआ था. जबकि मेरी गलती भी नहीं होगी और अपराधी भी मैं हूंगी।”हाँ यह बात तो है सायरा! पर एक रास्ता यह भी तो है कि तुम दोनों एक बेबी को एडाप्ट कर लो तो जमाने वाले नहीं कहेंगे।”तब मैं अपने मां-बाप को क्या जवाब दूंगी। वो अगर पूछें कि तुमने बच्चा गोद क्यों लिया?” अगर मैंने सारा किस्सा बताया तो बोलेंगे कि मैंने उन्हें पहले क्यों नहीं बताया.

ब्रा के उतरते ही परमीत ने हाथों में रखे केक को अपने उन्नत आकर्षक और वासना से कठोर हो रहे स्तनों पर लगाया और उसे संजय की ओर कर दिया. वह मेरे चेहरे पर किस करने लगा और धीरे-धीरे मेरी साड़ी को मेरे बदन से अलग करने लगा. अब तक की सेक्स कहानी में आपने पढ़ा था कि मैं नीतू को चोदने के लिए स्टूडियो ले आया था और अब उसकी चुदाई का खेल शुरू होने वाला था.

उसने वीर्य चाटा और चटखारा लेते हुए सिगरेट को अपने होंठों से लगा लिया.

मैं अब नीचे से संजू की गांड को चोदने लगा, पर संजू ने कराहते हुए बोली- प्लीज जानू रहम करो … अब मुझमें जरा सा भी शक्ति नहीं है. कुछ धक्कों के बाद शायद संजय भी मंजिल के करीब ही था, इसीलिए संजय का लिंग और भी ज्यादा फूल कर अकड़ रहा था. वसुंधरा और राजवीर … वसुंधरा-राजवीर … वसु-राज … वसुराज वसुराज!!!ॐ शांति शांति शांति!पाठकों की सुबुद्ध राय का मेरे ईमेल[emailprotected]पर मुझे बेसब्री से इंतज़ार रहेगा.

11 की बीएफवो एक 18-20 साल की चंचल अल्हड़, नासमझ सी लड़की लग रही थी और उसी तरह का व्यहवार कर रही थी जिसको पता था उसके सामने वाला मर्द किसी भी पल उसको अपना बनाने के लिए कह सकता था. शीला की अब समझ में आया कि क्यों कल ही मेमसाब ने अपनी चूत उससे साफ़ करवाई थी.

न्यू बीएफ देहाती

दोस्तो, मेरा नाम इमरान खान है और मैं देश की राजधानी दिल्ली के पास हरियाणा के एक शहर फरीदाबाद का रहने वाला हूँ. एक- भाई साहब अभी तक आप कुंवारे हैं?जी …”दूसरी- कॉलेज में भी कोई गर्ल फ्रेंड नहीं थी?नहीं … मैं अपनी शक्ल आइने में देखता हूँ, चेहरे पर चेचक के दाग, आवाज भैंस जैसी, बाल भी चिंपाजी जैसे खड़े … मेरी इस शक्ल पर कौन लड़की भला फिदा हो सकती है?”तीसरी बोली- लगता है भाई साहब का सीलपैक धागा अभी तक टूटा नहीं है. मैंने अल्मारी से एक पिंक कलर की ब्रा पैंटी निकाली और सुहास से कहा- सुहास, मुझे ब्रा पहना दो.

इस समय सिल्क, आप कल्पना कर सकते हैं कि कितनी हसीं और सेक्सी लग रही होगी. फिर धीरे धीरे नार्मल बात उसके बाद हल्की फुल्की डबल मीनिंग बातें होने लगी. मैं भी वासना के वशीभूत उनके पीछे कमरे में चला गया और अन्दर आ कर चाची को देखने लगा.

संजू बोली- बहुत ही टेस्टी, थोड़ा सा नमकीन लगता है … और सबसे बढ़कर बात है कि इस वीर्य में बहुत सारे फायदेमंद तत्व होते हैं, जिसे पीने से महिला के चेहरे और शरीर में निखार आ जाता है. शाईना अपनी चूत को सहलाते हुये सिसकारियां ले रही थी- आह्ह्ह बेबी … उम्म्ह… अहह… हय… याह… ऊं… ऊं… आई… ई ई सी… सी उफ़… उफ़ हाई… मजा आ रहा है. दरअसल हुआ यह कि रोहण ने मुझे बताया कि वो एक महीने बाद 15 दिन के लिए अपने दोस्तों के साथ बाहर घूमने जा रहे हैं.

हम दोनों ने अगले दिन की तैयारी कर ली और ये तय हुआ कि दोनों एक साथ ही चलेंगे. लेकिन बेरहम रजत ने लंड जड़ तक पहुंचाने के बाद थोड़ी दरियादिली दिखाई और ठहर गया.

आशा समझ गई और बोली- नहीं साहब जी प्लीज मेरी गांड मत मारना … बहुत दर्द होता है.

मैंने अपने कपड़े भी उतार दिये और प्रीति की चिकनी चूत में अपना मुँह डाल कर चाटने लगा एक उंगली प्रीति के चूत में डाल कर चोदने लगा. देवर भाभी एचडी बीएफईं … मुझे बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा है … आप दोनों और तेज से कीजिए आह … अअअअ. नौकरानी की सेक्सी वीडियो बीएफभैया ने मजबूरी में कहा- अभी तुम कुछ और माँग लो, किंतु हार नहीं दिला सकता हूँ. आकाश- मतलब?नीरज- जिया बोल रही थी कि जब आपने उसकी गांड मारते समय जितना दर्द दिया था, उतना दर्द वो रात को मुझे देगी.

मगर मेरा लंड अभी भी चुदाई के लिए मचल रहा था इसलिए मैंने अपनी बहन को चोदने का मन बना लिया था.

मैंने जल्दी से जाकर अपनी पैकिंग कर ली और इस बार मैंने एक साड़ी भी रखी थी. मैंने पीछे से जाकर उसे पकड़ लिया, मेरा लंड जो उसकी गांड देख कर खड़ा हो गया था. उई!और फिर आगे सतीश को बोली- अह … साले … उई अह … मेरी बच्चेदानी … को टकरा रहा है तेरा लौड़ा … उई उई आह इ … सी सी.

तब तक मैं आपके लिए कॉफ़ी लाती हूँ।लेकिन मेरा मन तो उससे देखकर उसका दूध पीने का मन था. 143 से जुड़ सकते हैं।सेक्सी कहानी का अगला भाग:नैनीताल में दो जवान लड़कियां एक साथ चोदी-2. कुणाल बलिष्ठ था, उसने मीना के चूतड़ों के नीचे हाथ टिका कर उसे नीचे से धक्का देने लगा.

रंडियों का बीएफ वीडियो

मैंने उस लड़के को गाली देते हुए कहा कि मादरचोद बोट पर तो तेरे लंड की प्यास बुझाई थी. मुझे अपनी तरफ घुमाते हुए बालों को, चेहरे को, कंधे को, मेरे उरोजों को सहलाते रहे. दीदी हल्की चीख के साथ डिल्डो को आराम से झेल गईं … मतलब साफ था कि दीदी की गांड भी बजी हुई थी.

अब क्योंकि मैं बहुत गर्म हो चुका था तो मैंने लन्ड उसकी गांड के छेद में टिकाया और धीरे धीरे दबाव डाल कर पूरा लन्ड उसकी गांड में उतार दिया.

संजू दर्द से तिलमिला उठी, वो अभी कुछ कोशिश करती कि तभी मैंने नीरज से कहा- जल्दी से पूरा लंड घुसाइए.

मैंने धीरे से उसकी साड़ी का वह भाग हटाया जो कमर में पेटीकोट के अंदर घुसा हुआ था. इतना सुनना था कि उसने मेरी चड्डी पर हाथ रख कर कहा- हाय … आज तो मेरी चूत फटने वाली लगती है. बीएफ मूवी कॉलेज कीएक कोने में मेरा भाई सोया हुआ था, फिर मम्मी और फिर मामी सोई हुई थी और मामीजान के साइड में थोड़ी जगह बची हुई थी तो मैं वहीं लेट गया.

अपनी फ्रेंची को जांघों से सरका कर निकाला और अपने लंड को उसके चूतड़ों के बीच में लगाकर उसके ऊपर लेट गया. उधर नीरज ने अपनी बीवी के लिए गालियां सुनी तो वो भी जोरों से दीदी को गाली देते हुए चोदने लगा- ले साली रांड … तेरी मां को चोदूं. उसने मेरे होंठों को चूसते हुए मेरी चूत में धक्के लगाने शुरू कर दिये.

भाभी मुझे देख कर बोली- शुभम, आज तुम्हें किसी भी तरह इसकी चुदाई करनी ही है. उसने कुछ नहीं पहना था अंदर से।और फिर मैं उसकी चुचियों पर आ गया।उसकी मोटी मोटी चुचियाँ मुझे पागल कर रही थी, मैं खूब जोर जोर से आशना की चुचियों को मसल रहा था। वो आहें भर रही थी।अब मैंने उसकी एक चूची अपने मुंह में भरी और चूसने लगा.

तभी कुमार बोला- घर चलोगी या अभी कुछ देर यहीं बैठोगी?मैं बोली- हां मैं कुछ देर यहीं रूकती हूँ … मैं कॉलेज बंक करके आई हूं.

दीदी लंड को सहला कर मुँह में लेकर लॉलीपॉप की तरह चूसने लगीं और मैं कामुक आवाजें करने लगा. मैडम ने उस दिन काली साड़ी पहन रखी थी, वो उस साड़ी में पटका लग रही थीं. जब उसने दर्पण में अपने आपको टू पीस में देखा, तो वो शर्मा कर मुझसे चिपक गई.

देवर भाभी की चुदाई सेक्सी बीएफ हम दोनों अपनेआप से बेसुध, तेज़ी से एक-दूसरे में समा जाने का उपक्रम कर रहे थे. और बहुत सी पाठिकाएं भी शायद लैसबियन सेक्स के लिए उत्साही हो जायें और महीनों तक नायिका को सोचकर ही अपने लंड चूत का पानी झाड़ते रहें।यह वादा मैंने इस कहानी की नायिका से ही किया है.

ममता उठी और वाशरूम में जाकर कुल्ला कर के आई और फ्रॉक पहन कर बोली- मैं कॉफ़ी बना कर लाती हूं. अचानक से उसने अपना मुंह छुड़ाया और बोली- तुम्हारे उंगली डालने से मुझे दर्द महसूस हो रहा है. अगर ब्रा काले रंग की थी तो वसुंधरा की पैंटी भी यकीनन काले ही रंग की होगी.

बीएफ फुल एचडी वीडियो सेक्सी बीएफ

हालांकि इसी बीच 1 बार रात को हम चारों घूम रहे थे तो मैंने नीलू को पकड़कर अकेले में ले गया क्योंकि मुझे नीलू के साथ अकेले घूमना था. मेरी पैंट में मेरे लंड ने तंबू बनाया हुआ था जो चलते हुए यहां वहां डोल रहा था. कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि दोस्त के ज़ोर देने पर मैं उसके साथ जिम में जाने के लिए तैयार हो गया.

मेरे अन्दर आते ही वो मुझसे आकर लिपट गयी और मुझसे पूछा- कैसी लग रही हूँ मैं?मेरे कुछ कहने से पहले बाहर आसमान में जोर से बिजली कड़की, तो मैंने उसकी गांड पर हाथ फेरते हुए कहा- तुमने तो आज बिजलियां गिरा दीं मेरी जान. लेकिन मैंने तुरंत मौके की नज़ाकत को भांपते हुए बैक-पुल्लिंग वाली मशीन पकड़ ली.

उसने मेरे होंठों पर होंठों को रख दिया और मेरे होंठों का रसपान करने लगा.

जब मेरी चूत का दर्द कुछ कम हुआ, तो मैं उचक उचक कर अपने बाप का लंड घपाघप लेने लगी थी. आशा सामान लेकर नीतू के रूम में जाने लगी, तो मैं पीछे से आशा की मटकती हुई गांड देखने लगा. लेकिन वो जिद कर बैठी और बोली- नहीं … जब माँ इतने छोटे केले से संतुष्ट हो सकती हैं … तो मैं भी संतुष्ट हो जाऊंगी.

पर रवीना एक्साइटिड थी, बोली- मेरी चिंता मत कीजिये, मैं पंद्रह मिनट में आपके होटल पहुँच रही हूँ. शाईना अपनी चूत को सहलाते हुये सिसकारियां ले रही थी- आह्ह्ह बेबी … उम्म्ह… अहह… हय… याह… ऊं… ऊं… आई… ई ई सी… सी उफ़… उफ़ हाई… मजा आ रहा है. ब्लोवर के आगे उसके कपड़े सूख गए थे, उसने अपने को सही किया, अपने कागज़ इकट्ठे किये और रवि को उठाया.

मेरी पिछली सेक्स कहानीकॉल ब्वॉय के साथ बितायी पूरी रातमें आपने पढ़ा कि मैंने अपने पति के बाहर जाते ही एक बढ़िया कॉलब्वॉय सुहास के साथ पूरी रात चुदाई की और फिर फ्लाइट लेकर उसके साथ कैलीफोर्निया आ गई मौज मस्ती करने!अब आगे:वहां एयरपोर्ट पर हमें होटल की कार लेने आ गयी थी.

फुल बीएफ सेक्स वीडियो: उसने कहा- क्या भइया, क्या है आपको?मैंने कहा- तेरी स्किन (त्वचा) कितनी सॉफ्ट (मुलायम) है. मैडम मेरे सीने से सट गईं और मैं उनके मम्मों को ब्लाउज के ऊपर से रगड़ने लगा.

नीरज ने कहा- वाह संजना, इतना खूबसूरत और गदराया जिस्म मैंने आज तक नहीं देखा है. फिर मैंने एक बार जल्दी से उसको कुतिया बना कर उसकी चुदाई की … और माल को उसकी चुत में ही भर दिया. आदी ने विक्की का लंड चूसना चालू कर दिया और मैं वहीं खड़े होकर ये सब देख रही थी.

यद्यपि जब एक बार राधा श्याम से बिछड़ी तो पार्थिव तौर पर दोबारा मिल नहीं पायी … सीता राम से जुदा हुई तो दोबारा मिलन नहीं हुआ और दक्ष के हवनकुंड में छलांग मारकर देह त्याग करने बाद उमा की निष्प्राण लौकिक देह ही शंकर जी के हाथ लगी तदापि अलौकिक और भावनात्मक तल पर तो राधा हमेशा से श्याम में ही वास किये है, सीता आज भी राम में ही रमी है और उमा भी तो नित्य ही शंकर में लीन है.

मैंने भी वहां ज्यादा देर रुकना सही नहीं समझा और गाड़ी को फिर से एक्सप्रेस-वे पर डाल दिया. लेकिन दूसरे दिन ऐसा हुआ कि मेरी पत्नी को उसकी बहन के यहां उसकी डिलीवरी में जाना पड़ गया. वन्दना मेरे होंठों पर एक हल्की सी किस लेते हुए बोली- आप कब आए?मैंने उसकी गांड दबाते हुए बोला कि बस थोड़ी देर पहले आया था.