हिंदी बीएफ भेजो सेक्सी

छवि स्रोत,राजस्थानी एक्स एक्स एक्स मूवी

तस्वीर का शीर्षक ,

वीडियो हिंदी बीएफ फिल्म: हिंदी बीएफ भेजो सेक्सी, इसी तरह शाम के 4 बजे तक उसने मुझे 4 बार चोदा और स्कूल के बंद होने के समय के साथ ही मैं वहां से निकलकर घर आ गई.

एसएस ब्लू पिक्चर

लड़कियों को नौकरानी, कोरियर वाला लड़का, इलेक्ट्रीशियन लड़के आदि का मेकअप करने को कहा गया. सेक्सी वीडियो सनी लियोनमैं अपनी मॉम की तड़फ को समझ रही थी कि उन्हें एक लंड से चुदाई कि सख्त जरूरत है.

कुछ मिनट बाद मैंने अपना लंड चूत में से निकाल दिया और दीदी की गांड के छेद में सैट करके एक जोरदार झटका मार दिया. एक्स एक्स एक्स इंग्लिश सेक्सीमैंने अब चाची को अपने बाजू में धक्का दे दिया जिससे चाची सीधी लेट गईं.

फिर मैंने अपने होंठ उसकी रसीली चूत पर रख दिए और चूत को चाटने चूमने लगा.हिंदी बीएफ भेजो सेक्सी: वैसे तो आंटी साड़ी में बड़ी शरीफ लगती थीं लेकिन सारे मोहल्ले वाले उनके दीवाने थे; आंटी की मटकती गांड को हर कोई चोदना चाहता था.

हॉट लेडी मैरिड सेक्स कहानी शुरू करने से पहले मैं एक बार फिर से अपने बारे में बता देना चाहता हूँ.मुँह में लंड दिए वाले का गर्म गर्म लावा मेरे मुँह की गहराई में फिर से झड़ गया.

सेक्सी वीडियो बीपी हिंदी - हिंदी बीएफ भेजो सेक्सी

मैंने हंस कर पूछा- कैसे मालूम हुआ… क्या तुम लंड की डॉक्टर हो?वो मेरे मुँह से लंड शब्द सुनकर शर्मा गई और फिर से लंड पकड़ कर बोली- इसमें डॉक्टर वाली क्या बात है, ये गर्म है.थोड़ी देर बाद वो मेरे बूब्स दबाने लगा और थोड़ी देर बाद चूत चाटने लगा.

उसके मुँह से यह सुनते ही मैं समझ गयी कि यह भी मेरे जैसी ही पूरी रांड है. हिंदी बीएफ भेजो सेक्सी वो कहने लगीं- तुम मुझे खुश देखना चाहते हो न!मैंने कहा- हां जानेमन, मैं यही चाहता हूँ कि तुम खुश रहो.

मैंने उसकी हिंदी सेक्सी चूत पर हाथ लगाया तो वो भी पानी निकाल रही थी.

हिंदी बीएफ भेजो सेक्सी?

मैं बोला- क्या करना है?तो किशन बोला- आज एक दूसरे की गांड में लंड पेलते हैं. कुछ ही देर में हम दोनों निढाल हो गए और उसी अवस्था में गिर कर हांफने लगे. वो मुझसे कह रहे थे- मैडम यार क्या माल हो तुम … साली सनी लियोनी भी फेल है तुम्हारे सामने.

मैंने उसे अलग अलग पोज़ में चोदा और जब मेरा रस निकलने वाला था, तब मैंने उससे पूछा- मेरा माल निकलने वाला है, कहाँ निकालूँ?वो बोली- अन्दर नहीं, तुम मेरे मुँह में दो. आंटी मॉम के दोनों मम्मों को पीछे से पकड़े हुई थीं और उनको मसल रही थीं. वो मेरी पीठ के ऊपर धौल मारकर चिपक गईं और हाथ आगे करके मेरे पेट के ऊपर बांध दिए.

उसके होठों को चूसने लगा और उसे गर्म करने लगा, उसके चूतड़ों पर हाथ फेरने लगा. उसी समय मैंने पास रखी साड़ी की पिन से अपने एक उंगली में खून निकाल लिया और चूत के पास उंगली सटा दी, जिससे उसको शक ना हो. [emailprotected]हॉट साली Xxx कहानी का अगला भाग:साली के साथ वो सात दिन की चुदाई- 2.

हॉट हॉर्नी सेक्स कहानी मेरी होने वाली बीवी की चाची की चूत चुदाई की है. अब यह बिहारी सेक्स … चुदाई का खेल, हम दोनों का रोज का काम हो गया था.

गुरबचन जी बोले- विश्वेश्वर जी का भी नहीं जाने वाला था, गया ना … मेरा भी चला जाएगा.

लेकिन मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया था तो मैंने चाची से कहा- इस खड़े लंड का अब क्या करूं मेरी रंडी.

पायल मेरी गोद में थी और अपनी दोनों टांगों को मेरी कमर से लपेटी हुई मचल रही थी. रोहित बोल रहा था- रवि, आज हर तरह से नए से नए तरीके के साथ चोदेंगे साली को!मैं भी कह रहा था- बिल्कुल, आज हमारी हिरोइन का हम हर सपना पूरा करेंगे. मेरे मामाजी का घर 2 मंजिल का है, जिसमें 3 कमरे नीचे और 2 कमरे ऊपर बने थे.

थोड़ी देर बाद मैंने उसे अपनी गोद में उठा कर बेड पर लिटा दिया और बड़े प्यार से उसके सारे कपड़े उतार कर उसके मम्मों से खेलने लगा. अब तो रोज रात मैं अपनी सास अंजलि से फोन सेक्स करके उन्हें हर दिन चोदने लगा था. मैं और कामिनी कुर्सी से कुर्सी सटाकर सामने सामने बैठ गए और कामिनी के पैर खोल कर चूत के अन्दर लंड घुसा दिया.

फिर प्रिया ने अपना हाथ व्हिस्की की तरफ़ बढ़ाया और दोनों के लिए व्हिस्की का पैग तैयार किया.

उनके नितंबों और बूब्स को देखकर मैं मंत्रमुग्ध हो गया और अपनी वासना को पूरी करने के लिए तुरंत अपने बाथरूम में भागा।भाभी को याद करके मैं मुठ मार रहा था और मुठ मारते मारते पता नहीं आधे घंटे से ज्यादा हो गया. हम लोगों की फोन पर बात हुई तो मैंने बताया कि लॉकडाउन के बाद मैं आपको लेकर आ जाऊंगा. उसने दरवाजा लॉक किया और पलट कर बोली- साले तूने डॉक्टर स्वाति को खूब चोदा … अब वो तो है नहीं तो मैं चाहती हूं कि मुझे चोद.

कुछ देर तक लंड चूसने के बाद पापा ने मम्मी को सीधा लेटा दिया और अपने लंड को मम्मी के दोनों चूचों के बीच में रख दिया. मैंने सीधे सीधे पूछा- तो क्या अब तक शिकारी ने शिकार किया ही नहीं!इस पर भाभी कुछ नहीं बोलीं. दस मिनट बाद मेरा रस निकलने वाला था तो उसने उठ कर मुझे खड़ा किया और जोर जोर से मुँह में लंड लेकर हिलाने लगी.

कुछ मिनट में ही हम दोनों एक साथ झड़ गए और एक दूसरे के पानी को पी गए.

लंड को चूत का चुम्बन मिला तो मैं चूत का कायल हो गया; लंड चूत के अन्दर घुसने को लालायित हो गया. मैंने कहा- डार्लिंग, एक बार मेरे लिए इतना भी नहीं कर सकती?मुझे चुदाई में असली मजा लंड को चुसवाने में ही आता है.

हिंदी बीएफ भेजो सेक्सी पर मैं कुछ नहीं बोला क्योंकि एक तो मैंने उसका कॉन्ट्रैक्ट माना था और मुझे अगली रात का ख्याल भी आ रहा था जिसमें मैं उसके साथ कुछ भी कर सकता था।अयाना ने मुझे बेड पर लेटने को कहा और में लेट गया. अचानक से मुझे लगा कि मेरी बहन ने मेरी सर्च हिस्ट्री को देख कर ऐसा किया है.

हिंदी बीएफ भेजो सेक्सी कपल थ्रीसम सेक्स कहानी में मैंने अपनी कहानियों के एक प्रशंसक के साथ उसकी बीवी को होटल में चोदा. हमें सम्भोग करते हुए 15 मिनट से ज्यादा समय हो चुका था; दोनों पसीने से तरबतर हो गए थे.

सोनल बोली- आज से पहले हमने जितनी बार भी सेक्स किया, वो छिप छिप कर किया, आज मैं अपने पति को बता कर तुमसे चुद रही हूं.

इंडियन सेक्सी व्हिडिओ

चाची खुशी के मारे ‘आहह ह … उहहह … ईहह …’ जैसी आवाजें लगातार निकाल रही थीं. मैं रुका तो उसे मौका मिल गया और उसने ज़ोर से मुझे धक्का मारकर दूर कर दिया. उसके एक बार झड़ने के काफी देर तक भी मैं उसकी गांड चाटता रहा और अब उसकी हालत बेकाबू होने लगी.

उसने अपने दोस्त वेटरों से कहा- यारों ये तो साली बड़ी चुदासी है … बोल रही थी कि तुम्हारे जैसे कितने लंड अपनी चूत में उतार लिए हैं. उसके एक दिन पहले ही मैंने अपने गुप्तांगों की साफ सफाई की और तीन बार लंड की मालिश की. 2010 में आंटी शिमला गईं अपना सारा समान पैक करके छोड़ कर चली गईं।नीचे वाला कमरा भी हमने ले लिया.

इस बार और ज्यादा फटफट की आवाज आने लगी और इस बार कुछ मिनट बाद झड़ गया.

उसने दनादन धक्के लगाना शुरू कर दिए और उसके धक्के लगाने से मेरे चूतड़ से फट फट की जोरदार आवाज आने लगी. वो आई और हम दोनों ने पहले एक बार फटाफट वाली चूत चुदाई का मजा लिया और नंगे ही बिस्तर पर पड़े रह कर बातें करने लगे. अयाना ने मुझे गोद में उल्टा बैठने को कहा और हाथ आगे लाकर लंड को पकड़ा.

आंटी ने फिर से कहा- बेटा यह ठीक नहीं है, तुम मेरे बेटे के अच्छे दोस्त हो. बड़ी मादक खुशबू थी उसकी चूत की!उसने अपनी चड्डी से चूत को पौंछ दिया और मुझे चूत चाटने का इशारा करने लगी. उसने मैनेजर से कहा कि एक ऐसा कमरा चाहिए, जहां शोर कम हो और वो कमरा कुछ अलग को हो क्योंकि उसकी एक सहेली की तबियत खराब हो रही है वो कुछ देर वहां आराम करना चाहती है.

मैं एक हाथ उसकी पीठ पर और दूसरा उसके सर पर रख कर चुप कराने लगा।पर वो चुप नही हो रही थी. मैंने उसको चित लिटाया और उसकी टांगों को फैला कर उसकी बुर चाटना शुरू कर दी.

जल्द ही मैंने अपना मुँह चूत के ऊपर रख दिया और चाची की चूत पर अपनी जीभ फिराने लगा. हम दोनों ने किचन में कुछ मिनट तक एक दूसरे को किस किया और मैंने अपनी साली के मम्मों को चूसा. पर मैंने मैंने उसकी चूत के सारे बाल साफ किए।उसकीचिकनी चूतको देखकर मेरा लंड फिर खड़ा हो गया.

भाभी को भी मेरे खड़े लंड का अहसास हो गया था कि मेरा लंड अब पूरी तरह तैयार हो गया है.

पर मैंने मैंने उसकी चूत के सारे बाल साफ किए।उसकीचिकनी चूतको देखकर मेरा लंड फिर खड़ा हो गया. मैंने कहा- मेरी जान चिंता मत करो; आज मैं तुम्हारी बुर में घुस जाऊंगा और तुम्हारी बुर को फाड़ दूंगा. उन्होंने मुझे उल्टा किया और ब्लाउज का हुक खोल दिया, फिर मुझे सीधा करके ब्लाउज निकाल दिया.

दीदी मेरे होंठों को चूसती हुई बोलीं- कैसा लगा अपनी दीदी को चोदकर?मैं बोला- बहुत मजा आया अपनी रंडी बहन को चोदकर. भाभी की चूत ने मेरा लंड अपने अन्दर ले लिया और वो उछल उछल कर मुझसे चुदने लगी.

फिर मुझको पता ही नहीं चला कि मैं कब उनके चूचों से उनकी चूत पर आ गया. वर्जिन सिस्टर सेक्स में मुझे दर्द इसलिए हुआ था क्योंकि मेरा भी पहली बार का सेक्स था, पर मुझे इतना मजा कभी नहीं आया था. रीना इशारा पाते ही अपने हाथ मेरे पीछे से मेरी स्कर्ट पर ले गई और मेरी गांड दबाने लगी.

फोटो से कपड़े उतारने वाला ऐप्स

मैंने अपने घर आकर कपड़े बदले और दोपहर का खाना खाने के लिए आंटी के घर चला गया.

दबाने और काटने से उनके चूचे और निप्पल लाल हो गए थे; उनके मुँह, गांड और चूत वीर्य से भर गए थे. वे समझ नहीं पा रहे थे कि कोई पूल को देख कर लौड़ा क्यों हिलाएगा।तभी मुझे एक तरकीब सूझी, क्यों ना धीरज और दीपक दोनों को अपनी और सफाई कर्मचारी की चुदाई का लाइव पोर्न दिखाया जाए।मैं पूल से गीला बदन लिए बाहर निकली. तभी एकदम से आंटी की आवाज़ आई- बच्चो, डिनर का वक्त हो गया है जल्दी टेबल पर आ जाओ.

मैंने सलोनी भाभी की गांड के नीचे तकिया लगाया और उनकी चूत पर लंड सैट करके जोर से अन्दर पेल दिया. मैं उसकी चूत की फांकों को अपने मुँह में पकड़ कर खींच खींच चूसने लगा. हिंदी में ब्लू सेक्स फिल्मजैसे जैसे मेरे हाथ ऊपर को जा रहे थे, वैसे वैसे उसकी पकड़ मेरी पीठ पर और टाइट हो रही थी और उसकी सांसें तेज़ हो रही थीं.

मुझे चुदाई का ऐसा नशा चढ़ गया था कि अगर हम दोनों को कुछ देर का भी समय मिल जाता, जैसे नदी के पास या स्कूल जाते या आते समय तो जल्दी से नीचे से चड्डी सरका कर चुदाई कर लेते. उसने हंस कर कहा- और अब आप बताओ, आपकी कितनी प्रेमिकाएं हैं?मैंने कहा- एक भी नहीं है … ये क्यों पूछ रही हो?उसने कहा- बस ऐसे ही, पर आप झूठ बोल रहे हो कि आपकी कोई प्रेमिका नहीं है.

सबसे पहले मैंने उनके माथे को चूमा, फिर आंखों को, गाल को, होंठ और गर्दन को चूमा. मैंने कहा- ऐसा क्या!वो बोलीं- हां, आज तुमको अपने प्यार की गहराई दिखाऊंगी. आज भी 25-30 साल के लड़के मुझे जब देखते हैं, तो उनको लगता ही नहीं कि मैं उनके बराबर की नहीं हूँ इसीलिए वह मेरे आगे पीछे मंडराते रहते हैं.

उसने मुझे कमरे का नंबर बताया और मैंने उसे चूत दिलाने का वादा कर दिया. मैंने हाथों से आंटी की गांड को पकड़ा और अपनी जीभ से उनकी चूत को गपागप चोदने लगा. सब लोगों ने मुझे इतना उत्तेजित कर दिया कि मेरा विरोध भी कम होने लगा, मैं भी हल्के हल्के से उनका साथ देने लगी थी.

वो कसमसा कर बोली- साले कुत्ते, आगे भी बढ़ेगा या यूं ही लपर लपर करता रहेगा.

फिर बातों बातों में मैंने अपनी पैंट खोल दी और उसे मेरा लंड पकड़ा दिया. वैसे तो मैं बहुत ठरकी हूं, हमेशा चूची, बुर के चक्कर में रहता हूं, पर उस दिन मेरी तमन्ना खुद ब खुद पूरी होनी थी.

वो तो आइसक्रीम का मजा भी ले रही थी और लंड चूसने का मजा भी ले रही थी. रुक रुक कर मेरी चूत से धार निकलती रही और किशोर उस सारे पानी को चाटता गया. मेरे चेहरे की तरफ देखने के बाद उनकी नजर तुरंत मेरे पैंट में तंबू बने लंड पर पड़ी और उन्होंने गुस्से में अपनी नजर वापस घुमा ली.

मैंने गुस्से से अपना मुँह फेर लिया, लेकिन मैं बार-बार उसे देखे जा रही थी. मैं चलते चलते आंटी की गांड को मटकते हुए देख रहा था और इसमें मज़ा भी बहुत आ रहा था. इसका मतलब था कि वो भी पूरी तैयारी से आई थी, तभी उसने बाल साफ किए थे.

हिंदी बीएफ भेजो सेक्सी मैं काफी टाइम से इस वेबसाइट पर सेक्स स्टोरी पढ़कर आनन्द ले रहा हूं. इसी तरह मैंने अपने गांव के स्कूल से 10वीं पास कर ली और अब मुझे आगे की पढ़ाई के लिए दूसरे गांव जाना था.

राधा झूला झूल रही

ये सब जानकारी लेकर मैं उनको बोल देता था कि अभी तो पापा घर में नहीं हैं, उनसे समझ कर आपके पास मैं फोन करूंगा और आपको बताऊंगा. उसमें मैंने आपको बताया कि कैसे मैंने अपने ही पड़ोस के शर्मा अंकल से अपनी चूत की सील तुड़वाई और दिन में तीन-तीन बार अलग-अलग आसनों में चुद कर कुछ ही दिनों में एक शानदार चुदक्कड़ रांड बन गई थी. गांव में जब मैं निकलती, तो चाहे मेरी उम्र के लड़के हों या शादीशुदा अधेड़ उम्र के आदमी हों, सभी की निगाह मेरे तने हुए बड़े बड़े चूचों पर … और मेरी उभरी हुई गांड पर टिक जाती थी.

मैंने कहा- क्या तुम इस बात को नहीं समझती हो कि मैं तुम्हें क्यों नम्बर देना चाहता था. मेरे मना करने पर राजेश गुस्सा करने लगा- नाटक मत कर रांड तू इस स्थिति में नहीं है कि हमारी बात नहीं माने. হিন্দি বিএফ ভিডিও হিন্দি বিএফमैं समझ गया कि दीदी की गांड को मारने में कोई समस्या नहीं होगी क्योंकि दीदी अपनी गांड की सेवा करवाती हुई लग रही थीं.

वो भी इस चुदाई में हमारा पूरा साथ दे रही थी।रोहित ने ज्योति से पूछा- बोल साली, आज दो लंडों से खेल कर कैसा लग रहा है?ज्योति बोली- अभी तो एक से ही खेल रही हूँ!मैं उसकी हाज़िर जवाबी पर हंसने लगा, मैंने कहा- यार तुम भी अपना लौड़ा निकाल कर हमारी हिरोइन को दो, तभी इसकी दो लंडों से खेलने की ख्वाहिश पूरी होगी.

रणवीर ने अपनी उंगली में चिकनाई लेकर मेरी गांड में उंगली डाल दी, अन्दर तक ढेर सारी चिकनाई लगा दी. पानी का हौद लगभग 10 फीट लंबा-चौड़ा होगा, वो एक छोटे स्विमिंग पूल जैसा था.

मुझे आया देख कर भड़क कर बोले- साले भड़वे! देख नहीं रहा, मैं तेरी बीवी के साथ बिजी हूँ. मैंने पूछा- क्यों बंदूक चलती नहीं है क्या?भाभी बोलीं- बंदूक घर में रहे, तब तो चले ना. यह आंटी की पेंटी सेक्स कहानी उस समय की है … जब मैं 12वीं कक्षा में पढ़ता था.

हमें ग्राहक को संतुष्ट करने के लिए उसकी कामनाओं के मुताबिक़ रोल अदा करना पड़ता है.

मैं भी आ रही हूँ तेरे रूम पर!मैंने सोचा कि साली ये आ जाएगी, तो मेरा मजा ये ले जाएगी. वो दूसरी लड़कियों के साथ भी सेक्स और मस्ती कर लेते होंगे लेकिन मेरे साथ नहीं करते हैं. मेरे चुदाई शब्द बोलने से भाभी एकदम से गुस्सा हो गईं और मुझ पर चिल्ला कर बोलीं- अगर तेरा मादरचोद भईया मुझे तुम्हारी तरह मेरा ध्यान रखता और मुझे प्यार करता, तो मैं किसी और से आस नहीं लगाती.

देवर भाभी की चुदाई सेक्सीअभी सर्दियों में लॉकडाउन के बाद घर जाना हुआ था।और हर बार की तरह वो मुझसे घर आयी हुई थी मिलने!सब कुछ नोर्मल ही चल रहा था।घर पर कोई था नहीं क्यूँकि मम्मी और पापा हॉस्पिटल गए हुए थे।हम बैड पर बैठे हुए थे और मैं उसको अपने कॉलेज की फोटो दिखा रहा था अपने मोबाइल में!अचानक एक लड़की की फोटो आ गयी और मैंने काफी जल्द उसको हटा दी. मेरी बहन अब जोर जोर से रोने लगी और बोलने लगी- आंह भैया मैं मर जाऊंगी … आंह बहुत दर्द हो रहा है, प्लीज़ भैया निकाल लो अपना लंड.

हंसी मजाक वाला

अंकल की इस तरह कोली भरने की वजह से मेरी चूत ने पानी छोड़ दिया था।तभी अंकल बोले- बेटा, आज रात तुम्हें यहीं रुकना है। मैं तुम्हारे पापा को बोल दूंगा. पैंटी के ऊपर से ही मैं उसकी चूत को अपनी ज़ुबान से चाटने और सहलाने लगा. जब मैं तुमसे चुद सकती हूं, तो बातों का बुरा क्या मानना!मैंने हंस कर उनके दूध को पकड़ कर खींचा तो उसके चूची से दूध की मोटी धार मेरे मुँह में आने लगी.

भाभी जी के स्तनों का आकार 34 इंच है और उनके कूल्हों का आकार 36 इंच के आस-पास का है. मैं भी चुपचाप बैठ गया।दोस्तो, लड़की आपकी बाइक के पीछे बैठे या आप लड़की की स्कूटी के पीछे, मज़ा दोनों में ही आता है. मैडम बोली- शिट … कितना पुराना नाम है तुम्हारा … आज मैं तुम्हारा नाम दूसरा रख देती हूँ.

उधर रवि ने भी देर न करते हुए मुझे अपनी तरफ खींच लिया और लिपकिस करना चालू कर दिया. तभी राजेश व राजेश के दोस्त एक-एक करके मेरे पास आए और अपना परिचय देने लगे. तब प्रेम सविता को कैसे पेल देता है, एपिसोड 19 के इस वीडियो में सविता भाभी के साहस भरे कारनामे का मजा लें.

मैंने भाभी को कॉल करके बताया कि मेरे सर आपको अभी मेरे ऑफिस में बुला रहे हैं. मॉम ने हल्की सी आंह भरी और मेरे ब्वॉयफ्रेंड की उंगली अपनी गांड में ले ली.

तब हम दोनों ने विचार किया और आयशा के कहने पर मैं स्विमिंग सूट खरीदने गया.

यह मेरी पहली और एकदम सच्ची प्यासी भाभी पोर्न कहानी है जो मेरी जिंदगी में बीती थी. सेक्स मां बेटे काक्योंकि चुदाई का असली मजा तब ही आता है, जब लड़की खुद अपने दिल से अपने जिस्म को सौंप देती है. హిందీ సెక్స్ హిందీ సెక్స్ సెక్స్फिर मैंने धीरे धीरे बातें करते हुए उससे उसके बॉयफ्रेंड के बारे में पूछने लगा. देखें कि कैसे शर्मीली ‘कुंवारी’ सविता अपने देवर से शादी के बाद के लिए नए नए ढंग सीखती है!यह प्रसंग बहुत उत्तेजक है, इसे देखना मत भूलें!.

मैं और मेरा दोस्त वरुण (उम्र 21साल) एक साथ किराए के फ्लैट में रहते थे.

आंटी की जीभ काफी अन्दर चली गई थी, इससे मेरी मॉम चिल्ला उठीं- उऊयऊ बेबी क्या कर दिया … मेरी चूत में गर्म गर्म टेस्टी जीभ पेल दी … आहआआ अब बस ज़ल्दी कर दे. वो ख़िड़की लॉक नहीं थी तो मैंने हल्के से एक साईड खोला और अंदर देखा तो चाची सिर्फ़ ब्रा और पेटीकोट में थी. मैंने अपने लंड को उसकी चूत में सैट किया और हल्का जोर देते हुए लंड अन्दर करने लगा.

फिर उन्होंने वैसे ही लेटे हुए ही दूध की बोतल बगल से उठा कर डुग्गू के मुँह में लगा दी. अगले एक दो मिनट के बाद फिर से चाची गांड ऊंची कर देतीं … और मैं फिर से धक्के लगाना शुरू कर देता. ऐसी सुनसान जगह में बैचलर पार्टी की व्यवस्था शायद इसीलिए की गई होगी, जिससे कोई उन्हें डिस्टर्ब ना कर सके.

इंडियन विलेज सेक्सी वीडियो

मैं अब आपको एक स्पेशल मालिश दूँगा, आप बस एन्जॉय करना … और कुछ मत बोलना. वो मुझसे कहने लगी- क्या बात करनी थी जो नम्बर देने के लिए मरे जा रहे थे. मेरे पापा मम्मी मुझ पर बहुत विश्वास करते हैं इसलिए उन्होंने मुझे अपनी पढ़ाई के लिए बाहर रहने दिया.

मैंने कहा- अब मैं तुझे जो कहूंगा, तू वो करेगी और ‘जो हुक्म मेरे आका …’ करके करेगी.

दोस्तो, न्यूड यंग गर्ल सेक्स कहानी के अगले भाग में आप पढ़िए कि किस तरह से मैंने उस हसीन जवान लड़की की खूबसूरत चूत को अपने फौलाद जैसे लंड से इतनी बुरी तरह से चोदा कि उसे मेरे पैर पकड़ने पड़ गए.

जब वो चाबी उठाकर उठी, तब उसके पेट से साड़ी हट गई और मैंने उसकी नाभि को देख लिया. उसने मेरे हाथ में कमरे की चाबी दे दी और बोली- अगर किसी चीज की जरूरत हो, तो बस मुझे फोन कर दियो, मैं यहीं हूँ … और ध्यान रखूंगी कि तू ढंग से मजे ले ले. ऑंटी सेक्सी ऑंटीप्रिया भाभी मेरे तने हुए लंड को देखकर उस पर टूट पड़ीं और लंड को ऐसे चूसने लगीं जैसे कोई लॉलीपॉप चूस रही हों.

अचानक मेरी आवाज कुछ ज्यादा बाहर निकली और फोन पर सासु मां ने सुन ली. उन्होंने मुझसे पूछा- ललिता क्या सोचा तुमने?मैंने उन्हें कोई जवाब नहीं दिया तो उन्होंने अचानक बांहों में जकड़ लिया और मेरे होंठों पर एक चुंबन जड़ दिया. जी ठीक है!” कहकर मैं अपना सामान लेकर कमरा ढूंढने निकल पड़ी।क्योंकि वो एक रिसॉर्ट था, कई एकड़ की जमीन में फैला था।वहां कॉटेज थे और सारे कमरे अलग अलग विंग में बंटे थे।विंग 1, 2, 3 और 4.

ऐसा कहकर मैंने मॉम के होंठों पर वापिस होंठ रख दिए और मॉम के होंठों को चूसने लगी. मैंने उनकी तरफ देखा, तो भाबी ने कहा- हम डॉक्टर हैं यार, थोड़ा दिमाग़ से सोचो.

[emailprotected]BDSM सेक्स कोचिंग क्लास का अगला भाग:कॉलबॉय कॉलगर्ल बनने का ट्रेनिंग सेंटर- 3.

फिर मेरी चूचियों को दबा दबा कर फुल स्पीड से मेरी चूत में लंड पेलना शुरू कर दिया. आंटी ने तुरंत पसीना पौंछा अपने और मेरे बदन से!फिर एक दूसरी ब्रा नीले रंग की प्रिंटेड पहन ली, जिसका हुक मैंने लगाया. एक दिन पापा ने मुझसे कुछ सामान अंकल के घर पर रखने जाने के लिए बोला.

एक्स वीडियो चलने वाला तब आंटी ने मुझसे कहा- रोनित बेटा, रात में 12 बजे के बाद चुदाई करेंगे. फिर भाभी ने मुझे कुर्सी पर बैठा दिया और घुटनों पर बैठ कर मेरा लंड अपने होंठों से सहलाने लगीं.

डॉगी स्टाइल में पाँच से सात मिनट चोदने के बाद मैंने अपने लंड का सारा पानी उसकी चूत में ही भर दिया. भाई ने फिर से जोरदार धक्का लगाया और इस बार उसने अपना पूरा लंड एक ही बार में मेरी चूत में पेल दिया. उस वक्त प्रिया ने गुलाबी रंग का फ्रॉक पहना हुआ था जो उसके घुटनों के थोड़े ही नीचे तक था.

रोमांटिक सेक्स स्टोरीज

मगर राजेश ने एक अनुभवी चोदू की तरह लंड को जरा सा खींचा और फिर से तेज झटका दे दिया. फिर बोले- अब तुम अपना रसूख ख़त्म तो करना नहीं चाहते होगे, ये नहीं चाहते होगे कि हम सब तेरे काम में टांग अड़ाना चालू करें. वो होली का दिन था और हम सब सहेलियां होली खेलने के बाद नदी में नहाने के लिए गई हुई थीं.

अब जब भी हमारा खुल कर चुदाई करने का मन होता है तो हम दोनों होटल में चले जाते हैं. मनीष ने बताया- मैडम जी, सामने वाले का नाम रोशन है, साईड में जो खड़ा है उसका नाम गगन है और उधर साईड में जो खड़ा है, उसका नाम मदन है.

मेरा लंड फिसलता हुआ उसकी चूत की गहराई में उतरने लगा और प्रिया की अचानक से चीख निकल पड़ी ‘नहींई आआह मम्मीई.

मैंने उसे सही पोजीशन में लिया और धीरे धीरे अपने लंड को पूरा घुसा दिया. ‘आह्ह … बहुत मजा आ रहा है … और जोर से पेल मेरे राजा बेटा … आंह और जोर से पूरा डाल मादरचोद. कपल थ्रीसम सेक्स कहानी में मैंने अपनी कहानियों के एक प्रशंसक के साथ उसकी बीवी को होटल में चोदा.

उन्होंने मुझे इशारे से बुलाया और कहा- स्वप्निल, तुम अभी अन्दर मत ही जाओ, अन्दर प्रोग्राम चालू है, बाकी तेरी मर्जी. खैर … ये तो तय हो ही गया था कि मैं अब अनलॉक होने पर ही वापस जा सकूँगा. नमकीन सफ़ेद अमृत का स्वाद जैसे ही मेरी जीभ पर लगा, मैं निहाल हो गया ‘उफ्फ … उम्महा …’मैंने आज पहली किस उनकी चूत की फांकों पर की थी.

[emailprotected]गैंग बैंग सेक्स फंतासी का अगला भाग:हॉट लड़की की गैंग-बैंग वाली फैंटेसी- 2.

हिंदी बीएफ भेजो सेक्सी: बाद में हम दोनों ने अपने अपने कपड़े पहने और मैं अपने कमरे में चला गया. मैंने अब चाची को अपने बाजू में धक्का दे दिया जिससे चाची सीधी लेट गईं.

अपनी गांड मैंने ऊपर उठाई और इमरान के लंड पर चूत को रखकर धीरे से बैठ गयी. मैं भाभी के सम्पूर्ण गदराए बदन और शरीर को अपने होंठों से बड़ी ही बेहरमी से चुम्बन किए जा रहा था. मैं गाज़ियाबाद जिले का रहने वाला लड़का हूँ और दिल्ली के एक कॉलेज का छात्र हूँ.

डिनर के बाद विक्रम ने कहा- थोड़ा आराम कर लो, ताकि खाना थोड़ा हज़म हो जाए, फिर शुरू करते हैं.

लेकिन मेरी किस्मत ने मेरा साथ दिया और एक कपल मेरे पड़ोस में आकर रहने लगा. मैं एक प्राइवेट कंपनी में जॉब करता हूं और अब मैंने जिम भी ज्वाइन कर लिया है. सुबह होने को थी तो मैंने भाभी को चूमा और अपने कपड़े पहन कर घर आ गया.