बीएफ चुदाई हिंदी पिक्चर

छवि स्रोत,सेक्सी फिल्म हिंदी में बीएफ सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

18 साल के बीएफ: बीएफ चुदाई हिंदी पिक्चर, मैंने तभी दरवाज़े पर मैंने आशिया को देखा जो मेरी ओर थाली लेकर आ रही थी.

बीएफ सेक्सी मूवी फुल एचडी में

सुर्ख गुलाबी रंग का कामदार लहंगा और नेट की चूनर में भाभी की जवानी मस्त दिख रही थी. विदेशी लड़की सेक्सी बीएफउसने अपने बारे में और अपनी बहनों के बारे में काफी कुछ बातें बताई थीं.

उस मस्त माल की अन्तर्वासना मैंने कैसे जगाई, फिर उसे कैसे चोदा?मेरा नाम विजय है. भारतीय मराठी बीएफथोड़ी देर चूचे मसलने के बाद मैंने मौसी की ब्रा को निकाल दिया और उनक़ी बड़ी और मुलायम चुचियों को दबाने चूसने लगा.

कभी मेरी कमर, कभी जांघ, तो कभी मेरी चूची, नाभि हर तरफ उसकी जीभ चल रही थी.बीएफ चुदाई हिंदी पिक्चर: कैसे मैं उससे चुद सकी, ये मैं आपको लेडी हॉर्नी सेक्स कहानी के अगले भाग में लिखूंगी.

जिस वजह से उसे मुँह बना लिया था और मुँह में आए हुए लंड रस को थूक कर अपने आपको ठीक करने लगी.फिर उसने अपनी बातें बताईं कि कैसे उसका पति उसको हर समय चोदना चाहता है.

मिया खलीफा की सेक्सी वीडियो बीएफ - बीएफ चुदाई हिंदी पिक्चर

अब हम अच्छे दोस्त हो गए थे तो कुछ भी बोल देने में मैं या वो हिचकिचाते नहीं थे.वहां से निकले तो मैं उसे हमारे ग्रुप के बारे में बताने लगा कि मैं क्या करता हूँ.

तुमने मुझे अपना सर्वस्व अर्पण किया है और ढेर सारी खुशियां दी हैं, जो मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था. बीएफ चुदाई हिंदी पिक्चर मैंने श्रेया मैडम से कहा- आपने मुझे ऐसा वैसा लड़का समझ रखा है क्या … आप चिन्ता मत कीजिए, ये बात सिर्फ आपके और मेरे बीच रहेगी.

मेरी हाइट को देख कर कोई नहीं कह सकता कि मेरा लंड 6 इंच का हो सकता है.

बीएफ चुदाई हिंदी पिक्चर?

दोपहर को दोस्तों के साथ बाहर ही खाना खाकर जब मैं शाम को वापिस घर आया, तो देखा कि पम्मी आंटी और उनके चाचा चाची हमारे घर पर बैठे हुए थे. अब तो मुझे समझो मजा आने लगा था क्योंकि रात को चाची के घर सोने जाता था तो चाची भी मैक्सी पहन कर मेरे सामने आ जाती थीं. वो दूध चुसवाने में ही इतनी मस्त हो गई थी कि उसने मुझे खुद अपने हाथों से पकड़ पकड़ अपने दूध पिलाए.

तुमने मुझे अपना सर्वस्व अर्पण किया है और ढेर सारी खुशियां दी हैं, जो मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था. इतने में विलास अपनी बाईक लेकर आया और मैं पीछे बैठकर सबको बाय करके आगे बढ़ गया. मॉम ने हां बोलकर उन्हें शांत कर दिया और घर के अन्दर आकर खूब हंसने लगीं.

मैंने पूछा कि बनारस में किधर मिलोगी?वो बोली- घर ही आ जाना, मेरे पति तो ऑफिस चले जाते हैं. हॉट भाभी की मस्त चुदाई के पहले भागसेक्सी भाभी से बात करने की हिम्मत कीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं भाभी के घर में उनका लैपटॉप सुधार रहा था. दीदी बोलीं- अच्छा मतलब हिला चुका है?मैंने कहा- नहीं अभी हिला ही रहा था कि आपका फोन आ गया.

प्रीति ने मुझे जोर दिया कि मैं उन लोगों से मिल लूं।मैं आधे मन से उनके घर गया. 20 मिनट बाद रूम को किसी ने नॉक किया तो मैं समझ गया कि फ़लक आ गयी है.

तुम तो मुझे ऐसे चोद रहे थे, जैसे कोई नई लौंडिया पटाने पर उसे चोदता है कि साली छड़क न जाए.

मेरी नजरें भी मुकेश को यहां वहां देखने लगी लेकिन वो कहीं नहीं दिखा.

वो कुछ कहती, उससे पहले मैंने उसे अपनी ओर खींच लिया और उसके होंठों पर अपने होंठ रख कर चूसने लगा, जोर जोर से किस करने लगा. आह … उह … आह!”फिर जेठ जी ने मुझे अपनी तरफ घुमाया, मेरे चेहरे को ऊपर किया और होंठों पर उंगली फिरते हुए गर्दन को पकड़ कर मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए. फिर उसकी गर्दन पर किस करते हुए मैं अपना एक हाथ उसकी चुत की तरफ़ ले गया और सलवार के ऊपर से ही उसकी चुत को अपनी मुट्ठी में दबा कर भींच दी.

मैं उसके चूचे चूस रहा था।अब मैंने उसे अपनी बांहों में उठाया और बेड पर लिटा दिया।उसका चेहरा लाल हो रहा था, वो चुदने को तैयार थी।मैं उसके ऊपर था, मैंने अपना लंड उसकी मुँह में डाल दिया अपना मुँह उसकी मखमली चूत पर टेक दिया. मेरी मॉम ने पापा को लैटर लिख कर रख दिया- आप अपनी फैमिली के पास रहो, मैं अपनी बेटी और बेटा को कहीं लेकर दूर जा रही हूँ. फिर से मैंने अपने लंड को चूत के छेद पर लगाकर एक धक्का लगाया तो लंड का सुपारा चूत में घुस गया.

थकावट की वजह से मैं तुरंत सो गया लेकिन कुछ देर बाद मुझे मेरे लंड पर कुछ दबाव महसूस होने के कारण मेरी नींद खुल गयी.

लंड चूसने के बाद मौसी बेड पर लेट गईं और उन्होंने अपनी सलवार का नाड़ा खोल दिया. उसका लंड औसत लंबा था मगर उसके लंड की मोटाई ग़जब की थी जिसने मेरी चुत में एक जबरदस्त खिंचाव पैदा कर दिया था. ऐसे ही फ्री फैमिली सेक्स करके एक महीना कब निकल गया, मुझे पता ही नहीं चला.

असल में मैं बता दूँ कि उस तेल का प्रयोग सेक्स के दर्द को कम करने और आसान सेक्स के लिए किया जाता है,मैं उस तेल का प्रयोग फ़लक के साथ करना चाहता था जिससे गांड में लंड पेलने में उसको ज्यादा दर्द न हो. कुछ देर तक मेरे लंड पर जीभ फिराने के बाद उसने मेरे लंड का सुपारा चाटना शुरू कर दिया. मैंने उससे कहा- क्या मैं तुम्हारी जरूरत पूरी कर सकता हूँ?वो बोली- हां मेरा मन तो है मगर तुमको इधर आना पड़ेगा.

कुछ ही दिनों में उन्होंने मुझे अन्तर्वासना सेक्स कहानी की एक लिंक भेजी और मुझसे उसे पढ़ने को कहा.

उसी दिन शाम को मेरे दोस्त की ट्रेन थी और मैं ही उसे आंटी के साथ छोड़ने के लिए गया था. अब मैं दोनों हाथों से उसकी चूचियां रगड़ने लगा तो सरिता जोर जोर से सिसकारियां लेने लगी.

बीएफ चुदाई हिंदी पिक्चर सुपारा फंसते ही रेखा चिल्लाने लगी- ऊंई मां हाय मर गई उफ्फ इस्स स्स हुं हुं आहिस्ता डालो ना हर्षद. दूसरी ओर मेरी चाची मेरे लन्ड को सहलाते हुए मेरे शरीर को चूम रही थी।मैंने मुस्कान को थोड़ा सा दूर करके मेरी चाची को बांहों में उठाया और उनके बदन चूमने लगा।कुछ देर चूमने के बाद मैंने उनके बड़े बड़े बूब्स को चूसना और चूमना शुरू किया.

बीएफ चुदाई हिंदी पिक्चर मेरा खड़ा हुआ मूसल जैसा लंड देखकर सरिता बोली- हे भगवान, रात भर मेरी बहन चोद कर भी दिल नहीं भरा हर्षद. वो मुस्कुरा कर बोलीं- लगता है सिंगल हो!मैंने पूछा- आपको कैसे पता?तो वो बोलीं कि टिंडर ऐप इंस्टॉल कर रखा है फोन में … इसलिए.

सौम्या अन्दर से ही बोली- हां, जैसे ही मेरा पेट दर्द खत्म होगा, मैं आ जाऊंगी.

तृषाकर मधु सेक्सी वीडियो

वह थैंक्यू बोलकर वापस बाहर आया और मुझसे कहने लगा- मेरे साथ ये क्या मज़ाक़ कर रहा है बे?मैंने उससे कहा- अच्छा, अगर तुझे ये मज़ाक़ लग रहा है, तो पांच मिनट रुक. थोड़ा चोदने के बाद विशाल ने रवि को पलंग के किनारे घोड़ी बनने को कहा, खुद ज़मीन पर खड़े होकर रवि की कमर पकड़ कर उसकी गांड मारने लगे. मेरी जांघें रेखा की जांघों पर प्रहार कर रही थीं और मेरे अंडकोश रेखा की गांड के फूले हुए छेद पर प्रहार कर रहे थे.

फिर उसकी जब सांस घुटने लगी तो एकदम मेरा लंड बाहर निकाला और सांस लेने लगी. लॉकडाउन के वक़्त होटल के मालिक ने मुझे कमरा देने से मना कर दिया तो टैक्सी में वापस जा रहा था. तभी मेरी मम्मी बोलीं- हां चलो सरिता, मैं भी तुम्हें मदद करने आती हूँ.

मैं- पर दीदी आपने आपने तो मेरा प्रपोजल स्वीकार भी किया, उसका क्या?माया- हां, मैंने तुम्हें मना नहीं किया है.

अब जब मैं उसकी सिसकारियां सुनता तो और जोर जोर से अपनी उंगली को चूत के अन्दर बाहर करने लगता जिससे शिल्पा को मजा भी आ रहा था और उसकी चूत काफी गीली भी हो गई थी. मैंने उसकी चूत को कम से कम 10 मिनट तक चोदा और अन्दर ही अपना पूरा पानी निकाल दिया. [emailprotected]रियल फॅमिली सेक्स कहानी का अगला भाग:बड़ी बहन और भानजी की साथ में चुदाई- 2.

तब भी मुकेश का लंड बहुत मोटा था और गांड मराने में दर्द होता ही है, ये गांड में लंड लेने वाले और वाली, सब जानते होंगे. माया- क्या हुआ?मैं- दीदी, मैं जीजा जी के पास अपना मोबाइल भूल गया था. मैं उसका नमकीन पानी चाटने लगा, जो कि मैं थोड़ा तो चाट गया बाकी मुझसे नहीं चाटा गया, तो मैं हट गया.

अब मैं अपनी चाची को बांहों में लेकर उन्हें अपने पेट पर लेकर उनकी वासना को और ज्यादा भड़काने लगा. फिर मोहन ने विशाल के पास जाकर कहा- रवि दूसरी बार गांड मरवाने के लिए राज़ी है.

मैंने जानबूझ कर पूछा- किस बारे में!भाभी ने शर्माते हुए कहा- अरे उसी बारे में … मैं तुम्हारे भैया को धोखा तो नहीं दे सकती. वो भी मेरे सीने से चिपक गई और हम दोनों अपनी सांसों को नियंत्रित करने लगे. वो दिखने में काफी खूबसूरत थीं, उनका रंग एकदम दूध की तरह सफेद था और फिगर 34-24-36 का था.

सौम्या मुँह को आगे पीछे करने के साथ साथ कभी भी मेरे लंड के सुपाड़े पर भी जीभ फिराती रही.

मेरा पालन पोषण अम्मी ने ही किया इसलिए अम्मी को हम बहुत प्यार करते हैं. पहले प्रियंका ने पानी पिया और फिर रिंकू ने सड़ा सा मुँह बनाया मगर पी गया. मैंने रोहित को आवाज़ लगाई और बोला- भाई आप जरा ये सीढ़ी पकड़ो, मैं बल्ब लगा देता हूँ.

मैंने कहा- अरे यार पूछ रहा था कि उसने तुम्हें बताया नहीं कि किस तरह से लेना चाहिए ताकि दर्द कम हो. इस बार उसने लंड को पांच मिनट तक चूसा फिर उसने कंडोम हटा दिया और फ़िर से लंड को दो मिनट तक चूसा.

आज मैंने सिर्फ पैंट ही पहनी थी, अन्दर से नंगा ही था और ऊपर एक टी-शर्ट पहन ली. उसकी सहेली ने रुचिता को हाथ से मेरी तरफ जाने का इशारा किया और वो खुद मुस्कुराती हुई आगे बढ़ गई. मैंने उसका लंड एक बार में पूरी तरह अन्दर ले लिया क्योंकि मेरी चुत काफी गीली हो चुकी थी और पानी भी काफी निकल चुका था.

डॉक्टर लोगों की सेक्सी वीडियो

जैसे ही मैंने उसकी सलवार के अन्दर हाथ डाल कर देखा तो पता लगा कि उसने पैंटी पहनी ही नहीं थी.

मैंने एक हाथ से वो पकड़ कर रखा और दूसरे हाथ से उसकी चड्डी उतारने लगा. उसने दूसरे हाथ में चाय की ट्रे उठाई और उसे लेकर गांड मटकाती हुई चली गयी. अबकी बार पम्मी आंटी घुटनों के बल बैठ गईं और बॉक्सर के ऊपर से ही मेरे लंड को अपने मुँह से खाने की कोशिश करने लगीं.

वो मुझसे बोली- इतनी देर तक सोते हो … रात में क्या करते हो?मैंने उससे कहा- तू अभी तक स्कूल नहीं गयी?उसने कहा- संडे को भी स्कूल जाया जाता है क्या?मैंने कहा- तो इतने गुस्से में क्यों है, धीरे बोल न!फिर वो कुछ नहीं बोली. थोड़ी देर बाद, विशाल ने कहा- मोहन, रवि तुम दोनों बाथरूम में चलो, मैं तुम दोनों को नहलाऊंगा. बीएफ सेक्सी जानवरों वालीतो रेखा हंस कर बोली- बहनचोद … जिस समय तू मुझे चोद रहा था तब तूने नहीं सोचा कि हम ये रिस्क कैसे ले रही हैं.

तुम हो कि मेरे तरफ देखते भी नहीं हो। आज मुश्किल से मौका मिला है मेरी जवानी का मज़ा लो प्लीज! मैं आपकी दीवानी हूँ। मैं अपनी जवानी आप पर लुटाना चाहती हूँ. मैंने कहा- क्या काट देगी?वो बोली- यार इस समय नाटक नहीं करो … काम चालू रखो … मुझे इस समय एक पल के लिए भी तुम्हारा रुकना पसंद नहीं आ रहा है.

ये हमारे इतने दिनों की बातों में मैंने उसे अपनी पसंद के बारे में जो जो बताया था कि मुझे ये खाना पसंद हैं, उसने वो सब रखा था. मुकेश ने आगे से मेरी साड़ी को साये के अन्दर हाथ डाल कर खींचा और मेरी साड़ी एक ही क्षण में जमीन पर गिर गई. तो मैंने भाभी से पूछा- फिर क्या हुआ?भाभी- फिर मैंने भी गुस्से में आके एक दिन उनकी सारी पोर्न कलेक्शन डिलीट कर दीं, तो उन्होंने मुझे बहुत डांटा.

दोस्तो यह मेरी और अमित की एक सच्ची सेक्स कहानी थी, आप लोगों कैसी लगी देवर और भाभी की चुदाई, मुझे ईमेल करके जरूर बताएं. मेरी चीख निकल गई तो पापा ने मेरे मुँह को अपने हाथ से बंद कर दिया और धीरे धीरे मुझे चोदने लगे. एक दिन की बात है, मैं जिम जाने में थोड़ा लेट हो गया था और बाइक तेजी से चला रहा था, मगर ट्रैफिक के कारण मुझे दिक्कत हो रही थी.

अब रात को मुझे दूसरे कमरे में सोना पड़ा, रात को मैं यही प्लान बनाता रहा कि अपनी सौम्या डार्लिंग को पटाऊंगा कैसे … उसे चुदने के लिए राजी कैसे करूंगा.

भाभी- हां क्यों नहीं, पर उसके लिए तुम्हें मुझे अपनी तलवार दिखानी पड़ेगी. सच कहूँ दोस्त, उस पल तो मन किया कि उसको वापस खींच कर गाड़ी में बैठा कर कस कर चूम लूं.

फिर खाला हंसकर बोलीं- मेरा शाहबाज़ कब इतना बड़ा हो गया, पता ही नहीं चला. मैंने भी ‘आई लव यू … आई लव यू …’ बोलते उसके होंठों से अपने होंठ लगा लिए और जोर जोर से उसके होंठों को चूमने लगा. com/naukar-naukarani/indian-hot-bhabhi-sex/में आपने पढ़ा कि रात भर मालकिन की चुदाई के बाद नौकर अपने कमरे पर आकर सो गया.

मैंने एक हाथ से वो पकड़ कर रखा और दूसरे हाथ से उसकी चड्डी उतारने लगा. उतने में ही मेरी लपलप करती हुई गांड सीधे धीरू के लंड को अपने अन्दर समा चुकी थी. कुछ देर ऐसा करने से वो भी गर्म होने लगी और उसने अपने आपको ढीला छोड़ दिया.

बीएफ चुदाई हिंदी पिक्चर यहां मेरी बहन मुझे खाना परोसने के लिए जैसे ही झुकी तो मुझे उसके चुचे साफ दिखने लगे. मैंने कहा- ऐसा नहीं कि मैंने झूठ कहा था, आज तुम्हें देखने से ज्यादा जरूरी ये जानना था कि तुम्हारी तबियत कैसी है, तो नहीं बोल पाया … पर तुम सच में काले रंग में बहुत ही आकर्षक लगती हो.

डिस्कवरी जंगल

मैंने पूछा- आपके पति क्या करते है?उन्होंने बताया कि वो दूसरी कंपनी में काम करते हैं. जब मैंने कॉलेज जाना शुरू किया तो मुझे पता चला कि जवानी क्या होती है. मैं भी मदहोशी में चिल्ला रहा था और वो भी मुझे गाली देता हुआ मेरी गांड का गड्डा बनाने में लगा हुआ था.

उसके बाद मैंने दीदी जीजा और बच्चों को रहने की व्यवस्था की और अपने कमरे में सोने चला गया. मैंने चाय पीते पीते अपने एक हाथ से रेखा की जांघें अलग करके उसकी चूत देखी तो वो सूज गयी थी और लाल होकर फूल गयी थी. फिल्मी हीरोइन का बीएफउसके लंड का उभार काफी बड़ा था और उसने मुझे आकर्षित कर लिया।मैं उसको आजमा कर देखना चाहती थी।मैंने उसके लंड को पकड़ लिया और उसके सहारे उसको कॉरिडोर के दूसरी तरफ ले गई जहां पर ज्यादा सेफ लग रहा था।प्रियंका मुझे उसे छोड़ने के लिए कहती रही।लेकिन मैं पहले भी एक बुक स्टोर में चुदाई का खेल कर चुकी थी तो मुझमें आत्मविश्वास भरा हुआ था.

बिना सेक्स कहानी पढ़े मेरी टट्टी नहीं उतरती है, यह बिल्कुल सत्य है.

वो दुबारा बोलीं- बता ना … मेरा नाम क्यों ले रहा था?अब मैं थोड़ी हिम्मत करके उनसे बोला- मुझे आप बहुत पसंद हैं. मैंने भाभी को हचक कर चोदा और बीस मिनट बाद अपना लंडरस उनकी चुत में छोड़ दिया.

मैं वादा करता हूं तुम्हें शादी के बाद भी दबा कर चोदूंगा और तुमसे ही सबसे ज्यादा प्यार करूंगा. ट्रेन के झटकों के साथ लंड के झटके मैच करते हुए मैं ताबड़तोड़ लगा रहा. मैंने फिर से कहा- रुचिता, क्या तुम मुझे पहचान नहीं पाई हो?उसने कहा- नहीं, मैंने नहीं पहचाना.

सौम्या ने मुझसे मेरे साथ भाग कर शादी की बात की तो मुझे सौम्या को बताना पड़ा कि मैं उसी की चूत की पैदाइश हूं.

अगले ही पल मेरा लंड भाभी की उठी हुई चूचियों और भरी हुई गांड याद करके तन्ना गया. मैं अपने हाथों को उसके छाती पर ले गया और दोनों हाथों से उसके स्तन दबाने लगा; साथ ही उसकी गर्दन पर किस भी करने लगा. मैंने दीदी से पूछा- वो लोग क्या बोल रहे थे?दीदी ने कहा- कुछ नहीं, वो आपस में ही कुछ जोर जोर से बोल रहे थे.

बीएफ सेक्सी बीपी हिंदीदोस्तो, मैं राजकुमार … आज मैं आपको अपनी और अपनी गर्लफ्रेंड सिमरन की चुदाई की कहानी सुना रहा हूं. फिर मैंने अपने दोनों हाथों से रेखा के दोनों मांसल कूल्हे नीचे से पकड़ लिए और नीचे झुककर रेखा कि चूत के ऊपर के लाल गुलाबी दाने को अपनी जीभ से सहलाने लगा.

सेक्स सेक्सी गेम

फिर मैं उसका दूसरा स्तन मुँह में लेकर चूसने लगा और पहले वाला स्तन मैं अपने हाथों से रगड़ने लगा. क्या बताऊं दोस्तो, उस समय इतना मजा आ रहा था कि मेरे पास बताने के लिए कोई शब्द ही नहीं हैं. पर तभी फ़लक ने मेरे लंड पर हाथ फेरना शुरू कर दिया और मुझे किस करना भी शुरू कर दिया.

फिर मैंने उसे अपने दोनों हाथों से उठाकर चूम लिया और बेड पर लिटा दिया. उसने मुझसे कहा- क्या हुआ?मैंने कहा- कुछ नहीं, चीनी का डिब्बा तुम्हें मिल गया हो, तो थोड़ा पीछे हटो … मुझे नीचे से एक बर्तन निकालना है. एक बार शनिवार के दिन शाम को अपनी कॉलोनी की लेडीज के साथ मेला घूमने गई.

मेरी बीवी को मेरी चुदाई बहुत पसंद है, क्योंकि मैं उसे वो जब कहे, तब उसकी चुदाई करता हूं और देर तक चुदाई करता रहता हूं. मेरी मौसी की बेटी अब शांत थी लेकिन मैंने अपनी जीभ को काम पर लगाए रखा. मम्मी भी भैया की ही तरफ बोलीं- तो क्या हुआ … बहुत दिनों के बाद आई है तो जोर से ही तो करेगा न!मैं बोली- मम्मी आप भी ना.

मेरे पति मान गए और बोले- कितने दिन के लिए जाओगी मेरी जान?मैं बोली- बस कुछ ही दिनों के लिए. फिर चाची ने ऐसा कुछ पूछा, जिसकी मुझे उम्मीद ही नहीं थी- अच्छा ये बता तू वॉशरूम में ये सब क्यों कर रहा था?मैं कुछ नहीं बोला और सिर नीचे करके बैठा रहा.

वो मेरे एक एक अंग को चूमते हुए नीचे आ गया और मेरी चुत और भग्नाशय तक पहुंच गया.

मैंने ऊपर टी-शर्ट नहीं पहनी थी, तो वो मेरी चौड़ी छाती और गठीला बदन देख रही थी. नंगा फोटो बीएफनींद में होने के कारण मम्मी को ज़्यादा कुछ समझ में नहीं आया तो मैंने झट से अपना हाथ उनकी टांगों से निकाल कर उनकी गांड पर रख दिया. सेक्सी हार्ड बीएफइससे मेरी बहन की आंखों में से आंसू भी आ रहे थे, वो बोल रही थी- भाई थोड़ा धीरे करो!पर मैं कहां मानने वाला था!इस दौरान मेरी बहन एक बार झड़ चुकी थी और कहे जा रही थी- भाई, मुझे और चोदो … और चोदो … फाड़ डालो मुझे … और चोदो और चोदो!अब मैंने कहा- मुझे तुम्हारी गांड मारनी है. मेरा जोश बढ़ गया था, मैं सरिता की चुची जोर से मसलने लगा तो सरिता कसमसाने लगी.

’मेरे टॉप की ज़िप खुलने लगी थी और कब टॉप शरीर से अलग हो गया, पता ही नहीं चला.

गर्म पेशाब की धार सरिता सह नहीं सकी तो चिल्ला पड़ी- ऊंई मां ऊं अहाहा हं हं ऊंई!उसकी कामवासना भड़क चुकी थी, उसने आंखें बंद कर लीं. मैं उसकी गांड जोर जोर से दबाने लगा तो मेरा लंड उसकी चूत पर दस्तक देता हुआ उसकी चूत से रिसता पानी मेरे लंड को नहलाने लगा था. उसकी गांड भी उसकी चूत की तरह बिल्कुल चिकनी थी।मैं उसके कूल्हे सहलाने लगा.

मैंने इस बार बिना किसी हिचक के उसका लंड चूसा और उसने मेरी चुत चूस कर मुझे गर्म कर दिया. मेरी पत्नी ने मैक्सी के ऊपर के बटन खोलकर गोरे गोरे मोटे मम्मे को बाहर निकाल दिए और मेरे दोनों हाथ लेकर दोनों मम्मों पर रख दिया. फिर मेरे पति को घर जाना था क्योंकि उन्हें एक ही दिन की छुट्टी मिली थी इसलिए वो घर चले गए.

सेक्सी वीडियो बिहारी वाली

देसी भाभी हॉट सेक्स का मौक़ा मुझे मिला जब मैंने अपनी भाभी को उनके बच्चे को दूध पिलाते हुए देख लिया। भाभी की चूची देख मैं बहुत उत्तेजित हो गया।दोस्तो, मेरा नाम राहुल है। मैं दिल्ली का रहने वाला हूं।आज मैं आपको अपनी देसी भाभी हॉट सेक्स कहानी बताने जा रहा हूं। यह मेरी पहली कहानी है।उससे पहले मैं आपको अपने बारे में बता देता हूं। मेरी उम्र 24 साल है और मैं कुंवारा हूं।मेरी हाइट 5. बहुत देर हो गई, मुझे लगा अब मर जाऊंगी मैं- जल्दी चोद दीजिए जी … ओह … आह … आह!जेठ जी मेरी चूत को चाटते जा रहे थे और मैं मछली की तरह छटपटा रही थी।उन्हें मुझ पर जरा भी दया नहीं आ रही थी. भाभी भी मेरे लंड को ललचायी नजरों से देख रही थीं, पर पास आने से हिचक रही थीं.

जब से तुम्हें और तुम्हारे मोटे लंड को पहली बार देखा है, तब से इसने मेरी रातों की नींद हराम कर दी है.

फिर जैसे ही मैंने अपने होंठ आंटी की जांघों पर लगाए, मानो आंटी को करंट सा लगा.

फिर मैंने धक्के मारने शुरू कर दिए और शनै: शनै: उसकी चूत में धक्के तेज करता गया. कुछ देर बाद एक बार फिर से मैंने उसकी चूत में लंड डाल दिया और गांड फाड़ चुदाई शुरू कर दी, उसकी चूत की मेरे लंड से घिसाई शुरू कर दी. प्रियंका चोपड़ा के बीएफ फोटोवो भी अपने हाथ से मेरे लंड को सहला रही थी और मेरे लंड को देख कर डर भी रही थी.

मैंने भी उस पर दबाव नहीं डाला और अपने ऊपर 69 की पोजीशन में खींच कर उसकी बुर को चाटने लगा. जिसकी हाइट 5 फिट 3 इंच, पतली कमर, चूची की साइज 32 इंच हो और जिसके होंठ सुर्ख गुलाबी हों. मैंने छत पर जाकर देखा कि नाना जी और नानी जी कब तक जागते हैं और सौम्या के कमरे में झांक भी देखता रहा कि सौम्या डार्लिंग किस टाइम नींद में होती है.

जिन्हें लगता है कि कॉलब्वॉय सिर्फ सेक्स के लिए ही आता है, तो हैडी के साथ ऐसा नहीं था. मेरे सामने उसकी बहन चुस्त टी-शर्ट और शॉर्ट्स में क्या मस्त लग रही थी.

जब उसने मुझे निशा के साथ सेक्स करते देखा था तो वही पर अपना पानी भी निकाला था.

वो एक बार झड़ चुकी थी।वो बोली- आपका हो क्यों नहीं रहा है?पर मैं जवाब दिए बिना चुपचाप लगा रहा. तो वो इतरा कर बोली- हां मैंने उसी को ध्यान में रख कर सेक्स कहानी का मजा लिया है. पर वो सबके साथ सेक्स करती है, जबकि तुम मेरे साथ करती हो … इसलिए तुम सिर्फ मेरी ही रंडी हो.

बीएफ सेक्सी चोरी वाली कुछ देर बाद उसने मेरे ब्रा की स्ट्रिप पीछे हाथ डालकर खोल दी और नीचे से मेरे पेटीकोट के नाड़े को भी खोल दिया. कुछ देर के बाद वो बोली- मेरी जान, बहुत हुई ये चुम्मा चाटी … अब मैं तुम्हारा लंड चूसना चाहती हूँ.

चाची ने कहा- ऋषभ, अब मेरी चूत में अपना लंड डाल दो … मुझसे नहीं रहा जाता. मैं शिल्पा के एक चुचे को दबा रहा था, तो दूसरे को मुँह में लेकर चूस रहा था. अगली रात मैंने सौम्या की सलवार का नाड़ा खोल दिया और धीरे धीरे उसकी सलवार को नीचे खिसका दिया.

पेट क्यों दर्द करता है

फिर निशा बोली- मेरा क्या?मैंने कहा- ठीक है आज उसको कर लेने दे … कल या परसों तुमको चोद दूंगा. इस समय चाची की चूत पूरी खुल कर दिख रही थी, जिसे देख मेरे लंड में भी आग लगने लगी थी. फिर जब लंड ने रबड़ी से भरी गुफा में प्रवेश किया, तो लंड को भी अलग ही अहसास हुआ और इस बार चुदाई में समय भी कुछ ज्यादा लगा था.

मेरी लंबाई साढ़े पांच फुट के आस-पास है और लिंग का साइज 7 इंच का है, कभी पैमाने से नापा नहीं है. यही सब सोचते हुए मेरे दिमाग में एक बात आई कि यदि मैं राहुल को बियर लेने भी भेज दूँ, तो मुझे कुछ टाइम मिल जाएगा.

आज मेरा लंड मुझे कुछ ज्यादा ही बड़ा लग रहा था और सुपारा भी फूला हुआ था.

मैंने उसे डाक्टर को दिखाया तो डॉक्टर ने कहा- अदिति को टायफायड हो गया है … और यह बहुत कमजोर भी हो गई है. मैंने बोला- निशा आपने कब चेंज कर लिया?उसने बोला- जब आप घूम कर चेंज कर रहे थे. आशिमा दीदी ‘गुऊं गुउंग …’ करके मेरा लंड चूसती रहीं और मेरा स्खलन का समय आने लगा था.

चुप होकर मजे लेते हुए सोचता रहा कि जो भी हो, ये बड़ा मस्त लंड चूस रही है. मैं उनका हाथ छुड़ाने की कोशिश करने लगी पर उन्होंने कस के अपनी ओर खींचा. दोस्तो मैंने अपने पीहर में एक ही रात में पापा और भैया दोनों के लंड का पानी अपनी चूत में ले लिया था.

वो भी लंड लेने को बेताब हो गई थी इसलिए उसने खुद ही अपने शरीर को पीछे की ओर धकेल दिया.

बीएफ चुदाई हिंदी पिक्चर: मैं और ज़ोर ज़ोर से धक्के मारने लगा और लंड को मौसी की चूत की जड़ तक ले जाने लगा. मैंने पूछा- पिताजी गए क्या ऑफिस?तो मम्मी बोलीं- हां अभी निकल गए हैं.

उधर समीर को भी रोहन के कपड़े नहीं आ रहे थे इसलिए समीर ने बस रोहन का अंडरवियर पहना था, जिससे समीर का आधा लंड अंडरवियर में से बाहर निकल रहा था. दूसरी ओर हमारे एरिया का एक मवाली लड़का मुकेश, मुझे दिखने में काफी अच्छा लगता था. मैं दस मिनट तक ऐसे ही उसकी चुत चोदता रहा और उसके मुँह से आह आह आह आह की सिसकारियां निकलती रहीं.

वो हाथ से लंड पकड़ कर अन्दर डालने लगी तो मैं उसकी ओर देख कर मुस्कुरा दिया.

मौके की नज़ाकत समझते हुए मैंने भी पम्मी आंटी का एक पैर पकड़ा और आंटी को नॉन स्टॉप ज़ोर से चोदने लगा. पहले मैंने धीरे-धीरे अपनी साली की बुर को चोदना शुरू किया तो शुरू में उसे दर्द का अहसास हुआ. चुत चुदवाती हुई चाची बोलीं- साले मादरचोद … आज तू कौन सी गोली खा कर आया है, जो मुझे तेरा ये लंड नहीं झेला जा रहा है.