बीएफ वीडियो हिंदी में वीडियो

छवि स्रोत,बिहार का सेक्सी वीडियो लड़की का

तस्वीर का शीर्षक ,

आंटी वाली सेक्सी वीडियो: बीएफ वीडियो हिंदी में वीडियो, ”नहीं पहले एक चुम्मा यहीं पे!”और उसने मेरे होंठों से होंठ जोड़ दिए। मैंने भी बांहें उसके गले में डाल दीं और आंखें बन्द कर के चुम्बन का मज़ा लेने लगी।तभी …मुझे दरवाज़ा बन्द होने की आवाज़ आयी। मैंने चौंक के आंखें खोली और उसकी बांहों से निकलने की कोशिश की, लेकिन किसी ने मुझे पीछे से जकड़ लिया।सुलेमान ये … ये कौन?”चिंता मत कर। मेरे साथ है। मेरा दोस्त है अरबाज़।लेकिन ये… ये गलत है.

গান্দি বাত

मैं लेटा तो वो मेरे ऊपर आ गई और अपनी पीठ मेरे मुँह की तरफ करके मेरे लंड पर अपनी गांड को सैट करते हुए धीरे धीरे बैठ गई. सेक्सी साइट्सवरना मुझे ऐसे हालत में देखकर ये इतने आदमी क्या करते ये सोचकर ही मेरे पसीने छूट गए.

मेरा भाई यानि भाभी का शौहर, ट्रक ड्राइवर की जॉब करता है, इसलिए उसका घर आने का कोई समय पक्का नहीं होता है. चंडीगढ़ सेक्सी ब्लू फिल्ममैंने पूछा- पापा के लिए?उसने कहा- पापा के लिए कुछ हल्का फुल्का ले आना.

हांलाँकि सोनू शादी के पक्ष में नहीं था।शादी हो गयी, मेहमान भी अपने घर चले गये।एक दिन मेरी बहू सायरा ने मुझसे अपने मायके जाने के लिये अनुमति मांगी। मैंने भी खुशी-खुशी इस शर्त के साथ सायरा को उसके घर भेज दिया कि वो जल्दी वापिस लौटकर आयेगी.बीएफ वीडियो हिंदी में वीडियो: मैं अपने भैया के आगे आगे चल रही थी और इसी बीच भैया के मन में पता नहीं क्या आया कि उसने मुझे पीछे से पकड़ लिया.

और बहुत सी पाठिकाएं भी शायद लैसबियन सेक्स के लिए उत्साही हो जायें और महीनों तक नायिका को सोचकर ही अपने लंड चूत का पानी झाड़ते रहें।यह वादा मैंने इस कहानी की नायिका से ही किया है.अलीना इतनी हॉट और सुंदर थी कि जिसके सामने मुझे तमन्ना भाटिया भी फीकी लगी.

सेक्सी गर्ल video - बीएफ वीडियो हिंदी में वीडियो

मैंने अपने पैर बिस्तर के निचले सिरे पर मज़बूती से जमाये, वसुंधरा के ऊपरी होंठ को अपने होठों में दबाया और दो-तीन बार अपनी कमर ऊपर-नीचे करते-करते अपने शरीर के निचले हिस्से को नीचे की ओर एक ज़ोर का धक्का दिया.फिर नीतू उठी और मेरे बालों में हाथ फेरते हुए बोली- आ मेरा बाबू थक गया.

रोजी के हाथ मेरे सर के बाल नोच रहे थे और उसके होंठ मेरे होंठों को काटने लगे।रोजी मेरा लंड निकालकर उसे लोलीपोप के जैसे चूसने लगी. बीएफ वीडियो हिंदी में वीडियो प्रिंटेड नीली ब्रा और काली पेंटी में मेरा कोमल बदन उनके लौड़ों को ऐसे चिढ़ा रहा था, मानों अप्सरा स्वर्ग से उतर कर जिगोलो की गोद में गिरी हो.

इस बार लंड पर कंडोम नहीं लगा था, जिस वजह से मैंने लंड का सारा गरम माल उसकी गांड में खाली कर दिया.

बीएफ वीडियो हिंदी में वीडियो?

फिर मैंने नीतू की नंगी जांघों पर हाथ फेरते हुए उससे कहा कि खिल तो आज तुम भी बहुत गयी हो. तो वो बोली- मैं पढ़ाई में तेरी कोई हेल्प नहीं कर सकती क्योंकि मैं खुद टीचर से चुदवा कर पास होती हूँ. मेरे लंड का सुपारा गुलाबी रंग का है और मैं अपने लंड की साफ सफाई का पूरा ध्यान रखता हूं.

तभी दीदी ने मेरी टी-शर्ट को निकाल दिया और मैंने दीदी की टी-शर्ट निकाल दी. ‌मैंने उसे अपनी तरफ आने की जगह देते हुए कहा- तुम फ़िक्र मत करो, मैं बहुत आराम से करूँगा. एक दिन मैं अपनी बालकनी में बिना शर्ट और बिना बनियान के खड़ा हुआ था.

रजत ने हसन और परमीत के पैरों के आजू-बाजू अपने पैर डाले और परमीत की चूत की चिकनाई को हाथों से जांचते हुए अपने लंड का सुपारा निशाने पर सैट किया. टीचर होने की वजह से मेरे मुँह से अपने आप ही निकल गया- स्कूल क्यों नहीं आये आज?वह अपनी माँ की तरफ देखने लगा. मैं धीरे से अपना लंड उनकी चूत फेरने लगा तो चाची कामुक आहें भरने लगी और तड़पने लगी.

मैं उठा और चाचा चाची के कमरे के बाहर जाकर अन्दर झांकने की कोशिश करने लगा. तुम पागल हो गए हो या मुझे रंडी समझ रखा है … मैं ये सब नहीं करने वाली, इन्हें यहां से भगाओ … नहीं तो हम दोनों यहां से जा रही हैं.

मैं आलिया के मम्मों को अपने हाथ से सहलाने लगा, जिससे आलिया और मदहोश हो रही थी.

अब डॉक्टर मुझे संभोग के लिए परमिशन दे रहा है और कह रहा है कि किसी लड़के से अगर बॉयफ्रेंड हो तुम्हारा कोई तो एक बार संभोग करके देख सकते हो कि तुम्हारी योनि सही तरह से विकसित हुई भी है या नहीं.

उसकी चूत की फांकों में मैंने लंड का टोपा रखा और ऊपर से नीचे तक दो बार सुपारे को घिसा. एक पल बाद ही मैंने अपना मुँह मैडम के मम्मों के बीच में रख दिया और चूमने लगा. जहां पर मैं जॉब कर रहा था, वहां ऑफिस में मिलने का कोई प्रबंध होता हुआ दिखाई नहीं दे रहा था.

दूसरे दिन भी रात में विक्की आया, आदी ने आज रात को कल जैसे ही उसका लंड चूस कर पानी निकाल दिया. मीता ने कहा- नीचे से … मतलब कहां से? तब परमीत ने अपनी चुत की तरफ इशारा करके दिखाया और हम सबके चेहरे के रंग ही बदल गए. इस कहानी को मजेदार बनाने के लिए अलीना की इंग्लिश को मैं हिन्दी में लिख रहा हूं.

फिर मैंने बुद्धा गार्डन जाने का रास्ता पता किया। हमने तय किया कि मैं थोड़ा पहले निकल कर बस से हॉस्पिटल के अगले स्टॉप पर उतर जाऊँगा और वो अपनी स्कूटी से वहीं पर मिल जायेगी.

पर पहले तो उसने मना कर दिया था लेकिन बाद में उसने कहा था कि बाद में देखूँगी. फिर तीन महीने के बाद उसका फोन आया कि वो मेरे बच्चे की माँ बनने वाली है. उसकी ये लाज मुझे ऐसी लगी, जैसे वो अपने आपको मुझमें कहीं छुपा रही हो.

उम्म्ह… अहह… हय… याह… और तेजी से … उफ्फ बहुत मजा आ रहा है, ऐसे कहते हुए मैं उस गैर मर्द से अपनी गांड को चुदवा रही थी. मैंने जंगली बनते हुए एकदम से उसकी पिंक सेक्सी सी नाइटी फाड़ दी।उसने मुझे रोका और सोफे पर बैठने को बोला और पानी पिलाया और कहा- जब बुलाऊं, तब बेडरूम में आ जाना।मैं वहीं बैठकर उसका इन्तजार करने लगा।15 मिनट बाद उसने आवाज दी।मैंने देखा कि वो लाल साड़ी में खड़ी है और एकदम दुल्हन की तरह सजी हुई है। उसके हाथ में दूध का ग्लास था. रजाई के अंदर दोनों जिस्मों का तापमान अपने उच्चतम स्तर पर पहुँच गया था और गर्मी सी लग़ रही थी.

फिर ऐसे ही मस्ती करते करते बहुत दिन निकल गए तो एक दिन मुझे राजीव ने अपने केबिन में बुलाया.

उसने कहा- क्या भइया, क्या है आपको?मैंने कहा- तेरी स्किन (त्वचा) कितनी सॉफ्ट (मुलायम) है. जनवरी के महीने में भारी ठंड का मौसम था, मैं अपने ऑफिस से शाम के समय अपनी बाइक से वापस घर लौट रहा था.

बीएफ वीडियो हिंदी में वीडियो उसको देखकर मैंने सरीना को बूब्स पकड़कर उसके होंठो से अपने होंठ चिपका दिए. यह देख कर तीसरा लड़का, जो मेरी बोट पर था वो मेरे पास आया और उसने मेरे कान में कहा- अगर तेरी गांड इतनी मस्त है तो तेरी चूत तो बिल्कुल जबरदस्त होगी.

बीएफ वीडियो हिंदी में वीडियो मेरे बार-बार ऐसा प्रश्न करने से वो चिढ़ गई और उसने मैसेज कर दिया कि मुझे कुछ नहीं बताना है और आप मेरी कहानी भी मत लिखो. मुझे किसी तरह से भैया को भी दो तीन दिन के लिए घर से दूर रखने का प्लान बनाना था.

परमीत की ये अवस्था चीख-चीख कर कह रही थी कि उसकी शर्म का गहना बिखर चुका है और यौवन का अहंकार चकनाचूर हो गया है.

दीपावली की सेक्सी फिल्म

मेरी इस हॉट सेक्सी स्टोरी के पहले भागदोस्त की बीवी ने बहाने से चूत चुदाई-1में आपने पढ़ा कि मैं अपने दोस्त के घर उसकी बीवी के साथ अकेला था, उसकी मदद कर रहा था. अभी तक मैंने सुमित को भी इस बारे में नहीं बताया था कि मैं सुबह के टाइम भी जा रहा हूं. लेकिन मेरी नज़रें उस अनजान औरत को ही घूरे जा रही थी।और वो आंटी भी चुपके चुपके मेरी तरफ देख रही थी.

ऐसे ही कुछ देर तक भैया अपना लंड दीदी की बुर मे पेलने के बाद झड़ने लगे. मैंने अपने लंड का सुपारा उनकी गांड के छेद पर रखा और धीरे धीरे धक्का लगाना शुरू किया. अरविन्द पूरा नंगा हो चुका था और उसने अनीता की ब्रा खोल कर उसके मम्मी आज़ाद कर दिए थे.

मगर इसका मतलब यह नहीं है कि मैं रंडी बन चुकी हूँ, मैं आज भी अपनी शर्तों पर सेक्स करती हूँ.

पर क्या फ़र्क पड़ता है, वो तो पहले से सुहागिन ही थी … न जाने कितनों की बीवी रह चुकी थी. वो ऐसे ही मुझसे चिपक कर खड़ा हो गया और अपनी कमर को इधर उधर चलाने लगा. संजू कराह उठी और वो मेरा लंड को मुँह से निकाल कर चीख पड़ी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’मैंने कहा- थोड़ा सब्र करो.

ब्रा के उतरते ही परमीत ने हाथों में रखे केक को अपने उन्नत आकर्षक और वासना से कठोर हो रहे स्तनों पर लगाया और उसे संजय की ओर कर दिया. तो मैंने उससे कहा- आप ज्यादा मस्का ना लगाओ।उसने कहा- सच में भाभी … मैं मस्का नहीं लगा रहा! आप सच में बहुत खूबसूरत हो।फिर मैंने उससे पूछा- तुम चाय लोगे या कॉफी लोगे?उसने मुझसे कहा- नहीं भाभी, मैं कुछ नहीं लूंगा. इतना मोटा और लम्बा लंड तो मैंने पोर्न सेक्स मूवी में भी नहीं देखा था.

जेल की डिब्बी से जेल निकाल कर अपने लण्ड पर मला और सुमन की चूत के लबों को फैला कर धीरे धीरे पूरा लण्ड सुमन की चूत में पेल दिया. अब मैंने करवट ले कर उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और उसके होंठों को चूसने लगा.

उस दिन मैंने उसकी दो बार और उसकी चूत मारी। फिर मैंने उससे पूछा- मेरे से पहले कितनों के साथ सेक्स किया है?तो वो एकदम से चौंक गयी और बताने से मना करने लगी. उसने अपनी टाँगें क्रॉस कीं और मेरा सिर बड़ी ज़ोर से अपने प्यारे प्यारे टखनों के बीच दबोच लिया. उसका एक हाथ मेरी जांघ को सहला रहा था और दूसरा हाथ मेरी नंगी पीठ को.

वो दीवार के सहारे हाथ रख के खड़ी हो गयी और साड़ी उठाने लगी। मैंने भी उसको थोड़ा पीछे खींचा और साड़ी को कमर के ऊपर कर दी। उसने कच्छी नहीं पहन रखी थी.

चूचों से पूरा शरीर खींचने से हुए मस्ती भरे दर्द ने बेबीरानी को और भी ज़्यादा उत्तेजित कर दिया और वो फ़ौरन स्खलित होकर चरम आनन्द प्राप्त कर गई. यदि आप मुझे मैसेज करना चाहते हैं तो नीचे दी गयी मेल आईडी का प्रयोग कर सकते हैं. मैं पीछे से देख रहा था कि वो जानबूझ कर उसकी गांड पर लंड लगा रहा था.

मेरी प्यारी ननद अनिषा ने मेरे पति से कहा कि भाभी को मेरे पास छोड़ कर आप अपना काम निपटा लो … फिर मुझे लिवा जाना. कुछ देर बाद मैंने अपना लंड बाहर निकाल लिया और उसका हाथ उस पर रख दिया.

मैडम मेरे सीने से सट गईं और मैं उनके मम्मों को ब्लाउज के ऊपर से रगड़ने लगा. और अभी तो सिर्फ औपचारिकता चल रही है, भाई साहब भाभी जी।वैसे तो शीराज के सामने मैं उसका नाम भी ले लेता हूँ। मगर जब तक अगली कोई इशारा नहीं देती मैं कैसे बेतकल्लुफ़ हो जाऊँ. राजन के लाख कहने पर भी ममता ने फ्रॉक नहीं पहनी बस ऊपर से डाल ली, जिससे सामने वाली गाड़ी की लाईट मेन वो नंगी न दिखे.

toy सेक्सी

मुझे तो यकीन ही नहीं हो रहा था कि मेरे स्कूल का लड़का मेरे बारे में अपने दोस्त से ऐसे बातें कर रहा था.

दीदी बोली- बड़े बहनचोद हो तुम!भैया हंसने लगे और बोले- हां वो तो हूँ ही … तू भी तो कम नहीं है साली … स्कूल से ही चुद रही है … इतनों से चुदी, मैंने भी चोद दिया, तो क्या ग़लत किया. मेरी भी हवस बढ़ती जा रही थी तो मैंने जीन्स के ऊपर से उसका लंड पकड़ लिया जो सच में अच्छा खासा बड़ा था. कुल तीन ही तो सहेलियां मेरी खास थीं, जिनसे मेरा दिल का संबंध था … और ऐसे हंसने बोलने वाली सहेलियां तो कितनी रही होंगी, बताना भी मुश्किल है.

दस पंद्रह मिनट शावर लेने के बाद दोनों तौलिया लपेट कर नंगे ही बेड पर आ गए. उस दिन मैंने अपने मोटे और लम्बे लंड से इस कदर चुदाई की थी कि उसकी चुत फट कर गड्डा बन गई थी. सेक्सी वीडियो नंगी चूत की चुदाईमैं सुहास पर जोर जोर से चिल्लाने लगी- आह मर गई सुहास … मादरचोद लंड बाहर निकालो प्लीज!पर सुहास नहीं रुका और धकापेल चोदने लगा.

और फिर मैंने ब्रा पकड़ कर एक झटका मारा तो ब्रा का हुक टूट गया और आंटी की चूचियां पूरी नंगी हो गयी. अब मैं उनके दोनों पैरो के बीच अपनी उंगलियों को घुसाते हुए उनकी मादक चुत की तरफ बढ़ने लगा.

मैंने उसे देखा, वह अपने पहले ऑर्गेज़म का मजा ले चुकी थी और थोड़ी थोड़ी आंखें खोलकर मुझे देख कर मुस्कुरा रही थी. फिर प्रीति की गांड पर हाथ फेरते फेरते मैंने उसकी चूत में हाथ डाल दिया. वो चुदास भरे स्वर में अपने मम्मे मसलते हुए बोली- तो देर किस बात की है … मैं तो कब से तुमसे चुदना चाह रही थी … पर तुम ही नहीं समझे.

अगर मैं जीतता हूं, तो जब तक हम चारों दोबारा नहीं मिलते हैं, तब तक आप सेक्स नहीं करोगे … और आप जीते, तो आप जो बोलेंगे, वो मैं करूंगा. एक दिन मेरे मन में एक ख्याल आया कि आमिना का लगाव कम करने के लिए अगर उसकी लाइफ में कोई और आ जाये तो बात बन सकती है. अभी-अभी जवान हुई मेरी फूल सी चूत में मानो परमीत ने चाकू से चीरा लगा दिया था.

मुझे अलका का रोना जैसे और उत्तेजक बना रहा था और मेरा लंड पहले से ज्यादा प्रचंड होता जा रहा था.

मैं- आलिया तुम्हारा बुलावा आ गया … जा मेरे दोस्त की अच्छे से खिदमत कर दे. फिर उसने खुद ही लिखा- चूतनिवास जी, आपसे मिलने से पहले मैं जानना चाहती हूँ कि आप मेरी सीक्रेसी कैसे बनाये रखेंगे.

विक्की बोला- कहां गई थी?मैं बोली- शहद लेने गई थी … बस तुम चुप रहो और लंड चुसाई का मजा लो. मीना बोली- वो मादरचोद क्या बोलेगा, उसका टुनटुना काट के हाथ में दे दूँगी. वहां उनके दोस्त (जिनका वहीं पर घर है) बाकी सब संभाल लेंगे।मैंने हामी भर दी।इतवार को सुबह सुबह अब्बू ने हमें बस पर बैठा दिया, हम अपने पते पर रवाना हो गए।चूंकि लम्बा सफर था तो पहुँचते हुए दोपहर हो गयी। छह घंटे का सफर था तो लम्बा … पर हम सकुशल पहुंच गए।वहां अब्बू के दोस्त मिले.

तो मैंने उससे कहा- आप ज्यादा मस्का ना लगाओ।उसने कहा- सच में भाभी … मैं मस्का नहीं लगा रहा! आप सच में बहुत खूबसूरत हो।फिर मैंने उससे पूछा- तुम चाय लोगे या कॉफी लोगे?उसने मुझसे कहा- नहीं भाभी, मैं कुछ नहीं लूंगा. परमीत ने कहा- सरप्राइज कहां है?संजय ने उन दोनों की ओर दिखाते हुए कहा- ये क्या हैं … यही तो सरप्राइज़ हैं. मेरे माथे पर चुम्मी लेकर वो हटने ही वाले थे कि मैं उनकी गर्दन में लटक गयी.

बीएफ वीडियो हिंदी में वीडियो अंदर जाने के बाद उसने गेट बंद कर लिया और मुझे हाथ पकड़ कर अंदर ले गयी. ‌शबनम मुस्कुराते हुए बोली- हां मुझे पता तो है … पर सीखी से क्या मतलब है … मैंने कभी कुछ किया ही नहीं है.

पंजाबी सेक्सी ब्लू हिंदी

जैसे ही गड्ढे से बाइक निकलती तो आरती की चूचियां मेरी पीठ से सट जाती थीं. नशे में तो मैं भी थी, मैंने भी कहा- तो खोल ना रे हरामी … तुझे रोका किसने है, बातें ही करेगा या चोदेगा भी … जब से संदीप छोड़ कर गया है, तब से लंड के लिए तड़फ रही हूँ … अब और ना तड़पा मादरचोद … आज चूत की सारी गर्मी शांत कर दे. मैं भी रुका नहीं और चुत को हल्के हल्के से चाटते हुए उसके दोनों पैरों को दूर कर दिया.

अंकल ने मुझसे कहा- बेटा चलो, अब हमें चलना चाहिए … क्योंकि पार्क बन्द होने वाला है, बाहर चलकर बात करते हैं. राहुल- क्या हुआ … तुम भी तो अपने ब्वॉयफ्रेंड से चुदाना चाह रही थी न … अब क्या फर्क पड़ता है, ब्वॉयफ्रेंड हो या मैं. मराठी बीपी सेक्सी चुदाईऔर उन्होंने बुझे हुए मन से मुझे उनके साथ आने के लिए बोला जो इस बात का इशारा कर रहे थे कि उन्हें भरोसा नहीं है कि मैं उन्हें खुश कर पाऊंगा।खैर मैं सुमन के पीछे गया और हम रूम में गये जहाँ बाकी की दोनों महिलायें पहले से मेरा इंतज़ार कर रही थी.

परंतु संजना ने बात अनसुनी करते हुए मेरे लंड पर अपना चूत सैट करके एक ही झटके में घप्प से बैठ गई.

घर में पैसे की कोई कमी नहीं है फिर भी मेरा मन रमेश से चूत चुदाई करवाने के लिए करने लगा था. दिव्या ने भी बताया कि उसकी बोट पर जो लड़का था वो भी उसके साथ मस्ती करना चाह रहा था मगर दिव्या ने कुछ नहीं किया.

दीदी शायद समझ गई थीं कि मैं क्या करने वाली हूँ और वो इस चीज के लिए तैयार भी थीं. अब वो तन कर बैठ गयी और कुणाल की छाती पर अपने हाथ टिका कर जोर जोर से उछल कर कुणाल की चुदाई करने लगी. उस वक्त मुझे अपने उसी दोस्त की बात याद आ रही थी कि भूमिहार की लड़की का जैसा बदन और हॉट माल कोई रंडी भी नहीं होती है.

उसने मुझे पूरी तरह चूस डाला, एक झटके में मेरी शर्ट फाड़ दी और मेरी छाती पर किस करने लगी.

इधर प्रियंका और सतीश बैड पर चले गये और वो आपस में चुदाई करने लगे।मैं और मोनू दोनों बार-बार पोजीशन बदल कर मुस्कान को चोदने लगे। मुस्कान की गैंग बैंग चुदाई हो रही थी जिससे हम तीनों को बहुत मज़ा आ रहा था. मैं बस उनकी चुत तक पहुंचने ही वाला था कि तभी अचानक स्वीटी आंटी उठीं और बोलीं- मुझे एक जरूरी कॉल करना है, मैं अभी आती हूं. और जैसे ही चाय ख़त्म हुई, हम भी सभी थोड़ा थोड़ा दुबारा चुदाई के मूड में आ रहे थे.

ஹனிமூன் செஸ் வீடியோवो मुस्कुरा के बोला- मैं मेरठ से शाम को ही चला था कि रात तक आ जाऊँगा और तुम्हें चौंका दूंगा. जब हमारी दोस्ती आगे बढ़ी तब मुझे उसने बताया कि वहां एक लड़का था और फिर बाद में उसने लिंग परिवर्तन का ऑपरेशन करवाया था.

अंग्रेजी इंग्लिश सेक्सी

मैंने भी मौके पर चौका मारा और कहा- वैसे कवाब में हड्डी बनने का शौक हमें भी नहीं है संजय बाबू!इस पर संजय ने भी बड़े अंदाज में कहा- तुमको हड्डी समझने वाला कोई गधा ही होगा, तुम तो पूरी कवाब हो, वो भी लजीज. चूंकि गांड में प्रचुर मात्रा में थूक था, फिर भी नीरज ने बुद्धिमता का परिचय देते हुए उसी कमरे की ड्रेसिंग टेबल पर रखी वैसलीन की डिबिया उठाकर उसमें से ढेर सारी वैसलीन निकाल कर संजू की गांड में भर दी और गांड की मालिश करने लगा. मैंने प्रीति की सलवार को खोलना चाहा तो प्रीति ने मना कर दिया और बोली- रात को करेंगे.

नेहा की चुत को मैंने चूसते हुए ही उसकी गांड के नीचे हाथ डाल कर एक उंगली उसकी गांड के अन्दर कर दी और एक उंगली चुत में घुसेड़ दी. सिर्फ हम दो प्यार करने वाले … और कुछ नहीं बस।मेरी सास ने मेरा लंड पकड़ा और अपनी फुद्दी पर रख लिया।मैंने फिर से लंड पेला. भाभी- तूने साबित कर दिखाया है कि मैंने तेरे साथ चक्कर चला कर कुछ ग़लती नहीं की.

अस्पताल पहुंचने से पहले मैंने एक सुनसान जगह देखी और मैं पेशाब करने खड़ा हो गया. उसकी सैलरी भी मुझे ही फाइनल करनी थी, तो मुझे उसके बारे में ज्यादा जानने का मौका मिला. बातचीत का सिलसिला कुछ यूं परवान चढ़ा कि हम दोनों में लम्बी लम्बी बातें होने लगीं.

उसके मुँह से चोदता है शब्द सुनकर … और विक्की की ये बात सुन कर मुझे थोड़ा अजीब लगा. वैसे ही उन्होंने सिल्क से पूछा कि क्या वो संदीप को पसंद करती है उसके साथ शादी करेगी?सिल्क ने भी धीरे से हाँ बोल दी.

वो सामने से गन्नों को हटाती रास्ता बना रही थी, मैं उसके पीछे चलती जा रही थी.

वो गांड उठाते हुए बोले जा रही थी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… और तेज चाटो!अंशी भी ज्यादा देर नहीं टिक पाई और उसने मेरे मुँह में अपना पानी छोड़ दिया. बफ सेक्सी ब्लू वीडियोउसने मुँह बंद रखने का इशारा करते हुए कहा- शशश … अभी चुप रहो … स्कूल के बाद हम कॉफ़ी शॉप में जाएंगे, वहां मैं सब अच्छे से बताऊंगी. मारवाड़ीxxxxxचाची को इस तरह से नंगी देख कर मेरा लंड टाइट होकर बाहर आने को मचलने लगा था. मेरे मोटे लंड की रगड़ से उसके आंसू निकल आए- आआआह … अमित छोड़ दे उईईईईई माँ मर गई … आईई बहुत दर्द हो रहा रे!मैंने उसे अच्छे से पकड़ लिया.

रवि का अभी नहीं निकला था तो मीना ने सोचा कि काम तो ये हरामी ही आएगा तो उसने रवि का लंड हाथ से हिला कर और चूस कर खाली कर दिया.

वो मेरे पेट पर से टांगों को दोनों तरफ फैलाता हुआ मेरी छाती पर चढ़ गया. दरअसल परमीत की दीदी की शादी पास ही के एक कस्बे में हुई थी, जो लगभग बीस किलोमीटर ही दूर था. इनमें से एक लड़की ने शुरुआत की और फिर इसके ही माध्यम से इसकी पक्की दो सहेलियां भी मिलीं.

उसकी बड़ी सी फांक वाली गांड थी यार … मैंने आज तक ऐसी गांड नहीं देखी थी. अब बताइए कि क्या काम है आपको?तो उसने कहा- यार, मेरे लिए एक कविता लिख दो ना!ये संदेश लिखने के साथ ही उसने मुझे कविता के लिए पूरी थीम भी भेज दी. वो अपनी चूत को ऊपर उठा रही थी और मेरे सर को अपनी चूत पर दबा रही थी.

सेक्सी इंडियन बिहारी

कैसे हो दोस्तो, आप सभी को आपके चहेते लेखक संदीप साहू का नमस्कार।आप सबने मेरी पिछली कहानीसम्भोग से आत्मदर्शनको काफी सराहा. हाँ, स्कर्ट में आपकी मटकती गांड देखकर जी करता था कि काट खाऊँ मैं आपके मस्त चूतड़ों को!”बदमाश … अपनी बहन के चूचे और गांड देखता था तू!” मैंने उसके सीने पर प्यार से मुक्का मारते हुए कहा. मैं कभी कान की लौ चूसता तो कभी गर्दन तो कभी चूचियाँ … उनको जितना चूसो उतना और दिल करता चूसने का!मैं कभी चूत को सहलाता तो कभी कमर … कभी उंगली करता चूत में … कभी गांड में उंगली कर देता.

आलिया- एक काम करो अपने हथियार को बाथरूम ले जाओ और फिर कल रात तुम और भाभी किचन में जो कर रहे थे उसे याद करके मुठ मार लो.

मगर उसके कद्दू जैसे चुचे मेरे हाथों की पकड़ में आ ही नहीं रहे थे … साले बहुत ही बड़े थे.

प्रणीता मैडम इठला कर बोलीं- डरते क्यों हो … वो तो मैं खुद ही तुम्हें दिखा ही रही थी. ” मैंने झुक कर वसुंधरा की गर्दन के ज़रा सा बायीं ओर अपने जलते-तपते होंठों से एक भरपूर चुम्बन लिया. నమిత సెక్స్ వీడియోफिर मैंने बातों ही बातों में उससे कहा कि यार जब तुमने मुझे अपने बारे में इतना बता ही दिया है, तो अब थोड़ा खुल कर सब बता दो, तो फिर कहानी में मजा ही आ जाएगा.

इधर एक बात देखने वाली थी कि मेरे हाथ पकड़ने पर चाची ने मुझसे कुछ भला बुरा नहीं कहा था, बल्कि वो बस तेज क़दमों से अन्दर कमरे में चली गई थीं. शिव मंदिर, हनुमान मंदिर, माँ दुर्गा का मंदिर और बहुत से सामाजिक भवन भी थे. और उसने मोनू के लौड़े के रस को अपनी दो उँगलियों से चेहरे पर पूरी तरह से लगा दिया.

दोस्तो, इसके बाद शैम्पेन तो छूट गई और मैं गुड्डी को अपनी गुड्डी रानी बनाने में जुट गया, उसके कौमार्य को कैसे भंग किया गया इसका वर्णन अगली कहानी में करूँगा. सुबह उठने पर पता चला कि चाचा किसी जमीन के सिलसिले में दूसरे गांव चले गए हैं और घर में उनके अलावा हम बाकी के लोग ही रह गए थे.

हम दोनों की ऐसी ज़ोरदार चुदाई के दृश्य से ऐसा कौन है जो भयंकर उत्तेजना से ना भर जायगा.

मैं बोला- अंकल आप कहां चले गए थे? मैं बहुत परेशान हो गया था कि अब आपसे कैसे मिलूंगा. उसके बाद हम बहुत थक गए थे, तो हम दोनों ने वॉशरूम में जा कर एक दूसरे को अच्छे से साफ किया. ये सुनते ही मैंने तुरंत उसको बेड पर लिटाया और उसकी पैंटी को खींच दिया.

பாய்ஸ் பாய்ஸ் செக்ஸ் [emailprotected]कहानी का अगला भाग:अनाड़ी का चोदना चूत का सत्यानाश-2. जैसा कि आपको पता है मुझे चुदाई से पहले मुझे चुत चाटना बहुत ज्यादा पसंद है.

मम्मे चूसते चूसते मेरा लण्ड मूसल की तरह टाइट हो गया तो मैंने सुमन को लिटाकर उसकी टांगें फैला दीं जिससे चूत पूरी तरह से खुल गई. तभी अचानक मुझे याद आया कि मैं कल से सिल्क के साथ कई बार असुरक्षित सम्भोग कर चुका था. मैं बस आँखें बंद किए बेड पे उम्महह … उम्महह … उम्महह … कर रही थी धीरे धीरे और वो मेरे बूब्स को चूसे जा रहा था।कुछ ही देर में वो मेरी टांगों के बीच में चला गया और एकदम से मेरी चूत की बुड़क भर ली होंठों से।मैंने ज़ोर की आहह … की सिसकारी ली और टाँगें क्रॉस कर के उसके सिर को वहीं जकड़ लिया ज़ोर से।वो मेरी चूत को खाये जा रहा था अपने होंठों से और जीभ से अंदर बाहर किए जा रहा था.

देवर भौजाई का सेक्सी वीडियो भोजपुरी

जब मुझे लगा कि पोजीशन परफेक्ट है तो मैंने अपने दोनों हाथों को पीछे अपनी गांड पर बांध लिया. अब मनु की मादक सिसकारियों से पूरा कमरा ही वासना से सराबोर हो उठा था. और वैसे भी मेरी मदद की बिना तूअपनी बहन की चूतकैसे चोदेगा?फिर वो बैठ गया और सोचने लगा। मैं उसे अपने साथ वहीं ले गया जहाँ उस रात एक औरत की गांड चोदी थी।वहाँ कोई नहीं था, फिर मैं उसे और कहीं ले गया।वह जगह बहुत सुनसान थी। खैर किस्मत अच्छी थी। वहाँ हमें एक जवान लड़की मिल गयी। मैंने बात करके उसे बिठा लिया और उसी गोदाम में ले गया और वहाँ के चौकीदार को सौ रूपए दिए.

अब सुरभि मेरे सामने काले रंग की चमकदार ब्रा और काले रंग की पैन्टी में थी. ये उस उन्माद की दास्ताँ बयाँ कर रहे थे जो कुछ पलों पहले हम दोनों पर चढ़ा हुआ था.

इसके बाद मैंने आंटी से पूछा- आंटी यदि आपकी इजाजत हो तो मैं एक सिगरेट पी लूं?आंटी हंस कर बोलीं- यार तूने तो मेरे दिल की बात कह दी.

तो वो बोली- मैडम तो यहाँ नहीं आई हैं लेकिन आप मुझे बता सकते हैं मैं और मेरे पति इस फार्महाउस के केअर टेकर हैं. मैंने नोटिस किया कि शालिनी बार बार तिरछी निगाहों से मुझे देख रही है. मैं रेहड़ी पर गया और पतली सी लड़कियों वाली आवाज़ में रेहड़ी वाले से कहा- भैया, दस रुपये की जलेबी दे दो.

मैंने एक पल उन मम्मों की खूबसूरती को निहारा और झट से एक दूध को मुँह में रख कर जोर जोर से चूसने लगा. मैंने 2-4 धक्के जोर जोर से मारे और मेरा सारा माल अंकल की गांड में ही निकल गया. सिल्क- उई ईईई मा … आ आ आए आ आह … मर गयी यार इतने जालिम मत बनो! मैं कहीं जा नहीं रही हूँ प्यार से करो ना!पर उस चीख में में भी उसके चेहरे में मज़े की जो ख़ुशी देखने को मिली वो शायद उस दर्द से कहीं ज्यादा थी जंगली प्यार का भी एक अलग मज़ा होता है.

मैं पहली बार में उनकी चूत चोदने से ज्यादा गांड मारने की इच्छा रखता था.

बीएफ वीडियो हिंदी में वीडियो: पर जब भरे-पूरे मस्त शरीर वाली परमीत स्कूल आई, तब उसके चेहरे से नहीं लगा कि उसकी तबीयत खराब रही होगी, बल्कि वो और भी निखर गई थी. हम चारों भी सिर्फ निक्कर में थे, इसलिए उन चारों को ऐसा लगा कि हम उनकी चुदाई करेंगे.

मैंने उसे पीछे से खींच कर अपने ऊपर ले लिया उसकी दोनों चुचियों को दबाते हुए उसकी गांड में लंड रगड़ने लगा. वो मुझे ब्रा के ऊपर से अपने दूध चुसाते हुए बोली- आह चूस लो … आज मैं जितना भी चीखूँ … पर तुम मत रुकना … आज मैं पूरी तरह से एक औरत होने का सुख लेना चाहती हूँ. उसी समय मैंने उससे कहा- जान, मेरी एक ख्वाहिश और पूरी कर दो, तो बस मन संतृप्त हो जाएगा.

मुस्कान भी अब तक पूरी खुल चुकी थी, वो बोली- हाँ, एक राउंड तो और होना चाहिए.

मैंने धीरे से उसकी साड़ी का वह भाग हटाया जो कमर में पेटीकोट के अंदर घुसा हुआ था. इसके बाद मैंने उसे अपने घर बुलाकर भी उससे चुदवाया, आपको मेरी देसी सेक्स की कहानी कैसी लगी, ये आप[emailprotected]पर मेल करके बता सकते हैं. दोस्तो, भाभियो और आंटियो, यह कहानी इतनी कामुक है कि इस कहानी को पढ़ने के बाद आप सबका लंड खड़ा होकर बगावत करने लगेगा और चुत की मालकिनों की चुत गर्म होकर किसी मर्द के लंड का वीर्य निकलवा ही लेंगी.