बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म फुल एचडी

छवि स्रोत,বেঙ্গলি সেক্স সেক্স

तस्वीर का शीर्षक ,

चीन सेक्सी वीडियोस: बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म फुल एचडी, मैं गया तो उन्होंने पूछा- कॉमिक्स कैसा लगा?मैं बोला- अच्छा!फिर उन्होंने पूछा- और मेरा लण्ड?मैं शर्मा गया.

ट्रिपल एक्स सेक्सी ब्लू फिल्म

दस साल पहले जब मेरी शादी हुई थी तब मेरी साली हनीप्रीत बंगलौर में पढ़ रही थी. सेक्सी चुदाई करने वालीमजेदार बात तो ये थी कि रानी ने अपनी नाभि में एक सोने की रिंग डाली हुई थी.

मैंने चुत के रस से भीगी उंगली उनके मुँह में डाल दी, जिसे वो चाशनी समझ कर चाटने लगीं. ब्लू ट्रिपल सेक्सआज इस बात को 2 साल हो चुके हैं और मैं पापाजी के बच्चे की माँ बन चुकी हूँ.

ऊपर हम दोनों एक दूसरे की जुबान को चूस रहे थे और मैं उसके स्तन मसल रहा था और नीचे वो मेरा लंड सहला रही थी और मैं उसकी चूत में उंगली कर रहा था.बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म फुल एचडी: अन्दर चाची ने ब्लैक पैंटी पहनी थी, जिसमें उनकी गोरी जांघें बहुत खूबसूरत लग रही थीं.

चूत में लंड जाते ही उसके चेहरे के आनंद को देखकर मुझे समझते देर न लगी कि बहुत दिन से यह चुदासी है.ताज्जुब वाली कोई बात भी नहीं थी, मुझे देख कर तो किसी की भी नियत खराब हो सकती थी और फिर मेरी हालत तो नियत खराब करने वाली ही थी.

انگلش سیکسی - बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म फुल एचडी

उन्होंने साफ मना कर दिया कि उनको किसी डॉक्टर के चक्कर में नहीं पड़ना है.फिर जब अँधेरे में चुदाई करने में चुत में लंड जाता है,तब काहे की खूबसूरती देखना.

फिर अभी ने जो जोरदार चुदाई चालू की, तो समझो पूरे घर में बहन की ‘आह आह आह. बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म फुल एचडी मेरे लंड पर बैठ कर चाची ने चूत में लंड को ले लिया और मेरे लंड पर कूदने लगी.

कभी मेरी गांड पर लंड को रगड़ देता तो कभी उसे हाथ से छूने की कोशिश कर रहा था.

बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म फुल एचडी?

मैंने कहा- कैसा फायदा?उसने कहा- में तुम्हें कभी ब्लैकमेल नहीं करूंगी और मैं तुम्हें पैसे भी दूँगी … साथ ही तुम्हें मुझ जैसी माल को चोदने का मौका मिलता रहेगा. ऐसे ही एक दिन मैं जब वहां पर पहुंचा तो रिसेप्शन पर एक लड़का बैठा हुआ था. हुआ ये कि मेरी जेठानी दो दिन बाद अपने मायके जा रही थीं, तो मैंने कहा- बच्चों को भी साथ लेते जाइये और मैं दो दिन बाद आऊंगी क्योंकि मेरी ब्लाउज अभी तैयार नहीं है और दर्ज़ी ने चार दिन का वक्त मांगा है.

मजबूरी में उनका पूरा वीर्य मुझे पीना पड़ा।मुझे बहुत अजीब महसूस हो रहा था लेकिन मज़ा भी आया।यह मेरी सच्ची कहानी है. वैसे मेरे मामा का दिल्ली में ही कारोबार है तो परिवार के साथ वो दिल्ली में ही रहते हैं. मैनेजर हमारे पास आकर कुछ तेज आवाज में बोला- शायद मैडम नाज़ुक हैं और मेरे साथ डांस के लिए डर रही हैं.

मैंने पूछा- गुस्सा क्यों हो रही हो?वो बोली- बियर के लिए आपने मुझसे क्यों कहा … वहां पर लाइन में सब लोफर लोग थे. पापाजी बोले- ये पहली बार हुआ है या हमेशा होता है?मैंने कहा- कई बार होता है. दोस्तो, आपको मेरी यह स्टोरी कैसी लगी मुझे इसके बारे में अपनी राय जरूर दें.

दिल्ली में रहकर अपना कमोडिटी मार्केट का काम करता हूँ।काम की एकाग्रता व गोपनीयता के कारण मैं अलग रहता हूँ। मैं ज्यादा तनाव नहीं लेता और जिंदगी के मजे लेता हूं इसलिए आज भी मैं देखने में 28 साल का बांका जवान लड़का लगता हूँ।मेरा परिचय तो आपको मिल गया है. मैं करीब 25 मिनट तक उसे बेरहमी से चोदता रहा … और वो मजे से आहें भरती रही.

Chachi Ki Chudai Free Sex Kahaniउम्म्ह… अहह… हय… याह… मेरा लंड गच से चाची की चूत में चला गया.

पूरे ऑफिस रूम में मेरी आह आह आहह की आवाज और लौड़े और चूत की छप छप हो रही थी.

मेरी मम्मी की उम्र करीब 42 साल की होगी, मगर वो देखने में 35 साल से ज्यादा की नहीं दिखती नहीं हैं. प्रशांत- पर वो हमारी मम्मी हैं, उनके बारे में ये सब सोचना ठीक नहीं है. शोभा ने मुझे बाद में बताया था कि शादी से पहले शोभा 3 लोगों से चुद चुकी थी।मैंने कहा- आज सबसे ज्यादा मजा आएगा आपको!और मैं उनके बूब्स को थप्पड़ मारने लगा.

तभी हमारी और ब्रून आ गया उसने हम लोगों से आज के प्रोग्राम के लिए पूछा. मैं बोला- आज तो हाथ चूमने का नहीं … तुम्हारे गाल चूमने का मन कर रहा है. दीदी बोली- पर तू तो राहुल है ना!मैंने बोला- तुमको मेरा चेहरा समझ में आ रहा है क्या?वो बोली- नहीं.

झड़ने के बाद राजा ने अपना लंड बाहर खींचा और एक बार फिर से अंजलि की गांड को चूमने लगा.

इतने में बस का कंडक्टर मेरे पास आया और बोला- सर, आपके पास डबल स्लीपर है, आप एक सवारी को अपने साथ एडजस्ट कर लीजिए. मैंने अब अपने हाथ दीदी के नीचे की तरफ ले ही जा रहा था कि अचानक दीदी ने मेरे हाथों को पकड़ लिया. अमीषा ने तीन चार बार फोन लगाया, जब उसने फोन नहीं उठाया, तो उसने मेरी तरफ देखा और वो भी इस बात को समझ गयी.

दूसरी भी जींस टॉप ही पहने हुए थी, मगर लाल लिपस्टिक वाली ज्यादा हॉट लग रही थी. मैंने आगे की ओर झुककर हनी का एक संतरा अपने मुंह में भर लिया और दूसरे से खेलने लगा. उसके बाद हमारा प्यार कैसे परवान चढ़ा?नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम सैम है और मैं चंडीगढ़ शहर का रहने वाला हूं.

इस बारे में सोचकर मैं कई बार हैरान हो जाता था कि इतनी सेक्सी फिगर वाली औरत को अभी तक औलाद नहीं हुई है.

उस सीन को देख कर मुझे मेरे एक्स बॉयफ्रेंड के लंड की याद आयी और मेरा हाथ अपने आप मेरी जीन्स पर चला गया. उसे मस्ती आने लगी, बोली- जोर से … और जोर से … और जोर से!उसके इतना कहते ही मैंने जोर जोर से उस लड़की की चुदाई करना शुरु कर दिया.

बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म फुल एचडी मैं चाहता तो था कि नीलोफर से जाकर उसके घर पर मिल लूं और उसका काम कर दूं क्योंकि मुझे खुद ही उसके पास जाने का मौका चाहिए था. वो बोला- यार … वो … बात कुछ ऐसी है … कि!कहते कहते वो फिर चुप हो गया.

बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म फुल एचडी भैया ने जैसे ही उसकी चूत में जीभ रखी तो भाभी ने भैया के सिर को पकड़ अपनी चूत में दबा लिया. जिस कारण मैं छोटी के साथ अल्प समय ही घपाघप कर सका और वह स्खलित हो गयी.

जब चाची ने देखा कि मैं परेशान हो रहा हूं तो वो मेरे पीछे आकर मेरी पीठ पर साबुन मलने लगी.

गांव की मारवाड़ी सेक्सी वीडियो

मैं- वो मेरी मम्मी हैं … तेरी नहीं और जब मां हो ही इतनी हॉट, तो बेटों का तो मन करेगा ही उनको छूने का और चोदने का. मैं उसकी बुर को चाट रहा था और वो चिल्ला रही थी- आह … बस करो बस करो … मेरी जान मैं झड़ने वाली हूं … अब चोद दो मुझे … भर दो मेरी बुर को … इसका भोसड़ा बना दो आज … साली मुझे बहुत तड़पाती है … जल्दी से अन्दर डाल दो अपना लंड मेरी बुर में. अपनी लोअर को मैंने तुरंत नीचे किया और उसके मुंह में अपना लंड दे दिया.

पापा मेरी स्कर्ट ऊपर करके कच्छी के ऊपर से ही मेरी चूत सहलाने लग गए. मैं अब उसे भरपूर गालियां देते हुए हचक कर चोदने में लगा था- चुद जा मेरी रंडी चुद बेटा … आह चुद मेरी रंडी … मेरी छिनाल कुतिया मादरचोद … अब से तुझे मेरे लंड से खूब चुदना है. उसकी मदद से मैंने उसकी मामा की लड़की को भी चोदा, वो अगली सेक्स कहानी में बताऊंगा.

चार दिन मैं अपने पूरे नोट्स कम्पलीट कर लेती, इसलिए मैं नोट्स ढूंढने घर के अन्दर चली गई.

मुझे अंकल की तरफ देखते हुए अमीषा ने इशारे से पूछा तो मैंने उसके कान में बताया कि ये शायद हम दोनों को मस्ती करने वाले कपल समझ रहे हैं. रानी होंठों को काट कर चुत की तरफ फिंगर करके बोली- इसको क्लीन करवा रही थी. मैम जैसे ही करीब आईं, उन्होंने मेरा खड़ा लंड देख लिया और वहीं से वापस लौट गईं.

मैंने दरवाजा खटखटाया और कहा- अन्दर आने की इजाज़त है क्या?उसने दरवाजा खोला और मुझे खींचते हुए अन्दर ले लिया. तीन चार थप्पड़ों में शोभा के सफेद बूब्स पूरे लाल हो गए और उनकी आहें अलग तरह से मजा दे रही थी मुझे!थोड़े देर बाद मैंने धक्के की स्पीड बढ़ा दी. फिर मैंने नीचे होकर बुआ की चूत को चूसना शुरू किया और उसने मेरा चूस कर मेरे लौड़े को फिर से खड़ा कर दिया.

उफ्फ़ …इसके बाद उसने अपने लंड पर और मेरी गांड पर थोड़ा थूक लगा कर अपना लंड एक बार में पूरा डाल दिया. हवा तेज होने की वजह से मैंने उससे कहा- तुम इधर को आ जाओ, आवाजें समझ नहीं आ रही हैं.

वो बोला- तो क्या हुआ, जब मैं अपनी बहनों को तुझसे चुदवाने के लिए तैयार हूं तो तुझे क्या प्रॉब्लम है? मैं कल राखी के बाद रानी और काको को तेरे पास लेकर आ जाऊंगा और तू ही दोनों की चुदाई करेगा. अभी मैं ग्रेजुएशन करने वाला हूं।यह घटना मेरे साथ थोड़े दिन पहले ही हुई थी. लेकिन शालू …आंटी बोली- बस अब ना-नुकर मत कर, मैं टोनी को बोल देती हूं कि तुझे ये रिश्ता पसंद है.

उन्होंने मुझे कमर से पकड़ कर ऊपर उठाया, फिर अपने दोनों हाथों से मेरे पेट को पकड़ कर बोले- अब अपना पैर चलाइये.

मैम चाय बनाने किचन में जाने लगीं, तो मेरी आंखों में उनकी बड़ी सी गांड मटकने लगी … गांड बड़ी मस्ती से ऊपर नीचे हो रही थी. इंस्पेक्टर ने कहा- क्या जमाना आ गया है, दोस्त की बहन को अपनी बहन समझने के बजाय लोग उस पर ही हाथ साफ कर देते हैं. मैंने उसे लपक लिया और उसे अपनी गोदी में बिठा कर उसके उरोज सहलाने लगा.

मैं फिर से अपने काम में लग गया और वो मेरे सामने ही रसोई में चिकन बनाने के काम में लग गई. फिर मैंने उसके पूरे शरीर पर चॉकलेट लगाई और धीरे से पहले उसके चेहरे से सारी चॉकलेट चाटी, फिर उसके होंठों से, फिर उसके क्लीवेज से और मुलायम मोम्मे चूस चूस कर साफ कर दिये.

कुछ ही देर में दूसरी टीम के साथ उनकी वो मदमस्त मैनेजर भी आ चुकी थी. मैंने कहा- मामी, आपने आंख क्यों नहीं खोली?तो वे बोली- शर्म आ रही थी … इसलिए!तो अब क्यों खोली?”अब शर्म नहीं आ रही. मेरे ससुर के हाथ बहू की गांड को दबा रहे थे और बाहर पति अपने लंड हिला रहे थे.

ऑस्ट्रेलिया का सेक्सी फिल्म

इतने में शोभा की चूत से पानी आ गया और चूत और लण्ड के बीच छप छप की आवाज आने लगी।मैंने शोभा को फिर सीधा किया और दूसरी पोज़ में फिर चोदने लगा.

मई 2019 में फिर मैंने यूट्यूब पर एक चैनेल बनाया! वहाँ से एक सब्स्क्राबर मिला जो मेरी बीवी को चोदने के लिए पैसे देने को तैयार था. ये मेरे लिए एक सिग्नल था, मगर मैंने मूर्ख की तरह उसको पूछने को बोल दिया. मुझे भी पहले ही सेमेस्टर से ही उस पर दिल आ गया था, परंतु उसका स्वाभाव काफ़ी सहज है.

पर मैंने फिर भी कोशिश की और उसके होंठों को चूमते-चूमते एक हाथ उसके मोम्मे पे ले गया जिसे पहले तो उसने हटाया पर मामूली से विरोध के बाद उसने मेरे होंठ चूसने ज़ारी रखे।उसके मुलायम मोम्मे मैं प्यार से दबाने लगा और वो किस करने में बिजी थी।एकदम से पीछे होकर वो बोली- हम ये गलत कर रहे हैं. मेरी पत्नी ने होटल के मैनेजर ब्रून के साथ अपनी चुदाई कैसे करवाई, इस सबको लेकर मैं कहानी अगले भाग में लिखूंगा. सेक्स कैसे करा जाता हैमैंने उसके मन की इच्छा को भांपते हुए जिस्मों के मिलन की घड़ी को करीब लाते हुए उसकी चूत में अपने चिकने लंड का सुपारा गच से घुसा दिया.

मैं कुछ नाराज, कुछ मायूस होकर वापस जाने लगी, तभी घर का दरवाजा खुल गया. मैंने दाहिना हाथ उसके मम्मों से हटाकर उसे भी गांड के गुद्दे पर रख दिया.

आखिरी बस होने के कारण मुझे मजबूरी में दोगुणा किराया देना पड़ा और मैं स्लीपर में आकर लेट गया. उसकी ब्रा के हुक के कारण मसाज ठीक से नहीं हो पा रही थी … तो मैंने ब्रा खोले के लिए पूछा. वो बताने लगती थी कि उसकी चूत मेरे साथ बात करते हुए ही बहने लगती थी.

मेरी चचेरी बहन ने अपने मामा की लड़की को मुझसे चुदवाने के लिए बुला लिया था. आपने मेरी इस सेक्स कहानी के पहले भागकजिन की कजिन को चोदा-1में अब तक पढ़ा कि मैं ओनी चचेरी बहन सोनल के मामा की लड़की काजल को चोदने के लिए गर्म कर रहा था. पापाजी बोले- बहू, कभी गांड में लंड लिया है?मैंने कहा- पापाजी, बस आपके बेटे का लिया.

उस दिन अपनी पत्नी को अस्पताल छोड़कर मैं और हनी घर के लिए निकले तो मैंने तय कर लिया कि आज मैदान फतेह करना है.

मगर वो बीच बीच में मुझे अपने से दूर धकेल कर उकसाने की कोशिश भी कर रही थी. तभी हमारी और ब्रून आ गया उसने हम लोगों से आज के प्रोग्राम के लिए पूछा.

जब उसकी टाइट बुर के बारे में सोचता हूं तो मेरा लंड खड़ा हो जाता है. क्योंकि जिस एरिया में हम दोनों आए थे, उसकी पहचान के बहुत सारे लोग उस एरिया में रहते थे. तो चाची ने अपनी बेटी को दूसरी तरफ लिटा दिया और मैं चाची के साथ सो गया.

भाभी भी मेरे इशारों को समझ चुकी थी लेकिन शायद कुछ बोलना नहीं चाह रही थी. मैंने दोनों हाथों से भाभी की कमर को कसके पकड़ लिया और पूरी ताकत से एक झटका दे मारा. थोड़ी देर बाद में मैंने देखा कि वो अकड़ने लगी और मेरे ऊपर ही गिर पड़ी.

बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म फुल एचडी उसने जैसे ही मुझे देखा, तो वो सकपका गया और अगले ही पल वो कमरे से बाहर निकल गया. फिर वो कहने लगा- देखो, अगर किसी ने कुछ बोला है तो मुझे साफ साफ बता दो.

सेक्सी वीडियो सेक्सी वीडियो ओपन

एक मिनट बाद वो बोली- जानू बहुत देर कर रहे हो … जल्दी करो … अपना लंड मेरी बुर में घुसा दो. कहानी काफी रोमांचकारी है इसलिए नियमानुसार ही शुरू करूंगा ताकि आपको कहानी के पात्रों को समझने में परेशानी न हो. जब अपनी बहन को मैं स्कूल छोड़ने के लिए जाया करता था तो मैं देखा करता था कि रास्ते में एक सुनसान सा इलाका पड़ता है.

उनका मूसल लंड मेरी चुत की दीवार को धकेलते हुए मेरे चुत के अन्दर घुसने लगा. जब मैं और प्रशांत 12वीं क्लास में आए, तो हमने पहली बार पोर्न देखी और अब हमारे अन्दर का मर्द जागने लगा था. पंजाबी ट्रिपल सेक्स वीडियोआपको मेरी यह सेक्सी कहानी कैसी लगी इसके बारे में अपने विचार जरूर मुझे बतायें.

अब हम दोनों को दारू चढ़ी हुई थी और उसी समय हम दोनों के बीच बात होते होते सेक्स लाइफ को लेकर बातचीत होने लगी.

आह … यह किस्सा ऐसा है कि इसे शब्दो में पिरोते पिरोते मेरा हाथ मेरे लन्ड पर खुद ब खुद जा रहा है. वो कभी मेरे होंठों को तो कभी मेरी चूचियों को दबाये और काटे जा रहा था.

उन दोनों की उत्सुकता और उन्माद को देखकर मैंने उन्हें डिस्टर्ब करना उचित नहीं समझा. मैं उसके सामने खड़ा था, तो मुझे उसका क्लीवेज साफ साफ नज़र आ रहा था. गोली के असर से करीब करीब एक घंटे तक हम दोनों ने जम कर चुदाई का मजा लिया.

इस सेक्सी कहानी के पहले भागकिरायेदार की चुदक्कड़ बीवी-1में मैंने आपको बताया था कि मेरा दिल किरायेदार की बेटी पर आ गया था.

मैंने एक दोस्त को कॉल की और किसी सेफ से होटल के बारे में पूछा, तो उसने अपने किसी रिलेटिव के होटल के बारे में बताया. यह सिलसिला तब शुरू हुआ था जब चाचा ने कहा था कि चाची को लेकर नागपुर जाना है. मेरा लंड पूरा टाइट हो गया और मैं नंगी मामी के ऊपर बैठ कर उनके चूचे चूसने लगा.

બિપી વિડીયોशायद एक ही मिनट हुआ होगा कि मॉम ने अपनी दोनों टांगें हवा में उठा दीं और मुझे उनकी रस से भरी चुत का मजा मिलना शुरू हो गया. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:हनीमून में चालू बीवी के कारनामे-2.

सेक्सी छोटी लड़कियों

उसको देखते ही दिल की धड़कन बढ़ गई लेकिन घर में अभी सब जागे हुए थे तो मैं बोला- अभी कुछ देर पढ़ाई कर लेते हैं. उसके बाद बहन ने मेरे रूम का गेट खोल कर अन्दर झांक कर देखा, तो उसको तकिया के ऊपर चादर देख कर लगा कि मैं सोया हुआ हूँ. वो अलाव के सहारे सर्दी दूर करने का प्रयास कर रही थीं।अचानक मेरी निगाह एक बला की खूबसूरत सेक्सी लड़की पर पड़ी और उसे देखते ही मेरा नशा ढीला हो गया। उस हसीना को मैं एकटक देखता रह गया। सर्दी की शाम, दिमाग में सुरूर और कमसिन हसीना … दिल ने कहा- वाह! क्या गर्म सेक्सी चीज है.

एक बार काफी दिन से मेरी गांड में लंड नहीं गया था तो मैं कोई लंड ढूँढ रहा था. इसलिए मैंने भी जल्दबाजी करना ठीक नहीं समझा और धीरे धीरे अपना लंड अन्दर-बाहर करने लगा. कुछ ही देर में हम दोनों की उत्तेजना बढ़ने लगी और मैं चाची के पूरे बदन को चूमने लगा.

उसकी चुत चाटते हुए मुझे बहुत अजीब लग रहा था, पर मैं खुद को रोक नहीं पा रहा था. जैसे ही मैंने लंड को भाभी की चूत पर दबाया तो भाभी की चूत में मेरा लंड अंदर चला गया. मैंने मॉम को किस किया और बोला- मॉम क्या मस्त लग रही हो … एकदम रंडी सी दिख रही हो.

जैसा मैंने बताया कि मैं पुणे आता जाता रहता हूं और कई बार वहां मुझे रुकना भी पड़ता है. अगले बीस दिन नार्मल बात करने के बाद मुझे याद आया कि उसका जन्मदिन एक हफ्ते में आने वाला है.

चाची के स्तनों को मैं इस तरह से पी रहा था जैसे उनसे दूध निकालने की कोशिश कर रहा था.

मेरे उन मुश्किल दिनों में सीमा ने ही मुझे सहारा दिया और मुझे उस अंधेरे में से बाहर निकाला. সানি লিওনের এইচডি ভিডিওऔर ये बोल कर मेरा लंड पर हाथ रख दिया।मैं सकपका गया और हाथ हटा दिया लेकिन मुझे अंदर से बहुत अच्छा लगा। खैर फ़ोटो देखते हुए मेरी नजर उनकी पैन्ट में बंद लण्ड पर पड़ी तो मैं देखता रह गया. इंडियन भाई बहन का सेक्स वीडियोमैंने उसको घोड़ी बनाया, तो वो अपना मुँह खिड़की की तरफ करके सैट हो गई. अपनी बात आगे बढ़ाते हुए उसने कहा- मैंने अभी तक खुद को रोक कर रखा था.

मैंने उसकी चूत पर थपकी मारी उसको दोबारा से चुदाई के लिए तैयार होने का इशारा किया.

कुछ आगे चलने के बाद मैं उसे बोली- मुझे बाथरूम जाना है। जरा कहीं सुनसान में गाड़ी रोक लो!रजत ने थोड़ा जंगल के पास सुनसान में गाड़ी साइड में खड़ी कर दी और मैं पेशाब करके वापस आयी तो रजत कहीं दिखा नहीं।ध्यान से देखा तो पता चला रजत कार के पीछे बैठा है।मैं रजत के पास जाकर बोली- क्या हुआ? अब चलो भी।रजत मेरी आंखों में देखते हुए बोला- मैं तुम्हें पाना चाहता हूँ. मेरे लंड की साइज़ नॉर्मल ही है, मगर ये इतना मस्त और लम्बा चलने वाला है, जितने में औरत का दर्द बाहर आ जाता है. मैंने एक पल की भी देर नहीं लगाई और उनके मम्मों को दोनों हाथों में भर कर खूब मसलने चालू कर दिए.

इसके बाद मैं उठी, तो उमेश ने मेरे मुँह को चूसते हुए अपने लंड के रस का मजा लेना शुरू कर दिया. इतना चोदता था कि मेरे जैसीचुदाई पसंद लड़कीभी रोज रोज की चुदाई से परेशान हो गयी थी. मैंने उसको घोड़ी बनाया और जब मैं चुत को थोड़ा चाटने गया, तो देखा कुछ सफेद सा रस उसके चूत से निकल रहा है.

जंगली जानवर और लड़की का सेक्सी वीडियो

जब मैं उस लड़की का इंतजार कर रहा था तो वहां पर एक दूसरी लड़की आती हुई मुझे दिखाई दी. ये देख कर मैंने मन में सोचा कि अब इसकी चूचियों के दीदार हो जाएं तो मजा आ जाए. फिर एक लाल कलर की पैंटी और काले रंग की ब्रा भी निकाल कर मेरे सामने ही रख दी.

फिर मेरी बारी आई तो मैंने उमेश को लिटाकर उसके होंठों को चूमा, फिर गर्दन पर चूमा … उसकी छाती पर … और धीरे धीरे नीचे आती गयी.

मैंने लंड गांड में पेला तो भाभी और मुझे दोनों को ही बहुत दर्द होने लगा.

इस दौरान ब्रेक लगाते समय उसकी चूचियां मेरी पीठ से टकराकर मेरी तमन्ना फिर से जगा रही थीं. मैंने दूसरी बार हाथ ले जाकर उसके चुचों पर रख दिया और जरा सा सहला दिया. बियफ हिदीपापाजी मेरे बूब्स से होते हुए मेरे पेट पर आ गए और मेरी कमर को चाटने लगे.

पूरे रास्ते मैं उनको रगड़ता रहा, मसलता रहा … मैंने ऐसा कोई भी पल नहीं छोड़ा था, जिसमें मैंने मामी को छेड़ा नहीं था. लेकिन मेरे चुम्मा लेते ही उसने मुझे भी चूम लिया और बोली- बड़ी देर बाद सिग्नल मिला. फिर पापाजी मुझे अपने रूम में ले गए और वहाँ मुझे पीने के लिए पानी दिया.

वैसे मेरे मामा का दिल्ली में ही कारोबार है तो परिवार के साथ वो दिल्ली में ही रहते हैं. उसने एक कश धुँआ मेरे मुँह पर कामुक अन्दाज़ में छोड़ा और सिगरेट मुझे ऑफ़र कर दी.

मेरी निगाहें अक्सर नोएडा के किसी मॉल में किसी मस्त साथी की तलाश करती रहतीं या किसी पार्क में कोई को खोजती रहतीं.

तो एकदम से दीदी ने मेरा हाथ पकड़ लिया और बोली- राहुल नहीं … बस इतना ही … इससे आगे नहीं. इससे पहले पापा जी कुछ समझ पाते, मैंने उनका चेहरा पकड़ के अपने होंट उनके होंठों से लगा दिए. धीरे धीरे मैं यश से अट्रैक्ट होने लगी, लेकिन मैं उससे बात करने की शुरुआत नहीं कर सकती थी.

हिंदी मे सेक्सी मूव्ही दिव्या जी ने पूछा- इससे पहले आपने किसी के साथ सेक्स किया है?संकोचवश मैंने कहा- कभी नहीं किया मैम. थोड़ी देर बाद सीन बदला, हीरो ने उस लड़की को सोफे पर लिटाया और उसकी बुर पर अपना लंड घिसने लगा.

मेरी इस कहानी के बारे में अपना प्रतिक्रयाओं के जरिये भी अपना प्यार जाहिर करें. मैंने उसकी सुन्दरता की तारीफ़ की, तो उसने मुझे बताया कि जन्मदिन की तस्वीरों में वो अच्छी दिखना चाहती थी. अब मेरा लंड मामी की चुत में सटाक से अन्दर जाता और फक से आवाज करके लंड बाहर निकल जाता … और मैं फिर से लंड अन्दर पेल देता.

छोटे बच्चे की मेहंदी

इस बीच सुमन से अच्छी बातें हो गयी और अब हमारे बीच कुछ भी शर्म लिहाज वाला भाव नहीं रहा. रात को बस में चाची के साथ ट्रेवल करते हुए मेरा ध्यान चाची के जिस्म पर गया. उसने बताया कि मेरी जो सहेलियाँ साथ में हैं, अगर उनको तुम्हारे बारे में पता चलेगा तो वे तो तुम्हें कच्चा खा जाएंगी.

इसके साथ ही बाहर से किसी जोड़े का उनके यहां पर जाना भी काफी मुश्किल था. मामी के मुंह से सिसकारियाँ निकलने लगी थीं- अह्ह्ह मेरे शेर … चोदते रहो अपनी रंडी मामी को … अह्ह्ह जोर-जोर से धक्के मारो अह्ह्ह … उफ्फ … मम्मी … मर गई … अह्ह्ह … कितना मज़ा आ रहा है.

मेरी प्यारी बीवी सना उसके बाद उसने अपने हाथों से अपने चूचे मसलने लगी.

इधर छोटी अपनी चूचियां खुद से मसल रही थी, तो एक हाथ से अपने बुर को घेरा बना कर चारों तरफ से सहला रही थी. तब पीहू बोली- इस समय साथ लाये हैं?तो मैंने कहा- हाँ!तो वो बोली- जल्दी से मेरा गिफ्ट मुझे दीजिये. इस बार मैं फिर से उसके पैरों को कंधों पर रखे और सोचा कि इस बार इस पर जरा भी रहम नहीं करूंगा.

मैं ब्रा के उपर से ही मॉम के निप्पलों को अपने दांतों से दबाते हुए चूस रहा था. गेट लॉक करते ही उसने मुझे गोद में उठा कर मेरे होंठों को चूमने लगा, मैं भी लगातार उसका पूरा साथ दे रही थी. दस मिनट तक चुत चुसाने के बाद भाभी का शरीर अकड़ने लग गया और कुछ ही पलों में भाभी ने पानी छोड़ दिया, जो मैंने चाट कर पूरा साफ कर दिया.

उसके बाद मेरे शौहर ने यूट्यूब पर चैनल बनाया और फिर हमसे बहुत सारे लोग जुड़ गये.

बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म फुल एचडी: मैंने लंड को पैंट में ऐसे एडजस्ट किया मगर लंड पैंट में तम्बू बनाकर खड़ा हो गया. वहां अपना नंगा बदन कोच को दिखा कर मैंने उनको भी चुदाई के लिए उकसा दिया.

मैं भी उधर ही से जाऊंगा, तो आपको छोड़ दूँगा … और वैसे भी यहां से ऑटो मिलेगी नहीं … आपको कुछ दूर जाना पड़ेगा. मैंने हिमानी को धीरे से उठाया और बोला- मेरी जान, आज तो अपनी चूत का मजा दे ही दो. मैंने उसके चूचे मसलते हुए उसे धक्का दिया और कहा- नीतू अब लेट जाओ … अब मैं तुम्हें चोदूँगा.

लेकिन औपचारिक मुस्कान से ज्यादा उसने कोई संकेत नहीं दिया था अभी तक.

माँ अंकल से बोली- हां, गाँव में मेरे जेठ का लड़का था, उससे चुदाई करवाई थी, उसका लंड आपसे भी बड़ा था।और वे दोनों हंसने लगे. डॉक्टर साहिबा बार बार अपनी बुर को अन्दर की ओर सिकोड़ रही थीं जिससे मेरा लण्ड टनटनाता जा रहा था. कुछ देर तक उसने अपना लंड चुसवाया और फिर उसने भी अपने लंड को अपने हाथ से हिलाना शुरू कर दिया.