बीएफ कैसे डाउनलोड करें

छवि स्रोत,क्सक्सक्स सेक्सी विडियो हिंदी में

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ दिखाएं वीडियो: बीएफ कैसे डाउनलोड करें, मन तो उसका कर रहा था कि सीमा के टॉप के अंदर हाथ डाल दे पर वो सोच रहा था कि कहीं सीमा बुरा ना मान जाए.

देवर भाभी की फिल्म सेक्सी

दरवाजे के बाहर से ही झुकते हुए मैंने उसके अंडरवियर को सूँघने की कोशिश की. देसी इंडियन बीएफ हिंदीयूं ही मदभरी निगाहों से देखते हुए भाभी ने मेरी पूरी पैंट नीचे तक उतार दी.

अंधेरी सी जगह पर जाकर मैंने एक हाथ से स्टेयरिंग को संभाल लिया और दूसरे हाथ को काजल की गर्दन पर ले जाकर उसे अपनी तरफ खींच लिया. चूत वाली बीएफ हिंदी मेंमेरी बीवी की चूत अब अपना चिकना पानी छोड़ रही थी और लंड को निगलने के लिए खुल चुकी थी, खिल चुकी थी.

मैंने उसके दोनों मम्मों को दबाना चालू किया, तो वो मदहोश होने लगी और मादक सिसकारियां भरने लगी.बीएफ कैसे डाउनलोड करें: राजीव ने अपने हाथ उसके कूल्हों पर लगाए तो पिंकी हँसते हुए ऊपर उचकी तो उसकी फ्रॉक उठ गयी और राजीव के हाथ में उसके नंगे चूतड़ आ गए.

रेखा ने बात शुरू कि और सबसे पूछा कि सच सच बताना कौन आज कितनी बार चुदी.सहेलियों को पता चल गया और उनके ज़रिये वहां खेलने वाले लड़कों को भी मेरे बारे में पता चल गया.

हिंदी बीएफ देसी वीडियो - बीएफ कैसे डाउनलोड करें

मैंने भी कुछ नहीं सोचा और सीधे उसके होंठों के ऊपर अपने होंठों को रख दिया.मैंने अन्दर घुसते ही उन्हें कमर के बल से खींच लिया और अपनी गोद में उठा कर उनके होंठों पर अपने होंठों से मधुर प्रहार करना शुरू कर दिया.

जिस तरह से मेरी बीवी गैर मर्द के लंड से मजे लेती रहती है वैसे ही मैं भी किसी परायी चूत को चोद कर अपने लंड की प्यास बुझाना चाहता था. बीएफ कैसे डाउनलोड करें उसके बाद उसने गाड़ी से कपड़ा निकाला और मेरी गांड पर गिरे माल को साफ किया.

उस दिन के बाद मोनाली ने मुझसे कभी भी सेक्स की बातें नहीं की, ना मैंने उससे ऐसा कहा.

बीएफ कैसे डाउनलोड करें?

तो सोनम और मैं हंसने लगी।सोनम बोली- अच्छा ठीक है, फटाफट हो जा तैयार, आज तो और भी बहुत सी चीज़ों के तैयार रहना, कुछ न कुछ हरकत तो पक्का करेगा वो!मैं बोली- ठीक है. मैंने नौकर का लंड अपने मुंह में ले लिया और पीछे से भोला और जीजा मेरी चूत और गांड को पेलने लगे और मैं जोर से नौकर का लंड अपने मुंह में भर कर चूसने लगी. मैं अपने यहां अपनी चूत में उंगली करती रहती थी और उधर से वो दोनों एक दूसरे के साथ नंगे लेट कर गर्म चुदाई की बातें करते हुए मुझे भी गर्म करते रहते थे.

कुछ देर के बाद वो अपने हाथ पौंछती हुई कमरे में आई और सामने से गुजरी. मैं भी उसके वीर्य को एक रण्डी की तरह पी गई। मैंने उसका लंड चाट कर साफ कर दिया. पिता जी और मैं आधे घंटे तक न्यूज चैनल में आंखें गड़ाये रहे और फिर माँ-बेटी को टीवी पर हमारा ये मालिकाना हक बर्दाश्त नहीं हुआ.

” नीलम जो इस वक्त मज़े के सागर में तैर रही थी, अचानक उसकी चूत से लंड निकलते हुए वो तड़प उठी थी. एक दिन मैं दोपहर में किसी काम से बाहर चला गया, तो मैं उसके भाई को अपने सेंटर पर छोड़ आया. अब सागर ने उसको उठाया और उसी वक्त सागर का लंड शिवानी की चूत से सीधा जा टकराया.

उसने मुझसे भींचते हुए जवाब दिया- मैं तुमको महसूस करना चाहती हूँ … प्लीज मेरे अन्दर ही रस छोड़ दो. भाभी मुझे चोदने के लिए मिन्नत करने लगीं, जिसको मैंने अनसुना कर दिया और अपनी मालिश जारी रखी.

मैंने जोर जोर से कसकर धक्के मारते हुए अपने लंड का पूरा पानी उसकी गांड में उड़ेल दिया.

मैंने उसके पेट पर गुदगुदी कर दी और जैसे ही वो उचकी उसकी जांघें खुल गईं और मेरा लंड एकदम से अंदर चला गया.

मेरी चूत पर बाल थे लेकिन बाल छोटे छोटे थे इसलिए मेरी चूत और भी सेक्सी लग रही थी. लेकिन कुछ देर बाद उसने मुझसे कहा- अब सब ठीक है, अब जैसे चाहते हो, चोदो मुझे।मैंने पूछा- क्यों दर्द नहीं रहा क्या?जो होना था … हो गया. आख़िरकार ये मेरी माँ हैं और अपनी माँ को हर इंसान खुश देखना चाहता है.

साथ ही अपनी सुरक्षा के लिए उनसे कह दिया कि ये बात सिर्फ हमारे बीच में रहे. अब अंकल नीचे लेटे हुए थे और मैं उनके लंड पर बैठा हुआ था, जिससे अंकल का लंड सीधा मेरी गांड में अन्दर तक घुस गया था. एक साला, जिसकी उम्र 21 साल है … और मेरी इकलौती साली सीमा, जो 19 साल की माल है.

तभी मैंने नोटिस किया कि वो मुझसे चिपक कर बैठे हुए थे और बातें करते करते किसी भी बहाने से मेरी जांघों पर हाथ रख देते थे.

उसने उसे थोड़ा धक्का दिया और उससे दूर चली गई- अंकित, मैं थक गयी हूँ और मैं सोने जा रहा हूँ. बातों ही बातों में उसने मुझसे कंप्यूटर सिखाने के लिए कहा तो मैं भी तुरंत मान गया. सुबह दस बजे का वक्त था, सड़क पर बहुत ट्रैफिक थी। मैं बड़ी मुश्किल से ट्रैफिक में गाड़ी चला रही थी, कार के डैश बोर्ड पर लगे मोबाइल की तरफ देखा तो जिस सवारी को मुझे रिसीव करना है वह अभी दो सौ मीटर की दूरी पर दिख रही थी, पर ट्रैफिक के वजह से वह फासला भी दो किलोमीटर की तरह लग रहा था।मेरा नाम नीतू है, मैंने अभी अभी अपनी कॉलेज की फर्स्ट ईयर की एग्जाम खत्म की थी.

यह सवाल मेरे जेहन में बहुत बार आता है कि लड़कियों को अपने से बड़े लड़कों से क्या लगाव होता है. मैंने स्पीड बढ़ाते हुए 4-5 धक्कों में अपना सारा माल भाभी के मुँह में डाल दिया और वो बड़े प्यार से उसे पी गईं. मुझे जब भी सेक्स करने का मन होता है तो मैं पोर्न मूवी देख लेती हूँ.

मैं रसोई में पानी लेने के लिए गया और दीदी से नजर बचाकर मॉम की कमर पर मैंने एक च्यूंटी काट ली.

फिर हल्के हल्के हाथों से ऊपर नीचे करके उनको हर अंग को दबा दबा के रगड़ता रहा. पता है मैंने कल बड़ी मुस्किल से सारे दिन नेट पर इस दूसरे नुस्खे के बारे में पता किया है.

बीएफ कैसे डाउनलोड करें उनमें से सीमा तो ज्यादा ही मस्त थी और स्वीमिंग सीखना चाहती थी, वो बरमूडा और टी शर्ट पहन कर आई थी. मैंने इस बात का फायदा उठाते हुए हल्के से ब्लाउज के ऊपर से ही उनके बॉल को दबाना चालू कर दिया.

बीएफ कैसे डाउनलोड करें अब तो वो मुझे पागलों की तरह चूमने लगीं और मेरी पीठ में नोंचने लगीं. मैं मजबूरी दर्शाते हुए उसका आधा लंड मुँह में लेकर चूसने लगी।उधर नीचे युवराज ने अपनी उंगलियाँ मेरी चूत से निकाल दी और चूत पर अपना मुँह रख दिया.

” नीलम फिर से गर्म होते हुए अपने चूतड़ों को उछालते हुए बोली।सही कहा बेटी, यही बात तो मैं तुम्हें समझाना चाहता था” महेश ने अपनी बहू की तरफ देखा और उसकी चूत को बड़ी तेज़ी और ताक़त के साथ चोदने लगा। ससुर बहू की चुदाई का खेल अपने चरम पर था.

सेक्सी बीएफ जो

तक़रीबन 4:30 बजे रिंकी का कॉल आया- स्वीट हार्ट, क्या कर रहे हो?मैंने कहा- कुछ नहीं … बस आपके फोन का इन्तजार कर रहा था. मैं जब भी उनसे बात करने की कोशिश करता, तब कुछ ना कुछ उल्टा हो जाता था. तभी उसने मेरे लंड को हाथ में पकड़ा और मेरे टट्टों को चाटना शुरू कर दिया.

” मैंने हँसते हुए कहा।उसने कुछ कहा तो नहीं लेकिन मैं उसके मन में चल रही उथल-पुथल का अनुमान अच्छी तरह लगा सकता था।अरे भई मैंने कहा ना डरो मत … कुछ नहीं होगा. मैंने कहा- हां ये तो है … पर इस बात से तुम्हारा मतलब क्या है?उसने कहा- कुछ नहीं … आप लेटो, मैं रसोई का काम खत्म करके आती हूँ. महेश और नीलम अब भी एक दूसरे की बांहों में पड़े हुए ज़ोर से हांफ रहे थे ।इस बहू की चुदाई कहानी पर आप अपने विचार दे सकते हैं।मेरा ईमेल है-[emailprotected].

फिर उन्होंने मेरी चूत को चाटना शुरू किया। मेरी चूत की फांक को फैला कर उसमें अपनी जीभ चला रहे थे। वो कभी मेरी चूत के छेद में अपनी जीभ डालते और कभी गान्ड के छेद में।उनकी जीभ मुझे चूत में भी पूरा मजा दे रही थी लेकिन जब वो गांड में जीभ डाल रहे थे तो अजीब सा मजा आ रहा था … बहुत मस्त आनंद दे रहे थे वो; इसलिए मैं दस मिनट में ही झड़ गई.

इतने में मेरी नजर कुछ तीस साल की महिला पर पड़ी, वो दिखने में बहुत सेक्सी लग रही थी. मैंने धीरे से लंड को अपने मुँह में ले लिया … और लंड को अपने मुँह से ही हिलाने लगी. इस तरह से तीनों ही पूरी मस्ती के साथ समलैंगिक सेक्स का आनंद लूट रही थीं.

हर्ष ने अपनी छत पर लगा दरवाजा बंद किया हुआ था और मेरी माँ पैरों में दर्द होने की वजह से छत पर आती नहीं थी. भाभी के मेरे घर वालों से बड़े अच्छे सम्बंध हैं, इसलिए मेरा अक्सर उनके घर आना जाना होता रहता है. शिवानी बोल रही थी- आह राजा चोद दे अपनी इस रंडी को … आज ना छोड़ना … पूरा रगड़ दे मेरी चूत को … साली बहुत तंग करती है.

तभी मैं उठा और उनके सिर को पकड़ के उनके मुँह में ही धक्के लगाने लगा. मैं दस मिनट में ही उससे बोला कि मेरा निकलने वाला है … बोल कहां डालूं?वो बोली- मेरे मुँह में डाल … मुझे भी मेरी गांड का टेस्ट चखना है.

” मैंने गौरी फ़तेह अभियान के ताबूत में एक और कील ठोक दी।पल… एत बात मेली समझ में नहीं आई?”क्या?”यह लेप वाली बात मुझे दीदी ने त्यों नहीं बताई?” गौरी ने कुछ सोचते हुए कहा।भई! अब यह मियाँ-बीवी की निजी बातें होती हैं। खूबसूरत औरतों को तुम्हारी तरह शर्म बहुत आती है ना? इसलिए नहीं बताई होगी. कुछ दो मिनट बाद वो मेरे लंड को सहलाने लगी थी और मुझे दूसरी पारी खेलने के लिए तैयार कर रही थी. फिर दो मिनट के बाद मेरे लंड ने भी अपना लावा आंटी की चूत में निकाल दिया.

अबकी बार शायद उसको ये पक्का पता लग गया था कि हम दोनों मजे ले रहे हैं.

आंटी की चूत गर्म भी थी और मेरे ठंडे होंठों के लगने से और भी ज्यादा गर्म हो गई थी. भाभी हंस कर बोलीं- इन चक्करों में पड़ा नहीं जाता, खुद ब खुद चक्कर पड़ जाते हैं. मैं सुबह उठ कर बाथरूम में गया, तो पीछे से यशिमा आ गई और मेरे गले लग कर रोने लगी.

तभी पंकज आ गया और सारिका से बोला- तुम कॉफ़ी लाओ … हम लोग बेड पर बैठे हैं. वो मुझसे गले लग़कर बोली- कहां रहती है यार … कभी मिलने तो आ जाया कर … या चाचा ससुर तुझे हमेशा नंगी ही रखते हैं.

उनकी उम्र लगभग चालीस साल की होगी, लेकिन वो बहुत ही स्मार्ट लंबे चौड़े और आकर्षक व्यक्तित्व के मालिक हैं. मैंने उसकी टी-शर्ट को ऊपर उठाया, तो वो हल्की सी हिली, जिससे मैंने उसकी टी-शर्ट को ऊपर तक कर दिया. फिर हम दोनों ने अपने लंड को हिलाना शुरू कर दिया और मेरी चुदक्कड़ बीवी हम दोनों के लंड से वीर्य निकलने का इंतजार करने लगी.

हिंदी सेक्सी अंग्रेजी बीएफ

उसने कहा- हां मोंटू, तू तो इतना स्मार्ट है ही कि इधर कोई भी बंदी सैट हो जाएगी.

वो झट से अपने फुद्दी पे हाथ से चैक करते हुए बोलीं- तुम्हारा नाम लगेगा अगर ये चूत फट गई तो. कभी नज़र किसी के चूचों के बीच में तने हुए भूरे निप्पलों पर जाती तो कभी किसी प्यारी सी चिकनी चूत पर. मुझे उसकी आंखों में तैरती हुई प्यास का आभास हो चुका था, इसलिए थोड़ा सा उसके पास सरक गया और उसका हाथ पकड़ लिया.

अब कमरे में अँधेरा था, बस हलकी सी रोशनी म्यूजिक प्लेयर से आ रही थी. मैं उठकर ज्योति की तरफ बढ़ा, तो ज्योति भी उठकर सोफे की आड़ लेकर भागी. বিএফ থ্রি এক্স ভিডিওमैं भी तो यही चाह रहा था कि तेल आंटी की चूत की तरफ बह कर चला जाये ताकि मुझे चूत के करीब तक मालिश करने का मौका मिल जाये.

इसकी चूत को तो भर दिया तूने हरामी लेकिन मेरी प्यासी चूत को भी तेरा लौड़ा चाहिए. मुझे मकान मालकिन की बीवी यानि मेरी भाभी पसन्द आ गयी थीं, मैं उन्हें चोदने के सपने देखने लगा.

भाई ने मेरे बदन को धीरे से स्पर्श करना शुरू किया और मेरे पूरे बदन पर हाथ फिराने लगे. हुआ यूं कि जैसे ही उसने मुझे देखा वो दौड़ कर आई और मेरे गले लग गयी जैसे वो बरसों से मुझे जानती हो और ऐसे ज़ोर से लिपटी कि करीब दस मिनट तक वो ऐसे ही रही. फिर हमने उठ कर अपने कपड़े पहने और मैंने उसको एक बार फिर से बांहों में लेकर चूमा और गुड नाइट बोल कर अपने कमरे में चला गया.

मेरी पूरी फुद्दी उनके सामने जलवाफ़रोश हो गई।वो एकदम से झुके और मेरी फुद्दी को अपने मुंह में भर लिया. मैं अपने घर जा रहा था, तो उन्होंने मुझे रोका और पूछा- कहां जा रहे हो?मैं बोला- अभी कपड़े बदल कर आता हूँ. स्प्रे करने के बाद मैंने आंटी को उठने के लिए कहा क्योंकि गर्म खून में उठना आसान होता है.

प्रीति बोली- मेरा जिस्म तुम्हारे हवाले है … अब ये मेरे वश में नहीं है.

मैंने ना में सर हिलाया, तो मॉम ने कहा कर लो बेटा, जो करना है, लेकिन आज भर ही बस … ये सब रोज रोज नहीं होगा. वो बोली- आप ये क्या कर रहे हैं?मैंने कहा- तुम्हें नहीं पता मैं क्या कर रहा हूं?वो बोली- ये ठीक नहीं है.

भाभी की फिगर देख कर मुझे लगा कि भाभी ने अपने मम्मों को खूब दबाया है या शायद उन्होंने शादी से पहले किसी से इसका मजा लिया है. दीदी ने उस लंड वाले खिलौने को मेरी चूत पर लगा कर रगड़ना शुरू कर दिया. इधर महेश ने धीरे धीरे नीलम की गांड में ढेर सारा मक्खन डाल दिया। नीलम की गांड अब मक्खन से पूरी तरह भर गई.

मैं अपने यहां अपनी चूत में उंगली करती रहती थी और उधर से वो दोनों एक दूसरे के साथ नंगे लेट कर गर्म चुदाई की बातें करते हुए मुझे भी गर्म करते रहते थे. आंटी अब तेजी के साथ मेरे लंड पर उछलने लगी और नेहा ने अपनी चूत मेरे मुंह पर सटा दी. कुछ देर तक उसके बूब्स को दबाने के बाद मैंने उसके चूचों में हाथ डाल दिया.

बीएफ कैसे डाउनलोड करें दोबारा पूछते हुए मैंने कहा- मजा आया कि नहीं?वो धीमी सी आवाज में बोली- बहुत!उससे इस तरह की कामुक बातें करते हुए अब मेरी जिज्ञासा और उत्तेजना दोनों बढ़ने लगी थी. वो बोले- हो गया सविता तेरा?मैंने कहा- हां अंकल जी … पर आप चोदते रहो.

एक्स के बीएफ

उसकी चिकनी चूत को अपनी दो उंगलियों से फैला कर मैंने उसके दाने को चाटना चालू किया, तो वो तड़प गई और अपने हाथों से मेरा सिर अपनी चूत में दबाने लगी. उसके बाद हम दोनों में प्यार हो गया था और तब से ही हम दोनों साथ हैं. फिर उसने मेरी साड़ी उतारी और मेरी गर्दन पर चूमने लगा, मैं मदहोश सी हो गई.

मैंने दरवाज़ा अन्दर से डबल लॉक कर दिया कि कहीं कोई गलती से दूसरी चाबी से खोल न ले. उसने मुझे बांहों में भर लिया और फिर बदले में मैंने भी उसकी पीठ पर बांहें डाल दीं. सनी लियोनी बीपी पिक्चरभाई ने मुझे बिस्तर में ही डॉगी बनने के लिए कहा और मैं अपनी गांड को उठा कर जैसे ही कुतिया की पोजीशन में आई तो भाई ने मेरी गांड में लंड को पेल दिया.

मेरी दीदी बोली- मेरे भाई, जिस हाथ से तुझे राखी बांधी उसी से मैंने तुझे तमाचा मार दिया.

” समीर ने अपनी बहन के गालों से आंसू को पोछते हुए कहा।नहीं भाई, तुम बहुत अच्छे हो. अगर शबनम अपनी बाहें ऊपर उठती तो शायद उसके मम्मे नीचे से हवा ले जाते.

एक बार तो मुझे लगा कि कहीं सब गुड़ गोबर न हो जाए, पर मैं चुदासी तुरंत ही राजी होते हुए बोली- हां, ये ठीक रहेगा. अब मैं ध्यान रखूंगा कि आगे से मैं भी अपने आप पर कंट्रोल रखूं ताकि आप भी अपने रास्ते से भटकें नहीं. लगभग दस मिनट तक चूत चटवाने के बाद मेरा मुँह अपनी चूत में दबाकर गांड उठाते हुए वो झड़ गयी.

मैंने पूछा- और अच्छे से करूं?भाभी बोलीं- हां जैसे मर्जी हो, वैसे करो.

जब हज़्बेंड जॉब पे गया, तो मैंने अंकल को कॉल करके बोला- अंकल आप बाप बनने वाले हो. शादी हुयी थी, लेकिन नयी नयी नौकरी लगी है, इसलिए फैमिली को साथ नहीं ला सका. क्या हुआ नीलम … क्या अब मैं इतना गिर गया कि तुम मुझे अपने क़रीब भी आने नहीं देती?” समीर ने गुस्से और गम से अपनी पत्नी को देखते हुए कहा।हाँ तुम मुझे नहीं छू सकते क्योंकि मुझे भी तुम्हारी तरह किसी और से ज्यादा लगाव हो गया है.

हिंदी बीएफ ब्लू पिक्चर सेक्सी वीडियोउसकी चुत चूसते हुए, कभी मैं उसकी चुत के दाने को सहला देता, कभी पूरी जीभ उसकी चुत में डाल देता, जिससे वो देर तक काबू न कर सकी और झड़ गई. अब प्रशांत दीदी के कपड़े उतारने लगा और उसने अपनी दीदी को नंगी कर दिया.

इंग्लिश बीएफ सेक्स एचडी

जीजा ने भोला से बताते हुए कहा- तुम खुद ही देख लो भाई साहब, जब मैं नौकर के साथ नीचे गया तो कितनी जल्दी ये तुम्हारा लंड लेने के लिए भी तैयार हो गई. लेकिन आनन्द के बार बार बोलने पर मैं मान गया और उसे चिंता मुक्त होकर जाने को कहा. उससे बातें हुईं, तो वो पूछने लगी- कैसी लगी चाची की चूत?मैंने कहा- मज़ा आ गया.

फिर धीरे से सर ने अपना लंड मेरी गांड के छेद पर रख दिया … और धीरे से उन्होंने मेरी गांड के छेद में लंड का धक्का दे दिया. वैसे मैं बहुत चोदू किस्म का लौंडा हूँ, अब तक जिनको भी मैंने चोदा है, वे सब मेरे लंड से दोबारा चुदाई के लिए लालायित रहती हैं. उसने एक मिनट के लिए लंड को चूसा और फिर दोबारा से मेरे बदन से लिपटने लगी.

मैंने उसको जोर से अपनी बांहों में जकड़ते हुए उसको गालों को जोर लगा कर चूम लिया. उसकी बीवी ने अपने पति का लंड पकड़ा और मेरी बीवी की चूत पर रगड़ने लगी. मैंने उनके लंड को अपने हाथ में लेकर उसके मोटे से टोपे को आगे-पीछे करना शुरू कर दिया.

इतना कह कर मैंने चयन की कमर को पकड़ा और उसके गांड में लंड से जोर जोर के झटके देने लगा. रसोई में नीचे बैठ कर भाभी जब कोई काम करती है तो पीछे से उनके चूतड़ मुझे आकर्षित करते रहते हैं.

थोड़ी देर तो अर्पित भी मुझे देखता रह गया और बोला- यार क्या माल लग रही हो तुम आशना … तुम्हारे सर तुमको चोदें, उससे पहेले शायद में ही तुम्हें ना चोद डालूं.

मन तो कर रहा था कि साली को पूरा जोर लगा कर ठोक डालूं लेकिन अभी ज्यादा तेजी दिखाना ठीक नहीं था. सेक्सी बीएफ वीडियो देखने वालानेहा अपनी चूत को मेरे मुंह पर पटकने लगी और आंटी अपनी चूत को मेरे लंड पर। दोनों के ही मुंह से तेज-तेज आवाजें निकलने लगीं, उम्म्ह… अहह… हय… याह… हिमांशु … हय … आआस्स … स्सस … उफ्फ. बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफफिर बुआ ने कहा- अगर चाहो तो नीचे रह जाओ या अगर ज्यादा गर्मी लगे ऊपर ही सोने चलो. आंटी मेरा लंड आगे पीछे करने लगीं … मैंने उसी वक्त चाची को मिस कॉल कर दिया.

जब तक मैं तुम्हें देख रहा हूँ तुम भी मुझे देखो ना …”नीलम का सिर झुका हुआ था इसलिए जैसे ही महेश उसके सामने जाकर खड़ा हुआ उसका फनफनाता हुआ लंड सीधा नीलम की आँखों के सामने आ गया। नीलम की साँसें अपने ससुर के लंड को इतना क़रीब से देखकर उखड़ने लगीं और उसका पूरा जिस्म गर्म होने लगा, महेश का लंड बुहत ज़ोर से झटके खा रहा था। नीलम की आँखें अब भी अपने ससुर के लंड पर टिकी हुयी थीं.

मैंने थोड़ा हिचकते हुए आंटी के चूचों को छेड़ दिया तो वो बोली- डर क्यूं रहे हो, अच्छे से दबा लो. मैंने भी अपने सिर को नीचे कर लिया ताकि गांड ऊपर उठ जाये और लंड पूरा अंदर तक चला जाये. मगर बीतते दिनों के साथ अब काजल भी चोरी-चोरी मुझे देखने की कोशिश करती थी लेकिन कभी खुलकर उसने भी मेरी तरफ नहीं देखा.

भाभी ने फिर मेरी चड्डी भी निकाल दी और मेरे लंड के हाथ में पकड़ कर एक दो बार ऊपर नीचे किया और मैं झड़ गया. फिर मैंने बातें बनाते हुए कहा- वो जब से आई हैं, तब से इस छोटे से घर में कैद हैं. हम रोज रात नंगे बदन एक दूसरे की बांहों में लिपट कर प्यार की बातें किया करते थे.

बीएफ सेक्सी फिल्म चोदा

रजनी अभी भी बाहर ही खड़ी थी, उसने राहुल को चाय पीने के लिए आमंत्रित कर दिया, जिसे राहुल ने बेबाकी से मान लिया. मैं संजना के बारे में सोचने लगा कि उसको मेरी जरूरत थी और मैं उसकी मदद नहीं कर पाया. उसने दोनों ही खटिया को एक तरफ करके जमीन पर गद्दा बिछाया और उस पर लेट गई और फिर मुझे उसके ऊपर चढ़ने का इशारा किया.

”परीशा- हाय पापा, इतना तंग करते हैं हमारे चूतड़ आपको? ठीक है मैं कुतिया बन जाती हूँ। अब ये चूतड़ आपके हवाले। आप जो चाहे कर लीजिए.

अब मैं जब भी लड़कों के करीब से निकलती, तो सर झुकाने के बजाए क़ातिल नज़रों से उन्हें देख मुस्कुरा कर गांड मटकाती निकल जाती.

अब जब उससे नहीं रहा गया, तब उसने कहा- प्लीज बाबू, अब मत तड़पाओ, अब नहीं रहा जाता, अब डाल दो अपना लंड मेरे अंदर जान … चोद दो मुझे, अपनी पत्नी को अब पूरी तरह से अपना बना लो शोना।वो जैसे जैसे चिल्ला रही थी, मैं वैसे ही और तेज़ उसके दाने को रगड़ रहा था. चाची की गांड पहली बार गांड चुदाई के बाद आज थोड़ी ज्यादा मोटी दिख रही थी. बीएफ एक्स एक्स एक्स वीडियोहम लोग खुशी-खुशी वहां रहने लगे।इसी दौरान मेरी पत्नी की तबियत काफी खराब रहने लगी.

धीरे धीरे ऐसे ही समय गुज़रता गया और मुठ मार मार के मेरा लंड 6 इंच लम्बा और 3 इंच मोटा हो गया. मैं उठा और उनके पैर छुए और उन्होंने भी मुझे हंस के देखा और कहा- खुश रहो. पंद्रह मिनट बाद ही बियर और उसमें मिली व्हिस्की का सुरूर उन पर चढ़ना शुरू हो गया था.

एक तो मामी जो यह देख कर अपनी नजरें फेर ली और दूसरी प्रिया जिसके गालों पे शर्म की लाली आ गयी।मुझे पता था कि प्रिया मुझ से प्यार करती है और मेरा पहला और अकेला किस भी उसी के साथ था।खैर, अब अखिल आया और मुझे जकड़ के कान में बोला- साले, हमारा जुगाड़ कहाँ है?मैं हंसा और उसे और प्रिया को लेकर ऊपर फ्लैट में आ गया। वहाँ पहुंच कर मैंने फ्रीज से दो बियर और एक ब्रीज़र निकाल के दे दी. इससे पहले भी जब मैंने अपने पति से गांड चुदवाई थी तो उन्होंने मेरी गांड को खोल कर रख दिया था.

तभी भाभी ने तौलिया से मम्मों को ढकते हुए कहा- क्या देख रहे हो?मैंने कहा- सॉरी भाभी … मैं चलता हूँ.

उसने कहा- उंगली से क्या होता है … इस को तो पूरा लौड़ा चाहिए, जो इस निगोड़ी चूत की नसों को ढीला कर दे. ” महेश ने हँसते हुए कहा।ज्योति का चेहरा शर्म से लाल हो चुका था। उसे कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि वह क्या करे, उसके पिता की नॉनवेज हरकतें उसकी साँसें ज़ोर से चल रही थीं। ज्योति अचानक वहां से उठकर अपने कमरे में चली गयी. तभी उसकी कमर में हरकत हुई और मैं समझ गया कि मेरी माल अब चुदने के लिए तैयार है। अब देरी ना करते हुए मैंने धीरे धीरे अपने लंड को गति दी, मैं उसे पहले बहुत धीरे धीरे चोद रहा था.

பெண்கள் குளிக்கும் காட்சி आंटी ने एक पतली सी नाइटी पहन रखी थी, जिसमें वो गजब का माल लग रही थीं. महेश ने नीलम की कमर को पकड़ लिया और उसकी चूत में अपने मूसल लंड के धक्के देने शुरू कर दिये.

मैंने गेट खोला, तो सामने अंकल खड़े थे मैंने पूछा- आप इस समय पर?तो वे बोले- मुझे तुमसे बात करनी है. मुझे लग रहा था कि मेरी चुदाई की कामुक आवाजें कमरे से भी बाहर तक जाने लगी थीं. स्स्स … आह्ह … मेरे मुंह से निकल गया तो सोनू ने मेरे मुंह पर हाथ रख दिया और दोबारा से मेरी चूत को चूसने लगा.

भोजपुरी बीएफ भोजपुरी वीडियो

मगर आज मुझे अपनी उसी सोच का बहुत ही दुख हो रहा है कि मैंने तुमको क्या सोचा था और तुम क्या निकली. शावर से गिरता पानी बदन पर लगे साबुन को तो साफ कर रहा था मगर सुमिना के साथ बैठी उस लड़की की मासूमियत का रंग था कि हर पल और गहराता जा रहा था. यह उन दिनों की बात है, जब मैं इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए दिल्ली आया हुआ था.

” महेश अब नीचे होकर अपनी बहू की चूचियों को गौर से देखते हुए उसकी तारीफ कर रहा था।नीलम को ऐसे महसूस हो रहा था जैसे उसका ससुर उसके जिस्म को ऊपर से लेकर अपने होंठों से चूमता हुआ नीचे हो रहा है, नीलम की चूत से पानी बहना शुरू हो गया था। वह न चाहते हुए भी कुछ कर नहीं सकती थी. मैं- मुझे अब हिना आंटी की चुत कौन दिलवाएगा?परवीन- हिना को पाना इतना आसान नहीं है.

मैं अब छत पर जब भी उनसे मिलता, तो उनसे ये जरूर कह देता कि कोई काम हो, तो मुझसे बोलें.

” नीलम ने अपने ससुर को देखते हुए कहा।ठीक है बेटी जैसी तुम्हारी मर्ज़ी, मैं तो सिर्फ तुम्हें खुश देखना चाहता हूँ. फिर मैं वाइब्रेटर लेकर उनकी गांड में रखने लगा और डिल्डो को आगे पीछे करने लगा. दीदी प्रशांत के लंड से चुदने लगी और उसके मुंह से तेज-तेज आवाजें होने लगीं.

हां, कई बार काम पर आते-जाते लड़कियों की नजर मेरे शरीर को देख कर उन्हें मेरी तरफ आकर्षित कर देती थी लेकिन उनमें वो बात नहीं दिखाई पड़ती थी कि उनको चोदने के लिए लंड मचल उठे. मैंने सोचा कि जब कोई घर पर है ही नहीं तो फिर मैं यहां रुक कर क्या करूंगा. मैंने पूछा- आप कौन?उधर से रिप्लाई आया- मैं राहुल का दोस्त करण बात कर रहा हूं.

मैं अपने लंड को आंटी के मम्मों से घिसता हुआ, उनके होंठ पर टच कर रहा था.

बीएफ कैसे डाउनलोड करें: तब मेरा भाई अर्पित वहां आया और मुझसे बोला- ओये … आज मेरी जान टेंशन में क्यों दिख रही है?मैंने सारी बात उसे बताई … मेरी बात सुनकर वो हंसने लगा. परवीन- मेरी सांस रुक गयी … इतनी भी देर कोई लिप टू लिप करता है … आआह.

इसलिए जो लोग भी मेरी कहानियाँचुत चुदवाते हुए साड़ी प्रेस करवा लीपति से गांड चुदवाकर मदमस्त हो गयीपढ़ कर गंदे कमेंट्स करते हैं तो उनको कहना चाहती हूँ कि मैं इस तरह के कमेंट्स बिल्कुल भी पसंद नहीं करती हूं. इस बार वो लंड की गोटियां चूसते चूसते गांड के छेद तक जीभ घुमा रही थी. मैं कभी उसकी गांड से खेल रहा था, तो कभी उसकी गांड पर चांटें मार रहा था, तो कभी उसके मम्मों को दबा रहा था.

उसकी गांड में उसका गाउन फंस गया था जिससे गांड की शेप अलग से उभर आई थी.

उन्होंने लंड निकाल कर मुझसे कहा- मेरे मुँह में माल निकालो, मुझे तुम्हारा माल पीना है. आधे घंटे बाद मैंने उसको किस किया और उसके मम्मों को फिर से दबाने लगा और वो मेरा लंड पकड़ कर सहलाने लगी. फिर मैं बोला- पहले अपने नशे को और बढ़ा लेते हैं … दो दो पैग दारू पी लेते हैं, फिर मज़ा और दुगुना हो जाएगा.