बीएफ सेक्स व्हिडिओ एचडी

छवि स्रोत,सेक्सी गंद

तस्वीर का शीर्षक ,

दक्षिण कोरिया बीएफ: बीएफ सेक्स व्हिडिओ एचडी, … बस प्यार सच्चा होना चाहिए और वो तुमसे बहुत प्यार करते हैं … उन्होंने मुझसे वादा किया है कि वो तुम्हें हमेशा खुश रखेंगे.

सेक्सी कवि

काफी देर तक बुर सहलाने के बाद मैंने पूछा- चूचियां चूसने और बुर सहलाने से कुछ हुआ?हां दादू, मेरी बुर में कुछ कुछ हो रहा था. इंडिया लड़की की सेक्सी वीडियोसंगीता मेरे ऊपर चढ़ गई और मेरे लैंड को अपने हाथ से पकड़ कर अपनी फटी चूत के छेद पर रख कर नीचे बैठने लगी.

15 मिनट के खेल के बाद पूर्णिमा खुद पूरी नंगी हो गयी, बोली- मेरी चूत चाट! कुछ तो राहत मिले!बोल कर बर्थ में पैर फैला कर बैठ गयी. मध्य प्रदेश आदिवासी सेक्सीमेरे लण्ड को देखते ही सिल्क की आँखों में एक चमक दौड़ गई, उसने अपने होंठ दांतों में दबा कर एक कामुक अंदाज़ में मुझे देखा और फिर अपने होंठों पे जुबान फेरने लगी.

अब मुझे भी मज़ा आने लगा था उन दोनों आदमियों की हरकतों पर! और मैं भी उन दोनों की इन हरकतों को एंजाय करने लगी।अब सामने वाला मेरे थोड़ा साइड में हुआ और अपनी कोहनी से मेरे बूब्स को दबाने लगा.बीएफ सेक्स व्हिडिओ एचडी: सागर- अच्छा तो शाम का क्या प्लान है?मैं- कुछ नहीं … बस ये लैपटॉप बनने देने जा रही हूँ, वहीं थोड़ा शॉपिंग का प्लान है.

चुत का कौमार्य भेदन के लिए यह उत्तम आसन होता है, पर मैंने इसके लिए संदीप को मना कर दिया.पूजा भी अच्छी दिखती थी, लेकिन वो मुझसे पतली थी और उसके बूब्स भी छोटे थे.

शैतान वाला सेक्सी वीडियो - बीएफ सेक्स व्हिडिओ एचडी

राजन को बैंक के सहकर्मियों ने बताया था कि प्रकाश और उसकी बीवी का अक्सर झगड़ा रहता है और इसीलिए प्रकाश ने अपना ट्रान्सफर कराया है.उसे बस इस हुस्न की परी की उस रसीली मुनिया (चूत) के हां कहने की जरूरत थी.

मेरा दोस्त कान में कहने लगा लगता है, तू भी इसे देख कर पागल हो गया है. बीएफ सेक्स व्हिडिओ एचडी मेरा लंड जोर जोर से अन्दर बाहर हो रहा था और मेरी धक्के देने की गति और भी तेज हो रही थी.

मैंने जीजा को कह दिया कि अगर मैंने ज्यादा चुदाई करवा ली तो फिर मुझे मेरे पति से चुदाई करते वक्त सब कुछ झूठ कहना पड़ेगा.

बीएफ सेक्स व्हिडिओ एचडी?

कुलदीप के ऑफिस में ही रेखा को नौकरी मिल गई थी जिसके सहारे उसने दोनों बच्चों को पाला था. फिर एक बार मेरे डैडी और मम्मी किसी रिश्तेदार के यहां शादी में गए थे. सिल्क ने मुझे अपने ऊपर खींच लिया मेरे 80 किलो का वज़न और चौड़ी छाती पे उसकी चूची दब गई जिस्म पे वासना का ज्वर चढ़ गया था.

मैडम- तो आज यहां क्या कर रहे हो … कॉलेज नहीं गए क्या?मैं- हां गया था, पर आज हमारा एक ही शिफ्ट में एग्जाम था, तो जल्दी छुट्टी हो गई. विवेक ने मेरी नाइटी को अब और ऊपर किया और मैंने अपने हाथों को ऊपर की तरफ उठा लिया. मैं कुछ नहीं कर सकता था, नंगा था भाग भी नहीं सकता था।नाज़िमा ने उंगली मेरे गांड में डाली। मैंने आह किया.

नौजवान नंगी लड़की ज्योति को बेड पर लिटा दिया, वो पेट के बल लेटी थी, उसके नंगे चूतड़ मेरे लण्ड को उकसा रहे थे. दुकान वाले को देख कर उस सांवले से बॉडीबिल्डर ने कहा- आ जा पहलवान … सुणा दे. मैंने खड़े होकर ड्रावर खोला तो देखा कि उसमें कंडोम के कई सारे पैकेट रखे थे.

मैंने उसके मुँह से लव यू सुना, मैंने भी उसे आई लव यू टू जान … कह दिया. मैंने उससे कहा- अगर मैं साथ छोड़ने वाली होती तो मैं तुमसे कभी नहीं मिलती और कभी भरोसा नहीं करती.

मैं डरता था कि अगर तेरे भाई को पता लग गया तो हमारी दोस्ती में कहीं दरार न आ जाये.

15 मिनट तक मैंने उसकी चूत को चोदा और जब मैं झड़ने को हुआ तो मैंने पूरा जोर लगा कर उसकी चूत में लंड को घुसेड़ते हुए धक्के लगाना शुरू कर दिया.

अगर तुम्हें जिम ज्वाइन करना है तो बस इतना कर सकता हूं कि वो तुमसे 100-200 रुपये कम ले लेगा. फ़िल्म शुरू के कुछ देर बाद मैंने देखा कि मम्मी की शर्ट अधखुली हो गई थी. पति ने सारी जवानी बस शराब और मारपीट करके ही निकाल दी लेकिन अब मैं खुद को रोक नहीं पाई।सुनिए कैसे क्या हुआ!पर सबसे पहले शुक्रिया मेरे दोस्त राज का … जिसकी वजह से मैं अपनी बात आपके साथ शेयर कर सकी.

अभी जॉब की तालाश में हूँ।मैं दिखने में खुद को हैंडसम तो नहीं बोलूंगा लेकिन हां, मैं एवरेज लुक्स वाला हूं और देखने में ठीक-ठाक दिखता हूं।यह मेरी पहली कहानी है सड़क पर गर्लफ्रेंड की चुदाई की. उसका फिगर यही 30 इंच की चूचियां, 24 इंच की पतली सी कमर और 32 इंच की थोड़ी उठी हुई गांड है. मुझे अन्दाजा हो गया था कि मेरी बहन के अन्दर कुछ ज्यादा ही सेक्स भरा हुआ है.

उसके बाद एक हफ्ते बाद मैंने उससे हाय लिख कर मैसेज किया तो उसने भी हाय में रिप्लाई किया.

मैं उसकी बात पर पिघल गई और उसे कहा- ठीक है … तुम्हारी यही मर्जी है, तो कर लेना … मैं तुम्हारे लिए हर दर्द सह लूंगी. दीदी बड़बड़ाईं- पता नहीं तुम लोगों की शर्म कब छूटेगी … हॉस्टल में रहती तो नंगे बदन ही घर में घूम लेतीं. पांच मिनट तक मैंने उसके दूधों को पीया और फिर उसकी पैंटी को भी निकाल दिया.

मुझे देख कर बोली- तू अभी तक जाग रही है?मैंने लड़खड़ाती हुई जबान से जवाब दिया- मां वो, मैं इन लोगों की बातें सुन कर उठ गई थी. जब मैं अपने फोन से सेल्फी लेता था, उस दौरान आलिया मेरे बहुत नजदीक आ जाती थी. और मुंह में लिये मम्मे को मैं कभी उसकी निप्पल को काटता तो कभी प्यार से चूसता.

उसने अपना डीपी व्हाट्सएप पर जो लगाया था, उसमें वो बहुत सेक्सी लग रही थी.

पुरुष अभिसार के मध्य, स्त्री के भावों से उत्तेजित होता है और स्त्री अपने अंदर से उमड़ते अहसासों से आनंदित होती है. कुछ देर बाद बाहर से मम्मी की आवाज़ आई … मैं आंखें मींसता हुआ दरवाजे की तरफ गया और दरवाजा खोला … मैंने देखा मम्मी और दीदी वापस आ गई थीं.

बीएफ सेक्स व्हिडिओ एचडी आप सच में और भरोसे लायक हैं या नहीं! यह जानना चाहती हूं।उन्हीं दिनों मेरे घर में एक फंक्शन आया तो मुझे काम से बार-बार घर से बाहर जाना पड़ता था. फिर मुझे अपने सीने से लगा लिया और कहा- कसम से कहता हूँ, तुम्हारी जवानी देख कर ही तुमको चोदने का मन बना लिया था.

बीएफ सेक्स व्हिडिओ एचडी मां ने कहा- अच्छा ऐसी बात है, पार्टी तक तो ठीक है … पर देर मत करना. खाना खाते हुए चर्चा में पता चला कि उसकी बहन शाम को बाबू जी के साथ ही लौटेगी.

डांस करते हुए स्वीटी आंटी की कमर हिलती उछलती हुए बड़ी लाजवाब लग रही थी.

बंगाली बीएफ साड़ी में

तभी पड़ोस वाले शर्मा अंकल को देखा जो कि हमारे ही घर की तरफ आ रहे थे. मैं उसकी चूत पर जीभ फेरने लगा तो कसमसा कर बोली- ये न करो साहब, लण्ड पेलो, अब हमसे बरदाश्त नहीं हो रहा. मुझे थोड़ा दर्द हो रहा था, पर शायद संदीप को इसी में आनन्द आ रहा था.

मैंने अपने लंड को अपनी बहन की चुत पर सैट किया और एक धक्का लगा दिया मगर मेरा लंड फिसल गया. मैंने तो स्कर्ट पहना था, तो दीदी को आसानी से स्कर्ट उठाकर टांगें सहलाते बन रहा था. आज तो इतनी मस्त क्लास हुई थी कि मैंने आज तक ऐसी क्लास नहीं देखी थी.

तभी स्नेहा भाभी ने हाथ बढ़ा कर मेरे लंड को पकड़ा और मुझे लेटने पर मजबूर कर दिया.

वो बोली- हाँ जी, आपको किस से बात करनी है?तो मैं बोला- जी नमस्कार, मुझे वन्दना से बात करनी है, मैं उनका जानकार बोल रहा हूँ. उसके चेहरे पर थोड़ी भरी शिकन आयी, पर जिस रफ्तार से आयी, उसी रफ्तार से चली भी गई. फिर मैंने सोचा कि चूत चुदाई में तो मुझे बहुत मजा आया लेकिन गांड मरवाने में बहुत तकलीफ हुई.

कुछ देर बाद मेघा ने बोला- अब मुझसे रहा नहीं जाता, अपने इसको मेरे अन्दर डाल दो. मुझे यह कहानी काफी रोचक लगी इसलिए मैं उसकी तरफ से ये कहानी आपके लिये पेश कर रही हूं. तभी भाभी ने एकदम मेरे ऊपर आकर अपनी चूत को लंड पर फंसाया और रगड़ने लगीं.

अब उसने मेरे हाथ और आंखें खोल दीं और वो काम की देवी मेरी बगल में नंगी ही लेट गयी. उस दिन फिर मैं जल्दी से एग्जाम देकर दीदी के कॉलेज के पास पहुंच गया और गेट के बाहर खड़ा था … क्योंकि कॉलेज के मेन गेट में ताला लगा था.

कुछ ही देर बाद उसने मुझे अपने ऊपर से उठा दिया और बोला- चल मेरी जान, अब कुतिया बन जा!मैं तुरंत ही अपने घुटनों पर आ गई और वो मेरी गांड की तरफ हो गया. उनके जाते ही मैंने नखरे दिखाते हुए कहा- जल्दी बताओ क्या काम है?संदीप ने भी नखरे दिखाते हुए कहा- काम तो कुछ नहीं है. मेरे झूठे गुस्से का असर जेठजी पर हुआ, अब वो चुपचाप वहीं खड़े खड़े कभी बर्तनों को, तो कभी मुझे घूर रहे थे.

[emailprotected]कहानी का अगला भाग:कमसिन कुंवारी चूत को उसके घर में चोदा-3.

फिर!मोनिका ने मेरी बात काटते हुए- आपको रोका किसने है? वैसे रवि मेरी फिगर में कुछ बदलाव आ गया है. वो मुझसे बोली- क्या बात है जान … बड़ी बेकरारी हो रही है?मैं भी हंसकर बोला- हां याद है ना तुमको अपना वादा?वो बोली- हां बाबा, मैं पूरा प्रयास करूंगी. नमस्कार दोस्तो, मैं राकेश एक बार फिर अपनी एक कामुक कहानी आपके सामने पेश कर रहा हूँ.

जब मामी लौटकर आईं, तो मैंने आखें बंद कर लीं और सोने का नाटक करने लगा. आपने अब तक की चुदाई की कहानी के पहले भागआंटी के साथ चुदाई की सुनहरी रात-1में पढ़ा था कि मारिया आंटी ने मेरा लंड पकड़ लिया था और वे मेरा लंड चूसने लगी थीं.

अब आगे:मैं- जीजा जी, दीदी को सेक्स के मामले में ऐसी कौन सी चीज है, जो पसंद नहीं है. वो इतनी अधिक चुदासी हो गई थी कि खुद गांड को धकेल कर लंड को अन्दर घुसवाने की कोशिश करने लगी. चाची को इतना मजा आ रहा था दोस्तों कि वो बस यही कहे जा रही थीं कि मेरी चूत मारते रहो जान … मुझे बहुत मजा आ रहा है.

इंग्लिश ब्लू पिक्चर सेक्सी मूवी

फिर दीदी ने आलिया तरफ देखकर जीजा जी का लंड हाथ में ले लिया और धीमे से मुँह में डालने लगीं.

इस बार उसने पैंटी उतार दी थी, लेकिन ब्रा पहने हुए अपने एक हाथ से अपने निप्पल दबा रहा था. उसके बाद उसने मेरी छाती को चूमा चाटा और फिर वो नीचे की तरफ जाने लगी. तो मैंने उस भाभी की चुत पर अपनी नाक लगा कर चुत की महक को अपने अन्दर समा लिया.

राजन ने उससे बहुत अपनेपन से पूछा- तुम दोनों के बीच क्या अनबन है?ममता बोली- कुछ नहीं, मेरा नसीब ही ऐसा है. बोली- चोद दे ना हरामी, अब किसका इंतजार कर रहा है!मैंने भाभी की चूत में लंड को घुसाना शुरू किया मगर लंड अंदर नहीं घुस रहा था. गुरुकुल सेक्सीअब तो उसका हौंसला बढ़ गया था और उसने मेरी फुदी पर अपनी उंगली को रगड़ना शुरू कर दिया.

मेरे दोस्त लोग मुझ पर कॉमेंट करते थे- यार, तेरी दीदी तो काफ़ी हॉट माल है … बिना शादी के कैसे रह लेती है?कोई बोलता- यार सारी भूमिहार लड़कियां ऐसी ही होती हैं. अब मेरा खुद पर से कंट्रोल छूट गया, मैंने खुद को एकदम ढीला छोड़ दिया … या यूं कह लीजिए कि मैंने खुद को पूरी तरह से जेठजी को सौंप दिया.

झड़ने के बाद अंकल कुछ देर वैसे ही पड़े रहे, इसके बाद वो दीदी के ऊपर से हट गए. वह अपने हाथ से मेरे सर को दबाकर अपना लंड पूरा मेरे मुंह में डाल देता जिससे बहुत सारा थूक आ जाता था. मैं अपनी कमर को उसके झटकों के साथ मिला कर हिला रही थी और एक आनंद के सागर में डूबती जा रही थी.

अगले दिन मैं जल्दी तैयार होकर घर पर बोल कर निकल गया कि महीने का अंत में काम ज्यादा होने की वजह से मैं रात में दोस्त के यहां रुक जाऊंगा. इससे पहले मैंने और भी भाभियों और आंटियों को चोदा था, उनमें मुझे उतना मजा नहीं आया था, जितना चाची की चुदाई में आ रहा था. साथ ही सुपारे पर अपनी उंगली रगड़ रही थी।शाबाश शाबाश … बहुत मजा आ रहा है। ये हुई ना बात नयी पीढ़ी वाली बात … और आगे बढ़ो, तुम बहुत मजा दे रही हो।” मैं सिसकारी भी ले रहा था।शायद मेरे हौसले बढ़ाने वाले बोल को वो समझ गयी.

जैसे ही मैंने उसकी चूचियों को छुआ तो उसकी आंखें जैसे बंद सी होने लगीं.

मैं अपने निप्पलों को वैसे ही उमेठ और खींच रही थी, जैसा कि संजय परमीत के थन खींच रहा था. तो मैं बोला- तुम्हारी भी चूत कम मस्त नहीं है मेरी जान … अभी भी इसे चोद कर मेरा मन नहीं भरा है.

इस दौरान स्नेहा भाभी की मदमस्त आवाजें मेरे कान में गूंजती रही थी- आऊऊ … ओह्ह्ह … उम्मम्म … यस यश बेबी … आह ऐसे ही चूसो … आआहह. फिर उसने अपने मुंह को खोल लिया और बड़े ही प्यार से मेरे लंड पर अपने होंठों को रखते हुए मेरे लंड के सुपाड़े को मुंह में अंदर ले लिया. दीदी- तुम दोनों एकदम पागल इंसान हो क्या?मैं हंसते हुए दीदी के मम्मों को सहलाने लगा.

ज्योति से पूछताछ करते करते मेरा लण्ड खड़ा हो गया था और मैं उसको चोदने के बारे में सोचने लगा. मुझे आज असीम आनन्द की प्राप्ति हो रही थी और मैंने खुद से कहा कि गीत तुमने इसी असीम आनन्द की अनुभूति के लिए थोड़ा सा दर्द सहा है. पर पहल कौन करे ये दोनों को समझ में नहीं आ रहा था,फिर शुरू हुआ बातों का सिलसिला … साथ में कॉफी!आठ बजे हम दोनों घूमने के लिए निकले.

बीएफ सेक्स व्हिडिओ एचडी एक दिन संडे को उसने मुझे कॉल किया- तान्या, क्या कर रही हो?मैं- कुछ नहीं … बस असाइनमेंट कम्प्लीट कर रही थी, पर ये लैपटॉप को पता नहीं क्या हो गया … हैंग कर रहा है. कुछ देर बाद मम्मी मुझे जगाने आईं- अर्णव उठो … खाना खा लो, बहुत समय हो गया है.

मोटी औरतों की बीएफ

जब ‘ये मेरा दिल प्यार का दीवाना’ इस गाने पर वो नाचती थी, तो पूरी रांड बन जाती थी. इसके बाद भाभी ने मेरी आंखों पर काजल लगा दिया और होंठों पर लिप लाइनर लगा दिया. लेकिन गर्लफ्रेंड बनाने का जुनून ही था कि मुझे ललिता की ओर धकेल रहा था.

मुझे अपने छब्बीस साल की जवान दीदी को पचास साल के सांड से चुदते देख कर बहुत ही मजा आ रहा था. देख! ना मत कर वसु … आइंदा जिंदगी में फिर ये मौका नसीब नहीं होने का … !”मेरे स्वर में गहरी गुहार का पुट पाकर वसुंधरा ने दो पल मेरी आँखों में एकटक देखा और फिर वसुंधरा के होंठों के कोरों पर एक गुप्त सी मुस्कान प्रकट हुई. सेक्सी वीडियो ओपन सेक्सी सेक्सीआलिया- तुम पागल हो गए हो क्या!मैं- नहीं, मुझे तुम बहुत पसंद हो, मैं तुम्हें अपनी गलफ्रेंड बनाना चाहता हूँ.

अब उसने मेरे हाथ और आंखें खोल दीं और वो काम की देवी मेरी बगल में नंगी ही लेट गयी.

उसने इस अंदाज से मेरी गांड को चाटा कि मुझे अजीब सी गुदगुदी होने लगी. दीदी अपनी चूत की तरफ़ उंगली से इशारा करते हुए बोली- यहां और कमर में.

जब तक लड़की का जिस्म खूबसूरत दिखता है, तब तक मर्द उस पर पैसे लुटाएंगे. मैं- तो तू ही ले ना मेरी कुतिया, तेरे लिए ही तो है मेरा काला लंड … अब से ये तेरा ही है … ले ले पूरा ले … ऊओहूऊऊ बड़ा अच्छा लग रहा है. थोड़े धक्कों के बाद राजन ने शोभा को घोड़ी बनाया और पीछे से अपना मूसल उसकी चूत में देकर धक्के शुरू कर दिए.

खा पीकर अब सोने की बारी आई, तो मामी बोलीं- तुम मेरे कमरे मैं ही सो जाना.

मैंने गैस को बंद करके उनको रसोई की स्लैब के ऊपर ही बिठा दिया और उनकी टांगें फैला कर चूत पर अपना लंड रख दिया. उसने जींस और टॉप पहना था, बाल खुले और मैचिंग नेल पेंट, सन ग्लासेज!राजन तो उसे दखता रह गया और बोला- मैं तो आपको पहचान ही नहीं पाया. तभी मेरी नज़र सामने लगे आईने पर गयी, जिस में ड्राइवर की आँखें दिख रही थी और वो मेरी तरफ़ ही देख रहा था.

10 साल बच्ची की सेक्सी वीडियोऊपर से सारी सहेलियां रोज चुत लंड के नए नए किस्से सुना कर जोश में ला देती हैं. मैं गर्मियों की छुट्टियां बिताने के लिए कुछ दिन अपने मामा के घर जाने वाला था.

देवर भाभी की सेक्सी पिक्चर दिखाओ

उसने उठ कर अपनी गांड से लोअर नीचे सरका ली और मैंने भी इतने में ही अपना पजामा नीचे कर लिया. मैं यही चाहती थी कि विक्की फिर शुरू करे, पर मैं बोलना नहीं चाहती थी. मैं सोच रहा था कि पता नहीं अब तक इसने कितने लड़कों के साथ सेक्स कर लिया होगा.

मेरी रफ्तार धीरे धीरे बढ़ती जा रही थी और जैसे जैसे रफ्तार बढ़ रही थी वैसे वैसे लण्ड मोटा व टाइट होता जा रहा था. अब हम दोनों लगभग नंगे थे क्यूंकि मैं अंडरवियर और वो ब्रा और पेंटी में थी।अब मैं फिर से उसके हाथ, गाल, गला, कान के पास किस करने लगा. मैंने कामिनी से पूछा- तैयार हो मेरी जान?उसने कहा कि मैं तो कब से तैयार हूँ … अब जल्दी पेल दो राजा मेरी चूत की प्यास बुझा दो … तुमने बहुत तड़पा लिया अब जल्दी से लंड पेलो … आह.

अभी पढ़ाते हुए 15 दिन ही हुए थे और संगीता के साथ मेरा रिश्ता झप्पी और चुम्बन तक आ गया था. उनका लंड बार बार मेरे होंठ तक आता था, उनका इतना मोटा सुपारा देख कर सच में मेरी फट रही थी. नमस्कार दोस्तो, मैं बैड मैन!आप सभी ने मेरी पिछली कहानियों की सराहना की, धन्यवाद.

गांड 36 इंच की तरबूज सी उठी हुई थी और क़मर तो उनकी इतनी बलखाती हुई थी कि एक झटके में ही मेरा लंड चुत में सैट हो जाता. वे लोग चले गए … मैंने दरवाजा बंद कर लिया और दीदी के कमरे में चला गया … मैं लैटर निकाल कर पढ़ने लगा.

भाभी ने कहा- क्यों, किस्मत में क्यों नहीं हूं मैं? अगर तुम चाहो तो मुझे अपनी बना सकते हो.

एक तरफ तो मेरा मुंह उसकी चूत में था और दूसरी तरफ वो मुझे लंड चुसवाने का मजा दे रही थी. 2020 का सेक्सी वीडियो मेंमेरी छवि दबंग और मददगार व्यक्ति की है और सेवक राम एक बार मेरी मदद से एक बड़ी समस्या से बच चुका है. नंगी सेक्सी फिल्म इंडियनमैंने मीना के होठों पर होंठ रख दिये और उसके चूतड़ दबाने लगा जिससे वो मदहोश होने लगी. तो वह मेरे चेहरे को पीछे घुमा कर मेरे मुंह में अपनी जीभ घुसा देता था.

भाभी ने कहा- क्यों, किस्मत में क्यों नहीं हूं मैं? अगर तुम चाहो तो मुझे अपनी बना सकते हो.

अब तक की सेक्स कहानी में आपने पढ़ा था कि मैं रात को स्वीटी आंटी के ऊपर चढ़ गया था तभी उनके पति का फोन आ गया कि वो नीचे आ गए हैं. मेरी पत्नी को मैं सहमति से चुदवा चुका था, इसलिए वो भी मेरी एहसानमन्द थी. मैं फिर उसी तरह दीदी के कमरे में झांकने लगा … दीदी ने उस लैटर को निकाला और पढ़ने लगी … फिर एक पन्ने पर कुछ लिख कर बेड के नीचे रख कर सो गई.

जीभ लगने का इंतजार जैसे सायरा कर रही हो, तुरन्त ही उसने मुड़कर मुझे देखा और फिर मुस्कुराते हुए अपने काम में लग गयी। मेरी जीभ को उसकी चूत का लसलसा कसैला और नमकीन सा स्वाद लगा।हम दोनों के यौनांग पानी छोड़ने लगे थे। सायरा मेरे सुपारे को चटखारे ले लेकर चाट रही थी और अंडों से खेल रही थी. यह भी मुझे बाद में पता चला कि इस बात के लिए उन दोनों की बात पहले ही हो चुकी थी. बहुत किस्मत वाले होंगे वो लौड़े जो इस गर्म चूत के अंदर तक घुसे होंगे.

बीएफ सेक्सी वीडियो में देहाती

10 मिनट की डबल चुदाई के बाद वे दोनों खड़े हुए और दोनों ने अपना लंड मेरे मुंह के सामने कर दिया और मैं लोलीपोप के तरह दोनों का लंड चूसने लगी बारी बारी!करीब 2 मिनट के बाद दोनों मेरे मुंह में झड़ गये और मैंने उन दोनों की सारी मलाई चाट ली. मैंने उसके लंड को पकड़ा और संजय की आंखों में देखा और चूत पर लंड को रख दिया और नीचे से अपने चूतड़ उठा कर एक हल्का सा झटका मारा. मैं अभी भी चुप थी, मेरा भाई फिर बोल पड़ा- दीदी, आप मुझ पर भरोसा कर सकते हो.

मैं चुपचाप कागज लेकर अपने घर आ गयी और खाना बनाने की तैयारी करने लगी।मेरे पति घर आये तो शराब के नशे में थे और आते ही मेरे मुंह एक थप्पड़ लगा दिया और बोला- कमीनी कुतिया, मेरी बेटी को मेरे सालों के घर क्यों भेजा?मैं कुछ नहीं बोली.

मैंने प्रीति को अपने ऊपर खींच लिया और प्रीति को बोला- मेरे लंड महाराज को चूसो!हम दोनों 69 की अवस्था में आ गए और प्रीति मेरे लंड को बड़े प्यार से चूसने लगी.

निधि बोली- आप मुझको आवाज लगाओ तो!मुझे लगा कि अब ये फोन सेक्स से ही मुठ मरवायेगी. भाभी- मैं माल हूं?मैं- नहीं … आइटम नंबर वन हो आप!भाभी- जा मैं तुझसे बात नहीं करती. इंग्लिश बीपी सेक्सी वीडियो हिंदीतो ऐसा क्या हुआ कि सिर्फ दो साल के शादीशुदा जीवन में ही गुज्जू को शादी से बाहर किसी जिगोलो की ज़रूरत पड़ गई।मैंने फिर पूछा- तू यहाँ कैसे?वो बोली- जिस काम के लिए आप यहाँ आए हैं।मैं उसे लेकर बेड पर बैठ गया.

यहां मैंने पुणे के एक कॉलेज में एडमिशन ले लिया और यहां मैं एक हॉस्टल में रहने लगी. फिर शाम को मैंने बाजार से भाभी के लिए गोली लाकर दी, जिसे भाभी ने खा ली. मैं बोला- अच्छा सुषमा जी आप! बोलो क्या हो रहा है?बोली- कुछ नहीं, बच्चा स्कूल गया है.

आंटी- तो कल की परीक्षा की तैयारी हो गयी?मैं- कहां आंटी … ये स्पर्धा परीक्षा की तैयारी जितनी भी की जाए, कम ही रहती है. कनाट प्लेस में एक खूबसूरत रिस्ट वाच खरीद कर मैंने उसको गिफ्ट की जिसको उसने तुरंत पहन लिया.

इसी सोच विचार के चलते अब मैं अपने बनाए हुए उसी छेद से हर रोज चाची को नहाते हुए देखने लगा था.

इधर बिस्तर पर चाची को लिटा आकर मैंने लंड पर कंडोम चढ़ा कर चुदाई की पोजीशन बनाई और उनकी चुत के दाने पर लंड रगड़ना चालू कर दिया. सपना बोली- सब यहीं करना है? बेडरूम में चलो!हम दोनों नंगे ही बेडरूम में चले गए. उसके दोनों हाथ मेरे कंधों के नीचे थे और वो मेरे उपर लेट कर मुझे ज़ोर ज़ोर से पेले जा रहा था.

सेक्सी बिहारी ओपन इसके बाद हमने परमीत को बात छुपाने की सजा के तौर पर पूरे कपड़े निकाल कर नंगे जिस्म को दिखाने की बात कही. फिर थोड़ी देर के बाद वह लुड़कते हुए मेरे बगल में लेट गई- सुरेश … अब हफ्ते में 5 से 7 बार तू यहीं मेरे पास सोएगा.

मैंने नार्मल रहते हुए पूछा- कुछ समझ में नहीं आ रहा क्या?वो अपनी आंखें चमकाते हुए बोली- हां हां अब बेटी को कौन याद रखता है … जब एक के साथ एक फ्री मिल रही हो तो?पिंकी आगे बोली- जानते हो अंकल, कुछ दिन तो मैंने अपने मन को समझा कर रखा कि जो हो गया, सो हो गया … अब कभी नहीं करूंगी. उसका हाथ फुदी के उपर लगते ही मैं और वो ड्राइवर दोनों ही शॉर्ट हो गये. मैं जोर से बिलख उठी- मम्मीईईईईईई!उसका लंड सीधा मेरे बच्चेदानी से टकराने लगा.

बीएफ पिक्चर इंग्लिश वीडियो

इसके बाद वह दूसरे कमरे में से अपने भैया का एक अच्छा वाला ड्रेस पहन कर आ गईं. मैंने तुरंत दरवाजा खोल दिया और अनजान बनते हुए कहा- अच्छा हुआ दीदी आप आ गईं, हमें घर के लिए देर हो रही है, हम चलते हैं. आलिया फिर से दरवाजे पर दस्तक देने लगी- राज दरवाजा खोल, वरना मैं तुम्हारे पापा को कॉल करती हूँ.

वो अपनी कमर को हिलने लगा और दीदी की चुचियों को धीरे धीरे दबाने लगा. मेरे हाथों को उसने एक तरफ करके बांध लिया और मेरी चूत को गौर से देखने लगा.

उसने एक हाथ से लंड पकड़ कर चूत में डालने की कोशिश की, पर इस आसन में चूत का द्वार आसानी से नहीं मिलता, जिस वजह से लंड चूत में घुसने की बजाय छिटक गया.

फिर वन्दना ने अपने बेटे को नौकरानी के साथ पार्क में भेज दिया और 8 बजे वापिस आने का बोल दिया. वो मुझे पीछे धकेलने लगी लेकिन मेरे अंदर ऐसी मस्ती भर गयी थी कि लंड को वापस निकालने का मन ही नहीं कर रहा था. तभी विक्की ने मुझे सीधा करके मेरे गले पर किस करना चालू कर दिया और वो एक हाथ से मेरे मम्मों दबाने लगा.

फिर स्नेहा ने मुझे अलग कर दिया और उसने मेरी पैण्ट को उतार कर लन्ड मुँह में ले लिया और ऊपर की ओर देखते हुए मेरी आँखों में आंखें मिलाते हुए लंड को चूसने लगी।शायद उसको सेक्स के बारे में थोड़ी बहुत नॉलेज थी, ऐसी मेरी उस समय की सोच थी. नहीँ ये सब गलत है दीदी!” कहकर वो झटके से अलग हुआ और बेड से उठ गया। मुझे बहुत गुस्सा आया। मैं खुल कर उससे चुदने को भी नहीं कह सकी थी. तो उन्होंने मुझे कहा- सलवार उतार और बेड पकड़ कर झुक जा!मैं झुक गयी और उन्होंने लंड डाल कर चुदायी शुरू बस एक मिनट में ही ढीले हो गये और बोले- चल भाग यहाँ से!चुपचाप सलवार उठा के मैं बाथरूम में गयी और अपनी चूत में उगंली करने लगी और फिर नहा धोकर आगे वाले कमरे में आकर लेट गयी।अब मैं अकेली थी तो मुझे संजय का ख्याल आने लगा.

मुझे पता था कि अगर लड़की के साथ सेक्स का पूरा मजा लेना है तो उसको पूरी तरह से गर्म करना चाहिए.

बीएफ सेक्स व्हिडिओ एचडी: मैंने मन में सोचा कि अगर थोड़ी मेहनत और की जाए, तो ये सैट हो सकती हैं और मुझसे चुदवा भी सकती हैं. मैं उस पल का इंतज़ार कर रहा था कि कब वो आए और कहे कि रणजीत आओ मुझे चोदो मेरी चूत का भुर्ता बनाओ.

संजू अलग होते हुए बोली- बहुत भूख लगी है, चलो पहले खाना खा लेते हैं. अंदर वसुंधरा की दो-तीन ड्रेसेस के साथ-साथ साटन के दो नाईट-सूट और उन के नीचे साटन के तीन सेट डिज़ाइनर ब्रा-और पैंटीज़ के पड़े थे. वो बोली- सच, इतनी मस्ती से चोदते हैं क्या वो तु्म्हें?श्वेता का ध्यान अब उसके जीजा के लंड की तरफ ढाल दिया था मैंने.

मगर अगले ही पल उसने मेरे होंठों को अपने होंठों में लेकर चूमना शुरू कर दिया और एक हाथ से मेरी चुत को रगड़ने लगी.

मैंने उसकी दोनों टांगें उठा कर अपने कंधों पर रखीं और चुदाई की पोजीशन में आ गया. नातिन की चूत से निकल रही कामरस की बूंदें उसकी उत्तेजना की गवाह थीं. बस फिर क्या था … मैंने झट से उन्हें एड कर लिया, हमारी दोस्ती का सिलसिला आगे चल पड़ा.