हिंदी बीएफ सेक्सी फिल्म दिखाइए

छवि स्रोत,தமிழ் porn

तस्वीर का शीर्षक ,

मां बेटे की चुदाई सेक्स: हिंदी बीएफ सेक्सी फिल्म दिखाइए, मैंने कहा- मंजीत तुम्हें एक बात बताऊँ, मैं सारी दुनिया से चोरी, सबसे छुपा कर सेक्सी कहानियाँ लिखता हूँ.

రోజా సెక్స్ వీడియోస్ కం

काफी कोशिश के बाद चाची मेरे ऊपर से हटने में कामयाब हो गईं, पर मैंने उन्हें छोड़ा नहीं, मैं उन्हें पलट कर उनके ऊपर चढ़ गया और जबरदस्ती किस करने लगा. சர்மிலா xxx‘आहह…’ जीजा जी के मुँह से निकला और वो हाथ बढ़ाकर दीदी के चूतड़ सहलाते हुए पीछे से चूत में उंगली करने लगे.

मैंने फिर से उनको सॉरी कहा तो इस बार उन्होंने एक स्माइल दी तो मैंने भी स्माइल किया और खाने की टेबल की तरफ चला गया. रिश्तों में चुदाई कहानीउसके बाद भाभी ने मेरे लंड को अपने गर्म गर्म मुंह में ले लिया और मजे से उसको चूसने लगी.

स्टेशन पर पहुंच कर मैंने उसे कॉल किया तो वे तो मुझसे पहले ही स्टेशन पर मेरा इंतजार कर रही थी।गाड़ी कुछ घंटे लेट थी जैसा अक्सर होता है.हिंदी बीएफ सेक्सी फिल्म दिखाइए: तुझे ये सब करने को मिलना था क्या आखरी बार? अब तू जा और दोबारा कभी मत मिलना मेरे से.

वो छत के ऊपर वाले अँधेरे कमरे में अदिति के साथ पहली चुदाई जिसमें उसे नहीं पता था कि वो अपने ससुर से चुदवा रही है, फिर बाद की चुदाई के नज़ारे मेरे दिमाग में से गुजरने लगे.अगर किसी को ट्विस्टर के बारे में न मालूम हो तो बताए देता हूँ… खेल में एक लूडो की तरह का बोर्ड होता है, जिसके बीच में एक घूमने वाला पहिया घड़ी की सुई जैसे एक तीर को चारों ओर घुमाता है.

जबरदस्त हिंदी सेक्सी - हिंदी बीएफ सेक्सी फिल्म दिखाइए

प्राची भाभी के जिस्म से मंहगे परफ्यूम की खुशबू आ रही थी, जो वासना में मिलकर वातावरण को कामुक बना रही थी.चाची की चूत तो पहले से ही गीली थी, जिससे मेरा लंड बिना किसी रुकावट के चूत को चीरता हुआ जड़ तक घुस गया.

लेकिन मैं थोड़ा शर्मीले स्वभाव का लड़का था, मुझमें ऐसा करने की कोई हिम्मत नहीं थी. हिंदी बीएफ सेक्सी फिल्म दिखाइए अचानक चाची की नजर मेरे लंड पर पड़ी तो चाची चौंक कर बोलीं- तेरा नुन्नू अभी तक खड़ा है.

क्या लंड था मादरचोद का… नौ इंच लम्बा और 3 इंच मोटा (ये मैंने बाद मैं नापा).

हिंदी बीएफ सेक्सी फिल्म दिखाइए?

मैं- ठीक है मेरी जान… अह्ह्ह अह्हह्ह!फिर चाची बोली- इतनी देर हो गई… जल्दी कर, मैं थक गई… साले पर तेरा लंड अभी तक नहीं थका है. दूसरे दिन रिसेप्शन का प्रोग्राम था, सारा काम मॅनेजमेंट वालों के पास था तो मेरे लिए करने को कुछ नहीं था, बस थोड़ी बहुत अरेंज्मेंट चेक करनी थी तो मैं एक राउंड लॉन का लेकर आया और आराम करने के इरादे से घर आ गया. मेरे शौहर के लंड से मेरे बेटे का लंड मोटा भी बहुत ज्यादा था, इसलिए मेरी चुत में दर्द हो रहा था.

मैंने अपने दोनों हाथों से उसके चेहरे को पकड़ लिया और अपने होंठों को उसके होंठों पर लगा दिया. उसका बायाँ बाजू मेरे कंधे के ऊपर से मेरी पीठ पर था तथा उसने उससे मुझे जकड़ा हुआ था और उसका दायाँ बाजू हम दोनों के बीच में था तथा उसका वह हाथ मेरे लिंग पर रखा हुआ था. रिसेप्शन के बाद मैं उसके घर तो नहीं जा पाया पर कभी कभी हम दिन में ही फोन सेक्स कर लेते हैं.

मैंने उसकी छाती की तरफ देखा जो काफी मजबूत थी और उसकी खाकी शर्ट का ऊपर का बटन खुला हुआ था। उसकी जांघें फैली होने की वजह से उसके घुटने मेर पैरों पर आकर टकरा रहे थे। मैं उसकी जिप की तरफ देख ही रहा था कि स्पीड ब्रेकर आ गया और अचानक उसकी आंख खुलीं और उसकी नज़र सीधी मेरी नज़रों पर गई. मैं भी उनमें से चुन कर एक लम्बा पतला और सख़्त सा बैंगन तोड़ लाई और चूत में डालने की कोशिश करने लगी. मैंने फिर अपने होंठ चाची के होंठों पर रख दिए और उनके मम्मों को भी दबाने लगा.

मैं कल तुझे तेरी चड्डी सुखा कर दे दूँगा ठीक है ना!पूजा ने एक बार फिर संजय को हग किया और भागती हुई वहाँ से चली गई।संजय ने उसकी पेंटी को अपनी अलमारी में रखा और खुद भी रेडी होकर निकल गया।ये सब टीना बड़े ध्यान से सुन रही थी।संजय- अबे साली पहले तो बहुत चपर-चपर कर रही थी. रीना कविता से बोली- अब तीन दिन हम बिल्कुल ऐसे ही रहेंगी जैसे हॉस्टल में रहती थी.

मैंने हल्के से आँखें खोल कर देखा तो वो अपनी पैंट उतार के अपनामोटा सा लंडहाथ में लिए खड़ा मेरे बदन को देख रहा था.

भाभी- तो आपकी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है? आप तो इतने स्मार्ट हैं?मैं- साल भर से तो आपके पीछे लग गया भाभी, कहां से किसी और को दिखता हूँ स्मार्ट?मैंने चुटकी ली.

ऐसा हो सकता है क्या?सुमन- अच्छा ये बात है… तो चलो ये काम को करो साइड में और मुझे पहले की तरह अपनी गोद में बिठा कर मेरी मालिश करो. मैंने इसका फायदा उठाते हुए उनका नंबर ले लिया और भाभी से फोन पर बातें स्टार्ट हो गईं. ‘तो मैं कब तुमसे प्यार नहीं करती बुद्धू?’ ऐसा कहकर भाभी ने मेरे गाल पर चुम्मा दे दिया और कहने लगी- अब तो मैं भी तुमसे बहुत प्यार करने लग गई यार … पर मिलन कैसे होगा, मुझे इसी बात का डर है.

उन्होंने सोचा कि रोहित के सामने सिर्फ कपड़े पहन कर दिखाऊंगी और इसको जला कर मजा लूँगी. फिर उसने अपनी ब्रा को भी अपने से अलग कर दिया और अपने बूब्स को दबाते हुए मेरे पास आई. दूसरे दिन सुबह एयरपोर्ट उतरी तो रिसोर्ट की कार हमें लेने पहुंच गयी.

कहानी पर आते हैं:राहुल ने ऋतु के दोनों हाथ पकड़ कर पीछे खींच लिए और जोर जोर से उसकी गांड चुदाई करने लगा.

मैं- और तुम उससे कितना चार्ज करोगी?ऋतु- वो ही… एक हजार रूपए… ठीक है ना?मैं- ठीक है. मैंने उसके चेहरे पर उसके बहते आंसुओं को अपने हाथों से साफ़ किया और उससे कहा- बेबी, तुम क्यों अकेली फील करती हो. मैंने अपने आप को उससे छुड़वाते हुए पूछा- और दूसरा?रिया की आँखें चमक उठी, उसने सामने वाली दराज खोली और कहा- दूसरा गिफ्ट ये है कि आज मैं तुम्हें जी भरकर चोदने वाली हूँ.

सुधीर ने स्पीड बढ़ा दी, अब वो भी किसी भी पल अपना लावा छोड़ सकता था।सुधीर- आह. अब गरीब के लिए तो पैसा ही सब कुछ है और बेचारी भोली-भाली नीतू क्या जाने कि पैसों के चक्कर में उसकी चुत की सील टूटने वाली है. मैं सोनू की बेचैनी समझ गया और उसके घुटनों को थोड़ा मोड़कर उसकी चूत पर लण्ड लगाकर पोजीशन ली.

अब तक जो लड़के चुपचाप लड़कियों का लाइव शो देख रहे थे, अब ये सब उनके बर्दाश्त के बाहर हो चुका था और अपने तने हुए लंड लेकर उन्होंने जो लड़की मिली उसे दबोच लिया।इस तरह से एक बार फिर से चोदा-चोदी दौर शुरू हुआ.

शायद मेरे इतनी तेज़ी के साथ लंड घुसने के कारण उसे दर्द हो गया था मगर उसने अपने आप को संभाल लिया और मुझे कस कर अपनी बाँहों में चिपटा लिया. मैंने पूछा- क्यों?तो उसने एक बार फिर बोला- रख दे बे!मैंने उसकी बात को इग्नोर करते हुए किताब का पन्ना खोला तो पहले ही पन्ने पर एक खूबसूरत लड़की थी जो केवल पैन्टी पहने हुए थी और अपने मम्मे को अपने हाथों से न छिपाने के बराबर छिपाये हुए थी.

हिंदी बीएफ सेक्सी फिल्म दिखाइए जहाँ पर मैं परीक्षा देने जाता था, मेरी क्लास में मेरा रोल नम्बर एक कोने पर था. ’मैंने उसे नीचे लिटाया और उसके होंठ चूसने लगा और जाँघों औरचूत को पेंटी के ऊपर से सहलाने लगा.

हिंदी बीएफ सेक्सी फिल्म दिखाइए तो क्या मेरे भी खून निकला है?पूजा उठकर देखना चाहती थी मगर संजय ने उसको रोक दिया और उसको अच्छी तरह समझाया कि ये सबके साथ होता है, तेरे में से भी निकला. उस खटिया में जगह ही कितनी थी, अतः एक-दूसरे से चिपके ही थे। वह मेरा लंड सहलाने लगा.

मौसी की शादी नहीं हुई थी, मगर उसे पति के सुख से मैंने महरूम नहीं रहने दिया.

राजस्थानी देसी बीपी वीडियो

मुझे पता है तुम क्या घूरते हो?अब मेरा लंड खड़ा हो चुका था, मुझसे और रहा नहीं गया. मैं बोला- हां चाची सुबह से ये ऐसे ही है इसी लिए तो मैं आपसे बोल रहा था तो आप गुस्सा हो गई थीं. और उस झटके से उसकी फुद्दी से खून की बूंदें टपक पड़ी और वो दर्द से चिल्लाने लगी.

पीटर ने मुझे दीवार को चिपकाया और वो फिर से अपना हलब्बी लौड़ा मेरी चूत के अंदर बाहर करने लगा. माँ ने भी अपने पैरों को फैला दिया और मेरे सिर के बालों पर हाथ फेरते हुए मेरे चेहरे को अपनी चूत पर दबाया. रात की ज्यादा कामुकता की वजह से नींद नहीं आती तो मैं और नशा करती ताकि नींद आ सके.

फिर जब उसे मज़ा आने लगा तो उसने दोनों टांगों को ढीला छोड़ दिया और मैं समझ गया कि अब बुर की चुदाई का सही वक्त आ गया है.

सबसे पहला मेरा नम्बर आया, मैं भी बीच में गया और अपने कपड़े उतारकर उसी लड़की के पीछे खड़ा हो गया. उस दिन आरती के स्कूल में उसका क्लास टेस्ट हुआ था और उसको बहुत कम मार्क आए थे, जिसके कारण आरती की माँ टयूशन में आई और मुझे उसकी एक्सट्रा क्लास लेने के लिए कहने लगीं. उसने मुझे फिर साइड में लेटाया और एक टांग ऊपर उठा कर फिर से लंड अंदर डाल दिया.

मेरी जान में जान आई, और लड़कों के लंड मेरी बेचारी पत्नी के मुंह से बाहर निकल आए. मैंने तुरंत उससे एक कमरे का इंतजाम करने को कहा तो वो कुछ समय के लिए अपना कमरा देने को तैयार हो गया. पीटर ने मेरे मम्मे पकड़े और फिर एक करारा झटका मारा। मेरी तो सांस ही अटक गई.

अचानक से दीदी मेरे से दूर खड़ी होकर बोलने लगी- नहीं भाई, ये सब गलत है. दोस्तो, मैं हिमाचल का एक नौजवान मुंडा हूँ, मुझे सेक्स बहुत पसंद है, जब भी मुझे सेक्स का मौका मिलता है तो उसको कभी भी नहीं छोड़ता.

थोड़ी देर बाद ही मानसी के हाथ मेरे बालों में घूमने लगे और उसने अपने पेट को हल्के से हिलाना भी शुरू कर दिया था. भाभी ने मेरे सर को अपनी तरफ खींचा और किस देने लगी, हमारे होंठ एक दूसरे से जुड़ चुके थे और भाभी की साँसों की खुशबू से मेरा लंड और भी टाईट हो गया. जैसे ही मोना ने गेट खोला, उसके चेहरे पर हल्की सी मुस्कान आ गई क्योंकि उसके सामने उसकी खास सहेली मीना थी.

मगर गुलशन जी को उसके ब्वॉयफ्रेंड की भनक लग गई बस उन्होंने उसी दिन से उसका कॉलेज बंद करवा दिया और उसे घर में कैद कर दिया.

आज एक नहीं दो महिलाएं भी दवा खाकर आ जातीं, तो मैं उन्हें संतुष्ट कर सकता था. वीडियो देखते समय अचानक उत्तेजना से मैंने भी बैंगन को जोर से धक्का लगा दिया, तो लगभग 8 से 10 सेंटीमीटर बैंगन मेरी चुत में घुस गया. जब माला के मुंह से सिसकारियाँ निकलती, तब मेरी उत्तेजना बढ़ जाती और उसके मुंह में मेरा लिंग-मुंड फूल जाता जिस से उसकी आवाज़ निकलना बंद हो जाती.

आपका ये बहुत बड़ा है!”जमाई- बीस साल के बाद चुदवा रही हो तो दर्द तो होगा ही. थोड़ा तेज करो भाई उफ़ आह…फ्लॉरा की चुत किसी भी पल लावा उगलने को बेताब थी और जॉन इस कली के पहले कामरस को वेस्ट नहीं करना चाहता था.

अब मैं यश के लंड पे ऊपर नीचे होने लगी और इधर मनीष मेरे मुँह को चोदने लगा. उन्होंने मेरे गले पर हाथ रखकर मुझे अपनी ओर खींचा और मेरे होंठ चूसने लगीं. यहाँ से download करें!और ये भी बस रात का ही कार्यक्रम सेट करने की सोच में थे.

ब्लू पिक्चर सेक्सी व्हिडिओ

अब ये कपड़े चेंज करो नहीं तो मैं नाराज़ हो जाऊंगी तुमसे और जो हुआ भूल जाओ ओके.

जिसके दूध इतने बड़े और गांड इतनी चौड़ी हो और साथ ही बला की खूबसूरत भी हो. सुधीर- तुम आख़िर चाहती क्या हो? ऐसी बातें करके मुझे पागल बना रही हो और कुछ करूँगा तो गुस्सा हो जाओगी।मोना- लड़की का असली गुस्सा शायद तुमने देखा ही नहीं हा हा हा. मैंने उसे अपनी तरफ खींचते हुए अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिए और चूमने लगा.

सास संगीता ने अपनी टांगों से जमाई की क़मर को जकड़ रखा था, उनके मुँह से चीख निकल रही थी मगर टांगों की जकड़न चन्दन की क़मर को अपनी चूत की तरफ खींच रही थी. उसने मेरी तरफ देखा और मेरी तरफ अपने होंठ गोल करके एक फ़्लाइंग किस किया. मराठी सेक्सी बीपी दिखाओउनके बीच वो मर्यादा का परदा अभी भी था और टीना को तो सुमन ने अभी तक कुछ बताया भी नहीं था.

संजय- अच्छा सुन वो लड़का अब चिड़चिड़ा हो गया है… उसके पास भी मत जाना. मैं स्नेहा के साथ उसका हाथ पकड़े सीढ़ियाँ उतर कर नीचे आया और हम दोनों रानी के बेडरूम में जा पहुंचे.

ऐसे ही काफी देर तक चला और फिर दोनों झड़ने को हुए तो बोले- कहां निकालें? मेरा मन उनके माल को गांड में लेने का किया तो मैंने इशारे से गांड में झड़ने को कहा. उन्होंने भी पैन्ट के ऊपर से ही मेरा खड़ा लंड पकड़ लिया और सहलाने लगीं. वैशाली बहुत ही गरम हो चुकी थी, उसने मेरी पैन्ट निकाली और मेरा लंड हाथ में लेकर जोर जोर से हिलाने लगी.

जब पूजा वैसे ही बेजान पड़ी रही तो उसको अहसास हुआ कि पूजा अब भी बेहोश है, तो उसने पास पड़ी पानी की बोतल से थोड़ा पानी पूजा के चेहरे पे गिराया, जिससे वो होश में आई. मैंने एक हल्का झटका मारा और मेरा पूरा लंड उसकी रसीली चूत में जा घुसा।ऋतु ने अपनी आँखें बंद कर ली और पीछे हो कर तेजी से धक्के मारने लगी. मोटी जांगहें और जीन्स में से फनफनाता हुआ लंड… बाल ऊपर की ओर बनाये हुए जो काफी कड़क थे और गंभीर स्वभाव और चोदू लुक ऐसा कि बस गांड और चूत खोलकर लाइन से लेट जाओ तो एक ही दिन में 100 लड़कियो को माँ बना दे.

‘मम्मी, आज इनको पालक छोले की सब्जी खानी है जैसी आप बनाती हो, आप मुझे गाइड करो कैसे बनाना है’; ‘मम्मी आम का अचार डालना है आज, आप बता दो कैसे क्या क्या करते हैं’ इत्यादि इत्यादि.

”मेरी चूत को और कितना उंगली से सहलाओगे? लंड डाल दो न प्लीज!”मैंने लंड को चूत पर रख कर अंदर धक्का दिया और लंड आधा अंदर चला गया. आज की कहानी विनय और रीना की है, जिनकी शादी छह महीने पहले ही हुई है.

उनका पूरा ध्यान केवल गांड पर और लंड के आनन्द पर था। लौंडे का क्या हो रहा है. गोपाल वहां से चला गया नीतू ने उसको चाय दे दी और तब तक मोना भी उठ गई थी. तो मनीष बोला- लंड निकाल कर साली की मुंह में डाल और वहीं निकाल!मेरे मुंह में तो पहले से ही दो लड़के का वीर्य था, उसने वैसा ही किया, लंड निकल कर मेरे मुंह में घुसा दिया और चोदने लगा और 5-7 मिनट बाद मेरे मुंह में फिर से एक बार वीर्य की बाढ़ आ गयी, वीर्य निकल रहा था और वो मुझे गालियों के साथ चोदे जा रहा था, उसने अपने वीर्य की एक एक बूंद वीर्य मेरे मुंह में निचोड़ी और मेरे ऊपर ही निढाल होकर गिर गया.

टीका की बात सुन तिवारी सुन्न रह गया और अपने दांतों तले उंगलियाँ चबाने लगा. फिर मैंने बेबी डॉल भी पहन ली, जिसमें से मेरा पूरा शरीर नंगा दिखाई दे रहा था. सभी साँसें रोके दोनों की बहस सुन रहे थे। एक बार तो ऐसा लगा कि ये ज़्यादा हो गया.

हिंदी बीएफ सेक्सी फिल्म दिखाइए वो भी अकसर रात में पढ़ाई करता था और छत में हम दोनों बातें किया करते थे. आपकी अपनी सेक्सी रंडी निकी[emailprotected]मेरी और मेरी सहेली की चूत की कामुकता-3.

ब्लू फिल्म कम

मोना ने सुधीर के लंड को मज़े से चूस कर रेडी किया, फिर सुधीर ने मोना को घोड़ी बनाया और चुदाई शुरू कर दी. मेरी चूत के पानी को मामा ने अपनी जीभ से चाट कर साफ कर दिया और मेरी चूत के अन्दर तक अपनी खुरदरी जीभ घुसेड़ रहे थे. सुमन- क्या हुआ दीदी आप मुझे ऐसे क्यों देख रही हो?टीना- देख रही थी ऐसे तो बहुत भोली बनती है तू मगर आज जो संजय के साथ मज़े ले रही थी.

मैंने पूछा- दर्द है या मजा आ रहा है?वह बोली- अब ठीक लग रहा है, करो. हो सकता है कि वो अभी आ जाएं।यह सुनकर दूध वाले की गांड फट गई और वो जल्दी से अपने कपड़े ठीक करके चला गया, जाते समय उसने मुझे अपने नम्बर पर कॉल करने का कह दिया।दूसरे दिन मैंने उसे फोन कर दिया और 11 बजे तक आने को कह दिया। मैंने उससे कहा कि आने से पहले एक मिस कॉल जरूर दे देना, यदि पति नहीं हुए तो मैं तुम्हें कॉल करूँगी. రమ్యకృష్ణ సెక్స్ వీడియోउनको पैरों के ऊपर वाले हिस्से में ज़्यादा तकलीफ़ होती है, तो तू ऊपर ज़्यादा दबाना.

कुछ देर दोनों एक दूसरे को पकड़े रहे, फिर मैं माँ के ऊपर से लुढ़क कर उनके बगल में लेट गया.

मैं मामा जी को बोली- अब छोड़ दीजिए और जल्दी से लंड मेरी गांड में डाल दीजिए. कितने तरसने के बाद आज ये पल आये हैं मेरे जीवन में!’‘अंकल जी… समय कम है मैं इस एक घंटे में सारा जीवन जी लेना चाहती हूँ.

कहावत है ना ‘दूध का जला छाछ भी फूँक फूँक के पीता है…’ इसी लिए जैसे ही मैंने उसकी योनि पर हाथ रखा, मैं एकदम रुक गया, उसकी तरफ देखने लगा तो वो पूछने लगी- क्या हुआ? रुकक्यों गया?मैं बोला- तुम्हारी अनुमति चाहिए. उन्होंने झुक कर मुझे पानी दिया तो में उनके बड़े चूचे देख कर हैरान रह गया. कितने तरसने के बाद आज ये पल आये हैं मेरे जीवन में!’‘अंकल जी… समय कम है मैं इस एक घंटे में सारा जीवन जी लेना चाहती हूँ.

इतने में ही उसने अपना लंड मेरे मुँह से बाहर निकाल लिया और बोला- चल अब खड़ा हो जा और पैन्ट खोल!इतना सुनकर मेरी तो गांड फट गई, मैंने कहा- मुँह में ही कर लो ना यार…लेकिन वो कुत्ता नहीं माना, उसको तो मेरी गांड ही पेलनी थी.

‘क्या क्या क्या…’ करते हुए वह जाने लगी तो मैंने उसका हाथ पकड़ कर अपने लौड़े पर रख दिया तो वो फिर हाथ हटा के जाने लगी. अब हमारे बीच सिर्फ़ एक छोटा सा कपड़ा था उसकी पैन्टी… मैंने उसकी पैन्टी को भी उतार दिया और उसकी चूत के मुँह पर अपनी उंगली घुमाने लगा. मैं उसे किस करने लगा और उसके बूब्स सहलाने लगा जिससे उसे थोड़ा अच्छा लगने लगा और उसका थोड़ा दर्द कम हुआ.

செஸ் பிகிடுறேइस वक़्त मुझे बिल्कुल डर नहीं लग रहा था कि कोई जाग गया तो क्या होगा. मैंने कॉफ़ी बनाई और उसके बाद उसने बोला- लैपटॉप कहाँ है तुम्हारा? कुछ देखते हैं.

देसी ओपन सेक्सी

कोई दो तीन मिनट तक वो यूं ही मुझसे चिपटी रही उसकी चूत की मांसपेशियाँ स्वतः ही मेरे लंड को जकड़ती रहीं. थोड़ा भाभी को किस किया, फिर शुरू हो गया, इससे होता यह है कि आपका झड़ने का टाइम थोड़ा बढ़ जाता है। चुत को लगातार नहीं पेल कर. उसके बाद ठंडा होकर लंड खुद-ब-खुद बाहर आ गया। और वे मेरी बांहों में समा गई।मुझे अब फिर से थकावट महसूस होने लगी थी। मैं थोड़ा आराम करना चाहता था। लेकिन वे मेरी बांहों में थी.

भले ही कुछ भी हो, ऋतु थी तो एक गर्म जवान महिला… कब तक मर्यादा के नियंत्रण में रहती, ऋतु ने खुद को बचने के लिए उठने की नाकाम कोशिश की, इसी कोशिश में उसने अपनी चूत से हाथ हटा दिया. फ्लॉरा की बात की टीना ने बीच में काटकर कहा- चलो जाने दो अगर तुम्हें नहीं बताना तो चलो भाई खाना-वाना लगा लो यार. थोड़ी देर मैं वहीं पर उसके निप्पल चूसते हुए लेटा रहा, फिर मैं और वो खड़े हुए.

सुमन ने फिर खुजने के बहाने से अबकी बार अपने पजामे में हाथ डाल दिया और उसे थोड़ा नीचे कर दिया यानि पजामे को बस दो इंच और नीचे करती तो उसकी चुत का दीदार उसके पापा को हो जाता. मैंने अपने एक हाथ उसकी बुर पे रखा और उसकी बुर में अन्दर बुर के दाने पे ले गया. बस बसंती रंग की छोटी से ब्रा-पेंटी उसके निप्पलों और चुत के छेद को ढके हुए थीं.

मैं उसका एक बूब मुँह में लेकर चूस रहा था और दूसरा बूब एक हाथ से मसल रहा था. टीना की बातें सुनकर सुमन के पसीने निकल आए क्योंकि जो काम टीना ने बताए थे.

उम्मीद है मेरी ये कहानी भी आप सभी को बाकी कहनियाँ की तरह पसंद आएगी.

मैंने भी अब ठान लिया था कि प्राची भाभी को उसी के अंदाज में ही जवाब देना है. सेक्सी सिस्टर वीडियोशावर के नीचे दोनों ने एक दूसरे के शरीर को अच्छे से मल कर नहलाया और फिर बदन पोंछ एवम् कपड़े पहन लिए. सेक्सी व्हिडीओ जनावरतेज़ी के साथ लंड के घुसने के कारण माँ के मुँह से दर्द भरी सिसकारी निकली- उईई ईई उई माँ मर गई इईई, फट गई. मैं वह पूरे फ्लोर पर नज़र दौड़ाने लगा और सोचने लगा कि आज किस मर्द का लंड लिया जाये और कैसे?घूमते हुए आगे गया तो वहाँ इक्का दुक्का नर्स दिख रही थी और कुछ कुछ वार्ड बॉय दिख रहे थे.

टीना- अरे अब जाने दे, तू जब उठ गया था तो कुछ बोला क्यों नहीं, बस इसी लिए मुझे गुस्सा आया और सुमन जो कर रही थी, मैंने ही तो इसे कहा था ताकि तुझे आराम मिले.

वही हुआ कुछ ही मिनट के अन्दर उसका रोना बंद हो गया और वह सिसकारियां भरने लगी- आह्ह्ह आह्ह. आज सविता भाभी के मदमस्त जीवन की रंगीन कड़ियों में एक ऐसी कड़ी पेश है, जिसमें सविता भाभी ने अपने विवाह के बाद अपनी कुंवारे जीवन में की गई चुदाई की स्वीकार किया. जॉन धीरे से बिस्तर पे आया और अपना लंड पैन्ट से निकाल कर फ्लॉरा के होंठों पे रगड़ने लगा.

उस रात हम दोनों सेक्स की बाते करते हुए कुछ ज्यादा ही रोमांचित हो गये थे और पहली बार हमने फोन सेक्स किया. एक दिन मैं ऑफिस से थोड़ा जल्दी आई और डी-मार्ट से जरूरी सामान ले रही थी की किसी ने मुझे पुकारा- हाई निकी!मैंने पलट के देखा तो पीटर खड़ा था. क्यों मज़ा आया देख कर या नहीं?फ्लॉरा- भाई ये जान कर तो मेरा दिमाग़ चकरा गया.

ব্লু ফিল্মের সেক্সি

गोपाल- मोना, तुम बहुत अच्छी हो मगर में चाहता हूँ कि तुम सच में किसी के साथ करो ताकि तुम्हारी संतुष्टि हो जाए. और रही बात भाभी की, तो वो मुझे अपने टाइम पर खुद उठा लेंगी, उसके लिए रात जागकर मैं स्टेमिना क्यों कम करूं. इस हल्की सी रोशनी में हम दोनों करीब से एक-दूसरे को साफ दिखाई दे रहे थे.

उसको विरोध ना करता देख मेरी हिम्मत बढ़ गई और मैं फिर एक बार बात करने के बहाने सरिता की कमर को पकड़ कर दुकान वाले की तरफ झुक कर बात करने लगा.

चाची एकदम से उठ कर बैठ गईं और एक हाथ मेरे मुँह पे लगा लिया और दूसरे से मेरा लौड़ा पकड़ लिया.

गुलशन जी ने हाथ हटा लिया मगर वो वैसे ही खड़े रहे और लंड को गांड पर दबाते रहे और जैसे सुमन का मन था कि पापा डायरेक्ट मम्मों को छुएँ. थोड़ी देर ये खेल चलता रहा, फिर सुमन ने अपने पापा को एक्सट्रा मज़ा देने की एक तरकीब लगाई. सेक्सी वीडियो चूत चुदाई कासुमन पीछे मुड़ी और उसने अपने पापा के गाल पे जोरदार किस कर दी और साथ ही साथ अपनी चुत को जल्दी से एक-दो बार लंड पे अच्छे से रगड़ भी दिया- आई लव यू पापा.

भाभी ने कहा- प्राची … प्राची नाम है मेरा, कमरे में या अकेले में तुम मेरा नाम ले सकते हो, मुझे अच्छा लगेगा. इस पर चाची जोर से चिल्लाई- आह अहह आईई ईई उएई ईई उम्म्ह… अहह… हय… याह… साले मर गई ईई रा म्म्म आईई उईईई उफ्फ अशोक!वह मुझे ऊपर से हटाने की कोशिश करने लगी और चिल्लाते हुए बोली- अशोक… मर गई उफ्फ साले एक बार में किसने कहा था घुसाने को… निकाल…!मैं चाची के कान के पास अपना मुँह ले गया और बोला- चाची… अ…आपकी चुत बहुत मस्त है!चाची मेरी ओर देख कर मुस्कुरा दी. मैं बोली- मुझे ज़ोर की सू सू आ रही है, कभी भी सू सू निकल सकती है, आपकी मुँह में चली जाएगी.

मैं स्नेहा के साथ उसका हाथ पकड़े सीढ़ियाँ उतर कर नीचे आया और हम दोनों रानी के बेडरूम में जा पहुंचे. चल बन जा कुतिया अभी तुझे पटा कर चोद देता हूँ।पूजा घुटनों पर होकर कमरे में चलने लगी और संजय उसके पीछे-पीछे घुटनों पे चलने लगा। साथ ही वो पूजा की चुत को सूंघने लगा और थोड़ा जीभ से चाट भी लेता।पूजा- उहूँ हू हूँ.

मैंने अपने हाथ यश के सीने पे रख कर ऊपर नीचे होने की स्पीड बढ़ाई और पूरी ताकत से खुद की ही चूत चुदवाने लगी.

‘और ऊपर से हम भी तो हैं आपकी मदद के लिए हर वक़्त तैयार, अपना हथियार हाथ में लिए हुए… आप जब चाहें हमें अपनी खातिरदारी के लिए बुला सकती हैं, आपको पेल कर हमें कितनी ख़ुशी मिलेंगी हम आपको बता नहीं सकते. !खैर दोस्तो, इस बार अपने वायदे के मुताबिक मैं अपनी दूसरी कहानी लेकर आई हूँ. मुझे अपनी तरफ देखते पाकर उसकी आँखें बंद सी होने लगी और अपनी एक उंगली अपने मुंह में डालकर वो बोली- चलो अब तुम्हारी बारी है.

मिर्ची सेक्सी उन्होंने उसे इतना डांटा और उसी वक़्त बस रुकवा कर नीचे उतार दिया और उसके पेरेंट्स को उसके साथ लाने को कहा. और फिर मेरी किस्मत से एक बार इस बूढ़े को टाइफाईड हुआ और उसे अस्पताल में भरती किया गया.

कैसा लग रहा है!संगीता ने अपने होंठों को हल्के से अलग किया तो चन्दन का 9” का लंड सरसराता हुआ संगीता की जीभ को रगड़ता हुआ अन्दर चला गया. मैं थोड़ी देर रूक गया और जब वो नार्मल हुई तो धीरे धीरे धक्के मारने स्टार्ट किये. उसका ड्रिंक आया तो उसने होटों से गिलास लगाने से पहले अपना गिलास ऊपर करके कहा- यह पेग दुनिया की सबसे सुन्दर लड़की के नाम, जो मेरे साथ बैठी है! चियर्स!मैंने भी मुस्कुराते हुए जाम से जाम टकराया।एक घूँट भरने के बाद उसने कहा- मेरा नाम पीटर है और आप?मैंने एक घूँट भरा और बोली- निकिता!और हमने हाथ मिला लिए!बातों का दौर चल निकला, मालूम पड़ा कि वो साऊथ अफ्रीका से यहाँ पढ़ने के लिए आया था.

सनी लियोन पोर्न पिक्चर

उसको थोड़ा अलग टेस्ट लगा तो बोली- ये अलग टेस्ट कैसे आया?तो मैंने उससे माफी मांगी और बोला- सारी यार मेरे से कंट्रोल नहीं हुआ. मैं छुड़ाने की कोशिश करने लगी लेकिन मैं असमर्थ थी और मन ही मन सोच रही थी कि किसी लड़की का सेक्सी बदन होना भी एक गुनाह ही है. मैंने लंड उसके मुख में दे दिया, वो चूसते हुए पूरा पानी पी गई, उसके चेहरे पर तृप्ति साफ़ दिख रही थी.

मैं खड़ा हो गया तो वो समझ गई और तुरंत नीचे घुटनों के बल बैठ कर मेरा लंड चूसने लगी. अगर आप चाहते हैं कि मैं और भी कहानियां में आपके साथ शेयर करूँ, तो आप बताएं कि ये चुदाई की कहानी कैसी लगी.

उन्होंने मुझसे पूछा- मेरी चुत का स्वाद कैसा लग रहा है?मैं बोला- नमकीन.

उन्होंने डरते हुए अपना एक हाथ सुमन के एक चूचे पे रख दिया, मगर उन्होंने कोई हरकत नहीं की, बस चूचे पर हाथ रखे हुए सुमन के चेहरे को देखते रहे. मैंने उसे रोकना चाहा तो उसने मेरे होंठों को किस करना चालू कर दिया तो मैं कुछ बोल नहीं पाया और मैं भी पूरा नंगा हो गया. अब आप ही सोचिये मैं हर प्रयास कर चुका था पूरे अस्पताल में घूमकर थक चुका था.

मगर मौसी कहती- नहीं, तुम्हारे बाद मुझे किसी और मर्द की ज़रूरत नहीं है. कुछ देर बाद उसका ध्यान मुझ पर गया और वो मुस्कुराया और मुझे लगा कि यह अपने टाइम पास के लिए बातचीत करना चाहता है. जब डायरेक्टर को फिर से ‘खतरा’ नजर आने लगा, तो उसने पुनः ‘कट’ का आदेश दिया और स्थिति को सामान्य कर दिया.

फिर जब उसने अपनी जीभ मेरे मुंह में डाली तो मैं उसकी मचलती जीभ को पकड़ने की नाकाम कोशिश करते हुए जोर जोर से उसे चूसने लगा.

हिंदी बीएफ सेक्सी फिल्म दिखाइए: कुछ झटकों के बाद जब भाभी सामान्य हो गईं तो मैंने और जोर से भाभी की चुदाई करने लगा. मूवी में जब किस्सिंग सीन आया तो उसने मेरी तरफ देखा और हम दोनों की नज़र एक हो गयी.

ये सोच कर मेरी चूत गीली सी हो रही थी, जैसे ही मैंने चूत पर हाथ रखा, मेरी चूत के बाल चिपचिपा से रहे थे. रीना बहुत सेक्सी सोच रखती है और सही मायने में उसकी यही चुलबुली अदा विनय को भा गयी. सुमन ने उनका पूरा वीर्य गटक लिया और लास्ट बूँद भी जीभ से छत कर साफ कर दी.

उसके ऊपर चढ़े चंगेज़ ने उसकी चूत को निशाना बनाते हुए अपना भरकम लंड अन्दर घुसेड़ दिया और सामनी खड़े रुस्लान ने अपने लंड की सीध में आई गांड में! मेरी नताशा इस शानदार चुदाई से निहाल-निहाल हो उठी!पोज़ हालाँकि मुश्किल था, लेकिन लड़के भी तो जवान थे! मेहनत करके ही सही, दोनों ने अपनी कमर सिकोड़ कर, पेट भींच कर आखिर असंभव को संभव बना दिखाया और उलटे पोज़ में ही चूत, और गांड की चुदाई आरंभ कर दी.

मैं उससे कह रहा था- मेरी जान, छम्मक छल्लो, मैं तेरे लिए कब से पागल हो रहा था, आज जा कर तू मेरे लंड के नीचे आई है… आज तेरी चूत को फाड़ कर रख दूँगा… मेरी जान, तू बस मुझे ऐसे ही चुदाई करवाती रहना, मैं तुझे रोज ज़न्नत की सैर करवाऊँगा. अब मेरी इच्छा थी कि मैं शहज़ाद का भी काम कर दूँ, मैंने उसकी ज़िप खोली, जैसे ही उसके लंड को बाहर निकालने के लिए अंदर हाथ डाला तभी हॉल की बत्तियां जल गई और मूवी खत्म हो गई. मैंने उसकी ठोड़ी पकड़ कर उसका चेहरा ऊपर उठाया, और उसके नीचे वाले होंठ को अपने होंठों में लेकर चूसा, तो उसने अपनी गोरी चिकनी जांघ उठा कर मेरी जांघ पर रखी और अपने घुटने से मेरे लंड को सहलाने लगी.