औरत और कुत्ते का बीएफ

छवि स्रोत,बालवीर और परियों की सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

एक्स एक्स बीएफ सीन: औरत और कुत्ते का बीएफ, मेरा मन बहुत करता कि किसी और के पास जा कर चुत की भूख मिटा आऊं, पर मुझे बदनामी का डर लगा रहता था, इसलिए मैंने आज तक किसी बाहरी आदमी से नहीं चुदवाया.

स्कूल की लड़की की सेक्सी चुदाई वीडियो

मेरे प्यारे साथियो, आप मुझे मेरी इसबाप बेटी सेक्स कहानीपर कमेंट्स कर सकते हैं. सेक्सी व्हिडिओ इंडियन फुल एचडीमेरा तना हुआ लुल्ला उसके मुँह के बिल्कुल पास था, जिसे मौसी ने थोड़ा सा सर उठा कर अपने मुँह में ले लिया.

उसके लंड का चूसना मुझे ऐसा महसूस होने लगा कि मेरे अन्दर हजारों कीड़े रंग रहे हों, मेरा शरीर अकड़ रहा था. एचडी सेक्सी फिल्म भेजिएमुझे ऐसा लग रहा था जैसे किसी ने गरम पानी में ईमली और नमक मिला कर मुँह में डाल दिया हो.

एक पुरानी कहानी का सम्पादन करके पुनः प्रकाशनहैलो फ्रेंड्स, मेरा नाम राहुल है और मैं जयपुर का रहने वाला हूँ.औरत और कुत्ते का बीएफ: बहुत जल्द तेरे ये मम्मों को दबा-दबा कर इतने बड़े कर दूँगा कि तू दिखने में आयशा टकिया जैसी लगेगी.

इसके बाद चन्दन ने सिर हिला कर उनके स्तनों को टटोला और उनके खुले हुए गोरे पेट पर चुम्बन कर दिया.मगर सुबह तय किये हुए पैसे ना लेकर हमने लड़कों को अच्छा झटका दिया।गोवा से वापिस दिल्ली आकर मैं और रिया ऑफिस के कामों में उलझ गयी.

पोर्न सेक्सी फिल्म हिंदी - औरत और कुत्ते का बीएफ

अब ऋतु ने मस्ती में बड़बड़ाना चालू कर दिया- ऊफ्फ आह्ह्हा उम्म्ह… अहह… हय… याह… और चोदो सालो… फाड़ दो मेरी चूत गांड… मेरे बूब्स दबाओ… फ़क मी हार्ड… यस ऊह्ह्ह!राहुल उसकी गांड में और मैं उसके स्तनों को जोर जोर से थप्पड़ मार रहे थे और उसके साथ ही धक्के भी मार रहे थे.’पापा ने अपनी रफ्तार बढ़ा दी, नीचे से मैं अपने चूतड़ों को हवा में उछाल रही थी कि तभी मेरी चुत से कुछ निकलने को हुआ.

पहले उनकी चूत की दोनों फांकों के बीच में उंगली रख कर उनकी दोनों फांकों को अलग किया, फिर चूत के दाने को अपनी उंगली से छेड़ने लगा. औरत और कुत्ते का बीएफ अगर एक के साथ करने का मौका मिले तो क्या बोलती है?फ्लॉरा- एक के साथ तो कर सकती हूँ.

‘हाँ जान… बिल्कुल ऐसा ही चाहती हूँ मैं… तुम अपनी छड़ी से मेरे एस्स को थोड़ा सा कुरेद दो जिससे बाद में जब एंड्रयू और स्वान उसे चोदेंगे तो मुझे दर्द न हो!!! आ-आ-आ-आ… जल्दी से डाल दो अपना मेरी चुदक्कड़ गांड में!’ पल भर के लिए दोनों लंडों को चूसना बंद करके मेरी तरफ देखते हुए मेरी पतिव्रता बीवी ने आर्तनाद किया.

औरत और कुत्ते का बीएफ?

अब तक की इस सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा था कि सुमन के पापा ने उसको मॉल में ले जाकर किसी दूसरे की बेटी के लिए कह कर सुमन से ही उसके लिए बहुत शॉपिंग करवा ली थी।अब आगे. अब नीतू ने उसकी आग को और भड़का दिया था, मगर वो चुत नहीं चाटने वाली थी. जैसे बोट चल पड़ी तो थोड़ी देर में एक लड़की ने आकर अंग्रेजी में कहा- मैडम, लीला पर आपका स्वागत है, मेरा नाम क्लारा है.

सतीश ने आगे हाथ बढ़ा कर मंजीत का मम्मा दबाना चाहा मगर उसका हाथ नहीं पहुँच रहा था, तो मंजीत आगे को बढ़ गई, उसने दोनों हाथ आगे टिकाये, जिससे वो घोड़ी वाले पोज में आ गई, तो रोहन और सतीश ने उसके मम्मे दबा कर देखे तो विजय ने उसकी पीठ को सहलाया. भाभी- तो आपकी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है? आप तो इतने स्मार्ट हैं?मैं- साल भर से तो आपके पीछे लग गया भाभी, कहां से किसी और को दिखता हूँ स्मार्ट?मैंने चुटकी ली. फिर दीपक ने मुझे अपने घर पर जो मेरे होटल से थोड़ी सी ही दूर था, खाने पर बुलाया.

साले तुझसे होगा या नहीं?मैंने डरते हुए कहा- चाची पहली बार है, हो जायेगा. जो तुम सोच रहे हो। अब तुमसे क्या छुपाना, गोपाल आजकल कुछ खास मज़ा नहीं देता अगर तुम्हें ऐतराज ना हो तो तुम आज की रात मेरे साथ. क्योंकि ये लंबी कहानी है और खाना भी लग चुका है तो बात अधूरी रह जाएगी।टीना- चलो कोई बात नहीं.

सुमन ने एक झूठी कहानी सुनाई मगर उसमें जो दर्द हुआ वो सच था आपको भी याद होगा कहानी पढ़ते टाइम सुमन ने चुत में उंगली की थी. हम दोनों के पास आकर नेहा ने अपनी चूत को मनोज के मुंह पर रख दिया, मनोज नेहा की चूत चाट रहा था और नेहा ने अपने होंठ ऊपर से नीचे को मुंह करके सुलेखा के होंठों से मिला लिए.

वो उसे ऐसे चूस रही थी जैसे मेरा लंड हो… पूरी तरह से वो मुझे पीना चाहती थी.

पहले उन्होंने अपनी जीभ निकाल कर मेरे होंठों पर घुमाई और फिर मेरे को जोरदार किस की.

पर उसकी कभी हिम्मत ही न हो सकी कि वो सविता भाभी की जवानी की रसधार में डुबकी लगा सके. मगर रोहित ने क्या किया, जब सविता भाभी ने ब्रा और थोंग पेंटी पहन कर रोहित के सामने अपने शरीर की नुमाइश की. इस वक्त मैंने जानबूझ कर अपने लोवर के अन्दर पतली स्ट्रीप वाली चड्डी पहनी थी और लोवर को नीचे से फाड़ दिया था.

तो मुझे पता कैसे लगेगा और बिना पता लगे मैं तेरी मदद कैसे कर पाऊंगी?सुमन ने रात से लेकर सुबह अपनी माँ से हुई बहस तक की सारी कहानी टीना को बताई. मैंने वैशाली को बेड पर बैठाया और खुद फर्श पर खड़ा हो कर उसके मुँह में लंड डाल दिया, उसका छोटा सा मुंह मेरे लंड से भर गया. दोस्तो, आज एक लम्बे अंतराल के बाद आपसे मुखातिब हूँ अपनी नयी कहानी के साथ.

जब कुछ देर बाद उसका लंड एकदम गर्म हो गया और उसकी साँसें तेज हो गईं.

जब सुमन को इस बात का अहसास हुआ उसकी तो जान ही निकल गई कि अचानक ये क्या हो गया?साथियो, आप मुझे मेरी गर्म कहानी पर मर्यादित भाषा में ही कमेंट्स करें. मैंने मेनका के सौन्दर्य के बारे में सुना था कि वो स्वर्ग की सबसे सुन्दर अप्सरा थी पर आज ऐसा लग रहा था कि अगर कोई अप्सरा है जमाने में तो इससे खूबसूरत कोई नहीं हो सकती. चाची ने मुझे लिटा दिया और अपनी साड़ी ऊपर की फिर अपनी दोनों टांगें मेरी कमर के दोनों तरफ करके मेरे ऊपर बैठ गईं और अपनी चूत मेरे खड़े लंड पर रगड़ने लगीं.

मैंने धीरे से पलट कर उसके चेहरे की तरफ देखा… चोदू आदमी साला… बहुत खूबसूरत लग रहा था चोदते हुए!मैंने और हिम्मत की और उसके हाथ अपनी चुचियों पर रख दिए और उसके हाथ पर अपनी हथेलियाँ रख दी और उसकी कड़क हथेलियों को सहलाने लगा. फिर मैंने शाम को चाय बनाई और उनको उठाया तो करवट लेने में मुझे उनकी पूरी पैंटी दिखी. मेरी जिज्ञासा और बढ़ गई… मैंने कहा- पत्नी तो वो आपके दोस्त की है, तो आपने उसकी चूत कैसे मारी?तो उसने बोला- बहुत लंबी कहानी है… जैसे तुझे मेरा लौड़ा पसंद आ गया, वैसे ही इसको भी मेरा लौड़ा पसंद आ गया था.

मेरी बड़ी साली उसके बड़े पापा साथ रहती है और छोटी उसकी मम्मी और डैडी के साथ रहती है.

बस यही सोचता हुआ मैं रूम की तरफ बढ़ा लेकिन मेरी अंदर जाने की इच्छा बिल्कुल नहीं हो रही थी क्योंकि मुझे लंड तो मिला नहीं था. बस एक बार शुरू हुए नहीं कि फिर सब जान-पहचान हो जाएगी और अतुल की टेंशन मत लो, उसको भी साथ ही लेंगे यार.

औरत और कुत्ते का बीएफ दही बड़े, चटनी, आम नींबू के अचार, मूंग की दाल की बड़ी, पापड़ ये सब अच्छी तरह से पैक करके मुझे दे दिया. मेरी बात सुन, वो गोपाल बड़ा हरामी है, शुरू में तो उसने तेरे खूब मज़े लिए, अब अपना मतलब भर निकालता है.

औरत और कुत्ते का बीएफ मुझे भी उसकी चुदाई करने में बहुत मजा आ रहा था।मैं ऐसा तो नहीं कह सकता कि मुझे ऐसी चुदाई का आनंद कभी नहीं मिला. अब आप सोच रहे होंगे कि काका और मोना ने भी पाप किया है तो इनको सज़ा मिली या नहीं, तो दोस्तो जरूरी नहीं सब को यही सज़ा मिले, कुछ फैसले भगवान के हाथ होते हैं, वो कब और कैसे किसको सज़ा दे दे, ये सिर्फ़ वही जानता है.

दूसरे दिन शाम को उनकी कॉल आई तो मैंने कहा कि रात को दस बजे उसी जगह मिलेंगे.

बीएफ सेक्सी वीडियो ब्लू फिल्म वीडियो

अब हम दोनों काफ़ी थक गए थे, दोनों एक-दूसरे की बांहों में नंगे पड़े रहे और कब नींद आ गई पता ही नहीं चला. मैंने नोटिस किया कि शहज़ाद सर की नज़र लगभग मेरे पर ही रहती थी और वो किसी न किसी बहाने से मेरे से बात करने या मुझे इम्प्रेस करने की कोशिश करते रहते. फिर मैं गांड को झटके के साथ ऊपर नीचे करने लगी, मामा भी अपने हाथ का सहारा देने लगे, मैं सर को ऊपर की करके आनन्द लेने लगी, कहीं खो सी गयी, गांड के अंदर हलचल होने के वजह से बीच बीच मेरी चूत से गर्म सू सू निकल जाती थी जो मामा जी जाँघ को गीली कर रही थी.

अब वो मुझे किस करने लगी और कब उसने मेरे कपड़े उतार दिए, मुझे पता भी नहीं चला. मैंने मौके की नजाकत देख उसे निर्वस्त्र कर दिया अब मैं आराम से उसकी जाँघों के बीच लेट कर उसकी चूत चाटने लगा. और आप इतनी ज्यादा प्यारी और सुन्दर हैं, ऐसा न कहिए कि आप सुन्दर नहीं है.

इतनी सारी सीढ़ियाँ चढ़ कर मैं थक गया था और मैं लिफ्ट से इसलिए नहीं जा रहा था क्योंकि हो सकता है सीढ़ियों पर ही कोई मस्त जवान मर्द मिल जाये.

सुमन के साथ सब हंसने लगे और संजय के साथ बाकी सब भी हैरान थे कि ये सुमन अचानक से इतनी फास्ट कैसे हो गई. उसकी 20 मिनट की लंड चुसाई की मेहनत के बाद मैं उसके मुँह में ही झड़ गया. अब तक की मेरी नोन वेज स्टोरी में आपने पढ़ा था कि मामा जी के लंड से चुत चुदवाने की मेरी अधूरी ख्वाहिश पूरी होने ही वाली थी.

उसकी बातें सुनकर मेरा प्यार भी उस पर उमड़ आया और मैंने उसे हृदय से लगा लिया और उसके मस्तक को प्रेम से चूम लिया. कामवाली की मंझली बहू-1लेखक: अभिनव गुप्तासंपादक एवम् प्रेषक: सिद्धार्थ वर्मारात में कामवाली की युवा बहू के साथ सेक्स के बाद हम दोनों सो गए थे. जब भी मुझे घर से बाहर जाना होता है मैं ज्यादातर मिनी, मिडी, स्कर्ट, जीन्स, टॉप ही पहनती हूँ.

वो मेरे पास आई और मेरे सामने अपने मम्मे, नाभि, चूत और गांड पर हाथ फेरते हुए बोली- रवीश, तुम्हारा फिजिकल एक्जामिन होना है!इतना कहने के साथ ही वो घूमी और थोड़ा झुकते हुए अपनी पैन्टी को गांड की दरार से अलग करती हुई बोली- तू अपने फिजिकल एक्जामिनेशन के लिये तैयार हो जा!इतना कहने के साथ ही उसने अपनी पैन्टी के दोनों तरफ का बन्धन खोल दिया, उसकी पैन्टी एक झटके में उसके जिस्म से अलग हो गई. थोड़ी देर बाद रिया ने हमारे इंटरनेट टीवी पे यू ट्यूब पे कोई वीडियो प्ले किया। किसी तनहा पार्टी टापू का वीडियो था.

गुलशन- अच्छा तो ये बात है? कोई बात नहीं अबकी बार उसका भी इंतजाम कर दूँगा. तभी मैंने अपना मुख उनकी चूत पर रख दिया और उनकी चूत को चाटने लगा, अपनी जीभ उनकी चूत में डाल कर जीभ से चुदाई जैसा रोमांच उन्हें देने लगा. इस बार मौसी ने मुझे सिखाया कैसे अपने पर काबू रख कर औरत का पानी पहली गिराया जाता है.

अन्दर आकर उन्हें बेड पर बैठाया और उनके सामने बैठकर कुछ पल उन्हें ऐसे ही निहारता रहा.

किसी लड़की ने चूमने के बाद तुरंत ही लड़के ने चूमना मेरी जिंदगी का पहला चान्स था. अब मैंने धक्के तेज कर दिए और अब पूजा भी मेरा साथ देने के लिए अपनी जांघें ऊंची करके मेरा लंड चूत में डलवा रही थी. जानबूझ के तौलिया मैंने नहीं लिया था और कपड़े भी बाहर सोफे पर ही रख के मैं अन्दर चला गया.

मोना भी रंडी की तरह लंड पे टूट पड़ी वो सुपारे को चाटती, कभी पूरा मुँह में लेकर चूसती और सुधीर बस ठंडी आहें लेता रहा।थोड़ी देर लंड चूसने के बाद मोना अलग हुई और अब उसने अपनी ब्रा-पैंटी निकाल फेंकी। उसके खरबूजे एकदम से आज़ाद हो गए थे। वो सुधीर के पेट पर बैठ गई और अपने निप्पलों को उसके मुँह के आगे कर दिए।सुधीर- वाउ क्या मस्त चूचे हैं तेरे. वो मुझसे छूटने की भरपूर कोशिश में थी, पर मैंने नहीं छोड़ा, मैं लंड को मूसल की तरह बुर में ठोके हुए ऐसे ही लेटा रहा.

तब तक वो कुछ बोल पाती मैं दीदी के रसीले गुलाबी होंठों को चूसने लगा. रोहित के मोटे लंड के अहसास ने सविता भाभी की चुत को किस तरह पानी पानी कर दिया. तू बस मेरी बातों को मानती रहना और हाँ, सबसे पहले तू अपनी मॉम से सुलह कर ले और उनसे प्यार जता.

सेक्सी बीएफ मां की चुदाई

मामाजी की किचन वाली बात सोच कर मैं मुस्कराने सी लगी, खुश सी रहने लगी.

जिसको भी मैं देखता और मुझे लगता के इस लड़की या औरत के मन में कुछ है, मैं आ कर मौसी को बताता, और वो मुझे अपने फोर्मूले बताती के इसको कैसे जीता जाए, और जब मैं उसक लड़की या औरत को चोद लेता तो घर आ कर मौसी से हर बात बताता. अब मैं लगभग हर तीसरे दिन उनके घर में सामान देने जाने लगा और इसी दौरान हमारी बातचीत भी होने लगी. मैंने अपनी एक उंगली सुलेखा की गांड में कर दी, सुलेखा चुदाई के मज़े से सिसकार रही थी और बोले जा रही थी- उफ़ उई आह आह चोद चोद साले चोद.

रॉबर्ट मुझे देख कर शॉक हो गया और बोला- अंजलि जी आप अकेली?मैंने कहा- हां सर, वो हमारी मॉडल छुट्टी पर है इसलिए मुझे आना पड़ा. तभी एनाउन्सर ने हमें बताया कि आप अपना नम्बर सामने डिस्पले में देखते रहे और अपने नम्बर के विषय में बार-बार पूछ कर फालतू का परेशान न करें!इतना कहने के साथ ही पहला नम्बर डिस्पले हुआ. राजस्थान की नई सेक्सीकामवाली की 18 साल की बेटी की गांड की चुदाईअब तक की इस चुदाई की इस गन्दी कहानी में आपने पढ़ा था कि मैंने कामवाली की लड़की की गांड चुदाई कर दी थी।अब आगे.

थोड़ी देर बाद रिया ने हमारे इंटरनेट टीवी पे यू ट्यूब पे कोई वीडियो प्ले किया। किसी तनहा पार्टी टापू का वीडियो था. पापा मान गए और अबकी बार उन्होंने जीभ से चुत को कुरेद कर सुमन को मज़ा दिया.

मेरी उम्र 39 साल है, पर कोई भी मुझे देख कर यह नहीं कह सकता है कि मेरी उम्र 39 साल की है. अभी आई बस।टीना ने उसको वॉशरूम बता दिया, फिर वो जल्दी से सबके पास गई और शॉर्ट में पूरी बात बता दी।विक्की- ये क्या यार, तू अकेला मज़ा करेगा. उसकी रफ्तार बहुत धीमी थी, मगर हर बार ऐसा लगता था, जैसे वो मेरे लंड को अंदर तो एकदम आराम से लेती है, मगर बाहर निकालते वक़्त जैसे अपनी चूत को टाइट कर लेती है.

उसने झट से मेरे लंड को मुँह में लिया, उसको अपने थूक से लबेड़ा और बोली- डालो. गुलशन जी की बात सुनकर सुमन को बहुत दुख हुआ और वो अपनी माँ को कोसने लगी. मैंने भी अपने हाथों में उनके मम्मों को संभाला और एक निप्पल को मुँह में भर लिया.

टीना- सब तो ठीक है मगर तू अब तक तेरे पापा को रिझाने में कामयाब नहीं हुई.

मैंने हल्के से आँखें खोल कर देखा तो वो अपनी पैंट उतार के अपनामोटा सा लंडहाथ में लिए खड़ा मेरे बदन को देख रहा था. उसके साथ उसने मुझे एक मैचिंग की ब्लैक ट्रांसपेरेंट ब्रा-पैंटी भी दे दी.

चाची ने अपनी टांगें उठा ली और अपने हाथ लंड पर ला कर चुत के मुंह पर सेट किया फिर टांगें चौड़ी कर दी और बोली- चोद अब!मैंने लंड पर जोर डाला पर लंड चुत पर फिसल गया और नीचे चला गया. वो बोलने लगी- उफ्फ्फ आह्ह्ह्ह सी सी मज़ा बास चोदो चोदो अब चोद दो चोदो… उफ़ अहह अहह ई उई… उफ़ फाक फ़क मी… साले लंड में दम नहीं. मैं उठ कर बैठी और जोर से रिया के चूतड़ों पे तमाचा मारा।ना नुकूर करते करते वो भी उठ गयी.

जब तक पूरा माल नहीं झाड़ा मैंने उसका चेहरा नहीं छोड़ा, और जब उसका चेहरा छोड़ा तो मैंने देखा, उसका मुँह लाल हो रखा था, आँखों से आँसू टपक रहे थे. बहन की चुदाई की आगे की कहानी अगले भाग में… आप अपने विचार मुझे मेल कर सकते हैं साथ ही इंस्टाग्राम पर भी जोड़ सकते हैं. लेकिन राहुल ने एक नहीं सुनी और लंड को डालता रहा! ऋतु दर्द से छटपटा कर खुद को दो मर्दों के बीच से बचाने की नाकाम कोशिश करने लगी.

औरत और कुत्ते का बीएफ मेरे पास ही एक खाली कुर्सी पड़ी थी, मुझे लगा के वो कुर्सी लेकर जाएगी पर उसने मुझे देखा और वो वहीं बैठ गई. हमने रूम साथ में बुक कराया और कमरे में घुसते ही मैंने उसे अपनी बांहों में भर लिया.

गाना भोजपुरी बीएफ

मैंने उसका बेल्ट ढीला किया और अगले ही पल वो जमीन पर खड़ी हो कर अपनी जीन्स उतारने लगी. भाभी फेसबुक के हिसाब से 26 साल की थीं और उनका नाम नीलम (बदला हुआ नाम) था. मैंने अपने हाथ यश के सीने पे रख कर ऊपर नीचे होने की स्पीड बढ़ाई और पूरी ताकत से खुद की ही चूत चुदवाने लगी.

मैं भी बोली- गिरने दीजिए, मुझे भी देखना है कि लंड से कैसे रस निकलता है. थोड़ी देर मैं वहीं पर उसके निप्पल चूसते हुए लेटा रहा, फिर मैं और वो खड़े हुए. सेक्सी फिल्म एचडी में डाउनलोडिंगकनाट प्लेस के अपने चिर परिचित पब में दोनों पहुंची और मस्ती में मस्त हो गयीं.

मैंने उन्हें पूछा- मुझे अकेले सोने नहीं दोगी?वे बोली- नहीं! इन 2 दिनों में तुम जो भी करोगे, हम दोनों साथ मिलकर करेंगे.

मैं उसे उठा कर बैडरूम में ले गया और 69 की पोजीशन में आकर उसकी गुलाबी, गोरी, चूत को चूसने लगा. मैंने रिया से पूछा- कहां की है यार ये फिल्म?अपनी चुत को अपनी उंगली से घिसते हुए उसने कहा- थाईलैंड में लीला आयलैंड है जो एक न्यूड पार्टी आइलैंड है.

उन्होंने एक बड़ी ही कातिल मुस्कान से देखा मुझे और फिर अगले ही पल उनके नीचे वाले होंठ को मैंने अपने होंठ में ले लिया और गुलाब की पंखुड़ियों से रस चूसने का कम शुरू किया. मैंने अपने मुंह से थोड़ा सा थूक निकाल कर नताशा की गांड के छेद से मला और अपने लंड के सुपारे को बीवी की गांड से लगा कर आसानी से पूरा लंड अन्दर घुसेड़ दिया. अब आप ही सोचिये मैं हर प्रयास कर चुका था पूरे अस्पताल में घूमकर थक चुका था.

जैसा कि आप लोगों ने मेरी पहली सेक्स कहानीदुबई में बेटे के साथ बनाया हनीमूनके दोनों भागों में पढ़ा था कि कैसे मैंने अपने बेटे रोहन को अपनी तरफ आकर्षित करके उसे फंसाया था.

चाची ने उठने की कोशिश की पर मैंने उन्हें कस के पकड़ लिया और दोबारा कमर को झटका दे दिया. वो अकड़ गई और उसकी चूत हवा में उठ गई और वो झड़ने लगी और उसकी चूत में से रस दनादन बहकर बाहर आने लगा. ’ की आवाज निकली और फिर चुप हो गई, पर अब भी वो मेरा साथ नहीं दे रही थी.

सेक्सी हॉट वीडियो जबर्दस्तमैं उसका एक बूब मुँह में लेकर चूस रहा था और दूसरा बूब एक हाथ से मसल रहा था. मेरी बात सुन, वो गोपाल बड़ा हरामी है, शुरू में तो उसने तेरे खूब मज़े लिए, अब अपना मतलब भर निकालता है.

17 साल की बीएफ

मैंने पूछा- तो क्या तुम अब भी चुदती हो पाने चचा से?वो बोली- नहीं… एक बार चाची ने हम दोनों को चुदाई करते पकड़ लिया था तो चाची ने चाचा को खूब डांटा डपटा और दूसरे शहर में तबादला करवा लिया. फिर उन्होंने धीरे से अपने हाथ को आगे बढ़ाते हुए मेरे हाफ पैंट के अन्दर डाल कर मेरे लंड को छुआ. फिर उन्होंने अनिता की टी-शर्ट को ऊपर किया और उसकी ब्रा भी ऊपर कर दी.

शायद इसी वजह से नीलम पहली नजर में ही निखिल की प्रेम दीवानी हो गई थी. भाभी ने ये बात नोटिस की और पूछने लगीं- क्या देख रहे हो करन?मैं शर्मा गया और बोला- कुछ नहीं. क्या आज साड़ी का दिन है?तो वो बोलीं- आजकल बहुत ध्यान दे रहे हो?मैंने कहा- देना तो पड़ेगा न!फिर दीदी बोलीं- वो आज सारे कपड़े धो दिए हैं न इसलिए साड़ी ही पहन ली है.

मैं उसकी फुद्दी को चाटना चाहता था पर वहाँ स्पेस कम था तो उसने मना कर दिया. अब भाभी लंगड़ा कर चलने लगीं तो मैंने आगे बढ़ कर फिर से उनकी कमर पकड़ ली और उन्हें बेडरूम तक सहारा दिया. मैंने जैसे ही उसके लंड को टच किया, वह थोड़ा पीछे हटा और मुझे देखा और नशे में थोड़ा मुस्कुराया.

टीना- देख इसके लिए हमको कोई ऐसी लड़की ढूँढनी होगी जो तेरे पापा के साथ सेक्स करने को मान जाए. फिर पता चला कि भाभी अपने शादीशुदा जीवन से खुश नहीं हैं क्योंकि उनका पति उनसे बहुत लड़ाई करता था.

कमाल का तराशा हुआ 34-30-36 का एकदम बेदाग़ गोरा बदन मेरे सामने नंगा था.

मेरी हालत देखकर वह मेरा हाथ पकड़ कर अपने ब्लाउज पर रखकर मुझे इशारा करती थी- पागल, तुझे मेरे बूब्स के दर्शन करने हैं ना? मेरा स्तनपान करना है ना? तो बेकार में ब्लाउज में हाथ डालकर समय क्यों नष्ट कर रहा है? फट से मेरा ब्लाउज उतार, मेरी ब्रा भी निकाल और शुरू हो जा! मैं कितने दिन से तुझे देखती आई हूँ, तू मेरी और निखिल की चुदाई का नजारा चुपके चुपके देखता है. फुल एचडी सेक्सी अंग्रेजों कीगुलशन जी ने एक बार सुमन को देखा फिर अच्छे से पूरे मम्मों पर दोबारा हाथ घुमाया और मौका देख कर जल्दी से एक निप्पल को चूस भी लिया. सेक्सी ममता भाभीफिर मैंने मीनल को मैसेज किया कि प्लीज़ कम ऑन फर्स्ट फ्लोर, आई वांट टू मीट यू. जीजाजी शातिर थे… मम्मी जितना पल्लू ढीला करती, उतना ही वह अंदर खिंच जाता.

इतने में एक सयानी सी आंटी उधर आ गईं, तो मैंने बहाना बनाया- पागल इतनी छोटी बात के लिए नाराज नहीं होते, चल अब घर चल मेरी चंदू प्लीज.

उसे एक दोपहर को रीना का फोन आया कि विनय शाम को तीन-चार दिन के लिए टूर पर जा रहा है तो कविता उसके घर पर ही तीन चार दिन रुके, वहीं से बैंक जाए. वैसे तुम्हारे कितने बड़े हैं?तो वो शरमा कर बोली- तुम यकीन नहीं करोगे. तब तक जय ने अपना लंड मेरे मुँह से निकाल लिया था और आराम से मेरी चुदाई होते देख रहा था.

जॉन की चिकनी चुपड़ी बातों में फ्लॉरा ये भूल गई कि वोएकदम नंगी हैऔर अभी वो ग़लत सही की बातें कर रही थी. निकाह की पहली रात ही मैं समझ गई थी कि मेरा शौहर मुझे चुदाई का पूरा सुख नहीं दे सकता है. करीब दस मिनट की चूमा चाटी के बाद उसको लिटा कर फिर उसके होंठों को चूमने लगा और एक हाथ से उसके स्तन दबाने लगा.

काजल बीएफ सेक्सी

मैंने उसकी गांड को मसलना स्टार्ट किया और उससे कहा- जरा पैरों को फैला. तो मुझे अच्छा लगने लगा है।मैं भी उसकी बात पर उसे तिरछी निगाहों से देख कर हंस देती थी।फिर छह दिन बाद उसने मुझसे पूछा- मेम साब, साहब कहाँ हैं दिखाई नहीं दे रहे हैं?मैंने कहा- उन्हें काम से ही फुर्सत नहीं रहती है, उनकी दो शिफ्टों की नौकरी है।दूध वाला मुस्कुराया और बोला- एक बात बोलूँ मेम साब, आप बुरा तो नहीं मानोगी?मैंने मुस्कुराते हुए कहा- नहीं. उसकी योनि से गरम रक्त निकल कर मेरे लंड से होता हुआ जांघों पर बह रहा था.

मैं बैंगन जो कि मॉर्निंग में मैंने अपनी चूत में डाला था, उससे मामा के लंड की तुलना करने लगी.

और आप इतनी ज्यादा प्यारी और सुन्दर हैं, ऐसा न कहिए कि आप सुन्दर नहीं है.

राहुल ऋतु के बदन को चूम रहा था और ऋतु धक्के लगाते लगाते थक चुकी थी. अब हम दोनों रोज रात मैं घण्टों बात करने लगे, मैं उससे बहुत प्यार करने लगा बहुत ज्यादा. बिग कुक सेक्सी वीडियोमैंने तुरंत उससे एक कमरे का इंतजाम करने को कहा तो वो कुछ समय के लिए अपना कमरा देने को तैयार हो गया.

पापा- यार कैसे मान जाऊं और कौन है तेरी फ्रेंड जो मुझसे ऐसे ही चुदवा लेगी?सुमन- वो सब मेरी टेंशन है. उसने लड़की की पतली, ककड़ी जैसी बांह को उसकी बगल से जोड़ दिया, इस प्रकार बनी दरार में अपना लंड घुसा कर जबरदस्त पिलाई शुरू कर दी. रुस्लान ने मेरी धर्मपत्नि की खुल चुकी गांड को अपने दोनों हाथों से काफी देर तक चौड़ा करने का खेल खेला.

एक दिन मैं बैठा हुआ अखबार पढ़ रहा था, तभी मेरी नजर क्लासीफाईड कॉलम पर पड़ी. चूंकि पूजा गहरी नींद में सो रही थी इसलिए जब वो नहीं उठी तो मेरी बहन मेरे कमरे में आई, और उसे जगा कर ले गई.

‘उसका तो मैं रोज चूसती हूँ, लेकिन इतना हैवी लंड तो मेरे मुंह को रोज-2 नहीं मिलेगा!’ एंड्रयू के लंड को पूरा का पूरा अपने हलक में उतारने की चेष्टा करते हुए मेरी बीवी ने मुस्कुरा कर उत्तर दिया.

जब तक पूरा माल नहीं झाड़ा मैंने उसका चेहरा नहीं छोड़ा, और जब उसका चेहरा छोड़ा तो मैंने देखा, उसका मुँह लाल हो रखा था, आँखों से आँसू टपक रहे थे. इस सेक्स स्टोरी में अभी तक आपने पढ़ा था कि ग्रुप सेक्स की ताबड़तोड़ चुदाई हुई. कुछ ही पल बीते थे कि सरिता ने पीछे पलटकर मुझे देखा और मुझे अपनी गांड को घूरता पाया वह शरमा गई और बोली- आप पीछे क्यों रह गए? साथ आइए.

नोट खोल सेक्सी रात को मैं अपनी चुत में मेरा फेवरिट 11 इंची वाईब्रेटर घुसेड़ कर नंगी हो सो गई. उसके बाद उनके चेहरे की मुस्कान एक अलग ही खुशी उसके दर्शा रही थी।फिर उन्होंने मुझे जूस दिया और खाना खिलाया.

मैंने उसको अपने से अलग किया मैंने कहा- चुदाई का वक्त हो गया है, अब चल तैयार हो जा!वह मना करने लगी, कहने लगी- यह जगह सही नहीं है. उस दिन मैंने बहुत ही एन्जॉय किया था; इतना कि मैं यहाँ आपको बता नहीं सकती हूँ. मैं और चाची एक ही कमरे में रहती थी और काफ़ी फ्रेंड्ली बातें करती थी.

यंग सेक्सी बीएफ

मगर मेरी हालत पर जय को कोई फर्क नहीं पड़ रहा था और उसने अपना लंड बाहर निकाला और एक झटके से अंदर गांड में डाल दिया. मैं भी बाथरूम की दीवार का सहारा लेकर बैठ गया और सबीना के बूब्स चूसने लगा. जैसा कि भाभी ने बताया था कि उसकी बहन की चूत में बहुत खुजली होती है.

लगभग 7-8 मिनट चुदाई के बाद मैंने उसको बोला- मैं झरने वाला हूँ!उसने बोला- जल्दी कंडोम उतार, मेरे को पानी पीना है. पर कविता के पिता रशियन एम्बेस्सी में काम करते थे और एक साल के असाइनमेंट पर रशिया गये हुए थे.

लेकिन उधर एंड्रयू से सब्र नहीं हुआ, जब मैं वाइफ की गांड के छेद को देख रहा था, तो उसने अपना हैवी लंड रूसी लड़की की गुलाबी, बालरहित चूत में घुसेड़ दिया.

भाभी का इशारा मिलते ही मैंने अपने लंड का पानी भाभी की चुत में ही निकाल दिया और उनके ऊपर ही ढेर हो गया. मैंने कंडोम लगाया और पहला झटका मारा लंड लगभग आधा आगे और उसके मुख से कामुकता से निकला- आह!दूसरे झटके में लंड पूरा अन्दर था और उसके बाद फुल तेज चुदाई शुरु हो गई. उनके विवादास्पद व्यवहार ने मुझे यह मानने को प्रेरित किया था कि भाई बहन के बीच भी यह सब हो सकता है.

तू बता असली लंड पकड़ कर मज़ा आया या नहीं?सुमन- आप भी ना दीदी, कुछ भी मैंने कुछ नहीं पकड़ा. और जैसे ही कुण्डी बंद की, याद आया कि मामा जी बोले थे सू सू रोक कर रखने के लिए…मैं बिना सू सू किए बाथरूम से बाहर आ गयी और किचन में कुछ झूठी थाली धोने लगी ताकि खाना परोस सकूँ. मैंने धीरे से पलट कर उसके चेहरे की तरफ देखा… चोदू आदमी साला… बहुत खूबसूरत लग रहा था चोदते हुए!मैंने और हिम्मत की और उसके हाथ अपनी चुचियों पर रख दिए और उसके हाथ पर अपनी हथेलियाँ रख दी और उसकी कड़क हथेलियों को सहलाने लगा.

मगर छूने पर काफी अच्छे लगते थे।मुझे सेक्स का ज्यादा पता नहीं था मगर मैं सेक्स के बारे में जानना चाहता था तो मैंने नेट कनेक्शन लिया और उस पर हिंदी सेक्स.

औरत और कुत्ते का बीएफ: उसके इस तरह से खींचने से मैं एकदम शहज़ाद के ऊपर आ गई और उसने मुझे सिर से पकड़ कर अपने होंठ मेरे होंठों पर चिपका दिए. पर मेरा लंड झड़ने का नाम नहीं ले रहा था क्योंकि थोड़ी देर पहले ही मैंने मुठ मारी थी, पर ये बात चाची को नहीं पता थी.

ले पी मेरे कुत्ते पी ले मेरी जवानी पी गया तू… उई आह आह मेरा पिशाब तक निकल गया आह आह आह आह आई…कहती हुई नेहा ठंडी हो गई और मनोज के मुंह से उठ कर बाथरूम में भाग गई. चाची ने झट से मेरा लंड छोड़ दिया और अपना काम करने लगीं और मैंने भी अपनी चड्डी ऊपर की और दूसरी तरफ मुँह करके पानी पीने लगा. एक सांस में दारू का गिलास खत्म किया और उसे कहा- हम लोग गलत जगह आयी हैं.

मैंने कहा- डी का मतलब?तो वो बोली- यहाँ यूएसए में ऐसे ही साइज़ चलते हैं लेकिन तुम इतना जान लो ये बहुत बड़े होते हैं.

मैं भी सबीना की बड़ी बड़ी चुचियों को दबाते हुए कभी उसकी गांड पर थपकी मारते हुए चोदने लगा, सबीना अब जमीला की चूत चूसने लगी. मैंने भी आव देखा ना ताव, उसके सूट को पूरा उतार दिया और अब मेरे हाथ उसके दोनों चूचों को मसल रहे थे. मौसी बोली- अभी रुक जा, तेरी माँ वहाँ पहुँच कर जब फोन कर देगी, तब देखेंगे.