जीजा साली की बीएफ सेक्सी हिंदी

छवि स्रोत,सीमा सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

कैमरा चाचा: जीजा साली की बीएफ सेक्सी हिंदी, फिर उन्होंने एक हाथ से मेरा लंड पकड़ा और उस पर किस करते हुए बोलीं- तुमने मुझे आज खुश कर दिया है.

इंग्लिश चुदाई चुदाई

जो औरतें इस अवस्था से गुजरी होंगी वो इसे स्वयं समझ सकती हैं। यहां मनोज का लंड लगतार रिसाव ग्रस्त हो रहा था. सेकसिविडिओफिर मैंने उसकी कच्छी को अपनी पैंट में अंदर अपने अंडरवियर में घुसाते हुए लंड पर रख लिया.

मुझे ऐसा लगा कि हम सबके जिस्मों में भूख है मगर किसी को भी खाने की जल्दी नहीं थी. शादी से पहले सेक्सफिर मैंने रागिनी को पीठ के बल लिटा दिया और मिशनरी पोजीशन में घपाघप धक्के मारने लगा.

मैं काफी देर तक धीरे धीरे चाची को पेलता रहा और अब चाची के मुँह से सिसकारियां आने लगी थीं.जीजा साली की बीएफ सेक्सी हिंदी: डर के मारे मेरी तो सांस ही रुक गयी, मेरी तीन उंगलियां योनि में मेरे भीतर घुसीं थीं वो वहीं घुसीं हुई ठहर गयीं.

उसके उरोजों की गोलाइयों को मैं अपने हाथों की हथेलियों से नापने लगा.मैंने पूछा- क्या हुआ?वो बोली- ये क्या बदतमीजी है?मैंने कहा- क्या बदतमीजी की मैंने?वो मेरे सीने से लिपटते हुए बोली- ज्यादा होशियारी की तो काट लूंगी … खा जाऊंगी.

बड़ा गुंडा - जीजा साली की बीएफ सेक्सी हिंदी

मेरे मुंह से आह्ह … स्स्स … मॉम … आह्ह … यू आर सो हॉट … जैसे कामुक शब्द निकलने लगे.मैंने मेरी पहली चुदाई कहानी बहुत मेहनत से लिखी है इसलिए कहानी पर अपना फीडबैक देकर जरूर बतायें.

रात को 10 बजे से 3 बजे तक मेरी क्लाइंट को मनाता रहा कि वो दो दिन के बाद चली जाये. जीजा साली की बीएफ सेक्सी हिंदी मां उछल कर मेरे सीने से आ सटी और उसकी चूचियां मेरे सीने से लग गयीं.

वो मेरे लंड पर थोड़ा ऊपर नीचे होते हुए लंड को गांड में भी अन्दर बाहर ले रही थीं और मुझे खाना खिलाते हुए किस भी कर रही थीं.

जीजा साली की बीएफ सेक्सी हिंदी?

यदि उनसे हो सके, तो वो अपनी कामरस से भीगी कच्छी मुझे गिफ्ट कर सकती हैं, जिसे चाट कर मैं चरम सुख का आनन्द ले सकूंगा. जैसे ही उनका हाथ पड़ा तो लंड तनाव में आना शुरू हो गया और एक मिनट के अंदर मेरा लंड तन कर लोअर को तंबू बनाने लगा. भाभी की काल्पनिक सिसकारियों को सुन कर मेरे मुंह से ही सिसकारियां निकलने लगी थीं.

तभी पारिज़ा ने भी अपनी आंखें खोल लीं और उसके सामने उसके अब्बू एकदम नंगी हालत में खड़े हुए कंडोम पहन रहे थे. मैंने भी उसे थोड़ा सा और तड़पाया और ज्यादा देर ना करते हुए अपना लंड उसकी चुत में पेल दिया. मैंने धीरे से उसकी वो फिट लेग्गिंग नीचे सरका दी और उसकी पैंटी भी नीचे सरका दी.

अब उसने मेरे कच्छे के ऊपर से मेरे लंड को प्यार से चूमा और मेरे मुंह से एक मदहोशी भरी आह्ह … निकलकर मेरी आंखें बंद हो गयीं. वो कैसे, मैं आपको इसी रोड सेक्स कहानी के माध्यम से बताने जा रही हूं. वो सिसकारते हुए बड़बड़ाई- आह्ह हाय … सुमित … ओह्ह जानू … मेरा निकल जायेगा आज शायद। रुक जा … आह्ह!मगर मैं नहीं रुका.

यही सोचते सोचते कब मुझे नींद आयी, पता नहीं चला और अगले दिन सुबह कॉलेज चला गया. थोड़ी थोड़ी देर में मेरे घर वाले कॉल करके पूछ रहे थे कि कहीं रूम मिला या नहीं.

उसकी इस बात से मैं समझ गया कि मेरी सेक्सी बहू चुदने के लिए मचल रही है.

मैंने उसे देख कर स्माइल दी तो वो भी मुस्कराकर गेट से बिल्कुल सटकर खड़ी हो गई और मुझे देखने लगी.

फिर मैंने मोनिषा के मुँह की तरफ आकर उसके मुँह में धीरे से अपना लंड डालने की कोशिश की, तो मोनिषा ने भी मुँह खोल दिया और वो मेरे लंड को चूसने लगी. फिर वो उठा और उसने अपना अंडरवियर निकाल फेंका और मेरी गर्दन पकड़ कर मुझे ऊपर खींचा और मेरे मुंह अपने लंड पर लगा दिया. अहा गुरू धीरे से!लेकिन मैं नहीं रुका … अपना लंड चूत में घुसाता रहा.

जैसे ही वो धीरे होती, मैं उसकी गांड में चांटे मार देता … इस तरह वो काफी थक गई और अब वो दुबारा झड़ने वाली थी. यह सब सुनकर वो काफी उत्तेजित हो जाती थी और उसकी उत्तेजना में आने से मुझे भी उसके उत्तेजक जिस्म का नजारा होने लगता था. यानि हमारे घर रिश्ता अनायास नहीं हुआ था, बल्कि राहुल ने ही भिजवाया था.

फिर मैं रोहन से बोली कि रोहन अपना लंड जल्द से घुसा दो … क्यों तड़फा रहा है.

फिर मेरा पानी रवीना की चूत में निकल गया और नगमा ने अपनी बुर का पानी रवीना के मुंह में छोड़ दिया. तब तक आप अन्तर्वासना की सेक्स कहानियों का मजा लेते रहें और अपना फीडबैक देते रहें. मैंने उसकी चूत में मुँह डाला और अपना लौड़ा उसके मुँह की तरफ कर दिया.

भाभी पूछने लगी- विशु इतनी सुबह तू कहाँ जा रहा है?मैंने भाभी को बताया- भाभी मैं इतने दिन से यहाँ ही हूँ तो घर भी गंदा पड़ा है, उसे साफ करना है. पिछले अंक में आपने क्या पढ़ा था, प्लीज़ उसके लिए पिछली सेक्स कहानीमेरी जिन्दगी की हसीन दास्तान- 1को ही पढ़ लीजिएगा. चूंकि हिमानी अपने भाई के साथ ही जाया करती थी इसलिए मेरी उससे बहुत कम बात हो पाती थी.

मेरी बहन की चूत की कहानी पर अपने कमेंट्स में बतायें कि हम दोनों के रिश्ते के जैसे ही क्या और भी भाई बहन होते हैं या फिर हम दोनों में ही ये सब खुले तौर पर हो रहा था? मुझे और रिया को आपकी राय का इंतजार रहेगा.

फिर मैंने मोनिषा के मुँह की तरफ आकर उसके मुँह में धीरे से अपना लंड डालने की कोशिश की, तो मोनिषा ने भी मुँह खोल दिया और वो मेरे लंड को चूसने लगी. और एक दिन मुझे शक हुआ कि उसने मेरे फोन में मेरा पोर्न वीडियो का कलेक्शन भी देख लिया है.

जीजा साली की बीएफ सेक्सी हिंदी मैं लगातार चाची को पेलता ही रहा और अब तो चाची की चीखें भी बढ़ गयी थीं. मैं धीरे धीरे अपने चरम पर पहुंच रही थी और विनी की किसी बात का जवाब न देते हुए उसके चाटने चूमने का आनन्द लेती रही.

जीजा साली की बीएफ सेक्सी हिंदी विनी ने मेरे दोनों पैरों को ताकत से पकड़ रखा था कि मैं उन्हें हिला भी नहीं पा रही थी लेकिन मेरी कमर अपने आप ही उछलने लगी थी. वो मेरी गर्लफ्रेंड के बारे में पूछने लगी तो मैंने उनको मना कर दिया.

एक बात जोकि मैं फिर से आपको बता रहा हूँ, वो यह कि अगर कोई मुझे ईमेल करता है, तो मैं उनकी पहचान पूर्णतः गुप्त रखता हूँ.

आपको सेक्सी

पांच मिनट तक एक दूसरे को हम ऐसे ही चूसते-चूसते एक दूसरे के मुंह में झड़ गये. पारिज़ा- क्या हुआ?मैं- कुछ भी तो नहीं … वैसे कितने दिनों से हमने मजा नहीं किया. मैं पारिज़ा की गीली चूत को चाटने लगा और पारिज़ा गांड उठा कर मेरे मुँह में चूत दबाते हुए सीत्कार करने लगी.

वो मेरी जांघों पर हाथ फेरते हुए गूं … गूं … की आवाज़ के साथ लंड को मुंह में चूसे जा रही थी. उनके बीच में नॉंनवेज मजाक भी चल रहे थे, साथ में भांग की ठंडाई भी चल रही थी. चूत चटवाने से चाची और भी मस्त हो गईं और मेरे सर को अपनी चूत में दबाने लगीं.

मेरी बुर ने यदि कभी मुझे ज्यादा तंग किया या बहुत खुजली महसूस हुई तो मैंने अपने भगांकुर को रगड़ मसल कर तथा दरार में उंगली से रगड़ रगड़ कर जैसे तैसे झड़ कर समझा लिया पर कभी भी योनि के भीतर उंगली या अन्य कोई भी वस्तु नहीं घुसाई.

जो तुम मुझे फोन बताते थे न … उससे भी गंदे तरीके से मेरी गांड में लंड पेलो. ऐसा करते हुए वो मेरे लंड को अपने हाथों से ऊपर नीचे ऊपर नीचे कर रही थी. जैसे ही निशु ने मुझे गले लगाया और किस किया तो तुरंत मेरे लंड महाराज ने सलामी दे दी जो कि उसको पता लग गया.

कालगर्ल सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैं दिल्ली में एक दोस्त के साथ किराए पर रहता था. वो जोर जोर से चिल्लाते हुए कहने लगी- नहीं … नहीं … मुझे नहीं चुदना … निकालो इसे … याल्ला … मर गयी. उनसे मैंने खाने के लिए पूछा तो उन्होंने यह बोलकर मना कर दिया कि वो बाहर से ही खाकर आये हैं.

मां उठी और अपने नंगे जिस्म को अपने हाथों से छिपाने की नाकाम कोशिश करने लगी. अगले दिन मैं सुबह बाथरूम में घुस गई, पता नहीं मेरे मन में क्या आया कि मैंने हेयर रिमूवर से पैरों और हाथों के बाल साफ कर लिये और फिर नीचे योनि के बालों को भी शेव कर दिया.

जैसे ही मैं आया, तो दीदी कहने लगीं- कब तक हाथ से काम चलाएगा?तो मैंने कहा- क्या करूं मेरी कोई जीएफ ही नहीं है. खाना खाने के बाद संजू की मां बोलीं कि संजू जा, भैया को अपने रूम में सुला लेना और इनसे कुछ पढ़ भी लेना. उसने एक वकील का नम्बर दिया और बोली कि यह बहुत पैसे खाता है लेकिन कोई केस हारता नहीं है.

इसके बाद उन्होंने मेरे दोनों पैर अपने कन्धों पर रख लिए और अपना लंड फिर से मेरी चूत के छेद पर सेट किया और पूरे दम से मेरे भीतर धकेल दिया.

जैसे ही मैंने उसकी सलवार के अन्दर हाथ डाल कर देखा, तो पता लगा कि उसने पेंटी नहीं पहनी है. वो बोली- एक ही?मैंने कहा- हां हम दोनों एक जाम से ही इसका मजा लेंगे. किस करते करते उसने मेरे कपड़े उतारने की कोशिश की, लेकिन मैंने उसे रोक दिया और इशारे में बोल दिया कि जो करना है, ऐसे ही कर लो.

वो बोलीं- क्या रिएक्ट करने लगती है?मैंने उनके कान में कहा- आप समझिए ना. आप ऐसी बातें मत कीजिये और मुझसे वादा कीजिये कि आप अपने प्रति कोई कठोर कदम नहीं उठायेंगे.

मेरा साथ देते हुए अब वह भी पीछे की ओर धक्के मारने लगी। काफी उसकी गांड मारने के बाद मेरा पानी उसकी गांड में ही छूट गया।मैं भी बुरी तरह से थक गया था. जब से वो ऑफिस में आई थी तब से ही मैं भाभी की चुदाई का ख़्वाब देख रहा था. ऐसा पहली बार ही हुआ था कि हम दोनों भाई बहन घर में अकेले हों और वो भी रात के समय में।गर्मियों के दिन थे.

रकुल प्रीत सिंग सेक्सी व्हिडीओ

हॉट टीचर सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मुझे दो अध्यापकों ने एक साथ कैसे चोदा.

[emailprotected]हॉट सेक्स मॉम स्टोरी का अगला भाग:मां और बहन की चुदाई का मजा- 2. अब से हम छत पर ही सोया करेंगे और एक प्रॉमिस आपको मुझसे करना होगा कि आप मुझे रोजाना आपके अंगूठे की मालिश मुँह से करने देंगे. सुमन भी हंस दी और मुखिया जी को अन्दर आकर बैठने के लिए कह कर वो उनके लिए चाय बनाने किचन में चली गई.

सीमा जी- उयययय … हाईईई … फट गई रे मेरी गांड … ऊऊऊम्म्म!मेरा भी लौड़ा दर्द कर रहा था … क्योंकि उनकी गांड बहुत कसी हुई थी. पायल भाभी न जाने कब अपना हाथ मेरी पैंट के ऊपर रख कर मेरे लंड को सहलाने लगी थीं … मुझे पता भी नहीं चला. दीपिका पादुकोण नंगीवह अक्सर घर पर आता रहता था। उसकी फाइनेंशियल स्थिति बहुत अच्छी थी।उसके गले में सोने की चेन, हाथ में सोने की घड़ी, नीचे कार और हर तरह का आराम.

मेरा 6 इंच का लौड़ा अब बेकरार था उसको चोदने के लिए।काफी देर तक उसकी चूत का रस चाटने के बाद मैंने कहा- अब मुझसे नहीं रुका जा रहा मिकी, चूत दे दे यार।वो मुस्कराने लगी और उसने बेड के नीचे से कॉन्डम का एक पैकेट निकाला. रोज़ी बोली- जी मम्मी।फिर जाती हुई सैंडल की आवाज सुनाई दी। मेरे मन में तो जैसे लड्डू फूटने लगे.

आपने अभी तक पिछले भागएक्स-गर्लफ्रेंड के साथ दोबारा सेक्स सम्बन्ध- 3में प्रिया के मुंह से सुना कि कैसे उसने अपने बॉयफ्रेंड से चुदवाने के बाद मुझे तड़पाया. एक हाथ मेरा उसकी कमर पर और दूसरा उसके हिप्स पर था। एक बायाँ हाथ हिप्स की गोलाई माप रहा था और दूसरा अंजू की कमर की चिकनाई चेक कर रहा था।ऐसे ही हमें 2-3 घंटे हो चुके थे। अब मेरे से रहा नहीं जा रहा था. किस करते हुए मैं पारिज़ा के कातिलाना मम्मों को सहलाने लगा, जिससे वो मदहोश होने लगी.

ये सिलसिला लगातार कई महीनों तक चलता रहा।इस तरह से मैंने उसको गांड चुदवाने की आदत लगा दी. उसने मुझे अपने आगोश में भर लिया और मैं लगातार उसकी चूत में झटके लगाता रहा. हाय राम रूपांगी, तेरी चूत तो एकदम कोरी कुंवारी है अभी तक एकदम सील पैक है तेरी चूत!” विनी बहुत ही कामुक स्वर में बोली और मेरी योनि अपने मुंह में भर कर झिंझोड़ने लगी.

मैं नीचे की ओर गया और उसकी गोरी गोरी जांघों को हाथों से खोलते हुए उसकी चूत में मुंह देकर उस पर लेट गया.

मगर वो जानबूझ कर अनजान बनी रही और उनको चाय का कप देकर वहीं सामने बैठ गई. करीब 5-7 मिनट के बाद ही उसकी योनि से ढे़र सारा नमकीन रस निकल गया जो मैंने चूस लिया.

हम दोनों अब एक दूसरे को अच्छी तरह जान चुके थे और मैं भी उसके साथ सहज होने लगा था. मैंने जाकर देखा तो वो पेटीकोट पहन चुकी थीं और काली ब्रा से दोनों चूची ढक चुकी थीं … बस हुक लगा ही रही थीं. उनका बॉयफ्रेंड उनकी गांड मारने की बात कर रहा था और ये उससे मना कर रही थीं कि नहीं यार गांड में नहीं … दर्द होगा.

कॉलेज गर्ल सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि भाभी को कार में चोदने के बाद मैं अपनी चाहत के बारे में सोचने लगा. मैंने उससे जाना कि उसने क्या क्या किया हुआ है, कहां कहां सेक्स किया हुआ है और उसको कैसा सेक्स पसंद है. करीब 8 महीने पहले उसके पति का एक एक्सीडेंट में एक पोता (गोलियाँ) डैमेज हो गई थी और अंदर ही अंदर सेप्टिक फैलने की वजह से एक पोते को निकालने की नौबत आ गयी.

जीजा साली की बीएफ सेक्सी हिंदी इसके बाद उसने मुझसे पूछा कि मैं इस शादी के लिए खुश हूं या नहीं या मेरा कहीं कोई अफेयर तो नहीं चल रहा है. मौसी के घर मैं एक महीना रही और इस दौरान अमित ने मुझे कई बार चोदा।तो दोस्तो, कुछ इस तरह हुई मेरी पहली चुदाई।कैसी लगी आपको मेरी कामुकता कहानी हिंदी में?आप हमें मेल कर के अवश्य बताएं।[emailprotected].

मराठी सेक्सी पुस्तक

मेरे मुंह से तो जैसे सिसकारियां निकलने लगीं।मुझे चूमकर फिर वह मेरे कान के पास आकर बोला- भाभी, आपने मुझे बहुत परेशान किया है. जब उससे बर्दाश्त नहीं हुआ तो वो बोली- आह्ह … नाहिद, अब मेरे ऊपर आ जाओ, मेरे ऊपर आकर मुझे चूसो. इसमें कुछ भी अपनी तरफ से नहीं जोड़ा गया है और न ही ये कोई काल्पनिक कहानी है.

”काफी सोच विचार के बाद सुनील जी और उनका परिवार इस प्रस्ताव पर सहमत हो गया. हम दोनों ने काफी देर तक अपने प्यार को एक दूसरे से साझा किया और अलग अलग हो गए. सेक्सी दिखाना वीडियोमैं कुछ बोलती, उससे पहले उसने मेरी ब्रा भी फाड़ दी और मेरे 34 के चुचे को आजाद कर दिए.

इस तरह से मेरी ऑफिस वाली भाभी ने मुझे खूब मजे दिये और उसने भी मेरे लंड से चुद कर खूब मजे किये.

फिर वो मेरे ऊपर आ गयी और मेरे लंड के ऊपर धीरे धीरे बैठ गयी और फिर अपनी गांड उठा उठा कर मेरे लंड को खाने लगी. इसलिए आप केवल आनन्द लेते रहें ये न सोचें कि मैंने ही पूजा भाभी की चुदाई की होगी.

हालांकि चुत की सील टूटने से दर्द भी हुआ था, पर जो वो अपनी सहेलियों से सुनती आई थी, वैसा उसके साथ कुछ नहीं हुआ था. मिकी को चोदने के लिए मैं इतना बेताब हो गया था कि अगर वो कॉन्डम का जिक्र न करती तो मैं उसे बिना कॉन्डम के ही चोद देता. इसी तरह जब तक मैं चाची के घर में रहा, मैंने चाची की देसी बुर को मनभर पेला.

फिर हम लोग ऑटो से उसके घर की तरफ निकले और दस मिनट में उसके घर पहुंच गए.

मैं पहले उसकी बेटी को लेने बस स्टॉप पर गया और फिर आते वक्त बाजार से सब्जियां भी ले आया. मैंने दीदी को इसी पोज़ में बहुत देर तक चोदा और उनके बालों को पकड़ कर उनकी खूब सवारी की. जब मालिनी से रुका न गया तो वो बोल पड़ी- कोई मेरी तरफ भी देख लो!इस पर अंगिका का ध्यान थोड़ा मेरे ऊपर से हटा और वो हंसने लगी.

करीना कपूर के वीडियो सेक्सीठंडा मक्खन लेकर मैडम ने थोड़ा मेरे लंड पर लगाया और लंड को चूसने लगीं. फिर मैंने उनको बोल दिया- आप जाओ, प्रेरणा भाभी को मैं अपनी कार से क्लीनिक ले जाऊंगा.

बॉलीवुड एक्टर्स की सेक्सी वीडियो

रात ग्यारह बजे के करीब जब मुहल्ले के सब घरों की लाइट ऑफ हो गई तो मनीषा व उसकी मम्मी दबे पांव मेरे घर आ गईं. ताकि मैं जल्दी से तुम्हारी चुत को ठंडा करने का तुम्हें मज़ा दे दूं. फिर मैंने धीरे-धीरे करके पेलते हुए पूरा लिंग सेक्सी गांड में घुसा दिया और अब वो मेरा साथ देने लगी.

उसके मुँह से ‘ईई ईई ईई आई मां मर गई …’ निकला और वो मेरे निपल्स पर काटने लगी. मैंने कुछ मिनट तक उसकी बगलों की खुशबू ली और चाट कर बगलें साफ करने में लग गया. मैं परेशान हो गया कि अब क्या करूं। आवाज दूंगा तो ऑफिस में सब सुन लेंगे।मैं कुछ देर वहीं खड़ा इधर उधर देखता रहा.

सार्थक मेरे से चिपका और मेरे साथ से मोबाइल अपने हाथ में लेकर देखने लगा. रोज़ी के दरवाजे के निकट पहुंचते ही मैंने फोन पर जोर जोर से बात करनी शुरू कर दी।कुछ ही देर में रोज़ी ने अंदर का गेट खोल कर बाहर झांका. वो कहने लगीं- तुम ये क्या कर रहे हो ज़ाकिर?मैं बोला- कुछ नहीं … आपकी और मेरी दोनों की प्यास बुझा रहा हूँ.

मौसा जी, मेरे मन में आपके प्रति कोई शिकायत नहीं है और आप मेरे पैरों पर सिर मत रखिये; सदा मैंने ही आपका आशीर्वाद पाया है. मैंने देखा ही नहीं कि इन दो बार ऊपर नीचे करते समय रोहन ने अपना बॉक्सर नीचे कर दिया था.

दूसरे दिन सुबह न्यूज पेपर उठाने के लिए बाहर निकला तो सुनील जी के साथ एक लड़की बातें कर रही थी.

फ़ोन पर में राहुल का लंड चूस रही थी और यहां मुझे राज के लंड को प्यार करना पड़ रहा था. नेहा स्वामीमेरे सामने एक जवान 23 साल का लड़का इस तरह नग्न अवस्था में लेटा हुआ था. इंदौर सेक्सी पिक्चरवो बोला- कुछ गलत नहीं है, मैं सब जानता हूं कि रात को तू मेरे साथ क्या कर रही थी. तब मैंने पूछा- मजा आया?वो बोली- हां बहुत मजा आया भैया … आई लव यू … तुम मस्त हो.

थोड़ी देर बाद मैंने उसे जवाब दिया- क्यों नहीं … आखिर मैं तेरे पापा की उम्र का ही तो हूँ.

जैसे ही उसका ध्यान होंठों को चूसने में गया तो मैंने नीचे से ध्क्का मार दिया. आपको इतना कष्ट कैसे दें?”इसमें कष्ट कैसा, सुनील जी? इन्सान ही इन्सान के काम आता है. पापा नहीं माने और बेड पर चढ़ कर नंगे हो गए और अपना लंड मम्मी के मुँह में डालने लगे.

बीच-बीच में मैं अपना लंड चुत से बाहर निकाल कर उनको चुसवा देता था ताकि उनको और ज्यादा मजा आए. तभी पता नहीं उनको एकदम क्या सूझा कि उन्होंने अपने हाथ से अपनी पैंटी उतार दी और मुझे उल्टा अपने ऊपर लेटने को कहा. भाभी ने मुझसे कहा कि मैं रवीना को एक रूम दिलवा दूं ताकि उसको वहां रहने में परेशानी न हो.

कुत्ते के साथ सेक्सी फिल्म

उनका मन था कि वह मुझे एक रात अपने सामने किसी गैर मर्द से चुदते हुए देखना चाहते हैं. सब कुछ आउट ऑफ कंट्रोल था- मेरा लावा भी और अंजू की सिसकारियां भी। मेरा वीर्य फिर निकल गया। इस बार बहुत ज़्यादा माल निकला और अंजू को भी मेरे लावा की धार अन्दर तक फ़ील हुई।मुझे बहुत मज़ा आया। अंजू मेरे मुर्झाए लण्ड को देखकर मुस्करा रही थी. आज मैं आपके सामने अपने एक दोस्त की इंडियन वाइफ सेक्स स्टोरी प्रस्तुत कर रहा हूं.

इस हॉट एंड सेक्सी गर्ल स्टोरी के पिछले भागअब और न तरसूंगी- 3में आपने पढ़ा किअब आगे की हॉट एंड सेक्सी गर्ल स्टोरी:फिर उन्होंने अपने सारे कपड़े उतार डाले और पूरे नंगे हो गए और बोले- ये ले मेरी जान अब मेरा लंड पकड़ तू, देख तेरे लिए कैसे मचल रहा है ये!वो बोले और अपना लंड जबरदस्ती मेरी मुट्ठी में पकड़ा दिया.

ये देखकर मेरे लंड में और भी ज्यादा उत्तेजना आ जा रही थीकुछ ही समय में मेरे लंड से पानी की बौछार निकल गयी … और मैं थककर बेड पर लेट गया.

जब तक तू अपनी चूत में किसी का मोटा लंड नहीं पिलवाएगी ये मुहांसे जाने वाले नहीं!’उनके मुंह से चूत लंड जैसे गंदे शब्द सुन के मुझे बहुत शर्म आती और उन पर गुस्सा भी बहुत आता. अपना लंड उसकी चुत पर रख कर मैंने रगड़ना चालू किया, पर अन्दर नहीं डाला. बुर में लंड डालोमैंने उसको टांगें चौड़ी करने को कहा तो उसने अपनी टांगें और खोल लीं.

सीमा मेरे लंड से खेल रही थी और मैं उसके चूचों को तेज़ तेज़ दबा रहा था. जैसे ही उसकी चूत पर मेरी उंगली टच हुई तो पता नहीं कैसे एकदम से मेरे लंड से वीर्य छूटने लगा. मुझे इस कंपनी में काम करते हुए काफी टाइम हो गया था, पर मेरी कमजोर अंग्रेजी के कारण आगे मेरी प्रमोशन नहीं हो पा रही थी.

जब मैंने उनके होंठों को छोड़ा, तो भाभी बोलीं- सुमित अब और मत तड़पाओ … जल्दी से डाल दो. कुछ देर बाहर घूमने के बाद जब मैं अपनी सीट पर गया तब भी अंजू उसी पॉज़ीशन में लेटी पड़ी थी।मैं चुपचाप वहाँ पर आकर बैठ गया और केबिन लॉक किया।वो बोली- मुझे कुरकुरे खाने हैं.

फ्रेंड्स मैं आपको कैसे बताऊं कि मुझे क्या मस्त मजा आ रहा था, मुझे उनको किस करने में … और उनकी एकदम गोरी गोरी भरी हुई जांघों को सहलाने में … आह.

उनके मुँह से मादक आवाजें निकल रही थीं, जो मुझे और जोश दिला रही थीं. थोड़ी देर बाद मैंने उसे फिर से नीचे लिटाया और उसकी दोनों टांगें उठाकर अपने कंधों पर रख लीं और ज़ोर ज़ोर से झटके देने लगा. मैंने उसे उठाया और वहीं वाशबेसिन पर उसको कुतिया बनाकर उसकी लैगी उसके घुटनों तक करके पीछे से उसकी चुत में मुँह घुसेड़ दिया और चुत चूसने लगा.

ইন্ডিয়ান বিএফ पहले मैं भाभी के निचले होंठ को किस कर रहा था, सुनयना भी किस में मेरा पूरा साथ दे रही थीं. जब दर्द उसके बर्दाश्त के बाहर हो गया तो वो मिन्नत करने लगी- अब छोड़ दो नाहिद मुझे, मैं मर जाऊंगी.

मेरा लंड उनके गले तक अटक रहा था, जिससे वो सांस भी नहीं ले पा रही थीं. दोस्तो, यकीन करना जब मैंने उसकी बीवी को देखा … तो सिर्फ उसकी आंखें देखने पर ही मेरा लंड खड़ा हो गया था. उसके बाद रवीना ने एक बार पीछे ही मार्च के महीने में मेरे पास फोन किया.

इंडियन हिंदी सेक्सी ब्लू

राहुल ने मेरी पढ़ाई के बारे में पूछा और इसके बाद मैंने उसे उसकी नौकरी के बारे में जाना. वो सिसकारते हुए कह रही थी- आह्ह … आराम से चूसो, मजा आ रहा है लेकिन काटो मत यार… मैं तुम्हारी ही हूं. मनोज जब उसकी चूत को चाट चाट कर हांफने लगा तो उसने पूजा को लंड चूसने का आग्रह किया.

मगर सड़क सेक्स में मजा इतना आ रहा था कि मन कर रहा था कि बस चुदती ही रहूं. औरत के मुँह से लंड चुस रहा हो और मर्द के हाथों में उसकी चूचियां हों … आह.

यह मेरी मेरी देसी इंडियन चुदाई कहानी है कि मैं पहली बार कैसे चुदी थी.

वो ब्लाउज के अन्दर हाथ डालकर मेरे चूचों पर रंग लगाने लगा और चूचियों को रंग लगाने के बहाने जोर से दबाने भी लगा. अनवरी चाची मुझसे कह रही थीं- अहह ज़ाकिर बहुत मज़ा आ रहा है … ओह आअहह उम्म्म्म उहह तुमने मुझे आज जन्नत दिखा दी … तेरे दानिश के अब्बू ने भी कभी ऐसे प्यार नहीं किया मुझे … अब से मैं तुम्हारी हूँ. इतने में ही उसने मुझे जोर से भींच दिया और अपना लंड एकदम से कसकर मेरी चूत में ठोक दिया.

दीदी की शादी हुए अभी 4 साल हो गए थे और उनके अभी तक कोई बेबी नहीं हुआ था. और मेरा दिल कर रहा था कि अब विनी मेरी योनि को अच्छे से मसल डाले और इसमें दो उंगलियां घुसा कर तेजी से अन्दर बाहर करती रहे. मुझसे रुका न गया और मैं यहां आकर इस तरह से मुठ मारते हुए अपने लंड को शांत करने लगा.

इस प्रकार के बर्ताव से मनोज उसके समर्थन के लिए उसे कुछ बातों से अवगत कराने की सोचने लगा.

जीजा साली की बीएफ सेक्सी हिंदी: अगली कहानियों में मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने सोनम भाभी की चूत की चुदाई करके उनके सेक्स की आग को शांत किया. तो सर एकदम से एक्टिव हो गए और वे मुझे अपनी बांहों में लेकर पागलों की तरह चूमने लगे.

दोनों मेरी इस बात को सुनकर चकित हुईं और मालिनी ने बिना टाइम गंवाए मेरे लौड़े को अपने मुंह में भर लिया. मैं घर मैं बैठे बैठे बोर हो रही थी, तो सोचा क्यों न अपनी ड्रेस ही ट्राई कर लूं. मैडम मेरी बॉडी को देख कर बोलने लगीं कि तुमने अपनी बॉडी को काफी अच्छा बना रखा है.

भाभी के तने हुए एकदम गोरे-गोरे, गोल-गोल और बड़े बड़े चूचे, जो किसी स्वस्थ कुँवारी लड़की की सील टूटने से पहले होते हैं, मेरी आंखों के सामने थे.

वो मेरे करीब आई तो पायल को अपने पास बैठाकर उससे पूछा- तुम बहुत उदास रहती हो, क्या बात है … मुझे बताओ?पायल मेरी बात को टालने लगी और कहने लगी- कुछ नहीं है ससुर जी. टॉर्च की हल्की नीली रोशनी में मॉम की गीली चूत बहुत रसीली लग रही थी. मैंने कुछ मिनट तक अपनी जान की जांघों से लेकर तलवे अच्छे से साफ कर दिए.