ब्लू फिल्म बीएफ फिल्म ब्लू फिल्म

छवि स्रोत,विदेश बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

बिहार सेक्सी सेक्स: ब्लू फिल्म बीएफ फिल्म ब्लू फिल्म, कुछ दिन के बाद फिर केस भी फाइनल हो गया और फैसला हमारे पक्ष में आया.

बीएफ सेक्सी हिंदी में दिखाइए वीडियो

उसके बाद अपना 8 इंच का लौड़ा उनकी गांड में और बुर में घुसा कर काफी देर तक लगातार अन्दर बाहर करना, डर्टी हार्ड सेक्स मुझे बहुत पसंद है. बीएफ एक्स एक्स एक्स वीडियो दिखाइएमैंने फिर से उन्हें पकड़ लिया और एक निप्पल को अपनी उंगलियों से मसलते हुए बोला- अब रहा नहीं जा रहा चाची.

अब मेरे लंड को सुरेखा की बुर का स्वाद लग चुका था तो जब भी मुझे टाइम मिलता, मैं सुरेखा की बुर चोद देता. बीएफ मूवी वीडियो में दिखाइएकुछ ही देर में फिर से मूड बन गया तो मैंने भी तुरन्त ही चाची को अपने ऊपर कर लिया.

उसने अपने कपड़े उतार कर एक तरफ फेंक दिए और जिन हील्स को पहन कर वो बाहर से आई थी, उन्हीं हील्स में आगे बढ़ कर उसने मेरी चड्डी पर हाथ फेर दिया.ब्लू फिल्म बीएफ फिल्म ब्लू फिल्म: 15-20 धक्के मैंने जोर से मारते हुए मां के मुंह को चोद दिया और मेरा बदन अकड़ने लगा.

इसी बीच सानू एक महीने के लिए अपने घर चली गई और दूसरी लड़की भी अपने बॉयफ्रेंड के साथ में रहने लगी.मैंने सोचा कि मैंने तो अभी तक चूत भी नहीं मारी है, मैं बिना चूत चोदे नहीं मरना चाहता हूं.

वीडियो नंगी चुदाई बीएफ - ब्लू फिल्म बीएफ फिल्म ब्लू फिल्म

[emailprotected]देसी इरोटिक स्टोरी का अगला भाग:कमसिन कुंवारी लड़की की गांड- 2.मैंने उसकी दोनों टांगों को अपनी कमर पर रखा और लंड उसकी चूत पर रगड़ने लगा.

अब मैं गर्दन पर आ गया। मैं अपने होंठों को नीचे से शुरू करके उसके कान तक ले जाकर रगड़ रहा था। अब अंजू पागल होना शुरू हो गयी थी. ब्लू फिल्म बीएफ फिल्म ब्लू फिल्म सर फिर से मेरे जिस्म की तारीफ करने लगे और बोले- मैंने कभी इतने गौर से तुम्हें देखा ही नहीं था.

उसके होंठों पर होंठ रख कर मैंने अपना लंड उसकी चुत पर सैट किया और सुपारा रगड़ने लगा.

ब्लू फिल्म बीएफ फिल्म ब्लू फिल्म?

मैंने उनके कूल्हों को अच्छी तरह पकड़ा और गीले लौड़े को उनकी गांड के छेद पर फिराने लगा. फिर मैंने घुटने मोड़ कर ऊपर कर लिए जिससे मेरी योनि अच्छे से उभर गयी. भर दे मेरी चूत अपने लंड के पानी से आ आ … आह आह मर गयी मादरचोद … आह और तेज और तेज चोद हरामी, चुत फाड़ दे मेरी.

कुछ देर तक मेरे होंठ चूसने के बाद वो नीचे की तरफ मेरे पैरों के बीच में आ गयी और उसने मेरे दोनों पैर घुटनों से मोड़ कर दायें बाएं फैला दिए. मैंने थोड़ी देर तक भाभी के मम्मों को दबाया और उनकी गांड फैलाने लगा. राहुल- अच्छा … तुम तो मुझे मिस भी कर रही हो … अच्छा ये बताओ तुम अभी क्या कर रही थी … और एन्जॉय किया कि नहीं! अभी तुम्हारे साथ में और कौन है!मैं- हां … तुम नहीं आए वरना बहुत एन्जॉय करती.

मन कर रहा था कि मां को बुरी तरीके से चोद दूं लेकिन मैं इतनी हिम्मत नहीं जुटा पा रहा था. मेरे मुंह से तो जैसे सिसकारियां निकलने लगीं।मुझे चूमकर फिर वह मेरे कान के पास आकर बोला- भाभी, आपने मुझे बहुत परेशान किया है. उनका लंड मेरी मुट्ठी में समा ही नहीं रहा था, मौसाजी का लंड लम्बाई और मोटाई में मुझे मेरे पति से दुगना लगा और कितना सख्त जैसे कोई लकड़ी का डंडा हो और वो भी गर्म गर्म.

मैंने जाकर देखा तो वो पेटीकोट पहन चुकी थीं और काली ब्रा से दोनों चूची ढक चुकी थीं … बस हुक लगा ही रही थीं. उसे अचानक से याद आया और उसका चेहरा एकदम ऐसे पीला पड़ गया, जैसे उसकी कोई चोरी पकड़ी गई हो.

बाहर एक गधा एक गधी पर चढ़ा हुआ उसको दे दनादन चोद रहा था और देखने वालों की भी कोई कमी नहीं थी.

वो बहुत ही बेशर्म लड़की निकली मुझे ऐसे गर्म करके वो खुद पूरी नंगी हो गई और मुझे भी उसने पूरा निर्वस्त्र कर दिया और फिर वो मुझसे लिपट गयी और मेरे होंठ चूसने लगी.

इससे पहले अंगिका के साथ भी यही हो चुका था इसलिए मैंने धीरे धीरे ही चुदाई करने की सोची. उसका हाथ उसके लंड के नीचे अण्डकोषों के पास जांघ पर था और दूसरा हाथ उसकी छाती पर था. दोस्तो, किसी ने बुरी तरह से मीता के मम्मों को दबाया और चूसा था, जिसके कारण ये निशान पड़ गए थे.

मैंने उसके मोटू शौहर से नजरें बचाते हुए और उस नाजनीन भाबी को दिखाते हुए अपना लंड सहला दिया. मतलब मैं पारिज़ा को एकदम से चुदाई की पोजीशन में लाकर उससे इमोशनली बात करने लगा. फिर सुषमा मैडम मुझे अपने बाथरूम में ले गईं और कहने लगीं- तुम नहा लो.

मैं आपको ये बताना तो भूल गया कि सिर्फ मेरी पड़ोसन भाभी को पता था कि मैं क्या काम करता हूं, बाकी सभी समझते थे कि मैं किसी ऑफिस में काम करता हूँ.

दीदी की चुत से पानी निकल गया, तो वो बिना कुछ बोले मेरे ऊपर से उठ गईं. मैं वापस उस लड़की के दूध देखने लगा और मन ही मन बुदबुदा उठा- आह क्या हॉट सेक्सी दिखती हो तुम श्रुति!मैं फिर से अपने भूतकाल में चला गया. फिर वो मेरी तरफ देख कर बोली- एनर्जी बूस्टर लेना है?मैंने कहा- हां मेरी जान बिना उसके तो मजा आने से रहा.

सेक्स चैट में हम दोनों रोमांस से लेकर लंड चुसाई, चुत चुसाई, गांड मारना, चुत में लंड पेलना ऐसी बहुत सारी बातें करने लगे थे. एक घंटे का रास्ता था। उसकी नज़र रास्ते पर कम और मेरे ब्लाउज पर ज्यादा थी। मैंने भी थोड़ी मस्ती करने के लिए ब्लाउज के ऊपर के 2 हुक खोल दिये. दरअसल मैं खुद हवस के नशे में ये भूल गया था कि एक से ज्यादा पार्टनर के साथ सेक्स करने वाले को कॉन्डम इस्तेमाल करना चाहिए.

पारिज़ा कुछ पल बाद मुझे अपने ऊपर से हटाकर बाथरूम में चली गई और मैंने सीधे लेटते हुए लंड से कंडोम को निकाल कर डस्टबिन में फेंक दिया.

वो सलवार कुरते को ठीक करते हुए मुझसे बोलीं- अब तू जा … किसी से कुछ मत बोलना … नहीं तो मार खाएगा. मैंने पीछे से उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया और उसकी चुदाई करने लगा.

ब्लू फिल्म बीएफ फिल्म ब्लू फिल्म सीमा जी की वासना से भरी हुई सिसकारियां अब करहाने की आवाज में बदल चुकी थीं- आंह अब बर्दाश्त नहीं हो रहा है भोसड़ी के … जल्दी से लौड़े का पानी निकाल दे. कोई 5 मिनट के मधुर चुम्बनों के बाद मैंने उसके मम्मे दबाना शुरू किए.

ब्लू फिल्म बीएफ फिल्म ब्लू फिल्म एक दिन मैं दोस्त के घर गया तो चाची की सलवार उतरी हुई थी और …दोस्तो, मेरा नाम ज़ाकिर है. राहुल ने मेरे दोनों चूतड़ों को मुट्ठी में भर लिया और अपने लंड को चूत पर रगड़ने लगा.

मैं जानता हूं कि मैं जिन्दगी में कितनी बार भी सेक्स कर लूं, कितनी भी चूतें मार लूं लेकिन पहली चुदाई पहली ही होती है.

तमिल बीएफ एचडी

इसके बाद मेरा बदन तेजी से खिलना शुरू हो गया और मैं बच्ची से किशोरी बन गयी, मेरी छाती पर नीम्बू जैसे छोटे छोटे स्तन थे जो बढ़ने लगे थे और एकाध साल बाद ही बड़े होकर संतरे जैसे हो गए थे. मुझे बहुत मजा मिलता था इससे।अब मैं आपको अपनी कुछ समय पहले की ही स्टोरी बताती हूं. मैं बोला- क्या हुआ? इतना हिल क्यों रही हो? आराम से हो जाओ, अब बहुत मजा आने वाला है तुम्हारी बुर में.

मैं झट से उठ कर कुतिया बन गई और सर मेरे पीछे से लंड पेल कर मेरी चुत चोदने लगे. सेक्सी मैडम की चुदाई कहानी में पढ़ें कि अंग्रेजी और पर्सनैलिटी डेवलपमेंट के लिए मैंने कोचिंग ज्वाइन की. फिर चाची को पूरी तरह से नंगी कर दिया और मैं भी पूरी तरह से नंगा हो गया.

मैंने एक बार लंड बाहर निकाला और देखा, तो उसकी गांड से थोड़ा सा कुछ रक्त बहने लगा था.

ये बोल कर मैं बेड पर आ गया और उसकी टांगों को फैला कर उसकी बुर पर भी तेल की मालिश करने लगा. उसका गोरा गोरा चिकना चेहरा देखकर दुनिया का कोई भी मर्द उसको पाने की चाहत कर सकता था. जैसा कि मैंने आपको बताया कि दीदी का फ़िगर एकदम कातिलाना है … तो उस समय वो उसमें एकदम ज़हरीली नागिन सी कातिल लग रही थीं.

मुझे उसकी गांड में धक्के मारने में बहुत मजा आ रहा था क्योंकि कसी हुई गांड मेरे लंड को जकड़ रही थी. तुझे पेशाब करते हुए। उस समय मैं भी वहीं छत पर ही थी और प्रेरणा की हरकत देख कर फिर मैंने भी तेरा लंड देख लिया था. मेरे पूरे बदन में हवस की आग लग गयी और मैंने भाभी का चेहरा उठा कर देखा तो उनकी आंखों में एक प्यास थी.

चूंकि साथ में मौसी की बेटी भी सो रही थी इसलिए हम लोग उठकर बाहर आ गये. फिर उन्होंने उस फाईल को अपनी अलमारी में रख लिया और मुझे 25000 का एक चेक दिया और 25000 कैश दिया.

[emailprotected]हिंदी Sexxy Story का अगला भाग:लेडीज टेलर ने चोद दिया- 2. मैंने मिनल से कहा कि वो कुछ दिन अपनी मां के यहां चली जाए ताकि इन सब लफड़ों से उसको सुकून मिल सके. मैं आगे किसी कहानी में आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने मौसी के साथ अपनी मां को भी चोद दिया.

फिर उसने मेरी योनि पूरी तरह से चौड़ी कर के खोल ली और भीतर झाँकने लगी.

मैं उसकी टांगों के बीच में आया और भूखे शेर की तरह उसकी चूत पर टूट पड़ा. जो होना था वो ईश्वर की मर्जी थी, आप ही तो कहते थे कि बिना उनकी मर्जी के तो पत्ता भी नहीं हिलता संसार में. जल्दी करो … आह्ह … आह्हह … करते हुए मैं उसकी चूत को जोर जोर से ठोकने लगा.

अब मैंने उसकी गांड को प्यार से घपाघप प्यार से चोदता रहा और उसकी गर्दन, पीठ को चाटता रहा. इत्तेफाक से मुझे प्रश्न का उत्तर पता था और मैंने फट से जवाब दे दिया.

उसने मुझे देख कर पूछा- अरे तुम … कैसे आना हुआ?मैंने कहा- बस आपसे बात करने का दिल किया … और चला आया. कुछ देर बाद मैं पारिज़ा की चूत में लंड घुसेड़ कर चुदाई में लग गया और काफी देर तक चुदाई का मजा लेने के बाद हम दोनों स्खलित होकर अलग हो गए. सन्नो- आह मर गई रे … मुखिया जी आह आपका लंड तो बड़ा मजेदार है आह … अन्दर तक नसें हिला देता है.

हिंदी में बीएफ हिंदी में वीडियो

और वे मेरी टांगें फैला कर उनके बीच में आकर बैठ गए और अपना लंड मेरी चूत के द्वार पर टिका दिया और चूत की फांकों पर उसे रगड़ने लगे.

फिर मैंने विवेक को इशारे में बोला- रूम में अल्पना है … इसलिए मैं यहां कुछ नहीं करने दूंगी. मेरी क्लाइंट बोली- मैं अब हमेशा के लिए जा रही हूं। मेरे पति का वीज़ा अब खत्म हो गया है और वो अब इंडिया में ही जॉब करेगा और गांव में ही रहेगा।मैंने उसको विदा किया और उसके बाद हम दोनों नहीं मिल पाये. अगली कहानी में बताऊंगा कि कैसे मैंने रेशमा और बंगाली भाभी को सेक्स का मजा दिया.

अब हम एक दूसरे के काफ़ी करीब आ गए थे और चुदाई के मौके ढूंढते रहते थे. करीब 5 मिनट लंड चूसने के बाद मैंने उनके बालों को पकड़ा और पूरा लंड उनके गले में डाल कर झड़ गया. वीडियो बीएफ चुदाई वीडियोदो बार ऐसा करने के बाद जब वो तीसरी बार मुझे नीचे करने लगा, तो मेरी चुत उसके लंड के ऊपर ही टिकी हुई था.

मेरा लंड उनके गले तक अटक रहा था, जिससे वो सांस भी नहीं ले पा रही थीं. मैंने भी उसका प्रपोज स्वीकार कर लिया और हम दोनों रात भर बातें करते रहे.

वो बिना कुछ बोले मेरा साथ देने लगी क्योंकि पारिज़ा की प्यास अभी बुझी नहीं थी. दीदी- अरे भाई शर्माता क्यों है … बता ना?मैं- कुछ नहीं दीदी आपके कपड़े अच्छे लग रहे थे तो बस … मैं उन्हें ही देख रहा था. फिर मेरा पानी रवीना की चूत में निकल गया और नगमा ने अपनी बुर का पानी रवीना के मुंह में छोड़ दिया.

उस दिन मैंने पूरी रात उसकी चुत और गांड में लंड पेला और हम दोनों थक कर सो गए. मेरे पति नमन एक सरकारी विभाग में अधिकारी वर्ग के उच्च पद पर आसीन हैं. फिर मैंने भी ऊपर से झटके देने चालू कर दिए और उसके बाद तो पूछिये ही मत! पहली चुदाई के आनंद की जो अनुभूति मुझे हो रही थी उसको शब्दों में बयां करना नामुमकिन है.

तो यह बोला कि तुम्हारे पापा को थोड़े दिनों के लिए यहां बुला लो और तुम अपने पापा से चुदाई करवा लो … मैं किसी को कुछ नहीं कहूँगा … और तुम भी किसी को कुछ मत बोलना.

फिर नाश्ता करने के बाद मैं और अंकल ऑफिस जाने के लिए साथ में घर से निकले. नंगा होकर मैं बाथरूम में घुस गया और तेजी से लंड की मुट्ठ मारने लगा.

मैंने उससे पूछा- तो क्या तुम अब तक वर्जिन हो?उसने कुछ नहीं कहा, मैं समझ गया कि चुदी चुदाई है. जहां जहां उसके होंठ मुझे छू रहे थे ऐसा लग रहा था जैसे वहां के रोंगटें खड़े हो रहे हों. मुकेश सर ने हंसते हुए एक अलमारी से व्हिस्की की बोतल और तीन गिलास निकाले.

थोड़ी देर किस करने के बाद उन्होंने मुझसे बोला- तुम चाय लोगे या कॉफी?मैंने उन्हें चाय के लिए बोला. मैंने पूछा- कितने दिन हो गए?उन्होंने कहा- आठ साल हो गए, आज बहुत दर्द होने वाला है. आप मुझे मेल करके जरूर बताएं कि मेरी डर्टी हार्ड सेक्स स्टोरी कैसी लगी.

ब्लू फिल्म बीएफ फिल्म ब्लू फिल्म अब मनोज आराम आराम से पूजा के शरीर को निहारता हुआ शारीरिक संभोग के चरम सुख का असीम आनंद लेता हुआ अपनी प्रिय पूजा को तसल्ली बक्श चोद रहा था. ज्योति मैडम ने भी अपनी टांगें पूरी खोल दीं और उनकी चुत की रगड़न से रस निकलने लगा.

बीएफ हिंदी देखने वाली

उसकी कमसिन जवानी को भोगने के लिए मैं तड़प उठा और मैं उसे पटाने लगा. मैंने पूछा- क्या हुआ?वो बोली- ये क्या बदतमीजी है?मैंने कहा- क्या बदतमीजी की मैंने?वो मेरे सीने से लिपटते हुए बोली- ज्यादा होशियारी की तो काट लूंगी … खा जाऊंगी. मैंने देर न करते हुए उसके चेहरे को पकड़ लिया और अपनी तरफ घुमा कर उसके नाजुक होंठों पर अपने होंठ रख दिए.

मुझे डाउट हो गया कि यार ये शादीशुदा है भी या नहीं? बूब्स देख कर तो यही लग रहा था कि अभी तक कुँवारी है ना कि शादीशुदा? खैर, मैं उनके बूब्स पर एक भूखे भेड़िये के जैसे टूट पड़ा और एक बोबे को मुँह में लेकर चूसने लगा और दूसरे को दूसरे हाथ से दबाने लगा. कहते हुए भाभी मेन गेट लॉक कर आई और आकर मेरे पीछे खड़ी होकर उन्होंने मेरा लंड को अपनी मुट्ठी में भर लिया. फुल एचडी हॉट सेक्सी बीएफकुछ देर तक चूत चोदने के बाद वकील ने अपने लंड पर थूका और कुछ थूक मेरी गांड के छेद पर लगाया.

तभी मैंने अपने एक हाथ को उसकी निक्कर के अन्दर डाला और उसकी चूत में उंगली करने लगा.

यदि आपको भी चाची की गांड मारने का मौक़ा मिल जाएगा, तो आप भी मेरी चाची की गांड जरूर मारे बिना नहीं रह पाएंगे. मैंने उससे पूछा- तो क्या तुम अब तक वर्जिन हो?उसने कुछ नहीं कहा, मैं समझ गया कि चुदी चुदाई है.

हम दोनों लगातार एक दूसरे को किस करते हुए दोनों के जिस्म से खेल रहे थे. मेरे खड़े लंड पर चार पांच चुप्पे देने के बाद भाभी बोलीं- कितना मस्त है तेरा लंड, मजा आ गया चूसने में. मैंने कहा- थोड़ी देर पहले तो तुम कह रही थी कि माल पिलाने के अलावा कुछ भी कर लेना? अब डर रही हो क्या?वो बोली- डरती तो नहीं हूं लेकिन फ्री में नहीं करवाती.

फिर उसने अगले ही पल मेरी पैंटी को नीचे खींच कर मेरी टांगों से अलग करवा दिया.

अब वह पूरा लंड पेल कर पीछे से आराम से धक्के लगा रहा था और मैं मजे ले रही थी. तेरा लंड मेरे शौहर से दुगना बड़ा है … मेरी चुत आराम से मारना, मैंने आज तक इतना बड़ा लंड नहीं लिया है. उसने भी देखा और कहा- मैडम जैसे आपके स्तनों की कसावट है, उस पर ये बहुत जंचेगा.

जानवर वाला बीएफ जानवर वालाउसने लंड चूसने से मना कर दिया इसलिए मैंने लंड का बदला उसकी चूत ठोक कर लिया. उसके फिर मेरा ध्यान नीचे गया तो पाया कि कपड़े पर कई सारी चीटियां घूम रही थीं.

हिंदी सेक्सी बीएफ साड़ी वाली चुदाई

मैंने उसकी चूत में उंगली करना शुरू कर दिया और गर्म होकर उसने अपनी जांघें मेरे सामने पूरी खोल कर फैला दीं. उसके बाद आखिरी झटका दिया जिससे मेरा लंड उसकी चूत में अंदर तक जगह बनाने में कामयाब हो गया।लंड को पुरा घुसाने के बाद मैं थोड़ी देर बस वैसे ही रुका रहा. मुझसे रहा नहीं गया और मैंने पारिज़ा को खड़ी करके उसे अपनी बांहों में समेट कर बेड पर पटक दिया.

जब मालिनी से रुका न गया तो वो बोल पड़ी- कोई मेरी तरफ भी देख लो!इस पर अंगिका का ध्यान थोड़ा मेरे ऊपर से हटा और वो हंसने लगी. मुझे रंडी बनाकर तुम एक महीने तक मुझे चोदो … तभी मेरी चुत की आग बुझेगी. मैंने भाभी से बोला- कैसा लगा?भाभी बोलीं- तुमने तो मेरी जान ही निकाल दी … तुमगन्दी चुदाईकरते हो पर मज़ा बहुत देते हो.

उस समय उसने जींस और टॉप पहना हुआ था, जिसमें वो बहुत मस्त माल लग रही थी. तुम एक बार चढ़ के फिर उतर के बता दो।अमित के चेहरे पर थोड़ी झुंझलाने जैसे भाव आए फिर न जाने क्यूं वह मुस्कुरा कर सीढ़ी चढ़ गया।जैसे ही वह ऊपर आया और फिर नीचे उतरने को हुआ मैं बोली- तुम उतरो और तुम्हारे बाद मैं उतरती हूं।उसने बोला- एक वक्त पर दो लोग?तो मैंने कहा- देखते नहीं, लोहे की सीढ़ी है. मैं राज के ऐसे बोलने पर शॉक्ड थी, लेकिन क्या कर सकती थी, प्रॉमिस जो किया था.

इस सेक्स कहानी में सभी पात्रों के नाम भले ही काल्पनिक बता रही हूं, लेकिन जो मैं आपको बताने जा रही हूं, वह किस्सा एकदम सच है. मैं हिलडुल कर उसको जगाने की कोशिश करती रही और जब मुझे लगा कि उसकी नींद अब टूटने वाली है तो मैं आंख बंद करके लेट गयी.

अपनी इस बहन की चूत की कहानी के पहले भागभाई बहन का प्यार- 1में मैंने आपको बताया था कि कैसे मैं अपनी बहन की तरफ आकर्षित हो रहा था और एक बार रात में मैंने उसकी पैंटी में उंगली से उसकी चूत को छू लिया.

कुछेक तस्वीरों में वो सिगरेट के छल्ले उड़ाते हुए ब्रा पहने हुए अपनी कातिल अदाएं बिखेर रही थी. बीएफ सेक्सी 15 साल कीमैं- फिर कब!दीदी- आज रात को तू अपनी छत से कूद कर मेरे ऊपर वाले कमरे में आ जाना. हिंदी बीएफ वीडियो भाभी की चुदाईमेरी इस चूत चुदाई से चाची भी मस्त हो गईं और उनके मुँह से कामुक सिसकारियां बाहर आने लगीं. मैंने पूछा- फिर भी बताओ तो … क्या क्या हुआ? तुम्हारी दबाता है कि नहीं?वो बोली- अभी तो ऊपर ऊपर से ही हुआ है.

पारिज़ा मेरे बदन को चूमते हुए घुटनों के बल बैठ गई और फिर सेक्सी स्माइल देते हुए उसने मेरा लोवर नीचे कर दिया.

नीली साड़ी और बिना ब्रा के ब्लाउज में वो एक क़यामत की भाभी लग रही थी. जब मेरे घर पर मेरे मम्मी पापा कुछ दिन के लिए बाहर जाएंगे, मैं तुम्हें फोन कर दूंगी. मैंने फिर चुदाई के बाद उसको पैंटी पहनाई और पहना कर मैं अपने घर आ गया.

इसलिए इन क्षणों में उसकी चूत का इस तरह से गर्म हो जाना स्वाभाविक था. मुखिया- बस अब बहाने मत बना, जल्दी बता कब ला रही है उसे!सन्नो कुछ बोलती, तभी दरवाजे पर कालू ने ठक ठक कर दी. फिर उससे पूछा कि ये सब कैसे हुआ तो उसने बताया कि उसके पति ने उसको बहुत मारा है और उसको घर से ही निकाल दिया.

सेक्सी बीएफ चुदाई नंगी

मैंने अपने लंड को उसके मुँह से बाहर निकाल लिया और उसको सीधा लेटा दिया. सीमा जी तुरंत उठीं और उठते ही सबसे पहले मैंने अपना लौड़ा उनके मुँह में दे दिया. रोहित के मुंह से अब सिसकारियां निकल रही थीं और वो मेरे मुंह में धक्के लगाता हुआ मेरे मुंह को चोद रहा था.

फिर मैंने लंड को थोड़ा सा पुश किया तो मेरे लंड का टोपा उसकी चूत में घुस ही पाया था कि वह एकदम से ऊपर हो गई और जोर से कराहते हुए बोली- उई अम्मी … आआआ … मर गई … आईईई … उफ्फ … निकालो अंकल.

तुम एक काम करो, कल सुबह 6 बजे अपने भैया के साथ जाकर ये कार्ड बाँट देना.

जितना मन हो उतना मेरी चुची दबाओ, जब मन करे, तब मुझे पेलो … मैं कहां मना कर रही हूं. अभी से मैं क्या कह सकती हूं?उसने कहा- जब करना ही है तो फिर राजीव भैया में क्या बुराई है? तुम अच्छी तरह से सोच लो और फिर बाद में मुझे बता देना. वीडियो हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियोबाहर निकल कर मैंने एक बार फिर से रोहन को देखा और एक मीठी कामुक सी मुस्कान देकर अपनी साड़ी के ऊपर से ही अपनी चुत में हो रहे हल्के हल्के दर्द को सहला कर ठीक करने लगी.

वो लगातार मुझे गालियां देते जा रहा था- साली रंडी मादरचोद, कुतिया, बहुत तड़पाया है तूने … आज तेरी चूत फाड़ दूंगा … रंडी साली बहनचोद. क्या बताऊं, इतना मज़ा तो लंड से चुदने में नहीं आता है, जितना उसकी जीभ से चुदने में आ रहा था. ‘क्या हुआ जानू … आज अपनी दिशा की याद नहीं आई क्या?’ दिशा इठला कर बोली.

तो तुली ने कहा- मेरी शादी कोलकाता में ही है … और मैं अपने पापा को बोलकर आपकी ट्रेन की टिकट भी ऑनलाइन कंफर्म करवा दूंगी … मगर आपको मेरी शादी में जरूर आना पड़ेगा. मैं अंगिका के ऊपर से उठा और मैंने मालिनी के मुंह में अपना लंड दे दिया.

मुखिया- चलो अच्छा है, इसी बहाने तुम जैसी अप्सरा को मुझे चोदने का मौका मिल गया.

क्या बताऊं, इतना मज़ा तो लंड से चुदने में नहीं आता है, जितना उसकी जीभ से चुदने में आ रहा था. माहौल की मांग पर वर के कुछ सम्बन्धी वर की सुहागरात के लिये कुछ व्यंग्य और कुछ मजाक करते रहे जिससे मनोज के शरीर में सिरहन सी दौड़ रही थी. कुछ ऐसा लग रहा था कि आज की रात सबसे ज्यादा खुशनसीब अगर कोई है तो वो मैं ही हूं.

सेक्सी एचडी बीएफ ब्लू आप इस सेक्स कहानी के नीचे कमेंट भी कर सकते हैं … मुझे मेल भी कर सकते हैं. सुनयना भाभी ने इतना बोल कर मेरे गालों पर किस किया और बाथरूम में चली गईं.

गीता- अरे वाह रे मेरी छुटकी तो बड़ी तेज़ निकली, पहले ही दिन काम पर लग गई. वो बोली- मैं भी!उसकी बात सुनकर हम दोनों ने खुल कर चैट करना शुरू कर दी. मैंने बिना उसको नंगी किए सभी आसनों में सेक्स किया। जाने से पहले मैंने अंजू से कहा- एक बार और प्लीज़।अंजू ने अपने आप ही सारे कपड़े निकाल दिए और मेरे पास मेरी गोद में आकर बैठ गयी.

बीएफ मोटी चूत वाली

थोड़ी देर बाद किस करने के बाद वो मुझसे बोलीं- मुझे तुम्हारा लंड चूसना है. आपकी पिंकी सेन[emailprotected]सेक्स देसी इंडियन कहानी का अगला भाग:गाँव के मुखिया जी की वासना- 5. न्यूड भाभी चुदाई स्टोरी में पढ़ें कि मैंने एक दिन भाभी को नंगी देख लिया.

कहते हुए भाभी मेन गेट लॉक कर आई और आकर मेरे पीछे खड़ी होकर उन्होंने मेरा लंड को अपनी मुट्ठी में भर लिया. तू एक दिन में लंड से गांड नहीं मरा पाएगी, पहले तेरी गांड के छेद को लंड लेने लायक बड़ा करना होगा.

मनीषा ने मेरी तरफ करवट ली और अपनी एक टाँग मेरी टाँग पर रखकर अपनी चूत मेरे लण्ड से सटा दी.

जल्दी से पैंट की जेब से मोबाइल निकाला और उसका रिंग साइलेंट किया। ये देखकर मेरे होश उड़ गए कि फोन मेरे बॉस का था. मन कर रहा था उसको इतनी चोदूं, इतनी चोदूं कि उसकी चूत के चिथड़े उड़ा दूं. मगर धीरे से डालना प्लीज। मेरी बुर की सील को आहिस्ता से तोड़ना।मैं बोला- ठीक है मेरी जान.

बाथरूम से आने के बाद मैंने रोहन से कहा- ये क्या किया यार … मुँह में ही झड़ गए. मैं- ले मादरचोदी साली रंडी छिनाल … ले लंड ले!वो- उफ्फ्फ हहहां … चोद दे साले अपनी रंडी को!चुदाई को पूरे 15 मिनट हो गए थे. पारिज़ा की मादक आवाज के साथ ही मैं उसके दोनों कबूतरों को सहलाने लगा.

मैंने पूछा- मुझे ही बताया है या किसी और को भी?नहीं, बस आपको ही बताया है.

ब्लू फिल्म बीएफ फिल्म ब्लू फिल्म: मैं तुरंत उठा और जानबूझ कर तार पर सूखता हुआ दुपट्टा उठा कर केवल उसे नीचे लपेटकर भाभी की मदद को पहुंचा. वो पल जब उसके नाज़ुक से हाथ मेरे होंठों से टकराए … एक बड़ा ही सुखद अहसास सा था.

दोस्तो, मैं विवेक जोशी एक बार फिर से आपको अपनी देवर भाबी सेक्स स्टोरी सुनाने आ गया हूँ. ये बोले तो कुछ नहीं, पर उस घटना के बाद से उन्होंने मुझे किसी भी पार्टी में जाने के लिए फोर्स नहीं किया. मैंने मेरी पहली चुदाई कहानी बहुत मेहनत से लिखी है इसलिए कहानी पर अपना फीडबैक देकर जरूर बतायें.

ट्रेन सेक्स की कहानी में पढ़ें कि रेलगाड़ी में रात का सफर करते हुए एक बुर्के वाली भाबी मेरे सामने बैठी थी.

ना ही तो सोशल मीडिया का मुझे कोई ज्ञान था और ना ही मेरे पास कोई ज्ञान देने वाला था. रात को करीब साढ़े ग्यारह बजे मैंने मनीषा को व्हाट्सएप किया:प्रिय मनु, जब से तुम्हें देखा है, मैं अपने होश खो चुका हूँ. थोड़ी देर चूसने दो अपनी बुर।मैंने फराह के हाथों को बेड पर दबा लिया और उसकी बुर में जीभ दे देकर उसकी बुर को चूसने और चाटने लगा.